सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स

छवि स्रोत,नेपाल की सेक्सी बीपी

तस्वीर का शीर्षक ,

ट्रिपल एक्स भोजपुरी: सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स, मैंने उनसे पूछा- आंटी क्या हरीश घर पर है?उन्होंने कहा- हरीश तो अपने मामा जी के यहां गया हुआ है, दो दिन बाद ही लौटेगा.

माधुरी देवी का सेक्सी वीडियो

मैं तो अंकित को अच्छे से जानती थी, सुनीता ने मुझे सब कुछ बता जो दिया था. सेक्सी सेक्स वीडियो एक्स वीडियोथोड़ी देर मयूरी की मस्त चूचियों से खेलने के बाद रजत ने मयूरी को सोफे पर लिटा दिया और खुद उसके ऊपर चढ़ गया.

मैंने उससे पूछा कि तुमको वापस कब जाना है?उसने कहा- आज अपनी सहेली की शादी अटेंड करूँगी और कल वापस जाऊंगी. गैलरी सेक्सी डॉट कॉमअब हमें जब भी मौका मिलता है, मैं उसकी हेल्प करके उसको किसी न किसी बहाने बुला लेता हूं और हचक कर उसकी बुर को पेलता हूं.

लेकिन मेरे दिमाग में ये भी सवाल आया कि इस आदमी के पैर दुखने लगेंगे तो ये इसके बाद मेरी गोद में आसानी से बैठ जाएगी.सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स: कई बार हरीश को कॉलेज से आने में देर हो जाती है, तो मैं तुम्हें ही फोन कर लिया करूँगी.

उसके बाद जब तक मेरी बीवी वापस नहीं आ गई, मैं रोज उसकी माँ चोदता रहा.शीतल फिर रात का खाना बनाने में जुट गयी, मयूरी अपने कमरे में जाकर कमरे का तापमान चेक करने लगी.

चूत की नंगी सेक्सी वीडियो - सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स

मैंने पूछा- आपको क्या पसंद है सेक्स में?तो उन्होंने कहा- वाइल्डली पुसी लिक करवाना.उससे बात होने लगी तब मालूम चला कि वो भी किसी आईटी कम्पनी में नौकरी करती थी.

मुझको तो लगता है ये सब तुमने ही किया था, तुमको पता था कि तू चली जाएगी, इसलिए तुम उसको मेरे लिए छोड़ गयी हो… है ना पुष्पा?पुष्पा पद्मिनी की माँ का नाम था. सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स वो दीपक की थी, उसमें उसने उसकी चूत में अपना लंड डालते हुए की बात की थी.

उन्होंने दूसरा धक्का दे मारा और उनका पूरा हब्शी लंड मेरी गांड में घुस गया.

सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स?

अब रितु ने जेम्स के लंड पे जोर जोर से कूदना शुरू किया और दोनों की आवाजें आने लगी. उन्होंने मुझसे सीधे बोला- कब चुदवाओगी?मैंने भी खुल कर कह दिया बोला- आज रात में. विक्रम ने अपना लंड मयूरी के मुँह में डालकर उसके मुँह की चुदाई करने लगा.

तभी मेरे दिमाग़ में एक खुराफाती आइडिया आया। मैंने अपना लैपटॉप उठाया ओर एकट्रिपल एक्स वीडियोडाउनलोड किया और उसे देखने लगा। अब मैं नेहा आंटी के बुलावे का वेट कर रहा था।आख़िरकार उनका बुलावा आया. फिर मैंने उससे पूछा कि यहाँ नौकरी तो मैं दिलवा दूँगी मगर देर तक बैठना पड़ता है. मेरा लंड एकदम खड़ा हो गया और मैं उनके चूचों को अपने हाथ से दबाने लगा.

दोस्तो, मैं आपको बता देता हूँ कि जो भी लड़की मुझसे 2-4 दिन बात कर ले उसको मेरी बातें और खासकर मेरी आवाज इतनी पसंद आती है कि वो लड़की खुद मुझे आगे से मेरी आवाज सुनने के लिए फ़ोन करती है. और आंटी मेरा मुंह अपने दोनों हाथों से अपनी चूत के ऊपर दबा रही थी, थोड़ी देर बाद आंटी की चूत से पानी आ गया, पूरा पानी मेरे मुंह पर आ रहा था, जैसे ही पानी निकला आंटी ने मुझे जोर से पकड़ रखा था, मैंने उनका सारा पानी पी लिया. मैंने बेल बजाई तो आंटी ने दरवाज़ा खोला और बोलीं- अरे तुम आज कॉलेज नहीं गए?मैंने कहा- छुट्टी है.

वो मेरे सामने आधी नंगी होकर शर्माने लगी और खुद को चादर में छिपाते हुए बोली- अपने भी तो कपड़े उतारो. मेरा लंड रस निकलने ही वाला है, तुम दोनों जवान हो, इसे चोदते रहना और चोद चोद के ऐसा बना दो कि वन्द्या बिना हम लोगों से चुदवाए रह ही नहीं पाए.

बीवी ने अपनी मुठ्ठी में मेरा लंड पकड़ कर चुत के छेद पर सैट किया और लंड पर बैठ गई.

लेकिन मैं उसको चूमते समय भी अपने लंड को उसकी चुत में घुसा रहने देता.

उसने मुझे मेरे मुंह पर एक थप्पड़ मार दिया और कहा- शर्म नहीं आती है? मैं तुम्हारी बहन हूं और तुम मेरे बारे में ऐसा सोचते हो? मैं ऐसा कभी सोच भी नहीं सकती थी! मैं अभी मम्मी को फोन करती हूं! और पापा को भी इंग्लैंड में फोन करती हूँ कि तुम कितने गिरे हुए इंसान हो!मेरे तो सांस ऊपर के ऊपर और नीचे के नीचे रह गए. उन्होंने मेरा नाम पूछा, तो मैंने अपना नाम बताया कि मेरा नाम विकी है. हट पगली… तू फिर शुरू हो गई… अब मेरी उम्र थोड़े ही है लंड लेने की…” साधना ने शर्माते हुए कहा।माँ जी… लंड लेने के लिए उम्र कोई मायने नहीं रखती… मैंने तो 80-80 साल की बुढ़िया का भी सुना है कि वो लंड लेती हैं। अगर आपको झूठ लग रहा हो तो नेट पर देख लो… जब तक चुत में आग है तब तक लंड लेने की लालसा औरत में रहती ही है.

मैंने बहुत सी भाभी और आंटी और लड़कियों के साथ चुदाई की है और हालत ये हो गई है कि मैं अब सेक्स के बिना नहीं रह सकता. फिर वो धीरे धीरे मेरी गर्दन से होकर मेरी चूची की तरफ बढ़ रहा था, मैं उसे रोकना चाहती थी. ’ निकली, फिर उसने मुझे अपने ऊपर से हटाते हुए बोला- ये क्या कर रही हो?मैं बोली- वही जो कल आपने सुनीता से करवाया था.

जब मैंने सलमा को देखा तो में उसको पहचान गया कि वो 5 साल पहले मेरे साथ कंप्यूटर क्लास में पढ़ती थी.

फोन इसलिए किया था कि मैंने आपने जैसा बताया था मैंने वैसे ही किया है और मेरा काम हो जाएगा. पर मामी को इस बात का पता चला गया और फिर एक दिन मैंने उनसे अपनी जरूरत के चलते कुछ पैसे की मांग की तो वो भड़क गई और मुझे लात मार के अपने घर से निकाल दिया और कहा- अब कभी मत आना यहाँ!शायद मामी ने अपने लिए कोई नया लंड खोज लिया था।तो प्रिय पाठको, आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी आप मुझे ईमेल के जरिये जरूर बताएं।आपकाऋषभ द्विवेदी[emailprotected]. मैं उसके सर की तरफ़ पैर को रख कर लेट गया और मैं उसकी गांड की तरफ़ मुँह घुमा कर सो गया.

रात में रवि का डॉक्टर इलाज कर रहे थे इसलिए मैं और स्वाति हम दोनों बाहर ही कुर्सी पर बैठ गए. उधर प्रभु अपने चोदने की रफ्तार बढ़ा रहा था, इधर रूबी और भी ज़ोर से मेरा लौड़ा चूसे जा रही थी. मैं इस बात को समझती थी कि इस टीचर की ठरक मुझे सहलाने पर मजबूर कर रही है.

भाभी बोलीं- घर लाने की क्या जरूरत थी? और भी बहुत जगह हैं, जहां पूरी रात खाना मिलता है.

जेम्स को तो मन मांगी मुराद मिल गयी … उसने रितु का दूसरा बूब पकड़ लिया और चूसना शुरू कर दिया. चोद दो मेरी चूत को मेरे भाई… आह…विक्रम- हाँ मेरी बेहेना… आज से मैं तेरा भैया और सैयां दोनों हो गया… अब तेरी चूत को मैं खुद चोदूँगा.

सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स थोड़ी देर तक वो अपना लंड चूत में हिलाता रहा, फिर लंड को निकाल कर अपना मुँह मेरी चूत पर लगा कर उसका सारा रस पीने लगा. मैंने भाभी को अलग अलग पोजीशन में हचक कर चोदा, सब कुछ गीला हो गया था.

सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स अब मैंने उसको बिस्तर पे लेटा कर उसकी ब्रा और पैंटी को आजाद कर दिया. उसे इस बात का भरोसा था कि उसके कूल्हे और चूचे देखकर कोई उसे चोदना न चाहे ऐसा हो ही नहीं सकता.

क्या बात है, क्या मैं आपकी मदद कर सकता हूँ?उस औरत ने अरुण को देखा और कुछ सोचने लगी.

अच्छा वाला सेक्सी पिक्चर दिखाइए

एक सिहरन सी पूरे शरीर में दौड़ने लगती, मानो उस वीडियो से या फिर उस कहानी से बाहर आकर वो मर्द मुझे भी अपना लंड चूसने दे और जी भर मेरी गांड की खुजली मिटाए. मैंने भी अपने हाथ उसकी कमर से नीचे सरकाकर उसके गोल गोल चूतड़ पर फिरा दिए. एक बात समझ लो दोस्तो… किसी औरत की चूत को चाट लो तो जिंदगी भर वह तुम्हें नहीं छोड़ेगी.

00 बज चुके थे मुझे भूख भी लग रही थी, मैंने अनुप्रिया से पूछा- खाना खाओगी? मुझे तो भूख लग रही है। मैं तो खाना लेकर आई हूँ. वो मुझसे बहुत खुल कर बात करती थीं और मुझे किसी न किसी बहाने छूती भी रहती थीं. मैंने आंटी को पकड़ा और उनको लिप्स किस करने लगा और दूसरे हाथ से उनके मम्मे को दबाने लगा.

अब मैंने शर्म हया सब त्याग दी, मेरा कण्ट्रोल खुद पे नहीं रहा था, बस अब सामने एक हट्टा कट्टा मर्द दिख रहा था जिसका लौड़ा उसके बाप से भी लम्बा था.

कुछ देर बाद उसकी चूत में उंगली डालने की कोशिश की, तो देखा वहां से खून निकल रहा है. तो फिर वो मनाने के लिये सब खुल के बात करने लगी, बोली- अच्छा तो आप सेक्स के लिए बोल रहे थे!मैं- हाँ. तो मैंने बाथरूम में रखी हुई क्रीम अपने लिंग और उसकी गांड के छेद पर मल कर एक बार फिर प्रयास किया.

फिर उन्होंने मेरा ब्लाउज और ब्रा भी उतार दी और खुद की चड्डी को भी उतार दिया. पद्मिनी का बाप अपने लंड को अपने हाथों से पैन्ट के अन्दर सीधा करते हुए पद्मिनी की जांघों को छूते हुए अपनी बेटी से बात करता गया. मैं थोड़ी देर ऐसा ही पड़ा रहा और फिर लंड निकालने लगा तो वो बोलीं- ऐसे ही रहने दो.

मैं उसकी बातों का मतलब समझ गया, वो मुझे परोक्ष रूप से धमकी दे रही थी कि अगर मैंने उसके साथ सेक्स नहीं किया तो वो मेरी और प्रगति की बात दूसरे लोगों को बता देगी. शर्म या अपनी इज़्ज़त को ध्यान में रखते हुए शायद बुआ जी ने उस समय कुछ नहीं कहा.

वो तो मैं नहीं कह सकती मगर जब वापिस आई तो उसको चाल से पता लगता था कि उसकी चूत की आज जमकर चुदाई हुई है. मेरी सहेलियां समोसे खाने के बाद बाहर आ गईं और मैं उस लड़के से बातें करने लगी. वैसे भी वो जवान जिस्म लिए, मर्दों को खूब एक्साइट तो करती थी ही, मगर उसने ये कभी नहीं सोचा था कि खुद उसका बापू भी उन मर्दों में से एक हो जाएगा.

उसने कहा- अभी मुझे कुछ नहीं चाहिए, पर हां जल्दी ही मैं तुमसे जो कुछ मांगूगी.

मैंने जैसे ही अपनी उंगली भाभी की चूत में डालने की कोशिश की, वो चिंहुक पड़ीं. मगर उस दिन के बाद हमारी किस्मत भी वो अपने साथ ले कर चली गई या यह कहूँ कि मैंने अपनी किस्मत भी उसके साथ भेज दी. लगभग 15 मिनट की चुदाई के बाद मैंने उसकी चूत को अपने वीर्य से फिर भर दिया.

दुबारा उसका लंड अपना रस निकालने में आना कानी करने लगा, जिसका नतीजा यह हुआ कि वो अपने कसे हुए धक्कों से मेरी चुत को बहुत देर तक चोदता रहा. अब मैंने दोनों हाथों से कमर को पकड़ लिया और निशा को जोर से लंड पे खींचा तो चिकनाई की वजह से पूरा लंड चुत में उतर गया.

कहां निकालूं?वो बोली- मेरे अन्दर ही निकाल दो और मेरी चुत को अपने माल से भर दो. अब वो धक्के मारना शुरू हुआ तो उसने मेरी चुत की धज्जियां उड़ानी शुरू कर दीं. आख़िर मैंने उनको लेटकर उनके चिकने पेट पर किस करते हुए बड़े बड़े मम्मों को दबाना चालू कर दिया था.

सेक्सी ब्लू फिल्म प्लीज

अभिलाषा मुझे अपने कमरे में ले गई और मुझसे कहने लगी- देखिए मिस्टर राज! आपने बताया था कि आप लगभग चेन्नई आते रहते हैं और दूसरा होटल छोड़कर हमारे यहां आपने रहना पसंद किया है, परंतु यह लड़की रिसेप्शन की ट्रेनिंग पर आई है और कुछ दिन बाद चली जाएगी.

मैं मस्त हो कर भाभी की चुत के मजे ले रहा था और जीभ को नुकीली करके भाभी की चूत को टंग-फक करना यानि जीभ से चोदना चालू कर दिया. अब ना तो मुझसे रहा जा रहा था और ना तो निक्की से, तो मैंने उसे डॉगी स्टाइल में रख के एक झटके में अपना पूरा लंड निक्की की चुत में डाल दिया. रूबी ने प्रभु के सर पे अपना हाथ डाल के उसका मुँह अपनी चूत पे दबा दिया.

एक दिन मुझे रवि के घर किसी काम से जाना पड़ा तो स्वाति ने कहा कि वो तो घर पर नहीं है. अब मैं भी गर्म होने लगा था, धीरे धीरे यूं ही चलता रहा, मैंने धीरे से अपना हाथ उनके पैरों पर रख दिया तब उन्हें लगा कि मैं जाग रहा हूं, उन्होंने कुछ देर के लिए रोक दिया, लेकिन कुछ देर बाद ही मेरे लंड को फिर से सहलाना शुरू कर दिया. भाभी देवर की ब्लू सेक्सी वीडियोमेरे घरवालों को शक नहीं हुआ क्योंकि मैं उनके सामने बिल्कुल भी नहीं चली.

तकरीबन 20 मिनट की चुदाई में वो बार झड़ चुकी थी और मेरा भी निकलने वाला था, मैंने उससे पूछा- कहां पे निकालूँ?तो उसने कहा- जहां मन पड़े, वहां निकाल दो. मैंने सलमा को रात को 10 बजे फ़ोन लगाया तो उसने कहा कि आप कल आना, आज तो रात बहुत हो चुकी.

मयूरी- पर ये तब हो पायेगा जब तुम्हारी बीवी इस बात के लिए मानेगी… और हर लड़की तुम्हारी अपनी बहन मयूरी नहीं है… की तुम दोनों का लंड एक साथ लेने को तैयार हो जाएगी. तो मैंने उन्हें इतना कसकर पकड़ लिया कि वह हिल भी नहीं पा रही थीं और उनकी सांसें भी नहीं निकल रही थीं. मैंने कोमल भाभी के चीखने की वजह जानने के उनकी तरफ देखा तो कोमल भाभी खड़ी हो कर अपनी चुत देखने लगीं.

अब तो स्थिति ये हो गई थी कि जब तक हम दोनों एक दूसरे से बात नहीं कर लेते, तब तक हमको चैन नहीं मिलता था. मेरी बहन प्रीति ने मुझसे कहा- मुझे नींद नहीं आ रही है!और मुझे भी नींद नहीं आ रही थी इसलिए हमने टीवी देखने को निर्णय किया और हमने लगभग आधा घंटा पंजाबी गाने देखे. अब मैंने उसे चित लिटा कर उसकी टांगें फैला दीं और अपना लंड उसकी चूत के ऊपर रगड़ने लगा.

जब हम फौजियों की परेड देखने लगे तो मेरी बहन मुझसे आगे खड़ी हुई थी उसने बहुत ही अच्छा पंजाबी सूट डाल रखा था जिससे वह बहुत ही खूबसूरत लग रही थी और उसकी सफ़ेद रंग की ब्रा साफ साफ दिखाई दे रही थी.

करके उसने अपना सारा माल मेरे मुँह में निकाल दिया और मैं उसे पूरा चाट गया. मेरा लंड सील तोड़ता हुआ सीधा अन्दर घुस गया और पम्मी के मुँह से एक हल्की सी चीख निकल गयी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’अगले 5 मिनट तक मैं और निक्की उसके चुचे चूसते रहे.

फिर चार पांच मिनट के बाद मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और जोर जोर से पिंकी को चोदने लगा. लेकिन आज तक मैंने कभी किसी लड़की को प्रपोज़ नहीं किया था तो मैं उसको कुछ भी नहीं बोल पा रहा था. अगर किसी लड़की की सुहागरात पर सफ़ेद चादर पर लाल दाग आ गया तो वह अपने पति की नजर में पवित्र बन जाती है.

हम दोनों का ये खेल काफी देर तक चलता रहा और फिर वो मेरा मोबाइल नम्बर मांगने लगी, जिस पर व्हाट्सैप चलता था. अब दस मिनट के बाद मैं और जेम्स फिर से तैयार थे एक बार और मजे के लिए!अबकी बार मैंने रितु को अपने लंड पर बैठने के लिए बोला और उसको अपनी तरफ झुका कर किस करने लगा. मैं उनको जाते हुए देखता रहा और जब वो चली गईं, तो हाल में आकर सोफे पे बैठ गया और अभी के हालातों के बारे में सोचने लगा.

सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स फिर मैं उसकी चुत चाटने लगा और फांकों को चूसते हुए उसके फड़कते दाने को भी काट लेता था. तभी पता नहीं क्या हुआ, उनके शरीर में एक उफान सा आया और वे सिस्कारती हुई निढाल सी हो गयी.

ब्लू सेक्सी हिंदी मूवीस

भैया के दोस्त का लंड मेरे गले तक जाकर मेरी लंड चूसने की ख्वाहिश पूरी कर रहा था. मैं उसकी मनःस्थिति को चुपचाप ताड़ रहा था; जरूर वो बेचारी हिंद्लिश … आधी अंग्रेजी आधी हिंदी … में गिटपिट करती उन मॉडर्न तितलियों से तालमेल नहीं बैठा पा रही थी और शायद इसी कारण हीन भावना या इन्फीरियरटी काम्प्लेक्स से भी ग्रस्त दिखती थी. दोस्तो, मैं अपनी अगली कहानी में बताऊंगा कि मेरी बीवी की चूत मुट्ठी में पकड़ कर किस पोज में बीवी की चुदाई की थी.

मैंने शैतानी की और झट से मुंह ऊपर कर के दोनों मम्मों को चोली के ऊपर से ही बारी बारी से चूम लिया. इस काम में मुझे कुछ लड़कियों की भी जरूरत थी, तो मैंने शीतल से हमारे साथ जुड़ने के लिए कहा. जंगल का सेक्सी वीडियो चुदाईपेंटी उतारते से ही उसने अपना मुँह मेरी चूत में लगा दिया और मेरी चूत को चाटने लगा.

अनुप्रिया बोली- दीदी, अब मैं आपके यहाँ जल्दी आऊँगी जिससे कि मैं आपके और आपके सभी चाहने वालों से सेक्स कर सकूँ! खासतौर से आपकी बेटी के साथ सेक्स करूँगी।मैंने कहा- मैं अगर फ्री हुई तो हम दोनों यहीं गुवाहाटी में मिलेंगी किसी होटल में!वह बोली- हाँ दीदी, आप मुझे फोन जरूर करना!और हम दोनों रोज बात करने लगी.

आपको मेरी यह सेक्स स्टोरी पसंद आई या नहीं, प्लीज़ मुझे मेल अवश्य करें. फिर उसने मेरे सब कपड़े उतार दिए और मेरा लंड के ऊपर चुंबन लेकर लंड चूसने लगी.

फिर मेरी शक्ल देख के भाभी बोलीं- अच्छा मेरे साथ चलो मुझे मार्केट जाना है, कुछ सामान खरीदना है. और सही में वह अपनी चूत को उठा उठा कर चुसवा रही थी और मैं उसकी चूत को खूब चाट भी रही थी. कुछ देर बाद आंटी उठ गईं, मुझे देखकर बोलीं- अरे सोये नहीं क्या?मैं बोला- नींद नहीं आई.

मैं उसकी बॉडी को चूसते हुए नीचे की तरफ आ गया और उसकी चुत पे अपना मुँह रख दिया.

वो मेरे सामने आधी नंगी होकर शर्माने लगी और खुद को चादर में छिपाते हुए बोली- अपने भी तो कपड़े उतारो. ”ठीक है, मैं तैयार हूं मगर एक बार फिर सोच ले … कुछ गड़बड़ तो नहीं होगी?” मैंने पूछा।कुछ नहीं होगा यार … वैसे वो ज़्यादा से ज़्यादा मुझे चोद ही तो लेंगे बस, उसके लिए में तैयार हूँ. चलो आज थोड़ा बात करते हैं, तुम चाय लोगे?उन्होंने इलेक्ट्रिक केतली में पानी गरम करते हुए चाय की डिप डालते हुए चाय बनाई और कप हाथ में लेकर वो बेड पे बैठ गईं.

हिंदी सेक्सी वीडियो बिहार वालीमैंने उन्हें गुड मॉर्निंग बोला और रिपोर्ट उनके हाथ में दे दी- मैडम, प्लीज़ यह रिपोर्ट सर को दे देना. मैं हैरान था कि यह लड़की कैसे मेरे पेशाब वाली जगह को अपने मुंह में लेकर चूस रही है, मैंने उससे अपना लिंग छुड़वाने की कोशिश की लेकिन उसने नहीं छोड़ा.

செக்ஸ்ய் வீடியோ படம்

वह पहले से ही गांड ढीली किए लेटा था, मैं पूरा पेल कर थोड़ा रुका फिर धक्के शुरु किए. मैंने अपने कपड़े उतारे, मैं केवल अंडरवियर में था, मैंने उससे कहा- तुम भी कपड़े उतार लो।उसने मुझे देखा, मुस्कुराया-अच्छा सर!उसने अपने पैन्ट शर्ट हेंगर पर टांग दिए. चलिए छोड़िए आप मेरी कहानी को पढ़ेंगे तो आपको खुद पता चल जाएगा कि प्रॉब्लम क्या है और क्यों है.

क्या सच हैं?पद्मिनी शरमाती हुई बोली- कौन सी बातें बापू?उस वक़्त पिता को महसूस हुआ कि पद्मिनी की जांघों के बीच उसका लंड खड़ा हो रहा था. यह कोई सिर्फ कहानी नहीं है, मुझे मेरी मम्मी की कसम, इसका एक एक शब्द सही है. वो धीरे बोली- रूको, मैं देखती हूँ!मुझे अब सिर्फ़ उसके कदम की धीमी आहट सुनाई दे रही थी रूम से जाते!मेरी आँखों पे पट्टी बन्धी थी और दोनों हाथ बँधे थे.

जो इस खुजली के अंत पर मिलता है। इसी के पीछे तो मरती है दुनिया।”मेरा भी सफेदा निकला है क्या?” मैं उठ कर अपनी योनि देखने लगी।नहीं. मैंने घबरा कर उससे कहा- ये क्या है?उसने कहा- पहली बार चुदने पर थोड़ा सा खून तो आता ही है. लाल जी मेरे बाल पकड़ कर अपना लंड मेरे मुँह में अन्दर बाहर करने लगा.

ये शब्द मैंने अपने ऊपर चढ़े हुए पहले मर्द को कहे थे, नहीं तो चाहे मुझे कोई घंटे तक भी पेले, मैं हार नहीं मानती थी।लेकिन क्या वो रुकने वाला था?नहीं!और वो बोला- रुक जा जानेमन, अभी तो ट्रेलर ही दिखाया है, पूरी फिल्म अभी चलनी बाकी है. पीछे शब्बो (शबनम भाभी) खड़ी थीं… मैं उस समय एक अलग ही सुरूर में था.

फिर कुछ देर बाद वो उठी और मुझे किस करने लगी जैसे कि वह मेरा पति हो.

बहुत देर तक उनका लंड चूसने के बाद मैंने उनके लंड के सुपारे को अपने मुँह में रखा और एक हाथ से मुठ मारने लगा. मारवाड़ी ब्यावर सेक्सीआंटी सिसकारियाँ भर रही थी- आह्ह अह्ह्ह औउ हां विकी अह्ह्ह यस्स…मैं समझ गया कि अंकल कभी यहां तक आये नहीं हैं. सेक्सी पिक्चर दिखाइए लड़कियों कीमैंने कहा- फिर अगर तुमको कोई लंड चूत में लेना ही था तो मुझसे भी बाँट लेती ना. फिर मुझे याद आया कि मैं जिस लड़की को चोद आया, उसका नाम तो पूछा ही नहीं.

बड़ी चाची ने अपना अनुभव साबित करते हुए लंड अपने गले से नीचे तक ले कर पूरा मुँह में भर लिया और मानो मेरा लंड कहीं खो सा गया.

जाते समय वो एक छोटे से कागज के टुकड़े पर अपना व्हाट्सैप नम्बर लिख कर मुझे दे गई. तो इत्मीनान से देखो लेकिन यह मत सोचना कि ऐसा भला कैसे हो सकता है, तुम्हें तो पता ही नहीं था। सब कुछ होता है और सब कुछ लोग करते हैं।”ओके।” मैंने भी ठान लिया कि किसी तरह रियेक्ट ही नहीं करूँगी।उसने फिल्म लगा दी और हम कंप्यूटर टेबल के पास ही तीन कुर्सियों पर बैठ गये।कहानी कैसी लगी, कृपया इस बारे में अपने विचारों से जरूर अवगत करायें। मेरी मेल आईडी है. एक दिन मैंने पूछा कि आपके हज्बेंड कहाँ रहते हैं?तो उन्होंने बताया कि वो चंडीगढ़ में जॉब करते हैं, एक या दो हफ्ते में ही आ पाते हैं.

मैंने जब उस लड़की को देखा तो देखता रह गया, वो बहुत सुन्दर थी और उसकी 36-32-36 की गदरायी फिगर तो और भी ज्यादा सेक्सी थी. फिर रास्ते भर मैंने उनसे बात नहीं की, लेकिन मेरे मन में एक सवाल था. मैं उसे बांहों में उठाये कमरे में घूमता रहा और बीच-बीच में उसकी चूत में थोड़ी-थोड़ी उंगली करता रहा.

దీప సెక్స్

मैंने उसकी संगमरमर जैसी जंघाएं उठाकर उसकी चिकनी चुत पे लंड रख दिया और एक करार धक्का लगा दिया. जैसे ही उसे पकड़ने को बढ़ी और पेटीकोट को उठाया, तभी मुझसे पेटीकोट चाचा ने छीन लिया और बोली- तू ऐसे ही खड़ी रह वन्द्या, अब मुझसे क्या छुपा रही है, मैंने तेरा सब कुछ देख लिया. मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि ये लड़का मेरे पति के पहली बीवी से है, मैं इनकी दूसरी बीवी हूं.

ऐसा करने से मैं और गर्म हो गया और कुछ ही पलों में भाभी की चूत में ही झड़ गया.

चुदाई के बाद से उसको पेशाब भी आ रहा था और वो अपना चूत में लगा खून और विक्रम के लंड से निकला हुआ माल भी साफ़ करना चाहती थी.

मेरी फिर से चीख निकलने वाली थी कि उसने मेरे होंठों को अपने मुँह में ले लिया और चुम्बन करने लगा. दुबारा उसका लंड अपना रस निकालने में आना कानी करने लगा, जिसका नतीजा यह हुआ कि वो अपने कसे हुए धक्कों से मेरी चुत को बहुत देर तक चोदता रहा. सेक्सी व्हिडिओ मध्ये कायहम दोनों धीरे धीरे गर्म होने लगे और कब हम दोनों के होंठ एक दूसरे से मिल गए, पता ही नहीं चला और हम एक दूसरे को किस करते हुए एक दूसरे में खो गए! हम भूल गए थे कि हम सिनेमा हॉल में हैं.

उन्होंने मुझे देखा, मैंने उनको धीरे से पूछा कि वो ग्रिल को लॉक कर दिया?उन्होंने बोला- हां कर दिया. भाभी की आँखों में हवस का नशा था, बिना कुछ बोले ही भाभी मेरा लंड चूसने लगीं. बात उस दिनों की है, जब मैं 10वीं क्लास में पढ़ती थी और महेश 12वीं में था.

मैंने अपनी माशूका से पूछा कि इस बार तुम्हें वैलेंटाइन डे पर क्या गिफ्ट चाहिए?तो उसने कहा- मुझे सिर्फ तुम्हारा साथ चाहिए. ”होने दो ना दीदी, मज़ा लो ना जिंदगी का, अनु तो पूरा खा पी के बैठी है, आप ही ऐसे रह रही हो बस.

और फिर ब्रा के बाहर जितने चुचे खुले हुए थे, उनको चूमने और चाटने लगा.

इसमें मैं नीचे लेटा और सीमा अपनी चूत मेरे लण्ड पर रखते हुए लंड निगलती हुई बैठ गई और मेरी ऊपर झुक गयी. और किराये का क्या है, वो तो जब तुम आओगे तो तुम्हें खुश करके ही भेजूंगी. मैंने ओके बोला और कहा कि मेरे लायक कोई काम हुआ करे तो बता दिया कीजिएगा.

1 दिनों की सेक्सी वीडियो मैंने उससे जवाब माँगा तो उसने कहा कि आप मेरी पहली ज़िन्दगी के बारे में नहीं जानते. फिर जब पद्मिनी बोले जा रही थी, तब बापू ने आहिस्ते से अपना लंड पेंट से बाहर निकाल कर उसकी बातें सुनते हुए पद्मिनी की जांघों पर छुआ रहा था.

मैंने मंजू से हिम्मत कर पूछ ही लिया- मंजू, अगर राज सच में यहां पर होता तो तुम क्या करती?मंजू अब खुल चुकी थी क्योंकि हम दोनों कई बार ऐसी बोल बोल कर ही सेक्स करते थे तो मंजू बस मुस्कुरा कर बोली- वो यहां होता तो तुम्हें बाहर भेज देती. मैंने अपना बांया हाथ उसकी जाँघ पर रख दिया, हालांकि उस समय मेरी भी गांड फट रही थी कि कहीं ये कुछ बोल ना दे. मैं तो कॉलेज भी नहीं जाती, वैसे भी एकाध साल में शादी हो ही जानी है.

हिंदी वीडियो सेक्सी हिंदी सेक्सी

उस दिन मेरा भाई और माता जी रिश्तेदारी में गए हुए थे और वो शाम से पहले आने वाले नहीं थे. तीन दिनों तक लगातार मलाई के उपयोग से वल्लिका की त्वचा काफ़ी चिकनी हो गई थी. मैं भी भाभी के पास ही बैठ गया और उन्हें पकौड़े बनाने की तैयारी करते देखता रहा.

सुधा भाभी बोले जा रही थीं और मैं उनके गुलाबी होंठों को देख कर पागल हो रहा था. अब मैंने उनकी मस्त नाज़ुक कमर पर हाथ घुमाते हुआ उनके गाल पर किस करना चालू किया.

अब वो पागल होने लगी, बोलने लगी- अब बर्दाश्त नहीं होता, प्लीज जल्दी से अंदर डाल दो न!मैं उठा और जूही को खींच के अपने लन्ड तक ले आया और उसके ऊपर लेट कर उसे किस करने लगा और लन्ड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा। मेरे लन्ड अंदर न डालने के कारण वो अपनी गांड से ऊपर की तरफ झटका मारने लगी और लन्ड अंदर लेने की कोशिश करने लगी.

उस लड़के ने मनोरमा से कहा कि गीता को समझाए कि वो क्या क्या कह सकती है. तो बापू हँसते हुए अपनी गांड को ऊपर उठा दिया और पद्मिनी ने उसके पेंट को निकाल कर ज़मीन पर फेंक दिया. कुछ देर बाद उसकी माँ बाहर आई जिसको देख कर मेरा लौड़ा एकदम टाइट हो गया क्योंकि वो थी ही ऐसी.

मगर ना तो राहुल हटने को तैयार था और ना ही मैं मना करने के मूड में थी. पद्मिनी ने खूब अच्छी तरह से अपनी गांड पर अपने बापू का मोटे लंड को महसूस किया. उसके बाद जब भी हमें मौका मिलता, हम चुदाई करते हैं और खूब मजा लेते हैं.

ऐसे ही कब मेरा पूरा लंड उसकी चूत में जाने आने लगा, पता ही नहीं चला.

सेक्सी बीएफ वीडियो एक्स: हम दोनों अब नंगे हो चुके थे, लेकिन दीदी आंखें बंद करके ही लेटी रहीं. वैसे तो मैं चूत चाटता नहीं हूँ, लेकिन मैंने कोमल को 69 में किया और मैं भी कोमल की चूत को मुँह में लेकर किस करने लगा.

हम ऐसे ही बातें करने लगे तो मैंने उनसे पूछा कि आपके पति कहां पे है?उन्होंने कहा कि वो उनके दोस्त के शादी में गए है. जब भी वो बाल्कनी में आतीं तो हम सभी फ्रेंड्स आकर खड़े हो जाते और उनको प्यासी निगाहों से घूरते रहते कि बस एक बार भाभी की मिल जाए. और कुछ देर के बाद मैं मामी की चूत की तरफ बढ़ा, मैं मामी डबल रोटी जैसी चूत को चूसने लगा, अपनी जीभ से चाटने लगा.

उसने मुझे घास पर ही लिटाया, मेरी टांगें फैला दीं और 69 की अवस्था में मेरे ऊपर लेट गया.

मेरी माशूका ने मेरे साथ वैलेंटाइन वीक के हर दिन मनाए, लेकिनवैलेंटाइन डेका ही दिन नहीं मनाया. क्योंकि तुझे दो मर्दों की जरूरत है, तू तो पागलपन कर देने वाली हद पार कर गई है. मैं धीरे से एक आँख खोल कर देख रहा था, वो मेरी तरफ देखते हुए निकल गईं.