बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ

छवि स्रोत,स्कूली लड़कियों की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

નેપાલી સેકસ: बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ, हम दोनों एक दूसरे को बहुत देर तक चुम्मा चाटी की और उसके बाद उसने मुझे अपने बिस्तर पर खींच लिया.

सेक्सी बीएफ हिंदी में बढ़िया

फिर एक दिन अरुण ने उसे मैसेज किया- आप मुझे शाम को रोज गार्डन में मिल सकती हैं?जवाब आया- हाँ. बीएफ फिल्म वीडियो में भेजिएधीरे-धीरे हमारी खुलकर बातें होने लगीं और मुझे उसके साथ बातें करने में अच्छा लगने लगा.

आप भी मेरी सखी के शब्दों में पढ़ें!दोपहर को दो बजे के बाद जब मैं बाथरूम से वापिस आकर ससुर जी के पास गयी, तब उन्होंने मुझे खाने की मेज़ पर लेटने को कहा और बाथरूम में चले गए, वहां से वह एक मग में गर्म पानी तथा शेविंग का सामान लेकर आये. बिहारी बीएफ ब्लूमैंने उसकी बेटी को उठा कर मेरी सिंगल सीट पे सुला दिया और फ़िर हम दोनों एक ही सीट पे आ गए और परदा डाल लिया.

मैंने उसके लंड को पकड़ के बाहर निकाला तो काला मोटा 8 इंच का लंड देखकर शॉक रह गयी.बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ: एक बार जब मेरी बड़ी बहन की शादी नहीं हुई थी, यह बात तब की है, मैं, मेरी बड़ी बहन और छोटी बहन अमनदीप कौर ने अमृतसर से आगे वाघा बॉर्डर पर जाने का प्लान बनाया.

फिर मैंने अन्तर्वासना की साइट से माँ की चुदाई श्रेणी से माँ बेटा सेक्स कहानियाँ पढ़नी शुरू कर दी, यकीन मानिये … पढ़ने के बाद मैं खुद के काबू में नहीं रही, मैंने उंगली से अपनी चुत को छुआ तो वो पानी पानी हो चुकी थी.मैंने धीरे से उनको अलग किया और छातियों को हाथों से पकड़ लिया और जोर से दबाने लगा, दोनों बूब्स एकदम लाल हो गए.

देहाती सेक्सी हॉट बीएफ - बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ

इससे मेरी सांसें तेज हो गई, मुझे काफी डर लगा रहा था कि ये लड़की यहाँ खुले में क्या कर रही है, कुछ समझ नहीं आ रहा था मुझे, लेकिन मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.मैंने स्पीड बढ़ा दी, दो बार छूटने के बाद मेरा पानी अब नहीं आ रहा था.

प्रभु मतवाला हो गया उसकी चिपकी जांघों के बीच उसकी चूत की उभार देख कर… मैंने और कीकु ने उसकी टाँगें अलग की, उसकी फूली हुए चिकनी चूत हमारी आँखों के सामने थी. बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ वह एडजस्ट करने की वैसी ही कोशिश कर रही थी जैसी कभी पहली बार में राशिद के साथ की थी।करीब तीन या चार मिनट तक हम उसे यूँ रगड़ते रहे और वह असहज और निष्क्रिय रही.

आपको मालूम ही है कि मैं भी अपने फ्लैट में अकेली ही रहती हूँ और रोज अपने कपड़े सुखाने ऊपर छत पर जाती हूँ.

बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ?

शाज़िया का बदन गोरा है तो चाचा ने आराम से दोनों हाथ के अंगूठों से उसकी चूत को खोला और चूत के अंदर का गुलाबी भाग दिखने लगा।चाचा ने आहिस्ता से अपनी जीभ गुलाबी चूत में घुसा दी। शाज़िया ने कस कर चाचा का सर अपनी चूत पर दबा दिया. फलस्वरूप उसकी नंगी लंबी गोरी टांगें मेरे सामने नग्न हो गई। सीमा की गांड की चौड़ाई उसके शरीर पर कमर के हिसाब से कुछ ज्यादा ही चौड़ी थी। उसके ऊपर का शरीर पतला तथा गांड की चौड़ाई काफी ज्यादा थी और उसके नीचे वह अपनी लम्बी पतली गोरी टांगों से एक अलग ही आकर्षण पैदा कर रही थी। उसकी टांगें काफी लंबी थी जैसे कि कोई कार्टून कैरेक्टर हीरोइन की होती हैं. मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?तो उसने बताया- कुछ नहीं!मैं बोला- ओके!और फिर मैं अपने रूमाल से उसके आंसू पौंछने लगा.

मैंने ड्राइवर को मना किया परंतु वह नहीं माना तो फिर मेरी बहन प्रीति मेरी टांगों पर बैठ गई. मयूरी उसके लंड को जोर-जोर से दबाने लगी और इधर विक्रम उसकी चूचियों को उमेठ-उमेठ कर मजे ले रहा था. अगर पूनम दीदी आ गईं तो क्या होगा?दीपक पिंकी को चोदते हुए बोला- अगर उसने कुछ कहा.

2 से 3 मिनट के लंबे चुम्बन के बाद मैंने अपने हाथ रीना के वक्ष पर रख दिए और दोनों स्तनों को जोर जोर से दबाने लगा. तभी मयूरी ने अपना एक हाथ विक्रम के शॉर्ट्स में डालकर उसके लंड को जोर से पकड़ लिया. मैंने उससे पूछा तो उसने कराहते हुए कहा कि प्यार में दर्द नहीं देखा जाता.

थोड़ी देर बाद जब उसने आंखें खोलीं तो देखा कि वल्लिका अपने सारे कपड़े पहन चुकी है और उदास बैठी है. 2 से 3 मिनट के लंबे चुम्बन के बाद मैंने अपने हाथ रीना के वक्ष पर रख दिए और दोनों स्तनों को जोर जोर से दबाने लगा.

जब मैंने जब मोबाईल फारमेट मारा या पता नहीं सिम चेंज की तो फिर से उसका नम्बर मेरे मोबाइल की व्हाट्सैप लिस्ट में दिखने लगा.

हम दोनों ऐसे ही एक दूसरे से लिपटे रहे और कब हमारे कपड़े हमारे बदन से अलग हो गए, हमें पता ही नहीं चला, हम दोनों पूरी तरह से नंगे बिस्तर पर पड़े थे.

मैंने झपटकर आंटी को दीवार से लगाया और उनको किस करने लगा, क्या मस्त सीन था यार. अब वो भी जल्दी जल्दी मुझे चोदने लगा और उसने सारा पानी बुर में ही छोड़ दिया, पर कंडोम में ही पानी रह गया. हम जिस मकान में रहते थे, वहाँ मकान मालिक नहीं रहता था, लेकिन उधर दो कमरे और भी थे, जो किराए पे लगे हुए थे.

अब मुझे पता लग गया था कि तबस्सुम लड़कों को घर पर भी बुला कर अपनी चूत को चुदवाती है. एक दिन मैंने देखा कि वो किसी लड़की को कमरे में लाकर चोद रहा है, उसका लंड देख कर मेरी कामवासना भी हिलौरें लेने लगी. रूबी बोली- तैयार हो जाओ, जवानी की गलियों के दीदार को!उसने अपनी कमर थोड़ी उठाई.

उसे सम्भालने के चक्कर में मेरा हाथ उसके चूचों पर चला गया और मैंने भी मौके का फ़ायदा उठा कर उनको मसल दिया.

मैंने सब बातों पर गौर किया और मन पक्का कर लिया कि आज इनकी चुत को भी चोद लेने में कोई हर्ज नहीं है. मैंने अपना एक हाथ पीछे से उसके लोवर में डाल दिया, उसने पेंटी पहनी थी, उंगली चूत तक गई तो मालूम हुआ कि कोमल की चूत से पानी निकल रहा था. वो मुझसे बार बार बोल रही थी- सरताज़ प्लीज जल्दी कुछ करो!मगर मैं उस वक़्त उसकी एक बात भी नहीं मानने वाला था, अगर मैं जल्दबाज़ी करता तो उसे दर्द होता फिर वो कभी दुबारा राज़ी न होती.

बस 10-15 झटके में मैंने मेरे लंड का माल उसकी चुत में छोड़ दिया और उसके ऊपर गिर गया. हम दोनों ने एक-दूसरे को हाय हैलो किया और फिर वो अपना सामान अपनी सीट पर रख कर मेरी सीट पर ही नीचे बैठ गई और बोली- आपका नाम क्या है डीयर?मैं निशा और आपका नाम?”मैं अनुप्रिया!”और फिर हम दोनों काफी देर बातें करती रही. सुनीता ने आपके लंड की इतनी तारीफ की थी कि मैं भी खुद को रोक नहीं पाई और मैं यहाँ आप से चुदवाने के लिए आ गई.

जब बहन उतर गई तब उसने पूछा- आजकल क्या कर रहे हो?तो मैंने बताया- मैंने मोबाइल और कंप्यूटर की एक शॉप खोली है.

ट्रेन इतनी स्पीड में जा रही थी कि मैं थोड़ा सा ही अंदर-बाहर करता तो ट्रेन की कम्पन की वजह से उंगली और तेजी से अंदर जाती. उधर विकी मेरे निप्पलों को बुरी तरह से मसले जा रहा था और मैं भी उसके लौड़े को जबरदस्त तरीके से खींच रहा थी.

बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ एक दिन मैं जब मार्किट से आंटी का कुछ सामान लेकर उनके घर आ रहा था तो अंदर एकदम से नजर आंटी पर चली गयी, वो उस समय मूत रही थी, शायद उन्हें जोर की लगी थी इसलिए टाइलेट के बाहर ही मूत रही थी. अरुण अपने ऑफिस के लिए निकला था, वह अपनी बाइक को स्टार्ट करके निकला ही था कि कुछ ही दूर एक लगभग 27 वर्ष की औरत खड़ी थी.

बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ जैसे ही वो अपना पूरा लंड मेरे मुँह में डालता, मुझे खांसी आ जाती, मेरे गले में उसका लौड़ा अटक जाता. तो फिर वो मनाने के लिये सब खुल के बात करने लगी, बोली- अच्छा तो आप सेक्स के लिए बोल रहे थे!मैं- हाँ.

वो मना करने लगी, पर अब मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता था कि वो क्या चाहती है.

हिंदी एचडी फुल बीएफ

मम्मी…” मैं भर्राये गले से बोली। मुझसे मम्मी की हालत देखी नहीं गयी, उनका सुन्दर चेहरा मुरझा गया था, आँखें ऐसी सूजी हुई थी जैसे वो सालों से सोना भूल गयी हो। मुझे ज़िन्दगी में पहली बार मम्मी के दुःख का एहसास हुआ।मुझे मम्मी मत कह… मैं तेरी माँ नहीं सौतन हूँ। जा चली जा यहाँ से… मुझे तुम लोगों की जरूरत नहीं है। मैं अकेली जी सकती हूँ. जब भी मैं बुआ के घर उसके सामने पड़ जाती हूँ, वो मेरी चूची के उभार को घूर कर देखता है और मेरी उठी हुई गांड भी देखता है. मैंने अपना हाथ आगे ले जाकर उसकी चुत में अपनी उंगली डाल दी और चूत को अपने उंगली से चोदने लगा.

मैं अभी इस सबके मजे ले ही रही थी कि अचानक उसने लंड को मेरी बुर के मुँह पर लगा कर सुपारा रगड़ दिया. जब मेरा लंड लोहे की रॉड की तरह खड़ा हो गया, तो सोनम ने मेरी पेंट और निक्क़र निकाल दी और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. उसने हैरत से पूछा- उससे क्या होगा?मैं बोला कि तब गाड़ी स्टार्ट नहीं होगी, अगर हो भी गयी तो कुछ दूर आगे जाने के बाद बन्द हो जाएगी और तुम कहना कि आज मेरा बहुत इम्पोर्टेन्ट पेपर है, तो वो तुमको अकेले जाने देगा और तुम मेरे पास आ जाना.

वरुण की सिसकारियां चालू हो चुकी थी- आआआआ… मज़ा आ रहा है।मैंने बेटे का लंड अपने मुंह में लिया, मानो वरुण तो पागल ही हो गया हो, मेरी जीभ के गर्म स्पर्श से उसका लंड और टाइट हो रहा था मानो फट ही जायेगा.

बापू उस वक़्त जब वो पेंट से अपना लंड निकाल रहा था, तब ऊपर पद्मिनी को चूमते और चाटते जा रहा था. इस बार मैं नीचे लेट गया और सुरेश जी को मेरे मुँह पर आकर बैठने को कहा. अचानक उसने अपने कच्छे को उतार दिया और मेरा सामना एक भुजंग से काले लंड से हो गया था.

सबसे पहले तो उसने अपना पैंटी और ब्रा उतारी और एक ढीला सा टॉप और स्कर्ट पहन लिया जिसमें उसका जिस्म बहुत ही ज्यादा कामुक दिख रहा था. उसने विक्रम के लंड के कड़ापन को महसूस किया… वो बहुत ही ज्यादा सख्त था… काफी लम्बा भी था. फिर उस लेडी ने पूछा कि कैसे हो, कहां हो?मैंने उसकी इन बातों का रिपलाई दिया औऱ पूछा- आप कौन हो मैडम? शायद गलती से आपने गलत नम्बर डायल कर लिया है.

मैंने कहा- देखो किसी को तो डेट पर आने पर कितना प्यार मिल रहा था है. मैं साथ साथ अपने हाथों से उनकी जांघें, दूध, बगलें, पेट, गांड सब मसल रहा था.

मैंने कहा- हां, बता क्या बात है?तो वो कहने लगी- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं सोनम, ऐसे ही बाहर खड़ा हूँ. इस हरकत ने उसके अन्दर की आग भड़का दी और हमें एक दूसरे के पास ला दिया. मैं अपनी बीवी के चूतड़ पकड़ कर अपना लंड बीवी की चुत में अन्दर बाहर करके चोदने लगा.

यहां मैं उसके लौड़े के लिये मरी जा रही थी और वो वहां मेरी तड़प बढ़ा रहा था.

एक दिन हम दोनों हमारे घर बैठ बात कर रहे थे, तो उसने मुझसे सेक्स की जिद करनी शुरू कर दी. करीब 15 मिनट तक लंड चूसने के बाद मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और वो मेरा पूरा माल गटक गयी. मैंने उस दिन बिना अंडरवियर के पैंट पहनी हुई थी, जो कि मेरी हैबिट भी है.

फिर कुछ मिनट बाद हम दोनों झड़ने वाले थे तो मैंने उसकी गांड में ही सारा माल भर दिया. मेरा जोश और बढ़ रहा था मैंने मनोहर को अपनी बांहों में कस के पकड़ लिया और बोली- हां मेरे राजा, चलूंगी तेरे साथ, जहां तू बोलेगा, तू मुझे अपनी बीवी आज से अभी से मान लें, तू बहुत हरामी है मादरचोद मनोहर क्या मस्त चोदता है.

फिर सोते वक्त मौका देखकर उन्होंने अपना फोन देते हुए कहा कि जल्दी से नम्बर सेव कर दो. स्कूल में आते ही बृजेश ने पूछा- भाभी जी, कहाँ गयी थीं?मैंने बोला- कहीं नहीं घर (ससुराल, जो स्कूल के पास ही है) चली गयी थी. उन्होंने फिर से अपने सारे कपड़े निकाल दिए और कहने लगे कि सुनीता तुम्हारे आने से रूम में बहुत गर्मी आ जाती है.

नंगी बीएफ सेक्सी चुदाई

मैंने जूली को कहा- जो होना था सो हो गया, आज तुम्हें मैं जन्नत की सैर करवाऊंगा और जब तुम कहोगी, तभी तुम्हारी चूत में लंड डालूँगा.

बापू अपने मज़बूत हाथों से पद्मिनी के हाथों को वहां से हटा रहा था, पर पद्मिनी पूरा ज़ोर लगा कर, दोनों जांघों को एक दूसरे के ऊपर क्रॉस करके अपनी पेंटी छुपा रही थी. जैसा कि रणविजय ने बाद में बताया:रीना और रणविजय ने दूसरे कमरे में जाते ही एक दूसरे को गले लगाया जैसे कि बिछड़े प्रेमी हों. उतने में राजू का फोन आया, उसने बोला- नीचे आ जाओ, मैं भी आने वाला हूँ.

यह तो मजबूरी है कि लंड अपना पानी निकाल कर चुत से बाहर आ जाता है और फिर कुछ समय बाद उसे दुबारा खड़ा होना पड़ता है, वरना मैं तो इसे तुम्हारी चूत में डाल कर निकालना ही नहीं चाहता. पीयूष ने पहली बार मुझे वन्द्या कहकर बुलाया कि वन्द्या तुम बहुत मस्त लग रही हो. टीचर सेक्सी वीडियो बीएफमैंने भी नीचे से ज़ोर लगाया और पूरा लंड सरकता हुआ अन्दर तक पेल दिया.

जिसे सोनू समझ गया और मेरी यह हालत देख कर जोश में सोनू का भी गिर गया. उनके मस्त हिलते दूध दबा दबा कर चूसते हुए मैंने नीचे से अपनी गांड उठा कर उनकी चूत चुदाई करने लगा.

एक दिन की बात है, मैं अपनी शॉप पर जा रहा था तो देखा कि सलमा टेम्पू स्टैंड पर खड़ी थी. सतीश, तुम मेरे बारे में कल क्या कह रहे थे झूठ मूट ही सब कहते रहते हो. ”यह कहकर मैं आ गया, मैं जानता था कि जल्दी से कुछ नहीं मिलने वाला, बस थोड़ा टाइम और लगेगा.

उन्होंने सर पलटा कर मेरी आँखों में देखते हुए मेरे होंठों को अपने होंठों में ले लिया और चूसने लग गईं. दे दनादन… दे दनादन… उसकी गांड गरम हो गई, मेरी सांस जोर जोर से चलने लगी, पसीने पसीने हो गया, दिल धड़कने लगा. मेरे लंड का साइज़ 7″ है, जो किसी भी भाभी, आंटी, या लड़की की चूत की आग को शांत करने के लिए काफी है.

फिर पद्मिनी ने अपनी आँखों को बंद करते हुए अपने छोटे मुलायम हाथों में पहली बार अपने बापू के मोटे लंड को पकड़ा और उसको सहलाना शुरू किया.

अपनी माशूका का नंगा बदन देख कर मेरे मुँह में पानी आ गया और मैं फिर से उसके स्तन चूसने लग गया. मेरी उसी विरहा सी गांड में सुरेश जी ने अपने गाढ़े वीर्य के पानी से पिचकारी छोड़कर, मेरी गांड को पूरा भर दिया.

आगे क्या क्या हुआ? क्या विकी ने मुझे वहीं चोद दिया या कुछ और घटित हुआ? बाद में हमने क्या क्या जंगलीपन किया, ये सब आगे के भाग में आप पढ़ सकेंगे. इस बार मैंने अपना लंड निकाला और सीधा मामी की चूत में डाल दिया जो कि चूत के रस से एकदम गीली हो चुकी थी. आज के जमाने में लड़की को प्राकृतिक रूप से वयस्क हो जाने के बाद और दस बारह वर्ष तक जब तक शादी न हो जाय अपनी चूत की खुजली पर कंट्रोल रखना पड़ता है.

फिर क्या, वो फिर से उसी क्लब में पहुँच गयी, लेकिन इस बार उसने अपनी एक्टिवा के बैक मिरर से मुझे उसके पीछे आते हुए नोटिस कर लिया था. एक पल के लिए जरा सा ठिठक कर चाची ने अपनी गांड को उठाकर धक्के लगाते हुए मेरे लंड से मुकाबला करना चालू कर दिया. फिर कुछ देर ऐसे ही बात होती रही। बात बस वो ही ज्‍यादा कर रही थी। मैं तो बस हॉं हूँ से काम चला रहा था। कुछ देर बात करते करते मैंने उससे कहा कि मुझे उससे बात करके बहुत अच्‍छा लग रहा है.

बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ ”ठीक है, मैं तैयार हूं मगर एक बार फिर सोच ले … कुछ गड़बड़ तो नहीं होगी?” मैंने पूछा।कुछ नहीं होगा यार … वैसे वो ज़्यादा से ज़्यादा मुझे चोद ही तो लेंगे बस, उसके लिए में तैयार हूँ. जब पद्मिनी ने टीचर के बारे में कहना शुरू किया था, उस वक्त वो अपनी पेंट में से ज़िप खोल कर अपना लंड निकालने वाला था.

सेक्सी बीएफ देना वीडियो

फिर मैंने भी मन में सोचा वो लड़का कोई और नहीं मेरा दोस्त है, जो तुझे ठोकता था. उस पर उसकी मादक सिसकारियां मुझे वैसे ही पागल किये जा रही थी! एक कामुक आवाज के साथ मंजू की आँखें बंद होने लगी. अब हमारी परीक्षाएं नजदीक आ गई थीं और हम पढ़ाई भी साथ साथ करने लगे थे.

मैंने तीनों के लिये एक एक और पेग बनाया और हम धीरे धीरे सिप लेने लगे. मैं उसके घर जा पहुँचा, वो मुझे देख कर बहुत खुश हो गयी, उसने मुझे अन्दर आने को बोला, मैं भी उसके पीछे चल दिया. बीएफ नंगा चोदा चोदीतो भाभी ने कहा- राहुल, बस अभी दस मिनट में बन जाते हैं पकौड़े… तुम खाये बिना मत जाना!मेरा तो पहले से ही मन था तो मैंने कुछ नहीं कहा, बस उनके सामने हां में सर हिला दिया.

अब मजा आ रहा है न?” उसने दूसरे हाथ को नीचे ले जा कर मेरी गोद में मौजूद दूध मसलते हुए पूछा।हं-हां।”बस ऐसे ही लंड से भी आयेगा, थोड़ा छेद ढीला हो जाये बस।”करो कैसे भी.

उनका लंड इतना मोटा था कि मेरे मुँह में पूरी तरह से नहीं आ पा रहा था. इस चीज़ में पहली बाधाएनल सेक्सथा जो मैं पार कर ही चुकी थी और दूसरी बाधा दोनों से उस तरह का रिलेशन होना था जो कि आलरेडी था।”अब अगर मान लीजिये आपको इसके लिये जाना पड़े जहाँ एक हाफ अजनबी हो, यानि मैं और एक फुल अजनबी यानि मेरा कोई दोस्त.

उस परिवार में मियाँ बीवी, उनका एक 4 साल का बेबी और एक बूढ़ी अम्मा जी रहती थीं. वो दोनों इंग्लिश और हिंदी में अपने अपने पतियों को गालियां भी दे रही थीं कि साले नामर्द पति इतनी खूबसूरत चुत भी नहीं चोद पा रहे है भैन के लौड़े… और ये हरामी इतना बड़ा लंड घर में अपनी गांड में घुसाए बैठा था. मैंने सोनू को पूछा- वहां सब आपका इंतजार नहीं कर रहे होंगे क्या?सोनू ने कहा- वो सब शालू संभाल लेगी और मैं ये वक़्त सिर्फ आप के साथ बिताना चाहती हूं। शालू को सब पता है और उसने सारी सेटिंग कर दी है।आसमान में चांद की हल्की हल्की रोशनी थी,और नीचे सोनू की आंखों मेंउस की आंखों में एक दर्द भी थाएक ऐसा दर्द जो इंसान को जीने के काबिल नहीं रहने देता लेकिन मरने भी नहीं देता.

अभी तक आपने पहले भागोंमामी की चूत चुदाई का आनन्द-1मामी की चूत चुदाई का आनन्द-2मामी की चूत चुदाई का आनन्द-3में पढ़ा कि मामी की मैंने कैसे चुदाई की थी.

थोड़ी देर मयूरी की मस्त चूचियों से खेलने के बाद रजत ने मयूरी को सोफे पर लिटा दिया और खुद उसके ऊपर चढ़ गया. पद्मिनी बोली- पहले मुझे सुन लीजिए जो मुझे टीचर के बारे में कहना है, फिर देखना वहां… और जो मन में आए कर लेना. फिर मिलेंगे!दोस्तो, आपने मेरी बीवी की चूत चुदाई की यह कहानी संजू के शब्दों में सुनी, बोल उसके थे, लेखनी मेरी!अंत में मैं यही कहना चाहूंगा कि जिसे यह कपोल कल्पित कहानी लगे, वो उसकी अपनी सोच… जिसे हकीकत लगे, वो उसकी अपनी समझ!मुझे मेसेज में उल्टे उल्टे सवाल पूछ कर मेरा अपना समय न बर्बाद करें.

बीएफ चाहिए बीएफ हिंदी बीएफअब मेरी एक उंगली आसानी से अन्दर बाहर हो रही थी, तो मैंने अपनी दूसरी उंगली भी मामी जी की गांड में घुसा दी, जिसकी वजह से उनको थोड़ा सा दर्द हुआ, लेकिन उन्होंने कहा कि अपना काम करते रहो. वो फिर बोलेगी कि बड़ी है तब तू मैसेज करके बोलना कि माँ आपका साइज़ बता दो, मैं आपके साइज की ले आऊँगा और ट्रांसपेरेंट टाइप की ब्रा पेंटी लेना।वरुण- अच्छा ठीक है, वैसे मैं आज रात ही जयपुर जा रहा हूँ.

सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ सेक्सी बीएफ

सर के जाने के बाद मैं उस बुक को पढ़ने लगी, उन पुस्तकों में सिर्फ सेक्स की कहानियां लिखी थीं, अब मैंने जिन्हें पढ़ना शुरू कर दिया. अगले दिन रात के नौ बजे थे, मेरी दरवाजे की बेल बजी, देखा तो आंटी सामने थी. तो उन्होंने मुझे मेसेज किया- विकी कॉल मी अर्जेंट…मैं तो डर गया कि क्या होगा?फिर मैंने कॉल किया और कहा- कॉल किया था आपने मिस्टर मेहता?उन्होने कहा- अरे विकी, कहाँ हो तुम?मैं बोला- अंकल में बाइक चला रहा था तो फोन नहीं पिक कर सका.

मैंने अपनी अंडरवियर भी निकाल दी और उसके सामने मेरा फ़न फनाता हुआ 8 इंच लंबा लौड़ा सामने तन कर खड़ा हो गया, जिसे देख कर वह डर गई और एकदम बोली- यह मुझसे नहीं होगा. मैं बोला- अगर आप गांड चुदवाना चाहती हो तो अभी आ जाओ, मैं तैयार हूँ. फिर मैंने अपनी जैकेट और टी-शर्ट उतार दी और उनकी उनके सामने ही नकल करने लगा तो वो हंस पड़ीं.

मैंने उससे पूछा- तुम्हारे बॉयफ्रेंड का लंड कितना बड़ा था?तो उसने बताया- उसका तो साले का बहुत ही पतला और छोटा सा था, आप से तो आधा भी नहीं था. जब क्लास में कोई नहीं था तो वो मेरे पास आई और उसकी आंखों में धीरे धीरे आंसू आने लगे. लेकिन तभी उन्होंने जोर से धक्का देकर मुझे अपने ऊपर से हटा दिया और बिस्तर से नीचे उतर गईं.

दोस्तो, आपको मेरी कहानी कैसी लग रही है? अपने कमेंट्स जरूर भेजें!मेरा ईमेल है:[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरे बेटे की डायरी: बेटे ने अपनी माँ को चोदा-2. मैं खुश हो गई और बोली- जरा 5 मिनट रुक, मैं सज धज कर दुल्हन बन जाऊं, फिर सुहागरात का खेल खेलेंगे.

उधर वो मजदूर जिसका नाम मनोहर था, वो बोला- क्यों चाचा मैं ऐसे ही सूखा खड़ा रहूं क्या दर्शक बनकर, मैं भी इंसान हूं.

लंड पर उसके नरम होंठों का स्पर्श हुआ तो जैसे मैं आसमान की सैर करने लगा था. यूपी की बीएफ पिक्चरऐसा करने से मैं और गर्म हो गया और कुछ ही पलों में भाभी की चूत में ही झड़ गया. हिंदी मूवी बीएफ सेक्सी पिक्चरउसके बाद भाभी ने मेरे लंड को सहलाते हुए कहा कि सब कुछ नहीं पर करोगे कि मुझे रूम में ले जाओगे. इस वक्त मेरा लंड भी मेरी पेंट में तंबू के बांस की तरह खड़ा हो गया था.

उसका एक हाथ मेरे निप्पलों को मींज रहा था और एक हाथ मेरी गांड पर घूम रहा था.

एक ही धक्के में मेरा लंड पूरा घुस गया चाची की चूत में… और चाची ने एक करारी सी आह भरी और मेरा मूसल पूरा का पूरा निगल लिया. एक बात समझ लो दोस्तो… किसी औरत की चूत को चाट लो तो जिंदगी भर वह तुम्हें नहीं छोड़ेगी. उनका गाढ़े, गरम वीर्य की पिचकारियां मुझे मेरी गांड में साफ़ साफ़ महसूस हो रही थीं.

सुधा भाभी- अब मैं भी बेवफ़ाई करके उनसे बदला लूँगी और तुम अपने बॉस की बीवी को भोग कर अपनी बेइज़्ज़ती का बदला लो. करीब 20-25 धक्कों के बाद वो झड़ गई, जिससे उसका कामरस उसकी जांघों से बह निकला. इसके बाद तो समझो दोनों रंडियां भूखी शेरनी की तरह मेरे लंड पर टूट पड़ीं.

हॉट बीएफ दिखाइए

मैंने उसको किस किया और पूछा- दर्द हुआ?उसने अपने होठों को जोर से बंद कर रखा था और नहीं का इशारा किया. सभी पेपर आदि कंप्लीट किए और अब मेरे डॉक्यूमेंट्स अच्छे से तैयार हो गए थे. एक घंटा भी नहीं हुआ था कि अचानक ऐसा लगा कि मेरे पास में कोई आया है.

उन्होंने इस बात को छुपाने के लिए एक शर्त रखी और मैं उनकी शर्त पूछ ही रहा था, तभी निशा का कॉल आ गया.

क्या यह सच है?मैं बोली- हां अंकित आ जाओ, मुझे तुमसे लंड घुसवाना है, यह लालजी तुम्हारे सामान की बड़ी तारीफ कर रहा है.

वरुण- माँ आपने कहा था शॉपिंग मेरी पसंद से होगी, आप अपना साइज दो, मैं लेकर आता हूँ!सविता- ठीक है, 36डी 32 38फिर हमने इस साइज की 3 ब्रा पेंटी का सेट लिया और फिर हम घर के लिए निकल गए।जब हम कार में थे तो मेरे बेटे ने मुझसे पूछा- माँ शॉपिंग करके कैसा लगा?सविता- अच्छा लग रहा है!फिर हमने थोड़ी जनरल बातें की और घर पे आ गए. वो भी साला कहने लगा कि मेरे लिए तो यह लॉटरी है मुझे मौका चूकना नहीं चाहिए।मेरा दोस्त दीपक भी बहुत कमीना था, उसने भी फैज़ाबाद में एक लड़की फंसा ली थी, उससे वो रात रात भर बातें भी करता था, मेरे दोस्त दीपक को पोर्न फिल्मों का भी बहुत शौक था, वह कभी-कभी तो पूरी पूरी रात पोर्न फिल्में ही देखकर बिताता था।फिर एक दिन वह हुआ जिसकी मुझे बहुत दिनों से तलाश थी. हिंदी बीएफ गांव देहात कीशाम को उसे बुला कर गीता से मिलवा दिया और बोला कि तुम दोनों अब पति पत्नी बन कर उस डॉक्टर के पास जाओ.

मेरी चीखने की आवाज सुनकर भाभी वापस दौड़ते हुए आईं, तब तक मैंने अपनी कैप्री को ऊपर चढ़ा लिया था. मैं खुद डॉगी स्टायल में होकर एक हाथ से पेन्सिल अपनी गांड में डाल के उस पेन्सिल को आगे पीछे करता था. मैंने ओके बोला और कहा कि मेरे लायक कोई काम हुआ करे तो बता दिया कीजिएगा.

फिर मैंने अपने हाथों से धीरे धीरे उनके दूध को दबाना शुरू किये लेकिन मुझे बहुत डर लग रहा था कि कहीं वो जाग ना जायें!जैसे ही वो थोड़ा हिली, मैंने तुरन्त हाथ हटा लिया. हम एक बार तो जरूर ही ये सब करेंगे, इसके लिए मुझे कितना भी दर्द क्यों न हो.

वो बहुत ही उत्तेजित हो रही थी, उसके मुँह से चुदास से भरी सिसकारियां निकल रही थीं.

दो तीन दिनों में उसने मेरी रितु को हेल्लो बोला और कहा- आप बहुत खूबसूरत हैं. मैं दिल्ली अपनी कोचिंग के लिए आया था, काफी रूम देखे लेकिन कोई पसन्द नहीं आया. उसने मेरे गले से हाथ करते मेरे बालों में हाथ डाला और मुझे खींच के स्मूच करने लगी.

बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाएं सेक्सी अब तो मैं रोज ही ऊपर चली जाती हूँ और पूरी रात में वो सीनियर सिटीजन मुझे 2 या 3 बार तो चोदते ही हैं. और फिर जेम्स ने रितु कि बेड पर लिटाया और जोर जोर से धक्के मारने लगा, जेम्स बोल रहा था- आई ऍम कमिंग!और फिर उसने रितु की चूत में ढेर सारा वीर्य छोड़ दिया और उस पर गिर गया.

उसके बाद पेट… क्या पेट था उसका… गोरा और सपाट जिसे देखकर बाहुबली की तमन्ना भाटिया की याद आ गई, वह भी इसके आगे कुछ नहीं थी, साड़ी में से किसी को रीना का पेट भी नजर आ जाए तो उसका लिंग सलामी देने लगे।रीना की गोरी मोटी जांघें करीना कपूर की याद दिलाने लगी थी, क्या सेक्सी टांगें थी उसकी बाल रहित… गोरी चूत जिसके दर्शन अच्छे से नहीं हो रहे थे क्योंकि वह अपनी टांगों को पीछे हुए खड़ी थी. आपको बता दूँ मैं उन्हें पहले से ही चोदना चाहता था लेकिन वो मुझसे बड़ी थी उम्र में भी और रिश्ते में भी तो इस कारण डरता था. उसने टॉप और ढीला सा लोवर पहन रखा था। मैंने धीरे धीरे उसके टॉप को उतारने की कोशिश की और उतार कर अलग डाल दिया.

बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर ब्लू पिक्चर

मम्मी ने मुझसे कहा- तुम लेटो जाकर, मैं आती हूँ।मैंने कहा- मैं सोफे पे सो जाऊँगी. एक दिन वो स्कूल नहीं आया तो मैं भी हाफ टाइम में घर आ गई और फिर उसके घर उस से मिलने गई तो वो कंबल डाल कर सो रहा था. उसके बड़े-बड़े बूबे जो कि बिल्कुल तने हुए थे आगे की तरफ लाल रंग के चूचुक… मैं समझ नहीं पा रहा था कि इतने बड़े होते हुए भी ये स्तन बिल्कुल भी लटके हुए नहीं हैं.

थोड़ी देर बाद विक्रम घर आ गया अपनी कोचिंग क्लास कर के … उसने दरवाजे की घंटी बजायी और मयूरी ने शीतल को दरवाजा खोलने को कहा और उसने बताया कि वो अपने कमरे में जा रही है, तो इस वक्त खुल कर अपने बड़े बेटे पर लाइन मार सकती है. ”थैंक्स नीतू!” कहकर वे अपने हाथ मेरे गालों पर ले आए और मेरे गालों को सहलाने लगे। एक नाजुक पल हम दोनों के बीच में पैदा हो गया था। मैंने भी अपने हाथ उनके हाथों पर रख दिए, हम दोनों भी एक दूसरे के आँखों में देख रहे थे।कहानी जारी रहेगी.

उसने इस बार मुझे इतना ज़ोर से और इतनी देर तक चोदा कि मैं अधमरी कुतिया जैसी हो गई.

दे दनादन… दे दनादन… उसकी गांड गरम हो गई, मेरी सांस जोर जोर से चलने लगी, पसीने पसीने हो गया, दिल धड़कने लगा. एक तो मुझे मेरे मोटे और बड़े लंड की प्रॉब्लम होती है, क्योंकि कुँवारी लड़की मेरे लंड को पहले दिन लेने से घबराती है. साढ़े चार बजे बहू ने मुझे चाय के लिए जगा दिया- उठ जाइए पापा जी, टी टाइम!बहूरानी मुझे हिला कर जगा रहीं थीं.

उसके बाद मेरी और उसकी धीरे धीरे फोन पर बातें होने लगीं और हम अब अच्छे दोस्त बन गए थे. तुम्हें भी पता है कि कुछ समय पहले हम दोनों एक दूसरे को किन नज़रों से देखा करते थे. मैंने चाहा था कि वे दोनों मेरी मारें पर मैं इस तरह जोर से कभी कह नहीं पाया और मेरे ही सामने एक दूसरे की मार रहे थे, मेरी गांड बुरी तरह कुलबुला रही थी मराने को मचल रही थी।जो मैं देवेश से न कह पाया, वो सुमेर ने कह दिया और गांड मरवा ली, एक लम्बे मोटे लंड का मजा ले लिया.

मैं वासना के शिखर पे था, वो हार मानने वालों में नहीं थी, मेरे मोटे लंड को मेरी बहन पूरा निचोड़ना चाहती थी.

बीएफ सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ: ये बात उन दिनों की है, जब मेरा नया नया मतलब ताज़ा ताज़ा ब्रेकअप हुआ था. वो फिर बोलेगी कि बड़ी है तब तू मैसेज करके बोलना कि माँ आपका साइज़ बता दो, मैं आपके साइज की ले आऊँगा और ट्रांसपेरेंट टाइप की ब्रा पेंटी लेना।वरुण- अच्छा ठीक है, वैसे मैं आज रात ही जयपुर जा रहा हूँ.

रात के करीब 12 बजे मेरी नींद खुली तो देखा कि उनकी टांग मेरी टांग के ऊपर रखी है और वो गहरी नींद में थी. एक दिन मैं सुबह सोकर उठी तो घर में महाभारत शुरू थी, हॉल में मम्मी पापा एक दूसरे को अपनी आवाज़ से दबाने की कोशिश करने में लगे हुए थे, मुझे स्कूल के लिए देरी हो रही थी तो मैं उन लोगों पर ज़्यादा ध्यान न देकर अपने बाथरूम की तरफ बढ़ गयी, बाथरूम में जैसे ही मैं अन्दर गई, लाइट जलाई लेकिन रोशनी नहीं हुई… शायद लाइट खराब हो गयी थी. मैं इतना सुनते ही खुश हो गया और बोला कि क्यों नहीं, जरूर लेते आऊंगा.

वल्लिका के पति शालीन एक प्राइवेट फर्म में सेल्स अफसर के पद पर काम करते थे.

मगर पता नहीं जब से उसने तुम्हें देखा है, उसका पूरा ही मन बदल गया है. उत्तेजजना बढ़ने के साथ ही वह मेरे बाल पकड़ कर अपनी चूत पर जोर से दबा रही थी, उसकी चूत रस और मेरे जीभ से निकल रहे लार के कारण जोर जोर से चट चट की ध्वनि निकाल रही थी. मैं उसकी गांड में धीरे धीरे थप्पड़ लगाने लगा जिससे वो थोड़ा थोड़ा आह आह की आवाज़ निकालने लगी और उसकी गांड भी लाल होने लगी।जूही की चुदाई करते करते उसके दोनों चुचों को जोर जोर से दबाने लगा और उसकी चूत में बड़ी तेज़ तेज़ धक्के लगाने लगा और उसके गले और कान में काटने लगा.