चुदाई बीएफ हिंदी में

छवि स्रोत,सास ससुर की

तस्वीर का शीर्षक ,

मारवाड़ी चोदने का वीडियो: चुदाई बीएफ हिंदी में, आपने अब तक की मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ा कि दीदी को उनकी सहेली श्वेता ने कहा कि साकेत भैया उनसे अकेले में मिलना चाह रहे थे.

आदिवासी सेक्सी वि

दीपा की बड़ी आफत … पहले तो मनोज ने चूम चूम कर उसकी लिपस्टिक खराब कर दी… फिर वो सिगरेट लेने के लिए इधर उधर हुआ तो सुनील ने होंठ जड़ दिए. भाऊ-बहीण सेक्सी व्हिडिओमैं उसके लंड के मजे ले रही थी और मादक आवाजें निकाल रही थी- आह सुहास … चोदो मुझे … आह सुहास … चोदो मुझे!मुझे लगभग एक घंटे चोदने के बाद सुहास झड़ गया.

या शायद इतना ज्यादा एक दूसरे की आदत पड़ गयी थी कि अब वो तीव्रता नहीं रह गयी थी. सेक्सी बोल्डवो बोली- अरे राजा … धीरे चोदो यशिमा की चुत अभी नाजुक है, इसे तेरे लौड़े की आदत नहीं है, पहले इसे जगह बना लेने दे.

अब मैंने उठ कर उन्हें अपनी गोद में ले लिया और पीछे से उनकी ब्रा के हुक को खोल दिया.चुदाई बीएफ हिंदी में: सबा पहले तो कोशिश कर रही थी कि वह बड़े आराम से मेरा पूरा लंड अन्दर ले लेगी, लेकिन जब थोड़ा सा और अन्दर घुसा … तो वह दर्द के वजह से छटपटाने लगी और उसने मेरे होंठों पर दांत से काट लिया.

उसने अपनी शर्ट उतारी और फिर अपनी पैंट को उतार कर अंडरवियर भी उतार दिया.साकेत भैया अपनी तौलिया खोल कर अपना लंड को दीदी की बुर पर रगड़ने लगे.

सेक्सी भाभी कि चुदाई - चुदाई बीएफ हिंदी में

साथ ही चूत एक बार झड़ चुकी थी, तो मुझे उसे फिर से चुदाई के लिए तैयार भी करना था.रात का सफर होने की वजह से मैंने लोअर और टॉप पहना था और ऊपर से स्टॉल लिया हुआ था.

इधर मेरा ब्लाउज और ब्रा भी उतर चुकी थी और वो मेरे दोनों स्तनों पे टूट चुका था. चुदाई बीएफ हिंदी में ” महेश ने भी अपनी धोती उठाकर पहनते हुए कहा और चुपचाप वहां से निकल गया।नीलम तुम बापू के साथ नंगी? नहीं! मुझे अब भी अपनी आँखों पर यकीन नहीं हो रहा है.

तभी मेरी नजर सब्जी की टोकरी में पड़ी, वहां पर मस्त लंड की साईज का काला लम्बा बैंगन देख कर मन मचल गया.

चुदाई बीएफ हिंदी में?

सनी लियोन की सेक्सी वीडियो हॉट. पर अब दर्द एकदम से बढ़ गया और मैंने उसको छाती पे हाथ रख कर रोकने की कोशिश करी।उसने पूछा- क्या हुआ?मैंने कहा- अभी रुक जाओ, दर्द हो रहा है बहुत।सचिन बोला- ज्यादा हो रहा है क्या?मैं बोली- हाँ काफी चीस हो रही है।उसने कहा- अब तो एक ही तरीका है फिर।मैंने कहा- क्या?उसने कहा- एक गहरी सांस लो!तो मैंने ली. हम दोनों को ही आनन्द की ऐसी अनुभूति हो रही थी कि शब्दों में बयान करना मुश्किल है.

जॉली रिया की तरफ पीठ करके किचन में पड़े अंडे को फोड़ कर उसे एक कटोरे में डालने लगा. अभी मेरे लंड का सुपारा ही गांड में गया था कि मेम ‘उह आह मर गई …’ करते हुए चिल्लाने लगीं. मेरी पिछली कहानीमेरे भैया मेरी चूत के सैय्यां-6में मैंने बताया था कि गंगरेल डैम पर नदी के किनारे बोट ड्राइवर ने अपने दो और साथियों के साथ मिल कर दिव्या और मेरी चूत को चोद दिया.

इतना कहते हुए वो बिस्तर से उठी और मेरी चड्डी को मुझसे अलग करके मेरे लंड को मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी. अगले दिन सुबह नौ बजे मेरी नींद खुली, तो वो ऐसे ही नंगी पड़ी हुई सो रही थी. दोस्तो, आप विश्वास नहीं करोगे, उस दिन मैं कहानी भी चाची और बेटा के सेक्स की ही पढ़ रहा था.

उसे देखकर मैंने सारिका की तरफ देखा, तो उसने कहा कि ये मेरी कजन सिस्टर है. दीपा को सुनील के सामने देखना अच्छा नहीं लग रहा था, वो उठ कर बेड पर लेट गयी.

बॉस ने मेरे मुँह में मुँह डाल कर अपनी कमर को तेज तेज चलाना शुरू कर दिया, जिससे गांड में भी जल्दी जल्दी लंड घुसने लगा.

मगर मैं अपना काम करता रहा।जब तक मेरा पानी निकला तब तक वो बिल्कुल निढाल होकर लेटी रही और मेरा पूरा पानी उसकी गांड में जाता रहा।इस तरह उस रात मैंने उसकी चुदाई की।मेरी रीयल सेक्स कहानी कैसी लगी?[emailprotected].

मैं टीवी देख रहा था कि तभी बुआ आई और बोली- पप्पू, एक बार हमें खेत में जाना पड़ेगा. मेरी लाइफ के बारे में जानकर वो थोड़ा सा सेंटी हो गया और मुझे दिलासा देने के लिए मेरे हाथ को अपने हाथ में ले लिया और अपने कंधे पे मेरा सर रख दिया।मैं भी यही चाहती थी कि कोई मुझे इस तरह का सहारा दे। इधर उधर देखकर उसने भी मौके का फायदा उठाना शुरू किया, मेरे होंठ को किस किया, मैंने भी उसको करने दिया।पहली बार इतने कम उम्र के लड़के को मैंने किस किया था. ऐसे में मैं मना कैसे कर सकती हूं?उसने मुझे किस किया और बोला- तुम वर्जिन हो तो तुम्हें थोड़ा दर्द होगा, बर्दाश्त कर लेना.

अगले ही पल उसने मेरी ब्रा को भी निकाल दिया और मेरी चूची को चूसने लगा. उसने अपने मेडिकल बॉक्स से एक स्प्रे की बोतल निकाली और मेरे लंड पर स्प्रे कर दिया. मैंने अपने लंड को और तेजी से सड़का मारा और फोन को लंड के पास ले जाकर उसे मुठ मारने की आवाज़ सुनाई.

मेरी चीख निकल गई ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’कोई 6-7 मिनट की चुदाई के बाद उसने अपना पानी अन्दर ही छोड़ दिया.

जब चाची नीचे झुक कर कुछ उठातीं, तो मुझे उनकी फूली हुई गांड मस्त लग रही थी. लेकिन एक घंटे बाद ज़ायरा का फ़ोन आया और बोली- क्या सच में हम दोनों चल सकते हैं?अब मैं थोड़े मजे लेने के मूड में था, तो बोला- तुम्हारी मर्जी हैं. तभी गुड्डी बीच में कूदी- राजे मुझे भी ज़ोर से लगी है … मेरी पियेगा?मैंने खुश होकर कहा- जान, नेकी और पूछ पूछ … ज़रूर पियूँगा मेरी जान … आजा पोज़ में.

मेरे नीचे उतरने से पहले उसने मेरे लंड को किस किया और हल्के से उस पर अपने दांतों से काट लिया. वो मोना के माथे को सहलाते हुए बोलीं- आज बस थोड़ा सा दर्द ही होगा, उसके बाद तुम इससे चुदने के लिए तरसने लगोगी … खूब मजे करोगी. अब दोनों को विश्वास हो गया था कि मैं बेडरूम में सो गया हूँ जबकि मैं स्टडी रूम की विंडो से सब कुछ देख सुन रहा था और उनको डिस्टर्ब करना मैंने ठीक नहीं समझा.

कुछ कारणवश अब इस साइट की एक और साईट को फ्री सेक्स कहानी डॉट काम के नाम से शुरू किया गया है.

इस तरह से फिर उनके पूरे यौवन भरे नंगे जिस्म के दीदार होंगे और फिर चुदाई शुरू हो जाएगी. मैं उसकी चूत में जीभ डाल डाल कर चाट रहा था और वो मस्ती में कभी अपनी जाँघों में मुझे कस लेती कभी मेरे सर को पकड़ कर अपनी चूत में दबा लेती.

चुदाई बीएफ हिंदी में मुझे पता था कि पापा अपनी बेटी की चूत चुदाई करने के लिए फिर से आयेंगे. थोड़ी देर बाद वो चरम सीमा पर आ चुकी थीं और मेरी झमाझम चुत चटाई के बाद झड़ गईं.

चुदाई बीएफ हिंदी में पूजा- राज हटो, मेरे दर्द हो रहा है सश्सस आह …मैं एक जिंदा लाश सा उसके जिस्म के ऊपर से तस से मस न हुआ. ऐसे ही मौज मस्ती के साथ पार्टी चलती रही, फिर बरामदे में स्टाल जैसा बना कर, खाना टेबल पर लगा दिया गया.

मुझे मां ने कहा था कि कॉलेज पढ़ाई करने जाना है … तो फैशन के चक्कर में रहना ही मत … और सुन तू पुराने कपड़े ही पहन कर कॉलेज जाया कर.

దెంగులాట సెక్స్ వీడియోస్

इधर मेरा ब्लाउज और ब्रा भी उतर चुकी थी और वो मेरे दोनों स्तनों पे टूट चुका था. हम दोनों ने उस रेस्तरां में खाना खाया और अपनी मंजिल की तरफ निकल पड़े. ओह … क्या मस्त डबल रोटी की तरह एकदम फूली हुई … आगे से बिल्कुल गीली उनकी चूत की दरार में ढेर सारा चिपचिपा रस दिखाई दे रहा था, जो नीचे वाले छेद तक रिस रहा था.

इसी बीच मेरे लंड ने अंदर तक घुसने के मुकाम को हासिल कर लिया था और ऐसा लग रहा था जैसे मैंने किसी बर्फ के खाने में अपने लंड को दे दिया हो. वही हुआ भी, विनय बॉस के लिए दारू लेकर आ गया और उसने हम दोनों को चुदाई करते हुए देख लिया. मैंने चाची की ब्रा को उतार कर उनके एक चूचे को तो मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

वो मेरी चूत पर लंड को रगड़ कर दूर जाने लगे और बोले कि मैं तेरी चूत की चुदाई एक ही शर्त पर करूंगा.

वहां पर जाकर मैंने देखा कि भाई का लंड पहले से ही तना हुआ था मगर भाई अभी गहरी नींद में थे. अबकी बार उसकी गांड के छेद में सुपारा एक इंच तक घुस गया लेकिन वो उछल पड़ी. उसके शब्द तो मेरी समझ में नहीं आए, पर हां इतना ज़रूर समझ आया कि वो नींद में मुझसे चुद ही रही थी.

” नीलम ने शर्म से अपना सिर वैसे ही नीचे किये हुए कहा।बेटी एक किस तो दे दो न … फिर चला जाऊँगा. उन्होंने बोला- झूठ मत बोल … मैंने खुद कई बार तुझे ऐसा देखते हुए देखा है. मैंने एक और प्लान बनाया, जब चाची आने वाली थीं, तो मैंने एक सेक्स किताब टेबल पर रख दी.

उन्होंने मेरे सर को ज़ोर से पकड़ लिया और अपनी चूत पर दाबते हुए जोरदार चीख मारकर झड़ गईं- आआह … ऊऊऊउफ मज़ा आ गया. पूरा लंड जाते ही वो रुक गया और मेरी चूचियों को मसलते हुए मेरे होंठ चूसने लगा.

आज भी जब हम दोनों मिलते हैं और मौका मिलता है, तो सेक्स कर लेते हैं. आगे-आगे चलते हुए बोली कि अब की बार पीछे मत आना वरना सब कुछ भूल जाओ कि मैं कभी तुम्हारे हाथ आऊंगी. शुरुवात होंठ से होंठ मिले, फिर उसने मोबाइल निकालकर मेरे साथ फोटो लिए,मैंने कहा- सिद्धू, ये फोटो किस लिए?सिद्धू ने कहा- तुम जब ससुराल चली जाओगी तो ये फोटो देखकर मैं तुम्हें याद करूंगा।फिर हम एक पेड़ के पीछे गए और चुम्मा चाटी शुरू कर दी, वो मेरे होटों को चूमते हुये बुर्के के ऊपर से मेरी गांड दबाने लगा.

फिर उसने जब मेरा लंड पकड़ लिया और बोली- अब इधर उधर मत कर … छेद में डाल दे.

इधर मेरी नजर गई तो देखा कि मेरे भाई का दोस्त बिक्कू मेरी बातों को सुन रहा था. उन दोनों के जाने के बाद कोमल की सहेली ने कोमल से कहा- तुझे तो परमीत को लंड चुसाना था ना, तो उसके लिए तुमने संजय को ही क्यों चुना, तू ये काम संदीप से भी तो करवा सकती थी. कुछ समय बाद, छन छन आवाज़ आई, उसने दरवाज़े के अंदर सिर्फ अपना हाथ किया और चुड़ी खनका कर उंगली से मुझे आने का इशारा किया.

इतने में रीमा मेरे पास आई और मुझे सलाह देने लगी- काहे तड़फ रही हो जानेमन … आज चुदवा लो यार … लंड लेने में सच में बड़ा मजा आता है. मैंने चाची को बांहों में भरा और उनको चूमते हुए कहा- आप चिंता मत करो जान.

मैं- अभी कैसे दिखा सकती हूं यार!विक्की- क्यों बस घर के पीछे गार्डन में आ जाओ, मैं वहां आ जाऊंगा. पता नहीं मुझे ये सब देख बहुत मजा क्यों आ रहा था और मेरा लंड भी बिल्कुल अंडरवियर में तम्बू बनाए था. लगभग 5 मिनट तक रीमा के मुँह को चोदने के बाद राहुल के लंड का पूरा वीर्य रीमा के मुँह में गिर गया.

फुल सेक्सी व्हिडिओ झवाझवी

ये सब बस आज के लिये है, इसके बाद ये सब नहीं होगा।इतने में दरवाजे में आवाज हुई और मैं एकदम से डर गई.

एक फौजी मुझे देख मुस्कुरा दिया, तो मैं भी नशीली नज़र से उनको देख कर मुस्कुरा पड़ी. लेकिन न मैं किसी के करीब गयी और न मैंने किसी को अपने करीब आने दिया. बहुत कहने के बाद ही रीता ने अपने चूचे मुझे दिखाने के लिए हां की। फिर व्हाट्स एप उसने अपने बूब्स की पिक भेज दी.

चुत चुदायी भी एक ऐसा नशा होता है … जो लंड के स्खलन के बाद ही उतरता है. मैं उसके दूध मसलने लगा, तो वो फिर से लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. हॉट सेक्सी चुदाई की कहानीमैंने बहुत दिनों से ब्रा नहीं पहनी थी, तो मुझे वो मिली ही नहीं, इसलिए बिना ब्रा के ही मैंने टॉप पहन लिया.

मैंने दूसरे दिन ही अपने बॉस से छुट्टी की बात की तो बॉस बोले- ठीक है, ले लो. उसके यौवन का दूर से लंड का रसपान करना देखना भी किसी अमृत पी कर तृप्त होने से कम ना था.

राजीव ने स्टाफ को यह बोल दिया कि पूल पर हमें प्राईवेसी चाहिए तो वो लोग ड्रिंक्स और स्नैक्स पूल पर लगा कर वापिस चले जाएँ. उसने मुझे किस करते हुए कहा- क्या करवाना चाहती हो?मैंने उसकी आंखों में आंखें डाल कर कहा- वही जो आग बुझाने के लिए किया जाता है. उस औरत की चूचियां उस उम्र में भी एकदम से उभरी हुई दिखाई पड़ रही थीं.

मैं बार-बार उस मैसेज को पढ़ रहा था और खासतौर पर उसके लास्ट 2 शब्द, जिसमें उसने कहा था ‘मेरे चंपू. फिर भाभी जी ने कहा कि जो औरत सामने गेट पर खड़ी है मैं उसे भी अपने साथ ही लेता चलूं और उसे रास्ते में छोड़ दूं तो मैंने उनकी बात मान ली. एक दूसरे के साथ तो काफी दिनों से थे ही, अब एक दूसरे के अन्दर भी हम दोनों घुस चुके थे.

मगर मेरे दोस्त की उत्तेजना इतना बढ़ गई कि उसने मेरी बीवी को बीच में ही अपनी गोद में उठा कर पानी से ऊपर कर दिया.

उसको भी लंड फिर से लेने का मन कर रहा था लेकिन मेरे मन में उसकी गांड घूम रही थी. अब मैंने उसको ज़ोर से स्मूच किस किया … और लगातार 10 मिनट तक उसके रसीले होंठों को चूसा.

ना ही वो खुद के विचारों को रोक पा रही थी और न ही उन पर ध्यान लगा पा रही थी. मैंने परी के चूचों पर साबुन लगाकर मसले, फिर मैं परी मैम की चुत पर साबुन लगाने लगा. घर का चिराग एक साल का हो जाने की खुशी में सब लोग फूले नहीं समा रहे थे.

मैं मेम की गांड को ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा और उनकी चूत में जीभ डालकर चूसने लगा. कुछ देर ऐसे ही मेरी चुदाई करने के बाद सर बोले- मेघा जान … एक काम करो तकिया लेकर उलटी हो जाओ!हाँ सर!”मैं उलटी हो गई और सर ने पीछे से मेरी चूत में लंड डालकरचोदना शुरू कर दिया. मैं भी उसके चूचे देखने के लिए एक्साइटेड हो रहा था लेकिन उसके लिए मुझे उसको पहले गर्म करना था.

चुदाई बीएफ हिंदी में अब दीपा मुंह से उसका लंड चूस रही थी और सुनील नीचे उसकी चूत चूस रहा था. श्वेता दीदी- ऐसे तो वो घर पर ही बोल रहे थे … पर मैं उनसे बोल दूंगी.

वीडियो नंगी पिक्चर सेक्सी

उसका घर हिमाचल प्रदेश के मंडी शहर में था, बहुत ही ठंडा इलाका है।मेरी बहन से मेरी बहुत जमती है. मनोज ने दीपा को छोड़ दिया और दोनों वाशरूम में घुस गए; शावर लेकर बाहर आये. वो मेरा लंड पकड़ कर बोली- हां अब धक्का दो …मैंने दिया, तो इस बार सीधे अन्दर घुस गया.

वहां और बहुत सी बातें हो रही थीं, पर मेरा ध्यान संदीप के अलावा अब किसी बात पर नहीं जा रहा था. थोड़ी देर बाद नीरू थक गई तो मैंने उसे बाथरूम की सेल्फ पर बिठा कर उसकी टांगें चौड़ी करके लन्ड पेल दिया. 52 गज का मकान” सानिया ने हंसते हुए मेरा धन्यवाद किया।यह ‘थैंक यू’ तो ठीक था पर उसका मुझे अंकल संबोधन बिलकुल अच्छा नहीं लगा। मैंने ध्यान दिया इस आपाधापी में उसके होंठों पर लगी लिपस्टिक भी थोड़ी फ़ैल सी गयी है और गालों पर भी जो रंग रोगन किया हुआ है वह भी फ़ैल सा गया है।मेरे लिए तो यह सुनहरी मौक़ा था।मैंने सानिया को अपने पास आने का इशारा करते हुए कहा- अरे सानिया, यह तुम्हारी लिपस्टिक तो लगता है खराब हो गई है.

उससे बात करने पर उसने बताया कि वो लोग पहले दिल्ली में रहते थे और अब रोहतक में रहने के लिए आये हैं.

जेठजी मेरी तरफ देखते हुए बोले- सॉरी जस्सी, मुझे माफ़ कर दो … मैं खुद को संभाल नहीं पाया. पर अब दर्द एकदम से बढ़ गया और मैंने उसको छाती पे हाथ रख कर रोकने की कोशिश करी।उसने पूछा- क्या हुआ?मैंने कहा- अभी रुक जाओ, दर्द हो रहा है बहुत।सचिन बोला- ज्यादा हो रहा है क्या?मैं बोली- हाँ काफी चीस हो रही है।उसने कहा- अब तो एक ही तरीका है फिर।मैंने कहा- क्या?उसने कहा- एक गहरी सांस लो!तो मैंने ली.

दीपा को मालूम था कि क्या कुछ नहीं कहेंगे, बस अभी थोड़ी देर में ही सब कुछ कहेंगे और करेंगे. पर जो मिल रहा था मैं उसी में खुश थी क्योंकि काफी दिनों के बाद ऐसे झटके लग रहे थे मेरे दोनों टाँगों के बीच में. अब मैं मदारजात नंगी थी उसके सामने और मैं उससे अपनी बुर छुपा रही थी.

अब शायद उनका भी होने वाला था, उन्होंने मुझे ऐसी घोड़ी बने बने मेरी चूत में अपना सारा वीर्य छोड़ दिया.

अचानक से भाबी ने कहा- आरव, जब ये अपनी पैंट को सहलाते हैं, तब तू इतनी गौर से क्या देखता है?मैंने बोला- कुछ भी तो नहीं. उन्होंने मेरी पेशाब लगी चूत में जीभ से भी किया था लेकिन किसी ने मेरी चूत को चोदा नहीं था. शबनम शिकायत करती तो कहता कि चूस चूसकर इन्हें नायरा के मम्मों जैसा ही बनाना चाहता हूँ.

नई दुल्हन की सेक्सी फोटोतब सब कुछ जानते हुए भी मैंने दीदी से पूछा- दीदी क्या बात है आज बहुत पहले खाना बना रही हो?दीदी- हां … आज मैं बहुत थक गई हूं. और पूछ रहा था- भाभीजी, आप कंफर्टबल तो फील कर रही हैं ना? कैसा लग रहा है?नीता बोलती- हाँ अच्छा लग रहा है; मस्त फील हो रहा है.

தமிழ் நடிகை ப்ளூ பிலிம்

उसकी तरफ़ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हो रही थी, तो मैंने धीरे से अपने पैरों को उसके पैरों पर टच किया और अपने पैर को उसके पैर पर रख कर धीरे धीरे सहलाने लगा. इतने में हनी ने मुझको गले से लगा लिया और अपने प्यार का इजहार करने लगा. लेकिन एक बात तो मैं हमेशा मानता हूं कि ऊपर वाला जब देता है तो छप्पर फाड़ कर देता है.

मैंने मनु के घर से अपनी साइकिल उठाई और सीधे घर जाकर अपने कमरे में घुस गई. आज मैं बहुत ज्यादा खुश भी था कि मुझे चाची की गांड मारने का मौका मिलने वाला था. उन दोनों के लंड उनकी जांघों के बीच में सांप की तरह फन उठाकर खड़े हुए थे.

चाची ने कहा- ये सब गलत है, मैं तुम्हारी चाची लगती हूं और मैंने तुम्हें कभी भी ऐसी नजरों से नहीं देखा. यह कहकर भाभी ने हम दोनों को अपने बेडरूम में धकेल दिया और खुद भी अन्दर आ गईं. उस समय मासी ने काली रंग की साड़ी और काले रंग का ही ब्लाउज पहना हुआ था.

मैंने अन्दर देखा कि बाथरूम में बाथटब था, मैंने सोचा उसी में इसके साथ कुछ किया जाए. पांच मिनट तक जोर से चुसाई करते हुए उसने फिर से मेरे लंड का माल पी लिया.

लेकिन जालिम मर्द को मेरे दर्द के साथ जरा भी सहानुभूति नहीं हो रही थी.

मैं भाभी को किस करने लगा … लेकिन वो मुझसे छूट कर वापस पीछे भाग गईं. देसी सेक्सी चोदने कीहोटल में पहुँच कर दीपा मनोज अपने रूम में चले गए, सुनील अपने रूम में. लो बीपी ट्रीटमेंटबल्कि मेरा मन उसे चूमने का मन करता था … हमेशा उसको छूने का मन करता था. उन्होंने धीरे से मेरी बनियान को निकाला और मेरे सीने पर किस करते हुए मेरी छाती की घुंडियों को चाटने लगीं.

उसके बाद उसने फिर से इशारा किया और अबकी बार मैंने पूरा जोर लगा कर लंड को गांड के छेद पर धकेल दिया.

मैं घर में आ जाती, तो वो सीटी की धुन पर कोई न कोई गाना निकालते हुए आगे बढ़ जाता. मेरी माँ ने फुंफकार भरते हुए कहा- अच्छा तू मादरचोद भी है … साले तेरे जैसे कई लंड मैंने अपनी चुत से छील कर बाहर निकाल दिए. हां लेकिन एक बात माननी पड़ेगी कि कोमल की चूत किसी पाव रोटी जैसी फूली हुई थी और कोमल की तीन उंगलियां उसकी ललसाती चिपचिपी चूत में आराम से अन्दर बाहर हो रही थीं.

4-5 बार बूब्स टच करने के बाद उसने पूछा- भाभी जी, आप कंफर्टबल तो हो ना? अच्छा फील हो रहा है ना?नीता बोली- बहुत मस्त फील हो रहा है. अब लगभग शाम हो गई थी, तो मैंने सोचा कि अब तो भाभी के यहां से रात को ही जाऊंगा. उपिन्दर ने मम्मी से कहा- मालिनी तूने आज हमारा बढ़िया काम बनाया, आज पार्टी करते हैं.

सेक्सी देहाती बिहारी

जोर जोर से चोद… मुझे कुछ हो रहा है। मैं बिल्कुल हवा में उड़ने लगी हूं. मेरा जिस्म उनके इस वजन के लायक था भी नहीं!अब वो धीरे धीरे नीचे की तरफ जाने लगे और मेरी पतली कमर पे अपने गर्म होंठों से चूमने लगे. कभी कभी वो मुझे गले भी लगा लेती थीं, पर उस टाइम तो मुझको इन बातों की समझ ही नहीं थी.

उनको भी शुक्रिया जिन्होंने मेरी पिछली कहानी को पढ़ा और कोई जबाव नहीं किया.

मैं इससे हमारे रिश्ते पर कोई आंच नहीं आने दूंगी बल्कि हम तीनों को साथ में रहने में और भी ज्यादा मजा आएगा.

खुद मैंने भी यह बात नोट की थी कि जब वे हमारे घर किसी फंक्शन या पार्टी में आते थे तो वे मुझे बहुत देखते थे. अगर कमर तक पानी रहेगा तो वहां जाकर हम आराम से अपना अंडरवियर उतार सकते हैं. फुल एचडी इंग्लिश सेक्सी वीडियोमैंने तेज तेज 8-10 झटके और मारने के बाद लंड को उनकी चुत से निकाला और उनके मुँह में दे दिया.

मैंने भी दो चार जबरदस्त धक्के उनकी गांड में लगा कर अपना सारा माल दीदी की गांड में भर दिया. मैंने भी अपने बैग से सुहास की पसंद का रेड ब्रा पैंटी का सैट निकाला. दीपा जब हॉस्टल में थी तो उसने एक पोर्न फिल्म देखी थी जिसमें दोस्तों का एक ग्रुप घूमने गया था और वहां सभी ने ग्रुप सेक्स किया.

वो मेरे पूरे लन्ड को मुंह में लेती और झटके के साथ बाहर निकालती तो पक्क की आवाज आती. मेरी जीभ उसकी चूत में जाने लगी तो उसके मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं.

मैंने आंटी के बालों को पकड़ा और ज़ोर ज़ोर से लंड को उनके मुँह में आगे पीछे करने लगा.

मैं बार-बार उस मैसेज को पढ़ रहा था और खासतौर पर उसके लास्ट 2 शब्द, जिसमें उसने कहा था ‘मेरे चंपू. वो नहीं जानती थी कि मैं उनको देख कर कितनी ही बार अपना माल बहा चुका हूं. और फिर रात को समीर ने भी सब पूछा और देखा कि मेरे बूब्स पर काटने के निशान पड़ गए हैं.

सेक्सी राजपूत ऐसा लग रहा था कि सारा रस उसके होंठों में भरा हुआ हो और मैं उसको चूसता ही जाऊं … बस चूसता ही जाऊं. जब मेरा पानी निकला, तो सामने दीवार पर लंड का माल जोर से जा कर चिपक गया.

कहानी के बारे में अपने विचार देने के लिए नीचे दिये गये मेल पर मैसेज करें. वो दोस्त बोला कि तेरे केबिन से पैसे गायब हुए हैं इसलिए तुझको ही मेरे पैसे वापस देने होंगे. उसके पेट पर, उसकी जांघों पर और उसके बाद उसकी चुत पर एक चुम्बन लिया, तो वह सिहर उठी.

ಕನ್ನಡ ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೊ ಕನ್ನಡ ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೊ

दीदी कुछ नहीं बोली और उसने अपना मुँह खोल साकेत भैया का लंड थोड़ा अन्दर ले लिया. वो मेरा लंड पकड़ कर बोली- हां अब धक्का दो …मैंने दिया, तो इस बार सीधे अन्दर घुस गया. जब उस दीवार पर लंड जाकर लगता तो लेडी डॉक्टर के चेहरे पर अलग ही आनंद छलक पड़ता.

मैं बोली- कोई कुछ भी सोचे लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है जैसा तुमने सुना है. मैंने पानी पिया और जैसे ही वापस बाहर आने लगा, मुझे झोपड़ी के पीछे से कुछ आवाज ऐसी आई जैसे कोई फसल में से जा रहा हो.

मन कर रहा था कि इसको भी पूरी आजादी दे दूं लेकिन भारतीय होने के नाते थोड़ा लिहाज करना भी जरूरी था.

जैसे ही रकुल ने 32 सुना रकुल खुशी से चिल्लाकर बोली- यस!! मैं जानती थी कि मैं ही जीतने वाली हूं. नीता और प्रिन्स दोनों बहुत उत्तेजित हो गये उनकी सिसकारियाँ निकलने लगी. ऐसे चोदने में उसकी चूत काफी टाइट लग रही थी, तो थोड़ी देर में मैं थकने लगा.

इसी के चलते मैं एक हाथ से निशा के मम्मों को मसल रही थी और एक हाथ को अपनी चुत में डालने की कोशिश करने में लगी थी. जब उसका पूरा लंड मेरे मुँह में था, उस समय वो भी मेरे बालों को पकड़ कर मेरे मुँह में लंड पेले जा रहा था. उस टाइम तक मेरे दिल में उनके लिए कोई गलत विचार नहीं था, बस वो मुझे अच्छी लगती थीं.

पानी निकलना शुरू हुआ, तो हमारी आंखें मुंदती चली गईं और हम दोनों थकते हुए एक दूसरे के ऊपर ही ढेर होने लगे.

चुदाई बीएफ हिंदी में: फिर मैं कुरते की छाया से बाहर निकला और कुरता ऊपर करके अपना लंड उनकी चूत में रगड़ने लगा. फिर हमने एक रेडीमेड पेटीकोट और रेडीमेड ब्लाउज लिया।वहाँ से हम हाई हील सैंडल खरीदने गए।रास्ते में ये मुझे एक जान पहचान वाले लेडीज टेलर के पास ले गए और वहां हमने पेटीकोट और ब्लाउज की फीटिंग करवाई। इन्होंने मेरा ब्लाउज कुछ ज्यादा ही टाइट करवाया जिससे कि मेरे बूब्स थोड़े से बाहर निकले रहें और मैं सेक्सी दिखूं।अब 6 बज चुके थे और 7 बजे मुझे होटल के कमरे में पहुँचना था।फिर ये मुझे एक होटल में ले गए.

मैं देर रात को घर पहुंचा और यूँ ही सोचने लगा कि औरत की भी बहुत हसरतें होती हैं … जिसका हमें ख्याल रखना पड़ता है. कोई 20 मिनट बाद मेरा रस निकलने वाला था कि मैंने उसकी चुत से लंड खींचा और उसके मुँह में लगा दिया उसने भी किसी रंडी की तरफ मुँह में मेरा लंड भर किया और चूस कर सारा रस उसके मुँह में ही छोड़ दिया. वहां से हमारा चयन जिला के लिए हुआ और फिर वहां हार गए लेकिन हमें इस स्तर तक आने के लिए उपहार भी मिला, जो कि नगद के रूप में था.

कुछ देर भाभी की चुदाई पूरी हुई और मोना ने मेरा लंड अपने मुँह में भर लिया.

और बात चुदाई तक क्यों नहीं ले गई … साली की चूत भी फड़वा देनी थी आज. हिसाब करने के बाद सीनियर लीडर ने कहा कि हमारे पास कुछ पैसे बचे हैं, इनका हम जैसे चाहे उपयोग कर सकते हैं. मैं इस बारे में बताने के लिए उसको कॉल किया और कहा- मुझे तुम्हारी जरूरत है और बहुत याद भी आ रही है जान.