बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में

छवि स्रोत,बीएफ वीडियो बढ़िया-बढ़िया

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी इंसान: बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में, दो तीन बार ऐसा करने के बाद चाचा फिर मेरी टांगों के बीच आ गये और अपने लण्ड को हिलाने लगे.

बीएफ पिक्चर नंगी दिखाओ

मेरी पत्नी और सलहज के जाते ही मैंने पिज्जा ऑर्डर कर दिया और कोकाकोला की बॉटल व दो गिलास लेकर गिन्नी के बगल में बैठ गया. बीएफ हिंदी फिल्म ब्लूवो बोली- प्लीज़ अब डाल दो ना … अब मुझसे और इंतजार नहीं होता … कब तक रुलाओगे मेरी चुत को?वो इतनी जल्दी चार्ज हो जाएगी, मुझे उम्मीद ही ही नहीं थी.

आप लोगों ने मेरी साली के साथ सेक्स कहानी के पिछले भागलंड बदलकर चुत चुदाई का मजा- 3में पढ़ा था कि मुझे चोदने के लिए मेरे जीजू ने जैसे ही अपना लंड बाहर निकाला मैं उनके मस्त लंड को देख कर खिल उठी. बीएफ फिल्में दिखाइए बीएफमेरी हालत को देख कर ज्ञान ने मेरी चूत में एक तीसरा धक्का भी मारा और उनके झांटों तक लंड मेरी चूत में घुस गया.

प्रिया रिंकी के पास ही लेट गयी और उसने रिंकी के मम्मों को चूम लिया.बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में: गिन्नी की उम्र करीब 22 साल, कद 5 फुट 5 इंच, रंग गोरा, बदन भरा, चूचियां बड़ी बड़ी और चूतड़ भारी हैं.

तो अब कभी कभी विशाल और सुनील शीला की चुदाई साईट के ऑफिस में करने लगे.किसी अनहोनी की आशंका के चलते अब्बू दौड़ते हुए ऊपर आये और अपना तहमद बांधते हुए पूछा- क्या हो गया, चिल्लाई क्यों थी?तभी रुकैय्या कमरे में पहुंची और अपने लहंगे का नाड़ा बांधकर अपनी चोली के हुक बंद करते हुए बोली- अब्बू, आप भी अजीब सवाल करते हैं.

हिंदी में बीएफ एचडी फुल - बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में

जैसा कि आपने मेरी पहली स्टोरी में पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी शरीफ चाची को चोद कर अपना दीवाना बना लिया था.लेकिन आप तो जानते हैं कि हमारे पास जो चीजें होती हैं, हम कभी उसकी कद्र नहीं करते, बल्कि उस चीज के पीछे भागते हैं, जो हमारे पास नहीं होती.

स्कूल से वापस आने के बाद मुझे अक्सर कपड़े फैलाने के लिए छत पर जाना होता था. बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में कुछ देर की मशक्कत के बाद जब पिंकी का दर्द कम हुआ, तो उसने अपने हाथों से मेरी कमर को थाम लिया.

संगीता ने उस पैकेट को खोला और उसमें से कुछ निकाल कर अपनी योनि में लगा लिया.

बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में?

मैं जानता था कि इतनी देर से उत्तेजित लौड़ा अब झड़ने की राहत मांग रहा है. शीला उसके ऊपर लेट गयी और अपनी चूत उसके मुँह पर रख दी और हाथ से ही जितना हो सकता था साब के लंड को मसला. मेरे पास आकर वो बोली- क्या लेना पसंद करोगे? व्हिस्की या वोडका?मैंने कहा- व्हिस्की ही ठीक है.

मैंने ऐसी अवस्था में अपनी चूत और भी ज्यादा फैला दी और उनको मेरी चूत दिखने लगी. कोमल- प्लीज अपने भाई को मत बताना … मैं वादा करती हूँ ऐसी गलती दोबारा कभी नहीं होगी. चूंकि मुझे उन दोनों को तकलीफ देकर उनकी ठुकाई करनी थी, इसलिए मैंने संजना को गले से पकड़ा और उसका गला दबाते हुए उसको ऊपर उठाया.

उसके ससुर भी थोड़े नॉर्मल हुए और आशा भरी निगाहों से मुझे देखने लगे. कपड़े पहने, डियो लगाया, पावडर क्रीम लगाई, कोई जैल लगाता है, कोई नहीं लगाता. मैं- तो क्या हुआ, वो भी तो अपनी भाभी के चुदने की आवाज सुने … और वैसे भी अब तो उसका भी नंबर लगने वाला है.

फिर नताशा ने मेरे बदन को चूमते हुए घुटने के बल बैठकर मेरा लोवर और निक्कर निकाल दिया. तुम्हारे बाबू मुझे आज तक माफ नहीं कर पाए, वो जुल्म अपने ऊपर ढाते हैं … वो दारू अपने जिंदगी बर्बाद करने के लिए पीते हैं, ये मैं जानती हूँ.

मेरे ग्रुप में मुझे मिलाकर 6 लड़कियाँ थी, सोनल, दिव्या, आशिमा, पूजा, इकरा और मैं।इन सब में पूजा बहुत हरामी लड़की थी.

मेरे होंठों को चूसने के बाद उन्होंने मेरी मैक्सी में दिख रही मेरी वक्षरेखा पर अपने होंठों को रख दिया.

पर मैं तो यहाँ तीन तारीख तक हूँ तुम्हें परेशान करने के लिए।नेहा ने कहा- थैक्स फॉर बेस्ट कंपलीमेंट सर।तभी खुशी का फोन आया और मेरे हैलो कहते ही कहा- तुम कबसे यहाँ आये हो और अब तक मुझसे मिले भी नहीं? यहाँ बहुत सी चुड़ैले हैं, तुम किसी चुड़ैल के चंगुल में तो नहीं फंस गये ना?मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है. अम्मी की चुत काफ़ी टाइट थी, पर लंड चिकनाई के कारण अन्दर सरकता चला गया. रात को जब हम दोनों की आंखें बंद हुईं … तब वो मेरी नजरों के सामने ही थे और मैं उनकी नजरों के सामने.

अपनी गांड पर लंड की चमड़ी का अहसास होते ही उसकी गांड ने झुरझुरी सी ली. मैं अपनी बहन चित्रा के मुँह से अपनी मर्दानगी की बात सुनकर गरम हो उठा और अपनी बहन को गोद में लेकर कमरे में चल दिया. ऐसा पहली बार हुआ था, जब बिना उंगली या लंड के मेरी चूत रस छोड़ने लगी थी.

सबेरे अगर मैं दस बजे भी घर से निकलूं तो सारा काम निपटाता हुआ मैं आराम से चार बजे तक डगशई पहुँच सकता था.

मोहित ने पूजा को उल्टा किया और उसमें स्कर्ट ऊपर उसकी कमर तक कर दी अब उसकी पैंटी दिख रही थी. चल हर एक के हिसाब से साढ़े तीन ले लेना, कुल मिला कर तीनों का एक हजार रूपए दे देंगे. मैं उस समय तो बहुत एन्जॉय करके यह सब करवा रही थी और बिल्कुल भूल चुकी थी कि इसके बाद मैं अपने पति को क्या बोलूँगी.

चित्रा- देख … अगर हम दोनों दूसरे कपल के साथ मिलकर स्वैपिंग करेंगे, तो प्रॉब्लम हो सकती है. उसको दर्द हो रहा था इसलिए वो लंड को वापस बाहर निकालने के लिए कहने लगी. मैंने अपनी आँखें बंद की और रवि के लण्ड पर अपनी चूत को दबाते हुए उन्हें चुदाई आरंभ करने का इशारा दिया।बस फिर क्या था … रवि के धक्के और मेरी सिसकारियां … जितने तेज रवि के धक्के हो रहे थे, उतनी तेज मेरी सिसकारियां।मेरा मुँह बन्द करने के लिए रवि ने अपना एक हाथ बिस्तर पर रखा और दूसरा हाथ मेरी टांग से उठाकर मेरी कमर पर रख दिया.

रकुल- तुम्हारा रात का क्या किस्सा है सीमा?सीमा- रात में मैंने पुराना लन्ड लिया और सुबह नए लन्ड का अहसास मिला.

वो कराहने लगी- आह्ह … मार डाला आआ … आह्ह … आराम से यार!दर्द के मारे उसकी आंखों में पानी आ गया. मैंने बोतल नहीं ली और कहा- मेमरानी … मैं कोई भी ड्रिंक अपने आप नहीं लेता … तू सिप ले और उसको मेरे मुंह में डाल दे … मैं तो कोल्ड ड्रिंक और दारु सब कुछ इसी तरीके से पीता हूँ.

बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में मुझे माफ़ कर दो।अरे मैं ना आता तो तू अभी चुदवा ही लेती न। अब रूक, तेरी मां को बताता हूं घर जाकर कि ये लड़की स्कूल में चुदवाने जा रही है, पढ़ने नहीं।”नहीं-नहीं, ऐसा मत करना, वरना कल से मेरा स्कूल आना बंद कर देगी मेरी मां। ये बात मेरे बाप को पता चल गई तो, वो तो मुझे जिंदा ही मार देंगे। मैं कसम खाती हूं, आज से उस लड़के से कभी नहीं मिलूंगी। जैसा तुम कहोगे वैसा ही करुंगी. मैंने उसको किस किया और उसके हाथों को उसके बूब्स से हटा के अपनी गर्दन पर रख दिये जिससे मैं उसकी ब्रा खोल पाऊँ।एक झटके से मैंने उसकी ब्रा खोल दी और उसके बूब्स पर अपने हाथ रख दिये.

बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में हम साथ में खाना भी खाएंगे। मैं खाना बना कर रखूंगी तुम्हारे लिए।मैं हां बोल कर चला गया. मिनट भर के अंदर ही उसकी ब्रा को मैंने खोल लिया और उसकी ब्रा को उसकी छाती से अलग कर दिया.

जल्दी से जल्दी अन्दर घुसने के मकसद से मैंने जोर से धक्का मारा तो मेरा पूरा लण्ड रुकैय्या की चूत में समा गया.

पंजाबी सेक्सी पिक्चर वीडियो एचडी

बाकी आशा की चूचियां और चूत नीरा से बेहतर हैं इसका अन्दाज मुझे हो ही चुका था. अब आगे:ज़ब मैं उठी, तो शाम के 6 बज चुके थे हम लोगों ने 12 घंटे के नींद ले ली थी. मैंने देर ना करते हुए चाची की चुत के दरवाजे पर लंड टिकाया और एकदम से पूरा लंड अन्दर पेल दिया.

अब मेरी गर्लफ्रेंड उसके मुंह से उम्म्ह… अहह… हय… याह… की आवाज आने लगी। उसे चूत चुदाई का मजा आने लगा था. और उन सभी पाठकों का भी बहुत धन्यवाद जो ईमेल पे मेरी कहानी के अच्छे या बुरे पक्ष को सामने लाते हैं और मैं उस हिसाब से कहानी को और सुधार कर लिखने की कोशिश करता हूँ।ये कहानी है प्रियंका, और उसकी मुस्कान और उसकी दोस्त सीमा की, जिन्होंने मेरे और मेरे दोस्त सतीश और मोनू के साथ एक सामूहिक चुदाई की।प्रियंका मेरी पुरानी दोस्त है और हम बहुत बार चुदाई कर चुके हैं. अपना लण्ड तेजी से अन्दर बाहर करते हुए मैंने अब्बू से कहा- अब्बू, आप अपने लण्ड पर तेल लगाकर तैयार रहिये.

मैं नंगी ही उठ कर दूसरे रूम में चली गयी और उनके रूम का दरवाजा ढाल दिया.

उसके बाद लोग अदला-बदली की क्यों सोचते हैं?जीजा जी- वो क्या है न … शादी के बाद मर्द एक चूत चोदकर बोर हो जाता है और उसे किसी नई चूत की तलाश रहती है … ऐसा ही हाल औरतों का भी होता है. करीब दो-तीन मिनट इस पोज चोदने के बाद रोहित बोला- भाभी अब आप बेड पर ही डॉगी बन जाओ ना. उस तीनों में से दीदी के हाथ स्कॉच थी, आलिया के हाथ में गिलास और नताशा के हाथ में बर्फ थी.

मगर मैंने कोई ध्यान नहीं दिया और जाते ही पैंट के ऊपर से उसका लन्ड पकड़ लिया और जोर से दबा दिया. रमेश ने जैसे ही लण्ड को पूरा उतारा तो रिया उन्माद में भर कर सिसकारी- उफ्फ … कितना भरा भरा महसूस हो रहा है आपका लंड डैडी। ये लंड आज थोड़ा बड़ा लग रहा है … आह्ह … लंड का मजा कितना सुखदायी होता है डैडी।रमेश- लण्ड तो वही है साली रंडी, पर आज जो तुमने मॉडल की तरह जो फोटोज़ खिंचवाई है ना, उससे और कड़क हो गया है ये।रिया- पता नहीं डैड, जो भी हो लण्ड से मेरी चूत पूरी भर चुकी है. कमी मुझमें थी और मैं अपनी बीवी को खुश करने का कोई और तरीका सोच रहा था.

मैंने होटल के नाम को मैप में सर्च किया तो पता लगा कि होटल मुम्बई स्टेशन के पास में ही है. हम सच में तो झगड़ नहीं रहे थे, बस एक मस्ती ही थी, जो हम आपस में कर रहे थे और हमें तो अपने कपड़ों तक का होश भी नहीं था.

इस तरह 10 मिनट बाद भाई स्खलित हो गया और उसने अपना गर्म गर्म लावा मेरे मुँह में उड़ेल दिया. मैं पैंटी को थोड़ा और ऊपर अपने चेहरे के पास लायी और अपनी नाक से उसे सूंघने लगी. अमनप्रीत कहने लगा कि यदि श्यामली अगर उसकी बीवी होती तो वह उसको दिन रात चोद रहता.

हाँ मेमरानी बताइये?”बताऊंगी मगर पहले मेरे साथ इतनी इज़्ज़त से बात करना बंद कर … अब तेरी रानी बन गयी हूँ तो जैसा सब रानियों से बात करता वैसे ही मेरे साथ कर … नहीं तो ये पक्षपात हो जायगा … तू चुदाई का रुस्तम हैं न इसलिए ये नाम दिया मैंने … हा हा हा रुस्तम ए चुदाई.

वो भी बोले- हां मेरी रंडी साली … ले मां की लौड़ी लंड ले … साली आज तेरी चुत का भोसड़ा बना कर रहूँगा. मोमबत्ती और उंगलियों से रगड़ रगड़ के चूत छिल जाती थी और ऐसी भरी उफनती जवानी में हमारी खूबसूरती तो देखते ही बनती थी. लगभग 1 मिनट बाद ही मम्मी की चूत से सारा पानी निकल गया जिसे अंकल ने पी लिया.

गोरे विदेशी अंकल की गांड में उंगली करते हुए मुझे कई मिनट हो गये थे. जिसमें हमारी चुदाई वाली वीडियो रिकॉर्ड थी और नताशा ने वो वीडियो देख लिया.

आप लोगों ने मेरी स्कूल सेक्स स्टोरीसुधा के साथ वो रातपढ़ी और आपके कई मेल प्राप्त हुए. दीप्ति की गांड उसकी पजामी में कई बार ऐसी मस्त लगती थी कि अचंभित हो जाता था. करीब पचीस मिनट तक मैं जिया के साथ अलग-अलग पोजीशन में चुदाई करता रहा और आखिर में मैं जिया की गांड में ही झड़ गया.

मराठी सेक्सी वेब सिरीज

बस दो पल और फिर तुम्हारे जीवन का नया सुनहरा अध्याय शुरू होने वाला है.

रीना- आह आह … मज़ा आ रहा है वॉउ!मैं भी जोश में अपना लौड़ा हिला रहा था. [emailprotected]मेरी जेठ जी के लंड से चूत चुदाई की कहानी जारी रहेगी. तो मैंने अपने चेहरे पे आगे गिरे बाल पीछे किए हाथ से और घोड़ी बन गयी। अब उसने भी अपना लंड डाला और मुझे चोदना चालू कर दिया।हम दोनों सहेलियाँ एक दूसरे की तरफ देखते हुए मुस्कुरा रही थी और एंडर्सन और डेविड हम दोनों को पीछे से ज़ोर ज़ोर से चोदे जा रहे थे। उनके धक्के इतने जबरदस्त थे कि हमारी ज़ोर ज़ोर से आन्न्हह … आन्न्हह …’ की चीखें निकल रही थी.

फिर अचानक पता नहीं मुझे क्या हुआ कि मेरा हाथ अपने आप मेरी स्कर्ट के ऊपर से मेरी बुर को सहलाने लगा. लौंडे गांड मरवाने के लिए तैयार तो हो जाते हैं लेकिन फिर बीच में चिल्लाने लगते हैं. बीएफ फिल्म वीडियो में बीएफ फिल्मरात को तीन बजे के करीब मेरी आंख खुली, तो मैंने खुद को हल्की लाल रोशनी में बेड पर अकेला पाया.

बस अपनी पढ़ाई में लगी रहती थी।फिर मैंने जब स्कूल बदला तो वहाँ मेरी दोस्ती कुछ हरामी लड़कियों से हो गयी. जैसे ही मैंने भाभी की चूत में लंड को अंदर किया तो भाभी के मुंह से चीख निकल गयी- आआआ ….

पर क्या करूं मेरे ठोकू मियां … मैं थक गयी हूँ, मुझे थोड़ा आराम तो कर लेने दे. पता नहीं क्यों ऐसा लग रहा था कि मेरे अंदर भी एक औरत है जो अपने लिये मर्द तलाश कर रही है. हां, जानता जरूर था और अधिक उत्तेजना होने पर खुद को मुठ मार कर शांत कर लेता था.

मैं यकीन से कह सकता हूँ कि ये कहानी पढ़ते हुए बीच में ही पुरुषों के लंड पानी छोड़ देंगे और महिला पाठकों की भी कच्छी गीली हो जाएगी. कविता ने पति जाने के बाद अपना जीवन व्यवस्थित कर लिया था और फिलहाल वो अपने बेटे वंश के साथ बहुत खुश थी. मैं आप लोगों को थोंग के बारे में बता दूं, मेरी महिला पाठकों को तो पता ही होगा.

आज तक वो अपने स्टैमिना के बारे में जो बातें करता था, आज वो सब सच लग रही थीं.

वे मुझे वटस्प पे ही बता देती हैं हर कहानी के बारे में, तो उनका भी मैं यहाँ पर धन्यवाद करता हूँ।मैं हर एक पाठक की ईमेल का रिप्लाई जरूर देता हूँ. अनिल भैया- तूने पहले कभी पोर्न नहीं देखा क्या … ये लोगों का काम ही यही है.

मैंने पूछा- आप मुम्बई भी आओगे क्या?उन्होंने बताया- हाँ, पहले मैं मुम्बई में ही आऊंगा. उन्होंने कहा- देख ऐसा कर … तेरे बेटे के साथ मैं सो जाऊंगी और दो दिन तक मैं उन्हें कोई भी बहाना बना कर रोक कर रखूंगी. तभी तुषार ने परदा उठाया और बोला- रुमित कार में पेट्रोल ख़त्म हो रहा है … क्या करें?पर तुषार जब तक रुमित को ये बोलता, तब तक उसकी नज़र मुझ पर पड़ गयी … और वो मुझे ही देखता रहा.

फिर जीजा ने नज़मा को नीचे पटक लिया और उसकी चूचियों के बीच में लंड को रख दिया और नज़मा को अपनी चूचियां दबाने के लिए कहा. वो एक तरफ तो अपने हाथ को मुझसे छुड़वाने की कोशिश कर रही थी और दूसरी ओर नीचे ही नीचे अपनी चूत को मेरी पैंट में तने हुए लंड से टच करवा रही थी. मैंने आंखें खोलीं और अंधेरे में अंदाजा लगाया कि ये मेरा बड़ा भाई है.

बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में फिर मैंने नीचे घुटनों के बल बैठ कर उसकी पैंटी के ऊपर से ही गांड के उभारों को सहलाना शुरू कर दिया. शीना को ये पता ना होने की वजह से उसने बिना रुके सीधे से कहना शुरू कर दिया- मुझे भी अपना पानी पिलाओ मेरे बाबू.

पैर बहुत सेक्सी थे

अभी मुझे सिर्फ चुदाई ही दिख रही थी, वैसे भी मुझे ज्यादा चिंता नहीं हो रही थी. अब तुझे चोदने के लिए मुझे इन्तजार करना पड़ेगा? मुन्ना का लण्ड तुझे ज्यादा पसन्द आ गया है क्या?अब्बू, आ तो गई हूँ. दूसरे कमरे से साब नशे में लड़खड़ाता नंग धडंग आ गया और नजारा देख के मेमसाब से बोला- हरामजादी ये क्या कर रही है?सबको काटो तो खून नहीं.

भार्गव ने हाइवे पर एक होटल पर कार रोक दी और हम सब वहां नाश्ता करने के लिए उतर गए. मोनू और सीमा ने भी थोड़ा आगे की मुस्कान से खाली हुई चेयर पर खिसक कर सतीश को बैठने की जगह दे दी।प्रियंका तो पूरी तरह खुली हुई थी इस लिए मैंने उसे सतीश के पास भेज दिया।मैंने सबसे पहले मुस्कान को एक लिप किस की और बोला- मेरी जान, आज तो बहुत खुबसूरत और सेक्सी लग रही हो. बड़े स्तन वाली बीएफशीला ने खुले दरवाजे की ओर इशारा करते हुए अपने को छुड़ाया और धीरे से दरवाजा बंद कर आई.

मुझे लगा कि अपनी बात को कहने का इससे अच्छा पटल और कोई नहीं हो सकता है.

फिर 4-5 हल्के धक्कों में ही जेठजी का लंड पूरी तरह मेरी चूत में समा गया. निष्ठा, मेरी जान … सुहागरात में तुम्हारी दीदी भी तो इसी लंड को जैसे तैसे झेल ही गयी थी.

फिर मैंने कोमल की चुत से लंड निकाल कर कंडोम को डस्टबिन में फेंक दिया. आपको मेरे माँ बाप की सुहागरात की एडल्ट सेक्स स्टोरी पढ़ कर मजा आया? पूरा मजा लेने के लिए अन्तर्वासना से जुड़े रहिए. … अपना लंड निकाल भोसड़ी के … आहह राज उहह याह!मैंने नताशा की गांड पर चपत लगाते कहा- चुप साली … अभी तो पार्टी शुरू हुई है … आज तुझे पूरी रंडी बना कर छोडूंगा.

आप सब मेरी उस पोजीशन को इमेजिन तो कर ही सकते हैं और उस पोजीशन में मेरी चूत पूरी तरह खुल गयी थी.

जीजा जी- राज, इन्हें ऐसी जगह छुपा दे ताकि दोबारा कभी उन्हें ना मिले. स्वीटी आंटी- आह रॉकी … ये सब क्या कर रहे हो … उफ़ … उफ … उम्म्ह… अहह… हय… याह… उह रॉकी छोड़ो भी न … आह रॉकी … आह रॉकी…मैं- सिर्फ मज़े लो स्वीटी आंटी, अपने इस खजाने को आप मुझसे नहीं बचा सकती हो. लंड चूसने का आनंद और बेबी रानी द्वारा दबाये जा रहे चूचों के कारण लगातार बढ़ती हुई ठरक उसकी नज़रों में नाचते हुए गुलाबी गुलाबी डोरों के रूप में उजागर हो रही थी.

बीएफ सेक्सी वीडियो भेजमैंने जल्दी जल्दी चार छह धक्के मारकर अम्मी की गांड से अपना लण्ड निकाल लिया और रुकैय्या के करीब आते हुए पूछा- गांड मरायेगी?अपने दोनों कानों को पकड़ कर रुकैय्या ने इन्कार कर दिया और बोली- न बाबा न, तुम्हारा लण्ड अम्मी की गांड नहीं झेल पाई, अम्मी चिल्ला पड़ीं, तुमसे गांड मरा कर मुझे सारा मुहल्ला नहीं जगाना है. साथ ही मैंने तुरंत बात सँभालते हुए उन्हें कहा- भाभी, अगर कोई चीज़ मजा देती है तो उसे मिल बाँट कर खाने में क्या बुराई है?भाभी ने कहा- रमा, देख तू मेरी सहेली ज्यादा है ननद बाद में! देख पहले तो जोर-जबरदस्ती करी थी पापा जी ने एक रात को और मैंने तुम्हारे भैया को डर के मारे नहीं बताया.

सेक्सी खुल्लम-खुल्ला हिंदी में

जैसे जैसे टाइम बीत रहा था, मेरी चूत की चिकनाहट बढ़ती जा रही थी और जेठजी का लंड पिस्टन की तरह मेरी चूत में अन्दर बाहर हो रहा था. नमस्कार दोस्तो … अब तक आपने गीत और उनकी सहेलियों के बचपन से जवानी की ओर बढ़ते कदम के बारे में पढ़ा. अमनप्रीत मेरी बीवी को किस करने लगा और उसको अपनी मजबूत बांहों में उठा लिया.

मैं दूसरे कमरे में चला गया और अपने बैग से कपड़े निकाल कर नहाने के लिए बाथरूम में घुस गया. अब्बू ने मेरी ओर कातर निगाहों से देखते हुए कहा- एक बार तू अपने लण्ड से अम्मी की गांड का छेद फैला दे. कुछ देर तक भाभी की चूत चूसने के बाद मैंने उसे मेरा लण्ड चूसने को बोला तो वो मना करने लगी.

मैंने उसे हाथ से उठा कर अपनी गोद में उठा कर दीवार से सहारे लगा दिया और उसके होंठों को चूमना शुरू कर दिया. वहां पहले से ही कुछ लड़कियां मौजूद थीं, जिनके हाथ में डायरी और पेन थी. रात के करीब एक बजे मैंने कुछ आवाज़ सी सुनी, जिससे मेरी नींद खुल गयी.

फिर भाई ने एक मोटा से पैग बना कर दिया और बोला- खींच जा इसे … तुझे कोई दर्द नहीं होगा. संजना को गालियां देते हुए मैंने कहा- हां मेरी रंडी, तुझे पूरा चोदने के बाद इस साली रंडी शीना को भी चोद दूंगा.

इससे बहू समझ गयी कि वो चली तो थी शेर बनने, अब गीदड़ बनना ही ठीक रहेगा.

हम तीनों ने बिना कुछ बोले, अपने कपड़े निकाल दिए और बेड पर तीनों एक साथ घोड़े बन गए. सेक्सी वीडियो बीएफ खुल्लम खुल्लाचाची की 38 इंच की गांड को सलवार में देख कर ही मेरा लंड फटने को हो जाता था. एक्स फिल्म बीएफतभी मैंने मुस्कान को सतीश के पास भेज दिया और प्रियंका मोनू के पास चली गयी और मेरे पास आ गयी सीमा!मैंने सीमा की जीभ पर जीभ रख कर उसे किस किया और सीमा ने भी मेरे कान के पास मुंह करके कहा- उफ्फ … मस्त मज़ा आयेगा आज तो!मैंने उसे जवाब में कहा- येस साली, आज तेरी मज़े से गांड फट जायेगी. अचानक हुए इससे हमले से वो चौंक गया और दर्द से बिलबिला उठा और फोन रखकर बोला- साली बहन की लोड़ी … चूतिया है क्या बहनचोद?मैंने अनसुना करके उसका लन्ड पैंट से बाहर निकाल लिया और नीचे बैठकर चूसने लगी.

तभी बाथरूम का दरवाज़ा खोल कर होठों पर मुस्कान लिए निखरी-निथरी वसुंधरा बाहर आयी.

उफ्फ … कितने मदहोश कर देने वाले पल थे वो!साली जी के दिल की धक धक मुझे स्पष्ट सुनाई दे रही थी, उसके स्तनों का वो उष्ण और गुदाज स्पर्श मुझे बहुत भला लग रहा था. उनका वाइन पी जाने का इशारा साफ़ था … मैं भी मदहोश नजरों को और भी मदहोश करने की तलब से पी गया. आज वो पराये मर्द से चुदी है … या यूं कहूँ कि मैंने आज किसी और की बीवी की चुदाई की है.

मैंने उससे पूछा कि आपने मेरी कौन सी ऐड देखी थी तो उसने बताया कि मसाज वाली एड देखी थी. बाहर निकल कर जैसे ही हम गाड़ी में बैठे तो अविनाश और पल्लवी ने गाड़ी खोली और अन्दर आकर पल्लवी ने कहा- हेल्लो सेक्सी कपल! आज बड़ी मस्त चुदाई कर रहे थे, क्या बात है! कैसे फुर्सत मिली?इतने में ही पल्लवी ने तंज मारते हुए कहा- पार्क में आप दोनों के ही चर्चे थे. मैंने उससे सीधे सीधे पूछने का तय किया और पूछा- सेक्स के लिए क्या कहोगी?कविता बोली- अब तुझसे क्या छुपाना … वंश ही मेरा सब कुछ है.

शिल्पा शेट्टी के पति की सेक्सी वीडियो

उसमें मैंने व्ट्सऐप डाउनलोड किया और अपने बेटे आदी को हाय लिखा भेजा. लेकिन उनको मैं कहना चाहता हूँ कि मैं कोई एजेन्ट नहीं हूँ, जो आप लोगों के लिए चुत की सैटिंग करता फिरूं. ऐसी स्थिति में तो मौन-सम्प्रेषण ही एकमात्र ज़रिया होता है, खुद को बयाँ करने का.

वे इतनी तेज चूस रहे थे कि मुझे अब मजा और दर्द मीठा मीठा दोनों हो रहे थे.

अंदर जाने के बाद उन्होंने गेट बंद कर दिया और अपना ब्लाउज खोले बिना मेरा सर पकड़ कर अपनी चूची के ऊपर रख कर मेरे बाल सहलाने लगी।मैं भी उनकी दोनों बड़ी बड़ी चूची को हाथों से मसलने लगा।तभी मैंने आंटी के निप्पल में थोड़े दाँत गड़ाये तो उनकी चीख निकली, बोली- दर्द होता है।और ब्लाउज को खोज दिया, बोली- आराम से पियो जितना पीना है.

और वापसी?भगवान् जाने!क्या मैं वसुंधरा को फिर कभी नहीं देख पाऊंगा? क्या यह मेरी और वसुंधरा की आखिरी मुलाक़ात है?” सोच कर मेरे मन में एक हूक़ सी उठी और अनायास ही मैंने अपनी बायीं बाजू लम्बी कर के अपने बाएं पहलु बैठी वसुंधरा के दूर वाले कंधे पर हाथ रख कर वसुंधरा को अपने और नज़दीक कर लिया. जैसे ही टोपा गांड में लगा कर हल्का सा जोर दिया तो लौड़ा गांड में उतर गया. चूत बीएफ सेक्सी वीडियोयह सब सुनकर संजना और शीना दोनों भी घबराहट के मारे थोड़ी सी सहम गईं.

रानी ने तुरंत ही मेरी पैंट को ऊपर से खोला और ज़िप ढीली करके पैंट नीचे को टपका दिया. ”सानिया कुछ सोचे जा रही थी। अब पता नहीं वह प्रीति से कुछ पूछने वाली है या नहीं पर इतना तो पक्का है कि उसके चहरे पर खिली मुस्कान यह बता रही है अब तो वह भी बिना निरोध के करने का स्वाद और मज़ा लेना चाहती है।वो कोई गड़बड़ तो नहीं होगी ना?”इंडियन देसी गर्ल चुदाई कहानी में मजा आया आपको?[emailprotected]इंडियन देसी गर्ल चुदाई कहानी जारी रहेगी. भैया ने अपने बैठे हुए लंड की तरफ इशारा करते हुए बोला, जो अब दिखने में बिल्कुल उसी छोटे शैतान बच्चे की तरह लग रहा था, जिसने पापा के आने से पहले घर ने तबाही मचाई हो और पापा के आते ही ‘मैंने कुछ नहीं किया.

सारे गहने उतारने के बाद मैंने कपड़े उतारे और कॉन्डम निकाल कर रख लिया. ”आज तो तेरे टॉप में हाथ डाल दियामैंने!”नहीं सर … मैंने अंदर कुछ नहीं पहना.

कुछ ही देर में मेरी ठंड गायब थी और मेरा लंड अब मेरे बस में नहीं था। मेरा लंड अब बेकाबू हो रहा था और वो पूरी तरह से आंटी की चूत में घुसने को तैयार था।आंटी शायद शर्म की वजह से ज्यादा आगे नहीं बढ़ पा रही थी। सभी औरतों का यही हाल होता है.

फिर वो एकदम से सिसकारियां लेने लगी- अह्हह आह्ह … आह्हह … करके उसकी चूत ने बहुत सारा पानी छोड़ दिया. सच कहूँ … तो मुझे लंड से ज़्यादा उसका सुपारा होता है, उसे चाटना मुझे बहुत पसंद आता है. मैंने उससे कहा- क्यों अब तुझे गर्लफ्रेंड की जरूरत नहीं होती क्या? मेरे बेटे की गर्लफ्रेंड तो मेरे घर तक आती है.

पंजाबी में बीएफ वीडियो अब मुझे सिर्फ चुदाई दिख रही थी इसलिए मैंने कोमल की बात को अनसुना कर दिया और बस पूरे जोश में झटके मारने लगा. ब्लाउज और ब्रा हटते ही भाभी की उन्नत चूचियां मेरी आंखों के सामने उछल रही थीं.

शीला फटाफट काम निबटा कर अपने क्वार्टर गयी और नहाकर महकती हुई और अपने हिसाब से बढ़िया मेकअप करके आ गयी. वो भी अपनी जवानी को किसी के हाथों में सौंपने के लिए जैसे तरस रही थी. तेरे भाई ने भी शुरू में अपना विरोध जताया था … लेकिन शायद शान के प्रति तेरी ममता व स्नेह को देख उसने अपनी सहमति दे दी है.

हरियाणवी सेक्सी वीडियो ब्लू फिल्म

फिर मनु ने श्श्श्शश करते हुए हमें चुप रहने को कहा और परमीत से पूछा- तुमने पैड किससे मांगा??परमीत ने सीधा जवाब दिया- दीदी से. वे मुझे वटस्प पे ही बता देती हैं हर कहानी के बारे में, तो उनका भी मैं यहाँ पर धन्यवाद करता हूँ।मैं हर एक पाठक की ईमेल का रिप्लाई जरूर देता हूँ. चूत में खून और चूतरस के कारण बड़ी पिच पिच हो रही थी और हर धक्के पर फच फच की आवाज़ आती.

आह … साला काले रंग का कोबरा था बिल्कुल … 7 इंच लम्बा लौड़ा और दो इंच मोटा लण्ड!भाभी ने कहा- पापा जी … अरे करते रहो न, बेचारी को मजा आ रहा था. मुझे नहीं पता था कि मेरी मम्मी इतनी बड़ी वाली रंडी हो सकती हैं, दो दो लंड ही साथ ले रही थी.

जीजू बोले- क्या बात है मेरी रानी … तूने आज पहली बार मेरे से कुछ मांगा है.

नीरा- ओह्ह अमन … मज़ा आ रहा है आज तो! मुझे पता होता शराब से इतना मज़ा आता है तो मैं रोज पीती. मैं वासना के अतिरेक से कोमल की गीली चुत को चाटने लगा … इससे कोमल और भी ज्यादा चुदासी हो उठी. आठ लोगों से नौ बार चुदने के बाद मुझे चलने में काफी दिक्कत हो रही थी.

जब मेरा तलाक हुआ था तब मेरा बेटा आदी दस साल का था, जो अब 20 साल का गबरू जवान हो चुका है. पिछले दो-तीन दिनों से हो रही मुसल्सल बारिश के कारण वातावरण में धुंध तो नहीं थी लेकिन हवा औसत से बहुत ज्यादा ठंडी चल रही थी और सुबह से ही आसमान में इक्के-दुक्के बादलों के काफ़िले मटरग़श्ती कर रहे थे. मैं कॉफ़ी बनाती हूँ … आप आईये और मेरे साथ चल कर किचन में बैठिये, दोनों बातें करेंगे.

रिंकी अपने मुँह से विशाल का लंड निचोड़ रही थी और विशाल रिंकी के मम्मों की गोलाई नाप रहा था.

बीएफ पिक्चर भेजो हिंदी में: मैं उसको जोर जोर से चूमने लगा और पूरा हिलते हुए उसकी चूत में लंड को धकेलने लगा. मैंने दीपिका से कहा- चिंता मत करो, अब मैं तुम्हारी सभी इच्छायें पूरी कर दूँगा.

मैंने भाभी से कहा- भैया क्या इतनी जल्दी आ जाएंगे … और क्या आज भी मैं आपके घर से भूखा ही जाऊंगा?उन्होंने हंसते हुए मेरा लंड पैन्ट से निकाला और मेरा खड़ा लंड देखते ही खुश हो गईं. अब विशाल और सुनील दोनों ने ही प्रिया और रिंकी को नीचे लिटाया और उनकी टांगें ऊपर करके चुदाई शुरू की. तो मैंने पूछा- जब पहली बार हो रहा है तो तुम्हें कैसे पता कि मेरा लण्ड बहुत बड़ा है?गिन्नी ने बताना शुरू किया:मिनी की शादी के बाद जब मिनी का जन्मदिन पड़ा तो उसके बुलावे पर मैं गुड़गांव गई.

तीसरे दिन रात को फिर वो ही घटनाक्रम … बाबूजी ने दरवाजा भेड़ा, मैं उठी और दोनों ने पहले बिना कुछ बोले काम क्रीड़ा की और भाभी उनके बिना कहे बिस्तर पर मुंधी(उलटी) हुई और फिर उनके पीछे बाबूजी खड़े हो गए फर्श पर और फिर कैसे 12 मिनट बीते, ये पता ही नहीं चला.

अब मयंक ने एक धक्का लगाया और उसके लंड का सुपारा मेरी बीवी की चूत में घुस गया. वह बोला- सच में आंटी … मॉम की कसम!मैं बोली- वो तेरी मॉम है, कोई गर्लफ्रेंड नहीं … जो तू उसकी ऐसे कसम खा रहा है. फिर बापू की उम्र हो चुकी थी, तो मेरे लिए एक साहब की केयरटेकर बनने का ऑफर आ गया.