हिंदी सिनेमा बीएफ

छवि स्रोत,नट्टू काका कब मरे

तस्वीर का शीर्षक ,

मर्द मर्द का बीएफ: हिंदी सिनेमा बीएफ, वो बोलने लगीं- आप शादी में क्यों नहीं आए थे?तो मैंने बताया कि मैं तो आने को बेकरार था भाभी, मगर इस साले लॉकडाउन ने सब काम बिगाड़ दिया था.

सेक्सी कुत्ता वाली

मुझे उन पर हंसी आ रही थी और अन्दर से चार लौड़ों से चुदने की उत्तेजना भी भरती जा रही थी. गांव की सेक्सी वीडियो कॉमसाथ में उसकी गर्लफ्रैंड को भी संतुष्ट किया।तो दोस्तो मेरा नाम रोहित है। मैं अभी 24 साल का हूँ.

मैंने अपने वीर्य की पिचकारियां भाभी की चूत में ही निकाल दीं और भाभी के ऊपर ही सो गया. माँ सेक्स कॉममैंने अपने वीर्य की पिचकारियां भाभी की चूत में ही निकाल दीं और भाभी के ऊपर ही सो गया.

मैंने कहा- भट्टी खुली ही छोड़ दी?वो हंस कर बोली- हां यार बड़ी आग धधक रही है.हिंदी सिनेमा बीएफ: एक वेटर मेरे पैरों से जींस खींच कर उतारने लगा; दूसरा मेरे टॉप को उतारने लगा.

अब मैं भाभी को अपनी वासना में फंसाना चाहता था इसलिए मैंने उनकी मेक्सी को थोड़ा और ऊपर करके जांघों तक कर दिया जिससे उनकी गोरी गोरी और मांसल जांघें मेरी आंखों के आगे थी.मैंने बुआ से बताने के लिए जिद की, पर वो बस इतना ही बोलीं कि समय आने पर तुम समझ जाओगे.

अफ्रीका का सेक्सी - हिंदी सिनेमा बीएफ

घर में मेरे कमरे के बगल में ही मेरे भइया भाभी का कमरा था और अक्सर रात में मेरी भाभी की जोश से भरी हुई आहें मुझे सुनाई दिया करती थीं.इस हॉस्पिटल मेरा घर जरा दूर था, इसलिए मैंने सुनील जी से बोल कर हॉस्पिटल के स्टाफ क्वार्टर में एक कमरा ले लिया था.

फिर सुकेश ने विडियो कॉल कर के दिखाया और पूछा- अब बोलो … छोटा हूँ क्या मैं?मैंने बोला- बिल्कुल नहीं … इसका आधा ही है गुन्नु के पापा का तो!गुन्नु मेरी बडी़ बेटी है. हिंदी सिनेमा बीएफ फिर वो बोली- चाचा ऐसे नहीं … उल्टे लेटिए!मैं फिर डरने लगा मगर मैं उल्टा होकर लेट गया और सर एक तरफ घुमा लिया.

अब मुझे एकदम खुल कर बिना किसी के डर से दिन के उजाले में तुम्हारे लंबे लंड से पूरा दिन खूब चुदाई करनी है.

हिंदी सिनेमा बीएफ?

फिर उन्होंने कहा- तुम पागल हो क्या? मैंने तुमसे पहले ही मना किया था. दस मिनट हुए होंगे कि पायल मुझसे पूछने लगी- सो गए क्या?मैं बोला- नहीं. कुछ देर बाद मामी मेरे लिए दूध के आईं और हम दोनों फिर से चुदाई में लग गए.

आंटी कामुक सिसकारियां लेने लगीं- आअह हाऊम्म उफ फ्फ़ मार डालेगी डार्लिंग बेबी … कम ऑन फक मी. मैंने कहा- यहीं होगी आंटी आज आपकी सेक्स राइड!आंटी ने बोला- हां मस्त जगह है … चलो शुरू करो. मैंने अपनी छोटी बहन की बुर के छेद पर मुँह लगाकर चाटा, फिर मैंने अपना लंड उसकी बुर पर सैट कर दिया.

मैंने उसके होठों को चूसना शुरू कर दिया और उसने धीरे धीरे कर के पूरा लंड मेरी चूत की गहराई तक उतार दिया. अब वो मुझसे बोली- चाचा तैयार हो?मैंने कहा- अयाना, मानेगी तो तू है नहीं … तो कर ले जो करना है।उसने टोपा छेद पर रखकर थोड़ा जोर लगाया. कहानी के पहले भागगर्लफ्रेंड की कोरी चूत की पहली चुदाईमें मैंने पहली बार होटल के कमरे में अपनी जान रिया को चोद दिया था.

फिर उसने मुझसे कहा- दीदी, मेरी आदत है बार बार करवट लेने की, हाथ पकड़ने की और हाथ पैर पटकने की. हैलो फ्रेंड्स, मैं परिमल पटेल एक बार फिर से आपको अपनी मदमस्त चुदक्कड़ चाची की देसी चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ.

उस मजे ने मेरे लंड को भी हार्ड कर दिया और एक लोहे की रॉड जैसा कर दिया.

मैं उससे बोली- अंकल, आपको कुछ चाहिए क्या?वो बोला- हां, मुझे तुम चाहिए.

[emailprotected]वाटर सेक्स स्टोरी का अगला भाग:बैचलर पार्टी में मेरी सामूहिक चुदाई- 3. मैं तुम्हारी गर्भावस्था की जांच की किट लाकर दे दूंगा, तुम जांच करके देख लेना. मैं अपने भाई की बीवी की धकापेल चुदाई कर रहा था और उधर भाई, मेरे कमरे में मेरी बीवी को रगड़ रहा होगा.

फिर हम दोनों एक दूसरे को बांहों में भर कर गहरे चुंबन लेने में व्यस्त हो गए. रणवीर ने अपनी उंगली में चिकनाई लेकर मेरी गांड में उंगली डाल दी, अन्दर तक ढेर सारी चिकनाई लगा दी. में ज़ोर ज़ोर से बूब्स दबा रहा था और जमकर चूस रहा था और पायल कामुक सिसकारियों के साथ साथ मेरे लंड में जोश भर रही थी.

चूत की चटाई खत्म होने के बाद मैंने जल्दी से कंडोम पहना और उसकी टांगों के बीच आकर लंड को चूत पर टिका दिया.

मैंने भी बैठे बैठे अपनी चूत देखी, उसमें भी बहुत सारा झाग और उसमे हल्का खून लगा हुआ था. मेरी नज़रों के सामने एक अजीब सा नज़ारा था जिसमें भाभी की चूत तो दिख ही नहीं रही थी. उन्होंने मुझसे पूछा- ललिता क्या सोचा तुमने?मैंने उन्हें कोई जवाब नहीं दिया तो उन्होंने अचानक बांहों में जकड़ लिया और मेरे होंठों पर एक चुंबन जड़ दिया.

मैंने लंड गांड में लगाया तो वो हंस दी और बोली- अच्छा मालगाड़ी भी चलाने का मन है … आजा मेरे शेर तू भी क्या याद करेगा. अब मैंने सोचा कि मेरे भाई का लंड गोरा और बड़ा है … क्योंकि न टेस्ट लेकर देख ही लिया जाए. अभी क्या हाल है आपके शैतान का?मैंने कहा- एकदम तैयार है, आ जाऊं क्या आपके पास!वंदना- नहीं बाबा, केवल उन महाशय की फोटो भेजो न … मुझे भी देखना है.

मैं आंटी के रूम में आया पर आंटी सेक्स के लिए तैयार नहीं थी क्योंकि वाटर पार्क वाली चुदाई के कारण आंटी का बदन दुख रहा था.

मैंने अब चाची को अपने बाजू में धक्का दे दिया जिससे चाची सीधी लेट गईं. उसके चूचे एकदम सफेद थे, जिन पर मटर के दाने के बराबर के ब्राउन निप्पल थे, जो उत्तेजना में कड़क हो गए थे.

हिंदी सिनेमा बीएफ फिर राजेश ने मेरा चेहरा दोनों हाथों में लेकर अपने पास खींचा और मेरे मुँह को अपने लंड के सुपारे पर लगा दिया. दो ने इस बार मेरी गांड में डबल लंड लगाकर घुसाने की कोशिश करने लगे थे.

हिंदी सिनेमा बीएफ उसी तरह हमारे शहर के नगरआयुक्त महोदय शमशुद्दीन, सचिव महोदय राजशेखर और नगर निरीक्षक गुरबचन जी की मुझसे परम मित्रता थी और उनकी मुझ पर अत्यधिक कृपा थी. दोबारा गर्म होने और क्लिट की रगड़ाई से सिमरन फिर से आहें भरने लगी थी.

मेरा पूरा शरीर कांप रहा था और मुझमें अब विरोध करने की ताकत नहीं बची थी.

बीएफ सेक्सी मूवी अंग्रेजों की

ये सब मैंने इसके पहले दो कहानियांचाची के साथ चुदाई की तमन्नापड़ोस की भाभी ने ब्लैकमेल कियालिखी थीं, उनमें सब बताया था. मैंने भी बता दिया कि मेरा प्रवीण कुमार है और मैं एक विद्यार्थी हूँ. पांच मिनट बाद उसने अपनी कमर हिलाई तो मैंने भी धीरे धीरे धक्के लगाने शुरू कर दिए.

कुछ देर बाद मैं पानी पीने के बहाने नीचे आया और मम्मी की सिंगारदानी से वैसलीन की डिब्बी ले ली. हमें साईट में विज्ञापनों के जरिए लंड की साइज बढ़ाने के लिए कुछ तरीके मिले. मैंने कहा- क्या हुआ मेरी छम्मक छल्लो!वो बोलीं- साले चूतिए … थोड़े धीरे से चोद … मेरी जान निकाल देगा क्या?मैं चाची की बातों को नजरअंदाज करते हुए लगा रहा.

उसने मेरे लंड को फिर से अपने मुँह में ले लिया और वो तब तक लंड चूसती रही, जब तक लंड वापस खड़ा नहीं हो गया.

मैंने अपने पेट के ऊपर चाची का पेट रखकर लिटाया और चाची के दोनों पैर दोनों साइड में फैला दिए, जिससे मेरी टांगों पर से वजन हट गया. वो उनको गालियां दे रही थीं- कुत्ते, चाट मेरी चूत को आज खा जा … मेरी चूत को जल्दी जल्दी से चाट साले. उनमें से एक पाठिका मेरी सहेली बन गई और उसी की कहानी मैं आज आप लोगों के सामने रख रही हूँ.

इतना सब मैं सोच ही रहा था कि उसी बीच टैक्सी आगे बढ़ गई और वह घर की तरफ जा चुकी थी. अगली सेक्स कहानी लेकर जल्द ही आऊंगा, तब तक लंड हिलाते रहिए, शॉट लगाते रहिए और पाठिकाएं अपनी चूत में उंगली करना कभी मत भूलना. प्रिया के मुँह से निकला- आह आह!मैं अपने लंड को एक हाथ में लेकर उसकी चूत में ऊपर नीचे रगड़ने लगा और अपने दोनों पैरों से उसके दोनों पैरों को फैलाकर दबा लिया.

थोड़ी देर तक मेरी चूचियों का रस पीने के बाद अंकल ने मेरे एक पैर को उठाया और अपने कंधे पर रख लिया और दूसरे पैर को बेड से नीचे जमीन पर रख दिया. जैसे ही मैंने अपने मम्मों पर हाथ रखा, तो मेरा पूरा बदन आग जैसे तपने लगा था.

अब आगे पोर्न चाची Xxx कहानी:करीब 15 मिनट तक मैं ऐसे ही चाची के साथ चूमाचाटी करता रहा. मैं एक हाथ से उसके मम्मे दबा रहा था और दूसरे हाथ से चूत मसल रहा था. वो भी बोली- सुसु बाद में पी लेना अभी मेरी गांड चूत में बड़ी खुजली होने लगी है, पहले तू मेरी चूत की खुजली शांत कर.

मैंने जैसे तैसे अलमीरा खोल दी।मैं और आंटी वैसे ही खड़े रहे, मेरा लन्ड गांड की दरार में झटके ले रहा था।मैंने कह दिया दुबारा- खोल के दिखा दीजिए ना … आपको ही देख के जवान हुआ हूं। चुपके से हर चीज मैंने आपकी देखी है.

किशन- भैया, मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है लेकिन आपका लंड लेने में बहुत मजा आया. कहां छोड़ूँ?उसने कहा कि फ़ैज़ी मेरी जान तुम अपना पानी मेरी चूत में ही छोड़ दो. मैं भी बोलने लगा- ये लो साली और चुद … आज तेरी चूत गंड दोनों फाड़ूंगा … आह और अन्दर ले साली कमीनी … आज तेरी सारी गर्मी निकाल दूँगा … बहुत गर्मी है तेरी चूत में.

इन छह दिनों में ऐसा लगने लगा था कि हम लोग काफी पुराने रिश्तेदार हैं. थोड़ी देर बाद जैसे ही मैं ट्रक लोड कराके अपने नए फ्लैट पर पहुंचा और सामान अनलोड करवा के बैठा ही था कि तभी गेट की घंटी बजी.

तब मेरा वीर्य निकालना नया नया शुरू हुआ था।मैं खूब पेलता था तकिया को!ऐसा करते करते साल 2013 आ गया।मैं अब चूत लेने लायक हो गया था आंटी हो, भाभी हों या लड़की हो!इस बीच मैं दो तीन बार रण्डी चोद चुका था. Xx हिंदी कहानी में पढ़ें कि काफी दिन से मेरी चूत में कोई लंड नहीं गया था. जैसे ही मैं बैठा मैंने बाथरूम के बाहर की दीवार पर टंगी हुई एक लाल रंग की पैंटी और सफ़ेद ब्रा देखी.

सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ हिंदी में

रास्ते में जब हम दोनों टैक्सी में थे, तब भाभी ने मेरे होंठों पर किस करते हुए कहा कि आज का दिन मेरी जिन्दगी का सबसे खूबसूरत दिन है.

अब ये दूसरा राउंड था तो स्वाभिक तौर पर झड़ने में टाइम तो लगना ही था और ये दोनों रुक रुक कर अरुणिमा को चोद रहे थे तो और ज्यादा समय लगने की उम्मीद थी. मैं पूरी तरह वासना में डूबा हुआ था, तभी भाभी आवाज देती हुई मेरे कमरे में आई और मेरे बाथरूम में आकर दरवाजे को झटके से खोला. अपने गोरे रंग पर उस काली ब्रा और पैंटी में मैं किसी रंडी से कम नहीं लग रही थी, जो तीन-तीन मर्दों का एक साथ मनोरंजन करने वाली थी.

मम्मी की तेज आवाज में चीख निकल गई और वो अपनी जगह से एक फिट ऊपर को खिसक कर चली गई थीं. विश्वेश्वर जी का लंड उसके मुँह के अन्दर था और वो मजे से लंड चूस रही थी. ऑडियो सेक्सी फिल्ममैं बोली- बहनचोद, तेरी चूत तो बहुत खुली है!वो बोली- बहन की लौड़ी, मेरी उम्र में तेरी चूत तो इससे भी बड़ी हो जाएगी.

सोम रणवीर से बोला- मेरे दोस्त मेरी गांड अभी कुंवारी है, ज़रा प्यार से शुरू करना. शिखा के 2-3 भाई भी मेरी ओर ही देख रहे थे; शायद वो मुझे सैट करने की कोशिश में थे.

वो समझ गया और इस बार उसने मेरे कंधों को मजबूती से पकड़ कर धक्का मारा. भाभी मुझसे बोलने लगी- आज किचन में सारा दिन खड़े रहने की वजह से मेरे पैरों में बहुत तेज दर्द है. फिर मैंने मॉम को धक्का देकर नीचे लिटा दिया और उनके मुँह पर अपनी चूत खोलकर बैठ गई.

अब आंटी ने दोनों पिंक निप्पलों को मसलना शुरू कर दिया और होंठों से मॉम के कानों को बारी बारी से चूसने लगी. मैंने मैडम को सीधा किया और उसकी चूट पर ऐसे टूट पड़ा मानो कितने दिनों से प्यासा था. स्मूच करते-करते उसे अपना हाथ मेरे कच्छे के अन्दर डाल कर अचानक से मेरे लंड पर एक चूंटी काट दी.

मैं अपने घर में क्या कहूँगी!जोगी सर बोले- अपने घर में कह देना कि तुम पार्टटाईम जॉब करने लगी हो.

मैं अन्तर्वासना पर पिछले कई साल से कहानियां पढ़ रहा हूँ तो आज मैं अपनी पहली चुदाई की कहानी लिख रहा हूँ. ऊपर से दारू का नशा और चार लंडों से चुदवाने की मेरी चाहत बढ़ती ही जा रही थी.

यह सुनकर मैंने और स्पीड तेज की ओर ज़्यादा धक्के देने लगा, अपना पूरा पानी स्वाति की चूत में टपका दिया और स्वाति की चूत को रसभरी कर दिया. मैंने कहा- चल ठीक है, किसी लड़के वाले का फोन आएगा तो मैं आपको बता दूँगा. भाभी को चुदाई की बहुत जल्दी थी तो उन्होंने मुझसे प्यार से कहा- तुम मुझे ज्यादा मत तड़पाओ प्रवीण, जल्दी से मेरी चुदाई करो, मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

खैर … दिन भर कार्यक्रम चलते रहे और शाम को लेडीज संगीत की तैयारी होने लगी. मैं- भाभी आपने गांड में लंड घुसवाने का आज तक ट्राय नहीं किया क्या?भाभी- नहीं, मुझे चूत चुदवाना ही पसन्द है. कुकोल्ड Xxx कहानी में पढ़ें कि एक पति अपनी पत्नी को अपने दोस्त के बड़े लंड से चुदवाना चाहता था.

हिंदी सिनेमा बीएफ मैंने जोगी सर से जब इस बात की चर्चा की और उनसे बोली- रूम का किराया देना था और टिफिन का भी देना होता है. मैंने उनके होंठों अपने होंठ रखे और भींच कर जोर जोर के दो झटके दे मारे.

लड़का और लड़की की बीएफ

उसने हाँ कर दी और फिर हम सो गए।अगली कहानी में प्रमोद ने अयाना को कैसे चोदा पढ़ें।और यह Xxx अंकल नीस हॉट स्टोरी कैसे लगी मुझे मेल करके बतायें और अपने सुझाव भी भेजें।[emailprotected]Xxx अंकल नीस हॉट स्टोरी का अगला भाग:. ये सुन कर प्रकाश ने मेरे होंठों पर अपने होंठों रख कर चूसना शुरू कर दिया. इसके बाद रिया मेरी पीठ पर अपनी जीभ चलाने लगी और नीचे मेरी कमर पर भी बहुत चूमा.

फिर कोमल ने कैमरा सैट करके मोबाइल को एक सही जगह पर रख दिया, जिससे पूरी फिल्म की रिकॉर्डिंग अच्छे से हो. मैंने उसके होंठों को जी भर के चूसा और मम्मों को तो पता नहीं कितनी देर चूसा. 2021 सेक्सी वीडियोउसने बाहर से मुझे फोन लगा कर कहा- मैं बाहर खड़ी हूँ, अपनी चूत का सामान ले जा.

मैं डर भी रही थी कि कहीं मेरे पति को मेरी फटी चूत का पता ना लग जाए.

जैसे ही मैं थोड़ा तेज धक्का लगा देता, उसकी प्यारी सी आवाज निकलती ‘ऊईई मम्मीईई. मैं भी भाभी को अपनी ओर आकर्षित करने की कोशिश करने में लग गया था कि भाभी कैसे भी करके मुझको पसंद करना शुरू कर दें.

हम दोनों ‘ऊऊम्म … ऊऊम्म …’ की आवाज निकालने लगीं, दोनों जीभ से जीभ मिला कर किस किए जा रही थीं. मैंने उनकी प्लाजो सलवार को थोड़ा ऊपर किया और हल्के हाथों से लगाना शुरू कर दिया. भाभी पीठ के बल बिस्तर पर गिरीं तो उनके मम्मे मस्त उछलते हुए मुझे ललचाने लगे.

मैं एक पल के लिए रुका लेकिन तभी उन्होंने नीचे से गांड उछाल कर धक्का दे दिया.

चाची चिल्लाने लगीं- उई मां … भैन के लंड … साले राक्षस … मेरी चूत है कोई सड़क छाप रंडी की नहीं. उस वक्त भी उसका लंड उसके पैंट के अन्दर था, बस उसके पेट से छूने से लंड का अहसास हो रहा था. अब मैंने सीधे भाभी को अपनी बांहों में ले लिया और उनके होंठों पर किस करने लगा.

बहन सेक्सी वीडियोउसने अपने दोनों हाथ बिस्तर पर टिका लिए और धीरे धीरे मुझे चोदने लगा. इन छह दिनों में ऐसा लगने लगा था कि हम लोग काफी पुराने रिश्तेदार हैं.

बीएफ फिल्म सेक्सी नंगी फिल्म

ये बात कुछ महीने पहले की उस वक्त की है, जब मैं पढ़ाई के कारण बाहर रहती थी. वो फिर से मेरे होंठों पर बैठ कर बोलीं- फिर से चूस मेरी चूत को … मुझे आज तुझे सजा देनी है. तभी उनके मुँह से आह की आवाज इतनी तेज आई कि मुझे उस आवाज को रोकने के लिए उनके होंठों को अपने होंठों से कस कर बंद करना पड़ा.

मैडम हंस पड़ी और बोली- साले इतनी छोटी उम्र में इतनी बड़ी बात कर रहा है?मैं बोला- मैडम आप मौका तो दो. फिर मैंने भाभी की गांड में दो उंगली डाल कर थोड़ा तेल अन्दर तक लगाया और धीरे धीरे करके उसकी गांड में तीन उंगली डाल कर छेद को थोड़ा नर्म व ढीला कर दिया. नीलिमा और बुआ दोनों के चेहरे और बूब्स मेरे माल से भरे थे, जिसे दोनों ने एक दूसरे के शरीर से चाट लिया.

उसका डिल्डो मेरी चूत में गया तो मैंने आह आंह उन्ह की आवाज निकालनी शुरू कर दी. काउंटर पर आकर उसने मुझे पैसे दिए और मुँह में बीड़ी फंसा कर निकल गया. कुछ देर बाद विक्रम ने अपने कपड़े पहने और बोला- क्यों कुतिया, अब तो कहीं दर्द नहीं है, अगर है तो कल फिर मालिश कर दूंगा.

मैंने उसकी फोटो को देख के मुठ भी मार ली।अब मैंने सोचा कि क्यों न सेक्स करने के लिए दोस्त की गर्लफ्रेंड सोनी को राजी किया जाये। मैंने हॉट गर्ल लस्ट का फायदा उठाने की सोची. देख मैं जवान हूँ, घर की इज्जत बाहर न उछले इसलिए अब तू मेरी जवानी लूट ले.

और वो मदहोश होने लगी।उसने मेरी टीशर्ट उतरवा दी और ज़मीन पर बैठ गयी और बोली- थोड़ी प्यास लगी है!और यह कह कर मेरी पैंट खोल दी और चड्डी उतार दी.

ज्योति अब अल्फ नंगी हो चुकी थी और हम दोनों मर्द सामने से उसे देख रहे थे।अब मेरी आँखों के सामने उसकी फूल जैसी चूत थी. डीजे वाला गाना भोजपुरीफिर उसने अपने एक हाथ की 4 उंगलियां भी मॉम की चूत डाल दीं और पूरी स्पीड से चोदने लगा. गांव घर के सेक्सी वीडियोपायल ने मुझसे पूछा- ये सब क्या है?मैं- जब हम पहली बार मिलेंगे, तो हम भी ऐसे ही मिलेंगे. रूम से निकलने से पहले राजशेखर जी अरुणिमा से बोले- फ्रेश होकर रूम में आ जा.

आपको उस चुदाई की कहानी का मजा लेने के लिएइस लिंक पर क्लिककरना पड़ेगा.

फिर मैं पागलों की तरह उसे चूमने चाटने लगा, उसके मुहँ में अपनी जीभ चलाने लगा और उसकी जीभ को अपने मुख में लेकर चूसने लगा. मैं बोला- भाभी, आप मुझे सेक्सी लगती हो … और देवर भाभी में इतना सा तो चलता है. मैंने कमरे में घुसते ही कमरे की कुंडी लगा ली … और अपनी जींस के ऊपर से ही अपनी चूत पर हाथ फेरने लगी.

उसने भी मेरे लंड को जिस तरह से अपने हाथ में लिया था, उससे उसकी वासना साफ़ दिखने लगी थी. नहीं, तो अरुणिमा का मूड बदल सकता था, चोदते तो हम फिर भी … पर उसका मन नहीं रहता. साथियो, मैं परिमल पटेल आपको अपनी चुदक्कड़ चाची की चुदाई की कहानी सुना रहा था.

बीएफ सेक्सी 14 साल की

भाभी बोलने लगीं कि नहीं यार, स्तन के साथ कुछ मत करो, नहीं तो दूध बाहर आ जाएगा. हम लोगों की फोन पर बात हुई तो मैंने बताया कि लॉकडाउन के बाद मैं आपको लेकर आ जाऊंगा. लेकिन मुझे कोई ऐसा लड़का नहीं मिल रहा था, जो मेरी उम्मीद पर खड़ा उतरे.

कुछ ही मिनट बाद भाभी का शरीर एकदम से अकड़ा और एक तेज आवाज के साथ ढीला पड़ गया.

फिर मैं नीचे को हो गया और उसकी दिनों चूचियों को बारी बारी से चूसना शुरू कर दिया.

उसका कड़क लंड देखने में लग रहा था कि आज चूत में घुसेगा तो सीधा पेट में जाएगा. पति का बड़ा व्यापार था लेकिन वो अपने व्यापार की वजह से अपने घर के माल पर ध्यान नहीं दे पा रहे थे. सेक्सी मामीअब वो तैयार हो चुकी थी चुदने के लिए!तभी मौका देखते हुए मैं उसे सीधा लिटाकर बेड के साइड से खड़ा हो गया और उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख उसकी गांड पकड़ कर उसकी चूत में एक बार में ही अपना पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया और पूरी ताकत से उसे चोदने लगा.

मम्मी अपने मुँह में लिए पूरे वीर्य को निगल गईं और बाकी को अपने चूचों में मलने लगीं. तभी गेट से अनुज कपड़े उतारकर धीरे से अन्दर आ गया और उसने पीछे से आंटी की गांड में लंड घुसेड़ दिया. [emailprotected]लेखक की पिछली कहानी थी:एक घरेलू लड़की से कालगर्ल बनने तक का सफरनामा.

अब आगे Xxx पंजाबी लड़की की सेक्स कहानी:सिमरन की चुसाई ने मेरे लौड़े को पूरा कड़क कर दिया था. मैंने उसे जोर से चूमा और कहा- हां जान … आज न मुझे अपनी बीवी का डर है और न तुझे अपने पति का.

एक दिन मैंने उनसे पूछा तो उन्होंने बताया कि आजकल हसबैंड घर आए हैं, तो मैं ज्यादा समय नहीं दे पाती हूँ.

उसे बस किसी ऐसे की तलाश है जो उसकी शारीरिक जरूरत को पूरा कर सके और सब कुछ राज ही रखे. राजेश- रुक मत रांड, नाच … अगर तू रुकी तो अबकी बार तेरा लहंगा उतरेगा. मैं- हां जानेमन, ये सही कर रही है तू, चल किसी दिन उनको भी अपनी चूत का रसपान करवा दूंगी.

डॉट कॉम सेक्सी व्हिडीओ बस इसी तरह उससे मेरी फिर से बात होनी शुरू हो गयी।दोस्तो, उसके बारे में बता दूं तो वो पहाड़ की गढ़वाली लड़की थी. उन्होंने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और किस करते हुए कपड़ों के ऊपर से ही मम्मे दबाने लगे.

आप भी मजा लें कहानी पढ़ कर!फ्रेंड्स, मैं शनाया राजपूत आपको अपने भाई से हुई चूत चुदाई की कहानी सुना रही थी. नीचे से आंटी लगातार मॉम की चूत में अपनी गाढ़ी लार वाली जीभ अन्दर डाल कर चूसने में लग गई. मैंने उससे कहा- अब ये सिड़ीपना छोड़ मेरी जान … ये सब बाद में कर लेना.

यूक्रेन की बीएफ वीडियो

इन वेटरों को लंड लेगी तू … वो भी एक साथ! यार तू तो कमाल करती है और वो भी यहां, ये सब कैसे हो पाएगा यार!मैं- तू चिन्ता मत कर मेरी जान, बस मेरा एक काम कर दे, जब सारा फंक्शन खत्म हो जाए … तो मेरे लिए एक घंटे के लिए एक कमरे का इंतजाम कर देना. कपल थ्रीसम सेक्स कहानी में मैंने अपनी कहानियों के एक प्रशंसक के साथ उसकी बीवी को होटल में चोदा. अब मैंने पूछा- तू शादीशुदा है तो तुझे अभी बच्चे नहीं हैं क्या?स्वाति बोली- मैं डॉक्टर हूँ, घर पर रहती नहीं हूँ.

बी डी एस एम की क्लास में सभी को बिना कपड़े पहने हाथ उठाकर खड़ा किया गया. Xx फ्रेंड सेक्स कहानी कॉलेज में दोस्त बनी लड़की के साथ आठ साल बाद भी आधे अधूरे सेक्स की है.

वो मेरे बदन से खेलती हुई कब मेरे लंड से खेलने लगी, मुझे पता ही नहीं चला.

मेरी ड्रिंक खत्म होते ही में बाहर जाने लगा तो भाभी मुझे रोकने लगी- रुको, मुझे तुमसे कुछ बात करनी है. आज भी मेरी साली जब मेरे घर आती है तो मैं अपनी पोर्न साली की जी भर चुदाई करता हूँ. सभी को सोने की जल्दी थी, बहुत सारी नर्स गांड मरवाने को बेकरार थीं और उन सबने अपना अपना लंड को सिलेक्ट कर लिया था.

फिर जब जूस का गिलास खाली हुआ तो उसने मुझे हग किया और अपने होंठों को मेरे होंठों पर रखते हुए मुझे स्मूच करने लगी. उसकी चुदाई की भूख इतनी ज्यादा बढ़ गई थी कि मैं अकेला उसे ठंडी कर पाने में असमर्थ था. मैं वासना से अपनी नंगी साली को देख कर बोला- वाओ मस्त लग रही हो जान … आई लव यू.

वो अब मेरी चुचियों को चूस रहे थे, मेरी चूचियों को मुट्ठी में भरकर दबा रहे थे.

हिंदी सिनेमा बीएफ: BDSM सेक्स कोचिंग क्लास में मैंने क्या क्या सीखा, मुझसे क्या क्या करवाया गया, इस कहानी में पढ़ कर आपको सब पता चल जाएगा. वो मुझसे कहने लगी- क्या बात करनी थी जो नम्बर देने के लिए मरे जा रहे थे.

शिखा की मम्मी शिवानी आंटी ने मुझसे पूछा- दिशा कैसी हो, तुम तो इतनी बड़ी हो गयी हो मालूम ही नहीं चला. इस पर भाभी ने भी मज़ाक करना शुरू कर दिया- अच्छा … ऐसा है क्या … तो देवर जी अभी भी क्या बिगड़ा है? आप मुझे अभी अपनी बीवी बना लो. इस तरह से भाभी धीरे-धीरे गर्म हो चुकी थीं … साथ में मेरा लंड भी अब पूरा तन्ना कर छह इंच का हो गया था.

कभी मैं किसी की चूत में लंड पेल दूँ, तो कभी किसी की चूत का मजा लूं.

उस दौरान चाची ने एक बार भी ‘ऊईई याह ऊहहह …’ की आवाज नहीं निकाली बल्कि एकदम शांत होकर और आंखें बंद करके बस मेरे लंड को अपनी चूत में अन्दर लेती रहीं. उसने ब्लैक लॉन्ग कोट ब्लू जीन्स और वाइट टॉप पहना हुआ था।एक तो वो इतनी गोरी ऊपर से ब्लैक कोट, उसको देख के थोड़ी देर के लिए मैं ठण्ड ही भूल गया. यहां तो केवल तुम्हारे शर्मा अंकल, राजेश और उसके बाहर से आए कुछ दोस्त ही ठहरे हुए हैं.