बीएफ सेक्स वाली हिंदी

छवि स्रोत,एक्सएक्सएक्स रिटर्न ऑफ जेंडर movie

तस्वीर का शीर्षक ,

जानवर वाली बर्फ: बीएफ सेक्स वाली हिंदी, कविता ने आज बहुत दिनों के बाद व्हिस्की ली थी तो उसे सुरूर सा हो रहा था.

सेक्सी राजस्थानी पिक्चर

उसकी चीख निकल गई ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मैंने उसके दोनों चूतड़ों को पकड़ा और स्पीड से चोदने लगा. डॉग सेक्सी हिंदीफिर जय मुझे मॉल में ले गया और वहां से मुझे कुछ कपड़ों की शॉपिंग करवाई.

मैंने कपड़े पहने और सविता को बस ब्रा पेंटी पहनने दी- जानू आज ऐसे ही चलो. करीना कपूर की विडियोलड़कियाँ बेहद कम कपड़ों में घूम रही थी और हर मोड़ पर शराब की कोई ना कोई सुविधा थी ही!एयरपोर्ट से होटल पहुंचते हमें शाम के ४ बज गए.

उन्होंने मेरा चेहरा ऊपर करते हुए मुझे बदमाश बोला, मेरे लिप्स पर किस करने लगी और हल्के से काट खाया.बीएफ सेक्स वाली हिंदी: उसने मेरे सामने प्लेट रकही और कहा- खाना खा ले!मैंने उससे भी खाना खाने से मना कर दिया और वहां से उठ कर जाने लगा.

मोना ने कुछ देर और नीतू को अच्छे से समझाया कि कल उसको क्या करना है.अब आप जानते हैं फर्स्ट ए सी में दो टिकट का मतलब है एक कैबिन आपका हो जाता है.

সেক্স ফটো - बीएफ सेक्स वाली हिंदी

चाची अब पूरी तरह से मदहोश हो चुकी थीं और अपने हाथों से मेरी पीठ सहला रही थीं.साली ऐसे चुत खुली लेकर घूमेगी तो मेरे जैसे कुत्ते का लंड खड़ा होगा ही ना उहूँ हू हूँ।पूजा- अच्छा दिखा तो तेरा लंड कितना बड़ा है और कितना मोटा है?पूजा चलकर संजय के पास आई और उसी पोज़िशन में झुक कर लंड को चूसने लगी।संजय- हा हा हा कुतिया.

तुझे ये सब करने को मिलना था क्या आखरी बार? अब तू जा और दोबारा कभी मत मिलना मेरे से. बीएफ सेक्स वाली हिंदी नहीं सब तेरा मजाक उड़ाएंगे समझी ना तू!पूजा भाग कर संजय के पास आई और उससे लिपट गई।पूजा- ओह मेरे प्यारे मामू.

बस की लाइटें दोबारा बंद हो चुकी थीं और सब लोग सफर के आखिरी पड़ाव में झपकी लेने की मुद्रा में चले गए थे.

बीएफ सेक्स वाली हिंदी?

जैसा कि भाभी ने बताया था कि उसकी बहन की चूत में बहुत खुजली होती है. अब मेरी बातें सरिता से कुछ डबल मीनिंग होनी शुरू हो गई, जैसे कि बात बात में मैंने सरिता की चुचियों को घूरते हुए कहा- आपके तो गाल बड़े मुलायम लगते हैं, काश इनको दबा कर देख पाता!इस पर वह हंसने लगी और बोली- मेरे गाल सबके हाथ में नहीं आते. गोवा की हवा और वाइन का सुरूर ऐसा छाया कि शावर के नीचे हम दोनों मतवाली हो गयी.

थोड़ी दूर पर दो तीन वार्ड बॉय घूम रहे थे, मैं बड़ी ही उत्सुकता से उनके पास गया लेकिन उनको देखकर कुछ भी करने का दिल नहीं किया, वो मुझे ठीक नहीं लगे, मुझे तो जवान मर्दाना जिस्म वाले मर्द चाहिए था जिसका फनफनाता हुआ दानवी लंड हो. फिर मैंने उनकी ब्रा भी खोल दी और उसके दोनों बूब्स को जोर जोर से दबाने लगा, वो चीखने लगी, वो भी मजे ले रही थी. मेरी कामवासना अधूरी रह गई थी, मैंने बाथरूम जा कर अपनी चूत को साफ़ किया और आकर बेड पर लेट गई.

गुलशन जी का लंड अकड़ रहा था, जिसे सुमन ने भी महसूस किया मगर वो तो अनजान बन कर बस अपने पापा को सिड्यूस कर रही थी. मैंने उसके लंड पे बैठ कर अपने हाथ से उसका लंड अपनी चूत के अंदर किया और धीरे धीरे नीचे दबती गई. तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी चुदाई की कहानी ‘पापा ने अपनी सगी बेटी को चोद दिया’ उम्मीद करती हूँ कि आपको पसंद आई होगी.

संजय- वाह टीना कमाल कर दिया तूने अब जैसा हमने प्लान किया था, बस वैसे ही करना ताकि सुमन खिंची चली आए. मैंने भी सोनू को 69 की पोजीशन में किया और उसकी पानी छोड़ने से चिकनी हुई चूत को मुंह में भर लिया.

रूबी ने वैशाली के चूतड़ों को सहलाया और बोली- स्पर्म वाली प्लास्टिक की डंडी लेने चली थी, अब ले गर्म गर्म ताजा ताजा वीर्य, मोटे लौड़े से, डायरेक्ट अपनी चूत में.

उस रात फिर वैसा ही फील हुआ और आज तो लगा कि कोई मेरी चूत को छू रहा हो.

इसके बाद उसने मेरी एक टांग उठाई और अपना लंड मेरी बुर के छेद से लगा कर एक ही झटके में अन्दर कर दिया. खैर छोड़ो, मैं अपनी रियल सेक्स स्टोरी बताता हूँ!मैं उस समय 23 का था जब यह घटना घटी. अनीता से पूरा सच जानने के बाद तिवारी ने विभूति को अपने घर आश्रय देने को टालने के लिए कहा की- लेकिन भाबी जी एक दिक्कत है.

टीना और बरखा यही दिखाने की कोशिश कर रही थीं जैसे उनको कुछ पता नहीं, मगर अतुल की इस हालत का मज़ा वो भी ले रही थीं. उसने तीन बच्चों को जन्म दिया था लेकिन उनमें कौन सा मेरा, कौन सा निखिल का? इस बारे में कभी सोचा भी नहीं था. दो दो लंड से चोद आज चोद… अह उई!मैंने उसकी चूत को छोड़ा, उसकी टांगों को ऊपर उठाया और उसकी चूत पे लंड का निशाना लगाकर लंड को अंदर डाल दिया, बोला- उफ़ ले साली चुद.

अब हमारी पोजीशन ये थी कि मैं फर्श पर पीठ के बल लेटा था, मेरे ऊपर सबीना ऐसे बैठी कि उसकी पीठ मेरी टांगों की तरफ थी और वो घुटनों के बल मेरे मुंह पर बैठ थी और हाथों से उसने दीवार पर लगा टॉवल स्टैंड पकड़ा हुआ था.

कुछ मिनट के इस चुम्बन के बाद मैंने अपने हाथ सरकाते हुए उसकी कमर और फिर उसकी चुत के ऊपर पर हाथ चलाना शुरू कर दिया. उन्होंने अपनी साड़ी उतार दी और वे सिर्फ़ ब्लाउज और पेटीकोट में मेरे सामने औंधी लेट गईं. वो सोफे पर अपने पैर पसारे हुए बैठा था और मैं उसके ठीक सामने खड़ी थी.

यह भोजन मुझे इतना स्वादिष्ट लग रहा था कि क्या बताऊँ!खाना समाप्त होने के पश्चात वह जाने लगी तो मैंने उससे यहीं सोने का आग्रह किया तो वह बोली- कुछ देर बातें करते हैं. अब मैं उसे देख रहा था और वो मुझे… मैंने तुरंत उसे गले लगा लिया और हम वैसे ही खड़े रहे. मैंने क्रीम लगीं अपनी दोनों उंगलियां उसकी गांड में ठूंस दीं। थोड़ी देर उंगलियां आगे-पीछे कीं।अब मैंने उसे औंधे हो जाने को कहा और अपना क्रीम लिपटा लंड उसकी गांड पर टिका दिया। थोड़ी देर उसकी गांड पर लंड हाथ में लेकर टच किया.

जॉय और ममता अब जॉन के आ जाने से बहुत खुश थे और फ्लॉरा भी स्कूल से आकर बस जॉन के साथ ही ज़्यादा से ज़्यादा समय बिताती थी, भाई-भाई की रट लगाती रहती और नई-नई फरमाइशें करती.

मेरा पूरा माल उसके पेट पर गिरा उसे अच्छा फील हुआ, फिर किस करके हम दोनों उठे और फ्रेश होकर वापस निकल गए. ’अब वो पूरी गर्म हो चुकी थी और मेरा सिर पकड़ कर खुद अपने बूब पे दबा रही थी, उसकी ‘आअहह ससईईईई और जोर से चूसो आअहह.

बीएफ सेक्स वाली हिंदी कुछ दिन हुये, हम सब दोस्त बैठे पेग शेग लगा रहे थे कि तभी एक दोस्त ने कहा- यार आज मौसम बड़ा अच्छा, दारू पीने का भी बहुत मज़ा आ रहा है, ऐसे में अगर साथ में एक रंडी चोदने को मिल जाए, तो मज़ा और भी दुगना चौगुना हो जाए. लेकिन बुड्ढा बिट्टू सिंह ढेर सयाना था, वो जानता था कि दिल्ली में इंजीनियरिंग करने वाले लौंडे कितने खतरनाक होते हैं.

बीएफ सेक्स वाली हिंदी मेरा निकाह 22 साल की उम्र में ही हो गया था और वो भी मुझसे 10 साल बड़े आदमी से. फटाफट उसने पेंट उतार कर हैंगर पर टांग दिया। अंडरवियर उतार कर अपने बेड पर फेंक दिया और बिल्कुल नंगा होकर मेरे साथ लेट गया।‘सर आपके कपड़े?’मैंने कुछ नहीं कहा तो उसी ने मेरा पजामा नीचे खिसका दिया.

और ये क्या मरने की रट लगा रखी है?फ्लॉरा- मेरे स्कूल की एक लड़की को ऐसे रिएक्शन हो गया था और वो मर गई थी.

तमन्ना हीरोइन का सेक्सी वीडियो

भाभी को मैंने वहीं छत पर चोदा और वादे के मुताबिक़ माल चूत में नहीं निकाला. अब मैं कहाँ मानने वाला था, मैंने साली की चुदाई करनी थी लेकिन टाइम की कमी के कारण मैंने उसे छोड़ दिया और हम वापस हॉल को चले गए. उसके इस तरह से खींचने से मैं एकदम शहज़ाद के ऊपर आ गई और उसने मुझे सिर से पकड़ कर अपने होंठ मेरे होंठों पर चिपका दिए.

जैसे तैसे पेशाब करके और लगभग उसके सामने ही लौड़े को पैंट के अंदर डाल कर मैं फिर उसके पीछे बैठ गया. रोहिणी के इतना कहते ही वो हट्टा कट्टा आदमी ने उसके गाल सहलाते हुए कहा- जल्दी करो!इतना कहने के साथ ही वो आदमी वहाँ से चला गया. ”फ़िर चन्दन ने संगीता को दीवार से सटा कर बिस्तर से उठा लिया, चंदन ने अपनी टांगें अपनी सासू माँ की क़मर पर बाँध दीं और अपने लंड को सास की चूत में घुसेड़े रखा.

मैंने उसका बायाँ घुटना आलिंगनबद्ध कर लिया और जाने पहचाने छेद को चोदना शुरू कर दिया.

मैं बोली- सब आपका ही देन है, आपने ही तो तरह तरह की वीडियो दी है मेरी मोबाइल में!मैंने मामा जी से चुटकी ली- आपने तो मुझे बिगाड दिया है, आपने मुझे चुदाई की आदत लगा दी है. जब हम योगा कर रहे थे तो मैं मेरे बेटे के आगे आ गई और योगा करने लगी. उन्होंने मुझे धन्यवाद किया और कहने लगी- इस परमसुख के लिए तुम्हारा बहुत-बहुत धन्यवाद।और जो भावनाओं में होता है, वो लोग बोलते हैं, वे वही बोली- तू मेरे साथ मत छोड़ना!फिर मैं बोला- मैं स्नान करना चाहता हूं गर्म पानी से … ताकि शरीर की थकावट दूर हो जाए।तो उन्होंने बाथरूम में जाकर गीजर ऑन कर दिया.

मुझे तो यह मस्त जवान ठाकुर राजकुमार मुश्किल से मिला था और बिना लंड लिए मैं उसे कैसे जाने दे सकता था, तभी मैंने उसका हाथ पकड़ते हुए रोका और मैंने कहा- चलो यार, उधर वो जो नए कमरों में फर्नीचर बन रहा है वहाँ चलो. उसने अपने दोनों घुटने अपनी छाती की और चौड़े करके मोड़ लिए ताकि मेरा लंड अधिक से अधिक अंदर जा सके. भाभी तो जैसे चुदास से तड़फ रही थीं उन्होंने अपनी कमर उठा कर मेरे लपलपाते लंड को अपनी चूत में खींच लिया.

मैं वापिस आकर सो गया कि कल घर जाकर इसके मोबाइल पर चुदाई की रिकॉर्डिंग देख लूँगा. मुझे अब दर्द होने लगा तो उसने जय को इशारा किया कि मेरे हाथ पकड़ ले और मेरे बूब्स को मसले, उन्हें चूसे, चाटे, मरोड़े और जूस निकाल दे.

हमने इतना डीप किस किया कि दोनों ने एक दूसरे की जीभ को जीभ लगा कर उसके ऊपर लार टपका कर किस का मज़ा दुगना कर दिया. बैंक ने 2 प्राइवेट गेस्ट हाउस बुक कर रखे थे और उनमें हर कमरे में 2-2, 3-3 लोगों को एडजस्ट किया था. सुमन- चलो अब आप लेट जाओ और मैं भी आपको उसी तरह मज़ा दूँगी जैसे अपने मुझे अभी दिया है.

माँ भी अपने चूतड़ों को तेज़ी के साथ नचाते हुए अपनी गांड को मेरे जीभ पर धकेल रही थीं और मैं उनकीचूत को जीभ से चोद रहा था.

अभी तो आप अखबार पढ़ो आराम से!” बहूरानी बोली और न्यूज़ पेपर लाकर मुझे दे दिया. मैं जोर से चिल्ला उठी उम्म्ह… अहह… हय… याह… और उनके ऊपर निढाल होकर चित लेट गयी. उसी दौरान मेरे घर पर बहुत बड़ा हादसा हुआ, जिससे मैं पूरी तरह टूट गया था.

जब मैं और मेरी मम्मी वहाँ पहुंचे तो अंकल और आंटी हम लोगों को देख कर बहुत खुश हुए, मैं सब से मिला. मैंने उनसे पूछा कि वो अकेली क्यों है, उनके पति कहाँ गये?तो वो बोली- वो दोस्तो के साथ बैठे होंगे कहीं पीते हुए, आराम से आएँगे जब उनका कोटा पूरा हो जाएगा.

नीतू- दीदी ये अपने क्या कर दिया मेरे पूरे बदन में चिंटियां सी रंगने लगी थीं. रोहित के लम्बे और मोटे लंड से सविता भाभी की चुदाई की इस चित्रकथा को देखने के लिए अभी देखें और साथ ही सविता भाभी ने अपनी सहेली को अपनी सील टूटने की कहानी के बारे में क्या बताया, इस सबका मजा लेने के लिएसविता भाभी कड़ी 21: एक पत्नी की स्वीकारोक्तिको अभी डाउनलोड करें. आज उसने अपने पापा से बात भी नहीं की, शायद रात की बात से वो नाराज़ थी।गुलशन- देखा हेमा.

सेक्सी बुर दिखाइए

रात को जब भैया चले गये तो मैं भाभी के पास गया और उनसे बातें करने लगा.

मैंने सोचा अब फाइनल शॉट दुबारा पीछे से करते हुए लगाया जाये, मैंने दुबारा उसको डॉग पोजीशन में लिया और चढ़ गया लंड लेकर उसके ऊपर… मैं उसको फुल स्पीड में चोद रहा था, पूरे कमरे में पच पच की आवाज आ रही थी, उसके और मेरे चिल्लाने की आवाजें आ रही थी, ऐसे लग रहा था कि कमरा नहीं रंडीखाना है. मैंने कहा- वो सब तो ठीक है, लेकिन आप अपनी बहन को मुझसे ही क्यों चुदवाना चाह रही हो और मैं तो उसको जानता भी नहीं, न ही वो मुझे जानती है, फिर कैसे होगा?वो बोली- देखो, मेरी बहन बहुत बड़ी रंडी है. अब गुलशन जी ये बात फ्लॉरा को बताते हैं या नहीं… ये तो आपको अगले पार्ट में ही पता लगेगा.

नीलम दो अलग समय पर दो अलग शख्स की बेड पार्टनर बन कर दोनों को खुश रखती थी. उसकी सॉफ्ट गांड मेरे लंड को टच करने लगी तो मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. लड़की पटाने का आईडिया बताओतू कैसे इतने दिन बिना संसर्ग के निकाल लेती है?हेमा- अब भगवान ने जैसा बनाया, वैसी ही हूँ और फिर अपने आप से पूछो, शुरू में कैसे मुझे जानवरों की तरह चोदते थे.

वैसे गोपाल के बारे में बता देती हूँ कि वो उस लड़की के खूब मज़े लेने लगा और मौके का फायदा उठा कर मोना भी सुधीर से चुदती रही. उसके बाद इधर-उधर की बातें करने के बाद संजय खाना ख़त्म करके ऊपर चला गया और रोज की तरह पूजा भी पढ़ाई के बहाने ऊपर चली गई.

दोस्तो, मेरी इस हिंदी अन्तर्वासना स्टोरी पर कमेंट्स करें लेकिन मुझ पर नहीं![emailprotected]यह हिन्दी कहानी जारी रहेगी. तभी भाभी ने कहा- शुभम, बहुत दिनों से मुझे तुम्हारे लंड की महक नहीं मिली है. जब हम दूसरी मंज़िल पर गए तो वो लड़की मुझे फिर से दिख गई और मैं नज़रें झुका कर तीसरे कमरे में चला गया.

अब हम उस मुकाम पर आ चुके थे, जहाँ से परम आनन्द की सीढ़ियाँ शुरू हो जाती हैं. एकदम भरा बदन… उसके बोबे मानो कमीज़ फाड़ कर बाहर निकलने को आतुर हों. मेरी आँखों में शरारत थी!यही कहानी लड़की की मधुर आवाज में सुनें!अन्तर्वासना ऑडियो सेक्स स्टोरीज सुनने के लिए सबसे अच्छाब्राउज़र क्रोम Chrome है.

अब सासू माँ ने लैंप की रोशनी में पहली बार अपने जमाई के बड़े लंड को अपने मुँह के सामने तन्नाते हुए देखा.

वो बोलीं- मेरी गालियों का बुरा मत मानो राजा… मुझे चुदाई के समय गालियाँ देना अच्छा लगता है. तभी उसने मेरी पैन्ट खोल कर हाथ से मेरा लंड पकड़ कर बाहर निकाल लिया और मसलने लगी.

वे दिखने में दूध सी गोरी हैं, उनकी हाइट लगभग 5’6″ है और भाभी उम्र में 25 साल की हैं। उनका फिगर साइज़ 34-30-36 का है भाभी की पूरी बॉडी मेंटेंड है।पिछले महीने जुलाई की बात है, जब मैं शॉपिंग करने हमारे यहाँ के बिग बाजार में गया था। काफ़ी घूमने के बाद भी कुछ पसंद ही नहीं आया, तो फिर मैंने सोचा कि चलो लेडीज कॉर्नर में चलता हूँ, इसी बहाने लड़कियों को देख के दिल बहला लूँगा।मैं वहां गया. पांचवी मंजिल भी तीसरी मंजिल की तरह ही थी यहाँ पर भी दोनों तरफ प्राइवेट कमरे ही थे जिनमें अंधेरा था और केवल बीच के खाली जगह में ही एक दो बल्ब चल रहे थे. राजीव ने मेरी तरफ देखा, जैसे कह रहा हो ‘आना है या नहीं?’मैंने एक पल सोचा और कहा- मंजूर है!राजीव के चहरे पे एक लम्बी मुस्कुराहट छा गयी.

अनिता- क्या हुआ मेरे राजा जी किसने आपका मूड खराब कर दिया?गुलशन- अरे कोई पुराना ग्राहक है. जब तुम पूरे जवान हो जाओगे, तो देखना कितना बड़ा हो जाना है इसने!कुछ देर चूसने के बाद मौसी बोली- चल अब आगे का काम करते हैं. उसकी दोनों बाहें मेरे सर के दोनों तरफ थी और ऋतु के दोनों मोटे मोटे मम्मे मेरी आँखों के सामने झूल रहे थे औरमेरी बहन की रसीली चूतमेरे खड़े हुए लंड को छू रही थी.

बीएफ सेक्स वाली हिंदी आपकी अपनी सेक्सी रंडी निकी[emailprotected]मेरी और मेरी सहेली की चूत की कामुकता-3. वो मुझे उठा कर बाहर ले गया और मुझे रंडी की तरह एक सोफे पर पटक दिया.

साउथ इंडियन ट्रिपल एक्स सेक्सी व्हिडीओ

जो आराम से अपने बेड पे सोया हुआ था। वैसे टीना ने उसके बारे में सुमन को बताया था मगर उसे देखा सुमन ने आज ही था। इस वक़्त सुमन की साँसें उखड़ी हुई थीं. गुलशन- क्यों फ्लॉरा हो गई तसल्ली? अब तो तैयार हो ना मेरे अजगर को लेने के लिए?फ्लॉरा- तैयार तो इसको देखा था, तभी हो गई थी मगर ऐसे डाइरेक्ट ही घुसाओगे क्या. इससे सुमन भाभी को हल्का-हल्का सा दर्द होने लगा मगर थोड़ी देर बाद उनको भी अच्छा लगने लगा.

उनके जाते ही मैंने घर का मेन गेट बंद किया और सीधा मौसी के पास आया- मौसी, मम्मी पापा बाहर गए हैं, दोपहर के बाद आएंगे, हम करें?मैंने एक ही सांस में कह दिया. इस पार्टी का नियम है कि एक बार तुम ऐसी पार्टी का हिस्सा बन गई तो तुम किसी को भी मना नहीं कर सकती। जिसे तुम पसंद आयी वो तुम्हें चोद के ही मानेगा! भले वो एक हो या पूरे सौ!मैंने अपनी आँखें तरेर के कहा- यार रिया, ऐसे कैसे किसी भी लल्लू से कोई लड़की चुदवा लेगी यार?तो उसने कहा- ऐसे किसी को भी एंट्री नहीं मिलती यहाँ। सब कुछ वेरीफाई करने के बाद ही आपको परमिट मिलता है. जानवरों का सेक्स वीडियो ओपनमहीने में दो-तीन बार रीना कविता को अपने पास बुला लेती है और साथ डिनर के लिए, पर कविता उसके लाख रोकने पर भी कभी रात को नहीं रुकी.

सास की चूत पूरी गीली हो गई थी और बेटे जैसे जमाई के लंड को लेने के लिए तरस रही थी.

अब वो मेरे नीचे आ कर मुझे अपनी चुत के अन्दर लंड डालने का इशारा करने लगी. अब गुलशन उसके गले पर सीने के ऊपर पेट पर हर जगह चूम रहे थे, चाट रहे थे और सुमन तड़प रही थी.

मैंने पण्डित जी के हाथ को थोड़ी देर में अपने दायें स्तन पर महसूस किया. हम दोनों कार से वापिस सोसाईटी के पास आये तो उसने थोड़ी दूरी पर ही कहा, मुझे थोड़ा पीछे ही उतार दें. उसका चेहरा सुबह की रोशनी में चमक रहा था तथा उस पर एक अबोध बच्चे के जैसी मासूमियत थी जिसे मैं बिना हिले डुले चुपचाप निहारते हुए बीती रात के प्रसंग के बारे सोचने लगा.

अब हमारे बीच सिर्फ़ एक छोटा सा कपड़ा था उसकी पैन्टी… मैंने उसकी पैन्टी को भी उतार दिया और उसकी चूत के मुँह पर अपनी उंगली घुमाने लगा.

अगले दिन मैं मेरे साथ एक वीडियोग्राफर पंकज, दूसरा वीडियोग्राफर रोहित और एक हेल्पर नितिन को साथ लेकर अपनी गाड़ी में सामान रखकर जालंधर में उस शादी वाले घर पर पहुँच गया. तो सुमन भाभी ने अपने बच्चे की कसम खाई और कहा- जो माँगोगे वो तुमको दूँगी. मैं वहां से झट से निकला अपनी बाइक पर और उनके बताए एड्रेस पर पहुँच गया। उधर जाकर डोरबेल पुश किया.

एडमिन फोटोपूरी तरह लंड को संगीता की चुत में अन्दर करने के बाद चन्दन बहुत तसल्ली से अपनी सासू माँ को चोदने लगा. उसकी चाचा की लड़की रजनी (मुझे उसका नाम बाद में पता चला था) बहुत मस्त सेक्सी मोटे चूचों वाली थी.

तुलसी की सेक्सी वीडियो

अब ऋतु का शरीर भी गर्म होने लगा था, उसकी मादक सिसकारियाँ उसके शरीर में होने वाली बेचैनी को ब्यान कर रही थी. कैसा लग रहा है!संगीता ने अपने होंठों को हल्के से अलग किया तो चन्दन का 9” का लंड सरसराता हुआ संगीता की जीभ को रगड़ता हुआ अन्दर चला गया. कामवाली की 18 साल की बेटी की गांड की चुदाईअब तक की इस चुदाई की इस गन्दी कहानी में आपने पढ़ा था कि मैंने कामवाली की लड़की की गांड चुदाई कर दी थी।अब आगे.

अब तक हम दोनों अनेकों बार सेक्स कर चुके हैं और मैंने भाभी की हॉट गांड भी मारी. पण्डित जी ने चाय नाश्ता बना कर मेरे कमरे में अपने नौकर के हाथ भिजवा दिया. लेकिन घर में जवान बीवी हो तो और शादी भी नई-नई थी तो मजे ही कुछ और थे.

यह सुन कर भाभी हंसी और बोलीं- ये तो मालूम है कि अब तू जवान हो रहा है… पर अपनी भाभी के बारे में गंदा सोचता है ये पहली बार मालूम हुआ. अब दोस्तो आप समझ रहे होंगे कि यहाँ क्या होने वाला है? हाँ सही समझे भाई और बहन का मिलाप होने वाला है. मेरी एक कहानी पढ़कर मुझे मुंबई के एक 18 साल के लड़के का मैसेज आया उसने मुझे फेसबुक पर अपना दोस्त बनाया और मुझसे बात करने लगा.

” चन्दन ने सासू माँ के शरीर की तारीफ़ की तो सासू माँ एकदम किसी कमसिन लड़की की तरह शरमा गईं. अब तुम्हें भी अलग से इन्वाइट करना पड़ेगा क्या? चल मॉंटी को बता कि तूने कैसे उसका इलाज किया था?सुमन को शर्म आ रही थी मगर मॉंटी को नंगा देख कर उसकी वासना भी जाग गई थी.

मैं उसकी चूत में अपनी उंगली डालने लगा तो वह एकदम बिगड़ कर बोली- ये क्या कर रहे हो? यही तो मेरा हस्बैंड करता है,चूत में लौड़ाडालो.

हेमा- हाँ जानती हूँ और ये भी जानती हूँ कि आप मुझसे बहुत प्यार करते हो, आप कोई ग़लत कम नहीं करोगे. फुल सेक्सी पिक्चरदोस्तो, क्या बताऊं कितना मस्त लग रहा था, मानो रसीले संतरे की फांकें चूस रहा हूँ. gta पृष्ठभूमिमामा ने जल्दी से कॉंडम का पॅकेट फाड़ा और लंड पर चढ़ा लिया, कॉंडम लगते ही पूरे रूम में मिंट की खुशबू फैल गयी जैसे कोई पान खा रहा हो अगल बगल में. फिर थोड़ी देर तक ऑफिस की बातें करने के बाद उसकी बीवी और चाचा की लड़की रजनी ने खाना लगाया, हम सबने साथ बैठ कर डाइनिंग टेबल पर खाना खाया.

मनोज सवेरे-सवेरे आने वाला था, इन्होंने फोन लगाया तो वो बोला- भैया ग्यारह बजे तक पहुँच जाऊँगा, खाना साथ ही खाएँगे.

जैसे ही माला को गीलापन महसूस हुआ उसने झट से अपनी योनि पर हाथ रख कर रस को बहने से रोका और मुझे धक्का दे कर अलग करते हुए उठी और बाथरूम में भाग गई. बाद में बहूरानी को पता चलता है कि वो पिछली रात किसी और से ही चुद गयी थी तो वो टेंशन में आ जाती है कि इतने सारे मेहमानों में वो पता नहीं किससे चूत मरवा बैठी. हम फिर फ्रेश हुए, उसे जो सामान लेना था, ले लिया और वहाँ से निकल गये.

मैंने मक्खन लगाते हुए कहा- सॉरी भाभी जी, ठीक है, मैं आपको भी भाभी ही कहा करूँगा. मैंने रजनी के कमरे की तरफ हल्की सी नजर से देखा तो बहुत हल्की सी लाइट में रजनी की टाँगें नजर आयीं जिनके ऊपर से गाउन भी उठा हुआ था. ‘उसका तो मैं रोज चूसती हूँ, लेकिन इतना हैवी लंड तो मेरे मुंह को रोज-2 नहीं मिलेगा!’ एंड्रयू के लंड को पूरा का पूरा अपने हलक में उतारने की चेष्टा करते हुए मेरी बीवी ने मुस्कुरा कर उत्तर दिया.

सोनाक्षी सिन्हा की नंगी सेक्सी वीडियो

भाभी ने मेरी नाइट वाली टी-शर्ट और बनियान निकाल दी और मेरे सीने को सहलाने लगीं. मैंने होटल पहुंच कर क्लाइंट को फ़ोन किया और उसे बता दिया- सर, मैं होटल आ गयी हूँ और रूम में आ रही हूँ. तू कंटिन्यू कर।सुमन ने लंड को गौर से देखा फिर उसको चूसने लगी।दोस्तो, कुँवारी लड़की का मुँह भी चुत की तरह होता है। उसकी गर्मी ऐसी होती है कि अच्छे से अच्छे लंड पिघल जाएं। फिर मॉंटी तो बेचारा बच्चा था.

किचन में भाभी ने मुझे और मेरे कसे हुए लंड को तिरछी नजर से देखा और चुपचाप रोटी सेकने लगी.

मुझे पता था कि चाची के आसपास उनके बच्चे सोयेंगे तो मेरा प्लान कामयाब नहीं होगा.

इधर मनीष ने अपने हाथों से मेरे उभरे हुए मम्मों का कचूमर निकालना शुरू किया. उसका बायाँ बाजू मेरे कंधे के ऊपर से मेरी पीठ पर था तथा उसने उससे मुझे जकड़ा हुआ था और उसका दायाँ बाजू हम दोनों के बीच में था तथा उसका वह हाथ मेरे लिंग पर रखा हुआ था. सेक्सी सेक्सी सेक्सी मूवीमैंने देर न करते हुए उन्हें चूसना शुरू कर दिया और दबाना मसलना शुरू कर दिया.

30 पर उसके घर पर दुबारा मिलने का प्रोग्राम बनाया और मैं अपने कमरे पर आ गया. उसने मुझे मेरा सिर पकड़ कर उठाया और मेरे कानों में बोला- प्लीज़ विजय मेरी चूत बहुत ही प्यासी है. सुमन भाभी ने कहा- सैम प्लीज अब बर्दाश्त नहीं होता, प्लीज अपना लंड मेरी चुत के अन्दर डाल दो.

मेरी पहली धार सीधे ऋतु के चेहरे से टकराई और वो थोड़ा पीछे हटी और फिर दूसरी धार सीधे पूजा के खुले हुए मुंह के अन्दर और तीसरी और चोथी उसके गालों और माथे पर जा लगी. मगर बारी-बारी से सबने उसके साथ डांस किया। विक्की ने कई बार उसकी गांड को सहलाया मगर फ्लॉरा इन सब की हरकतों को एंजाय कर रही थी।फिर संजय को लगा अब फ्लॉरा गर्म हो गई है तो उसने अजय को इशारा किया कि शुरू हो जा।मेरे प्यारे साथियो, आप मुझे मेरी इस सेक्स स्टोरी पर कमेंट्स कर सकते हैं.

मेरी हिन्दी सेक्सी स्टोरी पर अपने विचार मुझे भेजें![emailprotected]गर्लफ्रेंड की अदला बदली करके चुदाई की तमन्ना-3.

टीना की कही बात उसे बेचैन कर रही थी, तो वो आज जानना चाहती थी कि उसके पापा और मॉम के बीच सब ठीक तो है ना. नीलम मुझे अपने हाथों से अपना दूध पिलाती थी, मेरा घी खाती थी, अपने हाथों से छाती पर भी मलती थी. खैर, मुझे अब उसके साथ मजा आ रहा था और पूरे शौक से हम दोनों अपनी जिंदगी के मजे ले रही थी.

न्यू गोल्डन डे सागर रिजल्ट सासू माँ ने जमाई बेटे के लंड को पकड़ लिया और अपनी चूत पर रगड़ने लगीं. एक दिन हम दोनों रात में 3 बजे बात कर रहे थे, तभी वो बोली- विक्रम क्या तुम अभी मेरे घर आ सकते हो?मैंने कहा- इतनी रात में?क्योंकि उसका घर मेरे घर से दूर था और जिस कोलोनी में वो रहती थी उसमें उसका घर लास्ट था तो मैंने बोला- इतनी रात को?तो बोली- आ जाओ ना… तुम्हें देखने का बहुत मन कर रहा है.

और मैं वैसे ही सोचते-सोचते उसकी नंगी मम्मी की कल्पना करने लगा था जैसा कि सोनू मुझे उनकी चुदाई के बारे में बताया करती थी. मैंने अपना हाथ उसके कुर्ते में डाल कर उसकी नंगी पीठ के मांस को भी अपनी मुट्ठी में भर भर के नोचा, उसका कुर्ता ऊपर उठा कर उसके मम्मे बाहर निकाले और उसके निप्पल को अपने मुँह मेंलेकर न सिर्फ चूसा, बल्कि दाँतों से काट भी खाया. उस दिन मैंने ख़ुशी के कारण खाना ना खाया, और ना सही से सो पाया मैं मन ही मन मुस्कुराता रहा, रात भर उसी के बारे में सोचता रहा और उसके बारे में सोचते हुए रात में 3 बार मुट्ठ मारी.

मराठी बाईचा सेक्सी

फ्लॉरा ने जॉन को हटाने की बहुत कोशिश की, मगर जॉन अपने काम में लगा रहा और थोड़ी ही देर में फ्लॉरा भी उत्तेजित हो गई. मैं समझा नहीं तुम ठीक से बताओ वरना मैं फिर कोई ग़लती कर दूँगा।मोना- हा हा हा तुम बहुत स्वीट हो यार. उसकी कामवासना बढ़ती जा रही थी किन्तु मैं उसको तड़पा रहा था, सच कहूँ तो मुझे उसकी चूत चाटने में बहुत मजा आ रहा था, मन कर रहा था कि पूरा मुँह उसकी चूत में डाल दूँ, उसकी चूत चाट चाट के ही उसका पानी निकाल दूँ!ऋतु अब बेकाबू होती जा रही थी, अब वो खुल के मजे लेना चाहती थी, लिहाजा वो एक अचानक से पलटी और मेरे मुँह पर ही अपनी चूत को रगड़ने लगी.

अब पण्डित जी मेरे दोनों स्तनों को दबाते हुए मुखमैथुन का मजा ले रहे थे, जिसकी गवाही कमरे में गूँज रही उनकी सिसकारी दे रही थी. ‘कहाँ जा रही है भाबी जी?’ तिवारी को लगा मानो अनीता उसे सुबह सुबह ही अपने बेडरूम में चुदने के लिए रिझा रही थी, तिवारी ने खड़े हो कर अनीता का पीछा करना शुरू किया कि तभी अनीता बोल पड़ी- ठहरिये तिवारी जी, मैं आपको कुछ दिखाना चाहती हूँ, आप मेरा इंतज़ार कीजिये.

एक दिन लवली के घर पर कोई नहीं था। सारे लोग किसी रिलेटिव के शादी में गए हुए थे और एग्जाम नजदीक थे, लवली नहीं गई थी। इस दौरान मैं उसके घर पर पढ़ने जाता ही था।उस दिन पढ़ते-पढ़ते काफी रात हो गई थी.

क्या सोचने लगे?गुलशन जी की तो हालत देखने लायक थी मगर उन्होंने कुछ ग़लत नहीं सोचा और सुमन की गर्दन पर धीरे-धीरे दबाने लगे. कुछ देर बाद में मुझे क्लाइंट ने होटल का नाम और रूम नंबर मैसेज कर दिया. वो जैसे ही मुझे चाय देने के लिए झुकीं, मेरी नज़र उनकी नंगी चूचियों पर पड़ी.

ऎसी ही एक कमसिन कॉलेज गर्ल की चूत चुदाई की तलब की कहानी है यह!पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…मेरी हिन्दी सेक्सी स्टोरी मेरी सहेली की है, उसके घर पूजा करने आए पण्डित और अपनी सहेली को मैंने अचानक ही सेक्स करते देख लिया था. मैंने इसी तरह उनके चूतड़ों पर लगातार 8-10 बार मारा जिससे उनके चूतड़ों पूरी तरह लाल हो गए।उसके बाद भी वे मुझे छोड़ने को बिल्कुल तैयार नहीं थी।फिर मेरे मन में आया कि जब शुरू हो ही गया है तो एक नए एंजॉयमेंट के साथ इसे पूरा करें।मैंने उन्हें पूछा- सफीना जी, आपके घर में शहद है क्या?तो उन्होंने बोला- शहद और चॉकलेट … तुम्हें जो भी चाहिए, ले सकते हो. फिर सुमन भाभी ने मेरे लंड को हाथ से सहलाया, मुझे बेड पर लेटा दिया और सुमन भाभी बिस्तर पर बैठ कर मेरे लंड को किस करने लगीं.

फ्लॉरा ने आँखों पे हाथ लगा लिया और जॉन को कहने लगी- जल्दी से लेकर आओ भाई.

बीएफ सेक्स वाली हिंदी: वॉट ए सीन यार! मैं तो भरी जवानी देख कर पागल हो गया। मैंने उनके चूचे हाथ में लिए और सहलाने लगा। क्या आनन्द था. जमीला बोली- सबीना डार्लिंग आहह… उम्म्म… मस्ताना मेरी चूत में कस कर घुसा है लग रहा है उम्म्म… ओहह… चूत फट जायेगी.

दोनों की चीखें गूंज रही थी कमरे में ‘आआआ आआआआ अहह ह हह हहह… सीईईई ईई… चाआआअटो… और तेज… और तेज… आआअह आआआह आआअह!तभी ‘मैं तो गईईईईई ईईईई ईईईई’ बोलते हुए ऋतु झड़ने लगी और विकास ने सारा रस पी लिया. उसने मारे सर को पकड़ लिया और अपनी कमर थोड़ी सी ऊपर को उठाई, शायद उसको मज़ा आया. मैंने कहा- सुमन, अब मुझे आपके हाथों के साथ साथ स्कूटर का हैंडल भी अपने हाथों से पकड़ना होगा, तो थोड़ा शरीर से शरीर टच होगा, आप बुरा तो नहीं मानोगी?उसने कहा- आप आराम से बेझिझक हो कर बैठो, अब जब बैठने की जगह ही इतनी है तो क्या करें.

अब जन्नत मेरे सामने थी, पर मैं उसका मजा पूरी तरह से नहीं ले सकता था.

फिर मैंने वो वीडियो देखा और अर्जुन की पूरी हरकतें एक वीडियो फ़ाइल में सेव कर लीं. मेरी जिज्ञासा और बढ़ गई… मैंने कहा- पत्नी तो वो आपके दोस्त की है, तो आपने उसकी चूत कैसे मारी?तो उसने बोला- बहुत लंबी कहानी है… जैसे तुझे मेरा लौड़ा पसंद आ गया, वैसे ही इसको भी मेरा लौड़ा पसंद आ गया था. कुछ ही पल बीते थे कि सरिता ने पीछे पलटकर मुझे देखा और मुझे अपनी गांड को घूरता पाया वह शरमा गई और बोली- आप पीछे क्यों रह गए? साथ आइए.