सागर बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी मूवी दिखाइए

तस्वीर का शीर्षक ,

इंसानों की सेक्सी: सागर बीएफ, वो कभी पीछे मुड़ने के बहाने मुझे स्पर्श करता तो कभी हिलने डुलने के बहाने.

बैटरी बीएफ

धीरे-धीरे करके उसको भी अच्छा लगने लगा और वो भी मेरा पूरा साथ देने लगी. हिंदी बीएफ सेक्स ब्लू पिक्चरएक दिन निकिता ने बताया कि उसके घर वालों को अगले हफ्ते किसी काम से दो दिन के लिए गांव जाना है.

वो अपने शहर में पीजी में कमरा लेकर रहती थी तो मिलना मुश्किल हो रहा था. सेक्सी वीडियो बीएफ फुल एचडी सेक्सीमुझे पक्का यकीन है कि वो मुझसे चुदवाने में एक बार भी मना नहीं करेगी.

ज्योति ने शरमाकर अपनी नजर नीची कर ली।मैंने ज्योति की चोली को खोल दिया और उसे बैठाकर उसकी चोली को निकाल दिया.सागर बीएफ: लेकिन अंकल नहीं रुके, वो बोले- सरीना बिटिया, मुझे मत रोको प्लीज़ आज मैं तुझे बहुत मज़ा देने वाला हूँ.

बहू रानी ने अपनी साड़ी और पेटीकोट खोल दिया और बोली- तभी तो तेरे लंड से चुदाने यहां तीरथ पर आई हूं बहन के लौड़े, चूत की पूजा थोड़ी करवाने आई हूं.फिर हमने अपने कपड़े ठीक किए और बची हुई मूवी को बीच में छोड़कर ही वहां से बाहर आ गए.

देसी बीएफ नया - सागर बीएफ

[emailprotected]बहू ससुर सेक्स कहानी का अगला भाग:मुट्ठ मारो ससुर जी- 5.मैंने पूछा- इतनी रात में क्यों नहाई हो?उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा- बाल साफ करने थे.

ये देसी यंग गर्ल सेक्स कहानी मेरे साथ हुई एक सच्ची घटना पर आधारित है. सागर बीएफ मैं भी अब मजा ले रहा था और वो भी!कुछ ही देर में उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

वो बोले- कोई बात नहीं, ठीक हो जाएगा … आज एक बार फिर से लंड ले लेना, बिल्कुल ठीक हो जाओगी.

सागर बीएफ?

फिर मैंने उनका नाम पूछा तो उन्होंने अपना नाम प्रिया बताया, जो कि बदला हुआ नाम है. जब उसने मेरे लंड को देखा तो वो शर्मा गई और उसने अपनी आंखें बंद कर लीं. दो-तीन बार कोशिश करने पर भी जब लंड चुत में नहीं घुस पाया तो उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और अपनी चुत पर सैट करके मुझे इशारा किया.

मैंने भी सही मौका देखकर बिना देर किए फिर से दीप्ति के होंठों पर अपने होंठ लगा दिए और उसको चूमने लगा. एक आदमी ने सभी को गाड़ी से उतारा और एक हॉल में ले जाकर सबकी आंख की पट्टी खोल दी. अन्नू ने अपनी जीभ पूरी घुसा दी और साथ ही एक उंगली घुसा कर उसका दाना मसलने लगा।रूपा बिस्तर पर मचलने लगी, उसकी आहें निकाल रही थीं।आह उहह की आवाजों से कमरा गर्म हो गया।रूपा अब अन्नू का मोटा और लंबा लंड चखना चाह रही थी।जल्दी तो थी नहीं!रूपा ने यह महसूस कर लिया था कि अन्नू बिस्तर में आकाश से बीस ही बैठेगा और उसका लंड तो घोड़े जैसा है.

दीदी ने कहा- भैया मुझे मजा तो आ रहा है … लेकिन ये कुछ गलत नहीं हो रहा है?मैंने कहा- अरे यार दीदी इसमें कुछ भी गलत नहीं है. इतना कहकर वो बाहर चली गई और मैं अपने कपड़े लेकर गेस्ट रूम में चला गया. विधवा शब्द पढ़ते ही कैसे इन हवस के भूखे भेड़ियों के लंड हरकत में आ गए.

थोड़ी देर ऐसे ही नहाने के बाद हम तीनों नंगे की बाथरूम से बाहर आ गए और आकर बिस्तर पर लेट गए. दोस्तो, मैं रिशांत जांगड़ा आपके सामने अपनी मम्मी की चाचा जी के साथ शादी की कहानी पेश कर रहा हूँ.

ज्योति भी नीचे से अपनी कमर को हिलाकर चुदाई में मेरा भरपूर साथ दे रही थी।कुछ देर ज्योति को ऐसे ही लगातार चोदने के बाद जब मेरी उत्तेजना ज्यादा बढ़ी जा रही थी.

मैंने उसके मुस्कान देखी तो मुझे जरा साहस आया और मैंने हां में सिर हिला दिया.

दीदी ने अपनी बेटी को मोनिका की गोद में दिया तो मोनिका उसे अपने नंगे सीने से चिपका कर चुप कराने लगी. कुछ देर बाद मिहीन का काम तमाम होने वाला था तो उसने अपने लंड उसकी गांड से निकाल लिया. और Xxx यंग सिस्टर सेक्स का मौका जल्द ही मिल गया जब ज्योति की पहली बार ससुराल से विदाई हुई और वो घर आ गयी।घर आने के बाद जब पहली बार उसे देखा तो वो और भी खिल गयी गयी थी.

मैंने अपनी पैंट और अपना अंडरवियर जल्दी से उतार दिया और 69 की पोजीशन में आकर उसकी चुत को चाटने लगा. कुछ पल बाद सुमन आंटी ने मेरी मॉम को पटका और वो मॉम के ऊपर चढ़ गईं, मॉम के होंठों को चूसने लगीं. ”अब मैंने उनकी दोनों टांगों को चौड़ा कर दिया और लंड को चूत की गहराई तक पेलने लगा.

पीछे से ही मैंने दीप्ति को अपनी बांहों में लेकर अपने दोनों हाथ उसके मम्मों पर रख दिए और धीमे धीमे से सहलाने लगा.

मैं जल्दी से अपने कमरे में गई और दूसरी नाइटी पहन कर सास के कमरे में आ गई. कुछ ही पलों में कोमल दीदी ने अपना पानी छोड़ दिया जो मेरी जीभ पर आ लगा. मम्मी शायद अब अपने चरम पर आ गा थीं- आह … अब बस करो नरेश … आहचाचा- रेखा आआआ … मेरीइ … जानेमन … तुम्हारी चुत का गीलापन मेरे लौड़े को बहुत मजा दे रहा है.

मॉम ने जेनीका आंटी का एक निप्पल उसके पूरे दूध सहित अपने मुँह में ले लिया और वो ज़ोर ज़ोर से चूसने लगीं. मैं- तुम क्यों खुश हो?वो- आज मेरी बीवी रंडी बनेगी, तुम्हें रंडी बनना बहुत पसंद है न!मैं- हां मैं बचपन से चाहती थी कि मैं रंडी बनूं, मेरा वो सपना आज मेरा मर्द पूरा कर रहा है. इसलिए तेरे ससुर और मैंने निर्णय लिया है कि तू नरेश से …मम्मी ने दादी की बात काटते हुए कहा- मांजी मैं आपकी बहुत इज़्ज़त करती हूँ और मेरे बारे में इतना सोचने के लिए अच्छी बात है.

इससे अच्छा है कि भाई ने ही चोद दिया। और जो मज़ा खुद की बहन चोदने में है वो किसी और को चोदने में नहीं है.

यदि आप मुझे अपना दूसरा पति स्वीकार कर लें, तो मैं रोज आपको चोद देता भाभी. दीप्ति मेरी तरह एकदम नग्न अवस्था में सो रही थी जिससे मेरा मूड फिर से बनने लगा.

सागर बीएफ मैंने झट से उसको पीछे से पकड़ लिया और अपनी ओर घुमाकर उसको किस करने लगा. उधर अपना नहाना आदि पूरा करके मैं बाहर निकल ही रहा था कि मुझे ऊपर से किसी लड़की की पायल छनकने की आवाज आई.

सागर बीएफ मैंने पहले मैडम की गांड के छेद को देखा तो वो बिल्कुल सिकुड़ा हुआ था. वो पहली बार किसी मर्द के साथ ऐसा कर रही थी तो उसे कुछ ज्यादा आइडिया नहीं था.

[emailprotected]सेक्सी लड़की की चूत चुदाई कहानी का अगला भाग:दिल्ली में मिली लड़की की चूत गांड की चुदाई- 2.

बीएफ हिंदी सेक्सी सुहागरात

मैंने बोला- मेरी छोड़िए भाभी, आप बहुत सेक्सी और हॉट मस्त माल लग रही हैं. देसी गर्लफ्रेंड सेक्सी कहानी मेरी बिल्डिंग में ही रहने वाली लड़की की चुदाई की है। मैंने उसको गर्लफ्रेंड बनाकर चुदाई के लिए पटाया और एक रात छत पर बुला लिया. पतले कपड़े के ब्लाउज में से चाची की नीले रंग की ब्रा साफ़ दिख रही थी.

वह मस्ती में एक हाथ से अपने चूचे को दबा रही थीं और एक हाथ में मेरे सर को सहला रही थीं. उनकी समस्याओं को ध्यान से सुना और फिर उनके जाने के बाद आनन्द से इस विषय में चर्चा की. सेक्स कहानी के पहले भागदोस्त की गर्म बीवी की चूत चुदाई का जुगाड़में अभी तक आपने पढ़ा था कि कैसे मिताली और मेरे बीच चुदाई का मौसम बना, पर ऐन वक्त पर मिताली और मुझे रुकना पड़ा.

मेरा मुँह बंद मत करना … फाड़ दी तुमने … आह मेरे बाप के लौड़े … जरा बाहर तो निकाल हरामी.

पर नैना के साथ मेरा ऐसा रिश्ता बन गया था जिसे मैं भूल नहीं पा रहा था. वो मम्मी के साथ खाना बनाने चली गई और मैं अपने रूम में बैठ कर टीवी देखने लगा. मेरे घर में मैं, मेरी वही बुआ और दादा दादी और कभी कभी मेरे चाचा जी भी आ जाते थे.

उसने अपनी गांड से दरवाजे को धकेल कर बंद किया और बोला- आह मां की लौड़ी, कितनी हॉट माल लग रही है तू!सच में मुझे इतनी ख़ुशी कभी नहीं मिली थी. उसका वीर्य इतना ज्यादा निकला था कि मेरी चुत में से बाहर निकलने लगा था. गुरु बाबा सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने एक बाबा से अपनी चुदाई करवाई थी.

मैंने बाबा जी और उस्ताद जी को अपना नंबर दिया और कहा- अब जल्दी से नया फोन ले लो, हमारा मिलना जुलना लगा रहेगा. अब मम्मी को स्कूल ले जाने के लिए महेश सर घर आने लगे थे और वो उन्हें छोड़ने भी आते थे.

सबसे बड़ी बात तो ये कि एक इक्कीस साल की लड़की की जिस तरह से चुदाई हो रही थी, वो सबसे मस्त लग रही थी. मेरे मामा की बेटी की उम्र 19 साल है, हाइट 5 फुट 2 इंच और फिगर 30-28-32 का है. वह रोने लगी और हाथ जोड़कर बोलने लगी- अंकल मुझे छोड़ दो, ये सब मुझसे नहीं होगा.

अंजलि मेरा लंड देख कर बोली- वाह क्या धांसू लंड है भोसड़ी वाले का … यह तो मेरी फाड़ ही देगा.

अपने आपको इस हालत में पाकर वह थोड़ा शर्माने लगी और कंबल में छिप गई. लेकिन अब तक हमारा मूत का दबाव बन गया तो हम दोनों बस से उतर कर होटल के टॉयलेट में मूतने गए. मैंने इन्स्टाग्राम से एक लड़के को सेट करके उसका लंड चूसा, गांड मरवाई.

दस मिनट में ही मेरे लंड ने हार मान ली और मैंने पानी उसकी गांड में ही छोड़ दिया. पिछले भागचाचा ने मम्मी की चूत चाटीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरी मम्मी चाचा के लंड को चूसने लगी थीं.

ये टीचर Xxx चुदाई कहानी तब की है जब मैं जवान हो गया था और पढ़ता था. वो बोली- मैंने पहले कभी गांड नहीं मराई, मैंने सुना है कि उधर बहुत दर्द होता है. फिर शाम हो गयी तो बुआ मेरे लिए और अपने लिए चाय बना कर लाईं और इधर उधर की बात होने लगीं.

निग्रो बीएफ

इस सेक्स कहानी का आज फिर से लिखने का एक विशेष कारण है जो आपको ये टीचर की सेक्सी चुदाई कहानी पढ़ कर समझ आएगा.

लेस्बियन गर्ल्स पार्क सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं और मेरी सहेली नर्स हैं, हम आपस में समलिंगी सेक्स का मजा लेती हैं. अब वो उन 4 मकानों में जा नहीं सकती थी … क्योंकि उधर पॉजिटिव मरीज थे. मैडम ने अपनी ड्रेस ठीक की, पर वो अब भी पूरी तरह होश में नहीं थीं, तो मुझे उनकी जांघ के अन्दर वाला हिस्सा दिखने लगा.

वैसे तुमने अभी तक कभी किसी का लंड देखा है?वो बोली- हां पापा का … लेकिन उनका तो बहुत छोटा और पतला है. हम दोनों पूरी लेस्बियन बन चुकी थीं और उसकी आवाज आने लगी थी ‘आह आह जान मेरा होने वाला है रुकना मत … डालती रह प्लीज …’तभी प्रियंका ने मुझे हटाया और बिस्तर पर ही फारिग हो गयी. बढ़िया वाली बीएफ फिल्मनिकिता अपनी पूरी गांड दिखाते हुए नीचे झुकी और उसने चाची के पेटीकोट को ऊपर कर दिया.

फिर भाभी ने कहा कि बहुत दिनों के बाद इतना झड़ी हूँ, अब रहा नहीं जाता. कुछ देर बाद चाचा अपने होंठों को मम्मी के होंठों से धीरे धीरे हटाते हुए उनसे कहने लगे- अब ठीक है?मां- उन्ह …चाचा- क्या हुआ?मम्मी- मुझे दर्द हो रहा है.

अब वो मम्मी की चुत के दाने के साथ साथ पूरी चुत पर ऊपर से नीचे तक अपनी जीभ चलाने लगे. अम्मी जोर जोर से सांसें लेने लगीं- आह … उह … मत कर … आह … आग लगा दी … उह ओह!अब अम्मी ने मेरा सर पकड़ कर अपनी चूत में दबा लिया और इसी के साथ उनकी चूत ने गर्म गर्म पानी छोड़ दिया. मेरा मन एकदम से कामुक हो गया और ऐसा मन करने लगा कि इसको अभी यहीं पर पकड़ कर चोद दूं.

मैंने कहा- क्यों क्या हुआ … कैसा महसूस कर रही हो?वो बोली- यार पता नहीं … अन्दर से बड़ी आग सी लग रही है. वर्जिन होने की वजह से उसे बहुत दर्द हो रहा था और उसकी चूत से खून भी निकल रहा था. मम्मी की चुत बिल्कुल मेरे सामने थी, एकदम काले रंग की, उस पर एक भी बाल नहीं था.

माया- तुम निकिता को घर छोड़ आओ … और पैसे लेते आना, चाची को देने है.

इसके बाद लॉकडाउन में हम दोनों कई बार मिले और मैंने Xxx दूधवाली सेक्स का मजा लिया. डॉक्टर भी समझ गया कि ये गर्मा गई है तो उसने सोनी से कपड़े उतार कर नंगी होने को कहा.

इसी तरह से धीरे धीरे करते हुए मैंने पूरा लंड लड़की की गांड में पेल दिया था. उधर से आवाज आई कि अभी तक पता नहीं लगा सके, तो सजा कैसे दोगे?मैंने कहा- जिस दिन मौका मिलेगा, उस दिन ऐसी सजा दूंगा कि गांड फट जाएगी. फिर हमारे बीच वो लंबा किस चला जिसमें भाभी और मैंने एक दूसरे के होंठों को खूब चूसा.

मैंने एक और झटका मारा तो आधे से ज्यादा उसकी चूत में मेरा लन्ड जा चुका था क्योंकि उसकी चूत बिल्कुल गीली हो रही थी।इतने वो चिल्लाने की कोशिश करती, मैंने उसके होठों से अपने होंठ चिपका दिए और तीसरे झटके में मेरा 6 इंच का लन्ड उसकी चूत में समा गया. वो गांड उछाल उछाल कर मजे से चुदाई करवाए जा रही थी और मैं भी तेजी से उसे चोद रहा था. वो दूध लेने जाने लगा तो मैंने उसे रोक लिया कि अरे ले आना यार … मुझे कौन सी जल्दी है.

सागर बीएफ मैं उसके पास एकदम सट कर सो गया और उसके गाल के पास मेरा मुँह लेकर आ गया. छोटी रानी इस एक तरफा हमले के लिए तैयार नहीं थी पर अशोक का औजार शानदार था.

बीएफ भेजो हिंदी में बीएफ हिंदी में

मैडम ने अपनी ड्रेस ठीक की, पर वो अब भी पूरी तरह होश में नहीं थीं, तो मुझे उनकी जांघ के अन्दर वाला हिस्सा दिखने लगा. मैं जो थोड़े बहुत मजे पल्लवी के साथ ले रहा था, वह भी गया क्यूंकि अब वह कम्बल दबा कर लेट चुकी थी. तकरीबन दो मिनट इस छोटी सी लड़ाई के बाद चाचा ने मम्मी के दोनों हाथों को अपने हाथों से पकड़ा और उनकी टांगों को अपनी टांगों से जकड़ लिया.

दरअसल मैं अपनी गर्लफ्रेंड फौजिया के परिवार से काफी पहले से जुड़ा हुआ हूँ और उसकी अम्मी मुझे काफी पसंद करती थीं. चाचा की लड़कियों में सबसे बड़ी का नाम सपना, दूसरी हीर, तीसरी वैशाली और चौथी का नाम माया था. हिंदी बीएफ गर्ल्समैंने जोर लगाकर सुनील का पानी अपनी चूत से निकाल दिया जिससे मेरे पेशाब की भी दो तीन बूंद निकल गयी.

ये कह कर उन्होंने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और वैसे ही टॉयलेट में जाकर नंगे ही कमोड पर लैट्रिन करने बैठ गए.

पर मैं तुम्हारे अन्दर अपना वीर्य और नहीं छोड़ूँगा क्योंकि तुम्हारा इस उम्र में मां बनना अच्छा नहीं लगेगा. मैंने दो वेज थाली का कूपन लेकर काउंटर पर दिया, उसने मुझे बताया कि दस मिनट समय लगेगा.

थोड़ी ही देर में उसकी बुर ने गर्मागर्म पानी छोड़ दिया और वो शांत हो गई. उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिया लिया और मेरी साड़ी और पेटिकोट को निकाल दिया।मैं उनसे कुच्छ भी कहने की स्थिति में नहीं थी, मुझे मजा आ रहा था।फिर वो सब नंगे हो गए और सबने बारी बारी अपना लन्ड मेरे मुंह में देने शुरू कर दिया।मैं भी बड़े छोटे लंड अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. मैंने एक जोरदार धक्का देकर पूरे लंड को मुँह में घुसा दिया और उसके मुँह को कस कर पकड़ लिया.

उस रात में मैंने भाभी की 3 बार चुदायी की और उनकी गांड में भी उंगली की.

बहुत समय से मैं एक ही मोहल्ले में रह रहा था, तो पड़ोस के लोगों से काफी अच्छी पहचान हो गई थी. नैना- आप फिर से अन्नू जी कहां खो गए!मैं- कहीं नहीं, नैना जी सुबह-सुबह आप जैसी हसीना के दर्शन हो गए, समझो आज का दिन बढ़िया निकलेगा. मैंने भाभी की मखमली चूत को हाथ में भरकर जोर से मसल दिया, वो तिलमिला गईं.

बीएफ हिंदी देहाती सेक्सफिर जब मैंने कहा- बस करो!तो रिशू ने कहा- भाई अब थोड़ा और रुक जाओ, मुझे चूस लेने दो, मुझे बहुत मजा आ रहा है ऐसा करने में!मैंने कहा- ठीक है, तुम चूस लो जितना मन हो! फिर मैं भी जितना मन होगा उतनी देर तेरी बुर चोदूंगा!रिशू बोली- ठीक है भाई … अब तो मैं तुम्हारी ही हूं जब मन करे तब चोद लिया करना!तो रिशू बहुत देर तक मेरे लंड को चूसती रही, खेलती रही. पर मैं रोज ही अन्डरवियर में सोया करता और कभी मामी तो कभीश्वेता आन्टी की चूत चुदाईको सोच कर लण्ड को सहलाया करता।कुछ दिन और बीते.

बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म देसी

हॉट नर्स सेक्स कहानी में पढ़ें कि हमारे हॉस्टल में डॉक्टर्स का क्वारनटीन सेंटर बना तो एक नर्स मुझे पसंद आयी और मैंने उससे दोस्ती कर ली. मैं थोड़ी देर में आवाज निकालने लगी- आह … उह आह हूम्म!जैसे मैं आवाज निकाल रही थी तो भाई ने अपने मुंह में मेरे होंठ भर लिए और जोर जोर से चूमने लगा।थोड़ी देर में मेरी चूत से पानी निकल गया, मेरी चूत तर हो गयी. [emailprotected]थ्रीसम सेक्स हॉट स्टोरी का अगला भाग:लॉकडाउन में मिला शानदार चुदाई का मजा- 3.

उनकी टांगें काफी खूबसूरत थीं, उन्होंने पिंक कलर की पैंटी पहन रखी थी. फिर मैंने उसकी चूत में अपना लन्ड डाला; आधा लन्ड ही अंदर गया था कि उसे थोड़ी मुश्किल होने लगी, क्योंकि मेरे लन्ड की लंबाई तो सामान्य है लेकिन उसकी मोटाई बहुत ज्यादा है तो उसकी वजह से उसे दर्द हुआ. जब मेरी बुआ चलती थीं, तो एक टुकड़ा ऐसे दूसरे के ऊपर चढ़ जाता था जैसे कि भूखा शेर हिरण के ऊपर चढ़ कर उसको दबोच लेता है.

आपको मेरी गैंग बैंग पोर्न स्टोरी कैसी लग रही है?आप अपने विचार मुझे[emailprotected]पर मेल में भेजें।मुझसे आप फेसबुक पर Fehmina. चाचा मम्मी की चुत का रस चाटते हुए कहने लगे- ओह मेरी गुलबदन, तुम्हारी चुत से निकलता हुआ ये नमकीन पानी तुम्हारे जैसा ही नशीला है मेरी जान … मजा आ गया. इधर सामने से रमेश अपने घुटनों पर बैठ गया और उसने मिहीन की फैली हुई टांगों के बीच से घुस कर मीरा की चूत को जीभ से चाटना शुरू कर दिया.

’उधर दूसरी रानियां पर्दे की आड़ में अपनी अपनी चूत को मसल रही थीं और सोच रही थीं कि उनका नंबर कब आएगा. मैंने कहा- मेम, बड़ी महक रहो हो आप!मेम- हां आमिर, मुझे खुल कर महकना है.

मैंने फोन काट दिया और उसी वक्त मैंने आनन्द को अपने केबिन में बुलाया.

उनके चूतड़ इतने बड़े थे कि जब वो चलती थीं तो उनके पिछवाड़े एक दूसरे के ऊपर चढ़ते थे. हिंदी बीएफ मारवाड़ीमदन- हम लड़कों को पुरुष वेश्या नहीं, बल्कि कॉल ब्वॉय बोलते हैं, याद रखना. हिंदी मराठी सेक्स बीएफमैंने इशारा किया तो लूसी मेरा लंड मुट्ठी में लेकर सड़का मारने लगी और मैं झड़ गया. वैसे तो उनके घर में 3 कार हैं, पर उनकी बेटी खुद ड्राइव करती है, तो ड्राइवर सिर्फ एक ही है.

नमस्ते, मैं रवि राजपूतमेरी पिछली कहानी थी:चलती बस में साली की चूत की चुदाईआज फिर एक नई सेक्स कहानी के साथ वापस आया हूं.

पर एक चिंता ये भी थी कि अगर कोई कपल मन माफिक नहीं मिला, तो यहां आना बेकार हो जाएगा. आपको मेरी BDSM यूरिन सेक्स कहानी पर क्या कहना है, प्लीज़ मुझे मेल करें. मैंने उससे बोला- आज मैं तुम्हें कार चलाना सिखा दूंगा, सीखोगी?वो मान गई.

हालांकि वो अपने ब्वॉयफ्रेंड से कई बार चुद चुकी थी लेकिन उसके ब्वॉयफ्रेंड से अब उसका ब्रेकअप हो गया था. मैं तो बस यही चाहती हूं कि घर में अच्छी बहू आए और इस घर में तेरे से अच्छी बहू कौन हो सकती है. मैडम ने मुझे रोका और कहा- स्लो स्लो करो … जल्दी में तुम्हारा लंड फिर से झड़ जाएगा.

लक्ष्मी सेक्सी बीएफ

उसके बूब्स काफी मुलायम थे तो मुझे भर भर कर मसलने में खूब मजा आ रहा था. थोड़ी देर बाद मैं अपने आप को साफ करके वापस आ गयी तो नीरज अपना लंड सहला रहा था. इसके बाद रोज मैं मेरी दीदी की मालिश करने लगा, दीदी मालिश के बाद अपनी चूत चुदाई कराने लगी।प्रिय पाठको, आपको यह न्यूड सिस्टर Xxx कहानी कैसी लगी? मुझे अवश्य बताएं.

एक एक पैग दारू पीने के बाद अब्दुल और राहुल ने सिगरेट सुलगा ली और धुंआ उड़ाने लगे.

उनका सजना संवरना सिर्फ पापा के लिए था तथा वह पापा के साथ बहुत खुशी से रहती थीं.

उसके लंड चूसने का स्टाइल ऐसा था कि आज भी वो सीन याद करता हूँ, तो मुठ मारना पड़ता है. इसके अलावा इस सेक्स कहानी को लिखते समय मैंने एक दिल्ली वाली पाठिका से भी नेट पर बात की है तथा उसके साथ वीडियो सेक्स भी किया है. बीएफ बीएफ बीएफ मूवी’चाचा मम्मी की नाभि पर अपना मुँह रखकर जोर से दबाने लगे, ऊपर नीचे और गोल गोल करके अपने होंठ रगड़ने लगे.

ऊपर से साला इतना चिकना और सेक्सी दिखता था कि उसको देख कर मुठ मारने का मन हो जाता था. चूंकि कैमरे में सिर्फ सीन आ रहा था, आवाज नहीं आ रही थी, मैं झट से बाथरूम के दरवाजे के पास आकर उनकी आवाजें सुनने लगा तो वो मेरा ही नाम लेकर अपनी मुठ मार रही थीं. भाभी ने कहा- कर दिया ना अपनी भाभी को खराब … ले लिया मजा?ये कह कर भाभी हंस दीं.

उसके बाद भैया ने मुझे बताया कि रात को हम सबको एक रिसेप्शन पार्टी में चलना है. मैंने हल्के से खांसा, उसी समय उसने मेरी तरफ देखा तो मैंने धीरे से उसको आई लव यू बोल दिया.

वो पापा के रूम में चले गए तो मेरा भाई ज़िद करने लगा कि मैं अंकल के साथ ही सोऊंगा.

हम एक दूसरी को चूमती हुई बेड की तरफ आ गईं और लेट कर अच्छे से लिपट गईं. तीन घंटे बाद उठकर उसने मुझे किस किया और बोला- भाभी, आज के बाद मैं आपको हमेशा चोदूँगा और आपका दूध भी पी लूंगा. वो बोली- मैं किसी को नहीं बताऊंगी, पर तुम मुझे जैसे लेकर जा रहे हो, वैसे ही कुछ दिन के बाद लेने आ जाना और आज वापस मत जाना, कल जाना.

बीएफ फिल्म हिंदी में देसी तभी मैंने देखा कि मैं हिल भी नहीं पा रहा हूँ क्योंकि मेरे हाथ और पैर बेड पर बंधे थे. मेरे चूसने से दीप का लंड फिर से कड़क हो गया तो नीता ने अपने पति के लंड को तेल से नहला दिया, खूब चिकना कर दिया.

थोड़ी देर बाद मैंने फिर से लिखा कि मैंने आपको कहीं देखा है, बस याद नहीं आ रहा है. अब मैंने उसे आवाज दी- क्या नाम है?उसने अपना नाम बताया लेकिन ट्रैफिक होने के कारण सुनाई नहीं दिया, वो आगे बढ़ती जा रही थी. मैंने उससे कहा- यार मीना, तुझे क्या लेना था, चल अभी चलते हैं … वरना 8 तक कुछ नहीं मिलेगा.

उनकी बीएफ

उस रात मुझे नींद नहीं आ रही थी तो मैंने सोचा कि क्यों ना मैं राहुल के कमरे में जाकर उससे बातें कर लूं. कुछ देर भाभी के मम्मों से खेलने के बाद मैंने उनके पेट पर चूमना शुरू किया. हम दोनों पार्क सेक्स छोड़ कर अकबका कर उठी और जल्दी से अपने कपड़े ठीक करके अपने मास्क लगा कर बैठ गयी.

फिर हम दोनों अलग हुए तो मेरा पूरा मुँह उसकी लिपस्टिक से लाल हो गया था. मैं अब निकिता को रोज उसके आने के टाइम पर दरवाजे पर आकर उसे गुडमॉर्निंग बोलने लगा.

कभी कभी जब मेरा घर खाली रहता, तो रोहन अपनी जुगाड़ जैनब को मेरे घर लाकर इसके साथ मस्ती करता था.

वो इतने तेजी से दूध दबा रहा था जैसे उसका प्लान ही मेरे मम्मों को बड़े करके रोज़ उसके मज़े लेने का हो. फिर मैंने भाभी को बेड पर लिटाया और उनकी चूत पर ऐसे टूट पड़ा जैसे कोई भूखा भिखारी मलाई के दौने पर टूट पड़ता है. मॉम ने सुमन आंटी की दोनों चूचियों को आटे की तरह गूंथना शुरू कर दिया.

मुझे थोड़ी शर्म सी आ रही थी लेकिन चूत में तो आग लगी पड़ी थी जो बिना लौड़े के शांत नहीं होने वाली थी।फिर भैया ने मेरी चूत में अपने उंगली डालना शुरू कर दिया और साथ ही मेरे लबों का चुंबन कर रहे थे।भाई मेरे बूब्स को अपने हाथों से मसल रहे थे. जब वो मुझे किस करके हटा, तब उसने मुझे भूखे कुत्ते की तरह देखा, मैं डर सी गई. मुझे फिर से दर्द हुआ, लेकिन इस बार पहली बार के मुकाबले में दर्द कम था.

थोड़ी देर बाद मैं लंड को चूत में रगड़ने लगा और धीरे से लंड को अन्दर पेल दिया.

सागर बीएफ: इधर नौकर ने आज तक अपनी बीवी को भले ही भूखी रखा हो, मगर हवेली की सारी नौकरानियों की चूत चोद चुका था. वैसे भी बी एफ दिखाकर पति ने मुझे एक्सपर्ट बना दिया था।मुझे उसका जवान काला लंड चूसने में बहुत मजा आ रहा था.

मैं ठण्ड लगने का नाटक करके तुरंत रजाई में आ गया और रिशू के पैर में पैर लगाया. पर वो झूठ मूठ का मना करने लगी- नहीं जीजू, ये सही नहीं है।पर वो अंदर ही अंदर बहुत खुश थी उसने अपने दिल की बात मुझे बाद में बताई थी कि मैं भी आपको पसंद करती हूँ।तो इस घटना के बाद हम सेक्स करने के लिए मौका ढूंढ ही रहे थे कि एक दिन मेरी बीवी को मेरे मम्मी पापा का काल आया और वो घर जाने के लिए बोलने लगी. आज की सेक्स कहानी सिर्फ चड्डी खोली और चुदाई चालू वाली कहानी नहीं है.

चाचा चूमते चाटते हुए अपना हाथ उनकी कच्ची पर ले आए और कच्छी को धीरे-धीरे नीचे की ओर सरकाते हुए उतारने लगे.

मानव अभी दूसरे शहर में आराम से सो रहा होगा और इधर में उसकी बीवी की चूत का बाजा बजा रहा था. उसकी इस बात को जानकर मुझे काफी अच्छा लगा और ऐसा अलग कि इसके साथ दोस्ती करने का ये अच्छा मौका मिल गया है. हम दोनों अपनी कमर हिला हिला कर चुदाई का मज़ा ले रहे थे और बुआ अपनी चूत चटवा रही थीं.