सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी

छवि स्रोत,मैडम सेक्सी फिल्म वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

मम्मी के साथ सेक्स: सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी, उसने लंड को मुट्ठी बांध कर पकड़ा और मेरी आंखों में देखकर कहा- सच में संदीप … तुम और तुम्हारे लंड पर मैं अपना पूरा जीवन वार दूँ … तब भी कम है.

सनी लियोन हॉट एंड सेक्सी

मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:जवान लड़की को चुदाई का नशा-2. सेक्सी फोटो बताओ सेक्सीमुझे यकीन करना मुश्किल हो रहा था कि 10 मिनट पहले ही मुठ मारने के बाद भी मैं इस तरह से इतनी जल्दी झड़ जाऊंगा.

प्रीति को देख कर लग रहा था कि उस पर शराब का और मुझ पर उसका नशा छाने लगा है. कल्पना चावला की सेक्सी वीडियोउसकी सिसकारियां पूरे कमरे में बहुत तेज़ गूँजने लगीं- ऊंहह … ऊंहह … हम्म … आह्ह … वाह्ह … आहाह … हाय … स्स्स … ऊई मा … आह्ह ओह्ह … फाड़ दी मेरी।उसने मेरे गाल को जोर से काट लिया.

उसके बाद भाभी फेरे देखने के लिए नीचे चली गयीं।सुबह जब फेरे हो गये तो भाभी कमरे में आयी.सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी: हालांकि भाभी जी को ये सब अच्छा लग रहा था, मगर नारी सुलभ लज्जा उनको ऐसा करने के लिए बाध्य कर रही थी.

ऐसा सोच कर मैंने आज जानबूझ कर स्कर्ट के नीचे पैंटी को नहीं पहना और स्कूल चली गयी.वो बोली- हां तुम्हारे पीछे सिर्फ!फिर वो भी उन तीनों के साथ मस्ती में शामिल हो गयी.

o saathi का सेक्सी वीडियो - सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी

उनकी एक बेटी है, जो कॉलेज में पढ़ती है और बेटा है जो स्कूल में पढ़ता है.उन्होंने मेरी परेशानी देखते हुए मुझे कुछ पैसा दिया खाने को और मुझे बोली- मेरी पहचान का एक घर है.

सच बताऊं दोस्तो … मामी की चुत मारने से ज़्यादा मजा तो उनकी गांड मारने में आ रहा था. सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी मैंने बीच में ही भाभी के हाथ पर हाथ रख दिया और कहा- भाभी, आप परेशान मत होइये, मैं हूं आपके साथ.

विक्की एक भूखे कुत्ते की तरह बैठ कर मेरे ऊपर नीचे हिलते बूब्स को देख रहा था.

सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी?

मुझे पता था कि अन्तर्वासना पर एक पुराने ज्ञानवान लेखक शगुनhttps://www. मैंने उस अंधेरे में उसका हाथ पकड़ा और संभल कर चलते हुए अपने बेडरूम में आ गया. मैं- भाभी आज तो गजब ढा रही हो आप!भाभी- अच्छा, ऐसा क्या है आज?मैं- साड़ी में आप गजब लगती हो.

सुबह रवि ने उससे कहा कि रात की बात को दोनों को भूलने में ही समझदारी है. इसलिए रमेश को वहां से निकालने के लिए रिया ने कहा- जाने दो सेठ इनको, वैसे भी उनकी उम्र हो गयी है. मैंने नेहा से फ्रेश होने की इच्छा जाहिर की, तो उसने कहा- ठीक है तो मैं चलती हूँ.

एक बार तो रमेश का लंड अपनी चूत पर लगता हुआ पाकर रिया भी बहकने सी लगी. मेरे पास जाते ही उसने मुझे खींच कर अपने ऊपर गिरा लिया और अपने होंठों को खोल कर मेरे होंठों पर रख कर पागलों की तरह मुझे ऐसे किस करने लगी, जैसे मैं कहीं भाग न जाऊं. मैं चूत की जलन बर्दाश्त कर रही थी … क्योंकि जलन से ज्यादा मुझे मज़ा आ रहा था.

काफी देर तक मैं प्रीति के बदन को सहलाता रहा तो प्रीति फिर से गर्म हो गयी और मैंने एक बार फिर से प्रीति को वहीं रेत में जमकर चोद डाला. मैंने समझ लिया था कि भाभी ने मेरी बात को घुमा दिया और कोई रिप्लाई नहीं किया.

फोन उठाकर रिया ने जवाब दिया- हाँ बोलो रत्न?रत्न उधर से कुछ बोला।रिया- क्या संडे? अच्छा परसों … चलो, ठीक है।रत्न ने फिर से कुछ कहा।रिया- क्या? दो पार्टी हैं एक साथ।रत्न ने कुछ बोला।रिया- दोनों बुड्ढे हैं! अम्म … हां, चलो कोई बात नहीं.

अब आगे की बेस्ट इंडियन सक्सी स्टोरी:मैंने उसे वहीं पर उसको खड़ी ही रहने दिया.

मैंने कुछ और धक्के लगाए और मेरा वीर्य पिचकारी देते हुए भाभी की चूत के अन्दर तक चला गया. स्वरा के काम करने के दौरान मैंने चाय बनाई, मैंने भी पी और उसको भी पिलाई. दोस्तो, कैसी लगी मेरी ये बेस्ट इंडियन सक्सी स्टोरी आपको … आप मेल करके मुझे बताना.

उसने मेरे पंजे को पूरा मुंह में भर लिया और दोनों पंजों को बारी बारी से चाटने लगा. मैंने मजाकिया अंदाज में कहा- ऐसा नहीं है, यहां तो लेखक ही पाठकों के बीच खिंचा चला आया है. मगर रमेश मेरे होंठों को अपने होंठों से लॉक कर लिया और इतने में ही कमल ने जोर लगा कर पूरा लंड मेरी गांड में घुसा दिया.

अच्छा मुझे एक बात सच सच बताओ?वो बोली- हां पूछो, आज मैं तुम्हें सब कुछ बता दूंगी.

जब तक वो अपना सर मेरी तरफ लायी, तब तक मैंने पैंट से लंड को बाहर निकाल लिया था. और लंड चूसने की आवाजें बाहर आने लगीं- उम्म … चप … चप … आह्ह … ऊंम्म … अह्ह … मच … मच … करते हुए वो लंड को पूरे से मजे से चूसने लगी. प्रीति ने पीछे से मेरी बांहों में अपने हाथ डाल दिये तो मैं जानबूझकर बाइक को धीरे चलाने लगा।जब उसने मेरी कमर में हाथ डाले तो लगा जैसे सारी दुनिया का प्यार भगवान मेरे ऊपर ही बरसा रहा है.

उस कमरे में एक बड़ी खिड़की भी थी जो बाड़े की ओर खुलती थी, अर्थात बाड़े में जो कुछ भी होता था उसे नंगी आखों से करीब 6-7 फुट की दूरी से देखा जा सकता था. वर्ना मर्दों की सोच तो सीधी सी यही रहती है कि जब मन हुआ और चुत मिली, तो बस उस पर चढ़ने की तैयारी में रहते ही हैं. नेहा के मम्में गीत के मम्मों से थोड़ा बड़े हैं और मैंने गीत की एक चूची को अपने होंठों में ले लिया और उसे चूसता हुआ उसके ऊपर अपनी जीभ घुमाने लगा.

अब मैंने ट्रेन से जाने का कहा, तो वो बोली कि हवाई जहाज के टिकट बैंगलोर के ले लो.

आपका हिसाब? कौन सा हिसाब चाचा?”इतने साल तुमको चाट खिलाये हैं, कभी एक पैसा नहीं मांगा. उस समय मेरी उम्र बिन्दू जितनी होगी अर्थात मेरे शरीर में बदलाव आ चुके थे, मेरी चूत कुलबुलाने लग चुकी थी, लेकिन दुनियादारी की समझ नहीं थी.

सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी मैं और मां और आगे जाकर, ड्रायवर के पीछे जो पार्टीशन होता है, वहां खड़े हो गए. जीजू मैं चूसूंगी तो बिल्कुल भी नहीं … पर हिला कर देखती हूं, आपको आराम पड़ जाये तो ठीक है.

सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी अब मैंने अपनी जीभ को गीत की चूत में डाल दिया जिससे गीत बहुत जोर से सिसकारने लगी और ऊपर से मैंने गीत की चूत के होंठों को अपने होंठों से लॉक कर दिया. जैसे जैसे मैं उसके मोबाइल से उसकी पिक्स चोरी करके देख रहा था, मेरा जुनून लवी के लिए बढ़ता ही जा रहा था।हालांकि रोज़ तो मुझे ये मौका नहीं मिलता था.

मैं- पहले तूने लंड लिया है क्या?नीरजा- हां क्लास के एक लड़के ने ऊपर से रगड़ा था … मगर वो अन्दर नहीं घुसा पाया था.

भैंस दूध नहीं देती है तो क्या करें

ऐसे ही एक दिन वो दोपहर में मेरे पास आई और बोली- मेरे फोन का रिचार्ज खत्म हो गया है. अब उसको अच्छा लगने लगा और वो अपनी गांड उछाल-उछाल कर लंड को चूत में अपने अन्दर लेने लगी और जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्हह … अजय … क्या लंड है तुम्हारा! आह्ह … तुम तो सच में कमाल हो … अच्छी मेहमाननवाजी है … आह्ह चोदो … यार … और जोर से चोदो … आईई … आह्ह और तेज।मैंने धीरे धीरे अपनी स्पीड बढ़ाते हुए अब जोर-जोर से उसकी चूत में लंड अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया. उसका बदन इस प्रकार सहलाने से मिलते आनंद की प्रतिक्रिया देने लगा था.

मैंने दादी से पूछा- दादी, ये भैंसा क्यूँ रखा हुआ है, ये क्या दूध देता है?दादी मुस्कराई और बोली- भैंसा तो भैंसों को काबू करके रखने के लिए रखा हुआ है. उनके चेहरे पर आत्मा की संतुष्टि के भाव नज़र आ रहे थे।मैं भी रंजु को गहरी नाभि चूसने चाटने लगा. आंटी कहने लगी- तुम्हें पता है वह भैंसा किस लिए रखा जाता है?वैसे तो मैं जानता था लेकिन अनजान बनते हुए मैंने आंटी से कहा- नहीं आंटी, मैं नहीं जानता किस लिए रखा जाता है?आँटी मुस्कुराई और बोली- मैं बताती हूँ तुम्हें … किस लिए रखा जाता है.

यहाँ तक कि बेबी रानी को भी लगने लगा कि ऐसी लंडबाज़ी में कुछ अलग सा मज़ा आएगा जो पहले कभी नहीं भोगा था.

ये बोल कर मेघा ने अपनी टीशर्ट को सावधानी पूर्वक अपने सिर से उठाते हुए निकाल दिया और अपने अंडरवियर को भी उतार दिया. थोड़ी देर में दोनों खाने के लिए नीचे आ जाना।मेरा कमरा पहली मंजिल पर था। मैंने उसे चलने का इशारा किया तो वो मेरे पीछे-पीछे आने लगी। रूम में पहुंचने पर मैंने उसे बैठने को बोला. मैं उसे तैयार कराने में जुट गया और मैं अपनी आंखों के सामने ही काम करवाने के चक्कर में तैयार होने जाने के लिए लेट हो रहा था.

मेरी हाउस मेड सेक्स स्टोरी कैसी लगी? अपने विचार मुझे लिखियेगा[emailprotected]पर. वहीं की नर्स से मैंने अपनी तबियत के बारे में बताया तो उसने कुछ दवाइयां लाकर मुझे दे दीं और मुझे घर जाकर आराम करने के लिए बोला. फिर मैंने लंड टिकाकर चूत में धक्का मारा तो भाभी की दर्द भरी आह्ह … निकल गयी लेकिन वो दर्द को बर्दाश्त कर गयी.

हर बार होने पर ऐसा लग रहा था कि मैं खुले आसामान में तैर रही हूं … पर आपके लंड की चोट मुझे वापस जमीन में ले आती. ईईईई ह्ह्ह्ह ह्ह्ह्ह ह्हह ह्ह्ह्ह मेरी चूत … आह भींच दो मेरे मम्मे … आह … सी … आह … मारो … और ज़ोर से मारो … फाड़ दो मेरी चूत … अपना पानी छोड़ दो मेरी चूत में अहह … आह ह्ह्ह … आई.

तभी नेहा संजय के लंड पर जीभ से थूक लगाते हुए बोली- अब हम बदला लेंगीं. दोस्तो, कैसी लगी मेरी ये बेस्ट इंडियन सक्सी स्टोरी आपको … आप मेल करके मुझे बताना. और मेरा उसूल तोड़ने के लिए सिफारिश में होटल के मालिक तक को आना पड़ा था.

वेबकैम के और करीब आकर वो अब ज्यादा नजदीक से अपने बदन के दर्शन कराने लगी.

लंड घुसते ही रमेश के लंड से वीर्य की धार फूट पड़ी और उसने अपनी बेटी का मुंह अपने वीर्य से भर दिया. मैंने एक बार फिर से उसके होंठों को अपने होंठों में ले लिया और उनको जोर से चूस दिया. परंतु जब मैं ध्यान से देख रही थी कि भैंसा का लंड अंदर गया या नहीं भाभी ने मेरी एक चूची को पकड़कर दबा दिया और मैं आनंद से सिसकारी ले कर बोली- आई … क्या कर रही हो भाभी?भाभी मुस्कुरा दी और बोली- यह भैंसा तो बिल्कुल निकम्मा हो चुका है और बेचारी भैंस को तरसा रहा है.

दोस्तो, अब तो 2 महीने भी मुझे 2 साल से ज्यादा लग रहे थे और इन 2 महीनों में मैंने कसरत करना शुरू कर दिया था ताकि जब पहली बार प्रीति मुझसे मिले तो मुझे देखते ही इम्प्रेस हो जाए. मैंने बिना लंड निकाले उनको बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी चुत में लंड जड़ तक पेलने लगा.

लेकिन दीपक मेरा अच्छा दोस्त था और मैं जानता था कि वो जिन्दगी के किस दौर से गुज़र रहा है. फिर 8 बजे हमारी रांड भी आ जाएगी।रमेश- ठीक है, मैं जल्दी आने की कोशिश करूंगा. कई बार तो कोचिंग बंद रहती मगर वो जरूर आता।मैं समझ गई कि ये मुझे लाइन मारता है। उसकी निगाहें बस मेरी छत पर ही टिकी रहती थी।अपने जिस्म की आग से मजबूर मेरे अंदर भी उसके प्रति सुगबुगाहट होने लगी.

चीना सेक्स

मैंने दरवाज़ा खोला, तो वेटर ने मुझे पूरा ऊपर से नीचे तक बड़ी वहशी नज़रों से घूरा.

उस समय मेरी उम्र बिन्दू जितनी होगी अर्थात मेरे शरीर में बदलाव आ चुके थे, मेरी चूत कुलबुलाने लग चुकी थी, लेकिन दुनियादारी की समझ नहीं थी. बेड ज्यादा ऊंचा न होने के कारण उनकी गांड और चूत मेरे लण्ड से थोड़ी नीचे ही थी।मैंने भाभी के चूतड़ों पर हाथ फिराया और उनकी चूत के छेद को अंगूठे से दबाया. गाँव वाली लड़की ने मुझे घर बुला कर नंगा किया और मेरे लंड को चूसने लगी पागलों की भाँति.

इस बॉथटब में आधे से ज्यादा पानी भरा हुआ … बड़ा सा था, जिसमें मैं एक ओर अपने पैर मोड़कर बैठ गया और पीछे नेहा भी बैठ सके, उस लायक जगह छोड़ दी. अब तक की मेरी सौतेली मम्मी की चुदाई की कहानी के पिछले भागजवान सौतेली मम्मी की चूत चुदाई की लालसा-5में आपने पढ़ा था कि घर आते ही हम दोनों मम्मी बेटे अपनी चुदाई लीला में लग गए थे. सेक्सी फिल्म हॉलीवुड फिल्मफिर अपने लंड को पकड़ कर उसे शाबासी दी शाबास मेरे घोड़े वेलडन, बस बेटा थोड़ा इंतज़ार और कर ले.

फिर दो मिनट तक मुझे किस करने और मेरे बूब्स दबाने के बाद जब उसे उसे अहसास हुआ कि मेरा दर्द अब थोड़ा कम है तो उसने लंड अंदर धकेलना शुरू कर दिया. पंद्रह बीस मिनट के बाद जब साँसें काबू में आ गयी तो बेबी रानी की चुदने की बारी थी.

मैं उसके लम्बे मोटे और कड़े लंड को अपनी चूत के होंठों को खोलता हुआ महसूस कर रही थी. ’आंटी लंड घुसते ही बहुत जोर से चीख पड़ीं … पर मैंने उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और थोड़ा रुक रुक कर उनको किस करने लगा. मैंने प्यासी निगाहों से नेहा को देखकर अपनी ओर आने के लिए उसे आमंत्रित किया.

आपके मेल मुझे निरंतर मिल रहे हैं और मैं कोशिश भी कर रहा हूँ कि सभी को उत्तर लिख सकूं. मैंने उसका और ज्यादा पानी निकालने के लिए अब जीभ को और तेज कर दिया ताकि उसका स्खलन हो जाए. कुछ देर के बाद आराम से ऊपर नीचे होने लगी और डिल्डो उसकी गांड में आसानी से जाने लगा.

शायद मेरे तने हुए निप्पल्स को देख कर तुम्हारे लंड में भी और ज्यादा जोश आ गया होगा.

वहीं साथ रहेंगे, ठीक है?निष्ठा कुछ देर सोचती रही; उसके मन में क्या उथल पुथल चल रही होगी इसका अंदाजा था मुझे. अपने दोस्त को मैंने दिल्ली सेक्स चैट के बारे में बताने के लिए धन्यवाद किया.

तभी एक दिन शांति ने बम फोड़ा- साहब, स्वरा की शादी तय हो गई है, अगले महीने की 6 तारीख को शादी है. मगर कमर हिला हिला कर चोदने का मज़ा आया, ना की हाथ से लंड फेंटने का।अब मैं हमेशा इस बात का ख्याल रखता कि लवी अपने मोबाइल से कब दूर होती है. उसका मासूम सा चेहरा, रुई के माफिक चूचियां … आधी मेरे सीने में दबी थीं.

राजेश ने उसे चूमते हुए बेड पर धीरे से लिटाया और अब उसके मम्मों को एक एक करके चूसने लगा. लड़की मटकती हुई अंदर चली आई और जब वो अंदर जा रही थी तो रवि उसकी मटकती गांड को हवस भरी नजरों से देखते हुए आहें भर रहा था. लंड तो मिला …मैं आपकी कोमल आपके सामने अपनी एक और सेक्सी जवानी की कहानी लेकर हाज़िर हूँ।मेरी पिछली कहानीकुवारी जवान बुर की चुदाई की लालसाको आप सब ने इतना पसंद किया; उसके लिए दिल से धन्यवाद।आप लोगों के बहुत से मेल मुझे प्राप्त हुए.

सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी उसके बाद रमेश ने रति की दोनों टांगों को हवा में उठा दिया और चूत को चोदने लगा. सेक्स चैट में उसने बताया कि वो अभी तक कुंवारी है और सेक्स करना चाहती है.

बीपी चेक करने वाला ऐप्स

उसकी साड़ी को खोल कर उसके पेटीकोट समेत सब नीचे करते हुए उसने रति को नंगी कर दिया. आज बहुत दिनों के बाद मैं आपके सामने मेरी एक ऐसी ही सच्ची घटना लिखने जा रही हूँ. उसने मेरी कमर ज़ोर से पकड़ ली।मैं उसके होंठ चूस कर बोला- बस थोड़ा सा रह गया है मेरी जान, बस एक बार और!नहीं कपिल नहीं, उसने मेरा चेहरा दोनो हाथों में लेकर होंठ चूम लिये, मत रुलाओ अपनी रितु को, तरस खाओ, सच मैं बहुत दर्द है उफ़्फ़।बस मेरी गुड़िया देख, बस दो इंच लण्ड बचा है.

मेरे कहने का मतलब मेरे लंड को अपने मुँह लेकर आइसक्रीम की तरह चूसने लगी. मेरा लौड़ा भी तन कर कड़क हो चुका था जो मेरी जीन्स में डंडे जैसा दिख रहा था. नौकरानी से सेक्सी वीडियोमैंने फिर रानी से कहा- गुड्डी रानी मैं नीचे लेटता हूँ … तू मेरी तरफ पीठ करके लौड़े ले ऊपर सेट हो.

जैसे ही मैं ड्राइंगरूम में दाखिल हुआ सरोज बोली- लो आ गया राज!मैंने उन दोनों को हाथ जोड़कर नमस्कार किया.

मम्मी पापा ने रिश्ते तो बहुत खोजे हैं, लेकिन सबने मेरे लिए इंकार कर दिया. थोड़ी देर बाद फिर सलीम कहने लगा- चलो चलें, रात हो जाएगी … यह जगह ठीक नहीं है.

मैं उनके करीब जाने की कोशिश करती हूं तो संक्रमण का खतरा बताकर टाल देते हैं. आप अन्दर तो आईये देवर जी!”अच्छा भाभी … लो आ गया अन्दर … अब बताइये?”भाभी ने मुझे कमरे के अंदर बुलाया और दरवाजा बंद कर लिया. अगर मैं कोशिश करूँ, तो हो सकता है मुझसे भी सेक्स कर ले।मगर दिक्कत ये थी कि मैं कैसे हिम्मत करूँ? कैसे उसे कहूँ कि लवी आ जा मुझसे चुदवा ले.

मैंने कहा- अरे यार यहां कहां तुमने कार रोकी है … अंधेरे में मुझे बहुत डर लग रहा है … ये बहुत डरावनी जगह है.

फिर उसने एक हल्का धक्का दिया और उसके उस हल्के से धक्के से ही मैं निढाल होकर बिस्तर पर गिर गया।उसने मेरी जांघों में फंसे मेरे कच्छे को मेरी टांगों से निकाल कर मेरे शरीर से ही अलग कर दिया और अपना जिस्म भी नंगा कर लिया. दोस्त के माँ बाप अब दादा दादी बन्ना चाहते थे तो दोस्त ने मुझसे मदद मांगी. दो चार पलों में ही एक चूत ने मुंह के पास आकर दो तीन बूंदें अमृत की टपकाईं.

सेक्सी हिंदी वीडियो चित्रमैं तुम्हारे जैसी को चोद तो नहीं सकता, तो कम से कम तुम्हारे जिस्म को देख कर लंड हिला ही लूं. सुबह उसका दर्द से बुरा हाल था तो मैंने उसे दूध के साथ पहले से ही लाई हुई दर्द की गोली और आई पिल भी खिला दी.

मल्लिका सेक्सी वीडियो

फिर हमने मस्ती शुरू की। मैंने उसे अपनी गोद में बिठा कर उसकी कमर और स्तनों को धीरे धीरे कपड़ों के ऊपर से ही सहलाते हुए उसके फूले फूले गालों को अच्छे से चूमा और धीरे धीरे अपने दाँतों से काटा. आखिरकार मुझे एक मैच्योर महिला मिली जो देखने में लगभग मधुलिका के जैसे ही दिखती थी. पहले भाग का लिंक ऊपर दे रहा हूँ, चाहें तो एक बार उसे फिर से पढ़ सकते हैं.

एक दिन मैंने उसको कॉलेज की बिल्डिंग के पीछे अपनी बांहों में भर लिया. मैंने उसे गांड मारने के लिए कहा तो उसने कहा- आज नहीं, बाद में! पहले ये चूत का दर्द तो खत्म होने दो. भैया जनरली टूर पर रहते थे, तो भाभी मुझसे बात करके अपने दिल का हाल भी बता देती थीं.

पार्टी के लिए कोरमा का पहले से सुबह ही आर्डर दे दिया था, बस लेने जाना था व तंदूरी रोटियां भी लाना थीं. गीत ने रेड कलर की ब्रा और पैंटी पहनी थी और नेहा ने ब्लैक ब्रा के साथ ब्लैक एंड वाइट पैंटी पहनी थी. यह क्रिया मैं कई रानियों के संग बहुत बार कर चुका था इसलिए लंड बुर में घुसे घुसे ही हम पलट गए.

मुझे भाभी की और भी करतूतों का पता था, क्योंकि वो यहीं इंदौर में ही रहती हैं. झट से हम सुबह तक नैनीताल पहुँच गए। सुबह नैनीताल में होटल में चेक इन करने के बाद फ्रेश हो कर हमने 3 से 4 घण्टे आराम किया.

पांच मिनट के बाद फिर मेरा वीर्य भी उसकी चूत में निकल गया और मैं भी उसके ऊपर निढाल हो गया.

पर अभी अपने पूरे जोश में नहीं आया है।अब लड़का खेला खाया था शायद इसलिए इतनी जल्दी खड़ा नहीं हुआ होगा. स्कूल के स्टूडेंट की सेक्सी वीडियोहम तीनों साथ में नहाये। वहां जाकर भी उन दोनों ने अपना लंड मुझे चूसने को कहा. काजोल हीरोइन के सेक्सी वीडियोमैंने अपने दोनों हाथों से नेहा का सिर थाम लिया मगर नेहा ने अपने दोनों होंठों के बीच मेरे लंड को लॉक कर लिया और अपनी जीभ को मेरे लौड़े के छेद के ऊपर बहुत स्पीड में घुमा दिया. काफी सोचकर मैंने उसे एक तरीका बताया कि तू अपनी मम्मी पापा को बोलना कि छिंदवाड़ा से आगे परासिया में एक बाबा रहता है, उसके आशीर्वाद से कई निसंतानों को गोद हरी हो गई है.

mp3जैसे ही उन्होंने चड्डी निकाली उनका फनफनाता हुआ लंड मेरी आँखों के सामने आ गया।सच बताऊँ तो मेरे जीवन में अभी तक का वो सबसे बड़ा लंड था.

मैंने फिर कहा- सुंदर पीले वस्त्रों में लिपटी नवयौवना के मुखमंडल पर लज्जा की आभा, दमकते सौंदर्य कामातुर दशा रूप लावण्य और जवानी पर इतराते सावन जैसी चंचलता के आगे मैं खुद भी निशब्द हूँ. उसके साथ रेस्टोरेंट में खाना खाते खाते उसको प्लान समझाया- रात को फीमेल अटेंडेंट लगा कर घर आ जाना. इसलिए मैंने अपनी गीली चूत को उसके पूरे चेहरे पर रगड़ा ताकि उसका लंड तैयार हो जाये और फिर मैं अपनी टांगें फैला कर उसके लंड पर बैठने लगी.

जावेद ने नाश्ता बनाने का कहा तो मैंने कहा- हम और तुम तो शादी से लौटे हैं … डिनर कर आए हैं … सलीम भाई भी होटल से बढ़िया बिरयानी खाकर आए होंगे. जब मेरे मॉम डैड सो गये तो मैं चुपके से अपने रूम से बाहर आया और बरामदे में जाकर बैठ गया. पता नहीं मेरी बातों का नेहा ने क्या मतलब निकाला, पर उसने अपनी बांहों के पाश में मुझे और जोरों से जकड़ लिया.

सेक्स की समस्या

अब आगे:मैंने कहा- क्या हुआ?उसने बिना कुछ बोले मुझे धकेला और मेरे ऊपर आ गयी. ये बात मैंने मुस्कुरा कर कही थी और नेहा मेरी मंशा समझ चुकी थी, उसने भी मस्ती से कहा- पीठ ही रगड़नी है ना … या कुछ और भी!मैंने भी आंख मारते हुए कहा- तुम और क्या-क्या रगड़ सकती हो?उसने मुस्कुरा कर आंखें झुका लीं और कहा- तुम चलो, मैं आती हूँ. मैंने पूरी वेबसाइट को विजिट किया और पाया कि वेबसाइट पर बहुत से सकारात्मक कमेंट्स और फीडबैक थे.

यहां मैं बता दूं कि चूंकि हमारा रिश्ता नाजायज था और मैं किसी लफड़े में नहीं पड़ना चाहता था.

पहले लण्ड का सुपारा और अगले धक्के में आधा लण्ड स्वरा की बुर में घुस गया.

उसका आदमी तो बहुत ही खुश हुआ और राजेश के पैर पकड़ कर शीला से बोला- देख साब को कोई तकलीफ न हो. मैंने बस इतना ही कहा- इतनी भी जल्दी क्या थी?तो आंटी ने कहा- जल्दी इसलिए कि कहीं तुमको कोई दूसरी न पटा ले. sasuke सेक्सीमुझे देखते ही दोनों की आंखें फ़टी की फटी रह गईं और दोनों झट से मेरे पास आ गए.

रति चिढ़ते हुए बोली- हाँ हाँ … मुझे नहीं मालूम बिजनेस क्या होता है, अब जाओ और जाकर दोनों फ्रेश हो जाओ।थोड़ी देर बाद सभी फ्रेश होकर नाश्ता करने बैठ गये. बाप बेटी चुदाई की कहानी में आपने पढ़ा और उसके दोस्त दोनों ने बेटी की चूत गांड को होटल में खूब बजाया. अब आगे:सर मेरी गांड में अपनी थूक से भरी जीभ डाल कर अन्दर बाहर करने लगे और अपने दोनों हाथों से मेरी गांड को नोंचने और मसलने लगे.

हम दोनों के मम्मे काफी भारी थे और वे आपस में एक दूसरे के ऊपर रगड़ रहे थे. घर के उस एकांत में सिर्फ हम दो, मेरी जवान कुंवारी साली और मैं, कुछ भी संभव हो सकता है अगर चाहो तो …मैंने निष्ठा की ओर देखा.

अभी पिछले साल उसको एक बेटा भी हुआ है।अब हुआ यूं कि वो कुछ दिन के लिए अपने माँ बाप के घर आई थी.

सोचता रहता हूं कि प्रीति की हर कागज पर तारीफ करूँ, फिर ख्याल आया कि कहीं पढ़ने वाला भी उसका दीवाना न हो जाये. Xxx कहानी भाभी की चूत की पढ़ने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद।[emailprotected]. और बोली- मुझे तुम्हे थैंक यू बोलना था कि तुमने नील को छोड़ दिया और नील जैसा लड़का मुझे मिल गया जो मुझे इतना प्यार करता है, मेरी इतने केयर करता है.

सेक्सी मोमेंट्स तो चिकनाहट की वजह से उसके लंड का मुंह मेरी गांड में घुस के अटक गया. सिर पर मंडराते हुए खतरे की कल्पना से गुड्डी रानी की चुदास में जलती आग में घी डालने जैसा हो गया था.

थोड़ी देर बाद नैना उठ कर बाथरूम में गई और थोड़ी देर बाद फ्रेश होकर वापस आ गयी. मैं सीधा होकर अपना लंड आधे से ज्यादा बाहर निकालकर जोर से धक्के मारने लगा. अपने होंठों से स्वरा के होंठ चूसते हुए मैंने लण्ड को स्वरा की बुर में धकेला.

सेक्सी अनुष्का

मेरी ब्राज़ीलियन पैंटी ने आगे से मेरी चूत को ढका हुआ था लेकिन मेरे चूतड़ पीछे से साफ नंगे दिख रहे थे. मैंने एकदम अपने लंड को हाथ से पकड़ा और निक्कर के ऊपर से ही बिन्दू की उभरी हुई चूत पर रख दिया. हमने इसका बदला कैसे लिया?नमस्कार दोस्तो, मैं आपका अपना रवि अपनी कहानी का अगला भाग आपके लिए लेकर आया हूं.

नेहा ने भी मेरा साथ देते हुए अपनी दोनों टाँगें उठा दीं जिससे मैंने उसकी पैंटी को उसकी टांगों से बाहर कर दिया. रमेश- रति… रति क्या हुआ? तुम ग़ुस्सा क्यों हो?रति- जाओ, जाकर अपना बिजनेस देखो.

मैंने सरोज से पूछा बच्चे तो नहीं आ जाएंगे?सरोज कहने लगी- दोनों लड़कियाँ मुझसे बहुत डरती हैं.

उनके घर में कोई और था नहीं … तो आंटी शायद और भी खुल कर एन्जॉय क़र रही थीं. मैंने उनको अपनी तरफ करके उनके होंठों पर किस की, तो भाभी जी ने भी मुझे किस किया. मगर जो लड़के किसी लड़की को सैट नहीं कर पाते हैं, उनके लिए रंडियों का इंतजाम किया जाता है.

मैं उसके लम्बे मोटे और कड़े लंड को अपनी चूत के होंठों को खोलता हुआ महसूस कर रही थी. मैंने अपनी तरफ से धक्के देना जरा कम कर दिए, तो मामी को शायद चुत में मजा कम मिलने लगा. आंटी मुझे अपनी बांहों में समेटे हुए मेरे बालों को सहलाने लगीं … और मेरे माथे पर चूमने लगीं.

जब चाचा दांतों से भी गांठ नहीं खोल पाये तो हमारे जांघिये को एक साइड में खिसका कर चाचा ने अपने लण्ड का सुपारा जांघिये के अन्दर डाला.

सेक्सी बीएफ सेक्सी हिंदी सेक्सी: हम दोनों बिना कुछ बोले खड़े रहे और दोनों के शरीर उत्तेजना से कांपने लगे. मैंने अपनी उंगली को थूक से चिकनी की और उसकी चुत में अन्दर तक पेल कर घुमाई ताकि चुत अन्दर तक चिकनी हो जाए.

गीत ने रेड कलर की ब्रा और पैंटी पहनी थी और नेहा ने ब्लैक ब्रा के साथ ब्लैक एंड वाइट पैंटी पहनी थी. दोनों चप्पलें सूंघ के मैंने उनको चूमा और फिर पिंकी के पैरों को थाम से सहला सहला कर दबाने लगा. शीला ने अपना पेटीकोट ऊपर किया और अपनी मुनिया को उंगली से सहलाने लगी.

[emailprotected]इंडियन सेक्सी भाभी की चुदाई कहानी का अगला भाग:इंडियन सेक्सी भाभी की चुदाई का मौका-2.

प्रीति के बूब्स की सबसे बड़ी खासियत उसके बड़े बड़े बूब्स के 2 छोटे अंगूर के दाने थे. भाभी बोली- राज, तुमने तो मेरी चूत में से पानी का दरिया ही निकाल दिया. मैंने अपना पूरा लंड उसके मुँह में गले तक ठांस दिया था, जिससे उसकी सांस फूल गई थी.