हिंदी चुदाई वाली बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो बीएफ चाइना

तस्वीर का शीर्षक ,

का सेक्सी पिक्चर: हिंदी चुदाई वाली बीएफ, अब फच्च फच्च फच्च की आवाज आने लगी।बुआ बोली- राज, तेरा लंड तो कमाल है.

सिरोही बीएफ

उनसे लड़कियों और महिलाओं के गर्भाशय को नुकसान ना पहुंचाने के लिए प्रार्थना है. जबरदस्त बीएफ एचडीमैंने आंटी को लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़कर गालों को चूमा … फिर होंठों को चूमने लगा.

जया चाची को बता देगी तो क्या होगा?उसके बाद दो दिन तक मैं उसके घर नहीं गया. अफ्रीका के बीएफ वीडियोअब मैंने उनको डॉगी के पोज में खड़ा किया और उनके चूतड़ों के बीच से चुत में लंड पेलने लगा.

[emailprotected]देसी नंगी भाभी की कहानी का अगला भाग:ममेरी भाभी की शानदार गांड मारी- 2.हिंदी चुदाई वाली बीएफ: पिछले भागपड़ोसन चाची को लंड चुसायामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं चाची को चुदासी हालत में छोड़कर अपने घर आ गया था.

लेकिन मैंने पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया जिससे पेटीकोट उसकी चिकनी जांघों पर से फिसलता हुआ उसके कदमों में जा गिरा.मैं चेयर पर बैठा हुआ था और उनकी गर्म सांसों को अपने कानों के पास महसूस करने लगा.

सेक्सी फिल्म हिंदी सेक्सी बीएफ हिंदी - हिंदी चुदाई वाली बीएफ

मैं उसके ऊपर लेट गया और मैं पागलों की तरह उसके पूरे शरीर को चूमने लगा, उसकी चूचियों को दबाते हुए पीने लगा.मेरी पिछली कहानी थी:नागरिकता के लिए बुढ़िया को चोदा[emailprotected].

इस पर मैंने भी साक्षी से कहा- मैं भी तुम्हारे बूब्स का दूध पीने के लिए बेताब हूं. हिंदी चुदाई वाली बीएफ यह बात मैं फैंक नहीं रहा हूँ, बल्कि मैंने खुद भी इस बात को कई बार परखा है.

हेमा चाची हंसी और बोलीं- चिंता मत करो … तुम्हारे चाचा जरूरी काम से गांव गए हैं और वो रात तक ही आएंगे.

हिंदी चुदाई वाली बीएफ?

हाय दोस्तो, मैं आपकी अंजलि एक बार फिर से फ्री सेक्स कहानी पर आपके सामने एक नई कहानी लेकर हाजिर हूँ. [emailprotected]चुत के चुदाई कहानी का अगला भाग:मैंने रंडी बन कर गैंगबैंग करवाया- 2. हमारा एक कमरा छत पर बना हुआ था जिसको हम स्टोर रूम की तरह इस्तेमाल करते थे.

मैंने बाहर निकल कर भाभी से कहा- मेरे बाथरूम में पानी नहीं आ रहा है. देखने में ऐसा लग रहा था जैसे किसी नवजात के लिए दूध की एक बहुत ही खूबसूरत बोतल को तैयार किया गया हो. मैं आ गयावो दरवाजा बंद करते हुए बोली- तुम बैठो, मैं चाय लेकर आती हूं.

अब गपागप गपागप लंड चूत के अंदर बाहर करने लगा।मैंने मामी को घोड़ी बनाया और अपना लौड़ा उसकी चूत में डाल दिया और तेज़ तेज़ लंड से झटके मारने लगा।मामी अपनी गांड को आगे पीछे करने लगी और लंड लेने लगी. दीदी ने पूछा- क्या हुआ?तो मैंने उनसे झूठ बोला- मेर पैर मुड़ गया और मैं चल नहीं पा रही. वो फिर से एकदम से गुस्सा हो गईं और बोलीं- जाओ मुझे कुछ रिपेयर नहीं करवाना है.

मैं बोली- सिर्फ मेरे ही कपड़े उतारोगे या खुद के भी उतारोगे?मेरे कहते ही तीनों ने जल्दी से उठकर अपने पूरे कपड़े उतार दिये और फिर राज खड़े खड़े मुझे किस करने लगा. मैं आशा करता हूँ कि आपको मेरी ये गाँव में चुदाई की कहानी बहुत पसंद आई होगी.

अबकी बार साहिल ने फिर से रागिनी की चूत में ताबड़ तोड़ हमला करना शुरू कर दिया.

आंटी ने मेरी आंखों में देखा और उनके चेहरे की वासना मुझे अन्दर तक आंदोलित कर गई.

कुसुम अब सोच में पड़ गई।बाबा- एक समाधान मेरे पास है। तुम मां भी बन जाओगी और किसी को कुछ पता भी नहीं चलेगा।कुसुम हाथ जोड़ कर बोली- बाबा तो बता दो. मैं भी ऐसी ही किसी चूत की तलाश में था जिसको चोदने का परमिट उसी की तरफ से मिला हो. मैंने उसके निप्पल्स को देखा और अपनी उंगली की चिमटी में उसके निप्पल को जोर से खींचा.

यह सुनकर हेमा चाची उदास हो गईं और बोलीं- भास्कर एक बार और सेक्स करते जाओ … फिर चले जाना. मैं- अरे यार तुम मेरे दोस्त के सामने भी ट्रांसपेरेंट नाईटी पहन लेना मुझे कोई परेशानी नहीं है. आज भी मैं उस पल को याद करता हूँ।दोस्तो, आपको ये पहली बार सेक्स की स्टोरी कैसी लगी? मुझे ईमेल करके जरूर बतायें।मेरा इमेल है[emailprotected]धन्यवाद।.

वो ही करता है सब!मां- बाबा ले, मैं तेरे लिए खाना लाई।बाबा ने वो खाना रखवा दिया और बोला- माई अब इसकी शादी कर दे कोई अच्छा सा लड़का देख के!मां- हाँ बाबा, शादी तो पहले ही कर देते.

अब उसने अम्मी को बेड पर लिटा दिया और उनकी टांगों को पकड़ कर खींचते हुए अपनी तरफ किया और उनकी टांगों को फैला कर उनकी मस्त चिकनी चुत पर अपनी जुबान रख दी. मैंने अपने लंड को वहीं पर रोक कर पहले ज्योति के दोनों चूचे कस कर दबाये. मकान मालकिन बोल रही है कि घर खाली कर दो।वो रोते रोते मेरे सीने से लग गई।उसकी चूची टाइट थी, मेरे सीने में दब गई।मैं बोला- बुआ, रूम का किराया मैं दे दूंगा।और बुआ की पीठ पर हाथ फेरने लगा।बुआ के गर्म जिस्म से अब धीरे धीरे मेरे लौड़े में करंट आने लगा।बुआ ने कोई जवाब नहीं दिया तो मैंने अपने हाथ से उसकी गान्ड दबा दी.

उसने मेरी तरफ देख कर पूछा- हां कहिए?मैंने उससे कहा कि मैं बिजली का काम करने आया हूं. मैं नंगी ही उसकी बांहों में थी और वो चलते हुए मेरी चूचियों को मुंह में लेने की कोशिश कर रहा था. 10 मिनट तक वो बिना रुके चूसती रही और लंड को पूरा गले तक ले जाती थी.

अब मैं बस पेटीकोट और ब्लाउज में थी उसके सामने!वो नीचे होकर मेरी नाभि ने अपनी जीभ घुसा कर चाटने लगा.

मेरी बीवी- आह आह … अमित और जोर से चाटो … अन्दर तक घुसा दो जीभ अपनी. उन्होंने एक बार मेरी ओर देखा और फिर दोबारा से स्क्रीन पर देखने लगे.

हिंदी चुदाई वाली बीएफ एक रात में मैं सोने के लिए गया तो दीदी अपनी साड़ी उतार रही थी। उन्होंने फिर ब्लाउज उतार दिया. उसने कहा- तुम तो ऐसे घबरा रहे हो जैसे मैंने तुमसे गर्लफ्रेंड का नाम पूछ लिया हो तुम्हारी!अब मुझे इस बात का दुख आ गया और मैं बोला- तुम भी मज़ाक उड़ा लो.

हिंदी चुदाई वाली बीएफ पहले पहल तो ज़ायना कुछ शर्मा रही थी, मगर तभी मैंने पैंट की जिप खोल कर लंड सामने कर दिया. अलीमा ना नुकुर करते हुए कुछ देर बाद राजी हो गई और बलविंदर उसके चूचों को बड़े प्यार से चूसने में लगा गया था.

तो एक दिन ऐसे ही मैं शाम को जब छत पर टहल रहा था तो चाची भी आयी।चाची के आते ही मैं नीचे जाने लगा तो चाची ने मुझे रोक लिया.

जापान सेक्सी दिखाओ

मैं बोला- हां भाभी, इसमें इतना पूछने की क्या बात है?भाभी- ठीक है, तो फिर तुम्हारे ही रूम में चलो. उसने मेरी तरफ देख कर पूछा- हां कहिए?मैंने उससे कहा कि मैं बिजली का काम करने आया हूं. इस तरह से मकानमालकिन आंटी की बेटी की चुदाई करके मैंने पूरा मजा लिया.

वो दर्द से कराह रही थीं और गाली देने लगी थीं- आआआह … कमीने फाड़ दी मेरी गांड … अभी तक मेरे शौहर ने भी नहीं छुई थी. फिर घर से निकल कर मैंने साहिल की बताई जगह पर पहुंच कर उसको फ़ोन किया. मैंने अपने घर की सारी लाइट बंद की और ताला बंद करके जैसे ही मैं घर के बाहर निकला, तो मैंने देखा कि पूरे मोहल्ले में कोई नहीं था.

इस बार मेरा लंड दीदी की चूत को फाड़ता हुआ पूरा अंदर घुस गया।दीदी को और भी ज्यादा दर्द हुआ तो वो चिल्लाने लगी और बोली- साले तेरी बहन का भोसड़ा, बहनचोद … बोला था न मैंने कि धीरे से करना। बाहर निकाल उसको मादरचोद … दर्द हो रहा है।मैंने कहा- कुछ नहीं होगा 2 मिनट इंतज़ार करो.

उसी शाम लगभग 5:00 बजे रमेश ने मेरे नंबर पर फोन किया और बताया कि रूबी घर में अकेली है, उसके आसपास के घर में भी कोई नहीं है, तो आप या भाभी जी एक बार उसके पास जाकर बता देना कि कोई जरूरत हो तो फोन कर ले. तभी जय एकदम से खड़ा हुआ और मेरे पीछे आकर मेरी गांड पर एक थप्पड़ मारते हुए बोला- मस्त गांड है तेरी. तब ये मस्त लौंडा कौन है?मैंने राजसी को बताया कि ये मेरे एक रिश्तेदार का लड़का है.

कुछ देर बाद साहिल रागिनी को छोड़ मुझे घोड़ी बना कर मेरी गांड पेलने लगा. वो गुस्सा हो गयी और बोली- अब क्या खेल रहा है साले? जल्दी से डाल दे ना!ऐसा बोलते ही मैंने अपना लंड उसकी चूत में डालना शुरू कर दिया. मगर भानू के लंड को चूत का स्पर्श मिल चुका था और अब उसको रोक पाना नामुमकिन था.

तो सब उनको भूत सम्मान देने लगे और उनको मंदिर में ले आए।मंदिर के पीछे एक पुराने घर में उनके रहने का इंतजाम कर दिया गया।अब तो बाबा के पास गांव के बहुत मरीज जाने लगे।बाबा कुछ का कुछ इलाज कर देते. वो आकर कहने लगी कि उसकी मां ने कहा है कि राज के साथ मिलकर बिल्डिंग का किराया ले लेना.

दी भी मजे से प्रतीक का लण्ड जीभ लगाकर चूसने लगी।इतने में मैंने अपनी टीशर्ट और अपनी जीन्स उतारी दी।दी प्रतीक का लौड़ा चूसते हुए मेरा लण्ड पकड़ कर हिलाने लगी. अब अर्पित ने आंटी के बूब्स को अपने हाथों में थाम लिया और उनको दबाने लगा. ठाकुर ने उसकी आंखों में देखा तो वो मस्ती से ठाकुर साब को देखने लगी.

अनमोल की बात सुनकर मैं भी उत्साहित हो गया कि देखूंगा मैं भी कि कैसे मेरी बहन रंडी बनी है और वो मेरे चारों दोस्तों के साथ क्या क्या करती है.

अगले दिन सुबह मैं जल्दी उठ गया और जल्दी जल्दी तैयार होकर घर से निकला. लैंड से चुदाई की कहानी में पढ़ें कि एक कमरे में चार लंड दो चूतों को चोदने के लिए मचल रहे थे. कुछ दवाएं और एक इंजेक्शन लगने के बीस मिनट बाद शबाना मेरे साथ बाहर आ गई और हम लोग घर जाने के लिए निकलने लगे.

फिर मैं बोली- ऐसे गाली मत दे उनको, टीचर है वो!वो बोला- तुझे बड़ी लगी हुई है उसकी इज्जत की?मैंने कहा- तो ठीक है, और गाली दे … अगर उसने सुन लिया तो तेरी खैर नहीं. मैंने पूछा- अंकिता इसके आगे का क्या प्रोग्राम है?तो उसने बस स्माइल की और कुछ नहीं कहा.

[emailprotected]हॉट वाइफ सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी सेक्सी बीवी की चुत चुदाई की हवस- 2. मैं उन्हें देख रहा था कि उनकी झीनी सी साड़ी से उनके दूध साफ़ दिख रहे थे. उन्होंने मुझे देख कर स्माइल दी और हम दोनों वहीं पर खड़े होकर बातें करने लगे.

कॉलेज की सेक्सी लड़कियों का वीडियो

अगले ही पल साहिल को याद आया कि वो अपने आफिस में है और दरवाज़ा खुला है जहाँ पर कोई भी आ सकता है.

सेक्सी बुआ की वासना की कहानी में आज मैं आपको अपनी जीवन में हुई इस खास चुदाई के बारे में बताने जा रहा हूं. जिम इन्स्ट्रक्टर जो कि मस्त बॉडी वाला होता है, वो किसे पसंद नहीं आता है. मैं उसे अपने गदराए, मखमली और उभरे हुए स्तनों को दिखा कर ललचाने लगी।कुछ देर तक मुझे निहारने के बाद उसका लन्ड में कुछ हरकत होने लगी; जिसको वो हाथ से सही करने लगा.

अगर किसी भी पाठक या पाठिका के साथ ऐसा हुआ हो कि वो रोमांस कर रहे हों और अचानक से किसी कारण उनको अलग होना पड़ा हो तो मुझे ज़रूर बताना कि कैसा लगता है उस वक्त!फिर उसके नीचे जाने के बाद मैं भी नीचे गया. मैंने कहा- बस अभी शांति मिल जाएगी मेरी जान … अब तो मैं तुम्हारा दूसरा शौहर हूं. डॉग कुत्ता बीएफइस बार अलीमा खुलकर बोली- पहले एक बार चोद दीजिए ना!बलविंदर को ये सुनकर बहुत खुशी हुई कि चलो अब लौंडिया खुल कर लंड मांग रही है.

उसको कुछ ज्यादा ही दर्द हो रहा था, तो मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया. ये बात मोना के माध्यम से मुझ तक आई, तो मैं तुरंत राजी हो गया और उस महिला से मिलने जाने का पक्का कर लिया.

अन्तर्वासना2 सेक्स कहानी के पिछले भागइंस्टीट्यूट में बांके जवान लड़के का लंड चूसामें आपने पढ़ा कि मैंने अपने इंस्टिट्यूट के स्टाफ के लड़के को पता कर उसके साथ सेक्स का मजा लेना शुरू कर दिया. फिर फोन पर ही वो रोने गिड़गिड़ाने लगी और कहने लगी- अर्जुन ऐसा मत कर. यह जयपुर की एक प्रसिद्ध जगह है, यहाँ पारम्परिक राजस्थानी भोजन मिलता है.

फिर मैंने उसके चूचे पकड़े और घपाघप चूत चोदने लगा।कुछ देर बाद वो झड़ चुकी थी. मैं दरवाजे की तरफ बढ़ गया और मैडम ने अपनी साड़ी को अपने जिस्म पर और भी कस लिया. बलविंदर इस समय ये भूल गया था कि वो बाथरूम में अलीमा की बुर के बाल बनाने के लिए आया था.

वो बोली- सच बताओ कि हम दोनों में से तुम्हें किसकी चुदाई करने में मजा आया?मैं बोला- कल्पना, तुम लंड बहुत अच्छा चूसती हो.

उनकी मालिश करते करते मेरा पल्लू मेरे ब्लाउज से हटा हुआ था, पर वो कमर से निकल कर जमीन पर गिर गया था, मैंने उसे ऊपर नहीं किया. मैं सिलेंडर लेकर अंदर गया और किचन में जाकर नया वाला सिलेंडर लगा दिया.

सलमान- और क्या फटेगी?अम्मी- और क्या फटेगी … मैं समझी नहीं?सलमान अम्मी की चूची को मसलता हुआ बोला- और तेरी गांड भी फटेगी मेरी जान. क्योंकि जो काम प्यार से हो रहा था, वहां पर जबरदस्ती करने की क्या जरूरत थी. लेकिन इससे वाशी जाग गई और मेरी तरफ देखने लगी।मैं बहुत डर गया और खड़ा हो गया.

लंड चुसाई के बाद मैंने उसको उठाकर बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया. उसकी चूत का छेद खुल-बंद हो रहा था और मुझे ये देखकर और ज्यादा जोश आ रहा था. मैंने उन्हें अपनी बांहों में भर लिया और कहा- अरे तो इसमें रोने की क्य़ा बात है.

हिंदी चुदाई वाली बीएफ मॉम सन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि अपनी मम्मी को किसी गैर मर्द चुदते हुए देखने के बाद अब मैं भी उसकी चूत मारना चाहता था. मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो बोली- मैं कितनी किस्मत वाली हूं; मेरा भतीजा मुझे चोद रहा है। और चोद … आज अपनी बुआ की फुद्दी फ़ाड़ दे!मैं और जोश में आ गया और नंगी बुआ की चूत में झटके पे झटके लगाने लगा.

ओपन इंडिया सेक्सी

साहिल कुछ काम कर रहा था।मैंने जाते ही कमरे को अंदर से बंद कर दिया और मैं साहिल की बांहों में चली गयी. लेकिन जवान लड़की की चुदाई कहानी शुरू करने से पहले मुझे अपना परिचय देना चाहिए।मेरा नाम मीत है। नाम बदल दिया गया है. इसी बीच मैंने साहिल को मुझे काम करते समय मेरी गांड और मेरे झुकने पर मेरी चूचियाँ ताड़ते हुए देखा।सब काम हो गया था.

तभी अलीमा की चुत का पानी छूटने पर आ गया और वो अपने पहले स्खलन के चलते एकदम बेसुध हो गई. शुभम फ़ोटो क्लिक कर रहा था उन दोनों का। वीडियो भी बना रहा था।शुभम: वाह … टैक्सी, तू तो नंगी होकर एकदम बवाल लगती है,अंजलि: आह्ह … और जोर से चाटो, खा जाओ मेरी चूत को!ऐसा कहते हुए वो आदित्य के मुंह में झड़ गयी और आदित्य ने बहन को बेड पर उल्टा पटक दिया. इंडियन हिंदी बीएफ हिंदी बीएफदो दिन के बाद तो मैं अपने घर को लॉक करके उसके घर ही रहने के लिए चला गया.

ये बात मोना के माध्यम से मुझ तक आई, तो मैं तुरंत राजी हो गया और उस महिला से मिलने जाने का पक्का कर लिया.

मगर उसकी चूत को चोदने का जैसे भूत सवार था मुझ पर … इसलिए समझा बुझाकर मैंने रीति को शांत करवा दिया. उस दिन रेलवे स्टेशन पर बहुत ज्यादा भीड़ थी क्योंकि उस दिन शहर में कोई धार्मिक आयोजन था.

ये वही बूब्स थे, जिनकी वजह से ही मैंने सुलेखा पर पहली बार ध्यान दिया था. तभी सलमान ने फिर से लंड को धक्का मारा और इस बार उसका पूरा लंड मेरी अम्मी की चुत में जड़ तक घुस गया. उसके रसीले होंठ ऐसे कि अगर इसके मुँह को भी चोदूं, तो सालीचूत का मजादेगी.

गरम औरत चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे एक औरत मुझे पता कर होटल रूम में ले गयी.

इसी के साथ मुझमें चुदाई के दौरान काफी देर तक लगे रहने के कारण आज तक मैंने सबको उनकी डिमांड से ज्यादा संतुष्ट किया है. मेरे बूब्स पर गिरा दो।मैंने लन्ड उसकी चूत से निकाला और उसके बूब्स के पास ले गया. मंजू के हाथ बरबस ठाकुर की पीठ पर आ गए और वो हांफते हुए उसे सहलाने लगी.

हरियाणा बीएफ हरियाणा बीएफमैंने अपने लंड पर थूक लगाकर उसकी चूत पर सैट किया और हल्के से उसकी चुत में लंड ठेल दिया. इस लॉकडाउन के दौरान ही हॉट पड़ोसन रूबी ने अपनी 2 पड़ोसनें पूनम और सुनीता को, जो कि उसकी सहेलियां थीं, उनको भी मुझसे चुदवाया.

फ्री सेक्सी वीडियो सेक्सी

मैं चाह रहा था कि पूरा लंड एक बार में ही घुस जाये क्योंकि धीरे धीरे करके चोदने में तो उसको बहुत दर्द होने वाला था. बात है 3 साल पहले की जब आदित्य को पहली बार मैंने हवस की नजर से अपनी ओर देखते हुए पाया था. मैं उनके ऊपर 69 के पोज में चढ़ गया और उनकी चुत को चड्डी के ऊपर से ही सूंघा.

मैंने उसको पीछे से पकड़ लिया और उसके बाल एक तरफ करके उसकी गर्दन पर किस करने लगा और चाटने लगा. सच में उन सबके लंड देखकर मुझे और ज्यादा उत्तेजना होने लगी थी मेरी गांड में खुजली बढ़ गई थी. यहां खड़े खड़े ही चोदेगा क्या?फिर मैंने भाभी को कमर से लिपटे हुए ही ऊपर उठाया और लंड अंदर घुसे हुए ही बेड पर गिरा दिया.

वो बोली- नहीं … पीछे नहीं।मैंने लंड को मामी के मुंह में डाल दिया और झटके मारने लगा. प्रीति ने अपने होंठ दांतों में दबाए रखे थे ताकि तेज आवाज बाहर न निकले. तो शायद हम दोनों एक दूसरे की इस कमी को पूरा कर सकते हैं।मेरी इस बात पर उसने मुस्कुराते हुए कहा- तुम मुझे चाची कहते हो और अपनी चाची की ही बुर को चोदना चाहते हो?मैंने कहा- सिर्फ बुर नहीं, मैं तो अपनी चाची की बुर और गांड दोनों चोदना चाहता हूँ। आपको पता नहीं चाची कि आप क्या चीज़ हो।इन कामुक बातों से चाची की सांसें थोड़ी भारी होने लगीं.

वो बोली- तुम ये लगाकर मुझे बच्चा करोगे?मैं बोला- तुम भरोसा रखो, तुम्हें बच्चा करना मेरी जिम्मेदारी है. उसके जिस्म से आती परफ्यूम की महक ये जता रही थी कि मानो सामने सुलेखा नहीं … कोई गुलाब का फूल हो.

मेरे परिवार में मैं, मेरी बड़ी बहन सुमन, पापा-मम्मी और एक छोटा भाई अरुण रहते हैं.

ये सुनकर मैं बहुत खुश हुआ और फिर मैंने उंगली करने की स्पीड बढ़ा दी. बीएफ पुरानी पिक्चरबलविंदर सोच रहा था कि कुछ इस तरह से चुदाई का आगाज हो कि अलीमा को ज्यादा दर्द भी ना हो और उसे मजा भी आ जाए. बीएफ चलता हुआ वीडियोमगर मैं ज्यादा देर बाहर खड़ी नहीं हुई क्योंकि बोर हो रही थी; इसलिए मैं अंदर घुस गयी. भाभी ने पूछा- तुम मुझसे झूठ क्यों बोल रहे थे कि तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

भाभी बोलीं- मैं खुद सोच रही थी कि ये बात करने में तुमको इतना टाइम क्यों लगा!मैं हंस कर बोला- मूड तो बहुत होता है, पर उसे कहां ले जाकर चोदूं, यही समझ नहीं आ रहा था.

मैंने कहा- जब आप लखनऊ आओ तो मुझे कॉल कर लेना।बाद में पता चला कि उसका घर लखनऊ में ही है।फ़ोन पर उस लड़की की आवाज़ बहुत अच्छी लग रही थी।दो दिन बाद वो जब लखनऊ आयी तो मुझे कॉल किया और फ़ोन लेने के लिए बुलाया।मैं उसका फ़ोन लेकर उससे मिलने को चल दिया।उसके साथ उसका भाई भी आया था तो ज्यादा बात नहीं हो पायी. भाभी ने मुझे आकर जगाया और कहा- क्या बात है देवर जी? रात भर प्रोग्राम चला है क्या?मैं बोला- नहीं भाभी, हम जल्दी ही सो गये थे. अगर आपने पहले दो भाग नहीं पढ़े हैं तो आप इस कहानी को शुरू से पढ़ें और देसी लड़की की चूत कहानी का मजा लें.

अब आगे की गरम औरत चुदाई कहानी:मैडम ने अपनी बांहें मेरी तरफ फैला दीं, तो मैंने भी उन्हें अपने आगोश में ले लिया और हम दोनों की चूमाचाटी शुरू हो गई. चम्पा- मालिक आपको कुछ चाहिए?ठाकुर- हां, मैं ले लूं?चंपा- हां मालिक सब आपका ही तो है. फिर मैं चली आयी।अब मैं बस मौका ढूढने लगी हर रोज़ आफिस जाने का!क्लास में किसी का भी काम होता तो मैं उसके साथ चली जाती.

देखने वाला सेक्सी वीडियो देखने वाला

मगर मैंने भी पार्न फिल्म्स बहुत देखी हैं और उसी का अनुभव आज काम आ रहा था. मैंने बाहर निकल कर भाभी से कहा- मेरे बाथरूम में पानी नहीं आ रहा है. मैं बोला- जब तक मेरा लंड दोबारा खड़ा होगा तब तक मैं तुम्हें रस्सी से बांध देता हूं.

मैंने उसके दोनों मम्मों को एक एक करके मुँह में भर कर चूसना शुरू कर दिया.

उसने एक बार तो निकलवाने की कोशिश की लेकिन मैंने थोड़ा जोर लगाया और चूत में उंगली करता रहा.

बाथरूम के फर्श पर वो दोनों एक दूसरे की बांहों में निढाल पड़े थे और ऊपर से शॉवर की बूँदें उन दोनों की गर्म साँसों को ठंडा करने का प्रयास कर रही थीं. हम अलग हुए और जब मैंने टाइम देखा तो हमें 2 घंटे से ज्यादा का वक्त हो गया था. एक्स एक्स बीएफ फिल्म दिखाओहालांकि हेमा चाची को भी इस बात का पता था कि मेरा लंड तना हुआ है और उनकी चूत के बराबर में लगा है.

फिर मैं नीचे लेट गया और एक बंदा मेरी ब्रा के ऊपर से ही मेरे दोनों मम्मों को दबाने लगा. काफी समय तक उसने मेरी गांड, मेरी जांघ मेरी पीठ पर अपनी जीभ को घुमाता रहा. थोड़ी देर चलने के बाद मैंने उससे कहा कि मुझे आप अपने रूम पर ले चलोगे तो वहां पर चार लोग मेरे साथ करेंगे क्या?उसने बोला- अगर तुम चाहो तो कर सकते हैं … नहीं तो मैं अकेला ही करूंगा.

मुझसे रहा न गया और मैंने पीछे से जाकर मॉम के गीले चूतड़ों पर लंड लगाते हुए उसकी ब्रा के ऊपर से चूचियों को भींचते हुए उसे बांहों में कस लिया. करीब 10 बजे किसी के बुलाने से मेरी आंख खुली, तो मैं उसे देख कर चौंक गया.

ये बोल वो आंटी मुस्कराने लगी और उन्हें अन्दर आने का इशारा करने लगी.

दी भी मजे से प्रतीक का लण्ड जीभ लगाकर चूसने लगी।इतने में मैंने अपनी टीशर्ट और अपनी जीन्स उतारी दी।दी प्रतीक का लौड़ा चूसते हुए मेरा लण्ड पकड़ कर हिलाने लगी. हम दोनों एक दूसरे से चिपके हुए बेतहाशा चुम्बनों का मजा ले दे रहे थे. फिर उनके ठीक पीछे उनकी गांड से खुद को चिपकाते हुए ट्रेन में चढ़ने लगा.

मां की चुदाई हिंदी बीएफ मेरे लंड को मैंने देखा तो वो मेरी लोअर के एक बड़े हिस्से को अपने प्रीकम से भिगो चुका था. वो फिर भी नहीं रुकी और मैंने उसके सिर को लंड पर धक्के देना शुरू कर दिया.

मैंने उसका सर पकड़ कर अपना लंडा उसके मुँह में डाल दिया और वो रांड की तरह मेरे लंड को मुँह में आगे पीछे करने लगी।उसके गले से गुं … गुं … की आवाज आने लगी. कुछ देर तक यूं ही चूचियां चुसवाने के बाद शबाना ने मेरे कान में कहा- पूरा मजा इधर से लेने का इरादा है क्या?मुझे एकदम से कुछ याद आया और मैं वासना से उसकी तरफ देख कर मुस्कुराते हुए नीचे की ओर सरकने लगा. चूत में माल निकालने के बाद मैं उसकी चूत में उंगली करने लगा और तेजी से चलाने लगा.

बिरियानी सेक्सी वीडियो

मैं भी उठ कर उनके पीछे गया और उनकी चूत में अपना लंड डाल कर तेज़ी से चोदने लगा।इस चुदाई के खेल को चलते हुए लगभग 15 मिनट हो चुके थे। मेरा लन्ड भी पानी छोड़ने वाला था. उसने मानसी को तैयार कर दिया और उससे बोली- नानी के घर जाकर उनको तंग नहीं करना. जब मैंने हाथ लगाया तो रागिनी ने साहिल के लोअर के बाहर उसका लन्ड निकाल लिया था और सहला रही थी।कुछ देर बाद मैं साहिल के पैरों की तरफ मुंह करके लेट गयी.

अर्पित- यार हर्षदीप, चल … आज कोई मूवी देखने चलते हैं।हर्षदीप- कौन सी मूवी देखने चलें? अभी तो कोई अच्छी मूवी भी नहीं लगी है।अर्पित- भाई, ‘बी. फिर हम 69 की पोजीशन में आये और एक दूसरे के सेक्स अंगों को मस्ती में चूसने लगे.

उसके बाद दी खड़ी हुई और हम दोनों को देखते हुए अपनी गांड मटकाते हुए ड्रेस उतारने लगी।दी की ये हरकत देखकर प्रतीक और मेरा लण्ड और ज्यादा तन गया।दी ने ड्रेस साइड में फेंकी और सोफे पर बैठ गयी।मैं अपना लण्ड हिलाते हुते दी के सामने खड़ा हो गया.

जब मोना ने चुदाई की बात मुझे नहीं बताई, तो मैंने मन ही मन सोचा कि अगर बच्चा हुआ, तो ठीक है. मैंने एक आंख थोड़ी खोल कर देखा कि भैया भाभी को खुद से एकदम चिपका कर सो रहे थे. कुछ देर तक वो ऐसे ही करती रही और फिर एकाएक उसकी चूत से ढेर सारा पानी निकलने लगा.

जिस पलंग पर रात को अमन के साथ मेरी चुदाई होने वाली थी, उस पलंग और रूम को मैंने सुहागरात जैसा सजाया था. चूत को मैंने हाथ से मसल दिया और उसकी चूत के बालों में उंगली फिराने लगा. मामा के मुंह से निकलती सिसकारियां बता रही थीं कि वो कितने आनंद में हैं.

वो ठंडी हवा मेरी साड़ी से होकर मेरी चूत में घुस रही थी और मेरे शरीर में एक अजीब से सनसनाहट होने लगी थी।साहिल अपनी बाइक पे हल्का सा टिक कर बैठा था.

हिंदी चुदाई वाली बीएफ: मैंने उसको बेड पर ऊपर लिया और उसको नंगी करके खुद के कपड़े भी निकाल लिये. शबाना ने अगले ही पल अपनी जीभ मेरे लंड के सुपारे पर फिरा दी और लंड मुँह में भर लिया.

मैं पूरा जोर लगाकर धक्का मार रहा था और मेरा लंड उसकी बच्चेदानी तक जा रहा था. अरे ऐसे कैसे अचानक से चले जायेंगे आप?” वो मेरे जाने की बात से चौंकती हुई कहने लगी. वो अपने एक हाथ को साहिल के पीछे से सर पर रख कर अपने मुंह की तरफ दबाव दे रही थी.

पोर्न फिल्मों में गांड मरवाते देखती थी तो मन तो मेरा भी था कि एक बार पिछवाड़े को भी ड्रिल करवाना है.

फिर वो जब भी पीछे मुड़ती तो वो दोनों भी उसकी ओर हवस भरी नजरों से देखते. मेरे कमरे की टीवी में एक हॉलीवुड की फिल्म चल रही थी, जिसमें उसी समय हीरो और हीरोईन के बीच कुछ अतरंग सीन चलने लगे. मेरे प्यारे दोस्तो, आपने मेरी एक कहानीभूसे वाले कोठे में भाभी की चुदाईपढ़ी होगी.