बीएफ चोदा चोदी पिक्चर

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ चोदने वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

जानवरों के सेक्सी पिक्चर: बीएफ चोदा चोदी पिक्चर, मोहतरमा का आदेश आया, तो मैंने बाइक उठायी और बताए गए पते पर अपनी किट लेकर पहुंच गया.

बीएफ पिक्चर हिंदी सेक्सी

उसके बाद मैं उसके पास चला गया। मैं उसको गौर से देखने लग गया।फिर मैंने अपना एक हाथ उसके पेट पर धीरे से रख दिया. नागी लड़कीकुछ मिनट में बाद उन्होंने अपने शरीर को खूब टाइट कर लिया था और जोर जोर से अपनी कमर हिलाने लगी थीं.

वो मेरे लन से खेलने लगी, मेरे लन को हाथ से हिलाते हुए बोली- उस रात तो शर्म के मारे लन देख ही नहीं पायी अच्छे से!मैंने पूछा- आज मुँह में लोगी क्या?वो मेरी तरफ देख कर मुस्कराई और लन को अपने मुँह में डाल लिया. सेक्सी बीएफ व्हिडिओ मराठीमैं दर्द से तिलमिला उठा और मामा से कहने लगा कि मुझे छोड़ दो, लेकिन मामा तो चुदासे थे, तो उन्होंने मेरा मुँह बंद कर लिया और एक जोरदार धक्का मारकर पूरा लंड मेरी गांड में पेल दिया.

ख्वाहिश तो पूजा की चूत मारने की थी मगर अभी तो पूजा की चूत उपलब्ध हो नहीं सकती थी.बीएफ चोदा चोदी पिक्चर: अमर इसको और भी सहमति समझ चुका था इसलिए अमर का मूड बन गया और अगली बार जैसे ही पिंकी खाने के बाद अमर को पानी देने के लिए आई तो अमर ने पिंकी के दोनों हाथ पकड़ लिए और पिंकी को अपनी तरफ खींचने लगा.

शारदा चाची- सब जानती हूं मैं, चलो जाकर धर्मशाला में व्यवस्था देखो और अपने चाचा का हाथ बटाओ.अब मेरे मन में भी एक जिज्ञासा पैदा होने लगी थी कि पापा मेरी माँ की चूत को किस तरह चोदते होंगे.

इंग्लिश सेक्सी नंगा - बीएफ चोदा चोदी पिक्चर

उनके हाथ मेरी साड़ी प्रेस करने में लगे थे और उनका कड़ियल लंड मेरी चुत का बाजा बजा रहा था.उसने मेरे लंड को पकड़ कर चूत के मुहाने पर सेट किया और गप्प से मेरा लंड शिखा की चूत में उतर गया.

दीदी अपनी टांगें पूरी खोल कर मेरी जीभ से चूत चटाई का मजा ले रही थी. बीएफ चोदा चोदी पिक्चर मेरा दिमाग खराब सा हो गया था, मैंने सारा से कहा- यार, आज मेरी और ज़रीना की सुहागरात है.

एक दिन में उसके रूम में झाड़ू लगा रही थी, तो वह अपने बेड पर बैठे हुए हसरत भरी निगाहों से मेरी गहरे गले की टी-शर्ट में झांक रहा था.

बीएफ चोदा चोदी पिक्चर?

इ!’ की सिसकारी निकली लेकिन इस बार सिसकी में दर्द में आनंद का थोड़ा सा समावेश था. सर ने लंड पर मम्मी के हाथ का टच महसूस किया तो वे भी मम्मी के दूध दबाते हुए बोले- अच्छा वो बात. मैंने टॉवल नीचे गिरा दी और बोला- साली साहिबा, अब मुझे चड्डी भी पहना दो!ऋतु ने अपने हाथ से चड्डी पहना दी और हाथ अंदर डालकर मेरे लंड को एडजस्ट कर दिया.

करीब 5 मिनट तक जीजू अपनी जीभ से ही मेरी चूत को चोदते रहे। मेरी हालत तो बिल्कुल खराब हो चुकी थी पूरी तरह से चुदासी हो चुकी थी बस मन कर रहा था कि जीजू अपना लंड मेरी चूत में एक ही झटके में अंदर डाल दें और जोर से मुझे चोद दें. मैंने भी अपना हाथ थोड़ा और टेबल के बाहर किया और आंखें बंद करके लेटा रहा. मगर मुझे बाद में पता लगा कि वो तो मेरे भाई की पूरी दीवानी बन गई थी चुदवा कर … और उसको कहा करती थी- अब तुम ही मेरे सैंया बनो शादी करके मुझसे.

मेरी पिछली चुदाई की कहानीमौसी की चूत की मजेदार चुदाईमें आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी मौसी की चुदाई की थी. फिर अपने दोनों हाथों में मेरा लंड पकड़कर ऊपर नीचे सहलाकर मलहम लगाने लगी. अजय बोला- बस राज भाई, आज मेरा सपना साकार कर दो, बहुत तमन्ना है मेरी अपनी बीवी को किसी और से चुदवाते हुए देखने की! उसकी मस्त सिसकारियाँ सुनते हुए अपना लंड हिलाने का मेरा सपना आज पूरा कर दो.

आज मैं अपने यौवन के सुख का अहसास करना चाहती हूँ।उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- आज अपनी इच्छा से अपने लिये कुछ कर रही हूँ और मेरे परिवार में किसी को कुछ नहीं मालूम है।मैंने कहा- कोई बात नहीं, अगर तुम नहीं चाहती तो कोई बात नहीं, कोई जबरदस्ती नहीं है. मैंने भी सोचा चलो देखते हैं कितनी अन्दर तक खुली है इनकी बुर, इसलिए मैं दूसरे हाथ की एक उंगली उनकी बुर के छेद में डालने लगा.

अभी तक जिन लोगों ने चूत नहीं चाटी है मैं उनको बताना चाहता हूँ कि दुनिया का असली मज़ा चूत चाटने में ही है.

फिर उनका हाथ जो मेरी पीठ पर था, अब मैंने अनुभव किया वह मेरे चूतड़ सहला रहा था, उन्हें मसल रहा था.

किसी तरह मेरा ये तड़पना ये मचलना खत्म हो जाए, पर आशीष उठकर मुझे बिना कुछ बोले जल्दी से मुझसे अलग हो गया. मैंने दिलिया को सहलाया उसका निचला ओंठ चूसा तो दिलिया की चुत का छेद वापस सिकुड़ गया था. कुछ देर के बाद मैंने उसको गोद में उठा लिया और उसको बेडरूम तक लेकर गया.

वह मेरे अंडकोष को पहले चूमने लगी और फिर उसने मेरे टोपे को अपने होंठों से लगा लिया. मेरा लंड तो मेरी पैंट को फाड़ कर बाहर आने के लिए मुझे ही गालियाँ देने लगा था. मैंने कहा- वो तो पूरी हो ही जाएगी, लेकिन आपने यह बताया नहीं कि आपकी अपने पति से क्या पाने की इच्छा थी, जो वो करने को नहीं तैयार था.

तो रोज़ी ने डबल मीनिंग जवाब दिया- क्या फायदा ऐसे लंड को छूने का, जो अंदर न जाये।चारों हंस पड़े।आगे एक गली पूरी मसाज पार्लर्स की थी।बाहर ही लड़कियां बैठी थीं, उनके रेट लिखे थे।डेविड ने सनी से मज़ाक किया- यार, तेरे तो बहुत पैसे बच जाते हैं.

फिर क्या था, मेरी ऐसी बातें उसके कानों में किसी वियाग्रा की गोली की तरह काम कर गयी. कुछ देर तक जब उनकी तरफ से कोई हरकत नहीं हुई तो मैंने हिम्मत की और काम पर लग गया. मैंने बाथरूम में जाकर कमोड को खोला और अपना अधसोया लंड निकालकर पेशाब की धार को कमोड की तलहटी में इकट्ठा हो रखे पानी में गिराने लगा.

मैं मन ही मन बहुत खुश हुआ सोचा कि आज तो बस सुबह तक चुदाई और हवस का नंगा नाच करेगे हम दोनों।खैर मैं चाय पीने के लिए रूम से बाहर टपरी पे निकल गया. मेरी सेक्स कहानी में अब तक आपने पढ़ा कि मेरा यार मेरी चूत की बजाये मेरी गांड मारने की कोशिश करने में लग गया. खैर … अब आशीष सीधे सीधे बोला कि बंध्या मुझे सच सच बता दो कि तुम्हारी सील कब और किसने तोड़ी? तुमने किससे फर्स्ट टाइम चुदवाया है … कौन है वह लकी मर्द? सच सच बता दोगी तो मुझे बुरा नहीं लगेगा, मैं वादा करता हूं कि तुम्हें कुछ नहीं बोलूंगा और हमेशा बहुत प्यार करूंगा.

इस पोज़ में वो ज्यादा ही कामुक लग रही थी। मैं उत्तेजित हो कर जोर-जोर से झटके लगाने लगा.

मैंने फिर हल्के से अपने लिंग को वसुन्धरा की योनि में वापिस आगे उसकी पुरानी जग़ह तक पहुँचाया. ताई के मुँह से हल्की हल्की आवाजें निकलने लगीं- पूरा गिलास दूध पी तो लिया है … अब क्या पी रहे हो?ताऊ हंसे और बोले- तेरे दूध चूसे बिना मेरा खड़ा नहीं होता.

बीएफ चोदा चोदी पिक्चर मैंने बिना देर किए पीछे से लंड फच की आवाज के साथ उसकी चुत में डाल दिया ‘आउच अअअअअ यस यस. पापा ने दो-चार धक्कों के बाद मेरे चूचों को अपने हाथों में थाम लिया और उनकी गति धीमी पड़ती चली गई.

बीएफ चोदा चोदी पिक्चर एक बार तो मेरा दिल किया कि मैं रात को ही तुम्हारे कमरे में आ जाऊं, परंतु फिर सोचा कि कहीं कोई उठकर देख लेगा तो मुझे ढूंढेंगे, बड़ी मुश्किल से रात काट कर आई हूँ. इस मदहोश आवाज को अमर ने समझ लिया और नारी सुलभ लज्जा को मसलते हुए वो ब्लाउज के ऊपर से ही पिंकी की चूचियां दबाने लगा.

मेरी मम्मी एकदम सिमट सी गईं और उनकी दशा एकदम ठंड में ठिठुरने जैसी हो गई.

हिंदी बफ विडियो हिंदी बफ वीडियो

जिसके मुताबिक़ मैं सारा को तीन तलाक देकर उसकी इमरान से शादी का रास्ता साफ़ कर सकता हूँ. कुछ देर बाद डाक्टर ने लंड सहलाना बंद कर दिया और टिश्यू पेपर से पूरे लंड और अंडकोश को साफ करने लगी थी. मेरी चुत इसी मौके का इंतजार कर रही थी कि कब मेरा हाथ साड़ी के अन्दर घुसकर उसे सहलाये.

खैर, हम दोनों में यह सब बातें हुईं और कुछ देर बाद नफीसा भाभी वहाँ से चली गईं. अब मेरे पति मेरे ब्लाउज प्रेस करने के लिए हुए, तो मैं उनके सामने अपने घुटनों के बल बैठ गई. एलेक्स ने अपनी पैंट को अपने पैरों से अलग कर दिया और वह केवल अंडरवियर में खड़ा था.

मेरे दिमाग में सबसे पहले चाचा का ही ख्याल आया कि वह रोहित को ढूंढने में मदद कर सकते हैं.

नीतू आज हमें ड्रिंक लेने की इजाजत दो, आज नितिन को एक गुड न्यूज देनी है … चलेगा ना?” उन्होंने पूछा. इससे पहले वो कुछ बोलता, मैंने आरती को फोन पकड़ा दिया, कहा- करो उससे बात और पूछ लो कि कब चोदेगा तुमको. अब उसका छटपटाना समाप्त हो गया था, अब वो कमर ऊपर को उठा रही थी मानो मेरी उंगली को अंदर तक जाने देने के लिये आतुर हो! मैंने उसे धीरे से उसकी दोनों टांगों को अपनी दोनों टांगों से मुक्त कर दिया.

जब हम दोनों ने अपने कपड़े पहन लिये तो हमने एक दूसरे को फिर से बांहों में भर लिया और एक लंबा चुम्बन एक दूसरे के होंठों पर किया. मेरा दिमाग चकरा गया कि ये घर क्यों आने को बोल रही हैं, जबकि प्लान तो कुछ और है. जब मुझसे रहा न गया तो मैंने हिम्मत करके अपना एक हाथ उसके पेट पर रख दिया और धीरे-धीरे उसके बूब्स की तरफ बढ़ाने लगा.

पूरा लण्ड मुंह में घुसाना मेरे लिए मुश्किल था तो जितना मैं आराम से ले सकती थी, उतना चूसने लगी. तीसरे दिन रात नौ-साढ़े नौ का टाईम होगा, किसी ने मेरे फ्लैट की घंटी बजाई.

रिया- मैं ठीक हूँ रोहन … मुझको तुम्हें थैंक्स कहना चाहिए कि तुमने अपनी गोद में लेकर मुझे बचा लिया है वर्ना आज कुछ भी हो सकता था. इससे पहले उनकी ट्रेनिंग होती रहती थी, जिसके लिए उन्हें आस पास में ही जाना होता था. फिर उसकी नाभि को चूसने लगा और उंगली को उसकी चूत में अंदर-बाहर करने लगा और मेरी इन हरकतों के कारण वह झड़ गयी और मेरे हाथ को अपनी टाँगों से भींच लिया। थोड़ी देर बाद मेरा हाथ उसने हटा दिया और करवट बदल कर सो गयी.

धीरे उसकी गांड के छेद पर उंगलियाँ फिराईं और हल्के से उसकी गांड के छेद की गोलाई के आस-पास हल्के से मसाज दी.

मैंने सरनी से उसकी मर्ज़ी पूछी तो वो बोली- 2 महीने में मेरी शादी होने वाली है. दस मिनट तक मेरा लंड चूसने के बाद मेरी बीवी मेरे ऊपर आकर मेरी कमर की दोनों बाजू अपने चिकने पैर रखकर कमर पर बैठ गई. दो तीन दिन से मैं बहुत परेशान था अकेले रहते खुजलाने में कोई दिक्कत नहीं थी.

जब गांड मराने की इच्छा होती है, तो बिना मराए चैन नहीं पड़ता है … और फिर मन पसन्द लंड गांड में जाए, तो क्या कहना. होंठ … ये वही एक चीज़ है जिसे औरत जब बोलना शुरू कर दे तो उसके चुप करवाना मुश्किल हो जाता है और यदि इन्हीं होंठों को प्यार से चूसना शुरू कर दे तो भड़की हुई नारी भी वासना की आग में जलने लगती है.

फिर मैंने उसकी गांड पकड़कर दूसरा धक्का मारा और अपना आधे से ज्यादा लंड चूत में पेल दिया. मेरी नजरें उसके मम्मों को निहारने लगीं और मैंने उसके बूब्स को धीरे धीरे सहलाना चालू कर दिया. होंठ … ये वही एक चीज़ है जिसे औरत जब बोलना शुरू कर दे तो उसके चुप करवाना मुश्किल हो जाता है और यदि इन्हीं होंठों को प्यार से चूसना शुरू कर दे तो भड़की हुई नारी भी वासना की आग में जलने लगती है.

सेक्सी बीपी हिंदी में सेक्सी

सोनिया अपनी मम्मी को बोल रही थी- मम्मी मनदीप आया है, वो अन्दर सो रहा है.

इतने में सृजन भाभी ने अपने पर्स से 500 का नोट निकाला और मेरे पैसे भी दे दिए. श्वेता ने शुभी को शर्ट उतार कर डांस करने के लिए कहा तो शुभी मना करने लगी. लगभग बीस मिनट बाद आंटी अपने कमरे से बाहर आईं और मेरे सामने वाले सोफे पर बैठते हुए मुझसे बोलीं- अरे तुम इतनी देर से यहीं बैठे ही हो?मैं उनकी इस बात को समझ नहीं पाया क्योंकि मैं तो उनके आने का ही इंतजार कर रहा था.

तो मैं उससे चिपकती हुई उसके कान में बोल पड़ी- मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा … मुझे तुम्हारा लण्ड चाहिए अभी!मेरा इतना कहते ही उसने झट से मुझे पकड़कर अपनी गोद में बिठा लिया. ”मैं लेटे लेटे ही शर्ट उतारने लगी, शर्ट उतारने के लिए हाथ ऊपर करते ही मेरे स्तन ऊपर तन गए, तब अंकल ने लपक कर उनको अपने हाथों में पकड़ लिया. एचडी वीडियो बीएफ देहातीलेकिन यदि लड़की चुदी हुई हो तो उसकी चूत से न तो खून निकलता है और न ही वो ज्यादा चीखती चिल्लाती है.

दिन भर की भागदौड़ के बाद रात में जब सब लोग अपने कमरों में चले गए, तो सभी सालियां और बहनें मिल कर मुझे मेरे कमरे में ले गयी. वो सिसकारियाँ भरने लगी- आअहह … आआहह … मम्म्मम … आआ आआआ … आआआ … अह्ह।चाची सिसकारते हुए बोल रही थी- ओह भाई, ऐसे ही, ऐसे ही अपनी दीदी की चूत चुदाई कर, हाँ-हाँ और जोर से, इसी तरह से ज़ोर-ज़ोर से धक्का लगाओ भाई, इसी प्रकार से चोदो.

बीस मिनट के बाद हम उठे, उठकर जब हमने बेड को देखा तो पूरी बेडशीट खून से सनी हुई थी. सभी मचलती चूतों और खड़े लण्डों को विशू तिवारी का नमस्कार! दोस्तो, मैं अन्तर्वासना की कहानियाँ विगत 4 वर्षों से पढ़ रहा हूँ. मैं भावना की भूरी कलर की निप्पल को जोर-जोर से चूस रहा था।उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह…वह गाली देकर बोली- और जोर से चूस बहनचोद! जोर से काट लो मेरी चूचियों को। आह … पी लो मेरे भाई।मैं उसके पैरों की उंगलियों से किस करता हुआ ऊपर की तरह बढ़ रहा था.

अब इंसान की सारी कोशिशें तो कामयाब नहीं होती न … तो वसुन्धरा की यह कोशिश भी कामयाब नहीं हुई. लेकिन ये बात सिर्फ हमारे दोनों के बीच ही रहेगी और एक बात है, जो तुम्हें करने पड़ेगी. मैंने उठ कर उसको फिर से पकड़ लिया और होंठों को चूस कर बोला- डार्लिंग हफ़्ता नहीं … कल तुझे फिर से चुदना है.

जागृति मेम देखने में बीस साल की लड़की सी लगती थीं और देखने में बहुत खूबसूरत और हॉट माल लगती थीं.

अंदर जाते ही उसने भीतर से दरवाजा बंद कर लिया और मेरे पैरों पर गिर पड़ी. दरअसल बहुत दिनों के बाद इतने मोटे लंड से चुदने के कारण मेरी चूत से खून बाहर आ गया था.

अब उसकी गोरी गोरी जाँघों में उसकी पैंटी ही बची थी जो मैंने अपने चिपरिचित अंदाज में उतार दी. यह कहते हुए जीजू ने मुझे गोद में उठा लिया और बाथरूम की स्लैब पर बैठा दिया और खुद स्टूल पर बैठ गए, जीजू ने मेरे दोनों पैरों को फैला दिया और अपना मुंह मेरी चूत पर रख दिया. हमारे पास एक एक बैग था, तो हमने रूम में पहुंचते ही पहले वो बैग रखे और गेट बंद कर लिए.

फिर एक दिन रात को उसका फोन आया और वह बोली- आज आपके लिए कुछ खास तोहफा है. जब मैं उनके मोमे दबाता था और फिर सारा को लिप किस करता तो इससे मेरा लण्ड अंदर बाहर जाता रहा. अब आगे देसी गर्ल Xxx कहानी:फिर घर वापस आया, खाना खाकर जब सब सोने चले गए तो अब मैं भी निशा के रूम में चला गया और फिर से वैसे ही लेट गया.

बीएफ चोदा चोदी पिक्चर मैंने उसे नीचे उतारा और कहा- क्या तुम ठीक हो … और सॉरी तुम्हें मैं गिरने से नहीं बचा पाया. मैं खिड़की के सहारे बैठा था और रूबी आराम से मेरी गोद में सिर रखकर सो रही थी.

मारवाड़ी सेक्सी खुलेआम

मैंने बोला- ऐसा नहीं है मम्मा, आप सच में बहुत खूबसूरत हो … इतनी कि मैं आपसे शादी कर लूं. मगर उसकी इस बनावट में उसका शरीर बिल्कुल भी उसका साथ नहीं दे रहा था. उसने मेरा लन्ड पकड़ के अपनी चूत पे रखा और कहा- एक बार में ही पूरा का पूरा डाल दो!मैंने उसके पैरों को कंधे पे रख के एक ही बार में अपना पूरा लन्ड उसकी गीली चूत में घुसेड़ दिया.

तीसरे दिन रात नौ-साढ़े नौ का टाईम होगा, किसी ने मेरे फ्लैट की घंटी बजाई. सच कहूं तो मुझे ये सब करने में डर लग रहा था लेकिन मजा भी बहुतआ रहा था. एक्स व्हिडीओ सनी लियोनीतभी उसी के नीचे एक वीडियो की लिंक दिखने लगी जिसमें सुहागरात की बात लिखी थी.

अगर हां तो बोलना कि तुम्हें यहाँ पर देखने में कोई मुश्किल आ सकती है तुम इसे अपने घर पर ले जाओ और रात को आराम से देखना, फिर कल वापिस कर देना.

अंकल ने बोला कि मेरे औजार को तूने ही बाहर निकाला और सहलाया था, तो अब कोई फायदा नहीं है. कल्पना भाभी ने अपने हाथ से मेरा हाथ पकड़कर अपनी बुर पर रखते हुए कहा- यहां.

उसने मेरे कंधों को पीछे से पकड़ा और अपनी कमर नीचे कर लिंग से मेरी योनि टटोलने लगा. सलोनी- रियली? ऐसा क्या देखा आप ने मेरे में जो किसी ने नहीं देखा? और आपने देख लिया? आप झूठ बोल रहे हैं. साली दोनों इतनी बड़ी रंडी थीं कि अपनी ड्रेस भी उनके सामने ही चेंज करती थीं.

मेरी सबसे क्लोज एक ही सहेली है नीलू, उसको बुला कर मैंने बोला- नीलू मुझे आशीष से प्यार हो गया … और ऐसा सब हो रहा है.

मुझे तो वो शुरू से ही अय्याश लगता था एक तो वो हमेशा बियर पीने के लिए बार में जाता था. मैंने सच में उससे इस वक्त भी यही झूठ बोली, तब वह और मुझे कस के पकड़ के रगड़ने लगा. जब मैं बाहर आया तो सुषी ने अपने कपड़े पहन लिये थे और वह मुझसे जाने के लिए कहने लगी.

ब्लू पिक्चर ब्लू पिक्चर बीपीदेखते ही देखते मेरे हाथ उसके स्तनों पर चले गये और उनका मर्दन करने लगे. फिर मैंने लंड आधा बाहर निकाला तो सरिता की चूत से चूतरस बाहर बहकर उसकी जांघों पर बहने लगा था.

हिंदी में सेक्सी बीएफ चाहिए

रिया के घर में कोई नहीं था तो वो मेरे घर चली आई और हम दोनों ने साथ में लंच किया. इससे पहले मैं कुछ कह पाता वह बोली- मैं तुम्हारे दोस्त से प्यार करती हूँ. करीब 5 मिनट से ज्यादा वक्त तक मेरे होंठ आशीष के होंठों से मिले रहे.

मैंने पूछा- क्या हुआ?सोनू कहने लगी- आज जिंदगी में ऐसा पहली बार हुआ है. झड़ने के बाद मैंने देखा कि भाभी के चूतड़ों के नीचे पूरा पानी पानी हो रखा था. अंकल जी ने मेरी चोटी पकड़ कर खींच ली जिससे मेरा मुंह ऊपर की ओर हो गया और वे मुझे पूरी शक्ति से चोदने लगे.

उसकी बड़ी बड़ी आंखें थीं, पूरे 6 फिट लंबाई और मजबूत कसरती शरीर का सांड जैसा लगता था. बस फिर मैंने अपने हाथ उसके मम्मों पे रखकर थोड़ा सा धक्का मारा, तो मेरे लंड का टोपा उसकी चुत में घुस गया था. सर बोले- किसी को भी मतलब?मम्मी बोलीं- मतलब जैसे अगर मेरे जैसी औरत आपको मिले, तो आप मुझे भी प्रेग्नेंट कर दोगे.

कुछ देर तक मैं उनकी जांघों को चूमता रहा, जिससे कभी कभी गुदगुदी के कारण कल्पना की हंसी निकल रही थी. मैंने भाभी का हाथ पकड़ते हुए कहा- भाभी, पहले हमसे तो रंग लगवा लो, फिर नहा लेना.

मुझे पता था कि एक बार अगर किसी औरत के बदन में आग लग जाए, तो लंड लिए बिना नहीं बुझती.

लंड का कुछ माल जागृति मेम के हाथ पर लग गया था जिसे उन्होंने चाट लिया. डॉक्टर बीएफ सेक्सीअभी इसके थोड़े दिन पहले करीब चार-पांच महीने पहले हुआ था, जब मैं लेट्रीन करने अपनी कजिन सिस्टर के साथ गई थी. ப்ளூ ஃபிலிம் திரைப்படம்कल्पना ने अंजान बनते हुए पूछा- किसकी सिकाई?मैं- जहां आपको दर्द कर रहा है. ज्यादा देर न करते हुए मैंने उसकी चूत के ऊपर अपना लंड रखा, तो वह लंड के आगे अपना दबाव बनाने लगी.

मैंने किस कुत्ते की तरह पहले तो उनके पूरे जिस्म को अच्छी तरह से नाक से सूँघा, फिर अपनी जीभ से उनके पूरे जिस्म को चाटने लगा था.

अब मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ और मैंने सुषी को वापस बेड पर गिरा लिया और उसकी चूत को फिर से चाटने लगा. उसका तो मन रुककर आपसे मिलने का था, पर शादी की डेट भी नजदीक आ रही है और काम बहुत ज्यादा है. प्रिया- हां भैया … दिखाओ मत, पूरा डाल दीजिए इसे … और खूब प्यार रगड़ दीजिए मुझे!मैंने प्रिया की दोनों टांगें खोलीं और उसकी चूत की फांकों में लंड सुपारा फंसा कर धक्का दे दिया.

उसी समय इंग्लिश मीडियम वाले सेक्शन में एक लड़की पढ़ती थी, जिसका नाम अनु था. किस बात का वहम हुआ था मुझे आप सब भी समझ ही गए होंगे!जैसे ही मैं मुड़ कर जाने को हुआ तो मुझे एक चीख जैसी आवाज सुनाई दी. शायद अकेली होने का भय, रिजर्वेशन न होना आदि के कारण परेशान लग रही थी.

ब्लू फिल्म दिखाओ नई

मेरे घर से थोड़ी दूर पहले मैं स्कूटी के ब्रेक नहीं लगा पाया और मेरी एक सामने से आ रही कार की टक्कर हो गयी. मैं नहीं चाहता था कि अजय मीना के सामने आये और अजय को देख मीना बिना चुदे ही चली जाए. आह्ह … उईई … माँ … आह्ह … आहह … ओह्ह!दर्द के साथ-साथ मैं तीनों लंड एक साथ लेने का अहसास भी कर रही थी जो मुझे मजा भी दे रहा था.

मेरा सेक्स करने का मन तो इतना ज्यादा है कि बिना सोचे समझे किसी अंजान मर्द के साथ मैं लेटने को आ गई हूं.

नम्रता- वो कैसे?मैं- जब भी आप कहें …नम्रता- ठीक है, देखते है, ऊपर वाला मेरी इच्छा कब पूरी करता है.

प्रिया मस्त होने लगी- आआह … आआहह … भैया … और तेज … और अन्दर … आआअहह … कस के चोद दीजिए मुझे आज … बहुत बड़ा लंड है आपका … अहह. हम सबने कहा- हैप्पी बर्थडे!अंकल का तूफानी लौड़ा मेरी मम्मी की चूत में अन्दर तक घुस गया. फुल एचडी बीएफ फुल एचडी बीएफमैंने अजय को बोला- शाम को देखते हैं, तुम ड्रिंक्स का और म्यूजिक का इंतजाम करो.

मेरे परिवार में मैं, मेरे पापा और मेरी मां, मेरे बड़े भैया, भाभी और एक बहन भी है जिसकी शादी हो गई है. अब मैंने अपने हाथ आगे करके उनके मम्मों को ज़ोर से दबा दिया तो उन्होंने मेरे हाथों को दूर हटाकर चादर से बाहर निकाल दिया. उसके बूब्स हमेशा तने हुए रहते थे और उसकी गांड बाहर की तरफ निकली हुई रहती थी.

अब यह क्रम रोज ही चलने लगा, ये अंकल जी मुझे भा चुके थे और मन ही मन मैंने तय कर लिया था कि मैं अपनी चूत की सील तो इन्हीं अंकल जी से तुड़वाकर चैन की सांस लूंगी. नम्रता- पता नहीं मेरे बारे में आप क्या सोचेंगे?मैं- सेक्स के मामले में मैं बिन्दास हूं वैसे भी!नम्रता- मैं भी.

कुछ देर बाद जब वह नॉर्मल हो गई तो उसके बाद मैंने लंड को बाहर निकाला.

मेरी बाइक स्पोर्ट बाइक होने की वजह से उसकी पिछली सीट ऊपर को उठी थी, जिससे रिया मुझ पर झुक कर बैठी थी. मैं शाम को तैयार हो कर उनके बताए हुए पते पर पहुँचा, तो उनका घर तो देखने में किसी महल के जैसा दिख रहा था. यह तो डबल सुरूर था, एक तो रानी की बहती हुई चूत का रस और दूसरी उसकी उंगलियां.

एक्स मूवी पिक्चर लेकिन आशा भाभी की चूचियां मेरी चूचियों से बड़ी हैं, तुम इन पर कम ध्यान देते हो!राशि एक ही साँस में बोल गई. इस पोजीशन में बैठे-बैठे मैंने सोनू को उठाया और खड़ा होकर अपने लंड पर टांग लिया.

वो बोली- अगर पैसे ही खर्च करने हैं, तो अपने आप अपनी पसंद से ले आना … मैं ले लूँगी. भाभी ने मुझे बिठा कर पूछा- क्या हुआ था?मैंने बोला- कुछ नहीं, वो बहुत दिनों से वर्काउट नहीं हुआ है, तो नस पर नस चढ़ गयी थी. मीरा तो पहले से इतनी गर्म हो चुकी थी कि रितेश के 3-4 मिनट चाटने से ही वो एकदम से झड़ गयी.

बीएफ काजल राघवानी का

यह सुन कर वो हवस से मुस्कुराने लगीं और उन्होंने अपनी टांगें किसी रंडी की तरह ही खोल दीं. मैंने उससे पूछा- क्या पूरा दिन आरती की चूत चोद कर तुम्हारा दिल नहीं भरा?वो बोला- नहीं यार, यह लंड साला चुदाई के बाद भी खड़ा रहता है. पापा ने दो-चार धक्कों के बाद मेरे चूचों को अपने हाथों में थाम लिया और उनकी गति धीमी पड़ती चली गई.

मुझे सर की हरकतों से कोई ऐतराज नहीं था, मुझे तो सिर्फ पिंकी की ओर से डर और शर्म थी. लेकिन कल जब तुमने मुझसे कहा कि तुमको किसी से प्यार हो गया है, तो मुझे उस वक्त आग लग गई थी.

मैंने सोनम को थैंक्स कहा और उस पल से इतनी खुश हो गई कि मेरी रात करवट बदलते सपनों में खोए हुए गुजर गईं.

मेरे पापा का लंड दीपक के लंड की तुलना में मोटा भी अधिक था जो मेरे मुंह में भी ठीक ढंग से नहीं आ पा रहा था. मैंने ना में मुंडी हिलाई, तो बोला- साली नाटक करती है, खोल मुँह और चूस मेरा लौड़ा!वो जबरदस्ती मेरा मुँह खुलवाने लगा, पर मैंने नहीं खोला, कसकर दांत पीस कर बन्द कर लिया. आपको मेरी ये कहानी पढ़ कर मजा आया या नहीं? कुछ कहना हो, तो प्लीज़ मुझे ईमेल करें.

फिर एक दिन मम्मा ने मुझसे बोला- काश तू पहले ही इतना बड़ा हो गया होता तो मेरी को चूत लंड के लिए इतना तरसना नहीं पड़ता. तू किसी से कुछ मत कहना नहीं तो मैं किसी को मुंह दिखाने के लायक नहीं रहूंगी. आज आशीष पहला लड़का हुआ मेरी जिंदगी का, जिसने मेरे होंठों को ऐसे चूमा कि मैं उसी की हो गई.

जिन लोगों ने इस आसन में चुदाई की है उनको पता है कि इस आसन में चुदाई करने का अपना अलग ही मजा होता है.

बीएफ चोदा चोदी पिक्चर: हाय दोस्तो, मैं प्रतिभा, चुदाई की कहानियां आपको बहुत पसंद है, मैं इस बात को भली भांति जानती हूँ. फिर साथ ही ये सोच कर डर भी लग रहा था कि अगर मैं उसको गर्म करने में कामयाब न हो पाया और उसने किसी को मेरे बारे में बता दिया तो क्या होगा? मेरी तो बदनामी हो जायेगी पड़ोस में.

बीस मिनट बाद जब मैं झड़ने वाला था, तो भाभी बोलीं- लंड बाहर निकाल लो. काफी देर तक चुदाई होने के बाद निशा अपने हाथ से इशारा करने लगी कि वो शांत होने वाली है पर मैं उसकी बात समझे बिना उसकी चुदाई किए जा रहा था. इतना कहकर मैंने धीरे-धीरे संगीता की चूत में अपने लंड को धकेलना शुरू किया.

मैंने उसे पूछना सही समझा- अमीषी तुम्हारी कोई बात … जो नहीं करनी हो?वो बोली- आज आप हर तरह से फ्री हो बाबू.

एक दिन मुझे उसका मैसेज जीमेल पर आया कि ‘हैलो अगम मैंने तुम्हारी कहानी पढ़ी और मुझे काफी अच्छी लगी. मेरे दिमाग में सबसे पहले चाचा का ही ख्याल आया कि वह रोहित को ढूंढने में मदद कर सकते हैं. उन्होंने कहा- देवर जी, अभी इतना मज़ा आया है, तो आगे चुदाई में कितना मजा आएगा.