बीएफ भोजपुरी में चुदाई

छवि स्रोत,हिंदी बीएफ देसी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी डब्ल्यू फिल्म: बीएफ भोजपुरी में चुदाई, ये महसूस करते ही वो बोली- यार, तुम तो बहुत जल्दी मन की बात समझ लेते हो.

गूगल बीएफ

इसी के साथ में मैंने अपनी जीभ उसके मुँह में डालने ही वाला था, पर उसी पल उसको मौका मिल गया और वो जोर से चीख पड़ी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’वो रोने लगी, बोलने लगी कि निकालो. इंडियन सेक्सि विडिओमैं उसको लेकर बहुत ही ज्यादा उत्साहित था क्योंकि मैंने बहुत सी ब्लू फिल्म में नाइजीरियन लड़कियों को चुदते हुए देखा था.

हमने पहले ही निर्णय लिया था कि उस एक घंटे में किसी के बदन पर कोई कपड़ा नहीं होगा। जब वो सिर्फ ब्रा पैंटी में आ गयी तो मैं उसको निहारने लगा।वो शरमा के मुझसे कस के गले लग गयी. ब्लू फिल्म हिंदी सेक्सी एचडीशराब के नशे और चुदाई के नशे में हम लोगों को ठण्ड का अहसास ही नहीं था। जो थोड़ी बहुत ठण्ड थी वो हीटर दूर कर दे रहा था।संतोष जी अपना लण्ड मेरी चूत पर घिसने लगे। मैं पूरी तरह लण्ड के लिए तड़प रही थी। मैंने संतोष जी से कहा- अब मत तड़पाओ, अब डाल दो।मेरे कहने पर उन्होंने अपने लण्ड को मेरी चूत पर कई बार पटका.

इस तरह से मैंने अपने कॉलेज के दोस्त का लंड लेकर अपनी पहली चुदाई करवाई.बीएफ भोजपुरी में चुदाई: जो लोग मुझसे मेरी चूत को चोदने की भीख मांगते रहते हैं उनसे मैं कहना चाहूंगी कि मैं अपने पति के साथ बहुत खुश हूँ.

फिर उसका गर्म मूड बन जाता, उसके बाद वो बेड पर वो घमासान मचाती है कि पूरी रात नशे में हम दोनों एक दूसरे के जिस्मों में कैसे बीत जाती है, पता नहीं चलता है.मैं आगे भी हम पति-पत्नी की चुदाई की कहानियाँ आप तक लेकर आती रहूंगी.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी एक्स एक्स - बीएफ भोजपुरी में चुदाई

अब उसने सीमा की टांगें चौड़ी की और अपनी जीभ उसकी गुलाबी चूत में घुसा दी.वो लंबी-लंबी सांसें लेती हुए फिर बोली– ये ठीक नहीं है, मेरे दो बच्चे हैं और तुम पहले से शादीशुदा हो।मेरे मुंह से कोई जवाब नहीं निकला, बस मैं उसे देखता ही रहा। कुछ देर ऐसे ही हम बिना कुछ बोले एक दूसरे को देखते रहे। अगले ही पल जब मैं उठने को हुआ तो उसने ऐसे पकड़ा मुझे जैसे मुझे रोकना चाह रही हो।लेकिन मैं उठने की कोशिश करने लगा क्योंकि मुझे मेरी गलती का अहसास हो गया था.

वो लंड चूसने में इतनी माहिर थीं कि उनका एक भी दांत मेरे लंड को नहीं चुभा. बीएफ भोजपुरी में चुदाई कोई 15 मिनट बाद फिर हम दोनों बेड से उठे, देखा तो पूरी बेडशीट में मेरा खून निकला हुआ था.

उसने पूछा- तुम नीचे से ब्रा नहीं पहनती हो क्या?मैंने कहा- जब घर पर रहती हूं तो नहीं पहनती हूं.

बीएफ भोजपुरी में चुदाई?

सर ने मेरी निगाहों का पीछा किया और हम दोनों से भी पूछा- आप दोनों भी मुझे कंपनी दो ना. मुझे पहले तो बहुत गुस्सा आया लेकिन इसकी बातें इतनी मस्त होती थीं कि मैं सब कुछ भूल जाता था. तभी भाभी ने कहा- क्या सोच रहे हो … बाइक इतनी धीरे क्यों चला रहे हो?मैंने कहा- भाभी मैं सोच रहा था कि आप बहुत सुंदर हो.

तभी पंकज आ गया और सारिका से बोला- तुम कॉफ़ी लाओ … हम लोग बेड पर बैठे हैं. मुझे बाद में शिवानी से ही पता लगा कि उसने सागर का लंड एक बार नहीं तीन बार लिया और उसको कैसे पटाया. चाची- वाह रे मेरे बेटे, इतना सब कुछ जानता है … किसने बताया ये सब? सच बता, तू पहले भी सेक्स किया है ना?मैंने थोड़ी शर्म से हां कह कर सर हिलाया.

लगभग दस मिनट तक चूत चटवाने के बाद मेरा मुँह अपनी चूत में दबाकर गांड उठाते हुए वो झड़ गयी. वो अभी भी लेटी हुई थी और मेरी तरफ बड़ी ही प्यार भरी नज़रों से देख रही थी. उसने पूरी कोशिश की कि आवाज मेरे कानों तक न जाये मगर मेरे जिस्म का हर अंग तो जैसे उसी की तरफ ही लगा रहता था.

फिर उसने नेहा को इशारा किया और नेहा बेड पर मेरी बगल में आकर लेट गई. खेत के अन्दर जाकर उसने चादर बिछा दी और खुद उस पर बैठ कर बोली- आप भी बैठ जाओ.

परवीन- देखो हम जो कर रहे हैं, ये एक बड़ी गलती है, इससे हमें बहुत प्रॉब्लम आएगी.

लगभग पन्द्रह मिनट तक गांड चाटने के बाद वो खड़े हुए और मुझे अपनी तरफ घुमा कर मेरे होंठों को चूसने लगे.

हिना- तुम्हें पता है इसने मेरे साथ क्या क्या किया?परवीन- तुमने उसके साथ क्या क्या किया था, ये भी बता!हिना आंटी अपने पेट के ऊपर मेरे दांतों के निशाने दिखाने लगीं और बोलने लगीं- इसने मेरी गांड मार दी. एक बार मन किया कि घर पर फ़ोन करके पूछ लूं कि सब ठीक है या नहीं … लेकिन हिम्मत नहीं हो रही थी. सभी जोरों से हंस पड़ी और नीता के पीछे पड़ गयी कि वो अपना एक कपड़ा उतारे.

इसके तुरंत बाद कंपनी के काम के सिलसिले में कुछ दिनों के लिए दिल्ली चला गया. लेकिन जैसे ही लंड का सुपारा मेरी गांड में घुसा, तो ऐसा लगा जैसे मेरी गांड फट गई. ज्योति का जेठ होने के कारण उससे कभी डायरेक्ट बात तो नहीं होती थी, पर कभी फ़ोन उठा लेती, तो ‘नमस्ते भाईसाहब, देती हूँ इनको फोन.

यह बहुत भूखा है … देख लो पैन्ट से बाहर आते ही कैसे उछलना शुरू हो गया है.

अब आगे:सुमिना और कुणाल की चुदाई देखने के बाद मैंने अपनी बहन पर नजर रखना बंद कर दिया था. इतनी हॉट भाभी को बांहों में लेने के ख्याल से ही मेरा लंड खड़ा हो कर भाभी के प्रस्ताव को स्वीकृति दे रहा था. उनसे कंट्रोल नहीं हो पा रहा था, तो वो बोलीं- आप थोड़ा साइड हो जाओ … और गाड़ी का गेट खोल कर आड़ लगा दो.

दोस्तो, उसकी गांड की गर्मी से मेरा भी लंड अब अभी भी पिघल सकता था, इसलिए मैंने ठान लिया कि मेरा काम खत्म होने से पहले इसकी गांड में मेरा पूरा लौड़ा डालना ही है. ” समीर ने उदास होते हुए कहा।उदास मत हो!” ज्योति ने अपने भाई के सिर को पकड़ कर अपनी गोद में रखते हुए कहा।समीर अपना सिर अपनी छोटी बहन की गोद में रखते हुए उसे देखने लगा. मुझे कुछ अजीब लगा, इसलिए मैं उधर से उठ कर अपने ग्रुप के दोस्तों के साथ पढ़ने चला गया.

ये सुनकर मेरा दिल धड़कने लगा और मैं सोचने लगा कि क्या ऋतु सच में ही चुदाई के लिये तैयार हो जायेगी मेरे सामने ही?इतने में ही ऋतु आ गई.

इतना अधिक वीर्य निकला कि उसकी एक पिचकारी से ही मेरा मुँह भर गया और बाहर गिरने लगा. टॉयलेट के अन्दर जाते ही उसने मेरा कच्छा नीचे किया और एकदम से लंड उछल कर उसके सामने आ गया.

बीएफ भोजपुरी में चुदाई ज्योति को गए हुए आधा घंटा बीत चुका था। महेश अपने कमरे में टीवी देख रहा था. मैंने भाभी के कूल्हों को पकड़ कर लंड अन्दर धीरे धीरे डालना चालू किया.

बीएफ भोजपुरी में चुदाई दिन में हम दोनों आराम से मजे लेते हुए गांड चुदाई का आनंद लेना चाहते थे. आज भी मैं उस बात को सोच कर हैरान हो जाता हूँ कि उस लड़की ने मेरे साथ वो सब कैसे किया.

इस तरह से मैंने गर्लफ्रेंड और चचेरी बहन को चोदा पूरे सात दिनों तक … मुझे मजा आ गया.

हिंदी बीएफ वीडियो सेक्स बीएफ

उसने कहा- हां मोंटू, तू तो इतना स्मार्ट है ही कि इधर कोई भी बंदी सैट हो जाएगी. तुम अपने आपके बारे में अगर नहीं सोचोगी तो कौन सोचेगा?उसने मेरा हौसला काफ़ी बढ़ा दिया था, मैंने कहा- बात तो तुम ठीक कर रही हो. साली आंटी ने पहली बार में ही पूरा का पूरा लंड मुँह के अन्दर ले लिया.

भारी भारी गोल गोल उभरे हुए गोरे गोरे चूतड़ … जिन्हें अपनी हथेलियों से बड़े ही हल्के से दबाता हुआ अलग करता है … दरार चौड़ी हो जाती है … दरार के बीच थोड़ी सी डार्कनेस लिए गान्ड के छेद की चारों ओर का गोश्त … गांड की सूराख पूरी बंद हुई … पर चारों ओर का गोश्त एकदम टाइट! बन्द सूराख इस बात की गवाही दे रहा था कि गान्ड में कोई लंड अंदर नहीं गया है … और पूरी दरार चिकनी और चमकती हुई. लंड चुसाई से मेरा भी बुरा हाल हो रहा था, तो मैं उसके बालों को पीछे से पकड़ कर उसके मुँह को चोदने लगा. उसका 36-32-36 करीब का बड़ा ही कातिल फिगर है, जिसे देखकर कोई भी मुठ मारने को मजबूर हो जाए.

कुछ मिनट बाद ही उसकी एक लंबी गर्म पिचकारी मुझे अपने अंदर महसूस हुई फिर तो बहुत सी पिचकारियाँ मुझे अपने अंदर महसूस हुई.

उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे चूत में बहुत दर्द हुआ पर इतने बड़े लंड से चुदने की तमन्ना भी मेरी ही थी तो मैं इतना दर्द तो सहन कर सकती थी क्योंकि इतना बड़ा लंड मैं पहली बार लिया था. मैंने रीतिका से प्रीति का नम्बर लिया और प्रीति को पटाने की शुरूआत कर दी. तभी मैंने अपनी एक उंगली भाभी की चूत पर टच की, जिससे भाभी एकदम सिहर उठीं और एकदम से बोलीं- क्या कर रहे हो?मैं तो डर गया.

पूरे दिन इंटरव्यू के बाद सभी लड़कियों को बोल दिया गया कि यदि आप सेलेक्ट होती हैं तो आपको एक या दो दिन में कॉल करके बता दिया जाएगा. उसकी वाइफ ने मेरी पत्नी की नाइटी एकदम ऊपर कर दी और फिर पेंटी भी उतार दी. मुझे इन्तजार था कि ये हब्शी किसी भूखे भेड़िये की तरह मेरा ब्लाउज और पेटीकोट भी खींचेगा.

तो शिवानी ने कहा- देखो सागर एक बार चोदो या कई बार … बात तो एक ही है. बॉस ने मेरे होंठों को अपने होंठों से बंद कर दिया और एक ज़ोरदार चुदाई शुरू कर दी.

शबनम ने ऊपर बैठ कर ही अपना मुँह नीचे किया और राजीव के होंठों से चिपट गयी. तभी वहां एक बाइक आयी, मैं डर के मारे छिप गया कि कहीं ये मेरे घर वाले तो नहीं जो मेरी खोज के लिए आये हों. उसका लंड उसकी तरह सावले रंग का था। उसका टोपा हल्का चॉकलेटी रंग का था और नींबू की तरह फूला हुआ था। मैंने हाथ से उसकी पैंट को नीचे खींचा.

हमें ऐसा नहीं करना चाहिए था, आखिर हमारे बीच सास और दामाद का रिश्ता है.

मैंने उसके चूतड़ों को कसके पकड़ा और जोर जोर से धक्के मारने शुरू कर दिए जिससे होटल का पलंग भी चूँ चूँ की सेक्सी आवाजें करने लगा. कुछ मिनट बाद ही उसकी एक लंबी गर्म पिचकारी मुझे अपने अंदर महसूस हुई फिर तो बहुत सी पिचकारियाँ मुझे अपने अंदर महसूस हुई. जब मेरा लंड पूरा का पूरा आंटी के मुंह में तन कर भर गया तो आंटी ने थूक से चिकने हो चुके मेरे लंड को बाहर निकाल दिया.

मैं तो भूल ही गया था कि उसने खाने को मंगाया था। मैं उसके सामने नहीं आना चाहता था तो मैं उसके घर के अंदर जाते ही ऊपर छत में चला गया।सेक्स अभी भी मेरे दिमाग में भरा हुआ था तो ऊपर जाते ही मैंने अपनी बियर एक सांस में गटक ली. रजनी ने एक डीप नैक का फ्रॉक डाला था, जिसके अंदर से ब्रा में कसे उसके कबूतर उसके झुकते ही साफ़ दिख रहे थे.

कुछ देर बाद विवान भैया मेरी ब्रा निकाल कर मेरी चूची को चूसने लगे और साथ में वो मेरे गर्दन को भी किस कर रहे थे. उसको देख कर तो कोई भी लड़की उससे चूत चुदवाने के लिए तैयार हो सकती थी. फिर मैं वहां से आ गया क्योंकि पवन की गैर-मौजूदगी में वहां पर मेरा ज्यादा समय के लिए रुकना ठीक नहीं था.

हिंदी एक्स वीडियो दिखाओ

उसका एक बेटा भी है और वो अपने पति से खुश नहीं है क्योंकि उसके पति को दारू पीने की लत है.

वो देखने में तो सीधी-सादी दिखती थी लेकिन उसके पहनावे से पता लग रहा था कि उसको भी कुछ चाहिये है. फिर ऐसे ही कुछ दिन बीते थे कि एक दिन भाभी ने मम्मी से फोन पे कहा- आज मैं घर पर अकेली हूँ और मेरी तबीयत भी ठीक नहीं है. मैंने अपने बेकाबू से लंड को दीदी के हाथ में पकड़ा कर दीदी को चूसने का इशारा किया तो दीदी ने खड़ी होकर मुझे जोरदार तमाचा मारा और कहा- बहनचोद, मैं रंडी हूं क्या जो तू मुझे अपना लंड चूसने के लिए बोल रहा है?दीदी की इस बात पर मुझे गुस्सा आया लेकिन मैंने कुछ कहा नहीं क्योंकि बना बनाया काम बिगड़ सकता था.

मैं उसका ध्यान हटाने के लिए उसके मम्मों को हाथ से सहला रहा था और किस कर रहा था. मैंने संजना के चेहरे को अपने हाथों में पकड़ कर उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. सेक्सी भेज दे सेक्सी बीएफफिर वो अपने लंड को मेरे मुंह के ऊपर लाकर कहने लगा कि मेरे लंड को चूस लो एक बार.

जैसे मैं किसी खूबसूरत लड़की को देख लूँ, तब मेरी नजर उसके मम्मों पर सीधी पड़ती है. मैंने संजना के घर जाने के बारे में सोचा ताकि उसके बेटे से भी मिल लूंगा और उसको थोड़ा सहारा भी मिल जाएगा.

आह्ह … ओह्ह … हाय … उसकी चूत में मेरे लंड की आवाज गच्च-गच्च हो रही थी. अगर मैंने कुछ कहा, तो काम खराब हो सकता है, मुझे नौकरी में भी दिक्कत आ सकती है. यह समझ लो कि आज तुम्हें चूत से जंग करनी है और उसको इतना मारना है कि वो फिर कभी तुम्हारे लंड के आगे आंख ना उठा पाए.

मैंने कहा- कोई बात नहीं, आपको लगी तो नहीं?वो बोली- नहीं, मैं ठीक हूं. मैंने खुद को आईने में देखा, तो उस टी-शर्ट में मेरे आधे मम्मे दिख रहे थे … और मेरी पूरी नंगी टांगें एकदम सेक्सी दिख रही थीं. उसने मेरी बात समझते हुए मुझे जोर से हग किया और बोली- बहुत दिन से ये तमन्ना थी लेकिन मेरे पति को ये पसंद नहीं है.

सुमन दीदी मॉम के काम में साथ दे रही थीं और चांदनी अपने रूम में पढ़ाई कर रही थी.

तभी धीरज को लगा कि कोई और जोड़ा उन्हें देख रहा है तो उसने सीमा की स्कर्ट नीचे की और उसके गालों को पकड़कर मुस्कुराकर थिरकने लगा. मैं जब भी उनके बारे में सोचती, मेरी चुत से पानी टपकना शुरू हो जाता.

हम उस दिन करीब 4 बजे चाय पीने गए और फिर शाम को अपने अपने घर चले गए. मैंने देर न करते हुए भाभी की साड़ी पकड़ कर खींच दी और पेटीकोट नाड़े की गाँठ खोल कर नीचे गिरा दिया. सुबह सुबह ही उन्होंने मुझे बांहों में कस लिया और पूरे गाल और माथे पर ढेर सारे चुम्बन किए.

बार-बार उसकी सांवली चूत और उसके गुलाबी निप्पल मेरे ख्यालों में आ रहे थे. मैं समझ नहीं पा रहा था कि वो अब मुझे अपने करीब क्यों नहीं आने देती है. ऐसा फूल सा बदन बनाया था उसका कि देखते ही आंखों को सुकून के साथ साथ एक तड़प भी लगने लगती थी.

बीएफ भोजपुरी में चुदाई मैं भी इन सब मामलों में कोई दिलचस्पी नहीं रखता था, अक्सर बाहर ही आवारगार्दी करता रहता. अगर एक दो घंटे के लिए डॉली को भेज दीजिये तो मैं बोलता जाऊंगा वो लैपटॉप पर फीड करती जायेगी.

सेक्सी बीएफ एचडी वीडियो में

समय निकाल कर वो भी मेरे रूम पर चली आती और हम एक दूसरे में लिप्त हो जाते, हमारे बीच चूत लीला शुरू हो जाती. मेरी शादी को पांच साल हो चुके हैं इसलिए पत्नी की चुदाई करने में मुझे कुछ खास मजा नहीं आता है. सारिका ने उससे वाशरूम से हैण्ड तौलिया देने कि रिक्वेस्ट की जो वो खुद डोर के पीछे टांग आई थी क्योंकि उसे मालूम था कि उसकी जरूरत जरूर पड़ेगी.

जोर-जोर से उसके चूचों को चूसते हुए मैं उसकी नंगी चूत पर हाथ फिराने लगा. मेरी पिछली कहानीमेरी चूत को बड़े लंड का तलबके लिए मुझे बहुत से मेल मिले. राजस्थानी सेक्सी चोदने वालीवो तो चुदने के हिसाब से ही रेडी हुई थी, उसे देख कर साफ़ दिखाई दे रहा था.

शायद हमारे घर पर आने से पहले ही वो चूत के बालों की सफाई करके आई थी.

अंकल हंसते हुए बोले- मैं ठंड में चाय नहीं लेता हूँ सीमा, मैं व्हिस्की लेता हूँ, तुम पीती हो क्या? मैं तो आर्मी वाला हूँ, मुझे तो एक पैग रोज चाहिए होता है. उसने अपने दोनों हाथों से नीलम के चेहरे को शेल्फ पर दबा रखा था।नीलम के स्तन शेल्फ से लग कर पिचक रहे थे.

उन्हें ऐसे रगड़ने में और उससे भी ज्यादा गन्दी बातें करने में बहुत मज़ा आ रहा था. इधर आपस में होंठ और जीभ बुरी तरह उलझे थे और नीचे मेरी चूत में उनका लंड बुरी तरह फंसा हुआ था. ”उपिंदर ने हाथ खड़ा कर दिया।अंशु बोली- खोल के दिखाओ।शैली बोली- मैं कुछ समझी नहीं?अंशु मुस्कुराई- हमने फैसला किया था कि तू जिसके अंडरवियर का रंग पहले बताएगी, उसी की गांड को पहले प्यार करेगी.

ये कहानी मूलतः राकेश पेसिफिक नाम के शख्स की है, जो इस मंच के एक नियमित पाठक भी हैं.

मम्मी ने मुझे बुलाया और कहा- आज तुम भाभी के यहाँ जाकर सो जाओ, वो अकेली हैं … और उनकी तबीयत भी ठीक नहीं है. इसलिए अभी मुझे नहीं पता था कि वो कितनी बड़ी हो चुकी है और उसके शरीर में क्या-क्या बदलाव आ चुके हैं. ”और सुन आज कपड़े धोकर प्रेस कर लेना दिन में। मैं दो बजे तक आ जाऊँगी आज से तुम्हारी नियमित रूप से पढ़ाई शुरू करनी है बहुत छुट्टी मार ली तुमने!”हओ.

मधु सिंह की बीएफकुछ लड़के अपने काम करते करते बोलते थे, तो कुछ लंड खुजाते खुजाते मुझे मेरी बात का उत्तर दे रहे थे. अनिल उसकी चूत में अपना प्यासा फन फनाता लंड डाल कर धक्के पर धक्के दे रहा था.

सनी लियोन की बीएफ सेक्सी वीडियो

” ज्योति ने अपने भाई के लंड को अपने मुंह से निकालते हुए कहा और उसके लंड को ऊपर से नीचे तक चाटने लगी।आह्ह … इस पर तुम्हारी भाभी की चूत का पानी लगा हुआ है. कुछ ही देर में हस्तमैथुन करके मैं झड़ गई और अपनी चुत को धोकर आराम करने अपने कमरे में चली गयी. मैं पास बैठी यशिमा के होंठों पर किस करने लगा और उसके मम्मों को दबाने लगा.

सीमा भी मुश्ताक के होंठों से चिपक गयी … पहली बार वो अपनी ग्रुप सेक्स की फंतासी के पहले चरण को पूरा होते देख रही थी. दारू का नशा और उसके बाद हाथ में सिगरेट हो तो सामने लौंडिया देख कर मूड बनने लगता है. अंधेरी सी जगह पर जाकर मैंने एक हाथ से स्टेयरिंग को संभाल लिया और दूसरे हाथ को काजल की गर्दन पर ले जाकर उसे अपनी तरफ खींच लिया.

मैं बाथरूम में जाने लगी तो वो मेरे पीछे आकर मेरे कान में कहने लगा कि अपनी ब्रा को उतार लेना अंदर जाकर. अब स्विमिंग पूल में भी वो एक दूसरे के प्राईवेट पार्ट्स को छेड़ने लगी थीं. जब उसकी बेटी को अपने पिता की नियत का पता चला तो …मेरी नॉनवेज स्टोरी के पिछले भाग में अपने पीया महेश के साथ अपनी पत्नी को नंगी लेटे हुए देख कर समीर सोच में पड़ गया.

उसने अपना लंड कपड़े से साफ़ करके मेरे मुँह में दे दिया और मेरी चूत को अपने मुँह में ले लिया. बात करने से पता चल रहा था कि वह भी मुझे पसंद करती है … पर पूछने की हिम्मत कभी नहीं हुई.

दूसरी रात तो इन सभी ने ड्रिंक भी कर ली और नशे में जितनी बेशर्मी हो सकती थी, करी.

दो मिनट के बाद उन्होंने दोबारा से थूका और मेरी गांड पर भी थोड़ा सा थूक मल दिया. फिल्म वीडियो ब्लू फिल्म”मतलब?” उसने हैरानी से मेरी ओर देखा। उसे शायद इसका अर्थ समझ नहीं आया होगा।इसका मतलब है तुम खूबसूरत ही नहीं साथ में बहुत अक्लमंद (समझदार) भी हो. कैटरीना बीएफ सेक्सीअब अनिता भाभी ‘उम्ह्ह्ह अह्ह्ह …’ की आवाज निकालते हुए तड़पने लगीं और जल्दी से चोद देने की मिन्नत करने लगीं. ”क्या?”मुझे समझ में नहीं आ रहा कि कैसे कहूँ और कहाँ से शुरू करूँ?”क्या हुआ अंकित क्या तुम्हें पैसों की जरूरत? अगर ऐसी बात है तो बोलो.

आपको मेरी और देसी भाभी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे जरूर बताना.

आआहह … उनके दांत मेरे दोनों निप्पलों पर गड़ने से मेरे मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं. इतने में रिंकी ने मुझसे पूछ लिया- आपकी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने भी कह दिया- आपको क्या लगता है?तो उसने कहा- आपको देख कर लगता है 4 से 5 गर्लफ्रेंड तक होंगी. कुछ महीनों बाद उसको कंपनी ने निकाल दिया तो हमारा रिलेशन भी वहीं ख़त्म हो गया.

कुछ पल तक देखने के बाद उसने मेरी चूत पर हाथ रख कर उसको सहला दिया तो मैं सिसक उठी. अंकित ने उसकी तरफ असमंजस में देखा और मुस्कराते हुए चुम्बन का जवाब देने के लिए उसकी तरफ बढ़ा. ज्योति ने कहा- आपकी चाय तैयार है अगर सोकर उठ गए हो जनाब, तो आ जाएं.

सेक्सी वीडियो आईरानी

फिर बाहर निकाल कर उंगली पर लगे मेरे पानी को चाट गया। फिर वो झुक कर अपनी जीभ से मेरी चुत की चुदाई करने लगा।मेरा बस होने ही वाला था कि एकदम से गेट खुलने की आवाज आई. दोस्तो, मेरा नाम आकाश है और मैं 24 साल का हूँ, मेरा रंग गोरा है और लंबाई 5 फुट 11 इंच है. जब मुश्ताक से बर्दाश्त नहीं हुआ तो उसने सीमा को खड़ी किया और बेड पर धक्का दिया.

लेकिन यह सब जानने के बाद भी जीजा ने मुझे फोन देने से मना नहीं किया.

उसके बाद बाथरूम में गांड साफ करने वाला प्रेशर वाटर जेट लेकर मेरी वाइफ की चूत में पानी की तेज़ धार डाली गई और वह डॉक्टर दोस्त मेरी बीवी की चूत में अंदर तक दो उंगलियाँ डालकर रेत का एक-एक कण बाहर निकाल रहा था.

ऐसा कर … चाय को फेंक दे इधर उधर … और थोड़ी देर में नशे की एक्टिंग करते हुए उसके हिसाब से चलियो। बाकी सब अपने प्लान के हिसाब से होगा।मैंने सारी चाय चुपचाप बाहर फेंक दी और ऐसे ही कप को मुंह लगती हुई वापस आ गयी और बोली- चाय तो अच्छी बनाई तुमने।आकाश बोला- थैंक्स।मैंने इसी बीच अपने फोन में वॉयस रिकॉर्डर चालू कर दिया था. उनकी पहाड़ जैसी बड़ी बड़ी चूचियां मेरे सामने नंगी थीं, जिन्हें देखकर मैं पागल हो रहा था. एक्स एक्स एक्स मूवी देखना हैट्रेन आने में अभी बीस मिनट बाकी थे, तो मैंने सोचा कि कुछ आंखें सेंक लूँ.

इसी तरह से रोज सुबह मेरी और भाभी कि धीरे-धीरे नजदीकी बढ़ने लगी और ये बात भैया को पता चल गई।अगले दिन रविवार था और उस दिन हमारा क्लास टेस्ट होना था तो आज शनिवार को मेरी क्लास की छुट्टी थी. उसका सांवला रंग और लखनवी चिकन का सफ़ेद सूट देख कर मेरे कलेजे को मानो ठंडक मिल गई. डिल्डो को उसने अंदर मेरी चूत में डाल दिया और उसको आगे पीछे करने लगी.

उसके बाद तो हम दोनों हमेशा जब फ्री होते थे तो किसी होटल में जाकर चुदाई करते थे. मैं झड़ते ही रीना उठ कर बाथरूम में चली गई और उसने पूरा माल वहां थूक दिया.

अब लंड महाशय अनिता भाभी की चुत की खिड़की खोलने के लिए उतावले होने लगे.

चूंकि तुम मेरे पति के दोस्त हो इसलिए मैं आगे नहीं बढ़ना चाहती थी लेकिन आज जब घर पर मैं तुम्हारे साथ अकेली थी तो मैं भी खुद को रोक नहीं पाई. मैंने उन्हें अपनी गोद में उठाया और उन्हें कमरे में ले जाकर बेड पे पटक दिया. चेहरे पर काली घनी दाढ़ी थी जिसको उसने स्टाइल में मेंटेन किया हुआ था.

सेक्सी होम फिर अचानक से दिमाग में आया कि आखिर वो ऐसा कैसे कर सकती हैं, क्योंकि भले ही पहल मैंने की थी, लेकिन बाद में उन्होंने ने भी तो मेरा पूरा साथ निभाया था. सोफे पर बैठने के लिए मुझसे कहती हुई खुद सामने बिछे हुए सिंगल दीवान पर बैठ गई.

पता नहीं उसने मेरा लंड देखा या नहीं लेकिन उसके करीब पहुंचने से पहले ही मैंने अपने लंड को अंदर कर लिया था. मेरी बहन के साथ लेसबीयन सेक्स और चचेरे भाई से चूत चुदाई की यह कहानी मेरी जुबानी सुन कर मजा लें!https://cdn. उसने मेरी सलवार को निकाल दिया और मेरी पैंटी के ऊपर से हाथ फिराते हुए मुझे गर्म करने लगा.

हॉट सेक्स बीएफ हिंदी

फिर दो मिनट बाद ही मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया और पति के लंड ने भी अपना वीर्य मेरे मुंह में छोड़ दिया. और यह देख कर मेरा उत्तेजना के मारे खुद बहुत बुरा हाल था; यह एक जबरदस्त सेक्स अनुभव होने वाला था हम सभी के लिए. ऐसे सोचते करते टाईम कब बीत गया, पता ही नहीं चला और यह सोचकर कि अब ज्योति मुझसे कभी बात भी नहीं करेगी.

फिर एक दिन की बात है कि दोपहर के समय में मैं अपने दोस्त के घर गया हुआ था. मैंने धक्का लगाया तो लंड फुद्दी की तमाम दीवारों को चीरते हुए आगे निकल गया.

वह अब मेरी चुत की तरफ बढ़ने लगा और मेरी लोअर को उतार दिया मैंने आपको पहले भी बताया था कि मुझे अपनी चूत पर बिल्कुल भी बाल पसन्द नहीं हैं, मैं हर पंद्रह से बीस दिन में अपनी चूत के बाल साफ करती हूँ।उसने जैसे ही मेरी चूत को देखा, उसने अपने हाथ की सबसे बड़ी वाली उंगली मेरी चूत की लकीर पर फिराई और उंगली को अंदर डाल दिया.

उन्होंने उठके मुझे चूम लिया और वहीं घोड़ी बनके मेरा लंड मुँह में ले लिया. जब थोड़े से झाग बन गये तो बारी-बारी से हाथ उठाकर दोनों बगलों को साबुन से मल कर पसीने के किटाणुओं का गला घोंटते हुए नीचे काले झाटों को भी साबुन लगाकर साफ करने लगा. इन चुम्बनों से मैं भी खुश हो गया और मैं जिस मनोकामना से यहां आया था.

मैं उसका ध्यान हटाने के लिए उसके मम्मों को हाथ से सहला रहा था और किस कर रहा था. नीलम ज़्यादा सेक्स पसंद नहीं करती थी, मगर समीर तो डेली चुदाई के बिना रह ही नहीं सकता था।आह्ह स्स …” नीलम अपने पति समीर की चुदाई से दूसरी बार झड़ रही थी।नीलम ने समीर से कहा- अब निकालो बहुत हो गया, मुझे दर्द हो रहा है. आज होठों का रसपान करते करते उसने कई बार मेरे होठों को काटा, जब जब वो काटती, मैं ट्रेन की स्पीड बढ़ा देता.

5-7 धक्कों के बाद ही महेश का पूरा लंड जड़ तक अपनी चूत में महसूस करके नीलम का पूरा जिस्म अकड़कर झटके खाने लगा क्योंकि वह झड़ने वाली थी। महेश ने अपनी बहू को झड़ने के क़रीब देख कर उसकी टांगों को छोड़कर उसके ऊपर झुकते हुए उसकी चूत में ज़ोरदार धक्के मारना शुरू कर दिया।आहहहहह पिता जी …” अचानक नीलम झड़ने लगी.

बीएफ भोजपुरी में चुदाई: तुम दोनों ने मुझसे बड़े होने के बावजूद भी मुझे तुम्हारे साथ खेलने का मौका दिया. फिर एक-दो मिनट तक चूत को चुसवाने के बाद मैंने पति अपने ऊपर खींच लिया और मैं उनके होंठों को चूसने लगी.

फिर हम दोनों ने अपने लंड को हिलाना शुरू कर दिया और मेरी चुदक्कड़ बीवी हम दोनों के लंड से वीर्य निकलने का इंतजार करने लगी. उसको सोये हुए देख कर मेरे मन में वासना जागने लगी और मैं उसके मम्मों को दबाने लगा. मैंने एक ही झटके में अपना पूरा लंड मेरी नंगी भाभी की चुत की गहराई में ठोक दिया.

कुछ देर तक अपने नंगे शरीर को उसके नंगे बदन पर रगड़ने के बाद मैंने उसकी जांघों के पास हाथ कर लिया.

थोड़ी देर बाद उसने मेरे पजामे का नाड़ा खोला और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. उसका लंड वैसे तो काला सा था लेकिन उसका सुपारा बिल्कुल गुलाबी रंग का था. जब वो भी सेक्स के लिए उत्तेजित हो गये तो उनके लंड से नमकीन पानी रस कर बाहर आने लगा.