डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई

छवि स्रोत,मौसी बेटा की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी बीएफ न्यू: डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई, मैंने झट से अपना फ़ोन उठाया और अपने पीजी वाली आंटी को बोल दिया कि आज रात दोस्तों के साथ रुकने वाला हूँ, सो आप मेरी राह न देखना.

भोजपुरी ब्लू फिल्म दिखाओ

फिर उस पर दुनिया की सबसे खूबसूरत तेरी यह प्यारी सी सेक्सी नाक लगती है. ब्लू फिल्में नई नईअच्छे से पेल के मेरे यार ने मेरी बहन के पूरे मज़े लिए और फिर उसकी गांड में गुड़ मॉर्निंग कर दी.

मगर जल्दी ही उन्होंने मेरी चूचियों को छोड़कर मेरी पैंटी को मेरी जांघों से भी उतार दिया. सैक्सी वीडियो हिन्दीमैंने आह सी भरकर जवाब दिया- नहीं सर, भगवान की कसम …चलो कोई बात नहीं … जवानी में ये सब तो होता ही है.

अब आरज़ू की छोटे-छोटे और मासूम सी चूची देखकर तो मैं पागल ही हो गया था.डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई: ट्रेन के इस स्लीपर क्लास के डिब्बे में मेरी सबसे ऊपर वाली सीट थी, नीचे एक फैमिली यात्रा कर रही थी.

दीदी अपने हाथों को पीछे बिस्तर की तरफ ले जाकर बेड के सिरहाने को पकड़े हुए थी.तभी सोनल बोली- आज मौका अच्छा है … क्यों ना हम साथ में ब्लू फिल्म देखें.

हिंदी सेक्सी देवर भाभी - डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई

जब मैं स्कूल में पढ़ता था, तब तक मुझे सेक्स का पूरा ज्ञान मिल चुका था.और मैंने झटके से भाभी की ब्रा को खींच दिया जिससे वो फटकर मेरे हाथ में आ गयी। उनके क्या मखमली बोबे थे.

मेरे लंड पर गीला सा पदार्थ महसूस हुआ और मैं समझ गया कि वह दोबारा से झड़ चुकी है. डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई जब वो लंड चूस रही थी, उस वक़्त वो अपनी चूत को मेरे पांव के अंगूठे से रगड़ रही थी.

मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और उसे भरोसा दिखाया कि मैं अब भी तुम्हारे ही साथ हूँ.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई?

मैं उंगली को उसकी गांड के अंदर डालना चाहता था मगर उसने ऐसा करने नहीं दिया. माला को कोई पहले से ही चोद रहा है, ये बात विजय को काफ़ी देर बाद पता लगा. मैंने अचरज से पूछा- मुझे कब बताया था तुमने?साजिदा मुस्कुराते हुए बोली- तुम मेरे मन की बात पढ़ लेते हो, यही तो मुझे पसंद है.

सलोनी- आह्ह्ह राहुल धीरे … दर्द होता है … उफ्फ … मैंने उसकी कमर को कसकर पकड़ लिया और उसकी चूत में अच्छे से लण्ड को तेजी के साथ अंदर बाहर करने लगा. मैंने उसकी मुलायम जुबान को मेरी जुबान से चाटना शुरू किया और उसकी जुबान मेरे मुँह में लेके मजे से चूसना शुरू किया. बेडरूम में अन्दर जाके मैं उसके ऊपर टूट पड़ा और जल्दी ही उसके सारे कपड़े निकाल कर मैंने उसे नंगी कर दिया.

समय बीतने के साथ उनका काम बढ़ता गया, तो हफ्ते के 2 से 3 दिन उधर ही बिताने लगे. सासू माँ ने हाथ में लकड़ी ली और मेरी पेंट के ऊपर लिपटा हुआ वो लाल सिल्की कपड़ा ऊपर किया. उसको भी शायद इसका अहसास हो गया था; उसने झट से सीधे होकर अपने आप को ठीक कर लिया.

वो मेरे बूब्स को इतना जोर से दबा रहा था कि मैं ना चाहते हुए भी चीख पड़ती थी. रवि मामा ने फिर से मुझसे लड़कियों की बातें करना शुरू कर दीं और वो आज तो अपनी जुगाड़ों के बारे में भी बताने लगे थे.

मैं फिर से इंदु की चुत में लंड डाल कर उसकी चूचियों को पीते हुए उसे चोदने लगा.

इतना सुनते ही मैं बहुत खुश हो गई और इस उम्मीद पर आ गई कि मेरी शादी आशीष से हो सकती है.

मुझे वह जगह मिली, रिस्ट्रिक्टेड एरिया में, वहां कोई नहीं आता जाता था. रात को भी आंखों से नींद गायब थी … कभी मम्मी जी की बातें याद आतीं, तो कभी वसीयत, तो कभी हितेश के वीडियोज. थोड़ी देर आराम करने के बाद फिर मैंने उसे गांड मारने को बोला लेकिन उसने मना कर दिया.

उसने पूछा- कहां जा रहा है?मैंने नवीन को पकड़ लिया और वहीं उसको गले से लगा लिया. अनन्त ने दीदी के दोनों तरफ अपने पैरों को रखा और अनन्त की टट्टे दीदी के होंठों के पास आ गये. और जब उसका पानी टूटा, जैसे वो अकड़ गई, मेरे होंठ को काट कर खा गई, मैंने भी उसके होंठ अपने होंठों से पकड़े थे, तो बस वो ऊँ….

बृजेश की तो कई गर्लफ्रेंड भी हुआ करती थी इसीलिए हमारा सेक्स तो कभी कभी ही होता था.

मेरे पूछने पर उसने बताया- मेरा नाम रितिका है और मैं देहरादून के एक इंजीनियरिंग कालेज के हॉस्टल में रहकर अपनी पढ़ाई कर रही हूँ और मैं पहली बार सेक्स करके अपनी सील तुड़वाना चाहती हूँ और दो तीन दिन आपके साथ बिताकर प्यार करना चाहती हूँ. फिर उन्होंने अपनी टाँगों को फैला दिया और मेरे हाथ को पकड़कर अपनी चूत के छेद पर रख दिया. उसने अपनी उंगली से मेरी चुत की पंखुड़िया खोलीं और मेरी चुत के दाने पर अपनी नुकीली की हुई जीभ से दंश मार दिया.

मैं और मैनेजर सर हम दोनों को मीटिंग में अक्सर देर हो जाती थी, तो हम दोनों को होटल में रुकना पड़ता था. लंड को मुंह में देने के बाद अब बात उसके काबू से बाहर हो गई और उसने मेरे मुंह में अपने लंड को अंदर-बाहर करना शुरू कर दिया. प्रोफेसर साहब के पास बीच वाला पोर्शन और ऊपर टॉप में, फ्रंट में एक वन रूम सेट था जिसके पीछे खुली छत थी.

सोनम बोली- मेरी दीदी की शादी यहां इस घर से नहीं हो रही है, चाचा और दादा जहां रहते हैं, वहां अहरी से होगी.

उनकी इच्छा तो थी कि उन्हें कोई पुत्र प्राप्त हो, पर कम उम्र में माँ बनने से उसकी तबियत बिगड़ चुकी थी और वो कमजोर हो गयी थी. मैंने उसे बताया कि जब पति की इच्छा हो, तो तुम अपनी इच्छा उसे बढ़कर दिखाना.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई अचानक मैंने हाथ उसकी सलवार के अन्दर डाल कर पहले पेंटी के ऊपर से उसकी चूत पर हाथ फेरा. मैंने पूनम से पूछा- तुम्हें क्या लेना है?तो उसने कहा- मुझे तुम्हारे साथ बस दिन बिताना था तो सामान का बहाना करना पड़ा.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई कभी कभी सलवार सूट पहनना होता था, तो वो भी गांव का ही सिला हुआ पहनती थी. एक तो दवा का असर, ऊपर से मेरी नर्म गर्म बीवी … मैंने उसकी नाइटी खोली और उसकी बड़ी बड़ी चूचियों को चूसने लगा, जोर जोर से दबने लगा.

वह गंध आते ही एक अलग ही संवेदना मेरे दिमाग से मेरी चुत में चली जाती.

गांव की लड़की फोटो

ऐसा कुछ नहीं, जब मिलना हो, तो मिल लेता हूँ, जब बात करना हो, तो कर लेता हूँ, ऐसे चैटिंग वगैरह कम ही करते हैं. उसे पता लग गया था कि मीना का पति ननकू शहर में रहकर नौकरी कर रहा था तो मीना को अपने मर्द की दूरी बहुत परेशान कर रही थी. अब कार गांव में हमारे घर के सामने आकर रुकी और मेरे सगे मामा कार से उतर गए.

मेरी कहानी के पहले भाग में जैसा कि आपने देखा कि मेरे मामा की बेटी कोमल और मेरे बीच किस तरह रिश्तों में परिवर्तन हुआ और हम भाई-बहन से प्रेमी बन गए थे. इससे पहले कि मैं मर्दों के दुश्मन उस मादक बदन को अच्छे से निहार पाता, मैडम ने लंड को अपने नाज़ुक मुलायम हाथ में ले लिया था- अरे वाह राजे! तेरा लौड़ा तो काफी बड़ा है. फिर मैं उनके मम्मों को दबाने लगा और साथ ही मैं भाभी के गले पे लगातार किस कर रहा था.

पर वो चुदे बिन मानने वाली नहीं थी, वो पूरी नंगी हो गयी थी मुझे भी पूरा नंगा कर दिया था भाभी ने.

मैं अपने जीवन में पहली बार अपनी नंगी माँ को देख रहा था, शीशे जैसा चमकीला बदन, बड़े बड़े चुचे और गुलाबी चूत. अब आगे:मेरी सहेली के मामा ने अब मेरी कमर को पकड़कर अपनी हाथों से कस लिया और मेरी चुत पर जीभ नीचे से ऊपर की तरफ रगड़ रगड़ के चाटने लगे. तुझे मैं कैसे प्यारा लगा?मैंने कहा- मुझे तो आप जैसे लड़के बहुत पसंद हैं.

मेरी बीवियाँ जन्नत की हूरें हैं और मैंने उन्हें और उन्होंने मुझे जन्नत की सैर करवाई. स्मार्ट हो और सबसे बड़ी बात सेक्स पावर अल्टीमेट होना चाहिये, बात करने में भी बॉस हो. कई बार तो तीन-चार औरतें मिलकर मुझे अपने साथ कहीं ट्रिप पर ले जातीं और मैं वहां पर जाकर उन सबकी चूत की खुजली को शांत करता था.

किसी को कुछ बता तो नहीं देगी ना?” सर ने मेरी चूचियों को घूरते हुए पूछा. उसने आंख खोली तो मैंने उसके होंठों में अपने होंठ लगा कर उसे किस किया.

ज्यादा ज़िद करने पर मामाजी और नानाजी से बोल देने की धमकी देते हुए उन्होंने बात को टाल दिया. उसने मेरा लंड चूसना नहीं छोड़ा, तो मैंने अपना माल उसके मुँह में ही निकाल दिया. अब विनय जीजू दीदी की चूत के पास आ गए थे और अनन्त कुसुम दीदी के मुंह की तरफ चले गए थे.

उसने जैसे ही मेरी जांघ पर हाथ रखा, मैं चौंक गई लेकिन मैंने कोई रिएक्ट नहीं किया.

इसीलिए मुझे उन पर थोड़ा तरस भी आ रहा था क्योंकि वो हमेशा ही यहां वहां मुँह मारते ही रहते थे. जो भी मैं तुम्हें सिखाऊंगी, तुम्हें अच्छे से सीखना होगा ताकि आगे चल के तुम्हें काम करने में आसानी हो. मैंने उससे झल्लाकर कहा- मुझसे ऐसे नहीं होगा, करना है आगे … तो कुछ करो वरना जाओ.

वह इस बात से परेशान था कि उसकी बीवी मीना ने अपना मुंह काला करते समय रिश्तों का भी ख्याल नहीं रखा. वह बोली- गांड में डालने का इरादा है क्या?मैंने कहा- जैसा आपका हुक्म मैडम, मैं तो आपका सेवक हूँ.

वे मेरी चूत से टपकते रस को चाटते हुए बोले- बंध्या तेरी चुत तो बह चली है, बहुत स्वादिष्ट मस्त रस आ रहा है. वह अपनी कमर को दीदी की कमर पर पटक रहे थे। दीदी बिल्कुल गुडीमुडी हुई अनन्त जीजू के नीचे दबी हुई थी। अनन्त और विनय दोनों ही जीजू मेरी दीदी पर रहम नहीं कर रहे थे। मैं बुरी तरह से डरकर वापस अपने कमरे में आ गई. उसके साथ बहुत दर्द भी होता है, इतना पेन तो तुम्हारे साथ कभी नहीं हुआ.

सेक्सी वीडियो फिल्म सेक्सी वीडियो

अब मुझे उसकी चूत मारने में मज़ा नहीं आ रहा था इसलिए मैंने उसकी गांड में उंगली करना शुरू कर दिया.

मैं उसके चूचों के निप्पलों को ब्रा के ऊपर से ही मसलते हुए उसकी चूत को जोर से चोद रहा था. मुझे गांव में रहने की आदत नहीं थी तो वहां इधर मुझे सब अलग सा लग रहा था. मिसेज पाटिल एक हाथ से मेरा लंड भी आगे पीछे कर रही थीं और मैं भी उनकी चुत में उंगली करने लगा था.

अपने अच्छे व्यवहार के चलते वह कुछ ही दिनों में पड़ोसियों से घुलमिल गया था. वह चल कर पास आई और पूछने लगी- इतने गौर से क्या देख रहे हो?मैं ऐसे ही उसको देखता जा रहा था. डॉक्टरों की सेक्सी पिक्चरकुछ दिन रहने के बाद ननकू शहर चला गया पर मीना के दिल में भय सा बैठ गया.

एक घंटे की फ़िल्म देखते हुए ही मेरी पैंटी मेरी चूत के रस से पूरी गीली हो गयी थी. मैं पहली बार में ही किसी मर्द के सामने इस तरह से नहीं जाना चाह रही थी.

अभी पहली बार ही उसे देखा है, पता नहीं क्यों मुझे दे रहा है … और तुम लोगों को नहीं भगवान जाने क्या बात है. मीरा मैडम ने अपनी चूत पर हाथ फेरते हुए बोला- हैलो सिमरन … कहां है यार तू अभी तक आई क्यों नहीं. अगले हफ्ते उसका बर्थडे आने वाला था, तो उसने मुझसे बोला कि इस बार बर्थडे पे वो नाइट आउट करना चाहती है.

मामा का इतना कहना हुआ कि तभी उस जगह पर कोई बुड्ढा सा आदमी अचानक अन्दर आ गया. इससे कहानी को पढ़ने में मज़ा भी आयेगा और चूत में गर्मी चढ़ेगी और लंड भी मस्त होकर खड़ा होगा. मैंने उसी वक्त उसकी दोनों जांघों को पकड़ कर एक जोर का झटका मोनिका की चूत मैं दे मारा, जिससे पूरा लंड मोनिका की चुत में जड़ तक घुस गया था.

फिर मैंने कहा- आज रात को मुझको अपनी छत पर मिलने बुलाओ, तब समझाता हूं.

एक लड़का बोला- साली आराम से करवा ले … वरना दो लौड़े तो गांड में डालेंगे और दो ही चुत में पेल देंगे. वंश ने अपने होंठों को फैला कर मेरी चूत पर एक तरह से ढक्कन सा लगा लिया था और वो मेरी चूत से टपकने वाले मेरे चूतरस का एक कतरा भी खराब नहीं जाने देना चाहता था.

अब मैंने उसकी जीन्स घुटनों तक उतार कर उसकी चूत के होंठों पर अपने लबों को रख दिया. तभी मामी जी ने मेरी ओर करवट ली और उनके बड़े बड़े स्तन मेरे हाथों से टकराने लगे. कुछ देर ऐसा करने के बाद मैंने एक हाथ उनकी चूत पर रख दिया … वह मचल उठी.

आशीष- वैसे तो जब तू मटक कर चलती है, तो तेरी निकली हुई गांड बहुत हिलती है. उस वक्त मैं पढ़ा करता था पर मैं हस्तमैथुन और सेक्स करने की विधि जानता था. मैं बोला- भैया टुन्न हो कर सो गए हैं और मैंने छत का दरवाजा भी बंद कर दिया है.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई मैं- तू कुछ नहीं समझ पा रही है, अब देख करके बताता हूँ सुहागरात में तेरा पति क्या क्या करेगा औऱ तुझे क्या करना है. अगले दिन बताये समय के अनुसार में उसी जगह पहुँच गया। वो मुझे लेने के लिए आई.

साउथ इंडियन हीरोइन सेक्सी वीडियो

उसकी हाहाकारी ठोकरों से कुछ ही मिनट में मेरी गांड का दर्द थोड़ा कम हो गया और मुझे भी मज़ा आने लगा. मामी भानजा की यह चुदाई बीस मिनट तक चलती रही होगी।फिर उसके दस मिनट के बाद मैंने उनसे कहा- मामी जी, मैं भी झड़ने वाला हूं. मैं शादी के बाद 24 घंटे बस तेरी टांगों की नीचे लेटा तेरी चुत को चाटता रहूंगा.

मैं उसके चूचों को पूरा ज़ोर लगाकर दबा रहा था जिससे उसके जवान चूचे जल्दी ही तनकर टाइट हो गए थे और उसके मुंह से कामुक आवाज़ें निकलने लगी थीं. दोस्तो, मैं आपकी अपनी अर्चना मैडम। उम्र 40, कद पाँच फीट 3 इंच, रंग गोरा, सीना 40 कमर 38 और हिप 42. हिंदी सेक्सी भाभी वीडियोमामी जी- राहुल, आपकी चुदाई और आपका लंड तो इतना मस्त शानदार है कि जी चाहता है कि आप मुझे चोदते जाओ और मैं आपसे चुदवाती रहूँ.

लाइट जल रही थी, पूरी नंगी भाभी को देख कर मुझमें उत्तेजना भी बहुत आ रही थी, पर जब बिना कुछ किए ही मज़ा आ रहा था तो मैं क्यों कुछ करता.

उसकी बात मेरी समझ में नहीं आई तो मैंने कहा- आपको क्या काम है और क्या चाहिये?वो मेरी बात सुनकर हँसने लगी और बोली- आज तुम अकेली ही सो जाओगी क्या?मैं- नहीं, मेरे साथ बच्चे भी सो रहे हैं. वहां जाने के बाद उन्होंने बताया कि मुझे पता था कि ये होगा, इसलिए जब तुम आए तो मैं बादाम का दूध बना रही थी.

दोनों के जिस्म नंगे थे और दोनों के अंदर ही सेक्स की आग की गर्मी अलग से दिखाई दे रही थी. जवानी में क़दम रखता हुआ एक लड़का, जिसने सिर्फ चूत का नाम ही सुना हो, जिसके यार दोस्तों ने भी कभी चूत के दर्शन न किये हों, उसके हाथ अगर चूत के जूस से तरबतर हो जाएँ तो उसका क्या हाल हुआ होगा. फिर उसने रूपा की ओर देखते हुए कहा- रूपा जरा तब तक छोटी बहू को अपने खेत खलिहान घुमाने ले जाओ और हां, इनकी अच्छे से देख भाल करियो, हमारे यहां पहली बार आई हैं, खातिर में कोई कमी ना रहे.

नवीन का लंड झटके देने लगा था और उसने मेरी पैंट में पीछे से हाथ डालकर मेरे चूतड़ों को दबाना और मसलना शुरू कर दिया था.

उसकी हालत देख कर मुझे डर लगने लगा था, उसकी आंखें बाहर आने को हो गयी थीं, वो जोर जोर से हांफ रही थी और तेज तेज सांस ले रही थी. वो बिना हिचकिचाए अपनी हवस भरी निगाहों से मुझे ताकता हुआ बोला- इसमें क्या हुआ? तुम्हे तो पसंद है. मुझे पता चल चुका था कि चुदाई से पहले लड़की को कैसे ज्यादा गर्म किया जाता है और उसको कैसे ज्यादा मजा दिया जाता है.

एक्सएक्सएक्स सनी लियोनमेरा लंड सारा आपा की हायमन से टकरा रहा था और जब लंड ने उसे भेदकर आगे बढ़ना चाहा तो सारा चिल्लाने लगी कि दर्द के मारे मैं मर जाऊँगी. भाभी ने कमरे में आकर प्यार से आवाज लगाई- अमित … उठ जा!उन्होंने मेरे बालों में हाथ फेरा.

हिंदी पिक्चर फिल्म नमक हलाल

मगर कुछ ही पल के बाद मुझे बगल वाले कमरे के दरवाजे के खुलने की आवाज सुनाई दे गई. कोमल की इस बेताबी की कई वजह थी, जैसे मैं उसको पसंद करता था, उसी तरह वह भी मुझे पसंद करती थी. उसने मेरी जीन्स को खींचकर निकाल दिया, साथ ही मैंने अपने अंडरवीयर को उतार दिया.

मीरा- हां जाओ, लेकिन एक बात ध्यान से सुनो, जहां मैं तुम्हारे काम की बात करूँगी, वहां पर मेरी नाक नहीं कटनी चाहिए. अपने माल का तो खैर जो स्वाद था वो था ही लेकिन मुझे तो मैडम की उंगली के स्वाद ने पागल कर दिया था. मैंने दो सिप लेकर उससे सिगरेट जलाने का कहा, तो उसने गोल्ड फ्लेक सिगरेट सुलगा ली.

भाभी भी बोलीं- ठीक है मम्मी … मैं अभी यहीं आदी के साथ बैठी हूं, फिर चली जाऊंगी. आपको मेरी कहानी कैसी लगी? अपने प्रतिभाव आप मुझे इस ई-मेल पर भेज सकते हैं. तू मौका मिलने पर यह सब अभी किया कर … लड़कों या मर्दों को ये सब करने का मौका दिया कर … तभी तुझे असली मजा मिलेगा.

तब उसने मेरा हाथ पकड़ा और कहा- चिंता मत करो, तुम्हें आज मैं और तुम्हारे अंकल तुम्हें जन्नत की सैर करवा देंगे. मुझे बार-बार रज़िया भाभी के पास जाने का मन करने लगा, पर मैं गया नहीं.

मैंने दरवाजा खोला तो देखा, अपने इंस्टिट्यूट की यूनिफॉर्म में सोनू दरवाजे पर खड़ी थी.

भाभी बोली- आराम से करना राहुल, मैंने एक महीने से सेक्स नहीं किया है. बंगाली बीपी वीडियोमैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए, जिससे वो ऊपर खिसक न सके और दूसरा जबरदस्त धक्का देकर पूरा लंड चूत में उतार दिया. ब्लू पिक्चर चुदाई वालामैंने अपने लंड को भाभी के मुंह में डाल दिया जिसे भाभी ने पूरा मुंह खोलकर अंदर लिया और कुछ देर तक चूसती रही. मैंने भी अपने लंड का टोपा उनकी गांड के छेद पर रखा और धीरे धीरे अन्दर ज़ोर लगाने लगा.

अब वो भी मेरी बातें सुन सुन कर अपने चाचा से चुदने के बारे में सोचने लगी.

मैं लगातार पर धीमे धीमे हल्के हाथ से अपनी बिटिया की चूत की दरार सहला रहा था. कुछ देर बाद भैया उठे और बोले- मैं बाहर जा कर अमित के साथ दारू पीता हूँ … तू थोड़ी बहुत देर आराम कर ले. उनके 34 इंच के तने हुए चुचे देखने में ऐसे लगते थे कि मानो दोनों ने तोतापरी आम लगा रखे हों.

पर मैं आज उसको बहुत खुश करना चाहता था ताकि वो मेरी परमानेंट ग्राहक बन जाए. अब इंदु भाभी को भी पूरा मजा आ रहा था, वो भी फिर से गर्म हो गयी थी और मेरा साथ देने लगी. मेरी सेक्स कहानी के पहले भागपड़ोस की भाभी की गर्म चूत में मेरा लंड-1में आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने पड़ोस की एक भाभी को पहले कपड़े बदलते अधनंगी देखा, फिर उसे किसी गैर मर्द से चुदाई करवाते देखा.

कपड़े लड़कियों के

मैं- पर आप तो शादीशुदा हैं … फिर आप कुंवारी कैसे?इस वक़्त मुझे समझ में नहीं आ रहा था कि मैं खुश होऊं कि आज फिर से एक और कुंवारी बुर चोदने को मिल रही है या दुखी होऊं कि अभी थोड़ी देर पहले जो कुछ करने को सोचा था, अब वो नहीं कर पाऊंगा, अब मुझे जो कुछ भी करना है, संभल कर करना पड़ेगा. मैं तैयार हुआ, स्कूटर बाहर निकाला और हेमा भाभी को पीछे बैठाकर मार्केट की ओर निकल गया। बाहर जाते हुए लता भाभी ने हमें देख लिया था और उनके चेहरे से लगा कि वह जलकर खाक हो गई थी. बॉलीवुड की हिरोइन के लाखों दीवाने लंड उनकी चूचियों की दरार, उनकी गोल-गोल गांड और उनकी मखमली चूत के बारे में सोचकर मुट्ठ मारते रहते होंगे.

सोनू मेरे लंड को अपने नाजुक हाथों की उंगलियों से आगे पीछे करती रही और मेरी नजरों में देखती रही.

मगर सर … आधा टाइम पहले ही निकल चुका है पेपर का!” मैंने डरते डरते कहा।आज के पेपर को तो भूल ही जाओ.

राजे, तुम मुझे किस करोगे … कभी किया किसी लड़की को किस?”नहीं मैडम कभी किसी को किस नहीं किया. वो मेरे लोड़े को पूरे लंड अपने मुंह में ले जाती और जोर जोर से चूसती और मेरे लंड पे दांत भी काट लेती. सुहागरात का विडियोअब मैं भी उस घर में कभी नहीं जाऊंगा, अगर उस गांव आया भी तो सिर्फ अपनी बंध्या डार्लिंग से मिलने आऊंगा.

वो भूखी शेरनी की तरह मेरी गर्दन, गालों, लिप्स पर किस किये जा रही थीं. भाभी भी बोलीं- ठीक है मम्मी … मैं अभी यहीं आदी के साथ बैठी हूं, फिर चली जाऊंगी. मैं कुछ देर इंतज़ार करने के बाद अंदर चला गया और मैंने अंदर जाकर आवाज़ लगाई कि मैडम मैं आ गया हूँ।जो लड़की अंदर से बाहर निकलकर आई उसको देखकर मैं हैरान था.

और वो धीरे धीरे लंड के ऊपर नीचे होकर चुदने लगी और आह आहहह उहहह उहह उफ उफफ करने लगी. मैंने उनसे कहा- कल मुझे यूनिवर्सिटी जाना होगा, यदि आपको ऐतराज़ न हो तो मैं आज से ही आ जाता हूँ.

वहां तीन कमरे थे, जिस कमरे में पलंग रखा था उस कमरे में आशीष मुझे ले गया.

फिर हम दोनों एक दूसरे को चाट कर अच्छे से साफ़ किया और उठ कर एक दूसरे से चिपक कर मजा लेने लगे. उसके बाद मैंने भाभी के गले और छाती पर पर खूब किस किया। ब्लाउज के ऊपर से ही उनके स्तनों को जोर जोर से दबाया।अब तो भाभी ने भी अपने दोनों हाथों को मेरे दोनों हाथों पर कर अपने सेक्सी बूब्स को दबाने चालू कर दिया था। हम दोनों काफी देर तक यह खेल खेलते रहे. मामी मेरे ऊपर थीं, मैं मामी की चूत चाट रहा था और वो मेरे लंड को चूस रही थीं.

चोदा चोदी एक्स एक्स ”तो खेल खेलें?”मुझे सब मंजूर है … पर पैसे मिलेंगे न?”वो तो तुम पहले ले लो. मामी जी- राहुल, आपकी चुदाई और आपका लंड तो इतना मस्त शानदार है कि जी चाहता है कि आप मुझे चोदते जाओ और मैं आपसे चुदवाती रहूँ.

ऐसे ही एक बार वो मौका मुझे मिला, भाभी को चोदने का, उनका चूत-रस पीने का। एक बार किसी कारण मेरे पैरंट्स को नानी के यहाँ जाना था। एग्जाम होने के कारण मैं नहीं गया. ऐसे ही नजरों के खेल में देखते ही देखते मेरा लंड खड़ा हो गया था। मेरा मन कर रहा था कि अभी उठ कर जाऊं और उसकी चूचियों को दबा दूं।तभी उसने मुझे मेरी हरकत के साथ पकड़ लिया कि मैं उसकी चूचियों को देख रहा हूँ. कभी कभी मेरे सगे मामा ट्रेक्टर में आलू या प्याज़ के बोरे चढ़वाने में मदद के लिए उन्हें बुला लेते और जब रवि मामा बोरों को उठाते, तो उनका जिस्म और भी कस जाता और उनकी छाती और बाजुओं के उभार और भी गहरे हो जाते.

maidamjob कॉम

माँ बाप को तो पैसे कमाने से ही फुर्सत नहीं थी, तो सरिता आवारा सी हो गयी. एक दिन वह मुझसे अपने बॉयफ्रेंड की बात करने लगी और उसने मुझे किस करने के लिए अपना चेहरा आगे कर दिया. उसने राकेश के साथ दो तीन बार चुदाई भी की थी, यह भी उसने मुझे बताया था और वह भी पूरे डिटेल में बताया हुआ था.

लुट गयी उनकी आबरू!विपिन जी ने स्वाभाविक प्रश्न पूछते हुए कहा- मामी आपको कैसे पता चला?मामी- हम औरतें ईश्वर की बहुत ही रहस्यमयी रचना हैं. अभी तो इसकी सफाई ताजी ताजी हुई है, बोलो क्या करना है?उसने कहा- मैं 2 बजे एक मस्त लंड को बुला कर तुम्हारी चुदवाई करवा दूँगी.

अब मैं उनकी मेहनती मज़बूत छाती पर अपनी नाक रगड़ने लगा और लम्बी गहरी सांस लेते हुए सूंघने लगा.

मैंने उसके सारे कपड़े उतारकर उसे बिल्कुल नंगी कर दिया था और खुद भी अंडरवियर में आ गया. मैंने हल्की सी आवाज में ‘आई लव यू गुलाबो’ कहा और बोला- आपको मालूम नहीं है कि मेरी क्या हालत है. लगभग 5 मिनट बाद उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया और मैं उसकी चुत का पूरा पानी पी गया.

मामा के लंड की सवारी करते हुए वह मामा के निप्पलों को होंठों में लेकर चूसने लगी. भाभी भी मुझसे खुल गई और खुद अपने आप अपने बारे में बताने लगी कि किस किस ने उन पर ट्राइ मारी है. उसकी इस बात पर मुझे थोड़ा सा गुस्सा आ गया तो मैंने भी कह दिया- मुझे भी नहीं पता था कि आप ऐसे काम के लिए बाहर से लड़कों को बुलाती हो.

अब मैंने भाभी से बोला- बहुत हो गई भागा भागी … अब आप तैयार हो जाओ मुझसे रंगने और चुदने के लिए.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ चुदाई: मैं उसके गोल सुडौल मम्मे चूसने दबाने लगा, तो वो खुद ब खुद मेरे लंड पर ऊपर नीचे होने लगी. वो … मैं … कह रही थी कि उसका भी पेपर खराब हुआ है … अगर आप …” मैं बीच में ही रुक गयी, ये सोच कर कि समझ तो गये ही होंगे।चल ठीक है.

मोनिका अपने वायदे के अनुसार घर वापस आ गई, पर उसने मुझको कॉल नहीं किया. उसका टॉप इतना झीना था कि उसके मम्मे ही नहीं, उसके नुकीले निप्पल्स भी दिख रहे थे. लो! इसको पकड़ कर आगे-पीछे करो!”हाथ में लेने पर उसका लंड मुझे सुन्दर जितना ही लंबा और मोटा लगा.

मैंने लंड खींचने की कोशिश की, उनको इशारा भी किया, पर उन्होंने लंड को नहीं छोड़ा.

मैंने अंकल को कस कर पकड़ लिया, मुझे मेरी टांगों के बीच गीलापन महसूस होने लगा था. अंकल- करेक्ट, मुझे किसी जवान लड़की को किस करने के बाद मन में उठते हुए फीलिंग्स के बारे में आर्टिकल लिखना है. 5-7 धक्कों में वो झड़ने लगी और मेरी पीठ पर नाख़ून गड़ा दिए और वो झड़ गयी.