बीएफ चोदाचोदी बीएफ

छवि स्रोत,सनी लियोन का बीएफ बीपी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ एचडी सेक्स: बीएफ चोदाचोदी बीएफ, फिर देखो!मैं उस पर झपटा तो वो बचने के लिए इधर-उधर भागने लगी। मैं उसको पकड़ने के लिए दौड़ता रहा, मेरा ड्राइंग रूम फुटबाल का मैदान बन गया था। कभी वो सोफे के पीछे तो कभी फ्रिज के पीछे.

बीएफ देसी दिखाओ

मैंने सोचा शालू को तंग न करूँ, इसलिए मैंने अपनी चाभी से फ्लैट का गेट खोला और अन्दर चला गया. खुल्लम-खुल्ला बीएफ पिक्चरमैं देख ही रहा था कि अचानक उस लड़के ने मुझे दोबारा देख लिया और उसने लड़की से कहा कि वो सीधी होकर बैठ जाए तो लड़की सीधी होकर आराम से पीठ लगाकर बैठ गई.

और उन्होंने मेरे लंड को चूत के दरवाज़े पर रखा, जैसे ही मुझे रास्ता मिला, मैंने लंड को पेल दिया. कैटरीना के बीएफ पिक्चरमैंने उसका ब्लाऊज खोल कर दोनों चूची को बाहर कर लिया और जोर से दबाने लगा.

तुम सोचो अगर सूसू होता तो मेरे भी सारे कपड़े गंदे हो जाते ना कल!पूजा- हाँ मामू.बीएफ चोदाचोदी बीएफ: हैलो फ्रेंड्स, मैं राजवीर (बदला हुआ नाम) हूँ, ये रंडी की चुदाई की सेक्स स्टोरी कुछ दिन पहले की है, जिसमें एक चालू लड़की हम 5 दोस्तों के साथ चुदी थी.

अब तो साली चुदेगी ही चुदेगी।फिर 15 मिनट तक सब नॉर्मल बातें करते रहे.फिर मौसी ने अपना कमीज़ ऊपर उठा कर अपने दोनों बोबे बाहर निकाल दिये और मेरे हाथ पकड़ कर अपने बोबों रखे, मैंने उसके दोनों बोबे हल्के से दबाये तो मौसी ने अपने हाथ मेरे हाथों पर रख कर ज़ोर दबाये और मेरे कान में फुसफुसाई- ज़ोर से दबाओ इन्हें, मसल डालो.

बीएफ वीडियो कुत्ते वाली - बीएफ चोदाचोदी बीएफ

फरीदा टाँगें चौड़ी किये पड़ी थी और सुमित बैठा हुआ गहरी गहरी सांसें ले रहा था.बस्सस… बहुत हो गया… मुझे घर जाना है…’ हल्के से पिंकी बुदबुदाई।‘नहीं मेरा मन कर रहा है और कस के इन उभारों को कस कस के…’ मैं बोला.

स्वान के किसी हैट जितने चौड़े टोपे को अपने मुंह में भरने की खातिर मेरी जान को अपना मुंह फाड़ कर खोलना पड़ रहा था! कुछ देर बाद मुझे बीवी की चूत में घुसने की इच्छा हुई, जहाँ पहले से ही एंड्रयू का लंड तबाही मचाये हुए था, और मैं बिना किसी शर्मो लिहाज के एंड्रयू के लंड की बगल में अपना लंड लगा कर अन्दर को ठूंसने लगा. बीएफ चोदाचोदी बीएफ ’ निकल गई। उसने मन में सोचा कि आज इससे कुछ ज़्यादा मज़ा लूँगा।आधा घंटा बाद संजय अपने कमरे में गया, तो पूजा बैठी हुई अपना होमवर्क कर रही थी। संजय ने उसको डिस्टर्ब नहीं किया और सीधा बाथरूम में जाकर अपने कपड़े चेंज किए और बस वही बरमूडा पहन कर बाहर आ गया।पूजा- अरे मामू आ गए आप.

हमें आज रात ही गाँव जाना होगा।यह बात सुनकर मोना की तो हालत पतली हो गई, कहाँ तो उस पर सेक्स का खुमार चढ़ा हुआ था और कहाँ ये बुरी खबर सुनने को मिली।मोना खड़ी हुई और गोपाल के पास आकर उसके चेहरे को देखने लगी।गोपाल- मोना प्लीज़ अब ये मत कहना की मेरी चुत को शांत करो.

बीएफ चोदाचोदी बीएफ?

मैं अपने दाँतों से मामा जी के कान को काटने लगी, मामा भी मुझे गले पे चूमने लगे. मैंने- तू कहीं नहीं जाएगा, तू मेरे रूम में जाकर सो जा, अब तेरी बारी कल आएगी. पर मेरा बेटा जाकर पलंग पर लेट गया, बोला- मैंने कूलर के आगे सोऊंगा, बीएड पर मुझे गरमी लगती है, डबल बेड पर आप चाचू के साथ सो जाओ.

वो हड़बड़ा कर पीछे हुई तो दूसरी धार सीधे उसके खुले हुए मुंह में जा गिरी और पीछे होते होते तीसरी और चौथी उसकी ठोड़ी और गले पर जा लगी. मैं अभी खिला आती हूँ।’ मैंने खाना पकड़ा और उनके मकान की ओर चली गई।शाम को 7 बजे थे. फिर मैंने फूफा जी के कच्छे से अपनी चूत को साफ किया और फूफा जी का सोया हुया लंड अपने मुँह में लेकर चाट चाट कर साफ करने लगी.

मेरे मुँह से निकल पड़ा…’हाय रे… घुसा दे…पुरा घुसा दे…’उसने लंड थोड़ा सा बाहर खींचा और जोर से धक्का लगा कर पूरा घुसेड़ दिया. मैं उसके जीभ को छोड़ कर होंठों को चूमते हुये उसके निचले भाग की तरफ़ बढ़ने लगा. मोना मेरी बहू है, इसको रूलाऊंगा तो भगवान नाराज़ होंगे। इसको तो बड़े प्यार से चोदूंगा जैसे राधा की सील तोड़ी है.

मैंने कहा- मैं ही मोना हूँ!और एक आवाज़ सुमित को लगाई कि राज आ गया है. और अपनी क्लास में जा।संजय- हम में से किसी एक को किस कर या वो सामने प्रिंसीपल मैम आ रही हैं तो उनको जोरदार थप्पड़ मार… अगर ये दोनों तेरे बस के नहीं तो तीसरा और लास्ट टास्क बहुत आसान है, रात को हम पार्टी करेंगे, उसमें शामिल हो जाओ! सिम्पल !फ्लॉरा ने थोड़ी देर सोचा फिर टीना के बारे में पूछा कि पार्टी में वो भी आएगी क्या?संजय- हाँ वो भी आएगी, डर मत सिंपल पार्टी होगी।फ्लॉरा- ओके, मैं पार्टी में आऊंगी.

वैसे भी ये चूतनिवास अपनी बेगम जान अंजलि रानी से इतना गहरा प्रेम करता है कि यदि वो बोले कि राजे चलती ट्रेन के आगे कूद जा तो उसका ये गुलाम बिना कोई भी सवाल किये कूद जायगा.

थोड़ी देर में सबीना का शरीर अकड़ा और उसने मुँह में मस्ताना को भी दबा लिया और उसकी चूत ने मेरे मुँह में पानी की बौछार कर दी, नमकीन नमकीन चूत रस मेरे मुँह में भर गया और सबीना मेरे ऊपर ही लेट गई तो जमीला ने उसको साइड करके खुद मेरे साथ 69 हो गई.

मैंने लंड उसके मुँह से निकाल कर सीधे उसकी चुत में डाल दिया जो कि कुंवारी थी. अजय के साथ सभी हंसने लगे और फ्लॉरा तो कुछ ज़्यादा ही हंस रही थी।टीना- चुप करो सालों. माला दो मिनट तक वैसे ही बैठी रही और फिर जब कुछ सहज हुई तब उसने एक बार फिर नीचे की ओर दबाव बनाया तो मेरा पूरा लिंग एक झटके से उसकी योनि में घुस गया.

तो मित्रो, स्नेहा और मेरी कहानी कुछ इस तरह से थी अब तक जो आपने पढ़ी. दो मस्त गोल और सॉलिड चूचे, जिन्हें मैं अपने पाँव से दबाता रहा, मगर मेरी इच्छा हो रही थी कि मैं मौसी के चूचे अपने हाथ से दबाऊँ और मुँह में लेकर चूसूँ. तुम रुको यहीं…और मैं कमरे में जाकर किताब लाकर उसे दिखाते हुए बोला- यह क्या है दीदी? गन्दी और नंगी तस्वीर?सीमा डर गई और घबराने लगी थी, वह डरते हुए बोली- सुन छोटू, तू भी जवान है तो समझता है शरीर की जरूरतों को! अब मैं जवान हो गई हूँ और तूने तो कर भी लिया होगा पर मैं तो कुंवारी हूँ.

डॉक्टर के रूम में ऐसा ग्लास लगा था जिसमें वह तो बाहर बैठने वालों को देख सकती थी परन्तु बाहर वाले अंदर का नहीं देख सकते थे.

अब हम तीनों एक दूसरे से पूरा घुल मिल गए थे, जैसे मानो कई साल की दोस्ती हो!लगभग आधे घंटे बाद हम सब मेरे घर पहुंचे. जब तक वो पानी छोड़ रही थी तब तक उसका बदन इतना अकड़ गया कि पीटर को भी अपना लंड उसके अंदर बाहर करने में दिकत आई. मगर अब उनके खड़े लंड को देखकर वो समझ गई इनसे बहस करना बेकार है और वो उनके हवाले हो गई- ठीक है कुत्तों.

खैर अब क्या कर सकते थे, मैंने उसको थॅंक्स बोला और वहाँ से अपने घर चला आया, लेकिन हूँ तो मैं भी हरामी… जानबूझ कर उसके घर के सामने हॉर्न बजा कर निकलता था. बाद में मैंने आंटी को पूरी नंगी कर दिया और मैं भी पूरा नंगा हो गया, वो मेरा लंड देख कर पागल हो गयी और चूसने लगी और हम 69 पोजीशन में आ गए. उसकी आँखें स्वतः ही मुंद गईं और उसकी चूत से कामरस बह निकला जो मेरी झांटों को भी गीला करने लगा.

झड़ रही रुचिका की चूत की गर्माहट ने लंड रस को भी बहने पे मजबूर कर दिया और जैसे ही रुचिका की बरसात बंद हुई मैंने एकदम लंड को बाहर निकाला और सीधा रुचिका के हाथों में दे दिया, उसने बिना देर किये फुर्ती से नीचे लेट कर अपने होंठों के अंदर मर लंड कस लिया.

फिर उसने अपने लब बंद कर लिए और अन्दर ही अन्दर अपनी जीभ मेरे लंड के चारों तरफ फिराने लगी. पूजा- हाँ मामू मैंने भी गौर किया ये… और मेरे स्कूल के लड़के भी मुझे अब घूरने लगे हैं, पता है एक क्या बोला?संजय- क्या बोला बता तो मुझे भी?पूजा- वो बोला देख तो यार दिन पे दिन ये तो खिलती ही जा रही है.

बीएफ चोदाचोदी बीएफ आज की रात हमारी कॉमन वाइफ ने स्वान के दैत्याकार लंड को अपनी जीभ से चाटते हुए, होठों के बीच चूसना शुरू कर दिया. आयेशा अभी भी सो रही थी, उसकी गांड ऊपर की तरफ थी तो रोहन ने उसकी गांड पर एक थप्पड़ मारा तो आयेशा उठ गई.

बीएफ चोदाचोदी बीएफ मॉंटी को भी ये सब करने में एक अलग ही मज़ा आ रहा था, वो अब निप्पलों को बारी-बारी से चूसने लगा और सुमन मज़े की अलग ही दुनिया में चली गई. वीर्य पिलाने के बाद उन्होंने मेरे लिए भी एक दारू का एक पैग बना दिया.

आप ही बताएँ कि मैं क्या करता क्योंकि अपनी पढ़ाई के लिए मुझे घर वापिस तो आना ही था.

बीएफ सेक्सी हिन्दी

‘अंकल जी अब तो मेरे मुहाँसे पक्का ठीक हो जायेंगे ना?’ उसने जैसे मुझे चुदने के बाद उलाहना सा दिया. मॉंटी- दीदी देखो, मेरा कितना रस निकला है और आपका भी बहुत निकला है?मेरे प्यारे साथियो, आप मुझे मेरी इस देसी चूत की कहानी पर सभ्य कमेंट्स कर सकते हैं. तेरी चूत अब तक कितने लंड ले चुकी है?मैं उस पर चिल्लाई और फ़ोन काट दिया। मुझे बहुत गुस्सा आया, पर अगले दिन एग्जाम होने के कारण मैंने सब कुछ इग्नोर कर दिया।अगले दिन जब मैं अपना पेपर देकर घर आई.

गोवा में क्या करती थी घर के बारे में दोस्तों के बारे में!संजय- हाँ सही है. अब उसकी बत्ती जली।मोना- ये तो रोज ही ऐसे होता है फ़र्क सिर्फ़ इतना है कि रोज मैं तुम्हारे आने के पहले ठीक करती हूँ और आज मैं उठी नहीं।गोपाल- अच्छा वो तो ठीक है. मेरा तो इतनी उम्र में छोटा सा था अब बड़ा हुआ है।तो मैंने पूछा- अब कैसे बढ़ा?बोला- मुठ मारने से।मैं उसकी मुँह की तरफ देखने लगा तो वो बोला- ऐसे क्या देख रहा है.

मैंने कहा- थोड़ी देर ऐसे ही रुकी रहो और जब दर्द कम हो जाए तब आराम से धीरे धीरे अन्दर प्रवेश कराओ.

मैंने पूछा- संदीप भैया हम पहुंचने वाले हैं न?संदीप ने कोई जवाब नहीं दिया, मैंने सोचा शायद हवा के शोर में उनको सुनाई नहीं दिया. स्कूल ड्रेस में देखकर कितने जाने मुझे बोले कि स्कूल से छिपकर यहाँ बैठी है, क्या मेरा मजाक भी बनाया. आज तक कितनी बार मेरी चुत झड़वाई है तूने, तब तुझे ये सब याद नहीं आया.

आंटी मस्त होकर गांड को पीछे करके मेरा साथ देने लगीं और चिल्लाने लगीं- व्हाट ए लंड यार. इधर राजबीर ने अपना अंडरवियर निकाला और नंगे लंड को मेरी गांड पर रगड़ने लगा. तो भाभी ने अपनी साड़ी को ऊपर किया और चुदाई की स्थिति में मेरे ऊपर आकर मेरा 7″ का खड़ा लौड़ा अपनी चूत में ले लिया। उनको बहुत दर्द हुआ तो वो रुक गईं और हटने लगीं.

वो तो घुमायेगा या उसमें भी तुझे दिक्कत है कोई?मैंने देखा कि अब बात बन रही है पर मुझे तो सिर्फ मछली की आँख यानि मानसी की चुत दिख रही थी. उसकी सांसें मेरी गर्दन पर गरम-गरम महसूस हो रहीं थीं। खटिया बुरी तरह से ‘चूं.

ऐसी कमसिन कली को चोदना कौन नहीं चाहेगा? मगर ये साथ दे तो ज़्यादा मज़ा आएगा. ’ करने लगी। मैं लगभग 5 मिनट उसकी चुत चूसने के बाद उसकी क्लिट पर अपनी जीभ फेरने लगा, इससे वो पूरा मदहोशी में आ गई और सीत्कारियाँ भरने लगी।मैं फुल स्पीड में उसकी क्लिट पर अपनी जीभ लपलपाते हुए चला रहा था, वो मस्ती में ‘उई. माँ ने कहा- अशोक, कहाँ जा रहा है?मैंने कहा- माँ चाची को सूई देना है, बस दे के आ जाता हूँ.

उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे और मत तड़पाओ प्लीज।मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उसकी चूत पर रख कर धक्का लगा दिया। वो आँख बंद करके चीख उठी, उसकी चीख से मेरी बड़ी साली जो दूसरे कमरे में सोई थीं.

!गुलशन ने अनिता के होंठों को अपने होंठों से लॉक किया और जोर से कमर को पीछे लेके एक धक्का मार दिया. ऋतु ने अपने मुंह में आये वीर्य को निगलते हुए चटखारा लिया और मुझसे बोली- और मुझे इस बात का भी अंदाज़ा नहीं था कि ये पिचकारी मारकर अपना रस निकालता है. मैं देख ही रहा था कि अचानक उस लड़के ने मुझे दोबारा देख लिया और उसने लड़की से कहा कि वो सीधी होकर बैठ जाए तो लड़की सीधी होकर आराम से पीठ लगाकर बैठ गई.

’ कह कर चल दी!फिर हमारी मुलाकात होने लगी और वो जब भी मिलता, हज़ार, दो हज़ार, पांच हजार खर्च देता. उसमें एक नंगा लड़का नंगी लड़की के बूब्स चूस रहा था और ज़ोर ज़ोर से दबा भी रहा था, फिर वो नंगा लड़का उसनंगी लड़की की चूतमें अपना लंड डालकर ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा.

इस तरह उछाल-उछाल कर चुदाई की कि उसके बाद मैं थक कर वहीं घास पर लेट गई. पर वो कहाँ रुकने वाला था। करीब 20 मिनट के बाद वो मेरी चूत में झड़ गया। उस वक्त मुझे अपनी चूत में बहुत गरम फील हुआ, वो निढाल से होकर मेरे ऊपर गिर गया। कुछ देर बाद वो जब हटा तब हमने देखा मेरी चूत और उसके लंड पर खून लगा था और कुछ चादर पर भी लग गया था।वो बोला- बधाई हो, आज तू लड़की से औरत बन गई।हम दोनों बहुत थके हुए थे तो सो गए।दोस्तो, मेरी औरत बनने की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी. धीरे-धीरे दीदी को भी चुत चुदाई में मजा आने लगा और वो फुल मस्ती में अपनी चुत में मेरा मोटा लंड में ठुकवाने लगीं.

पिक्चर सेक्सी बीएफ

आप बस उपाय बताओ।साधु ने मोना को उपाय बताया, जिसे सुनकर उसकी आँखें बड़ी हो गईं।मोना- ये कैसे होगा बाबा.

आंटी मस्त होकर गांड को पीछे करके मेरा साथ देने लगीं और चिल्लाने लगीं- व्हाट ए लंड यार. ‘ओके गुड़िया रानी, ठीक है एक बार और तुम्हारी चूत को झाड़ देता हूँ लेकिन तुझे भी मेरा एक काम करना पड़ेगा पहले?’ मैं उसकी पीठ और नितम्ब सहलाते हुए बोला. जैसे ही हमारे होंठ आपस में मिले, तभी मैंने जो सोचा नहीं था वो हुआ, वह खुद मेरे होंठों को अपने होंठों में जकड़ कर जोर से चूसने लगी और हम किस करने लगे.

मेरा हंसी के मारे बुरा हाल था, हरामज़ादी सुलेखा चाहती थी कि किसी भी सूरत में रीना घर पर न रुके, वर्ना उसकी वर्षों की चुदास कैसे बुझती. बस अब तो कभी नल पर पानी भरते हुए तो कभी आमने सामने से आते जाते उसे टक्कर मार देना, कभी उसे छू लेना तो कभी उसके बूब्स पर किसी ना किसी बहाने से हाथ लगा देना, ऐसी हरकतें करने लगा. बीएफ वीडियो चोदा चोदी फोटोमगर संजय नोक से उसको कुरेद रहा था और पूरी चुत को होंठों में दबा कर चूस रहा था।पूजा को तो जैसे दुनिया का सबसे हसीन तोहफा मिल गया था। वो हवा में उड़ने लगी थी और उसका जिस्म आग की तरह तपने लगा।पूजा- आह आह आह सस्स मामू उफ़फ्फ़ ये क्या आह.

वो तो सोई हैं, यहीं कर लेते है ना?काका के चेहरे पे खतरनाक मुस्कान आ गई, वो होंठों पे जीभ घुमाते हुए मोना को बांहों में लेकर बोले- नहीं मोना रानी. अच्छा अच्छा नाराज़ मत हो, आगे देखो अब आपके काम की कहानी शुरू होती है.

अगर मेरी बहन किरण तैयार हो जाए तो छुपने की ज़रूरत नहीं न पड़ेगी और फिर दोनों बहनें आमने सामने चुदा करेंगी. ऋतु का तो बुरा हाल था, उसने अपने दोनों हाथों से मेरे बाल पकड़ लिए और खुद ही मेरे मुंह को ऊपर नीचे करके उसे नियंत्रित करने लगी. उनकी ब्रा बहुत मस्त थी बिल्कुल मुलायम!थोड़ी देर बाद मामा मामी आ गए, रात को खाना खाया और सो गए.

मैंने बाथरूम का दरवाजा खोला और अंदर घुसा औऱ दरवाजा बंद किया तो शावर के नीचे एक 22 साल कीनंगी लड़कीजिसके पूरी बॉडी पे साबुन लगा हुआ था और चेहरे पे भी साबुन लगा था वो अपने शरीर पर साबुन मल रही थी. उसको पूछ के देखती हूँ कि सचमुच वो पराए मर्द से चुदना चाहती है या ये सिर्फ ऐसी चुदाई का सपना देखती है. अब जमीला मस्ताना चूस रही थी और मैं जमीला की चूत!जमीला की चूत का टेस्ट कुछ कसैला सा और नमकीन था.

मैंने इशारे से पूछा- क्या हुआ बहुत परेशान लग रही हैं?उन्होंने मुझे बोला- नींद नहीं लग रही है.

यह कह कर मैं सीट से उठा तो वो मेरा हाथ पकड़ कर बोली- बैठो आराम से!फिर दो मिनट के बाद फिर से बोली- क्यों डर गये? मैं तो मजाक कर रही थी और मुझे एक नॉटी सी स्माइल दे दी. फिर एक मेसेज आया- प्लीज़ कॉल मत कीजिए, सभी घर पर है मैं तमन्ना हूँ!बस फिर ऐसे ही हमारी मेसेज पर बात होने लगी, बातों बातों में मैंने उसे लिख दिया- मैं आपको बहुत पसंद करता हूँ!उसने भी रिप्लाई में लिखा- पसंद तो मैं भी आपको करती हूँ पर अगर किसी को पता लग गया तो मेरी बहुत बदनामी होगी.

तो भाभी ने अपनी साड़ी को ऊपर किया और चुदाई की स्थिति में मेरे ऊपर आकर मेरा 7″ का खड़ा लौड़ा अपनी चूत में ले लिया। उनको बहुत दर्द हुआ तो वो रुक गईं और हटने लगीं. मैं बड़ी मुश्किल से उनको अंदर लेकर गई और ससुर जी को कहा- पिता जी, आप जाओ, मैं फूफा जी का लिटा कर आ जाती हूँ. जब उसने महसूस किया कि पूजा एकदम बेजान पड़ी है, तो एक बार तो संजय भी डर गया कि कहीं बुर फट तो नहीं गई.

और मुझसे पूछा- कल कहाँ खोए हुए थे?तो मैंने डरते हुए कहा- मेरी नजर गलत जगह चली गई थी, सॉरी!तो वो बोली- गलत जगह कहाँ?मैंने कहा- आप पर! वो आप पूरी गीली हो गईं थीं तो कुछ थोड़ा ज्यादा ही…तो उन्होंने कहा- इसमें कोई गलत नहीं है. दो मस्त गोल और सॉलिड चूचे, जिन्हें मैं अपने पाँव से दबाता रहा, मगर मेरी इच्छा हो रही थी कि मैं मौसी के चूचे अपने हाथ से दबाऊँ और मुँह में लेकर चूसूँ. ’मैं अंकल के लंड को अन्दर से बाहर तक लेते हुए गीला करने लगी।अब वो मुझे अपनी गोदी में बैठाने के लिए तैयार हो गए.

बीएफ चोदाचोदी बीएफ साफ़ साफ़ बोल ना?’‘मेरी वेजाइना को लिक कर दो जैसे अभी किया था!’‘वेजाइना नहीं, इसे चूत कहते हैं. मैं जोश में जोर-जोर दबाने लगा तो भाभी मादक सिसकारियाँ लेने लगीं और गर्म होने लगीं.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ चुदाई

मेरी चूत में बिल्कुल जगह नहीं थी फिर भी वो मेरी चूत में अपना लंड घुसाने में तुला हुआ था. मैंने पूछा- चाची कैसा लग रहा है? दर्द में आराम है या नहीं?चाची ने मेरे आँखों में देखा और बोली- बहुत आराम है… तुम इसी तरह दबाते रहो!मैं चूची को दबाने लगा, मुझे लगा कि चाची मुझसे चुदना चाहती हैं… मैं मन ही मन खुश हुआ कि आज पहली बार किसी को चोदने का मौका मिलेगा. पर किसी कारण की वजह से वो यह स्टोरी अन्तर्वासना पर भेज नहीं सकीं और उन्होंने मुझसे इस सेक्स स्टोरी को अन्तर्वासना के माध्यम से आप सभी तक भेजने को कहा।इसलिए आज मैं यह स्टोरी आपको सविता भाभी की ज़ुबानी सुना रहा हूँ। मुझे उम्मीद है कि आपको पसंद आएगी।तो आइए सविता भाभी की कलम से लिखी हुई इस सेक्स स्टोरी की तरफ चलते हैं।हैलो फ्रेंड्स.

मेरे जितने भी दोस्त थे, जब कभी भी हम खेल खेल में एक दूसरे की निकर उतार कर देखते तो मेरी लुल्ली उन सब में दुगनी बड़ी थी. उसके 5 मिनट बाद भीगते-भीगते ही आई और मेरी गाड़ी में आकर पिछली सीट पर बैठ गई. सेक्सी बीएफ सेक्सी वीडियो फुल एचडीअब मैंने चुदाई की स्पीड और बढ़ाई और कुछ देर बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया.

जल्दी ही वो झड़ने लगी और मेरे मुंह में उसका गर्मागर्म रस आ गया और मैंने सारा पी डाला.

फिर मुझे ऐसा लगा जैसे मुझे कोई करंट लगा हो, मैं बिल्कुल हल्का हो कर हवा में उड़ गया हूँ, और इस दौरान मौसी ने इतनी ज़ोर से मेरे लुल्ले की चमड़ी पीछे को खींची कि वो टूट गई, और मेरे लुल्ले से खून बह निकला. अब तक की सेक्स स्टोरी में आप सभी ने पढ़ा था कि सुमन ने संजय के ग्रुप से हाथ मिला लिया था ताकि वो रैगिंग से बच सके।अब आगे.

चाची के जाने के बाद मैंने अपने कपड़े बदले और थोड़ी देर आराम करने के लिए बिस्तर पर लेट गया और कब नींद आ गई पता ही नहीं चला. रफीक- यार, मस्ताना बड़ा कमाल का है रात बहुत मजा दिया, मेरा चूसने का दिल कर रहा है. दोस्तो, यह मेरी सच्ची चोद चुदाई कहानी है, कैसी लगी, मुझे मेल करें![emailprotected].

वो इस तरह उठा कि पूजा को तंबू ना दिखे, वो करवट लेकर अलग हो गया।पूजा- मामू आप कितने अच्छे हो।ये कहकर पूजा ने संजय के गाल पर एक किस कर दी। अब ये तो आग में घी डालने वाली बात थी। बेचारा संजय सोच में पड़ गया कि क्या करे.

’ वह औरत बोले जा रही थी, मैं दबाते हुए मजा लेने लगा, उनकी चूची ढीली हो गयी था, वो आ… आ आ करते जा रही थी, फिर भी मैं बिना सोचे ही उसे दबा दबा कर दूध निकालने की कोशिश करने लगा. फिर मामा ने मेरी झट से मेरी पेंटी और टॉप उतार दिए और मेरी चुची को मुँह में लेकर चूसने लगे. बस अब मेरा टाइम हो गया, ये कभी भी खड़ा हो जाएगा फिर ज़रूर चोदूंगा भाभी को।काका- जो करना है बेटा.

सेक्सी बीएफ हिंदी सेक्स वीडियोमैं दर्द से रोने लगी।फिर उसने मुझे पेलना चालू किया। अपने दोनों हाथों से मेरे मम्मों को दबा कर उसने ज़ोरदार झटके देना शुरू किए।‘उफ्फ्फ. गोल, कड़ी और कसी चूची थी मैडम की… देख देख कर मेरा दिमाग खराब हो रहा था.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दीजिए

मेरा सब कुछ तो देख, छू लिया आपने अब बचा ही क्या है, बस नाम के लिए कुंवारी हूँ, मुझे नहीं रहना कुंवारी अब; कुंवारी चूत का क्या मैं अचार डालूंगी. उसने भी मुझे करीब 10 मिनट तक चोदा और उसने भी मेरी चुत में ही पानी छोड़ दिया. पूजा की कमसिन बुर को चीरता हुआ संजय का 8″ का तगड़ा मोटा लंड बुर में काफी अन्दर तक समा गया.

राजे कितना बड़ा बदमाश है इसका अंदाज़ इस बात से लगता है कि हरामज़ादे ने वहीं के वहीं दरवाज़े पे ही मुझे उठा लिया और कस के जकड़ते हुए मेरे होंठ से होंठ चिपका दिए. साथ में मुझे भी मार दिया। आप ही बताओ देवर जी, ये जवानी अब मैं कैसे संभालूँ?ये कह कर राधा मेरे गले से लग कर रोने लगी, उसके जिस्म का स्पर्श पाकर मेरा लंड खड़ा हो गया। मुझसे रहा ना गया तो मैंने भी उसे अपनी बांहों में भर लिया। वो भी यही चाहती थी।बस फिर क्या. फिर आबिदा ने कहा- अब मुझसे रहा नहीं जाता, प्लीज़ अब मुझे चोद दो जल्दी… प्लीज़ अब कंट्रोल नहीं होता!आबिदा ने अलमारी से कण्डोम का पैकेट निकाला और उसमें से एक कण्डोम निकालकर मेरे लंड पर लगाया.

वो बोला- यार अपना भी यही हल है, मगर एक तरीका है, जिससे हमें किसी लड़की को चोदने का मौका मिल सकता है, अगर अपनी किस्मत ने साथ दिया तो!मैंने पूछा- कैसे?वो बोला- फ्राइडे या सेटर डे को ट्राई करके देखते हैं. स्कूल गर्ल सेक्स दो चूत एक साथ-1स्कूल गर्ल सेक्स दो चूत एक साथ-2दोनों मेरे लंड को पकड़ कर उसके सुपारे पर अपनी उंगली फेरती तो कभी दोनों सुपारे के कट पर नाखून चलाती जाती. जब मैं बाथरूम से वापिस आया तब देखा कि चाची मेरे बिस्तर पर बैठी कुछ सोच रही थी, मैंने पूछा- मेरी प्यारी चाची जान, बड़ी गुमसुम सी हो कर बैठी क्या सोच रही हो?मेरी और देखते हुए वह बोलीं- मैं सोच रही थी कि क्यों न हम नीचे मेरे वाले कमरे में चलें.

रेलिंग से नीचे झाँक कर देखा तो बाजार की चहल पहल, दुकानों की रंग बिरंगी रोशनी, ट्रैफिक की भीड़भाड़ और शोर… स्नेहा की चूत में लंड फंसाए हुए ये सब देखना बहुत ही रोमांचकारी, आह्लादकारी लग रहा था. सबीना अभी भी मेरी गोलियों को चूस और चाट रही थी कभी कभी मेरी गांड के छेद को भी चाट देती!रफीक- आह आ गई मेरी जान, अच्छे से चाट मेरी गांड और राजेश का लण्ड भी, तेरे चाटने ने मजा दुगुना कर दिया मेरी जान.

अब तक इस हिंदी नोन वेज स्टोरी में आपने पढ़ा था कि गुलशन जी ने पक्का सोच लिया था कि वो सुमन को जरूर चोदेंगे और अब उनकी आत्मा भी गायब हो गई थी.

मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई स्टोरी कैसी लगी, मुझे मेल कीजिए![emailprotected]. सेक्सी बीएफ दिखाइए नाहम सभी ने हंसी मज़ाक करते हुए हल्का फुल्का नाश्ता किया तो जैसे ही रुचिका और अंशिका बर्तन लेकर नीचे जाने लगीं, रुचिका कहने लगी- आज का प्लान हम फीमेल बनायेंगी. आलो का बीएफअब मज़ा आने लगा है।अब काका ने मोना की कमर को कस कर पकड़ लिया और चुत में उंगली करते हुए उसकी गांड में तेज़ी से लंड पेलने लगे।मोना अब उत्तेजित हो गई थी, उसकी चुत भी गर्म हो गई थी। उसने काका से कहा- थोड़ी देर मेरी चुत में लंड डाल दो. अपनी फैमिली के साथ तो मुझे मामा-मामी दोनों ही बहुत प्यार से रखते थे।मुझमें सेक्स के प्रति रूचि शुरू से ही थी जब मामी मेरे को नहलाती थीं, तो मैं उनके मोटे-मोटे चूचों पर पानी डाल देता था.

पर मुझे खुशी भी थी कि मेरी पहली चुदाई में मुझे चोदने के लिए भी सील पैक माल मिला.

ऋतु ने सारा रस ऐसे पिया जैसे जूस पी रही हो और फिर वो खड़ी हो गई… उसका पूरा चेहरा भीगा हुआ था. मैं उनसे मिला, मामी खुश थी, उन्होंने मुझे अपना दूध पिलाया और मैंने उनकी खूब चुदाई. मैंने भी देर नहीं की और सटाक बुर के मुँह पर लौड़ा सटा के अपना लौड़ा पेल दिया और स्पीड में पेलने लगा.

मेरी अकेले में फटती है।मैं तो खुश हो गया क्योंकि वो भी मेरे जैसी चुदक्कड़ थी।हम दोनों की खूब जम रही थी।जब हम खेत के रास्ते में जाने लगे थे. मैंने बाहर आकर बेल बजाई तो थोड़ी देर में नीलम ने दरवाजा खोला और ड्राइंग रूम में ले गई. मैंने सोचा अब तो फंस गया हिमांशु… आज तेरी गांड की शामत आने वाली है.

सेक्सी वीडियो हिंदी भोजपुरी बीएफ

मैंने अपने लैपटॉप में लिखी उस रिपोर्ट की एक प्रतिलिपि अपने पापा के कमरे में रखे प्रिंटर पर छाप कर उसे दे दी. वो इस तरह उठा कि पूजा को तंबू ना दिखे, वो करवट लेकर अलग हो गया।पूजा- मामू आप कितने अच्छे हो।ये कहकर पूजा ने संजय के गाल पर एक किस कर दी। अब ये तो आग में घी डालने वाली बात थी। बेचारा संजय सोच में पड़ गया कि क्या करे. थोड़ी देर बाद रोहित ‘आअह्ह मेरी रांड आआह्ह्ह…’ करता हुआ मेरी चूत में झड़ गया, उसका सारा वीर्य कंडोम में रह गया.

फिर उसने मुझे हस्त मैथुन के बारे में सब कुछ बताया, सेक्स क्या होता है, कैसे होता है, बच्चा कैसे होता है, पीरियड्स क्या होते हैं, सब समझाया, और ये भी बताया कि जब मेरे लुल्ले का दर्द बिल्कुल ठीक हो जाएगा, तब हम क्या क्या करेंगे.

वाकयी मुरुगन मुझे जबरदस्त तरीके से चोद रहे थे और मैं भी अब उनका बड़ा लंड लीलने में अभ्यस्त हो गई थी तो मुझे भी इस मूसल लंड से चुदने में मजा आ रहा था.

तो मेरे पति बोले- ठीक है, जाओ रंडी की तरह पैसे लो और होटलों में जाकर चुदो! हमारा क्या है हम यही लंड हिला लेंगे. उसके मुंह में जीभ देकर एक दूसरे की जीभ चूसने लगे और उसकी चूची भी दबाने लगा. पटना का सेक्सी वीडियो बीएफउसने जांघों तक लाल रंग की ढीला कच्छा (अंडरवियर- शॉर्ट्स) पहन रखे थे और ऊपर एक काले रंग की टी-शर्ट.

उसकी चुत चलनी की तरह पानी झाड़ने लगी।राधा- आह ससस्स काका का लंड कितना बड़ा है. उसकी चुची 34″ के आस पास थी और रंग गोरा चिट्टा दूध की तरह…उससे और बातचीत हुई तो पता चला कि उसका पति सुबह जल्दी जाता है और रात को ओवर टाइम करके तब आता है. मैं बुरी तरह से डर गया था कि वह सुबह को जरूर कोई ना कोई नौटंकी करेगी और मेरी गांड छितवायेगी.

हम दोनों ऐसे ही सो गए।रात में हमने 3 बार सेक्स किया और हम सो गए। सुबह जब हम उठे तो भैया ने मुझे किस किया। सुबह तक मेरी बुर पूरी तरह से सूज चुकी थी। मुझे ठीक से खड़े होते भी नहीं बन रहा था, मैं कॉलेज नहीं गई. पर अमन ने 15 मिनट से ज्यादा नहीं चुदवाया। फिर दोनों ने मेरा लंड चूस-चूस कर ठंडा कर दिया और अमन ने मेरा पूरा माल मुँह में ले कर बाहर थूक दिया।अब तक रात के 12:15 बज चुके थे.

फिर हम लोग कुछ देर तक लेटे रहे, दीदी मुझे चूमते हुए प्यार करती रहीं.

धीरे से लंड का सुपारा अन्दर गया फिर आधे के लगभग लंड मेरे मुख में घुस गया था. लंड घुसा के कुचल दो इस चूत को आज!’‘ठीक है गुड़िया… फिर से सोच लो, बाद में मुझे दोष मत देना!’‘ओफ्फो, सोच लिया है सब. मतलब कल तुम्हारा कुछ खास करने का इरादा है? चलो अब तो कल ही देखेंगे.

पंजाब की बीएफ वीडियो कोई पशुओं के लिए बुग्गी में चारा लेकर जा रहा था तो कोई गेहूँ की फसल की कटाई के बाद भूसे से भरी हुई ट्रॉली को ट्रैक्टर से खींचकर ले जा रहा था. अगले दिन शाम को ऋतु ने बताया की पूजा की चार सहेलियाँ तैयार हो गई हैं अपनी चूत चटवाने के लिए… और वो इसके लिए दो-दो हजार रूपए देने को भी तैयार हैं.

उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मेरे अंडरवियर के ऊपर से ही रगड़ने लगा. पूजा भी ऋतु के रस से नहा चुकी थी और अपने मुंह से उसकी चूत को चाटने में लगी हुई थी. हम दोनों एक-दूसरे के नंगे जिस्मों पर निढाल पड़े थे। जैसे ही टाइम देखा, तो जल्दी-जल्दी कपड़े पहने और वहाँ से निकल पड़े। वे दोनों पूरे रास्ते मेरे लंड को दबाते रहे.

नंगी बीपी सेक्सी वीडियो

मगर हमारे सामने नाटक कर रही थी। अब उसके मुँह से हम उगलवा लेंगे कि वो चुदी हुई है, उसके बाद उसको बातों में फँसा लेंगे और साली खुद ब खुद चुदने को तैयार हो जाएगी। मगर तुम सब सुन लो, सालों ज़ज्बात में जल्दी आ जाते हो. मुझे नहीं पता?’‘लंड को हाथों से पकड़ कर इसकी चमड़ी को ऊपर नीचे करते हैं. फिर इस कच्ची कली को मसलेगा। यही सोच कर वो नीचे गया और उसकी उम्मीद के मुताबिक खर्राटे जोरों पर चल रहे थे यानि सब सो गए। वो धीरे से वापस ऊपर आ गया।संजय ने जब दरवाजा लॉक किया तो पूजा पलट गई और एक क़ातिल मुस्कान देने लगी।संजय- क्या बात है.

फिर मैंने उनकी चूत भी चाटी और हर रोज़ की तरह रात को ऋतु की चूत भी मारी. मैंने उसके कंधे पर हाथ रखा तो वो मैंने सीने से लग गई, मैंने उसके माथे पर किस कर लिया तो उसके हल्का सा विरोध किया तो मैंने उसके होंठ अपने होंठों से दबा लिए और चूसने लगा, साथ ही उसकी चुची को एक हाथ से सहलाने लगा.

एकदम काला मोटा साँप जैसा… मैंने उनके लंड को हाथ मैं पकड़ा और सीधा खड़ा किया और फिर हिलाने लगी.

इन सब का फ़ौरन असर हुआ और उसकी बुर फिर से पनिया गई और मेरे लंड को लगा कि चूत की गिरफ्त कुछ ढीली हुई है. उसने मरीज को देख कर उसे दवा लिख दी, मरीज को भर्ती कर उसे ग्लूकोस चढ़ाने की लिए बोली. साला तन कर फड़फड़ा रहा था। मुझे फिर से किसी को चोदने की तलब लग रही थी। मेरे पास जिनके मोबाइल नंबर थे.

मैं- नहीं यार, मैं अपने जज्बातों को छुपा नहीं पाऊँगा और मेरे आंसू बह जाएंगे. मनोज बोला- अरे तुम दोनों खुद में ही मग्न हो, जरा हमारी तरफ भी देख लो!अरमान नेहा की चूचियाँ चूसता हुआ बोला- हमें मज़े करने दो यार!मैंने देखा माहौल पूरा गरमा गया था, क्योंकि इधर मनोज और सुलेखा भी दुबारा एक दूसरे में लीन हो गये थे, सुलेखा अपने हाथ से अपनी चूची मनोज के मुंह में घुसाने लगी थी, तो रुचिका ने मुझे आँख मारी और मेरी गोद में आ गई. जैसे ही मुझे रफीक की गांड ढीली महसूस हुई मैंने दोनों हाथों का दबाव रफीक के कंधों पर दिया और नीचे से ऊपर को दबाव और मस्ताना रफीक की गांड में घुसता चला गया.

रफीक- आहह… भाईजान जोर से फाड़ो मेरी गांड को और जोर से… आज तुम मेरी बहन सबीना की गांड भी ऐसे ही चोदना.

बीएफ चोदाचोदी बीएफ: अगर तुम्हें कुछ हो गया तो?फ्लॉरा- मॉम, आपको हर वक़्त ये डर क्यों लगा रहता है. मेरे साथ ही मनोज भी सुलेखा को घोड़ी बना कर चोद रहा था, अरमान भी नेहा की चूत को चोदने में व्यस्त था.

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-13अभी तक आपने पढ़ा कि मैं रवि की तलाश में हिसार जा पहुंचा और बस में मिले संदीप की बाइक पर बैठकर रवि के गांव की तरफ जा रहा था. आप सबको नमस्कार, मेरा नाम कृष्णा है और मैं नागपुर महाराष्ट्र से हूँ. तो अमन ने रोहन की जगह ले ली और एक झटके में पूरा लंड आयेशा की चूत में डाल दिया.

उसने टीवी में चुदाई के सीन को देख कर मेरी बहन को चोदने के लिए उतावला हो गया और मेरी बहन को बिस्तर पर पटक कर मेरी बहन के दोनों पैरों को फ़ैलाते हुए मेरी बहन की चुत में लंड को पेल कर जोर से झटका मारा.

धीरे धीरे मैं उनकी गांड तक आया, एकदम गोरी, इतने बड़े बड़े उभार कि चूत के एक छोर से होती हुई एक लाइन आगे बढ़ रही थी और आगे न जाने कहाँ ख़त्म हो रही थी. थोड़ी सी बातों के बाद उसने फ़ोन काट दिया पर मैंने भी उसको फॉरवर्ड मैसेज भेजना शुरू कर दिया. मैंने ऋतु से कहा- मैं अपने दोस्तों को तुम्हारा और पूजा का शो दिखाने के ज्यादा पैसे चार्ज कर सकता हूँ या फिर दूसरा आप्शन यह है कि ऋतु अपनी चूत मेरे दोस्तों से चटवा ले.