बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो

छवि स्रोत,नागौर सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ मुसलमानी की: बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो, उन्होंने साफ ही बोल दिया था कि जब भी तुम्हें किसी भी चीज की जरूरत पड़े तो मुझे बता दिया करो.

सैंया जी दिलवा मांगेला गमछा बिछाई

कुछ पल बाद वो मेरे ऊपर से हटने की कोशिश करने लगीं, लेकिन मैंने उन्हें नहीं जाने दिया … क्योंकि मेरा अभी तक नहीं हुआ था. पाई चार्ट क्या हैउसने एक बार तिरछी नजर करके मेरी लोअर की तरफ देखा और फिर बोली- आप जो भी कुछ सिखाओगे मैं वहीं सीख जाऊंगी.

तभी राजनाथ भी बोलने लगा कि वो उन्हें बहुत प्यार करता है और उन्हें हर तरह का सुख देगा. मेरी सास का 5 पुत्र थेकई वीडियो तो इतने मस्त थे जिनको देख कर मैं कई बार मुठ मार चुका था लेकिन फिर भी मेरा मन नहीं भरता था.

पहले तो उसे शायद मजा नहीं आ रहा था लेकिन फिर बाद में वो मस्ती से मेरे लंड को चूसने लगी.बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो: तब चूत के दर्द का कुछ अहसास हुआ पर इस परम आनन्द के आगे वो दर्द कुछ भी नहीं था।फिर मैं बाथरूम गयी औऱ फ्रेश होकर रॉकी के साथ नंगी ही सो गई।सुबह जब दरवाजे पर दस्तक हुई तो हमारी आंख खुली और जल्दी से कपड़े पहन कर मैंने ही दरवाजा खोला।बाहर प्रभात और निक्कू खड़े थे।घड़ी में समय देखा तो 10.

आंटी की सिसकारियां निकलने लगीं- अहहा … उम्म्ह … अहह … हय … याह … उम्म्म्म … ओह ओह … और चूस और चूस उम्म्म्म … आह आह.मैंने उसकी मदद की और अपनी पैंट को अपनी जांघों से नीचे खींच कर अपने पैरों से अलग कर दिया.

बाप और बेटी का सेक्सी फिल्म - बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो

उस रात के बाद ये लड़कियां आपस में कुछ ज्यादा ही हंसी मजाक करने लग गयीं थीं, पर आदमी लोग कभी इस सबमें इन्वोल्व नहीं हुए.कई मिनट तक उन्होंने मेरी चूत को इसी तरह से चोदा और फिर मुझे पोजीशन बदलने के लिए कहा.

मैंने उसकी मैक्सी को ऊपर कर दिया और जैसा मैंने सोचा था कि वो उसने नीचे से कुछ भी नहीं पहना होगा तो वो बिल्कुल ही नंगी थी. बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो मैंने उसके होंठों को चूसते हुए उसके चूचों को एक हाथ से ही छेड़ना, दबाना शुरू कर दिया.

और उसके बाद वो मैं और विवान भैया हम दोनों को जब भी मौका मिलता था तो एक दूसरे को किस करते थे.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो?

फिर मैंने उससे पूछा- तुम दोनों ने कभी कुछ किया भी है क्या?एक बार तो उसने जवाब नहीं दिया लेकिन फिर वो कहने लगी- हाँ, एक बार उसने मुझे पॉर्न मूवी दिखा कर गर्म कर दिया था तो मैंने उसके साथ एक बार कर लिया था. उसने मेरी पीठ पर अपनी बांहों का घेरा बना कर मुझे अपने आगोश में लेना शुरू कर दिया. मॉम मेरे लंड पर ऐसे कूद रही थीं, जैसे वह घोड़े की सवारी कर रही हों.

अब मुझे डर था कि कहीं हमारी कामुक आवाजें अंदर बाथरूम में बेटी तक न पहुंच जायें. मां बोली- ठीक है, तो फिर मैं विनय को बोल देती हूं कि हमारे जाने के बाद वो भी तेरे साथ आकर पढ़ाई कर लेगा ताकि तुम्हें अकेली न रहना पड़े. उसने झट से वो नाइटी भी उतार कर फैंक दी और पूरी तरह से नंगी हो कर वहीं बैठ गई … जैसे उससे उठा नहीं जा रहा हो.

मैं- आप बस कुछ भी कर लो … मुझे उनके साथ अकेले में रहने का इंतज़ाम करो. फिर ऐसे ही कुछ दिन बीते थे कि एक दिन भाभी ने मम्मी से फोन पे कहा- आज मैं घर पर अकेली हूँ और मेरी तबीयत भी ठीक नहीं है. उनका हमारे घर में भी खूब आना जाना था इसलिए मेरी पत्नी उसके घर चली गई.

सारी साइट दिखाने के बाद आखरी फ्लैट के बेडरूम में उसको लेकर गया और उससे पूछा कि लंड दिखाऊं क्या?वो शरमाते हुए ना बोलते हुए निकल गयी. आइसक्रीम को किनारे रखकर मैंने वाइन की बोतल खोली और उपासना के बगल में बैठ के पीने लगा.

वो जोर से सिसकारियां लेते हुए चिल्ला रही थी- मर गई … उईई … आह्ह … हाय रे दैया! उसके आनंद को मैं उसके चेहरे पर साफ-साफ देख रहा था.

और शायद इसीलिए देर शाम को जवां युगल या केवल पत्नियां पूल में रहते थे.

आंटी यहां पुणे में अकेली ही अपनी दो लड़कियों के साथ रहती हैं जिनमें से एक जॉब करती है जो मेरे से बड़ी है और दूसरी मेरे से 1 साल छोटी है वो जीव विज्ञान की पढ़ाई करती है. मैंने उसके चूतड़ों को कसके पकड़ा और जोर जोर से धक्के मारने शुरू कर दिए जिससे होटल का पलंग भी चूँ चूँ की सेक्सी आवाजें करने लगा. इससे पहले की वो मुझसे कुछ कहती मैंने उसको अपनी तरफ खींचा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये.

जब भी काजल मेरी बहन सुमिना के साथ बैठी होती तो वहीं आस-पास मंडराने लगता था. मुझे सबसे ज्यादा उसे उल्टा लेटाकर और उसके ऊपर लेटकर उसकी गांड के पास से उसकी चूत में अपना लंड घुसा कर चोदने में मजा आता था. नहीं ऐसा कुछ नहीं है, अगर ऐसा होगा तो तुझे तो पता चल ही जाएगा।”ऐसे बोल कर वो हंसने लगी.

उसने नीचे हिल पहनी हुई थी और उसकी पतली कमर पर ड्रेस बिल्कुल फिट होकर चिपकी हुई थी.

मैंने भी उत्तेजित होकर उसकी पैंट उतार दी और उसका लंड हाथ में पकड़ लिया. मैं चाची के पास जाकर बोलने लगा- मुझे वो दोनों चाहिए … आप ही कुछ करो … नहीं तो यहीं चोद दूंगा. अब उसने सीमा की टांगें चौड़ी की और अपनी जीभ उसकी गुलाबी चूत में घुसा दी.

मैं उसके पेट पर अपनी चूत टिका कर बैठ गई और चूत को उसके पेट से रगड़ने लगी. तभी मैंने अपना एक हाथ उनके मम्मों के ऊपर उनके कुर्ते के ऊपर से ही रख दिया और मम्मे को सहलाने लगा. कुछ देर बाद मैंने उनसे खाने के बारे में पूछा, तो बोले- थोड़ा कुछ ऑमलेट वगैरह बना लो.

मैंने भी अकेली जाने का मन बना लिया और अपने आने की खबर अपने घर पर बताई घर वाले बहुत खुश हुए.

दस मिनट तक लंड चूसने के बाद राजनाथ ने मॉम को उठाया और बेड पे पटक दिया. सॉरी … हां तो तूने अपनी मामी से बात की?”कहां यार, टाइम ही नहीं मिला, वैसे मैंने पहले एक बार बात की थी लेकिन उन्हें फर्क ही नहीं पड़ता.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो जब आंटी काफी गर्म हो गई तो आंटी के पैर ने हल्का सा दबाव मेरे लंड पर बनाना शुरू कर दिया. मैंने उसे उसके घर से लेकर अपने एक दोस्त के कमरे पर ले जाने का मूड बन गया था.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो मैं बोली- हम यहां पर क्या कर रहे हैं?वो बोला- अगर घर में सेक्स नहीं कर सकते तो यहां पर कर लेते हैं. मैं अनिल के लंड को इंच दर इंच अपनी बीवी की चूत में घुसते हुए अपनी ही आंखों के सामने देख रहा था.

किरण आंटी फिर से गर्म होने लगीं और कहने लगीं- अब और मत तड़पाओ … जल्दी से डाल तो अन्दर.

करीना कपूर का बीएफ वीडियो

मैं शादी के बारे में नहीं सोच रहा था क्योंकि मैं ऐसे ही जिदंगी में मस्त रहना चाहता हूँ. हर्ष ने घर के लिए कुछ सामान खरीदा, फिर हम दोनों ने गोलगप्पे खाये और घर के लिए निकल दिए. मैंने लंड को सुपारे तक बाहर निकाला और वापस एक ही झटके में पूरा लंड अन्दर घुसा दिया.

वो फिर से बोली- बोलो ना क्या?मैं बोला- आप नाराज तो नहीं हो जाओगी?वो बोली- नहीं होऊंगी … बताओ क्या वापस करना है?मैंने गाड़ी साईड में रोकी और स्मायरा से कहा- आंखें बंद करो. फिर उसने नेहा को इशारा किया और नेहा बेड पर मेरी बगल में आकर लेट गई. मगर मैंने उसको दिलासा देते हुए कहा- बस जान, थोड़ी देर तक ही दर्द होगा और उसके बाद तुम्हें जन्नत का मजा आना शुरू हो जायेगा.

फिर उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मैंने अच्छी तरह उसके लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया.

अगले हफ्ते पांचों इंजिनियर फ्लाइट से चेन्नई चले गए … पीछे लड़कियों को सख्त हिदायत थी कि शाम होते ही मेन गेट बंद कर लें. वैसे उसके फोन में ऐसे वीडियो देखने के बाद मेरा भी उसके साथ फर्स्ट टाइम सेक्स करने का मन करने लगा लेकिन मेरी उससे कहने की हिम्मत नहीं हुई. फिर मैंने अपना दूसरा हाथ भी उसकी छाती पर रखा, तो उसने हल्की सी सिसकारी ली.

फिर कुछ दिन बाद सुधा ने एक प्राइवेट कम्पनी में ज्वाइन कर लिया था और वो सुबह ही अपने काम पर निकल जाती थी. वो लंबी-लंबी सांसें लेती हुए फिर बोली– ये ठीक नहीं है, मेरे दो बच्चे हैं और तुम पहले से शादीशुदा हो।मेरे मुंह से कोई जवाब नहीं निकला, बस मैं उसे देखता ही रहा। कुछ देर ऐसे ही हम बिना कुछ बोले एक दूसरे को देखते रहे। अगले ही पल जब मैं उठने को हुआ तो उसने ऐसे पकड़ा मुझे जैसे मुझे रोकना चाह रही हो।लेकिन मैं उठने की कोशिश करने लगा क्योंकि मुझे मेरी गलती का अहसास हो गया था. वह जानती थी कि अगर वह ऐसे ही शर्माती रही तो वह इस मौके से चूक सकती है.

रीना ने टांगें खोल दीं और उसकी चुत लंड का अन्दर आने के लिए स्वागत करने लगी थी. मैंने स्वरा से हाथ मिलाया और पूजा (दोस्त की गर्लफ्रेंड) से भी हाय किया.

हमेशा साड़ी में रहने वाली ज्योति की कमर देख कर मेरे दिल को मानो सुकून मिल जाता था. लेकिन कोई प्रॉब्लम नहीं होनी चाहिए क्योंकि मुझको वापस घर भी जाना है. मैंने कहा- कोई बात नहीं, अगर दोस्त नहीं तो मैं हूं न? दोस्त का दोस्त!वो बोली- हां, यह दोस्ताना तो मुझे बहुत पसंद आया.

”हाँ जान तुम बिलकुल सही कह रही हो।”इस मधुर की बच्ची ने तो मुझे डरा ही दिया था। इन औरतों को किसी बात को घुमा फिराकर बताने में पता नहीं क्या मज़ा आता है?अचानक मुझे लगा मेरी सारी चिंताएँ एक ही झटके में अपने आप दूर हो गयी हैं।मैंने एक बार फिर से मधुर को अपनी बांहों में जकड़ लिया … अलबत्ता मेरे ख्यालों में फिर से गौरी का कमसिन बदन, सख्त उरोज और नितम्ब ही घूम रहे थे.

जब डॉक्टर मेरी बीबी की चूत को भरपूर चूस चुका तो बोला- बोला हो गई क्लीन तो!लेकिन मेरी वाइफ की चूत सुलग चुकी थी, वो बोली- ऐसे कैसे पता कि क्लीन हुई या नहीं?यह कहते हुए उसने अपनी चूत में उसके चेहरे को भींच लिया. मैंने उसे नीचे लिटाया ही था कि उसने कहा- अभी नहीं, मुझे ऊपर आने दो. वो बोले- कमरे तो सारे फुल हैं लेकिन हम आपके लिए व्यवस्था कर देंगे लेकिन उसके लिए आपको अतिरिक्त चार्ज देना पड़ेगा.

उसका वह काला नाग खड़ा हो कर उसकी जांघों के बीच में डोल रहा था।अमित … अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है … मैं अब भाभी के अंदर डालने वाला हूँ … भाभीजी आप घोड़ी बन जाओ. उसके इतना कहते कहते ही हांफते हुए राजीव ने एक फाइनल शॉट लगाया और शबनम की चूत को अपने माल से भर दिया.

फिर मुझे सीधी खड़ी करके पीछे से लंड डाल दिया और मेरे मम्मे दबाते हुए चोदा. मैं अपनी दोस्त को पिक करने बताई हुई जगह पर पहुंच गया और और करीब 20 मिनट के बाद हम दोनों मेरे दोस्त के घर पंहुच गए. फिर जीजा ने मेरी गांड के छेद को अपने थूक से भर दिया और फिर अपने लंड के टोपे को मेरी गांड के छेद पर लगाकर जोर देने लगे.

चोदा चोदी दिखाइए बीएफ

सामने खड़ी हुई लड़की खुद किसी को कह कर अपनी भावनाएं बता रही थी।आंटी बोली- ये तुमको चाहती है, क्या तुम इस बात को जानते हो?मैं- नहीं आंटी, मैंने कभी ऐसा नहीं सोचा।आंटी बोली- जो तुम उस दिन कर रहे थे वो आज मेरे सामने करके दिखाओ.

पति ने चलते हुए ही अपना लंड दो-तीन बार मेरी गांड पर लगा कर ये बता दिया था कि आज मेरी गांड की चुदाई जमकर होने वाली है. घर बहुत अच्छा था और मेरे पिताजी काम के सिलसिले में कभी कभार बाहर जाते थे. उसके बाद मैंने अपनी उंगलियां अपने मुँह में डाल लीं और उसकी चूत के रस का स्वाद लेने लगा.

हां मगर जब यह अन्दर जाकर बहुत मस्ती में पूरी तरह से डांस करता है, तो मुझे इतना अधिक मज़ा मिलता है कि क्या कहा जाए. उसने पता नहीं क्या इशारा किया कि सभी लड़कियां बोलीं ‘ओके गीता … सुबह मिलेंगे. आज नाचू में छम छमअब तो मुझे भी कोई ऐतराज नहीं है कि इसकी चूत को कोई भी आकर चोद सकता है.

करण- ओ वाओ… रियली? तुम्हें देख कर लगता नहीं है।मैं बोली- क्यूं मुझे क्या हुआ है जो मुझे देख कर ऐसा नहीं लगता आपको. इसी प्रयास में मैंने शालिनी की साड़ी को उठा कर ऊपर उसके पेट पर पहुंचा दिया और उसकी जांघों को नंगी कर दिया.

कुछ समय बाद मैं कार से उतरा और ज्योति के पास आकर उससे सॉरी बोलने की सोचने लगा. अब मेरे अंदर काजल के लिए प्यार और वासना दोनों का मिला-जुला भाव उमड़ रहा था. उसके हाथ मेरे बालों में थे और जब वह उनको खींच रही थी, तो मुझे उसके आनन्द का अनुभव हो रहा था.

भाभी बोलीं- आज रुकना नहीं, जितना सब्र किया है, सारा पूरा कर लो, कोई कमी ना रह जाए, तुम्हें पूरी छूट है. ” नीलम ने ज़ोर से तड़पते हुए कहा।क्या घुसाऊं बेटी?” महेश ने अपनी बहू से मज़े लेते हुए कहा।ओहहहह पिता जी वह… अपना लंड घुसाओ ना!” नीलम ने भी अपनी शर्म छोड़ते हुए कहा।क्या बेटी, तुम्हें मेरा लंड चाहिए, कहाँ पर, किधर घुसाऊं मैं अपना लंड?” महेश ने इस बार अपनी बहू की चूत के दाने पर अपना लंड घिसकर उसे छेड़ते हुए कहा।पिता जी, मेरी चूत में घुसाओ अपना लंड. उसने मेरा अपर उतार फेंका, काली ब्रा में कैद मेरी जवानी को देख उसका लोअर तम्बू बन गया.

” महेश ने अपना मुँह नीलम की चूत से बिल्कुल सटाते हुए कहा।आहहह नहीं पिता जी.

उसके बाद तो उसने मेरी शर्ट के अंदर ही हाथ डाल दिया और जोर से मेरे दूधों को दबाने लगा. वो मेरा इशारा समझ गई पर उन्होंने नाक सिकोड़ कर मुँह में न लेने का इशारा किया।मैंने जबरजस्ती नहीं की।जो कामक्रिया स्वेच्छा से हो वही करनी चाहिए।मैं फिर फर्श पर बैठ गया और उन्हें बेतरतीबी से सभी जगह चूमने लगा। हम दोनों का शरीर अब लंड और चूत का मिलन माँग रहे थे।देर न करते हुए मैंने उनके पैर फैलाये और लंडराज को उनकी गुफा के मुहाने पर रख दिया। मध्यम ताकत के धक्के से मेरा लंड आधा उनकी चूत में घुस गया.

जब मैंने पहली बार वीडियो कॉल के दौरान उसे देखा, तो वो बहुत सुन्दर लग रही थी. उन्होंने मुझसे पूछ ही लिया- तुम्हारी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है क्या?मैंने बोल दिया- नहीं है. जब वो मुझे चोद रहा था, तब मैं उछल उछल कर अपने मम्मों को हिला रहा था.

तभी मुझे अपना लावा फूटने का आभास हुआ तो मेरे मुँह से ‘आह्ह आह्ह’ की सिसकारी निकल गयी और वो समझ गयी कि अब ‘काम’ होने वाला है। उन्होंने अपने दांत भींचते हुए जोर के झटके दिए और मेरे लंड की दिशा अपने से दूर की तरफ कर दी।अचानक मेरे लंड से 1 धार छूटी जो 5 फ़ीट दूर जाकर गिरी. जब तक मैं वहां पर रहा उन्होंने मेरे लंड की और अपनी चूत की प्यास को मजे से शांत करवाया. हम दोनों बस यूं ही एक दूसरे की नजरों को पढ़ते हुए अपनी वासना को तौलते रहे.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो इतना सुनते ही मेरे शरीर से भी करंट सा निकलने लगा और मैंने धक्कों की गति बढ़ा दी, 10-12 गहरे और तेज झटके मारते ही लंड उफान पर आ गया. क्योंकि उसके घर वालों को उसने नींद की गोली दी हुई थी और किसी का कोई डर नहीं था.

कॉलेज सेक्सी बीएफ वीडियो

अनिता भाभी के मुँह से बस यही निकला- आह मार दिया … रुकना मत … आह डाल दो पूरा अन्दर … उई माँ … चोद दो मुझे अपनी रंडी बना कर!अब ये बात सुनी तो भला मैं क्यों पीछे रहता. जैसे-जैसे वह खुद से लड़ने की कोशिश कर रही थी, उसके पूरे शरीर में एक सनसनी दौड़ रही थी. वो इसी मजे में मस्त थी कि तभी मैंने अपने लंड को उसकी चूत की फांकों में घिसा और एक तेज झटका दे मारा.

” शैली लेट गयी। अंशु उसके चेहरे पे बैठ गयी, उसके चूतड़ शैली के गालों से और गांड का छेद होंठों से जुड़ गया। प्रोग्राम शुरू हो गया।अंशु ने शैली का टॉप और ब्रा ऊपर सरकाई और चुचियाँ दबाने लगी। नीचे शैली के होंठ और जीभ अपना काम कर रहे थे- मस्त है साली, चुचियाँ ज़ोरदार हैं और चूस के मज़ा भी खूब देती है।फिर मेरी बारी आयी।मैं ऐसे प्यार नहीं करवाऊँगी. फिर उधर शिवानी के पारदर्शी कपड़ों में से उसकी चूत और मम्मे पूरी तरह से सागर के लंड को गर्म कर रहे थे. विधवा रिश्तेसिर्फ़ लंड को चूत में डाल कर कुछ देर तक दिलाया और माल निकालने को चुदाई नहीं कहते … चूत पसीने पसीने होनी चाहिए.

मैंने पूछा- तो मॉम, क्या सोचा है?तो मॉम ने हल्की सी मुस्कान दी और बोलीं- तो तुम मानोगे नहीं.

लेकिन मैंने बाहर ऑर्डर करके समय बचाने का सुझाव दिया।वो मान गई।मैंने ऑनलाइन ऑर्डर कर दिया और हम फिर प्यार करने में जुट गए।थोड़ी देर में खाना आ गया, एक दूसरे को प्यार से खाना खिलाने के बाद फिर सेक्स का दौर शुरू हुआ. वो मान गईं और उन्होंने पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है क्या?मैंने मना कर दिया, लेकिन वो मानने को तैयार ही नहीं हुईं.

मैंने भी 8 से 10 तेज धक्के और मारे और उसकी चूत में ही अपना बीज डाल दिया. लेकिन हमारा रिश्ता इतना गहरा था कि हम नजरों ही नजरों में एक दूसरे से बात कर लिया करते थे. वो बोली- कोई नहीं … हो जाता है … इस उम्र में उनसे कंट्रोल नहीं होता और तुमसे तो बिल्कुल ही नहीं होता.

मेरी क्लास में 10-15 लड़कियां थीं, लेकिन मैं किसी से बात नहीं करता था, क्योंकि लड़कियों से बात करने में मेरी गांड फटती थी.

फिर भी मैंने कहा- मैं तुम्हारी मांग भर भी दूँ और कभी तुम्हें प्यार नहीं दे पाया या तुमसे अलग हो गया तो क्या होगा?उसका बड़ा ही साधारण सा उत्तर पाकर मैं सोचने लगा कि ये इसी लोक की है या कहीं और से आई है. आनन्द अपने चरम पर था, घोड़ा कभी धीरे कभी सरपट दौड़ रहा था, जब मंजिल करीब आने को हुई तो लण्ड फूलकर और मोटा होने लगा. चूचियां रगड़ते रगड़ते उसने अपना हाथ मेरे लोअर में डाल दिया और मेरा लण्ड मसलने लगी.

पुदीना का गानामतलब आपकी रात में ड्यूटी है इसीलिए आप रूम पर हो और उनकी दिन में ड्यूटी है. वो एकदम से कड़क होने लगी थीं- ओह वरुण जोर से चोद … आह और जोर से … मैं आने वाली हूं.

सनी लियोन बीएफ वीडियो मूवी

अच्छा लगा बापू जी!” ज्योति ने इस बार हिम्मत करते हुए कहा।बेटी तुम बेवजह शरमा रही हो अगर तुम मेरा साथ दो तो मेरा यह लंड तुम्हें जन्नत की सैर करवायेगा. फिर मैंने दोबारा से उसको छेड़ने के इरादे से कहा- मुझे पता चल गया था कि आज आपके चेहरे पर ये चमक कैसे आई आप इतनी खुश क्यों लग रही थीं!वो तपाक से बोली- क्या पता लग गया आपको?मेरी साली की कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. शबनम ने एक कामुकता भरी मुस्कान से उसकी तरफ देखा और अपने होंठों पर जबान फेर दी.

मैंने मजाक में स्मायरा से कहा- आपको मेरे साथ डर तो नहीं लग रहा?वो बोली- मुझे आप मत बोला करो. तो दोस्तो, इस तरह चार दिन की जुदाई के बाद पति ने मेरी चूत और गांड की जमकर की चुदाई की. भाभी ने पूछा- क्या तुम मुझे माँ बनाने का सुख दे सकते हो?अब मामला चुदाई का था … न कि मालिश का था.

” महेश ने अपना मुँह नीलम की चूत से बिल्कुल सटाते हुए कहा।आहहह नहीं पिता जी. अब वो चुदास की मस्ती में बोले जा रही थी- आह … चोद … चोद … और जोर से … फाड़ दे मेरी चुत … फाड़ डाल … साली बहुत सता रही है मुझे … और जोर से … प्रकाश आह … मैं आ रही हूँ. मुझे ऐसा लग रहा था मानो मेरे सपनों की अप्सरा साक्षात् मेरे सामने खड़ी हो.

उसे वहां का मौसम सूट नहीं कर रहा था जिस वजह से उसे मुझे अपने पुराने घर पर छोड़ना पड़ा।पत्नी के जाने के बाद मैं अब बिल्कुल अकेला था इसलिए घर का सारा काम जैसे खाना बनाना, साफ-सफाई करना और यहां तक कि अपने कपड़े भी मुझे खुद ही धोने पड़ते थे. इससे उसका पिछवाड़ा खुल गया और फिर लंड चूत से बाहर निकाल कर गांड के अन्दर डालने लगा.

जहां शिवानी की चुदाई बहुत रफ़ थी, वहीं पर मेरी चुदाई सागर प्यार से कर रहा था.

राजीव ने शबनम को अपनी बाँहों में चिपटा लिया और दोनों हसीं सपनों में खो गए. सेक्सी वीडियो इंडियन गर्ल्समैं उसके बाल सहलाते हुए उसके कान पे किस करने लगा, जिससे वो सिहर उठी और अपनी चुत को लंड पर दबाने लगी. नींद की गोली कहां मिलेगीखाना लाकर देने वाली उसकी सहेली मीना थी और वहां ये सब देखने वाला कोई नहीं था. लेकिन जब वो मेरी ब्रा निकाल कर मेरी चूची को चूस रहा था तो मुझे बहुत अच्छा लग रहा था.

एक दिन वो पतली सी कमीज़ डाल कर सागर के ऑफिस गई और उस समय बरसात हो रही थी.

अब हर रोज तो कॉलेज नहीं छोड़ सकता था, फिर भी समय निकाल कर हम दोनों चुदाई कर लिया करते. फिर मैं उठ कर बाहर गया, तो भाभी नीचे से मेरी तरफ शक की निगाहों से देख रही थीं. मैं बोला कि सासू माँ ये 7 महीने मैंने चुत के बिना कैसे बिताये, ये मैं बयान नहीं कर सकता.

मैंने एक फ्रूटी खरीदी और उसमें इंजेक्शन से गहरी नींद में चली जाने वाली दवा को इंजेक्ट किया और सुई के छेद को बंद करके भाभी के कमरे में दे आया. एक झटके के साथ वो दर्द की सिसकारी निकालने लगी, तो मैंने लंड बाहर निकाल लिया. सारा दिन उनके आने की राह देखती रही और शाम को अच्छे से सज संवर के तैयार हो गयी.

देसी चुदाई सेक्स बीएफ

मैंने देखा तो वो उस पर आइसक्रीम लगा रही थी। अभी मैं कुछ समझता, तब तक मेरा आधा लंड उसके मुंह में था. मैंने शराब पीने से इंकार किया, पर उन्होंने मुझे मना लिया और कुछ ड्रिंक्स पिला दी. भाभी ने लंड का स्पर्श अपनी चूत की फांकों पर महसूस किया, तो उन्होंने अपनी टांगें फैलाते हुए हवा में उठा दीं.

” मैं मना कर रही थी पर अमित कहाँ मानने वाला था, वो मेरे स्तन दबाकर और किस करके मुझे मनाने की कोशिश करने लगा- एक बार भाभीजी … प्लीज … नीचे नहीं तो एक बार मुँह में ले लो … प्लीज … एक बार …उसका खड़ा लंड देख कर मैं भी पिघल गयी और पेट के बल सोते हुए मैं उसका लंड चूसने लगी.

मेरी बीवी और साली डबलबेड में … और मेरी सास साईड में बेड लगा कर सोती थीं.

अंकल बेड से नीचे उतर गया और उसने मुझे कमर से खींच कर बेड के कोने पर ले लिया. वस्त्रहीन भीगे जिस्म पर हाथ फिराया और फिर दायें हाथ से पकड़ कर लिंग को शॉवर से गिर रहे पानी के धारे के नीचे कर दिया. मुस्लिम लड़की का सेक्सी वीडियोपहले तो वो थोड़ा ना नुकर कर रही थीं, पर पर थोड़ी देर बाद वो भी मेरा साथ देने लगीं.

फिर उनकी आग शांत करने के लिए मैंने भाभी के सर की मालिश करना चालू कर दी, जिससे उनकी आग शांत हो गयी. मैंने सोचा कि अब तो बस ये जल्दी से घर आ जाये तो मेरी आंखों को भी सेंकने का मौका मुझे मिल जाये. आने से पहले वो बहुत सा मसाला मेरे अन्दर छोड़ कर आता है, जिससे मेरी फांकों में से कोई लड़का या लड़की कुछ महीनों बाद बाहर निकल आता है.

एक रात मैं बाज़ार से आ रहा था, तभी मैंने देखा कि अर्चना आंटी बहुत भारी सामान उठा कर पैदल चली जा रही थीं. शुरू में तो उसे थोड़ा दर्द हुआ, लेकिन बाद में उसे भी मजे आने लगे और वो जोर जोर से गांड उठाते हुए चुदवाने लगी.

जब उन्होंने कपड़े निकाल दिए, तो मैंने देखा उनका लंड कुछ खास बड़ा नहीं था.

वो बीच बीच में मेरी गांड में अपनी उंगली भी डाल रहे थे, जिससे गांड थोड़ी ढीली हो जाए. उसने बताया कि वो मॉम से प्यार करने लगा है और वो उनको खुश देखना चाहता है. मैंने पति को उठ कर कपड़े पहनने के लिए कह दिया क्योंकि वो अभी तक बेड पर नंगे ही लेटे हुए थे.

देहाती विलेज सेक्स अच्छा होगा तुम अपना काम करो ताकि यह भी ठंडा हो जाए और तुम वापिस जाने लायक हो सको. मेरी पत्नी वैसे तो सुन्दर है, मगर अब वो मोटी हो गयी है और सेक्स भी कम करती है.

इस तरह बात होते-होते दूसरे-तीसरे दिन मेरे बड़े जीजू घर आए और बोले कि उन्हें चित्रकूट जाना है. उसने मेरी चूचियों को मसल मसल कर उनका हलवा सा बना दिया था, मेरी चूचियों का बुरा हाल हो चुका था. मन में जैसे टाइम बम्ब की सुई घूम रही थी, किसी से कुछ कह भी नहीं सकता था.

हिंदी हिंदी बीएफ हिंदी बीएफ

वो एकदम से जोर से चिल्लाने लगीं कि आह साले फाड़ दी मेरी चूत … आराम से कर मादरचोद … बहुत दिनों से चुदी नहीं हूँ. मैं उसके स्तनों को मुंह में लेकर चूसते हुए उसकी योनि को चोद रहा था. घर में घुसने से पहले गर्मी और थकान से परेशान था लेकिन उस खूबसूरत चेहरे से टकराकर आंखों के साथ-साथ पूरे बदन को ठंडक मिल गई थी.

काली गहरी आंखें, लम्बी नाक और हल्के गुलाबी होंठ। कभी उन पर लिपस्टिक लगा लेती थी तो किसी मॉडल से कम नहीं लगती थी. धीरे-धीरे करके आंटी की मैक्सी पूरी पेट पर जाकर सिमट गई लेकिन आंटी ने अपनी मैक्सी को ऊपर नहीं किया और ऐसे ही उनके पेट पर पड़ी रहने दिया.

जब तक मैं इस पल को देख पाता, तब तक तो मेरा पूरा लंड उसके मुँह के अन्दर तक जा चुका था.

भाभी के मुख से एक चीख निकल गयी और चिल्लाकर बोली- मार दिया हरामी ने।भाभी ने मुझे ज़ोर से जकड़ लिया और नीचे से ही खुद उछल कर झटके मारने लगी। जब वो थक गयी तो फिर मैं शुरू हो गया और चुत को रौंदने लगा. फिर मैं उठ कर भाई के सीने पर लेट गई क्योंकि मेरी प्यास तो अभी नहीं बुझी थी. मगर हैरानी की बात थी कि न ही संजना का कोई कॉल आया और ना ही कोई मैसेज.

इस बार के तगड़े झटके में मैंने पूरा ही लंड स्मायरा की चूत में डाल दिया था. एक दिन मनु ने मुझसे कहा- क्या तुमने और तुम्हारे बॉस ने अब तक कुछ किया है या नहीं?मुझे मनु की ये बात सुनकर बड़ा गुस्सा आया. ऐसा करते करीब 2 महीने बीत गए और फिर उसने मुझे एक आश्चर्यचकित कर देने वाली बात बताई कि वो मेरे बच्चे की माँ बनने वाली है।मैंने पूछा- कैसे?तो उसने बताया- जब अंतिम बार हमारे बीच में सेक्स हुआ था तो मैंने उसके बाद कोई दवा नहीं ली थी क्योंकि मुझे पहले से ही पता था कि मेरी शादी की बात कहीं और चल रही है और हमारी शादी सम्भव नहीं है.

थोड़ी देर बाद जब हम दोनों अलग हुए तो मैंने उसे अच्छे से देखा, उसने साड़ी पहन रखी थी.

बीएफ ब्लू फिल्म हिंदी में वीडियो: मीनू ने वो आवाज सुनी तो उसने पास का ही टेबल लैंप जला दिया और रजाई हटा दी. वैसे तो चुदाई सर्दी में ज्यादा मजेदार लगती है लेकिन मैं तो गर्मी में भी गर्म चूत का खूब मजा लेता हूं.

मैंने मौका पाकर उसको सॉरी कहा और वो बोली- कोई बात नहीं।फिर उसका आना हमारे घर पर बदस्तूर जारी रहा. मैंने अगले दिन वो पैंटी देखी तो मुझे पता लगा कि संतोष जी ने पैंटी को अपने माल से भर दिया था. फिर मैंने अगले दिन मॉम से पूछा कि क्या डैड की हरकत से आप परेशान नहीं होतीं.

मैंने उसे सब कुछ सच सच बता दिया।कुछ देर वह चुप रहा फिर उसने मुझसे कहा कि यदि मैं चाहूं तो उसके घर चल सकता हूँ, उसका घर दो स्टेशन बाद ही है, वहां वो मुझे खाना खिलायेगा।मैं कुछ सोचने के बाद तैयार हो गया।कुछ समय पश्चात ट्रैन आ गयी, हम दोनों उस पर सवार हो गए.

इसलिए वो इतनी जल्दी अपने हथियार डाल कर मेरी हरकतों का साथ देने लगी. फिर उसने मुझे अपने केबिन में बुलाया और पूछने लगा कि तुम्हारे सामने एक गैर मर्द ने तुम्हारी बीवी की चुदाई कर दी तो तुम्हें बुरा नहीं लगा?मैंने कहा कि शुरू में तो मुझे बहुत गुस्सा आया था लेकिन फिर बाद में सब नॉर्मल लगने लगा था. मैंने भी कुछ नहीं सोचा और सीधे उसके होंठों के ऊपर अपने होंठों को रख दिया.