बीएफ नंगा सेक्स वीडियो

छवि स्रोत,गांव की देहाती सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

खुला वाला बीएफ वीडियो: बीएफ नंगा सेक्स वीडियो, मैंने उससे कहा कि मूवी हॉल में कोई जानकार न देख ले, मेरे दोस्त के रूम में चलते हैं.

लेडीस जानवर सेक्सी पिक्चर

जोया भी हमारी बातें गौर से सुन रही थी और इस तरह से अलग तरह के मुँह बना रही थी. सेक्सी दिखाइए गानाजितनी देर वो क्लास लगा रहा है, हम चलते हैं अकीरा और शालिनी के पास जो इस समय सुल्तानपुर की बस में बैठी हुई हैं।विक्रांत ने ईशा को लंड दिखाने की शर्त पूरी कर दी थी और उसकी पूरी वीडियो भी बनाई थी, जिसे उसने अकीरा को भेज कर बता दिया कि उसने शर्त पूरी कर दी है.

इतना लंबा लंड देखकर ही मैं डर गई, मेरी धड़कन रुक सी गई, अचानक से उसने खींच कर मेरी लेगी पेन्टी सहित उतार कर मुझे झुका के उसका लंड मेरी चूत में बिना थूक लगाये घुसेड़ दिया. आदिवासी सेक्सी खुलामुझे आशंका थी कि ब्लू फ़िल्म देख कर यह लड़कियां जरूर आज रात में मुझे नहीं छोड़ेंगी.

मैं- नहीं दीदी, करण को कुछ नहीं पता इसके बारे में, और ना कभी पता लगेगा, वैसे दीदी वो आपकी बहुत फिकर करता है, बहुत अच्छा भाई है वो आपका, पता है कितनी टेन्शन लेता है आपकी, और आप हो कि बार बार उसपे गुस्सा करती रहती हो.बीएफ नंगा सेक्स वीडियो: मैंने उनसे उनके बारे में पूछना स्टार्ट किया- भाभी, आपके पास इस तरह आकर बात करने आया हूँ.

थोड़ी देर बाद उसका फ़ोन आया, उसने कहा- मैं होटल के बाहर हूँ, तुम अपना रूम नंबर बता दो!हमने उसे रूम नंबर बताया और फिर थोड़ी देर बाद रूम की रिंग बजी, संजना ने रूम का गेट खोला तो वो बॉय अंदर आ गया.वो तीनों हमारी इतनी तारीफ कर रहे थे कि हमें ही शर्म आने लग गई।तभी रानी ने केक काटने के लिये बोला जो चिंटू और परीक्षित लेकर आये थे।केक काटकर रानी ने सबसे पहले मुझे खिलाया और उसके बाद तीनों को, फिर मैं बेशर्मी दिखाते हुए उसे हैप्पी बर्थडे” बोलते ही उसके होंठों पर किस करने लगी। हमें इस तरह किस करता देखकर उन तीनों ने भी रानी के होठों पर किस दी उसके बाद हमने खाना खाया.

नेपाली सेक्सी वीडियो चालू - बीएफ नंगा सेक्स वीडियो

कुछ समय बाद जब उसकी सिसकारियां तेज़ होने लगीं, तब मैं अपना हाथ उसकी लैगीज में घुसा कर उसके पेंटी के ऊपर से ही उसकी बुर को रगड़ने लगा.अब मुझे लगा कि अमित दो गिफ्ट देकर हमेशा ही गले लगाने के प्लान में शुरू हो गया था.

शावर चालू करके जैसे ही माया के बदन पे ठंडा पानी पड़ने लगा, उसे अच्छा लगने लगा. बीएफ नंगा सेक्स वीडियो रोज सुबह 8 बजे पापा अपने फैक्ट्री के ऑफिस चले जाते, हमारी एक बड़ी कास्टिंग इंडस्ट्री है.

आप अच्छी तरह जानते हो कि जब लंड गांड में घुसता है तो दर्द करता ही है.

बीएफ नंगा सेक्स वीडियो?

अब अपनी आँखों के सामने ममता की कसी हुई और फूली हुई चूत को देखकर तो मेरे होश ही उड़ गए. दोनों ने नए दम से मुझे ठोकना चालू किया। दो ही मिनट में मेरी सारी हड्डियाँ चूं बोल गयी. मेरा विश्वास है कि इस हिंदी सेक्स कहानी को पढ़ कर लड़के अपना लंड हिलाएंगे और लड़कियां अपनी चूत में उंगली किए बिना नहीं रह पाएंगी.

मैंने उसकी टांगें फैला ड़ी और खुद को उसकी जांघों के बीच सेट कर लिया. उसकी आँखें बहुत लाल लाल थीं, उसके चेहरे पर किसी उग्र महिला जैसा तेज नजर आ रहा था. मगर योगेश ने सबको रोके हुए रखा था क्योंकि वो चाहता था एक बार चुदाई शुरू हो जाए, उसके बाद वो सब अन्दर आएंगे, तो मैं मना नहीं कर पाऊंगी और सभी मेरे मज़े ले सकेंगे मगर आगे क्या होना था, ये तो किसी को पता नहीं था.

बॉस- नेहा, तुम मेरे लंड से प्यार करती हो?मैं- हाँ सर!बॉस- कितना?मैं- बहुत प्यार करती हूँ, चाहती हूँ कि आपका लंड हर वक्त मेरे छेद में घुसा रहे। मैं आपके लंड को चूसती रहूँ।बॉस- तो आओ, मुझे नंगा करो और मेरा लंड अपने मुंह में ले लो।मैं नकली लंड चूत में लिये हुए दूसरा असली लंड मुँह में लेने के लिये चल दी. मुझे उसके हाथों के बगल वाले काले काले घने बाल दिख रहे थे, जो उसने कभी साफ़ नहीं किए थे. हां बेटा?”जब ट्रेन किसी छोटे स्टेशन पर पटरियाँ चेंज करती है तो कितनी मस्त आवाजें आती हैं न…” बहूरानी जी अपनी चूत मेरे लंड पर धीरे से घिसते हुए बोली.

मेरी इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि मेरी दोस्ती अवी नाम के लड़के से हो गई थी और आज मैं उसके साथ पहली बार मॉल में जा रही थी. मैंने उसे कोई क्रीम लाने को कहा और उसे उसकी गांड पर अच्छी तरीके से क्रीम को मला और उसे अच्छे तरीके से सहलाया.

मैंने अच्छे से अपनी चूत को धोया, उसका सब वीर्य उंगली से निकाल दिया, पानी के प्रेशर से चूत धोई.

उसने मुझे गले लगा लिया और मेरे गालों पर किस करके बोला- सरिता आई लव यू, तुम आज कितनी हॉट लग रही हो.

उधर बहूरानी भी वासना के ज्वार में बहने लगीं और अपनी कमर उठा उठा के लंड लीलने लगीं. वो दिखने में बहुत सुन्दर थी और दो बच्चों की माँ थी, फिर भी अपने आपको बड़ा मेन्टेन करके रखा हुआ था. तो उसने भी कहा कि वो कल सुबह आएगा।मुझे लगा कि मैं टैक्सी बुला कर घर चला जाऊँ.

फिर हम दोनों कूपे से बाहर निकले और कम्पार्टमेंट के तीन चार चक्कर लगा डाले ताकि टहलना हो जाय और हाथ पैर खुल जायें. फिर भी उसने 2-3 इंच लंड अपने मुँह में भर लिया था और पूरा उसे चूस रही थी मानो जैसे कोई अमृत से भरा गन्ना हो. तब उसने मुझसे कहा- तो जो तुम्हें ठीक लगे, कर लो!और मैं उसकी चूत को चाटने लगा, मैंने अपनी ज़बान उसकी चूत के ऊपरी खाल पर लगायी तो वो खलबला उठी और अपने हाथों से मेरे सर को दबाने लगी और बोलने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह्ह डू इट… इट्स मेक मी हॉर्नी आह अआह ओह्ह्ह उफ्फ्फ.

मैंने देखा कि मम्मी उठ कर जाने लगीं, तो फूफा जी ने उन्हें पीछे से पकड़ लिया और उनकी गर्दन पर किस करने लगे.

और हां सबसे खास बात यह कि मेरा बॉयफ्रेंड अवी भी था, वो मुझसे रोज कहता कि चलो कहीं घूमने चलते हैं पर मैं मना कर देती थी. मैं उसे समझाने लगा कि बस 2 मिनट का दर्द है बाबू, इसके बाद मजा ही मजा. वो सब मुझे इस तरह से चश्मे में से देख रही थीं कि जैसे मैं कोई बहुत बड़ा पिशाच हूं, जो उन्हें खा जाऊँगी.

वे मुँह से सिसकारियां लेने लगीं- सस्स… अयाया… सस्स्स…आंटी मजा आ रहा है?”आंटी- आह साले, तेरी गांड में दम है तो आज मेरी चूत फाड़ डाल. फिर मैं धीरे धीरे अपने हाथ को उनकी चूचियों की तरफ़ बढ़ाने लगा और चुची तक आकर अपने हाथ को रोक दिया, फिर हिम्मत करके उनकी चूचियों को सहलाने लगा. इसे आप यहाँ से download करें!भारतीय लड़कियों से हिंदी अंग्रेजी और स्थानीय भाषाओं में सेक्स चैट, वीडियो सेक्स चैटिंग करने के लियेसेक्स चैट, विडियो चैटपर आयें और सेक्स की मजेदार बातें करके, नंगी जवान कामुक लड़कियों को देख कर मजा लें!.

लेकिन वास्तव में तो आज का दिन सफ़ेद पत्नी के मुंह में दो मोटे लंडों का दिन था!थोड़ा विश्राम कर चुकने के बाद दोनों मर्द अपने स्थान बदल चुके थे और जमैका ने मेरी पत्नी को अपने लंड पर गांड रखते हुए बैठा दिया.

जब मैंने अन्तर्वासना पर इतनी सारी कहानियाँ पढ़ीं, तो मेरा भी मन किया कि मैं भी कुछ इन सब कहानियों से अनुभव लेकर अपनी कहानी भी लिखूँ. अब मुठ तो मारनी ही थी तो मैंने अपने सारे कपड़े उतार डाले और नंगा ही लेट कर अपने लंड को प्यार से दुलारने लगा.

बीएफ नंगा सेक्स वीडियो और मैं वीजा के लिए देखो कल जाकर आवेदन कर दूंगी, एग्जाम बाद आने की तैयारी कर लेना और वहां तुमको पूरा एक महीने रुकना है. मैं भी थोड़ा डर सा गया, फिर मैंने कहा- नहीं हम पहले बिस्तर पे चलकर एक दूसरे को गरम करते हैं, हो सकता है तुम्हारी गांड में सूखा हुआ फेवीकोल पिघल जाए.

बीएफ नंगा सेक्स वीडियो मैंने मन ही मन सोचा कि इस समय कौन आ गया क्योंकि ममता आठ बजे आती है. ओके बेटा जी… चल डॉगी बन जा जल्दी से!” मैं बोला और उसके ऊपर से हट गया.

यह मेरी पहली कहानी है, यह इंडियन सेक्स स्टोरी आपको पसंद आयी या नहीं, मुझे अपनी राय जरूर भेजें!मेरी ईमल आई डी है-[emailprotected].

आहट फिल्म

कुछ देरचूत गांड चुदाईकरने के बाद तिगड़ी सुस्ताने के लिए रुकी, तो जमैका का काला लंड नताशा की चूत द्वारा छोड़े गए सफ़ेद पानी से सना हुआ चमचमा रहा था. दीदी- ठीक है, तुम जाओ करण के रूम में… मैं ज़रा घर का काम करने लगी हूँ. अबकी बार चलने में मैंने चाची का सहारा नहीं लिया तो चाची बोलीं- अच्छा तो ये सब तेरा ड्रामा था.

दो बार के बाद और कैसे कल तीसरी बार मुझसे लिपट लिपट कर वो देर तक चुदती रही. सुबह मैं जब अस्पताल के लिए जाने लगा, तो भाभी के हस्बैंड का कॉल मेरे पापा के पास आया और भाभी को दिखवाने के लिए कहा कि आप जैस को बोलो कि वो ज़ायरा को दिखवा दे. मैं हरियाणा के एक शहर में रहता हूँ, मेरी उम्र 22 साल है, कद 5 फीट 7 इंच है, दिखने में सामान्य हूँ लेकिन गाँव का होने के कारण मेरा डील डौल अच्छा है.

थोड़ी देर बाद जब सोनू सो गया तो उसे मेरे पास सुला कर बोलीं कि वो नहाने जा रही हैं और तब तक मैं सोनू का का ध्यान रखूँ.

अब मैंने उससे कहा कि मैं तेरी गांड मारना चाहता हूँ, उसने साफ मना कर दिया कि बहुत दर्द होगा. कमरे में पहुँचने पर स्वाति ने कहा कि क्या तुम इसी ड्रेस में रहोगी या कोई और ड्रेस भी लाई हो? मैं तो ये लाई हूँ एक ड्रेस दिखाते हुए उसने आगे कहा- अगर लाई हो तुम भी बदल लो. तो फ्रेंड्स कैसी लगी मेरी प्यासी भाभी की चूत चुदाई की रियल कहानी… कुछ गलती लगी हो तो माफ करना और मुझे मेल जरूर करना.

आनन्द उसके पास गया और दोनों हाथों से पकड़ कर उसका चेहरा थोड़ी देर देखा और बोला- तुम आज काफी सुंदर लग रही हो. मेरे पास करण के फ़्लैट की चाबी थी तो मैं उसका मेन डोर खोल कर अंदर आ गई थी और उन दोनों को पता भी नहीं चला था. जो भी लौंडिया मेरा लंड एक बार देख ले वो मेरे लंड की दीवानी हो जाती हैं.

यहाँ तक कि उसकी जवानी देख कर उसके ससुर और पति के बड़े भाई यानि जेठजी भी मन ही मन उसे चोदने की सोचते होंगे. ये सब अंकल ने इतना जल्दी अचानक किया कि मैं सम्हाल नहीं पाई खुद को, मैंने अंकल को बोला- मुझे छोड़ दो प्लीज़, मुझे जाने दो, मैं आपकी बेटी की उम्र की हूँ, प्लीज मुझे जाने दो! मैं चिल्ला दूंगी, मुझे छोड़ दो!मैं घबरा गई।अंकल बोले- सुना नहीं कि वो लोग रास्ते में क्या बोले कि क्या मस्त बीवी पाई है, जाते ही चोद देना, बहुत चुदासी है तुम्हारी बीवी.

पहले भी उसने मंजरी के बोबे बहुत बार दबाये थे, चूसे थे, मगर आज का मज़ा ही कुछ और था. एक दिन वो अपने भाई के सामने, जो कि मेरा दोस्त है, मुझसे पूछने लगी- मिठाई कैसी थी?तो मैंने बोला- बहुत मीठी. मैंने ऐसा ही किया और लंड थोड़ा सा बाहर खींच कर एक जोरदार धक्का मारा, पूरा लंड सरसराता हुआ चुत की दीवारों से रगड़ता पूरा अन्दर घुस गया.

मैंने लोहा गरम देखते हुए चोट मारी और कहा- सैंडी के घर में कैसा रहेगा?भाभी बोलीं- उधर मुझे शरम आएगी.

यार इस ड्रेस में मैं अवी से मिलूंगी तो क्या होगा और इसे पहनना क्या ठीक रहेगा या नहीं? वैसे ड्रेस अच्छी थी पर फिर भी ब्रा और पैंटी की क्या जरूरत थी. सुमित चहकते हुए बोला- अमित सर ने कहा है कि पेंटी में खुद उतारूं, नहीं तो वो आपकी पेंटी नहीं लेंगे. और इस बार मेरा लंड पूरा अंदर चला गया, होंठों पर होंठ होने के कारण वह आवाज नहीं निकाल पायी लेकिन मेरे हाथ उसके चेहरे पर होने पर मुझे पता चला कि वो रो रही है, उसकी आँखों से आँसू निकल रहे हैं.

मेरी सास ससुर का कमरा नीचे है और हमारा कमरा ऊपर वाले फ्लोर पे…मेरे देवर का कमरा भी ऊपर ही है. शायद अब उनके सब्र का बांध टूटने को तैयार था और उस बाँध के टूटने पर यक़ीनन मेरा डूबना भी तय था.

मुझे हग करते वक्त उनके चूचे ज़रा ज्यादा जोर से दब गए, उनको ये फील हुआ. अब बॉस ने खड़े होकर मेरी गांड में दो उंगलियां डाल कर उंगली से मेरी गांड को फैलाने लगे और मुझे वो लिफाफा खोल कर देखने को बोल दिया. गुरप्रीत ने हंसते हुए कहा- जी हां आज तो पूरा मजबूत वाला रिश्ता बना कर ही रहूँगा.

सेक्स कैसे

जब मुझे लगा कि मेरा लंड छूटने वाला है तो मैंने उसे हटाना चाहा, परंतु वो नहीं हटी.

फिर मैंने हिम्मत करके दीदी के कान में कहा कि दीदी आप बहुत सुंदर हो, मुझे आपसे प्यार हो गया है. फिर थोड़ी देर बाद मैंने सीमा की सलवार का नाड़ा एक झटके से खोल दिया, उसकी सलवार सरसरा के नीचे गीर गयी, उसकी कच्छी बुर वाली जगह पर भीगी हुई थी, मैंने उस जगह को सूंघ कर सीमा की कच्छी उतार दी और उसकी चूत चाटने लगा।अब वो अपने मुंह से तो ‘नहीं नहीं…’ कर रही थी लेकिन साथ ही मेरा सिर चूत में दबा भी रही थी क्योंकि उसको मेरे ऐसा करने से बहुत मजा आ रहा था. नहाते समय मैंने सोचा कि वैसे भी मैं वरुण के सामने कपड़े बदल लेती हूँ तो क्यों नहीं आज टॉवेल पहन कर ही बाहर आ जाती हूँ.

सबके सामने मेरे पीछे चिपक कर अपना खड़ा लंड मेरी गांड पर रगड़ देता था. मैं चाहती थी कि रोहण मेरे साथ थोड़ी जबरदस्ती करे!लेकिन वो शायद हमारी हिन्दुस्तानी सभ्यता के कारण संकोच कर रहा था. देहाती बुर की चुदाई सेक्सीतभी रजनी की आवाज़ मुझे सुनाई दी- किधर गए?मैंने कहा- क्या हुआ भाबी?उसने कहा- ज़रा मुझे तौलिया दे देना, मैं लाना भूल गई.

फक मी आयुष फक मी हार्ड…’मैं भी कहां रुकने वाला था, तो ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाता रहा. मैंने देखा कि वो अपने पैरों को चौड़ा करके चल रही थी, उसके हिप्स भी दाएं बायें उछल रहे थे.

वो मेरे पास आई और मुझे हिलाते हुए कहा- कहां खो गए जनाब?मैं होश में आया और कहा- तुम बहुत सुंदर हो स्वाति. फिर वो मोना की जांघों को प्यार से चूम कर वापिस उसकी योनि के पास आ गया. बड़ी मुश्किल से वो अपने घर गई और अगले दिन वो बिस्तर से उठ ही नहीं पायी। यह बात मुझे शिवानी ने बताई थी.

हम दोनों लगातार किस करते रहे और धीरे धीरे मैं उसके मम्मों को एक हाथ से दबाने लगा. मतलब बिकनी की तरह, जिसमें पीछे चूतड़ खुले थे और आगे एक छोटी सी पतंग की तरह थी. जब अंजलि पूरी उत्तेजित हो गई तो मैंने उसके लोअर के अंदर हाथ घुसाया.

राहुल ये गेंदे की महक किसकी है?”मैंने अपना लंड उसके मुँह पर रख कर कहा- एक बार चूस कर देख लो अपने प्यार को.

पहले माथे… फिर नाक… फिर गाल और अंत में उनके गुलाबी होंठों पर आ गया. फिर वो साले मेरी बीवी के हाथ में रूपए देते हुए अपने कपड़े पहनने लगे.

मैंने हाँ में सर हिला दिया मगर अंदर से मेरी फटी पड़ी थी कि पता नहीं कुछ हो भी पाएगा मुझसे या नहीं।फिर चाचा बोले- तो चलो फिर शुरू करो, मैं भी देखूंगा. मित्रो, अन्तर्वासना के जिन पाठक पाठिकाओं ने मेरी पूर्व की कहानियाँ नहीं पढ़ी हैं उनके मन ये जिज्ञासा जरूर होगी कि हम ससुर बहू के मध्य यौन सम्बन्ध कैसे स्थापित हो गये?इसके लिए मेरी लिखी सबसे पहली स्टोरीअनोखी चूत चुदाई की वो रातको पढ़ सकते हैंफिर भी अत्यंत संक्षेप में मैं यहाँ पूरा वाकया दोहराता हूँ कि मेरी बहूरानी अदिति और मेरे बीच अनैतिक चुदाई के सम्बन्ध कैसे स्थापित हुए. और वो (उनका पति) बिजनेस के सिलसिले में टेक्सास गए हैं, मुझे कल वहां कुछ डोक्युमेन्ट साइन करने बुलाया है.

मेरी स्टोरी आप लोगों को कैसी लगी, ये मेरी फर्स्ट स्टोरी है, अगर कुछ ग़लत लगा हो. उनकी पीठ मेरी तरफ़ थी और फिर मैं ब्रा के ऊपर से ही भाभी के चूचों को दबाने लगा. कभी भाबी के कान को दांत से खींचता, कभी गर्दन पर होंठ घुमाता, कभी भाबी की पीठ चूमता चाटता, भाबी की गांड दबाता चूमता चाटता.

बीएफ नंगा सेक्स वीडियो बॉस- क्या? ऐसे कैसे मैं तुमको बिना चोदे रहूंगा नेहा? मेरे लंड का ख्याल कौन रखेगा?मैं- सर इस बात के लिए मैं भी बहुत दुखी हूँ. फिर वो खड़ी हो गईं, मम्मों से मुँह हटाकर उन्होंने मुझे लेटा कर फिर से मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया.

काली कुर्ती

अब रहा तो मुझसे भी नहीं जा रहा था लेकिन क्या करूँ, मुझको तो आदत है तड़पा तड़पा कर चूत चोदने की. मैंने अपना लंड पीछे खींचा, पर ऐसा लगा मानो रोशनी की चूत ने मेरे लंड को कसकर पकड़ लिया हो. मैंने गेट खटखटाया तो एक मैसेज आया कि टेबल पर खाना रखा है, पहले वो खा लो, फिर ही गेट खुलेगा.

पहले तो धीरे धीरे कर रहा था कि कुछ देर के बाद मेरे कंधों को पकड़ कर मुझे आगे झुका दिया और अब वो लंड को मेरी गांड में जल्दी जल्दी अन्दर बाहर करने लगा. मैंने उसके हाथों को हटा के सीधा उसके निप्पल को अपने मुँह में लिया और पागलों की तरह चूसने लगा. सेक्सी हिंदी स्टेटसमुझे पता था कि दर्द नहीं होगा, क्योंकि मेरी बहन आज तक ना जाने कितने लंडों से खेल चुकी थीं.

मैंने अपने दोनों हाथों से उनके हाथों को जोर से पकड़ लिया ताकि वे हिल न सकें और अपनी पूरी ताकत से एक जोर का धक्का उनकी चुत में लगा दिया.

मेरे हाथ में बॉडीलोशन ख़त्म हो चुका थे, फिर भी मैं उनकी पीठ पर हाथ फेर रहा था. मैं अपनो दांतों से अपने नीचे वाले होंठ को दबाने लगी और सिसकारियां भरने लगी.

मेरे द्वारा अचानक से हुए हमले से सुकुमारी भौजी सहम गईं और जोर से चीखने लगीं. हम दोनों एक दूसरे की जीभ को चूस रहे थे, होंठों को चाट रहे थे और एक दूसरे का थूक भी चाट रहे थे. अब और क्या बताऊं दोस्तों! लिखना कोई ऐसी मशीनी प्रक्रिया तो है नहीं कि जब भी बटन दबाओ और उत्पादन शुरू.

आपने मेरी पिछली कहानी तो पढ़ी ही होगी कि कैसे रवि और विवेक ने मेरी खूब चुदाई की.

अब मैंने उसकी पैंटी नीचे सरकानी शुरू की तो अंजलि ने पानी जांघों को भींच लिया मगर मुझे पैंटी उतारने से नहीं रोका. मैंने पूरे डेढ़ घंटा चुदाई की थी और मेरी चूत बहुत दुःख रही थी, मैं थक गई थी।फिर संजना भी जोश में आ गयी और उसने संजना को भी चोदना शुरू कर दिया. इतना कह कर मैंने अपने होंठ भाभी के गुलाबी होंठों पर रख दिए और उन्हें पागलों की तरह चूमने लगा.

தமிழ் பாய்ஸ் எக்ஸ் வீடியோउसको मालूम था कि मैं बहुत बड़ा रंगीला हूँ, तो उसने भी कपड़े बदलने का नाटक किया और अपने टॉप को खोल कर साइड में रख दिया और कहा- मेरा काम हो गया, अब तुम अपनी आँखें खोल सकते हो. मैंने उसकी बुर की सुराख पर अपना लंड टिका कर धक्का लगा दिया, वो चिल्ला दी- मैं अभी कुँवारी हूँ.

akash नाम के लड़के कैसे होते हैं

तभी कमल भी कार में आ गया और उसने कार एक क्लिनिक के पास जाकर रोक दी. तो दीदी ने मुझे सोफे पर बिठा कर मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. इसी दौरान मैं उसके टीशर्ट के अंदर अपना हाथ डाल कर उसका पेट सहलाने लगा जिससे उसके चेहरे के भाव थोड़े बदले, वो कुछ कामुक सी होने लगी.

तो वो बोली- तुझे मुझमें सबसे ज्यादा क्या पसंद है?मैं कुछ नहीं बोला, वो अपने चूचे उठा कर कहने लगीं- देख शर्मा मत. उन्होंने खुद अपने हाथों से मेरा बॉक्सर निकाला नहीं, बल्कि मेरे लंड को ऊपर से ही पकड़ कर हिलाने लगीं. कुछ मिनट जबरदस्त चुदाई के बाद उसने मुझे जोर से पकड़ा और रुक गया, वो अब झड़ने लगा था, मैं भी अपनी चरम सीमा पर पहुँच कर ठंडी हो गई.

कभी कभी गालों पर हाथ फेर देते, कभी पीठ पर हल्के से हाथ फेरते, कभी चूतड़ सहलाते. अह्ह्ह… ह्ह्ह्ह… उह्ह्ह्ह… ओह…’ उसके मुँह से मादक आवाजें निकलने लगीं. फिर मैंने कहा- तुम्हारी कमी बस ये है कि तुम सब कुछ हाँ में जवाब देती ही और बहुत डरती भी हो.

उन्होंने बताया कि वो और उनकी पत्नी साथ में ही अन्तर्वासना साइट पर कहानियाँ पढ़ते हैं. ”पापा जी आज दिन और रात का सब्र कर लो फिर कल की पूरी रात, परसों का पूरा दिन और पूरी रात ट्रेन में अपने ही हैं.

आप आ गए?फिर वो उठी और उसने अपनी ब्लैक कलर की पैंटी को उठा कर पहन लिया.

फिर मेरा लंड जो एक बार ले लेती, उसे दुबारा पाने की उसकी लालसा बनी रहती. लड़की के व्हाट्सएप नंबरकमर 28 की और कूल्हे 36 के थे।उसको देखते ही मेरा लण्ड खड़ा हो गया उसका नाम रोशनी था। बातों ही बातों में हमारी अच्छी दोस्ती हो गई। वो शाम मेरी अमेरिका में बिताई सबसे अच्छी शाम थी। रात के दो बजे जब नाईट क्लब बंद हुआ. करीना की सेक्सी व्हिडिओपहले भी उसने मंजरी के बोबे बहुत बार दबाये थे, चूसे थे, मगर आज का मज़ा ही कुछ और था. मैंने उसकी जाँघों को पूरा फैला दिया फिर उसकी नाजुक कली जैसी चूत पे अपना लंड टिका कर रगड़ दिया.

इधर मेरा लंड बम्बू की तरह खड़ा होकर उनकी मोटी गांड को भेदने के लिए व्याकुल हो रहा था.

वो मेरे लंड को लगातार छेड़ रही थी और अब मैं दोबारा फुल जोश में था, मुझसे रहा नहीं जा रहा था. मुठ मारने के बाद लोगों की वासना वैसे ही कम हो जाती है मगर मेरे भीतर की आग उस मोटी गांड को देखकर चार गुने उत्साह से धधक रही थी. हिंदी सेक्स स्टोरीज के पाठकों को मेरा नमस्कार… मेरा नाम जीत रॉक है, मैं इंजीनियरिंग का स्टूडेंट हूँ और अभी सेकंड ईयर में हूँ.

मैंने कहा- ओह ललिता तुम काफ़ी गरम हो जान… ऊहह ऊहह…फिर वो खड़ी हुईं, मैंने उनके सारे कपड़े उतार के उनको दरी पर लेटा दिया और उनके होंठों को चूस कर, मम्मों को चूस कर, दबा कर उनकी चुत के पास आ गया. बुआ की उम्र लगभग 42 साल है, उनकी एक बेटी अंजलि जिसकी उम्र लगभग 20 साल और एक बेटा माणिक है जो करीब 23 साल का है. और उस लड़की के तो कहने ही क्या… साली अपनी गांड और बुर उन चारों से मरवा रही थी जैसे पटा नहीं कब से चुदवाती आ रही हो!खैर जब मूवी देखने के बाद मुझपे भी मस्ती चढ़ी तब मैं अपने अब्बू के रूम की तरफ गयी और धीरे से अंदर चली गयी.

सेक्स वीडियो दर्शन

पर वो किसी काम के सिलसिले में बाहर गया हुआ था और मेरी आदत लगभग रोज ही चुत चुदाई की हो गयी थी. मैं इतना भी नासमझ नहीं था इंग्लिश मूवी तो मैंने देखी ही थी, मैंने दीदी के दोनों बूब्स को हाथों में पकड़ कर चूसना शुरू कर दिया…मेनका- आह आह आह आह… भाई, ये कहाँ से सीखा तूने… आह आ आह आहहह… ऐसे ही भाई आअहाह्ह ऐसे ही मेरी जान… खा जा मुझे अतुल… चूस ले मेरा दूध… खा जा मुझे… आ अहह्ह्ह…फिर मैं दीदी की नाभि को चूसने लगा, उसमें अपनी जीभ डाल कर गोल गोल घुमाने लगा. मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए और मैं भी वर्षा की प्यास बुझाने में लग गई.

मैंने बिना कुछ बोले उसकी जीन्स का बटन खोला और उसकी जीन्स और पैंटी नीचे कर दी.

कहने लगीं- कौन देवी बनना चाहता है, हम भी मनुष्य है, सेक्स की इच्छा हमें भी होती है.

मगर पुलकित ने उसकी तरफ ध्यान नहीं दिया और फिर से अपना लंड उसकी चूत में ज़ोर से पेला, मंजरी फिर से तड़पी, मगर वो तड़पती रही, और पुलकित ज़ोर लगाता गया, जब तक के उसका पूरा लंड मंजरी की चूत में नहीं घुस गया. इस वक्त हमें बहुत भूख लगी थी, तो स्वाति ने रूम सर्विस से खाने को स्नैक्स मंगवाये और बोल दिया कि खाना दरवाजे के बाहर ही रख दें, क्योंकि वो अभी नहाने जा रही है. बालन का सेक्सी वीडियो’कुछ देर चुचियों को पीने के बाद फूफा ने मम्मी की दोनों टाँगों के बीच में अपने सर को रखा और उनकी चूत पर अपनी जीभ लगा दी.

अभी वक़्त की नजाकत को समझो आप! मैंने भी तो जैसे तैसे खुद को संभाला है आप भी कंट्रोल करो खुद को!”ठीक है बेटा, तू सही कह रही है, इतना उतावलापन भी ठीक नहीं है. उन सबके हाथ पीछे पीठ पर हथकड़ी से बंधे हुए थे और उनके सामने मेरी दीदी थीं. दो मिनट यूं ही पड़े रहे और फिर अलग हुए ही थे कि तभी नीचे से कोमल की आवाज़ आई- मम्मी…हम दोनों ने जल्दी ही अपने कपड़े पहन लिए.

फिर जब वो काम करके वापस जाने लगी तो मेरे पास मेरे कमरे में आई और बोलने लगी कि क्या हुआ है, अब तो आप बात भी नहीं करते?मैं चुप ही रहा तो वो फिर से बोली- देखिए मैं ऐसी औरत नहीं हूँ. अब तो आप मुझे जल्दी से चोद डालो पापा!”अभी तो तू कह रही थी कि चुपचाप पड़े रहना है… अब क्या हुआ?”पापा, मेरी चूत में बहुत तेज खुजली मच रही है… ये आपके लंड से ही मिट सकती है… फक मी हार्ड पापा डार्लिंग!” बहूरानी अधीरता से अपनी चूत ऊपर उचकाते हुए बोली.

जैसे ही मुझे लगा कि मेरा होने वाला है मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और मैं उसके अन्दर ही झड़ गया और उसके ऊपर से हट गया.

ऐसे जीन्स टॉप तो अब यहाँ भी लड़कियां पहनने लगी हैं और शराब का तो सवाल ही नहीं उठता. तभी मैंने अपने एक हाथ से माँ की पैंटी निकाल दी और उनकी चूत को सहलाने लगा, उनकी चूत से बहुत पानी आ रहा था और जैसे जैसे मैं सहलाता, पानी और ज़्यादा आने लगा. सो कुछ करना तो दूर, मैं उसके साथ कुछ करने के बारे में सोच भी नहीं सकता था.

बफ ब्लू सेक्सी फिल्म जांघें तो पूरी नंगी सी और जो मेरा बहुत ही निकला और उठान लिए है हिप्स और पूरी नंगी जैसी दिखने लगी. दीदी की चूत ने मेरा वीर्य सोख लिया था, पर वह इतना ज्यादा था कि चूत से बह कर बेड पे गिर रहा था.

इस तरह से मैंने पड़ोसन छाया भाभी को चुदाई के सुखा के साथ साथ औलाद का सुख भी दे दिया था. हालांकि वो जानती थी, इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ने वाला, लेकिन वो आग में घी नहीं डालना चाहती थी. फिर रोहण ने धक्के मारना शुरू कर दिया और फिर हमारी चुदाई की आवाज पूरे रूम में गूँज रही थी.

सास और दामाद की चुदाई

मैंने अंकल के बारे में जानने की कोशिश की तो मालूम हुआ कि अंकल, उनके एक दूसरे मकान में रहने चले जाते हैं. मैंने जैसे ही अपने एक हाथ को उसकी पैंटी में डालना चाहा, वो बोली- प्लीज जो भी करो, आराम से करना. छोटे टमाटर के आकार जैसा मेरा टोपा बहूरानी की चूत में जा के फंस गया.

काम खत्म करके जब वो जाने लगी तब मैंने उसे बुलाया और कहा कि मुझे आपसे कुछ बात करनी है. चाची मेरे लंड का सारा माल पी गईं और उन्होंने मेरे लंड को चाटकर पूरा साफ कर दिया.

फिर हम सभी मिलकर पार्टी की तैयारी करने लगे और तैयारी पूरी होने के बाद सभी फ्रेश होकर पार्टी के लिए तैयार होने लगे थे.

मुझे चैन आ गया कि भाभी लंड चूत का प्रयोग करने लगी थीं- देवर जी भाभी की चूची पी रहे थे और पीते हुए चपर चपर की आवाज भी निकाल रहे थे. और आज साक्षात् वही मयूरी उसके सामने नंगी खड़ी होकर उसको रिझा रही थी. फिर वो लड़का मेरी चूत पर आ गया और उसने मेरी पैंटी उतार दी, फिर मेरी नंगी चूत पर किस किया, फिर उसने मेरी चूत चाटी।इस सारे खेल में आधा घंटा बीत गया और इस दौरान मैं भी पूरे जोश में आ गयी और उसे चूमने लगी, चाटने लगी।फिर मैंने उसके कपड़े उतारने शुरू किए और उसके सारे कपड़े निकाल दिए.

मैंने उसका चेहरा ऊपर उठाया और उसके होंठों पे अपने होंठ रख दिए और उसे चूमने लगा. शादी के 2 दिन बाद जब पग फेरे की रस्म में हम लोग गए, तो वो गेट पे ही हमारा मतलब मेरा बेसब्री से इंतज़ार कर रही थी. [emailprotected]कहानी का अगला भाग :ट्रेन में मिली शादीशुदा लड़की की कामवासना और चुदाई-2.

उसकी चूत बेहद कसी हुई थी, इस वजह से भाभी के मुँह से अब भी बार-बार ‘आआइ इईऊ ईइइ उऊ.

बीएफ नंगा सेक्स वीडियो: ऐसा मैं नहीं कहता, जिन्हें मैंने अपने मोटे लंड से चोदा है, वे कहती हैं. मैंने बिन रुके एक और झटका दिया तो मेरा लौड़ा पूरा का पूरा उसकी बुर के अंदर जा चुका था.

मैंने कहा- तुम ब्रेसिअर नहीं पहनती?उसने कहा- नहीं…कल से पहननी पड़ेगी!” मैंने कहा. थोड़ी ही देर में मैं झड़ने वाला था, मेरे झड़ते ही उसने सारा रस बड़ी आसानी से पी लिया और लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया. मैं समझ गया था कि अब यह मेरे इस नाग को अपने मुँह में लेकर मुठ मारने वाली है.

अब दीदी सिर्फ़ पैंटी में थी, मैं दीदी के बूब्स चूसते हुए पैंटी के ऊपर से दीदी की चूत को सहलाने लगा.

वो सिर्फ ड्रिंक की चुस्कियाँ ले रही थीं, उन्होंने बातें करना बंद कर दी थीं. फिर मैं अपना हाथ उसके टॉप में डाल कर उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा. बहन की साँस फूल गई थीं, उसकी वजह से बहन के मम्मे ऊपर नीचे हो रहे थे.