वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी

छवि स्रोत,हिंदी सेक्स वीडियो गुजराती

तस्वीर का शीर्षक ,

भाई बहन का सेक्सी प्यार: वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी, अब मैं मौसी के ऊपर चढ़ गया और कपड़ों के ऊपर से ही अपना लंड मौसी की चूत के ऊपर रगड़ने लगा.

अंग्रेजी सेक्सी वीडियो दिखाइए

सुमन- तो क्या हुआ, मैं प्यार भी नहीं कर सकती क्या इसको?सुरेश- कर लो मेरी जान … आह ये तुम्हारा ही तो लंड है. ऑस्ट्रेलिया की सेक्सी फिल्मेंमैंने भी तुरंत उसे बेड पर धक्का देकर दोबारा से लिटा दिया और उसके होंठों को फिर से चूसने लगा.

कुछ देर बाद जब हम दोनों ने पूरी न्यूज़ को देखा तो जानरी हुई कि इस महामारी से लोगों की मौत के आंकड़े आ रहे थे. सेक्सी वीडियो ओपन हिंदी मेंचचा अभी और पीने के मूड में थे तो मैंने राजेश को धीरे से इशारा किया और पेशाब करने के बहाने से उठने लगा.

फिर हल्के से मेरा दरवाज़ा उड़का कर बंद दिया, पर बाहर से बंद नहीं किया.वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी: मैं अपनी गर्लफ्रेंड की सेक्सी बातों में काफी उत्तेजित हो गया और जोश में होश खो बैठा.

बड़ी मुश्किल से ये मौका हाथ लगा था और मैं इस मौके को किसी भी कीमत पर अपने हाथ से जाने नहीं दे सकता था.शबाना की गर्म चुत से हाथ का स्पर्श होते ही मेरे बदन में मानो करंट सा लगा.

सेक्स कथा व्हिडिओ - वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी

मैंने भैया से बोला- आप इतने जल्दी क्यों जा रहे हो?भईया बोले- ऑफिस से फोन आ गया है, जाना ही पड़ेगा.मैं- भाभी, मैं जब भी अपने दोस्तों से मिलता हूँ, तो उनके गले लगता हूँ.

मैंने रोशनी से कहा- जानेमन शुरू करें?उसने कहा- इतनी जल्दी क्या है यार, थोड़ा रुको, मैं नहाकर आती हूँ. वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी आपा सोनिया को मनाने लगी तो सोनिया बोली- मैं नानाजी से आप दोनों की शिकायत करुंगी।यह सुनते ही आपा ने उसके गाल पर थप्पड़ मारा और उसे चुप रहने के लिए कहा.

उसने पूरी रात में मुझे पांच बार चोदा और सुबह जब 05:00 बज रहे थे, तब वो रुका.

वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी?

थोड़ी देर बाद मैंने होंठ हटाए और पूछा- चिल्लाई क्यों?भाभी बोली- तुम्हारे भैया ने मुझे अपने काम के चक्कर में तीन महीनों से नहीं चोदा है और तुम्हारा उनसे लम्बा और मोटा है. बालों में प्याज का रस लगाने के बाद मैंने कहा दीदी- जैसे नाई मसाज करते हैं, वैसे कर दूँ. फिर दिमाग में आया कि जिस तरह से सीमा मामी को योजना बनाकर चोदा था उसी तरह पूजा भाभी को भी चोदने के लिए कोई न कोई योजना बनानी ही पड़ेगी.

दोस्तो, आपको देसी सेक्स के खेल में मजा आ रहा होगा, आपके मेल काफी गर्मागर्म मिल रहे हैं. उन्होंने ये सुना, तो मानो पिल पड़े और दस बारह धक्के के बाद एक जोरदार धक्के से मेरी चुत को भर दिया. सुमन- लेकिन मैं कैसे किसी अनजान से … नहीं नहीं मुझे बहुत अजीब लग रहा है.

मैं जानता था कि आयशा जैसी लड़की के लिए मैं सही आदमी नहीं हूं क्योंकि उसकी कुछ जरूरतें ऐसी थीं जो मैं पूरी नहीं कर सकता था. सुमन- ये क्या है … मुझे ऐसे क्यों?सुमन आगे कुछ बोलती, हरी ने मुँह पर उंगली रख कर उसको चुप कर दिया. मॉम के मुंह से सिसकारियां निकल पड़ीं- आह्हह … रवि … आराम से … यहीं हूं मैं … मजा लेकर भींच बेटा … आह्हह … धीरे से … पूरा मजा ले.

मगर मेरे पति मुझे दुल्हन के रूप में देखकर सारे रास्ते मुझे चोदने के ख्वाब देखते आ रहे थे. वो ‘आह आह आह आह मर गई … आह चोद डालो … आह अन्दर … और अन्दर प्लीज़ डालो.

उसने फिर बट प्लग को मां के मुंह से निकाला और उसकी गांड पर दबाते हुए उसके छेद में पूरा डाल दिया.

मैं वासना में बड़बड़ा रही थी- आह चोदिए समधी जी … आह अपनी बीवी समझ कर चोदिए राजा जी … आह … और … तेज आह … धक्के मारिए.

अगले पांच मिनट तक मैंने इसी स्पीड से उसको चोदा और वो एक बार फिर से झड़ गयी. अब मैंने अपनी अंडरवियर भी निकाल दी और आंटी की गर्दन पकड़ कर नीचे अपनी जांघों की ओर दबा दी. मैंने देरी न करते हुए रागिनी को अपने नीचे लिटा दिया और अपने लौड़े पर थूक लगा कर रागिनी के बिल पर सेट किया.

मेरी कहानी के प्रथम अंश21 दिन लॉकडाउन में चुदाई की जन्नत- 1में अब तक आपने पढ़ा था कि सार्थक ने मुझसे पूछा था कि क्या मैं सीलपैक माल हूँ, जिस पर मेरे मुँह से निकल गया था कि खुद चैक कर लो. फिर मैंने अपना एक हाथ भाभी की कमीज के अन्दर डाल दिया और ऐसे ही मम्मों को सहलाने लगा. दो घंटे बाद मैं लंगड़ाती हुई बाथरूम तक जा रही थी, तभी पीछे से सार्थक ने मुझे गोद में उठाया और बाथरूम में ले गया.

उसने मेरे मुंह को अपनी चूत पर दबा लिया और जोर से सिसकारते हुए बोली- आह्ह … चोद दो राज … मुझे चोद दो … फक मी राज … फक मी प्लीज!अब मैं भी नहीं रुक सकता था.

फिर एक स्टेशन पर वो अपने सामान के साथ डिब्बा बदलने उतरी उसी समय वो अपने परिवार से बिछुड़ गई. उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा तो वो तड़प उठी और अपनी गर्म, गीली चूत को नीचे से उठाकर मेरे लंड पर रगड़वाने लगी. मैं बस धक्के पर धक्के देता हुआ अपनी जानू को चोदे जा रहा था और जानू भी गांड हिला हिला कर चुत चुदवा रही थीं.

10 मिनट बाद वो अपनी चरम सीमा पर पहुंच गया और उसने मेरी चूत इतनी तेज दबायी कि मेरी आंखों से पानी बाहर आ गया।उसने अपना सारा पानी मेरे मुंह में छोड़ दिया।उसके लंड से निकले पानी से मेरा मुंह भर गया. उसकी आंखें नम हो गई थीं और आंसुओं की बूंदें टपकने ही वाली थीं कि डोरबेल बज उठी. उष्ण कड़क लण्ड का स्पर्श मुझे आनंदित कर गया था, उनका लंड छूने में जैसे कोई ठोस रबड़ का बना प्रतीत होता था.

वो हमेशा उसको सपने में नंगा देखता है … और आखिर में वो लड़की उसको मिल जाती है.

मैं पूरी ताकत से धक्के लगा रहा था और भाभी नीचे से गांड उठा-उठाकर मेरा पूरा साथ दे रही थीं. मैंने कहा- हां जानू आप खुद ही मेरा लंड निकाल कर ले लो न!भाभी बोलीं- हां जानू मैंने आपका लंड पकड़ लिया है.

वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी मेरी नज़र भी ऐसी ही एक भाभी पर टिकी थी, उनको देख कर मैं लाइन मारता रहता था. पति के दोस्त से चुदाई की सोचकर मेरे ऊपर सेक्स का एक अलग ही नशा चढ़ जाता था.

वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी वो अब तक तीन बार पानी छोड़ चुकी थी, फिर मैं भी उसकी फुद्दी में झड़ गया. अब आगे नंगी लेडी की मस्त चूत चुदाई कहानी:अब हम तीनों एकदम नंगे लेटे हुए थे.

अपने पति सोनू से मैंने जॉब करने के लिए पूछा तो उन्होंने हां कर दी और मैं भी फिर काम पर जाने लगी.

विलेज सेक्सी भाभी

अब आगे की Xxx भाभी सेक्स स्टोरी:रुक्मणी- बोल, क्यों आया है?मैं- वो भाभी मैंने सोचा कि आप थक गई होंगी, तो चाय बना लाया. मुखिया- वो टंकी तो तेरे से खाली नहीं हुई … अब तू ये वाली टंकी खाली कर दे तेरा जोबन देख कर इसमें उफान आ रहा है. वो एक हाथ से मेरा लंड हिला रही थी और साथ में मेरी गांड की दरार को अपने दांतों से काटते हुए चाट रही थी.

दोस्तो, मैं राज शर्मा आपको अपनी इंडियन आंटी सेक्स कहानी बताने आया हूं कि कैसे मुझे एक आंटी की चुदाई करने का मौका मिला. उसने बताया कि कैसे रमेश बाबू और उसका दोस्त और उसका बेटा उसे नियमित रूप से चोदते हैं. फिर मैंने पूरा लंड अंदर देकर और बाहर निकाल कर फिर से अन्दर देना शुरू किया.

उधर मेरे पति नमन का फोन भी लगभग रोज ही आता कि जल्दी आ जाओ … बची हुई छुट्टियां कैन्सिल कर दो.

मैं आंटी की चूत में जीभ देकर उसकी चूत की दीवारों को चाटने लगा और आंटी मेरे लंड को मुंह में भरकर चूसने लगी. अब मैं मेरे दूसरे मामा के यहां चला आया जहां पर तीन मामा एक साथ रहते थे. तो मैंने देखा कि भाभी का सिर मेरी गोद में है और मेरा चेहरा भाभी की नंगी पीठ पर है.

अम्मी को कुछ समझ पातीं कि राज ने मेरी अम्मी को अपनी बांहों में भर लिया और उनके होंठों को पीने लगा. लंड को पूरा घुसाने के बाद वो रुका नहीं और ताबड़तोड़ लन्ड मेरी गांड में पेलने लगा. उस दिन मौका पाकर मैंने करण की गर्लफ्रेंड को अपने घर में लाकर चोदा था.

उसका डरा हुआ चेहरा देख कर मैंने उससे बोला- रुक जा साली इतना टेंशन मत ले. फिर मैंने देखा कि अम्मी ने चेहरा उठा कर घड़ी की तरफ देखा तो 7 बज गए थे, अब्बू के आने का टाइम हो गया था.

उसके ब्लाउज के साइड से कंधे के ऊपर उसकी लाल ब्रा की पट्टियां भी मुझे दिख रही थीं. ज़मींदार अक्सर बड़ी हवेली में रहना पसंद करते थे, तो उसी हिसाब से ये हवेली बनाई गई थी. ये समझना मुश्किल हो रहा था कि वो साया किसका है, मगर जो भी था उसके इरादे ठीक नहीं थे.

वो जोर से सिसकारते हुए बोली- आह्ह … राज … चोद दो। अब नहीं रुका जा रहा.

फिर उसके पेट और नाभि को चूमते हुए मैं उसकी चूत के ऊपर वाले हिस्से पर चूमने लगा. मेरे पतिदेव ने अब अपना एक हाथ मेरी कच्छी के अन्दर डालकर मेरी गांड को सहलाना शुरू कर दिया. मैंने कहा- लस्सी की क्या जरूरत है?वो बोली- आज हमारी इतनी लस्सी निकलेगी, तो हमको इसकी जरूरत पड़ेगी.

रूचि- क्या हुआ राहुल? तुमने अन्दर डाला क्यों नहीं?राहुल- प्यार करता हूँ तुमसे रूचि. सुजाता ने जैसे ही हां की तो मैंने उसकी गर्दन को पकड़ा और अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये.

अब उसने अपने हाथ बाहर निकाल लिये और मॉम से कहा- आंटी, अब आप अपने हाथ सिर के ऊपर कर लो, मैं बाकी जगह भी रंग लगा लूं और फिर खत्म।मैंने कहा- विक्रम अब बस!मॉम ने आंखें खोलीं और कहा- अब जगह कहां बची है अंजलि? लगाने दे इसे. अब बदले में मौसी ने मेरी लोअर के अंदर हाथ डाल दिया और मेरे लंड को टटोलते हुए उसको अंडरवियर के ऊपर से ही पकड़ लिया. बस अब क्या था भाभी ने मेरा लंड मुँह में ले लिया और पूरा अन्दर लेने की कोशिश करने लगीं.

नानवेज स्टोरी

अब मैं नताशा के होंठों को जोर से चूस रहा था और मेरा एक हाथ मेरी बीवी की गांड पर पहुंच चुका था.

मेरी गुलाबी चूत, जिस पर महीन महीन झांटों का हल्का सा जंगल उगा हुआ था. हम एक बिजनेस हाई कॉलोनी अपार्टमेंट में रहते हैं, जहां दसवीं मजिंल पर हमारा बड़ा फ्लैट है. वो इतनी सेक्सी माल थी कि जो भी उसे एक बार नजर भर कर देख ले, उसका लंड बिना उसे चोदे शांत ही न हो पाए.

मामी के मुंह से निकल रही इन कामुक आवाजों और बातों के कारण मेरा जोश और ज्यादा बढ़ता जा रहा था. वो फिर से मेरे ऊपर आ गया और मुझे डॉगी स्टाइल में पेलना शुरू कर दिया. साउथ हीरोइनों की फोटोहैरानी की बात थी कि मेरा वीर्य छूटने के बाद भी रजिया ने मेरे लंड को मुंह से नहीं निकाला.

मगर मैं अभी शांत नहीं हुआ था।उसने कहा- अब अगर और किया तो मर जाऊंगी मैं! बर्दाश्त नहीं हो रहा है अब!उसने खुद उछल कर मेरा लंड अपनी चूत में से निकाला और तुरन्त कंडोम हटाकर ऐसे ही अपने मुँह में ले लिया। क्या बताऊँ दोस्तो, उसके होंठों का स्पर्श पाकर मैं तो जन्नत की सैर कर रहा था. उस वक्त दोपहर के चार बज रहे थे और उनकी सहेली ने बताया कि वो दो और औरतों के साथ पांच बजे आने वाली थी.

नौकरी लगते ही मेरे पापा ने मेरी शादी के प्रयास शुरू कर दिए और जल्दी ही मेरा विवाह नमन से हो गया जो कि किसी सरकारी दफ्तर में अधिकारी की पोस्ट पर कार्यरत थे. फिर मैंने जीभ अंदर दी तो चाची जोर से सिसकार उठी- आह्हह … अम्म … स्स्स … क्या कर रहा है … जान निकालेगा मेरी?मैं बोला- चाची, जान तो आप हो मेरी!वो बोली- हां, मैं भी कितने दिन से तेरे प्यार के इंतजार में थी. मुखिया- कुत्ता है तू साला … अब ये मुसीबत तूने पाली है, इसका समाधान भी तू ही कर.

मोनिषा की कमसिन चूत पर उसके मुलायम नर्म बाल मुझे काफ़ी मजा देने लगे. जोर जोर से उसकी चूचियों को दबाते हुए उसके निप्पलों को चूसने काटने लगा. मैं भी उनसे चिपक गया, जिससे मेरा लंड उनकी चूत के मुहाने से टकराने लगा.

फिर उसके पेट और नाभि को चूमते हुए मैं उसकी चूत के ऊपर वाले हिस्से पर चूमने लगा.

जब पहली बार कोई लड़की आपका लंड मुँह में लेती है, तब समझो जन्नत का सुख मिलने लगता है. काफी दिन हो गये थे लंड को चूत का स्वाद नहीं मिला था और मेरे लंड को उस वक्त एक चूत की बहुत सख्त जरूरत थी.

सुमन- अच्छा वो तो ठीक है, मगर एक बात बताओ तुमने अभी तक शादी की या नहीं?कालू- नहीं मैडम जी मुझे घर बसाने की कोई जरूरत नहीं. उसने घर फोन कर दिया और कह दिया कि वो दूसरे शहर में घूमने के लिए चली गई है और सुबह आएगी. उसने कहा- तो मैं आपके बेड पर आप दोनों के साथ सो सकती हूं?इस पर दीक्षा ने कहा- हां समीक्षा ठीक है, तुम यहीं सो जाओ.

जैसे कभी भाभी मुझे मज़ाक में छेड़ती थीं और हंसकर भागती थीं, तो मैं भी उनके पीछे पीछे भागता और उन्हें पीछे से अपनी बांहों में पकड़ लेता था. अगर तू मरवाना नहीं चाहती तो कम से कम मेरे भतीजे के लंड को ही हिला दे. कमर भी मस्त 30 इंच की थी और गांड तो ऐसे बाहर निकली हुई थी, जैसे किसी ने बरसों तक बस इसकी गांड ही मारी हो.

वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी फिर तुरंत उसने चाचा के अंडरवियर को नीचे खींच दिया और उनको नंगा कर दिया. मैं बोला- जानू आप टेंशन न लो, ऐसा दिन ज़रूर आएगा जब मैं आपको मेरे लंड को चूसने और चाटने का मज़ा ज़रूर दिलाऊंगा.

फुल सेक्सी जानवर वाला

मैंने आज्ञाकारी बच्ची की तरह अपने चेहरे और चूचियों पर माल को मल लिया. इसी लिए उसके सोने का इन्तजार करना पड़ता है ताकि आराम से हम मजा कर सकें. पिंकी सेन[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 9.

मैं वैसे ही आधी नींद में था और उस मस्त महक से मैं बाकी का भी सब कुछ भूल कर उन्हें पकड़े सोता रहा. मुखिया- आह असली बात तो तुझे अब समझ आई आह … चल इसको ऊपर से नीचे अच्छी तरह रगड़ ताकि मुझे सुकून मिले. भाई बहन की लड़ाईकुल मिलकर पोज़ ऐसा बन गया था कि मुखिया का लंड गीता की गांड के छेद पर टिका हुआ था और वॉल खोलने के बहाने मुखिया धीरे धीरे झटके मार रहा था.

भाभी के चूतड़ भी बहुत बड़े बड़े थे। ये पूरा नजारा देखकर मेरा लन्ड भाभी की चूत के लिए बेकरार होने लग गया।अब मेरे लन्ड को उनकी चूत की प्यास लगने लगी और भाभी को चोदने का ख्याल आने लगा।आगे बढ़ने से पहले मैं आपको पूजा भाभी के जिस्म का अंदाजा दे देता हूं.

जब मैंने गौर किया कि सिमरन ने टी-शर्ट के नीचे ब्रा भी नहीं पहनी हुई थी. मेरी चूत और मेरी गांड दोनों से ही खून और वीर्य का मिश्रण निकल रहा था.

मैंने भी उसे आंख मारते हुए कहा- साले चुतिए पानी भी निकलवाता हूँ तेरा, तू थोड़ी देर रुक जा. मैं बोला- कोई बात नहीं, ये तुम्हें इतना मज़ा देगा कि तुम सब कुछ भूल जाओगी. मौसा जी ने भी धक्के लगाने बंद कर दिए और मेरे निप्पलस चूसने लगे फिर होंठ चूसने लगे.

रूचि- आई लव यू राहुल, आज का दिन मेरी जिंदगी का सबसे खूबसूरत दिन है.

आज मेरी अम्मी ने एक बहुत ही पतले कपड़े की सफ़ेद रंग की कुर्ती पहनी थी और ऊपर से एक ओढ़नी डाल रखी थी. मेरी गांड का छेद राजेश के लंड से चुदकर पहले राउंड में ही ढीला हो गया था. अपनी मस्त जवानी की सेक्स कहानी के पहले भागपति ने मुझे मेरे बॉस से चुदवा दिया- 1में मैंने आपको बताया था कि शादी के बाद मैं और मेरे पति सोनीपत चले गये थे.

सेक्सी मूवी गांव वालीगीता- इसमें मेरी क्या गलती है काका, वॉल खुला ही नहीं … और अब दूसरा क्या काम है?मुखिया अपने लौड़े पर हाथ फेरता हुआ उसे देखने लगा. मैंने उससे पूछा- तुम इतना कम क्यों दिखती हो?वो चौंक गई- क्या??मैं बोला- मतलब, तुम लोगों के साथ ज्यादा बात नहीं करती हो न, बस इसलिए कह रहा था.

सेकसी2021

टीवी पर कभी मिया खलीफा की, तो कभी डैनिएला पोर्न स्टार की जितनी भी सेक्सी फिल्म्स थीं सब देखने लगा. हालांकि मुझे संकोच तो नहीं हो रहा था, लेकिन नारी सुलभ स्वभाव के कारण बस हल्की सी लज्जा और हिचकिचाहट सी थी. मैंने भी नीला की आंखों में देखा, उसकी आंखों में मुझे अशोक से चुदने की लालसा दिख गई.

मैं घने जंगल में एक पेड़ के पीछे उन्हें ले गया, वहां सिर्फ झाड़ियां ही थीं. मैंने सारे रिश्ते भूलते हुए अपना लंड पीछे से चुत के अन्दर डाल दिया और उनके ऊपर लेट गया. बातों ही बातों में वो बार बार मेरे कंधे पर हाथ रखती और हल्का हल्का दबा देती.

फिर मन में मैंने सोचा कि आज तुझे मारूंगा तो नहीं, पर तेरी हालात की तो मां चोद कर रख दूंगा. मैं पूर्णतः तृप्त, संतृप्त होकर मौसा जी के बाजू में लेट गयी और उन्होंने भी मुझे अपनी छाती से चिपटा लिया. 30 मिनट तक लगातार हमारी हसीन चुदाई जारी रही लेकिन दोनों में से कोई पीछे नहीं हट रहा था.

यह देसी लड़की सेक्स की प्यासी कहानी उस वक्त का है जब मैं इंटरमीडिएट की पढ़ाई पूरी होने के बाद सी-पेट करने गया था. जानू कब तक तड़पाओगे, अब तो मेरी चूत को अपने लंड से भर दो और मुझे जन्नत की सैर करवा दो जानू.

झुककर मैंने दोनों हाथों से उनकी नीचे की तरफ लटक रही चूचियों को पकड़कर जोर जोर से भींचना शुरू कर दिया और तेजी से उनकी चूत में लंड को पेलने लगा.

उसके बाद हमारी सेक्स कहानी का दूसरा माली यानि मेरा दोस्त आ गया और हम दोनों ने नीला की चूत और गांड एक साथ मारी. देहाती सेक्सी वीडियो एचडीउस रात को फिर मैंने दोबारा चुदाई नहीं की क्योंकि अंकल की अब नाइट शिफ्ट शुरू हो चुकी थी और अब हर रात को आंटी की चूत मुझे ही बजानी थी. योगमाया सट्टा मटकामैं उनके ठीक सामने खड़ा हो गया और हाथ को उनके सूट के अन्दर डालकर उनकी पीठ पर फिराने लगा. कालू- कोई बात नहीं, आप अभी चले जाओ … सुरेश तो अभी वहां होगा नहीं … या आप बोलें तो मैं मैडम जी को यहां बुला लाऊं!मुखिया- नहीं, उसको क्यों बुलाना.

इस तरह की बात शैतानियां और मस्ती करके स्कूल वालों की गांड में उंगली करते हुए धीरे धीरे मैं और मेरे हरामी दोस्त स्कूल में फेमस होने लगे.

फिर मैंने उनके कान में जाकर फुसफुसाया- मामी … सारा मजा खुद ही लोगी या कुछ मजा मुझे भी दोगी?बस फिर क्या था, वो झटके से उठ बैठी और मेरे कपड़ उतारने लगी. मैं अपनी गर्लफ्रेंड की सेक्सी बातों में काफी उत्तेजित हो गया और जोश में होश खो बैठा. भाभी की गांड चुदाई करते हुए मुझे जो मजा आ रहा था वो भाभी की चूत चुदाई करते हुए भी नहीं मिला था.

वो बोलीं- ठीक है, मगर अभी नहीं, रात में जब वो सो जाएंगे, तो मैं आपको कॉल करूंगी जानू. मैं उनके पीछे पीछे अन्दर चला गया और खाने को टेबल पर रख कर बाथरूम में घुस गया. उसकी टांगें मैंने अपने कंधों पर ले लीं ताकि वो इधर उधर ना हो और फिर से छेद पर लिंग रखकर हल्का धक्का मारा.

पैर में सरसों का तेल लगाने के फायदे

मैं जान गया था कि वो अगर चुदाई के लिए तैयार नहीं होती तो शोर मचाने लगती, लेकिन वो सिर्फ हल्के से नखरे कर रही थी इसलिए मैं उनकी किसी बात पर ध्यान नहीं दे रहा था. मेरी चूत पूरी तरह से गीली हो गई और मैं अपने हाथ से अपनी चूत मसलने लगी. [emailprotected]यंग हॉट लेस्बियन फ्रेंड स्टोरी का अगला भाग:शादी के बाद मेरी सुहागरात चुदाई की कहानी- 3.

फिर मेरी बहन ने अपने पर्स में से वैसलीन की डिब्बी निकाली और मुझे देकर बोली कि इसे अपने लंड पर लगा लो.

उस सेक्स चुत चुदाई कहानी में हम बाद में आएंगे, अभी हम डोक्टर की बीवी सुमन के पास चलते हैं, वहां आपके लिए कुछ नया है.

तभी उसकी मॉम मेरे पास आई और बोली- कैसा रहा तुम दोनों का दिन!वो प्रीत की चाल देख कर समझ गई थी. दूसरे हाथ से उनके पेटीकोट को ऊपर करके पैन्टी उतार दी और उनकी चूत सहलाने लगा. ओपन ओपन सेक्सवह जल्दबाजी करने की बजाए मेरी चुदास को बढ़ा कर मेरी सुहागरात को यादगार बनाने चाहता था.

बहन के मुँह ये सुनकर मुझे भी जोश आ गया और मैं ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाने लगा. कुछ ही देर में उन दोनों के लौड़े गर्म हो गए और उन दोनों ने एक एक बार मेरे मुँह में पानी छोड़ दिया था. वो आकर मेरे गले से लग गया और उसने मुझे कसकर अपनी बांहों में जकड़ लिया.

कुछ देर यूं ही चोदने के बाद मौसा जी ने थोड़ा सा उठ कर अपना वजन अपने हाथ पैरों पर ले लिया. मैंने कहा- क्या हुआ, बोलो … वो सो चुकी है, बेचारी परेशान हो जाती है थक जाती है इसलिए उसे सोने दो.

मुझे उनकी मटकती गांड देख कर रहा नहीं गया और मैं भी उनके पीछे चला गया.

मैं अपने चूतड़ों को उठा कर कासिब का लंड अपनी चूत की जड़ तक लेते हुए मजा लेने लगी- अअअआ … उन्ह … ओओओहह भाई … आह और जोर से …चोद दे अपनी बहन को … आंह साले भैन के लौड़े और जोर से चोद … तेरा लंड तेरी बहन की चूत में आखिरी छोर तक जा रहा है. उनके गर्भवती होने के कारण मैं केवल उनकी चूचियों के साथ खेल सकता था या फिर उनकी गांड में ही चोद सकता था. हमारी शादी हुए एक महीना हो गया था लेकिन पति पत्नी वाली सुहागरात की चुदाई की रात इतने दिन के बाद आज आई थी.

सेक्सी वाली पिक्चर वो बोली- चुप कर बदमाश … सो जा!उसके बाद अब मेरी रोज भाबी से सेक्स चैट होने लगी. मैंने धक्का मारा तो एक ही झटके में आधा लंड मौसी की चूत में घुस गया.

उसने आगे हाथ लाकर मेरी दोनों चूचियों को पकड़ लिया और मेरी गांड में नीचे से धक्के लगाने लगा. मगर चुदाई का जो मजा उस दिन मुझे मिला उसके अहसास को शब्दों में बता पाना मुश्किल है. फिर मैं आपकी पूरी बॉडी पर किस करूंगा, आपके रसीले होंठों व गुलाबी गालों पर, सेक्सी आंखों पर, गले पर और मेरे फेवरेट आपके चूचों पर चुम्मी करूंगा.

सेक्सी के वीडियो बताइए

मैंने बाकी सबको ये कहते हुए नीचे भेज दिया कि अब कोई नहीं है … तुम लोग चलो, मैं वाशरूम होकर आता हूँ. ऊपर ब्लैक शर्ट के साथ लाल पैंटी में गजब की माल लग रही थी वो। मैंने थोड़ा और इंतजार करना ठीक समझा।अब मैंने भी अपनी टीशर्ट उतार दी और उसकी शर्ट भी अपने हाथों से उतार दी. मैं जिन्दगी में पहली बार किसी जवान लड़की की चूचियों की इस तरह से अपनी आंखों के सामने नंगी देख रहा था.

दोस्तो, सिमरन के साथ किस तरह से चुदाई हो सकी, ये बड़ी ही रोचक घटना है और एकदम सच है. उसने कहा- तो मैं आपके बेड पर आप दोनों के साथ सो सकती हूं?इस पर दीक्षा ने कहा- हां समीक्षा ठीक है, तुम यहीं सो जाओ.

सुमन- ओह अच्छा … तो फिर वो बच्ची कहां है और उसका नाम क्या है?कालू- वो जब पैदा हुई, तो चाँद जैसी चमक रही थी.

कालू- क्या बात है मैडम जी, उस हरी के लिए इतना तैयार होने की क्या जरूरत थी. तुरंत मैंने अपने आप को कमरे के पर्दे के पीछे छिपा लिया।उस समय माँ शिफोन की साड़ी में थी।उसकी 34-30-36 की फिगर इतनी सेक्सी लग रही थी कि देखते ही चोदने का मन करे. जब कोई लड़की औरत या प्रिय भाभी लंड मुँह में लेती है, तो वो अनुभव अलग ही होता है.

अब जैसे ही वो तौलिया देने के लिए आगे बढ़ी तो उनका पैर फिसला और मैंने उनको लपक लिया लेकिन साथ ही मैं भी नीचे गिर गया. फिर ये सोचकर कि आंटी जब मेरे लंड को देखेगी तो कितना मजा आयेगा, मेरा लंड पूरा तन गया. रास्ते में कालू ने मुखिया को बताया कि सुमन को सच बता देना चाहिए, नहीं तो किसी गांव वाले से उसको पता लगेगा, तो फिर समझाने में दिक्कत होगी.

हॉट यंग गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि ऑटो से जाये हुए एक सेक्सी जवान लड़की लंगड़ाती हुई आकर ऑटो में बैठी.

वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी: भाभी की आह आह … की मस्त आवाज निकलने लगी और वो कहने लगीं- आह अब छोड़ दे जान मैं थक गई हूँ. मैं नहाने के बहाने बाथरूम में गया और वहां पर साबुन से फर्श पर फिसलन बना दी.

तो मैंने मना कर दिया- नहीं यार, इधर बहुत काम है, अभी कोई मुझे पोछने लगेगा, तो ठीक नहीं लगेगा. बड़ी होने के कारण चूचियां हाथ में नहीं आ रही थीं, पर एकदम तन गई थीं. दीक्षा- अच्छा दे दूंगी, पर बाद में भेजूंगी ओके!मैं- थैंक्यू दीदी सो मच.

करीब 2 बजे एक साया कमरे में दाखिल हुआ और नाइट बल्व की रोशनी में सुमन के नंगे जिस्म को निहारने लगा.

मेरे लंड पर गोली का असर था इसलिए वो आंटी की गांड में जाकर पूरा फूल गया था. उसकी चूत का रस बहकर मेरे लंड और लंड के आसपास की बाकी जगह को गीला कर रहा था. सुमन- आप चुप रहो मुखिया जी, हां तो कालू तुम क्या कह रहे थे?कालू- मैडम जी, ये तहखाना बहुत समय से बंद पड़ा है.