बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,बिल्ली वाले गेम

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो गाना हिंदी: बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी, उसके बाद सब एक साथ आइसक्रीम खाते हुए दूसरे दिन की प्लानिंग करने लगे.

सेक्सी वीडियो अंग्रेजी मूवी

मैंने चाची को नहीं छोड़ा और उनकी दोनों चूचियों को आगे से पकड़ कर लण्ड को पीछे से उनके पेटिकोट को उठा कर चूतड़ों में फंसा दिया. नाक दर्द का घरेलू उपचारउसको अपने कानों पर विश्वास नहीं हो रहा था कि चुदाई की इतनी बढ़िया सामान आज खुद उसके पास चलकर आई है.

इस बार मैंने भाभी की भाभी की 30 मिनट तक जमकर चुदाई की … फिर मैं और भाभी एक साथ में झड़ गए. कीर्ति सुरेश की शादी कब हुईमैंने कहा- तभी तो तुम दिन में नंगी होकर सेक्सी मूवी देखकर अपनी चूत में उंगली करती हो.

’थोड़ी देर और उसकी चूत को चाटने के बाद जब उसकी चूत पूरी तरह से पानी से गीली हो गई.बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी: बिना टेस्ट दिए तुम्हें कैसे पास किया जा सकता है?हैरान होकर मैंने पूछा- कैसा टेस्ट?उसने जवाब नहीं दिया और आगे बढ़ा.

इसी तरह कुछ समय बीत गया और इस दौरान मैंने महसूस किया कि भाभी मेरे और भी करीब आ रही थीं.सोनम की गीली फुद्दी का रस अब उस चपरासी के मुँह का स्वाद बढ़ा रहा था और इधर सोनम अपने नामर्द पति से परेशान अपनी चुत को शांति मिलने पर आंखें बंद करके स्वर्ग सुख ले रही थी.

कैटरीना कैफ सेक्स इमेज - बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी

मेरे चूतड़ों का आनन्द लेते हुए दस मिनट बाद देवर जी ने भी अपना वीर्य मेरी चूत में निकाल दिया.बॉय एंड गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने बड़े चूतड़ों वाली एक सेक्सी लड़की को पटाया.

मैंने कहा- बस मेरी जान … थोड़ी देर में ये सारा दर्द खत्म हो जाएगा … फिर आपको बहुत मज़ा आएगा. बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी ट्रिपल सेक्स से संगीता दर्द के मारे सिर्फ़ चिल्ला रही थी- आह निकालो … मुझे दर्द हो रहा है मेरी फट रही है … प्लीज.

मैं तो बस ऐसे आंखें बंद करके भाबी की चुदाई के बारे में सोच रहा था जिससे मेरा लंड खड़ा हो गया था.

बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी?

उनके बारे में आपको क्या बताऊं बस नाम लेते ही मुठ मारने को मन कर जाता है. जिस घर में हम रहते थे, वो हमारे दादा का था … मतलब उसमें चाचा लोगों का भी हिस्सा था. मेरी मां का जो अंग मुझे सबसे ज्यादा उत्तेजित कर रहा था, वो मां की बगलें थीं.

कभी भाभी बहुत रोमांटिक मूड में दिखती थीं, तो कभी सती सावित्री सी दिखने लगती थीं. पैग बनाकर शेखर ने एक बड़ा सा घूँट अपने हलक के अंदर लिया और एक लम्बी साँस भरी. एक मिनट की ऊह्ह आह के बाद चुदाई का सरगम चालू हो गया और बीस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद मैंने पूछा- अन्दर निकलूँ या बाहर?भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- मुझे तुमसे दूसरा पैदा करना है.

मगर ऐसे आपका नाम लेना क्या सबको अजीब सा नहीं लगेगा!वो बोली- ठीक है, पर अकेले में तुम मुझे मेरे नाम से ही बुलाया करो. वो टीवी को जल्दी से बंद भी नहीं कर रही थीं क्योंकि मैं वही देख रहा था और मेरा लंड खड़ा हो गया था. तो इस पर मेरी बेटी उससे गुस्सा हो गयी और उसने लिखा था कि अब मैं जब तुम्हारा लंड अपने मुँह में लूंगी, तभी तुमसे बात करूंगी.

दो मिनट बाद मेरा निकलने को हुआ, तो मैंने कहा- अंजू डार्लिंग, मेरा रस निकलने वाला है, कहां डालूं?भाभी बोलीं- मेरी चूत में भर दो. जैसे मैं उसके पास पहुंची और उसे हिलाया तो वो एकदम से चौंक कर उठ गया.

दीदी के पेट पर जीभ फेरते हुए जब मैंने उनकी नाभि में जीभ डाली, तब उनके मुँह से निकली आह ने मेरे दिल में उनकी खूबसूरती की एक और दस्तक दी.

तो वो भी मेरे पास को आ गया और मेरे बालों को छूकर बोला- आपके बाल कितने मस्त हैं.

वह चाहती थी कि हम दोनों फिर मिलें और पूरे इत्मीनान से जिस्म के मजे लूटें. वह मेरे गले में झूलते हुए अपनी कमर आगे-पीछे करती हुई मुझे चोद रही थी. मैंने कहा- फ़लक, कोई बात नहीं, जितने बंद होते हैं उतना बंद करके तुम बाहर आ जाओ.

उसके बाद भाभी ने ब्रा को खिसका कर मेरे मुँह में अपना एक दूध लगा दिया और वो निप्पल चूसने के लिए बोलीं. अब मैं झड़ने ही वाला था तो उसके मुंह से लंड निकाला और उठकर सारा जूस उसकी छाती पर गिरा दिया. उसका दर्द कम हो गया और मैं अपने लंड को उसकी चूत में आगे पीछे करने लगा.

मैंने बिस्तर की चादर नहीं बदली औऱ ना ही उठकर बदलने की हिम्मत हो रही थी.

मैं चौंकते हुए बोली- कैसा फायदा!तो सनी हंसते हुए बोला- आपको अपने बच्चे के लिए एक और बाप मिल जाएगा. फिर पास पड़े अपने कपड़े उठाकर उसकी जेब से तीन कंडोम का एक पैकेट निकाला. वह जैसे ही आई, मैंने उसे बांहों में भर लिया और उसे जांघों पर बैठा कर उसकी मस्त चूचियों का सहलाने लगा.

’तभी भाभी की चूत का रस बाहर आने लगा और वो अकड़ते हुए बोलने लगीं- आह … मैं कट गई … आह मैं झड़ गई हूँ. मुझे तुम्हारी माँ पर बहुत तरस आया, उसने मेरे साथ सेक्स करने की रिक्वेस्ट की और उस दिन से हमारे बीच शारीरिक संबंध बने हुए हैं. मैंने अपने लिंग को बड़े प्रेम से धीरे धीरे योनि में प्रवेश करवा दिया.

फ़लक- धीरे धीरे पूरी …मैं- उंगली से कितनी बार किया?फ़लक- मुझे नहीं पता.

अब प्रिया को एक कमरे में बंद कर दिया और बाकी लोग फिर से अपनी अपनी चुत पकड़ कर चुदाई में लग गए. रिज़वाना चुदास भरी आवाज में कह रही थी कि आह सुनील … इन्हें खा जाओ … आह जोर से खा लो.

बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी थोड़ी देर बाद मोहन आता है और नीरू के पास बैठ कर उसकी जांघों पर हाथ फेरने लगता है. X भाबी चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मैंने किराए का कमरा लिया तो खूबसूरत मकान मालकिन भाभी की मोटी गांड मुझे मुठ मारने पर मजबूर कर देती थी.

बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी इतना लिख कर शेखर ने तुरंत धारा के दिए हुए नम्बर पर अपने नम्बर से मैसेज भेजा. अब मैंने ऐसा कोई काम नहीं करना है, तुम जाओ यहाँ से!मैं- और मेरा बर्थडे गिफ्ट?चाची धीरे से बोली- कोई गिफ्ट विफ़ट नहीं है, छोड़ो ये चक्कर … तुम तो छोटे हो, सारा इल्जाम तो मुझ पर ही आ जायेगा.

फिर मैंने बंगालन भाभी की तरफ देखा, तो वो मुस्कुराकर चली गईं … पर जाते जाते मेरी भाभी को आंख मार कर गईं.

स्कूल गर्ल बीएफ सेक्स

मैंने फ़लक के मम्मे के निप्पल को मुँह में लेकर चूसना शुरू किया और बहुत देर तक दोनों मम्मों को चूसता रहा. शीना- ओह अंकल … मुझे आज वो सुख दो जो आप मम्मी और आंटी को देते आये हो. फ़लक अबतक मेरा मक़सद समझ चुकी थी और विरोध की बजाए सकुचाते हुए थोड़ा मज़ा लेने लगी थी.

मेरे पति के सोने के बाद रात में मेरा नौकर मेरा बिस्तर गर्म करता था. थोड़ी देर बाद उन्होंने मुझसे पूछा कि मज़ा आ रहा है!मैंने हां में सर हिला दिया. मैं जगह बनाने लगी तो ऑटो वाला बोला कि मैडम जल्दी बैठिये और उसने ऑटो आगे बढ़ा दिया.

मैंने भी अंजू के साड़ी को ऊपर उठा कर उनकी पैंटी के ऊपर से ही चूत पर हाथ रख दिया.

मैं उनके ऊपर कुछ इस तरह से लेट गया था कि मेरा पूरा शरीर उनके शरीर पर था. खाना खाने के बाद वो अन्दर से एक रजाई ले आई और हम दोनों एक ही रजाई में घुस कर लेट गए. मैंने और समीर ने उसकी पैंटी कई बार देखी है … और पैंटी भी कौन सी, थोंग पैंटी.

मैं पहले से ही उत्तेजित था … अब तो बेकाबू हो रहा था इसलिए मैं भी उनका साथ देने लगा. क्या आप मुझे मेरे घर हनुमानगढ़ पहुंचा सकते हैं, आप जितना पैसा लोगे, मैं दे दूंगी. मेरे देवर जी मेरे नीचे चुत चोदने आ गए और उनका वह दोस्त मेरी गांड मारने के लिए आ गया.

धारा बस ठंडी-ठंडी आहें भरे जा रही थी और शेखर के मर्दन का मज़ा ले रही थी. प्राची को उस लड़के ने किस किया, उसके चूचे दबाए, टॉप को ऊपर कर के उसके दूध पिए, प्राची ने उसका लन्ड चूसा।मैंने रात में प्राची से मूवी के बारे में पूछा तो वो डर गई, और मना करने लगी।तो मैंने उसे डराने के लिए लिए बोल दिया कि हम लोग पांच दोस्त थे सबने उसकी पूरी फ़िल्म देखी है।उसने अंकित को नहीं बताने के लिए बोला.

मन तो मेरा भी था कि तुम्हारा लन्ड अपनी गाँड में लूं लेकिन अब डर लग रहा है. कॉलेज सेक्स कहानी में पढ़ें कि भाई ने अपनी बहन की चूत चुदाई की कहानी अपने दोस्त से सुनी तो उसने बदला लेने की ठान ली. अब उस दस मिनट के वीडियो में क्या था, यह मैं आप लोगों को बताता हूं:वीडियो के शुरू में नीरू घुटनों तक की गुलाबी नाइटी पहन कर बेड पर लेटी हुई कोई किताब पढ़ रही है.

मैं बेड के ऊपर चढ़ गया और चाची के पीछे खड़ा होकर अपने घुटनों को थोड़ा चौड़ा करते हुए नीचा किया.

प्रभा- तुम्हारे घर में क्या मम्मी पापा नहीं हैं?मैं- नहीं हैं, वो दोनों शिक्षक हैं और अभी स्कूल गए हैं. मैं- मेरा नंबर तुम्हारे मम्मी पापा के फ़ोन में सेव है, उनसे ले लेना. खाना बनाने के बाद उन्होंने व्हिस्की की बोटल निकाली और दो पैग बनाए और एक गिलास मेरी तरफ सरका दिया.

मौसी- आह पागल … मेरी हालत ख़राब हो रही है … मुझे तू अभी का अभी चाहिए. मेरे मुँह से हल्की सी सिसकारी निकल गयी।समीर मुझे किसी बच्चे की तरह अपनी गोद में बिठाकर पकड़े हुए था लेकिन मेरी चूत से पानी रिसने लगा था.

मुझे ये बात बहुत अजीब सी लगी और मैं उसके लंड को अपने मुँह से निकालने की कोशिश करने लगी. फिर पूरे 21 दिन के लॉकडाउन में मैं भाभी के घर पर ही रहा और दिन रात भाभी की जमकर चुदाई की. के इंदौर में रहता है। वो शादीशुदा है और अपनी शादीशुदा बहन को भी चोदता है.

बीएफ 4g बीएफ

बस एक दिन ऐसे ही रोज की तरह बाहर मैं मुँह धो रहा था कि अचानक वो भाभी, मेरे पड़ोस की ही एक भाभी के साथ आ गई.

आधा घंटे के बाद मम्मी वाले रूम की लाईट बंद हुई तो मैं भाभी के रूम के बाहर रुक गया. तब विशाल बोला- साले हमारे हाथ भी तो खोल!वह विशाल की तरफ जैसे ही मुड़ा, मैंने उसको रोक दिया. नेहा को ब्रा में देख मैं भी अवसर की तलाश में था कि कब इस पर हमला करना है।रोहन नेहा की जीन्स भी उतारने की कोशिश करने लगा.

मैंने भी झुक कर उसे सलाम किया और उसको अपनी चूचियों की मस्त झलक दिखा दी. वह अच्छी खासी लम्बी थी, हाई हील के सैण्डल पहने हुए थी इसलिए थोड़ा सा उचककर वो करीब करीब मेरी हाइट के बराबर हो जाती थी. नेपाली सेक्सी वीडियो देमीरा ने कहा- रीमा की हालत बिना लंड के कैसी होगी, ये मुझसे अच्छा कौन समझ सकता है.

मैंने कहा- फ़लक, जो मैं कह रहा हूँ वही करो, जैसे भी हैं तुम बाहर आ जाओ, मैंने देखना है कि यह कितने छोटे हैं और तुम्हें कौन सा साइज चाहिए?फ़लक बोली- सर, इन कपड़ों के बटन ही बंद नहीं हो रहे हैं. जब मैं उठा तो देखा कि वो तीनों उठ गई थीं और नंगी ही बैठ कर बातें कर रही थीं.

उसे बिना देखे मेरा मन उदास हो गया था और ऑफिस में मेरा मन नहीं लग रहा था. उन्होंने मेरे सिर पर प्यार से हाथ फेरा और कहा- बहू, आगे बढ़ और अपनी इच्छा पूरी कर ले. अनिकेत हम दोनों को देखकर मुस्कराने लगे लेकिन शिवम की तो जैसे हवा ही निकल गयी.

शाम को 4:00 बजे के करीब मैंने सोचा कि मुझे घर जाना चाहिए क्योंकि जाकर चुदाई की तैयारी भी करनी थी. मेरी चूत से उसका वीर्य टपक टपक कर मेरी जांघों पर बहने लगा था, जो मेरी प्यास और बढ़ा रहा था. मैं अपने घर में बने मंदिर में रखे अपनी स्वर्गीय माँ के चित्र के सामने ले आया और माँ को सम्बोधित करते हुए कहा- माँ, यह सितारा है, मेरी दोस्त है, आशीर्वाद दो कि हमारी दोस्ती, हमारा प्यार और विश्वास बना रहे.

तब तक उसने भी मुझे देख लिया और बोला- अरे बीबी जी, आप यहां कैसे?वो दूध वाला मुझे बीबीजी बुलाता था.

मैं उन्हें अभी और तड़पाना चाहता था मगर भाभी गांड उठाकर लंड चूत में लंड लेने की नाकाम कोशिश करने लगीं. अब आगे जॉब सेक्स कहानी:संडे के दिन मेरी आशा के मुताबिक दोनों मां बेटी वक्त से 15 मिनट पहले ही मेरे गेस्ट हाउस के कमरे में पहुंच गई.

दूसरा बोला- हां … पहले पीछे से करेंगे क्योंकि दो साल से आपकी ठुमकती गांड को ही देख देखकर ही हम लंड हिलाते आए हैं. मैंने कहा- रात का क्या प्लान है?तीनों ने एक साथ कहा- चुदने का प्लान है. आपको मेरी कजिन ब्रो सिस सेक्स अन्तर्वासना ऑडियो स्टोरी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें.

मैंने उसके टॉप को ऊपर उठाया और उसकी लाल ब्रा के ऊपर से ही उसके स्तनों को अपने दांतों से हल्का सा दबा दिया. मैं भाभी के नर्म नर्म मम्मे को चूसने लगा और भाभी मेरे बालों में हाथ घुमाते हुए मुझे अपनी चूची चुसाने लगीं. फिर मैं पूरे रास्ते इंतजार करती रही कि कोई तो पास आ जाए!लेकिन कोई नहीं आया.

बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी मेरी उसके बाद कभी हिम्मत नहीं हुई उससे कहने की … और उसकी भी नहीं हुई. कुछ समय बाद वो मुझसे बोली- हम लोग कितने बजे से तक पहुंच जाएंगे?मैंने कहा- सुबह पांच बजे तक पहुंच जाएंगे.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी मूवी

लंड चूसते हुए वो ‘उम्म मम्म उम्मम्म …’ करने लगी और अपनी चूत को उसने मेरे मुँह पर एकदम से जमा सा दिया. शादी वाले दिन मैंने मोना भाभी को देखा तो मुठ मारे बिना रह ही नहीं पाया. उसके पकड़ते ही कुछ ही क्षणों में लन्ड में अकड़न आ गयी, नतीजन वो तन गया.

मुझे अपनी चूत चुसवाना, चूचियां दबवाना, निप्पलों को दांतों से कटवाना और कठोरतम चुदाई करवाना बहुत पसंद है. चाची ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- राज, तुम अपना ध्यान पढ़ाई में लगाओ. फुल व्हिडिओ सेक्सीअवनि का एक पैर ऊपर करके जैसे ही मैं लंड को चूत में डाल रहा था कि किसी ने दरवाजा बजा दिया.

कभी कभी भाभी का मूड ठीक नहीं होता था, तो वो मुझे बुला लिया करती थीं.

मुझे उसकी चुत चाटने में मजा नहीं आ रहा था तो मैंने उसकी चूत को थोड़ा ही चाटा और उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया. कुछ देर बाद मुझे रोहन का मैसेज आया- हेलो राज जी, मैं आपसे कॉल पर बात कर सकता हूं क्या?मैंने हामी भर दी.

आह मर गई मादरचोद … तेरी मां की चूत … बहन के लौड़े … आह मेरी गांड फाड़ डाली रे … कुत्ते तेरी मां की भोसड़ी विराज … मेरी गांड फट गई. इस सब बीच में मुझे ये नहीं याद आया कि इन दोनों बाथरूम की दीवार एक ही है. इस तरह की औरतों में से लगभग 80% औरतें बाहरी लंड से ही चुदाई करवाती हैं.

थोड़ी देर में ताई कुछ शांत हुईं तो मैंने फिर से गांड चोदना शुरू कर दिया.

रात के क़रीब 9 बज चुके थे।रोहिणी मेट्रो स्टेशन के नीचे खड़े-खड़े शेखर धारा के मैसेज का इंतज़ार कर रहा था. मैं अपने अंगूठे से निप्पल का सिर रगड़ रहा था और दूसरे हाथ की पहली और तीसरी उंगली से मैं उनकी चूत के होंठ खोल कर बीच की उंगली उनकी चूत में अन्दर बाहर कर रहा था. उसने मुझसे लंड चुसवाना जारी रखा क्योंकि वो अब दूसरे राउंड के लिए तैयार हो रहा था.

लड़की से बात करने के नंबरजब वो अपनी गांड मटकाती हुई और बलखाती हुई चलती है, तो सच में मेरा मुँह खुला का खुला ही रह जाता है. थोड़ी देर लंड से गांड सहलाने के बाद अंकल मेरी गांड के छेद में धीरे धीरे रास्ता बनाने लगे और हल्का हल्का धक्का लगाने लगे.

गोरी बीएफ

हम एक दूसरे को होंठों से जीभ से चूस रहे थे, चाट रहे थे, काट रहे थे. इस तरह से हम दोनों ही हमारी कक्षा में नए थे और बाकी के लड़के और लड़कियों से अपरिचित थे. इधर बहुत सी कहानियों को पढ़ने के बाद मेरे मन में भी आया कि मैं अपनी सेक्स कहानी आप सभी पाठकों के साथ साझा करूं.

मैंने कहा- एक पर्सनल सवाल पूछूँ?हाँ, पूछो?”तुम अपने पति को क्यों छोड़ आई?”वो मेरे मतलब का नहीं था. उसके जाने के बाद सबसे नजर बचा कर मैं भी बाथरूम में घुस गया और अन्दर से बंद कर लिया. फिर दो मिनट बाद पंजाबी आंटी कमरे में आईं तो मैंने उनको पूरी नंगी कर दिया और घर के बीच में ले गया.

मैंने एक 7 इंच का डिल्डो खरीदा हुआ है, जिससे मैं जब उसकी चुदाई करता हूँ तो अपना लंड और डिल्डो दोनों उसकी चूत और गांड में डाल देता हूँ. मुझे हल्का दर्द होने लगा था पर मुँह में चड्डी की वजह से आवाज़ नहीं आ रही थी. अंततः मां की चुत का लावा फूट गया और उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया, मैंने चुत रस पूरा अन्दर गटक लिया.

पहले तो उसने मेरी दोनों चुचियों पर हमला बोला और उसके बाद मुझे अपना लंड चुसाया. मैंने पैंटी को एक पल में उतार दिया और बेदाग मस्त उभरे हुए कूल्हों को देखकर पहले से सख्त लंड और फुंफकार उठा.

अपनी पत्नी के खरबूजे के आकार के छोटे छोटे चूतड़ों के मुकाबले सितारा के बड़े तरबूज के साइज के भारीभरकम चूतड़ मेरे लिए नया अनुभव था.

तन्वी- मुझे पता है क्या हुआ था तुझे!पल्लवी- क्या, क्या हुआ था मुझे?तन्वी- तूने ये सब उस छिनाल ज्योति के कारण किया. इंग्लिश सेक्स वीडियो रिकॉर्डिंगशाम को हम जब अलग हुए तो वो चार बार चुद कर न जाने कितनी बार झड़ चुकी थीं. सेक्सी मटकामैं भाभी की पैंटी निकाल चुका था और उनकी चूत का हाथों से मसलने लगा था. उनके मुँह से मादक आवाजों से साफ़ लग रहा था कि शायद पापा ने मां को कई दिनों से नहीं चोदा था और उनकी चुत लंड के लिए उतावली थी.

अब मैं फरियाल को पूरी ताकत से चोद रहा था और वो हवा में टांगें उठाए लंड का मजा ले रही थी.

कुछ देर तक मैं भाभी से चिपका उन्हें सहलाता रहा और भाभी फोन पर बात करती रहीं. दूसरे दिन मौसी का कॉल आया कि उनकी बेटी की अगले हफ्ते शादी है, सभी को आना है. मैंने एक निप्पल को अपनी दो उंगलियों में पकड़ कर खींचा, तो वो सिसिया उठी- उई मम्मी … क्या कर रहा है … ऐसे खींचा जाता है क्या?इस पर मैंने कहा- अभी क्या है रानी … अभी तो शुरुआत है.

साली रंडी तुझे किसी ने भी हाथ नहीं लगाया, न ही तुझे अपनी चुत को छूने की इजाजत है, फिर भी तू इतनी बार झड़ गई. मैं यहीं तक पहुंचा था कि उसने कहा- प्लीज ऐसे न देखो, मुझे शर्म आती है. आप सब लोगों के मुझे बहुत से मैसेज आये और मुझे बहुत प्रोत्साहित किया, मेरी बहुत सी महिला पाठकों ने भी मेरी कहानियों को बहुत पसंद भी किया.

बीएफ हिंदी गाना के साथ

सविता भाभी की चूत को लंड की जरूरत थी शायद … उन्होंने समय बिताने के लिए टीवी चला लिया।अभी वो टीवी के सामने बैठी ही थी कि खिड़की के शीशे को तोड़ते हुए एक गेंद कमरे में आ गिरी।सविता भाभी को गुस्सा आया झल्ला और वो गली के शरारती बच्चों को कोसने लगीं।फिर अचानक दो नौजवान लड़के आये और उनसे माफ़ी मांगते हुए अपनी गेंद मांगी. मेरे तीन चार बार रगड़ने से फ़लक की चूत से कामरस की बूंदें छलकने लगी और दरार में गीलापन उभरने लगा. बंगले के बाहर गार्ड था और अन्दर ऑफिस स्टाफ के आने तक सिर्फ हम दोनों ही थे.

कुछ देर बाद उन्होंने मेरे मुँह से उस निप्पल को निकाला और मुझे अपने ऊपर खींच कर दूसरा निप्पल चूसने के लिए कह दिया.

मैंने उसके दर्द को अनदेखा करते हुए अपने लिंग को योनि की जड़ तक पूर्ण प्रवेश करवा दिया.

मैंने कहा- तूने किसी से कुछ कहा तो मैं यह वीडियो क्लिप सबको दिखा दूंगा. इस स्टोरी ऑफ़ सेक्स इन रिलेशनशिप में पढ़ें कि कैसे मैं अपनी चाची को चोदना चाहता था और चाची भी मेरे लंड का मजा लेना चाहती थी. ए से नाम लिस्ट बॉयवहाँ जाते ही मैंने चाची को बांहों में ले लिया और उनकी चुन्नी को खोल कर नीचे गिरा दिया.

बारिश की वो हल्की सी फुहार और वो ठंडी हवा मेरी स्कर्ट से होती हुई मेरी चूत में घुस रही थी, जो बिना पैंटी के थी. शेखर ने उस मद्धम सी रोशनी में अपनी दाहिनी ओर टटोलते हुए टेबल पर रखी उस पट्टी को ढूँढा. तभी मैंने ज़ोर से धक्का मारा … तो भाभी उछल गईं और मेरा पूरा लंड चुत में घुसता चला गया.

तुम रात में मेरे साथ जो भी करना चाहोगे … मैं खुल कर तुम्हारा साथ दूंगी. मुझे उनका मोबाइल नंबर भी मिल गया था, तो जब भी भाभी खाली होतीं, वो मुझे बुला लेतीं या हम दोनों की फोन पर बात होने लगती थी.

जैसे कई लोगों को खुले में सेक्स करने का मन रहता है और कई लोगों को अपने पार्टनर को बांध कर सेक्स करने में मज़ा आता है.

हैलो फ्रेंड्स, मैं आपकी अरुणिमा एक बार फिर से अपनी चुदाई की कहानी में स्वागत करती हूँ. लंड आधा अन्दर घुस गया तो संगीता जोर से चिल्लाई- उई मां मर गई … आह निकालो मेरी गांड फट रही है. होटल पहुंच कर मैंने मोनू को गोद में ले लिया और डांस एरिया के पास खड़ा हो गया.

मद्रासी सेक्स दिखाएं मैं चौंकने का नाटक करते हुए बोली- ठीक है … कर लो, जरा मैं भी तो देखूं कि मेरे पास कौन सी फैक्ट्री है. भाभी भी हमेशा मुझसे मज़ाक करती रहती थीं और मुझे लगता था कि वो मेरी तरफ कुछ आक़र्षित थीं.

उसके लंड के घुसते ही मुझे हल्का दर्द हुआ लेकिन मैं उसको सहते हुए अपनी चूत अलग अलग स्टाइल में चुदवाने लगी. चाची ने सुबह ही मुझसे केमिस्ट से कुछ दवाई मँगवा ली जिससे कि वो प्रेग्नेंट न हो. उसकी बीवी के बूब्स और गांड देखकर मेरा लौड़ा उसकी चुदाई मांगने लगा पर मैंने अपने पर काबू रखा और सिर्फ दोस्त की बहन की चूत गांड मार कर काम चलाया.

एक्स एक्स बीएफ हिंदी वाली

फिर विशाल ने अपना लंड मेरी चूत में डालकर झटके देने शुरू कर दिए और वह मुझे किस भी करने लगा. वह बोला- साली कुतिया, अब देख मैं दिखाता हूं तुझे कि एक मर्द किसको कहते हैं. वो कहने लगी- ये कहां से पटा लिया तूने?मैं अंदर ही अंदर बहुत खुश हो रही थी.

गौतम बोला- दीदी, आपको मेरी बर्थडे का कैसे पता है?मैं बोली- तेरी मॉम ने अभी ही बताया यार. थोड़ी देर बाद मैंने लंड निकाल लिया और शन्नो कुतिया उसे गपागप गपागप चूसने लगी.

मुझे शहजाद का लम्बा लंड याद आ रहा था कि इसका लंड मेरी चुत में घुसे तो चैन पड़े.

मां के चूचे देख कर ऐसा लगा, जैसे वो मुझसे कह रहे हों कि बचपन में तो बहुत चूसा है, अब चोदने के लिए चूस लो. पहले आधा लंड लेकर चूसती रही फिर धीरे-धीरे पूरे लंड को अंदर लेना चाहा।मगर उसके कंठ तक ठोकर मार रहे लंड का कुछ हिस्सा अभी भी बाहर ही था जो शायद अंदर नहीं जा पा रहा था।या यूँ कहें कि धारा उससे ज़्यादा अंदर नहीं ले पा रही थी. 2 मिनट तक सुनीता का मुखचोदन करने के बाद उसने मुझे जल्दी से चोद देने के लिए कहा जिससे कोई आकर हमारी रासलीला में विघ्न न डाल सके और हम अपनी तृप्ति को पा सकें.

अंदर बाथरूम में सेक्स भी चल रहा था।मैं उस दिन एक शॉर्ट निक्कर और टॉप में थी. निखिल चुपचाप पड़ा रहा और मज़े ले रहा था कि आज लगता है कि खुद ही सब कुछ हो जाएगा. उधर वो भी झड़ गई और मैंने भी उसकी चुत को चाट चाट कर एकदम शीशे सा चमका दिया.

दोस्तो, आपको कुंवारी लड़की की सेक्सी कहानी कैसी लगी, प्लीज मुझे मेल करें.

बीएफ सेक्सी हिंदी एचडी बीएफ सेक्सी: उधर रोहन मेरा लन्ड पकड़ कर उसे हिलाते हुए ग़ौर से देख रहा था मानो उसे उसके तन जाने का इंतजार हो।अब रोहन ने मुझे आराम से बैठने को कहा. मैं सुनने लगा कि मौसी लंड चूसने की इतनी साफ़ आवाज कैसे निकाल रही हैं.

घर आने के बाद घर खाली था क्योंकि मेरे पति एक हफ्ते के बाद आने वाले थे. अब सुनो … जब मुझ जैसी फिल्म की हीरोइन आपके सामने बैठ कर आपको हैंडसम कह रही है तो आपको इस बात का भरोसा हो जाना चाहिए कि आप हैंडसम हैं. दफ़्तर से घर तक पहुँचते-पहुँचते शेखर को क़रीब डेढ़ घंटे का समय लग गया.

धारा- तभी आपके अंदर का लावा उछल मार रहा है, है ना?शेखर- जी … सही कह रही हैं! वैसे ललित भाई कहाँ हैं? मैं तो बुझे मन से इस सेक्स चैट रूम में आया था और मुझे लगा था कि ललित भाई ही होंगे उस तरफ़.

मैंने उनकी तरफ देखा तो उन्होंने इशारे से बुलाया और एक पैग पीने के लिए कहा. दोस्तो, मैं आपको बता नहीं सकता कि भाभी की चुत चुदाई में कितना ज्यादा मजा आया. अभी तक सारा कुछ सही था, उसकी मां को लेकर मेरी कोई भी गलत सोच नहीं थी.