हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो

छवि स्रोत,एक्स एक्स बीएफ वीडियो हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

marathi सेक्स video: हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो, मैं बहुत घबरा रहा था क्योंकि अगर नीता के आने से पहले अगर आंटी या शिल्पी आ जाती तो सारा काम खराब हो जाता.

गुजरातीभाभी

मेरी चूत चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैंने कैसे पहली बार अपनी चूत और गांड चुदवाई? शादी से पहले मेरा एक बॉयफ्रेंड था कॉलेज का! मेरा सेक्स करने का बहुत मन करता था. मारवाड़ी देसी सेक्स बीपीमुझे तो अपनी आंखों पर यकीन नहीं हो रहा था कि जिन बुआओं को मैं चोदना चाहता था, वो मेरे सामने बिल्कुल जन्मजात नंगी खड़ी थीं.

एक मिनट बाद अंकल ने अपनी एक उंगली मॉम की चूत में डाल दी और उसे आगे पीछे करने लगे. हिंदी सेक्सी बिहारी बीएफमैं घर से कॉलेज का कहकर निकला और जया को उसके घर से मैंने पिक कर लिया.

वो भी बहुत सेक्सी और आकर्षक है लेकिन इस समय मेरे लिए भाभी ही काफी हैं.हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो: चूँकि मेरे मां बाप दिन भर बाहर रहते थे तो मैं उन्हीं के पास रहता था.

फिर एक राउंड थ्रीसम किया फिर शाम को पालिका बाजार घूमने गए और रात को खाना खाकर शनाया की ठीक उसी तरह से पूरी रात चुदाई हुई.उसके ऊपर वाले होंठ को अपने दोनों होंठों के बीच में दबा कर कसके चूमा.

सेक्स वीडियो एचडी हिंदी बीएफ - हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो

एक ही झटके में लौड़ा उसकी चूत में उतर गया और उसके चेहरे पर संतुष्टि सी आ गयी.आंटी की बालकनी मेरे घर के ठीक सामने थी तो अक्सर आंटी से मेरी हाय-हैलो वगैरह हो जाती थी.

मैंने झुंझला कर अपनी बहन की चुत कि फांकों में लंड का सुपारा फंसाया. हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो उनके लंड की गरम धार से मुझे बड़ी राहत मिली और मैं उन्हें किस करने लगा.

पर अब भी मुझे डर भी लग रहा था तो मैंने चाची के घर पर जाना बंद कर दिया.

हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो?

मेरी कमर को भैया ने एक हाथ से पकड़ा और मेरी पैंट को एक झटके में खोल दिया. टैक्सी ड्राइवर होने की वजह से शकील शराब पिया करता था, जिसकी वजह से वो ज्यादा देर तक सेक्स नहीं कर पाता था. वह मुझको पानी देने के लिए आई, तो मैं उसको बांहों में लेकर बेड पर लेट गया और उसको चूमने लगा.

मगर मैंने उसको आंखों से चोदते हुए होंठ गोल किये और बिना सीटी बजाए एक ठंडी हवा का झोंका उसके गालों पर मारा. उसने अपनी गांड उठा दी और मैंने पूरी साड़ी निकाल दी।अब मेरे सामने ज्योति साया और ब्लाउज में पड़ी थी। मैंने अपना टीशर्ट और बनियान निकल दिया।मैं झुककर ज्योति के पेट को चूमने लगा और उसकी ठोढ़ी को चाटने लगा. मैं डर गया पर माँ ने मेरा हाथ पकड़ उनके स्तन से हटाकर उनकी चूत में रख दिया।मैं समझ गया कि माँ अभी भी जागी हुई है पर वो मुझे अभी भी पापा समझ रही है.

मेरे प्यारे दोस्तो, मैं राजेश हूँ, 23 साल का मैं शादीशुदा नहीं हूँ, मैं अपनी माँ के साथ दिल्ली में रहता हूँ. फिर जैसे ही वो ऊपर उठी हमने एक दूसरे की आंखों में देखा तो दोनों ही सेक्स के मूड में आ चुके थे. फिर उनके बॉस ने मॉम की चूत को चाटना शुरू कर दिया और वो दोनों एक दूसरे को पागलों की तरह चूसने लगे.

वो वहां से बाहर चल गए, तो मैंने सपना से बोला- मैं कपड़े चेंज कर लूं. दिखने में वो एकदम मस्त माल थी जब उसे पहली बार देखा तो मन में आया कि उसे वहीं पटक कर चोद दूँ.

5 मिनट बाद उसका शरीर अकड़ने लगा, उसने मुझे जोर से पकड़ लिया और ‘आन्ह उन्ह आन्ह’ की मादक आवाज़ करते हुए झटका मारते हुए उसकी बुर ने पानी छोड़ दिया.

पर धीरे से डालियेगा।मैंने कहा- मेरी प्यारी बहन तेरी गांड में अपना लन्ड धीरे से ही डालकर तेरी गांड चोदूँगा ज्यादा दर्द नहीं होगा।पीहू से मैंने पूछा कि उसके पास वैसलीन है तो उसने कहा- मेरे रूम में है.

मैंने उसे देखा तो एक पल मेरी आँखों में आँखें डाल कर बोली- मैं भी तुमको पसंद करती हूं … पर अपने पापा के डर से मैं बोल नहीं पा रही हूँ … और तुम भी नाराज़ हो मुझसे … इससे मुझे कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा है … प्लीज तुम मुझसे नाराज़ मत रहो, मैं भी तुमसे प्यार करती हूं. मैंने आगे कहा- चूत मरा कर आ रही हूं मगर डरो मत, ब्लू फिल्म नहीं बनवाई है मैंने!मां के तेवर एकदम बदल गये,मुझे प्यार से सहलाते हुए बोली- सुन न रानी बेटी, अभी तो उम्र है चूत मरवाने की, जितनी मर्जी चुदवानी है चुदवा ले मेरी लाडो. तो हमारे बीच क्या क्या हुआ?मेरा नाम सैम है, मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ.

हम दोनों ने हामी भर दी। तभी मेरी दूसरी मामी आयी और बोली कि तुम दोनों में से कोई एक हमारे कमरे में चले आओ, जगह तो खाली है ही और आराम से सो भी सकोगे। इसी बात पर मेरे भैया ने मुझे कमरे में सोने के लिए भेज दिया।मैंने भी हामी भरी और मन ही मन खुश हो गया।मैं तो यही चाहता था कि मामी के साथ किसी न किसी तरह टाइम बिताने का मौका मिले और मैं उनके बदन को देखकर मुठ मारूं. बड़ी बुआ बोलीं- ठीक है … और हां हम जो भी कर रहे हैं, वो किसी को बता मत देना कि हम तुम्हारे सामने नंगे हुई थी. इस तरह के चुस्त कपड़ों को पहनने की वजह से मैं और भी सेक्सी दिखती हूँ.

मैं तो सोचकर ही पागल हुआ जा रहा था कि आज रात को मामी की चूचियों और चूत के खूब दर्शन करूंगा.

गांव में बरात लेट ही आती है, तो हमें पहुंचते पहुंचते रात दस बज गए थे. वो बेड की तरफ बढ़ ही रही थी कि मैंने पकड़ कर उसे बेड की तरफ झुकाया और पैर फैला दिये. भाभी और मैं एक दूसरे के मुँह में जीभ डाल कर एक दूसरे के साथ अपना रस अदल बदल रहे थे.

पड़ोसियों ने अगर कहीं देख लिया तो हो सकता था कि वे मेरी मौसी की लड़की को बता दें और बात मेरे घर तक पहुंच जाये. बड़ी बुआ मेरे बिस्तर पर चूत पसार कर लेट गईं और मैं उनकी चूत के बाल मशीन से हटाने लगा. हैलो फ्रेंड्स, आज मैं इस सेक्स कहानी में आप लोगों को अपनी दो छोटी बहनों के साथ सेक्स रिश्ते के बारे में बताने जा रहा हूँ कि कैसे मैंने सेक्सी बहन की चूत मारी.

पर मैंने बाहर निकल कर गूगल किया तो थोड़ी राहत मिली कि चुत में वीर्य निकल जाने के बाद भी गर्भ न ठहरे इसके रास्ते हैं.

तभी रिंकी बाहर आई और बोली- तुम यहां?तो मैंने बोल दिया- हां, अंकल तुम्हारा ध्यान रखने लिए बोल कर गए हैं. उसके बाद मैंने लाल चूड़ियां पहनीं और लाल बिंदी, लिपस्टिक लगा कर बहुत अच्छे से मेकअ किया.

हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो मैंने चाची को बताया- संडे को हमारा प्लान है … आप भी चलो ना हमारे साथ!चाची ने साफ़ मना कर दिया और बोलीं कि अभी तुम दोनों चले जाओ. शाम को पांच बजे के करीब मैं उठी, तो मैंने देखा कि अनामिका सत्यम का लंड चूस रही थी.

हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो तो मैंने उसे उठाकर गले लगा लिया।फिर उसने मिठाई निकाली, हम दोनों ने खाई।उसने मुझे एक चांदी का छल्ला पहनाया।मैं बोला- भाभी, ये सब क्या है?वो बोली- राज, आज से मैं तुम्हारी बीवी हूं और मैं तुम्हारे बच्चे की मां बनना चाहती हूं। आज तुम भाभी संग सुहागरात मनाओ. मैंने फिर से एक हाथ से रजाई पकड़ी और खींचने लगा तो मेरा हाथ उनकी नंगी कमर को छू गया.

मेरे यार के मुख से सिसकारियाँ निकल रही थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’उसके आधे कपड़े निकले हुए थे, पूरे भी अभी नहीं उतरे थे।लेकिन मैं पूरी नंगी थी.

बीएफ एचडी वीडियो चाहिए

मैं अब खेत में जाकर गाजर, मूली, बैंगन और खीरे जैसी चीजें अपनी गांड में लेने लगा और मुठ मारता. मीनाक्षी भी काम पर आने लगी थी।अब जब भी कभी मेरी पत्नी सुषमा अपने मायके रहने जाती है तो मीनाक्षी भाभी खूब अच्छे से मेरा ख्याल रखती है।. मौसी- दीदी, मैंने तो कितने बार कहा है कि आपकी गर्मी सिर्फ एक मर्द का लौड़ा ही ठण्डी कर सकता है.

कुछ समय वैसे रहने के साथ ही मैं धीरे धीरे नीचे बढ़ने लगा और नीचे आकर मैंने अपने दांतों के सहारे उसकी पैंटी को नीचे करना शुरू कर दिया. सेक्स की गोली का असर मुझपर इस कदर हुआ कि मैंने कई बार भाभी को बहुत देर देर तक चोदा. बाहरवीं के एग्ज़ाम के बाद जया कल्याण आ गयी थी और यहीं पर बिरला कॉलेज में एडमिशन ले लिया था.

मैं उसके पीछे एक कुत्ते की तरह हुआ और अपने छोटू को उसकी मुनिया में प्रवेश करवाया.

वो बस थोड़ा नाखून लग गया था कंधे पर साबुन लगाते हुए।शिल्पी- ठीक है, तू नहा ले. माँ को लिटाया मैंने, उनकी टांगें फैलायी और उनकी चूत में मुंह डाल कर चूसने लगा. हम अंदर रूम में गये और जाते ही मैंने जया को अपनी बांहों में कस लिया.

हम लोगों को बहुत मज़ा आ रहा था, उसने अपने हाथ मेरी नेक से हटाये और मेरी कोमल और गोल गोल गांड को दबाने लगा। उसने अपनी चड्डी उतार दी और अपने लंड पर मेरा हाथ रखवा दिया. वो बोली- इतना मस्त लड़के को कैसे पटा लिया मम्मी आपने!मैंने कहा- तुम्हारी मम्मी किसी से कम है क्या?वो खुश हो गई और चुदने के मचलने लगी. दोस्तो, स्त्री की योनि की गहराई आज तक क्या कोई जान पाया है … न जाने कितने ही ऋषि-मुनि, राजा-महाराजे, नौकरशाह और बड़े बड़े उद्यमी आज तक इस योनि की गहराई का पता नहीं लगा सके तो फिर हम क्या चीज हैं?मैं अपने घुटनों के बल बिस्तर पर चारू की दोनों टांगों के बीच आ बैठा.

उसकी चूत के बारे में कल्पना करने मात्र से ही मेरा लंड टन्न से खड़ा हो जाता था. गाँव में खाना शाम को ही बन जाता है और 8 बजे तक सब खाना खाकर सोने चल जाते हैं.

कमर से होते हुए मैं उनकी चूचियों पर ऊपर से ही हाथ फिरा रहा था।मामी ने बहुत ही मस्त और एक हार्ड मैटीरियल की ब्रा पहनी हुई थी. उन्होंने मुझे उनकी चूचियां घूरते देख लिया। फिर भी गुस्सा होने के बजाए मुस्कुरा कर चली गयी।मैं रात होने का इंतजार करता रहा। शाम को सब खाना खा के टीवी देखने लगे। मैं अपनी बीवी को आंखों के इशारों से कह रहा था कि आज रात में हम बहुत मस्ती करेंगे. [emailprotected]होटल रूम सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोस की भाभी ने ब्लैकमेल किया- 3.

मैंने अपने कपड़े पहने और इंस्पेक्टर से पूछा- मेरे बेटे के लिए क्या कहते हो?उसने बोला- अब आप निश्चिंत हो कर जाइए … अब आपके बेटे को कुछ नहीं होगा … लेकिन बस इसी तरह मेरा ख्याल रखती रहिएगा.

खेत में चुदाई करवाते हुए मैं पूरा चुदक्कड़ हो गया था और मुझे चाचा के लंड की आदत हो गयी थी. फिर कुछ देर बाद उसका लंड फिर से खड़ा हो गया और उसने मुझे अपना लंड चूसने को कहा. मुझे आपकी राय का इंतजार है ताकि मैं आप लोगों के लिए और भी बेहतर कहानियां पेश कर सकूं.

जंगल में सेक्स की कहानी में पढ़ें कि एक दिन मेरा बॉयफ्रेंड मुझे जंगल की ओर ले गया. जब तक उसने पूरा चूस चाट कर साफ़ नहीं किया, मैंने उंगलियां उसके मुँह से बाहर नहीं निकालीं.

उसके बाद रात को मैंने अपनी सेक्सी कामवाली के साथ और क्या क्या किया और कैसे उसके गदरीले जिस्म के साथ खेल खेलकर मजे लिये वो सब मैं आपको अपनी दूसरी कहानी में लिखूंगा. माँ की सुनता हूं तो बीवी नाराज हो जाती है और बीवी की सुनता हूं तो माँ नाराज हो जाती है। क्या करूं … समझ नहीं आ रहा है. लेकिन मैंने अपनी भांजी की चूत में धक्के मारना जारी रखा और अन्ततः अवनीत की चूत मेरे वीर्य से भर गई.

मराठी भाभी की बीपी

मैंने देखा कि मैम ने अपनी साड़ी उतार दी थी और एक बड़ी हॉट सी बिना आस्तीन वाली मैक्सी पहन ली थी.

यह अफवाह मैंने आसपड़ोस से सुनी थी लेकिन जब उसने अम्मी को बताया तो मुझे यकीन हो गया. प्रियंका भाभी चिल्लाने लगीं- डाल दो ना अन्दर … क्यों तड़पा रहे हो?मैंने अपने लंड को चुत के मुँह पर रखा और धीरे से धक्का दे दिया. शनाज़ में भी आँखों के इशारे से ‘थोड़ी देर बाद आती हूँ’ बताकर मुझे जाने को कहा.

पति पत्नी का अलग अलग कमरा देख कर मुझे कुछ अजीब लगा, पर मुझे क्या करना था. उन्होंने मुझे सहयोग करते देखा, तो मुझे औंधा किया और मेरी गांड फैला कर लंड अन्दर पेल दिया. लेडीस सेक्सी बीएफमैंने पूछा- इससे क्या करूँगा मैं?तो वो बोली- इससे आज अपनी बहन को दुल्हन बना कर चोदोगे।मैंने उसे लन्ड चूसने का इशारा किया तो मेरे दोस्त की बहन मेरा लन्ड अपने मुंह में लेकर चूसने लगी.

मेरा लंड भी अब विस्फोट करने के लिए तैयार था और अगले मिनट में ही मेरे लंड से भी लावे की गर्म गर्म धार चारू की बच्चेदानी में भर गयी. बीच बीच में लंड के धक्के भी उसकी गांड में लगा रहा था ताकि उसकी गांड को लंड की आदत पड़ना शुरू हो.

एक दिन मैं अपने ऑफिस के लिए निकल रहा था तो भाभी अपनी बालकनी में कपड़े सुखा रही थी. उमेश सर- लेकिन तुम लड़कियों वाले कपड़े पहन कर डांस करो, मुझे कपल डांस बहुत पसंद है. मैंने लंड बाहर निकाल कर उसके मम्मों पर अपना पानी डाल दिया और उसके बगल में लेट गया.

उनके गीले अंडरवियर में उनके आधे से तने हुए लंड भी अलग से चमक रहे थे. शुरुआत में मुझे भाभी में कोई इंटरेस्ट नहीं था और ना ही ज्यादा ध्यान से कभी मैंने उन्हें देखा था. उनकी मांसल टांगें मेरे लंड के आजू बाजू वाली जगह पर … और मेरी जांघों से टकरा रही थीं, इसकी वजह से मुझे भरपूर मजा आ रहा था.

मैं दोपहर में लेटा हुआ था और मेरी भतीजी सोनिया बाहर हॉल में टीवी देख रही थी.

मैंने सर के दिए गए कपड़ों को देखा कि साड़ी के साथ ब्लाउज पेटीकोट और ब्रा पैंटी भी रखी थी. उनके मुँह से ज़ोर से एक चीख निकल गई- उम्म्ह… अहह… हय… याह…मैंने अपने होंठ उनके होंठों पर लगा दिए, तो वो चुप हो गईं.

कुछ देर चोदने के बाद बाबा पीछे हट गये और मुझे उनके गद्दे पर चलने को कहा. कुछ देर तक जब भाई की तरफ से कोई हरकत नहीं हुई, तो मैंने अपना एक हाथ उसके पेट पर रख दिया. चूचियों से मर्द का सीना रगड़ खाता है तो लौंडिया को चुत में लंड लेने में बेहद मजा आता है.

अब उसके मुंह से चुदाई की आवाजें निकलने लगी- आह्ह … अनु … आह्ह … ओह्ह … तू पहले क्यों नहीं आया … आह्ह … बहुत दिनों से लंड नहीं लिया था. जब मैं अपने प्रेमी से चूत चुदवा रही थी तो इसने मुझे देख लिया था इसलिए मेरी चूत चोदने की जिद कर रहा था. मैंने धीरे भाभी के ब्लाउज के हुक खोल दिए और ऊपर से उन्हें नंगी कर दिया.

हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो तभी मेरे मुँह से निकल गया- आप जैसी दोस्त मिल जाय तो गाँव भी पसंद आने लगेगा. मैंने बाथरूम के दरवाजे की एक झिरी में आंख लगाई तो अन्दर का नजारा बड़ा गर्म था.

नंगी वीडियो फिल्म दिखाएं

उसने पूछा- बहना … फुल स्पीड में चोदूँ?मैंने कहा- हाँ भाई चोदो!उसने मेरी चुत में मानो पिस्टन चला दिया हो. मैंने कहा- अच्छा तुमको छोटा लेने की आदत है?वो मेरे तरफ आंखें तरेरते हुए बोली- मारूंगी साले!मैंने हंस कर उसको अपनी बांहों में भर लिया. उसके अब्बू यानि मेरे फूफा जी एक सरकारी कर्मचारी थे, परन्तु अब फूफा जी ने वीआरएस ले लिया था और वो रिटायर हो चुके थे.

धीरे धीरे करके मैंने लंड को उसकी चूत में उतार दिया और फिर उसके ऊपर लेट गया. शायद ऊपर वाले मुझे औलाद देने के लिए आधी रात में मेरे पास फ़रिश्ते भेजे हैं. सेक्सी बीएफ पंजाबीसवा नौ बज चुके थे, हम लोग कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और राजी खुशी शादी हो गई.

तो माँ ने हंस कर कहा- ठीक है।माँ के मुंह से लण्ड चुसवाते मैं झड़ने वाला था और पापा भी।पूर्वी पलंग से नीचे घुटनों के बल बैठ गयी तो मैंने कहा- माँ आप भी आ जाइये न!तो माँ भी वहीं पूर्वी के बाजू में घुटनों के बल बैठ गयी.

एक दिन मुझे घर से एक कॉल आया मेरे पिताजी का! उन्होंने कहा- मुझे बैंक में कुछ काम है। मैं बैंक जा रहा हूं, तुम मेनेजर से मेरे काम जल्दी करवाने को कह देना. माँ ने दरवाजा खोला, माँ खुश थी।मैंने माँ से पूछा- आज क्या खास है जो आप खुश दिख रही हैं?माँ ने कहा- इस तरह का तो कुछ भी नहीं है.

शकील की गांड आगे पीछे होने से साफ़ मालूम चल रहा था कि वो अम्मी की चुत में पूरे अन्दर तक लौड़ा पेल कर चुत चुदाई कर रहा था. फिर मैंने सोचा कि जब बात इतनी बढ़ ही रही है तो और थोड़ा बढ़ा के देखने में क्या हर्ज़ है. ज़ोहरा बेटी के चेहरे की चमक देख नौरीन अम्मी की आँखें खुशी से छलकने लगी.

मुझे याद है कि ना जाने कितनी बार वे दोनों मुझे अपने साथ बाथरूम में भी ले गए जहां हम तीनों नंगे नहाए.

मैंने भी धीरे धीरे एक्सीलेटर छोड़ा और कुछ दूर चलने के बाद सुनसान एरिया आया, तो मैंने एकदम से रेस ले ली. कॉलेज से रूम पर जाने के बाद मैंने रात तो उस लड़की को कॉल करने का सोचा. उनके निप्पलों के साथ मस्ती कर रहा था।जब मामी से रुका न गया तो उसने झुक कर मेरे लंड के टोपे पर होंठ रख दिये और उसको होंठों से चूसने लगी.

बॉयफ्रेंड को प्यार से बुलाने वाले नामकुछ ही पलों में मैंने उसको हल्का सा ऊपर उठाया, ताकि उसकी ब्रा भी खोल सकूं. इतने में ही तेज तेज हवा चलने लगी जो तूफान की तरह अंदर झोंके लेकर आने लगी.

क्सक्सक्स चुदाई वीडियो

मम्मी दर्द से चीखने लगीं और कहने लगीं- आह आह … मुझे मीठा मीठा दर्द हो रहा है. और मेरा हाथ पकड़ कर अपने रूम में ले गए।मैं अंदर ही अंदर बहुत खुश था लेकिन उनका मूसल लंड को याद कर डर भी लग रहा था. मैं बिस्तर पर गिरा तो भाभी ने मेरी अंडरवियर को खींच कर बाहर निकाल दिया.

ऐसे ही मालिश करते हुए मेरे हाथ मौसी के चूतड़ों को हल्का हल्का दबाने लगे. खाना खाने के बाद फिर से बची हुई चुदाई हमने पूरी की।उसको चोदते हुए मैंने अपने लंड की सारी मलाई उसकी गांड में उड़ेल दी. रात के 10:00 बजे मैं बोला- मुझे नींद आ रही है, मैं अपने रूम में सोने जा रहा हूं.

तभी स्लो मोशन में … मानो वक्त की सुइयां वहीं रुक गयी … मेरा दिमाग सुन्न हो गया … मेरी चूत से अचानक पानी का फव्वारा निकल पड़ा मानो अमित ने अपने मोटे लंड से मेरी चूत में कुआं खोद दिया हो!अमित ये देख के और जोरों से मेरी चूत मारने लगा. कुछ ही देर में मेरी औरभाभी की चुदासभड़क गई और हम दोनों ने एक बार और चुदाई का मजा लिया. मैंने भी बाबा की पीठ को सहलाना शुरू कर दिया और चुदाई में मदहोश हो गयी.

उसकी चूचियां एकदम मस्त उछल उछल कर उसकी उंगलियों की संगत कर रही थीं. मैं नीचे उतरा और मॉम को सोफे पर बिठाकर उनके मुँह में अपना लंड घुसा दिया.

उसमें अम्मी बोल रही थीं- शकील क्या कर रहे हो … छोड़ दो, कोई देख लेगा.

पर राजीव उससे बोलने लगा- प्लीज़ यीशा, इतना कुछ हो गया है तो थोड़ा और हो जाने दो. आदिवासी बीपी आदिवासी बीपीशांता भी मज़े लेने लगी।कई मिनट तक मैंने उसको किचन में खड़ी खड़ी चोदा. इंग्लिश बीएफ भेजोभाभी ने काले रंग की एक पारदर्शी साड़ी पहनी हुई थी और वो भी एकदम कमर की नीचे … मेरे ख्याल से भाभी की चुत सिर्फ़ दो इंच नीचे रह गई होगी. उसने मेरी बहन को पीछे से पकड़ के स्लैब पर झुका दिया और नीचे बैठ कर मेरी बहन की गांड को चूमने लगा.

उनका जोश बढ़ता जा रहा था और चाचा का लौड़ा मेरी गांड की चटनी बनाने में लगा हुआ था.

घर के मेन दरवाजे की चाभी मेरे पास थी, तो मैं सीधे अपने रूम में जाकर सो गया. अमिता मौसी भी अपनी मोटी गान्ड उछाल उछाल के उसका लौड़ा ले रही थी।यह दख मुझसे रहा नहीं गया और मैंने मुठ मार ली और कम्बल वहीं छोड़ घर को आ गया. थोड़ी देर बाद मैंने ज़ोहरा आपा को खींचकर अपनी छाती से लगाया और अपने मोटे लंड को बहन की बच्चेदानी में घुसाकर मनी की पिचकारियाँ मारने लगा.

मेरी गांड में जो वीर्य था उसकी बूंदें अज़ीम के मुँह पर गिरने लगीं और वह उसको चाटने लगा. रास्ते में एक मेडिकल शॉप दिखाई दी तो मैंने शॉप के बाहर गाडी़ रोक दी. मैंने उसे गोद में उठाया और पेशाब कराया और उसको उसके बेड पर छोड़ दिया.

सेक्सी चुदाई विडियो

लगभग 5 मिनट की चुदाई के बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया। लगभग दो मिनट बाद मेरा भी पानी निकल गया. मामी भी अपनी चूत को बार बार मेरे अंडरवियर पर सटा रही थी।लगभग दस मिनट तक हम दोनों चूमा चाटी करते रहे. ऊपर से उनके बदन की मूवमेंट बड़ी ही दिलकश थी … कमर तो मानो कांप रही थी.

फिर उन्होंने अपने कपड़े उतार दिए और भाभी पूरी नंगी मेरे सामने खड़ी हो गयी.

दो मिनट के बाद मैंने माही को अपने नीचे लेटा दिया और उसे फिर चोदना चालू कर दिया.

हूर को एक बार चोद लेने के बाद दुबारा हम दोनों को मिलने का मौका नहीं मिल रहा था, लेकिन हम लोग रोज़ क्लास में किस और गले मिल लेते थे. मैं सोच में पड़ गया कि क्या करूं, पर दीदी का सवाल था, तो सोचा कुछ भी हो जाए, फिर से देखता हूँ. इंग्लिश ओपन सेक्सी बीएफमेरे पप्पू यानि मेरे लंड को देखकर चारू एकदम चौंक गई और बोली- तुम्हारा पप्पू तो बहुत ही प्यारा है और संदीप के लंड से कुछ मजबूत भी है.

मैंने पूछा- तुम्हारा जो भी मैटर है, सच सच बताओ, मैं तुम्हारी मदद करूंगा. तो मेरे प्यारे दोस्तो और भाभियो, रिश्तों में चुदाई की मेरी यह सच्ची सेक्स स्टोरी कैसी लगी, मुझे मेल जरूर करना।[emailprotected]. वो मेरी टांगों को अपनी कमर पर लिपटवाकर मेरे ऊपर लेट गये और मेरे होंठों को चूसते ही मेरी चूत में लंड को पेलने लगे.

अंकल मुझे जो अश्लील किताबें पढ़ने के लिए देते थे, उसमें जो लिख होता था, वह सब कुछ मेरे सामने हो रहा था. वे बोले- अरे तुम इतना कैसे भीग गए … जब इतनी तेज़ बारिश हो रही थी, तो आज नहीं आते.

मेरे दिमाग में एक आईडिया आया कि अगर इन्हें चोदना है, तो यहीं चोदा जा सकता है.

10 मिनट तक ऐसा करने के बाद मैंने अपना मुंह चाची की एक चूची पर लगा दिया और कपड़ों के ऊपर से चूसने लगा और दूसरी को दबाता रहा. कुछ देर बाद वो दोनों मुझे बेड पर ले गए और बारी बारी दोनों ने मेरी चूत और गांड मारी. फिर उसके बाद उस आदमी ने मुझे कागज पर एक गोली का नाम लिख कर दे दिया.

এক্স এক্স সানি লিওনি फिर मैंने चाची को कुतिया बना कर एकदम से उसकी चूत में लंड को पेल दिया. लंड चुत की दबादब चुदाई की वजह से भाभी के दोनों मोटे गोलाकार मम्मे उछल कर तमाशा दिखा रहे थे.

आपा हमारे घर आई हुई थी तो मुझे अपनी बीवी की चूत चुदाई का मौक़ा नहीं मिल रहा था तो मैं बहुत बेचैन था. इस देसी कहानी के अगले भाग में पढ़ें कि मैंने सोनी की कुंवारी बुर को कैसे चोदा. फिर मैं उसके लंड को चूसने लगी और वो कार को आगे लाकर अपना लंड चुसवाता रहा.

भाई बहनों का सेक्स वीडियो

आपको मेरी गांड मरवाने की चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करें. धीरे धीरे करके मैंने अपने हाथ उसके चूतड़ों पर जमा दिए और उन्हें भी अपनी हथेलियों में भरकर मसलना शुरू कर दिया. मैंने उनको तसल्ली दी- जीजा जी, मैं अवनीत को समझाने की कोशिश करता हूँ.

सागर मामी की पिंक पैंटी भी उतार कर मामी की गांड को काटने और चाटने लगा. ऐसे ही हमारे एग्जाम खत्म हो गए और मैं अपने घर जाने की तैयारी करने लगा क्योंकि अब एक महीने के लिए कॉलेज की छुट्टियां भी हो गई थीं.

[emailprotected]होटल रूम सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोस की भाभी ने ब्लैकमेल किया- 3.

[emailprotected]रियल सेक्स स्टोरी का अगला भाग:कजिन की कजिन को चोदा-2. फिर भाभी नाईटी पैंटी लेकर नंगी ही गांड हिलाते हुए अपने कमरे में चली गईं. फिर नक्की की हुई जगह पर पहुंच कर मैं प्रियंका भाभी का इंतजार करने लगा.

अपने लण्ड का सुपारा मैंने अवनीत की बुर के द्वार से सटा दिया था और उसकी चूचियां मेरे सीने से सटी हुई थीं. धीरे धीरे करके अंकल ने तीन बार में अपना पूरा मूसल सा लंड मेरी गांड में पेल दिया. तभी उसने कहा- अब चोदो … मुझे तुम्हारा लंड चाहिए!और वह मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर लगाने लगी.

चाचा जी पहले तो मेरी खूब जम कर गांड मारी और फिर चूत में लंड पेल दिया.

हिंदी बीएफ सिनेमा वीडियो: मेरी उसके साथ शुरू से ही अच्छी बनती थी और वो मेरे बातें बहुत करती थी. मैंने भी अपने घर बोल दिया कि मैं 2-3 दिन के लिए फ्रेंड के घर जा रहा हो.

4-6 रूपये में उपलब्ध इस पत्रिका में पूरे पेज 5-7 नंगी तस्वीरें होती थी जिन्हें ‘पिन-अप’ कहते थे. मैं इतना डर गया कि सारी रात मैं जागता रहा और सोचता रहा कि क्या होगा, अगर भाभी को पता चल गया कि यह हरकत मैंने ही की है. वो मुझे पढ़ाते पढ़ाते कभी मेरे कंधे पर हाथ रखते, तो कभी मेरी पीठ पर और कभी मेरी जांघ पर हाथ रख कर मुझे समझाते.

मेरी गांड में जो वीर्य था उसकी बूंदें अज़ीम के मुँह पर गिरने लगीं और वह उसको चाटने लगा.

पूरे पन्द्रह मिनट तक मैंने भाभी जी की टाँगें छत की ओर ताने रखी और अपना माल भाभी की चूत में ही छोड़ दिया. मैंने उसकी पैंट खोलनी शुरू की तो उसने हाथ पकड़ा लेकिन मैं झटक दिया. प्रिया- आई लव यू टू जान … यू आल्सो सो मच हॉट एंड सेक्सी … आज मजा आ गया … कितना मस्त चोदते हो.