नाबालिक लड़की की बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ चालू हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी मां को चोदा: नाबालिक लड़की की बीएफ, मैंने लंड मौसी के मुँह में दे दिया, उन्होंने मेरा सारा माल पी लिया.

हिंदी ब्लू बीएफ बीएफ

तुम्हारा कोई समाचार ही नहीं मिलता था, इसलिए मैं सोचा कि शायद तुमको मेरी जरूरत खत्म हो गई है. देसी बीएफ मूवी हिंदी मेंमैंने भी आखिरी पांच मिनट की धुआंधार चुदाई की और मेरा भी पानी आने वाला हो गया.

कुछ देर बात वहां एक बड़ी सी कार आयी और कार अम्मी की थोड़ी आगे को रुक गई. साल लड़की के बीएफएक अनाड़ी परवाना सेक्स की आग में जल जाने को बेताब था और एक खिलाड़ी हुस्न की शमां उसको जलाने के पहले उससे खेल रही थी.

मैंने उसे और जोर से बांहों में भर लिया और धीरे से कहा- हां मैं तुझे पसंद करता हूँ.नाबालिक लड़की की बीएफ: मुझे एक लड़की पसंद आई और …दोस्तो, मैं अपनी चुदाई कहानी आप लोगों के बीच शेयर कर रहा हूँ जो कि बिल्कुल सच्ची घटना पर आधारित है.

फिर उन्होंने मुझे पेट के बल लेटा दिया और मेरी दोनों टांगें फैला दीं.अलफिया- हाय अम्मी मर गई!इस तरह आवाज करती हुई वो मेरा मुँह अपनी चूत पर दबाने लगी थी और मुझ पर झुक कर अपने हाथ से मेरा लौड़ा दबा रही थी.

इंग्लिश बीएफ चुदाई इंग्लिश - नाबालिक लड़की की बीएफ

मैंने भी सोचा पहले चुदाई, उसके बाद कुछ और … इसलिए मैंने मिलने से ये कह कर मना कर दिया कि उधर तू लेने तो देगी नहीं.ये सब उसकी पहले से तबीयत खराब होने से और उसकी काफी दिन बाद चूत और गांड मारने के कारण थी.

तभी रिया ने मुझसे पूछा- साली तू क्यूं इतना चीख रही है, ये सब तो हमारे साथ भी हुआ था न … हम तो ऐसे नहीं चीखी थीं. नाबालिक लड़की की बीएफ मुझे मजा आने लगा क्योंकि रोमा ने बिना किसी हुज्जत के लंड चूसना चालू कर दिया था.

मेरी तो विश्वेश्वर जी से बात हो ही चुकी थी, पर ये बात अरुणिमा को पता नहीं थी.

नाबालिक लड़की की बीएफ?

मैंने अरुणिमा को गर्म पानी से नहलाया और उसके बदन पर क्रीम बाम वगैरह लगा कर उसको सुला दिया. चार से उसने खुद को थोड़ा आगे निकाला, छह-पांच से मैं भी एक लंबी छलांग मारकर उसके करीब जा पहुंचा. मैं आँखें मसलती हुई उठने का नाटक करने लगी।हमारी बस रिसॉर्ट पहुंच चुकी थी और मैं मन में तरकीब लगा रही थी कि कैसे चुदूँ.

वो इतनी जोर से और मस्ती से मेरे लंड को चूस रही थीं, मैं तो जैसे अचेतन हो गया था. लेकिन आप फिर भी इतना गुस्सा हैं कि पता नहीं मुझसे क्या गलती हो गई?ये बोल कर मैं चुप हो गया. वो थोड़ा तेजी से खींच रही थी तो मुझे अन्दर से थोड़ा दर्द हो रहा था लेकिन मैं कुछ नहीं बोली.

हैदराबाद से गुंटूर यह 5 घंटे का सफर मुझे जैसे कि पांच सदियों जैसा लग रहा था. मेरा लंड झड़ने वाला था और वहां उसकी चूत में से भी रस निकलना जारी था. थोड़ी देर बाद मैं साक्षी की सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत को सहलाने लगा जिसका उसने कोई विरोध नहीं किया.

मैं कुछ बोलने का सोच ही रहा था कि अचानक मुझे अरुणिमा की मादक सिसकारियों की आवाज सुनाई दी. मैंने उन्हें असली वाले डिल्डो दिखाए और कहा- सालो, इन डिल्डो से तुम सबकी चुदाई होगी.

मेरी चूत उनके सामने खुल चुकी थी, वो झुके और उन्होंने मेरी चूत में अपना मुँह लगा दिया.

कोई 5 मिनट ऐसे ही चोदने के बाद अमित थक गया, तो वो लेट गया और उसने मुझे अपने लंड पर बैठा दिया.

मेरी गांड चोदते समय मदन जी ने मुझसे पूछा- यदि तुम्हारे और चार पति होते, तो तुमको रोज चुदाई का ज्यादा मजा आता?मैं बोली- आप मेरे पति होकर ऐसी बात कैसे कर सकते हैं?मदन जी- यदि ऐसा हुआ, तो भी मैं तुमको प्यार करूँगा. मुझे ब्लूफिल्म से ज्यादा अच्छी सेक्स कहानी पढ़ना लगा क्योंकि सेक्स कहानी पढ़ने में मेरी कामोत्तेजना बहुत अधिक बढ़ जाती थी और साथ में जिनके बीच सेक्स होता था, उनके बारे में साफ़ साफ़ समझ आता था. उसने फिर से ठेल मारी और मेरे मुँह से तेज आवाज निकली- आई मम्मी मर गई … आह छोड़ो मुझे … आई मम्मी अअह क्या कर रहे हो!उसे मेरी बात याद थी.

वो वापिस वीडियो देखने लगा और मैं, हम दोनों के लिए कुछ नाश्ता बनाने लगा. मैं- क्यों नहीं जान, अब तो तू ही मेरी हर जरूरत पूरी करेगी और तेरी जवानी की गर्मी मैं ही मिटाऊंगा. ये कह कर वो भाभी की चूत की तरफ चली गईं और खुद वाइब्रेटर को अन्दर बाहर करने लगीं.

जैसे ही मैंने मीनू को छोड़ कर मैं बाहर को आने लगा, वो फर्श पर गिर पड़ी.

जया बोली- रोज तुम्हारे पैंट में टाइट लंड को देखकर मेरा भी मन करता था, पर मैं इसलिए कभी नहीं बोल पायी कि कहीं तुमको बुरा न लग जाए. उससे मिलते ही मैंने एक टाइट हग कर लिया और हम दोनों होटल की तरफ चल पड़े. दरअसल बात वहां से शुरू हुई जब उनके पति कोरोना काल में मुंबई से वापस लौटे थे.

दीपक का वजनी जिस्म और वजनी लौड़े के नीचे दबी हुई मैं कसमसा रही थी।उन्होंने फिर वही अंदर बाहर का खेल शुरू कर दिया, वो पूरा लंड बाहर निकालते और फिर जड़ तक अन्दर घुसा देते।लंड के अंदर घुसते के साथ जब मैं चिल्लाती तो वो मेरे मुंह पर हाथ रख देता।काफी देर तक ऐसे ही चलता रहा, दीपक झड़ने को नहीं हो रहा था. फिर मैंने उनसे कहा- मैं अरुणिमा की नंगी फोटोशूट करवाना चाहता, कुछ नंगी फोटो और कुछ नंगी वीडियो बनवाना चाहता हूँ. इसीलिए अब मैंने अपना लंड संजना की गांड से निकाला और उसकी चूत में डाल दिया.

सटाक से लंड बुआ की चूत में समां गया और बुआ आहह आहह करके लौड़े पर उछलने लगीं.

फिर उसे ज्यादा न तड़पाते हुए मैंने अपने लंड के सुपारे को उसकी चूत के मुहाने पर रखकर एक हल्का सा धक्का लगा दिया. वो मेरे सुपारे पर अपनी जीभ भी चला रही थी जिससे मेरा मजा दुगना हो गया.

नाबालिक लड़की की बीएफ बारी बारी एक दिन और उस रात को वह हम पाँचों में से किसी एक की बीवी होती है. मैंने ध्यान दिया कि खिड़की में से यह सब खेल मेरी बीवी शिवानी देख रही थी.

नाबालिक लड़की की बीएफ उसकी बंद होती आँखों में और हल्के से आह भरते होंठों से प्रतीत हो रहा था जैसे उसके सुख की सीमा चरम तक पहुंचने को है।मैं चूसते हुए धीरज की चुसाई देखने लगी. अभी दोनों गर्म थे तो मैंने नूर को पकड़ कर सोफे पर लिटा कर कहा- नूर दस मिनट और करने दो, जल्दी हो जाएगा.

इस बीच दाहिने हाथ से उनकी कमर पर सहलाते हुए उनकी बायीं चूची पकड़ ली और उनके निप्पल से खेलने लगा.

सेक्सी पिक्चर हिंदी बफ

फिर एक समय आया, जब हम दोनों अपनी सारे दुःखदर्द, सुख दुख एक दूसरे से साझा करने लगे. वो दोनों एक ही क्लास में थे और दोनों हमेशा एक दूसरे के साथ ही अपना समय व्यतीत करते थे. मैंने पलटकर उसके खुट्टे (टट्टे) पकड़ लिए और उन्हें दबाकर बोली- बहन के लंड अगर आज के बाद मुझे रांड या रंडी कहा न … तो तेरी गांड में गधे का लंड डलवा दूंगी … समझा मादरचोद.

अब मैं हवा में झूला झूल रही थी लेकिन यहां मजा झूले का नहीं, उसके लंड का मिल रहा था. अब मैं थोड़ा आगे बढ़ती हूँ क्यूंकि अगर सारे खेल के बारे में बताने लगूंगी तो कहानी बहुत लम्बी हो जाएगी. मैंने उसको थोड़ा झुका कर उसकी चूत में अपना लौड़ा घुसेड़ दिया और उसकी धकमपेल चुदाई करने लगा.

फहीमा का स्वभाव थोड़ा चिड़चिड़ा था जिसके कारण आसपास में रहने वाले बहुत कम लोगों का उसके पास आना-जाना था.

मदन जी ने सबसे पूछा- तुम लोग मेरे चौधरी मामा को तो जानते हो, जो पास के गांव में रहते हैं, जिनका फल का बगीचा है. इस दौरान मैंने कई पोजीशन में भाभी को सैट किया और उनकी चुदाई करता रहा. फिर मैंने अपनी उंगली उसकी चूत से निकाली और इस बार दो उंगलियां उसकी चूत के मुहाने पर रखकर दाने को सहलाया.

जल्द ही मैंने उसका ब्लाऊज और पेटीकोट भी निकाल दिया और अपने कपड़े भी निकाल कर केवल चड्डी पहने उससे लिपट गया. मेरी फटने लगी कि कहीं घपाक से पूरा लोड देकर बैठ गईं तो आज लंड की चमड़ी फटनी तय है. उसने अपनी छोटी छोटी चूचियों को थोड़ा बड़ा कर लिया था जो एकदम टाइट थीं.

दोस्तो, आप इस बात को जानते हैं कि एक बार लंड झड़ जाए, तो दूसरी बार में तो वो किसी भी चुत की माँ चोद देगा. मैंने बात काटने को हुआ तो उसने कहा- और ये भी बोला है कि स्वप्निल जी को साथ में नहीं लाना है.

मैंने कहा- तुम तो बस आ जाओ, नहीं तो कल सुबह फिर मुँह दिखाने लायक नहीं रहोगी. चूत से जूस चाटने के बाद मैंने अपने कडक लंड को उसकी गांड पर बह रहे जूस को, उसकी गांड पर अपने लौड़े से ही रगड़ा और अपने लंड का सुपारा उसकी गांड में घुसेड़ दिया. एक बार मेरी चूत में किशोर का लंड घुसा तो मैं बार बार अपनी चूत में उसका लंड लेने लगी.

बीच बीच में वो ‘ओह समीर … उफ़्फ़ आह ऊहह … अम्मी मर गई …’ जैसी आवाजें निकालती, जिससे मेरी उत्तेजना और बढ़ जाती.

मैं काफी देर तक बाहर खड़े होकर अन्दर से आती हल्की हल्की आवाजों को सुनता रहा. पहले उनकी लम्बी झांटें मेरी नाक में घुस जाती थीं और मुझे छींक आ जाती थी. उसी पल मैंने एक जोरदार धक्का दे मारा जिससे लंड चूत चीरता हुआ अन्दर चला गया.

अब मैंने मॉम के चूतड़ पकड़ कर उनका पांव मेरा ऊपर से लेकर साइड में कर दिया. फिर जब हम तीनों एक साथ इकट्ठा हुए, तब मैंने भी वैसे करना चाहा, लेकिन वाइब्रेटर और लंड एक साथ नहीं डाल पाया.

पर ये याद है कि जब चाची ने मेरी कमर में हाथ डालकर मेरे होंठों पर होंठ रखकर चूसा और मुझे अपने ऊपर खींच लिया. मैंने भी लिख दिया- दो दिन तो बहुत होते हैं मैडम … एक पल भी बहुत होता है. चारों ने मुझसे पूछा कि आज रात एक एक करके तुम हम सबके साथ सुहागरात मनाना चाहती हो या अलग चार रातों में अलग पति के साथ?मैंने सर झुकाकर शर्मा कर कहा- आप लोग मेरे पति हैं, आप लोग जैसे बोलें.

खचाखच सेक्सी वीडियो

उसके मम्मी पापा के आने के कुछ दिन पहले मैंने दोनों बहनों को एक साथ एक ही पलंग पर चोदा था.

कुछ देर ऐसे चोदने के बाद उसकी दूसरी टांग भी मैंने उठाकर उसे अपनी गोद में ले लिया और उसकी दोनों टांगों को अपनी कमर पर फंसा लिया. मैं बार बार उसके सीने पर हाथ फेर रही थी और वो मेरे एक स्तन को मसले जा रहा था. न्यूली मैरिड सेक्स कहानी मेरे पड़ोसी की शादी के बाद आई उसकी दुल्हन की चूत चुदाई की है.

फिर हवलदार की आवाज आई- देख घुस गया ना गांड में भी, फालतू नाटक कर रही थी. लेकिन जैसे ही आंटी अपने मुँह में लंड लेकर जोर जोर से चूसने लगीं, मैं तो जैसे से आनन्द के सागर में गोते लगाने लगा. बीएफ व्हिडिओ मे बीएफ व्हिडिओउन्होंने सारा कुछ सही किया, फिर कपड़े चेंज करके अपने बेटे के पास चली गईं.

लेकिन फ़ोटोग्राफ़र बुलाई गई मॉडल लड़कियों से संतुष्ट नहीं था।तो सविता ने निर्धारित समयसीमा के अन्दर इस शूटिंग को पूरा की करवाया? उसने फ़ोटोग्राफ़र को कैसे राजी किया शूटिंग के लिए?और क्या सविता को प्रमोशन मिली?देखें सविता भाभी की छ्ब्बीसवीं कड़ी – सविता बनी मॉडल. वो बोली- कबसे तरसा रहा है साले … आज भी शरीफ बना रहेगा क्या?उसे ये तेवर देखे तो बस मैंने मीनू के मम्मों को पकड़ लिया और एक दूध चूसने लगा.

मुझे थोड़ा दर्द हुआ, पर हैरी मेरे दर्द परवाह किए बिना धीरे धीरे लंड अन्दर बाहर करने लगा. मामी ने मुझे देखा और मुस्कुरा कर कहा- अरे विराज … तुम तो बहुत लंबे और हैंडसम हो गए हो. मैं भी देखना चाहता था कि बाबा ऐसा क्या करेगा, जिससे परेशानी चली जाती है.

मैंने पूछा- भाभी, क्या हुआ था, आपके और पिंकी भाभी के बीच में, जो आप बता रही थीं. वो बोली- तो क्या ऐसे ही देखते रहोगे?मैं- नहीं, आज मैं तुम्हें नीचे से ऊपर पूरा चाट जाऊंगा. अंकल- हां, तुझे देखते ही पता लग गया था कि तू साली चुदी चुदाई रंडी है.

मैंने अपने पति की इच्छा को पूरी करने के लिए ही नीग्रो से चूत चुदाई की थी.

अब एक ही पोजीशन में चुदाई करते रहने से मेरे और आसिफा दोनों के पैरों में दर्द होना शुरू हो गया था. दोस्तो, यह मॉम चुत चुदाई कहानी कैसी लगी आपको? आप मुझे मेल करके जरूर बताएं.

मैंने मुस्कुरा कर उन्हें चूमा और कहा- हां, मैं आपकी देखभाल करने की कह दूंगा. मैं तो ये सोच कर खुश हो रहा था कि पिछली रात जिस लड़की को मैंने पहली बार देखा और उसके बारे में इतनी गंदी गंदी बातें सोच लिया था, वो मेरे ही घर पर रहने के लिए जा रही थी. मेरे हाथ में डिल्डो देखकर सारे लड़के समेत सभी लड़कियां भी चौंक गईं क्यूंकि ये तय हुआ था कि हम पतले वाले डिल्डो से इनकी गांड मारेंगे मगर मैं तो बड़े वाले ले आई थी.

जबकि तरीका ये है कि एक इंच पीछे, दो इंच आगे और कमर हिला हिला कर लंड को अन्दर डाल दो. जब मैं नमन भैया को खाना देने के लिए नीचे झुकी तो भैया की नजर सीधे मेरी गोरी चूचियों पर ही टिक गई थीं. उसे बहुत दर्द हुआ और उसके मुँह से आवाज निकल गई- आह्हह उम्मम्म आई … मर गई मम्मी.

नाबालिक लड़की की बीएफ मोटी गांड वाली आंटी की चुदाई की मैंने! वो मेरी एक्स गर्लफ्रेंड की मम्मी थी. साथ ही चंदन ने अपना मोटा कड़क लंड मेरी रस टपकाती चूत में एक झटके से पेल दिया.

राजस्थानी मारवाड़ी फुल सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- अच्छा एक बार फिर से वही बोल कर देख?वो बोली- क्या बोल कर देखूँ?मैंने कहा- वो ही जो तूने अभी झेलने वाली बात को लेकर कहा था. इस बार उन्होंने कहा- ओके सुनो, पहले तो तुम मुझे यह बताओ कि मैं तुम्हें कैसी लगती हूं?मैंने कहा- आप तो मुझे बहुत अच्छी लगती हो. दोस्तो, मेरी गर्लफ्रेंड की कुंवारी चुत का शीलभंग हो गया था मगर चुदाई का आलम अभी जारी था.

तब आंटी कहतीं- तुम भी बहुत स्वीट हो, अगर निकिता से फुर्सत मिले तो मुझ पर भी ध्यान दे दिया करो. ऊपर उसने बिना आस्तीन की एक चुस्त और छोटी सी बनियान पहनी थी, जिसकी पतली पतली सी बद्दियाँ, बनियान को चूचों के ऊपर साधे हुई थीं. सेक्सी बीएफ खुला खुलाफिर हम दोनों पहले तो बहुत हँसी, फिर थोड़ी देर बाद आयेशा ने कहा- यार, तुझे आज हो क्या गया?तो मैंने कहा- यार पूछ मत … ये सब बकचोदी बाद में करेंगे.

मैंने कहा- इसीलिए मैंने जब आपकी चूत में अपना लंड डाला था तो आपको दर्द नहीं हुआ था.

मैंने अपनी दोनों टांगें फैलाईं और लंड हाथ में लेकर चूत में रगड़ने लगी. यह उसी की गलती के कारण हुआ था क्योंकि उसने जल्दबाज़ी में गलत टच कर दिया.

अब मैं घर पर अकेला था, दोपहर 2 बज रहे थे लेकिन कविता का कुछ पता नहीं था. हम दोनों उस वक्त एक दूसरे का पूरा सहयोग कर रहे थे और दोनों ही एक दूसरे को पूरा मजा दे रहे थे. रात की देर तक चुदाई और फिर सुबह अप्रत्याशित रूप से लंड को चूत द्वारा ऐसे रौंदने पर मुझे थोड़ा अजीब सा लगा और मेरी आंख खुल गयी.

अब तो वो आंसू छोड़ने लगी और ‘अअअह मम्मी ईई दीदी … मर गई … आह निकालो जीजू.

थोड़ी देर बाद अमन, जो फिलहाल मुझे चोद रहा था, वो तेज तेज मेरी चूत में झटके देने लगा. मैंने पूछा- शादी कब करनी है?मदन जी ने पंचांग देखकर कहा- शादी का शुभ मुहूर्त 15 दिन बाद है, उससे पहले कुछ तुमको कुछ तैयारी करनी होगी. मेरे साथ आए आदमी ने एक टी-शर्ट और एक जीन्स मुझे दी और कहा कि अरुणिमा को पहना कर घर ले जाओ.

काजल की सेक्सी वीडियो बीएफकुछ मिनट के बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया था लेकिन अभी मेरा नहीं हुआ था. ये सफ़र मैंने उसके शरीर को चूमते और चाटते हुए चूत के पास अपना मुँह लगा कर पूरा किया.

एक घंटा का सेक्सी फिल्म

मेरा ऐसा कोई इरादा नहीं था लेकिन तुम में से किसी चूतिये ने एक बात कही थी जिससे मेरी झांट में आग लग गयी थी. मैंने तुरंत जन्नत के मुहाने पर लंड सटा कर हल्का सा अन्दर धक्का दिया लेकिन वो तो एक इंच जाकर फंस गया. उसने एक जोरदार धक्का मार कर अपनी बहन की बच्चेदानी में लंड फंसाया और उसकी बुर में अपना वीर्य छोड़ दिया.

वहां क्या क्या कारनामे हुए … वो कहानी फिर कभी।तब तक के लिए विदा लेती हूं, अपना प्यार बरकरार रखियेगा।सेक्स इन बस का मजा आपको भी मिला होगा? कमेंट्स में लिखें. अन्दर झांक कर मैंने देखा कि भाभी और पिंकी भाभी दोनों एकदम नंगी थीं. कि सर्दी से बचने के लिए चाय की पूछ रही है या दारू की … या खुद चिपकने की कह रही है.

इससे मम्मी की धड़कनें बहुत तेज हो गईं और उनकी प्रत्येक सांसों के साथ सीना उठने बैठने लगा. करीब बीस मिनट तक अंकल के लंड पर उछल उछल कर चुदवाने के बाद मैं थक गई. परंतु इसका टेस्ट लेने के बाद ही मालूम चलेगा कि वाकयी में इसमें दम है कि नहीं.

अरुणिमा ने एक मीठी सी आह भरके उसका लंड अपनी गांड में ले लिया और मेरी फ्री वाइफ सेक्स का मजा लेने लगी. अब आपकी मर्जी है कि मुझे अपनाओ या नहीं, पर मैं आपसे बहुत प्यार करने लगी हूँ.

मैं उनके गदराए हुए बदन पर मांस और चर्बी से भरे उनके दोनों उभारों पर अपनी वासना भरी नजरें टिकाए रहा.

मैंने हंसते हुए अपना ब्रा पैंटी ले ली और उससे खुद को छुड़ा कर टॉवल लेकर बाथरूम में भाग गई. बीएफ सेक्स एचडी वीडियो हिंदीमैंने उसके पैरों को अपने कंधों पर रख लिया और चिकने लंड को चूत की फांकों में फेर दिया. वीडियो से सेक्सी बीएफमैंने सोचा कि अगर ऐसी लौंडिया एक बार चोदने को मिल जाए तो मजा आ जाए. उसको यह अच्छा लगा, बोली- आज मेरे शौहर बन जाओ, मेरे साथ जैसे मर्जी, जो मर्जी करो मेरे सरताज … मैं तैयार हूं.

इस बात पर वो थोड़ा झल्लाए और बोले- यही तो दिक्कत है, सब हरामी हैं साले, उनको रंडी नहीं … कोई घरेलू औरत चाहिए.

हालांकि रूम में बिस्तर अलग-अलग थे लेकिन इन दोनों के बीच अपनापन और एक दूसरे के प्रति लगाव इतना ज्यादा हो गया था कि रूम बंद होने के बाद दोनों एक ही बिस्तर पर ही सोने लगे थे. ये सब देख सुनकर मैं चुपचाप बाहर गया और विश्वेश्वर जी को कॉल करके सारी बात से अवगत कराया. पिछले भागपड़ोसन भाभी अपनी सहेली के साथ नंगीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं भाभी के कमरे में गया तो भाभी और उनकी सहेली पिंकी भाभी लेस्बियन सेक्स कर रही थीं.

जैसे ही मैं खड़ा हुआ कच्छे में लंड उफान मारता हुआ ऐसे खड़ा हुआ था, जैसे अभी सब कुछ फाड़कर निकल जाएगा. मैं बोली कि हां मजा तो आता है लेकिन मेरी हिम्मत नहीं हो रही है कि फिर से चुदवा लूं. हाथ खुलते ही उसने मेरा हाथ थामने की कोशिश की पर मैं नहीं रुकने वाला था.

देश की सेक्सी फिल्म

मैंने खिड़की से झांक कर देखा तो भाभी सो रही थीं और उनकी साड़ी कमर के ऊपर आ चुकी थी. तभी उसने मुझसे ये पूछा- आप क्या घर में अकेली हैं?मैंने कहा- नहीं, नाना नानी भी हैं. उस रात को जब मेरी नींद खुली, तो देखा अभी तक लाइट जल रही है और जया वहीं पर बैठी है.

उसके लिए जो अफ़सोस था, वो खत्म हो गया था और उस पर मुझे तेज गुस्सा आ रहा था.

मेरा नंगा जिस्म देखकर नेहा ने कहा- यार लग नहीं रहा है कि तू इतनी चुदी हुई माल है.

वो दोनों एक ही क्लास में थे और दोनों हमेशा एक दूसरे के साथ ही अपना समय व्यतीत करते थे. सोनल में मम्मे एकदम कोमल थे; मुझे उसके दूध सहलाने में बहुत मज़ा आ रहा था. घोड़ा कुत्ता वाला बीएफ वीडियोवो मेरा साथ दे तो रही थी मगर उसे अपनी दीदी के जागने का डर सता रहा था.

इससे पहले कि मैं उनका पीछा करता, वो दोनों पता नहीं किधर से मुड़े कि मैं उन्हें ढूंढ ही नहीं पाया. आप लोगों को पता ही होगा कि गांव में सभी लोग जल्दी सो जाते हैं और जल्दी ही उठ जाते हैं. अगली बार, हम दोनों साथ में ही लेस्बियन पोर्न देखा, तो उसमें वाईब्रेटर था.

हम दोनों के बारे में अभी तक किसी को कुछ भी पता नहीं चला था, यहां तक कि मेरी किसी सहेली को भी इसकी कोई जानकारी नहीं थी. तभी मंजू दौड़ती हुई आई और मुझे उठाने लगी लेकिन मैं जख्मी होने का नाटक करते हुए उसके ऊपर पूरी तरह से चिपक गया.

लेस्बियन्ज़ लव का मजा लीजिये इस कहानी में! बुआ अपनी भतीजी से पूरी खुली हुई है.

मैंने जानबूझ कर अपने मम्मों को भैया के सीने में अधिक दबाव बनाकर मसलना शुरू कर दिया था जिससे भैया की पकड़ मोबाइल पर से थोड़ी ढीली हो गई. विकास भी किसी हब्शी की तरह उसके चूचों को जोर जोर से मसल रहा था, बुर को चूसे जा रहा था. पिंकी भाभी मुस्कराती हुई- हां आज तो बहुत दिनों बाद मुझे चुदाई का मौका जो मिला है.

बीएफ देखते हुए आंटी फक़ स्टोरी में पढ़ें कि मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी को हमारे सेक्स का पता चल गया. अब वहां की क्या परिस्थिति है, इस बात का अवलोकन और अनुमान लगाने के लिए मैंने ड्राइवर से पूछताछ करने का निर्णय लिया.

वो धीरे धीरे मेरे पूरे लंड को अपनी चूत में खा गई और दांतों से होंठ दबा कर लौड़े पर बैठ गयी. फिर अंकल ने मेरी बीवी का पेटीकोट उठाया और उसकी काली पैंटी निकाल कर वहीं खेत में फैंक दी और कहा- अब चलो. मेरे होंठ से हल्का सा खून भी आ गया मगर आयेशा पर फिर भी कोई असर नहीं हुआ, वो मेरे होंठ चूसती रही.

सविता भाभी के सेक्सी वीडियो हिंदी में

मुझे इतना मजा आ रहा था कि 3सम ना होने का गम नहीं था।मैं अपनी गांड आगे पीछे हिला हिला के दीपक से उसकी रण्डी की तरह चुद रही थी।दीपक भी मेरी चूत के पूरे मजे ले रहे थे. मैं भी देखना चाहता था कि बाबा ऐसा क्या करेगा, जिससे परेशानी चली जाती है. जो मेरी गोपनीयता का पूरा ध्यान रखे और मुझे उसके साथ किसी भी प्रकार की जोखिम न हो.

मैं बार बार अपनी जीभ से इसके लंड के नमकीन अमृत को चाटते हुए अन्दर तक चूसे जा रही थी. हैरी और मेरी चुदाई का पहला राउंड लंबा चला जिसमें मैं तीन बार झड़ी और अंत मैं जब हैरी झड़ा, तब मैंने उसकी कमर को पैरों से पूरी तरह से कसके जकड़ लिया था.

आज तक कोई औरत हो या कॉलेज की लड़की, जो भी मेरे बिस्तर पर आई है, मैंने उसे बड़े जबरदस्त तरीके से चोदा है.

आखिर वो दिन भी आ गया जब वो चंडीगढ़ आने वाले थे, मैं पहले ही चंडीगढ़ पहुँच चुका था. संजना ने हंस कर अपनी बांहों को फैला दिया और मुझसे बोली- जान मेरी बांहों में आ जाओ. दोस्तो, इस गे बॉयज सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि मैं चूत के चक्कर में अपनी गांड कैसे मरा बैठा.

मैंने सबको सिर्फ ब्रा पैंटी पहनने को कहा और ये भी कहा कि लड़कों को जितना हो सके उतना ज्यादा तड़पाना है मगर कुछ भी हो जाए, आज उन्हें चूत मारने नहीं देनी है. इतना कहते-कहते विकास उसके पास झुक गया और उसके दोनों हाथों को पकड़कर नीचे बैठ गया. उन्होंने उठ कर कॉन्डम निकाल कर मेरे लौड़े पर चढ़ा दिया, फिर खुद ही मुझ पर चढ़ कर मेरे लंड को अपनी चूत पर टिका कर धीरे से अन्दर उतार लिया.

मैंने सुलेमान को अन्दर लिया और बाथरूम के पास खींचती हुई ले गई, उधर टंगा तौलिया मैंने उसे पकड़ा दिया.

नाबालिक लड़की की बीएफ: मेरे चारों दोस्त जब रात का खाना खाने आते हैं, तो वो सब लोग तुम्हारी तरफ बड़ी हसरत से देखते हैं. वो चल कर कमरे में मौजूद हर आदमी के पास जाती और वो लोग अपना अपना गिलास उठा लेते.

[emailprotected]हॉट लेडी Xxx स्टोरी का अगला भाग:हिमाचल की हसीना की थ्रीसम चुदाई- 3. मंजू मेरे बदन की महक से सहम गई लेकिन मेरी मदद के लिए उसने मुझे पूरी तरह उठाया. मैंने तुरंत अरुणिमा को कॉल किया और कहा- कल एक आदमी छूट गया था और आज अभी वहां पहुंचने वाला है.

आप मुझे मेल करने के लिए स्वतंत्र हैं कि आपको यह रोड सेक्स हिंदी कहानी कैसी लगी?दोस्तो, मेरी बीवी अरुणिमा की प्यासी चूत गांड चुदाई की कहानी में मैं आपको आगे का हाल सुनाऊंगा.

मेरे लिए भी किसी मोटी माल को चोदने का ये पहला शानदार अनुभव था, तो मैं भी इसका पूरा आनन्द लेकर चुदाई कर रहा था. वो रोहित से बोली- थोड़ा धीरे धीरे करो न!रोहित अब मेरे होंठों छोड़कर नीचे की तरफ आने लगा और मेरी साड़ी को हटा आकर बूब्स को ब्रा के ऊपर से ही चूसने लगा. फिर पापा ने मम्मी की साड़ी और ब्लाउज को पूरा निकाल दिया जिसमें से उनकी गोरी गोरी खरबूजों जैसी चूचियां ब्लैक ब्रा के अन्दर पूरी टाइट हुई दिख रही थी.