बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी

छवि स्रोत,सेक्स बीएफ सेक्सी वीडियो बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

चुदाई बीएफ देहाती: बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी, उसने मेरे खड़े लंड को देख लिया और दिलकश स्माइल देती हुई अपने कमरे में चली गई.

स्कूल टीचर का बीएफ

अब मैं अगले चरण का इंतज़ाम करने लगा, उसकी पैंटी खोल कर उसको नंगी कर दिया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी बुर में जीभ डाल कर पूरी बुर चाटने लगा. नेहा कक्कड़ का बीएफमैं बोला- क्या हुआ?उसने बोला- मेरा पेट दर्द हो रहा है … जल्दी से घर चलो या मुझे कहीं किसी टॉयलेट में लेकर चलो.

थोड़ी देर बाद हम दोनों अलग हुए और कँगना मेरा हाथ पकड़ के मुझे बेडरूम की तरफ ले गई।बेडरूम में लाइट काफी कम थी. देवरिया सेक्सी बीएफशनाज़ ने अब मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और जोर जोर चुसाई शुरु कर दी.

मैंने भी मामी के मखमली होंठों पर अपने होंठों को रखा और उनका रस पीने लगा.बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी: तभी मेरी ननद के बाथरूम से बाहर आने की आवाज आई और हम लोग अलग हो गए।तब से हम लोग मौका देखने लगे.

तभी नीता दरवाजे में से आई और जोर से हंसने लगी।मेरी तो कुछ समझ में नहीं आ रहा था.उसके तने हुए दूध टी-शर्ट के अन्दर ऐसे लगते हैं, जैसे अभी ही बाहर निकल कर आ जाएंगे.

हिंदी सेक्स बीएफ चुदाई वाली - बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी

वो भी अपने दूध मेरे मुँह में ठेलते हुए सिस्याने लगी- आह पी लो … चूस लो … बहुत दिनों से तुम्हारे लिए तड़फ रही थी.तभी वो मेरे करीब आ गईं और मैंने संजना आंटी की सांसों को महसूस किया.

दोस्तो, ये मेरे ज़िन्दगी के कुछ ना भूल पाने वाले पल थे, मैं आशा करता हूं कि आपको मेरी ये गरम और सच्ची सेक्स कहानी पसंद आई होगी. बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी अब आगे होटल रूम सेक्स कहानी:मैं तो मन ही मन खुश हो रहा था कि चलो कुछ नया तो मिला चुदाई करने को.

अभी तक मेरी कोई भी संतान नहीं थी क्योंकि शादी के बाद से ही हम दोनों की कभी भी बनी ही नहीं, इसलिए मुझे अपने पति के साथ साथ ज्यादा सेक्स करने को मिला ही नहीं.

बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी?

मैं जोर जोर के धक्कों के साथ उसकी चूत में अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा था. मुझे मजा आने लगा और चाचा ने मुझे बांहों में लेते हुए मेरी गांड को भींचना शुरू कर दिया. वो कहने लगी- यार, इस बार मेरी चूत को इतनी तबियत से चोदो कि इसकी खुजली मिट जाए और मेरी जान निकल जाए.

तभी राजीव उसके पास आकर धीमे से बोलने लगा- यीशा, जब तुम और विशाल चुदाई कर रहे थे, तो मैंने खिड़की से देख लिया था जिससे मुझे नींद नहीं आ रही थी. जैसे ही मैंने तीसरे परदे को हटा कर देखा, तो मैंने देखा कि वो फौजी अपनी पेंट उतार रहा था. हम दोनों चुदास से भरे हुए थे और जल्द से जल्द चुदाई कर लेना वास्तव में पागलों की तरह एक दूसरे को चूमना शुरू कर दिया.

रंग एकदम दूध सा गोरा, नशीली आंखें, गांड तक लहराते लंबे बाल एकदम मस्त काया थी. मैंने उसकी पैंट खोलनी शुरू की तो उसने हाथ पकड़ा लेकिन मैं झटक दिया. पहले तो सब मना कर रहे थे … वे सब सोनल समेत हम तीनों को ही इधर ही सोने के लिए जोर दे रहे थे.

आवाज आने के बाद मैंने हल्के से आंख खोल कर देखा कि वो बाथरूम में घुस गया था. कुछ देर बाद मैडम की दर्द भी सिसकारियों में बदल चुकी थीं और अब वो भी दबी हुई आवाज़ में सिसकारियां ले रही थीं.

भाभी की मोटी गोल गांड की वजह से इस स्टाइल में चुदाई करने में हम दोनों को बहुत मजा आ रहा था.

समीर बोला- तुमने ये आग कैसे जलायी?मैंने कहा- कुर्सी की फोम निकाली और लाइटर से जला दी.

वो तो बस एक झीना बेबीडॉल नाईटी पहने हुए थी जो उसकी चूत को भी मुश्किल से ढक पा रही थी. हम दोनों ने पहले तो किस किया और फिर वो मुझे लिटा कर मेरे चूचे दबाने लगा. उमेश सर ने कहा- ठीक है … अब मैं कुछ नहीं कर रहा हूँ … लेकिन बस ऐसे ही रहने दो.

मैंने हड़बड़ाकर जैसे ही पीछे मुड़ कर देखा, तो वहां आकांक्षा खड़ी हुई थी, जो मुस्कुरा भी रही थी. फिर एक दूसरी की फुद्दी को फुद्दी से रगड़ रगड़ कर चोदने लगी और चूची मसलने लगी. चूंकि मेरे घर में मेरे पापा और दादा ही मर्द थे इसलिए उनके साथ मेरा कुछ नहीं हो सकता था.

कुछ देर तक इसी तरह वो मेरे लंड पर उछलती रही और उसके बाद मैंने सोनी को घोड़ी बना लिया.

एक बार शायद उनको इस बात का अहसास हो गया था कि मैं उनके मटकते हुए चूतड़ों को देखता हूँ. जैसे ही चूत पर हाथ पहुंचा तो मेरे बगल वाले लड़के और मेरे शौहर दोनों के हाथ आपस में टकरा गये. वो आह्ह … आह्ह … करते हुए मेरा पूरा का पूरा लौड़ा अन्दर ले रही थी।अब वो थक गई थी तो मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी एक टांग उठा कर चोदने लगा.

उन्होंने अपने पैरों से मेरे दोनों पैरों को दबा लिया और अपने दोनों हाथों से मेरे हाथों को पकड़ लिया. शांता के मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … साब जी … आह्ह … होये … ओह्ह … इतने दिनों बाद चुद रही हूं. चारू की योनि की संकीर्ण दीवारों ने मेरे लंड को चारों तरफ से बांध लिया था.

शनाज़ में भी आँखों के इशारे से ‘थोड़ी देर बाद आती हूँ’ बताकर मुझे जाने को कहा.

उनकी ये सब रिकॉर्डिंग सुन कर मुझे सारी कहानी समझ आ गई कि शकील और मेरी अम्मी का जिस्मानी रिश्ता है. पहले अंकल ने सुपारा मेरी गांड के छेद में फंसाया, तो मेरी आंखें फटने लगीं.

बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी मैं अपनी बाइक पर आने लगा, तो वो मुझे बोली- मैं भी तुम्हारे साथ बाइक पर चल रही हूँ … क्योंकि बारिश कभी भी आ सकती है. मेरी चुदक्कड़ बहन उसका चेहरा देख कर मुस्कुरा रही थी और सौरभ लगातार झटके मार रहा था.

बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी मैंने उसको कोई लड़की सेट करवाने के लिए कहा मगर …प्यारे दोस्तो, मेरा नाम राजदीप (बदला हुआ नाम) है. ”मामू, आप मेरे साथ???”हाँ बेटा, तुम ठीक समझ रही हो, अब तुम्हें फैसला करना है कि तुम रोहित को पाने के लिए ये सब करोगी या नहीं.

उसने ओ के कहा और तुरन्त ही उसका गूगल डिओ पर वीडियो कॉल आ गया जिसमें उसने अपने एक एक कपड़े को वीडियो कॉल पर उतारा.

सेक्सी फिल्म फुल एचडी हिंदी में

मैं तुम्हारे साथ खूब घूमती और मज़े करती।सागर- अच्छा मान लो कि आप मेरी उम्र की हो. हमारी थोड़ी देर बात हुई, फिर उसने बोला- अब आ जाओ, हम सब रेडी हो गए हैं. लंड उसकी चूत में था और उसकी चूत की गर्मी से लंड को जो सुकून मिल रहा था वो शब्दों में बयां किया ही नहीं जा सकता.

मित्रो, आपको मेरी यहहॉट सेक्स कहानीकैसी लगी? आपके कमेंट्स की मुझे प्रतीक्षा रहेगी. फिर उन्होंने अपने लोले को मेरे मुंह में दे दिया और मैं उसको चाटने लगा. कुछ ही देर में मैंने सुमन भाभी की गांड को चुदाई के लिए तैयार कर लिया.

फिर मैंने भाभी की चुत पर थोड़ा थूक लगाया और भाभी ने अपना थूक मेरे लंड के ऊपर लगाया और वापस पहली पोजीशन में आ गए.

मैंने उसकी गांड में लंड सटा दिया और उसको घुमाकर उसके होंठों को पीने लगा. मैं तेजी से उठा और उसको अपनी बांहों में जकड़ कर उसकी चूची पर दाँत काट लिया. मैं लंड पकड़ कर चुत पर टिकाया और उनकी टांगों को फैला कर अपने लंड को उनकी चुत पर सैट कर दिया.

फिर मॉम ने भी उनको छाती पर किस कर लिया और वो दोनों एक दूसरे को चूमने लगे. हो सकता है कि आपको मेरी यह कहानी काल्पनिक लगे लेकिन मुझे उससे इत्तेफाक नहीं है क्योंकि जो हुआ वो ही मैं आपको बता रहा हूं. मेरे बाद माधवी भाभी बाथरूम में गईं और नहा धोकर सब गहने पहन कर वापस आ गईं.

उनके जाने के 2 मिनट बाद वो आदमी भी उठ कर वहां से टॉयलेट की तरफ़ निकल गया. अवनीत झुक गई तो मैंने उसका लहंगा पीछे से उठा दिया और अपने लण्ड पर क्रीम मलकर उसकी बुर में डाल दिया और धीरे धीरे पेलने लगा.

भीड़ बहुत है चलो खा लिया जाए।सुधा ने सागर से बोला- चलो बेटा तुम भी खा लो।हम चारों चले गए खाने के प्लेट लेने. मैंने भाभी को बताया- मुझे खाना भी खाना है, मैं तो घर से भूखा ही आया हूँ. इससे खुशबू की वासना भी जाग गई और कहने लगी- मैं जानती थी कि तेरा मन मचल रहा है … और तू नहीं मानेगा … पर आज!मैंने उसकी तरफ वासना से देख कर कहा- पर आज … क्या कहना चाह रही है … पूरा बोल न!खुशबू- आज तेरा लंड देखकर मुझे भी मजा आ गया.

आकांक्षा भी भाग कर मेरे साइड में आ गयी और बोली- इतना सीरियस होकर क्या सोच रहा था?मैं- कुछ भी तो नहीं … बस ऐसे ही बैठा था.

लेकिन वह घटनाक्रम आज भी मेरी यादों में बसा है और उसने मुझे मेरे शुरू से ही कामुक बना दिया जो मैं अब तक हूँ. लंड का सुपारा घुसवाते ही मॉम चिल्ला उठीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मां मररर … गयययी … रे … आंह बाहरररर निकाल इसको!मैं जानता था कि मॉम की गांड पहली बार चोदी जा रही है, तो दर्द तो होगा ही. करीब 10 मिनट तक चूचे दबाने के बाद मैंने उनके मुँह में अपना लंड देने का सोचा.

चाची ने सहलाने के बाद मेरे लंड को मुंह में ले लिया और मेरे लंड को जोर से चूसने लगी. चलो मैं मन ही मन खुश होने लगी कि पापा भी मिल लेंगे अमित जी से।फिर मैंने सोचा कि मैं भी बैंक चली जाती हूँ.

उसके बाद मैंने उसकी कमीज को ऊपर किया और अंदर हाथ डालकर उसकी चूचियों को बाहर निकाला और पीने लगा. मैंने उसकी गांड ऊपर करके कस कस के 20 मिनट तक धकापेल चुदायी की और इसके बाद सारा माल उसकी चूत में ही निकाल दिया. आंटी की चुत चुदाई से मेरे लंड की नसें फूल गई थी … जिससे आंटी की चुत में लंड की रगड़ और मस्त होने लगी थी.

न्यू सेक्सी फुल एचडी

इतना बोलकर अंकल ने पास में रखा लोशन उठाया और अपने लंड पर लगाने लगे.

मेरी पिछली कहानीगांड मरवाने की शुरुआतमें आपने पढ़ा कि कैसे मेरे दोस्त राजेश ने मेरे गांड का उद्घाटन किया और रात भर मेरे गांड बजाई। लेकिन कुछ दिनों बाद उसके पापा की पोस्टिंग शहर में दूसरी आफिस में हो गयी. उस प्यारी सी बच्ची को मैंने अपनी गोद में बैठा रखा था।उस दिन हमारी कॉलोनी के पास ही संडे बाजार लगा हुआ था और घर वाले सभी वहीं पर खरीदारी करने गये हुए थे. वह अभी भी साड़ी में थीं और उन्हें इस तरह अकेला देख कर मेरे मन में लड्डू फूट रहे थे.

मेरे दोनों हाथों में भाभी के दोनों बड़े बड़े बूब्स थे और मैं उन्हें जोर से दबा कर मजा ले रहा था. खैर चलो … एक एक करके सब कर दूँगा, अपने सेक्स जीवन की शुरुआत प्रिया (नाम बदला हुआ) की चुदाई से की थी. बीएफ सन 2022 केभाभी अभी भी छूटने की कोशिश कर रही थी मगर वो यह भी जानती थी कि बगल में ही उसका पति सोया हुआ है.

उसके बाद मम्मी जी नहाने चली गयी और मीनाक्षी सीधा मेरे कमरे में आ गयी झाडू लेकर. उस दिन जब मैं पढ़ाने के बाद जब अपने घर लौटा, तो रात भर उनके चिकने बदन के बारे में सोचता रहा.

थोड़ी देर बाद मैम को भी मजा आने लगा और वह आवाजें निकालने लगीं- आंह … हां राजा … हां और जोर से चूसो … मुझे चोद दो … अपनी जीभ से पूरा चाट लो मुझे. जैसे ही लण्ड को उन्होंने मुंह में लिया … मानो मैं खुद को जन्नत में महसूस करने लगा।मेरे सुख का अंदाजा नहीं लगा सकते आप दोस्तो!पर मेरा लण्ड चूसते ही उन्हें शक हुआ क्योंकि वो तो मुझे पापा ही समझ रही थी।तो उन्होंने लाइट ऑन कर दी।उस लाइट के उजाले में मैं और माँ दोनों नंगे एक दूसरे को देख रहे थे. उसमें से एक दिनेश अंकल थे, जो पापा और मॉम के काफ़ी अच्छे दोस्त भी थे.

जब वो मुंह में लेकर लण्ड को अन्दर बाहर करने लगी तो मेरे लण्ड पर उसके दांत चुभ रहे थे. मैंने उसी पल अपना लोअर चड्डी समेत नीचे सरका दिया और अपना खड़ा लंड भाभी के सामने लहरा दिया. फिर मैंने उन्हें कहा कि अब तो मैं जब तक यहां हूँ, आप दोनों की रोज चुदाई करूंगा.

भाभी ने फिर से अपनी अलमारी में देखा और मेरे सर के ऊपर पहनाने के लिए एक साफा व सिर का ताज ले आईं.

मौक़ा मिलते ही मैंने उसे चूमना शुरू कर दिया तो वो बड़ी खुशी खुशी मुझसे चुदाई करवाने को तैयार हो गयी. ’दोस्तो, मेरी इस देसी नंगी भाभी सेक्स स्टोरी पर आपके मेल का इन्तजार रहेगा.

आंटी ने मुझसे कहा- क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैं- नहीं, मैंने तो अभी तक किसी लड़की को हाथ भी नहीं लगाया. और मैं दीदी की नंगी पीठ पर ऐसे सवार हो गया जैसे कोई घोड़ी पर सवार होता है. मैंने आंख खोलकर देखा तो उसने भी गुस्से वाली नजरों से आंख मारकर अपनी जीत का इशारा किया और बदला लेने का जश्न भी मना लिया।मुझे उसकी इस हरकत पर प्यार आ गया.

यह बात 3 साल पहले की है, जब मेरी अपनी कजिन सिस्टर के साथ चुदाई की रासलीला चल रही थी. तो दोस्तो, कैसी लगी मेरी और पड़ोसन भाभी की सेक्सी चुदाई हिंदी कहानी? प्लीज मुझे मेल जरूर करना. मैंने मॉम के मुँह से अपना चेहरा हटाया ताकि वो अपनी मादक सिसकारियां ले सकें.

बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी उनकी बेटी शिल्पी 12वीं पास करने के बाद पढ़ने के लिए दूसरे शहर में रहती थी।उनके घर में अब उन दोनों पति पत्नी के अलावा उनके बड़े भाई की बेटी नीता ही थी. माँ- ये मंगलसूत्र निकाल दूं क्या … शायद तुझे मेरी चुचियां दबाने में दिक्कत हो.

जानी दुश्मन हिन्दी फिल्म

पिता जी ने मौसी की योनि के साथ 15 मिनट तक भरपूर कामक्रीड़ा की और अपना वीर्य मौसी की योनि में ही प्रवाहित कर दिया. इस समय मेरे मन में बड़ी बुआ घुसी थीं … क्योंकि उनकी गांड और चुचे बड़े थे. मैंने भाभी को पोजीशन में लिटाया और उनकी चुत में लंड डालने की कोशिश की.

एक बार फिर से मैं चाची की चूत को पेलने लगा और सोनी मेरे होंठों को चूसने लगी. फिर पांच मिनट लंड हिलाने के बाद वो अपना लंड हाथ में लिए बाथरूम में चला गया और उधर से शायद लंड का रस निकाल कर कोई दो मिनट बाद वापस आ गया. हिंदी ओपन वीडियो बीएफकुछ पल बाद बाद मैं उसकी एक चूची को चूसने लगा और दूसरी को मसलने लगा.

शाम को खाना आदि हुआ और रात को सब सोने के लिए अपने अपने कमरों में चले गए.

कुछ ही समय में कैब उसकी बिल्डिंग के बाहर रुकी, तो हम दोनों निकल आए और कैब वाला निकल गया. तब भी आप सब ये भी जानते हैं कि यदि आप किसी चीज को शिद्दत से पाना चाहें, तो जर्रा जर्रा उसे आपसे मिलवाने में लग जाती है.

कुछ समय तक लंड अन्दर बाहर करने के बाद मैंने एक जोर से धक्का लगा दिया, जिससे मेरा पूरा लंड चुत के अन्दर समा गया था. मैं भी तैयार होकर निकलने वाला था, तो उसने मुझे स्टैंड पर मिलने को कहा. दिसंबर में ठंड भी होती है तो हम रात में सोने के लिए टेंट हाउस जाकर बिस्तर ले आए। जिन लोगों ने गांव की शादी देखी है वो इस कहानी को ज्यादा अच्छे से महसूस कर सकते हैं।शादी से दो दिन पहले की बात है.

उनको देखकर लगता था कि जैसे वो मॉम को देखकर उनको चोदने की सोच रहे हों.

उन्होंने मेरे लंड को चड्ढी के ऊपर से पकड़ लिया और लंड मसलते हुए बोलीं- कितने महीनों से लंड का स्वाद नहीं चखा है. तकरीबन एक मिनट बाद संजय अंकल ने अपना सारा वीर्य मेरे मुँह में छोड़ दिया. मैंने बिना टाइम वेस्ट किए उनके दोनों मम्मों को कसके पकड़ा और मसलने लगा.

सनी लियोनी बीएफ मूवीउसके निप्पल एकदम किसी बड़ी दाख के मानिंद कड़े होकर गर्वित अवस्था में मेरे होंठों का इन्तजार कर रहे थे. वो आह्ह … आह्ह … करते हुए मेरा पूरा का पूरा लौड़ा अन्दर ले रही थी।अब वो थक गई थी तो मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी एक टांग उठा कर चोदने लगा.

बैक पैन इन हिंदी

मैंने उसकी चूचियों के बीच में मुंह रख दिया और तेजी के साथ उसकी चूत को चोदने लगा. मेरी बुआ मुझे कई बार बोल चुकी थी उनके घर आने के लिए।बुआ के घर में वो लोग तीन ही सदस्य थे. उस रात को मुझे सर की ही याद आती रही और ज़्यादा उनका मेरी गांड पर मारना मुझे अन्दर तक बेचैन किये जा रहा था.

मैंने उसको पूछा कि उसके पति कहां पर हैं तो उसने जवाब दिया कि वे ड्राइवर हैं. भाभी ने एक जोर की हंसी निकालते हुए कहा- वाह देवर जी, बाबूलाल को मुझे दिखाओ. मैंने उनके पास उस समय आने वाली बहुत सी अश्लील किताबें जैसे संभोग कला, आजाद लोक, अंगड़ाई और स्त्री पुरुष देखी थी.

फिर उसने मेरे पास आकर मेरी तरफ देख कर बोला- मुझे इधर अच्छा नहीं लग रहा है यहां … तो मैं छत पर जा रही हूं. उसने मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया और मैंने भी उसके गुलाबों पर हमला बोल दिया. उसके मुंह से एकदम से कामुस सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … फक मी मैडी… आह्ह … फास्ट … फक मी कमॉन… चोदो मुझे, और तेज … आह्ह बहुत मजा आ रहा है.

लेकिन फिर ठंडे दिमाग से सोचने के बाद याद आया, जिस रास्ते से मैंने लिफ्ट मांगी थी, वो रास्ता तो काले कारनामों के लिए जाना जाता है. मेरा जांघों के टकराने से बाथरूम में पट-पट की आवाज भी जोर से गूंज रही थी.

मैं अपना सर नीचे किए हुए उनकी किसी भी पल आने वाली झिड़की के लिए तैयार बैठा था.

20-22 दिन तक रोज बीवी के साथ सोने और उसकी चूत चुदाई करने की आदत सी पड़ गयी थी मुझे तो उस रात मुझे बीवी की कमी बहुत खली. हॉट सेक्सी पिक्चर बीएफहालांकि मुझे मालूम था कि भाभी बिस्तर में चाची को टक्कर नहीं दे सकती थीं. हॉट बीएफ मूवीसअब आप बताओ कि आपको मेरा नम्बर कहां से मिला?मैंने बोला- मिल गया बस, जुगाड़ लिया. फिर उन्होंने अपने कपड़े उतार दिए और भाभी पूरी नंगी मेरे सामने खड़ी हो गयी.

उसकी चुत की दरार अभी भी खुली पड़ी थी और उसकी चूत के अंदर की लाली दिखाई दे रही थी.

वो बोली- पागल हो गया है क्या? मैंने कभी तेरे मौसा को गांड नहीं दी तो तुझे कैसे दे दूं. लेकिन मैंने ऐसा अभिनय किया, जैसे मुझे समझ नहीं आया कि वह क्या कह रही हैं. आंटी का सेक्सी परफ़ेक्ट देसी बदन किसी को भी मदहोश करने में पूरी तरह से सक्षम है.

भाभी की दोनों टांगें मेरे कंधे के ऊपर थीं मैंने अपने लंड को चुत के ऊपर सैट किया और धक्के लगाना शुरू कर दिया. ’भाई ने मेरे कान में पूछा- मजा आ रहा है?मैं हंस दी और उसे चूम कर कहने लगी- आंह … तुम बड़े बेदर्दी हो भाई … पर अब मजा आने लगा है. ऐसा भी नहीं है कि मैंने अपनी तरफ हमारे इस रिश्ते में कोई योगदान नहीं दिया, समय समय पर मैंने भी इसको जरूरत पड़ने पर साथ दिया.

सेक्सी व्हिडिओस मराठी

कुछ ही देर में दोनों बुआओं ने मिल कर सब के लिए खाना बना लिया था और बच्चों को स्कूल भेज दिया. श्रुति ने मेरा मोबाइल लिया हुआ था और वो मेरे फोन में मेरे मैसेज पढ़ रही थी. अंकल मुझे जो अश्लील किताबें पढ़ने के लिए देते थे, उसमें जो लिख होता था, वह सब कुछ मेरे सामने हो रहा था.

मैंने ना में सर हिलाया और उनकी दोनों चुचियों पकड़ कर उनके मंगलसूत्र के अन्दर डाल दिया.

हम उसके दोस्त के रूम की ओर चल पड़े और मुझे उम्मीद हुई कि शायद इसका दोस्त ही ठीक निकले.

चूंकि मेरा घर बाहरी एरिया में था इसलिए किसी को कुछ पता चलने का भी डर नहीं था. जैसे ही मैंने हेल्लो बोला तो उधर से एक मधुर आवाज आई- आप कौन?मैंने उसे अपने बारे में बताया और बोला कि मुझे टॉपिक ढूँढने में आपकी हेल्प चाहिए।उसने बताया कि उसका नाम निशा है और कल दो लेक्चर्स के बाद लाइब्रेरी के पास आ जाना।मैं उसे पहली बार मिलने के लिए बहुत उत्साहित था और साथ में डरा हुआ भी; क्योंकि मुझे बताया गया था कि पिटाई हो सकती है. एकस एकस एकस बीएफक्या मुझे इस अप्सरा को प्यार करने की इजाज़त है?तो उसने कहा- भईया सैयां जी, आपको अपनी दुल्हन बहन को मुँह दिखाई देनी पड़ेगी.

मैं भाभी को किस करते करते नीचे आ गया और अपना मुँह उनकी चूत पर लगा दिया. गरम भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक शादी में सर्दी की रात में हाल में बिस्तर लगा कर सोना पडा. वो दो उंगली तेल में भर कर अंदर करती थी।मां- साली गान्ड में उंगली करने लगी वापस?मौसी- दीदी, तुम्हारी गान्ड का छेद कितना टाइट है.

पर बीती रात जो गर्मागर्म मर्दाना मलाई ज़ोहरा की बच्चेदानी के अंदर गई थी … वो रस तो फ़रिश्ते का था, सबसे अलग था. इसके बाद मैंने लंड को ज़ाफिरा की चुत से निकाला और उल्फ़त के मुँह में दे दिया.

जैसे ही मैंने उसकी संगमरमर जैसी मुलायम जांघों को चूमना शुरू किया, उसने मेरे सर को पकड़कर अपनी चूत पर दबाना शुरू कर दिया.

मेरी सगी बहन ने दसवीं की परीक्षा पास कर ली थी और उसने 11 वीं में एडमिशन के एप्लिकेशन फॉर्म ले लिया था. फिर मैंने ज़ोहरा के दोनों पैर अपने कंधों के ऊपर किया और फिर से आपा की चूत में जोर जोर से झटके लगाने लगा. मां ने ब्रा खोलते हुए कहा- तू चड्डी खींच कर निकाल दे और आज बिना किसी डर के मुझे चोद दे.

सनी लियोन की बीएफ ब्लू पिक्चर कुछ देर दबाने के बाद उसने खुद ही मेरे अंडरवियर के अंदर हाथ डाल दिया. धीरे धीरे करके मैंने मेहंदी से भाभी के मम्मों, चूतड़ों और योनि स्थल के आसपास डिजायन बना दीं और बाकी सब जगह वाटर कलर से पेंटिंग कर डाली.

मगर सोफे में कम जगह होने की वजह से हमें बार बार अपने आपको ठीक करना पड़ रहा था. संजय अंकल बोले- आओ मेरे साथ ही बैठ जाओ … अगर कुछ होगा, तो मैं संभाल लूँगा. वो चिल्ला उठी- हाय मैं मर गयी … आह्ह्ह आह्ह्ह ऊओह ओह्ह इतना दर्द प्यार में होता है … पता ही नहीं था.

सेक्सी पिक्चर छत्तीसगढ़ी में

वो शरमाते हुए अपने हाथों से अपनी चूचियां और चूत को ढकने की कोशिश करने लगी. एक बार लौड़ा गान्ड में गया तो फिर आपकी गान्ड पूरी खुल जाएगी।मां- अमिता, मन तो बहुत है अपनी फुद्दी में लौड़े लेने का, अपनी गान्ड मरवाने का! पर अगर गांव में किसी को पता चला तो हमारी इज्जत मिट्टी में मिल जाएगी. इतना कहने के बाद मैं उनकी चूत को चाटने लगा और मॉम मेरा मुँह अपनी चूत में दबाने लगीं.

आपको स्टूडेंट मॉम टीचर सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं. कभी होंठों पर तो कभी गालों पर, कभी उनकी चूचियों पर तो कभी गर्दन पर।वो भी अपने हाथों से मेरी पीठ को सहला कर मेरा हौसला बढ़ा रही थी.

रात को मैं अपनी मम्मी को दुल्हन की तरह तैयार करके अपने पापा के कमरे में ले गया.

दोनों ही थक से गये थे गर्मी के कारण।मैं पहली बार उसके घर गया था और बैठा बैठा चारों ओर नजर घुमाकर उसके घर को देख रहा था।मैंने पानी के लिए कहा तो बोली कि फ्रिज से ले लो. शांता के मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … साब जी … आह्ह … होये … ओह्ह … इतने दिनों बाद चुद रही हूं. अब मैंने उनको अपना लंड मुँह में लेने को कहा, तो उन्होंने झट से लंड को मुँह में ले लिया और चूसने लगीं.

मेरे मन में अचानक से पता नहीं क्या आया कि मैं बाइक को लिंक रोड पर ले गया. मैंने उठ कर फिर से रात की चुदाई को याद किया और भाभी की सहेलियों की चुत चुदाई मिलने का इन्तजार करने लगा. जैसे ही मेरा हाथ भाभी की गांड पर गया, तो मैंने धूल झाड़ने का नाटक करते हुए जोर से गांड पर हाथ दे मारा.

मैंने अभी भी चूत को चाटना और चूसना ज़ारी रखा था … क्योंकि मुझे चूत चाटना बहुत पसंद है.

बीएफ सेक्सी फिल्म नंगी: आई लव यू टू … अब जाकर समझ आया आपको … और सुनो आज से भाभी भाभी कहना बंद कर दो. ज़ोहरा की गांड के दवाब से मेरा लंड खड़ा होकर आपा की गांड की दरार में सेट हो गया.

आंटी ने अपना पल्लू हटाते हुए मुझे दूध दर्शन कराए और वासना भरी आवाज में बोलीं- हम्म … तुम तो काफी रोमांटिक हो. पिछले भागप्यासी भाभी की चूत चाटकर लंड घुसायामें अब तक आपने पढ़ा था कि प्रियंका भाभी ने मुझे सेक्स की गोली खिला रखी थी तो उनकी चुत में मेरा लंड खलबली मचाए हुए था. मगर तब भी मुझे आज तक इस घटना को लेकर बार बार याद आता है कि कैसे मेरी बीवी ने अपने जीजा के साथ चुत चुदवा ली थी.

मैंने उसे वापस अपने लौड़े पर बिठाया और किस करने लगा।दोनों बहनों की टाइट चूत इस बात की गवाह थी कि इनकी खातिरदारी किसी ने काफी वक्त से नहीं की है।मैंने मेघा की नंगी पीठ पकड़ी और फिर हल्के हल्के लण्ड अंदर करने लगा.

अब मैं कमरे में जा रही हूँ।और भाग कर कमरे में आ गई।पूरी रात मैं बस उस पल को याद करती रही. कोई काम है?वो बोली- नहीं उसे सोने दो। तुम भी आराम करो, मैं मंदिर जा रही हूं।बुआ के जाने के बाद मैंने राखी को जगाया. फिर मैंने भाभी की ब्रा और पैंटी को देखा … तो मैं अपने काबू से बाहर हो गया और हस्तमैथुन करने लगा.