नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ

छवि स्रोत,गांव की लड़कियों की नंगी

तस्वीर का शीर्षक ,

गांड क्सक्सक्स: नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ, शहज़ाद ने अपना लंड हाथ में लिया और उसको रुबिका की सील पैक चूत पर रगड़ते हुए एक जोर का झटका दे दिया.

मराठी सेक्सी बीएफ साडीवाली

अगले ही पल हरीश ने सुम्मी के होंठों पर अपने होंठ लगा दिए और चुम्बन करने लगा. देवर ने भाभी को छोड़ाउसकी 38 इंच की बड़ी गांड देख के नेरा मन किया उसकी गांड मारने का!फिर मैंने सोचा कि पहले एक बार इसकी चूत चोद लूं, फिर गांड भी मार लूंगा.

मैं आपको बता दूं कि मामा की छत आसपास की छतों से ऊंची थी, इसलिए हमें वहां कोई नहीं देख सकता था. एक्स वीडियो एक्स वीडियो हिंदीमैंने सिगरेट विवेक को दे दी और अपने दोनों हाथ उसके पीछे ले जाकर उसे पकड़ कर अपने गले से लगा लिया.

उन्होंने लोअर बिना अंडरवियर के पहना हुआ था जो लंड के उभार से साफ़ पता चल रहा था.नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ: मोहल्ले के लड़के जो हरामी किस्म के हैं, अक्सर जब मैं उनके पास से गुजरती हूं, तो वो गंदे और अश्लील कमेंट्स पास करते हैं.

फिर मैंने उसे बांहों में लेकर अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए और चुम्बन करना शुरू कर दिया.वे तीनों लड़के तो मुझे ही घूरे जा रहे थे क्योंकि मैं उनके लिए एकदम नया माल थी.

बीएफ पिक्चर हिंदी सेक्स - नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ

हैलो फ्रेंड्स … मैं प्रकाश सिंह फिर से अपनी एक और मजेदार सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.मैंने जाकर पहले दरवाजा बंद कर दिया और स्टोर रूम का ज़ीरो वाट का बल्व जला दिया.

चाची भी मधुमक्खी के काटे का दर्द भूल कर मेरी हरकतों का मजा ले रही थी शायद! वो सिसकारियां भर रही थी. नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ मैं फ्रिज में से एक लिक्विड चॉकलेट की बोतल निकाल लाया और उस लिक्विड चॉकलेट को आयुषी के पूरे बदन पर टपकाने लगा.

मेरी जिज्ञासा बढ़ने लगी।पहली बार किसी मर्द का लौड़ा देखने का मौका मिल रहा था।नीचे वो अंडरवियर पहने हुए था.

नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ?

रात में जब मां सोईं, तो मैंने अपनी चड्डी उतार अपना मुठ मां के दूध पर गिरा कर अपना लंड मां के हाथों में दे दिया और सो गया. जया की एक टाँग उठाकर मैंने अपनी टाँग पर रख दी जिससे जया की चूत मेरे लण्ड के निशाने पर आ गई. मैं मध्यप्रदेश का रहने वाला हूँ।मैं इस साइट का नियमित पाठक हूँ। कोई भी दिन ऐसा नहीं जाता जब मैं इस साइट पर गर्म सेक्स कहानी नहीं पढ़ता।अब अपनी कहानी बताने का विचार आया तो अपनी रियल सेक्स स्टोरी लिख रहा हूँ।देसी हॉट Xxx कहानी शुरू करने से पहले मैं अपने बारे में आपको बता देता हूं.

ममता- लो मां ट्राई कर लो, साईज में कुछ फर्क हुआ … तो भैया से कह कर बदलवा दूंगी. हॉट रंडी की जोरदार चुदाई हुई होटल में! असल में वो रंडी नहीं थी पर सेक्स की लालसा, जिस्म की भूख ने उसे गैर अनजान मर्दों से चुदने पर मजबूर किया. मां की चुत से पानी निकलने की वजह से मेरी और मां की चुत का इलाका पूरा भीग गया था.

”चित्रा पूरी बात बताने लगी:दरअसल जब मैं कक्षा 12 में पढ़ती थी तो अपने स्कूल की तरफ से खोखो खेलती थी. मैं समझ गया कि बेबी पैदा होने के बाद दीदी की चुत को लंड नहीं मिला है. समय ऐसे ही गुजरता गया और मेरी बहन की शादी भी हो गयी और मैं शहर में एक कारखाने में नौकरी करने लगा.

बुआ ने अपने मुँह से लंड बाहर निकालते हुए मुझे घूर कर देखा और कहा- जब ये नहीं जा रहा तो इसको अन्दर ठूंसने की क्या जरूरत है? जितना चूस सकती थी, तुम्हारे बिना कहे चूसा है ना मैंने!मैं- कोशिश करने में तो कोई दिक्कत नहीं. उसी समय भाभी खड़ी हो गईं और उस लौंडे के फौलादी लंड के नीचे बैठ गईं.

हम सब बाहर जाने वाले थे तो हमने तय किया कि हम एक-एक करके बाहर जाएंगे ताकि किसी को शक ना हो.

फिर जब जीजाजी नाईट डयूटी में जाते थे तो मैं दीदी के कमरे में जाने लगा था.

वो बोली- ठीक किया … और चौड़ी कर उस रंडी की चुत को … साली को बहुत गर्मी चढ़ी थी. दादा जी- सुन बहू, अब ये शर्म छोड़ दे और जो रोहन बोल रहा है, वो ही कर. [emailprotected]पहली चुदाई का मजा कहानी का अगला भाग:कुंवारी बुर में लंड लेने की लालसा- 4.

ब्रेस्ट मिल्क सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी चचेरी बहन की चुदाई करना चाहता था. उसकी चुदाई से मेरी चुत ने रस छोड़ दिया था और मैं एकदम से निढाल हो गई थी. बस कुछ ही धक्कों के बाद वो लौंडा मेरी मम्मी को हुमच हुमच कर चोदने लगा और मेरी मम्मी भी अपनी गांड उठा उठा कर उसका लंड अपनी चुत में लेने लगीं.

सादिका ने किंजल की चुदाई की सुनकर अपनी कमर फिर से चलाना शुरू कर दी वो फिर से गर्मा गई थी.

राजेश ने बिंदु से बोला- यार बिंदु क्या तुम गोविंद से चुदवा सकती हो?बिंदु बोली- राजेश मुझे कोई आपत्ति नहीं है … तुम को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए. चाची मस्ती में सर की कमर पकड़कर अपनी गांड उचकाने लगी और बोलीं- वाह जान, क्या बात है … आह क्या लंड है मजा आ रहा है … और तेज तेज रगड़ दी. आपको ये वर्जिन Xxx कहानी कैसी लगी, वो आप मुझे ईमेल में बता सकते हैं.

ये सुनकर मेरे मन में ये सोच कर लड्डू फूटने लगे कि लवली तो कुंवारी माल है … इसी चूत बिल्कुल कोरी है. मैं समझ गया कि बेबी पैदा होने के बाद दीदी की चुत को लंड नहीं मिला है. अब पापा ने पीछे से अपना लंड एक ही झटके में मम्मी की चुत में डाल दिया और झटके देने लगे.

फिर कुछ देर बाद उसने मम्मी के कपड़े उतारे और उनके दूध दबाते हुए बोला- चल भैन की लौड़ी … अब पोजीशन में हो जा.

फिर कुछ देर बाद मुझे घोड़ी बनाकर तेज़ तेज मेरी देसी गांड मारते हुए सुरजन भी झड़ गया।फिर मैं बड़ी मुश्किल से उठी. अमित को क्या पता था कि मैं तो आज इस डॉक्टर से चुदने तक की सोचकर आई हूं.

नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ मैंने वीर्य निकलने के बाद भी अंकल के लंड को चाटा और उनका लंड चाट चाटकर साफ कर दिया. वैसे तो उस क्लास में कई सारी खूबसूरत लड़कियां भी थीं … लेकिन एक लड़की ऐसी भी थी जिससे मेरी बिल्कुल भी बात नहीं होती थी.

नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ मैंने स्पीड से स्कूटर चलाया, तो उसका बैलेंस बिगड़ गया और खुद को संभालने के लिए उसने मेरी कमर पकड़ ली. उन्होंने अपने दाएं हाथ की एक उंगली मेरे ब्लाउज की भीतर डालकर मेरी छातियों के बीच की कंदरा पर रख दी थी.

मैं मां से चिपक गया और मां के कान में बोला- आज मैं जल्दी नहीं थकूंगा.

गाना सेक्सी वीडियो हिंदी

और हम तब तक नहीं रुके जब तक हमने एक दूसरे का पानी नहीं निकाल दिया।कुछ देर बाद उसने फिर से मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया. फिर ब्रा और पैंटी भी उतार दी क्योंकि पटाने के मदमस्त मौकों पर ये सब कपड़े दिक्कत करते हैं. पूनम अपने कपड़े ठीक करके नन्नू के पास चली गईं और मैं उठ कर बाथरूम में चला गया.

दस मिनट तक चुदाई करने के बाद मां का शरीर अकड़ने लगा और उनकी चूत भी मेरे लंड को दबाने लगी. मैं ट्रैक के नीचे निक्कर नहीं पहनता था, इसलिए जैसे ही उसने मेरा ट्रैक पैंट निकाला … मेरा लंड उछल कर बाहर आ गया. सगाई वाले दिन अपनी होने वाली बीवी को देखकर मेरा मन चुदाई करने को मचल गया लेकिन मौका नहीं मिला क्योंकि पूरा परिवार रिश्तेदार और सभी साथी थे.

जहाँ कल मैं उसकी प्यार से चूत चोद रहा था वही आज किसी हब्सी की तरह उसकी चूत चोदने वाला था।धीरे धीरे मैं अपनी कमर को चलाते हुए उसकी चूत में लंड डालने लगा। मेरा आधा लंड उसकी चूत के अंदर जा चुका था तो मैंने उतने लंड से ही चुदाई करनी चालू कर दी।मैं मंद गति से धक्के लगा रहा था लेकिन हर धक्के के साथ लंड को उसकी चूत में थोड़ा और आगे बढ़ा देता.

मुझे लगता था कि वो लोगों को तो मुझे पास से देखने का अच्छा मौका मिल गया था क्योंकि हमेशा दो तीन लोग ही आते. मेरे बेटे की अभी कम उम्र थी, सो मैंने उनके साथ नहीं जाने का फैसला किया था. मैं उनसे बोली- भाभी मेरी मन में एक इच्छा और है … जैसे उस रात आप तीनों के साथ ही साथ सेक्स कर रही थीं.

अभी सेक्स कहानी लिखनी शुरू ही की है पर मेरे मुन्ना भाई को बुआ की गांड याद आ गई और फुंफकारते हुए तन्नाने लगे हैं. लाल होंठ, गोरा रंग, आंखों का काजल और नशीली नजरें देख कर मैं अपनी मादक मौसी पर फिदा हो गया था. वो भी तुरंत बेड पर कुतिया बन गई।नीतू की उभरी हुई गांड देखकर मैं खुद को रोक न सका और एक के बाद एक कई झापड़ उसकी गांड पर जमा दिए।उसकी गुलाबी गांड लाल हो गई थी.

रीमा को मीरा की बात समझ नहीं आई कि ये किस तरह से खुल कर लंड चुत बोल रही हैं. बाहर डर भी लगता है और वैसे भी कोई मेरी चुदाई तो दूर की बात, आंख उठा कर देखने की भी हिम्मत नहीं कर सकता था.

पूनम बुआ- मेरा बस चलता कहां है? और वैसे भी, मैं इस आदमी से परेशान हो चुकी हूँ. फिर मैं उसके कंधे पर हाथ रखकर बाथरूम तक गई और बोली- भाई मैं नहा लूँ, तू बाहर खड़ा हो जा!वो बाहर खड़ा हो गया और मैं ऊ … आह्ह … आई … की आवाजें करते हुए दर्द का नाटक करते हुए नहा ली।मैंने तौलिया लपेट लिया और फिर नीलू को कहा कि मुझे कमरे में ले चले।वो मुझे उठाकर कमरे में ले गया।फिर मैंने उसको अलमारी से मेरा गाउन और पैंटी निकालने को कहा।भाई मुझे लगातार देख रहा था. प्रभा- मैं उस समय तुम्हारा दर्द सह लूंगी … और तुम्हें अपने बच्चे का पापा भी बना दूँगी.

दीदी के ब्वॉयफ्रेंड का बहुत बड़ा लंड था जिसे दीदी अपने मुँह में ले रही थीं.

’ की धीमी आवाज ही उसके मुँह से आ रही थीअभय भी थोड़ी देर ऐसे ही पड़ा रहा और अपने एक हाथ से ममता की चूची सहलाता रहा. दीदी के ब्वॉयफ्रेंड ने दीदी को किस किया और उन्हीं के बाजू में लेट गया. फिर मैं भी उसकी चूत में ही झड़ गया। इस बीच वो भी तीन बार झड़ चुकी थी।फिर हम दोनों एक दूसरे के साथ सोये रहे.

उसने अपनी धुन में आगे कहा- तो भाभी, चलिए हमें अपना दूध निकाल कर दे दीजिए. अदिति की फ्लाइट दिल्ली से शाम सात बजे की थी तो हमें भी जल्दी ही निकलना था क्योंकि मुझे बहूरानी को स्टेशन तक छोड़ने तो जाना ही जाना था.

आराम से मजा लो न!मैंने धीरे धीरे से उसके दोनों स्तनों को बारी बारी से अपने मुँह में लेकर बड़े स्वाद के साथ चूसना शुरू कर दिया. उसने पूछा- हैलो कौन!मैं बोला- आप कौन बोल रही हैं और आपको यह नंबर किसने दिया!उसने कहा- मुझको ये सिम मेरी एक सहेली ने दी थी, आप कौन बोल रहे हैं?मैंने उससे कहा- मैडम, ये मेरा सिम कार्ड है … आप प्लीज़ मुझे वापस कर दो. मेरे पूछने पर कि क्या हो गया?उसने पैथोलॉजी की रिपोर्ट मेरे हाथ में थमा दी कि मैं तुम्हारे बच्चे की माँ बनने वाली हूँ.

బంగ్లాదేశ్ సెక్స్ వీడియోస్

मैं किसी का रियल नाम नहीं बता सकता, इसलिए काल्पनिक नाम लिख रहा हूं.

वह मेरे लंड को पूरा ऊपर से नीचे तक चूस रही थी और मेरे गोटों को अपने जीभ से चाट रही थी. वो कुछ नहीं बोला तो मैंने उसे ताना मारते हुए कहा- ला मुझे दे मोबाइल … मैं पढ़ती हूँ. तभी मौसी ने मुझे सीधा करके अपनी तरफ कर लिया दिया और खुद नंगी मेरे ऊपर आकर लेट गईं, मेरे सीने पर वो खुद को चढ़ाकर सो गईं.

फिर डॉगी स्टाइल में सेक्स किया; काफी पोजिशनों में चुदाई का मजा किया. चूंकि मुझे ये समझ आ गया था कि इसको मेरा और किंजल का मालूम चल गया है और ये मुझसे चुदना चाहती भी है. बीएफ+सेक्सीअब मैंने उसका गाउन उतार दिया और उसकी ब्रा उतार कर उसे पूरी नंगी कर दिया.

भाभी मादक आवाज़ के साथ कहने लगीं- साले बहन के लौड़े … अब तक किधर था तू?मैं बोला- भाभी जी, आपका लंड है, आपके नाम की मुठ मार कर काम चला रहा था. मैंने भी मौके की नजाकत को देखते हुए उसके मस्त चूचों को आजाद करना शुरू कर दिया.

कुछ ही देर बाद वो मेरे कपड़े खोलने लगी और साथ ही उसने मुझे इशारा किया कि मैं भी उसे नंगी कर दूं. उन्होंने जल्दी खाना बना लिया और शाम 7:00 बजे ही जल्दी खा पीकर 8:00 बजे तक हम अपने अपने बेडरूम में चले गये. मैं कराहते हुए बोली- आह्ह … ईईई … आआईई मां … दर्द हो रहा है … आह्ह … आआयय नहीं … रोक लो … लंड को रोक लो.

मेरे पूछने पर वो कुछ नहीं बोली और दूसरे छोर पर जाकर फिर से रोने लगी. अपनी बेटी के प्रेमी के लंड से चुदने के बाद मैंने अपने कपड़े पहने और चलने को तैयार हो गई. उसने मेरी एक चूची को मसलते हुए कहा- इतनी भी क्या जल्दी है भाभी जी! आज तो हमारे पास पूरी रात है.

कृति की चूत पहले से ही इतनी गीली थी कि उसमें तेल लगाने की जरूरत न थी.

मेरे प्यारे दोस्तो और भाभियो, आप सभी को मेरा प्यार भरा कामुक नमस्कार. पर हल्का हल्का डर भी रही थी, पर डर से ज्यादा हवस थी।आज मेरे पास मौका था, जगह थी, जबर्दस्त इच्छा थी, और किस्मत से सेक्स करने के लिए लड़का भी था.

कुछ देर बाद रमेश ने दीदी के पैर फैला दिए और उनकी सफाचट चुत को चाटने लगा. ले जाकर बोली- देख लड़की, छुपाना मत। सच बता कितनी बार लेट चुकी हो नीचे?मैं एकदम से हैरान रह गयी. भाभी एकदम से चिल्ला पड़ीं- आह कुत्ते … धीरे चूस ना … मैं तुझे उंगली से चुदवाने के लिए नहीं बुलाया है.

बहुत अकेली हो गई हूँ मैं!मैंने डिब्बी से थोड़ा सा सिन्दूर ले कर उसकी मांग में भर दिया।तब मैंने डिब्बी साइड में रखी, मोबाइल का म्यूजिक बंद किया। मैंने उसकी पैंटी को अपने गले से निकाला और जोर से फूंक मारी. करीब एक महीने बाद चित्रा फिर दिल्ली आई और पन्द्रह दिन रूकने के बाद उसने बहार से भी वापसी की तैयारी करने को कहा. जानती है क्यों?ममता- नहीं जानती … क्यों?अभय- देख अगर तू बाहर कोई बीएफ बनाती है और उससे चुदाई करती है, तो सबसे पहले बदनामी का डर … और पकड़े जाने का खतरा.

नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ मैं उठा और बाथरूम में जाकर अपना लंड साबुन से धोया क्योंकि बिना कंडोम के पहली बार मैंने किसी की गांड चुत चुदाई और संभोग किया था. अगले दिन सुबह दस बजे मैं चित्रा के घर पहुंचा तो बहार कालेज जा चुकी थी.

सेक्सी ब्लू फिल्म दिखाओ बढ़िया

मम्मी शाम को 4 बजे मुझसे बोलीं कि मैं शीला आंटी के घर जा रही हूं शायद रात को वहीं रुक जाऊं. स्टेप मॉम सन सेक्स स्टोरी के पिछले भागसौतेली मां को चुदाई का मजा दियामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी मां को भरोसा दिला रहा था कि हम दोनों अपने सेक्स रिश्ते उजागर नहीं होने देंगे. जब वो सुबह चाए लेकर आई, तो मैंने उससे कहा- आप भी यहीं बैठकर चाय पी लो.

तो मैंने मन की कर ली और आज आपके लिए मेरी चूत की आग की नई सेक्स कहानी लेकर आ गई हूँ. अब पिताजी की तबियत ज्यादा खराब रहने की वजह से वो मां की चुदाई नहीं कर पाते थे. विडियो xxxमीना- आह … आह चोद दो प्रिय … चाहे में जितना भी रोऊं चीखूँ … मुझे जितना भी दर्द हो … आप मत रुकना … आप चुदाई जारी रखना … हम्म हम्म.

ममता अपने भाई के हाथ को अपनी चुत पर महसूस करके एक बार को तो गनगना गई … मगर उसने हाथ का मजा लेना शुरू कर दिया.

मैं बोली- जब निकलेगा तो बता देना और अपना वीर्य चूत में मत छोड़ना, वर्ना मैं तेरे बच्चे की मां बन जाऊंगी।इतना बोले हुए दो मिनट हुई थी कि वो जोर से सिसकारियां लेने लगा- आह्ह … दीदी … आह्ह … आह्ह … निकलने वाला है. अब क्या था … मैं भाभी की चुत में ही झड़ गया और उन्हें ऐसे ही बेड में पटक कर उनके ऊपर सो गया.

वो कपड़े पहनकर बाहर गए और बोले- क्या हुआ अहमद? शबनम बाहर गई होगी, चलो देखते हैं. मैं वो बच्चा पैदा नहीं कर सकती थी इसलिए उसको मैंने इलाज के द्वारा रोक दिया. मॉम ने फोन पर हाथ रखते हुए रोहन अंकल से कहा- नहीं प्लीज़ ऐसा मत कहो.

उसकी चाहत देखते हुए मैंने धीरे से अपना लंड बाहर निकाला और उसके हाथ में पकड़ा दिया.

भाई बहन सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक रात मैंने अपने छोटे भाई को मुठ मारते देखा तो मुझे लगा कि मैं भी अपने भाई से मजा ले सकती हूँ. वो बोली- मैं किसी भी तरह की कसम खाने को तैयार हूँ कि मैं कल रात तक एकदम कुंवारी थी. मेरी यह सेक्स कहानी शत प्रतिशत सच है … और सारी बातें एकदम सही लिखी गयी हैं.

कॉलेज गर्ल एक्स एक्स एक्सजब कुछ मिनट तक मैंने सिर्फ दूध चूसने में ही मन लगाया तो मामी तड़फ उठीं- राहुल, मुझसे अब बर्दाश्त नहीं होता … अब जोर जोर से चोद भी डालो मुझे. कुछ ही देर बाद हमारी ट्रेन के बगल से दिल्ली से आती हुई कोई राजधानी एक्सप्रेस धड़धड़ाती, हॉर्न बजाती हुई क्रॉस हो गयी.

𝒕𝒆𝒍𝒖𝒈𝒖 𝒔𝒆𝒙

आप मुझे मेरी सेक्सी मौसी की चुदाई हिंदी कहानी के लिए मेल कर सकते हैं. दीपा हाँफने लगी थी।मनीष का भी लावा फूटने को था; उसने दीपा से हाँफते हुए पूछा- मेरा होने वाला है, कहाँ निकालूँ?दीपा हँसती और हाँफती हुई बोली- अंदर ही निकाल दो, कोई बात नहीं मैं तेरे बच्चे की माँ बन जाऊँगी।जब तक मनीष कुछ समझता तब तक दीपा ने उसे कस कर भींच लिया और चिपट कर उसकी छाती पर निढाल हो गयी. उसकी मम्मी ने पूछ लिया- क्या हुआ तेरी आवाज में दर्द क्यों है?उसने अपनी मम्मी से कहा- अरे यूं ही जरा फिसल गई थी.

पापा जी नमस्ते!” पानी का गिलास मुझे पकड़ा कर बहूरानी बोलीं और फिर विधि पूर्वक मेरे पावों छू कर नज़रें नीची करके खड़ी रहीं. उस रात को मां सिर्फ ब्लाउज़ और पेटीकोट में ही सो रही थीं, मैंने भी सिर्फ बनियान पहनी थी और लुंगी लपेटी हुई थी. इन लड़कों का क्या था, सब वैसे ही बदनाम थे … पर अगर वीडियो किसी को दिखा देते, तो मैं भी बदनाम हो जाती.

फिर हम दोनों डॉक्टर के यहां निकल गए और कुछ देर में डॉक्टर के पास पहुंच गए. बस अब तो चोदो मुझे, अब नहीं रहा जाता पापा!” बहूरानी ने अपनी कमर ऊपर की ओर उठा कर मुझे अपनी चुदास दर्शाई. बहूरानी ने पुनः मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत की दरार में किसी चुदक्कड़ औरत की तरह बेशर्मी से रगड़ा और टोपे को चूत के ठीये पर रख कर कमर जोर से उछाल दी.

उसकी गांड में मैंने थूक लगाया और लंड को घुसाने लगा, चूत के पानी से गीला लंड फच्च करके गांड के अन्दर चला गया. गुरुत्वाकर्षण की मदद से वो नीचे को हुई और पहली ही बार में मेरा लंड 4 इंच तक चुत के अन्दर चला गया.

मैंने मुस्कुराते हुए कहा- क्यों नहीं … आपको चोदने के लिए तो कुछ भी करूंगा.

उस दिन शाम में मुझे ये बात फिर ध्यान आई, तो मुझे लगा जैसे पूनम बुआ के मन में कुछ तो चल रहा है. हिंदी बीएफ फुल वीडियोमैंने गौर किया कि मेरे और कुच्ची के अलावा और भी लड़के थे जो उन दोनों पर नजर गड़ाए हुए थे. देहाती लड़की एक्स एक्स एक्सप्रिय साथियो, आपको मर्द के पहले स्पर्श वाली मेरी ये जीजा साली सेक्स स्टोरी कैसी लगी … प्लीज़ मेल जरूर करें. देसी चाची चुत चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मैंने अपनी चाची को मेरे टीचर से चुदती देखा.

यूं तो मेरे और अदिति के बीच सेक्स के अन्तरंग सम्बन्ध पिछले लगभग चार वर्षों से हैं और मैं उन्हें बीसियों बार छक के चोद चुका हूं.

जिस कारण मैं भी न जा सका और मैंने ऑफिस में फोन करके झूठ बोल दिया कि मेरी तबियत खराब हो गयी है … तो मुझे थोड़ी और छुट्टी चाहिए. मुझे अन्दर की आवाजों से साफ़ समझ आ रहा था कि चाची चुत में कुछ डालकर मजा ले रही हैं, मस्त आवाजें आ रही थीं. इतना बोल कर ममता ने अपनी मां का हाथ पकड़ कर घुमा कर पीछे से बांहों में भर लिया और उनके गाल पर एक पप्पी दे दी- भैया इज द बेस्ट.

टॉप और जीन्स के बीच जो फासला था उसमें से बहू की गुलाबी चिकनी कमर की झलक, उनके चलने से जांघों के जोड़ पर बनते त्रिभुज से उनकी कचौरी जैसी फूली चूत का सहज ही आभास होता था. ये कहते हुए सर ने पूरा लंड चाची की चुत में फिट कर दिया और चाची के ऊपर गिरकर हांफने लगे. मैंने कहा- चिंता मत मेरी रंडी … तेरा बेटा जल्दी ही अपनी अम्मी की चुत में अपना लंड पेलेगा.

हर साल लड़की का सेक्सी वीडियो

स्टूडेंट एंड टीचर सेक्स कहानी में पढ़ें कि सेक्स कि प्यासी एक कुंवारी लड़की ने अपने ट्यूशन टीचर को सेक्सी हरकतें करने की चूत दे दी. उसके बाद वो अपने घुटनों पर बैठ गई और मेरी चड्डी दोनों हाथों से पकड़ कर उतार दी. मगर मैं पूजा की प्यासी गांड को छोड़कर राजकुमारी मीना को किस करते हुए मजा लेने लगा.

तभी नवीन ने मेरे कान में बोला- मेरा मन कर रहा है कि अभी जाकर मैं दोनों को पकड़ लूं और उस लड़की को मैं भी चोद लूं.

भाभी- यदि उन्हें, मुझे देखने में मजा आता है तो आने दो, कम से कम किसी के लिए अच्छा तो हो रहा है.

अगले दो ही झटकों में बिना किसी ज़्यादा दिक्कत के रुबिका की एकदम पहले से गीली हो चुकी चूत में लंड अन्दर घुसता चला गया. मैंने कहा- चिंता मत मेरी रंडी … तेरा बेटा जल्दी ही अपनी अम्मी की चुत में अपना लंड पेलेगा. బలవంతంగా సెక్స్ వీడియోमैंने कहा- मेरे लिए मतलब?तो उन्होंने कहा- हम हमेशा ऐसे थोड़े रहेंगे … थोड़ा रोमांस भी तो करेंगे.

जया के बगल में लेटकर मैंने उसे सीने से लगा लिया और हल्के हाथों से उसकी पीठ और चूतड़ सहलाने लगा. मुझे बस स्टैंड लेकर गए और बोले- गोरी, मैं छोड़ ही आता तुझे लेकिन काम था. उसने शाम को करीब 7:00 बजे मुझे फोन किया और बोली- आज मेरे घर पर मैं और छोटी मेरी बहन रहेगी, तो आप आज 9:00 बजे तक आ जाओ.

अब मुझे इंतज़ार था कि कब पूनम मेरे लंड रस को अपने मुँह में निगलेंगी. मेरी पहली कहानी थी:फाग में पड़ोसी लड़के से चुद गयी मैंमेरी शादी को 3 साल हो गए हैं और जो बात मैं आप लोगों को बताने जा रही हूँ, वो मेरी शादी के कुछ महीनों बाद मेरे साथ घटित हुई थी.

जब पापा नहीं रहते थे तो मम्मी और मैं अकेले ही बैठ कर दारू सिगरेट का मजा ले लेते थे.

मैंने कुछ पल उसके दूध चूसे और जैसे ही उसकी गांड उठने लगी, मैंने फिर से होंठों पर होंठ जमा कर लंड को अन्दर पेल दिया. इसलिए मैं रीमा को बोल देता हूँ कि आज की रात वो तुम्हारे घर पर रुक जाए. आज पहली बार उसकी बुर से इतना पानी छूटा था, जितना पहले कभी नहीं छूटा था.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी चोदा चोदी उस टीटीई ने मेरा नंबर ले लिया था और बोला था कि कभी घूमने के लिए वो दिल्ली आया, तो मुझसे मिलेगा. वो अपनी बच्ची को कई बार दूध पिलाते पिलाते अपने मम्मे खोलकर ही सो जाती थीं और उनके बड़े चूचे देखकर मेरे लंड में करंट दौड़ जाता था.

आखरी डेढ़-दो इंच ही बचा होगा कि मैंने उनके सिर को झटके से ऊपर से दबाया और नीचे से लंड का धक्का लगा दिया. चूचियों और होंठों से खेलने में मैं इतना आनन्दित महसूस कर रहा था कि मुझे पता ही नहीं चला कि गीत ने मेरी पैंट और शर्ट को कब निकाल दिया. इस बात पर मीरा ने आह भरते हुए कहा- मेरी जान, अब तुम मेरी चुत का भोसड़ा बनाओ या पकौड़ा बनाओ … मैं तो तुम्हारे लंड की दीवानी हो गई हूँ.

जवान लड़का लड़की सेक्सी वीडियो

मगर दीदी की हाईट थोड़ी कम है, वो 4 फुट 7 इंच की ही हैं, मगर मेरी दीदी दिखने में बहुत सेक्सी हैं. मुझे लगा कि शायद वह लाइट ऑफ़ करना भूल गया है, मैं ही बंद कर देती हूँ. मेरा दिल कर रहा था कि अपनी पैंट और पैंटी उतार कर जीजाजी के लंड को अपनी चूत में ले लूं.

वो मचलने लगी और कुछ ही सेकंड बाद उसकी टांगें एक दूसरे की विपरीत दिशा में खुलती हुई हवा में फैल गईं, चुत को अपनी गांड का सहारा देकर ऊपर को उठाने लगी. आंटी सेक्स कहानी के पिछले भागमौसी की जेठानी मेरे साथ सुहागसेज़ परमें आपने पढ़ा कि नीतू के साथ मैं चूमाचाटी कर रहा था.

मगर मेरा लंड अभी भी खड़ा था, तो मैं अपने लंड को हिलाते हुए उन सभी लोगों को देखने लगा.

इसके बाद उसने लंड चुत में पेल दिया और लगभग आधे घंटे में मुझे बहुत फटाफट … लेकिन बढ़िया से चोद दिया. मुझे बस स्टैंड लेकर गए और बोले- गोरी, मैं छोड़ ही आता तुझे लेकिन काम था. गोविन्द ने बिंदु के बूब्स ओर जांघों पर गले पर शरीर पर जगह जगह काट कर निशान कर रखे थे.

मेरा लंड मामी जी की चूत की ठुकाई करने के लिए सबसे अच्छी पोज़ीशन में था. सादिका का मेरी बीवी के मामा जी के घर वालों से रिश्ता अच्छा था, तो वो लोग उसे भी वहीं बुला रहे थे. कुछ देर बाद हम दोनों उसके घर पहुंचे और उसने मुझे अन्दर आने के लिए बोला.

मैंने कहा- तेरी बहन तेरे ब्वॉयफ्रेंड का भी लंड लेती है … वो मुझे पता है, लेकिन मैं उसके साथ अभी तक इसलिए था क्योंकि मुझे तेरी गांड मारनी थी रंडी!अब मैंने नगमा को खड़ा किया और उसकी सलवार को फाड़ दिया.

नंगी बीएफ पिक्चर दिखाओ: सुनो बे सारे हिजड़ो, इधर आओ और हम दोनों के पैर छूकर अपनी गुलामी दिखाओ. मुझे भी कृति चाहिए थी, तो मैं सूर्यभान से सहमत हो गया और हम दोनों रणनीति बनाने लगे.

बस इसके बाद तो जेठ जी अपनी गांड आगे पीछे करते हुए धीरे धीरे धक्के मारने लगे. बड़ी दीदी की चुदाई के बाद छोटी दीदी की चुत कैसे मिली, वो भी लिखूंगा. वे बोले- आह्ह … मेरी चुदक्कड़ रांड … मजा आ गया तेरी चूत मारकर। अब मैं तेरी गांड मारूंगा.

मैं भी अब जोश में आ गया और बोला- तेरा तो कब से नहीं है … साली अब तो तू मेरी रखैल है … रंडी है … मादरचोद रंडी ले लंड खा … तेरी बड़ी गांड और चुचों को देखकर तो पहले भी चोदने का मन था … और उस पर साली मादरचोदी झुक झुक कर मुझे तू अपने बूब्स दिखाती थी … ले लौड़ा खा … रंडी साली.

चाची- तू सच में नहीं जानता क्या?मैं भ्रमपूर्ण नजरों से उन्हें देखने लगा. अपने लंड पर लगाया और तुरंत उसे चोदने लगा।वो अपनी आवाज दबाते हुए बोली- थोड़ा तो रुक जाते।मैं उसे बिना रुके चोदने लगा और वो मेरी पीठ पर मुक्के मारने लगी. कुछ देर बाद दीदी ने मुँह से लंड निकाला और इशारा किया कि अब चुदाई करो.