दारु पी के बीएफ

छवि स्रोत,सेक्स वीडियो मेवाती

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी गाँड फोटो: दारु पी के बीएफ, तब मेरी बहन बोली- अच्छा, जब तू मुझे घूरता है, छुप छुप कर मेरे मम्मों पर नजर डालता था, वो सब क्या था.

सेकसी हिनदी बिडीयो

उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ा और अपनी चूत के छेद पर टिका कर बैठती चली गयी. चावला के नंगे फोटोदरअसल गन्ने को काट कर उसको ट्रैक्टर में भरके फैक्ट्री में जाना होता है, जिसे देसी भाषा में मिल कहते है.

उनकी 36 इंच की तनी हुई चूचियां किसी को भी अपनी तरफ आकर्षित करने में सक्षम थीं. सेक्सी वीडियो हिंदी राजस्थानवो अब अपनी कमर उठा कर मस्ती से चुदने लगी और कहने लगी- आह सेल चोद दे बेबी … फक मी फ़ास्ट फ़क मी.

मैडम की नमकीन चुत चाटने के बाद मैंने निकिता मैडम की दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख लिया और उनकी चुत की फांकों में अपना लंड घुसा दिया.दारु पी के बीएफ: मैंने पूछा- कैसा लगा?तो वो बोली- सोडा वाले फ्लेवर की डकार आ रही है.

फिर उस दिन अब्बू को कम झटके देने देती थीं, खुद अपनी गांड से खूब झटके मार मार कर अपनी चूत का पानी निकलवाती थीं.मैं जल्दी से अपने कमरे से निकल कर ऊपर उनके कमरे के दरवाजे के पास आ गया और मैंने की-होल से अन्दर झांका.

देशी सेक्सची - दारु पी के बीएफ

वो दर्द से कराहती हुई थोड़ी ढीली पड़ गयी थी मगर मैं उसे चोदे जा रहा था.मैं- लेकिन संगीता मुझे अनजानी जगह पर नींद नहीं आती है और कल सुबह मुझे जॉब पर भी जाना है.

लेकिन मुझे मेरी तरह कोई चाहिए था, जो हमेशा मेरा रहे, रियल लाइफ में मैं उसकी तरह रहूँ, जैसी मैं उसे पसंद हूँ … और हम दोनों की सेक्स लाइफ मेरी मर्ज़ी से चले. दारु पी के बीएफ इस वजह से ज़्यादा दिक्कत ना होते हुए मेरा लंड उसकी चुत के अन्दर तुरंत ही चला गया.

लेकिन मेरी अम्मी ब्याज का पैसा नहीं दे सकती थीं … इसलिए उसकी बातें सुनकर चुप रह जाती थीं.

दारु पी के बीएफ?

हम दोनों चुदाई के बाद अलग हुए और शॉवर बंद किया तो बाहर फोन की घंटी बज रही थी. वो कहने लगी कि उसको बहुत अजीब लग रहा है यहां और अकेले में नींद नहीं आ रही है. अब आगे की डिल्डो फंतासी सेक्स स्टोरी:मैंने लंड हिलाते हुए अपने ब्वॉयफ्रेंड को दिखाया और बाजू में रखी हुई वैसलीन को लिया और अपने सिलिकॉन से बने हुए लंड पर लगा दिया.

अम्मी ये समझीं कि अब गया आधा दूध और पूरा निप्पल अब्बू के मुँह में, जहां उनकी लपलपाती गर्म जीभ उनके निप्पल को चूसेगी. बाद मैं मैंने अपने और मामी के दूध के गिलास में शिलाजीत की टेबलेट को मिला दिया, ये मामी ने नहीं देखा था. उस टाइम भाभी मुझे अपने ऊपर से हटाने की कोशिश भी कर रही थीं … लेकिन मैं हट नहीं रहा था.

ऐसे ही करीब आधे घंटे बाद कासिब ने अपना मनी अस्मा की चूत में छोड़ दिया. शालू- अब क्या रह गया है पापा?वो बोला- मेरी जान, तूने मुझे पूरा मजा दिया है. मैं अम्मी की चुत चोदता हुआ उससे बोला- चल नसरीन बीवी, तू अपनी मैक्सी उतार दे और आ जा.

पापा भी मम्मों को देख कर बोले- बेटी तेरी टी-शर्ट में मैं रोज तेरे हिलते हुए मम्मों को देखता हूँ. यह बात उस समय की है, जब मैं 23 साल की बिल्कुल खिली हुई मस्त माल थी.

मैडम ने लंड से हाथ हटाया और बोलीं- तो चलो तुम्हारे कमरे पर चलते चलते हैं.

आज की सेक्स कहानी को मैं पिछली बार में अपनी स्यू मामी के साथ हुई चुदाई की कहानी के आगे लिख रहा हूँ.

संगीता भी मेरे ऊपर आती चली गई … लेकिन उसने मेरे लंड को उसके मुँह से निकलने नहीं दिया. साथ ही उनका हाथ अपने उसी दूध को मेरे मुँह में और अन्दर तक ठेल कर मुझे दूध चुसाने की कोशिश करने लगता. पर शादी को 4 महीने के बाद अच्छे मुहूर्त में रखा गया था।हमारे यहाँ इंगेजमेंट के बाद लड़की लड़का एक दूसरे से नहीं मिल सकते है और एक दूसरे के घर भी नहीं आ जा सकते हैं।तो इंगेजमेंट के बाद उन दिनों में मोबाइल से घण्टों चैटिंग होने लगी.

थोड़ी देर बाद जब मेरी नींद टूटी, तो मैंने देखा कि मामी का एक हाथ मेरे सीने पर था और उनका एक पैर मेरे पैर के ऊपर चढ़ा हुआ था. मैंने उसे उठाया और अपना एक दूध उसके मुँह में लगा दिया, जिससे वो दूध पीने लगी और चुप हो गयी. फिर मैंने उसकी पैंटी को हल्का सा साइड किया और उंगली अंदर पैंटी में दे दी.

बॉस ने तुरंत मुझे 20 हजार रूपये का चैक देकर कहा कि ये लो, लंड चूसने के पैसे ले लो, लेकिन मेरे लंड को चूसो जरूर.

फिर शाम को मैंने देखा, तो गार्डन में वो चारों बैठ कर बातें कर रही थीं. वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लगी तो मैंने पूछा- के हुआ भाभी?वो बोली- मुझे लगा … तुम्हारा दूध निकल गया, इसलिए तो कहा था कि मेरी साड़ी खराब मत कर देना. वो देखने में ऐसी कमाल की पटाखा दिखने वाली लड़की थी, जिसे देख कर ही हर किसी को अपना बनाने का मन करे.

इस पोजीशन में मेरा लंड उसकी चुत के निशाने पर आ गया और मैं उसे खड़े होकर चोदने लगा. कुछ पंद्रह मिनट तक पापा ने अपनी बेटी की चुत को चोदकर चुत में वीर्य छोड़ दिया और मॉम डैड सेक्स के बाद लेट गए. पिछले भागभतीजे की बीवी की चुदाई का मौक़ा- 1में आपने अब तक पढ़ा था कि मेरा भतीजा रवि दारू के नशे में टुन्न होकर घर आया तो उसे उसके दो दोस्त सहारा देकर घर लाए थे.

मैं मैडम से इतने अच्छे तरह से बात करता था कि वह मुझे 2-3 चॉकलेट भी दे देती थीं.

पर जैसे ही मैं उनकी गांड के छेद में उंगली डालने लगा, तो चाची मना करने लगीं, बोलीं- आज तक मैंने कभी गांड नहीं चुदवाई है. सोमवार को कॉलेज में मुलाकात हुई तो कुलजीत ने बताया- पापा शुक्रवार को आ रहे हैं, मम्मी पापा दोनों एक हफ्ते के लिए अमृतसर जा रहे हैं.

दारु पी के बीएफ उसमें एक काला आदमी जिसका लन्ड 10 इंच के ऊपर था, वो एक गोरी लड़की की मस्त चुदाई गांड मार कर रहा था. चाय आदि से फुर्सत होकर मामी भी रेडी हो गईं और हम दोनों हॉस्पिटल आ गए.

दारु पी के बीएफ अपने रूमाल से उसके रस को अपने होंठों को साफ किया और उसके पास ही लेट गया. पूजा- मादरचोद फाड़ दे भैन के लंड मेरी इस चूत को … आह कितना मोटा है साले तेरा लंड … आह आज तक किसी ने इसकी आग ना बुझा पायी कुत्ते … मगर आज तेरा लंड लेने के बाद मुझे सबसे ज्यादा मज़ा आ रहा है … चोद हरामी बन जा मेरा कस्टमर … तुझे मैं रोज़ अपनी चूत और गांड चोदने दूंगी … आह जोर से चोद साले … फाड़ दे इस चूत को … बना दे इसका भुर्ता और मुझे अपनी रखैल बना ले.

इंडियन चुत की सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी बीवी की पुरानी चुदाई की बात याद कर रहा था.

व्हिडीओ सेक्सी बीएफ सेक्सी

शायद उसे मेरा बदन पसंद आ गया, उसने मुझे सेक्स के लिए आमंत्रित किया तो …दोस्तो, मेरा नाम अनुज है, मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ. रोल प्ले सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि एक्ट्रेस ने मेरे साथ एक खेल खेला जिसमें वो मेरे अंडर ट्रेनिंग ले रही है. सन्नो- आई मार दिया रे … अया धीरे चोदो मेरे बलम … आज क्या अपनी बहन समझ कर चोद रहे हो.

आपने मेरी अन्तर्वासना मस्तराम कहानीहॉट मामी के जिस्म की वासना- 3के तीन भाग पढ़े. मेरा एक मन कह रहा था कि भाई साहब को पता चल गया है कि मैं उन्हें नंगा देखती हूँ. एकदम वासना से तप्त नशीली आंखों को देखकर एक बार तो मैं भी हैरान रह गया.

भाई साहब ने अपना लंड निकाल लिया तो मुझे लगा कि शायद भाईसाहब झड़ गए हैं.

अब एक दो बार ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर तक चाटने के बाद मैंने जीभ को अंदर उसकी चूत में घुसा दिया. उसने कहा- आपकी पसंद मुझे अच्छी लगी, आपको कैसा दूध पीना पसंद है?मैंने कहा- मुझे गाय का और लड़कियों के दूध पीने में मज़ा आता है. असल में वह कंप्यूटर मास्टर एक प्राइवेट मास्टर था, जो स्टूडेंट्स को कंप्यूटर सिखाता था.

वहां उसकी चूत गांड चुदाई कैसे हुई? उसके बाद उसकी बहन …दोस्तो, मैं लकी अपनी बहन की सहेली चुत चुदाई की जबरदस्त सेक्स की कहानी के अगले भाग में आपका स्वागत करता हूँ. करीब 2 घंटे बाद उसने रिसेप्शन पर फोन किया कि मुझे उनसे बात करनी है, जो सुबह मुझसे मिले थे. उसकी चुत मेरे मुँह के सामने थी पर मैंने चुत को चूसा नहीं … क्योंकि मुझे वहां से अजीब सी महक आ रही थी.

गीता- नहीं नहीं दारोगा जी, मैं ऐसी लड़की नहीं हूँ … बस कुछ मजबूरी है, जो आपके साथ किया है, ये सब अब दोबारा नहीं करूंगीदरोगा- अरे साली तू इतनी डरती क्यों है … ये चुदाई का चस्का ऐसा होता है ना कि एक बार लग जाए, फिर चुत में खुजली चलने लगती है. जैसे ही मैं पहुंचा तो उसने मुझे अंदर लेकर दरवाजा अंदर से बंद कर लिया.

स्कूल मैम सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मुझे सेक्स विडियो देख कर सेक्स के बारे में पता चला. मैंने उनका हाथ हटा कर सीधा उनका निप्पल मुँह में ले लिया और चूसने लगा. वो बोला- क्या हुआ अंजू?मैंने कहा- देखो दीपक, इस तरह से तुम जल्दबाजी दिखा रहे हो, तो तुम्हारा बहुत जल्दी झड़ जा रहा है.

मेरी अकड़न तेज होती गयी और मैंने अपनी जिंदगी का पहला चरम सुख अनुभव किया.

मैंने उसकी पैंटी के ऊपर से ही चूत पर किस किया और ज़ोर से अपने मुँह को उसकी चूत की दरार में चिपका दिया. दरोगा ने जवान कामवाली को चोदामें अब तक आपने पढ़ा था कि मीता रवि के सामने नग्न हो गई थी. हीरोइन ने कहा- आगे का क्या प्लान है?जेनिल ने कहा- मैम, मैं तो अपने रूम में जा रही हूँ.

मैंने अपने लंड को चुत में पूरा बाहर खींच कर जोर से अन्दर डालना शुरू कर दिया. मैंने उसे कैसे गर्म कर उसका लम्बा लंड लिया?दोस्तो, मैं बादशाह किंग एक बार फिर से अपनी गांड चुदाई की कहानी में स्वागत करता हूँ.

इस तरह से चाची ने कुछ ही देर में मेरे मुंह में पानी छोड़ दिया जिसको मैंने सारा चाट लिया. मगर मुझे ऐसी कोई ख़ास बात नजर नहीं आई जोकि स्याली मामी की तुलना में उसके पास अलग से हो. कुछ देर बाद भाभी फिर से बाहर आईं, तो मैं एकदम जोश में था कि आज तो भाभी का काम उठाना ही है, इनको चोदना ही है.

सेक्सी बीएफ नंगी सीन वीडियो में

नाम था उसका पैंग!उम्र रही होगी उसकी 19 साल, गोरा इकहरा बदन, शरारती आँखें, गुलाबी रसभरे होंठ!कमसिन बलखाती कमर, टॉप से बाहर झांकते उसके उभरे हुए मम्मे किसी को भी अपनी ओर खींच सकते थे।उस लड़की की मदद से मैंने अपनी बातचीत की और काम निपटाया.

लेकिन कुछ देर बाद उसने फिर से मेरे स्तन से अपने हाथ हटा कर मेरे पेट पर रख दिया. जब रेखा तेल लेकर आयी तो उसको मैं सीधा उसके बेडरूम में ले गया और उसको बेड के एक साइड में डॉगी स्टाइल में होने के लिए कहा. जिसको पहनने के बाद मैंने काले रंग का ऊपर से दुपट्टा डाल कर अपने 36 की चूचियों को छलकते हुए दादी से छुपा लिया.

जेनिल के चुचे छोटे आकार के थे, कमर भी कोई ख़ास नहीं थी और गांड भी दबी हुई थी. नूपुर के ऐसा बोलते ही मैंने अपना लंड नूपुर की चुत में हिलाना शुरू कर दिया. रियल सेक्स वीडियोसस्वरा ने लंड को देखते हुए मुझसे कहा- ये इतना मूसल जैसा मेरे अन्दर कैसे जाएगा?मैं मुस्कुरा कर बोला- स्वरा, वो जो वहां हीरोइन की चूत बैठी है.

मुझे भी बहुत मज़ा आया … और आगे से जो भी तुम्हारी सेक्स फ़न्तासी है … मुझे बता देना. रवि- नहीं डॉक्टर … मेरे अन्दर का मर्द तो जगा हुआ है, बस ये लंड ही नहीं जाग रहा है.

फिर मैंने वीडियो देखते टाइम प्रिंस के पैंट में हाथ डाल कर उसका लंड पकड़ लिया. मैंने पूछा- जीजू का भी नहीं लिया है क्या?वो बोली- वो तो चूत में ही नहीं डालता था, चूसने को क्या बोलेगा!मैंने कहा- दीदी, तो फिर एक बार मेरा मुंह में लेकर देखो. मैं कामना करती हूँ कि अब आपको इस कहानी के अंत तक का मनोरंजन अनवरत मिलता रहेगा.

देसी रंडी सेक्स स्टोरी के पहले भागमेरी बहन की खिलती जवानी का राजमें मैंने बताया था कि कैसे मेरे मां-बाप के गुजर जाने के बाद हमारे घर में पैसे की तंगी हुई और इसी दौरान मेरी बहन ने चुपके से चुदाई का धंधा शुरू कर लिया. मेरे लंड की हर एक बूंद को गटक लेने के बाद हम दोनों ने अपने बाक़ी के सारे कपड़े अलग कर दिए. फिल्म एक्ट्रेस सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी? आपके मेल मुझे प्रोत्साहित करेंगे.

जॉब के कारण हमें बाहर निकलने का जब भी मौका मिल जाता है, वो हम गंवाते नहीं हैं.

ऐसी गर्म गर्म बातें सुनते ही भाभी गर्म हो गईं और वो अपनी चुत में उंगली करने लगीं. फिर गुस्से में मेरी ब्रा पैंटी फाड़ दी और मेरे ऊपर आ गए।मेरे बूब्स को दबाते हुए मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया और जोर जोर से मेरी चूत को चोदने लगे।मुझे चोदते हुए वो साथ मे डांट भी रहे थे- दोबारा चुदती हुई मत दिख जाना, नहीं तो तेरी चूत को फाड़ कर रख दूंगा मैं, फिर किसी और से चुदवाने लायक नहीं रहेगी.

वो एकदम मस्त थीं और लंड से जल्दी जल्दी चुदाई करने के लिए अपनी गांड उठा रही थीं. फिर वो मेरा लंड को छोड़े बिना मेरे ऊपर आ गयी और चूत को मेरे मुँह पर टिका कर बैठ गई. मेरे पीहर वालों ने मेरे पति के सिर्फ पैसे देखकर मेरी उनसे शादी कर दी थी.

इससे वो बिलबिला गई और गाली बकने लगी- साले लौड़ा क्यों निकाला मादरचोद. उसने लंड मुँह से बाहर निकाल दिया और कहने लगी- नहीं अंशुल, मैं ये नहीं कर सकती. थोड़ी देर लंड रगड़ते रहने के बाद मैंने उसके होंठों को किस करते हुए चुदाई का आगाज किया.

दारु पी के बीएफ आपकी प्यारी पिंकी सेन[emailprotected]गरम लड़की की चुदाई कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 17. मैं जल्दी से अपने कमरे से निकल कर ऊपर उनके कमरे के दरवाजे के पास आ गया और मैंने की-होल से अन्दर झांका.

फ्री एक्स बीएफ हिंदी

भाभी ने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और बोली- आह बाबू … जोर जोर से धक्का लगा. फिर जैसे ही मेरे हाथ में उनका लंड आया तो वो पूरा तनकर 7 इंच का हो गया. तब तक मामी ने खुद अपने हाथ से अपने पेटीकोट का नाड़ा ढीला कर दिया था और वो जमीन पर गिर कर अपना अपराध जानने की कोशिश कर रहा था.

कुछ देर मधु की गांड मारने के बाद मैंने अपना लंड बाहर निकाला और रेखा को मधु के ऊपर लेटा दिया, जिससे रेखा की चूत में जो प्लास्टिक का लंड बंधा था, वो मधु की गांड में घुस गया था. मगर मैंने आज उनकी आग को भड़कने दिया और खुद को भी मानसिक रूप से तैयार करने लगा. छक्कों की सेक्सी फिल्मकोमल का सिर आगे की ओर टेबल से बाहर आ गया और पीछे से उसकी गांड भी टेबल से बाहर ही थी.

मैंने मौके का फायदा उठाते हुए उसे अपनी बांहों में भर लिया और वो भी बिना किसी विरोध मेरी बांहों में आकर लेट गई.

लागातार 15-20 मिनट चोदने के बाद सौरभ मेरी बहन के चूत में ही झड़ गया और वैसे ही उसके ऊपर पड़ा रहा।उस पूरी रात सौरभ ने मेरी बहन श्रेया की 4 बार अलग अलग पोजिशन में चुदाई की जो मेरे लैपटॉप में पूरा रिकॉर्ड हो गया था।फिर सुबह 4 बजे के आस पास सौरभ मेरे रूम में आकर सो गया था।दोस्तो, मेरी जवान बहन सेक्स कहानी कैसी लगी? ये कमेन्ट में बताना. मोमबत्ती की रोशनी में हीरे सी दमकती उनकी चूचियों की आधी से अधिक घाटी नुमायां होने लगी थी.

”कभी नहीं छूटेगा लेकिन यह बताओ कि तुम्हारा पानी कब छूटेगा? मेरी टाँगें दर्द कर रही हैं. फिर मेरी कमर पकड़ कर अपना मुँह मेरी पैंटी के ऊपर से मेरी चूत पर रख दिया और चुत चाटने लगे, उसे सूंघने लगे. पांच मिनट बाद मैंने लंड उसकी चूत में से बाहर निकाल लिया और बेड पर लेट गया.

मैंने एक और धक्का मारा तो वो थोड़ी सी उचकी और अपने होंठों को मेरे होंठों से हटाया.

मैंने अपने दोनों हाथों से उनके चूतड़ों को अपनी ओर खींचते हुए अपने लौड़े को उनकी चूत से सटाया और लंड को फिर से अंदर घुसा दिया. चुत फाड़ेगा क्या?मैं बोला- साली यास्मीन रांड … भैन की लौड़ी … वो रौनकी का पूरा अन्दर लेती है तो कुछ नहीं कहती और मेरे लंड से चुत फटने का बात कह रही है. जब मैं सब कुछ ट्राई कर लूंगी तो तुझे कॉल करके बताऊंगी कि मेरा एक्सपीरियंस कैसा रहा।दीदी ने फोन रख दिया और मेरे लंड को देखने लगी.

औरत सेक्सी वीडियोआप मुझे मेरी इस फैमिली वीमेन सेक्स स्टोरी के लिए मेल भेजना न भूलें. चाची छत से अन्दर आने को बोलीं … क्योंकि चाची का कमरा जीने के बगल वाला था.

बीएफ सेक्सी वीडियो फुल एचडी फुल एचडी

मन से डर निकल गया और अब मैं पावस के साथ अच्छे से चुदाई करवा सकूंगी. कुछ देर बाद भाभी बोलीं- बहुत हवस है तुममें!मैंने कहा- आज पहला दिन था, आगे और मज़ा आएगा. मैंने अपनी अभी उंगलियां चाट कर साफ ही की थीं कि इतने में ज्योति हॉल में आ गई.

चाची- उई मां … मर गई … आह भड़वे इतना जोर से डालते हैं क्या?मैं बिना कुछ कहे सुने बस चाची को चोदता रहा. आंटी- जब से तेरे फोन में पोर्न सेक्स विडियो देखी है तब से सब्र ही करती आ रही थी. आपको हम मां-बेटी की चुदाई की ये कहानी कैसी लगी मुझे इस बारे में जरूर बताना.

मैंने भाभी के गुलाबी होंठों को चूमते हुए उनकी स्टाइलिश टी-शर्ट निकाल दी. उन दोनों को देखकर मेरा लंड भी फनफना रहा था, तो मैंने भी लंड हाथ में लेकर तेजी से हिलाना शुरू कर दिया. बस ये बताओ कि आपको मज़ा आया या नहीं … और उसका रस आपको कैसा लगा!रणजीत- मज़े की तो तू ही पूछ मत … साली ऐसी कुंवारी बुर का रस कहां किसी को आसानी से नसीब होता है.

वो जल्दी से घुटनों पर बैठी और लंड के सुपारे को मुँह में भर के चूसने लगी. अब तो दिन में भी जब चान्स मिल जाता है, तो हम दोनों फुल एंजाय कर लेते हैं.

मैं उससे गालियां देने लगी- आह साले गांडू … मादरचोद … ऐसा कोई दर्द देता है क्या! खोल साले मुझे.

मैंने फिर उसकी जांघों पर तेल डाला और अपने हाथ से उसे रगड़ने लगा।धीरे धीरे इसी बहाने अपने हाथ से उसकी चूत को 2-4 बार छू लिया. सेक्सी हीरोइन वालीफिर जैसे ही साहिल ने अपना लंड मेरी चूत के अंदर ठेला तो मेरी दर्द के मारे जान निकल गयी; और खून भी निकलने लगा. सट्टा किंग में गली की खबरवो बोलीं- कब और किसके साथ?मैंने कहा- मैं अपने एक दोस्त के साथ शिमला गया था. फिर उस रात को मैं खाना खाकर टहलने के लिए गया तो आंटी और उनकी बेटी के लिए आते हुए मैं आइसक्रीम ले आया.

मैं भी बहुत जोश में था, तो मैं फिर से उसका लंड चूसने लगा … लेकिन इस बार मैंने चूसते समय उसके लंड को थूक से पूरा गीला और चिकना कर दिया.

सुमन- वाह क्या घोड़े जैसा लंड है तेरा … आज तो मेरी चुत की शामत पक्की है. वह लपककर उनके पास गई और उनका लंड उनके हाथों से छीन अपने मुंह में लेकर चूसने लगी।अब डॉक्टर साहब की उह … अह …. लंड को खड़े होते देख कर मामी ने मेरे ऊपर चढ़ कर अपनी चुत पर लंड टिका लिया- विकी अब रुका नहीं जा रहा … प्लीज डाल दे अन्दर.

आज मैंने पहली बार देखा था कि अम्मी की गांड का होल बिल्कुल ऐसे गोल था, जैसे कोई छोटा सा गड्ढा हो. बस दोस्तो आज यहीं तक … उम्मीद करती हूँ कि आपकी काफी शिकायत दूर हो गई होगी. हम दोनों एक साथ झड़े, 4-5 धक्कों के साथ … मानो इस शरीर से आत्मा निकल गयी, इतना हल्का महसूस हो रहा था.

माधुरी बीएफ सेक्सी

बॉस सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी पैसे की जरूरत के चलते प्रोमोशन के बदले बॉस के साथ सेक्स करने का फैसला किया. मैं उसे मन ही मन बहुत प्यार करता था, पर अपना प्यार जाहिर नहीं कर पा रहा था. सायली ने एक पलक झपकाये बिना ही एक हाथ से मेरा लंड टटोला और जोर से दबा दिया.

तो हमने साथ बैठ कर आधी आधी चाय पी और कुछ देर ऐसे ही बितायी।कुछ देर बाद मैंने कपड़े निकाले और साहिल से बोलकर नहाने चली आयी.

मैंने इस बार खुद अपने हाथ से लंड पकड़ कर उसकी चूत में पेल दिया और धक्के मारने लगा.

वो सिसकारियां ले रहे थे और उनके मुंह से कुछ ऐसे शब्द निकल रहे थे- आह्ह … हाय … स्स्स … चूस जा … आह्ह … मेरी रानी … मेरी चिकनी … खा जा इसको. उस छोटे हाफ पैंट से मेरी गोरी जांघें और हाफ टी-शर्ट के कारण मेरा चौड़ा सीना भी साफ झलक रहा था. इंडियन सेक्स विडिओमेरे सामने मेरी जन्नत की हूर स्यू अब सिर्फ सफ़ेद रंग की ब्रा पैंटी में खड़ी थीं.

उसने कहा- तुम्हारा काम तो हो गया … क्या मैं अब अपना काम भी कर लूँ?मैंने कहा- हाँ करो; लेकिन आराम से ही करना और धीरे धीरे ही करना. अम्मी को एक दराज में जब अपनी पसंद की चीज नहीं मिली, तो उन्होंने दूसरी दराज़ में देखा. फिर उसने कहा- अगर मुझे एक रात तुम्हारे साथ रहने को मिल जाएगी तो मैं तुम्हारे बिजनेस को बहुत ऊँचे तक पहुंचा दूँगा.

उस नवविवाहिता जवान लड़की की कुंवारी चूत में मैंने उंगली डाल कर देखा तो उसकी चूत चिकनी हो चुकी थी. आंटी- जब से तेरे फोन में पोर्न सेक्स विडियो देखी है तब से सब्र ही करती आ रही थी.

उसके मुंह में मेरी दो गोलियों का लटकता संग्रहकर्ता छोटे मुंह में नहीं जा रहा था तो वह मेरी मांसदार लटकती गेंद को चाटने लगी.

मैंने कहा- अच्छा सिर्फ तुम इसे अपने मुँह में लेकर इसका पानी निकाल दो बस. पांच मिनट के बाद उसको मजा आने लगा और उसकी गांड ने मेरे लंड को अंदर जगह देना शुरू कर दिया. अपने होंठों से जोर जोर से उसकी चुत के दाने को खींचते हुए काटने लगा.

भोजपुरी सेक्स बिहारी अब चाचा ने अपने धक्कों की रफ्तार और बढ़ा दिया।कुछ देर बाद मेरी बुर ने पानी छोड़ दिया और मैं निर्जीव सी हो गयी. मैंने अपनी उंगली को उसकी चूत में रगड़ना शुरु कर दिया। उसने मेरी टी-शर्ट और लोअर को उतार दिया.

ये सब सुनकर मेरा भी मन करने लगा था कि मेरा भी कोई बॉयफ्रेंड हो और हम दोनों हर तरह से एन्जॉय करें. काम ये था कि अपने ही पड़ोस के मोहल्ले से रोज सुबह एक लीटर दूध लाना था. यह बात सुन कर साहिल ने राजसी को खुद पर से हटाया और उसको अपने लन्ड की तरफ कर दिया।राजसी समझ गयी कि साहिल के लन्ड को उसको दूसरे दौर के लिए तैयार करना है.

भाभी की सेक्सी पिक्चर बीएफ

हाथ बढ़ा कर शॉवर ऑन किया और खड़े खड़े ही स्यू की चूत को लंड से पेलने लगा. पापा ने मेरे मुँह में अपने लंड का रस टपका दिया और राज ने अपनी सास के मुँह में पानी छोड़ दिया. उस टीचर के साथ सेक्स करने में जो मजा आ रहा ऐसा मैंने अपने जीवन में कभी अनुभव नहीं किया था.

उन्होंने मेरे चिल्लाने को गलत समझ लिया और वो मुझे जोर ज़ोर से चोदने लगे. कुछ ही देर बाद मेरा लंड फिर से फनफनाने लगा और गुलचीन मेरे सामने अपनी टांगें खोल कर लेट गई.

रणजीत- देख सन्नो, सिर्फ मैं ही नहीं, सभी मर्दों को कच्ची कलियां अच्छी लगती हैं.

पहली बार किसी लड़की, वो भी मेरी बहन का हाथ लंड पर पड़ते ही मेरे बदन में रोगंटे उठ गए थे. वो तो आप एक ऐसे विषय पर मुझे सवाल कर रही थीं, तो मैंने मजाक किया था. उसकी चूत गीली थी, तो मैंने अपने लंड को हाथ से पकड़कर उसकी चूत के ऊपर रखा, हल्का रगड़ा और अपने हाथ से उसका पिछवाड़ा ऊपर को उठाकर लंड से चुत में एक ज़ोर का दे झटका मारा.

मैंने धीरे से अपना राइट साइड वाला हाथ उसके कंधे से होकर उसके राइट वाली चूची पर रख दिया और उसे धीरे धीरे दबाने लगा. फिर मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखकर अपने लन्ड को उसकी चुत पर रखकर एक हल्का सा धक्का लगाया. उसके बूब्स पूरे ब्लाउज के ऊपर से क्या मस्त दिख रहे थे!बता नहीं सकता.

फिर मैं भी जवान हो गया था और हम दोस्तों में अक्सर चुदाई की बातें होती रहती थींमुझे भी लड़कियों की चूत और चूत चुदाई की बातों में बहुत मजा आने लगा था.

दारु पी के बीएफ: अम्मी बोलीं- नहीं, हल्का फुल्का नहीं जबरदस्त तरीके से गांड मरवाने का मज़ा लेना है. मामी ने कुछ देर तक मुझे समझाने की कोशिश की कि मैं उनके साथ सेक्स करूं.

मैं उससे आज ही पहली बार मिला था और मैं उसे ठीक से जानता भी नहीं था, तो चुप होकर उसका लंड अनदेखा करने की कोशिश करने लगा. मैं साहिल के वीर्य से भरी अपनी चूत साफ करते हुए नहा कर तौलिया बांध कर बाहर आ गयी।चुदने के बाद मैं किचन में आ गयी हम दोनों के लिए नाश्ता बनाने!फिर साहिल ने मुझे अपनी गोद पर बिठा कर खिलाया अपने हाथ से।नाश्ते के बाद साहिल टी वी देखने लगा. वो मेरा माथा पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी और झट से उठ कर मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

मैंने भाभी की पैंटी से भाभी के पूरे पैर साफ किए और उनको अपने हाथ से पैंटी पहना दी.

मैं उसके गले में डाले हुए हाथ को धीरे से उसके मम्मों पर हाथ ले गया, तो वो कुछ नहीं बोली. मेरे पास मेरे मयंक की दो निशानियां हो गई थीं, जिनसे वो भी बहुत प्यार करते थे. अब अगले भाग में पता लगेगा कि मुनिया की चुदाई होती है … या कुछ और धमाल होने वाला है.