लंड की बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,दिया और बाती

तस्वीर का शीर्षक ,

दुल्हन की सेक्स वीडियो: लंड की बीएफ सेक्सी, मैंने काम से छुट्टी ले ली और अगली सुबह मैं घर फ्रेश हुआ और नाश्ता करके कामिनी के बुलावे का इन्तजार करने लगा.

शेरावाली माता की फोटो डाउनलोड

मैं भी इतनी गर्म हो गई थी कि मैंने भी फट से उसका लंड अपने मुंह में ले लिया. एमपी थ्रीजब हम सभी एक ही घर में रहते थे, तो मैंने उसे कई बार छिप कर टू पीस में देखा था.

अपनी गोल गोल गांड को मटकाते हुए वो ऐसे चल रहा था जैसे तेंदुआ मस्ती में झूमता हुआ जा रहा हो. सेक्सी स्टोरी सुनाइएउसने कहा- अपनी ही सहेली से गाली खाने में हर्ज ही क्या है … और गीत डार्लिंग वैसे भी मुझे तू गालियां नहीं दे रही थी, मुझे तो तेरे प्यार की बेचैनी ने गालियां दी हैं.

हम दोनों कार से उतर आए, मैंने अपना बैग निकाला और हम दोनों साथ में घर में अन्दर आ गए.लंड की बीएफ सेक्सी: फिर मैं चाची की चूत में उंगली डाल कर चुदाई करने लगा तो वो आवाज निकाल रही थी- आ … उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहा!और मुझे बड़ा मजा आ रहा था.

जैसे ही मैंने लंड पकड़ा, मेरे जवाब में संदीप ने चूमना छोड़ कर मुझे अपने से पीठ के बल सटा लिया.मैंने भी मुस्कुराते हुए कह दिया- हां भाभी, मुझे तो मस्त माल ही पसंद आते हैं … आप भी मस्त हैं.

ऐक्स ऐक्स ऐन ऐक्स - लंड की बीएफ सेक्सी

मैंने अपने कपड़े ठीक किये और थोड़ा सा मेकअप किया और फिर से नीचे आ गयी.वो एक विदेशी कंपनी में बड़ी अधिकारी थी और काफी समय के बाद मुंबई आई थी.

जब मैं वापिस आया, तो मैंने शर्ट उतार कर अपनी एक फोटो खींची और रात को रंजीत को सेंड कर दी. लंड की बीएफ सेक्सी वो और कामुक होकर मेरे लन्ड को दबाने लगी औऱ चोदने को बोलने लगी।पर मैं उसके गोरे दूध को लाल करने में लगा था।फिर उसके दूध पीते हुए मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर अंदर बाहर करने लगा और वो तड़पने लगी।औऱ फिर से भाभी की चूत ने पानी छोड़ दिया, जिसको मैंने पूरा चाट कर साफ कर दिया.

जैसे ही इस बात का एहसास हुआ, मैंने खुद का चेहरा अपने ही हाथों से छुपा लिया और अपनी दोनों टांगों को एक दूसरे से चिपका दिया.

लंड की बीएफ सेक्सी?

चाय के बाद नीतू उठी और वन्दना से बोली- भाभी, मैं मार्किट जा रही हूं, कुछ कपड़े लेने हैं. ज्योति की फ्राक ज्योति को पकड़ा कर मैंने उसकी पैन्टी घुटनों तक खिसका दी और टांगें फैलाने को कहा तो वो विश्राम की स्थिति में खड़ी हो गई. संगीता ने अपनी हथेली से मुंह दबाया तो मैंने कहा- बहुत सुन्दर लग रही हो, ऐसे ही कस कर दबाये रहो.

सपना- वो तो उसको डराने के लिए बोला था … तुम लगते ही साउथ इंडियन हीरो जैसे हो, तो क्यों ना बोलूं. गांड 36 इंच की तरबूज सी उठी हुई थी और क़मर तो उनकी इतनी बलखाती हुई थी कि एक झटके में ही मेरा लंड चुत में सैट हो जाता. खैर छोड़ो … अब ये बताओ जब तक साथ दे सकते हो … जब तक प्यार दे सकते हो, तब तक प्यार दोगे? आगे की जिंदगी मैं तुम्हारे इसी प्यार के सहारे जी लूंगी.

जब होटल में पहुंचे तो होटल मैनेजर ने पहले ही कह दिया कि लाइट बारिश रुकने के बाद ही आयेगी. उसके बाद आंटी ने मेरा सर पकड़ कर मेरे होंठों को अपने होंठों से चिपका लिया और हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने चाटने लगे. कभी कभी तो कोई नहीं होता था प्रीति के घर में … तो मैं जाकर सोफे पर बैठ जाता था और टीवी चालू कर के कुछ ना कुछ देखता रहता था.

बाद में भाभी ने बच्चों उठा कर तैयार किया और स्कूल भेज कर फारिग हो गईं. फिर मैंने सोचा कि शायद ये अकेली है और इसको किसी के सहारे की जरूरत होगी, इसलिए इसने मुझे कहा है.

मैंने अपना खड़ा हुआ लंड उनकी चुत पर रखा और एक ही धक्के में मेरा लंड उनकी चुत में बच्चेदानी तक समा गया.

फिर मैं खड़ा हो गया और उनको नीचे बिठाया और जोर जोर से धक्के मारने लगा और पूरा पानी उनके मुंह में ही छोड़ दिया.

उसका नाम शीला है वो भी दिखने में पटाखा है शायद राज उसे चोद चुका है!मैं और प्रीति सही मौके का इन्तज़ार करने लगे. इस रसीली चुदाई की कहानी को शुरू करने से पहले मैं आपको अपने बारे में बता देता हूँ. मैंने पूछा- क्यों भैया का तगड़ा नहीं है क्या?प्रिया- उसका तगड़ा होता, तो आपके लौड़े को मैं घास भी नहीं डालती.

अब मामी का दर्द कम हो गया और वो नीचे से गांड उठा कर सहयोग देने लगीं. मुझे अब तो बस संजय का लंड चाहिए था।जब मैं संजय के घर जाती तो वो दूसरे कमरे में जाता और मैं नीचे आने लगती तो वो खिड़की खोल कर लंड हिलाता. तो सर ने अपने होंठ मेरे होंठों से लगा दिये जिससे मेरी कामुक आवाज दब गई.

उन्होंने एक दो बार तो अपना हाथ भी मेरी दीदी की गांड पर टच कर दिया था.

राकेश ने फटाफट कपड़े और मुझे घर के बैकडोर के पास छोड़कर बोला, कपड़े पहनकर यहां से भाग जाना, शाम को मिलूंगा. मैं भी जान बूझ कर उसकी चूत तक अपने अंगूठे को ले जाकर उसकी चूत को उसकी जांघिया के ऊपर से ही छूने की कोशिश कर रहा था. अब तक की इस फंतासी सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि रात को तीनों लड़कियों की चुदाई नहीं हो सकी थी.

पहले जीजू से मेरी बात ज्यादा नहीं होती थी, मगर धीरे-धीरे अब मैं जीजू के साथ घुल-मिल रही थी. एकदम मोटा कड़क लम्बा कुंवारा लंड पूरा सात इंच से बड़ा एक हथियार जो मेरी छोटी सी गुलाबी चुत में घुस कर हंगामा मचा देता. वो मुझे गोद में उठाकर बिस्तर पर ले गया, जहां गुलाब के फूलों के प्रिंट वाला चादर बिछा था.

तब तक वसुंधरा भी वार्डरोब से एक ए-4 साइज़ का एक लिफ़ाफ़ा निकाल कर मेरे सामने की कुर्सी पर आ विराज़ी.

इस बार मैंने सांस को छोड़ दिया था, चूत को भी सामान्य रहने दिया और पैरों को भी थोड़ा खोल लिया था. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:कमसिन कुंवारी चूत को उसके घर में चोदा-2.

लंड की बीएफ सेक्सी तभी तो मैंने उसे पैंट को पैरों से बाहर निकालने का भी समय नहीं दिया और अपने दोनों हाथों को उसकी जांघों पर रख कर लंड को मुँह से ही संभाला और बिना समय गंवाए सुपारा मुँह में भर लिया. कुछ ही दिनों में मेरी उनसे फोन पर मैसेज के माध्यम से शुरूआती बातचीत हो गई.

लंड की बीएफ सेक्सी मुझे तो यकीन नहीं हो रहा है कि हम सभी भाई-बहन मिलकर स्वैपिंग करेंगे. तभी अचानक वो बोली- आआ … अ और ज़ोर से मत कर … मेरी बच्चेदानी में लग रही है … उउफ्फ़ आआहहा … अह मैं झड़ गई … आह … तू भी कर दे जल्दी से … अब नहीं सह पा रही मैं.

वो भी मेरे धक्कों से अपने धक्के मिला कर नीचे से ही मेरी फुदी चोदने लगा.

नेपाली वीडियो में सेक्सी

अचानक ही मेरी चूत में फिर से तूफान उठने लगा और मेरी चूत से मेरा पानी छूटने लगा. मैं सोचने लगा कि क्या नसीब था उन पानी की बूंदों का … जो ऐसे नायाब शरीर पर थीं. मैंने अचकचा कर पूछा- अरे आपको क्या हुआ? आप रो क्यों रही हैं?चाची ने सुबकते हुए अपना सारा दर्द मुझे बताना शुरू कर दिया.

फिर जीजा जी ने आलिया के होंठों से गिलास लगाया और धीरे धीरे उसे पूरी पिला दी. उसने मुस्कुरा कर अपने लंड का टोपा मेरी गांड की छेद में फंसाया और बोला- तुझे जितना चीखना चिल्लाना है, चीख लेना … इधर तेरी कोई नहीं सुनने वाला है. वो थोड़ी सिहर उठी, उसने अपने हाथ से मेरे सर को पकड़ लिया मैं समझ गया कि वो मुझे वहीं चूमने बोल रही है, मैं उसे चूमता रहा.

मनु सायकिल से उतर कर पास आई और मेरे हाथों को पकड़ कर मुझे मेरी ही घड़ी दिखाकर बोली- जरा ढंग से देख कुतिया … अभी दस ही बज रहे हैं और मैं समय से पहले ही तेरे पास आ गई हूँ.

उन्हीं दिनों सूरज भैया को भी अपने काम के सिलसिले में एक हफ्ते के लिए बाहर जाना पड़ा. 2 दिन बाद वो नहीं आयी तो मैंने उसको फोन किया और उससे पूछा- तुम आयी नहीं?तो उसने कहा- मैंने अपनी मम्मी से बात की तो उनको सैलरी कम लग रही है. मैंने यह दिखाया उसके सामने कि जैसे मैं अपने जीवन में जिस बड़ी चीज का हकदार था, उससे वंचित रह गया उसके कारण.

इतने में ही रेशमा मुझ पर भड़क गयी और बोली- बेडशीट देने की क्या जरूरत थी? वो क्या सोचेगी मेरे बारे में?मैंने कहा- अरे इतनी टेंशन क्यों ले रही हो? वो भी जवान है. कभी लण्ड मसलती तो कभी मेरे गोटे!कुछ पल का मेहमान मेरा जॉकी भी मेरे जिस्म से अलग हो गया और मेरा भूरा लण्ड उछाल कर बाहर आ गया. उन्होंने एकदम बिंदास होकर अपना पेटीकोट ऊपर खींचा था, जिससे उनकी लगभग आधी जांघें नंगी दिखाई देने लगी थीं.

इसी दौरान मैंने अपना एक हाथ उसकी चुत पर रख दिया, जिससे उसके मुँह से एक लम्बी आह्ह निकल गयी और उसने मुझे कसके पकड़ लिया. वो ‘आह उ आह आआहह … ऊहहह और तेज चूसो … आई लव यू शिवम आह ऊऊहहह … आहहह … बबहहुत … म्जजा आ रहा है.

असलियत यही है कि मैंने अभी तक किसी लडके या मर्द के साथ सेक्स नहीं किया है पर मैं कल्पना कर रही हूं कि सपना के जीजाजी मेरे से पहली बार मिल रहे हैं और मेरा मन भी सेक्स करने का है. वो मेरी चूत को चाट नहीं रही थी, बल्कि उसे खाने का प्रयत्न करने में लगी थीं. रात में दो बार की चुत चुदाई की वजह से उसे दर्द हो रहा था और दर्द की वजह से उसकी चाल बदल गई थी.

नहीं अंकल, होता यह था कि मैं जब भी राकेश से मिलकर आती थी, बेकाबू हो जाती थी और घर आकर ऊंगली से अपनी बुर को शांत करती थी.

आप सच में और भरोसे लायक हैं या नहीं! यह जानना चाहती हूं।उन्हीं दिनों मेरे घर में एक फंक्शन आया तो मुझे काम से बार-बार घर से बाहर जाना पड़ता था. उनकी चुचियों को मैंने अपने दोनों हाथों से पकड़ते हुए कहा- प्लीज़ एक बार फिर चुद जाओ न. मुझे लेटा हुआ देख कर वो भी मेरे बगल में ही लेट गई मगर उन्होंने मुझे उठाया नहीं.

अचानक ही मेरी चूत में फिर से तूफान उठने लगा और मेरी चूत से मेरा पानी छूटने लगा. हम दोनों को 50 हजार रुपये दिए और बोला- तुम दोनों की फ़ोटो उनको काफी अच्छी लगी.

अगर कहानी में आपको मजा आ रहा हो तो मुझे अपने मेल और कमेंट्स के जरिये प्यार दें. हम सभी अपनी बहनों की गांड मार रहे थे और वो कामुक आवाजें कर रही थीं. उसने कहा- अपनी ही सहेली से गाली खाने में हर्ज ही क्या है … और गीत डार्लिंग वैसे भी मुझे तू गालियां नहीं दे रही थी, मुझे तो तेरे प्यार की बेचैनी ने गालियां दी हैं.

सेक्सी व्हिडीओ क्लिप बीपी

ऐसा होने से मैं भी अपना होश खो बैठा और मैंने सीधे उनके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगा.

” गौरी अपनी झोंक में बोल तो गई पर फिर उसने शर्म के मारे अपनी मुंडी नीचे कर ली।अच्छा कब?”अब गौरी बेचारी क्या बोलती?मैंने दुबारा पूछा तब वह बोली- दीदी के बल्थ डे वाले दिन!प्लीज … पूरी बात बताओ ना?”वो … वो … जब हम पाल्टी ते लिए तैयाल हो लहे थे तब कपड़े बदलते समय उन्होंने मुझे ऊपर से नीचे तक कई बार देखा और फिर अपनी बांहों में लेकर चूमा था और फिर यह बात बोली थी।”क्या तुमने सारे कपड़े उतार दिए थे?”हओ. मैंने कहा- क्या हुआ दीदी?वो बोली- कमीने, ये सब तू उस रात को नहीं बोल सकता था. मुझे अब बिस्तर में लिटा दो वरना मैं पागल हो जाऊंगी, गिर जाऊंगी। प्लीज जल्दी … मेरे साथ कुछ करो.

फिर उन्होंने अपने पॉकेट से दो चॉकलेट निकाल कर दीं और बोले- तुम्हें चॉकलेट पसंद है न. … इसीलिए तो आ जाती हूं ताकि साथ में मिलकर अपना प्रॉब्लम सॉल्व कर लें … आंटी प्रिया है कहां … दिखाई नहीं दे रही है?मम्मी- अच्छा है. गांड मार दोथोड़ी देर बाद उसे प्रकाश की बहकी बहकी आवाज में गाली की आवाज आयी- साली रंडी, मेरा मजाक बनाती है.

मैं- क्या करूँ, जिसके पास तुम्हारे जैसा माल हो … वो मस्ती ही करेगा. ’कुछ दिनों तक ऐसे ही चलता रहा … एक दिन मैं, दीदी और श्वेता दीदी बाजार गए थे … बाजार में साकेत भैया भी थे.

मैंने लंड बाहर खींचा और खड़ा होकर कंडोम को डस्टबिन में डालकर बाथरूम में पेशाब करने के लिए चला गया. दोस्तो, अगर मेरी दीदी की बात की जाए, तो वो एकदम फिल्म हिरोइन तब्बू की तरह लगती थी. इतना कहकर उन्होंने मेरा लंड अपने हाथों से छोड़ दिया और अपने शरीर से ब्लाउज को निकाल फेंका.

हमारे पास दो कारें थीं, जिसमें एक कार में हम जेन्टस थे और दूसरे कार में सभी लेडीज थीं. तना हुआ मस्त भूरे रंग का लाल सुपारे वाला विशाल लंड मेरी आंखों के सामने था. शायद संदीप की बहन को भी अपनी किसी सहेली के यहां जाना था पर हमारे होने की वजह से वो नहीं जा रही थी.

मुझे ये नहीं पता था कि संदीप ने चूत चाटते वक्त मुझे चुदी चुदाई समझा, या कुंवारी समझा.

इस तरह से कुंवारी चूत चोदने मेरा सपना मेरी बीवी की मदद से उसकी ही कुंवारी भतीजी को चोद कर पूरा हुआ. अब शायद उस जवान कुंवारी चूत की कामवासना भी कामरस के रूप में अपनी बेचैनी को बयां कर रही थी.

मैंने जेठजी की टी-शर्ट को निकाल फेंका और उनकी गर्दन से होते हुए सीने को चूमने लगी. मैंने उसको बेड पर पटका और उसकी टांगों को उठा कर अपना लंड उसकी चूत में पेलना शुरू कर दिया. मैं- अरे बेटा, बस मैं गोवा से वापस आ जाऊं, फिर मैं तुम्हारे लिए इंतजाम करती हूं.

इस बार मैंने उसके पांव को अपने हाथों में लेकर धीरे धीरे चूमना शुरू कर दिया. दुकान वाले को देख कर उस सांवले से बॉडीबिल्डर ने कहा- आ जा पहलवान … सुणा दे. मैं बोली- पागल हो क्या … यहाँ कैसे कुछ हो सकेगा? बाहर तुम्हारे इतने सारे मरीज बैठे हैं.

लंड की बीएफ सेक्सी मैं- आलिया आपके लिऐ एक खास सरप्राइज है, जिसके लिए आपको अपनी आंखें बंद करनी पड़ेंगी. वो और कामुक होकर मेरे लन्ड को दबाने लगी औऱ चोदने को बोलने लगी।पर मैं उसके गोरे दूध को लाल करने में लगा था।फिर उसके दूध पीते हुए मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर अंदर बाहर करने लगा और वो तड़पने लगी।औऱ फिर से भाभी की चूत ने पानी छोड़ दिया, जिसको मैंने पूरा चाट कर साफ कर दिया.

हस्तमैथुन वीडियो सेक्सी

मैंने उसका हाथ पकड़ा और बोला- मेरे लंड को प्यार नहीं करोगी?मेरा लंड चूसने का इशारा समझ कर वो बोली- नो … मैंने कभी मुँह में नहीं लिया और ना ही लूँगी … इसकी जगह मेरी चूत में है, वही अच्छा है. हम सब नंगे ही टेबल पे नाश्ता करने लगे।आखिर में मैम फ्रीज़ से आइसक्रीम लायी. फिर कुछ दिन बाद पता चला कि वो मां बनने वाली है … अभी 6 महीने की प्रेग्नेंट है.

इसके बाद हम दोनों ने साथ में शावर लिया। वहां नहाते हुए उसने मुझे बहुत किस किया, मेरे होठों को बहुत देर तक चूसा. तुम्हारी चिकनी चिकनी पिंडलियां, जिन पर नजर भी जाते ही फिसल जाती हैं. लड़की को सेक्स कैसे करेंमैंने उसके बटन बन्द करते हुए कहा- अब टाइम ओवर हो गया है, तुम कल आना! फिर देखता हूं कि तुम अपने जिस्म की कितनी नुमाइश करती हो.

मैं उठा और उसके चूतड़ उठाकर नीचे एक तकिया रखा और लण्ड का सुपारा उसकी बुर पर फेरने लगा, वो बहुत व्याकुल हो रही थी.

मन तो कर रहा था कि अभी पलट कर उनकी गांड को भी इत्मिनान से निहारूं मगर मैं जल्दी नहीं करना चाह रहा था. अब आगे:नीचे मेरे घर के मेन दरवाजे की घंटी बजी और हम नीचे आ गए, तो देखा कि अंकल सामने ही खड़े थे.

जैसे जैसे उसके पैर फैल रहे थे, वैसे वैसे उसकी गुलाबी चूत मेरे सामने खुली हुई दिखायी दे रही थी. मेरा लंड एकदम चिकना होकर चमचमा रहा था और चुत को फाड़ने के लिए बेताब था. वो हांफने लगी और मुझसे दूर होकर बोली- कितने जन्म के प्यासे हो, मेरे होंठ ही सुजा दिए.

मैंने देखा कि अंकल के रूम का दरवाजा खुला था और दीदी उनके घर के अन्दर जाने को हुई ही थीं कि अंकल दीदी को देख कर मुस्कुरा दिये और आगे आकर उनको अपनी बांहों में लेकर अन्दर ले लिया था.

अब तक की सेक्स कहानीभाभी को प्यार से चोदा-1में आपने पढ़ा कि एक नवविवाहित भाभी मुझे एक पार्टी में मिली. थोड़ी देर में वो किताबें लेकर आ गई और बोली- दादू, आज मेरा आने का मन था नहीं लेकिन आपने बुलाया तो मैं आ गई. यह कोई झूठी कहानी नहीं है, ये सब मेरे परिवार में हुआ है और होली के बाद से तो किसी को भी किसी तरह की रोक टोक नहीं है.

xzxx سكس 2020momxddxजब भी मैं अपनी बीवी को चोदता, बस प्रिया भाभी की ही कल्पना करके चोदता. वो बोला- अब कब आओगी?मैंने कहा- अब इतने मोटे लंड को छोड़ कर किसी और का लंड क्या काम करेगा.

जानवर औरत की सेक्सी वीडियो

इस बीच रेखा आ गई, उसने दरवाजा बंद देखकर आवाज लगाई लेकिन हम लोग अपनी मस्ती में डूबे हुए थे कि ध्यान ही नहीं दिया. जिस दिन मेरी छुट्टी होती थी तो उस दिन मैं भी चाची की मदद घर के कामों में करती थी. मैंने उससे कहा- अगर दबाने से बड़े हो जाते हैं, तो तुम खुद ही अपने हाथों से क्यों नहीं कर लेती हो?मेरी इस बात से वो चुप तो हो गई, मगर उसकी आंखों में मेरे लिए निवेदन ही था.

मुझे दुखी देख कर भैया ने पूछा- क्यों … क्या हुआ?मैंने कहा- केबल टीवी ना होने की वजह से वर्ल्ड कप के क्रिकेट मैच देखने नहीं मिल रहे हैं. ये कह कर भाभी ने अपना ब्लाउज हटा दिया और वे पेट के बल बिस्तर पर लेट गईं. मगर सील पैक चूत की चुदाई और चुदी हुई चूत की चुदाई के बारे में मर्द को पता लग जाता है.

एक के ऊपर में बैठकर राइडिंग कर रही हूं और दूसरा मुझे पीछे से मेरी कोली भर कर मेरी कमर को खूब चाटे और उन दोनों के बीच में मैं खूब इंजॉय करूं. मैंने उनके दूधिया गोरे बदन को छूते हुए कहा कि वाह क्या मस्त माल लग रही हो आप … मैं आपको कैसे बताऊं. ”आशू- सुबह-सुबह चढ़ा कर (दारू पीकर) आयी है क्या, तुझे पता है न मैं क्या कर सकता हूँ?वो मेरा वीडियो कॉलेज ग्रुप में डालने की धमकी देने लगा.

इससे पहले कि मैं अपनी इस सेक्स कहानी को शुरू करूं, सबसे पहले मैं आपका परिचय अपनी दीदी और उस आदमी से करा देता हूँ, जिसके बारे में मैं आपको अपनी इस सेक्स कहानी में बताने जा रहा हूँ. उसने अन्दर आते ही मेरे मम्मों को दबाना चालू कर दिया, जिस वजह से मैंने डोर लॉक नहीं कर सकी.

श्वेता दीदी- अरे बोलो … मुझसे क्यों छुपा रही हो … कोई दिक्कत है तो बताओ.

देखेंगें … !” वसुंधरा ने खुद को पूर्ण रूप से मेरे आगोश में ढीला छोड़ कर जवाबी चोट की. सेक्सी प्रियंका चोपड़ा कीआअह आह आह उफ्फ …” की तेज़ सिसकारी सिल्क के मुँह से निकली और फिर मैं बारी बारी से दोनों जांघों को चाटने लगा जीभ निकाल कर!मेरे हाथ खुदबखुद चूत पे पहुंच गए, पैंटी के ऊपर से उसको मसलने लगा. गांड में लौड़ारोहित- ओके, रीना भाभी!मैं- वैसे मेरे हस्बैंड भी कंप्यूटर इंजीनियर हैं, काफी कम्पनी में जॉब कर चुके हैं. मैं बोली- सच बिक्कू? क्या तुम सच में मेरे लिए ऐसा करोगे?वो बोला- हां मेरी जान … मेरा भरोसा कर.

उत्तेजना के कारण उसकी चूत में कामरस ने ऐसी खुजली मचाई कि वो अपनी गीली चूत को मेरे सामने नंगी करने के लिए कुर्सी से उठ गई.

मैंने भी उसे और तड़पाना उचित ना समझते हुए अपना लंड, जो कि पूर्णतः नब्बे डिग्री की अवस्था में खड़ा था, को अपनी बीवी की चूत में डाल दिया. फिर मैंने उनके पैरों को ऊपर किया और उनकी चूत को मेरे लंड के सामने लाया. मुझे नहीं पता था कि इसमें क्या होता है, लेकिन मेरी जिज्ञासा बढ़ती जा रही थी.

दरअसल हम लोगों की फोन सेक्स वार्ता के दौरान उसने पूछा था- तुम मुझे कैसे देखना चाहोगे पहली चुदाई के दिन?तब मैंने उसको बताया था कि मुझे तुम्हें गहरी नीली साड़ी में चोदना है, मोमबत्ती की मद्धम रोशनी हो, तुम्हारे शरीर पर साड़ी के अलावा अन्य कुछ भी ना हो. उसके मुंह से आवाज आई- आ आ मार दिया मम्मी!पूरे जोश में था मैं, मेरे मुँह से गाली निकली. पीछे वाले आदमी का दूसरा हाथ मेरी नाभि पर था और उसका खड़ा लंड जो 8 इंच से कम नहीं था, वो एकदम मेरी गांड पे सहला रहा था.

सेक्सी वीडियो चाहिए हिंदी वाला

हम दोनों एक दूसरे की बांहों में हाथ बाहें डाल कर बाहर थोड़ा घूमे, इधर उधर देखा, मगर वहां कोई नहीं था. मामी मेरा लंड चूसने लगीं, जिसे उन्होंने पिछली रात को चूसने से मना कर दिया था. जब वो अपने कपड़े उतार रहे थे तो मैंने देखा कि चाचा की बॉडी देखने में कुछ खास नहीं लग रही थी.

मैंने तेल की शीशी से तेल अपनी हथेली पर लिया और उसकी गोरी जांघों की मालिश करना शुरू कर दिया.

उस समय प्रीत एक हाथ से मेरे मम्मों को दबाने लगा और बोला- डार्लिंग एक बात बोलूं, करोगी?मैं बोली- हां बोलो.

कुछ देर बाद संगीता आ गई, मैंने उसका टॉप उठाकर चूचियां निकाल लीं और संगीता को अपने पैरों के पास जमीन पर बिठाकर अपना लण्ड उसके मुंह में दे दिया. तभी डोली ने तेज झटके देने शुरू कर दिए और मेरी कमर को जोर से जकड़ कर शांत हो गयी. b.a. पास महिलाओं के लिए सरकारी नौकरीतो जैसे ही उसने मुझे देखा तो प्रीति ने मेरी आँखों में पढ़ लिया कि मुझे क्या चाहिए.

एक दिन जब मैं कॉलेज से घर आई तो मैंने चाची को एक स्लीवलेस नाइटी पहने हुए देखा. शायद वो इसी बात का इंतज़ार कर रहा था। उसने भी बिना कोई वक्त गँवाए, मेरे होंठों को चूम लिया।एक बार तो मुझे जैसे करंट लगा, उसको भी लगा। हम दोनों छिटक कर दूर हो कर सोफ़े पर बैठ गए।मैंने अपनी आँखें बंद कर ली. उधर स्नेहा भाभी ने मुँह में से लंड निकाल लिया था, तो अब उनकी मीठी सिसकारियां सुनाई देने लगी थीं.

हालांकि वो मेरे सामने शॉर्ट स्कर्ट में या शॉर्ट निक्कर में भी रहती थी. मैंने अपने लण्ड का सुपारा उसकी चूत पर टिकाते हुए कहा- अब मेरा लण्ड डिस्चार्ज होकर ही बाहर निकलेगा.

मेरी अपनी चूत के पानी से सना हुआ सख्त लंड जब मैंने अपने मुंह में लिया तो मुझे थोड़ी सी गंध आई लेकिन वह गंध बहुत मादक थी और मुझे ज्यादा उत्तेजित कर रही थी लंड को चूसने के लिए!मैंने उनका गीला लंड अपने मुंह में भर लिया और उसमें हल्के से दांत गड़ा दिए.

अंकल ने स्वीटी आंटी को गले लगाते हुए कहा- सरप्राइज!मुझे तो उन्हें देख कर मानो बहुत गुस्सा आ रहा था कि इस साले को अभी ही टपकना था. मैं भी इतनी गर्म हो गई थी कि मैंने भी फट से उसका लंड अपने मुंह में ले लिया. यह एक बढ़िया होटल था कनाट प्लेस के बहुत पास और उसकी बुकिंग मैंने अलग से करवा के रखी थी.

संदेश सेक्सी वीडियो वो शेल्फ से नीचे उतरी और मेरे सामने नीचे बैठ कर मेरा लंड पकड़ कर बोली- अब करो. पिंकी मुझे बोलने लगी- प्लीज़ तड़पाओ मत! अब मेरी प्यासी चुत में अपना लंड डाल भी दो.

उसी की बताई हुई बात मैं आपके सामने रख रही हूं।तो आप सुमन की जुबानी ही सुनिए, मैं तो केवल लिख रही हूं. संजू बहुत वफादारी से बोली- मुझे माफ कर दीजिएगा, मैंने आपसे बिना पूछे ऐसा कह दिया, पर हालात ही वैसे थे. आशा है आपको मेरी मस्त सेक्स कहानी पसंद आयी होगी। अपने सुझाव और विचार नीचे दिए गए ईमेल पर लिखें.

जंगल का बीपी सेक्सी वीडियो

मैं समझ गयी कि मेरी आवाज सुन कर लंड का पानी पैंट पर ही गिर गया होगा. मैंने अपना दुपट्टा ही उतारा था कि दीदी मेरे सामने सिर्फ ब्रा पेंटी में ही रह गईं. पहली बार दीदी को बहुत अजीब फीलिंग हो रही थी, लेकिन उनके पास कोई चॉइस नहीं थी.

मैं भी लंड को अन्दर बाहर करने लगा और भाभी की चुदाई जोर जोर से करने लगा. मैंने उनकी दोनों जांघों को हाथ लगाया तो उन्होंने खुद अपनी टांगें फैला दीं.

इसके बाद उन्होंने कहा कि आज मैं तुम्हारा मेकअप करूंगी और मैं तुम्हें बताऊंगी कि तुम्हारे भैया प्यार कैसे करते हैं.

मैंने कहा- टाइम फिक्स नहीं कर सकता लेकिन रोज किसी भी समय एक घंटा पढ़ा दिया करुंगा. रोहित- ओहो, तो आप भी काफी मदद कर सकते हो, सिलेबस काफी मैच होता है अपना. कई बार तो बहाने से मैं उसकी चूचियों को छू भी लेता था और वो कुछ नहीं कहती थी.

मैंने सिगरेट उसे पकड़ाई, तो वो नंगी ही बेड के हेड बोर्ड पर अपनी पीठ लगा कर अपनी टांगें क्रॉस करके कश लगाने लगी. उसकी चीख निकलने वाली थी लेकिन मैंने पहले ही उसका मुँह अपने मुँह से बंद कर दिया था. वो जोर जोर से लंड हिला रहा था और मुझे देखते देखते उसने आगे से लंड का मुंह दबा लिया, पानी निकल गया था उसका … तो उसने आंख मार दी।मैं चुपचाप घर आ गई लेकिन अब मैं पागल होती जा रही थी वासना में! और सब शर्म छोड़ मैंने सोच लिया कि संजय का लंड चाहिए मुझे अब।अगली सुबह मैं दूध लेने गई तो संजय की मां दूध निकाल रही थी.

उसके बाद भाभी ने मेरे मुख पर फाउंडेशन लगाया और मेरे चेहरे को एकदम गोरा बना दिया, जिससे मेरा चेहरा और चमकदार हो गया.

लंड की बीएफ सेक्सी: उसके बाद हम दोनों ऐसे ही काफी देर तक एक दूसरे के साथ नंगे जिस्मों के साथ चिपके रहे. वो बोली- शादी तू किसी से भी कर लेकिन जब तक इस घर में है तुझे ये सब करने की आदत डालनी होगी.

मैं नंगी उठ कर बाथरूम में चली गई, पर जब मैं बाथरूम से लौटी, तो दीदी गहरी नींद में सो चुकी थीं. ये कहते हुए मैंने परमीत का लोवर खींचा, पर परमीत ने लोवर पूरा उतरने से बचा लिया. उसने राजन से कहा- सर अगर आप चाहें तो मेरा मकान देख लें, उसमें वन रूम सेट खाली है और बहुत अच्छे से मेन्टेन है.

मैंने धीरे से उसको संभालने के बहाने के उसकी चूचियों के नीचे अपने हाथ रख लिये.

वो अपने सेमेस्टर के एंड में ही घर पर आता है जब उसकी छुट्टियां होती हैं. तो मैंने सोचा कि चलो ये सब बाद में! मैंने लंड चुसवाने का इरादा छोड़ दिया. उसने गुर्राते हुए कहा- बेड में लेट जाओ और अपने दोनों हाथ ऊपर कर लो.