नंगी बीएफ डांस

छवि स्रोत,चुड़ैल वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स कार्टून पिक्चर: नंगी बीएफ डांस, वो मुझे चोदते हुए मेरे मम्मों को काटने लगता, तो मैं ‘आआआह … साले दूध मत काट हरामी … प्यार से चोद ऊऊह … आआआह.

लंड की इमेज

फिर मैं उसके गालों, गर्दन और ब्रा पर चूमते हुए नीचे पेट पर चूमने लगा और नताशा तड़पने लग गयी. मारवाड़ी चुद फुल साईजअब सुमन जैसी खूबसूरत पत्नी अपने पति को मना पाए, तो उसकी बात कोई बेवकूफ़ ही नहीं मानेगा.

मैंने उसको उठाना जरूर नहीं समझा क्योंकि रात भर उसने मेरी गांड चुदाई की थी. मुठ मारने से क्या फायदा होता हैचूंकि वो पहले से ही अपनी बुर में उंगली करती थी, तो उसे ज्यादा दिक्कत नहीं हुई.

दो दो मर्दों का ये हमला मेरे रोम रोम में वासना की आग लगा चुका था और मेरा रोम रोम सम्भोग के लिए गुहार लगा रहा था.नंगी बीएफ डांस: ये सब सोचते ही मेरे होश उड़ गए कि क्या अम्मी इतंज़ार में हैं कि अब्बू आएं, उनको यूं चुदासी अवस्था में देखें, फिर यहीं बरामदे में उनके ऊपर चढ़ कर उनकी चुत चोद दें.

अब मौसी भी परेशान हो गयी कि मुझे इतनी ज्यादा ठंड कैसे लग रही है! वो उठ कर मेरे पास आयी और मेरे बदन को छूकर देखा.इस तरह से आंटी ने मेरे साथ अपनी सुहागरात मनाई और मैंने भी पति बनकर उसकी खूब चुदाई की.

मोटू पतलू की जोड़ी - नंगी बीएफ डांस

तभी प्रेयर खत्म होने की घंटी सुनाई दी और हम दोनों ने अपने कपड़े ठीक कर लिए.पर मेरा एक हाथ, जिसने भाभी को पकड़ रखा था, अनजाने में ही उनकी कमर को सहलाने लगा.

मुझे चोदने के बाद मौसा जी का फोन अक्सर आता रहता और कई बार वो किसी न किसी बहाने से हमारे घर भी आ के दो तीन दिन रुक जाते और मौका देख हम चुदाई के अपने अरमान पूरे कर लेते. नंगी बीएफ डांस अम्मी अब्बू के आगे घोड़ी बनी हुई थीं और अब्बू ने पीछे से अम्मी की चूत में अपना लंड डाल रखा था.

मैं तो साला बिना पिए कभी किसी को नहीं चोदता … मगर आज उस मैडम को तो ऐसे ही चोदूंगा.

नंगी बीएफ डांस?

मैंने उसका हाथ पकड़ा और अपने लंड पर रख कर उसके कान में कहा- बेबी नाटक खत्म करो … और खुल कर मजा लो. अब मेरे मुंह में उसकी चूची थी और नीचे से मेरा हाथ उसकी चूत को सहला रहा था. शादी के पहले भी मैं 2 लड़कों से दीवानी जवानी की कहानी के खूब मजे लूट चुकी थी और अब मैं शादीशुदा हूं.

दीक्षा- हां यार वो मेरा बीएफ ही है, पर तू किसी को बताना मत!मैं- नहीं यार, मैं किसी को नहीं बताऊंगा … तू टेंशन मत ले. फिर उसके पेट और नाभि को चूमते हुए मैं उसकी चूत के ऊपर वाले हिस्से पर चूमने लगा. अब जैसे ही वो तौलिया देने के लिए आगे बढ़ी तो उनका पैर फिसला और मैंने उनको लपक लिया लेकिन साथ ही मैं भी नीचे गिर गया.

मौसी ने पूछा- क्या हुआ बेटा डीडी? तुम्हें इतनी ज्यादा सर्दी कैसे लग रही है?मैंने कहा- पता नहीं मौसी, मुझे भी कुछ समझ में नहीं आ रहा है. वो भी पलंग से नीचे उतरी और अपने कपड़ों को ठीक करने लगी। सारे कपड़े नीचे बिखरे पड़े हुए थे. उसने कहा- तो मैं आपके बेड पर आप दोनों के साथ सो सकती हूं?इस पर दीक्षा ने कहा- हां समीक्षा ठीक है, तुम यहीं सो जाओ.

मेरा स्वभाव बचपन से ही कुछ लड़कियों जैसा था, जिस वजह से लोग मुझे चिढ़ाया भी करते थे. उसकी चूत से कामरस निकल रहा था जिसका स्वाद मुझे उसकी चूत को और जोर से काटने के मजबूर कर रहा था.

जब सरजू की तरफ़ से कोई हलचल नहीं हुई, तो उसने धीरे धीरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

आपकी पिंकी सेन[emailprotected]ओरल सेक्स फ्री सेक्स स्टोरीज का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 10.

वो बोला- मज़ा तो अभी और करेंगे डार्लिंग, बहुत दिनों से मेरा लंड भी तेरे लिये तड़प रहा था. मैंने कहा- भाई, कल सुबह सबसे पहले मैं अपनी चूत के बाल साफ कर लूंगी. अब तू ये बता कि तू सोती किसके पास है?मीता- ओहो … मैंने बताया ना, पर्दे के इस तरफ चारपाई पर गीता सोती है.

अचानक भाभी की दीदी ने मुझे देखा और सवाल किया कि आप कौन हैं और सुमन के साथ कैसे आए आप! वो तो शादी में गयी हुई थी, फिर आप दोनों एक साथ कैसे आए. इस बात पर जोर से हंसने लगी- मेरे साथ फ्लर्ट कर रहे हो, मैं सबको बता दूंगी. इसी तरह कई दिनों तक चलता रहा और सुजाता के लिए मेरा आकर्षण बढ़ता जा रहा था.

मैं- भाई का कॉल आया था … वो बोल रहे थे कि भाभी का अच्छे से ख्याल रखना.

चूत की संवेदनशीलता पर अकस्मात प्रहार हुआ तो कामुकता एकदम से भड़क उठी. वो आकर मेरे गले से लग गया और उसने मुझे कसकर अपनी बांहों में जकड़ लिया. तभी मैंने संजना की कमर को पकड़ कर उसे लंड पर दबा लिया और झटका देकर पूरा लंड सेक्सी लड़की की चुत के अन्दर कर दिया.

अखबार पढ़ते पढ़ते उन्होंने मुझसे कहा- बेटा, आज शाम को ऑफिस से निकलने के बाद मेरा एक काम कर दोगे?मैं- जी हां पापा बेशक, आपको पूछना नहीं चाहिए, आप बस हुक्म कीजिए. मैं- भाभी, कैसा लगा मर्द का मक्खन?रुक्मणी- कुणाल, मुझे बता तो देते. एक तो दिव्या पहले से ही काफी गर्म थी और उसकी चुत ने पानी भी छोड़ दिया था.

मैं भाभी की बातों को अनसुना करते हुए बस जोरों से उनकी चुत को पेले जा रहा था.

मैं इसके लिए आपको भूतकाल में ले जाती हूं क्योंकि जो मैंने अपनी मां के बारे में सुना था वो आपको भी बताना जरूरी है. मुझे लगा कि इस हादसे से दोनों परिवार के बीच के सम्बंध बिगड़ने वाले हैं.

नंगी बीएफ डांस मेरा लंड अभी भी बहुत दर्द दे रहा था मगर मैं उसकी चुत के पानी निकलने के बाद भी धीरे धीरे चुदाई करने में लगा रहा. क्या बताऊँ दोस्तो, क्या मस्त हुमक हुमक के चोदते हैं पांडेय सर … जब अपना पूरा लौड़ा बाहर निकाल कर सट्ट से पूरी ताकत से अंदर पेलते तो मैं चिहुंक उठती.

नंगी बीएफ डांस अब कई बार नोटिस करती थी कि मैं काम कर रही होती थी और वो चेयर पर बैठकर मुझे ही देखते रहते थे. अब उसकी चुत की आग ठंडी हो चुकी थी तो उसे किसी तरह की जल्दी नहीं थी.

वो साया कौन था और कितने मज़े से सुमन को चोद कर चला गया, अब ये तो आगे चलकर ही पता लगेगा.

हिंदी गाना सेक्सी वीडियो

शरीर में अजीब सी मस्ती छा गयी और कमरे में तेज-तेज सांसों का तूफान सा आ गया. मेरा मुँह बनते देख कर इकबाल ने एक तगड़ा पैग बनाया और बोला- ले अंजलि दारू पी ले, तेरा स्वाद ठीक हो जाएगा. प्रियंका के मुंह से एकदम से निकला- आआआ ह्हह।तभी मैंने एकदम से उसके मुंह पर हाथ रखा और उसकी पैंटी को मुंह में भरकर उसकी चूत को खाने लगा.

मैं- पूजा भाभी को भी मैं चोदना चाहता हूं!मामी- पागल हो गया है क्या, ये क्या बोल रहा है? तुझे मेरी चूत में शांति नहीं मिल रही है क्या, जो पूजा की भी लेना चाहता है?मैं- नहीं मामी, ऐसी बात नहीं है. थोड़ी देर बाद भाभी मुझसे बोली- मेरी देवरानी कब आयेगी?मैंने कहा- पता नहीं भाभी, अभी तो लॉकडाउन है. पहली बार मेरा लंड किसी चूत में गया था और सच कहूं दोस्तो तो कितनी भी मुट्ठ मार लो लेकिन चूत में जब लंड जाता है तो उस जैसा मजा और किसी चीज में नहीं है.

मैंने बिना कुछ कहे उनकी टी-शर्ट ऊपर कर दी और उनकी चूची का पहली बार दीदार किया.

मैंने जान बूझकर हाथ बैग पर न लगा कर उसकी टांगों को लगाया और पकड़ कर कहा- ये तो काफी मुलायम बैग है. मैंने जान बूझकर हाथ बैग पर न लगा कर उसकी टांगों को लगाया और पकड़ कर कहा- ये तो काफी मुलायम बैग है. धीरे-धीरे मैं उनकी पैन्टी के किनारे से हाथ डालकर उनकी चूत सहलाने लगा.

करीब 20 मिनट तक चुदने के बाद दोनों मर्दों ने उन दोनों मेरी अम्मी और एलिसा आंटी की चुत में ही अपना अपना माल छोड़ दिया. उसके गीले बाल और पतली सी गोरी कमर देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. रात में राजेश मेरे यहीं पर रुकने वाला था इसलिए मैं उसके आने से पहले ही सारा इंतजाम कर लेना चाहता था.

मीनू- आह इसस्स बाबूजी … अब और मत तड़पाओ आह … मेरी चुत की आग आ जल्दी से ठंडी कर दो आप अपना लंड जल्दी से अन्दर घुसा दो आह … अपना लंड जल्दी से पेलो इसमें … उफ़फ्फ़ अब बहुत जलन होने लगी है. तो मैंने भी सोचा कि आज अपनी भी बॉटम गे लव स्टोरी आप लोगों को सुनाऊं.

जब मुझसे बर्दाश्त न हुआ तो मैंने उसको नीचे पटका और उसकी चूत से उसकी पैंटी को फाड़कर अलग कर दिया. मेरे झांट और मेरी लंड की गोटियां अभी भी बनियान के नीचे छुपी हुई थीं. बातों ही बातों में एलिसा आंटी ने बताया कि इस समय उसे पैसों की बड़ी तंगी चल रही है.

मैंने उसके गालों पर थपथपाया और कहा- तू ही तो कह रही थी साली रंडी कि चोद लो.

उनका साड़ी का पल्लू नीचे सरक जाता और मैं उनकी चूचियों को ताड़ता रहता और फिर बाथरूम में जाकर मुठ मार लिया करता था. उसके लंड का गुलाबी सुपारा चांद की रोशनी में बहुत ही प्यारा दिख रहा था. मुखिया जी ने बस हाल चाल पूछने भेजा है … और आपको कोई चीज की जरूरत हो … तो बता दो, मैं ला दूंगा.

उसमें साथ ही संदेश भी लिखा था- क्या तुम इसको चोदना चाहोगे?उसकी बीबी चुदाई की बात जानकर मैंने जवाब दिया- हां ज़रूर, मेरा तो काम ही यही है।फिर उन्होंने फोन पर बात की और अपनी पत्नी से भी बात करवाई। हमारी बात होने के बाद मिलने की एक तारीख तय हुई। जब वो तारीख आयी तो उनका मेरे पास फोन आया कि आज आना है. जिनमें एक हवलदार नंदू था, जिसे मुखिया पहले से जानता था और दूसरा इंस्पेक्टर बलराम चौधरी था, जो गांव में नया आया था.

सुजाता भी अब गर्म होने लगी थी और उसके हाथ मेरे सिर के पीछे आ गये थे. मौसी के मुंह से सिसकारियां निकल रही थीं- आह्ह … डीडी … चूस ले बेटा … इस्स … पी जा इनको … अपनी मौसी का दूध पी ले … आह्ह … और जोर से।मैं बोला- आराम से मौसी, बगल वाले रूम में बच्चे भी हैं. बलराम- रात किसने देखी है, हम तो नाश्ते में गर्मागर्म पराठें खाते हैं, अभी कोई जुगाड़ बिठा सकता है क्या!नंदू- अभी तो देखना पड़ेगा कि किसको बुलाऊं … अभी कौन आ पाएगी.

ब्लू फिल्म भेजो वीडियो में

उसने एक गुलाबी रंग की साड़ी पहन ली थी जिसमें वो एकदम मस्त माल लग रही थी.

अब भाभी के मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं और वो सोनिया की चूचियों को दबाने लगी. वीर्य जब लंड की नली से निकलता है तो एक अलग तरह का खट्टा- तीखा- कड़वा- मीठा अहसास सब एक ही समय में महसूस होता है और ऐसे में मुंह से जोर की सिसकारी निकलती है जो तृप्ति का अहसास करवाती है. पर आज जब वो जा रही थीं, तो नीलिमा आंटी ने मेरा लंड पैंट में खड़ा देख लिया था और हंसकर चली गयी थीं.

उसके मुँह से भैया सुनकर मैंने सोचा कि धत तेरे की, साली ने भैया बना दिया. हमने कामसूत्र में दी गयी सभी पोजीशन में सेक्स किया और सोनिया के बूब्स 34D, कमर 28 और चूतड़ 34 के हो गये. योगा सेक्सी योगाइतनी चुदासी मैं जिंदगी में पहली बार हुई थी।मेरी हालत देख कर मेरे पति ने कहा- क्या बात है … आज तो मेरी रानी पक्की छिनाल बन गयी है, आज मैं पहली बार तेरा पूरा सेक्सी रूप देख रहा हूँ.

नीलिमा- अच्छा … तो ये पैंट में क्या खड़ा है?वो ये कहकर हंसते हुए बाहर चली गयी और मेरी तरफ देख कर आंख मारते हुए एक नॉटी सी स्माइल दे गई. अचानक भाभी की दीदी ने मुझे देखा और सवाल किया कि आप कौन हैं और सुमन के साथ कैसे आए आप! वो तो शादी में गयी हुई थी, फिर आप दोनों एक साथ कैसे आए.

मैंने उसे हॉल में बिठाया और अन्दर जाकर नीला को गोद में उठाकर ले आया. कालू ने इशारे से पूछा कि वो लड़की कौन थी?अमित- वो लड़की गांव की ही थी … मगर उसकी शक्ल नहीं देख पाया. पूरे कमरे में सास की चुदाई की ‘ओह्ह आह … फच फच …’ की आवाज आ रही थी.

नीचे से ऊपर की तरफ ओर लंड के सुपारे ने मेरी चुत में आग सी लगा दी थी. मैंने सोचा कि लौंडिया चुदने को राजी हो तो मजा ठोकने में ज्यादा मजा आता है. सबने मिल कर कैसे चुदाई की होली खेली?हैलो फ्रेंड्स, मैं अंजलि फिर से आ गयी हूं अपनी सेक्सी कहानी लेकर.

भाभी ने एक लम्बी सी कामुक आह्ह … भरी और फिर अपनी चूचियों को अपने हाथों से ही दबाने लगा.

एक बिजनेसमैन की बेटी थी इसलिए उसका रहन-सहन और पहनावा भी हाइ-क्लास था. आकर बोली- क्या काम है, इतनी रात को क्यों बुलाया है मुझे?मैंने पूछा- तुम्हारे घर में सब सो गये हैं क्या?वो बोली- हां, सो गये हैं.

भाभी ने एक लम्बी सी कामुक आह्ह … भरी और फिर अपनी चूचियों को अपने हाथों से ही दबाने लगा. मैं सिसकारते हुए बोला- इस्सस … नहीं भाभी … मैं खुद को नहीं रोक पा रहा हूं. मीता गहरी नींद में थी … मगर ऐसे कुचले जाने से उसकी हल्की सिसकारियां निकल रही थी.

जब हम दोनों पहली बार मिले थे, तब मेरी उम्र 39 साल और उसकी 37 साल थी. फिर हमने अपने कपड़े ठीक किये और किस करने के बाद फिर से एक एक करके बाहर आ गये. कुछ देर के बाद आंटी की चूत ने पानी छोड़ दिया मैंने उसकी चूत को चाट चाट कर साफ कर दिया.

नंगी बीएफ डांस थोड़ी ही देर में हम दोनों सहेलियां एक दूसरे से लिपट कर नंगी ही सो गईं. थोड़ी बहुत इधर-उधर की बातें होने के बाद मैंने धीरे से पूछा- क्या आपको मसाज करवाना पसन्द है?उन्होंने थोड़ा सोचने के बाद बोला- ठीक है, पहले तुम मसाज ही कर दो।मैंने उसको कपड़े निकालने को कहा तो मैडम ने पैंटी को छोड़कर बाकी सब कपड़े निकाल दिए.

मराठी सेक्सी ओपन व्हिडिओ

देसी चूत चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि भारत में मेरी एक गर्लफ्रेंड बन गई थी. उनके घर में मेरे साथ क्या हुआ?उस सुन्दर शाम की सारी बातें आज भी मेरे जहन में इस कदर बस गई हैं कि मैं चाह कर भी उसे भुला नहीं पाता. कुछ ही देर में वो इतनी ज्यादा गर्म हो गई थी कि मेरे बालों को नौंचने लगी और मेरे कपड़े खोलने लगी.

आपकी ननद आने के बाद आपको खूब पेलवाना हैlफिर हफ्ते भर के बाद उनकी ननद सोनिया भी आ गयी जो 20 साल की उम्र की एकदम स्लिम लड़की थी. अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी सगी बहन रिचा और कज़न आयुषी के साथ शारीरिक संबंध स्थापित किये. रानी रंगीली 2021इस तरह चुदाई का भरपूर आनंद लेने के बाद हम शाम होने से पहले ही घर लौट आये.

मैंने पोर्न में देखा था, गांड में लंड लेने से भी बहुत मजा आता है, लेकिन वो अगली बार लूंगी.

मेरे पतिदेव ने अब अपना एक हाथ मेरी कच्छी के अन्दर डालकर मेरी गांड को सहलाना शुरू कर दिया. अब मैं भी चाहती थी ये दोनों मिलकर मेरी चूत को भी वैसे ही चोद दें … रातभर मुझे बेरहमी से पेलें.

फिर मैंने भाभी के एक दूध को मुँह में ले लिया जोर जोर से चूसना शुरू कर दिया. तुम मेरे यहां पर ही खा लेना!मैंने अंकल के चेहरे की ओर देखा और पूछा- अंकल आपकी नाइट ड्यूटी लगने वाली है क्या?वो बोले- हां बेटा, आज से नाइट में ड्यूटी करनी है. आंटी भी मेरे लंड का माल चूत में लेकर मस्त हो गयी और हम दोनों थक कर लेट गये.

भेनचोद सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको अपने और अपने परिवार के बारे में बता देना चाहता हूं.

मैंने कल नीला को बियर पिला कर उसकी गांड मारने का तय कर लिया था ताकि उसे नशे में ज्यादा दर्द न हो. सच में दोस्तो, अगर मेरा वश चलता तो मैं सचमुच में अपने लंड को घुसा घुसाकर उसकी जांघ में छेद कर देता. रुक्मणी- कुणाल, मैं इसे हाथ में पकड़कर चूम लूं?मैं- भाभी, आपकी अमानत है.

सेक्सी खुलेआमफिर मैंने एकदम से उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में लंड को पेलने लगा. झड़ने के लगभग 10 मिनट बाद तक वो मेरे ऊपर ही लेटी रही और मुझसे चिपकी रही.

सनी लियोनी सेकसी विडियो

इधर मैं रात में अकेले ही छत पर सोता था क्योंकि रात को मैं खाना खाने से पहले भांग खा लेता था … और खाना खाते ही अपना बोरिया बिस्तर लेकर छत पर भाग जाता था. इस तरह से मेरी मां की करतूतें मुझे काफी समय पहले से ही पता लगनी शुरू हो गयी थीं. क्यों?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राज है। मेरी उम्र 28 साल है और आज मैं आपके सामने एक कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं.

मैंने बुआ से कहा- बुआ मुझे खाने में मजा नहीं आ रहा है, कुछ स्वाद ही नहीं आ रहा. रुक्मणी- कुणाल, तुझे ऐसी बातें करते शर्म नहीं आती? तू आज मुझे जरूर मार खाएगा. तू तो अभी जवान है … इसलिए तेरी चूत की खुजली तो सिर्फ कासिब का लंड ही शांत कर सकता है.

चाची को देख कर लगा कि उन्हें अब तक वो चरम सुख नहीं मिला, जिससे उनकी जवानी ढीली हो जाती. मैंने भी तुरंत उसे बेड पर धक्का देकर दोबारा से लिटा दिया और उसके होंठों को फिर से चूसने लगा. तुम्हारा चेहरा ही ये बता रहा है, तुमने मेरी इच्छा की खातिर कुछ नहीं कहा, ये मैं जानता हूँ.

कुछ देर फिल्म देखते देखते मेरी भी आंख लग गई और मेरा मोबाइल फ़ोन मेरे और मेरी बहन के बीच में गिर गया. मॉम की चूत वाला हिस्सा मेरे लंड के बिल्कुल करीब था और मैं नीचे से देख पा रहा था कि मॉम की नजर मेरे लंड पर ही थी.

मैंने हंसते हुए उन दोनों को अपने 36 के मस्त भरे हुए दूध दिखाए और बोली- ठीक है, मेरे पति का कर्जा चुकाने के लिए मैं राजी हूँ.

तो गुस्सा तो मुझे आज भी आया, पर मुझे पता था कि ये गुस्सा कहां निकालना है … और कैसे निकालना है. आई लव यू सेक्समैं नहाने के बहाने बाथरूम में गया और वहां पर साबुन से फर्श पर फिसलन बना दी. मारवाड़ी औरत को चोदावो चित लेट गया तो मैंने उसके पैर अपने कंधे पर लिए और एक ही झटके में पूरा लंड उसकी गांड में घुसा दिया. मेरी अम्मी ने मुस्कुरा कर धीरज की शर्ट के बटन खोले और उसे उतार दिया.

उसने अपने पैरों को मेरे चूतड़ों पर रख दिया।सुहानी ऊपर से मुझे अपने सीने से लगा पकड़े हुए थी इसलिए धीरे-धीरे ही मैं शुरू हुआ और चूतड़ों को ऊपर-नीचे करके लंड से प्रहार करने लगा। मेरा भीगा लन्ड उसकी सूखी योनि में से गुजर कर रगड़ खाने लगा जिससे वह पूरा कड़क और बढ़कर 10 इंच का हो गया.

उनकी ब्रा और पैंटी को उतार कर उन्होंने दूसरे कपड़ों के नीचे छुपा लिया. उनका पति अमरीका चला गया था और उधर उसका किसी और महिला के साथ चक्कर चल रहा था. वो भी पलंग से नीचे उतरी और अपने कपड़ों को ठीक करने लगी। सारे कपड़े नीचे बिखरे पड़े हुए थे.

दीदी- तुम रोज रात को मेरी ब्रा पैंटी के साथ क्या करते हो?मैं हक्का बक्का रह गया, पसीने छूट पड़े. हरी- आप फ़िक्र मत करो, बस मेरा कमाल देखना, कैसे साली को आज की चुदाई से अपना गुलाम बना लूंगा. कुछ देर तक धीरज मेरी अम्मी की चुत में लंड घुसेड़ने की कोशिश करता रहा.

नंगा सेक्स फिल्म

जब पहला सीन आया और उसने ये देखा कि कैसे एक आदमी को अपनी बेटी की सहेली से प्यार हो जाता है. अब तक मेरा लन्ड उस लाल साड़ी वाली जवान लड़की को देखकर पानी छोड़ने लगा था. उसके गीले बाल और पतली सी गोरी कमर देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

एकदम मस्त माल है जिसको अगर कोई देख ले तो चोदने के लिए पागल हो जाये.

मैंने उसको जल्दी से नंगी किया और शेल्फ पर बिठाकर उसकी चूत में मुंह दे दिया.

मीता- बाबूजी आप क्या सोचने लगे?सुरेश- मीता अब बार बार चुदाई की बात करके तूने मुझे पागल कर दिया है. इतना बोलकर मैंने भाभी को पलट लिया और अब वो पेट के बल मेरे सामने नंगी पड़ी थी. चोदने वाली वीडियो चोदने वालीउसके मुंह से अब चुदाई की मस्ती से बहुत ही कामुक सिसकारियां निकल रही थीं- आह्ह … राज … आह्ह … चोदते रहो … अम्म … आह्ह … और चोदो, पूरी रात चोदते रहो.

मैंने भी जल्दी ही नीला को वापस हम दोनों के बीच लेने का प्रॉमिस किया. जब राजेश भी नहीं मिल रहा था तो मैं लंड की मुट्ठ मारकर ही काम चला रहा था. 2 इंची लण्ड खड़ा होने लगा।बातचीत के दौरान ये भी पता चला कि सभी लोग काम पर गए हैं और लड़की पढ़ने।मैंने रात वाली बात पूछा तो उन्होंने बताया कि ये अक्सर होता रहता है। वे मेरे साथ नहीं सोते.

फिर धीरज मेरी अम्मी की गांड पर हाथ घुमाते हुए बोला- आंटी आप बहुत सेक्सी हो. सुमन- ओये होये … क्या बात है आज लगता है पूरे मूड में हो, तो चलो फिर जल्दी से खाना खा लो, उसके बाद मुझे खा लेना.

इस तरह मैंने और मेरे दोस्त ने नीला यानि मेरी जीवन के सबसे हसीन फूल को अपने अपने लंड के पानी से सींचा.

दर्द इतना था कि मुझे लगता था कि मैं बुरी तरह घायल हो गयी हूं और शायद ही अपने पैरों पर खड़ी हो सकूंगी. उसकी गर्लफ्रेंड भी मॉडर्न ख्यालात वाली थी और जब भी उन दोनों को समय और मौका मिलता है, तब वो दोनों सेक्स करते हैं. भाभी ने मेरे सिर को चूत में दबा दिया।मैं भाभी की चूत को बुरी तरह से चाट रहा था। उसकी गीली चूत में धीरे धीरे से पानी रिसकर बाहर आ रहा था जिसको मैं साथ की साथ चाट रहा था.

जेडएक्सएक्स मेरा आपसे वादा है कि आपके मनोरंजन में किसी भी तरह की कमी नहीं रखूंगी. मुझे ये बात बिल्कुल नहीं पता थी कि आगे लॉक डाउन हो जाएगा, तो मैं कहीं भी नहीं निकल पाऊंगा.

मेरी जीभ मामी की चूत को कुरेदने लगी और मामी ने कोई विरोध नहीं किया. एक कमसिन काली के मुलायम हाथ लंड के इतने करीब हो … और वो उसको महसूस करके खड़ा ना हो, ऐसा हो ही नहीं सकता. बस फिर क्या था रघु खुश होकर वहां से चला गया और सुरेश वापस बाहर आ गया.

भाई बहन की सेक्सी वीडियो एचडी

बस फिर क्या था, मुखिया ने सुमन की कमर को पकड़ा और लौड़े को ज़ोर से पेलने लगा. मुझे उनका इंटेशन समझ नहीं आ रहा था कि आखिर वो मुझसे क्या चाहती हैं. उसने बताया- इस जींस के बारे में सिर्फ उसकी दीदी जानती है … या अब मैं.

जैसा कि बुआ जी ने फोन पर कहा था, मैं शादी के एक महीने पहले बुआ के घर आ गया. फिर वो स्वाद बदल गया और मेरा मन करने लगा कि मैं इसकी चूत का सारा रस पी जाऊं और इसकी चूत को दांतों से काटकर खा जाऊं.

मैं उनके निप्पलों को जोर से चूस रहा था और बीच बीच में काट लेता, जिससे वो कामुक सिसकारियां लेने लगतीं.

बस की लाइट काफी देर पहले ही बुझ चुकी थी, तो कुछ खास दिख भी नहीं रहा था. चाय वगैरह पीने के बाद मैं आग के सामने बैठ गया ताकि बदन को थोड़ी गर्माहट महसूस हो सके. रघु थोड़ी देर वैसे ही पड़ा रहा, उसके बाद जब वो अलग हुआ, तब तक सुरेश ने कपड़े पहन लिए थे … और मीनू की आंखों में एक अलग ही नशा छा गया था.

मैंने उनको तुरंत हाथों में भर लिया और दोनों हाथों से दबाते हुए एक को चूसने लगा. अब मैं उनके चूचों पर चूमता हुआ, पेट और नाभि से होता हुआ उनकी चूत के पास पहुंच गया. उस दिन केबिन में जब इस लंड ने मेरे हाथ को छुआ था तभी से मैं इसको हाथ में भरकर प्यार करना चाह रही थी.

चूंकि मेरी बीवी की तरफ से मुझे दिक्कत होने वाली नहीं थी, तो अब मेरी हिम्मत बढ़ गई.

नंगी बीएफ डांस: अगले कुछ ही झटकों के साथ मैंने अपना गरम वीर्य का फव्वारा उसके मुँह में छोड़ दिया. कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं आपको अपने बारे में कुछ और जानकारी दे देता हूं.

अब ये नए नए किरदार आ रहे हैं … तो जरूरी नहीं कि सबका अहम रोल हो, कुछ खास का ही कहानी में रोल है बाकी तो बस नाम के हैं. जब उन्होंने पूरी नाइटी उतारी, तो मैंने देखा कि उन्होंने ब्रा नहीं पहनी थी. मेरे अन्दर चुत चोदने की बहुत हवस है … लेकिन मेरा लंड खड़ा नहीं होता है.

सर ने फोन उठाया तो पहले मैंने हैलो किया और बात करने की भूमिका बना दी.

उसके बाद मैंने उनको बाय करते हुए एक किस किया और फिर वहां से मधुराज जी के साथ निकल लिया. फिर मैंने एक जोर का धक्का मारा तो मेरा 4 इंच लंड उसकी गांड में अंदर बढ़ता हुआ घुस गया. तभी मैंने भी उसके होंठों को किस करते हुए उसकी गांड को अपने पानी से भर कर सींच दिया.