बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म

छवि स्रोत,मोगली बताओ

तस्वीर का शीर्षक ,

मॉम सेक्स वीडियोस: बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म, अब उसने मेरा विरोध करना बिल्कुल बंद कर दिया था … और अपनी टांगें पूरी तरह से खोल दी थीं.

থ্রি এক্স ভিডিও

वेटर- साली छिनाल … चुप बैठ … बहुत ज़्यादा गर्मी है तेरे में … लगता है तेरा आदमी तुझे शांत नहीं कर पाता है?मैं उससे झूठी मिन्नतें कर रही थी कि मुझे छोड़ दो. ममेरी चुत का मजामैंने देखा कि उसकी छातियां इतनी उभरी हुई थीं कि उसकी दोनों चूचियां एकदम गोल गोल लचक रही थीं.

वह बहुत जल्दी में था, उसे भी आज शाम को किसी भाभी से मिलना था जिसके लिए वह कंडोम लेकर आया था।वह मुझे कंडोम का पैकेट देकर बोला- इसे अपने पास रख के रखना. रोमांटिक xxxउसे पता नहीं था हस्तमैथुन कैसे करें।वह बस दूसरे कमरे से आने वाली आवाज़ों को सुनती रही.

माँ!तभी मैंने उसके ऊपर लेटकर उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और जोर से दो तीन धक्के मारे.बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म: सबके सामने तो मैं कुछ नहीं कर पाया उसके साथ उसी की ही तरह उससे गले लगा रहा.

मैंने पूछा- क्या पेलवाने का मन है?वो बोली- हां भैयाहम दोनों में फिर से किस चालू हो गया.उसने पूछा- आपको कैसे पता?मैंने कहा- मैं तेरी सब खबर रखता हूं बस मम्मी को कभी नहीं बताया.

ब्लू पिक्चर बुर की चुदाई - बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म

जब मेरे लौड़े का लावा रचना की चूत में आखरी बूंद तक टपक गया तो मैं निढाल होकर के रचना की बगल में लेट गया.जैसे कि भैया का घर छोटा था, उनके एक कमरे में ही सोने की व्यवस्था थी.

करोना, जो अब पतवार चिन्ना के हाथ में छोड़ चुकी थी, उसकी बात को मानते हुए उसके लण्ड की सवारी करते हुए आगे की और झुक कर चिन्ना के माथे पर तेल लगाने लगी और बार बार झुकने की वजह से चिन्ना और करोना का शरीर का अगला हिस्सा आपस में रगड़ा खाने लगा. बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म मैंने उसी क्षण अपने होंठों को उसके होंठों पर रख दिया और ये हमारा पहला चुम्बन था.

पैरों पर किस करते करते मैंने अचानक उसकी गीली चूत को मुँह में भर लिया.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म?

वो बाथरूम से टॉवल लपेट कर आई और उसने मेरे सामने आते ही टॉवल खोल दिया. उसकी बड़ी बड़ी आंखें, पतली सी कमर, सीधे उठे हुए चूचे, फूली हुई गांड. बहू मेरी बातों को बहुत ध्यान से सुन रही थी जैसे कि मैं उसकी सहेली हूँ.

उसकी मां के इलाज मैंने पच्चीस हजार खर्च किये थे और वो सिर्फ तीन सौ रुपए लेकर आई थी. मैं उसे किस करने के लिहाज से उसके ऊपर झुका और एकदम से नीचे से अपना कड़ा लंड उसकी चूत में पेल दिया. उसके गांड मारने में भी इतना मजा आ रहा था जैसे मैं उसकी चूत को ही मार रहा हूं।कुछ ही देर में हालत खराब हो गई और मैंने जोरदार शॉट लगाने शुरू किये.

मां ने दीदी से कहा- आओ बेटी, अपने पापा को अपनी जवानी का पूरा रस दे दो आज. इधर अनुभवी चिन्ना इसी बात का फायदा उठा कर उंगली से उसकी गीली हो चुकी कुंवारी चूत के दरवाजे को खोलने के कोशिश करने लगा. वो मेरी हर बात का खयाल रखता है और मैं भी उसको अपने पति के जैसे रखती हूं.

फोन को रखते हुए वो बोली- आज इतनी जल्दी घर वापसी क्यों?मैंने कहा- बस ऐसे ही. जिस तरह से पहली ही चैट में उसने आई लव यू बोल दिया था तो फिर शंका का स्थान तो कहीं था ही नहीं.

मैंने कहा- अरे बेटू इसे सुसु नहीं बुर कहते हैं … सुसु तो छोटे बच्चों की होती है … अब तो ये बड़ी हो गयी है.

मेरी इस डबल मीनिंग बात से नवीन जी ने मेरी तरफ देख कर अपना लंड सहला दिया और कहा- मुझे तुमसे मिलने वाली ख़ुशी का इन्तजार रहेगा.

मैं सोच रहा था कि पिछले 4 घंटों में जो कुछ भी हुआ, क्या वो सच है … या कोई सपना. कुछ देर बाद लंड चुत की चिकनाई पाकर सटासट अन्दर बाहर होने लगा … तब उन्होंने मेरे मुँह से अपना मुँह हटाया. मैंने पर्स से कुछ मेकअप का सामान निकाला और अपना नोकिया एन ९७ का मोबाईल निकाला.

और क्यूंकि मैंने शॉर्ट्स और टॉप पहना हुआ था और शॉर्ट्स भी काफी मुश्किल से मेरी गांड को छुपा पा रहे थे इसीलिए वो लगातार मेरी गांड और बूब्स देख रहा था. पहले तो मुझे बहुत बुरा लगा, पर थोड़ी देर बाद उसके कोमल अहसास से मेरा लंड तन गया. तभी मैंने उसे अपने बीच में किया और अपने लंड को उसकी गांड सेट किया और मालिश करते हुए आगे पीछे होने लगा.

बहुत प्यारी लग रही थी बिल्कुल गुलाबी … छोटे-छोटे बाल थे चूत के आसपास जो बहुत ही प्यारे लग रहे थे.

मैं नहाने के लिए बाथरूम में गया और नहाने के बाद बिना बदन को पौंछे ऐसे ही तौलिया लपेट लिया. पहले मुझे मेरे पर्स वगैरह तो रखने दो और स्कार्फ तो निकालने दो मेरी जान. उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझसे कहने लगा- आई लवयू प्रियल … प्लीज़ मुझे छोड़कर मत जाओ!मैंने सोचा कि अगर मैंने हां कर दी तो पवन मुझे चोदे बिना रुकेगा नहीं.

मैंने पूछा- तुम क्यों नहीं गयी?वो बोली- मेरी तबियत खराब थी, इसलिए मैं नहीं गयी. यह सोच कर मैं मेरे घर से कुछ ही दूरी पर एक कॉलोनी थी, वहां गवर्नमेंट ऑफिसर्स रहते थे, जो बाहर से आकर इधर रहते थे. मैं देरी ना करते हुए उसके कपड़े उतारने लगा और उसके दूध बाहर निकाल कर चूसने लगा.

निशा ने खुश होते हुए पूछा- क्या सरप्राइज़ है?मैं- पहले ये बांधो … अभी बताता हूं.

वो मेरी तरफ देख कर बोले- ठीक है, मैं बाथरूम से फ़्रेश हो कर आता हूँ. लेकिन जब मैं सोने ही वाला था तभी मैंने देखा कि मेरा हाथ मनीषा के हाथ में है और मनीषा मेरे हाथ को जोर जोर से दबा रही है.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म उम्र के इस पड़ाव में भी मेरी चाची ने अपने आप को बहुत मेंटेन करके रखा हुआ है. मैं 15 मिनट तक उसकी चूत चूसता रहा … और इधर मेरा लंड फिर से खड़ा हो चुका था … जो कि उसके हाथों की गर्मी महसूस कर रहा था.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म कोमल कहने लगी- ऐसा नहीं है, ये जो तुम सोच रहे हो ये तुम्हारे मन का वहम है. चिन्ना ने आगे बढ़ कर करोना के झुके हुए सिर को ठोड़ी पकड़कर अपने एक हाथ की उँगलियों का सहरा देते हुए ऊपर उठाया और आगे बढ़ कर अपने सख्त काले होंठ करोना के नाजुक गुलाबी होंठों पर रख कर गहराई से चुम्बन करने लगा.

मैं उसे देखते ही समझ गया कि साली ने न तो चड्डी पहनी है और न ही दूध बांधने का कोई सरदर्द लिया है.

इंडियन गर्ल क्सक्सक्स

दोस्तो, मैं बताना चाहता हूँ कि अगर आपको किसी भी और की चीखें निकलवानी हैं, उसे पूरी तरह से संतुष्ट करना है, तो दोस्तों मेरे पर्सनल अनुभव से कह रहा हूँ कि आप उसकी कान की लौ को हल्के से काटो. उसने रेड कलर की टी-शर्ट पहनी हुई थी और मैचिंग लिपस्टिक लगाई हुई थी. चूंकि मेरी बर्थ ऊपर की थी, मैं सोच रहा था कि थोड़ी देर नीचे बैठूंगा और बाद में रात को ऊपर अपनी बर्थ पर चला जाऊंगा.

और हम लोग 4 साल बाद मिल रहे हैं बदलाव तो होगा ही!मैंने हाँ में जबाब दिया. उसकी चूत पर रगड़ने से लंड के टोपे में जो सनसनाहट हो रही थी वो एक अलग ही मजा दे रही थी. अब मैं भी उसकी चिकनी चूत का रस पीना चाहता था तो मैंने उसे कन्धों से पकड़ कर उठाया और बिस्तर पर गिरा लिया.

वहां जाने के बाद उसने बात करना कम कर दिया और उसके कुछ दिन बाद उसका नम्बर भी बंद हो गया.

उसके बाद उसने अपनी जीभ मेरे चूत में डाला … वो अहसास मैं बयां नहीं कर सकती … मुझे जन्नत का सुख मिल रहा था. वह सोच रहा था कि आज तक उसके नीचे आकर लड़की से औरत बनने वाली सबसे खूबसूरत बदन वाली लड़की होगी ये।चिन्ना ने फिर से अपनी पोजीशन ले ली और मालिश शुरू कर दी. बस किसी तरह एक सहारा मिला हुआ था, जिसे छोड़ना मेरे लिए आत्महत्या करने के समान था.

उस टाइम उसने एक टाइट लेग्गिंग पहनी थी जो उसकी गांड में फ़ंसी हुई थी और ऊपर एक टी शर्ट जिसमें से उसके बूब्स पूरे शेप में दिख रहे थे. पापा बोले- सॉरी से काम नहीं चलेगा … ये तो साफ करना ही पड़ेगा क्योंकि अगर आज साफ नहीं किया, तो कल हॉस्पिटल में कोई और ही तुम्हारी झांटें साफ करेगा … और शायद हो सकता है सभी स्टाफ के सामने तुम्हारी झांटें साफ़ हों … और यह भी हो सकता है कि यह सब मुझे ही साफ करना पड़े, क्योंकि उस टाइम कोई नहीं सोचता कि यह किसकी झांटें हैं. मैंने पूछा- दीदी आपका साइज क्या है?वो बोली- तुम खुद ही पता क्यों नहीं कर लेते हो!फिर मैंने दीदी को बेड पर लिटा दिया.

जैसे जैसे उसकी चूत में मेरा लंड अन्दर जा रहा था, मुझे ऐसे लगा कि उसकी चूत में गर्म गर्म अंगार भरे हों. आज की दुनिया में सभी लोग पैसे वाले से नाता निभाना अधिक पसंद करते हैं, गरीब की तरफ कोई नहीं देखता है.

मैं मामी की चुत की फांकों में लंड का सुपारा फंसा कर चुत में लंड अन्दर घुसेड़ने लगा. मैंने अपनी कमर आगे पीछे करके झटके लगाने शुरू किए और उसकी जोरदार चुदाई करने लगा. थोड़ी देर बाद मेरे दोस्त विशु का लंड भी खड़ा हो गया और वो भी एक बार फिर से मेरी माँ को चोदने के लिए तैयार हो गया.

मैं जब भी किसी लड़की के साथ कुछ करता हूं तो मुझे उसके चेहरे को देखने में बहुत मजा आता है.

आज की इस सच्ची सेक्स कहानी को पढ़ कर आप सभी के लंड से पानी निकल जाएगा और औरतों की चूत गीली हो जाएगी. महिला घर पर अकेली थी क्योंकि आज घर वाले सभी किसी की शादी में गए हुए थे।उस महिला ने हमको एक कमरा, जिसमें डबल बैड था, वह दे दिया. वो उठकर बियर और स्नैक्स लेने जाने लगी, तो मैं उसकी उछलती गांड और मम्मों को देख रहा था.

वह कुछ नहीं बोली।मैंने अपना लंड हल्का सा पीछे खींचा और एकदम से पूरा अंदर डाल दिया। इस बार उसने चीख तो रोक ली पर सर को इधर से उधर दो-चार बार पटका। मैं पूरा लंड अंदर डाल कर उसको किस करने लगा।2 मिनट में उसने अपनी कमर हिलायी, मैं समझ गया कि वो नार्मल हो गयी है … अब आगे बढ़ा जा सकता है।मैंने धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करना शुरू कर दिया. मैंने अपने धक्के तेज कर दिए और रूबी भी गांड उठाकर मेरा पूरा साथ दे रही थी.

फिर जब आकांक्षा की पकड़ थोड़ी ढीली हुई, तब मैंने आकांक्षा की चूत से लंड निकाला और आकांक्षा को डॉगी स्टाइल में खड़े होने को कहा. यह अहसास उसे भी होने लगा था, लंड की गर्मी पाते ही रीना होश में आ गयी. मैं भी उसे कपड़े बदलते देखना चाहता था तो मैंने अपनी आँख कीहोल पर लगा दी.

बफ सेक्सी फिल्म वीडियो

हम दोनों के बीच में शादी के 6 महीने के बाद ही मन-मुटाव होना शुरू हो गया था लेकिन घर की इज्जत की वजह से मैंने शादी को खींचे रखा.

अपनी बीवी की सेक्सी सहेली की चूत चोदने के बाद मैं अक्सर उसे चोदता था. फिर मैं उसकी चूत को चाटने लगा जिससे उसके मुँह से सेक्सी आवाज निकलने लगी- आ ऊ आ ऊ आ और जोर से … मुझे बहुत अच्छा लग रहा है. मैं अपने बारे में बता दूं कि मैं एक बहुत ही मस्त और सेक्सी शरीर की मालकिन हूं.

उसके गोरे गोरे चूतड़ों के बीच में छोटी सी भूरे रंग का प्यारी सी गांड का मुहाना दिखा, तो मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और अपनी बीच की उंगली से मुहाने को सहला दिया, जिससे वो एक बार फिर चिहुंक उठी. सैम ने किस करते हुए मेरे पेंटी में हाथ डाला और मेरी चूत पर हाथ घुमाने लगा. दारू पीकेअब ऊपर किसी के आने का खतरा नहीं था। पूरी रात अपनी पड़ी थी।जाते ही मैंने उसे अपनी बांहों में ले लिया और उसे बेतहाशा किस करने लगा। वो भी खुल कर मेरा साथ दे रही थी उसे भी चुदने की जल्दी थी जैसे।मैंने उसे छेड़ते हुए कहा- जानू बड़ी उतावली हो रही हो.

फिर मैं वापस माया के होंठों को चूमने लगा तथा दूसरे हाथ उसका पेटीकोट का नाड़ा खींचकर खोला और उसे उतार दिया. कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं अपने परिवार का परिचय आपसे करवा देता हूँ.

मामी बोली- पहले कभी नहीं देखा है क्या तुमने ये?मैंने कहा- मामी, देखा तो है लेकिन इतने पास से नहीं. उस रात जब मैं सोने की तैयारी में था तो मैंने सुना कि मामी के रूम से आवाजें आ रही थीं. वो हंसकर अपने बेटे से पूछने लगीं- क्या हुआ बेटा?उसने अपनी मम्मी से कह दिया- वो मेरे कौन हैं?मैं सामने में ही खड़ा था, तो मैंने अपने मुँह से तेज आवाज नहीं निकालते हुए धीरे से ‘पापा.

मैं कभी सोच भी नहीं सकता था कि निशा इतनी अच्छी लाइफ पार्टनर मिलेगी … जो मुझे मेरी सेक्स लाइफ इतनी अच्छी बना देगी. उसने मेरे वीर्य की एक एक बूंद अमृत समझ कर अपने पेट में उतार ली और मैंने भी उसके कामरस के अमृत को नीचे की ओर रास्ता दे दिया. और उसके साथ ही उसकी चूत ने फिर से सोमरस की बौछार कर दी और वो एक बार फिर ठंडी पड़ गयी.

हे भगवान! सुबह के 4 बजे यह लड़की … यहां … मैंने अंदर बुलाया, गेट बंद किया।सीमा- क्यों जनाब कैसा लगा सरप्राइज?मैं- तुम पागल तो नहीं हो? इतनी रात में क्या कर रही हो?सीमा- आपसे मिलने आयी हूँ। लाइट ऑफ करो.

पांच मिनट बाद मुझे लगा कि मैं अब झड़ने वाला हूँ, तो मैंने अपनी रफ्तार बढ़ा दी और जोर जोर से कल्पना की चूत में लंड पेलने लगा. एक रात मेरी आंख खुली तो देखा कि अंधेरे में मेरी मां पापा का लंड चूस रही थी.

मैं बोला- हां मैं तो कर लूंगा, पर तू दर्द सह पाएगी?वो बोली- आपके प्यार के लिए मैं हर दर्द सहन कर लूंगी. दोस्तो, आपको मेरी ये आपबीती कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपने विचारों से अवगत जरूर करवायें. वो कहने लगी कि उसको उसकी मशीन ठीक ही चाहिए किसी भी कीमत पर या फिर इसको वापस करवा दीजिये.

जैसे मैंने टांगें फैलायी विशाल ने मेरी चूत में मुंह लगा दिया और मेरी चूत को चाटने लगा. मेरी यह तमन्ना पूरी हुई या नहीं?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम निहाल सिंघानिया है. सेक्सी औरत की चूत मुझे पहली बार मिलने वाली थी, ये सोच कर ही मेरा लंड अंडरवियर में ही करवट बदलने लगा था.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म अब करोना भी समझ चुकी थी कि उसका कुंवारापन अब कुछ ही देर का मेहमान है क्योंकि उसे अपनी कुंवारी नाजुक चूत का दुश्मन यानि चिन्ना का खड़ा लण्ड लार टपकता झटके मरता हुआ अपनी आँखों के सामने नजर आ रहा था. उसके बाद उसने एक एक करके मेरी शर्ट के सारे ही बटन खोल दिये और मेरी पैंट तक मुझे नंगा कर लिया.

एक्सएक्सएक्स तमिल

मुझे ये कहते हुए थोड़ा अटपटा लग रहा था पर मैं और कंट्रोल नहीं कर सकती थी. मेरे लंड के छेद से वीर्य निकल कर अम्मी की गांड के छेद पर गिरने लगा. चारों तरफ फूल और गुब्बारे थे, बिस्तर तो मानो गुलाब के फूलों का ही बना था.

नीचे उनकी गांड बाहर की तरफ उठी हुई थी। गाउन रेड कलर का था और उसका गला बहुत बड़ा था। नीचे से टाइट था और उनकी पैंटी की लाइन दिख रही थी।मेरा तो ये देख के खड़ा ही हो गया जिसे मैं यहां वहां घूम के छिपा रहा था. अब सेजल ने फिर से अपने ससुर को किस किया और वह करीबन 5 मिनट तक एक दूसरे को किस करते रहे. अंतर्वासना सेक्स डॉट कॉमअब निधि फिर आँखें बंद कर मस्ती में आहें भरने लगी।निधि की चूचियों के निप्पल मसलने के बाद मैं उसकी बायीं चूची के निप्पल को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा और दायें हाथ से उसकी दायीं चूची को दबाने लगा।कुछ देर बायीं चूची को चूसने के बाद मैं उसकी दायीं चूची को मुख में लेकर चूसने लगा और बायीं को दबाने लगा।अब तक निधि फिर से चुदासी हो गयी थी.

तभी मेरी बहू ने मेरे बेटे को बैड पर गिरा दिया और उसका अंडरवियर उसने निकाल के फेंक दिया.

वो झड़ गयी और उसका बदन अब धीरे धीरे शिथिल पड़ने लगा … पर मेरा अभी कहां हुआ था. कुछ परेशानियां होती हैं, कुछ मजबूरियां होती हैं, जिनसे उसे इस नर्क में जाना पड़ता है.

इस बीच वो 4 बार झड़ चुकी थी और मेरा लंड अभी भी जोरदार चुदाई में लगा हुआ था. ऐसा बलिष्ठ बदन और ऐसा घोड़े जैसा लण्ड देख कर तो तुम्हारी उम्र की लड़कियों की लार टपक जाती है. दो मिनट उसकी चूचियों को पीने के बाद मैंने फिर से उसकी चूत में जीभ दे दी और जोर से चूसने लगा.

ये सुनकर मैंने कहा- सच तो यही है भाभी … दिन तो एक बार तो आपको याद करके हिला ही लेता हूँ.

चूंकि इतने दिनों से जमाने की मार खा चुकी थी तो मैंने भी नवीन जी से जुड़ने का मन बना लिया था. उसने कटोरी को अपनी चूची के नीचे रखा और अपने बूब्स को दबा दबा कर दूध निकालने लगी. मैं जैसे जैसे उसकी चूचियों को पीता और मसलता, उसकी सिसकारियां बढ़ती जातीं.

सेक्सी ऐश्वर्यालगभग 20 मिनट में तीनों ने लगभग एक साथ पिचकारी छोडी़ और उठ कर कपडे़ पहनने लगे. मैंने बहू की गांड से बट प्लग निकाला तो बहू की गांड का छेद काफ़ी खुल गया था.

सनी लियोनी एक्स एक्स एक्स वीडियो

स्पष्ट था कि वो वासना की आग में जल रही थी पर नारी सुलभ लज्जा उसके और मेरे बीच में झीनी सी दीवार बनी खड़ी थी. वे सब हल्की आवाज में हंसने लगीं और इसी तरह की बातों के कुछ देर बाद वे तीनों सो गईं. उसने मेरे लंड को मुंह में ले लिया और लंड पर लगे मिश्रण को चाटने लगी.

मुझे भी शरारत सूझी, तो मैं ठीक उसके ऊपर लेट गया और लंड का दबाव उसकी बुर पर देते हुए, उसे जोर से पकड़ कर पहले गाल पर किस करने लगा. मैं- उनके वो बड़े बड़े हैं … और बॉडी भी मस्त है … फ़िगर भी अच्छा है उनका. शिल्पा- तुम्हें कैसे पता चला कि मुझे इस पर ही बात करनी है … और यही बोलना था.

थोड़ी देर बाद मैं अपना काम करके वापस आ गया। पर जब तक मैं भाभी के घर था वो मुझे पूरे टाइम घूरती रही।फिर अगले दिन उसकी फेसबुक पर रिक्वेस्ट आई, मैंने एक्सेप्ट कर ली. फिर जैसे ही मैं अपना हाथ उसकी स्कर्ट के अन्दर ले गया, मैंने पाया कि उसकी पैंटी पूरी की पूरी गीली हो चुकी थी. हो सकता है इसी बीच के अंदर मधु ने किसी के साथ संबंध बना लिए हों!यह कहते हुए बलविंदर साहब थोड़ा सा उदास हो गए.

आप प्लीज कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको चुदाई की कहानी कैसी लगी?[emailprotected]. ये पोट्रेट भाभी की शादी का था, जिसमें भाभी वाक़ई में कमाल लग रही थी.

इससे पहले कि वो संभल पाती मैंने उनको पेट के बल लिटा दिया और उनकी गर्दन और पीठ को चूमने लगा.

हाय… एक जवान और सेक्सी देसी लड़की की मस्त मलाई जैसी चूचियां मेरे सामने नंगी हो गयी थीं. ब्लू फिल्म देहाती ब्लू फिल्ममैं तो सो रहा हूँ अब!तो मामी ने बोला- ठीक है बेटा, तुम सो जाओ, जब मुझे नींद आएगी तो मैं भी टीवी बन्द करके अपने रूम में सोने चली जाऊंगी. सेक्स वीडियो कैसे देखेंदीदी- ओहह राज … धीरे पेलो … उहह आहह याह उह याह राज … मुझे दर्द हो रहा है … रुक जाओ … प्लीज़ तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है. मैंने लंड को बाहर निकाल लिया लेकिन उसकी चूत का दर्द कम नहीं हो रहा था.

उसने वासना के इस खेल में मुझसे पहले जीत प्राप्त कर ली थी, कामानन्द की चरम सीमा पर पहुँच गयी थी.

जब से तुमने मेरी चूत को चूसना शुरू किया है तो मैं तो तुम्हारे ही इंतजार में रहती हूं. रात हो गई थी, हम लोगों ने एक होटल में दो कमरे लिए, खाना खाया और सो गये. मोहन ने कहा- दूध का मजा बाद में ले लियो … अभी ठीक से देख … ढीली सिली है कि नहीं.

हम दोनों एक पल के लिए एक दूसरे से लिपटे रहे … फिर से चूमाचाटी शुरू हो गई. मैं जब भी मामा के घर जाता हूँ, तो बस यही सब याद करके मामी को चोदने के बारे में सोचता रहता हूं. जो यह दर्शा रहा था कि मां की चूत अभी भी टाइट थी या यह भी दर्शा रहा था कि विशु का लंड बहुत बड़ा था.

देसी नंगी चुदाई

नसरीन पूरी तरह गर्म हो चुकी थी, उसकी सांसें तेज़ चल रही थीं … दोनों चुचे ऊपर नीचे हो रहे थे. नवीन सर का लंड मुझे अभी दर्द दे रहा था … क्योंकि मैं काफी दिन बाद चुद रही थी. वो कभी मेरे स्तनों को मसलता, कभी मेरे चूतड़ों पर हाथ फिराता कभी निप्पल उमेठता.

उसके बाद कोमल ने मुझे अपने ऊपर से हटाया और अपनी मैक्सी लेकर बाथरूम की ओर गयी.

पानी का गिलास भरते हुए मैंने मामी से पूछा- रात में आपको कुछ हुआ था क्या मामी?वो बोली- नहीं तो, मुझे क्या होने वाला था, ऐसा क्यों पूछ रहा है तू?मैंने कहा- पता नहीं, आपके रूम से कुछ दर्द भरी आवाजें आ रही थीं.

रात के ठीक बारह बजे मम्मी ने मेरे मोबाइल पर कॉल की और पूछा- नींद नहीं आ रही है ना? आ जाओ, मेरे बेडरूम में. मैंने उससे कहा- थोड़ा देख कर चला लेती, तो मेरे पैर में फैक्चर नहीं होता, बहुत दर्द हो रहा है मुझे …मैं वहीं रोड के किनारे बैठ गया. लड़की घोड़ा का सेक्सी वीडियोगोरा बदन … उस पर काले रंग की ब्रा और पेंटी! मानो जैसे चांद पर कोई दाग सा लगा था.

उन पलों को और अधिक मादक और कामुक बनाने का काम मेंहदी बखूबी कर सकती है. वह गुस्से में बोली- तू कुत्ता ही रहेगा हरामजादे … साले बहनचोद जा मर … बाथरूम में जाकर हल्का हो जा. हर महीने मैं वहां जाकर तीनों फ्लोर के किरायेदारों से महीने का किराया लाया करता था.

फिर मैंने उसको बोला कि उसमें उंगली करो और अंदर से चौड़ी करके दिखाओ।उसने मेरे कहे अनुसार अपनी चूत खोल कर दिखायी. दो मिनट उसकी चूचियों को पीने के बाद मैंने फिर से उसकी चूत में जीभ दे दी और जोर से चूसने लगा.

नीचे आकर मैं उनके पैरों को किस करने लगा और पैंटी को उतार के फेंक दिया.

मैंने कहा- बहू, तुम कभी गाँव आओ तो वहां भी तुम्हारी ऐसी मस्त चुदाई करूँगा. जब मेरा ध्यान इस बात पर गया तो मैंने पाया कि दीदी मेरी ओर झुक गयी थीं. मैं बोला- ऐसा करो, तुम लोवर निकाल कर स्कर्ट पहन लो … तब तक मैं पानी गर्म कर लेता हूं.

एक्सएक्सएनएक्सएक्स इसके बाद हम दोनों ने अपने अपने कपड़े ठीक किए और थोड़ी देर में घर चले गए. मैंने कहा- नताशा डार्लिंग … जब तक दर्द न हो, तब तक चुदाई का मजा नहीं आता.

मैं अपना हाथ नीचे ले गया, तो उसकी बुर की लकीर चालू हो गयी और मैंने नीचे तक उंगली से अच्छे से टटोल कर देखा. और जब उन्होंने सेक्स किया तब पता चला कि उनका लिंग अपेक्षाकृत छोटा और पतला है. मैं कुतिया बन गई … तो उसने पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाला और मुझे फिर से चोदना शुरू कर दिया.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो नंगा

वो मुझसे छुटने की नाकामयाब कोशिश करने लगी लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा। फिर लगभग पाँच मिनट किस करने के बाद उसे भी मजा आने लगा और वो मेरा साथ देने लगी. मैं हल्के से चाची को अपनी गोद में उछाल कर अपना लंड उनकी गांड में चुभा रहा था. मैंने आखिर में आपको बताया था कि जब हम दोनों सेक्स करके बाहर आए, तो सामने वाले घर के सामने एक शादीशुदा लड़की बैठी हुई थी, जो हमें ही घूर रही थी.

मेरे लंड को पहली बार किसी औरत का हाथ छू रहा था, तो मेरे लंड ने पैंट के अन्दर ही उछल-कूद करना शुरू कर दी थी. आह क्या मस्त अहसास था वो … निशा ने मेरे लंड को किस किया और अपने मुँह में ले लिया.

मुझे उसके इस रुख को देख कर एक बार डर भी लग रहा था कि कहीं पहल की और साली कुछ बकने लगी, तो इज्जत की माँ चुद जाएगी.

फिर वो मेरे पेट को चूमने लगी तो इतने में ही मैंने उसकी टीशर्ट को पकड़ कर उतार दिया. तुम प्लीज तुम बीच में रुको मत … और तेज तेज करते रहो क्योंकि अब मुझ से नहीं रुका जा रहा है।”शायद उसके झड़ने का टाइम आ गया तो मैंने भी उसे फिर से चोदना शुरू कर दिया. वो छटपटा रही थी, पर उसे ऐसे देखकर मुझे और ठरक चढ़ रही थी और मेरे धक्के तेज होते जा रहे थे.

मुझे देख कर भाभी ने कहा कि अब तो इतना सब होने के बाद घर में ऐसे भी रहा जा सकता है. उसके बाद तो मैं नियमित रूप से इन दोनों भाभी की चूत और गांड का मजा लेने लगा. बलविंदर साहब तो शायद खुद को संभाल रहे थे लेकिन सेजल के जिस्म में अब आग लग गई थी!आग से भी ज्यादा उसको इस चीज की खुंदक थी कि उसको बच्चा क्यों नहीं हो रहा जबकि सेजल के ससुर को 4 लड़के हुए थे.

तभी रानी बोली- बाबूजी आप अपनी बहू को भी चोदना चाहते हैं क्या?मैंने कहा- सच कहूँ तो मुझे बहू पर तरस आता है.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म: करीब पांच मिनट बाद करोना- अंकल आप मेरी चूत का बैंड कब तक बजाओगे?चिन्ना- आअह बस हो गया मेरी प्यारी बेटीईईईई!करोना की चूत में चिन्ना का लण्ड थोक में झड़ने लगता है और करोना उसकी पिचकारियों को महसूस करती है. फिर मैंने जोर जोर से उसकी चूचियों को अपने दांतों से काटते हुए उसको दबोच लिया और मेरे लंड से वीर्य की धार निकल कर उसकी चूत में गिरने लगी.

मैंने कहा- बेटा, बात थोड़ी अजीब है, ये हम दोनों के बीच में ही रहनी चाहिए. … और जोर से … पूरा अन्दर तक आह … आह और चूसो ना आह खा जाओ मेरी चूत को … आह हा. वो मस्ती में चिल्लाने लगी- ओआह आह … और जोर से करो जीजू …मैं फुल स्पीड से उसकी चुदाई करने लगा.

ऐसा करते समय करोना के पीछे खड़े चिन्ना के हाथ करोना की छाती पर पहुँचते तो चिन्ना का शरीर करोना के निकट आ जाता और चिन्ना का खड़ा हुआ लण्ड बार बार करोना की पीठ पर छू जाता.

उसने बताया कि उसके हसबैंड का लंड मेरे जितना बड़ा और मोटा नहीं है इसलिये मेरे से चुदवाने के लिये आती है।दोस्तो, कच्ची बुर की पहली बार चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी? बताना जरूर मुझे मेल करके।[emailprotected]. जैसे कि आप जानते है कि कैसे मैंने अपनी क्लासमेट आकांक्षा को अपने एक फ्रेंड के कमरे पर ले जाकर चोदा था. जब मुझे पता चला कि वो पास में ही है तो मैंने उससे मिलने की इच्छा जताई.