बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला

छवि स्रोत,आलिया भट्ट की सेक्सी वीडियो फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की कुत्ता की बीएफ: बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला, पकड़ कर बताओ तो कि आठ इंच का हिस्सा कौन सा चाहिए?वो आंख दबाते हुए मुस्कुरा दी और इधर उधर देखने लगी.

लल्ला लल्ला लोरी बड़ी सेक्सी होली

उस समय स्मार्टफोन तो होता नहीं था, मेरे पास में सिंपल की-पैड वाला फ़ोन था. ब्लड निकलने वाला सेक्सीउसके बाद मैंने बाहर निकाल कर थोड़ा सा ऊपर करके अन्दर दबाया और तेजी से घुसा दिया.

फिर मैंने उसके कपड़े उतारने की कोशिश की … तो उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया और किस को रोक दिया. जबरदस्ती सेक्सी वीडियो फुल एचडीमकान मालकिन- तुम्हारे जाने के बाद आज एक औरत घर आई थी तुम्हारा ये पर्स देने … वो बता रही थी कि बस में तुम्हें किसी लड़की ने चांटा मारा था.

अंकल- मेरी जान, क्या मस्त चूचे हैं तुम्हारे … एकदम नरम और मोटे!मॉम- मेरे राजा अब तो ये तुम्हारे ही हैं.बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला: अपने सर से इश्क करने के पहले मुझे इस बात का अंदाजा ही नहीं था कि उनका लंड इतना लम्बा होगा.

आशा को अब मजा आना शुरू हो गया, वो गांड उठा उठा कर लन्ड ले रही थी और ‘हां हां हां साहब जी … और अंदर डालो … आह आह आह … हाये साहब जी … आप मुझे पहले क्यों नहीं मिले … हाये साहब जी … और तेज करो!’ बोल रही थी.वैसे तो मैं घर से बाहर भी कम‌ ही निकलता था, मगर फिर भी मैं यही प्रयास करता कि मेरा कभी शायरा से सामना ना हो.

सेक्सी स्टूडेंट सेक्सी - बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला

मॉम एकदम से चिल्ला उठीं ओर गांड ऊपर उठा कर अंकल के मुँह को हाथ से पकड़ कर चूत में घुसाने लगीं.मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा था, जैसे किसी तपती भट्टी में अपनी उंगली पेल दी हो.

मुझे बहुत भूख लगी थी, तो मैंने खाना बनाया और फिर उन दोनों को उठाया. बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला मैं तो चाहती हूँ कि मालू भी तुझसे चुदवाया करे ताकि जब तक इसकी शादी न हो, इसकी खूबसूरती और चेहरे की रौनक भी बनी रहे.

अगले दिन जब मामा जी ने पूछा तो मैंने बोल दिया कि जो मां बोलें, वही होगा.

बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला?

मैंने शायरा की चुत को अपने वीर्य से पूरा भर दिया था और खुद शायरा भी दो बार झड़ चुकी थी. ”तुम जैसे चाहोगे मैं मदद करूंगी, मुझसे तड़पती हुई सीमा देखी नहीं जाती. जिससे वो थोड़ी सी तो हिचकी, लेकिन कई बार पानी छोड़ने से उसे ज्यादा परेशानी नहीं हुई.

चुदाई देखते हुए मुझे भी लण्ड चुसवाने में मजा आने लगा था। थोड़े देर लंड चुसवाने और मुँह की चुदाई की बाद मैंने कुछ नया करने का सोचा।मैंने सौरभ के मुँह से लंड निकाला और मालविका के पास चला गया। मैं मालविका के पीठ पर किस करने लगा. वो हंस कर बोली- हां … ये तो है … कभी कभी मैं इसको अपने हाथों से सहला लिया करती थी … तो जरा सा पानी निकल जाता था, लेकिन आज ये झरना तो रुक ही नहीं रहा. डॉक्टर ने मेरी चूची को पी-पी कर, मसल-मसल कर पिलपिले आम से एक आकर्षक शेप दे दिया था और चूत की भी शक्ल सूरत बदल चुकी थी.

वैसे तो मुझे हल्की घबराहट हो रही थी क्योंकि मनीष कभी रात को मेरे पास नहीं आता था. फिर हमने दो दो पैग लगाए और कुछ देर एक दूसरे की चूमा चाटी करके सो गए. दरअसल वो दुकान केवल बस अंडरगार्मेन्टस की ही थी, जिसमें जेन्टस के साथ साथ लेडीस अंडरगार्मेन्टस भी मिलते थे.

संगीता नीचे जाने लगी, तभी उसको अहसास हुआ कि उसकी चूंचियां बिना ब्रा के सचमुच कुछ ज्यादा ही हिल रही हैं. मैं नीचे क्लास गई और क्रीम को लेकर छत पर आ गयी और अभिषेक को पकड़ा दी.

मैं अपनी साली को और अपने साढ़ू की बॉडी को सकुशल इंडिया लेकर आना चाहता था.

मैं बीच में रूका और उससे पूछा- यार कोई कष्ट तो नहीं है?वह बोला- लगे रहें सर जी … हमें तो लंड के झटके झेलने की काफी आदत है.

मैं अहमदाबाद में रहता हूं, लेकिन पिछले दो साल से मुंबई में जॉब कर रहा हूं. यह सुन कर उसने शर्मा कर मेरे सीने पर प्यार से हाथ मार कर ‘धत्त बेशर्म!’ बोली. जब वह बीच में ही रुक गई तब मैंने संजना को उसकी मदद करने के लिए कहा.

विकी ने मुझे तुरंत अपने बांहों में भर लिया और कहा- तुम बहुत अच्छी हो, मैं तुमसे प्यार करने लगा हूँ. अपने इस मूसल लंड से मैंने कई आंटियों को चोदा है और चोद चोदकर भरपूर संतुष्ट किया है. मेरे एक तगड़े शॉट से बिन्नी का सिर जोर से दीवार से टकरा गया जिससे वो दर्द से चिल्ला उठी और खड़ी होने लगी.

फिर कुछ और मिनट चुत चोदने के बाद वो रुक गया था … लेकिन झड़ा नहीं था.

उन्होंने नजरों को झुकाते हुए बोला- मैं तो आपके लिए चाय लाने वाली थी, लेकिन आप बाथरूम से निकले, तो मैं अपने आपको रोक नहीं पाई. अमेरिकी दूतावास में पहुंच कर एक भारतीय कर्मचारी ने बताया कि मुझे वहां पर किसी जानकार जरूरत पड़ेगी. बहुत ही कामुक नजारा चल रहा था वो … जिसे देख मेरे खाली हाथ को भी अब एक काम सूझ गया.

राहुल, धीरज, राजीव और मुश्ताक तो अलग ग्रुप बना कर ड्रिंक्स के गिलास लेकर हंसी ठट्ठा कर रहे थे तो पिंकी, शबनम, सीमा और नायरा वहीं अलग बैठ गयी थी. मैं बिस्तर पर चढ़ी अपने पैर को घुटने से मोड़ कर अपनी चूत उसके मुंह पर दे दी।वह मेरी चूत में अपनी जीभ से चोदने लगा।और इधर मैंने मेरे मम्मे भी आजाद कर लिए. मैं लगभग अकेली रहती हूं, आप जब भी फ्री हों, तो मेरे घर पर ही आ जाइए.

मैंने कैब मंगवा दी है!ज़ारा- ठीक है लेकिन खाना खाने के बाद मेरे पास फोन कर देना ताकि मैं भी खा लूं!मैं- कर दूंगा पक्का!ज़ारा चली गयी और रात करीब आठ बजे मैंने खाना मंगवा कर खाया और उसे बता दिया!वो पार्टी निबटाकर दस बजे वापस आयी!आते ही उसने मुझे बांहों में भर लिया!मैं- अरे जरा सब्र करो!ज़ारा- नहीं होता! इतनी देर दूर रही हूं आपसे!हम किस करने लगे.

मेरी टांगें मेरी स्कर्ट से पूरी बाहर आ गयी थीं बैठने के बाद। मेरी चिकनी गोरी टांगें उन दोनों के लिए जैसे एक ख्वाब थीं. मुझे भी बहुत अच्छा लगा और मैं कमरे में आकर आगे के प्लान के बारे में सोचने लगा.

बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला वो बहाने बनाने लगा और बोला- ये क्या कह रही है छोटी, कैसी बातें कर रही है तू?उसको आईना दिखाने के लिए मैं अपनी पैंटी को निकाल लाई. वह भी मुझे अपनी सारी बातें बताता था।अब वह पहले से भी ज्यादा खुल कर बात करने लगा था।जब मैं दीदी के यहाँ जाती तो वह मुझे किस करता.

बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला वो बोली- मुझे बाहर के लड़कों से डर लगता है … कहीं मम्मा को पता लग गया, तो वो मुझे मार ही देंगी. सुपारा अन्दर जाते ही वो मेरी पीठ पर नाखून चलाने लगी जिससे उत्तेजित होकर मैंने दो धक्के मारकर पूरा लण्ड उसकी चूत में उतार दिया.

अब वो दोनों किस करने लगे थे और राहुल कमीना साला मेरी बीवी शिल्पा के मम्मों को बेरहमी से मसल रहा था.

उदयपुर की सेक्सी मूवी

वो कभी उसकी कुर्ती के ऊपर से मम्मों के साथ खेलने लगता, तो कभी उसकी चुत कुरेदने लगता. मेरी यह फैंटेसी आज तक पूरी नहीं हो पाई थी इसलिए बस मैं कल्पना में ही इस तरह की घटनाओं का आनंद लेकर अपने आप को खुश रखता था. कुछ लड़कियाँ अनजाने में या धोखे से, कुछ मजबूरी में और कुछ तो सिर्फ मज़े के लिए अपनी चूत की सील तुड़वा लेती हैं।आजकल के समय में तो लड़कियों की सील कम उम्र में ही टूट जाती है और शादी होने से पहले ही चूत भोसड़ा बन जाती है.

मैंने बिना एक पल की देरी किए उसे चुदाई की पोजीशन में लिया और अपने लंड का सुपारा उसकी चुत की फांक में सैट कर दिया. उन्होंने अपने सर को पीछे धकेल कर मेरे चूमने के लिए जैसे और जगह बना दी हो. कुछ दिन बाद पहले साल की पढ़ाई ख़त्म हो गई, तो प्रिंसिपल सर ने मुझे अपने हॉस्पिटल में आने के लिए कह दिया.

शिल्पा उसके ऊपर से हट गई और राहुल उसकी गांड पर हाथ रखकर शिल्पा के साथ अन्दर कमरे में आ गया.

वो- इतनी जल्दी? अभी तो सात ही बजे हैं?मैं- हां, वो होटल से नाश्ता भी करना है न!वो- वैसे मैं भी नाश्ता करने जा रही थी, तुम चाहो तो तुम भी यहां नाश्ता कर सकते हो. सुडौलता और सुंदरता की धनी, रूप लावण्य का रस छलकाती हुई उसकी बांहों में सिमटी मेरी जवानी उसकी कामकला के प्रदर्शन की प्रतीक्षा करने लगी. और फ़ोन भी नहीं लग रहा।वंदना मेरी तरफ देख कर मुस्कुराई और बोली- कोई बात नहीं, मैं चलती हूँ तुम्हारे साथ, मेरे प्यारे जीजू आप ऐसे उदास अच्छे नहीं लगते।वैसे भी मैं दीदी को बता कर तो आयी नहीं हूं।मैं- तो चलो फिर बैठो गाड़ी में, चलें फिर पहाड़ों की सैर करने।वंदना- मेरा तो मन आज किसी और चीज़ पे सैर करने को हो रहा है.

हल्की चुम्मा चाटी करने के बाद हम दोनों ने साथ में लाया हुआ खाना खाया. मैं प्रीति के अन्दर उस गहरायी में हो रहे उस अनुभव को लेकर बहुत आश्चर्यकित था. मैं- अरे नहीं, वे सर हम लौंडों की बार बार मारते थे … कई बार रगड़ी थी, तो अन्दर गुस्सा था.

फिर वो बोले- तुम्हें भी इस बारे में सोचना चाहिए।तो मैं बोली- किस बारे में?वो बोले- सेक्स के बारे में!इस पर मैं बोली- लेकिन किसके साथ?तो वो बोले- देख लो … तुम्हारे आसपास कोई न कोई तो होगा जो तुमसे बात करता हो!मैं समझ गयी कि बुड्ढा अपनी बात कर रहा है. प्रियंका अनामिका की पैंटी के बीच से (जहां चूत का हिस्सा होता है) पकड़ कर नीचे खींचने लगी.

दो मिनट की मेहनत के बाद ही श्रुति ने मेरे हाथ पर सुसू (कामरस की धार) कर दिया. अगर तुमने मेरा साथ दिया तो तुम्हें मैं जवानी के दौर में फिर से वापस ले जाऊंगा. मैंने अपने ऑफिस के एड्रेस पर कुछ हाई सेंसर वाले स्पाई कैमरा ऑर्डर कर दिए.

हॉट भाभी डबल चुदाई कहनी में पढ़ें कि कैसे मैंने और मेरे दोस्त ने एक भाभी की आगे पीछे ऊपर नीचे से चूत गांड चुदाई करके उसकी इच्छा पूरी की.

आज उसने अपनी चूत स्पेशल वेक्सिंग कर ली, पता नहीं मनोज क्या बवाल बना दे और उसे सुनील के साथ …खैर 12 बजे करीब मनोज का फोन आ गया कि उसने सुनील को रिसीव कर लिया है. अब दो मिनट में सेक्स तो नहीं हो सकता था, पर हाँ अब माहौल तैयार था … म्यूजिक थमा पर जोड़े चिपके रहे. मेरी शर्ट को खोलकर रिचा ने मेरे जिस्म से अलग कर दिया और मेरे सीने पर अपने होंठों से चूमने लगी.

शायद शायरा को अपबे हज़्बेंड के और मेरे लंड में बहुत फर्क लग रहा था … तभी तो वो मेरे लंड को इतने ध्यान से देख रही थी. तभी वो बोली- भैया प्लीज रुक जाओ ना … मेरे लिए इतना भी नहीं कर सकते!मैंने बोला- तेरे लिए तो जान भी हाजिर है … तू बस एक बार हां तो बोल.

मैंने उसकी चुत से निकलने वाले खून को साफ़ करने के लिए सैवलॉन और कॉटन का इंतजाम करके रखा. मुझे तो ऐसा मन कर रहा था कि अभी मॉम के साथ डांस करके उनको किस कर लूं. मैं तो खेला खाया था मगर मैंने भी अब तक कुंवारी चुत का उद्घाटन नहीं किया था तो मुझे भी उसको चोदने की मस्ती चढ़ रही थी.

भारतीय सेक्सी व्हिडीओ

अब वो बोली- जाकर शीशे में देख कर आ कि जहां जंगल था, वहां अब मंगल मनाया जाने वाला है या नहीं.

वो बोले- तो तू पक्का उन ठेकेदारों से चुदवा लेगी?मैं बोली- हां जीजा, आप जिससे कहोगे मैं उससे चुदवाने के लिए तैयार हूं लेकिन अभी मेरी चूत की प्यास बुझा दो. राहुल ने लंड चुत से निकाला और शिल्पा को पलटाकर घोड़ी बनने का इशारा किया. उसके आते ही मैंने अन्दर से दरवाज़ा बंद कर लिया और उसके सीने से चिपक गई.

उनकी साड़ी का पल्लू उनके कन्धों से नीचे सरक गया था और हम दोनों की सांसें भरी हो रही थी. क्लिप मैंने वहां चिपकाईं थीं जहां पर मोमबत्ती का गर्म मोम टपका हुआ था. मुसलमानी सेक्सी बीपी वीडियोमैंने अनजान बनते हुए उससे पूछा- मतलब?तब वह बोला- वो रिचा तुमको लाइन मार रही थी.

फिर एक दिन मैंने उससे कहा कि मेरे कपड़े सूखने डाल दो, मुझे पेट में दर्द है. या तो मैं बहुत दिनों के बाद उसके बदन का स्पर्श पा रहा था या फिर अब हम भाई बहन से ज्यादा एक जवान लड़का और जवानी लड़की हो गये थे.

एक दिन मौका देखकर जब रोहित बाहर साइकिल चला रहा था और आंटी और पूजा पड़ोस में गयी थीं. मैंने बोला- वही, जो आपको चाहिए है और उसी के लिए आप अपनी उंगली को परेशान कर रही थीं. मैंने इस बार फिर उसके हाथ फंसा लिए और बाल पकड़ कर उसके मुँह में उसकी ब्रा ठूंस दी.

चुत में कामरस का रिसाव पहले ही हो चुका था, जो लंड को चिकनाई प्रदान करने लगा था. दोस्तो, इस पारिवारिक चुदाई की गन्दी स्टोरी के अगले भाग में चूत चुदाई का रस और भी ज्यादा छलकेगा. वो मेरे करीब आने लगी और मैं उसके … सच कहूं तो दोस्तो, मुझे उससे प्यार हो गया था.

मैं अब कुछ देर उसके होंठों को चूमने के बाद उसके बदन को किस करने लगी.

भाभी के मुँह से दबी सी आवाज निकली- आआ … आह्ह्ह ह्ह्ह्ह … उईईई माँआअ … मरर गई. ’उसने जांघों को सिकोड़ कर चुत को ढकने की कोशिश की मगर मैं अब कहां मानने वाला था.

दीदी- अच्छा सवाल दिखाओ तो?मैंने दीदी को अपना क्वेश्चन पेपर दे दिया और दीदी उस पढ़ने लगी. जब मैं बार बार उठकर उससे अलग होने लगा, तो उसकी आंखें अब खुली रहने लगीं. वो साथ ही मेरी वाइफ संजू की गर्दन, कान, चेहरे आदि पर किस भी करता जा रहा था.

मुझे तो अब जैसे उसकी आदत सी हो गयी थी और शायरा तो अपने पति को ही भूल गयी. मुझे उनके सामने खड़े होने में भी शर्म‌ आ रही थी, इसलिए मैं अब वहां खड़ा नहीं हुआ बल्कि वहां से पैदल‌ ही चलकर कॉलेज आ गया. फिर उसने मेरी गांड के छेद में बहुत सारी क्रीम भर दी और मेरी गांड फाड़ने के लिए रेडी हो गया.

बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला उधर वो मादक लौंडिया मुझे एक लाइव ब्लू-फिल्म का मजा दे रही थी और मैं बड़ी तेजी से अपने लौड़े को ठंडा करने का कार्य कर रहा था. रामू ने आरिषा भाभी को ज़ोर से पकड़ा और फिर से उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

महान सेक्सी वीडियो

उनको पता था कि उनका बेटा जहां से बाहर निकला है, आज वो वहीं पर अपना लंड डालने के जोश में है. शायरा ने मेरी गर्दन पकड़ रखी थी, इसलिए मैंने अपनी गर्दन को हिलाकर उसे छोड़ने का इशारा सा किया. पहले मुझे भी यकीन नहीं था लेकिन फिर लूसी ने मुझे उनकी लाइव चुदाई दिखायी.

इन्हीं मादक आवाजों के साथ उसकी गांड ने भी नीचे से उठ कर लंड से मोर्चा लेना शुरू कर दिया था. दरअसल उस उस दुकान‌ वाले ने मेरे अंडरवियर और शायरा के अंडरगार्मेन्टस एक‌ ही थैले में डालकर दिए थे, इसलिए जाते समय जब मैं थैले से अपने अंडरवियर लेने‌ लगा. हिंदी देसी सेक्सी ऑडियोउनके क्लीनिक के ऊपर एक आराम करने का कमरा लेट कम बाथरूम व छोटा सा किचन भी था.

मुकेश भी कम नहीं था, उसने संगीता की चूत की मलाई का एक कतरा भी व्यर्थ नहीं जाने दिया, कुछ माल बह कर संगीता की गांड तक गया था … उसको भी मुकेश ने अपनी लंबी जीभ निकाल कर चाट लिया तब ही उसने अपना मुँह हटाया.

दो अभी ठंडी थीं, मतलब ठंडी तो पाँचों थीं लेकिन फ्रिज में रखने से मतलब ये था कि वो ठंडी बनी रहेंगी. मैंने किसी को भनक नहीं लगने दी कि रात में सोनाली और मैं चुदाई कर चुके हैं.

आज पूजा के साथ तुम अकेले रात बिताओ, मैं यहीं बाहर सो रही हूँ।ऐसा सुनकर उसने और ज्यादा खुश होते हुए मुझे अपनी बांहों में कस लिया और मुझे चूमते हुए कहा- वाह मेरी जान, आज तो मेरी जिंदगी बना दी. इसके बाद मैं मामी को उठा उठा कर आधा घंटे तक उनकी गांड को चोदता रहा. मेरे दिमाग में उनके चूचे इस कदर घुस चुके थे कि उनको सोच सोच कर मैंने कई बार मुठ मार चुका था.

मैंने उसे शाम तो अपने घर खाने पर इन्वाइट किया और अपने पति से फोन पर कहा कि शाम को तीन के लिए पैक डिनर ऑर्डर कर दें क्योंकि आज मैंने बॉस को डिनर पर इन्वाइट किया है.

दोनों यहीं से कम्पनी चलेंगे।मैंने कहा- ठीक है सर, मैं थोड़ी देर बाद चला जाऊंगा।फोन काट कर मैंने सपना को बताया तो वो खुश हो गई।खन्ना सर के पहले ही मैं तो उसकी बीवी की चुदाई कर चुका था. मैंने भी अब अपने लंड को थोड़ा सा एडजस्ट किया … तो एक ही झटके में शायरा की चुत ने मेरे पूरे लंड ‌को खा लिया. इस घर में तो तीन मस्त-मस्त चूत हैं और तू झांटू आदमी लंड की मुठ मार रहा है.

सेक्सी वीडियो बुर चुदाई काभाभी को मैंने अपनी ओर खींचा और उसको कसकर अपनी बांहों में भींच लिया. फिर दोनों हथेलियों पर एवं घुटनों पर संतुलन साधकर अपनी कमर के ठीक नीचे से अपनी गाँड उचका कर हवा में ठीक लंड की सीध में स्थिर हो गयी, जिससे कि पंकज को अपना लंड स्पीड से पेलने में ज़्यादा मेहनत न लगे।मैं पीछे से मंत्रमुग्ध होकर अपनी बीवी की अब तक छिपी अंतर्वासना को आँखें फाड़ कर देख रहा था और सुमन की गाँड ऐसे फैली हुई थी जैसे कमल की पंखुडियाँ खिलकर अलग हो जाती हैं.

കോളേജ് സെക്സ്

मैंने उसे जूस में एक पैग बना कर दिया और खुद उसकी चौड़ी हुई टांगों के बीच में आकर उसकी चूत चाटने लगा. तभी मेरे पति ने मनोज से पूछा- आपकी इंडस्ट्री डिपार्टमेंट में कोई पहचान है?मनोज- हां, वहां का डायरेक्टर मेरा बैचमेट है. उसने चाट चाट कर मेरी चूत का पानी निकाल दिया और मैं आनंद में खो गयी.

मेरे ख्याल से आप सब दोस्त ये सोच रहें होंगे कि मुझे फ्री की चूत नीतू की मिली होगी. देविका- तुम आज मेरी हर एक ख्वाहिश को पूरा कर दो, मुझे मज़ा आ रहा है … ऐसे ही करते रहो. आज मुझे भी पता नहीं क्या हो गया था?शायद मैं भी ये तीन दिन खुलकर जीना चाहता था.

मैं बस अपनी आंख बंद करके ‘उफ़्फ़ उफ़्फ़ उई मां आह आह …’ की सिसकारियां लेने लगी. मेरी मॉम जिसका शरीर हर तरफ से भरा हुआ था और राजेश अंकल, जो किसी पहलवान से कम नहीं थे … दोनों मेरे सामने चुदाई कर रहे थे. मैंने सोचा था कि यहां रह कर मैं कई सारे लंडों से चुदाई कराऊँगी।फिर मैं संजय और सास ससुर के साथ शहर आ गई।शहर में किसी से जान पहचान भी नहीं … कोई किसी से बात भी नहीं करता.

दूसरी तरफ राहुल ने अपनी पैंट की जेब से एक कंडोम का पैकेट निकालकर उधर डेस्क पर रख दिया. हां एक बात और भी है, जब तुम्हारी चुदाई मैं देखूँगी, तो तुमको भी अपने यार से करते हुए अपनी चुदाई दिखला दूँगी.

उसने ललचाई नजर से मेरी गीली हो चुकी चूत को निहारा और फिर मेरी टांगें चौड़ी खोल कर मेरी चूत में जीभ लगा दी.

अब हम लोग जब भी मिलते और कोई नहीं रहता था, तो एक दूसरे के बदन के साथ खेलने लगते थे. सेक्सी नंगा सेक्स वीडियोजो काम तुम दिल से करना चाहती हो, वो मैं रोज तुम्हारे भाई के साथ करती हूँ … समझी! अगर अभी भी कुछ रह गया हो तो बता दे. सेक्सी व्हिडिओ जंगल कीडॉक्टर साहब ने दो तीन बार अंडरवियर के ऊपर से ही मेरे लंड को भी सहला दिया. अब हालात कुछ ऐसे थे कि मैं और ड्राइवर उसके मम्मों को मसलने में लगे हुए थे और वो हमारे लंडों को मसाज देने में लगी हुई थी.

मैंने बोला- आरव काम क्यों नहीं किया तुमने!आरव जबाव में कुछ नहीं बोला, बस रोने लग गया.

फिर अन्दर … और अन्दर वो चलता चला गया … प्रीति की चूत की फांकों को पूरी तरह से चीरते हुए, उसके क्लिटोरिस को छूते हुए मेरा पूरा 7 इंच का लंड अन्दर जड़ तक घुसता चला गया था. उसकी यह शर्म मुझे अब निकालनी थी … इसलिए मैंने भी अपने सारे कपड़े निकालकर बिल्कुल नंगा हो गया. उसके एक स्तन को चबाते हुए मैंने पीछे हाथ किए और उसकी ब्रा के हुक को खोल दिया.

मेरा लंड पूरा तना हुआ था और बार बार झटके देकर सोनाली की चूत से टकरा रहा था. वो फिर से गर्म होने लगी।5 मिनट में मेरा लन्ड भी तन गया और श्रुति भी तैयार हो गयी।मैंने कहा- श्रुति तुम तैयार हो न?उसने कहा- हां।मैंने लन्ड में पहले थूक लगाया. मैं दोनों बगलों को चूसने और अच्छे से सूंघने के बाद थोड़ा नीचे आया और उसके पेट पर किस करने लगा.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी हिंदी वीडियो मूवी

एक लड़की से सेक्स करने में मुझे जब अधिक मजा आता है, जब उसका पति सामने हो और वो अपनी बीवी को मुझसे चुदते हुए देख रहा हो. तब से ही मैंने उसके लिए एक वासना अपने मन में दबा रखी थी मगर इतने सालों में कभी मौका नहीं मिला कि उसके बदन को भोग सकूं. नहाने के बाद मैंने ब्रा और पैंटी पहनी और उसे अपनी अंडरवियर और बनियान पहनाई.

अब मैंने भाभी से अपना अंडरवियर निकालने को कहा और अपने चूतड़ों को थोड़ा ऊंचा उठा दिया, जिससे भाभी ने अंडरवियर निकाल दिया.

हमेशा याद रखें कि औरत झड़ने से पहले और पुरुष झड़ते समय ही सेक्स का आनंद महसूस करता है! इसलिये औरत को ठंडा न पड़ने दें.

लंड डालने से पहले मैं उसे चूमता रहा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी फुद्दी में डालने की कोशिश करता रहा. मैं भी उसके कहे हुए वाक्य को अच्छी तरह समझ गई और उसके सामने देख कर मुस्कुरा दी. सेक्सी देसी बीपी वीडियोउसकी पिंडलियों को चूमकर मैंने जैसे ही उसका पांव पकड़ा तो उसने एक झटके से पांव छुड़वाया और उठकर बैठ गयी.

इसी दौरान संजू ने अपनी दूसरी चुची को भी ब्रा से आजाद कर दिया और विक्रम उसका मर्दन अपने हाथ से करने लगा. एक दिन उसने कहा- मेरे पति अपने किसी दोस्त की शादी में जा रहे हैं और मैं इस मौके को गंवाना नहीं चाहती हूँ, मैं तुमसे मिलना चाहती हूँ. मैं- वैसे अहमदाबाद में आप कहां रहती हो?सुगंधा भाभी स्माइल करके बोलीं- क्यों शादी की बात करने आने वाले हो?मैं- उसकी बात क्या करना … आप चाहो तो हम दोनों अभी ही शादी कर लेते हैं.

मैंने अपने टॉप को भी उतार दिया और अपने चूचे आगे करके उसके मुंह पर रख दिये. हाँ मम्मी बहुत खुश लग रही थीं। वहां बिस्तर पे फूल बिछे हुए हैं। बढ़िया शराब और उपिन्दर का हथियार। सुबह तक मम्मी मस्त हो जाएंगी और कल हमारा काम हो जाएगा.

” कहते हुए मैंने रेखा का गाऊन कमर तक उठा दिया और अपना टॉवल खोल दिया.

उसने आंखें बंद कर लीं और मैं अपनी जीभ को चूत पर घुमा घुमा कर चूसने लगा. वैसे तो मैं सबसे आखिर में उस बस में चढ़ा था इसलिए मैं ही सबसे पीछे था. उस सब चुदाई की कहानी के बारे में भी मैं अगली सेक्स कहानी में लिखना जारी रखूंगी.

ब्लू सेक्सी वीडियो सेक्सी फिल्म बिन्नी- ग्रेट आइडिया, नंगे किचन में?मैं और बिन्नी मेरी छोटी सी किचन में ऑमलेट बनाने चले गए. इत्तेफाक से मर्डर मूवी चल रही थी। उसमें हॉट सीन चल रहा था तो मैंने चेंज कर दिया.

मैंने फोन काट दिया और ओवन में खाना गर्म होने रख दिया।फिर मैंने ए सी को बढ़ाया. मैं पूरा सेक्स में डूब चुका था, मैं अपने हाथ उसके पीछे ले गया और उसकी मुलायम नर्म पीठ को कस कर पकड़ लिया. वो चारों एक कमरे में चले गए और कमरे का दरवाजा अन्दर से बंद कर लिया.

అంకుల్ సెక్స్ వీడియో

पर अभी तक किसी ने आपस में ये नहीं बताया था कि पार्टी में उनके साथ कौन था और क्या हुआ. उनकी सेक्सी टाँगें व मोटी मोटी जांघें इतने करीब से देख कर मैं पागल हो गया।हिम्मत करके मैंने उनकी जांघों को अपने हाथों से पकड़ लिया. कुछ देर में ही भाभी कहने लगी- मैं आ रही हूँ … आह्ह … उफ़्फ़्फ़ … और जोर से … आआअ रही हूँ … मैं झड़ने वाली हूँ.

मैंने जोर से तीन-चार झटके दिये और फिर जब मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने एकदम से उसकी चूत से लंड को निकाल लिया और उसकी चूचियों पर वीर्य गिरा दिया. मैंने भी उनकी तरफ हाथ बढ़ा दिया और हम दोनों हाथ मिलाकर एक दूसरे को अपना परिचय देते हुए बात करने लगे.

उस पूरी क्लास में बस मेरी कामुक सिसकारियों की आवाज़ गूंज रही थी- उफ़ हहह … यस आई लाइक इट … ओह्ह फ़क मी … आह आह आह फ़क मी हार्ड अभिषेक … उफ़्फ़फ़ उफ़्फ़फ़ उई मां मैं मर गई आह उफ़्फ़!मेरी आवाजें उसे और भी उत्तेजित कर रही थीं, जिससे वो अपनी पूरी ताकत और रफ्तार से मुझे चोदे जा रहा था.

हालाँकि उनके खींचने से पहले मैंने उनकी टांगों के बीच कुछ चुम्बन दे दिए थे और उनकी सिसकारियां गवाह थी कि वो उन्हें बुरा तो नहीं ही लगा था. आप जो मांगेंगी, मैं वह तो आपको देने के लिए तैयार हूं।भाभी ने बोला- मुझे मेरे भाई की और मेरी ननद की चुदाई देखनी है, तो तुम दोनों की चुदाई की वीडियो बनाकर मुझे दिखाना. अब उस दिन के बाद फिर मैं विवेक से अक्सर चुदने लगी और धीरे धीरे उसकी रखैल ही बन गयी.

उसका जोश देखकर मैं भी धीरे धीरे अपने धक्कों की गति को तेज़ करने लगा, जिससे शायरा की गर्म सिसकारियां भी तेज हो गईं. इसके चलते हम किस करते हुए एक दूसरे के होंठों को अब काटने भी लगे थे. फिर अगले दिन फोन पर वो बोली- कल भाई ने मेरा फोन ले लिया था और मैं उस वजह से डर गयी थी कि कहीं तुम कॉल न कर दो!मैं बोला- पागल, मैंने कभी बिना तुम्हारे पूछे फोन किया है क्या तुम्हें?वो बोली- तो ठीक है, आज जब मैं तुम्हें फोन करके ऊपर बुलाऊंगी तो तब तुम उसी टाइम पर आ जाना.

उसने मेरे झड़ते ही मुझको कसके पकड़ लिया और साथ में वो भी दुबारा झड़ गई.

बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला: मगर दोस्ती के रिश्ते को अगर प्यार का नाम दे दिया जाये तो क्या बुराई है? और इन सब में उम्र नहीं देखी जाती।अगर तुम तैयार हो तो बोलो … नहीं तो हम दोस्त तो हैं ही।मैं कुछ भी बोल नहीं रही थी, मेरी साँसें तेज चल रही थी।उन्होंने मेरे चेहरे को अपने हाथों से ऊपर उठाया। मैं उनसे आँखें नहीं मिला रही थी. इसलिए मैं तुम्हारी जवानी के रस का एक एक कतरा निचोड़ कर पी लेना चाहता हूँ.

वैसे वो है भी इतनी सुन्दर हर कोई उसे देख कर उसकी खूबसूरत जवानी से ही उसे पहचानने लगेगा. ”चल!”उसने मेरी नंगी कमर में हाथ डाला और हम चलने लगे।कामिनी वो दोनों सो गए होंगे?”क्या पता, उपिन्दर भी मम्मी को ऐसे ही बाथरूम में ले जा रहा हो सोने से पहले सुनहरी जल पिलाने!”हाँ शायद!” वो मुस्कुराई. अमित ने भी मौके की नजाकत को समझते हुए पूजा की चूत में पूरी जीभ डाल दी और चूसने लगा.

फिर मैं सोच में पड़ गया और बोला- ठीक है, मैं तेरे लिए उसका इंतजाम तो कर दूंगा लेकिन तू उसको लगाकर रोमांस किसके साथ करना चाहती है?उसने कहा- मेरी सहेलियां तो गांव में गयी हुई हैं.

चुंबन के वजह से उसका लंड और विशालकाय हो गया था और उसे मैं पूरा महसूस कर पा रही थी. मैं अपने एक हाथ से उनको मसल रहा था, तो मुझे ऐसा प्रतीत हो रहा था, जैसे मुझे हवा मुझे कहीं उड़ाए लिए जा रही है. इत्तेफाक से मर्डर मूवी चल रही थी। उसमें हॉट सीन चल रहा था तो मैंने चेंज कर दिया.