बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर

छवि स्रोत,गुजराती ऑंटी

तस्वीर का शीर्षक ,

चुदाई इंडियन सेक्सी: बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर, मेरे लव सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं हमारे किरायेदार लड़के से प्यार कर बैठी.

क्रोम सेटिंग

संध्या चाची- कितने बेसब्रे हो रहे तुम, जरा रुको तो … मैं बाथरूम से शॉवर लेकर आती हूँ मेरे मुन्ने, फिर अपनी अम्मा का जितना दूध पीना हो पी लेना. पपीता मजेदारकुछ ही देर की मुँह से लंड चुसाई के बाद उसने मुझे खड़ा किया और मेरी लोअर नीचे कर दिया.

धन्यवाद।देसी माल सेक्स कहानी का अगला भाग:बारिश वाली रात एक हसीना के साथ- 2. ब्रा सेक्सीवो बोले- इतनी देर कहां लगा दी मेरी छमिया?संध्या चाची अपनी बच्ची को झूले में लिटाते हुए बोलीं- भाभी के साथ किचन समेट रही थी.

मैंने एक स्माइल देते हुए उसके लंड पर अपने उचकने की स्पीड को बढ़ा दिया.बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर: उस समय भी वो दर्द और आनंद दोनों को ही अपने कर्तव्यपालन के भाव में छिपा ले गयी थी।मेरी वही संस्कारी पत्नी आज अधनंगी होकर अपनी चूचियां और चूत-गाँड सब मसलवा रही थी.

मैं सेक्स का मारा तड़फ रहा था, वहशी दरिन्दे की तरह उसकी गांड पर टूट पड़ा.उन्होंने कुछ भी रियेक्ट नहीं किया तो मैंने उनके होंठों पर अपने होंठ धर दिए और चूमने लगा.

बिलू मूवी - बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर

वो खुश होते हुए बोली- कहां रहते हो?मैंने कहा- पास में ही मेरा फ्लैट है.फिर चाचा जी बोले- कोई बात नहीं सुहानी … मैं तुम्हें अधूरी नहीं छोड़ूँगा, मेरा लंड अभी खड़ा है.

उनके कमरे की लाइट्स तो हमेशा की तरह ऑफ थी … केवल नाईट बल्ब जल रहा था. बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर मेरा मन मीना को चोदने के लिए कर गया लेकिन मुझे डर लग रहा कि कहीं सारा खेल बिगड़ न जाये.

मैं भाभी के बगल में जाकर बैठ गया और उनकी सुंदरता की तारीफ़ करने लगा.

बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर?

मैंने तो जितनी भी लड़कियां व औरतें पटाई थीं … वो सब ऐसे ही पट गयी थीं. मैंने उस लड़के के साथ कैसे मजे लिये?हैलो फ्रेंड्स, मैं सिमरन फिर से आ गयी हूं अपनी एक और गंदी सेक्स कहानी लेकर। अगर आप लोगों ने मेरी पिछली कहानियां नहीं पढ़ी हैं तो मैं बता दूं कि मैं एक इंडियन गर्ल हूं. उधर वो तीनों मेरी मां को ऐसे चोद रहे थे, जैसे कोई कुतिया चुद रही हो.

मोना बोली- अब ये बताओ कि तुम डेजी को लेकर कितने सीरियस हो? क्या तुम दोनों शादी करोगे?मैंने कहा- हां हां … जैसे ही डेजी हां करेगी तो मैं उससे शादी कर लूंगा. वो ऊपर के होटल में जाकर थोड़ी बर्फ, दो ग्लास और कुछ चखना बनवा लाया क्योंकि नीचे वाले में कोई किचन का सिस्टम नहीं था. न बाबा … आप चाहे जो और मर्जी कर लो, पर मैं आपका लंड गांड में नहीं ले सकती.

फिर वो धीरे धीरे मेरी चुत को सहलाने लगा, जिससे मेरे अन्दर की ज्वाला भड़क रही थी. हालांकि पिंकी को खराब लगता, पर जब रवि मुँह फुलाता, तो पिंकी उसकी बात मान लेती. उसके जाने के बाद मुझे दुख हो रहा था कि अब फिर से अकेले रहूँगी … पर मुझे एक तरह की ख़ुशी भी थी.

अब जब मैं बेड की अपने कपड़े लेने तरफ आयी, तो अभिषेक अभी जाग रहा था और मानसी सो गई थी. उसकी ये बात सुनकर मैं आप सबको बता दूँ कि नीरू के तीन बच्चे हैं, दो लड़कियां और एक लड़का.

अनु मेरे नीचे से अपनी गांड उचकाते हुए मुझसे बार बार खुद को मुंबई शिफ्ट करवाने को बोल रही थी.

उसने एक 34 बी साइज़ की टीनेजर वाइट कलर की ब्रा की फोटो भेजी और उसका फिगर लिख कर बताया कि 34b-30-36 का है.

वो मेरे लंड को मुठियाने लगी और मैं उसकी चूत को उंगली से कुरेदने लगा. अब मैंने उसकी चूत के मुंह पर लंड के टोपे को सही से सेट किया और उसकी टांगों को पकड़ कर अपनी गांड का धक्का लगाया तो सट से लंड उसकी चूत में सरक गया. गेट से बाहर निकलने से पहले अपना आधा खाली किया हुआ गिलास पूरा खाली किया और गुड नाईट बोल कर वो बाहर चला गया.

फिर धीरे धीरे वो मेरे लंड को सहलाने लगी और मैं चूत को।दस पंद्रह मिनट की चूमा चाटी के बाद मेरा लंड फिर से तनाव में आने लगा और पुण्या भी दोबारा से गर्म होने लगी. मैंने कहा- क्या बे साले … मुझे दल्ला समझा है क्या!वो बोला- नहीं यार बुरा ना मान … मैं तुझे दोस्त के नाते ही दूंगा. वो मेरे ऊपर आकर मेरे कान में बोलीं- आज से पहले मैं ऐसी कभी नहीं चुदी … तू सच में बहुत मस्त मर्द है.

अब मैं अपनी चाची के सिखाए हुए तरीके से अपनी मस्त मादक मामी को ज़ोर ज़ोर से चोद रहा था.

वो बड़ी गर्मजोशी के साथ प्रियंका की चूत को उंगली से चोदने के साथ चूसने में लगी थी. मैं थोड़ी देर पास पड़ी कुर्सी पर यूं ही नंगी बैठी रही और डॉक्टर को एकटक देखने लगी. अंतर्वासना के सभी पाठकों को आपकी चुलबुली दोस्त डॉली चड्ढा का प्यार भरा नमस्कार!पाठक इसके पहले मेरी कहानियांचूत एक लंड अनेकतथापड़ोस के जवान लड़के से चुद गई मैंअंतर्वासना पर पढ़ चुके हैं.

कई बार मैंने उसको इशारों ही इशारों में अपने मन की बात जताने की बहुत कोशिश की लेकिन वो इन सब चीजों पर जैसे ध्यान ही नहीं देता था. वो बोली- वो कैसे करते हैं?मैंने पूछा- क्या कैसे करते हैं?वो बोली- उंगली का इस्तेमाल?मैंने कहा- अपनी किसी सहेली से पूछ ले. मैं- क्या? तुम अपने भाई को अपनी गांड का स्वाद चखाये बिना ऐसे ही तड़पता छोड़ देतीं?रोजी- ओह्ह.

हो सकता है मैं 2-3 दिन बाद रिप्लाइ कर पाऊं … क्योंकि मैं रोज़ मेल चैक कर नहीं पाती.

मैं सायरा को लेकर अपने कमरे में आ गया और पलंग पर लेटाकर उसकी टांगों के बीच में आ गया. तभी वो अपनी सीट से उठा और मेरे कंधे में हाथ रखते हुए बोला- मिस नंदिनी, अगर आप अपनी परेशानी नहीं बताएंगी, तो फिर मैं कैसे समझूंगा कि आप मुझसे किस चीज का इलाज करवाना चाहती हैं.

बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर उसने धीमी आवाज में मुझसे कहा- भाई आप यह क्या कर रहे हो … यह सब गलत है. उनकी तारीफ में उनकी खूबसूरती और शरीर की तारीफ करते हुए मैंने लिखा कि आपकी खूबसूरती और शरीर की बनावट को देखकर आपकी उम्र का अनुमान लगाना काफी मुश्किल है.

बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर मुझको आपका लंड बहुत पसंद है, उसे पेलो न!वो इस पोजीशन में मेरे कानों को कभी कभी काट भी ले रही थी. तो उन्होंने बताया कि उन्हें एक बार बहुत ही वाइल्ड सेक्स करने का मन है, जिसमें कोई मजबूत मर्द उन्हें एकदम रगड़ कर चोदे और उनकी हर इच्छा को पूरी कर दे.

बॉयफ्रेंड शादी से पहले लड़की को कितनी बार भी नंगी करे लेकिन पति के हाथों नंगी होने का अपना एक सुकून और रोमांच होता है.

सील पैक लड़कियों की बीएफ

फिर अगली दोपहर में अनामिका ने अपने ब्वॉयफ्रेंड से साफ़ साफ़ बात कर ली- यार तुम कैसे हो, मुझको चुदाई का मन कर रहा है … और तुम पता नहीं कहां बिजी रहते हो. अगले ही स्टॉप पर थोड़े लोग चढ़े जिससे बस में बैठने के लिए 2 ही सीट रह गईं. अगले दिन मेरा जन्मदिन था और इस जन्मदिन को खास बनाने की तैयारी पिछले कई दिनों से पक्की थी.

फिर मैंने उनके ब्लाउज को भी खोल दिया और तब तक भाभी ने खुद अपने पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया. मैंने कहा- क्या बिजनेस करते हो?वो बोला- मेरा पोल्ट्री फीड्स का बहुत बड़ा बिजनेस है. क्यों आपका भी मन कर रहा क्या भाभी की गांड मारने का?राजू चाचा- तुम गांड की बात कर रही हो, मैं तो सोच रहा तेरे बगल में भाभी को पटक कर नंगी करके चोद ही दूं साली को.

यह बात कमल ने बाद में बताई थी, इसी कारण से दुकान पर चुदाई की खुल्लम खुल्ला बातें हो रही थीं.

मैंने अपने हाथों को उसकी छाती पर रखा और तेजी से उसके लंड को लेने लगी. भाभी को मैंने झुका दिया था इसलिए मेरा लंड मस्ती से भाभी की चुत में चलने लगा था. मैंने अपने एक दोस्त को साथ लिया और …दोस्तो, मैं राजकुमार राजस्थान से हूँ.

फिर मैंने भाभी को कुतिया बना दिया और पीछे से उसकी चूत में लंड डालकर खूब चोदने लगा. उन्होंने अपना लंड मेरी चूत के दरवाजे पर रखा और थोड़ा सा ऊपर नीचे घिस कर चिकना किया. मैंने पूछा- क्यों मौसा का कितना बड़ा है?वो हंस कर बोलीं- तेरे मौसा का लंड तेरे लंड से तो काफी छोटा है.

हम दोनों ठीक से बैठ गए और मैंने उनको मैसेज करके शाम को मिलने का वादा किया. तो मैंने आफ़िया भाभी को देखते हुए काफ़ील को बोला- आपको मालूम होगा कि मैं शराब का नशा नहीं करता हूँ.

हमारे बीच अब कोई पर्दा बाकी नहीं रह गया था।मैंने जैसे ही उसकी चूत पर जीभ फिराई तो वो सिहर उठी और अपने हाथ मेरे बालों में घुमाने लग गई. मैंने झट से लंड निकाला और चाची को देखते हुए मुट्ठी मारने लगा।चाची सलवार नीचे करके पेशाब कर रही थी तो मुझे उनकी गांड की झलक दिख गई. जब मैं दोबारा गाँव गया तो उससे मिल कर दोबारा चुदाई का प्रोग्राम बनाया.

कुछ मस्त भाभियां मेरे लौड़े की इतनी अधिक शैदाई रही हैं कि आज भी वो चुदने के लिए मुझे बड़े प्यार से बुलाती हैं.

अभी भी मेरा हाथ मेरे लंड पर चल रहा था ताकि पीछे वीर्य नली में रह गया वीर्य भी बहकर बाहर आ जाये. इसलिए मुझे फूफाजी का साथ मिल गया था और हमारे रिश्ते के बारे में कमल को भी सब मालूम है. मैंने कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद उसे घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चूत चोदने लगा.

ये अन्तर्वासना भाभी की सेक्स कहानी मेरी ओर मेरे दोस्त की एक भाभी को सेक्स सर्विस देने की है. इसलिए मैंने अपने लंड को बाहर निकाल लिया और प्यार से उसके होंठों को चूसने‌ लगा.

अगली दोपहर करीब एक बजे मैं ऑटो में प्रियंका की पसंद का सारा सामान लेकर पहुंच गया. मैंने एक पल के लिए बिस्तर की सफ़ेद चादर पर देखा … तो चुत फटने से उसका खून बिखरा हुआ था. वो- किसकी, मेरी या अपनी?मैं- उंगली नहीं, अगर खाना टेस्टी हुआ तो तुम्हारे हाथों को ही चूम लूंगा.

नई बीएफ सेक्सी फिल्म

उन सबकी चुदाई की कहानी मैं अगली सेक्स कहानी में बारी बारी से आपके साथ शेयर करूंगा.

मैं पेशे से एक वैडिंग प्लानर हूँ और ये काम मैं अपनी बचपन की दोस्त नैना के साथ करता हूँ. खैर … जैसे तैसे सुबह हुई और वो शुभ दिन आ ही गया, जब मेरी बरसों की दिल की तमन्ना पूरी होने वाली थी. मैंने कैमकॉर्डर में उसका नंगा जिस्म देखा जिसको वो रगड़ रगड़ कर साफ कर रही थी.

चुत चटाई के बाद मैं उठ कर उन्हें किस करने गया, तो मामी बोलीं- मुँह में किस नहीं करना. तो वो काम छोड़कर मेरी ओर देखती रही।मैंने इशारा किया कि मैं आ जाऊं वहाँ?तो उसने चारों ओर देखा, फिर काम करने लगी।बस फेर तो मुठ मारनी छोड़ मैं घर से निकल गया और चाची के प्लाट में पहुंच गया. मधु का वीडियो वायरलदोस्तों, आपको मेरी सेक्स सेक्स Xxx कहानी कैसी लग रही है? आप मुझे जरूर बतायें!मेरी मेल आई डी है-[emailprotected]आप सभी का धन्यवाद!सेक्स सेक्स Xxx कहानी जारी रहेगी.

तभी मुझे ध्यान आया कि शायद ये तो वही लड़की थी, जो पिछली‌ रात मुझे किराना स्टोर में मिली थी. प्रिया ने उसको जकड़ लिया और फिर दोनों हॉट चुदाई के समुंदर में गोते लगाने लगे.

मैं- मतलब मैंने किस किया तुम्हें अच्छा लगा?वो- नहीं … उस बात पर मुझे गुस्सा आया, पर ये तुम्हारी पहली ग़लती समझ कर माफ़ कर रही हूँ. वो महिला बोली- कमल सेठ, एक बार हमारी लड़की को भी अपने मेहमान को दिखा दो. मामी ज्यादा पतली नहीं थीं … उनकी चुचियां 36 नाप की बड़ी और भरी हुई थीं.

मैं बिल्कुल थक गई थी और वो सब भी अपने लंड से तीन तीन बार पानी निकाल कर मुझे नहला चुके थे. मैंने आज तक दो नहीं पेलीं और तू मेरी चुत को भोसड़ी बनाने पर तुली है. हालांकि ऐसा देसी लड़का हर औरत के घर में होता है … बस मैंने परख लिया और उसे पा लिया.

उसने मुझे हटाया और बोला- निशा … ये सब … यार … ये क्या … क्या कर रही हो तुम … तुम्हारे घर वाले?मैंने उसके होंठों पर उंगली रख दी और उसका हाथ अपने हाथ में लेकर कहा- विक्की मैं तुम्हें बहुत पसंद करती हूं.

मैं भी‌ तो‌ बेवकूफ ही था, जो बातों में इतना खो गया कि‌ किसी‌ के आने जाने का भी ध्यान नहीं दिया. हम लोगों ने कुल छह रूम बुक किये थे, एक रूम में 2-2 लोग मिलकर बुकिंग की थी.

’ की एक दबी सी कराह निकली और मेरा लंड फिसलकर चुत की लाईन में ऊपर की तरफ निकल गया. मैंने उससे बोला- नहीं रहने दो, कोई बात नहीं … आप एन्जॉय करो और मैं जाकर खुद ले आऊंगी. मैं पूरे जोश से बिन्नी की चूचियों का हर तरह से मर्दन करता रहा और लौड़े को चूत में चलाता रहा.

सलोनी को चोदने में एक समस्या थी, वो यह कि सलोनी करीब पाँच फीट की दुबली पतली चालीस किलो वजन की गुड़िया थी. मेरे लंड को अब जरूरत थी तो एक गर्म चूत की। बस मैं भी लग गया लड़की पटाने की लाइन में।आखिरकार मेरे कॉलेज की एक लड़की से मेरी बात बन गई।वह बहुत ही शर्मिली टाइप की लड़की थी इसलिए उसको सेट करने में भी टाइम लगा. रश्मि ने हेतल से कहा- भाभी, ये किसी इन्सान का लंड है या घोड़े का?फिर वो उम्म … म्म … की आवाज करती हुई मेरे लंड को चूसने लगी.

बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर उसने एक रोल प्ले वाला गेम मुझे बताया और कहा कि जितना हो सके खुलकर बात करना और ज्यादा से ज्यादा मस्ती करने की कोशिश करना. उसके साथ प्यार करके जो सुकून मुझे आज मिला था, उसकी मैं कभी कल्पना भी नहीं कर सकता था.

ससुर बहु का हिंदी बीएफ

फिर मैं दोबारा से उसकी जांघों में बैठ गयी और वो मेरी चूचियों को चूसने लगा. वो बोली- मतलब!मैंने कहा- कुछ नहीं मेरा मतलब अब साइकिल कौन चलाता है. फोन रखने के बाद एकता ने कहा- यहां पर रेनोवेशन चल रहा है, हम लोगों के रुकने का इंतजाम नीचे बेसमेंट में किया गया है.

चाचा जी भी बस मुसकुराते हुए आंखें बंद करके ‘उम्महह … उमम्ह … आहह … सुहानी मेरी रंडी … आहह … चूस … बहुत मजा … आ रहा है. इसलिए उसने अंगड़ाई लेते हुए मेरी तरफ देखा और बोली- आज कुछ ज्यादा ही गर्मी लग रही है … एसी चालू कर दो. जरीना खान सेक्सफिर चाचा जी बोले- कोई बात नहीं सुहानी … मैं तुम्हें अधूरी नहीं छोड़ूँगा, मेरा लंड अभी खड़ा है.

वो किसी तरह दर्द को बर्दाश्त करने की कोशिश करते हुए मेरा साथ देने लगी.

”मैंने ये सब अभी कहा ही था कि मानवेन्द्र के लौड़े से प्रीकम रिसने लगा. विक्की के साथ इतना मजा था कि मैंने अपनी जिंदगी में ऐसा मजा पहले कभी नहीं लिया था.

इतने में मेरे टोपे पर जुबान फिराते हुए हेतल ने मेरे लंड को गप्प से मुंह में ले लिया. भाभी- फिर दो बजे हम लोगों ने लंच किया और चारों लोग नंगे होकर बेड पर एक दूसरे के अंगों से खेलते हुए आराम करने लगे. यहां तक कि उसने मुझसे ये भी कह दिया था कि तेरे जीजा जी की रूचि सेक्स में न के बराबर है.

मैं बचपन से ही हरामी था और मेरी नज़र हमेशा ही मेरी छोटी बहन पर थी, पर मुझे कभी कुछ करने का मौका नहीं मिला था.

लंड बाहर आते ही मैंने सायरा से कहा- तो तुम्हारे पीछे की मालिश हो गयी. रात को 11 बजे चारों लड़कियां होटल के बाहर आ गईं और उन्होंने हमें कॉल किया. और बीच बीच में मेरी और देखती तो मैं लंड पर हाथ फेर देता।मुझ पर कामदेव फिर असर दिखाने लगा.

सोनाक्षी की नंगी फोटोमन तो मेरा भी कमजोर पड़ जाता था लेकिन फिर सोचता कि कहीं वो ऐन टाइम पर पलटी न मार जाये. मौसी अपनी गांड की चुदाई से खुश होकर बोली- आज मालूम पड़ा कि पीछे से करवाने में उतना ही मजा है, जितना आगे करवाने में.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी व्हिडिओ

मैंने अपनी चूत को सहलाना और थपथपाना शुरू कर दिया ताकि ये गर्म होकर अपने उग्र अवतार में आ जाये और लंड को खाने के लिए मचल उठे. मैं उसको देखते हुए अपने लंड को तलवार की तरह उसकी तरबूज सी लाल चुत में घुसाने लगा. मैंने कहा- यह मेरा तजुर्बा है कि शादीशुदा औरत को किस टाइम पर और कहां चोदना है.

वो ऐसे लंड चूस रही थी मानो उसे जन्नत की कुल्फी चूसने को मिल गयी हो. रात की के सलाह है?चाची बोली- बावला हो रहा है के? रात न त बुरा हाल कर देगा तु! डर लागै है मनै त!मैं बोला- र लागता तो चुत ना देती तु!चाची बोली- रात न जब सही टाइम होगा तब बता दुंगी. वो मेरी चूत पर मुंह लगाकर मेरी पैंटी में चूत के रस की खुशबू लेने लगा.

मगर उसके घर का दरवाजा बन्द था … इसलिए उसने मुझे आते जाते नहीं देखा. एक दिन मेरी मां और नौकरानी, दोनों एक छोटी सी बात को लेकर आपस में झगड़ने लगीं. मैं ज्यादा देर तक नहीं रोक सकती थी इसलिए मैं तेजी से उसके लंड पर ऊपर नीचे होने लगी.

फिर मैंने उसके मम्मों को छोड़कर नीचे आकर उसके चिकने पेट पर किस और लिक किया. धीरे धीरे पूरा लण्ड अन्दर करके पैसेंजर ट्रेन की रफ्तार से चुदाई शुरू की जो बढ़ते बढ़ते राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड तक जा पहुंच गई.

क्या आपने भी किया?अगर हां तो मुझे आप वॉइस कॉल पर बता सकते हैं और गर्म सेक्स चैट का मजा ले सकते हैं.

अपर्णा की चूत चाटने के साथ साथ मैं उसके बूब्स को भी दबा रहा था जिस वजह से वो पूरी तरह से प्रेम और वासना के सागर में डूबी हुई थी।मैंने अपनी एक उंगली जैसे ही उसकी चूत में डाली तो उसको दर्द होने लगा. वीएफएक्सएक्सउसने चार पानी अपने लंड का पानी मेरे तीनों छेदों में निकाला और एक बार का पानी मेरी चूचियों और मेरे चेहरे पर मल दिया. मराठी चोदाचोदीउन्होंने कहा- आज तो मैं बड़ी थक कर आई हूं … तू पूरे शरीर की मालिश कर दे. मैं- क्या हुआ तुम तैयार नहीं हुई?शायरा- हां मैं आज नहीं जाऊंगी, तुम जाओ.

हम बस एक दूसरे को देख रहे थे और हमारी गर्म गर्म सांसें एक दूसरे के चेहरे से टकरा रही थीं.

मैं अकसर अपनी चूत को सहला कर या किसी चीज को अंदर डालकर शांत करने की कोशिश करती थी. उससे मिलकर मुझे अपनी बहन की चुदाई वाली फीलिंग आती है और मैं संतुष्ट हो जाता हूं. धीरे धीरे जब शादी पुरानी होती गयी तो जिन्दगी से वो रस भी धीरे धीरे कम होने लगा.

लो तुम ये वैसलिन लगा लो अपनी गांड में … जितना अन्दर तक हो सके उतनी अन्दर तक लगा लेना. उसके बेटे को चोट लगी थी और भाभी ने मुझे उसके साथ ही रुकने के लिए कह दिया. भाभी ने चाय बनाई, मैं तब तक वाशरूम में फ्रेश हुआ और चाय पीकर वापस अपने घर आ कर सो गया.

बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी फोटो

मैंने जो आधी बियर पी थी, उसकी जगह वाइन मिक्स करके बोतल बराबर कर दी थी. मैंने कहा- अरे … तो क्या गांड बेकार है?वो बोले- इस उम्र में इतनी टाईट गांड … आपकी गांड में बड़ा मजा है. मैं- अरे वाह खरबूजे और तरबूज का रस चूसने के बाद अब आम की बारी आ गई … मस्त है.

उस औरत कमली ने अन्दर आते ही कमल से कहा- हां सेठ बोलो, कैसे बुलाया?मैं उसके साथ में उसकी लड़की को भी देखने में मग्न था.

ये थी मेरे जीवन की सच्चाई जो मैंने आपको इस सेक्स स्टोरी के माध्यम से बताई.

वैसे अगर आज के लिए माफ कर दिया, तो कल वो दिन भी दूर नहीं होगा … जब मैं उसके रसीले होंठों पर भी किस करूंगा. मैंने कमली को पकड़ लिया, वो मचलने लगी और मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी. तेरी मम्मी की जयमेरे कोमल से पेट और पतली कमर पर उनके हाथ बार बार सहला कर जा रहे थे.

कुछ देर के बाद चुदते हुए मोना के मुंह से मस्त कामुक सिसकारियां निकलने लगीं. उसने सूट में मुझे एक फोटो भेजी व्हाट्स एप पर।ये पहली बार था जब मैंने उसको देखा था. Email id –[emailprotected]Instagram – Vivaan _da _hottyगर्ल्स लेस्बियन सेक्स स्टोरी का अगला भाग:गर्लफ्रेंड की सहेलियों संग रासलीला- 4.

वे बोले- बस!मैंने पीछे हाथ करके लंड सहलाया- अरे ये है … मैंने सोचा न जाने क्या गड़ रहा था. मैंने भी बिना उससे पूछे अपना लंड सीधा उसकी गांड में पेल दिया और फुल स्पीड से उसकी गांड मारने लगा.

इससे पहले मोहित कुछ बोलता सामने से आती हुयी संध्या बोली- बिल्कुल बहन जी जैसी.

वो लंड चूसने से मना करने लगी लेकिन मैंने जबरदस्ती उसके मुँह में लंड डाल दिया. मेरी चूत से रह रहकर पानी निकल रहा था और फच … फच की आवाज निकल रही थी चुदाई से।मेरी चूत अब बहुत ज्यादा गीली हो गयी थी. मैं भाभी से बोला- भाभी, अब मुझसे रहा नहीं जाता है, पहले एक बार जल्दी से ले लूं … बाकी का खेल तसल्ली से करूंगा.

तृषा कर मधु वायरल वीडियो डाउनलोड ग्यारह बजने में अभी टाइम था तो हम लोग बाहर मेडिकल स्टोर से से कामवर्धक गोलियां और बियर शॉप से 8 बियर के कैन ले कर आ गए. अब वो गांड चलाने लगी और झटकों का जबाव देने लगी। मेरा लंड उसकी चूत में पूरा घुसकर बाहर आ रहा था.

बाहर हो-हल्ला ज्यादा होता देख कर कमल उन सभी औरतों से बोला- एक बार सभी चुप हो जाओ, मेरे यहां हल्ला नहीं मचाओ, मेरे मेहमान को जो पसन्द आएगी वही काम आएगी. मेरा बहुत ख्याल रखती थी। मेरा जब मन होता था वो मुझसे चुदवा लेती थी. एक तो उसका जिस्म इतना गठीला था कि मैं बहुत जल्दी गर्म हो जा रही थी.

एचडी में बीएफ वीडियो में

ये एक तरह से 69 की ऐसी मुद्रा थी जिस्मने मेरा लंड उसके मुँह में था और वो मेरी गांड को अपने लंड से भेद रहा था. मैंने पूछा कि वो उठ क्यों गयी?तो कहने लगी कि बस में लोग ज्यादा हैं. फिर हम पांच दस मिनट नंगे लेटे रहे और उसके बाद वो उठकर कपड़े पहनने लगी.

मैं कुछ और तरीका सोच रही थी लेकिन ये भी काफी उत्तेजित करने वाला था. मैंने पूरी बात समझी तो मालूम हुआ कि उस लड़के ने मासी की कुछ फोटो हासिल कर ली थीं और उनको फोटोशॉप से अश्लील बना कर वो मासी को चुदाई के लिए ब्लैमेलिंग करने लगा था.

मैं अब सिसकारने लगी और मेरी आहें काफी गर्म हो गयीं- उम्म … अहह … हाह् … स्स् … आह्ह … अम्मऐसे करते हुए मैं किसी तरह खुद को रोकने की कोशिश कर रही थी.

आज का ये नज़ारा बहुत खूब था कि आंख खुलते ही मेरे महबूब का चेहरा मेरे सामने था. मैं- तुम इतनी खूबसूरत हो तो कोई अच्छा लड़का नहीं मिला!वो- मेरे मम्मी पापा ने बिना पूछे शादी तय कर दी, पैसे देख कर ये शादी हुई थी. पहले सौदा फिक्स कर लो और मेरे यहां का इनाम क्या दोगे, वो भी बता दो.

मगर मैंने उसको चश्मा नहीं उठाने दिया और बोली- तुम उठाकर दिखाओ इसे हिम्मत है तो? मैं तुम्हें खुद को नंगी नहीं देखने दूंगी. अब मॉम हम दोनों की स्मूच की आवाज सुन रही थीं … और पता नहीं क्या सोच रही थीं. जिसके लिए आप सभी ने मुझे मेल के द्वारा बहुत प्यार दिया … उसके लिए आप सभी का बहुत धन्यवाद.

मेरी बीवी पंकज के झड़कर मुरझा चुके लंड को एक हाथ से सहलाती हुई पंकज की जाँघों पर अपने मादक नितम्ब टिका कर बैठ गयी और मेरे लंड को चूसने लगी.

बीएफ सेक्सी पंजाबी ब्लू पिक्चर: मैं- और अगर मैं तुम्हें ऐसे ही छोड़ दूँगा तो बाद में तुम मुझे भी बेवकूफ कहोगी. शाम को मैंने घर पहुंच कर मासी को सारी बात बताई और उनसे निश्चिंत होने को कहा.

तभी संजू का ध्यान दरवाजे के तरफ गया और वो मुझे इशारे से रुकने को बोलकर परछाई को दिखाने लगी. इनमें सभी पात्रों के नाम भर बदले गए हैं … और कहानी को थोड़ा कामुक बनाने के लिए जरा विस्तार से लिखी गयी हैं. मैं- दर्द का क्या हाल है?बिन्नी- कोई दर्द वर्द नहीं है … सब ठीक है.

मैं उसकी कसी हुई ब्रा में तने उसके बमपिलाट मम्मों को घूरते हुए उससे बातें कर रहा था.

उसने किसने? और तुम्हें कैसे पता कि दो‌ ही पैड थे, सच सच बताओ!मैं जानबूझकर अब घबराने‌ की एक्टिंग सी करने‌ लगा और हकलाते हुए बोला- न्. हेतल ने मुझे गले लगा लिया और मुझे किस करके बोली- ओह्ह … अरमान कितना अच्छा हुआ कि तुम यहां आ गये. अब उनके हाथ पीछे से मेरे चूचों पर आ गये और वो मेरी गर्दन को चूमते हुए मेरे ब्लाउज में उभारों को दबाने लगे.