देसी देसी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,एचडी बीएफ चाहिए हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

नेपाली बीएफ: देसी देसी बीएफ वीडियो, मैंने नताशा को नीचे गिराकर उसको जोर से चूसा और फिर अपनी टीशर्ट उतार दी.

एक्स एक्स बीएफ फुल एचडी वीडियो

मगर मेरे बिना कुछ कहे ही शबाना ने लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगी. मुंबई सेक्स वीडियो बीएफअब मुझसे रहा नहीं जा रहा था। मैंने उसकी नंगी चूचियों को हाथों में भर लिया और दबाने लगा.

दोस्तो, अब मेरी जीजा साली सेक्सी कहानी को मैं अगले भाग में लिखूंगा. सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफहम दोनों नीला को दर्द भरे मजा देने की लिए रेडी थे और नीला भी थ्री-सम का अपन पहला अनुभव लेने के लिए.

आपके मेल लगातार मुझे प्रोत्साहित कर रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे, ऐसी मेरी उम्मीद है.देसी देसी बीएफ वीडियो: बुआ ने पूछा- गर्लफ्रेंड के साथ कुछ किया या नहीं?मैं एकदम गर्म था, तो कह दिया- बहुत कुछ कर चुका हूं.

आपकी पिंकी सेन[emailprotected]छोटी चूत की कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 6.मेरे पति से नजरें बचा कर मैंने एक बार फिर से समधी जी को अपने मम्मों की झलक दिखा दी थी.

सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ हिंदी में - देसी देसी बीएफ वीडियो

मैंने चोरी से उसे मोबाइल में ब्लू फिल्म दिखा कर उसे गर्म किया तो …नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम दीपक है और ये सेक्स कहानी मेरे एक पाठक ने अन्तर्वासना के लिए लिखने के लिए भेजी थी, जिसे मैं आपके सामने पेश करने जा रहा हूं.दोस्तो, यहां से चलो, असल मकसद मीनू की चुदाई थी … वो आपने देख ही ली.

ये विचार आते ही मेरा हाथ अनचाहे ही मेरी पैंटी में घुस गया और चूत की दरार में मेरी उंगलियां चलने लगीं. देसी देसी बीएफ वीडियो उससे पहले मेरी सबसे पहली कहानी प्रकाशित हुई थी जिसका शीर्षकमेरी बहनों की चूत चुदासथा.

उसके चूचे के दाने उभरे हुए दिख रहे थे और शॉर्ट्स के ऊपर चूत की छाप दिख रही थी.

देसी देसी बीएफ वीडियो?

आपके मेल मिल रहे हैं और उन सबको मेरी सेक्स कहानी के आगे जानने की जल्दी रहती है, मगर प्लीज़ एक एक चम्मच खीर खाओ, तो मजा आएगा. किसी तरह से मैं घर पहुंचा और फिर आते ही बाथरूम में घुसकर दो बार मुठ मारी. उसने एक बार मेरी ओर देखा और फिर नीचे देखकर मुझे भी आई लव यू बोल दिया और नीचे ही नीचे मुस्कराने लगी.

वो मदमस्त सी आंखों को बंद किए अपने मम्मों पर शहद टपकता हुआ महसूस कर रही थी. ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, तो कोई गलती दिखी हो तो प्लीज़ नजरअंदाज कर दीजिएगा. रजिया बोली- तो तू ही बता? मैं उंगली न करूं तो और क्या करूं? जब से तेरे जीजाजी इस दुनिया से गये हैं तब से मैं बहुत अकेली पड़ गयी हूं.

अब हमारे होंठ आ मिले और हम दोनों एक दूसरे के होंठों को रस अपने अपने मुंह में खींचने लगे. बहुत दिन बाद मिलने के बाद दीदी और मैं देर रात तक और दिन भर बातें किया करते थे. कुछ टाइम बाद मोनिषा पानी पीने के लिए उठी और सीधे पानी पीकर वापस आयी.

आंटी के हाथ से मैंने कपड़े ले लिये और अपना नागराज उसके हाथ में पकड़ा दिया. दोस्तो, आज मैं आपको मेरी और मेरी प्यारी भाभी सुनयना (बदला हुआ नाम) के बीच हुई एक सच्ची घटना के बारे में बताना चाहता हूँ कि किस तरह मैंने अपनी भाभी को पटाया और उनकी चुदाई की.

हम दोनों ने लगभग 5 मिनट किस किया और इस दौरान मैंने अपना हाथ उनके मम्मों से ले जाते हुए उनकी जांघ पर फेरना शुरू कर दिया.

थोड़ी देर बाद मैंने होंठ हटाए और पूछा- चिल्लाई क्यों?भाभी बोली- तुम्हारे भैया ने मुझे अपने काम के चक्कर में तीन महीनों से नहीं चोदा है और तुम्हारा उनसे लम्बा और मोटा है.

मैं जल्दी से उठा और कपड़े-वपड़े पैक किए और हम बिना शादी अटेंड किए ही वहां से वापस आ गए. तभी आदिल बोला- यार, ऊपर तो अच्छी तरह से लगा दिया लेकिन नीचे तो पूरा सूखा ही रह गया. इतना बोलकर मैंने भाभी की चूत में लंड को आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

अब जो उन्हें समझना हो सो मुझे समझते रहें, मैं कौन सा वहां चरित्र प्रमाणपत्र बनवाने गयी थी. देसी आंटी के मुंह से निकला- आआ … आराम से!फिर मैं उतने ही लंड को आगे पीछे करने लगा. पर शादी से ठीक पहले नमन के ऑफिस में ऑडिट आ गया और नमन मुझसे कहने लगे कि ऑडिट के कारण वो तो अब जा नहीं सकता अतः मैं अकेली ही चली जाऊं.

उसके खुले बाल उसकी पीठ पर बिखर गये और वो अब पहले से ज्यादा कामुक और सेक्सी लगने लगी.

वो शायद अपने आपको इसके लिए पहले ही तैयार कर चुकी थी इसलिए उसकी तरफ से किसी भी तरह का विरोध नहीं हो रहा था. समधी जी ने अपनी बलिष्ठ भुजाओं में मुझे अपनी गोद में उठा लिया और मैं सिर्फ सलवार में उनके कमरे में आ गयी. मैंने भी धीरे से अपनी बहन मोनिषा की सलवार में हाथ डालते हुए उसकी पैन्टी में हाथ डाल दिया.

एक बार फिर से राहुल उठा और बेड के दूसरे कोने की तरफ जाकर वापस आ गया. सुरेश- रघु, तुम्हें कुछ समझ आ रहा है ना … जवान लड़की को ऐसे गर्म करते हैंरघु- हां बाबूजी … अच्छी तरह समझ गया. मैं इकबाल सिंह के बारे में बता दूं कि इकबाल सिंह जुए का अड्डा चलाता था.

और सुनाओ रात को तुम्हारे पति के होते तुम्हें चोदा, कैसा लगा, तुम वो बोलो.

मैंने चाची की ब्रा के ऊपर से उनकी चूचियों को पकड़ लिया और दबाते हुए चाची के ऊपर लेटते हुए होंठों पर होंठों को रख दिया. यह सोच कर मैं खूब बन संवर कर रहने लगी मौसा जी के आसपास ही मंडराती रहती उनसे बार बार बहाने से बात करती; कभी झुक कर झाडू लगाने के बहाने अपने मम्मों की झलक उन्हें दिखाने का बार बार प्रयास करती.

देसी देसी बीएफ वीडियो फिर मैं उसकी ब्रा पर टूट पड़ा और उसकी चूचियों को जोर-जोर से दबाते हुए उसकी क्लीवेज पर किस करने लगा. यहां तो हम बस ऊपर का मज़ा ले सकते हैंमीता मचलते हुए बोली- तो बाबूजी कहीं और चलते है ना!सुरेश- अब तुझे कहां लेकर जाऊं … मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा है.

देसी देसी बीएफ वीडियो जैसे ही गीता की नज़र मुखिया पर गई, उसने जल्दी से अपने मम्मों पर हाथ लगा लिया. मैं बोली- समधी जी, मेरी समधन कैसी हैं?समधी जी ने अपनी नजरें मेरे चूचों से हटाईं और बोली- आं … हां जी, वो ठीक है.

अब बहू ने उनकी कमर को रगड़ते हुए उनके अंडरवियर में हाथ घुसा लिया और अपने ससुर के मोटे मोटे चूतड़ों को रगड़ने लगी.

इंग्लिश में एक्स एक्स एक्स

वो मेरे हाथ को उनकी चूत में से बाहर निकालने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने पूरे ज़ोर के साथ उनकी चूत पर कब्जा जमा लिया था। अब मैं उनको पकड़कर चूत में उंगली अंदर बाहर करने लगा।मौके को देखते हुए मैंने मेरा पजामा और टीशर्ट खोल दी। अब मैं सिर्फ अंडरवियर में ही था। अंडरवियर में मेरा मूसल जैसा लंड अकड़ चुका था. मैं तो हॉस्टल में रहता था … इसलिए मेरा उसे अन्दर बुला कर चोद पाना सम्भव ही नहीं था. मैं भी चुदाई के जोश में लगभग ये भूल ही गया था कि बगल में भानजी भी सो रही है.

चूंकि फोन नम्बर लेते देते वक्त ही ये सीन बन गया था कि भाभी मुझसे सैट हो गई हैं. एक बार फिर से मैंने आंटी के होंठों को चूसते हुए दूसरा धक्का मारा और अबकी बार मेरा पूरा का पूरा लंड आंटी की चूत में उतर गया. कुछ देर तक मैंने उसको इसी पोजीशन में चोदा और फिर उसको आसन बदलने के लिए कहा.

दूसरी तरफ भाभी ने भी मेरा लंड पैंट से बाहर निकाल लिया था और बहुत तेज़ी से हिला रही थीं.

कुछ देर बाद मौसा जी ने मुझे बिस्तर पर लिटा लिया और मेरी जांघें खोलकर मेरी चूत में जीभ घुसा कर चाटने लगे. इस वक्त उस बड़ी सी हवेली में सुमन अकेली थी और रात के खाने की तैयारी कर रही थी. मीता- बाबूजी आज सवेरे जब मैं उठी, मुझे फिर से सीने में दर्द हुआ और मैंने देखा कि आज मेरे सीने पर और भी ज्यादा निशान बने हैं.

मेरा मन करने लगा कि उसकी नर्म नर्म चूची को इतनी जोर से भींचूं कि उसका दूध निकल आये. मैंने उसके चेहरे की तरफ देखा, तो वो मेरी चुत के नमकीन अमृत से सराबोर था. मैंने इस बारे में सीधा कहने की बजाए कई बार उसे उकसाने की कोशिश की है, लेकिन वह मानता नहीं है.

मुखिया वहां से निकल गया और सुमन कुछ सोचने लगी कि कैसे उसने पहली बार अपनी चुदाई करवाई थी. मुखिया- क्यों मेरी रानी, तुझे मेरा लंड बहुत पसंद आ गया क्या … जो सिर्फ़ मुझसे ही चुदेगी, उससे नहीं?गीता- ऐसी बात नहीं है मालिक, आपने एक बार कर लिया, ये बात सिर्फ़ आप तक है.

एक बार मैं उसकी गांड मारने की सोचकर उसे अपने घर ले आया और …दोस्तो, मैं किशोर अहमदाबाद से हूँ. वो तो ये सुमन है ना … रात को ढीले कपड़े पहनती है … और आप आ गए तो थोड़ी शर्मा गई थी. मुझे गर्मी लगने लगी क्योंकि बारिश बंद हो चुकी थी और उसके बाद उमस और ज्यादा बढ़ गयी थी.

कुछ देर बाद भाभी मुझे एक स्थान पर छोड़कर चली गईं, जहा पर मेरे दोस्त करण और राहुल दोनों इंतजार कर रहे थे.

मैंने कहा- भाई, कल सुबह सबसे पहले मैं अपनी चूत के बाल साफ कर लूंगी. तभी वो फिर बोला- मुँह में लो न!मैंने संकोच दिखाते हुए लंड के सुपारे को थोड़ा सा चाटा और मुँह हटाने लगा. ये बात सुनकर एकदम मेरे मुंह से निकला- ओह्ह तो सील पैक चूत है! वाह … मज़ा आयेगा.

क्यों जी … आप इस बारे में क्या कहते हो?रघु- मीनू ठीक बोल रही है … मुझे भी कुछ बातें समझ नहीं आ रही हैं. मेरे नाना-नानी नहीं हैं। मुझे चूत की बहुत ज्यादा ज़रूरत थी। मुझे पता था कि मेरे इन वाले मामा के यहां बहुत सारी चूतें हैं.

इसके बाद राहुल ने मेरी कच्छी को मेरे जिस्म से अलग कर दिया और गांड पर दांत से काट कर किस पर किस करने लगा. उधर 2 बजे रघु अपनी पत्नी मीनू को लेकर क्लिनिक आ गया और जैसा तय हुआ था, सुरेश ने क्लिनिक आगे से बंद कर दिया और पीछे के दरवाजे से अन्दर आ गया. कहीं तुम्हें बुरा लग जाए कि कोई गैर मर्द तुम्हारी पत्नी के साथ ऐसे कर रहा है … और शायद मीनू को भी बुरा लगे.

bp हिंदी वीडियो

मेरी अम्मी अब्बू से कह रही थीं कि मुझे छेड़ो मत वरना पूरा निचोड़ कर रख दूंगी.

मैंने बोला-नहीं चाचा, आपसे छोटा ही है!चाचा अपने अंडरवियर के उभार को सहलाते हुए बोले- बीवी को साथ ले आते तो सुबह सुबह इस तरह खड़ा नहीं हो रहा होता ये. पर आज जब वो जा रही थीं, तो नीलिमा आंटी ने मेरा लंड पैंट में खड़ा देख लिया था और हंसकर चली गयी थीं. मौसा जी नमस्ते, ये रही आपकी चाय!” मैंने उनको नमस्ते करते हुए कहा और चाय की ट्रे उनके सामने टेबल पर रख दी.

जब वो होटल में पहुंचे तो तब भी वो चुदाई नहीं कर पाये थे और देवर उसको पकड़ कर घर ले आया. खैर, अगले दिन भाई साब उसको कंप्यूटर सिखाने के लिए नीचे कोचिंग सेंटर ले गए और हर रोज़ 1 घंटे के लिए वो नीचे कंप्यूटर सीखने जाने लगी. बीएफ सेक्स वीडियो देहातचूचियों को चूसने के साथ साथ मैं उसकी फुद्दी पर अपना हाथ फेर कर चुत मसलता रहा.

यूरोप आने के बाद से मेरी प्रीत से बात होना एक तरह से खत्म सी हो गई थी. दोस्तो, आज मैं आपको मेरी और मेरी प्यारी भाभी सुनयना (बदला हुआ नाम) के बीच हुई एक सच्ची घटना के बारे में बताना चाहता हूँ कि किस तरह मैंने अपनी भाभी को पटाया और उनकी चुदाई की.

अब मैं और नहीं रुक सकता भाभी … आह्हह … चोद दूंगा आपको आज।इतना बोलकर मैंने भाभी की मैक्सी को ऊपर उठा दिया और उसके कंधों से निकलवाकर उसके बदन से अलग कर दिया. उस सेक्स चुत चुदाई कहानी में हम बाद में आएंगे, अभी हम डोक्टर की बीवी सुमन के पास चलते हैं, वहां आपके लिए कुछ नया है. धीरज बोला- अरे अजय कैसा है रे!मेरे पति बोले- मैं ठीक हूँ … लेकिन तुम दोनों यहां यह समय कैसे?इकबाल सिंह बोला- यार तू दो दिन से अड्डे पर नहीं आया, इसलिए हम ही चले आए.

उसने बैग मेरे हाथ में थमा दिया और वहीं से उसके साथ बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया. दोस्तो, जब मैं अपनी साली को लेने गया, तभी मैंने सोच लिया था कि अब दीक्षा की चूत की कमी मेरी ये साली पूरी करेगी. उसको नीचे लेटाकर लिंग एक बार में ही पूरा अंदर उसकी देसी चुत में पेल दिया.

वो पागल हो गयी और मेरे सिर को दबाते हुए सिसकारी लेकर बोली- आह्ह … जय … ये क्या हो रहा है मुझे … आह्ह … ऊफ्फ … कुछ कर जल्दी … मेरी चूत में कुछ बड़ा सा डाल … आह्हह … मुझे चोद दे भाई.

एक मिनट बाद भाभी ने दरवाज़ा ओपन कर दिया और मैं अपनी मस्त सेक्सी भाभी को देखता ही रह गया. मेरी झिझक भी काफी हद तक खुल चुकी थी और अपने आकर्षक युवा लावण्य के चलते मुझे काफी लड़कियां पसंद करने लगी थीं.

सुरेश- जान अब तो मैं ये पट्टी निकाल सकता हूँ!सुमन ने खुद अपने हाथों से पट्टी निकाल दी और सुरेश के होंठों पर किस कर दिया. मुझे बड़ा ताव आया और मैंने मुँह में भरा माल थूका और अपना कुर्ता ठीक कर लिया. अब जाओ मन लगा के काम करो, मुझे और भी बहुत काम करने हैंदोनों बाप बेटे ख़ुशी ख़ुशी जाने लगे, तभी कालू ने पासा फेंका.

वो मेरे साढ़े छह इंच के लौड़े को अपने मुह में पूरा अंदर तक लेती और फिर बाहर निकालती. प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी में पढ़ें कि कॉलेज में वैलेंटाइन-डे पर एक लड़के ने एक मस्त सुंदर लड़की के समक्ष प्रेम प्रकट किया तो … उस लड़की ने क्या किया?ये स्टोरी एक सेक्स स्टोरी के साथ साथ एक लव स्टोरी भी है. मैंने उनके पैरों को मोड़ दिया और साड़ी और पेटीकोट को ऊपर उठा दिया। साड़ी को ऊपर उठाते ही उनकी गोरी चिकनी जांघें मेरे सामने आ गईं। अब मैंने उनकी एक टांग को मेरे कंधे पर रख लिया और दूसरी को चूमने लगा.

देसी देसी बीएफ वीडियो ये देसी लड़की की चुदाई कहानी मुझसे कुछ साल छोटी एक प्यारी सी लड़की की है, जिसका नाम सुशी (बदला हुआ नाम) है. मैंने फटाफट बिल्कुल कोने में जीने से दूर गद्दा बिछाया और उसे दीवार के सहारे टीन की चादरें लगाकर ऊपर से ढंक दिया.

भाई बहन की सेक्सी वीडियो पिक्चर

फिर हम तीनों ने एक होटल में खाना खाया और मैं उन दोनों से विदा लेकर घर वापिस आ गया. अब उनका सिर्फ लंड ही मेरी चूत में घुसा हुआ था बाकी उनके शरीर का और कोई अंग मुझे स्पर्श नहीं कर रहा था और फिर उन्होंने पूरी स्पीड से लंड की रेल सी चला दी. दरवाजा बंद करके मैंने पीछे से उसके कंधे पर किस किया और उसको बेडरूम में चलने के लिए कहा.

जी करता है कि …रुक्मणी भाभी ने मेरी तरफ मस्ती से देखते हुए कहा- क्या जी करता है तेरा कुणाल?मैं- कि आपको बांहों में भरकर आपकी जुल्फों में खो जाऊं. सुमन ने सुरेश को बिस्तर पर लेटा दिया था और 69 का पोज़ बना कर लंड की चुसाई शुरू कर दी थी. xxxदेसी बीएफमेरे हर अंग को अच्छे से चूसो जान, आज मेरे अन्दर की सारी आग को बुझा दो जानू … आह मेरे बड़े बड़े चूचों को चूस कर खा जाओ.

अब मैं अगले भाग में आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने नीलिमा की चुदाई की और बुआ और नीलिमा के साथ थ्री-सम सेक्स किया.

सुशी की दोनों टांगें मेरे कंधों से हट कर हवा में फैली हुई थीं और मैं ताबड़तोड़ धक्के देते हुए उसकी कमसिन बुर को चुदी हुई चुत में बदलने में लगा हुआ था. सात-आठ मिनटों की आह … उह … के बाद अपना वीर्यपात करके मैंने रूमाल से लंड साफ़ किया और फिर मुरझाए काले खीरे को पैंट में अंदर करके यात्रा शुरू की.

एक दो वीडियो मैंने कॉमेडी के चलाये और फिर एक पोर्न वीडियो चला दिया. ये कोई परीक्षा नहीं है, बस मैंने जब से तुम्हें देखा है, तब से हम दोनों बहनों ने ही ये योजना बनाई थी कि दामाद जी को अपने वश में रखना है. मेरा मुंह कह रहा था कि दोनों लंडों को चूसता ही रहे और चूत नीचे तिलमिला रही थी कि मुझे लंड दे दो.

अब यहां पर अगर मैं सर का लंड ऐसे बिना कहे चूस लेती तो पति कहते कि मेरा तो चूसती नहीं हो और सर का बहुत प्यार से चूस गयी!अब जब सर ने ही मेरा मुंह उनके लंड पर रख दिया था तो मुझसे भी रहा नहीं गया.

हालांकि किचन में 2 हफ्ते का राशन था, मगर मुझे अभी कोई अंदाजा नहीं था कि कर्फ्यू की क्या स्थिति रहने वाली थी. मेरे मौसाजी दिल्ली में रहते थे जो तीन चार महीने में एक बार आते थे या मौसी ही उनके पास चली जाया करती थी. जब अम्मी ने देखा कि मैं सो रहा हूँ, तो उन्होंने फिर से बाहर से दरवाज़े की कुंडी लगा दी.

बिहार की बीएफ दिखाओनमस्कार दोस्तो, मैं कुणाल अपनी Xxx भाभी सेक्स स्टोरी में आपको सुमन भाभी की दीदी रुक्मणी भाभी की चुदाई की कहानी सुना रहा था. मेरा लिंग बहुत ज्यादा उत्तेजित हो गया था, इसलिए एक मिनट तक हिलाते ही मेरे लिंग ने पानी छोड़ दिया.

मराठी एक्स एक्स कॉम

रघु ने अपनी बीवी की चुदाई के बाद सिर्फ उसकी चुत में लंड का वीर्य छोड़ने की मना करके बाकी की चुदाई करने के लिए कह दिया था. मुझे उसकी अकड़न से कुछ दुखने सा भी लगा था, पर मैं हिल भी नहीं सकता था. थोड़ी देर बाद उसको भी मज़ा आने लगा और वह नीचे से अपनी गांड उठा कर चुदने लगी और बोलने लगी- मामा और तेज … और तेज मामा … चोदो मुझे भी, जैसे आप अम्मी को चोद रहे थे, वैसे ही मुझे भी चोदो … मैं भी आपके लंड से चुदना चाहती थी.

उन भाभी की चुत चुदाई के लिए मैं यूपी गया और जब उनका पति कहीं बाहर गया था, तब मैंने उनके रूम पर जाकर कैसे उनकी चूत की बैंड बजाई, वो सब आपको मस्ती भरी सेक्स कहानी में बताऊंगा. मेरी कच्छी का हल्का हल्का सा नमकीन सा स्वाद मुझे मदहोश किए जा रहा था. जिस दिन मेरी ड्यूटी नहीं होती, तो भी उसको लेकर क्लास से बाहर चला जाता था.

मुखिया- चलो जाने दो, गांव की लड़की नहीं होगी … शायद पास के गांव से कोई आई होगी. फिर एक दमदार झटका मारते हुए पूरा का पूरा लंड भाबी की चूत में घुसा दिया. तब तक आप अपने लंड चुत को गर्म रखिये, मैं बस अगले भाग में चुदाई और सेक्स कहानी को आगे लिखूंगी.

मैं भी नाश्ता खत्म करके अपने कमरे में आ गया, क्योंकि मेरा फोन बज रहा था. उसके मुँह से चीख निकल गई ‘आह मर गई दीदी बचाओ मुझे …’दीक्षा ने मेरा हाथ पकड़ा तो मैंने आराम आराम से लंड को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया.

तो दोस्तो, मेरी मौसी की चुदाई की ये गर्म कहानी कैसी लगी? आशा करता हूं कि सभी लौड़े पानी छोड़ चुके होंगे और चूतों ने भी उंगलियों से चुदवाकर अपना मुंह लाल कर लिया होगा.

मैंने और मेरे दोस्त ने नीला की गांड और चूत एक साथ लंड के पानी से भर दी. ऐश्वर्या राय के बीएफ हिंदीअब मैं भाभी से फोन पर बात करके उनके पति की पूछ लेता था कि वो घर पर हैं या नहीं, कोई जरूरत हो तो बताइएगा. मराठी सेक्सी बीएफ मराठी बीएफअगर आपने उनका लंड दिलवा दिया तो मैं उसी वक्त आपको अपनी गांड भी दे दूंगी. जिस लौड़े ने मेरी आंखों में आंसू ला दिए, उसी लौड़े का अहसास फिर से चुत में करने को मचलने लगी.

उसको तुम्हारे भाईसाहब के बारे में भी पता है कि उनका खड़ा नहीं होता है.

मैं होंठों के चुम्बन को बड़े अच्छे से करता हूँ और एक गुड किसर समझता हूँ. मेरे लंड के धक्के उसकी चूत में लग रहे थे और हर धक्के के साथ उसके दर्द भरे शब्द बाहर आ रहे थे. मामी का हाथ सीधा मेरे लौड़े पर आ लगा और उसने एक ही बार में लंड का ऊपर से नीचे तक नाप ले लिया.

मतलब यह था कि ये पूरी तरह से रंडी थी और उसे चुत चुदवाने का बहुत शौक था. अब आगे की देसी चूत की इंडियन चुदाई कहानी:फिर मैं अपने रूम में गया और आधे घंटे के बाद कॉन्डम लेकर आ गया. आज तो वो मुझसे भी ज्यादा प्यासी लग रही थी सेक्स करने के लिए।उसने 69 की पोजीशन में होने को कहा.

जंगल में चुदाई दिखाओ

अन्तर्वासना के सभी दोस्तों को मेरी ओर से प्यार भरा नमस्कार। सबसे पहले मैं आप सबको अपने बारे में बता दूं. अम्मी पोजीशन बना कर जल्दी से मस्कुराती हुई आंख बंद किये हुए लेट गईं. उस वक्त तो मैं चला गया, पर सुशी अब मेरे फोन पर मुझे कॉल और मैसेज करने लगी.

चचा बोले- कोई लौंडिया तो फंसाये होगे?मैं बोला- नहीं चचा, अभी तो नहीं है, ऐसे ही ठीक है.

वो अपने होंठों पर जीभ फेरते हुए बोला- आह आंटी … आपकी चुत का रस बड़ा नमकीन है.

ऐसे बैठे रहने की क्या वजह?मैं- जी, क्या नाम है आपका?संगीता- संगीता … क्यों?मैं- संगीता जी, मैं चला जाता … लेकिन मेरे बाइक में पंक्चर हो गया है और अंधेरा होने की वजह से रास्ते में कोई पंक्चर वाला भी नहीं मिला. अब तो हाल ऐसा है कि बस क्या बताऊं आपको!सुरेश- अच्छा तो ये बात है, अब मैं सब समझ गया. बीएफ सेक्स एचडी वीडियो हिंदीकुछ देर बाद मैंने भाभी को फोन किया और पूछा- भाभी कैसा लगा … मजा आया?भाभी बोलीं- मेरे पति घर से तीन-तीन दिन तक गायब रहते हैं … और तुमने मेरी प्यास और बढ़ा दी है.

दोस्तो, उसकी चूत में जब मेरे लंड से वीर्य निकल रहा था तो वो क्षण सबसे अनमोल थे. दोस्तो, मैं शिल्पा अपने सर और अपने पति के साथ नंगी लेडी की मस्त थ्रीसम चुदाई का अन्तिम भाग लेकर आई हूं. उसने धोती को एक तरफ़ कर दिया उसका लंड सोया हुआ लंड भी कोई 7″ का ऐसे लटक रहा था, जैसे कोई तलवार हो … और मोटाई भी बहुत ज़्यादा थी.

मैंने उससे कहा- जान धीरे बोलो, तेरी दीदी जाग सकती है, ज्यादा चिल्लाओ मत. मैं जान गया था कि वो अगर चुदाई के लिए तैयार नहीं होती तो शोर मचाने लगती, लेकिन वो सिर्फ हल्के से नखरे कर रही थी इसलिए मैं उनकी किसी बात पर ध्यान नहीं दे रहा था.

फिर मैंने अपने दोनों हाथों को आगे छाती पर बांध लिया और एक हाथ को अपनी बगल से निकालते हुए भाभी की बगल में ले जाकर उसकी चूची को छू लिया.

उसके गोल गोल संतरे जैसे 30 इंच के कड़क चुचे, पतली कमर 28 इंच की और एकदम कसी हुई 30 इंच की गांड, जिसे देख कर मर्द के लंड हिचकोले खाने लगें. मैं भी पूरे जोश में आ गया और मैंने मामी की गर्दन पकड़ कर अपने लंड पर झुका ली और उनके मुंह में लंड दे दिया. सुमन- अच्छा तो बताओ मैं क्या करूं?हरी- जब कोई लड़की मेरे सामने खड़ी होकर धीरे धीरे अपने कपड़े निकालती है, तो उसको देख कर मेरा जोश दोगुना हो जाता है.

बीएफ सेक्स कार्टून समधी जी बोल रहे थे- आह कितनी मस्त माल हो तुम … काश तुम मेरी बीवी होतीं तो चोद चोद कर तुमको निहाल कर देता. उनकी बगल की खुशबू बहुत अच्छी थी और उसमें पसीने का खारा टेस्ट मुझे पागल कर रहा था.

एक बोबे को चूसते चूसते भाभी के बोबे में दूध आ गया। मैं भाभी के दूध को पीने लगा। बारी बारी से मैंने भाभी के दोनों स्तनों का पान किया. आंटी का हाथ अब मेरे ओअर पर आ गया था और वो मेरे लंड को जोर जोर से सहला रही थी. कुछ ही देर में वो इतनी ज्यादा गर्म हो गई थी कि मेरे बालों को नौंचने लगी और मेरे कपड़े खोलने लगी.

बीपी सेक्सी शॉर्ट वीडियो

मैं फिर से उसे चोदने लगा। मैं उस जवान लड़की का सारा रस पी जाना चाहता था. लंड की मोटाई इतनी थी कि चुत के अन्दर घुसवाने के ख्याल से ही चूत और गांड दोनों एक साथ फट जाएं. Xxx भाभी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी मुलाक़ात भाभी की बड़ी दीदी से हुई.

रूपांगी बेटा, चल अब तू मेरे ऊपर आ के मेरे ऊपर राज कर!” मौसा जी बोले और मुझे अपनी बाहों में समेट कर पलट गए उनका लंड अभी भी मेरी चूत में धंसा हुआ था. मैंने सफेद कुर्ता पहना था, उन्होंने उसको ऊपर कर दिया और मेरी चुचियों को चूसने लगे.

भाभी की चुदाई की घटना बताने से पहले मैं आपको उनका परिचय दे देता हूं.

उनके होंठों से हो रही सिरहन से मेरे पूरे बदन में एक सनसनी सी दौड़ रही थी। सहसा मेरे मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … आह्ह … सर … आह्ह … सोनू … अम्म … चूस लो दोनों … मिलकर चूस डालो मुझे … आह्ह … मेरे चूचे … पी जाओ इनको. अब तो तुमने सब कर ही लिया है और रुक्मणी को अब कुछ भी मत बताना, जैसा चल रहा है, उसे चलने दो. टीशर्ट को एक तरफ फेंक कर मैंने उसकी जीन्स का बटन खोला और उसकी मोटी गांड से जीन्स को नीचे खींच दिया.

मैंने उनको अच्छी तरह से दबोच रखा था जिसे वो हिल भी नहीं पा रही थी। उनकी चूत अंदर से बहुत ज्यादा गर्म और गीली थी जो मुझे मेरे लंड पर अलग से महसूस हो रही थी. अब कई बार नोटिस करती थी कि मैं काम कर रही होती थी और वो चेयर पर बैठकर मुझे ही देखते रहते थे. जैसा कि बुआ जी ने फोन पर कहा था, मैं शादी के एक महीने पहले बुआ के घर आ गया.

किस करते हुए वो नीचे पहुंच गयी और मेरी फ्रेंची के ऊपर से मेरे तने हुए लौड़े को चूम लिया.

देसी देसी बीएफ वीडियो: ब्लाउज के ऊपर से मैंने साड़ी को हटाया और चूचियों को ऊपर से दबाने लगा. जितनी चुदास मेरी चूत में रहती है उतनी ही जल्दी मुझे आपको अपनी चूत की चुदाई की कहानी बताने की भी रहती है.

कुछ देर चुदाई की मूवी देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया, तो मैंने अपनी पैंट निकाल दी और अंडरवियर में ही अपनी बहन के साथ लेट गया. दोस्तो, चूत में लंड देकर जब चोदा जाता है तो उस वक्त जिस आनंद में पुरूष होता है उसको शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता. मुनिया- छी: छी: भाबी आप कैसी गंदी बातें करती हो, मैं भला क्यों लेने लगी उसको मुँह में … और ऐसी चीज को कौन लेता है अपने मुँह में … ये सही नहीं है.

तभी अम्मी जानबूझ कर अपना पेटीकोट और ऊपर करके चुदाई की मुद्रा में लेटी हुई हैं.

मुखिया- अबे भोसड़ी के … मेरा गुलाम होकर मुझे नहीं बता रहा!कालू- मालिक आपको मुझ पर विश्वास नहीं है क्या! आपका काम बन जाएगा और क्या चाहिए आपको, बोलो मंजूर है?मुखिया- साला पहले ही दिमाग़ खराब है. करीब 40 मिनट बाद जब एक्ट्रेस की थोड़ी सी चुदाई वीडियो, जो मेरे साथ मैंने बनाई थी, उसे देखी … तब मैं झड़ने की कगार पर आ गया. ये गूंगा बहरा हमें क्या बताएगा … और इसने देखा भी होगा, तो ये तो भोला है, कहां किसी को जानता होगा.