बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी सेक्सी पिक्चर का वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

भोजपुरी बीएफ डाउनलोड: बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी, गन्दा मुहल्ला था, घर काफी दूर दूर थे, बबूल के पेड़ थे आसपास!वो चारों एक घर में घुस गए.

सेक्सी बीपी हॉट बीपी

सनी लियोनी पोर्न की दुनिया की महारानी हैं, इसमें कोई दो राय हो ही नहीं सकती. चाइना सेक्सी भेजोजब मैं नया नया जवान हुआ था तो मैंने तभी उनकी चूत देखने की ठान ली थी.

कल्पना ने आगे से अपनी चूत के नीचे से मेरे लंड को पकड़ कर कहा- अब मारो धक्का. राजस्थानी सेक्सी सेक्सी पिक्चरफिर …फिर वो मेरा लंड चूसकर घर चली गयी।अगले महीने … एक दिन सीमा बोली- अब तो मेरी इच्छा पूरी कर दो। तुम नामर्द हो क्या? जो एक लड़की आगे से तुमको चोदने के लिए कह रही है और तुम कुछ करते ही नहीं।मुझे बड़ा गुस्सा आया। फिर उसे मैंने घर से निकाल दिया।आगे कैसे उसने रात के 4 बजे मेरी नींद उड़ाई? यह तो मैं सोच भी नहीं सकता था.

भाभी ने कहा- मन तो मेरा भी है, मगर अब तो दिन हो गया है … कैसे होगा?मैंने टॉयलेट में चलने का कहा.बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी: थोड़ी ही देर में दोनों ने हिलना बंद कर दिया और मेरी बहू बेटे के ऊपर गिर गयी.

सुबह के 7 बजे तक करीब 5 बार करोना को अलग अलग मुद्राओं में कभी चूत कभी उसकी कुंवारी गांड को चोद- चोद कर सुबह तक पूरी ट्रेंड रंडी बना दिया.मेरा लंड पूरी तरह टाइट हो चुका था, ऐसा लग रहा था कि अब यह लंड गर्मी के मारे फट जाएगा।वह बहुत धीरे-धीरे अच्छे बहुत अच्छे से चूसने लगी.

मोनालिसा की सेक्सी वीडियो भोजपुरी - बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी

फिर हम दोनों पार्किंग में आ गए तो बहू बोली- डैडी जी, अब आप स्कूटी चला लो.या फिर वे कह रहे हैं कि वे मुझे मलेशिया के एक ऐसे शहर में ले जाएंगे जहां मुझे पेशेवर अफ्रीकन और अंग्रेज मर्द के साथ सेक्स का आनंद दिलवा देंगे.

दोस्तो, मैं आपका दोस्त कुणाल एक बार फिर से आप लोगों की खिदमत में अपनी सेक्स कहानीटीचर की चुदाई देखकर मुझे कुंवारी चूत मिलीका अगला भाग लेकर हाज़िर हुआ हूं. बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी पहले मैं अपने बारे में बता दूँ, अभी मेरी उम्र 25 साल है और मैं लखनऊ में रहता हूं.

और क्यूंकि मैं भी थकी हुई थी लम्बे सफ़र के बाद तो रूम में जाकर कपड़े बदल कर शॉर्ट्स और टॉप पहना और बेड पर सो गयी.

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी?

लण्ड के इस रूप को देखते ही करोना बोली- ओह इतनी बड़ी सू सू!उसकी इस बात को सुन कर चिन्ना की हंसी निकल गई और वह हँसते हुए बोला- बेटी, सुसु तो बच्चों की होती है, इसे तो लण्ड या लौड़ा कहते हैं. दस मिनट ऐसे ही मज़े लेने के बाद मैंने उसको फिर नीचे किया और अपना लंड फिर उसकी चूत में डाल दिया. कुछ देर बाद उसने अपना मुंह मेरी मां की चूत पर लगा दिया और मां की चूत को चूसने लगा.

और तभी उन्होंने मुझसे कहा- मैं इस बार तुम्हारी चूत में ही झड़ने वाला हूं. करीब आधे घंटे बाद मेरे लंड महाराज ने दुबारा दस्तक दी, तो मैंने अपनी बहन को वैसे ही अपनी बांहों में लिए धीरे धीरे किस करना शुरू कर दिया. निधि के आने से पहले ही चली जाए!तभी अचानक निधि भी छत पर आ गयी और उस लड़की को देखकर तुरन्त वहाँ से जाने लगी। मैंने उसे आवाज देकर रोकने की कोशिश की.

यहां पर गौर करने वाली बात ये भी है कि एक पुरूष का स्पर्श आपके जिस्म को ऑर्गाज्म का अनुभव करने के लिए ज्यादा संवेदनशील बनाने में सहायक होता है, खासकर कि जब आप योनि मसाज का विकल्प चुनती हैं. बहू का शरीर अकड़ने लगा वो कभी मुझे किस करती तो कभी मेरे छाती पर काटती तो कभी मेरे गले पर काटती. जैसे ही मैंने उसका पल्लू हटाया, उसके दोनों चूचे और उसके बीच की दरार को मैं देखता रह गया.

मेरा मन उसकी चूत में ही झड़ने का था लेकिन फिर भी मैंने उससे पूछ ही लिया. तो मैंने आकांक्षा से बातें करना शुरू कर दीं और उसका ध्यान बंटते ही मैंने अचानक से एक तेज झटका दे मारा.

चुत को लंड की जरूरत होती है और लंड को चुत और गांड दोनों की जरूरत होती है.

काफी गर्म और उत्तेजक कहानी पढ़ने के बाद मैंने सोचा कि अपनी भी सेक्स कहानी आप सभी से शेयर की जाए.

अब मैं अपने आप को रोक नहीं सकता था क्योंकि मुझे उसकी चूत भी चाहिए थी।फिर इंटरमिशन हो गया. बाइक पर उसने मुझसे कहा कि तुम्हारी उम्र कितनी है?मैंने कहा- सत्ताईस साल. मेरा लंड ज्यादा देर उसकी गांड की गरमी सहन नहीं कर पाया और 15 मिनट की गांड चुदाई के बाद मेरे लंड ने पांच-छह पिचकारियों से गर्म वीर्य उसकी गांड के छेद में भर दिया.

उसने पूछा- आपको कैसे पता?मैंने कहा- मैं तेरी सब खबर रखता हूं बस मम्मी को कभी नहीं बताया. इस प्रहार को वो बर्दाश्त नहीं कर पाई और अपने मुंह में बेड की चादर को ही फंसाने लगी. दीदी- ठीक है, मैं तुम्हारी मदद करने के लिए तैयार हूँ लेकिन तुम वादा करो कि इस बार एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाओगे.

मैं उसके होंठों को किस करने लगा और उसके होंठों को काटने लगा, उसकी गर्दन पर लव बाइट्स देने लगा, उसको सक करने लगा.

उसने मुझे नीचे लेटने को बोला और अपनी गुलाबी चूत मेरे मुँह पर रख कर बैठ गई और झुक कर मेरे लंड को हाथ में लेकर सुपारे को जीभ से चाटने लगी. यह बात करीब चौदह साल पहले की है, जब मैं 26 साल का था और वह 28 साल की थी. कुछ देर बाद अनिल के घर से लड़ने की आवाज़ आने लगी और फिर अनिल ऊपर छत आ गया.

मैं उनके लिए चखना ले आई, जब मैं उनको चखना देने लगी तो मैंने जानबूझ कर अपना आंचल गिरा दिया और अपने दूध उनको दिखा दिए. मेरा दिन तो दुकान पर कट जाता था लेकिन रात को बिस्तर पर जाते ही अनु की याद आने लगती और मेरा लण्ड टनटनाने लगता. पकड़ो मेरा लण्ड और लगाओ अपनी चूत पर! और बोलो ‘नेताजी मेरी नाजुक कुंवारी चूत का अपने मोटे काले लण्ड से उद्घाटन कर दो.

मैं- तो क्या करूं?दीदी- मैंने तुझे बचाया है बच्चू!मैं- तो क्या आरती उतारूं तेरी!दीदी- ठीक है … तो फिर मैं मम्मी को सच बता देती हूँ कि तेरे फोन में ब्लू फ़िल्म पड़ी हैं.

सच में सामने जब मौसी अपनी ब्रा पहनने से पहले अपनी चूचियों में क्रीम मलती थीं, तो मेरा मन करता था कि दौड़ कर मौसी की चूचियों को मुँह में लेकर चूमता और चूसता ही रहूं. अब अजय उसके मुंह की ओर गया और उसने एक बार फिर से अपनी बीवी के मुंह में लंड दे दिया.

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी मेरा मन कर रहा था कि बेटे के लंड को अपनी चूत में पूरा घुसवा लूं मगर अंदर इंफेक्शन का डर था. फिर मैंने उसकी सलवार का नाड़ा थोड़ा सा खोल दिया और हल्की सी सलवार नीचे कर दी.

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी मैंने भी कमेंट्स पढ़ना और लड़कियों को फेसबुक फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजना शुरू किया।दूसरे दिन सुबह एक लड़की की रिक्वेस्ट आयी थी और उसका मैसेज भी आया था। उसने दोस्ती के लिए पूछा था। उसका नाम सोनाली (बदला हुआ) था।वो दिखने में एकदम गोरी चिट्टी थी। उसका साइज 34-30-36 का था जो मुझे बाद में पता चला। उसके बाद हमारी बातें होना शुरू हो गईं. वो एकदम से दर्द से चीख उठी और बोली- क्या कर रहे हो? दिखता नहीं … दर्द होता है। मेरी गांड से उंगली तुरंत बाहर निकालो।तो मैंने कहा- क्या कभी किसी से गांड मरवाई है? मैं तो तुम्हारी गांड भी मारना चाहता हूं।मैंने अभी तक तो नहीं मरवाई है और ना ऐसा कोई इरादा है.

मम्मी- आह साले … तू चोद दे अपनी सेक्सी रसीली मम्मी को … चोद दे मादरचोद … आंह तेरा बाप आज तक मेरी प्यास नहीं मिटा पाया … तू बुझा दे मेरी प्यास … आंह तुम्हें अपने पास बचपन से रखने का कोई तो फायदा हो … आह उइ उइ … उम्म उम्म … क्या मस्त चोदता है तू … सच में गांड चुदवाने में भी बहुत मजा आ रहा है आ आ … …उम्म उम्म.

सेक्सी वीडियो हिंदी में इंडियन

उस टाइम उसने एक टाइट लेग्गिंग पहनी थी जो उसकी गांड में फ़ंसी हुई थी और ऊपर एक टी शर्ट जिसमें से उसके बूब्स पूरे शेप में दिख रहे थे. वो लैपटॉप पर पॉर्न फिल्म में एक साथ 3 मर्दों और एक लड़की की भंयकर चुदाई की कई वीडियोज देख चुकी थी. धीरे धीरे अपने हाथों को मेरे लंड पर आगे पीछे करने लगी।अब मैं उसकी चूत मारने को बेताब था। मैं उसके ऊपर लेट गया.

आपको मेरी टेलर मास्टर से चुत चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करें. यह कहानी मेरी खुद की है, जिसमें मेरी सगी बहन नन्दिनी, चचेरी बहन ज्योति और मेरी भांजी कविता शामिल हैं. इस बार मैंने उसे अपनी गोद में बिठा लिया और लंड पेल कर जोर जोर से झटके देने लगा.

उसने अपने कोमल हाथ में जैसे ही मेरा लंड पकड़ा, मेरा लंड फुंफकारता हुआ टाइट हो गया.

मैंने उसके लंड को हाथ में लेकर बाहर निकाल लिया और बोला- जवाब दो … वरना बाकी कपड़े भी उतार दूंगा. रात को मैं नवीन जी घर डिनर बनाने गई, उस वक्त तक नवीन जी आए नहीं थे. मैंने उसको जगा कर जाने का बोला तो वो बोली- कल भी आओगे न?मैंने उसको हां बोला और वापस अपने घर आ गया.

तभी मैंने उसकी जींस में हाथ डाल दिया और उसके चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा. मैंने दीदी को गर्म करके सिस्टर सेक्स का मजा लेने का मन बना लिया था. और वो मेरे ऊपर आ गई, ऊपर बैठकर लंड अपनी चूत के अंदर लेकर उस पर कूदने लगी, उचक उचक के लंड लेने लगी.

मुझे बहुत तेज दर्द हुआ, मैं अचानक ऊपर को हो गई और उसका लंड बाहर निकल गया. रिश्तों में चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी, कृपया कमेंट्स करके जरूर बताएं.

मैंने बोला- रानी, ये सब क्या कर रही थी तू मेरे घर में? और ये लड़का कौन है जिसे तू लेकर आयी थी?रानी रोते हुए मुझसे माफ़ी मांगने लगी- मुझे माफ़ कर दो बाबूजी. अब वो मां की चूत के पास आया और मां की चूत में अपनी उंगलियाँ चलाने लगा. धीरे धीरे अब रोज ही वो मेरे पास आ जाती थी और मुझसे काफी बातें किया करती थी.

लेकिन उसने मुझे नीचे किया और मेरे मुँह में अपना लंड डाल दिया और लंड चूसने के लिए कहने लगा.

हम काफी देर तक एक दूसरे को चूमते रहे।उसके बाद मैं नंगा ही उठा और किचन की तरफ़ चला गया. थोड़ी देर बाद मैं आपके गले से चूमता हुआ नीचे की ओर आता हूँ, फिर आपके एक बूब्स को दबाते हुए चूसता हूँ. मैंने कहा- तो फिर अब मेरे लंड को अपने मुंह में लो जान!उसने धीरे से अपना छोटा सा मुंह खोला और मेरे लंड को मुंह में लेने की कोशिश करने लगी.

मेरा नाम पल्लवी है, मेरी उम्र 21 साल है, मेरा रंग गोरा है और मेरा फिगर 32-26-33 है. मैं जानती थी कि दूध पीने के बाद विशाल एकदम से शैतान की तरह उत्तेजित हो जायेगा और मुझे बुरी तरह से चोदेगा.

मैंने अपनी लेफ्ट वाली रोड पर देखा, तो वहां से काले रंग की साड़ी में एक मदमस्त रंडी मेरी तरफ देखते हुए मेरे पास आ रही थी. फिर मैं उसकी गर्दन पर किस करते हुए नीचे आया और उसकी एक चूची को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. मैंने छोटे शहर से बड़े शहर में आकर कॉलेज ज्वाइन किया तो मेरे अंदर जवानी का जोश था.

हिंदी सेक्सी गांव की पिक्चर

मैंने माँ को बताया तो हमने दीदी की चुदाई का प्लान कैसे बनाया? लेकिन उससे पहले हमने भाभी को पापा से कैसे चुदवाया?मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागमास्टर और प्रिंसिपल ने मेरी माँ की डबल चुदाई कीमें आपने पढ़ा कि मेरी मां को राजेश मास्टर और उसके कॉलेज के प्रिंसीपल ने बुरी तरह से चोद दिया.

15-20 मिनट की चुदाई के बाद मेरा वीर्य भी एक बार फिर से निकलने को हो गया. इधर चिन्ना भी जब भी अपने हाथों को कन्धों से नीचे छाती की तरफ लाता तो उन्हें करोना की चूचियों पर थोड़ा और आगे की तरफ बढ़ा देता. [emailprotected]अगली कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे नवदीप और मैं मिले और हमारे बीच क्या क्या हुआ.

फिर जो करना है कर लेना अपनी मनमर्जी। मैं तो आज से तुम्हारी ही हूँ।फिर हम दोनों बाथरूम गए एक दूसरे को साफ किया और वापस नंगे ही कमरे में आकर लेट गए. वरना आप बोलोगी कि आप ही चाय पिलाती रहती हो मुझे!अरे ऐसे कोई बात नहीं है. फोटो सेक्सी चाहिएवो वापस आयी और अपना पजामा नीचे करते हुए बोली- चलो मेरे गुलाम … मेरी चुत चूसो … और मुझे खुश कर दो.

चोपड़ा- हम्म … इस नाम से तो लगता है कि *** माल है … वो तो सुन्दर होती हैं … ठीक है तू पिक्चर भेज दे. उसकी बात सुन कर करोना शर्मा कर मुस्कुरा दी और डाइनिंग टेबल पर बैठ कर खाना सर्व करने लगी.

उसके बदन की खुशबू मुझे तो पागल कर रही थी और इधर मेरा लंड पूरा खड़ा हो चुका था. फिर वो बोलीं- अकेले काट रहे हो … हम्म … तो शादी कब कर रहे हो?मैंने कहा- अभी तो पहले अच्छी सी जॉब लग जाए, फिर आराम से 1-2 साल लाइफ एन्जॉय करके कुछ मजा ले लूं, तब शादी करने का सोचूंगा. जब मैं नन्दिनी को कसकर चिपक गया और जोर से उसके मुम्मे दबाने लगा, तो उसकी नींद खुल गई.

मेरी नजर बार बार बहू के होंठों पर जा रही थी जो बिल्कुल लाल लिपस्टिक से भरे हुए थे. ज्यादा देर ना करते हुए उन्होंने अपने एक धक्के के अंदर सेजल की चूत के अंदर तक लंड घुसा दिया. फिर उसके दोनों चूचे जोर से दबाओ, बूब्स को किस करो, निप्पलों को हल्के से खींचते हुए काटो.

उसकी बहन कविता की तरह ही एकदम से गोरा हाथ था जो अब मेरे हाथ में था.

परन्तु चिन्ना ने फिर चाल खेली, वह चूत पर लण्ड के सुपारे के चार-पांच घस्से मार कर उसे पीछे हटा लेता था. तो वो भाभी उस मंजिल पर अकेली ही रहती थी। वो 35 साल के आसपास होगी।मैंने तो कभी उस पर ध्यान ही नहीं दिया था। पर वो पता नहीं कब से मुझ पर नजर रखे हुए थी जिसका मुझे पता ही नहीं था। मुझे तो जब भी मौक़ा मिलता मैं दोनों बहनों में से एक को चोद आता था।इस भाभी को मुझ पर शायद शक हो गया था कि मैं ऊपर क्यों जाता हूं.

हर लड़की की कुछ ना कुछ परेशानियां होती हैं, कुछ मजबूरियां होती हैं, जिनके चलते वो इस नर्क में चली जाती है. और मुझे पता है कि करोना बहुत अच्छी लड़की है और वह इस स्थिति में मेरी मदद जरूर करेगी। मेरी मदद करोगी न?करोना का दिल बहुत जोर से धड़क रहा था कि वह क्या कह सकती है. भाभी बोली- उनसे क्यों?मैंने कहा- यदि तुम पापा से चुदवा लोगी तो फिर दीदी की चुदाई का रास्ता साफ हो जायेगा.

अब मैंने भाभी को अपने सीने से सटाया और अपनी चादर को ठीक से ओढ़ लिया. पापा ने मेरे पैरों को पकड़ा और घुटनों के बल मोड़ कर चौड़ा कर दिया … जिससे मेरी चूत की फांकें खुल गईं. इसके बाद मैंने एक हाथ नीचे रूबी की पैंटी में डाला, तो उसकी चूत पहले से ही रसीली हो गई थी.

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी दीदी- मन तो कर रहा है कि तुझे एक तमाचा जड़ दूँ … लेकिन मार भी नहीं सकती. मैंने उससे कहा- नहीं, आप अंदर नहीं करना क्योंकि हमने कंडोम नहीं लगाया था.

सेक्सी वाली सेक्सी फिल्म

कभी मेरी गोलियों को चूस रही थी तो कभी लंड के सुपाड़े को चाट रही थी. मुझे उनकी भतीजी को भी चोदने का मौका मिल गया था, मगर मैंने भाभी जी को ही चोदना ठीक समझा. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:चूत चुदाई की हवस कॉलगर्ल से बुझी-3.

वो कराह रही थी कि छोड़ दो … मुझे नहीं चुदना है तुमसे … बाहर निकालो अपना लंड ओह बहुत दर्द हो रहा है … प्लीज बाहर निकालो जय …मैंने उसके निप्पलों को सहलाना शुरू किया, तो उसे थोड़ा अच्छा लगा और वो शांत हो गयी. रेखा आंटी की मिस्ड कॉल के साथ व्हाट्सएप पर उनके मैसेज भी दिखाई दिये तो मैंने व्हाट्सएप खोल दिया. देसी सेक्सी वीडियो चूतजितनी भी आंटियों की चूत चुदाई मैंने की है मैं सबकी चूची पीछे से दबाता हूं, मुझे इसमें बहुत मजा आता है.

जब भी मैं सिम्मी के स्तन को जोर से काटता वो सिर्फ इतना कहती- आह … दुखता है!कहानी अगले भाग में जारी रहेगी.

मेरी दोस्त साक्षी की मदद कर दो, वो तुम्हें थोड़े से पैसे भी दे देगी और तुम्हारी ख्वाहिश भी पूरी कर देगी. तभी पापा ने क्रीम निकाली और मेरी चूत पर लगा दी और थोड़ी देर ऐसे ही रहने दिया.

मगर उनकी तरफ से कुछ भी ऐसा नहीं हुआ, जिससे मुझे ये लगे कि वो मुझसे चुदने के लिए राजी हैं. मैं तो सन्न रह गया कि निशा ने सारा माल पी लिया और अभी भी लॉलीपॉप की तरह लंड चूस रही थी. सारिका बाथरूम चली गई, वापस लौटकर सारिका ने अपने सारे कपड़े उतारे और बेड पर आ गई.

मैंने भी उसको अपनी बांहों में भर लिया और वहीं डांस फ्लोर पर उसको हग करते हुए डांस करता रहा.

दो मिनट हम ऐसे ही एक दूसरे के ऊपर पड़े रहे, एक दूसरे को किस करते, चूमते चाटते रहे. मैंने उसकी चूत में लंड को अंदर नहीं धकेला बल्कि उसके होंठों को चूसने लगा. वैसे अब सबको पता था कि मेरी शादी हो चुकी है इसलिए मेरी गर्लफ्रेंड बनना बहुत मुश्किल था.

सेक्सी वीडियो फूल हद हिंदी मेंरचना भाभी ने मुझसे पूछा- तुम पहले क्या खाओगे?मैंने कहा- दही भल्ले मेरा पसंदीदा हैं, मैं दही भल्ले पहले खाऊंगा. उसने अपने दोनों हाथ अपनी दोनों चूचियों पर रख लिये और अपना सिर झुका लिया.

दिसावर की आज की खबर

तभी मेरे नज़र मेरी बहन की चूत पर गई जिसको मैंने अभी तक ठीक से देखा नहीं था. मैंने उसकी चूत में दो-चार धक्के तेजी के साथ लगाये और जब माल एकदम आने लगा तो मैंने जल्दी से लंड को निकाल कर उसके मुंह में दे दिया. मेरे लंड में अजीब सी गुदगुदी हो रही थी लेकिन फिर भी वो मेरे लंड को चूसती रही.

लेकिन जब मैंने लड़की देखी तो मन में सोचा कि अगर शादी करूंगा तो इसी से वरना जिंदगी भर कुंवारा रहूँगा।मेरा नाम मयंक सिंह, उम्र 28 साल है, मैं उत्तराखंड के पर्वतीय जिले में रहता हूँ, मैं अन्तर्वासना का 2007 से नियमित पाठक हूँ। मेरी कहानी की शुरुआत होती है जून 2012 से, जब मैंने अपनी स्नाकोत्तर की पढ़ाई पूरी कर अपना एक निजी व्यवसाय खोला. करीब 2 मिनट के बाद वो झड़ गयी और उसका रस अपने लंड पर महसूस करके मैं भी झड़ने लगा. दही भल्ले के लिए तीन-चार लोग पहले से खड़े थे उसके पीछे रचना भाभी खड़ी हो गई और रचना भाभी के पीछे खड़ा हो गया.

एक बार जब मामी मेरे घर आईं, तो मैंने सोचा ये मामी को चोदने का सुनहरा मौका है. हालांकि छह महीने पहले दीदी का अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ ब्रेकअप हो गया था, जिसकी वजह दीदी ने मुझे कभी नहीं बताई थी और ना ही मैंने उनसे ज्यादा पूछने की कोशिश की थी. वो सीधी बेड पर लेटी थी, मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर सैट किया और धीरे से एक धक्का मारा, जिससे मेरे लंड का टोपा सीधे उसकी गीली चूत में फिट हो गया.

एक दो दिन तो कुछ नहीं हुआ, तीसरे दिन मैंने देखा कि नल बंद था और वो भी चुदाई की आवाजें सुनकर अपनी चुत में उंगली करके मुठ मार रही थीं. वो वापस आयी और अपना पजामा नीचे करते हुए बोली- चलो मेरे गुलाम … मेरी चुत चूसो … और मुझे खुश कर दो.

उसके बाद फिर उसी तरह चिन्ना की जोरदार आवाज सुनाई दी जो करोना की समझ से परे थी।कुछ देर के बाद चिन्ना के बैडरूम का दरवाजा खुलने की आवाज आई.

हम दोनों को किस करते हुए 2 मिनट हुए थे तभी बहू ने मुझे बेड पर धक्का दे दिया और खुद मेरे ऊपर आ गयी और फिर से किस करने लगी. सेक्सी पिक्चर वीडियो देवर भाभीमैंने उसको घुमाकर पीछे से अपनी बांहों में भर लिया और अपने दोनों हाथों से उसकी चूचियों को साड़ी के ऊपर से ही दबाते हुए उसकी गर्दन को चूमने लगा।निधि के मुख से सिसकारी निकलने लगी. देसी सेक्सी मूवीजआकांक्षा आंखें बंद किए हुए मादक सिसकियां ले रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहहह हहह ऊउफ़्फ़ फ़फ़ … कितने दिन बाद अन्दर गया है. वो वासना से तड़प रही थीं, उन्होंने मेरे लंड पर हाथ फेरा, तो मैंने अपनी पैंट को उतार दिया.

वे यह कह रहे थे कि मेरे पराए मर्द के साथ संभोग को वे खुद देखना भी चाहते हैं.

हां वो अलग बात है कि अब वो बढ़ती उम्र के साथ थोड़ी मोटी हो गयी हैं लेकिन उस वक्त गजब की माल थी. नाश्ते के बाद बहू बोली- डैडी जी, मेरे साथ मार्किट चलेंगे? कुछ सामान लेके आना है. पूरा कमरा हम दोनों की सिसकारियों से गूंज रहा था ‘आह … अम्म … हम … अह … अय … आह!’वो धड़ाधड़ अपना लन्ड मेरी चूत में पेल रहा था.

मैंने उससे बोला- सर आप जो भी बोलोगे मैं करने को तैयार हूँ, लेकिन प्लीज़ मुझे छोड़ दीजिए. एक दो चाल के बाद उसका हाथ फिर मेरी जाँघों पर था पर इस बार वो हल्का हल्का मेरी जाँघों को सहला रहा था. रानी का पानी 1 बार निकल चुका था मेरी चुदाई से …मगर उसने भी मुझे रोका नहीं! और मैं जानवरों की तरह उसे चोद रहा था.

मिया खलीफा किस देश की है

किधर से वीडियो का फोल्डर खोलते हैं और कैसे कोई वीडियो को कान में ईयरफोन लगा कर देखते हैं. या फिर वे कह रहे हैं कि वे मुझे मलेशिया के एक ऐसे शहर में ले जाएंगे जहां मुझे पेशेवर अफ्रीकन और अंग्रेज मर्द के साथ सेक्स का आनंद दिलवा देंगे. इस पर वो खुश होकर एक पैर मेरे ऊपर फेंकते हुए और जोर से पकड़ते हुए मुझसे चिपक गयी और प्यार से मुझे एक पप्पी दी.

ऐसे ही 1 दिन मैं उन्हें घर छोड़ने जा रहा था तो मैम ने कहा- आओ मिलकर चाय पीते हैं।मैं उनके घर गया जो कि एक 2 बी एच के फ्लैट था और मैं हॉल में बैठ गया और वो बोली- मैं 1 मिनट में चेंज करके चाय बनाती हूं.

उसके बाद एक दिन जब तू बाहर गया हुआ था तो मैं तेरे रूम में साफ-सफाई कर रही थी और मुझे कुछ अश्लील किताबें मिलीं.

फिर मैंने भाभी को पीछे से झुका कर घोड़ी बना दिया और उनकी गांड को सहलाने लगा. एक कारण तो ये था कि वो चोदने लायक माल थी और दूसरा कारण ये था कि वो मेरे लंड से चुद चुकी थी. जिजा साली की सेक्सीआज मुझे पहली बार चुदाई में ऐसा महसूस हुआ कि जैसे आज से पहले मैं चुदी ही नहीं हूँ.

इससे उसकी हल्की से चीख निकल गई और उसने मेरे सर को जोर से पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया और सर को चुत पर रगड़ने लगी. मैंने अपने दोस्त को फोन लगाया जो कि होटल में काम करता था।उसने कहा- कोई बात नहीं, मैं संभाल लूंगा. मैं उसकी पूरी चूत को जुबान से चाटने लगा, उससे उसके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं.

और मुझे अभी और पढ़ना है।तभी उसने कहा- लेकिन आप को ये अचानक मेरी शादी की बात क्या सूझी?मैंने स्थिति को भांप कर बात को टाल दिया।फिर हम खाना खाकर सो गए।अगले दिन हम टाइम से उठ कर नहा धोकर सेण्टर की तरफ चले गए।पेपर 3 घंटे का था. मैंने मम्मी का घूंघट हटाकर उनके माथे को चूमा, और उनके होठों पर अपने होंठ रख दिये.

जैसे ही वो भैया कहती तो मेरे लंड में और ज्यादा जोश भर जाता और मैं और तेजी के साथ उसके होंठों को चूसने लगता.

तभी चमन ने अपना लंड मेरी गांड के छेद में डाल दिया … वो भी पूरी स्पीड से. कुछ देर बाद उसने अपना मुंह मेरी मां की चूत पर लगा दिया और मां की चूत को चूसने लगा. तभी मुझे लगा कि उसने मेरा सर पकड़ लिया है और अपनी रसीली बुर में दबा रही है.

हॉट देसी सेक्सी पिक्चर उस समय मैंने आपको नंगा देख लिया था … बस उसी दिन से पता नहीं क्यों मेरा मन न तो पढ़ाई में लगता था … और न ही किसी काम में. उन्हें मुठ मारते देखा, तो मैंने भी अपना लंड निकाल लिया और उन्हें देखते हुए मुठ मारने लगा.

सैम ने मुझे धक्का देकर लिटा दिया और फिर गले से लेकर मेरे मम्मों कर किस करने लगा. उसका भुजंग जैसा लण्ड बस की छत की और ऐसे खड़ा था जैसे कोई मिसाईल लॉन्चिंग पैड पर उड़ने के लिए तैयार खड़ी हो. आज मैंने अपने लौड़े को उसकी सलवार के नाड़े से रगड़ कर साफ़ किया और अपने कमरे में आ कर सो गया.

सेक्सी व्हिडिओ ऑस्ट्रेलिया

मेरा तो मन कर रहा था कि बस यह रात खत्म ही ना हो … और मैं बस उसकी चूत को यूं ही चूसता रहूँ. उसकी मक्खन सी चूचिया ऐसी लग रही थीं, जैसे किसी छोटे से गुब्बारे में हवा और पानी भरा हो. मैंने विशाल को मैसेज किया- कहां है तू?वो बोला- मैं अभी बाहर हूं, अभी थोड़ा टाइम लगेगा.

जब मैंने शीशे में देखा तो पाया कि सामने वाला आदमी मुझको देख रहा था. उसके बाद …नमस्कार दोस्तो, पहले तो मैं माफी चाहता हूं कि मैं कई दिनों के बाद स्टोरी डाल रहा हूं।मेरी माँ की चुदाई की पिछली सेक्स कहानीमेरी माँ और अंकल का जगराताआपने पढ़ी.

हिम्मत करके मैंने पूछा- तुम किसके यहां से हो?मेरे सवाल पर वो घबरा गयी.

मैं- पर शुरुआत में दर्द होगा, ये पता है ना?शिल्पा- हाँ, इतना तो मुझे भी पता है … ऐसे ही इतनी बड़ी नहीं हो गई … और मुझे ये भी पता है कि हमारे पर कंडोम नहीं है तो मुझे शायद गोली भी खानी पड़े. इसके आगे की कहानी में क्या होता है, यह जानने के लिए आप इस स्टोरी से जुड़े रहें. फेसबुक अकाउंट बना कर मैंने लड़कियों और भाभियों को रिक्वेस्ट भेजनी शुरू कर दी.

उसकी पहली शादी छह महीने में ही टूट चुकी थी क्योंकि उसकी ससुराल वाले लालची थे और पति नामर्द था. मैंने उससे कहा- अभी मेरी प्यास नहीं बुझी मेरी जान … अभी मुझे तुम्हें और चोदना है. उसी रात मैं अपने रूम में गाने सुन रहा था तो गाना बदलते ही मॉम और पुष्पा आंटी की रिकॉर्डिंग चालू हो गयी.

टोपा अंदर जाते ही उसकी चीख निकल गई और वह बोली- मामा बाहर निकालो प्लीज … बहुत दर्द हो रहा है, मैं मर जाऊँगी.

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी सेक्सी: फिर मैंने जानबूझ कर हाथ वापस कर लिया और थोड़ा रूखे स्वर में कहा- कहां कुछ गलत है … सब ठीक तो लग रहा है … बाल तो है ही नहीं. पूरी आईसक्रीम मैंने उसकी चूत के ऊपर नीचे दोनों तरफ और एक उंगली अन्दर डालकर लगायी, तो मुझे लगा जैसे कल्पना की चूत ने पानी छोड़ दिया है.

मैंने पूछ लिया- क्या हुआ हंस क्यों रही हो?उसने बोला- कुछ नहीं, मैं तो बस यूं ही हंस रही थी. मैंने चूत तो पहले भी ली थी लेकिन उसको देख कर मुझे जन्नत जैसा फील हो रहा था. मगर रात में ये भी मेरे लंड से खुजली मिटवाने की बात कर रही थी, तो उससे मुझे कोई डर नहीं था.

चाय पीते पीते अचानक से वह मुझे बोली- आशु ये रात को जो तू हरकतें करता हैं, इन्हें बंद कर दे.

क्या तुम्हें आज की चुदाई में मजा नहीं आया?वो बोली- मजा तो आया लेकिन दर्द भी बहुत हुआ. मेरे लंड का सारा वीर्य मैंने उनके पेटीकोट में ही गिरा दिया और उसी से अपना लंड भी पौंछ दिया. चूंकि इतने दिनों से जमाने की मार खा चुकी थी तो मैंने भी नवीन जी से जुड़ने का मन बना लिया था.