हिंदी बीएफ हिंदी वाली

छवि स्रोत,ट्रिपल एक्स सेक्सी व्हिडिओ साडीवाली

तस्वीर का शीर्षक ,

बहन को चोदने वाली बीएफ: हिंदी बीएफ हिंदी वाली, comमेरी गंदी कहानी का अगला भाग:मैं चुद गई अंकल और उनके दोस्तों से- 2.

गधा गधा सेक्सी

फिर अगले दिन मैं फिर से उसी समय छत पर गया इस उम्मीद में कि शायद आज भी अनु छत पर आयेगी. बंगाली सेक्सी वीडियो गानामेरा लंड अब पूरे जोश में था और एकदम से टाइट होकर मेम की जांघों को छू रहा था.

मेरी उम्र 23 साल है। वैसे तो मैं झालावाड़ (राजस्थान) से हूं मगर अभी मैं उदयपुर से बीएएमएस कर रही हूं और पढ़ने में काफी अच्छी हूं।यहां मैं कॉलेज के हॉस्टल में रहती हूं. भोजपुरी में चुदाई सेक्सी वीडियोदरअसल मां मुझे चाची को मेहंदी के कार्यक्रम में ले जाने के लिए कह रही थी क्योंकि चाचा लखनऊ गये हुए थे और दो दिन के बाद लौटने वाले थे.

देसी नंगी भाभी की कहानी के पिछले भागदेवर से लिया चुदाई का असली मजा- 3में आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपने देवर के साथ अपनी चूत की नंगी चुदायी करवाने आई थी.हिंदी बीएफ हिंदी वाली: मेरी अंग्रेजी कमजोर थी लेकिन अब मैं धीरे धीरे पढ़ कर समझ लेती थी, सो मैंने उसे धीरे धीरे पढ़ना शुरू किया.

उसने मुझे तेजी से चोदना शुरू कर दिया और मैं भी मजा लेकर उसके मोटे लिंग से चुदने लगी.तो उन्होंने इशारे में पूछा- क्या हुआ? ऐसे क्यों देख रहे हो?मैंने ना में सर हिलाकर कहा- कुछ नहीं … बस ऐसे ही बैठा हूँ.

घोडा सेक्सी घोडा सेक्सी घोडा सेक्सी - हिंदी बीएफ हिंदी वाली

मैं उन्हें बेड पर ले गया और उनकी टांगों को फैला कर गांड के नीचे तकिया लगा दिया.मैंने जो अनुमान लगाया उसके अनुसार उसकी उम्र कोई 35 वर्ष की रही होगी.

उसके बाद अशोक बोला- भाभी मैं रात को आपको सही तरीके से नहीं चोद पाया था. हिंदी बीएफ हिंदी वाली 10 मिनट तक इसी दर्द से मैं कराहती रही और तब जाकर थोड़ी राहत मिलना शुरू हुई.

मुझे जब कभी उससे मिलना होता था, तो मैं उसे अपने घर पर बुला लेती थी, लेकिन उसके साथ मुझे सेक्स करने में वो फीलिंग्स नहीं आती थी, जो मुझे सनी के साथ आती थी.

हिंदी बीएफ हिंदी वाली?

मैंने फिर हाथ जोड़े तो वो आगे बोले- हम पर भरोसा रखिए, आपको हिरोइन बनना है या नहीं? आप अभी से घबरा रही हैं. अशोक बोला- शालिनी मेरी जान … चिल्लाओ मत … तेरी इसी मखमली गांड को मारने के लिए मुंबई आया हूँ. दस मिनट तक मैंने चूसा और वो सिसकारते हुए बोला- आने वाला है … आह्ह … कहां निकालूं?मैं बोली- मुंह में ही निकाल दे.

पूजा आंटी- डार्लिंग अब इस मादरचोद को की टांगों को कंधों पर लेकर इसकी गांड मारो. मैंने बोला- तुमको अपनी चुत में उंगली वाली वीडियो डिलीट करवाना है कि नहीं?वो कुछ नहीं बोली और उसने धीरे से लैपटॉप में उस वीडियो को ऑन कर दिया. चम्पा- और आप भी दूसरे शहर में हैं … जहां हमें छोड़कर आपका कोई अपना नहीं है … जिसके साथ आप होली खेल सकें.

मैं उसे लगातार देखे जा रहा था और उसकी निगाहें भी मेरी नजरों को मानो अपनी तरफ खींच रही थीं. वो बोली- ये क्या है?मैंने बोला- जानेमन … आज कुछ मत पूछो … आज सिर्फ तुम मजा लो. मैं- क्या हुआ जान!ऐश्वर्या- मैं बहुत थक गई हूँ अब हमें सो जाना चाहिए.

मैं- तुम अब रहने दो … इसलिए तो तुमने इतने दिनों से मेरे बूब्स से हाथ भी नहीं लगाया. मेरी उम्र 27 साल है। बात उस समय की है जब मैं पुणे में जॉब के सिलसिले में आया था.

मैंने उसे आंख मार दी और उसकी जींस उतारने लगा … साथ ही मैंने उसकी पैंटी भी खींच दी.

दोस्तो, औरत को सामने खड़ा हुआ लंड दिख रहा हो और उसका मन न डोले, ऐसा कभी हो सकता है क्या?लंड लेने की खुजली तो चूत में मचती ही है लेकिन कई बार घी सीधी उंगली से नहीं निकल पाता है.

मामी जी सिर्फ ब्लाउज और पेटीकोट में थी और मैं सिर्फ अंडरवियर में था. मैं रात में उसके बारे में सोच कर मुठ मार कर सो गया और अगले दिन गोरखपुर चला गया. नीचे हाथ ले जाकर मैंने उसकी चूत में उंगली दे दी और उसकी चूत को उंगली से चोदने लगा.

फिर उस बैग से दो पाइप निकले, जिसका एक साइड खुला था और एक साइड पर फ़नल बना था. ये सुनकर मैंने उसकी निक्कर को अपने हाथों से निकाला, तो देखा कि उसने चूत को ढकने के लिए पैंटी भी काले रंग की ही पहनी थी. जैसे ही झटका मारा उनके 8 इंची लंड का मोटा सुपारा मेरी चूत में फंस गया.

मां ने भी अपनी पूरी जवानी जितेन्द्र को सौंप दिया था … वो भी अपनी गांड उठाते हुए जितेन्द्र के लंड को अपनी चुत में घचाघच लेने लगीं.

कुछ देर में प्रीति दुबारा गर्म हो गयी और बोली- चलो बेड पर चलते हैं. बिना मेरे विरोध की परवाह किये उन्होंने मेरे स्तनों पर अपनी पकड़ और तेज कर दी. फिर मैंने कहा- मगर पूरन, कल की चुदाई के बाद मेरी चूत सूज गई है, जलन हो रही है।तो उसने कहा- कोई नहीं, तो अभी मैं तुम्हारी गांड मारकर काम चला लूंगा।कहते ही वो मुझे किस करने लगा.

मेरे मुँह से अब आवाज नहीं निकल रही थी लेकिन दर्द से बिलबिला गयी थी. आते ही मैंने उसको बांहों कस लिया और दोनों एक दूसरे को बेतहाशा चूमने लगे. इतनी देर चुदाई करने के बाद अब हम दोनों ही झड़ने वाले थे। फिर मेरे बदन में अकड़न सी होने लगी और मेरे लंड का लोड एकदम से फूट कर बाहर निकला और गर्म गर्म वीर्य निशा की चूत में गिरने लगा.

फिर रात को चुदाई के दौरान बीवी ने मेरे बड़े भाई हरी से चुदने की बात कही.

मैंने पूछा- मेरा होने वाला है, कहां निकालूं?उसने कहा- अन्दर ही डाल दो. जिया मेम बोली- डॉन्ट वरी, ड्रिंक करने से तुम मर नहीं जाओगे!जिया मेम हम तीनों के लिए पैग बनाने लगी.

हिंदी बीएफ हिंदी वाली मेरी टांगें फैलाकर सलवार के ऊपर से खुद को घिसना … उसका हमेशा का काम था. अगर पता होता तुम्हारा इतना तगड़ा लंड है, तो तुमसे ही चक्कर चला कर शादी कर लेती.

हिंदी बीएफ हिंदी वाली पता नहीं किस हब्शी ने मेरी दादी को चोदा था, जिससे इनका लंड इतना बड़ा हो गया है. फिर से चूत चाटने की वजह से मैं बहुत जल्द ही गर्म हो गयी थी और अजय का लंड पकड़ कर अपनी चूत पर सेट करने लगी.

मैं तो प्यार का प्यासा था ही, उसकी हर बात पर यकीन करता गया और उसके आगोश में और गहरा समाता गया.

રાજસ્થાની સેકસી વીડિયો

प्लीज़ कमेंट करके जरूर बताइएगा कि मेरी फ्री हिंदी सेक्स कथा आपको कैसी लगी. पीछे दीवार से गुदा टकराने के कारण पट-पट की आवाज बाथरूम को गुंजा रही थी. अविनाश सात-आठ मिनट में झड़ गया लेकिन मुझे उसके बाद भी दर्द हो रहा था.

मेरी चुत में उंगली करते करते उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और जैसे ही वो रुका. शादी से पहले हम लोगों ने फ़ोन सेक्स बहुत बार किया था … इस दौरान हर बार मेरी बीवी को गाली सुनकर सेक्स करना अच्छा लगता था. आज मुझे उस पर बहुत प्यार आ रहा था इसलिए पता नहीं मेरे मन में क्या आया कि मैंने उसको बातों ही बातों में प्रपोज़ कर दिया। मुझे तो ऐसा लग रहा था कि कहीं वो मना न कर दे लेकिन उसने ऐसा नहीं किया.

मां ने कहा कि उनकी मां यानि मेरी नानी भी दूसरे के खेतों में काम करती थीं.

मैं जोर से चिल्लाने लगी- आआआहह ऊऊऊऊ यस्स अजय फक मी हार्डर … फ़क मी हार्डर … फाड़ डाल साले आज इसस्स चूत को! ओह्ह या ऊऊईईई … मैं आने वाली हूं. फोन बंद करके प्रीति मुझे किस करने लगी और मेरे हाथ पकड़ कर अपने चुचों पर रख दिए. कुछ देर में प्रीति दुबारा गर्म हो गयी और बोली- चलो बेड पर चलते हैं.

जब भी वो ऊपर होती, तो उसकी चूत की खाल मेरे लंड के चारों तरफ कसी हुई बाहर की तरफ खिंचती सी साफ दिखाई देती. मैं बेसब्री से मुंबई पहुंचने का इतंजार कर रहा था जहां पर मेरा इंतजार आकाश सर और जिया मेम भी कर रहे थे. बहुत लंबी चली इस चुदाई मैं 2 बार पहले झड़ चुकी थी और अब मैं तीसरी बार झड़ने वाली थी.

इस भागादौड़ी में रत्ना की साड़ी का पल्लू ढलक गया और उसके पल्लू पर सुंदर का पैर पड़ गया. जब लॉकडाउन में ढील मिली तो वो बंगलौर जाने को हुई तो मैं भी उसके साथ घर से निकला और उसे मंगलसूत्र, चूड़ी, बिंदी, सिन्दूर आदि दिलाकर दुल्हन बना कर भेजा.

कुछ देर बाद मुझे अपनी चुत में मजा आने लगा और मैंने अपनी टांगें हवा में उठा दीं. मैं सोच नहीं पा रहा था कि उसके साथ बात के सिलसिले को शुरू कहां से करूं. मैंने पल्ला झाड़ने की कोशिश की, तो रस्तोगी ने कहा- तेरी बीवी है तो तू ही ला सकता है न!मैंने अपनी हड़बड़ाहट को दबाते हुए कहा- ये आप क्या कह रहे हैं?उसने कहा- बेटे हमने भी बहुत दुनिया देखी है, है तो वो तेरी बीवी ही, अच्छा चांस दे रहा हूं कमाई का, वरना अभी तो तेरी बीवी के बदन की कमाई कोई और खा रहा है.

सनी- कौन कर रहा था … किसने देख लिया मेरा लंड!मैं- कौन कर सकता है … उधर हम तीन लोग ही थे.

कुछ देर बाद मैंने पूछा- मां, एक बात तो बताओ, आपने चाचू को फंसाया या चाचू ने आपको पटाया?मां बोली- एक दिन मैं घर पर अकेली थी. उसका नाम गुड़िया (बदला हुआ) था।दिखने में वो थोड़ी सांवली सी थी लेकिन अगर उसका फिगर कोई देख ले तो बस मुठ मारे बिना नहीं रह पाये. जब मैं गांव से पुणे गया था तो उस समय मां काफी सिम्पल और सादे कपड़ों में रहती थी.

उन दोनों को मैंने वहीं रोक दिया और कहा- आप दोनों पहले अपनी अपनी चूत के बाल साफ करो क्योंकि मुझे चूत पर एक भी बाल पसन्द नहीं है. फिर स्नेहा ने उस लड़के को हटाया, तो रिया दी बोलीं- समीर, अपनी बहन के पास जाओ.

मैं चाहता हूँ कि वो सारे मामले हमेशा सीक्रेट ही रहें … वो ही मेरे लिए अच्छा होगा. उसके बाद मैंने चाय तैयार की और हम दोनों बेड पर बैठ कर चाय पीने लगे. जो सबसे ज्यादा उम्र का था उसने मुझसे कहा- बहुत अच्छी साड़ी पहनी हो! बाथरूम जाओ और सब कपड़े उतार कर वहां अलमारी में डाल देना.

मोटा मोटा लैंड

नाज़नीन मेरे लंड का पागलों की तरह चूसने और चाटने में ऐसे लगी थी … जैसे कोई बहुत भूखी औरत को कोई मिठाई मिल गई हो.

कुछ पल बाद उसने रूम सर्विस को फोन करके दो बियर मंगा लीं और कुछ स्नेक्स भी बोल दिया. शिजू हमेशा मेरे पास ही छिपता था और छिपने के बाद वो मेरे साथ मेरे दूध दबाना … मुझे उल्टा लिटाना, मेरे ऊपर चढ़ जाना. मैं मथुरा का रहने वाला हूं और अन्तर्वासना की इंडियन क्सक्सक्स स्टोरी का बहुत बड़ा फैन हूँ.

चूंकि मैं अकेले ही रहता था तो निखिल ने मुझसे माया को मेरे रूम पर ले आने की इजाजत मांगी. वहां वे मुझे नंगी करके कैसे मेरे जिस्म से खेले?कॉलेज की छात्रा सुमीना की चुदाई की गंदी कहानी आपके सामने रख रहा हूँ. सेक्सी नंगी फिल्में दिखाओवहां एक लड़की से मेरी नज़र मिली और हम दोनों ने एक दूसरे को लगभग पांच मिनट तक एकटक देखा.

भाभी मेरी तरफ मुड़ीं और मुझसे बोलीं- मेरी गांड अच्छी लगे तो खा लो ना इसको!मैंने भाभी की गांड को अच्छे से बर्फ से सेंका और गांड पर किस करते हुए उनको सॉरी बोला. आपको उनमें से बताना है कि कौन सी साइज के हथियार से आप चुद चुकी हैं.

एक पल उसके पर्स में डायलिंग टोन बजी और हम दोनों के पास अब फोन नम्बर आ गए थे. जितनी हड़बड़ाते हुए वो आया था उससे कुछ न कुछ गलती होने का अंदेशा था. मुझ पर उसके व्यक्तितव का न जाने कैसा असर हो गया था कि मैं मना न कर सकी और टेबल तक चली गई.

मैंने ये बात अंकल को बताई, तो वो बाहर से बोले कि उस रूम में कोई नहीं है, वो रूम बंद है. रात में खाना खाने के बाद मैं मम्मी से बोला कि आज रीता को पूरी रात चोदूंगा. फिलहाल मैं इतने पैसे भी नहीं रख कर लायी थी कि चांदी का छल्ला ही खरीद लूं.

कभी कभी ऐसे भी वाकये हो जाते हैं जिन पर विश्वास करना मुश्किल होता है मगर फिर भी करना पड़ता है।मैं संदीप हूं और बरेली का रहने वाला हूँ.

मैं समझ गयी कि रवि ने अपने लंड का पूरा रस अपने जीजा जी पिला दिया है. तो दोस्तो, आपने देखा कि मेरी ससुराल और सभी सगे सम्बन्धियों में किस तरह से सेक्स का मजा लिया जाता है.

उस टेबल पर गुझिया, गुलाल और रंग रखा हुआ था और साथ ही ठंडाई के कुछ गिलास और जग रखा हुआ था. वह इशारा कर रही थी कि उसका यहीं रुकने का मन कर रहा है, जिसे मैं समझ भी गया था. रिया दी की सास ने आते ही पूछा- बहू कहां है हमारी? और तुम्हारी जेठानी किधर है … मुझे पहले उसी से मिलना है.

मैं घर में दरवाजे के पीछे छुप जाऊंगी और तुम दोनों की चुदाई का वीडियो बना लूंगी. मैंने देखा कि जिस हाथ से भाभी ने अपनी चूत को छिपा रखा था, उससे वो अपनी चूत सहलाने लगी थीं. दूसरी बार में मैंने उसकी गांड भी मारी थी, वो सेक्स कहानी फिर कभी लिखूंगा.

हिंदी बीएफ हिंदी वाली उस दिन सुबह मेरी सास ने उसको उन लड़कों से बात करते हुए पकड़ लिया था. तो भाभी ने जैसे ही मेरी पैंट उतारी वैसे ही मेरा लंड उछल कर बाहर आ गया.

नंगा लड़का लड़की

मेरी फंतासी पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक मशहूर हस्ती ने मेरे साथ प्राइवेट इंटरव्यू किया. अपना हाथ मौसी की चूची पर रखते हुए मैंने कहा- तुमने कई बार कहा कि तुमको मुझमें पापा की छवि दिखती है, लो आज महसूस भी कर लो. मैं बाहर गेट पर ही फोन से बात कर रहा था और बीवी को बोल रहा था- जल्दी आ जा यार, अब तो जम कर तेरी चूत चूसने का मन है.

कहने को तीनों ही लड़कियां बहुत खूबसूरत थीं लेकिन मेरी नजर पल्लवी पर रहती थी. कुछ मिनट तक रवीन्द्रनाथ ने मां की चूचियों को दबाया और इसके बाद बारी बारी से दोनों चूचियों को पीना शुरू कर दिया. लंड चूसने वाली सेक्सी फिल्ममैं- ले मेरी जान अपने यार का लौड़ा!और भाभी की पानी से भीगी चूत में मैंने एक ही धक्के में आधा लंड घुसा दिया.

फिर एक ऐसी घटना हुई, जिसने मेरे जीवन का मुझे पहला सेक्स अनुभव कराया.

आप अपनी प्रतिक्रियाएं अवश्य दें ताकि मैं अगली बार अपनी कहानी को और ज्यादा अच्छे तरीके से लिख सकूं. तभी पीछे से मेरे हज़्बेंड ने राज की गांड पर अपने 7 इंची लंड का सुपारा लगाते हुए एक शॉट दे मारा.

मुझे देख कर बोला- बेटा, तुम्हारी ज़िप खुली है … अन्दर के बाल दिख रहे हैं. दीदी के साथ अकेला पाकर मेरे मन में दीदी की चुदाई के खयाल आने लगे और मैंने दीदी से पुराने दिनों को ताजा करने की रिक्वेस्ट की और दीदी भी मान गयी. मैं एक साइड टेक लेकर बैठा था और भाभी सीट पर लेट कर मेरा लंड चूस रही थीं.

उस रात रूपा ने बताया कि आज रात वो मिलने जाने वाली है।मामा के घर के पीछे कुछ ही दूरी पर एक खंडहर जैसी इमारत थी.

लंड घुसवाते ही नम्रता चिल्लाने लगी- आंह … मेरी फट गई … मुझे दर्द हो रहा है … जल्दी बाहर निकालो. काम करने के कारण उनके अवैध संबंध खेत के मालिक रविन्द्रनाथ से हो गए थे. ऐश्वर्या ने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वो कभी अपने ससुर से भी चुदेंगी.

तमन्ना भाटी की सेक्सीउस दूसरी लड़की ने भी बिल्कुल उसी तरह के कपड़े पहने हुए थे जैसे पारुल ने पहने हुए थे. रोहन ने जाकर दरवाज़ा खोला तो लोकेश वापस आ गया था।मैंने जल्दी से अपने कपड़े पहन लिये। लोकेश अंदर आया और उसने सारा सामान टेबल पर रख दिया और सोफ़े पर बैठ गया। उसने रोहन से बैग मंगवाया और उसे सब कुछ तैयार करने को कहा.

पोर्न hindi

चाची ने तब मुझे कहा- संदीप, बहुत दिनों से मेरी इच्छा हो रही थी लेकिन कभी तुझसे ये कहने की हिम्मत नहीं हुई. ऐश्वर्या- यार तुम तो बहुत फास्ट निकले!मैं- आज का जमाना बहुत फास्ट है मैडम. मुझे लगा कि शायद वो नींद में है इसलिए उसका हाथ मेरे सीने पर आ गया है.

माया दीदी ने फिर से राज का लंड चूसना स्टार्ट कर दिया और लंड चूसते हुए वो अब मेरे भाई की गांड के छेद को भी चाटती जा रही थीं. मैंने उसकी तरफ देखा और पूछा- आपने तो मुझे वैसे ही कुछ ज्यादा दे दिया है. मैं फिर से गर्म हो गया।जैसे ही दीदी ये करके फ्री हुई मैं दीदी को अपने साथ बाथरूम में ले गया और दीदी को वहाँ फिर से चोदा।दिन में दीदी रसोई में लन्च बना रही थी तो मैं पीछे से आ गया और दीदी की गांड बहुत मस्त लग रही थी.

अब माया दीदी ने अपने टांगों से राज की कमर जकड़ ली और अपने दोनों हाथों से राज के ऊपर की बॉडी टाइटली पकड़ ली. मेरी चूत की प्यास को देख कर वो मेरी चूत में जीभ से चोदने लगे और मैं पागल होने लगी. जिस दिन ग्राहक नहीं मिलता था तो उस दिन पैसे का जुगाड़ नहीं हो पाता था.

दोस्तो, चुदाई में इतना आनंद आ रहा था कि उसको यहां बताना मुश्किल है. बेडरूम में जाते हम एक दूसरे लिपट गए और मैंने अपने होंठ भाबी के होंठों पर लगा दिए और किस करने लगा.

कार के पीछे वाली सीट पर मैंने उनको अपनी गोद में बिठाया और उनकी चूचियों को अपने हाथों से मसलने लगा.

मैंने धक्के लगाते हुए उसकी चूत में वीर्य छोड़ दिया और उस पर झुक कर निढाल हो गया. सोनाक्षी सिन्हा वीडियो सेक्सीआपको अगर बुरा ना लगे, तो क्या मैं किसी अफ्रीकन लंड से चुदाई कर सकती हूं? बड़ा मोटा लंड सेक्स का मजा देता है!मैंने उसकी तरफ हैरानी से देखा और पूछा- क्या चूत का भोसड़ा बनवाने का मन है?वो हंस दी और बोली- अब तीन तीन औलादें पैदा कर चुकी हूँ, उधर तो बुलंद दरवाजा बन ही गया है. सेक्सी पिक्चर जंगल में चुदाईमेरा लंड उसकी चूत में जितना गया था मैंने उतना ही डाले रखा और मैं वहीं पर रुक गया. मेरे लंड से चुदते हुए उसके मुंह से भी आनंद के मारे सिसकारियां निकल रही थीं.

जब उसने मुझे बताया, तो मैंने उससे पूछा कि बेटी कौन सा जॉब है?तब मेरी बेटी बोली- अम्मी एक प्राइवेट कंपनी है, वहां पर जॉब मिल गई है.

सरसों के तेल ने मेरी मां की गांड में लंड लेने में काफी मदद कर दी थी. पीछे धकेलते हुए वो बोली- क्या कर रहे हो गौतम? कोई देख लेगा!मैं हटा और दरवाजा ढालने के लिए चला गया. हालांकि मेरे पापा ने मुझसे कहा भी कि कल चली जाना, पर पता नहीं क्यों, मैं उसी दिन जाने की जिद कर रही थी.

फिर अशोक ने अपना लंड निकाल कर मां की चूत में डाल दिया और वो मां को पेलने लगा. बस में भीड़ की धक्कम-पेल का फायदा उठा कर मैं अपने लंड को उसकी गांड से सटा देता था और वो भी हाथ पीछे करके मेरे लंड को पकड़ कर मुझे मजा देती थी. मैंने उसके सर को पूरी तरह से लंड पर दबा दिया, जिससे मेरा लंड उसके गले तक जाने लगा था.

ok एक्सएक्सएक्स

मैं चेन बंद करने लगा लेकिन चाची ने मेरे हाथ को पकड़ लिया और मुझे चेन नहीं बंद करने दी. वो बोले- हां मेरी रंडी बहू, रुक तेरी चूत की प्यास आज मैं अच्छे से बुझा दूंगा. मुझे अन्दर से काफी डर लग रहा था क्योंकि इस तरह से मैं पहली बार किसी से मिलने जा रहा था.

इससे पहले मैं कुछ बोलता उसने आगे बढ़ कर अपने होंठों से मेरे होंठ बंद कर दिए.

मैंने बोला- अपने कमरे में जा कर पैड लगा लेना और ये पेन किलर खा लेना.

मेरी सेक्सी औरत की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेरी मेल आईडी पर अपने कमेन्ट जरूर भेजें. मर गई … मम्मीई …’ चिल्लाने लगी और बोलने लगी कि धीरे धीरे डाल साले … मैंने सालों से चुदाया नहीं है. मोहब्बतें की सेक्सीजब मैंने भाभी की चूत में उंगली डाली थी, तो वो एकदम टाइट और रसीली थी.

उसके बाद कुछ देर बाद रविन्द्रनाथ ने मां की चुत को भी एक बार पेला और चले गए. लंड चुसवाते हुए मैं गाली देकर बोला- साली कुतिया, मजा आ रहा है ना तुझे?वो गूं-गूं करके हामी भरने लगी और लंड को चूसती रही. वो अब जोर जोर से चिल्लाने लगी- आह्ह चोदो भैया … चोदो मुझे … मेरी बुर को फाड़ दो.

मां की चूचियों से खेलने के बाद जब उन दोनों ने मां की चुत में हाथ लगाया, तो वे समझ गए कि इसकी चुत लंड मांग रही है. उसने कुछ भी ऐतराज नहीं जताया, तो मैंने उसका पल्लू गिरा दिया और उसके कंधे और गले को चूमने लगा.

तो ध्यान रहे कि तुम्हें सावधानी के साथ ही टाइम का ख्याल भी रखना है जो तुम्हारे पास केवल 9 मिनट के रूप में है.

अंजलि चिल्लाने लगी तो मैंने अपने होंठों से अंजलि के होंठों को दबा दिया और किस करने लगा. दिल कर रहा था कि उसके बूब्स को जोर से पकड़ कर भींच दूं और उसके निप्पलों को चूस चूस कर काट लूं. आपको ये मेरी कॉलेज गर्ल्स सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में जरूर बतायें.

प्रीति चोपड़ा सेक्सी वीडियो मैं एक ओर ये सोच कर उत्साहित हो रहा था कि जिया आज मेरे साथ में कुछ अलग ही करने वाली है. बाहर आने के बाद उसने फिर से मेरे मुंह में लंड दे दिया और मैं चूसने लगी.

अगले ही पल वो संभल कर बोली- पागल हो गया है क्या, चल अंदर चल, यहां किसी ने देख लिया तो पूरे गांव में मेरी बदनामी हो जायेगी. एक मिनट बाद हम दोनों ने एक दूसरे की आंखों में देखा और एक मुस्कान के साथ ‘आई लव यू. आगे की तरफ से जालीदार, बहुत ही बारीक पट्टी वाली और बहुत ही सेक्सी।उसने नीचे काले कलर की पैंटी पहनी थी जो पैंट निकालते समय आधी नीचे हो गई थी। उस वजह से उसके कूल्हे मुझे दिख रहे थे। उसने आगे की तरफ से अपना हाथ पैंटी में डाला और 2 उंगलियां अपनी चूत में डाल दीं.

এক্স এক্স এক্স এক্স এক্স

एक दिन शाम को वो दोनों लड़के मां की जवानी से खेलने के लिए घर आए, लेकिन मम्मी ने मना कर दिया. 6 महीने पहले सर ने मुझे बताया था कि अगर यह डील हो गयी (प्रोजेक्ट डील) तो मुझे वह गिफ्ट दे देंगे जो मैं अपने मुंह से मांग लूंगा. हम दोनों ने घर का एक कोना भी ऐसा नहीं छोड़ा था, जहां हम दोनों सेक्स ना किया हो.

कभी अल्पना और विवेक के मिलने के लिए मुझे हटना पड़ता था, तो कभी सोना और सनी के मिलने के लिए मैं उन्हें अपना रूम देती थी. ये सुनकर आंटी ने कहा- ओके कुछ समय दो, मैं तुम्हारा कुछ सोचकर बताऊंगी.

फिर …मेरी पिछली कहानी थीरॉन्ग नंबर की काल से मिली लड़की की चूतमैं जयकुमार आप सभी के समक्ष एक नई फर्स्ट लव सेक्स स्टोरी लेकर आया हूं.

मैंने कॉन्डम का पैकेट उठाया और उसमें एक कॉन्डम को फाड़ कर निकाला और अपने लंड पर चढ़ा लिया. नाश्ता टेबल पर लग चुका था और सब एक एक करके नाश्ते के टेबल पर आकर बैठ गए. मैं इतना उत्तेजित हो गया था कि ये भूल ही गया था कि मेरे सामने कोई सामान्य औरत नहीं बल्कि मेरे बॉस की बीवी है.

तीस सेकंड के बाद मैं बोली- पेमंट अभी चलेगा?उसने अपने भाई की तरफ देखा, तो मैंने कहा- कोई दिक्कत नहीं है … उसे भी बुला लो. मैं बेड पर चित लेट गया और सुनीता को अपने लंड पर बिठा कर उसे अपने शहजादे की सवारी करवाने लगा. मैंने उसको अपने पैरों के पास बैठा कर अपने लंड उसके मुँह में डाल दिया और बोला- लंड चूसो.

मैं घुटनों पर बैठ गयी और उसके लंड को मुंह में लिया तो मुझे वो बहुत अजीब और खट्टा सा लगा.

हिंदी बीएफ हिंदी वाली: अंजलि ने देखा कि चादर पर खून लगा है और उसकी चूत से भी खून निकल रहा है. मेरा हाथ उसकी चूचियों पर था और वो लेटे हुए ही मेरा लंड सहला रही थी.

बस अब मैंने धीरे धीरे उसे धक्का देना शुरू कर दिया और उसे चोदना शुरू कर दिया. ये सब बताते हुए काजल भाभी मेरे कपड़े भी उतारती जा रही थी जिससे मेरे लंड में भी तनाव आता जा रहा था. ये कहते हुए मैंने मम्मी की गांड में फंसे लंड को जोर से झटका मार दिया और दस धक्के मारकर मम्मी की गांड में ही झड़ गयाअब मैंने मम्मी को रीता के रूम में भेज दिया और उनके पीछे मैं अपना लंड को खड़ा करके रीता के रूम में चला गया.

लगभग 20 मिनट तक मैंने उसकी चूत को पेला और फिर जोर से धक्के लगाते हुए मैं उसकी चूत में ही झड़ गया.

लंड का पूरा लावा निकलने के बाद मैं उसके ऊपर गिर गया और कुछ मिनट लम्बी लम्बी सांसें लेते हुए पड़ा रहा. इसी बीच दीदी प्रेगनेन्ट हो गईं और जीजू का दूसरे शहर में ट्रान्स्फर हो गया था. मैं समझ गई थी कि आज इसकी चुत का उदघाटन होने में कोई कसर नहीं रहने वाली है.