ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं

छवि स्रोत,मां बेटे की रोमांटिक सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ सेक्सी भेजें: ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं, मैं हल्का सा लंड को बाहर खींचता और बिना बाहर निकाले फिर से चूत में लंड को धकेल देता.

सेक्सी वीडियो फौजी का

दोस्तो, आपको मेरी ये आपबीती कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपने विचारों से अवगत जरूर करवायें. मारवाड़ी सेक्सी वीडियो जोधपुर राजस्थानभाभी ने नीचे बैठ कर मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया और फिर मैंने उनको वाशबेसिन पर बिठा कर भाभी की टांगें फैला दीं.

क्या करूँ, सारिका … दूसरों के वीडियो देख देख कर जी भर गया था, अब जब जी करेगा, अपनी वीडियो देखूंगा. लुगाई की नंगी सेक्सी वीडियोमैंने कहा- घबराओ नहीं, लंड जितना लम्बा और मोटा होता है, चूत को चुदने में उतना ही ज्यादा मजा आता है.

मुझे भी उनकी इस तरह की वासना से भरी निगाहों को देख कर बड़ा अच्छा लगता है.ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं: वो उस लड़की को ऐसे चोद रहा है जैसे ये उसकी जिंदगी का आखिरी दिन और आखिरी लड़की हो.

मैंने लंड आगे पीछे करना बंद कर दिया वो बोली- जीजू अन्दर बाहर करो ना.ऐसा कहते हुए वो नाखून मेरी पीठ पर जोर से गड़ाते हुए झड़ गई और एकदम से शांत हो गई.

एचडी इंग्लिश पिक्चर सेक्सी - ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं

मैं समझ नहीं पा रहा था कि वो मुझे उकसा रही है या उसके मन में कुछ और बात है.बूढ़ों में जवानी की नयी तरंगें फूटने लगें और जवानों के लंड फटने को हो जायें.

मम्मी से नजर मिलाने की हिम्मत नहीं हो रही थी और मम्मी भी नजरें चुरा रही थी. ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं तो मैंने उसकी पेंटी के अन्दर अपना हाथ डाला और चूत के अंदर उंगली करने शुरू कर दी।मेरी उंगली उसके चूत के रस से पूरी तरह भीग गई थी.

उस वक्त पापा दीदी के ऊपर लेटे हुए थे और दीदी पापा की पीठ को सहला रही थी.

ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं?

मैं- सुना है कि तुम्हारा पति बहुत दारू पीता है?मेरा इतना पूछना था कि वो एक पीड़ित औरत एकदम से भावुक हो गयी. वो उलटी हो कर लेट गईं और मुझसे कहा- आ जा मेरे राजा … आज मेरी इस गांड पर भी अपना लंड लहरा ले … और इसकी तन्हाई को भी दूर कर दे. ससुर जी ने इतना सुनते ही लंड चुत में पेला और धक्का लगाना स्टार्ट कर दिया.

हनी के ड्रेसिंग टेबल से कोल्ड क्रीम की शीशी निकालकर मैंने हनी की चूत की मसाज की और थोड़ा सा क्रीम अपने लण्ड के सुपारे पर लगाकर हनी की टांगों के बीच आ गया. मैंने ध्यान से सुना तो समझ गया कि हनी लैपटॉप पर ब्लू फिल्म देख रही है. वो जब भी नीचे झुकती थी तो साली के चूचे ऐसे डोल जाते थे कि अभी उसके सूट से बाहर निकल आयेंगे.

मैंने उसके हाथों को पकड़ कर उसकी जांघों के पास दबा लिया और मेरा लंड उसकी चूत पर जा लगा. मैंने उसकी बालों वाली चूत में जीभ अंदर दे दी और उसकी चूत के रस को अपने मुंह में लेने लगा. भाभी बोली- तुमने उसके साथ कुछ किया नहीं?मैंने कहा- कुछ किया नहीं का क्या मतलब है?तो उसने कहा- बनो मत … तुम सब जानते हो कि मैं क्या पूछ रही हूँ.

कुछ देर तक टीवी देखने के बाद मैं बेडरूम में चला गया और सोने की कोशिश करने लगा, मम्मी रसोई समेट रही थीं. कुछ देर बाद मेरी बहन और बुआ की बेटी घर से बाहर गार्डन में चली गई थीं.

मैं शुरू से ही अपनी मौसी के पास रहता हूं, उन्हें मम्मी ही बोलता हूं.

खैर … हम दोनों खाना आदि सब निबटा कर होटल के कमरे में आए और लेटने जा ही रहे थे.

मगर उनकी तरफ से कुछ भी ऐसा नहीं हुआ, जिससे मुझे ये लगे कि वो मुझसे चुदने के लिए राजी हैं. मेरे बेटे विशाल के जन्म लेने के बाद डॉक्टर ने मेरे लिए सेक्स के लिये मनाही कर दी थी. मैंने कहा- ठीक है कल्पना, कल सुबह मैं आपकी बताई जगह पर पहुंच कर कॉल करता हूँ.

मैं मोबाइल फोन में पोर्न वीडियो और सेक्स कहानी पढ़कर टाइम पास किया करता था. ओहो सेजल … तुम इतने वक्त तक कहां थी … मैं तुमको पहचान नहीं पाया वरना अब तक मैं ही तुम्हारा पेट भर चुका होता. जब मैंने उससे बार बार अपनी बात कही, तो वो शर्मा कर बोली- यस आई लव यू.

करोना- अरे अंकल, आप मेरे अंदर ये क्या पिचकारियां सी छोड़ रहे हैं?चिन्ना- बेटी, मेरा ये मेरा वीर्य निकल कर तुम्हारी प्यारी प्यारी चूत में जा रहा है.

उनमें से एक लड़का अंदर गया और एक कैरी बैग लेकर आया और मॉम से बोला- ये लो, पहन लो!उसमें नए कपड़े थे. बहुत गीली थी रानी की चूत … मेरा लंड जल्दी जल्दी अंदर बाहर होने लगा. मुझे बहुत ग्लानि महसूस हुई और फिर मैं उन्हें पूरा सहयोग देने लगी क्योंकि उनका व्यवहार और मेरे प्रति आसक्ति बहुत ज्यादा है.

आप लोग मुझे मेल कर के बताओ कि मेरी कहानी कैसी लगी आपको?मेरा मेल है[emailprotected]. तो उसने कहा- ये बताओ अब हम फ्रेंड हैं न?मैंने कहा- हां यार, ये भी कोई पूछने वाली बात है?सुमित ने कहा- तो सुमित सिंह के होते हुए उसकी दोस्त बस से जाएगी मेरी क्या इज्ज़त रह जाएगी. उसकी चूत पर लंड रख कर मैंने पूछा- पहले लिया है क्या जानू?वो बोली- नहीं, बस उंगली से सहला देती थी.

मैं बोला- हां मैं तो कर लूंगा, पर तू दर्द सह पाएगी?वो बोली- आपके प्यार के लिए मैं हर दर्द सहन कर लूंगी.

मैंने उससे पूछा- अपना पानी कहाँ निकालूं?तो उसने कहा- मेरी चूत मे ही निकालो और इसकी प्यास बुझा दो. मेरी भाभी को बच्चा होने वाला है तो मुझे जाना पड़ेगा।कुछ देर बाद मीनू अपने वही बड़े गले वाली टीशर्ट पहन कर आ गयी और मेरे पास बैठ गयी.

ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं थोड़ी देर बाद मधुलिका तीनों बच्चों को लेकर पार्क में चली गई।और यहीं से शुरू होती है गोसानी परिवार की कहानी. मैंने ध्यान से देखा तो उसकी चूत फूल कर पकौड़ा सी लाल हो गई थी, जिससे उसको दर्द होने लगा था.

ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं वो शरमा गई- राज, ये क्या कर रहे हो?मैंने एकदम से अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए।वैसे भी चोदने की सोचते सोचते बहुत दिन हो गए थे. मैंने कहा- ठीक है भाभी … कोई बात नहीं तुम बुला लो … मैं उसे संतुष्ट कर दूंगा.

इस बार मैंने मन में निश्चय कर लिया था कि इस बार जैसे भी हो, किले (नसरीन की चुत) के दरवाज़े को तोड़ देना है.

शाहरुख खान की सेक्सी फोटो

सारिका के आँखें बंद करते ही मैंने अपना मोबाइल निकाला और पोर्न वीडियो देखने लगा. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया और धक्का दिया लेकिन मेरा लंड उसकी चूत में नहीं जा रहा था. कल्पना फिर से भलभला कर झड़ गई और मैं उसकी चूत का नमकीन अमृत चाटता चला गया.

मैंने उसके लंड को हाथ में लेकर बाहर निकाल लिया और बोला- जवाब दो … वरना बाकी कपड़े भी उतार दूंगा. हड़बड़ाहट में उल्टे सीधे बटनों पर हाथ मारने लगी जिस कारण लैपटॉप बंद नहीं हो पाया. चूंकि हम दोनों रोज देर तक बात करते थे, इसलिए हम दोनों एक दूसरे के बहुत करीब हो गए थे.

तब तक हम लोगों ने जंगल से सूखी लकड़ियां इकट्ठा की और पत्थरों से चूल्हा तैयार किया। उनके आने पर लड़कियों ने खाना बनाने की तैयारी शुरू की और हम सभी साथी झोपड़ी बनाने के लिये लकड़ियां काटने लग गये.

दोनों मॉम को चूम रहे थे और पुष्पा आंटी वीडियो बना रही थी।फिर एक ने मॉम की टीशर्ट को खींच कर फाड़ दिया. तब उसने खुद ही अपनी पैंटी नीचे कर दी और बोली- लो अब छू कर देखो … कितने बड़े बड़े बाल हैं. अब जब भी वो किसी काम के लिए झुकतीं, मैं अपना खड़ा लंड उनकी गांड में रगड़ देता.

उसकी पत्नी माया … आह … कसम से क्या लड़की थी … बस एक बार जो देख ले, बार बार देखता रहे. शायद इसी वजह से मेरे मामा – मामी, नाना – नानी मुझे नहीं पहचान पा रहे थे।मैं वहीं कुर्सी में बैठा हुआ था तभी किसी ने पीछे से आकर मेरी आँखें बंद कर दी और पूछने लगी- मैं कौन हूं?तब मैं उसे नहीं पहचान पाया लेकिन उसने मुझे पहचान लिया और अपने गले से लगा लिया. मैंने लंड की ओर इशारा करते हुए कहा- इसको अपनी बुर में लेना चाहोगी?वो बोली- ये तो बहुत बड़ा है.

वो जब भी नीचे झुकती थी तो साली के चूचे ऐसे डोल जाते थे कि अभी उसके सूट से बाहर निकल आयेंगे. कुछ ही देर में तेल गायब हो गया तो मैंने चार बूंद तेल फिर से सारिका की गांड के छेद पर टपकाया और अंगूठे से मसाज करने लगा.

पर मैडम ने मेरे खड़े लंड को नोटिस कर लिया था। वो बार बार मुझे झुक कर अपने बूब्स दिखा रही थी और मैं पागल हुआ जा रहा था।बातों बातों में उन्होंने बताया कि वह अपने हस्बैंड को बहुत मिस करती हैं. मैं आधे घंटे तक वहीं खड़ा रहा लेकिन मां और पापा दोनों गहरी नींद में सो रहे थे. नवीन जी होंठों पर जीभ फेर कर बोले- ये ज्यादा है … पर तुमको इसके एवज में कभी कभी कुछ एक्स्ट्रा काम भी करना होगा, जैसे रूम की सफाई वगैरह, तो मैं 17,000 दे दूंगा.

वे भी अपना लंड अपने हाथ में पकड़ कर मेरे मुंह में डालने लगे। थूक का लार मेरे होंठ और उनके लंड से चिपका पड़ा था।फिर उन्होंने मुझे बिस्तर पर सीधा लेटा दिया और मेरी जांघें फैला दी.

मैं उसकी चुत को चाटने लगी और सोचने लगी कि इसका ये छेद मुझे कमाई करवाएगा. उसने मेरे सारे माल को अपनी चूत में ले लिया और लंड को अंदर ही अपनी चूत में दिये रखा. मैंने अपने कपड़े निकाले और अंडरवियर निकाल कर पूरा का पूरा नंगा हो गया.

अब बारी पवन की थी … मैंने उसे रात में सोने के लिए अपने घर बुलाया क्योंकि मेरे घरवाले बाहर किसी की शादी में गए थे और दोपहर से पहले आने वाले नहीं थे. मैं मजाक में पूछा- वो क्या?शिल्पा- मजाक नहीं अब जल्दी से डाल दो … बहुत मज़ा आ रहा है.

उसके बाद चिन्ना ने बैल की तरह जोरदार डकार से मारी और फिर सबकुछ शांत हो गया।करोना का सारा शरीर उत्तेजना के मारे बुरी तरह काँप रहा था, उसका रोयां रोयां खड़ा था, हलक सूख चुका था, चूचियां कड़क हो गई थी. उसके बाद मैंने अपनी जिप को खोल कर लंड को बाहर निकाल लिया और उसके हाथ में लंड दे दिया. क्या बताऊं दोस्तों … उसकी बुर का अमृत जीभ से लगते ही मुझे तो मानो जैसे उसकी जवानी का नशा छा गया था.

സെക്സ് കേരള

कुछ देर बाद नीलम डेन्टिस्ट के यहां चली गई और मैं अपने कमरे में आ गया.

एक दिन मैं सीढ़ियों से नीचे उतर रहा था और उसी टाइम भाभी छत पर जाने के लिए सीढ़ियों पर चढ़ रही थी. मानो बस ऐसे ही हाथ से सहलाते हुए मुझे जैसे उसके गुप्तागों से खेलने का अनुमति पत्र मिल गया था. और बिटिया, जवान और खूबसूरत लड़कियां मर्द के नंगे बदन से शर्माती नहीं, उसकी सराहना करती हैं.

उसने मुझसे कहा- और ना तड़पाओ … पेल कर चोद दो मुझे!मैं भी एक भूखे शेर की तरह उस पर चढ़ गया और अपना लंड उसकी चुत में डालने लगा. मैंने यह बात सुनी और सिम्मी को मैसेज किया- कल से मुझसे बात करने की कोशिश मत करना।सिम्मी का फोन रात भर आता रहा पर मैंने कोई जवाब नहीं दिया।सिम्मी ने मुझे एक मैसेज किया- आप मेरी गलती की कुछ भी सजा दे दो पर प्लीज मेरे साथ बात करो।पर मैंने कुछ भी जवाब नहीं दिया।एक दिन मेरे ससुराल से फोन आया कि सिम्मी की दादी का निधन हो गया है. एक्स सेक्सी व्हिडिओ सेक्सीअब लड़कियाँ तो अपनी सहेली से सब शेयर करती ही हैं।दोपहर 12 बजे हम एक साथ थिएटर पहुँचे.

तनु से मैंने कहा- मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसो ना जान!तनु ने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया. उन्होंने वहां जाकर मशीन देखी और मुझसे बोला- सर क्या करें, इसमें ज्यादा खर्च आयेगा.

उन्होंने मुझसे बोला- मैं आंटी दिखती हूं?मैंने बोला- नहीं नहीं, गलती हो गई. उसके बारे में जितना सोचता था उसके लिए मेरा आकर्षण और ज्यादा बढ़ रहा था. फिर मैंने भाभी की सहेली को बेड पर लिटाया और उनकी टांगें अपने कंधे पर रखकर अपना लंड भाभी की चूत में डाल दिया और चुदाई करने लगा.

मैं पटना का रहने वाला हूँ और मैं शुरू से ही अपनी मौसी के पास रहता आ रहा हूं. ये कहानी 2 साल पहले की है तब मेरी उम्र 19 साल थी, तभी मैंने अपनी 12वीं की परीक्षा पास की थी और क्यूंकि मेरा घर यूपी में पूर्वांचल के एक गाँव में है इसीलिए वहां कोई अच्छा कॉलेज न होने के कारण मैंने अपनी आगे की पढ़ाई के लिए अपनी बुआ, जो गोरखपुर में रहती हैं, के घर जाने का फैसला किया. दिल आज भी इसी उम्मीद में है कि एक दिन वो वापस आएगी।पता नहीं ये इंतज़ार कभी खत्म भी होगा या नही।उस दिन मुझे यह पता नहीं था कि मेरी ये मुलाकात आखरी होगी.

अब मैंने अपना लंड उसके मम्मों के बीच लगाया और उसके दोनों मम्मों को दबाकर उसके मम्मों को चोदने लगा.

अपने घर में तो मैं ही एकलौती कुंवारी चूत थी जिसको तुम चोद ही चुके हो. मैंने पूछा- कितना?तो उसने कहा- कम से कम दो हजार!मीनू ने कहा- ये तो ज्यादा है.

बीच बीच में दीदी मेरे लंड को पकड़ने की कोशिश भी करने लगी थी लेकिन उनका हाथ मेरे लंड तक नहीं पहुंच पा रहा था. सेक्स कहानी लिखते समय मुझसे कुछ गलती हो, तो प्लीज़ उसे नजरअंदाज कर दीजिएगा. भाभी की गांड फ़ैल गई और उनकी गांड की दरार में मेरा मोटा लंड घस्सा देने लगा.

भाभी बोली- वो मौका तब ही मिल सकता है, जब मुझे समझ आ जाएगा कि तुम चुदाई में क्या क्या करते हो?मैंने उसे बताया कि मुझे औरतों की गांड सूंघने और चाटने में बहुत मजा आता है और गांड के छेद में लंबी जीभ डालने में बहुत अच्छा लगता है. मेरी पिछली कहानीटीचर संग प्यार के रंग-1टीचर संग प्यार के रंग-2में आपने पढ़ा कि मैंने टीचर मैम की चूची दबा कर उसको गर्म कर दिया. लंड बेताब होने लगा था और कुछ देर पहले उसकी पसीने से भीगी चूचियां मेरे लंड को खड़ा करने लगी थीं.

ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं नसरीन- मैं समझी नहीं दीदीमैं- देख नसरीन … मैं मसाज सर्विस देती हूँ और सेक्स का मजा भी देती हूँ. मुझे ये कहते हुए थोड़ा अटपटा लग रहा था पर मैं और कंट्रोल नहीं कर सकती थी.

सेक्सी वीडियो मंस

जैसे ही वह रूम के अंदर आई, मैंने उसको वेलकम किया और एक रेड रोज़ साथ मैं चॉकलेट दी।उसने फिल्मी रोमांटिक अंदाज में गुलाब को मेरे चेहरे पर फेरा और अपना चेहरा मेरे पास ले आयी।मैंने देर न करते हुए झट से उसको पकड़ा और अपने होंठों को उसके रसीले होठों पर रख दिया। वह भी बड़े मजे से किस किये जा रही थी. शिप्रा ने मुझे सहारा देने की कोशिश की और मैंने अपना हाथ उसके कंधे पर रख लियाउसके साथ दो कदम चलने के बाद मैंने अपना तौलिया गिरा दिया. हम बचपन से ही बहुत अच्छे दोस्त रहे हैं, तो हमारे बीच ऐसे ही मज़ाक चलता रहता था.

मैं ये भी सोच रहा था कि दीदी अब तक अपने ब्वॉयफ्रेंड से चुद चुकी हैं या नहीं. वो जोर जोर सिसकारते हुए कह रही थी- आह्ह … कमॉन, फक मी हार्ड … आह्ह और तेजी से चोदो. साड़ी में देहाती सेक्सी वीडियोअगली सुबह जल्दी उठ कर मैंने ऑफिस में मेरे सर को कॉल करके कहा- मेरी तबीयत ठीक नहीं है, इसलिए मैं आज ऑफिस नहीं आ पाऊंगा.

मैं मस्ती में आंखें बंद किये हुए लंड चुसाई का मजा लेता रहा और उनके मुँह में ही छूट गया.

मैंने और जोर जोर से उसके चूचे दबाए और ब्लाउज के ऊपर से ही उनको काट लिया. अब तक मेरी चूत कामवासना से पानी छोड़ कर गीली हो चुकी थी और लंड लंड पुकार रही थी.

वो बार बार एक ही बात दोहराये जा रही थी कि कहीं सेफ जगह ले चलना, कहीं कोई मुसीबत में ना पड़ जायें हम दोनों!हमने बुधवार को 11 बजे जाने का पक्का किया. उसकी बात सुनकर मुझे बुरा लगा और मैंने फिर उसे सॉरी बोलकर धीरे धीरे लंड अन्दर बाहर करना शुरू किया. मैं मजाक में पूछा- वो क्या?शिल्पा- मजाक नहीं अब जल्दी से डाल दो … बहुत मज़ा आ रहा है.

मुझे शर्म आ रही थी, पर पापा के लिए ये सब ऐसा कुछ नहीं था … क्योंकि उनका रोज का काम था.

मैं करीब आया तो अजय ने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी बीवी की चूत पर लगवा दिया. आपको मेरी और मेरी बहन की ये चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. पर मुझे ध्यान आया और खुद पर गर्व भी हुआ कि ये मेरे मेडीटेशन करने का असर था.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो रोमांटिकआज तुम्हें मुझे चोदना है।”अब उसकी बात समझ में आ गई, वह मुस्कुराने लगी. मटर के साथ उसमें सरसों भी बोई गई थी जो काफी बड़ी हो गयी थी।वहाँ पर बैठे बैठे मैंने खुद ही काफी सारी मटर तोड़ ली थी.

मोटी मोटी आंटी का सेक्सी वीडियो

मेरे मॉम डैड मेरे भाई से मिलने औरंगाबाद गए थे, तो निशा को प्रपोज करने का आज अच्छा मौका था. वो मेरी किसी बात का जबाव नहीं देता था, बस यूं ही गुमसुम सर नीचे किए खड़ा रहता था. दीदी मेरे लंड को जोर जोर से चूसने लगी और मजे में मेरी आंखें बंद होने लगीं.

जैसे ही मैंने उसे प्रपोज़ किया, तो उसने मुझे कसके गले से लगा लिया था और किस किया. उसको अच्छे से मसाज करने के बाद मैंने उसके दूध जैसे सफेद बदन से चॉकलेट साफ़ करना शुरू किया, तो इससे वो और तड़पने लगी. जब थोड़ा नॉर्मल हुए, तो वो अलग हुई और बाथरूम जाकर खुद को ठीक करके मेरे लिए किचन से चाय बनाकर लायी.

वो मेरी किसी बात का जबाव नहीं देता था, बस यूं ही गुमसुम सर नीचे किए खड़ा रहता था. मैंने उसके हाथों को पकड़ कर उसकी जांघों के पास दबा लिया और मेरा लंड उसकी चूत पर जा लगा. मैं उसके पास जाकर बैठ गया और माया को देखने लगा और धीरे धीरे उसके होंठों की तरफ अपने होंठों को बढ़ाने लगा.

जैसे ही उसने देखा कि मैं उसके बूब्स को छेड़ रहा हूं तो वो उठ कर बैठ गयी. कमरे में आने से पहले मैं वियाग्रा खाकर आया था इसलिये मेरा लण्ड टाइट होने लगा.

एक चूची से दूध निकालने के बाद चाची ने दूसरी चूची से भी दूध निकाला और फिर जितना भी दूध कटोरी में इकट्ठा हुआ उसको चाय में मिला दिया.

हम दोनों लेट गये तो मैंने अपना मोबाइल निकाला, उसमें एक स्कूल मास्टर द्वारा छात्रा को चोदने का वीडियो था. मुसलमान सेक्सी वीडियो दिखाओवो मेरे साथ बिल्कुल चिपक गई और मेरे होंठों को अपने होंठों का रस पिलाने लगी. वीडियो हिंदी मूवी सेक्सीदोस्तो, वो इतनी मस्त माल थी कि मैं उसी समय उससे उसको चोदने की गारंटी किसी भी तरह ले लेना चाहता था. दस मिनट की चुदाई के बाद भाभी फिर से झड़ गईं और उनकी चुत ने मेरे लंड पर सारा पानी निकाल दिया.

जब मुझसे रुका न गया तो मैंने आंटी को नीचे बेड पर पटक दिया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी चूत में लंड को सेट कर दिया.

जब मैं उनके कमरे में दस्तक देकर अन्दर गया, तब दीदी बेड पर लेटकर फोन इस्तेमाल कर रही थीं. चिन्ना की यह चाल करोना बिल्कुल पसंद नहीं आई क्योंकि वो झड़ने के करीब थी और करोना की नाजुक अनचुदी चूत को गर्म कड़क लण्ड की तपिश से मजा आने लगा था।करोना घायल शेरनी की भांति चिन्ना की आँखों में घूरने लगी. नेहा को मैंने कैसे गर्म किया और उसकी कुंवारी चूत को चोद कर कैसे मजा लिया वो मैं आप लोगों को कहानी के अगले भाग में बताऊंगा.

वो ट्रायल रुम वाले कमरे के पास गया और कहा- बताओ मेरी जान क्या कहना है?मैंने कहा- भैनचोद मां के लौड़े … जो तुमने दिन में किया था, उसकी मैंने वीडियो बना ली है और उसमें तुम दोनों भाई मेरी चुदाई कर रहे हो … सब क्लियर दिख रहा है, अब मैं पुलिस के पास जा रही हूं. सामने दीवार पर 43 इंच का एलईडी लगा हुआ था … जिसमें ‘मेरी आशिकी तुमसे ही. जब मेरा वीर्य निकलने हो गया तो मैंने पूरा लंड अंदर घुसाते हुए अपना वीर्य छोड़ दिया.

दिल्ली वाली भाभी की सेक्सी वीडियो

मैंने धीरे से अपना लंड उसकी चूत पर लगाया और फिर धीरे धीरे अन्दर डालने लगा, तो पता चला कि उसकी चूत बहुत टाइट थी. मैंने भी झट से लोअर टी-शर्ट उतार दी और चड्डी में खड़ा लंड सहलाने लगा. पहले तो नसरीन नाराज़ हो गयी और गुस्से से बोली- अम्मी आप ये क्या फालतू बात कर रही हो.

मैंने अनजान बनते हुए कहा- ‘वो’ मतलब कुछ समझ में नहीं आया?सिम्मी ने उत्तर दिया- ज्यादा नासमझ मत बनो.

मेरे जीवन में चुदाई का मुझे पहला अनुभव और आनंद मिला था जिसके बाद मुझे चूत चोदने का चस्का लग गया.

इसी वजह से इस क्षेत्र में पुरुष कलाकार अधिक देखने को मिल जाते हैं, बजाय कि महिला कलाकारों के. और इसी मर्दाने स्पर्श के अहसास से उसके मन की नारी सुलभ कुदरती भावनाओं के वेग की वजह से उसकी चूत भरभराकर पानी छोड़ने लगी थी. सेक्सी रोमांस सेक्सी रोमांसमैं देख कर हैरान था कि ये दोनों होटल में क्या करने के लिए गये हैं!मेरा शक गहरा हुआ तो मैं वहीं बाहर उनका इंतजार करने लगा.

एक हाथ से मैं दीदी के बूब्स को सहला रहा था और दूसरे हाथ से दीदी की चूत को छेड़ रहा था. कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं अपने परिवार का परिचय आपसे करवा देता हूँ. फिर हम दोनों वापस आ गए।तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी काल्पनिक चुदाई कहानी? मुझे मेल करना न भूलें।[emailprotected].

सोनू और मैं अक्सर गांव में घूमने के लिए साथ में निकल जाया करते थे और काफी मस्ती किया करते थे. वो मेरे होंठों को चूसते हुए रस को पीने लगी और मैं उसके होंठों को चूसने लगा.

उन्होंने मुझसे बोला- मैं आंटी दिखती हूं?मैंने बोला- नहीं नहीं, गलती हो गई.

जब वह सेब खा रही थी, तो मेरा माल उसके थूक के साथ चिपक कर उसके मुँह में चला गया. फिर उसने भी नीचे से एक तेज़ झटके से मेरा पूरा लंड अपनी चूत की गहराई में उतार लिया और मुझे तेजी से अपनी बांहों में जकड़ तेज़ झटके मारने को बोलने लगी!उसकी चूत इतनी गीली हो चुकी थी कि मेरे झटकों के साथ फच्च फच्च की आवाज मुझमें और जोश पैदा कर रही थी. जाते समय मां ने कामवाली भाभी से कहा- तुम देर तक रुक जाना … क्योंकि राज अकेला है.

सेक्सी पिक्चर भारी भारी अभी तो थोड़ा ही लंड अंदर गया था और भाभी चिल्ला रही थी- धीरे करो ना!मैं अपने आधे अन्दर गये लंड से ही उनकी धीरे-धीरे चुदाई करने लगा।जब उन्हें मजा मिलने लगा तो भाभी बोली- देखो, अब रुकना नहीं … चाहे मैं कितना भी कहूं रुकने को। बहुत दिनों बाद ऐसा मौका नसीब में आया है।मैंने कहा- ठीक है. बर्फ लगने से उसकी चूत में जो सनसनी मची वो उसकी तेज सिसकारी बखूबी बयां कर गयी.

मैं सुबह 5 बजे उठ कर चुपके से उसके क्वार्टर से निकल गया और अपने हॉस्टल में आ गया. और क्यूंकि मैंने शॉर्ट्स और टॉप पहना हुआ था और शॉर्ट्स भी काफी मुश्किल से मेरी गांड को छुपा पा रहे थे इसीलिए वो लगातार मेरी गांड और बूब्स देख रहा था. जब मेरा वीर्य निकलने हो गया तो मैंने पूरा लंड अंदर घुसाते हुए अपना वीर्य छोड़ दिया.

हिंदी सेक्सी वीडियो कामसूत्र

मुझे सेक्स को लेकर आकर्षण तो था लेकिन अब ये आकर्षण मेरा जुनून बन गया था. जब मैंने घुटनों के बल बैठ कर उसे प्रपोज़ किया, तब वो बहुत खुश हो गई थी. फिर मैं 8 बजे वापस आया तो बेटा नाश्ता कर रहा था और बहू जिम जा रही थी.

कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं अपने परिवार से आपका परिचय करवा देता हूं. भाई की जीभ मेरे होंठों के बीच में घुस गयी और मैंने उसे चूसना शुरू कर दिया.

मेरी बीवी राजस्थान के एक गाँव में हमारे पुश्तैनी घर में मेरे माँ बाप के साथ रहती थी.

मैंने गांड मारने की बात भी कही, तो भाभी ने भी हामी भर दी और हम दोनों सीट पर आकर बैठ गए. फिर भाभी ने पूरा साथ दिया पर दो मिनट के बाद अलग हो गई बोली- नहीं … घर चलो!मैंने मन में सोच लिया था कि आजभाभी की चूत में लौड़े का धमाकाकरूंगा. उस दिन के बाद से अम्मी और परवीन अक्सर मेरे लंड को चूत में लेने लगी.

हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे और एक दूसरे में इस तरह से खो गए हमें पता ही नहीं चला कि हमने कब एक दूसरे के कपड़े उतार दिए. इसके बाद उसने एक और गंदी हरकत की, मेरी खुद की योनि में सने हुए हाथ को मेरे मुंह में दे दिया लगभग जबरदस्ती!मैं पहले ही दिन झगड़ा करना नहीं चाहती थी और माहौल खराब करना नहीं चाहती थी इसलिए बेमन से मुझे अपनी योनि का रस मुंह में लेना पड़ा. अंदरूनी बाल साफ़ करवाने के दौरान आपा ने नसरीन की चुत को गौर से देखा.

मैं काफी उत्तेजित हो गया था, मेरे लिंग से प्रीकम की दो चार बूंदें निकल चुकी थी.

ब्लू फिल्म बीएफ वीडियो में दिखाएं: एक बार उसने अकेले में तेरी चूची भी दबा दी थीं … और कई बार तूने उसको अपनी बिना धुली कच्छी चाटते हुए देखा था. टूर का पांचवां दिन था, पैर में हल्की सी मोच के कारण नीलम हम लोगों के साथ घूमने के लिए तैयार नहीं हुई तो मैं, सुधा व कमल घूमने निकल पड़े.

बहू ने मेरे हाथ पकड़ के अपने बूब्स पर रख दिए और मैं उसके बूब्स जोर जोर से दबाने लगा, उसके बूब्स के निप्पल को खींचने लगा. कुछ देर बाद मैंने मम्मी की ब्रा उतार दी और बीस बाईस साल के अंतराल के बाद आज फिर मम्मी की चूची मेरे मुंह में आ गई. मैंने धीरे से उसकी चूत को छुआ जो कि बिल्कुल गीली हो चुकी थी। वर्षा पूरी तरह से चुदासी हो चुकी थी.

पापा मुझे लगातार चोदते रहे और मैं आह आह आह आह आह की आवाज निकालती रही.

मैं 23 साल की हूँ, मेरे पति मुकेश 25 साल के हैं, मेरी सास नीता 44 साल और मेरे ससुर हरीश 46 साल के हैं. सारिका ने मेरा लण्ड लोअर से बाहर निकाल लिया और चूसने लगी जिससे लण्ड टनटना कर चुदासा हो गया. फिर मेरी गांड भी कुछ ज़्यादा ही बड़ी है, इससे लोगों के लंड खड़े हो जाते है.