एमएमएस बीएफ

छवि स्रोत,ब्लू फिल्म दिखाइए नंगी वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

चूड़ी जो खनके हाथ में: एमएमएस बीएफ, मैं उसकी कमर पर हाथ रखे हुए नाच रहा था, कभी कभी मैं उसके चूतड़ों पर भी हाथ घुमाता जा रहा था.

বিএফ সেক্সি পিকচার

उन्होंने एक बार मेरी तरफ देखा और दूसरी नजर कमरे के दरवाजे और खिड़कियों पर डाली. बीएफ देसी गांव कीभाभी ने राहुल को गले से लगा लिया और दोनों ही एक दूसरे के होंठों को जोर से चूसने लगे.

कहानी का पहला भाग:बीवी को गैर मर्द से चुदाई के लिए पटा लिया-1और मेरी फेंटसी पूरी हुईऔर फिर शनिवार का वो बहुप्रतीक्षित दिन आ गया. सेक्सी फिल्म हिंदी में गानावो समझ गई कि यही वो रणभूमि है, जिधर लंड चूत की कुश्ती होने वाली है.

वॉयलेट- इस संडे में घर आ जा प्लीज़ और कुछ पढ़ा देना यार … फिर चले जाना.एमएमएस बीएफ: उसने बीयर की पूरी बोतल एक बार में ही खाली कर दी और इस दौरान कुछ बीयर उसके मुँह से बह कर गोरे गाल और उधर से गले से होते हुए लो-कट टॉप के बीच से होता हुए उसके मांसल मदमस्त उभारों को भिगोने लगी.

वो जब भी झाड़ू लगातीं या पौंछा लगातीं, तो मेरी नजर या तो उनके चुचों पर होती या फिर गांड पर टिकी रहती.थोड़ी देर शांत रहने के बाद भाभी कहने लगीं- तुझे उनको यह सुख देना चाहिए़.

बीएफ फिल्म दिखाइए वीडियो में - एमएमएस बीएफ

फिर मैंने भी एक झटके में उसे नीचे लिटाया और उसके ऊपर आकर उसे हर जगह किस करने लगी.वो आह आह करने लगी और ‘अंदर तक अपनी जीभ डालो … जानू खा जाओ मेरी चूत के दाने को!’ ऐसा बोलने लगी.

मुझे कोर्नर पे ड्रॉप करके वो मुस्कुराते हुये चला गया, मैं भी दिल में मुस्कुराहट लेकर अपने घर की तरफ निकल पड़ी. एमएमएस बीएफ उसकी चूत में दो उंगलियाँ डाल कर मैंने सारा पानी निकाला और उसके चुचों पर मल दिया और बोला- सच पूछो तो तुम दोनों बहनों की चूत बहुत मस्त है.

क्या रात भर करोगे?”तो क्या … आज रात न मैं सोऊँगा, न तुमको सोने दूँगा.

एमएमएस बीएफ?

उन्होंने मेरे लंड की तरफ देखा और एक कातिलाना स्माइल देते हुए अन्दर आ गईं. वैसे परमीत और मनु के बारे में ही सुनो तो अच्छा है, क्योंकि मेरे में बताने लायक कुछ खास था भी नहीं. जब हम खुले में आए तो वहां हमारे जैसे दो-तीन और कपल भी थे जो हमें बाहर आने के बाद दिखाई दिये.

ये कहते हुए मैंने अपना लंड गांड से निकाल कर खूबसूरत गीली चूत में घुसा दिया. लेकिन मैं नहीं चाहती थी कि किसी को ये बात पता चले कि मेरा भाई गांडू है. अब रोहित संजू के ऊपर आ गया और उसकी चूत में थूक लगाकर अपना लंड घुसा दिया.

उसके यौवन का दूर से लंड का रसपान करना देखना भी किसी अमृत पी कर तृप्त होने से कम ना था. मैं और ऊपर हो गया और उनके बारी बारी से उनके दोनों मम्मों की टोंटियों को अपने होंठों से दबा कर चूसने और मींजने लगा. मेरा दिल कर रहा था कि अभी जाकर चाची को पीछे से पकड़ लूं और अपना लंड निकाल कर वहींचाची की गांडमें एक झटके में ही पूरा बैठा दूं.

संजू उठी, तो उसकी चूत से एक काफी गाढ़ा सा सफेद वीर्य, थक्का की शक्ल में बेड पर गिर गया. सिनेमा हॉल में हमकों कोने वाली सीट भी मिल गयी और हम दोनों मूवी देखने लगे.

जैसे जैसे सुनील स्पीड बढ़ता वैसे वैसे ही दीपा मनोज का लंड लप लप करती.

उसकी सास ने कहा कि हम लोग तो कल ही मेहमानों के लिए सारे उपहार खरीद लायेंगे.

वह भी पता नहीं क्यों? हालांकि मुझे जब भी जिसने चोदा यही बोला कि बंध्या तेरी चूत बहुत टाइट है. मैंने भाभी की चूत को पहले कुछ जगहों पर चूमा, बाद में कमर पर काटा और भाभी की गांड पर तीन चांटे मार दिए. कुछ देर तक मम्मों को दबाने और चूसने में ही यशिमा बहुत अधिक गर्म हो चुकी थी.

चूंकि मेरी गांड भी मारी गई थी, इसलिए मेरी गांड भी छिल कर खून से सनी हुई थी. मेरे पति के बॉस मेरे जिस्म की आग को ठंडी करने वाले थे लेकिन उससे पहले वो उस आग को और भड़का रहे थे मुझे चूम चाट कर … मैं भी चुदाई को आतुर थी. अगर अभी से अपना पानी खत्म कर दोगे, तो अपनी पत्नी को क्या दोगे?चाची के मुँह से ये बात सुनते ही मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया, जिसे चाची ने देख लिया था.

साथ ही वो मेरा सर दबा रही थी कि मैं उसके मम्मों को और जोरों से चूसूं, जिससे उसकी चूत में चुदास बढ़ने लगे.

मैं तड़पते हुए इतनी गर्म हो गई कि मेरे हाथ बेड की चादर को कचोटने लगे. मैंने मां से कहा- मां मुझे पैसे की जरूरत नहीं है, मगर जो मैं मांगने जा रही हूं उसके सामने मेरे लिए पैसा कुछ भी नहीं है. ये सबका तय था कि चूंकि दो दिन कहीं बाहर नहीं जाना, बस इसी विलेज में रहना है जहां स्टाफ के अलावा कोई बाहर का नहीं आएगा तो इन दो दिनों कोई भी लड़की या लड़का अंडरगारमेंट्स नहीं पहनेगा.

जब पापा का लंड बिल्कुल कड़क हो गया तो मैंने अपनी टांगों को फैला कर पापा के लंड पर अपनी चूत को रख दिया. अब मैं लगातार उसकी चूत चाट रहा था और वो सिहर कर आह की आवाज कर रही थी. ज्योति ने जीभ निकाल कर उसको को चाटा और फिर पूरा मुँह खोल कर उस मोटे मूसल को मुंह में लेने की कोशिश करने लगी.

उनके बॉस मुझे नीचे से मेरी चूचियों को पीते और मुझे चोदते और पीछे से मेरे हस्बैंड मेरी कमर पर किस करते और मुझे चोदते!मैं एक साथ बहुत नोची जा रही थी.

परी मैम की पीछे की मसाज होने के बाद मैंने कहा- अब आप सीधी होकर लेट जाएं. फिर मैं शादी वाली जगह प्रतीक के साथ आ गई और उससे मिलने के बाद मैं बाजू के कमरे में पंडितजी के बुलावे का इंतज़ार करने लगी.

एमएमएस बीएफ साथ ही चूत एक बार झड़ चुकी थी, तो मुझे उसे फिर से चुदाई के लिए तैयार भी करना था. वो बोला- पापा से भी चुदवा ली तूने!मैंने कहा- हां, मैंने पापा से चूत चुदवा ली है.

एमएमएस बीएफ मेरी पिछली सेक्सी कहानीपड़ोस की मस्त प्यासी भाभी की चुदाईको बहुत से लोगों ने पसंद किया और फिर मुझे मेल भी किए. सबको यह तो अंदाज था कि वहां मस्ती होगी, पर क्या होगा यह तय नहीं था.

कुछ दूर चलने के बाद हम पार्क के एक ऐसे हिस्से में पहुंच गए, जहां ज्यादा भीड़ नहीं थी.

बीएफ सेक्सी मोटी चूत

फिर हम वापस जाने लगे तो सूरज अंकल ने मेरी गांड पर थपकी लगाई और आंख मार दी. मैं भी मज़े से चूत चाट रहा था।नित्या ने मचलते हुए अपनी पूरी टांगें पसार दीं और कहने लगी- प्लीज़ … चाट और जोर-जोर से चाट ना. ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ पूजा का मुंह खुला रह गया; उसने फुर्ती से मुझे अपने ऊपर से हटाने का असफल प्रयास किया लेकिन तब तक देर हो चुकी थी.

मैंने भी अपना लंड दीदी की चुत में से निकाला और उसको चूसने के लिए दीदी के मुँह में दे दिया. चूंकि उन दिनों मैं अपने एग्जाम की तैयारी कर रहा था, इसलिए उस पर ध्यान नहीं दे पा रहा था. मैंने मनु के घर से अपनी साइकिल उठाई और सीधे घर जाकर अपने कमरे में घुस गई.

वो राहुल और सीमान्त को समझाने लगा कि इसके साथ जबरदस्ती मत करो … जो करना है प्यार से करो.

मैंने उसके लंड को पीछे हाथ ले जाकर पकड़ने की कोशिश की मगर मेरे हाथ उसके लंड तक नहीं पहुंच रहे थे. अगर नाराज होने के कारण यह सब होने वाला है, तो भला जॉली क्यों ना नाराज रहे. उनके ससुर भी अपनी बहू के दूध पी रहे थे और होंठों पर किस भी करते जा रहे थे.

अपने दोनों हाथों को पूजा मेरे गले में डाल मुझे अपनी बांहों में कसने लगी मानो अपने सीने में घुसा देना चाहती हो. मैं थोड़ी देर रूका रहा और कुछ पल बाद मैंने फिर से एक और झटका दे मारा. अब दोनों की चुदास भड़क चुकी थी जो बिना मस्त चुदाई के शांत नहीं होनी थी.

खुश करने के लिए किसी लंबे मोटे लंड की ज़रूरत नहीं होती है …सामान्य 6 इंच का लंड भी खुशी दे सकता है. एक दिन में मैंने उनसे मजाक करते हुए कहा- मेम आज हम दोनों कहीं बाहर डिनर करते हैं.

बॉस को कुछ जरूरी काम था, तो वे जाने लगे और विनय ने भी अपना काम कर लिया था. क्योंकि इस वक्त हम दोनों बांसबाड़ी में थे, इधर से आसानी से बाहर का कोई भी हमको देख नहीं सकता था. मैंने कहा- लेकिन मैम …मेरी तरफ रुपये बढ़ाते हुए वो बोली- मुझे खुश कर दो.

इधर आगे से अभय एक हाथ से मेरा मुंह पूरा दबाए हुए था और एक से दूध पकड़े हुए था.

वो देख कर हैरान हो गईं कि कैसा हल्का सा टेड़ा और मोटा है … गुलाबी सुपारे वाला. फिर तो प्रिन्स सीधे उसकी पूसी पर आ गया और पूसी की मसाज करने लगा और फिर एक हाथ से बारी बारी से दोनों बूब्स और निपल्स को रगड़ने लगा. लेकिन तुमने मेरी सच्चाई जानने के बाद ऐसा नहीं किया और मुझसे बात करना बंद कर दिया.

वो बाथरूम के थोड़ा और पास गयी तो उसको लगा जैसे ये आवाज़ अन्दर से ही आ रही है. जब मैंने शीशे से उनको देखा, तो वो लगातार मेरे खड़े लंड को देखे जा रही थीं.

रुक गई, आवाज भी अच्छे से नहीं निकल पा रही थी।मैं उसको कस कर पकड़े हुए था।और जब वो शान्त हुई तो उसकी चुदाई शुरू कर दी।मेरे धक्के से उसके जिस्म का हर अंग काम्प रहा था। वो पहली बार अपनी गांड चुदवा रही थी।बहुत ही टाइट गांड थी उसकी … वो तो बस रोए जा रही थी. मैं अभी भी उनसे अलग होने की कोशिश कर रही थी क्योंकि वो नशे में थे और मुझे पता था कि अगर मैंने उनको नहीं रोका तो फिर बात बहुत आगे तक बढ़ जायेगी. मैंने कहा- शालिनी जी मैंने तो सब कुछ देख लिया, अब अपनी चूत और चुचियों का दीदार करा भी दो.

बीएफ वीडियो खुला

फिर अचानक से जेठजी ने बोलना शुरू किया- सॉरी जस्सी, श्वेता की नाइटी की वजह से मैं कंफ्यूज हो गया था और उसी दुविधा में मैंने तुम्हें पीछे से पकड़ लिया और उसके बाद मौसम की वजह जो कुछ हुआ, फिर मैं खुद को रोक नहीं पाया.

मैंने फिर से हाथ पकड़ा, उसने फिर से झटका … लेकिन वह कहीं जा नहीं रही थी और शर्मा रही थी. एक दिन जब मैं कॉलेज के लिए निकल रहा था तो उन्होंने कहा- आरव, आज तुम्हारी भाबी ने तुम्हारे लिए कुछ खास प्रोग्राम बनाया है, तुम्हारा रात का डिनर आज हमारे यहां ही होगा. पोर्न वीडियो में भी गांड चुदाई के सीन देखते हुए मैं काफी उत्तेजित हो जाता था.

उसके होंठों पर मुस्कुराहट थी और प्रेम भरी उसकी तिरछी नजर मुझ पर ही टिकी थीं. शान- अरे लेकिन …वो आगे कुछ कहे, उससे पहले मैंने फिर से उसके लंड को दबाया और कहा- क्यों चिंता कर रहे हो. भोजपुरी बीएफ सेक्स वीडियो एचडीमोटा सख्त लौड़ा रिया के मुँह में थोड़ी तकलीफ और चुभन से जा पा रहा था, लेकिन रिया को उसकी गर्मी से खुद को पूरी तरह वाकिफ करवाते हुए अन्दर जाने देने लगी.

आप सोच सकते हो कि दो मर्दो के बीच में एक औरत … वाह क्या नजारा होता है! दोनों उसे खाने को तैयार।मैंने एक बहुत सेक्सी सी ड्रेस पहनी जिसमें मेरी सफेद जांघें दिख रही थी दूध जैसी मलाई चिकनी बिल्कुल!वो करीब रात को 9:00 बजे आए. राहुल ने दो दिन बाद ही सबको बता दिया कि उसने जयपुर में एक रिसोर्ट में चार कॉटेज बुक करवा दी हैं.

पति की व्यस्तता को देखते हुए उसके दिमाग में कई बार ये विचार आये कि वो अपने पति से बाहर जाकर वो पा ले जिसकी उसको तीव्र इच्छा होती थी. मैंने उनकी पीठ पर थोड़ा तेल टपका कर हल्के हाथों से मसाज करना शुरू कर दी. उसने मेरा सर पकड़ लिया और मेरे मुँह को चोदने लगा और मेरे मुँह में ही झड़ गया.

फिर तेरे पैदा होने तक यह सिलसिला रोज़ का हो गया। अब मुझे भी अच्छा लगने लगा था। फिर तू पैदा हो गया और तेरे दादा जी के खत्म होने से सब अलग अलग रहने लगे। मैं भी सब कुछ भूल कर सिर्फ तुझमें खो गयी।कभी साल दो साल में तेरे चाचा आते हैं और अगर तू नहीं होता या कोई नहीं होता तो कभी कर लेती थी. कुछ पल में ही मैं सामान्य होने लगी, पर ख्यालातों का जाल दिमाग में उलझा रहा. मेरे वीर्य से उसका पूरा चेहरा गीला हो चुका था पर सायरा ने मेरे लंड को छोड़ा नहीं वो मेरे सुपारे को चाटती रही.

अब तो उससे वीडियो चैट करके लंड हिलाने का भी मौका नहीं मिल पा रहा था.

अब मैं ब्रा में उसके सामने थी, मुझे डर लग रहा था कि कोई भी हमें ऐसे देख सकता था. मगर पिछले कुछ सालों से वहां पर विदेशियों की तर्ज पर ही भारतीयों ने भी वही अंदाज दिखाना शुरू कर दिया है.

मैंने उसे चोदते हुए पूछा- साली, तूने तो वास्तव में चुत को भोसड़ा बनवा लिया है. अब मैंने उस पर रहम किया और लंड को उसकी योनि से निकाल कर उसके मुंह में दे दिया. तब वो मैक्सी पहन रही थीं, तो उस वजह से उन्होंने अपना पेटीकोट और ब्लाउज दोनों निकाले हुए थे और सिर्फ ब्रा औऱ पैंटी में खड़ी थीं.

कुमार- हां मुझे भी उसने कॉल किया था कि कल रूम पर आएगा और तान्या के साथ चुदाई करेगा. एक दिन उसने मुझे पार्टी के लिए बुलाया- मेरे पास पार्टी के लिए दो टिकट्स हैं, तू चलेगा?मैं- लेकिन मैं अभी तक पार्टी में गया नहीं हूँ. वो बोले जा रही थी- ये सब गलत है … ये पाप है, किसी को पता लगा … तो बदनामी हो जाएगी.

एमएमएस बीएफ मैंने अपनी पहले की कहानियों में वह सब लिखा हुआ है कि कैसेमेरी बीवी की उत्तेजनाउसको बेशर्म बना देती है. एक हाथ में चाबुक ले लिया … मतलब वही जो जानवर को मारने के लिए इस्तेमाल करते हैं.

सारी बीएफ वीडियो

आज तुम भी ये जान लो की परमीत पक्की सरदारनी है और सरदारनी किसी चैलेंज से पीछे नहीं हटती. सोनिया- ओ गॉड कितना मजा आया जानू मैं क्या बताऊं … अभी तक काँप रही हूँ मैं. ”फिर तुमने क्या बोला?”बोलना क्या था मैंने उसे बोला तुम तो बस चुपचाप अपनी टांगें चौड़ी करके लेट जाना फिर जो करना होगा तुम्हारा पति अपने आप कर लेगा.

वो झट से राजी हो गया … क्योंकि जब वो अजमेर आता है, तो मैं भी उसे किसी लौंडिया को चोदने के लिए उसको अपना रूम दे देता हूं. उन्होंने पूछा- कहाँ जा रही हो?मैं बोली- सर मॉल जाना है!तो सर बोले- चलो मैं भी वहीं जा रहा हूँ. तेलगू सेक्स बीएफमेरी दीदी की सेक्स कहानी आपको कैसी लग रही है? मेरी इस सेक्स कहानी के लिए आपके मेल की प्रतीक्षा रहेगी.

आमतौर पर औसत लम्बाई का लंड भी औरत को पूर्ण रूप से संतुष्ट कर सकता है.

अभी मेरा थोड़ा सा लंड ही उसकी चुत में घुस पाया था कि वो चिल्लाने लगी. थोड़ी देर बाद वन्दना उठी, हम तीनों के लिए पेग बनाये और मुझे एक सिगरेट जला कर दी.

उस दिन मैंने स्लीवलेस टीशर्ट और जीन्स पहनी हुई थी, अंदर ब्रा और पैंटी दोनों थी. आपको कितनी बार बताया है कि टीवी देखो, बाहर घूमने जाओ, कुछ नहीं, तो किटी पार्टी में जाया करो … लेकिन आपको तो बस किताबें, अख़बार और बिज़नेस के अलावा कुछ सूझे तब ना!”यह थी मेरी बेटी रिया, जो कद-काठी में मुझसे थोड़ी सी लम्बी थी. मैंने उससे कहा- अरे यार इसमें शर्माना क्या … ये तो जानवर हैं, कहीं पर भी चालू हो जाते हैं … इसके लिए क्या कर सकते हैं.

उधर संजय ने अपने ऊपर के कपड़े निकाल दिए, बनियान तो उसने पहनी ही नहीं थी, ऐसे में उसका कसरती आकर्षक चिकना बदन माहौल को कामुक बनाने लगा.

आप लोगों को ये तो पता ही होगा कि वेटिंग टिकट होने पर क्या क्या कष्ट झेलने पड़ते हैं. मैं गर्माहट महसूस नहीं कर पाया और मैंने उसकी गांड को पकड़ लिया और मेरे लंड से निकल रहा लावा उसकी चूत में भरने लगा. वो जिद करते हुए बोली- नहीं बताओ, मुझे जानना है कि ऐसा क्या बोल दिया था मैंने!मैं बोला- तुम मेरे साथ सेक्स करने की बात कर रही थी.

sex वीडियो hdअब मेरी माँ मेरी राजदार हो गई थीं और इसके बाद से चुदाई का खेल मैं अपनी माँ के साथ ही किसी न किसी लंड के साथ खेलने लगी थी. तेरे जैसी सेक्सी लड़की के सामने तो मैं सारी दौलत लुटाने के लिए तैयार हूं.

देसी+क्सक्सक्स

वो बोले- क्या मेरा एक और दोस्त आ सकता है पार्टी में?मैं बोली- तो क्या वो भी सेक्स करेंगे?वो बोले- अगर तुम लोग उसको पसंद करोगे तो ठीक है. चाची- ओहह्ह … ओह्ह्ह्ह … अह्ह ह्हह … अई … अई…मैं जल्दी जल्दी चूत में उंगली करने लगा. अब पूछो, तुम क्या पूछ रहे थे?रोहन- सोनिया आपको याद है न टीजर ट्रेलर … जो तुमने कल मुझे दिखाया था.

मैंने उसके गालों को अपने हाथों में पकड़ा और उसके होंठों को जोर से चूसने लगा. वह पूरे जोश से झड़ रही थी और कह रही थी- आह … यू आर टू गुड, फक मी लाइक एनीथिंग (तुम बहुत अच्छे हो, मुझे पूरे जोर से चोदो). वो मेरे पास आकर बोले- मुझे लगा कि तुम आज नहीं आओगी क्योंकि तुम आज अकेली जो हो.

संजय का सुपारा भी ज्यादा मोटाई लिये हुए था, चमकता गहरे गुलाबी रंगत लिए सुपारा हम सबकी जान निकाल रहा था. हम दोनों ने उस रेस्तरां में खाना खाया और अपनी मंजिल की तरफ निकल पड़े. वासना के नशे में उसका बाप धीरे-धीरे गांड चाट रहा था और कभी कभी जीभ गांड के छेद में घुसेड़ दे रहा था.

परमीत के ऐसा करते ही सबके मुँह से एक आह निकल गई, लेकिन परमीत ने दूसरे ही पल लंड मुँह से निकाला और बाहर थूकने लगी. अब आसानी से लंड ज्योति की चूत में जा सके इसलिए अब ज्योति ने टाँगें बिल्कुल चौड़ी कर दी थीं.

मेरी पिछली कहानीप्यासी विधवा औरत से प्यार और सेक्सजब प्रकाशित हुई थी तो मेरे पास काफी सारे मेल आये.

ड्राइवर ने गाड़ी स्टार्ट की और शिखा ने फिर से मेरी जीन्स की चेन खोल ली. न्यू एक्स एक्स वीडियो हिंदीतो जाहिर है कि परमीत के लो कट काले टॉप से उसके चमकते गोल कटीले नोकदार उरोज के स्पष्ट दीदार संजय को होने लगे थे. लड़का लड़का की बीएफमाँ- आ जा तू भी इसके लंड से चुद ले … साले का बड़ा मस्त लंड है … तेरी पसंद मुझे भी पसंद आ गई. यह कहते हुए मैंने लंड को एक और झटका दे दिया और उसकी चोटी को पीछे से ऐसे पकड़ लिया, जैसे मैं उसकी सवारी कर रहा हूँ.

पहले तो उसकी इस नजर से मैं डर गया, लेकिन जब उसने कुछ बोला नहीं, तो मैंने वापस इस बार अपने हाथ को सीधा उसके बोबे पर रख दिया.

जैसा कि आपको पता है कि मैं राजस्थान से हूँ और आप मेरे से वाकिफ हैं तो ज्यादा टाईम न लेते हुए आपको अपनी कहानी बताने की कोशिश कर रही हूं और सोचती हूँ कि आपको मेरी ये कहानी भी पसंद आएगी. वो पूरी तरह से भीग चुकी थीं और उनकी साड़ी उनके हॉट जिस्म से मानो चिपक सी गई थी. मैंने कहा- आशीष जब तुमने पहली बार मुझे सोनम दीदी की शादी में देखा था तब तक मैंने किसी के साथ सेक्स नहीं किया था.

इसने अपने मन की बात कही, तो तुम्हें फोन करके इसके लिए यहां बुलाया है. उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपने लन्ड पर रख दिया तो मैंने उसका लन्ड सहलाना शुरू कर दिया. मैं मेम की गांड को किस करने लगा और किस करते हुए उनके मम्मों को दबाने लगा.

माणसाचा सेक्स

जैसे उन्होंने मेरी चूत में उंगली करना शुरू किया तो मैं भी मस्त हो गई. बहुत से लोग अपने जीवन काल में कभी न कभी वहां गये होंगे या फिर वहां पर जाने के लिए प्लान भी कर रहे होंगे. थोड़ी ही देर में सर मेरे घर आ गये और मुझे बाइक पर बिठा कर अपने घर की ओर ले गए.

इतना कहते हुए वो बिस्तर से उठी और मेरी चड्डी को मुझसे अलग करके मेरे लंड को मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी.

फिर मैंने कुछ देर चाची के चुचे दबाये और थोड़ी देर लंड चुसवा क़र चाची को खड़े होने का इशारा किया.

मयूर से मेरा मिलना अब बहुत ही कम मिलना हो पाता था, परंतु हम दोनों के बीच मैसेज वगैरह तो पूरे दिन चालू ही रहते थे. अपना सारा बोझ उन पर डाल भाभी को अपनी बांहों में लेकर बेतहाशा चुम्मों की बौछार लगा दी. ದೇಸಿ ಬಿಎಫ್ ವಿಡಿಯೋदोनों बहनें सिसकारियां ले ले कर एक दूसरे की चूत चाट रही थी क्योंकि दोनों ही पहली बार किसी औरत से चूत चटवा रही थी तो दोनों ही एक साथ झड़ गयी.

मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या करूं और क्या नहीं क्योंकि उसकी तरफ से मुझे कोई इशारा भी नहीं मिल रहा था. उन लोगों ने कोमल से कहा- जैसे सबका इंट्रो होता है, वैसा ही इनका भी हो रहा है. जीजा ने रूम की कुंडी लगा ली और मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे दूधों को दबाने लगे.

जेठजी अपना हाथ मेरे कंधे से हटाकर मेरी बांह को पकड़ लिया और मुझे स्टूल से उठाने का प्रयास करने लगे. धीरे-धीरे भाभी मुझे इस तरह सैट कर रही थीं कि मेरा लंड उसके मुँह पर आ गया था.

वो तो इस कुतिया ने तुम्हारा लंड अच्छे से चूस दिया, नहीं तो तुम पक्का एक घंटा टिक जाते.

पांच मिनट ये सब करने के बाद अचानक उसने अपने हाथों से मेरे बालों को पकड़ लिया. वापस आकर मैंने अपनी कॉफ़ी पीना शुरू किया और धीरे से मामी की नंगी पीठ पे हाथ फिराने लगा कि तभी मामी झट से उठ कर बाहर चली गई. मैं भी उसकी चूचियों को चूसते हुए उसे धक्के पर धक्के लगाए जा रहा था.

फिल्मों के सेक्सी सीन मैंने कहा- लड़कियों के लिए ये एक बहुत ही मस्त प्रोटीन होता है … इसको थूक कर बर्बाद नहीं करना चाहिए … इससे तुम्हारी स्किन में बड़ा ग्लो आएगा. मुझे कोर्नर पे ड्रॉप करके वो मुस्कुराते हुये चला गया, मैं भी दिल में मुस्कुराहट लेकर अपने घर की तरफ निकल पड़ी.

मैं दो नंगे मर्दों के बीच नंगी होकर दबी हुई थी और दो दो लंड अपने अन्दर घुसवा रही थी. ज़ायरा बोली- मैं तुम जैसे दोस्त के साथ खुश हूं … प्लीज यार ये दोस्ती खराब मत करो. अब आगे:साकेत भैया- नहीं बोलोगी … ठीक है अगर तुम्हें कोई दिक्कत है, तो मैं जा रहा हूं.

ब्लू ब्लू पिक्चर दिखाओ

प्रतीक ने थोड़े गुस्से के साथ मेरे सामने देखते हुए पूछा- क्या … क्या ये सच कह रहा है?मैंने सिर्फ हां में अपना सिर हिलाया और इसी शर्म के कारण मेरी नजर नीचे झुक गई. ” कहकर मधुर ठहाका लगा कर हंसने लगी।तुमने अपने दाव-पेंच नहीं बताये क्या उसे?”ए … हे … हे … मेरे जैसी सीधी थोड़े ही होती हैं सभी लड़कियाँ? मुझे तो तुमने ठीक से मनाया भी नहीं उस रात? हूंह …” कहकर मधुर ने नाराज़ सा होने का नाटक किया।आओ आज मना लेता हूँ।” कहकर मैंने मधुर को अपनी बांहों में भरने की कोशिश की।हटो परे! वो. मेरा तो रोम रोम खड़ा हो गया, मेरी गोरी गोरी जांघ अपने आप मचलने लगी।ऐसा करते हुए वो मेरे पेट तक पहुँच गए और मेरी नाभि में अपने होंठ डाल कर चाटने लगे।मेरे मुँह से नशीली सिसकारी निकलने लगी- आआअह्ह ह्ह्हऊऊऊ अओओ ओओह्ह ह्ह्ह शीस्स्स स्स्सस्स … आआअह्ह ईईईई!ऐसा करते हुये वो मेरे दूध तक पहुँच गए, मेरे एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया और एक दूध को अपने हाथों से मसलने लगे.

वे दोनों सोच रहे थे कि साली रंडी जैस्मिन पहले तो इतना मना कर रही थी, अब देखो कैसे उछल उछल के लंड से चुदवा रही है. मैंने नोटिस किया कि जेठजी ने शॉर्ट्स के नीचे कुछ नहीं पहना है, जिस वजह से उनके लंड का आकार साफ साफ समझ में आ रहा था.

फिर धीरे-धीरे वह भाभी से अलग हुआ तो राहुल का वीर्य भाभी की चूत से निकलकर उनकी जांघों पर बह निकला.

यहां मेरे लन्ड की हालत बुरी हो रही थी, उसमें दर्द होना शुरू हो गया था. उनके धक्कों की तीव्रता इतनी अधिक हो गई थी कि एक दो बार तो मेरा सर भी रसोई की दीवार से टकरा गया. उसकी बाद सुहास ने अपना लंड मेरे मुँह में डाल दिया और लंड चूसने को बोला.

आंटी की सिसकारियां और ज्यादा होने लगीं और उनकी चुत ने नदी सी बहा दी. ” कह कर मैंने उसे एक बार फिर से चूम लिया और जोर से बांहों में भींच लिया। गौरी तो उईईईई… करती ही रह गई। मेरा लंड पायजामे में उछलने लगा था। उसके गुलाबी होंठों को देखकर अपना लंड चुसवाने को करने लगा था।गौरी एक बात बोलूं?”हम्म” कहकर गौरी ने मेरी नाक को चूम लिया।तुमने अगर वो मुहांसों की दवा नहीं ली तो ये मुहांसे फिर से हो जायेंगे. मुझे उस पर रहम तो आ रहा था लेकिन अगर मैं लंड को बाहर निकाल देता तो फिर दोबारा डालने में बहुत मुश्किल हो जाती.

मैं कुछ मिनट लगातार मेम की चूत चाटी, तो मेम की चूत ने जूस छोड़ दिया.

एमएमएस बीएफ: मुझे विश्वास हो गया था कि अब चाची मेरे लम्बे लंड को लेने के लिए मचल गई हैं. ”ओह!”हम दोनों ब्रा पैंटी में हो गए।अंशु बोली- अच्छे लोग अपनी बहन बेटी की चुदाई नहीं देखते.

वो टॉवल लेकर गयी तो उसने मनोज को आवाज देकर कह दिया कि टॉवल बाहर दरवाजा हैंडल पर टंगा है. दीदी के ससुर ने दो साल पहले मेरी बहन की चुदाई कैसे की, वो किस्सा सुनाना शुरू कर दिया. साथ ही जो लोग एकदम फ्रेश होते हैं, उन लोगों को हम दोनों मिलकर काम भी सिखाते हैं.

हमारा यह घमासान बीस मिनट तक चला और मनोज से पहले ही मेरी चूत ने ही पानी फेंक दिया.

मेरे सर के बाल उसने पूरी मजबूती से पकड़ रखे थे कि कहीं मैं उसकी चुत से अपना मुँह न हटा लूँ. रोहन- टांगों के बीच में गीला गीला लग रहा है क्या?सोनिया- ओ गॉड … रोहन प्लीज ऐसे सवाल मत पूछो. अब महेश ने ज्योति की चूत के रस में से सना हुआ लंड अपनी बेटी की कुँवारी गांड के छेद पर टिका दिया.