बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई

छवि स्रोत,बीएफ दिखाओ बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

चेन्नई मटका रिझल्ट: बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई, अब मैंने अपनी फेसबुक फ्रेंड के दोनों हाथों को पकड़ लिया और उसको अपने पास लाकर उसके होंठों को अपने होंठों से जोड़ कर उसे चूमने लगा.

हिंदी बीएफ ब्लू सेक्सी फिल्म

उधर उसकी वजह से कितनी ही लड़कियां मेरे पास चुदवाने आईं, वो भी बताऊंगा. கையடிக்கும் செக்ஸ் வீடியோमैंने भी अब शर्म छोड़ दी और उसके लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर घिसने लगी.

फिर संजय ने मुझे अपनी सच्ची कहानी शुरू से बताई, उसकी सहमति से ही मैं उसकी गे सेक्स कहानी लिख रहा हूँ. आवाज वाली सेक्सी बीएफमैंने उनसे कहा- आज तू मेरी रंडी है और इस बाथरूम में आज तेरी चूत नहीं,गांड मारूंगा.

दूसरे टेबल पर कुर्सी लगा कर उनका एक हवलदार बैठा था, जो कुछ लिख रहा था.बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई: मेरा चेहरा दीपक के सीने से चिपका था और दीपक के हाथ मेरी कमर थामे मुझे स्थिर रखे हुए थे ताकि वो आराम से मेरी चूत बजा पाएं।तभी पूल कर्मचारी आ गया.

चोदो मुझे जोर जोर से चोदो … आंह फाड़ दो मेरी चूत को … आज से मैं आपकी रानी रंडी सब … जो मजा चुदाई में है … वह किसी में भी नहीं … आह!वे बड़बड़ाती रहीं और उनकी टांगें अकड़ने लगीं.पिंकी भाभी जब मेरे टोपे पर जीभ से धीरे से सहलातीं तो मुझे बहुत अच्छा लगता.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीपी एचडी - बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई

नेहा के चेहरे पर अपार संतुष्टि के भाव थे, लेकिन वह अभी और चुदना चाह रही थीएक लम्बी चुदाई की थकान दोनों पर हावी थी.X ब्रदर X सिस्टर ने इस कहानी में क्या किया? दोनों साथ साथ रहा कर जवानी में कदम रख चुके थे.

अगर बनाने वाला भाभी जैसी मस्त चूची और पिंकी भाभी जैसी चूत दे तो वो दुनिया की सबसे मस्त सेक्सी औरत होगी. बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई कुछ ही देर में उसकी चूत ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया, जिसे मैंने पूरा पी लिया और उसकी चूत को चाट चाट कर पूरा साफ कर दिया.

फिर वो एकदम से मेरे ऊपर स्प्रिंग की तरह कूद कर चढ़ा और अपना प्यारा गुलाबी सुपारे वाला लंड, मेरी गुलाबी चूत के सुराख में टिका दिया.

बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई?

रोहित बोला कि मंजू घर में पिछली वाली बोतल में थोड़ी व्हिस्की बची थी, वह है या नहीं?मंजू बोली कि हां थोड़ी है. इससे पहले मेरी एक कहानी प्रकाशित हो चुकी है:बहन और उसकी ननद की चूत चुदाईमेरी एक मेडिकल शॉप है, जिसे मैं खुद ही चलाता हूं. वापस बेडरूम में आकर मदन जी ने मेरी गांड में उंगली से अन्दर तक बोरोलीन लगा दी और एक दर्द निवारक दवा दे दी.

उसकी कमर को पकड़ कर थोड़ा ऊपर को उठाया और टांग को फैला कर दोबारा से उंगलियां उसकी चूत में डाल दीं. जब मैं नीचे जाने लगा तो देखा कि प्रिया सीढ़ियां चढ़ कर ऊपर ही आ रही थी. उस समय मैं बिना कपड़ों के शॉवर का मजा ले रही थी, बाथरूम का दरवाजा बंद नहीं था.

हुक खुलते ही मैंने दोनों हिस्से हाथ से पकड़े और झटका देकर उसे अपनी ओर किया. उस रात मुझे नींद नहीं आ रही थी क्योंकि मैं मामी के बारे में ही सोच रहा था. कुछ ही देर में उसकी तेज धार पिचकारी मेरे चेहरे पर आने लगी और वो झड़ गई.

मैंने उनकी पीठ सहलाते हुए उनको करवट किया और उनकी नकल करते हुए घुटने से लेकर उनकी जांघों तक किस करने लगा. मगर आप से निवेदन है कि कहानी के हर भाग को पूरा पढ़ें क्योंकि तभी आप सभी को कहानी का पूरा मजा आएगा.

चुदाई के समय अपनी ही ब्लू फिल्म आईने में देखना … और ज्यादा उत्तजेना पैदा करता है.

मैं लंड को फिर से टाईट करने के लिए उसकी चूचियों से खेलने लगा और उसके निप्पल को चूसने लगा.

मैं भाभी के ब्लाउज को खोल कर उनके मम्मों से खेलने लगा, एक दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. मैं अपनी एक पुरानी सहपाठिन को लगातार व्हाट्सएप में प्रपोज करता रहा. हम दोनों ने मम्मी पापा और चाचा चाची के आने से पहले दो बार और सेक्स किया.

और अन्तर्वासना मंच का भी धन्यवाद करता हूँ जो मुझे आप जैसे दोस्तों के सामने आपनी कहानियाँ रखने का मौका देते हैं और आपसे मिलवाते हैं।दोस्तो, मेरा फेसबुक पेज कुछ निजी कारणों की वजह से बंद चल रहा है, आप मुझसे मेरी ईमेल पर सम्पर्क कर सकते हो।मेरी यह कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित ऑनलाइन सेक्स एंटरटेनमेंट स्टोरी है. कुछ मिनट के बाद मुझे लगा कि अब शायद उसका पानी निकालने वाला है तो मैंने मुँह से लंड बाहर निकाल दिया और उसे बिस्तर से उठा कर सीधा बाथरूम में ले गया. तभी वो बोली- आप मुझे चीनी के साथ चाय पत्ती भी दे दीजिएगा, चाय के लिए नहीं बची है.

मुझे अन्दर आए दस मिनट हुए थे और वो आदमी शायद दस मिनट पहले अन्दर आया था.

मैं दिखने में 26 साल का हृष्ट पुष्ट कसरती पहलवान सा लगता हूँ, पर अभी मैं चिकना लौंडा सा ही लगता हूँ. वो उठ कर मुझ पर चढ़ गईं और मेरी चड्डी फाड़ कर मेरा लौड़ा बाहर निकाल कर मुँह में भर लिया. पहले तो मैंने उनकी चूत के बगलों में लगी हुई आइसक्रीम को चाटकर साफ किया, फिर मैंने अपनी जुबान को जैसे ही चूत में लगाया, मामी छटपटाने लगीं.

वो तो हम लोग बेबस हैं कि कभी टॉयलेट में ले लेती हैं तो कभी हाथ से मुँह से ही लेकर शांत हो जाती हैं. बॉस फक़ स्टोरी में पढ़ें कि खुद को नशे में धुत्त प्रदर्शित करके मैंने अपने बॉस से चुदाई करवा ली. आज मैं फिर से आपके लिए एक नई सेक्स कहानी लेकर आया हूँ जो मेरी बीवी सीमा की चुदाई की कहानी है.

मैंने सामने से टेबल किनारे किया और उसे अपनी बांहों में लेते हुए कमरे के बीच में आ गया.

मैंने उसके ऊपर से तब तक नजरें नहीं हटाईं जब तक वो रूम के अन्दर न चली गयी. इसलिए मामी के ब्लाउज के ऊपर से ही मैंने हल्के हल्के उनके बूब्स सहलाना शुरू कर दिए.

बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई जैसा कि मैंने ऊपर लिखा है कि मुझे औरतों की गांड चाटना और चूसना बहुत पसंद है. वो भी शायद झड़ गई थी क्योंकि 5 मिनट पहले उसने मुझे रोका था कि अब निकाल लो लेकिन मैं माना नहीं था.

बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई उसके बाद दो दिन तक मैंने उससे बात नहीं की, बस हम दोनों एक दूसरे के स्टेटस देखते रहे थे. अब कोई पेमेंट रुका हुआ या काम चालू है, उसको मैं सब जगह फोन करके रुकवा देता हूँ.

मैंने समर्पण कर दिया या उन्होंने समर्पण कर दिया, ये आज तक नहीं पता.

बिहार बीएफ सेक्स वीडियो

अब फिर से हमारे चूतड़ों पर जोर जोर थप्पड़ बरसाए जाने लगे जिससे कमरे में सारी लड़कियों की चीखें निकलने लगीं. मदन जी और मेरी दुकान में जब ग्राहक कम होते, तो मैं सब्जी काटकर आइसबॉक्स में रख देती. मगर एक बार चूत चुसवाने के बाद मैंने कभी अपने अंग में किसी के हाथ नहीं लगाने दिया था.

बताओ मेरी चूत तुम्हारा लंड मांगेगी तो मेरी चूत क्या करेगी … और अब तो गांड भी लंड मांगती है!मैंने उसे तसल्ली दी और ऑफिस जाकर अपने प्रोग्राम और ठहरने का पता किया तो मेरा ठहरने का प्रोग्राम शिमला शहर के एक अच्छे होटल में था. अभी वो सफाई करके मुड़ी ही थी कि तीसरा आदमी अपनी लंड की प्यास बुझाने हाजिर था. मैं- अरे भाभी, मैं इतना जालिम थोड़ी हूँ, जो अपनी प्यारी भाभी को कष्ट दूंगा.

बाकी लोगो की भी गांड फट गई थी और जो आदमी अरुणिमा की गांड मार रहा था उसने तुरंत अरुणिमा को छोड़ दिया.

मॉम चुत चुदाई कहानी में मैंने अपनी सौतेली मम्मी की चूत मारी होटल के कमरे में! हम दोनों ने कैसे इस खेल की शुरुआत की और फिर कैसे मजा लिया?दोस्तो, मैं रेक्स एक बार पुन: अपनी मॉम की चूत चुदाई की कहानी में आप सबका स्वागत करता हूँ. पूरे फार्महाउस में भटकते भटकते आखिर बीस मिनट के बाद मैंने अरुणिमा को देखा. उन्होंने मुझे तो कुछ नहीं कहा मगर किशोर से कहने लगे कि हमें भी चोदने के लिए चूत चाहिए.

आज बहुत समय के बाद कोई मेरे लंड को चूस रहा था, तो मैं ज़्यादा देर टिक नहीं पाया. मैं समझ गयी कि वो झड़ने वाला है, तो मैंने भी झांटों की परवाह किए बिना जोर जोर से उसका लंड चूसना शुरू कर दिया. मैं पहले भी अपने पति के साथ व्हिस्की पीती रही हूँ तो कोई दिक्कत नहीं थी.

हम तीनों ने इसके बाद बहुत सारी मस्ती की और अब वो दोनों अपने अपने घर चले गए. दोस्तो, मेरा नाम हेमन्त है और मैं गांव में रहने वाला एक सीधा-साधा लड़का हूं.

विक्रम अपने कपड़े उतारकर पलंग पर पैर फैलाकर बैठ गए और मुझसे बोले- अब खड़ी होकर झुक जा और मेरा लंड चूस. लक्की मेरे आगे आगे चल रही थी और मैं उसके बदन को एकटक देखे जा रहा था क्योंकि उसने एक झीनी सी शिफ़ोन की साड़ी पहन रखी थी जो बारिश में भीगने के कारण उसके शरीर से सांप की केंचुली की तरह लिपट गई थी. अब उसकी दोनों टांगें विपरीत दिशा में खुली हुई थीं और वो गांड के सहारे बेड पर बैठी थी.

अब हम रोज स्कूल के आने के बाद चुदाई करते हैं क्योंकि हमारे पेरेंट्स को आने में शाम के छह बज जाते हैं.

कुछ मिस्त्री भी हैं, पर आजकल कोरोना के चलते सब कुछ ढीला ढाला चल रहा है. मैं उनके गदराए हुए बदन पर मांस और चर्बी से भरे उनके दोनों उभारों पर अपनी वासना भरी नजरें टिकाए रहा. अब तक वैसी ही सात आठ पिचकारियां मेरे बदन पर और मेरी आँखों पर पड़ी थीं.

चाची को ऐसे देख कर मेरा मन किया कि काश ये मेरी चाची ना होती तो अभी उनको पटक कर चोद देता. मुझे उसके चूतड़ों को छूने में शर्म आ रही थी लेकिन मैंने अपने हाथों से उसके गांड धोयी.

साथ ही मैं आंटी की चूची को दबा रहा था तो उन्होंने अपना हाथ मेरे हाथ पर रख दिया और जोर जोर से अपने दूध को दबवाने लगीं. अरुणिमा का सर गले के पास से टेबल से थोड़ा नीचे लटका हुआ था, सो तीसरा आदमी उसके मुँह में अपना लंड डाल कर उसका मुँह चोद रहा था. ज्यों ज्यों उन दोनों की उम्र बढ़ती जा रही थी, दोनों का आकर्षण एक दूसरे के प्रति बढ़ता जा रहा था.

ગોધરા સેકસી વીડિયો

पापा को कुछ काम था, उन्होंने उधर अपना काम किया और मुझे मौसी के घर छोड़ कर वापस घर चले गए.

इसका मतलब है कि वो अब अपने आपको मुझे सौंप चुकी थी और उसे इस खेल में मजा आ रहा था. दोस्तो, मेरा नाम हेमन्त है और मैं गांव में रहने वाला एक सीधा-साधा लड़का हूं. चार से उसने मजबूरी में अपनी गोटी आगे बढ़ाई और मुख्य केंद्र वाली रेखा के बाहर खड़ी हो गयी.

अब मैंने उसके लंड को एक किस की और अपने मुँह की लार लंड के टोपे पर छोड़ दी. वो सविता भाभी की प्रतीक्षा कर रही है ताकि भाभी उसे चुदाई का पाठ पढ़ाये!कौन होगा वो भाग्यशाली नौजवान जिसे इस अक्षतयौवना को पहली बार भोगने का मौका मिलेगा? क्या वो ज़िम-ट्रेनर? या वो सेलमैन? या कोई और? जानने के लिए देखें यह सविता भाभी एपिसोड 22 का वीडियो – शोभा का कौमार्य-भंग. पंजाबी बीएफ पिक्चरमैंने ‘आह …’ की आवाजें करते हुए अपना पूरा माल उनके मुँह में गिरा दिया.

उसमें मुझे एक स्पेशल क्रीम का इस्तेमाल करना पड़ा, जिससे उसने गांड मरवा ली. इस वजह से मुझे कुछ काम नहीं रहा गया था, बस पूरे दिन पॉर्न देख कर मुठ मारने लगा था.

दस मिनट और चुदाई के बाद हम दोनों अपने चरम पर पहुंच चुके थे और हर धक्के से हमारा शरीर कड़क होने लगा था. उसके बाद उसने अरुणिमा को चोदना शुरू किया और साथ में वीडियो रिकॉर्डिंग चलती रही. उसको आगोश में लेकर चूमते चाटते हुए मैं बेड तक ले गया, उसको लेटा कर मैं उसकी मस्त मोटी चूचियों को देखने लगा.

ये कह कर वो भाभी की चूत की तरफ चली गईं और खुद वाइब्रेटर को अन्दर बाहर करने लगीं. उसने खुद को ठीक किया और मेरे सामने खुली हुई कैंची की तरह बैठ गयी जैसे जापानी लोग बैठते हैं. लेकिन अभी तो मैंने उसे नार्मल ही चोदा था, अभी तो मेरी असली चुदाई बाकी थी.

मैं- अच्छा क्या क्या तैयारी की?कविता- कपड़े गंदे थे, उन्हें धोया, अपनी जरूरत का सामान इकट्ठा किया, तब आई.

अब मुझसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था क्योंकि मुझे चुदाई किए जमाना हो गया था और मेरा दिल कविता को देख देखकर पागल हो रहा था. मैंने भी अपने इर्द गिर्द खोजना चालू कर दिया कि कोई चूत मिल जाए लेकिन मुझसे कोई पटती ही नहीं थी.

तभी मंजू दौड़ती हुई आई और मुझे उठाने लगी लेकिन मैं जख्मी होने का नाटक करते हुए उसके ऊपर पूरी तरह से चिपक गया. अब चूंकि मेरी बारी कपड़ा उतारने की थी, तो मैंने ‘ठीक है …’ कहते हुए शुरूआत की. धीरज ने पीछे से मेरी चूत में लंड पेल दिया, सपने में आने वाले 3सम के मज़े मैं भांग पीकर ले रही थी.

यदि तुम लेना चाहो तो तुम्हारे लिए भी बना लाऊं?मैंने हां में सर हिला दिया. चार वीडियो देखने के बाद हम सबने तय कर लिया कि चुदाई में क्या क्या करना है और क्या क्या नहीं करना है. वो दूध सी सफेद रंग की, पांच फिट आठ इंच की लंबाई वाली और 34-28-36 के फिगर वाली महिला थी और उसका नाम लक्की था.

बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई मेरी कहानी के पहले भागवासना की पुजारिन चुदक्कड़ लड़कीमें आपने पढ़ा कि मैं वीनस सेक्स को पसंद करने वाली लड़की हूँ, एक ऑफिस में काम करती हूँ. पर जब पापा आये तो मम्मी पापा का प्यार देखा और …दोस्तो, मैं निखिल आप लोगों का फिर से स्वागत करता हूँ.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो एचडी हिंदी

एक दो पल बाद ही अंकल के लंड ने वीर्य का फुव्वारा मीनू के मुँह में छोड़ दिया. शौहर की रूह के साथ सेक्स की बात सुन कर अम्मी चौंक गईं और बोलीं- बाबा यह क्या बोल रहे हो … मैं ऐसा कुछ नहीं कर सकती हूँ. ये कह कर वो मेरे लंड को सहलाने लगी आर जल्द ही उसने फिर से लंड मुँह में ले लिया.

लोग सुंदर दिखने के लिए अपने ऊपर खर्च करते हैं, मगर मैं सुंदर दिखने के लिए नहीं … बल्कि अपने लंड को मजबूत और ताकतवर बनाने के लिए काफी ध्यान देता हूँ. हम दोनों ने सेक्स की गोली खाई हुई थीं, जिसकी वजह से हमारा जोश सातवें आसमान पर था और हम दोनों मजे से एक दूसरे को चाटे चूसे जा रहे थे. बीएफ रंडी वालीवो सोफे पर सर टिका कर बैठ गई और अपनी चूत पर मेरा हाथ फिरवाने का मजा लेने लगीं.

[emailprotected]इन्स्टाग्राम: Vrinda_venusसेक्स ऐडिक्ट गर्ल स्टोरी का अगला भाग:होली, चोली और हमजोली- 2.

सहेली के साथ लेस्बीयन सेक्स कैसे किया था मेरी मकान मालकिन भाभी ने … ये सब खुल कर विस्तार से मुझे बताया. मैंने उससे शरीर को चूमते हुए धीरे-धीरे उसकी नाइटी को उतार दिया और उसे लिटा कर उसके पूरे शरीर को चूमने लगा.

मेरे लंड के सुपारे ने उसकी चिकनी चूत की फांकों के मजे लेने शुरू कर दिए. नेहा के मुँह में पूरा डिल्डो नहीं जा रहा था मगर जितना हो सकता था, उतना डिल्डो मैंने उसके मुँह में डाल दिया. फिर उस दिन से मैंने गौर किया कि वो दिन में भी फोन पर काफी समय तक अकेले में बातें करती थी.

अब मैं उसके सामने बैठा और उससे पूछा- हां अब बोलो क्या हुआ?वो बोली कि आपकी दवाई से काफी फर्क पड़ा है.

उसके झुकते ही उस फोटोग्राफर ने अपना लंड उसकी गांड में डाल दिया और उसके मम्मों का कचूमर बनाते हुए उसकी गांड मारने लगा. पहले उसने थोड़ा विरोध किया पर फिर उसको भी मजा आने लगा तो वो भी मुझे सहलाने लगी. मदन जी को याद आया कि जब वह मेरे बनाये खाने की तारीफ करते हैं और मुझको अपनी बीवी कहते हैं तो मैं किसी लौंडिया की तरह शर्मा जाता हूँ.

सेक्सी बीएफ भाई बहन वालामैं शरीर से फिट हूँ और मेरे शरीर पर कोई अतिरिक्त चर्बी नहीं है जो कि मेरे प्रति लड़कियों व भाभियों को आकर्षित करने में महत्वपूर्ण भूमिका रखती है. फिर मैं भाभी को लेकर बिस्तर पर आ गया और बुआ वहीं रूक कर खाना बनाने लगीं.

सेक्सी बीएफ देहाती जंगल

थोड़ी देर बाद आसिफा की अम्मी ने अपनी गांड में मेरा लंड झेल लिया और मस्ती से गांड मराने लगीं. पिंकी भाभी की चूत की पकड़ और भाभी के मम्मे एक साथ मुझे बेहद सुकून दे रहे थे. मैंने बेडरूम में जाकर संगीता के जैसी साड़ी और खुले गले वाला ब्लाउज पहन लिया.

कुछ देर सोचने के बाद मैंने तय किया कि इसकी तो मैं मार के ही रहूँगा. मैंने अपने आपको काफी संयम में रखा था लेकिन उसने अपना हाथ मेरे लंड के ऊपर रख दिया. सुबह 4:00 बजे तक हम दोनों ने 2-3 बार सेक्स किया और भाभी अपने कमरे में चली गईं.

थोड़ी देर बाद मैं उठा और फटाफट लंड उसकी सलवार से साफ करके अपने कपड़े पहन लिए. इस पर शिवानी ने कहा- यार, और कोई रास्ता नहीं है क्या?मैंने कहा- तुम कितना भी रोक लो … उसको चुदना है तो वो चुद कर ही मानेगी. खैर … मुझे सुरेंद्र जी से मिलकर बहुत अच्छा लगा और उन्हें मैंने हर तरह से खुश किया.

मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी ये बिग लंड की सेक्स कहानी बहुत पसंद आएगी. पेनिस साइज़ यानि लंड के आकार को लेकर लोगों में कई भ्रांतियाँ फैली हुई हैं.

मेरी ये पहली चुदाई कहानी है, आपको कैसी लगी हॉट वर्जिन पोर्न स्टोरी, अपनी राय जरूर दें.

वो जिस तरह से मेरे लौड़े को चूस रहा था, उससे मुझे लग रहा था कि कोई कमसिन लड़की मेरे लंड को चूस रही है. हिंदी बीएफ चोदने वालीदोस्तो, अपनी माँ की चुत की कहानी का पूरा मजा मैं अगले भाग में लिखूंगा. बीएफ सेक्सी एचडी फिल्ममैंने भी तीन चार झटकों के बाद डाईवोर्सी भाभी की चूत में ही लंड झाड़ दिया. चारों ने एक साथ पूछा- क्या सजनी (संजय) राजी होगी?मदन जी- सजनी तुम चारों को अच्छी तरह से जानती है.

मेरी अम्मी और बहन उन दोनों की क्या मस्त मालिश कर रही थीं, ऐसा लग रहा था कि जैसे दोनों पक्की रंडी हों.

अब आपकी मर्जी है कि मुझे अपनाओ या नहीं, पर मैं आपसे बहुत प्यार करने लगी हूँ. भाभी पूरी मस्ती में आकर चिल्लाने लगीं- आहह आहह राज … और चोदो फक मी राज आहह. कुछ देर बाद मुझे पता ही नहीं चला कि मेरा पानी बाहर आने लगा और रोमा की चूत में पूरा पानी समा गया.

सुनील ने एक झटके में अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया और धुआंधार चुदाई करने लगे. कभी फ़ोन कट कर देती, कभी बोलती बार बार कॉल करके नज़र रखते क्या … या कहती कि कॉल करके परेशान मत किया करो. हैरी का लंड अब मेरी चूत में अच्छे से फिट हो गया था और वो बहुत लंबे लंबे शॉट मारकर मेरी चूत की बैंड बजा रहा था.

राजस्थान बीएफ

नीचे मेरा लंड उसकी चूत के ऊपर फड़फड़ा रहा था, इधर वो हसीन कुड़ी मचली जा रही थी. अम्मी ने जल्दी डिनर बना लिया था और रात में खाना भी जल्दी खा लिया था. उसने मुझे बताया कि वो मुझे पहले से जानती थी और हम दोनों एक ही कॉलेज के स्टूडेंट हैं.

’बुआ ने अपनी रफ़्तार और तेज कर दी और जल्दी जल्दी लंड पर गांड पटकने लगीं.

उसने अपनी पतली गोरी बांहें अंकल की गर्दन पर रख दीं और आंख मारती हुई बोली- जी मेरे राजा … अभी चूस देती हूँ.

दो साल बाद उन्हें अपना तबादला वापस हैदराबाद इसलिए मिला क्योंकि मैं हैदराबाद में निजी क्षेत्र में जॉब करती थी और मैं उनकी बीवी थी. मैंने उसकी गांड में अपना पूरा थूक डाल दिया और उसकी गांड को अपने मुँह से और नाक से रगड़ने लगा था. राजस्थानी सेक्सी वीडियो भाभी के साथउसे बहुत दर्द हुआ और उसके मुँह से आवाज निकल गई- आह्हह उम्मम्म आई … मर गई मम्मी.

वो बहुत प्यार से लंड को ऊपर नीचे करती जा रही थी और मैं उसे देखे जा रहा था. मैं कंडोम को फाड़ कर जैसे ही पहनने जा रहा था, तो पिंकी भाभी बोलीं- कोई जरूरत नहीं. एक दिन मदन जी ने रात को दारू पीते समय मुझको दो लड़कों के बीच सेक्स का वीडियो दिखाया.

”और फिर इस कारण से वो सब कुछ सामान्य होते हुए भी यौन सुख का आनन्द नहीं उठा पाता और अपने साथी को भी चरम सुख नहीं दे पाता।इसलिए अगर आपका लिंग 8-10 सेमी या 3-4 इंच का है तो ये बिल्कुल सामान्य है. मेरी गांड चोदते समय मदन जी ने मुझसे पूछा- यदि तुम्हारे और चार पति होते, तो तुमको रोज चुदाई का ज्यादा मजा आता?मैं बोली- आप मेरे पति होकर ऐसी बात कैसे कर सकते हैं?मदन जी- यदि ऐसा हुआ, तो भी मैं तुमको प्यार करूँगा.

मामा मामी बाहर के रूम में और हम सब लोग घर के अन्दर बने कमरों में सो रहे थे.

हॉट पंजाबी गर्ल सेक्स का मजा मुझे दिया एक होटल की रिसेप्शनिस्ट ने! मैं उस होटल में रुका था और उससे दोस्ती हो गयी थी. उस वक़्त रात के दो बज रहे थे और नींद तो किसी भोसड़ी वाले की आंखों में थी ही नहीं. कुछ देर तक चूत से ऊपर ऊपर से खेलने के बाद उसने अपनी चूत में एक उंगली डाल ली और धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगी.

ससुर बहू की चूत चुदाई इस बार उसका लंड बहुत ही कड़क था, जैसे कि वो शीशम की लकड़ी का बना हो, जरा भी दब नहीं रहा था. कभी हाथ चूचे पर, तो कभी नाभि पर, कभी चूत पर, कभी उनके चूतड़ों पर … ऐसे ही 2-3 मिनट तक चलता रहा.

दो पति मेरे स्तन दबाने लगे, एक मेरा होंठ चूस रहे थे, एक मेरी पीठ और चूतड़ चूम रहे थे. चाची बोलीं- तुम एक दिन में इतना कैसे होशियार हो गए!मैं तारीफ़ सुनकर खुश हो गया कि मैं एक चूत की मालकिन को सुख दे पाने में कामयाब हो रहा हूँ. अब फिर से दिमाग़ के दोनों हिस्से आपस में भिड़ गए और हमेशा की तरह गंदे विचार वाला हिस्सा जीत गया.

करिश्मा कपूर के बीएफ

मैंने पूछा- क्या हुआ आंटी?उन्होंने बताया- न जाने क्यों मेरे सर में अचानक से बहुत दर्द होने लगा है. खैर … मुझे सुरेंद्र जी से मिलकर बहुत अच्छा लगा और उन्हें मैंने हर तरह से खुश किया. वो जोर जोर से सांस ले रही थी, साथ ही पलंग हिलता भी महसूस हो रहा था.

नहाने के बाद हम दोनों गैराज में गए और एक कपड़े से एक-दूसरे को साफ करके अपने अपने कपड़े पहन लिए. ये सब मैंने इतनी जल्दी किया कि आयेशा को पता भी नहीं चला कि उसके साथ हो क्या रहा है.

वो- मुझे भी बहुत इंतजार था इस दिन का साहब, आप रोज मुझे छेड़ देते थे और मैं तड़पकर रह जाती थी.

फिर वहां अचानक से शांति हो गयी और लगभग 5 मिनट तक कोइ हलचल नहीं हुई. थोड़ी देर किस करने के बाद नेहा मादक अंदाज में बोली- मैं तुम्हें बहनचोद बनाना चाहती हूं. आंटी मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड की बातें करती थीं मगर मैं उनसे कह देता था कि आंटी मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

मुझे भाभी का मम्मे देख कर उसे खाने का मन कर रहा था तो मैं मम्मों को देख कर और तेजी से चोदने लगा. मेरे दिमाग़ में आईडिया आ गया, मैंने सोचा अब तो इनको सुलू मामी से सुलू जान बनाना है. झड़ते वक़्त के आनन्द का बयान नहीं कर सकता दोस्तो!अब चुदाई का मजा मिलने लगा था.

मेरे मामा के घर में पांच लोग रहते हैं, मामा-मामी, उनकी दो बेटियां और उनका एक बेटा, जो उम्र में बहुत ही छोटा है.

बीएफ पिक्चर भेजो चुदाई: कुछ मिनट के बाद जब आइसक्रीम की ठंडक से मामी कुछ नॉर्मल हुईं, तब उनकी कसमसाहट कुछ कम हुई. मैंने कहा- अब मेरे लौड़े से चुदवाना है या बॉयफ्रेंड को बीच में लाएगी.

मैं तो वैसे ही अपने रंगीन मिजाज के कारण अपने आपको कंट्रोल नहीं कर पाता हूँ और ये लड़की तो मेरे मन को काफी अन्दर तक भा गई थी. वो बोलीं- देखो रवि, तुम मुझसे 9 साल छोटे हो और अपनी उम्र से बड़ी उम्र की औरत के साथ यह सब करने से कमजोरी आ जाती है. वो बिना खुद को साफ़ किए सो गई थी इसलिए मैंने सोचा कि खुद को साफ़ करके आ जाएगी.

वो क्या ट्विस्ट है, ये मैं अपनी सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगी.

थोड़ी देर बूब्स मसलने के बाद में उसके ऊपर चढ़ गया और एक दूध को पीने लगा. अभी दो किलोमीटर सुनसाने में ड्राइव किया होगा, तो मुझे वही स्कार्पियो रोड से थोड़ा नीचे उतर कर मैदान में एक पेड़ के नीचे खड़ी दिखी. मेरी अम्मी को चुदाई की आदत हो गई थी और उनके साथ सबीना को भी लंड की लत लग गई थी.