जंगल बीएफ जंगल बीएफ

छवि स्रोत,कमला मालिका

तस्वीर का शीर्षक ,

कॉलेज की लड़कियों के साथ: जंगल बीएफ जंगल बीएफ, फिर वो जब भी पीछे मुड़ती तो वो दोनों भी उसकी ओर हवस भरी नजरों से देखते.

व्हाट्सएप पर भेजने वाली फोटो

पर उसके मुँह में चड्डी घुसी थी और उसके हाथों को मैंने पकड़ रखा था … तो वो कुछ कर ही नहीं रही पा रही थी. कंडोम का यूज़ कैसे करते हैंवो जब भी मेरी दुकान पर कुछ लेने आती, तो मेरे से खूब हंस हंस के बतियाती थी.

अम्मी ने उसकी पैंट से बाहर निकले हुए लंड को पकड़ा तो एकदम से घबरा गईं. 12 साल लड़की की ब्लू फिल्ममैं मस्ती से सिसकारी भरे जा रही थी- आह … उइ … उफ्फ … धीरे करो न जय आह कितना मस्त चूसते हो उफ्फ!मैं वासना में सिसकारियां भर रही थी और जय मेरे दूध चूसे जा रहा था.

यहां पर पैसा और चूत का मजा दोनों साथ साथ मिलते हैं मगर यह सब सुनने में ही अच्छा लगता है.जंगल बीएफ जंगल बीएफ: फिर मैंने पीसी ट्यूनिंग के लिए एक सॉफ्टवेयर इनस्टॉल किया और टेंपरेरी फाइल्स को रिमूव करने लगा.

जिसके बाद साहिल ने रागिनी को दूसरी तरफ पैरों को फैला कर लेटा दिया और हल्का सा झुक कर उसकी कुंवारी चूत चाटने लगा.ओपन सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार सेक्सी मूवी देखने गये दो दोस्तों को टाकीज में एक आंटी मिली.

इंडिया सेक्सी फोटो - जंगल बीएफ जंगल बीएफ

मैंने उसे चूमना छोड़ा और उससे पूछा- क्या तुम्हें अच्छा नहीं लग रहा है?वो शर्म से सर नीचे करके हां में सर हिलाने लगी.उसके दोनों पतले पतले हाथ पकड़ लिए और उसके होंठों को अपने होंठों से दबाकर चूसने लगा.

हम दोनों एक दूसरे के कपड़े उतारने लगे और जल्दी ही मैं सिर्फ अंडरवियर में और वो पैंटी में आ गई थी. जंगल बीएफ जंगल बीएफ जब मेरा सारा पानी निकल गया तो मैंने जल्दी से लंड को बाहर निकाला और वीर्य को सिरिंज में भर लिया.

फिर मैंने हेमा चाची को साड़ी खोलने को कहा, तो हेमा चाची ने साड़ी के साथ साथ पेटीकोट भी उतार दिया.

जंगल बीएफ जंगल बीएफ?

मैंने पंखा चला कर चैक किया और भाभी से कहा- लो जी भाभी जी, आपकी हवा चालू हो गई. मैंने अपने लंड की रफ्तार बढ़ा दी।अब बुआ बोलने लगी- आह आह ओहह आहां हहह … राज चोद अपनी बुआ को … आहहह आहहह … चोद … फाड़ दे मेरी चूत को!मैं अपनी बुआ को पूरी रफ्तार से चोदने लगा. थोड़ी देर बाद मैंने उसकी चूत में अपना रस छोड़ दिया और अपनी सांसों पर काबू पाता हुआ उसके बगल में लेट गया.

मैं विश्वास के साथ तो नहीं कह सकता था लेकिन उसको शायद मैं पसंद आ गया था. अलीमा बोली- अंकल मैं डर नहीं रही हूं … और मेरी आंखों में जो आंसू हैं, यह खुशी के हैं. भाभी कहती है कि उसका पति उसको पांच मिनट ही चोद पाता है … फिर झड़ कर सो जाता है.

फिर हम तीनों ने एक साथ खाना खाया और मैं थोड़ी देर रुक कर घर आ वापस गया. मैंने कंप्यूटर बंद किया और कुर्सी पर बैठे बैठे ही उनको अपनी गोद में खींच लिया. यह देसी फुद्दी की चुदाई कहानी सत्य घटना पर है जो कि मेरे और मेरी भाभी के बीच हुई थी.

उसका ये कहना था कि मैंने लौड़े को चुत की फांकों को चीरते हुए अन्दर पेल दिया. मैंने उसे अन्दर आते देखा तो झट से बेड की चादर से अपने बदन को ढकने की कोशिश करने लगी.

लंड चूत को चीरता हुआ अंदर बच्चादानी में टकराने लगा।चाची ‘ऊईई ईई मां … बचाओ मर गई … उईई उई!’ चिल्लाने लगी।वे बोली- राज, तुम आज रात मेरी जान ही निकाल दोगे.

वहाँ से दो दिनों के टूअर की व्यवस्था की गई थी जिसमें सभी कर्मचारियों को जाना था, लेकिन केवल जोड़े में।मतलब मेरे और वाशी के मम्मी पापा को दो दिनों के लिए जाना था.

मुझे उसकी चीख सुनकर मजा आ रहा था। उसकी चुदाई होते हुए उसके चूचे हिल रहे थे जिनको मैंने अब मुंह में भरा और चूसने लगा. मैंने भी हेमा चाची को जोर से अपनी बांहों में जकड़ लिया और हेमा चाची के हसीन जिस्म पर अपने हाथ फेरने लगा. अब हर्षदीप ने आंटी को अपनी बांहों में उठा लिया और उसे बिस्तर पर लेटा दिया.

‘आहह आहह आहह आहह ऊऊह आऊऊऊ’ की आवाज से पूरा कमरा गूंज उठा था।अब धीरे धीरे उजाला होने लगा था।मामी के होंठ मेरे होंठों को चूसने लगे और उसने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया।अब मामी की चूत ने पानी छोड़ दिया और वो मुझसे लिपट गई. मेरा मन हेमा चाची को देखने के लिए इस कदर मचला जा रहा था कि जैसे मैं चाची से मिलते ही सेक्स करूंगा. दोस्तो, यह थी मेरी पहली स्टोरी जिसमें मैंने एक जवान लड़की की चूची और चूत का पहली बार चूस चाटकर मजा लिया.

कुछ ही देर बाद मैंने जय को चूमना शुरू किया उसने भी मेरे दूध चूसने शुरू कर दिए.

नहाते हुए जब उनका अंडरवियर गीला रहता था तो लंड का साइज भी पता लग जाता था. उसने मेरी हॉट बुर में जीभ डाली और एक दो बार बुर में जीभ चलाने के बाद ही मेरी बुर ने ढेर सारा पानी छोड़ दिया. आधा घंटे बाद हेमा चाची ने फिर से सेक्स की फरमाईश कर दी, तो मैंने मूड बनाने के लिए अपने फोन को हेमा चाची की टीवी से कनेक्ट कर दिया.

सलमान ने भी गांड उठाते हुए मेरी अम्मी के मुँह को चोदना चालू कर दिया था. तो चुदाई कैसे हुई?हैलो, मैं आपको ठाकुर के लंड की ताकत का अहसास कराते हुए उसकी देसी चुदाई की स्टोरी लिख रहा था. विशाल ने एक हाथ मेरे पेट के आगे से ले जाते हुए मेरे पेट पर हाथ रख लिया और दूसरा हाथ पीछे गर्दन पर रखते हुए मुझे झुका दिया.

कुछ ही देर में उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और नाखून मेरी पीठ पर गड़ाने लगी.

उसकी चूचियां कसाव में आने लगीं और धीरे धीरे मेरे हाथों से मसले जाने के कारण टाइट हो गयीं. मैंने अमित के जाने के बाद दरवाजा बंद किया और पूरा नंगा होकर अपनी बीवी के बिस्तर में आकर उसकी चूत चाटने लगा.

जंगल बीएफ जंगल बीएफ उसके बाद वही लड़का (जो आते समय मिला था) और उसके साथ 2 और लड़के व एक लड़की भी आ गये. फिर एक दिन ज़ायना खासी गर्म हो गई थी … तो मैंने उसे चोदने का प्लान बना लिया और वो भी मुझसे चुदने को बेचैन हो गई थी.

जंगल बीएफ जंगल बीएफ ठाकुर ने दारू पी, फिर खाना खाया और कुछ देर आराम करने के बाद टहलने के लिए खेतों की ओर चल पड़ा. पता चला कि दी ने नीचे से पैंटी नहीं पहनी थी और उनकी चूत नंगी ही थी.

उसने मेरी बात ऐजेंसी में करवाई और फिर मुझे ऐजेंसी में जाकर बात करने के लिए भेजा.

2020 का नया बीएफ

मैंने कहा- कहां जा रही हो आप?उन्होंने कहा- हम सभी बाहर इस झोपड़ी के पीछे नहाते हैं. हमारा एक दूसरे के घर आना जाना होने लगा।फिर वो दिन आ ही गया जब मुझे सील टूटने में होने वाले मीठे दर्द का अहसास हुआ. पर मैं रुका नहीं … हेमा चाची की चूत में मेरा लंड था और गांड में मेरी उंगली थी.

रूबी की उम्र लगभग 28 साल थी उसकी कुछ महीने पहले ही शादी हुई थी, रूबी के बदन का साइज 38-34-40 का था. इसलिए वो अपने लंड को सही भी नहीं कर सकता था अपनी पैन्ट में!पूनम ने साहिल के पैन्ट का तम्बू भी देख लिया. मैंने हल्का सा आह … किया और विशाल का लन्ड पकड़कर मुंह में पूरा ले लिया और करीब 5 मिनट तक विशाल का लंड जोरदार तरीके से चूसा.

ठाकुर ने मंजू की गांड को फैलाया, अपने लंड पर अपना थूक लगाया और गच्च की आवाज से पूरा लंड चुत के अन्दर घुसा दिया.

वो मुझे देख कर बोला- आ आजा … अंजलि है न तू!मैं बोली- यस तुम ही ऑर्डर दोगे?वो बोला- यार ये मेरे पापा का बिजनेस है … लेकिन मैं भी देख रेख करता हूँ. साले बहुत दिनों से मेरी रंडी बहन की चुदाई की फिराक में थे और आज उनको मेरी बहन ने खुद वो मौका दे दिया था. आपको मेरी बहन की चुदाई ये कहानी कैसी लगी मुझे अपने मैसेज और कमेंट्स में बतायें.

मैं उन्हें शॉपिंग करवाने ले गया और लाल कलर की ड्रेस गिफ्ट की जो उन पर और भी सेक्सी लग रही थी।शाम को दी के घर पर ही पार्टी थी. तभी आंटी आगे आईं और मेरे लंड के ऊपर हाथ फेर कर बोलीं- ये भी रेडी है और मेरी भी धधक रही है. मैंने उस आदमी की तरफ देखा तो वो यही कोई पैंतीस साल का एक हट्टा-कट्टा मर्द था.

गांड चुत में लंड का मजा लिया मैंने पहली बार एक होटल के कमरे में दो मर्दों के साथ. मैं- बुआ जब फूफा नहीं रहते थे, तब तुम अपनी चुत के लिए क्या इंतजाम करती थीं?बुआ- क्यों तुझे ये जानकर क्या करना?मैं- बताओ ना मेरी जानू … किसी से चुदवाती थीं तुम?बुआ- साले हरामी ऐसा बोला, तो मेरे हाथों से मार खाएगा.

मैंने धीरे से उसकी ब्रा का हुक खोलकर उसकी मस्त चूचियों को आजाद किया और अपने आप को भी कपड़ों से मुक्त करने के साथ ही मैंने उसकी तंग सलवार भी उसके शरीर से आजाद कर दी. मैंने देखा कि उस काली सिल्की नाईटी से हेमा चाची की घुमावदार गांड अच्छी तरह से उभर कर नजर आ रही थी. एक तो शराब का सुरूर था और दूसरा तीन तीन मर्द मेरे साथ रात में अकेले थे.

मैंने उसकी चूचियां निहारते हुए कहा- हां जी क्या काम था?उसने कहा- मेरे रूम का पंखा बंद पड़ा है.

फिर मैंने सोचा मां चुदाए, इससे मुझे क्या … मुझे तो चुत चोदने मिल गई है. वो बोलीं- साहब कल से घर में खाने को कुछ नहीं है … मैंने भी कुछ नहीं खाया है. वह फिर से चीखने लगी- अअह दीदी रोको इसे … स्वीटी ऊऊऊह … बस अब बस करो … प्लीज़ ऊईओह मम्मीईईईई … मर गई रे … ओ माय गॉड … बस कर दे बेदर्दी.

क्या चुत थी जया की … आह बिना बाल की उसकी चिकनी चूत देखकर मैं तो पागल सा हो गया और टांगें फैलाते हुए चुत को पसार दिया. और उनका 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लंड देख कर मैं तो समझो पागल ही हो गया.

आंटी तो पागल सी हो गईं और मादक सिसकारियां भरने लगीं- आआह ईईई उई उम्म … जल्दी से चोद दो गोलू … उउइ आह!मुझे भी अब और जोश चढ़ने लगा था. उसके लिए आप सभी का धन्यवाद।दोस्तो, यह सेक्सी टीचर चुदाई कहानी मेरी और मेरी प्रिंसिपल मैडम मोनिका (बदला हुआ नाम) की है।मोनिका की उम्र लगभग 35 साल, हाइट 5. वो भी कहीं न कहीं मुझसे मिलना तो चाह ही रही थी, तो वो भी झट से राजी हो गई.

गांव की छोरी की सेक्सी बीएफ

मैंने आंटी की दोनों टांगें ऊपर करके अपना लंड उनकी चूत पर सैट कर दिया.

वो बोली- उधर मिलने से क्या होगा?उसकी इस बात से मैंने रेस्टोरेंट में न जाकर होटल के रूम में मिलने का प्लान बनाया. हाय दैय्या! मैं इस रंगीन चुदाई से पूरी तरह पागल होती जा रही थी लेकिन वो रुकने का नाम नहीं ले रहा था. फिर उसने खुद मोनू का लंड अपनी गांड के छेद पर लगवाया और उसको अंदर घुसवा लिया.

इससे मेरा काम हो गया वरना मैं उन दोनों की लाइव चुदाई मिस कर देती।राजसी साहिल को होंठों को फिर से चूसने लगी और साहिल के दोनों हाथों को लेकर अपने दोनों 32″ की चूचियों पर रख कर मसलने लगी. मैंने लंड का सुपारा चुत की खुली फांकों पर रख कर कहा- रेडी?वो जब तक कुछ कहती, तब तक मेरी मिसाइल दागी जा चुकी थी. अफ्रीकन पॉर्नदो-तीन मिनट में ही मेरे लंड से वीर्य निकल पड़ा और तब जाकर मैं कहीं शांत हुआ.

मामी ने आंटी को गाली देते हुए कहा- माँ की लौड़ी लंड की भूखी है साली … इसको तो तुझे चोदने जाना ही पड़ेगा, वर्ना सहेलियों में ये दो की चार लगाएगी. फिर नीचे से उसकी चूत में जीभ डाल दी और उसके हाथ मेरे सिर पर कस गये.

वो सिसकारते हुए बोली- क्या इरादा है … मेरी चूत को प्यासी रखेगा क्या आज … या ऐसे ही तड़पाता रहेगा? जल्दी कर दे, अगर स्वाति आ गयी तो सारा मूड खराब हो जायेगा. मैंने पूछा कि क्या हुआ?वो बोलने लगी कि उसके बॉयफ्रेंड की वजह से …मैंने कारण जानना चाहा. मैंने अपने लंड को जोर जोर से तेजी के साथ हेमा चाची की चूत के अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया था.

मैंने उन्हें मनाते हुए कहा- अरे चाची सच कह रहा हूँ … मुझे ये बहाना बनाने की याद ही नहीं रही. उसके साथ मैंने कई बार चुदाई की और हर बार उसने अपनी चुदाई की कहानी अन्तर्वासना पर लिख कर डालने के लिए कहा. आदित्य मेरे निप्पलों को घूरे जा रहा था और उसने गर्मी का बहाना बनाकर अपनी टीशर्ट उतार दी.

मेरी आह्ह की आवाज सुनकर हेमा चाची भी अब तक समझ चुकी थीं कि मैं अन्दर से पूरा सेक्स से भरा हुआ हूँ.

उसके बाद बात सेक्स और चुदाई तक कैसे बढ़ी?दोस्तो, मेरा नाम रोहन है और मैं राजस्थान के भीलवाड़ा जिले का रहने वाला हूँ. मैं- मगर तुम्हें देखकर बिल्कुल ऐसा नहीं लगता कि तुम इतनी उम्र की हो.

मैंने अपने लंड को चौथे गियर में डाल दिया और अब झटकों की रफ्तार पूरी तेज कर दी. कुछ देर के ही बाद लाइट चली गयी तो एसी बंद हो गया तो कमरे में बहुत गर्मी हो गयी. मैंने कभी किसी की चूत नहीं चोदी थी तो मेरी चूत चोदने की तड़प बढ़ रही थी.

वो मेरे सर को अपने मम्मों पर दबाते हुए बोलीं- आह साले चूस ले न कुत्ते मेरी चूची को चूस चूस कर लाल कर दे. उस दिन दीदी को मेरे और आदि के बारे में पता चला कि हम दोनों का सेक्स का रिश्ता है. उसने दबा हुआ सा विरोध किया पर ज्यादा समय तक वो अपने आप को संभाल नहीं पाई.

जंगल बीएफ जंगल बीएफ एक्सरसाइज करते समय सहिल का लन्ड भी अलग से साफ साफ दिख रहा था जिसको राजसी ने देखा और वो कमरे में आ गयी. तो साहिल ने अपनी टीशर्ट उतार दिया और दूसरे कमरे में जाकर एक छोटी सी शॉर्ट्स पहन लिया जिसमें उसका काला नाग पेंडुलम के तरह हिलता साफ दिख रहा था।फिर कुछ समय इसी तरह बीता.

प्रकाश बीएफ

मैडम अपनी सीट पर थी और मैं उनके सामने अपना काम कर रही थी।मैम मोबाइल में कुछ देखने लगी. गोली का असर बड़ा जोर दार था मेरा लंड अभी भी चैलेंजिंग मूड में तन्ना रहा था. फिर मैंने उसकी टांगें फैलायीं और उसके दोनों हाथों को अपने एक हाथ के नीचे दबा लिया.

और हाँ … आप लोगों को बता दूँ कि राजसी का रंग बिल्कुल मेरे विपरीत है, वो बिल्कुल गोरी है और उसका भरा बदन भी है। उसकी चूचियाँ दबवा मसलवा कर 32″ की हो गयी हैं और गांड मरवाने का भी उसको बहुत शौक था. मैं तुरंत पहुंच गयी उसके आफिस में!उसने मुझे कुछ लिखने का काम दिया और अपने बगल मेरी कुर्सी लगा दी।मैं भी उसी के तरफ झुक कर लिखने लगी और वो मुझे ताड़े जा रहा था. सही कंडोमबहुत ही साफ़-सुथरा और नर्म बिस्तर वाला कमरा देख कर मुझे समझ आ गया कि आज आंटी की मशीन इधर ही ठन्डी करने का मौक़ा आ गया है.

वो कराहते हुए बोली- आह … क्या कच्चा ही खा जाओगे जान!मैंने कहा- हां … आज तुझे सालम ही खाने का दिन है मेरी जान.

आंटी ने मेरी आंखों में देखा और उनके चेहरे की वासना मुझे अन्दर तक आंदोलित कर गई. फिर शुभम ने कहा- चोदने भी दो टैक्सी को, ऐसे चूसने से कुछ नहीं होने वाला.

वो अपने हाथों से मेरे शरीर के एक एक अंग को दबाकर मुझे पागल किये जा रहा था. पहले तो मैंने लंड का टोपा अपनी जीभ से गीला किया और हल्का हल्का उसका लन्ड का टोपा अंदर बाहर करने लगी।अब तक कभी मैंने इतना बड़ा लन्ड वास्तव में देखा नहीं था तो लेने की बात तो दूर है।मेरी आदत नहीं थी इतना बड़ा लन्ड लेने की क्योंकि मेरे आदमी का लन्ड 4 इंच का था बस!और कभी मैंने उनका लन्ड अपने मुँह में नहीं लिया था. मेरी तरफ मुड़कर वो मुस्कराते हुए बोली- मुझे पता था कि तू ऐसा कुछ जरूर करेगा.

मैंने पंखा चला कर चैक किया और भाभी से कहा- लो जी भाभी जी, आपकी हवा चालू हो गई.

इस प्यार के लिए आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद।आज की यह मैरिड गर्ल सेक्स स्टोरी मेरी और मेरी गर्लफ्रैंड कुलदीप कौर की है। इसलिए अब मैं आपको सीधे स्टोरी की ओर ले चलता हूं. फिर क्या हुआ?हैलो साथियो, अन्तर्वासना की हिन्दी सेक्स कहानियों को पसंद करने वाले पाठक और पाठिकाओं का स्वागत है. इसके बाद जब उनके होंठ मेरे होंठों से लगे तो मैं तो मानो बिखर ही गई.

देवर भाभी रोमासवो मेरे बिस्तर से उठ कर खड़ी हो गई और हंसते हुए अपने कपड़े ठीक करके चली गई. फिर मैंने अपने लण्ड पर थूक लगा कर उसकी गांड में लंड को अंदर कर दिया।वो सिसकारने लगी और कहने लगी- चोदो मुझे प्लीज़ … फक मी … आह्ह … फक मी … जोर से।ऐसे कहते हुए वो अपनी गांड आगे पीछे करने लगी।मैं झटकों के साथ साथ उसके कूल्हों पर हल्के थप्पड़ मार रहा था।थोड़ी देर में मेरा भी होने ही वाला था.

घोड़ा से चुदाने वाली बीएफ

मेरी बीवी को ब्रा पहनना बिल्कुल पसंद नहीं है जिससे उसके निप्पल नाईटी में साफ दिखते हैं. तनु बड़ी मस्ती में मेरे लंड पर अपने चूचों को झुल्ला झुलाते हुए कूद रही थी. मैंने आँखे खोलीं, उसकी तरफ देखा और उसे धीरे से अंग्रेजी में कहा- बहुत ठण्ड है … क्यों ना हम अपने कम्बल जोड़ लें?ये मेरे सफर का सबसे बेबाक कदम साबित होने वाला था.

उसकी चूत से फच फच की आवाज होने लगी क्योंकि उसकी चूत बहुत ज्यादा पानी छोड़ रही थी. ऐसा लग रहा था जैसे कोई लड़का किसी सेक्सी लड़की के चूचे को देख कर कामुक हो जाता है।मैंने बनियान पहन लिया और जीन्स उतार दी. मैंने उससे बोला- सर, मे आई कम इन?इस पर वो बोला- आ जाओ!और तभी उसने अपना चेहरा उठा कर देखा कि कौन है.

अलीमा भी अब तक इतनी मदहोश होती जा रही थी कि वो अपने हाथों से बलविंदर के चेहरे को पूरा अपनी ओर दबाती जा रही थी. जिस पे बार बार साहिल की नज़र जा रही थी।उसको साफ करने के बाद मैडम उसके सामने बैठ गयी और बात करने लगी. 10 मिनट के बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया।मैंने रानी से बोला- रानी एक बार चूसोगी?उसने कहा- एक शर्त पर!मैंने पूछा- क्या?वो बोली- मेरी चूत को जीभ से चोदने का मजा दे दो मुझे.

मुझे लगा कि अब तो बुआ भी गांव चली जाएंगी, इससे मेरा मन उदास हो गया. वो बोला- जब तक मेरे लंड का पानी नहीं निकला जाता, वो तब तक मेरा लंड चूसता ही रहता है.

अब मेरे लंड का भाग्य देखिए कि इधर बीस मार्च को बीवी मायके गई और दो दिन बाद से ही कोरोना वायरस की वजह से कर्फ्यू लग गया.

हम दोनों ने दिन घूमा, मूवी देखी, शॉपिंग की … और रेस्टोरेंट में खाना भी खाया. रवीना टंडन नंगी फोटोमैं चुप हो गया और शबाना भाभी अपनी पूरी शिद्दत से लंड चुसाई का मजा लेती देती रही. सेक्सी सवालआप सब लोगों को ये प्रेगनेंसी सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे बताना जरूर. मेरे आंटी कहने से पहले तो उन्होंने एकदम से गुस्सा दिखाया और बोला- मैं तुम्हें आंटी लग रही हूँ?मैंने घबराकर बोला- सॉरी जी.

तुम मेरे दिल में समा चुकी हो … मुझे तुम्हारे जिस्म में समा जाने दो.

भाभी ने एक स्टूल की तरफ इशारा किया, तो मैं वो स्टूल लेकर उनके बिस्तर पर आ गया. उसका हाथ अब भी मेरे छोटे छोटे चूचों के टीलों को रगड़ रगड़कर मसल रहा था. मगर अब रात के करीब 2 बज गए थे, तो मैंने टीवी बंद कर दी और हेमा चाची की चूत को चाटने लगा.

इस बार स्वीटी को दर्द कम हुआ, लेकिन फिर भी वह कराह रही थी- अअअ … अईईईई … अंशुल दर्द हो रहा है उईई … रुको अंशुल. उसका खड़ा लंड देख कर मैं भी डर गया कि इसका मूसल लंड तो मेरी अम्मी की चूत का भोसड़ा ही बना देगा. मेरी एकदम से आह्ह निकल गयी और वो बोला- अभी तो कुछ किया भी नहीं मैंने जी.

पंजाबी ब्लू बीएफ सेक्सी

यह तो इशारा करता ही था, मैं ही इसे आगे बढ़ने के लिए इजाजत नहीं देती थी. मेरा लंड पूरे तनाव में भाभी के मोटे और कोमल कूल्हों के बीच में रगड़ खा रहा था. मैंने कहा- अब तक कितने देख चुकी हो?मेरी इस बात पर वो शर्मा गई और बोली- अरे मेरा मतलब फिल्म में भी नहीं देखा.

दोस्तो, आपको मेरी अम्मी की चीटिंग सेक्स स्टोरी कैसी लगी … प्लीज़ मेल करके बताएं.

वो ठंडी हवा मेरी साड़ी से होकर मेरी चूत में घुस रही थी और मेरे शरीर में एक अजीब से सनसनाहट होने लगी थी।साहिल अपनी बाइक पे हल्का सा टिक कर बैठा था.

वो बोला- प्रिंट निकल रहे हैं, इसको निकाल कर क्रम से लगा लो।मैं उसकी टेबल के सामने झुक कर पेपर सही करने लगी और वो बिल्कुल मेरे सामने बैठा था।मेरे झुकने की वजह से मेरी अच्छी खासी क्लीवेज उसके सामने दिख रही थी. मैंने गमले में से चाबी निकाली और फ्रेश होकर आराम करने लगा।शाम को गोलू और दी दोनों आ गए।दी को देख कर ही मेरी हवस जाग गयी।ऑफिस की फॉर्मल शर्ट और पैंट में भी वो काफी सेक्सी लग रही थी। टाइट पैंट में उनकी मस्त गांड किसी का भी लण्ड खड़ा करवा सकती थी।दी फ्रेश होकर ढीले कपड़े पहनकर आई और फिर हमने खाना साथ में ही खाया. अनिता भाभी की चुदाईमैंने अपना एक हाथ फ्री कर दिया और उसकी चूची पर कमीज के ऊपर से ही रख दिया.

फिर उसने मेरी सलवार में हाथ दे दिया और मेरी चड्डी के अंदर हाथ देते हुए मेरी चूत को छू लिया. मैं अभी उनकी चूचियों को आंखों से चोद ही रहा था कि मैडम ने अपने पेटीकोट का नाड़ा ढीला कर दिया और अगले ही पल पेटीकोट रहम की भीख मांगता हुआ उनकी चुत पर कसी स्किन कलर की थोंग पैंटी को अनावृत करते हुए जमीन पर गिर गया. जैसे ही मैं 11 नम्बर के रूम में पहुंची तो मैंने देखा कि स्टूडेंट्स बेंचों पर बैठे थे और एक लड़की बारी बारी सबको अपने पास बुलाकर परिचय ले रही थी.

जब उसका दोस्त कमरे में आया, तो मैंने देखा कि वो कोई लड़का नहीं बल्कि एक हष्टपुष्ट आदमी था, जिसकी उम्र मेरे हिसाब से 35 साल रही होगी. मैंने देखा कि गर्लफ्रेंड की चुदाई में मेरे लंड की खाल उतर गई थी और वो भी ठीक से चल नहीं पा रही थी.

हैलो फ्रेंड्स, मैं अंशुल एक बार फिर से स्वीटी की सील पैक चुदाई की कहानी को आगे लेकर आ गया हूँ.

जिस पे पूनम ने कड़क शब्दों में बोला- मुझे मत बताओ!और उसका हाथ हटा कर उसके सारे बटन को खोल कर उसकी शर्ट उतार कर अलग टांग दिया. मैं अक्सर अपनी बीवी से रात को फ़ोन पर बात करता था और बोलता था तुम्हारे मम्मे चूसने का मन कर रहा है. दीदी की खुली चूत मुझे रह रहकर आमंत्रित कर रही थी कि आ और मुझे चोद ले.

रानी पद्मावती फोटो बस में चढ़ते ही मैं बाजू वाली सीट पर बैग रख देता था ताकि कोई लड़का उस पर न बैठ जाये. उनकी बहुत सी सामान्य फ़ोटोज में एक बहुत ही सेक्सी ओर हॉट लड़की होती थी.

उन्होंने अपने आप ही अपने दोनों पैर फैला कर मुझे सेक्स के लिए आमंत्रित कर दिया. वीर्य उसकी चूत में कॉन्डोम में भरने लगा और मैं उसके ऊपर निढ़ाल हो कर गिर गया. अपनी चुत पर मेरी जीभ का अहसास पाते ही मैडम ने मादक सीत्कारें भरना शुरू कर दीं और कुछ ही पलों में मैडम की दोनों टांगें एक सौ अस्सी डिग्री में फ़ैल कर हवा में उठी हुई थीं.

बीएफ सेक्सी चला

एक दिन मैं ऐसे ही खुशबू से मिली और उससे टार्गेट पूरा करने के लिए टिप जानने की कोशिश करने लगी. मुझे आपके सुझावों का इंतज़ार रहेगा।धन्यवाद।मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]सेक्सी टीचर चुदाई कहानी का अगला भाग:प्रिंसिपल मैडम की चिकनी चूत- 2. मैं ये सब कॉल पर सुनकर ये सोच रहा था कि मेरे दोस्तों ने तो रंडी बना लिया है मेरी बहन को!अनमोल- हाँ ठीक है.

फिर जो मेरे लंड का पानी छूटा, तो ऐसा छूटा कि मैंने अपने लंड का सारा का सारा सफेद पानी हेमा चाची की गांड के छेद में उड़ेल दिया. अचानक विजय ने मेरा चेहरा अपनी ओर घुमाया और मेरे होंठों को चूमने लगा.

रास्ते में स्पीड ब्रेकर आया तो मैंने ब्रेक लगा दी। वो आगे की तरफ झुक गई और उसकी चूचियां मेरी पीठ से टकराई।मेरे तो शरीर में करंट सा लगा। मेरी पैन्ट में हलचल होने लगी।पर वो पीछे नहीं हुई; वो वैसे ही बैठ गई।मेरी हालत खराब हो रही थी। मजा भी आ रहा था.

अब वो दर्द में कराह रही थी लेकिन फिर भी चुदती जा रही थी- आह्ह … आह्हा … ओह्ह … ईई … ऊईई … फट गयी … आह्ह … मां … मर गयी … ओह्ह मेरी चूत … मेरी चूत … आह्ह मेरी चूत … चोद दो।उसके इन सीत्कारों से उत्तेजित हो अब मैं भी खुद को रोक न सका और मेरा पूरा लोड उसकी चूत में खाली होने लगा. आह साली क्या चूचे हैं तेरे … शादी से पहले तू ना जाने कितने लौड़ों से चुदी होगी साली. मैंने अब उसको पीठ के बल लेटाया और उसकी चूचियों को मुंह में लेकर पीने लगा.

जब तक साहिल कुछ बोल पाता, तब तक पूनम मैडम ने साहिल का लौड़ा बाहर कर दिया और तुरन्त ही उसको गटक लिया अपने मुँह में!साहिल भी कुछ बोलने की अवस्था में नहीं था।नीचे बड़ी तेजी से पूनम अपने हलक तक साहिल का लन्ड चूस रही थी. एयरपोर्ट से मैं सीधा पार्लर गई और वहां मैंने अपनी पूरी बॉडी की वैक्सिंग करवाई. हेमा चाची की चूत के ऊपरी हिस्से पर हल्के हल्के बाल थे जिन्हें चाची ने तिरछी डिजायन देकर सैट कर रखा था, जो बहुत ही आकर्षित लग रहे थे.

उन्होंने अपनी आंखें बंद कर लीं और वो आहें भरने लगी। वो मेरा पूरा साथ दे रही थी।मैंने हाथ उनकी पीठ पर ले जाकर उनकी ब्रा की हुक खोल दी.

जंगल बीएफ जंगल बीएफ: उस दिन के बाद मैंने फिर उसे चोदा और इस बार उसी के घर जाकर चुदाई का मजा लिया था. मेरा हाथ उसके बदन पर हर जगह छूकर आ रहा था और वो भी इसका मजा ले रही थी.

उस दिन के बाद मुझे ये तो पता चल गया था कि नेहा की दीदी यानि मेरी कविता रंडी बहुत हरामी है और उसके दिमाग़ में भी यही सब चल रहा है. मेरी बात से बाहर एक कहकहा सा उठा और सब लौंडे मुझे चोदने के लिए गर्म हो उठे. हेमा चाची की घुमावदार गांड और मोटी चूचियों वाले आकर्षित जिस्म और मर्दों को दीवाना बना देने वाली अदाओं में जो बात थी, वो मोहल्ले की किसी भाभी में नहीं थी.

कभी उसकी तरफ झुककर उसे अपनी छाती की गोलाइयां दिखती तो कभी अपनी चूचियों को उससे जानबूझ कर टकरा देती.

मैंने ध्यान दिया अमित मेरी बीवी की चुचियों की दरार को भूखी नजरों से देख रहा था. मंडी के अन्दर पैर रखने की जगह नहीं थी, तो पापा पीछे की तरफ से अन्दर चले गए. इस सेक्सी चुत की कहानी में मजा तो आ रहा होगा ना दोस्तो?प्रियम[emailprotected]सेक्सी चुत की कहानी का अगला भाग:हवाई यात्रा में मिली एक हसीना- 5.