चूत की बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,देखने वाली ब्लू फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

नवरा बायको झवाझवी: चूत की बीएफ सेक्सी, एक दिन चाची ने मुझे अपने घर पर बुला लिया और हम दोनों काफी टाईम तक बातें करने में मस्त रहे.

ಬಿಎಫ್ ವಿಡಿಯೋ ಸೆಕ್ಸ್

पर अब तो हीरो हीरोइन को गोद में बैठा कर बुरी तरह चूस रहा था और मेरा लंड खड़ा हो गया था।भाभी ने अब प्रिया के कान में कुछ कहा. ववव क्सक्सक्स विदोअब जब भी हमें मौका मिलता है, हम साथ में टाइम व्यतीत करते हैं और मैं गर्लफ्रेंड की चुदाई करता हूँ.

फिर रात को मैंने उसे मैसेज किया- तेरा आज का कारनामा तेरे बाप को भेज रहा हूं. कामसूत्र हिंदी मेंशादी के बाद मेरे पति मुझे अक्सर चोदते थे और मुझे उनसे चुदने में मजा भी खूब आता था.

मगर जिस दिन उनकी चुदाई एक गैर मर्द से हुई, उस दिन मैंने अपनी अम्मी की खूबसूरत मादक नंगी जवानी के दीदार किये थे.चूत की बीएफ सेक्सी: अब सुमन उठ कर बैठ गयी और मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर हाथ आगे पीछे चलाने लगी.

मेरा सिर उसके सीने से मैंने हटा दिया और बाहर कांच की खिड़की की तरफ देखकर सोचने लगी कि अब क्या करूं.ठाकुर ने उसकी आंखों में देखा तो वो मस्ती से ठाकुर साब को देखने लगी.

एक्स एक्स एक्स भोजपुरी में - चूत की बीएफ सेक्सी

वो बोला- सिर्फ देखना है कि चूसना भी है!मैंने अपनी बात दोहराई कि नहीं मुझे तुम्हारा लंड देखना भर है.नैंसी- स्ट्रिप पोकर! यह क्या होता है? क्या तुम्हारा मतलब है, जो व्यक्ति हार जाता है उसे अपने कपड़े से कुछ उतारना होता है?मैं- रहने दो मम्मी! जब हम कॉलेज में थे तब हम लड़के इसे खेला करते थे तो मुझे याद आया और गलती से मेरे मुह से निकल गया। मुझे लगता है कि यह एक अच्छा विचार नहीं था।नैंसी- हनी, क्यों ना हम भी इसे खेलें.

काफी देर तक अलग-अलग आसनों में चुदाई करने के चलते अलीमा एक झड़ गई थी. चूत की बीएफ सेक्सी वो खड़े खड़े ही मदहोश हो उठी और कहने लगी- आह … जल्दी से मेरी आग बुझा दो.

मैंने कॉल उठाई तो कल्पना कहा- कैसे हो मेरे दोस्त? कैसे लगी उसकी चूत?मैंने कहा- कमाल है साक्षी की चूत.

चूत की बीएफ सेक्सी?

मेरी इस हरकत ने उसको इतना गर्म कर दिया कि उसने मुझे बहुत कसकर गले लगा लिया और बदले में उसने भी मेरे होंठों को काटना और चूसना शुरू कर दिया. उसकी गर्दन पर किस किये फिर उसकी कान की लौ को चूसा और गालों को सहलाते हुए उसे अपने से जकड़े रखा. नाक से नथ, कान से बाले … यानि मैंने जितनी भी ज्वेलरी पहनी थी … उसने मुझे किस करते हुए एक एक करके मेरी सारी ज्वेलरी उतार दी.

मैं घर के बाहर निकला और दबे पांव घर के बाजू की गली से निकल कर पीछे से चारदीवारी फांद कर घर में आ गया. फिर मैंने बीच में ही उसकी चूत से लंड निकाल लिया और उसकी गांड पर टिका दिया. वो बड़बड़ाए जा रही थी- और … आह्ह … और अंदर डालो मोहित … हह्ह … और अंदर तक चाट.

मंजुला, तुम्हारा ये भोला सा गोल सुन्दर चेहरा, ये लाल लाल रसीले होंठ जो बिना लिपस्टिक के भी कैसे दमक रहे हैं, ये सुराहीदार गर्दन और …”और क्या …?” उसने व्यग्रता से पूछा. जब उन्होंने मुझे ये बताया तो उस वक्त मैंने झूठा नाटक करके ये दिखाया कि मुझे बहुत बुरा लगा कि वो अकेले ही जा रहे हैं. मैंने कह दिया की दीदी पौंछा लगा रही थी और फर्श गंदा होने से बचाने के लिए उन्होंने कुछ देर मुझे बिठा लिया.

मुझे ये कहानी जब से पता लगी मुझसे रहा नहीं गया और मैंने इसको आपके लिए लिख डाला. वो जब उठ कर खड़ी हुईं, तो उनके ब्लाउज के बीच से जहां हुक नहीं था … वहां से उनका थोड़ा सा बूब दिख रहा था.

तो मुझे भरोसा हो गया था कि मेरी अम्मी मुझसे चुदने के लिए राजी हो जाएंगी.

’मेरी चीख सुनकर जय बोला- साली तेरा पति का इतना बड़ा नहीं है क्या!मैं बोली- नहीं है यार … मैं आज पहली बार इतना बड़ा लंड ले रही हूँ.

मेरी उंगली उसकी चूत में तेजी से अंदर बाहर हो रही थी और उसकी चूत पूरी गीली हो गयी. फिर एक दिन मैंने उससे बाहर घूमने चलने के लिए कहा, तो वो राजी हो गई. इतने में राहुल ने मुझसे पूछा कि क्या मैं अपने दोस्त को भी बुला सकता हूँ, जो कि बगल वाले कमरे में है.

मुझे क्यों पानी पिलाया?मैं बोला- जानू … मजा आया कि नहीं!बुआ- हां मजा तो आया … पर अजीब लगा … पहली बार पानी जो पी रही हूं. अब वो जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … आह्ह … हां … अच्छा कर रहे हो … ओह्ह … हां मोहित … करो. ये सुनते ही मैं तो बड़ा हैरान था क्योंकि हेमा चाची तो मेरी उम्मीद से भी ज्यादा चुदक्कड़ निकली थीं.

मेरा लण्ड दी के बूब्स के बीच बहुत टाइट तरीके से अंदर बाहर होने लगा।श्वेता अब कभी अपने होंठों को दबा कर मजा जाहिर करती तो कभी आंखों को बंद कर गहरी सांस लेती।उनके चेहरे के भाव देख मैं उनके ऊपर ही झड़ गया। मेरा सारा माल दी के बूब्स और उनके गले में लग गया। दी ने अपनी उंगली से अपने बूब्स का माल चाटा.

आज मैं आपके लिए फिर से अपनी देसी लड़की की चूत कहानी लेकर आया हूं जो मेरी पहली कहानीगांव की कच्ची कली- 1औरगांव की कच्ची कली- 2के आगे की कहानी है. मैंने अपना मुँह हेमा चाची की चूचियों पर लगा दिया और बारी बारी से दोनों मम्मों को चूसने लग. वो दोनों एक साथ ही पढ़ती थीं और एक ही क्लास बारहवीं में थी। रानी मेरे घर पर अक्सर आया करती थी.

वह फिर से चीखने लगी- अअह दीदी रोको इसे … स्वीटी ऊऊऊह … बस अब बस करो … प्लीज़ ऊईओह मम्मीईईईई … मर गई रे … ओ माय गॉड … बस कर दे बेदर्दी. वो लंड को चूसने लगी और फिर मैं उसके मुंह में लंड को आगे पीछे करने लगा. घर के मेन गेट के पास पहुंचकर हेमा चाची ने जंगले से बाहर देखा, तो वहां कोई नहीं था.

थोड़ी ही देर में मैंने बुआ के मुँह में अपनी जीभ ठेल दी तो बुआ मेरी जीभ को चूसते हुए मजा लेने लगीं.

पूरे कमरे में फच फच की आवाज गूंज रही थी।करीब 10-12 मिनट से मैं उसको चोदे जा रहा था।एकदम से मेरे लंड पर ढेर सारा माल आया. कुछ सात आठ मिनट की लंड चुसाई के बाद अमन ने अपना रस मेरे मुँह में ही छोड़ दिया और मैंने अपने अमन के नमकीन अमृत को अपने हलक के नीचे उतार लिया.

चूत की बीएफ सेक्सी शबाना भाभी ने भी मेरे लंड के रस को पूरी तरह से चूस लिया था और वीर्य को चटखारे लेकर मजा ले रही थी. आप भी समझ गये होंगे कि वो दोपहर तक अकेली रहती होगी क्योंकि उसके बच्चे उस वक्त तक स्कूल में ही रहते हैं.

चूत की बीएफ सेक्सी जब भाभी पेट से हुईं तो उन्होंने काम संभालने के लिए रीति को घर बुला लिया. उन्होंने आगे बोला- मैंने कभी किसी गैरमर्द से सेक्स संबंध नहीं बनाए.

वो स्टडी के लिए यहां जयपुर में एक फ्लैट में अपनी फ्रेंड रिया के साथ रहती थी.

सेक्सी पिक्चर चुदाई पिक्चर

खैर … नन्दा एक बकरी की तरह बाघ के जबड़ों में अपनी गर्दन जकड़े हुए तड़फ रही थी और मैं रुक कर उसके दर्द को खत्म होने का इन्तजार कर रहा था. अम्मी की चुत झड़ी तो उन्होंने एक तेज आवाज के साथ अपनी चुत का रस सलमान के मुँह में छोड़ दिया. मेरी अम्मी एक मरी हुई कुतिया सी बिलबिलाते हुए सलमान से चुद रही थीं.

अम्मी ने बड़े प्यार से उसके सर पर हाथ फेरते हुए उसे ऊपर आने का इशारा किया. दुख इसलिए कि कविता के रहते मैं नेहा को नहीं चोद सकता था और नेहा के सामने कविता को नहीं पटा सकता था. मैंने खूब सारी लाल चूड़ियां पहनी और मैंने पायल भी पहनी।मैं बिल्कुल इस तरह तैयार हुई जैसे आज मेरी सुहागरात है.

मैंने मैडम को थैंक्स बोला।कुछ ही दिनों में मैंने दो डबल रूम सेट पसंद कर लिए।मैंने मैडम को दोनों सेट दिखाए तो मैडम ने एक सेट पसंद कर लिया।मैंने मैडम से उस सेट का 6 माह का किराया लेकर मकान मालिक को दे दिया।उस मकान का मालिक चंडीगढ़ में रहता था और वो सैट बिल्कुल सुनसान एरिया में था।अब मैडम और मेरा मिलन दोबारा उस नये मकान में होने वाला था.

ये देखकर हेमा चाची और घबरा गईं और फिर हम जल्दी से वहां पास में ही छत पर बने बाथरूम का गेट खोल कर घुस गए. इस बार थोड़ी देर किस करने के बाद बलविंदर बोला- पहले तुम्हारी बुर के बाल बना देता हूं. तो मैंने भी अबकी बार मना नहीं किया और प्यार से अपने होंठों में उसे जीभ डालने दी.

2 बजे के करीब मैंने उसको रूम में बुला लिया और कहा कि मेरा एक बार सेक्स करने का मन है. वो जोर जोर से ‘आह आह … जान चाट ले … आह आह!वो न जाने क्या क्या बड़बड़ा रही थीं. आप सबने मेरी पिछली सेक्स कहानीचलती बस में रात भर चुदीको बहुत प्यार दिया, इसलिए मैं आप सभी का दिल धन्यवाद करती हूं.

आंटी की चुत ज्यादा गीली होने के कारण लंड बिना किस रुकावट के अन्दर पेवस्त हो गया था. उधर अम्मी के मुँह से चुदाई की बात सुनते ही उसने मेरी अम्मी को अपनी तरफ खींचा और उनकी ब्रा में हाथ डाल कर उसे फाड़ दिया.

वो जब उठ कर खड़ी हुईं, तो उनके ब्लाउज के बीच से जहां हुक नहीं था … वहां से उनका थोड़ा सा बूब दिख रहा था. औरत की चुत चुदाई कहानी में पढ़ें मेरी दोस्त ने उसकी एक सहेली को चोद कर बच्चा देने के लिए कहा. मैंने धीरे से पैन्टी में हाथ डाल दिया, तो देखा कि मेरी बीवी की चूत काफी खुली हुई थी.

मैंने अब फोन से उसे चुदाई को लेकर में ज्यादा बात करना शुरू कर दिया था.

उसमें देखा तो पता चला कि उस दिन दीदी ने अपनी सुहागरात का इंतजाम कर रखा था।ठीक कुछ देर बाद जब दीदी बाहर आई तो उसने अपने फोन में देख कर मुझसे कहा- स्नेहा, आज मेरी क्लासमेट ने अपने घर पर ग्रुप स्टडी प्लान की है, तो आज तुम यहां अरेंज कर लेना. फिर कमल ने सामने से अपना लंड मेरे मुँह में डाला और मेरे मुँह को चोदने लगा. सलमान हंसने लगा- तो क्या हुआ जान … मुझे भी तो कुछ सीलपैक छेद चाहिए न?‘वो सब बाद में.

मैं अपने घर गया और दरवाज़ा खुला छोड़ कर वहीं पास में खड़ा हो गया उसके इंतज़ार में. खैर, बहन की शर्ट उतारने के बाद वो उसकी चूचियों को दबाता हुआ उसकी स्कर्ट में हाथ देकर उसकी पैंटी को सहलाने लगा.

मैंने उनसे पूछा- बाबा इतनी सुबह सुबह कहां जा रहे हैं?उन्होंने बोला- हां मेरे दोस्त के यहां कुछ जमीन का झगड़ा हो गया है, वहीं जा रहा हूं. जब हम दोनों सुलेखा के फ्लैट पहुंचे और उसे उधर छोड़ कर मैं अपने घर जाने लगा. उधर सामने बैठी मनु ये सब देख रही थी और अपनी नंगी चुत में उंगली चला रही थी.

सेक्सी हिंदी विडीयो

प्रिया की चीख निकल गई और वो बोली- आह शिवम् … फट गई … आह शिवम् … बाहर निकालो।उसके होंठों को मैंने अपने होंठों में लॉक कर लिया.

तो अगर आप सोच रहे हैं कि इस पेशे में आप लम्बी रेस के घोड़े की तरह दौड़ते ही रहेंगे तो ये आपकी गलतफहमी है. मगर वो कैसे चुदी और प्रियंका के साथ और क्या क्या हुआ वो सब मैं आपको अगली गरम सेक्स की स्टोरी में बताऊंगा. मैं सोचता था कि जैसे उसका लंड बाहर से फूला हुआ दिखता है, क्या वैसा ही अन्दर से भी बड़ा और तगड़ा होगा.

उसके बाद बलविंदर अलग हुआ और बोला- मैं तुम्हारा पति तो नहीं हूँ, लेकिन प्यार तो मैं भी तुझे बहुत करता हूं. हेमा चाची की मोटी चूचियों और गांड के अक्श को देख मेरा लंड जैसे तना जा रहा था, जिसे पजामे से साफ देखा जा सकता था. सेक्सी ब्लू फिल्म एचडी मेंफिर टीवी ठीक करके मैं वहां से जाने लगा, तो चाचा बोले- अरे बैठ जा … बाद में चले जाना.

मगर अभी भी अलीमा की शर्म बाकी थी तो बलविंदर उसे और खोलना चाह रहा था. हेमा चाची मुझे ऊपर छाती से लेकर नीचे लंड तक एकदम कामुक और वासना भरी नजरों से घूरने लगीं.

फिर लंड घुसा कर धक्के लगाने लग पड़े।संतो को शायद मोटे लौड़े लेने की आदत नहीं थी तो उसकी थोड़ी सिसकी सी निकली लेकिन फिर वो चुप होकर अपनी चूत चुदवाने लगी थी. जैसे ही मेरा लंड बुआ के कोमल होंठों को छूते हुए उनके मुँह में गया, मैं तो मानो जन्नत की सैर करने लगा था. मुझे जब भी हेमा चाची से बात करने का मौका मिलता, मैं तुरन्त पहुंच जाता.

बलविंदर ने उसके होंठों पर मदहोशी में अपने हाथ का अंगूठा फिराया और कहा- जैसे मैं तुम्हारी चूत को मुँह में लेकर चूसता हूं और तुम्हें आनन्द आता है. वो भी मेरे अंडकोष पकड़ कर दबाने लगी।मैंने उनकी चूत में दो उंगली एक साथ डाल दीं।वो चिहुंक उठी।मैंने उंगली अंदर बाहर करना चालू किया।वो भी अपनी गांड ऊपर नीचे करते हुए मेरा साथ देने लगी. कुछ ही देर में उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और नाखून मेरी पीठ पर गड़ाने लगी.

मैंने देर न करते हुए अपना लंड पकड़कर उसके मुँह के पास ले जाकर उसके मुँह में देना चाहा, पर उसने मना कर दिया.

नूपुर- नहीं मैं नहीं लूंगी … ये इतना बड़ा है … मेरे मुँह में भी नहीं आएगा. और मुंडी उधर क्यों घुमा ली तूने!तो नूपुर ने कहा- अबे साले … मैं तो बैठ जाऊंगी … पर पहले उससे तो बैठा ले.

इस दौरान मुझे अन्तर्वासना से जुड़ने के लिए कुछ ज्यादा ही समय मिल गया था. उस अस्पताल में मरीजों की काफी भीड़ थी, जिस वजह से हम दोनों को रात के करीब दस बज गए. हम दोनों की जीभ आपस में टकराने लगीं और मैं उसके होंठों को बिना रुके चूसता रहा.

फिर मैंने धीरे से एक धक्का उसकी चूत के अंदर लगाया और मेरा लंड उसकी चूत में 2 इंच तक उतर गया. वो बोला- प्रिंट निकल रहे हैं, इसको निकाल कर क्रम से लगा लो।मैं उसकी टेबल के सामने झुक कर पेपर सही करने लगी और वो बिल्कुल मेरे सामने बैठा था।मेरे झुकने की वजह से मेरी अच्छी खासी क्लीवेज उसके सामने दिख रही थी. उसकी चुदास इतनी ज्यादा बढ़ गयी थी कि वो जोर जोर से आवाजें करने लगी.

चूत की बीएफ सेक्सी मैंने भी कभी सेक्स नहीं किया था, तो मेरे मन में भी लड्डू फूट रहे थे. बाद में मुझे पता चला कि मैंने अपनी पत्नी के साथ जो रूबी को याद करके जो चुदाई की मस्ती में बना दिए थे, वो निशान रूबी ने देख लिए थे.

भाभी देवर की सेक्सी स्टोरी

परम के पास गयी तो उसने मेरी गांड को साड़ी के ऊपर से सहलाना शुरू कर दिया. मुझे पानी के भीतर सेक्स करना काफी अजीब लग रहा था लेकिन ऐसा करते समय हवस की आग अपने चरम पर थी. मेरी और उसकी चुदाई चलते हुए छह साल हो चुके हैं।ऐसा कोई भी तरीका नहीं है जिससे मैंने कुलदीप को न चोदा हो।वो भी मेरे साथ इस रिलेशन से बहुत खुश है।दोस्तो, यह थी मेरी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई की कहानी.

मेरे गर्म होंठ उसकी चूची पर लगे तो उसके मुंह से सीत्कार निकलने लगे. पन्द्रह मिनट की धकापेल चुदाई में वो दो बार झड़ गई थीं और अब मेरा भी होने वाला था. सनी लियॉन की छूटकोई भी जवान स्त्री किसी प्रुरुष की काम लोलुप नज़र को भली भांति पहचानती है, तो मंजुला भी सब कुछ समझ कर चुपचाप सिर झुकाए खाना खा रही थी.

सलमान हंस कर बोला- नज़मा जान, तेरी क्या फट जाएगी?अम्मी- मेरी चुत फट जाएगी.

मैंने ये सुनते ही बिना लंड निकाले उसे अपने नीचे लिया और ताबड़तोड़ धक्के मारते हुए अपनी धार उसकी चुत में छोड़ना शुरू कर दी. अंजलि की चूत से मूत की धार गिरने लगी और सब के सब जो नीचे बैठे थे सब पर गिरने लगी.

वो मेरे सीने में खुद को छिपाए हुए अपना सब कुछ सौंपने जैसी स्थिति में थी. नूपुर- नहीं मैं नहीं लूंगी … ये इतना बड़ा है … मेरे मुँह में भी नहीं आएगा. इसलिए हमने बहुत जल्दी एक दूसरे के कपड़े उतार दिये।कपड़े उतारने के साथ ही हम बेड पर आ गए और मैंने उसके बूब्स को मुंह में भर लिया और उसके बूब्स को हल्के हल्के बाइट्स से काटने लगा.

फिर मैंने उसको नीचे लिटा लिया और उसकी पीठ पर आकर उसकी चूचियों को दबाते हुए उसकी गर्दन को चूमने लगा.

अब आपके मन में ये भी सवाल आ रहा होगा कि आखिर मैं इस मेल एस्कॉर्ट के धंधे में आया कैसे? यह कहानी थोड़ी लम्बी है लेकिन आपको मैं संक्षिप्त रूप में ही बताऊंगा. फिर अचानक से स्पीड ब्रेकर आया और उसने एकदम से मेरी जांघ पर हाथ रख कर दबा दिया. कोई मुझे किस कर रहा था, कोई मेरी ब्रा के ऊपर से मम्मों को मसल रहा था.

सपना भाभी सेक्सीअब अम्मी ने सलमान से रुकने को कहा और उठ कर सामने ड्रेसिंग टेबल से सरसों के तेल की शीशी ले आईं. हेमा चाची को अन्दर हाथ डालने में दिक्कत हो रही थी, तो मैंने अपनी जींस का हुक खोल दिया.

भारतीय सेक्सी चोदा चोदी वीडियो

रात को खाने के बाद मैं अपने रूम में आ गया और मामी अपने रूम में चली गई।थोड़ी देर बाद मामी आई, बोली- राज, तुम मेरे रूम में चलो. वो सिसकारियां भरने लगी।अब मैंने उसकी चूत में जीभ घुसा दी और अंदर-बाहर करने लगा।वो उछल उछल कर गांड ऊपर करने लगी. मैं दिन रात बस हेमा चाची के कामुक हुस्न के बारे में सोचता रहता और हेमा चाची के नाम की मुठ मार लिया करता था.

मैंने कहा- मेरा क्या वो?वो बोली- तुम्हारा लंड!उसके मुंह से लंड सुनकर मैं भी फिर से जोश में आ गया. उसने होटल में जाने से मना कर दिया और बोली- नहीं होटल में नहीं … वहां बहुत खतरे वाली बात है. मम्मी और पापा गाँव गए हुए थे। उन लोगों का वहाँ 2 दिन रुकने का प्लान था।मम्मी-पापा चले गए.

आज मैं आपको मेरे जीवन में चुदाई की शुरूआत की कहानी बताऊंगा कि मेरे साथ क्या हुआ।तो हुआ ये कि हमारे घर के बराबर में एक किराएदार रहने आए जिसमें अंकल आंटी और उनकी बेटी सलोनी (बदला हुआ नाम) थी. अगली बार उसको लगा कि मैं फिर धीरे धीरे डालूँगा लेकिन इस बार मैंने पूरा लंड एक बार में ही उसकी चूत में घुसा दिया. वो एकदम से जरा सिहर उठी और उसी वक्त मैं चुत को जोर जोर से चूसने लगा.

उन्होंने मेरे चूतड़ों पर अपने गर्म होंठों से चूमा तो मेरे लंड में सरसरी दौड़ गयी. अब आगे Xxx चूत की कहानी:अगले ही पल बलविंदर अलीमा को अपनी बांहों में उठा कर बिस्तर पर ले गया.

मैंने देर न करते हुए एक चूची को अपने मुंह में लेकर चूसना चालू किया.

फिर उसने अपना हाथ फैलाया और नापा तो देखा कि लंड उनकी हथेली से भी ज्यादा लंबा था. हॉलीवुड एक्स एक्स एक्स मूवीइस बार का फव्वारा इतना ज्यादा था कि ठाकुर भी खुद को रोक ना सका और वो भी झड़ने लगा. भाभी की चूत में लंडमकान का किराया लेने हमेशा उसका बेटा आता था लेकिन वो अपनी बहन के ससुराल गया था तो इस बार सुमन आई. मैं झट से उनके घर गया और अम्मी की दी हुई लिस्ट का सामान बाजार से लाकर उनके घर देने गया.

मैंने उन्हें रोका और कहा- आप कहां जा रही हैं?आंटी- अपने घर!मैंने कहा- चलो, मैं आपको छोड़ देता हूँ.

उसकी आग ठंडी नहीं होती थी, तो वो अपनी चुत में उंगली करके उसे शांत करती थी. मेरे गर्म होंठ उसकी चूची पर लगे तो उसके मुंह से सीत्कार निकलने लगे. मैंने उससे अपनी पोजीशन बताई और उससे कहा कि मैं शाम तक उधर पहुंच जाऊंगा.

दोस्तो नमस्कार!मैं देव 25 साल का हूं और उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूं. वो बाथरूम बहुत ही छोटा था, जिसमें हम दो जन भी आराम से फिट नहीं हो पा रहे थे. जिसमें वो अपनी चुत में कभी शैम्पू की गोल शीशी डाल कर दिखातीं, तो कभी अपनी झांटों को साफ़ करते हुए वीडियो दिखातीं.

सेक्सी शयरी

कुछ देर बाद जब उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने धीरे धीरे उसको चोदना शुरू कर दिया. लेकिन अभी तो भाभी को गांड मरवाने के लिए मनाना था।अब मैंने भाभी की उठी हुई गांड के दोनों सुडौल खूबसूरत चूतड़ों को हाथों में पकड़ा और प्यार से चूतड़ों को सहलाने लगा।भाभी निढाल होकर नंगी पड़ी हुई थी।भाभी के शानदार चूतड़ों को सहलाने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। भाभी की मस्त नंगी गांड को देख देखकर मेरे लन्ड से अब अंडरवियर में नहीं रहा जा रहा था. अगली सुबह मैंने पाया कि हेमा चाची के घर का दरवाजा खुला पड़ा था और चाची घर के बाहर का चबूतरा साफ कर रही थीं.

जैसे ही मैंने देखा कि उसे भी मजा आ रहा है तो मैंने लौड़े को थोड़ा और आगे धकेलना चाहा और धीरे-धीरे अपनी स्पीड बढ़ाने लगा.

फिर क्या हुआ?ये सेक्सी चाची की गरम कहानी मेरी और मेरे किरायेदार के बीच की आज से 5 साल पहले की है जब मैं अपने होमटाऊन बिहार में रहता था.

लेकिन साहिल को मेरी गांड मारने का लाइसेंस मैंने ही दिया था तो उसने मेरे दर्द को भी नहीं सुना और लगातार झटके पर झटके मारने लगा. हम दोनों ने कैसे चुदाई का मजा लिया?हैलो फ्रेंड्स, मैं अंकित पटेल एक बार फिर से आंचल मैडम की चुदाई की कहानी के साथ हाजिर हूँ. সেক্স করা ভিডিওमेरी सिसकारियां अब मुझसे कण्ट्रोल नहीं हो रही थीं और अब बस मुझे किसी भी तरह लंड चाहिए था.

तब टीचर ने कहा- ऐसे ही क्लास में बैठे रहोगे … या स्कूल को देखोगे भी!तो सब स्कूल में घूमने के लिए जाने लगे. वह एक अनुभवी लड़की थी जबकि मैंने अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई के अलावा किसी दूसरी चूत को नहीं चोदा था. अगली बार मैं आपको उसकी गांड चुदाई की स्टोरी बताऊंगा कि कैसे मैंने उसकी गांड चोदी.

10 मिनट तक लगातार उसकी ताबड़तोड़ चुदाई की और फिर उसकी चूत में जलन होना शुरू हो गयी. सेक्सी बुआ मेरे सामने वासना से भरी अपनी आंखों से मेरी आंखों को पढ़ रही थीं.

गर्मी की वजह से हम दोनों पसीने से लथपथ हो गए और मेरे टॉप पर से मेरे निप्पल ज्यादा झलकने लगे.

मैंने उन्हें अपना नाम बताया और कहा कि अगर आपको मेरी किसी मदद की जरूरत हो तो बताइएगा. अब मैं ये सुन कर रुक गया और बोला- दीदी मेरा लंड भी तो इतना बड़ा हो जाएगा ना?वो बोली- हां, कुछ भी करना पड़े चाहे, तेरा लंड तो मैं उससे भी बड़ा बनाना चाहती हूं. वो मेरे पास आकर हंस कर बोली- वो वीडियो डिलीट कर दो, मैं चुदने के लिए तैयार हूं.

સેક્સ વીડિયો ગુજરાતી સેક્સ વીડિયો ’ये कहते हुए मेरी अम्मी ने उठ कर सलमान की पैंट का बटन खोला और उसे उतार दिया. और थोड़ी देर बाद एक साथ दोनों ने पानी छोड़ दिया।मैं थक कर बुआ के नंगे जिस्म के ऊपर ही लेट गया।हम दोनों का शरीर पसीने में भीग गया था।बुआ बहुत खुश थी क्योंकि उनकी सारी समस्या अब खत्म हो गई थी।अब दोनों अलग-अलग हो कर लेट गए.

उनकी ननद यानि कि मेरी छोटी बहन पढ़ाई करने के लिए घर से बाहर शहर में रहती है।घर गया तो भैया और भाभी घर में थे; बड़े पापा और बड़ी मम्मी कहीं काम से बाहर गए हुए थे और उनके बच्चे स्कूल गए हुए थे।मैं रीना भाभी को बहुत पहले से ही चोदना चाहता था. काफी देर तक मेरी गांड मारने के बाद उसने अपना लंड बाहर निकाला और मेरे लंड के ऊपर अपना रस गिरा दिया. जब मैं पलट कर जाने लगी तो राज ने मेरी गांड पर हाथ मारकर कहा- बहुत सेक्सी लग रही हो.

सेक्सी बीपी वीडियो दिखाएं

उसके बाद मैंने पीछे हाथ ले जाकर उसे अपने सीने से चिपकाया और उसके होंठों को चूमते हुए ब्रा के हुक खोल दिया. चूंकि वो सेक्सी ज्यादा थी इसलिए उसके रूप और जिस्म की गर्मी के सामने मैं ज्यादा देर नहीं टिक सका. लड़के से मैं बोला- ये कैसे कपड़े हैं?लड़का बोला- इस तरह के कपड़े पोर्न स्टार पहनती हैं.

हम दोनों एकदम प्यार से एक दूसरे के होंठों को चूम रहे थे, एक दूसरे की पीठ सहला रहे थे. मगर होंठों का दरवाजा तो बलविंदर के होंठों ने बंद किया हुआ था सो उसकी चीख उसके मुँह में ही दब कर रह गई.

साहिल ने देर न करते हुए पहले तो एक हाथ उसकी एक चूची पर रखा फिर दूसरा हाथ भी लगा दिया.

उसकी चूत गुलाबी रंग के जैसी थी, शायद वो उंगली करती हो या पहले चुदाई कर चुकी होगी क्योंकि चूत के दोनों होंठ अलग दिख रहे थे।उसकी उम्र भी 23 की थी तो चूत फैलने भी लगती है इस उम्र तक।मैंने उसकी टांग उठाकर फिर से कंधों पर रखी और उसकी चूत को चाटने लगा. लेकिन मैंने भाभी को अच्छी तरह से दबोच रखा था जिससे भाभी हिल भी नहीं पा रही थी।भाभी कहने लगी- रोहित प्लीज बाहर निकालो. अभी तक कहानी में आपने पढ़ा था कि मेरी दो बार चुदाई हो चुकी थी, इस बीच राहुल बुरी तरह थक चुका था और वो सो गया था.

जब उसकी चूत झड़ने वाली थी तो वो पूरा लन्ड चूत में लेकर मेरे ऊपर लेट गई।उसकी चूत के होंठ मेरे लन्ड पर कभी कसने और कभी ढीले होने लगे।मुझे बहुत अच्छा फील हो रहा था।लगभग 2 से तीन मिनट तक उसने इस अनुभव को महसूस किया. फटी चूत लेकर मैं जोर से चिल्ला उठी, मगर विजय ने मेरा मुँह दबा लिया. फिर जैसे ही मैंने अगला फाइनल शॉट मारा तो अंकिता की काफी तेज आवाज निकल पड़ी.

वहां बिना काम से कोई जाता है तो उसको डाँटते हैं सर लोग!इसपर मैम बोली- अच्छा ठीक है, तुम अकेली ही जाओ।उसके आफिस के गेट पर पहुंचने से पहले ही मैंने अपने पल्लू को अपनी दोनों चूचियों की घाटी के ऊपर से थोड़ा सा हटा लिया.

चूत की बीएफ सेक्सी: फिर आधे घंटे तक चोदने के बाद तीनों ने बारी बारी से अपना पानी मेरी चूत में छोड़ा. दोस्तो, आप सबको पता होगा कि अगर आपको किसी महिला को जल्दी बच्चा करना है तो माहवारी के 10 दिन से लेकर 18वें दिन तक सेक्स करना चाहिए.

मैंने बोला- पहले नहीं लिया क्या तूने?वो दर्द में कराहते हुए बोली- आह्ह … लिया है कमीने लेकिन इतना मोटा और लंबा नहीं … आईई … मम्मी … फाड़ दी तूने मेरी. मैंने देखा कि सुमन बेड पर बिल्कुल दुल्हन की तरह लाल सूट पहन कर घूँघट निकाल कर बैठी थी और पूरे कमरे में से गुलाब की खुशबू आ रही थी. मेरा लंड 6 इंच का है, जो लड़कियों की चुत की आग पूरी मस्ती से एक दिन में चार बार बुझा सकता है.

अगर किसी भी पाठक या पाठिका के साथ ऐसा हुआ हो कि वो रोमांस कर रहे हों और अचानक से किसी कारण उनको अलग होना पड़ा हो तो मुझे ज़रूर बताना कि कैसा लगता है उस वक्त!फिर उसके नीचे जाने के बाद मैं भी नीचे गया.

मैंने पूछा- तुम्हारे हस्बैंड!तो उन्होंने कहा- मेरे पति एक एमएनसी में काम करते हैं. उसके दबाव से तो मैं उसकी गुलाम बन चुकी थी; मैं बिना कुछ सोचे सीट पर बैठे बैठे नीचे झुक गयी. चाय पीते हुए उससे काफी बातचीत हुई और मैंने उसे अपना नम्बर दे दिया कि आपको कभी किसी काम की जरूरत हो तो बेहिचक फोन कर लीजिएगा.