बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी हिंदी में सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सिविडिओ: बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो, मगर मैं अल्पना की चूचियों को चूसते हुए उसका दर्द कम करने की कोशिश में लगी हुई थी.

नेपाली का सेक्स वीडियो

जेठानी जी कराहते हुए बोलीं- रानी तू कब जागी रे … इस छोटे देवर ने तो मेरी नस नस हिला दी. हिंदुस्तानी सेक्स मूवीमैं जिया के गुलाबी होंठों को किस करते हुए उनकी चूत में धक्के लगा रहा था.

यह उसी दिन की बात है जब आपने एक बार मुझसे पूछा था कि चूत के बाल क्यों साफ कर लिये और मैंने आपसे गर्मी लगने का बहाना कर दिया था. सेक्सी वीडियो प्ले हिंदी मेंफिर फिल्म के फाइनेंसर ने फिल्म में पैसा लगाने से मना कर दिया और प्रोड्यूसर ने मुझे उनके साथ भी सोने के लिये कहा.

मैंने जो अनुमान लगाया उसके अनुसार उसकी उम्र कोई 35 वर्ष की रही होगी.बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो: फिर मैं बोला- आप बताइए, क्या आपको मुझसे कोई काम था?वो बोली- हाँ, दरअसल सेक्स करने का बहुत मन हो रहा था, तो क्या आप अभी आ सकते हो?मैंने पूछा- आप ही हो या कोई और भी है?वो बोली- चार हैं.

चाची की चूत को छूने के बाद अब मेरे से नहीं रहा गया और पता नहीं क्यों मैंने अपना लण्ड उस दरार पर टिका दिया और मेरे चूतड़ अपने आप हरकत करने लगे।वो जैसे उत्साहित होते हुए बोली- हाँ … हाँ … यहीं … यहीं डाल जल्दी … घुसा दे अंदर तक।मुझे लगा कि मेरा सुपारा किसी गर्म छेद पर टिक गया था और मैंने हल्का सा जोर लगाया मगर लंड का टोपा अंदर नहीं गया.मैंने उसके गाल पर तमाचा मारते हुए कहा- इस तरह की बातों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है.

साउथ इंडिया सेक्स वीडियो - बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो

भाभी की गांड इतनी मस्त बाउंस हुई कि क्या बताऊं?फिर मैंने उनका मुँह पकड़ा, वो पूरा लंड अन्दर बाहर करने लगीं.मैंने अपनी उंगली पर नारियल का तेल लगा कर अच्छे से उसकी बुर पर लगा दिया और उसकी बुर के ऊपर जहां से वो पेशाब करती है, उस पर उंगली से रगड़ने लगा.

मैंने अपनी बीवी के मुँह में मुँह डाल दिया और एक जोर का धक्का देकर लंड उसकी चूत में घुसा दिया. बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो तभी पीछे से मेरे हज़्बेंड ने राज की गांड पर अपने 7 इंची लंड का सुपारा लगाते हुए एक शॉट दे मारा.

मैंने उसकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया और उसके होंठों का रस पीने लगा.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो?

मैं उसके करीब गया और उसकी कमर में हाथ डाल कर उसको अपने पास खींच कर उसके होंठों में होंठ डाल कर किस करने लगा. उत्सुकता में मैंने पूछा- बता ना क्या हुआ?रूपा- अरे वही हुआ जो हर बार होता है. कहते हैं न कि जहाँ चाह हो वहां राह होती है। उसी दिन करीब 11 बजे मां जी और दीदी ने तय किया कि शाम को दोनों 3.

क्योंकि जिस तरह से समीर ने दीपक जीजा जी की गांड मारी थी … और अब वो रवि की गांड मार रहा था. उसने भी अपनी गान्ड पीछे धकेल कर मेरा साथ देना शुरू कर दिया और मुँह से सिसकारने लगी- आह … आह … आह … उम्म्म … उम्म … उम्म … और ज़ोर से … ज़ोर से प्लीज़ … तेज डाल … आह्ह … मज़ा आ रहा है।इस तरह से वो अपनी कामुक सिसकारियों से मेरा जोश बढ़ाती रही और मैं उसे चोदता रहा. ये इस सेक्स कहानी के सभी उन पात्रों का परिचय था, जो इस सेक्स कहानी में शामिल हैं.

अब मैं दीदी की चुत को याद करके और उनके मम्मों के बारे सोच कर एक बार मुठ मार ली. पहले तो मुझे लगा था कि मेरा देवर सेक्स गेम में अभी फिसड्डी होगा … मतलब वो तो चुदाई की शिक्षा की दसवीं पास भी नहीं होगा. कभी दिन में और कभी रात में … जब भी हम अकेले होते तो एक दूसरे को चूसने लगते और फिर जोशीली चुदाई का मजा लेते.

तुम मुझे कैसी भी बताना लेकिन हरी भैया का लंड मेरे लिये जैसे कुदरत का तोहफा है. मां मुस्कुरा दीं और बोलीं- हां, मुझे कोई दिक्कत नहीं है … पर वो तो नशे में धुत पड़ा है.

मैं मन ही मन खुश हो गई, मगर ऊपर से बोली- वो कैसे होगा?वो बोली- मैं पलंग पर चढ़ जाती हूँ और आशीष के लंड पर चढ़ कर चुदाई के लिए उसको गरम कर देती हूँ.

लड़की का नाम अनु (बदला हुआ) था और वो 19 साल की थी। वो कॉलेज जाना शुरू कर चुकी थी.

मैंने हां कह दिया तो अंकल ने कहा ठीक है … तुम मेरे साथ चलो और मेरे साथ ही वापस आ जाना. वो बोली- जब मजा ही नहीं आएगा … तो क्या कहना बाकी रह जाएगा!मैंने कहा- एक बार मौका तो दो यार. वो मेरा लम्बा लंड देखने के बाद खुद ही साली बोलेगी कि मनीष मेरी बुर गांड चाटना छोड़, अपना मूसल लंबा लंड मेरी चूत में डाल और मेरी चूत फाड़ दे।”मैं उनकी बात सुन ही रही थी कि दूर से सर लोग आते हुए दिखाई पड़ गए.

इतनी उत्तेजना बहुत दिनों के बाद महसूस की थी मैंने। बस अब मेरा पानी निकालने ही वाला था। उतने में मेरा संतुलन बिगड़ गया और मेरा हाथ धाड़ से बेड पर लगा. मुझे होंठों को चूसने में बहुत ज्यादा मज़ा आता है इसलिए मैं होंठों पर खास ध्यान देता हूं. कसम से दिखने में अनु बहुत सुंदर थी और उसका बदन भी मस्त था। उसके चूचे बड़े मस्त थे.

शिखा आंटी के मुँह से निकल रहा थ कि अहा … मर गई … आंह साले धीरे चोद … मादरचोद … आह मजा आ रहा है.

फिर मैंने उसको तीन वेबसाइट्स का नाम नोट करा दिया और कहा- अब जाओ और नेट पर चैक करके मुझे फोन करना. दर्द के मारे भाभी रो पड़ी मगर उसको चुदाई में मजा भी उतना ही मिल रहा था. फिर अचानक से वो मेरे लंड पर बैठ गयी और मेरा लंड मेरी मां की चूत को फाड़कर अंदर घुस गया.

मेरा मिजाज काफी मजाकिया है, जिस वजह से ज्यादातर लड़कियां मुझसे बात करना पसंद करती हैं. आह … ऊह … अमम्म … ओह्ह …” करते हुए वो लगातार कह रही थी- जान ओर तेज़ करो, मजा आ रहा है।ये सुनकर मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी और पीछे से उसके बालों को पकड़कर जोर से झटके लगाने लगा। अब हम दोनों सातवें आसमान पर थे और जन्नत की सैर कर रहे थे. मुझे न तो अजीब लगा … और न ही खराब … क्योंकि ऐसी नजरों से तो मैं दिन भर में कई बार गुजरती हूं.

आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं कि सुनीता कितनी हसीन जिस्म की मलिका रही होगी.

आपको ये मैरिड वुमन सेक्स कहानी मजेदार लगी? मुझे अपनी प्रतिक्रियाओं के जरिये जरूर बतायें. कुछ देर पूरा लंड घुसाते हुए चोदने के बाद मैंने उसको घोड़ी बनने के लिए कहा.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो मेरे अण्डों से कमर के निचले हिस्से तक एक तेज सनसनाहट हुई और मैंने पूरी ताकत झोंक दी. मैंने रास्ते में उससे पूछा- तुमने पूछा नहीं कि साथ में घूमने चलने से क्या होगा?वो मेरी बात पर हंस पड़ी और बोली- यार अब सताओ मत … मैं तुमसे उस दिन के लिए सॉरी भी बोल चुकी हूँ.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो अगर मैं उस पर दया करता तो फिर वो लंड को बिल्कुल भी अंदर नहीं जाने देती. पररर … सच्चे प्यार को भी मोहब्बत सच में सिर्फ आप से ही होगी!!मुझे उसका शायराना अंदाज बहुत पसंद आया.

अचानक से मुझे लगा मेरा माल निकालने वाला है, तो मैं बोला- अंकल फक मी हार्ड … आह मजा आ रहा है.

સેક્સ વીડિયો ડાઉનલોડ

इन सब काम क्रियाओं से वो बहुत कामुक हो गयी और उसकी जांघें अपने आप ही फैलने लगीं. कुछ देर में उसकी हालत खराब होने लगी, तो वो गिड़ागिड़ाने लग- रुक जा रघु … मेरी चुत में जलन हो रही है. फिर मैं मामी जी के मस्त-मस्त बड़े-बड़े स्तनों पर टूट पड़ा। कुछ ही देर में अब मैंने मामी जी के रसदार बोबों को ब्लाउज़ से आजाद करवा दिया.

बिना मेरे विरोध की परवाह किये उन्होंने मेरे स्तनों पर अपनी पकड़ और तेज कर दी. सनी- क्या तुमने उसे भी हम दोनों की चुदाई दिखा दी?मैं- अब वो कहां जाती यार … उसे थोड़ी मैं भगा देती!सनी- तुम भी यार! एक तो तुम देखो और उसे भी, वैसे क्या बोल रही थी?मैं- यही बोल रही थी कि एकदम कड़क है … और सनी का विवेक से मोटा भी है. उधर से एक सहमी सी आवाज़ से उत्तर आया- हैलो, क्या आप प्रकाश बोल रहे हैं?मैंने उससे पूछा- आप कौन बोल रही हैं?वो बोली- मुझे नहीं पहचाना क्या … उस दिन तो बहुत घूर कर देख रहे थे!मेरी तो मानो लॉटरी खुल गई थी.

गाँव का सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैंने मेरी सहेली के साथ गांव गयी और उसके घर में रही.

वो जब भी अपना लंड उनकी चूत पर रगड़ता था, उसकी मॉम पलट कर लेट जातीं और उसे चोदने नहीं देती थीं. मेरे भाई ने हम दोनों देवरानी जेठानी की चुत चोदी और मेरे पति और जेठ जी ने हम तीनों की गांड मारी. मैं भी मुंह खोल कर उसके लंड से बाहर आने वाली अमृत की बूंदों का इंतजार करने लगा.

वो मेरे लंड को पकड़ कर मुझे बेड पर ले गयी और मुझे चित लिटा कर मेरे ऊपर आ गयी. घूमते समय जैसे ही अशोक और जितेन्द्र को मौका मिलता, तो वो मां की जवानी से खेलना नहीं चूकते थे. अब मैंने अपने पैरों को नीचे किया, तो वो अपनी जीभ से मेरे आंडों को चाटने लगी थी.

आज मुझे उस पर बहुत प्यार आ रहा था इसलिए पता नहीं मेरे मन में क्या आया कि मैंने उसको बातों ही बातों में प्रपोज़ कर दिया। मुझे तो ऐसा लग रहा था कि कहीं वो मना न कर दे लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि इस दुनिया में हजारों अश्विन हैं.

… जीजा जी आप उठिए … माया भाभी को मैं चोदूंगा … तुम रानी भाभी को चोद लो. मैंने उन्हें अंदर आने दिया और शरमा कर किचन में कुछ बनाने का नाटक करने लगी. मैंने बोला- उसको किसने दिया?वो बोली- उसका भाई उसको हर रोज ब्लू फिल्म दिखा दिखा कर चोदता है.

दर्द होता है यार!मैं मस्त होती जा रही थी- आह्ह … आह्ह … आह्ह! अजय चूस लो आज मेरे आम का रस का पूरा रस! पी जाओ लो आह … आआहह! इन्हें निचोड़ कर रख दो.

वो अपनी मादक आवाजें निकालते हुए मेरा साथ देते हुए चुदाई का मजा लेने लगी थीं. मेरी चूचियाँ उसकी आँखों के सामने नंगी हो गईं।उसने फिर अच्छे से मेरी चूचियों को हाथ से सहलाकर उनका पूरा नाप नाप लिया और फिर उन्हें बारी-बारी से मुँह में लेकर चूसने लगा। वो मेरी चूचियों के चारों ओर जीभ घुमाकर उन्हें चाट रहा था. उसके सामने मैं बीवी का बहुत ख्याल रखता था, ताकि उसको लगे कि मैं अच्छा और देखभाल करने वाला पति हूँ.

और अभी पूरे 1 हफ्ते तक हम दोनों तुझे दिन रात चोदेंगे।कुछ देर आराम करने के बाद मैं नहाने के लिए चली गई।नहाते वक्त मैंने देखा कि मेरी चूचियों को चूसने की वजह से लाल लाल निशान हो गए थे. उन सब ने दारू पी हुई थी और उन्हें आधा ही होश था इसलिए मेरे पास उनको बर्दाश्त करने के लिए अलावा दूसरा कोई रास्ता नहीं था.

ये हमारे लिये सब कुछ करेगा लेकिन इसकी शर्त है कि ये तेरे साथ सुहागरात मनायेगा. आह्ह्ह आह्ह्ह और जोर से और जोर से चोदिए अपनी बीवी को … आह्ह मैं आपकी रंडी हूँ जान. मैं उसको देख कर स्माइल कर देता था और बदले में वो भी मुझे देख कर स्माइल कर दिया करती थी.

ब्लू पिक्चर नेकेड

मेरी मदर इन ला Xxx स्टोरी में पढ़ें कि मेरी अपनी शादी में मेरी मौसी सास की जवानी देखकर मैं फिदा हो गया.

जिनमें ज्यादातर सरकारी व प्राइवेट नौकरी और बिजनेसमैन आते हैं और उनकी घर की औरतें भी शामिल होती हैं. मैंने थोड़ी हिम्मत जुटाई और कहा- विशाल … चूंकि आप बहुत सुंदर हो, मुझे अच्छी लगती हो. मेरी अंग्रेजी कमजोर थी लेकिन अब मैं धीरे धीरे पढ़ कर समझ लेती थी, सो मैंने उसे धीरे धीरे पढ़ना शुरू किया.

मैंने झुके हुए ही हड़बड़ी में उससे पूछा- ये क्या है?उसने टॉवेल साईड में रखा और मेरी चूत को अपने हथेली से पकड़ लिया. वो बीच बीच में रूक कर मेरे स्तनों को मसल देते, या मेरे निप्पल चूस लेते या मेरे होंठों को चूसने लगते. हिंदी भोजपुरी सेक्सलंड को मुख मैथुन का सुख देने का बाद, वो मेरी जांघों पर बैठने लगी और उसने मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर अपनी चूत के निशाने पर लगा लिया.

उसकी चूत मेरे लंड पर रगड़ खा रही थी या यूं कहें कि मौसी मेरे लंड को अपनी चूत से घिस रही थी. तीस सेकंड बाद मैं ऐश्वर्या के ऊपर से हट गया और कंडोम को डस्टबिन में फेंककर उनके पास लेट गया.

मेरे पूरे बिस्तर पर गुलाब की खुशबू और रूम फ्रेशनर की खुशबू महक रही थी. प्लीज़ कमेंट करके जरूर बताइएगा कि मेरी फ्री हिंदी सेक्स कथा आपको कैसी लगी. मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी कमर पकड़ी और उसकी कमर, नाभि और पेट को सहलाने लगा.

आपको अगर बुरा ना लगे, तो क्या मैं किसी अफ्रीकन लंड से चुदाई कर सकती हूं? बड़ा मोटा लंड सेक्स का मजा देता है!मैंने उसकी तरफ हैरानी से देखा और पूछा- क्या चूत का भोसड़ा बनवाने का मन है?वो हंस दी और बोली- अब तीन तीन औलादें पैदा कर चुकी हूँ, उधर तो बुलंद दरवाजा बन ही गया है. मैं सोच रही थी कि क्या करूं, तभी पीछे वाला दरवाजा खुला और जिसने मुझे नहलाया था, वो अन्दर आ गया. घर से मैंने योगेश जी को कॉल करके बता दिया जो उन फाइनेंसर लोगों ने मुझसे बोलने के लिये कहा था.

फिर मैंने उसके सारे कपड़े निकाल कर अपने बगल में लिटा लिया और धीरे धीरे से उसके चूचों को दबाने लगा.

मैंने अपने कमरे में गुलाब की पत्तियों से अपने बिस्तर को सजा दिया था. आपको गर्लफ्रेंड की चूत में लंड की यह कहानी कैसी लगी? मुझे आपके मेल का इंतज़ार रहेगा.

फिर तुम मेरी मलाई चाट लेना!कहकर वो मेरे पैरों की तरफ आया और उस गीली जगह पर अपनी जीभ लगा दी।मैं सनसना गयी, मेरा जिस्म अकड़ गया- क्या कर रहे हो रोहित?मेरी कांपती हुयी आवाज से शब्द निकल रहे थे. उसकी जांघें भी एकदम मक्खन के जैसे चिकनी थी। मैं अपने एक हाथ से उसकी चूत को उसकी पैंटी के ऊपर से ही सहलाने लगा. उसने मुझे अपने साथ लिटा कर मेरे जिस्म को सहलाया और मुझे नंगी होने को कहा तो …नमस्कार दोस्तो, मैं विकास एक बार फिर से हाजिर हूं.

भाभी ने मुझे देखा वो तुरंत ही मेरे पास आई और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी ननद, साधना और पारुल के पास ले गई. मैंने अन्दर आकर उससे कहा कि मैं तुम्हारी Xxx वीडियो डिलीट कर दूंगा, लेकिन उसके लिए तुमको कुछ करना होगा. उसको स्ट्रेच करते समय कई बार मेरे शरीर से उसके बूब्स और गांड टच हुए लेकिन उसने कुछ भी नहीं बोला था.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो मैंने पूरे बोबे को अच्छे से निचोड़ निचोड़ कर चूसा डाला। अब मैंने मामी जी के दूसरे बोबे को मुंह में दबा लिया और फिर प्यार से दूसरे बोबे को चूसने लग गया. उसने मुझसे कहा कि शादी-वादी के सपने भूल जाओ, दोनों मिलकर जवानी के मजे लूटते हैं.

सेक्स फिल्म ब्लू वीडियो में

उसके मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … आह्ह … ऊंह्ह … आह्ह … आराम से … दर्द हो रहा है जान।मैं एक हाथ से उसके बूब्स दबा रहा था और उसके निप्पल को मुँह में लेकर चूस रहा था. मैंने धीरे से उसके लिंग को मरे मन से मुंह में ले लिया और चूसने लगी. अब वो लगातार धार चलाने लगा और कहने लगा कि जैसे नल से पानी पीया जाता है वैसे ही पी जा वरना नहीं तो बेड खराब हो जायेगा.

मैंने जल्दी से कॉन्डम का पैकेट फाड़ा और अपने लंड पर कॉन्डम लगाने लगा. मैं यह भी भूल चुकी थी कि मैं शादीशुदा हूँ और किसी गैर मर्द की बाहों में अपनी चूत की प्यास बुझा रही थी. लड़कियों के फोटो दिखाएंमैंने चाय नाश्ते की ट्रे टेबल पर रखी और माया दीदी की गांड में चपत लगाते हुए बोली- क्या दीदी आप भी ना! पहले मेरे भाई को थोड़ा आराम तो कर लेने दो.

तभी सोनम ने कहा- सुनो न … आज मेरी सहेली घर जा रही है, तो मैं रूम पर अकेली बोर होऊंगी.

लता आंटी ने मुझे देख कर मुस्कुराते हुए कहा- आओ हितेश … उस दिन के बाद तू आज मिल रहा है. मेरा भी अब होने वाला था तो मैंने लगातार घस्से मारे और मैंने भी अपना सारा माल उसकी चूत में ही कॉन्डम में निकाल दिया। हम दोनों बेड पर निढाल होकर लेट गए.

एक दो बार मैंने भी उसकी चूत को अपने लंड से सहलाया, तो वो अपनी चूत में लंड लेने के लिए मचल उठी. मैंने उसे करते करते उसके कपड़े उतार दिए और उसको पूरी तरह नंगी कर दिया. उसने दांतों से मेरे गीले हो चुके अंडरवियर को खींचा और मेरा लंड उछल कर बाहर आ निकला.

कुछ मिनट बाद जितेन्द्र ने मेरी मां की चूत में अपने लंड का पानी गिरा दिया और थककर मां के ऊपर ही ढेर हो गया.

फिर धीरे से उसने अपने दांतों से मेरी पैंटी को मेरी चिकनी टांगों से अलग कर दिया. कुछ देर बाद मैंने उसको बोला- चल तेरे को आज कुतिया बना कर पेलता हूँ. जिस लड़की के साथ मुझे इतना मजा आया, वो तो किसी को भी जन्नत की सैर करा सकती है.

सेक्सी हॉट वीडियो हदमैंने अपनी बहन की बुर में उंगली करना चालू कर दिया और मेरी बहन की साँसें तेज होने लगीं. उजमा ने उसका भीमकाय लंड हाथ में ले लिया और मदहोश होकर लंड देखने लगी.

એક્સ એક્સ કોમ

अंकल मेरे पास आए और हड़बड़ाते हुए मुझे उठाकर मुझे बाथरूम के पास ले गए. मैंने आ कर दिया और आंटी जरा सा उठ कर मेरे मुँह में पेशाब की धार मारने लगीं. उसके मम्मों को पकड़ कर उन्हें भंभोड़ रहा था, जिससे मीना कसमसाए जा रही थी.

मैंने कहा- क्यों इसमें कांटे लगे क्या?वो हंस दी और उसने मेरा लंड पकड़ लिया. मैं उसके मम्मों को चाट रहा था और मेरे हाथ मेरी बीवी के पेटीकोट को खोल रहे थे. मैंने ये मौका सही समझा और आगे बढ़ कर उसके गाल पर हाथ फेरते हुए आंसू पौंछ दिए.

अनीता भाभी ने खुद को ऐंठाते हुए कहा कि आह और जोर जोर से चोद दे भोसड़ी के … मजा आ रहा है … आह हरामी चोद मादरचोद. देसी नंगी भाभी की कहानी में पढ़ें कि उसके देवर ने कैसे भाभी को पूरी नंगी करके उसकी तमन्ना पूरी की, उसे खूब मजा देकर चोदा. मैं- तो आपके और आपके ससुर के बीच कितने समय बाद सेक्स हुआ?ऐश्वर्या- जब यह सिलसिला शुरू हुआ, तो पहले एक महीने में हमारे बीच दो बार सेक्स हुआ था … और दूसरे महीने अविनाश के कहने पर तीसरी बार सेक्स हुआ … फिर हमारे बीच दो-तीन महीने के बाद सेक्स होता रहता है.

उसकी नाभि को चाटते हुए मैंने उसके पेट को भी हल्के से काटना शुरू कर दिया. फिर मैंने उसको वहीं सोफे पर लिटा लिया और उसकी साड़ी का पल्लू खींच कर उतारने लगा.

उसके बाद मैं उसकी चूत को चाटने लगा। उसकी चूत ने अमृत छोड़ना शुरू कर दिया और मैं उसे चाटने लगा। वह अपनी चूत मेरे मुंह की ओर धकेल रही थी। फिर मैंने उसे एक साइड में खड़ा किया और मैं उसके आगे जाकर खड़ा हो गया और अपना लंड उसकी चूत में डालने लगा।इस बार वह ज्यादा जोर से चिल्लाई नहीं क्योंकि उसकी सील पहले ही टूट चुकी थी। उसे दर्द तो हुआ लेकिन उतना नहीं.

मगर सच तो यही था कि वो मेरी चाची थी और मेरे सामने मेरी चाची की चूत खुली पड़ी थी. सेक्सी जंगल वीडियोसनी के अलावा कोई और नहीं मिल सकता क्या?मैं- सनी के अलावा और कौन मिलेगा यार. सेक्सी वीडियो गोरे लोगों काअब मैं दीदी की चुत को याद करके और उनके मम्मों के बारे सोच कर एक बार मुठ मार ली. अल्पना- पर तू ये सब कैसे करेगी?मैं- मैंने बोला न … तू हां बोल … और अपनी चूत चुदवाने के लिए तैयार हो जा.

इसके बाद उनकी चूचियों से खेलने के बाद हम दोनों नंगे ही बाथरूम में चले गए और साथ में नहाए.

इस बीच कई बार मेरी मुलाकात खुशबू से हुई लेकिन मैं उसके कहने पर उसके घर नहीं गया. इसी बीच मैंने अपनी पैंट की जेब से फोन निकाला और अपने फोन का कैमरा ऑन किया और वीडियो रिकॉर्ड करने लगा. चूत और लंड दोनों इतने चिकने हो चुके थे कि लग रहा था लंड मलाई में चल रहा है.

कॉलेज में मेरा ब्वॉयफ्रेंड मेरी चूत मुफ्त में मांगता है, मगर मैंने दी नहीं. मैं उसे पसंद करने लगा था मगर बोलने से डरता था कि कहीं ये किसी को कुछ बता न दे. मैंने धीरे से उनके ऊपर आने की कोशिश की और उनकी चूत में एक उंगली कर दी.

सेक्सच्या व्हिडिओस

चलते हुए मैं रिसेप्शन से गुजरने लगी तो मैनेजर ने मुझे आवाज दी- अरे मैडम, जरा सुनिये!मैं चल कर उसके पास गयी तो वो मुझे देख कर मंद मंद मुस्करा रहा था. इसलिए मैं चुपचाप अगले दिन 11 बजे उनके ऑफिस पहुंची और उनके कैबिन में बैठ गई. लोकेश- तू भी चल ना साले, मैं अकेला क्यूं जाऊं?रोहन के बहुत कहने के बाद वो माना.

मेरी चूत से भी पानी छूट पड़ा और मैं बुरी तरह से वहीं खड़ी खड़ी कांपने लगी.

मेरे हाथ जैसे ही उसके उभारों को थोड़े ज़ोर से दबाने लगे तो उसकी बेचैनी बढ़ गयी.

एक दो को प्रपोज़ किया मगर कोई अच्छा रिस्पोन्स नहीं मिला।ऐसे ही दिन गुज़रते गए।हमारे पड़ोस में एक परिवार रहता था. उसे पकड़े जाने का डर लग रहा था … लेकिन फिर भी वो मेरे होंठों को मस्ती से चूस रही थी. বাংলা মুভি ওয়ান্টেডहम आगरा पहुंचे, वहां पर उसने हमें होटल का एड्रेस दिया … और हम होटल पहुंच गए.

कुछ देर ऐसे ही मेरे चूचे और चूत सहलाने के बाद उसने फिर पेटीकोट के अंदर-ही-अंदर मेरी पैंटी को थोड़ा साइड में कर दिया. मैंने उसके बदन पर हाथ फेरा तो पाया कि वो ब्रा और पैंटी में लेटी हुई थी. एक दिन फिर वो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने मना कर दिया कि मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

बाद में जब वो जाने लगी तो उसने मेरा नंबर मांगा कि कुछ खाने पीने से रिलेटेड पूछना हुआ तो जरूरत पड़ेगी. उसके मस्तक पर चुम्बन करके मैंने उसे गले से लगाया और उसकी पीठ पर हाथ फेरने लगा.

रत्ना- सुंदर आओ … लो ये ठंडाई पियो … जो चम्पा ने खास तुम्हारे लिए बनाई है.

फिर नवाब ने मुझे भी दुल्हन बनने के लिए कहा और बोला कि आज तेरी भी सुहागरात मनेगी. और फिर कुछ और धक्के लगाने के बाद रोहित भी हाँफता हुआ मेरे ऊपर गिर पड़ा।थोड़ी देर तक वो यूं ही वो मेरे ऊपर पड़ा रहा।फिर वो मुझसे अलग हुआ और मेरे गर्दन पर अपनी जीभ फिराते हुए बोला- भाभी, आपकी चूत और आपके जिस्म का रस मुझे बहुत पसंद आया।थोड़ी देर बाद एक बार फिर वो थोड़ा सा मेरे ऊपर आया और अपनी एक टांग को मेरी टांगों पर चढ़ाकर मेरे निप्पल पर जीभ फिराने लगा. थोड़ी देर में जब जेठानी जी आ गईं तो उनके हाथ में एक बड़ा सा बैग था.

ओपन सेक्स जापान कुछ देर की मस्ती के बाद मैं उसकी जींस खोलने लगा, तो वो बटन पर हाथ रख कर शर्माने लगी और बोली कि नहीं यार … यह सब अभी नहीं … कोई आ गया तो!मैंने बोला- कोई नहीं आएगा … तुम टेंशन ना लो मेरी जान. जिया मेम- मानव, मैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड या बीवी नहीं हूं, इसलिये तुम जरा ध्यान से अपना लंड अंदर डालना और सब कुछ आराम से करना.

मैं सोच रहा था कि अगर मेम बाहर से इतनी खूबसूरत दिखती हैं तो अंदर से कैसी होगी. बटन खोल कर ब्लाउज अलग किया और इसके बाद उनकी रेशमी ब्रा भी को भी खोल दिया. मेरे पूरे बिस्तर पर गुलाब की खुशबू और रूम फ्रेशनर की खुशबू महक रही थी.

इंडियन सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स

पहले अपने पति के बाहर जाने पर जो मुझे घर में ही मिलने बुलाती, वो अब पति 2-3 दिन कहीं चला जाए … तो भी नहीं बताती. जेठानी जी कराहते हुए बोलीं- रानी तू कब जागी रे … इस छोटे देवर ने तो मेरी नस नस हिला दी. मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी कमर पकड़ी और उसकी कमर, नाभि और पेट को सहलाने लगा.

मुझे मेरी असली मां का तो याद नहीं क्योंकि मैं उस वक्त बहुत ही ज्यादा छोटा था. मैं बार बार उस बाल्कनी में जाता रहता था कि काश भाबी के दीदार हो जाएं.

मैं उसे लगातार देखे जा रहा था और उसकी निगाहें भी मेरी नजरों को मानो अपनी तरफ खींच रही थीं.

धीरे धीरे मैंने उसकी गर्दन पर किस किया और मेरे हाथ उसके दूधों पर पहुंच गये. इस समय भाबी की चूत गीली होने की वजह से पूरे रूम में फ़च फ़च की आवाजें आने लगी थीं. भगवान ने भी क्या खूब लिख दिया था किस्मत में। अब मुझे अपनी गर्लफ्रेंड के नंगे फोटोज़ देखकर मुठ मारने की कोई जरूरत नहीं रह गयी थी।मेरी गर्लफ्रेंड कभी मुझे फ़ोन कर रही थी और कभी वीडियो कॉल कर रही थी.

उसने मुझे पलंग पर लेटा दिया और मेरे ऊपर झुक गया।फिर मेरी दोनों टांगों को झुके हुए अपने कंधे पर रखा और एक बार फिर चुदाई शुरू कर दी।इस पोजिशन में लगा कि मेरी चूत थोड़ी और टाईट हो गयी है। फच-फच की आवाजें आने लगी थी। मेरे जिस्म में अकड़न चालू हो चुकी थी. उसने कहा- ठीक है, तो कब आयेगी?टालने के लिए मैंने कहा- कल परसों आती हूं. मैं चुपचाप वहां से निकल गयी।उनकी बात सुनकर उस समय वास्तव में मुझे मेरी पैन्टी कुछ गीली सी लगी। कुछ भी खाने का मन नहीं हुआ.

मैंने भी भाभी को गाली देते हुए कहा- हां ले न भैन की लौड़ी … ले चुद मादरचोदी … भोसड़ी की … आह खा मेरा लंड.

बीएफ सेक्स मूवी हिंदी वीडियो: मैंने पूछा- कौन से जेठ से चुदोगी? बड़े वाले या मंझले वाले से?वो बोली- मंझले वाले. मैं उसको अपने कमरे के अन्दर ले गया और उसकी एक चूची को कस कर दबा दिया.

कुछ देर बाद उसने मुझे ऊपर लिटाए लिटाए रोक लिया और खुद नीचे से झटके देने लगा. आपके रेस्पोन्स के आधार पर मैं इस कहानी को आगे भी बताऊंगी कि कैसे दिया को मेरी चूत चुदाई की खबर लगी और फिर वहां क्या क्या हुआ. मेरी फैमिली पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि मैंने और मेरी जेठानी छोटी ननद की चुदाई ननदोईजी से करवाई.

मेरे पेशाब करके आने के 5 मिनट बाद दिव्या भी बाथरूम गई और फिर थोड़ी देर बाद वापस आ कर सो गई.

वो मेरे से बोली- क्या ये सब होता है?मैंने बोला- हां … और इसको करने में बड़ा मजा आता है. मगर उसने मुझे ऐसे देख मेरी चूत में अपनी भी दो उंगली घुसा दी। एकदम से उसने उंगली डाल दी तो मैं फड़फड़ाने लगी। मैंने देखा तो वो मुस्करा रहा था. इधर मैं आपको बता दूं कि हमारी लाइब्रेरी में ज्यादातर समय कोई नहीं रहता है.