हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की

छवि स्रोत,चोदने वाली बीएफ सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू एचडी सेक्स: हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की, क्या वास्तविकता में, उनकी चुदाई उसी तरह से हो पाती है … या नहीं … या फिर शिखा मामी को मैं चोद भी पाता हूं कि नहीं.

बीएफ सेक्सी फोटो एचडी में

मैं बोला कि कुछ नहीं होता यार … तुम यूँ समझो कि मैं यहां हूं ही नहीं. एक्स एक्स वीडियो बीएफ हॉटफिर मैं अपने रूम में आई और अपने कपड़े उतार कर मैंने वही गोवा वाली नाइटी पहन ली.

स्सस … हाय… अगर इसके लंड के दर्शन भर भी हो जायें तो मैं 51 रुपये का प्रसाद बांट दूं मंगलवार के दिन. भाभी की चुदाई हिंदी बीएफ सेक्सीमैंने नार्मल रहते हुए पूछा- कुछ समझ में नहीं आ रहा क्या?वो अपनी आंखें चमकाते हुए बोली- हां हां अब बेटी को कौन याद रखता है … जब एक के साथ एक फ्री मिल रही हो तो?पिंकी आगे बोली- जानते हो अंकल, कुछ दिन तो मैंने अपने मन को समझा कर रखा कि जो हो गया, सो हो गया … अब कभी नहीं करूंगी.

मैसेज करके मुझे बतायें कि क्या आप कहानी को आगे भी जानना चाहते हैं या नहीं! मुझे इस बारे में अवगत करायें.हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की: जब डोली का खड़े रह पाना मुश्किल हो गया तो वो एकदम से पीछे हटी और बेड पर गिर पड़ी.

काले रंग की साटन की नाइटी के ऊपर काले रंग का साटन का और काले नेट की काली फ़्रिल वाला फ्रंट ओपनिंग नाईट गाऊन पहने जिसे कमर के ऊपर काले रंग की साटन की बैल्ट ने वसुंधरा के जिस्म पर टिका रखा था.मैंने उनसे विदा ली और वापस अपने घर आ गई।घर आकर मैंने सोचा कि अंकल से चुदाई का अपना यह नया एक्सपीरियंस भी आप लोगों के साथ शेयर किया जाए.

बीएफ बाहुबली - हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की

उन्होंने मां के हाथों को पकड़ रखा था और वो अपनी गांड को हिला-हिला कर मॉम की चूत को चोदने में लगे हुए थे.एक बार उन्होंने मुझसे ऐसे ही पूछा- रूचि, तुम कैसा सेक्स करना पसंद करती हो?मैंने उनसे कहा- सच बताऊं अंकल?उन्होंने मुझसे कहा- रुचि देखो, मैं तुम्हें अपना दोस्त मानता हूं.

भाभी जैसा कह रही थीं, मैं करता जा रहा था … लेकिन दूध पीने के बाद मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की उसके बाद वहीं एक अच्छे रेस्तरां में हमने डिनर लिया, साथ में एक एक का वोडका तड़का लगाया और होटल आ गए.

मैं आहहह उहहहह करती रही और संदीप का लंड समझ कर उसे चूत में पूरा समा लेने को तड़प उठी.

हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की?

मैंने नीचे से एक झटका दिया और लौड़ा उसकी चूत में अंदर तक घुसा दिया. वन्दना मुझे देख कर खुश हो गयी और मुझे गले लगा कर अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिये. मैं लंड खींच कर बाथरूम की तरफ जाने वाला ही था कि मेरे हाथ को पकड़ कर निधि बोली- मादरचोद बहनचोद चूतिये … जाता किधर है हरामी … मेरे ऊपर मूत न!मैंने खड़े होकर नीचे फर्श पर कुतिया बनी निधि के ऊपर ही मूत दिया.

उस समय मेरा मन करता था कि किसी लड़की से बात करूं, बांहों में भरकर ढेर सारा प्यार करूं … किस करूं. ये सुनकर मेरी बांछें खिल गईं और मैं जल्दी से एक थाली में हर रंग के अबीर ले आया. दीदी बड़बड़ाईं- पता नहीं तुम लोगों की शर्म कब छूटेगी … हॉस्टल में रहती तो नंगे बदन ही घर में घूम लेतीं.

फिर उन्होंने अपने पॉकेट से दो चॉकलेट निकाल कर दीं और बोले- तुम्हें चॉकलेट पसंद है न. मेरी बीवी आशना कैसी लगी तुमको?मुझे इस बात की बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी कि वो ऐसे सवाल एक दम करेंगे। अब थोड़ा अंदाज़ा हो गया था लगता अपनी बीवी को चुदवाता है ये।मैं- अच्छी है एकदम बीवी आपकी!अजहर- अच्छा बस अच्छी है या माल भी है?मैं- हाँ वो भी है!तभी अजहर उसकी चुचियाँ दबाने लगा जोर जोर से वो अपने पति को हटा रही थी। लेकिन वो कहाँ मान रहा था। अजहर ने आशना की चुचियाँ मैक्सी से बाहर निकाल दी. अगले दिन शिल्पा आंटी घर आईं, तो मम्मी ने उन्हें अंकल के बारे में बता दिया.

नीतू भी अपनी गांड को मेरे मुँह पर दबाने लगी और अपनी चूत को मेरे होंठों पर ऊपर नीचे रगड़ने लगी. तो मैंने भी मना नहीं किया और मेरा भाई मेरी बेटी तनवी को साथ ले गया।शाम को मैं संजय के घर गयी तो आते समय संजय ने मौका देखकर एक कागज मेरे हाथ में पकड़ा दिया।मैंने कागज खोलकर देखा तो उसमे संजय का फोन नम्बर था.

वो आंखें मूंदे ही बोली- आप ही बता दीजिये … मैं किसको इमेजिन करूं?एकाएक मेरे मुँह से निकला- अपने भैया को.

भाभी ने फिर से भैया का कोट पहन लिया और मुझे उसके बाद मुझे पूरी तरह साड़ी में पहना कर घर में एक जगह आग लगाकर सात फेरे लिए.

फिर उन्होंने मुझे एक तरफ पटका और मेरी टांगों को खोल कर मेरी चूत पर अपने होंठों को रख दिया. मैं खुश भी थी कि अब मुझे आगे से गांड मरवाने में इतना दर्द नहीं होगा क्योंकि मेरी गांड को लंड खाने की आदत पड़ गयी है. दीदी जीजा जी को देखकर मुस्कुरा दीं और आलिया की तरफ सेक्सी नजर से देख कर उसे आंख मार दी.

कई बार उसे चोदते टाइम मैं उससे डोली और पूजा को चोदने की बात किया करता था. मैंने कहा- आह्ह … मेरी कुतिया, मुझे भी तेरी चूत चोद कर बहुत मजा आ रहा है. मगर फिर भी उसने उत्तेजना में पूरा लंड अपनी चूत में अंदर ले लिया और मेरे होंठों को पीने लगी.

उस वक्त उसकी उम्र 20 साल है हम दोनों एक ही कॉलेज में लेकिन अलग अलग क्लास में पढ़ते थे.

मनु ने अचरज करते हुए कहा- ये क्या चीज है? क्या यही तेरा राज है?परमीत हंसते हुए हमसे बोली- कमीनियों बनो मत, क्या तुमने कभी लंड नहीं देखा है? ये नकली लंड है, जिसे डिल्डो कहते हैं. राजन और ममता दोनों ही जिन्दगी में पहली बार किसी गैर की बाँहों में नंगे चिपटे हुए थे. अब मैंने धीरे धीरे लण्ड को अन्दर बाहर करना शुरू किया तो वो नार्मल होने लगी.

इस समय वैसे भी हमारे अलावा कोई घर पर होता नहीं, चाचा तो सवेरे ही काम पर निकल जाते हैं और रात को ही लौटते हैं. और मुंह में लिये मम्मे को मैं कभी उसकी निप्पल को काटता तो कभी प्यार से चूसता. मैं उसके लंड को मुठ्ठी में भर के आगे पीछे करने लगी, उसके लंड के मोटे सुपारे को चाटने लगी और अपने मुँह में घुसा लिया। मैं लंड चूसने की खूब शौकीन हूँ। काफी देर तक उसके लंड को चूसती रही.

मेरी सेक्स कहानीऑफिस गर्ल से रोमांस फिर चूत चुदाईमें अभी तक आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने ऑफिस में मेरे साथ ही काम करने वाली खूबसूरत लड़की को पटाया, फिर उसको चुदाई के लिए तैयार किया.

पुरुष अभिसार के मध्य, स्त्री के भावों से उत्तेजित होता है और स्त्री अपने अंदर से उमड़ते अहसासों से आनंदित होती है. जवान लड़की की नंगी चूचियां जैसे ही मेरे सामने आईं मैं उन पर टूट पड़ा.

हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की उनकी मादक उंगलियों के गर्म स्पर्श से मेरे दिल की धड़कनें तेज हो गईं और मेरा लंड लोहे की तरह कड़क हो गया. वो रसोई में खड़े-खड़े ही एक टांग फर्श पर तथा एक टांग मेरे कंधे पर रखकर हो गई.

हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की रात तो मैंने बिस्तर में छटपटा कर ही काटी और दूसरे दिन सुबह से ही मैं नहा धोकर पास के मंदिर में जाकर माथा टेक आई. उसने खुद ही अपनी टांगें मेरे सामने फैला दीं और मैंने उसकी फैली हुई टांगों के बीच में उसकी फूली हुई चूत में उंगली करना शुरू कर दिया.

मुझे बस बिस्तर में लिटा दो और जहां डालना है, डालो! जल्दी करो, नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

हिंदी फिल्म की हीरोइन का सेक्सी वीडियो

शायद दीदी को लंड का सुपारा दर्द देने लगा था, लेकिन वो अपने दर्द को दबाए हुए थीं. उनका लंड बार बार मेरे होंठ तक आता था, उनका इतना मोटा सुपारा देख कर सच में मेरी फट रही थी. दोस्तो, मेरी चूत चुदाई का पहला एक्सपीरियंस आपको पसंद आया? तो मुझे मेल करके या कमेन्ट ककरे बतायें.

मैं- वैसे कल रात का प्लान किसका था?आलिया- वैसे तो हम तीनों का था, लेकिन यह प्लान देने वाली तुम्हारी दीदी थीं. तो दोस्तो, मेरी कहानी कैसी लगी, आप सभी के मेल के इंतजार में आपका अपना शरद सक्सेना।[emailprotected]. तो सर ने अपने लन्ड के टोपे को मेरी चूत पर लगा कर अपनी पोजीशन ली और फिर एक ही झटके में सर ने अपना पूरा लन्ड मेरी चूत में उतार दिया.

शायद कल्पना में मैंने अपनी चूत को कुछ ज्यादा ही जोर से रगड़ दिया था.

गुरू के डैडी तो हमेशा दुबई में रहते हैं और यहां मेरी जवानी तड़पती रहती है. अब चाची भी जानती थी कि मैं उन दोनों की चुदाई को छिप कर देखा करती हूं. दोस्तो, अब तब ही मिलूंगा, जब आपको बताने लायक कुछ हुआ, तो जरूर लिखूंगा.

दोस्तो, आपने मेरी पिछली सेक्सी कहानीपड़ोस की देसी सेक्सी लड़की की चूत की प्यासको पढ़ा, कैसी लगी बताइएगा जरूर. आह्ह… आपकी सेवा करना तो मेरा पहला काम है।अब मॉम शर्मा अंकल को किस करने लगी. हुआ यूं कि एक दिन दीदी देर शाम को अपने ऑफिस से घर आ रही थीं, तो रास्ते में दीदी को कुछ बदमाशों ने खींच लिया.

मैं उसकी मक्खन सी चिकनी जांघों पर किस करता हुए उसकी चुत तक आ पहुंचा. हफ्ते भर जब तक हम वहां रहे हम तीनों ने चोरी छिपे चुदाई के मजे लिये.

प्रीति के शब्दों में:मेरा भाई मदहोश होकर मेरे होंठों का रस-पान कर रहा था। वो मेरे बदन पर हाथ फेरते हुए किस कर रहा था। मैं भी उसका भरपूर साथ दे रही थी। धीरे धीरे उसने उसने दोनों हाथ मेरे शर्ट के नीचे डाल दिए और उसके हाथ मेरी नंगी पीठ को सहलाने लगा।मैं उसकी मजबूत बांहों में जकड़ती जा रही थी। उसके हाथ मेरी ब्रा तक पहुंच चुके थे। वो ब्रा खोलने की कोशिश करने लगा मगर ब्रा उससे खुली नहीं. अपने दायें हाथ का अंगूठा मैंने अपने मुंह में डाला और थूक से गीला करके उसकी बुर में डाला तो आसानी से चला गया. छोटी उम्र से ही मेरी आदत थी कि मैं अपने लंड की साफ-सफाई को लेकर काफी सतर्क था.

मैंने देर ना करते हुए अपना मुँह प्रिया भाभी की गीली चुत पर लगा दिया.

शुरुआत में मैंने बस दीदी के मम्मे छुए थे, जब उसकी तरफ से कुछ नहीं हुआ, तो अगली बार मैंने काफ़ी देर तक वहां हाथ रखा. मैं पहुंचा तो मीना हाथ में टॉवल पकड़े खड़ी थी, बोली- बस पांच मिनट रुको, मैं नहा कर आती हूँ. मैंने जरा मूड में आकर पूछा थ, तो मालकिन फिर से सीधी होकर लेट गईं और साड़ी को नीचे लाते हुए झट से उठ कर बैठ गईं.

मैंने उसी से कंडोम निकलवाया और कंडोम में भरा लंड का पानी उसकी चूचियों पर डाल दिया. लेकिन अभी भी लंड अन्दर बाहर होते हुए मेरी चूत के भगनासा की चमड़ी को साथ में चिपका कर लाता ले जाता रहा.

इस हिन्दी सेक्स स्टोरी को आगे बढ़ाने से पहले में आपको अपने बारे में कुछ बताना चाहता हूं. उधर जीजा जी नंगे होकर कुर्सी प्यार बैठकर अपने लंड को सहलाते हुए अपनी बहन के आने का इन्तजार कर रहे थे. दोनों एक-दूसरे की जीभ को चाटने की कोशिश कर रहे थे और बीच-बीच में मैं सायरा की जीभ को मुंह के अन्दर ले लेता तो सायरा मेरी जीभ को मुंह के अन्दर ले लेती।पता नहीं कब जीभ लड़ाते-लड़ाते दोनों एक-दूसरे के होंठों को चूसने लगे, पता भी नहीं चला। दोनों एक दूसरे के अन्दर समा जाने की होड़ लगाने लगे।मैं उसकी चूचियों को कस-कस कर मल रहा था.

कोल्हापूर सेक्सी व्हिडीओ

वो मुझे काफी पसंद थी लेकिन उससे अपने दिल की बात कहने की कभी मेरी हिम्मत नहीं हुई.

मैंने बोला- हां बोलो न!मेरी आंखों में झांक कर संजू बोली- आज रोहित आया था. जब होटल में पहुंचे तो होटल मैनेजर ने पहले ही कह दिया कि लाइट बारिश रुकने के बाद ही आयेगी. थोड़ी देर बाद मुझे बहुत मजा आने लगा तो सर पूरे जोर से अपना लन्ड मेरी चूत में डालने लगे.

रात को जब भी मेरे पति विक्रम चोदते मुझे लगता वो लड़का मुझे भोग रहा है. ये मेरा पहला अनुभव था, जिसकी उत्तेजना की वजह से मैं कुछ ही मिनट में ही आंटी की मुँह में झड़ गया. चाइना बीएफ मूवीइस मस्त चुत चुदाई के कुछ देर बाद हम एक दूसरे अलग हुए और अपने अपने कपड़े पहन कर रेडी हो गए.

उसके मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं- आह राजा और जोर से दबाओ … आह बहुत मजा आ रहा … सारा रस चूस लो … आज पेल कर बुर का भोसड़ा बना दो … राजा मुझे अपनी रखैल बना कर जीवन भर चोदो … आज से मैं तुम्हारी रंडी हूँ. उसके बाद आंटी ने मेरा सर पकड़ कर मेरे होंठों को अपने होंठों से चिपका लिया और हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने चाटने लगे.

मैंने ज्योति से पूछा- इतना ही हुआ या इससे अधिक कुछ हुआ है, मुझे सच सच बताओ? तभी मैं राकेश का सही इलाज कर पाऊंगा. सच कहूं तो वह दिन मेरी जिंदगी का बहुत अच्छा दिन था क्योंकि वह मुझे बहुत अच्छे तरीके से चोद रहा था जैसे हमेशा से मैं चाहती थी. मनु ने थोड़ा चिढ़ कर कहा- अगर तुझे कल इतना ही मजा आया था, तो उदासी और फंसने जैसा नाटक हमारे लिए ही था क्या?इस पर परमीत ने मनु की जांघों पर हाथ रखते हुए कहा- तू नाराज क्यों होती है मेरी जान, कल सच में ही मैं बहुत उदास थी, पर घर आने के बाद मैंने रोते हुए दीदी को सारी बातें बता दी थीं.

सीधे-सीधे जाने से संदीप का घर ज्यादा दूर नहीं था, पर हमें तो उसके लिए उपहार भी लेना था, इसलिए हमने मार्केट वाला रास्ता पकड़ा, जो थोड़ा घूमकर उसके घर पहुंचता था. मैं उस लड़के के पास गई और उसका लंड पकड़ कर उसके कान में बोली- इसे अच्छे से चोदो … और इसे खुश कर दो. दिन भर साईकिल पर बैठ कर हर जगह घूमा, पर कुछ भी उधारी वसूल नहीं हुई.

चाची ने नहाने के बाद जो नाइटी पहनी हुई थी … उसमें से साफ़ पता चल रहा था कि चाची ने अन्दर ब्रा नहीं पहनी है.

नेट वाली स्लीव लेस चोली था। वन साइडेड दुपट्टा था जिसमें मेरी नंगी पीठ और पेट साफ नजर आ रहे थे। मेरी पतली कमर, फूले हुए स्तन अलग से चमक रहे थे। ऐसा लग रहा था कि मैं लड़कों के आकर्षण का केंद्र बन गयी थी. उसने मुझे देख कर पूछा- क्या पिओगे?मैं बोला- जो पिला दो!उसने तुरंत बोला- मेरे दूध पीने का इरादा है क्या?मैं ये सुनते ही सन्न रह गया लेकिन संभल कर खड़ा होकर उसके पास गया और उसे जोर से अपने बदन से चिपका लिया.

अब उसको क्या बताऊं कि जो बिमारी उसको हुई है उसको प्रेम रोग नहीं ‘चुत का भूत’ कहते हैं. उन्होंने बताया कि जब कोई लड़की या पत्नी मेकअप करती है, तो वो इसलिए करती है कि वो अपने पति को रिझा सके और पति का प्यार पा सके. आलिया का कोई ब्वॉयफ्रेंड भी नहीं था और मेरा एक साल पहले अपनी गर्लफ्रेंड के ब्रेकअप हो गया था.

मैंने सपना के मम्मों को दबाना शुरू किया, तो वो भी गर्म होने लगी और सीधे बोली- यहीं चोदेगा क्या … अन्दर चल मेरी चुत की खुजली ठीक से मिटा. उसके बाद उन्होंने सही निशाना लगा कर मेरी चूत में एकदम से लंड को घुसा दिया. उनसे बात करते हुए मैंने नोटिस किया कि वो मेरी चूचियों की तरफ देख रहे थे.

हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की हकीकत यह है कि जब लण्ड खड़ा होता है तो उसको यह नहीं दिखता कि चूत उसकी मां की है या बेटी की. फिर उन्होंने उसे पूरी तरह से अपने मुंह में ले लिया और अपने मुंह को आगे पीछे करने लगी.

भोजपुरी हीरोइन की सेक्सी वीडियो चुदाई

फिर एक बार मेरे डैडी और मम्मी किसी रिश्तेदार के यहां शादी में गए थे. मैं सोच रहा था कि पता नहीं अब तक इसने कितने लड़कों के साथ सेक्स कर लिया होगा. जब सुबह उठ कर देखा, तो मेरी सेक्सी चाची के चेहरे पर एक विजयी मुस्कान थी.

मैं शादी से पहले 6 लंड से चुदने का मजा ले चुकी हूं, ये सभी लंड काफी बड़े बड़े थे. मैंने अपनी फ्रेंड को, जो मेरी रूम मेट थी उससे बोली कि तुम मेरे साथ फ्लैट पर शिफ्ट हो जाओ, मैं इधर अकेली रहती हूं. बीएफ फिल्म सेक्स व्हिडीओउसके गोरे चूतड़ों के बीच में उसकी गांड का गुलाबी सा छेद बहुत सुंदर दिखाई दे रहा था.

अब हम वहाँ चार लोग ही बचे थे।मालिक के जाते ही उस अरबी ने मुझे इशारा किया और अपनी तरफ बुलाया।मैं धीमे कदमों से उसकी तरफ चल दी.

मैंने कहा- यह तो मैंने कभी देखा ही नहीं?उन्होंने कहा- क्या कभी देखा भी नहीं है?मैंने पूछा- पति-पत्नी वाला प्यार … उसमें ऐसा क्या देखने वाली बात होती है?उन्होंने कहा- यह प्राइवेट मामला होता है. मैंने उससे कहा- अगर मैं साथ छोड़ने वाली होती तो मैं तुमसे कभी नहीं मिलती और कभी भरोसा नहीं करती.

पता नहीं था कि वो क्या करने वाला है।सुबह मुझे विशाल ने अपने साथ कॉलेज चलने को कहा; मैं चल पड़ी। जैसे-जैसे वो बोलता गया मैं करती गयी।उसने बाइक पार्किंग में रोकी। कुछ दूरी पर आशू और उसके दोस्त बैठे थे। उसने रास्ते भर से ही मुझे समझा रखा था। मैं आशू और उसके दोस्तों की ओर बढ़ी. बड़े भैय्या वाले हिस्से में उनकी बहू रेखा, पोता हैप्पी और पोती शैली रहते थे. आज तक दोनों हर तरह की बात, मेरे सामने ही कर लेती थीं … पर आज क्या खास बात है.

मैंने लंड बाहर खींचा और खड़ा होकर कंडोम को डस्टबिन में डालकर बाथरूम में पेशाब करने के लिए चला गया.

ज्योति भी हाँफने लगी थी लेकिन पता नहीं क्यों आज डिस्चार्ज ही नहीं हो रहा था तो मैं रुक गया. अंकल मेरी मां की गांड की चुदाई इतने जोर से कर रहे थे कि उनके टट्टे मेरी मां के चूतड़ों पर आकर टकरा रहे थे और चट-चट-चट की आवाज हो रही थी. वो मैम की चूत को चूसने लगे।मैम की सिसकारी निकल रही थी, बोली- लण्ड बहुत तगड़ा है।मैंने उनके मुँह से लण्ड निकाला और उनको गोद में लेकर बेड पे लिटाया। मैं सर को बोला कि वो अपना लण्ड मैम के मुँह में डालें।अपना लंड मैंने मैम की चूत के मुँह पर लगाया और जोर से धक्का लगाया.

इंडिया सेक्सी बीएफ चुदाईजब होटल में पहुंचे तो होटल मैनेजर ने पहले ही कह दिया कि लाइट बारिश रुकने के बाद ही आयेगी. मैंने कहा- सच भाभी!वो कहने लगी- तो क्या मैं तुमसे ये सब मजाक में कह रही हूं?इतना कहते-कहते वो मेरे सीने के करीब आ चुकी थी.

सेक्सी मराठी पिक्चर हिंदी

हमारे नैन मटक्का के बारे में रेशमा को आभास हुआ तो उसने अपना सिर उठाकर देखा. मनु और मैंने कॉलेज से ही संदीप के घर जाने का प्लान बनाया था, क्योंकि परमीत ने अपने जाने के लिए पहले ही मना कर दिया था. रिक्वेस्ट करते हुए मैं बोला- प्रोमिस करता हूं कि मैं तुम्हें हाथ भी नहीं लगाऊंगा.

पर मीना शर्माती हुई बोली- फूफा जी, आप ये क्या कर रहे हो? मुझे शर्म आ रही है. उन्होंने थोड़ी देर तक मेरे लंड को चूसा, फिर बोलीं- जानू मुझसे नहीं रहा जा रहा है … इस लौड़े को जल्दी से अन्दर डाल दो. गीली चूत होने के करण उसको दर्द कम हुआ, बस एक हल्की सी चीख निकली ‘आह’और उसने पैर ऊपर किये.

जब वो बाथरूम में पेशाब कर रही थीं, तो उनकी सूसू की सीटी बाहर मुझे सुनाई दे रही थी. मैं उसके लिए बेड पर घोड़ी बन गई और उसने फर्श पर खड़े होकर पीछे से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया. निधि और मेरे बेटे से मेरा नाता टूट ही गया था और सेक्स तो जीवन में था ही नहीं.

मैं परीक्षा के लिए निकलने ही वाला था कि वो कहने लगीं- रुको मैं तुम्हें परीक्षा केंद्र पर छोड़ आती हूँ और तुम अपना बाकी का सामान यहीं रख दो. अपनी बहन की चुत चोदने के बाद जीजा जी ने कंडोम को लंड से निकाला और डस्टबिन में फेंक कर आलिया के पास लेट गए.

”वैसे तो मुझे तुम्हारी बात पर भरोसा है लेकिन फिर भी मैं तसल्ली करना चाहता हूँ, तुम यहाँ आओ.

मनु मुझे संदीप से बातचीत या पास आने के लिए ज्यादा मौका देना चाहती थी. सेक्सी फुल एचडी सेक्सी बीएफक्या हम लोग लिंकिंग रोड में मिल सकते है?”करीब एक घंटे बाद मैंने पहुंच के फ़ोन किया. मां बेटा सेक्स वीडियो बीएफमैंने मोनिका को किस करते हुए ही अपने ऊपर बेड पर लिटा लिया और अपनी निक्कर को उतारा, जिसको उतारने में मोनिका ने मेरी मदद की. सपना की चुत में लंड डाल कर कुछ देर ऐसे ही रहकर मैं उसको किस करता रहा.

उसने पूरी ताकत लगाते हुए ही मेरे दूधों को मेरी ब्रा के ऊपर से ही दबा दिया.

कभी मैं उसकी गर्दन में चूमता तो कभी कान की लौ को!अहह ईशश श श श आह्हः संदीप उफ्फ्फ मत तड़पाओ! आप क्यों देर करते हो!” जैसे शब्द मेरी सेक्स की प्यास को बढ़ा रहे थे. सहेलियों के ब्वॉयफ्रेंड के बारे में सुन सुन कर मुझे भी सेक्स के लिए जिज्ञासा होती थी. मनु को देखते हुए उसने कहा- ये रखो … अगर इस उपहार से भी वो ना पटे, तो ये मुझे दे देना … मैं जरूर पट जाऊंगा.

उसने मेरी आंखों में पट्टी बांधी और बेड पर लेट कर मेरे दोनों हाथों को दोनों कोनों से बांध दिए. उसके बाद वो अपनी बुक आदि लेकर मेरे रूम में आ गयी और मेरे साथ बैठ कर मुझसे लैपटॉप पर अपनी प्रेजेंटेशन बनवाने लगी. मैं जाकर चुपचाप सोफे पर बैठ गया और अपना मोबाइल निकाल कर उसमें गेम खेलने लगा.

सेक्सी व्हिडिओ बीपी पिक्चर हिंदी

वैसे तो मेरी और उसकी दोस्ती काफी अच्छी थी, लेकिन मैं मन ही मन में उसको चाहने लगा था. शुरुआत में मैंने बस दीदी के मम्मे छुए थे, जब उसकी तरफ से कुछ नहीं हुआ, तो अगली बार मैंने काफ़ी देर तक वहां हाथ रखा. जबकि किसी भी नारी को उसकी मर्जी के बिना टच करने पर सबसे पहला काम उसका चिल्लाना ही होता है.

तभी मैंने दीदी की एक सहेली का कमेंट्स पढ़ा- हां यार, शिवम तो तेरा ही है.

लेस्बियन पोर्न फिल्म देखते हुए मैंने अपनी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया.

और हां आज मैं सच में बहुत ज्यादा खूबसूरत लग रही थी, कपड़ों की वजह से नहीं, बल्कि अंतर्मन की खुशी की वजह से. मगर वो जैसे आवाज को दबाते हुए कह रही थी- आराम से करो … आह्ह … दर्द हो रहा है. बीएफ फिल्म बीएफ सेक्सी फिल्म बीएफमुझे यह सब देख कर बहुत अच्छा लगा अब तक दूध में मिलाई गई प्यार बढ़ाने वाली गोली से मेरे अन्दर कुछ कुछ होने सा लगा था.

मैं आहहह उहहहह करती रही और संदीप का लंड समझ कर उसे चूत में पूरा समा लेने को तड़प उठी. तेरे ये गदराये बदन को मेरे जैसे ही आदमी की जरूरत है; कोई कमजोर आदमी तुझे खुश नहीं कर सकता!इतना कह कर मेरी चड्डी के ऊपर से मेरे गांड को सहलाते हुए बोले- आज तक कितनों से चुदी हो?मैं बोली- बस एक से ही!वो बोले- लगता है किसी गलत के हाथ में लग गई थी, तुमको जो मजा चाहिए वो दे ही नहीं पाया. फिर वह मेरे पेट पर किस करते हुए मेरी चूत तक चला गया और मेरी चूत को चाटने लगा.

वो भी मस्ती से ‘आह आह … आह आह आह … और चोदो … बहुत चोदो … और जोर से … और और और … फाड़ दो मेरी चूत!’ बोले जा रही थी. पता नहीं भैया ने क्या जवाब दिया, पर दीदी ने फिर कहा- चलिए कोई बात नहीं … जब आपको समय मिले, तब आ जाइएगा … लेकिन फिलहाल मैं आपकी बहन को आज रात के लिए अपने यहां रोक रही हूँ.

वो इतनी मॉडर्न है कि उन्हें कोई फर्क ही नहीं पड़ता है कि कौन उनके शरीर में क्या देख रहा है, लोग उनके बारे में क्या बात कर रहे हैं.

उधर भैया और भाभी अपने रूम में चुदाई के मजे ले रहे थे और इधर मेरा हाथ भी मेरे लंड पर चलने लगा था. फिर उसने एक बार लंड निकाल कर मेरी मुंह की तरफ आ गया और मुझे चूसने का इशारा किया. तो जैसे ही उसने मुझे देखा तो प्रीति ने मेरी आँखों में पढ़ लिया कि मुझे क्या चाहिए.

बीएफ खुलासा मैंने उससे शाम को लेने आने का कह दिया … इस पर वह ख़ुश हो गयी और बोली- ठीक है … पांच बजे आ जाना. किसी कामवाली को चोदने का मेरा पहला अनुभव था, इससे पहले मैं अधिकारी वर्ग की महिलाओं को चोदा करता था लेकिन सब समय समय की बात है.

मुझे संजू की चूत चूसते हुए करीब दस मिनट हो गए थे, अब संजू पूरी बेकाबू हो गई थी. मेरा रॉड फिर से दीदी को चोदने के तैयार था, मैं बस दीदी को गर्म कर रहा था. मैं भाभी की बात मान गया और मैंने उस भाभी से मिलने के लिए हां बोल दी.

सेक्सी पिक्चर चोदने वाली फुल एचडी

ये कह कर भाभी ने अपना ब्लाउज हटा दिया और वे पेट के बल बिस्तर पर लेट गईं. मम्मी हंसते हुए बोलीं- हां क्यों नहीं … तेरे लिए जवान लंड ही ढूँढ देती हूँ. मैंने मीना के होठों पर होंठ रख दिये और उसके चूतड़ दबाने लगा जिससे वो मदहोश होने लगी.

लेकिन मैं सोचती हूँ कि कब तक डिल्डो से ही काम चलाएंगे, हमें कोई लंड भी नसीब होगा या नहीं. हमारे पड़ोस के अंकल भी हमारे घर बार-बार किसी न किसी बहाने से आ जाते हैं.

मेरा नाम संदीप है, मैं उत्तरप्रदेश का रहने वाला हूँ और आजकल मुंबई में हूँ.

पूनम ने चुपचाप वो पैसे यूं के यूं मोड़ कर अपनी हथेली में दबा लिये और वो अपनी चुन्नी को सिर पर ढकते हुए उदास से चेहरे के साथ वापस बाहर के दरवाजे की तरफ मुड़ गयी और बाहर चली गयी. साथ ही सिल्क ने भी ठीक वैसी ही घड़ी मेरे लिए ली जिसको मैंने भी तुरंत पहन लिया. उन्होंने श्वेता दीदी से पूछा- क्या हुआ?श्वेता- भैया, ये लड़के प्रिया को छेड़ रहे हैं.

चित्रा दीदी- आहह … ओह मेरी जान … यू आर सो हार्ड … आहह … कितना अन्दर तक पेल रहे हो. ममता फुल मस्ती दे रही थी, मैंने उससे पेटीकोट उतारने को कहा तो बोली- साहब, गैर मर्द के सामने हम लोग सारे कपड़े नहीं उतारते. ये मैंने अपनी एफबी पर पोस्ट डाल कर कुछ इस तरह से उसको विश किया था कि यदि वो देखे, तो उसको ही समझ में आए कि ये मैंने उसके लिए ही लिखा है.

मैंने आगे बढ़ कर उनके होंठों को चूम लिया। उनका विरोध ना पाकर उनके होंठों को अपने होंठों तले दबा कर चूसने लगा। उफ्फ … वो रसीले होंठ। आज भी मुझे उत्तेजित कर जाते हैं.

हिंदी सेक्सी बीएफ भाभी देवर की: साथ ही साथ पीछे से मेरी गांड में अभय का मोटा तगड़ा लन्ड रगड़ खा रहा था और सामने से विवेक का लंड खड़े-खड़े मेरी चूत में रगड़ खा रहा था. मेरी निगोड़ी कमर बेशर्मी से खुद ब खुद ऊपर उठ उठ कर चूत उनके मुँह में देने लगी.

इससे वो एकदम गनगना उठी थी और मुझसे चिपक कर मेरा सर अपने मम्मों पर दबाए जा रही थी. शुरू में देखते हुए मुझे तो ऐसा लगा ये मेरे ऊपर चढ़ गए तो शायद मुझे मार ही डालेंगे. करीब आधे घंटे बाद नहा-धो कर, पूरी तरह से रिलैक्सड मैं जब वाशरूम से बाहर आया तो देखा कि आतिशदान में और लकड़ियां डाल दी गयी थी और उसमें भड़भड़ा कर आग जल रही थी.

उसने 2-4 काजू खाये और बोली- बस अब और नहीं … अब मैं नहाने जा रही हूं.

मैं अभी बाकी था, तो कुछ देर बाद मैंने फिर से चाची की चुदाई शुरू कर दी. मैंने कभी कोशिश भी नहीं की क्योंकि मैं अपनी पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान देती रहती थी. तो उन्होंने धीरे-धीरे मेरी गीली हुई चूत पर अपनी जीभ फिरानी शुरू की। मुझे तो बहुत मजा आने लगा, मैंने उसके दोनों हाथों में अपने हाथ दे दिए और कहा- बेबी और तेज करो!वे भी मेरी चूत को पूरा मुंह में लेकर चूसने लगे.