बीएफ फुल एचडी फुल

छवि स्रोत,તમિલ સેક્સ

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी गांव वाली: बीएफ फुल एचडी फुल, फिर मैंने इंटरनेट पर देखा और पता चला कि कैसे मैं साक्षी की मदद कर सकता हूं.

এক্স এক্স এক্স এক্স ভিডিও

मैंने लगातार किस करना शुरू कर दिया और अपनी जीभ से उसकी गर्दन को चाटने लगा. नंगा पिक्चर भेजोउनके घर जाकर मैं तो एक रूम में बैठ गया मगर भाभी के घर वाले मेरे भतीजे के साथ खेल रहे थे.

मैं झट से उसके ऊपर चढ़ गया और उसके पेटीकोट का नाड़ा ढीला करके उसे अपने टांगों की मदद से बाहर का रास्ता दिखा दिया. लड़की चूत दिखाओये सुनकर उसके चेहरे पर एक कातिल मुस्कान आ गयी और उसने फिर से मुझे ऊपर खींच लिया.

फिर उसने मेरी सलवार में हाथ दे दिया और मेरी चड्डी के अंदर हाथ देते हुए मेरी चूत को छू लिया.बीएफ फुल एचडी फुल: वहां पर बहुत सारी औरतें और लड़कियां थीं जो भाभी के साथ बैठी हुई हंसी मजाक कर रही थी.

सभी औरतें वहां से भाभी को लेकर पूजा करने के लिए चली गईं।अब कमरे में मैं और हिमानी ही बचे थे.वो घाघरा फाड़ने लगा, तो चंपा रोक कर बोली- ठाकुर साब एक मिनट रुक जाइए.

मुसलमानों की चुदाई - बीएफ फुल एचडी फुल

Xxx हिंदी स्टोरी के पिछले भागइंस्टीट्यूट में बांके जवान लड़के का लंड चूसामें आपने पढ़ा कि मैं और रानी रोज या जब भी मौक़ा मिले, बारी बारी साहिल से चुदवा रही थी।अब आगे की Xxx हिंदी स्टोरी:एक दिन मौसम बहुत खराब था, सुबह से ही बहुत तेज़ बारिश हो रही थी।मेरा घर तो बगल में ही था तो मैं छतरी ले कर चली गयी स्कूल में!बहुत ही कम स्टाफ आया था.अब तो गाहे बगाहे माला मैडम मुझे दिल्ली बुलाती रहती हैं और मुझे काफी कीमती तोहफे भी देती हैं.

फिर थोड़ा और वीर्य लेकर हेमा चाची की गोरी और मोटी कड़क चूचियों वाली छाती पर मला. बीएफ फुल एचडी फुल मैंने उसकी नंगी चूत को सहलाना शुरू कर दिया।थोड़ी देर बाद उसने मेरे लौड़े को मुंह में लेकर चुसना शुरू कर दिया.

मामी मेरे लंड को तेज़ तेज़ गपागप चूसने लगी।अब मैंने कंडोम निकाला और मामी को दिया.

बीएफ फुल एचडी फुल?

सोहेल के जाने के बीस दिन बाद उसकी अम्मी का फोन आया कि उनको कुछ सामान की जरूरत है. मैंने दीवार के साथ गांड लगा ली और आंखें बंद करके मुठ मारने का मजा लेने लगा. वो कहने लगी- यार अंशुल … मजा नहीं आ रहा है, तुम भी नीचे झटके मारो न.

वो बोली- मगर मैं उससे प्यार करती थी, मुझे नहीं पता था कि वो मेरे साथ ऐसा करेगा. मैंने झट से अपने टीशर्ट और लोअर को उतार फेंका और मैं भी अंडरवियर में आ गया. हेमा चाची की मोटी चूचियों और गांड के अक्श को देख मेरा लंड जैसे तना जा रहा था, जिसे पजामे से साफ देखा जा सकता था.

इतना बोलकर मैंने दीदी को नीचे अपने घुटनों में झुका लिया और वो दबाव देने पर बैठ गयीं. उसका लंड मेरे मुंह में था और उधर से उसके लंड से भी वीर्य की धार मेरे मुंह में आ गिरी. मंजू के हाथ बरबस ठाकुर की पीठ पर आ गए और वो हांफते हुए उसे सहलाने लगी.

फिर मैंने हाथों को चूचियों से हटा लिया और मुंह में लेकर बारी बारी से एक एक चूची को पीने लगा. उसकी चूत गुलाबी रंग के जैसी थी, शायद वो उंगली करती हो या पहले चुदाई कर चुकी होगी क्योंकि चूत के दोनों होंठ अलग दिख रहे थे।उसकी उम्र भी 23 की थी तो चूत फैलने भी लगती है इस उम्र तक।मैंने उसकी टांग उठाकर फिर से कंधों पर रखी और उसकी चूत को चाटने लगा.

मैं दीपा भाभी की जवानी को याद करते हुए लंड हिलाने लगा और मुठ मार कर सो गया.

दीदी उठ गयी और उन्होंने मेरा हाथ हटाकर नीचे मेरे पैर की तरफ रखवा दिया और फिर करवट बदल कर सो गयी.

मैंने उन्हें फिर से अपनी बांहों में खींचा और उनकी साड़ी की पिन निकाल कर उनका पल्लू नीचे गिरा दिया. ’ करने लगी और बोलने लगी- आह अज्जू अब रहा नहीं जा रहा है … फाड़ दो मेरी चुत को … आह घुसा दो अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चुत में पेल दो. जब वो प्रमोद की बीवी बनकर आ गयी तो भानू की नजर भी अपने बेटे की बीवी पर रहने लगी.

तभी साहिल उनके पास गया और उनको चुप कराने लगा।अब मुझे भी बुरा लग रहा था कि मैंने कुछ बिना सोचे समझे इतना कुछ बोल दिया. अब जब भी हमें मौका मिलता है, हम साथ में टाइम व्यतीत करते हैं और मैं गर्लफ्रेंड की चुदाई करता हूँ. जैसे स्वादिष्ट व्यंजन देखकर हमें उसे खाने की इच्छा होती है उसी तरह जब हम किसी सुन्दर स्त्री को देखते हैं तो उसे भोगने का मन करता है।यह इन्सान के शरीर की एक स्वाभाविक प्रक्रिया है।जब हमारे शरीर में वासना पूरे चरम पर हो तो उसमें फिर रिश्ते भी दिखाई नहीं देते हैं.

मगर अब उसे सुगर की बीमारी हो गई है, तो उसका लंड खड़ा ही नहीं होता है.

किसी ने इसको भी पिला दिया तो? और रात में पुलिस भी बहुत सक्रिय रहती है ऐसे लड़कों के लिए।अब साहिल के मम्मी के दिमाग में एक शक बैठ गया. मेरा लंड फूलकर एकदम सख्त हो गया था, जो हेमा चाची की जांघ के नीचे था. वो मेरे लंड को पकड़ कर हिलाने लगी जिसके बाद हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए.

उस दिन छत पर हेमा चाची के साथ चिपककर झड़ने का खुमार मेरे दिमाग से अब तक नहीं उतरा था. मुझे जब भी मौका मिलता, तो मैं उसे किस कर लेता, उसके दूध दबा देता, वो भी मेरे गले से लग जाती. दीदी उसको अंदर लेकर जाने लगी और पीछे से उसकी गांड उसकी पजामी में मटकती हुई दिखाई दे रही थी.

वे रात को मेरे घर कैसे आए?लेखक की पिछली कहानी:ससुर जी का लंड लिया प्यासी चूत मेंदोस्तो, मेरा नाम प्रिया है.

ऐसे ही होते होते मैं काफी गर्म हो जाता था और उसको प्यार और सेक्स भरे मैसेज करने लग जाता था. आखिर मैंने मन बना लिया और दूसरे दिन मैं खुशबू से मिल कर बोली- मैं तैयार हूँ.

बीएफ फुल एचडी फुल मेरी इस हरकत से वो थोड़ा सकपका गया लेकिन वो भी कमज़ोर खिलाड़ी नहीं था. मैंने बोला- मेरा लौड़ा आज रूम का किराया दे रहा है।वो बोली- बिहारी भोसड़ी वाले … जल्दी से निकाल दे.

बीएफ फुल एचडी फुल साथियो, अलीमा की कुंवारी चुत की सील टूट चुकी है, अब इसकी मदमस्त Xxx चूत की कहानी का मजा आपको अगले भाग में जारी मिलेगा. पहली बार मैं किसी लड़के से चूत चटवाने का मजा ले रही थी मैं क्योंकि मेरे पहले बॉयफ्रेंड ने कभी मेरी चूत नहीं चाटी थी.

फिर सेठ ने मुझसे उस औरत का पता दिया और कहा कि तुम इस पते पर जाकर उनका काम कर आना.

हिंदी सेक्सी बीएफ सेक्सी

अब विजय मेरी जांघों पर अपने हाथ फिराने लगा और अपना मुँह मेरे कानों के पास लाकर बोला- मेरी जान, तू तो बड़ी ही कड़क माल है. वो लंड को चूसने लगी और फिर मैं उसके मुंह में लंड को आगे पीछे करने लगा. अकेली भाभी की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मेरा दोस्त विदेश गया तो उसकी बीवी अकेली रह गयी.

मैं देख रहा था कि भाभी की नजरें मेरे फूले हुए लौड़े पर ही बार बार जा रही थी. मैंने पूछा- और क्या मन कर रहा है?सुरभि कहने लगी- और आपको किस करने का मन कर रहा है. मेरी ये सेक्स कहानी इसी IIT NEET अकादमी की एक गर्ल सुलेखा की चुदाई की कहानी है.

अपनी आंखें बंद करो और सोचो कि मैं तुम्हारी चूत में उंगली से सहला रहा हूं.

उन्होंने मेरे चूतड़ों पर अपने गर्म होंठों से चूमा तो मेरे लंड में सरसरी दौड़ गयी. उनकी गोरी गोरी चूचियां चूसने में मुझे ऐसा मजा आ रहा था कि शब्दों में मैं लिख ही नहीं सकता. [emailprotected]देसी पेटीकोट सेक्स कहानी का अगला भाग:ममेरी भाभी की शानदार गांड मारी- 4.

दीदी बोली- एक दिन में ही थक गया बेटा, रोज कैसे करेगा?मैं बोला- दीदी अब क्या करूं? आप इतना तेज करने को बोलती हो कि मैं थक जाता हूं. अपनी बहन के भरे हुए चुचे देखे मैंने तो मेरा 7 इंच का लंड उठकर टाइट हो गया. जब उन्होंने मुझे ये बताया तो उस वक्त मैंने झूठा नाटक करके ये दिखाया कि मुझे बहुत बुरा लगा कि वो अकेले ही जा रहे हैं.

मैंने उनके चेहरे को ऊपर उठाते हुए कहा- मैं ये सब करना तो नहीं चाहता था. इससे पहले मुझे इतना पता था कि दो मर्द मिलते हैं दोनों एक दूसरे को चोदते हैं.

रूबी का पति बाहर फंस गया था … क्योंकि वहां से वापस आने का किसी के पास कोई साधन उपलब्ध नहीं था. जब मेरी आंख खुली, तो पास में राहुल बैठा हुआ था और मुझे चुदते हुए देख रहा था. दो मिनट की सकिंग से लंड एकदम टाइट हो गया और सुमन ने अपने थूक से उसे अच्छी तरह गीला कर दिया था.

हेमा आंटी की सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया आप मुझे मेल करना न भूलें.

हालांकि राहुल ने मेरे साथ धोखा ही किया था कि उसने अपने दोस्त को भी बुला लिया मगर मुझे तो बस लंड से मतलब था. मेरा मुँह उसी पल हेमा चाची की चूचियों के निप्पलों को चूसने में व्यस्त हो गया था और अब मेरा हाथ हेमा चाची की सेक्सी गांड पर जम गया था. जब उसकी चूत झड़ने वाली थी तो वो पूरा लन्ड चूत में लेकर मेरे ऊपर लेट गई।उसकी चूत के होंठ मेरे लन्ड पर कभी कसने और कभी ढीले होने लगे।मुझे बहुत अच्छा फील हो रहा था।लगभग 2 से तीन मिनट तक उसने इस अनुभव को महसूस किया.

फिर मैंने तेजी से उसे चोदना शुरू कर दिया क्योंकि मैं भी अपने स्खलन की ओर बढ़ रहा था. तैराकी और साइकिलिंग के अलावा जिम करने का शौक जिस वजह से मैं काफी तगड़ी बॉडी का मालिक हूँ.

एक लंड मुँह में आगे पीछे हो रहा रहा और एक एक लंड मेरे दोनों हाथों में आगे पीछे हो रहा था. अगर मैं उसकी तारीफ़ करूं, उसकी तारीफ करने के लिए मेरे पास शब्द भी कम पड़ जाएंगे. मामी ने टिफिन पैक कर दिया।फिर मैंने मामी को जमकर किस किया और स्कूल आ गया।हम दोनों रात को रोज चुदाई करने लगे। संडे के दिन हमने दिन में चुदाई की और फिर मैंने बिना कंडोम के चोदा वो मै अगली कहानी में बताऊंगा।दोस्तो, आपको मेरी कहानी पसंद आई या नहीं? कमेन्ट जरूर करें।[emailprotected].

14 साल की बीएफ सेक्सी

मैंने झट से अपने टीशर्ट और लोअर को उतार फेंका और मैं भी अंडरवियर में आ गया.

वैसे हम दोनों आपस में एक दूसरे के साथ इतने अधिक खुले हुए हैं कि हम दोनों मामा के घर में ही 2 बार पूरा खुल कर सेक्स भी कर चुके हैं. मैं उसके मुँह से चड्डी हटा कर उसे फिर से किस करने लगा और उसके मम्मों को दबाने लगा. अब सुमन उठ कर बैठ गयी और मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर हाथ आगे पीछे चलाने लगी.

मैंने झट से अपनी टी-शर्ट उतार दी और चित पड़ी हेमा चाची की मोटी और गोल गोल चूचियों से अपनी छाती मिलाकर उनके ऊपर चढ़ गया. मैंने पूछा- चाची, क्या लड़कियां भी ब्लू फिल्में देखती हैं?हेमा चाची ने कहा- हां क्यों नहीं. पति पत्नी सेक्स करते हुएमेरा लंड बरमूडा में ही टाइट हो गया और मैं ऐसे ही अपने लंड को उसकी सलवार के उपर से रगड़ने लगा.

20 मिनट चुदने के बाद उसने हार मान ली और वो लंड को चूत से निकाल कर लेट गयी. पिछली स्टोरी में मैंने आपको बताया था कि उसकी एक और बहन, जिसका नाम कविता है, मुझे बहुत पसंद थी लेकिन मैं उससे कभी बात करने की हिम्मत नहीं जुटा पाया.

मैंने कहा- दिखाओ?उसने अपनी चूत को अपनी उंगलियों से फैलाकर फोटो खींच दी और मुझे भेजी. मेरी भाभी माया और मेरे भैया पहले से एक दूसरे से प्यार करते थे और फिर घरवालों की रज़ामंदी से उन दोनों की शादी करवा दी गयी. लेकिन मैं बिल्कुल भी दुखी नहीं थी और उसके बड़े-बड़े निप्पल मेरी पीठ पर टच हो रहे थे उसका मजा ले रहा था।फिर वाशी बोली- बिना काम किए जा रहा है?और उसने मुझे अपनी ओर घुमाया और अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए.

फिर मैंने उस चड्डी को अपने पजामे की जेब में छिपा लिया और मुँह हाथ धोकर कमरे में हेमा चाची के पास चला गया. बस में अँधेरा था तो किसी को कुछ नहीं दिखने वाला था और वैसे भी रात काफी हो गयी थी तो सब सो चुके थे. आगे से मैं लंड को चूसने लगा और पीछे से वो मेरी गांड के छेद पर जीभ चलाने लगे.

’ की आवाज निकल रही थी।थोड़ी देर तक उसकी चूत चाटने के बाद मैं उठ कर बैठ गया और उसे भी उठा कर बैठा दिया.

तभी चाची ने वीर्य की शीशी उठाई और मुझे लेकर अपने बाथरूम में चली गईं. फिर मैंने अपने लण्ड पर थूक लगा कर उसकी गांड में लंड को अंदर कर दिया।वो सिसकारने लगी और कहने लगी- चोदो मुझे प्लीज़ … फक मी … आह्ह … फक मी … जोर से।ऐसे कहते हुए वो अपनी गांड आगे पीछे करने लगी।मैं झटकों के साथ साथ उसके कूल्हों पर हल्के थप्पड़ मार रहा था।थोड़ी देर में मेरा भी होने ही वाला था.

कभी मैं अपनी जीभ प्रीति के मुँह में डालता, तो कभी प्रीति अपनी जीभ मेरे मुँह में डालती. प्रेमा के अच्छे बर्ताव के कारण ही शालू अब तक इस घर में टिकी हुई थी. मेरी उम्र अभी चालीस साल की है और मैं काफी हट्टा-कट्टा एक माशूक किस्म का मर्द हूँ.

मैंने भी अपने सारे कपड़े निकल दिये।मैंने मैडम को पकड़ा और बेड पर गिरा दिया।मैं मैडम के ऊपर लेट गया. मैंने लंड सहलाते हुए मैडम की पसरी हुई चुत की फांकों में लंड का सुपारा घिसना चालू कर दिया. उसके बाद मुझसे वो कपड़ों की थैली ली और उसको सोनू के दिये हुए कपड़े पहनाने लगे.

बीएफ फुल एचडी फुल फिर कल्पना पूछने लगी- तो तुम साक्षी को कब चोदोगे?मैंने पूछा- पहले मुझे ये बताओ कि साक्षी के पीरियड्स कब से हैं?साक्षी ने फिर खुद ही बताया- 3 दिन पहले ही मुझे मासिक धर्म ख़त्म हुआ है. उसके मुँह से निकल गया- हाय दय्या ये अन्दर ना जा पाएगा … मैं तो मर ही जाऊंगी.

सेक्स वीडियो सुहागरात वाला

मुझे बहुत अच्छी नींद आई क्योंकि चुदाई करने के बाद आपका स्ट्रेस दूर हो जाता है और फिर मस्त वाली नींद आती है. लंड से मुंह को चोदते हुए उसने अपने लंड का सफेद गाढ़ा माल उसके मुंह में ही गिरा दिया. क्योंकि मुझे शाम तक लखनऊ वापस आना था।फिर शाम को जब मैं वापस आने वाला था कि तभी उस फ़ोन की घंटी बजी.

कुछ देर की चूमाचाटी के बाद मैं वहीं सोफे पर बैठ गया और मामी ने झट से फर्श पर बैठ कर मेरे पैंट की बेल्ट, हुक और चैन खोल दी. फिर जब वो दोनों चरम सीमा पर पहुंचने को हुए तो अलीमा बोली- अंकल, मुझे कुछ हो रहा है … प्लीज़ आप और जल्दी जल्दी से अन्दर बाहर करो. हरियाणवी एक्स वीडियोमैं दीपा भाभी की जवानी को याद करते हुए लंड हिलाने लगा और मुठ मार कर सो गया.

उस वक़्त भी मेरी नजर फ़रज़ाना दीदी पर ही थी और उसने भी ये देख लिया।फिर हम चाय पीने लगे.

प्रतीक दी की चूत के मजे ले रहा था।थोड़ी देर यूं ही चलता रहा। फिर दी प्रतीक के ऊपर आकर चुदने लगी।मेरा भी मन दी को चुसवाने की जगह चोदने का हुआ।मैंने कहा- दी एक साथ करें? मजा आएगा. मैंने अपनी जांघों तक मेहंदी लगवाई और मैंने अपने उन अंगों को भी मेहंदी से रचवाया, जो किसी भी मर्द को चुदाई के लिए एकदम कामुक कर सकते थे.

थोड़ा सा पानी मेरे मुँह से बाहर निकलकर मेरी ठोड़ी से गुजरकर गले से होता हुआ मेरी छाती पर रिसने लगा. अब मैंने उसकी चूत की फांकों को हाथ से हटाया तो उसकी चूत में बहुत पानी भरा हुआ था. लगभग बीस मिनट के इस कार्यक्रम के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत पर लगा दिया.

वो बोली- कहो, क्या करना है?भाभी से मैंने कहा- आपको अपने कपड़े थोड़े और उतारने होंगे ताकि मैं बॉडी के बाकी हिस्सों की भी मालिश कर सकूं.

अमित को कहीं बाहर जाना था, इसलिए वो चला गया और बोल कर गया कि देर रात में वापस आएगा. ये बात भाभी को भी समझ आ रही थी और वो भी लंड को फील करते हुए कसमसा रही थीं. जो पुरूष मित्र ट्रेन से यात्रा करते हैं उनको पता होगी कि मैं क्या कह रहा हूं.

देसी जंगल में मंगलयोगिता से अब रुका न गया और उसने खुद ही मेरी पैंट की चेन खोलकर मेरे लंड को मुंह में ले लिया. वो मेरे सामने नशीली आंखों से यूं देख रही थी जैसे वो इस बात कर इंतजार कर रही हो कि मैं कब उसके जामुनों का रस चूसना शुरू करूंगा.

बीएफ पिक्चर सेक्सी चलने वाली

फिर मैं भी कपड़े उतारने लगा मगर पैंट उतारने में मुझे शर्म महसूस हो रही थी. मैं पहली बार किसी औरत से अपना लंड चुसवाने जा रहा था और जब वो औरत हेमा चाची जैसी अप्सरा और बला की खूबसूरत हो, तो क्या कहने. मैंने- फिर?वो- फिर वो मेरे लंड को चूस कर उसे साफ़ कर देता है और दुबारा से लंड चूस कर खड़ा कर देता है.

वो मस्त होकर सिसकारियां लेने लगी- आह्ह … सनी … आह्ह … जोर से … आह्ह … चोद … और चोद … आआ … आहह … आईई …. रो रही थी क्या?मैं बोला- अरे भाभी, अब जमाना बदल गया है, जरूरी नहीं कि लड़की की आंखें लाल हो रही हों तो वो रो रही हो. एक रात चाचा खेत में था और मैं छत में सो रहा था।थोड़ी देर बाद मेरी चाची आ गई और उसने अंदर से दरवाजा बंद कर दिया।चाची ने अपनी साड़ी ब्लाउज और पेटिकोट खोल दिया और मेरे ऊपर आ गई।मैं अंडरवियर पहने था.

शबाना भाभी बहुत तेज चीखते हुए चुद रही थी- आह चोदो मेरे राजा और तेज चोदो साली चुत को फाड़ दो … कुतिया बहुत सताती है! आह तुम एक बड़े चोदू हो! आह … आज से तुम ही मेरी चूत के मालिक हो. मेरी इस नासमझी को सुलेखा भांप गई और उसने अपना शर्ट खोलने में मेरी मदद की. कोई पांच मिनट बाद सलमान ने मेरी अम्मी के कपड़े उतारे और उनको ब्रा पैंटी में कर दिया.

अपने वजन को मेरी छाती पर रख कर कुछ ऊपर हुई और दूसरे हाथ से मेरे लंड को अपनी चुत के छेद में सैट करने लगी. घर के मेन गेट के पास पहुंचकर हेमा चाची ने जंगले से बाहर देखा, तो वहां कोई नहीं था.

फिर आगे पता चला कि साहिल नहीं जाएगा तो दादी बात खत्म करने के बाद मुझे बताने लगी कि हम लोगों को उनके साथ चलना है लेकिन साहिल नहीं जाएगा.

मैं लंड चुसवाने के साथ साथ उनके मम्मों को भी दबा रहा था और निप्पल को सहलाते हुए मींज रहा था. चूत चुदाई वीडियो दिखाएंचूंकि मैं पहली बार किसी लड़की के साथ सेक्स करने जा रहा था, तो अनुभव की कमी थी. সেক্সি শর্টउसने मुझे लंड पकड़ने से नहीं रोका और बोला- तुम गांडू हो क्या? लंड लेने का मन है क्या?मैंने कहा- नहीं, मुझे तुम्हारा लंड देखने का मन है. पापा हमारे घेर (प्लाट) में सोते हैं और भाई-भाभी, मां और मैं घर में ही सोते हैं.

मैं कॉलेज गया, तो किसी टीचर की मृत्यु हो जाने के कारण कॉलेज की छुट्टी हो गई.

थोड़ी देर में वो शांत हुई तो इस बार मैंने पूरी जान लगाकर धक्का दे दिया. इस बार हम लोगों ने खूब मज़े लेने की सोची।पहले हम दोनों ने एक दूसरे का चुम्बन करना चालू किया. उसने हंस कर अपने लंड पर अपना ठुक लगाया और उसे फिर से मेरे मुँह में ठूंस दिया.

उसने मुझ एक नजर देखा और फिर अंदर आते हुए पूछने लगी- रंजना घर पर है क्या?मैंने हां में गर्दन हिलायी और तब तक मेरी बहन भी बाहर निकल आयी. जब मॉम को चूत में उंगली का पूरा मजा मिलने लगा तो उसने मुझे बांहों में ले लिया और हम दोनों के होंठ मिल गये. वो जांघों को ऊपर की ओर सिकोड़ कर अपना बचाव करना चाह रही थी लेकिन मैंने हाथों के जोर से उसकी जांघों को नीचे ही दबा दिया.

देवर भाभी के सेक्सी बीएफ

हमारी चूमाचाटी के दस मिनट के बक्फे ने हम दोनों को फिर से गर्म कर दिया था और अब चुदाई की बेला आ गई थी. जब हमारा नम्बर आया, तो मैं शबाना का हाथ पकड़ कर उसे डॉक्टर के केबिन के अन्दर ले कर गया. मुझे ये डर था कि अगर हेमा चाची ने ये सब देख लिया … तो वो मेरे बारे में पता नहीं क्या सोचेंगी?लेकिन क्या बताऊं यार … मैं उस टाईम खुद को उत्तेजित होने से रोक ही नहीं पाया क्योंकि सामने हेमा चाची जैसी अप्सरा ऐसी हालत में हो, तो कौन खुद पर काबू कर पाता.

मैंने हेमा चाची के चेहरे को अपनी हथेलियों के बीच लेकर मला और वीर्य को चेहरे पर मलता हुआ कानों तक ले गया … उनकी छाती और चूचियों को मला.

पर आप खुद ही देर कर रही।भाभी- मुझे क्या फायदा देर करने से। मेरा बस चले तो आज ही ले आऊँ।मैं- तो भाभी, आपने अपने घर बात क्यूँ ना करी.

लेकिन अगले पल दीदी ने बोला- ये सब जो तुम कर रही हो, मुझे इससे कोई दिक्कत नहीं है. पहले तो मैंने उस तौलिया को जी भर कर सूंघा … क्योंकि उस तौलिया से हेमा चाची ने अपना सेक्सी जिस्म जो पौंछा था. ब्लू फिल्म सेक्स करते दिखाएचूंकि मैं पहली बार कोई सेक्स कहानी लिख रहा हूँ तो गलतियां हो जाना लाजिमी है.

काफी डरी हुई और बहुत नरवस भी थी क्योंकि मैंने काफी सुना था कॉलेज में रैगिंग के बारे में. सुरभि अपनी चुत और चूचियां फ़ोटो के मुझे दिखाती थी और मैं अपना खड़ा लंड उसे दिखा देता था. अनमोल ने मुझे कॉल करने का नाटक किया और बोला कि प्रणव को पनीर मिल गया है.

अपना लंड चुत पर सैट किया और एक तेज झटके में पूरा लंड अन्दर कर दिया. उसकी कमर को पकड़ कर मैंने उसे अपनी तरफ खींचा और एक तेज झटका दे दिया.

घर से तैयार होकर जाते टाइम मैंने मेडिकल से एक सिरिंज ली और आगे मिठाई की दुकान से आइसक्रीम ली और सीधा होटल के पास जाकर कल्पना को कॉल लगाया.

मैं भी अपने कपड़े पहन कर उसके नजदीक गया और उससे पूछा- कैसा लगा?वो शर्मा दी और बोली- बहुत ज्यादा मजा आया. जब पूनम मैडम उसके सामने झुक कर उसके छाती को पौंछ रही थी तो उनके 38″ के मोटे दूध बहुत ज़्यादा दिख रहे थी. मैंने कैसे सेक्सी दीदी को चोदा?दोस्तो, मेरा नाम अभिजीत (बदला हुआ) है। मैं जालंधर पंजाब का रहने वाला हूँ। मेरी लंबाई 5 फीट और 4 इंच है.

देसी भाभी पोर्न वीडियो उसकी टांगों को पूरी खोलने के लिए मैंने लैगिंग को पूरी ही निकलवा दिया. 20 मिनट तक मैंने उसकी गांड मारी और फिर उसकी चूत में उंगली करते हुए हम दोनों साथ में झड़ गये.

अब मेरी आवाज़ें तेज़ हो रही थीं- आह … आह प्लीज … आह्ह … आहा … और तेज करो. उनकी चूत एकदम ग़ुलाबी और फूली हुई ऐसी थी जैसे उभरी हुई नान खटाई में दरार हो. अब जब भी मैं उनके कमरे में जाती थी … तो अपनी साड़ी को ढीला कर लेती थी ताकि मेरा पल्लू उनके सामने गिर जाए … और ऐसा अक्सर होने लगा था.

कैटरीना कैफ की सेक्सी बीएफ वीडियो

मैंने पट्टी उतार कर देखा तो पूरा कमरा गुलाब के फूलों से सजा हुआ था. उसने कहा- तुम तो ऐसे घबरा रहे हो जैसे मैंने तुमसे गर्लफ्रेंड का नाम पूछ लिया हो तुम्हारी!अब मुझे इस बात का दुख आ गया और मैं बोला- तुम भी मज़ाक उड़ा लो. फिर वो मुद्दे की बात पर खुद ही आ गयी और बोली- देख अर्जुन, मैं उस दिन के लिये सॉरी बोलती हूं लेकिन तू ये वीडियो किसी को नहीं दिखाएगा.

मैंने भी उनकी नंगी जवानी को वासना से देखा और कहा- अरे आप घबराओ मत, ये सब मुझसे धोखे से हो गया. परिवार के बाकी लोगों के हम लोगों के साथ ना रहने पर मेरी बीवी को खुल कर रहना अच्छा लगता है.

मेरी पिछली कहानी थी:सुहागरात में बीवी की चुत चुदाई और प्यारआज मैं अपने लाइफ की एक और दास्तान मतलब अपनी हॉट वाइफ सेक्स कहानी आप सभी के साथ साझा करने जा रहा हूँ.

मैंने उसकी बात मान कर ताला लगा दिया और अन्दर आकर दरवाजे की सिटकनी लगा दी. इतनी गर्म चुसाई के चलते मैं ज्यादा देर अपने आपको नहीं रोक सका और कुछ ही मिनट में ही हाज़िमा आंटी के मुँह में मेरे लंड की पिचकारी छूट गई. 10 मिनट के बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया।मैंने रानी से बोला- रानी एक बार चूसोगी?उसने कहा- एक शर्त पर!मैंने पूछा- क्या?वो बोली- मेरी चूत को जीभ से चोदने का मजा दे दो मुझे.

उसके घर जाने से पहले मैंने उसको फोन पर बता दिया था कि दरवाजा खुला रखना. [emailprotected]इंडियन हाउस वाइफ सेक्स कहानी का अगला भाग:मैंने खुल कर चुत चुदाई का मजा लिया- 2. उसके मोटे लंड का उभार देख कर मेरा बदन तपने सा लगा और खून का संचार दुगने से भी ज्यादा हो गया.

[emailprotected]Xxx गर्ल चुदाई कहानी का अगला भाग:पापा के दोस्त से पहली मस्त चुदाई- 5.

बीएफ फुल एचडी फुल: मैं तुम्हें कोई परेशानी नहीं होने दूंगा।बुआ भी मजबूर थी और कोई सहारा नहीं था।तो थोड़ी देर सोचने के बाद वे बोली- तुम वादा करो कि किसी को भी हमारे रिलेशन का पता नहीं चलेगा कभी!मैंने कहा- हां!और उसकी साड़ी हटा दी. उसने कमोड का ढक्कन बंद करके उस पे रानी को बिठा दिया और उसके मुँह के सामने अपना विशालकाय लौड़ा हिलाने लगा.

बात है 3 साल पहले की जब आदित्य को पहली बार मैंने हवस की नजर से अपनी ओर देखते हुए पाया था. बुआ मस्ती से बोल रही थीं- आह चोद दे अपनी बुआ को … आह जोर जोर से चोद मुझे. और इतनी बारिश में कोई इधर आयेगा भी नहीं।मैं चुपके से अंदर का नज़ारा देखने लगी।जैसे ही साहिल अंदर गया तो पूनम ने बोला- अरे तुम तो पूरा भीग गए?वो तुरन्त अपनी कुर्सी से उठी और अपने ही पल्लू से साहिल का सर पौंछने लगी.

किसी तरह मैंने अपने मुंह पर हाथ रखकर अपनी चीख दबाई लेकिन दर्द मेरी जान निकाल रहा था.

ये मेरी पहली देसी भाभी की चूत कहानी है, यदि कोई ग़लती दिख जाए, तो नजरअंदाज कर दीजिएगा. मैंने लगातार किस करना शुरू कर दिया और अपनी जीभ से उसकी गर्दन को चाटने लगा. दिन यूं ही बीतते गए और मुझे आगे आने वाले समय में इंजीनियरिंग करने का मौका मिला और मेरी नौकरी एक प्राइवेट सेक्टर की कम्पनी में लग गई.