प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी

छवि स्रोत,கன்னடம் செக்ஸ்

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी न्यूड फोटो: प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी, तू तो अब अपनी मम्मी की चुदाई करके मजा दिया कर … लेकिन अभी तू अपने रूम में जा … नहीं तो सुबह कुसुम तुम्हें यहां देखकर न जाने क्या सोचेगी.

एक्स एक्स एक्स बंगाली ब्लू फिल्म

मैंने धीरे से दरवाज़ा खोला और अंदर का नज़ारा देखकर मेरी आँखें फटी रह गईं. सेक्सी आदिवासी चुदाईमैं हमेशा चादर से नींद के बहाने उन्हें चादर के छेद से साड़ी बदलते देखने लगा.

काव्या भी अब मेरा खुल कर साथ दे रही थी और राकेश सामने कुर्सी पर बैठ कर हम दोनों को मस्ती करते हुए देख रहा था. सुहागरात सेक्स व्हिडिओलोगों को पर्सनल ट्रेनिंग देने के लिए, जिसमें लड़के और लड़कियां, आदमी और महिलाएं सब आते थे.

अब गांड मराने वाला लौंडा शान्त लेटा था। मेहमान लौंडेबाज गांड में अपना पूरा लंड पेल कर चालू हो गया ‘दे दनादन … दे दनादन … धच्च पच्च धच्च पच्च … अंदर बाहर … अंदर बाहर!वह धक्के पर धक्के लगा रहा था, उसकी सांस जोर जोर से सुनाई दे रही थी ‘हंह हह हूं …’ वह जोरदार तरीके से लगा था.प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी: थोड़ी देर बाद राकेश नीचे आ गया और मुझसे बोला- जा यार … अब तो इस साली की गर्मी तू ही शांत कर सकता है.

अगर कोई पड़ोसी मुझे मेरे किरायेदार के साथ किस करते हुए देख लेता, तो मेरी बदनामी हो जाती थी.मैंने भी अपना हाथ उसकी कमर पे रखा, फिर धीरे-2 उसे नीचे लाते हुए उसकी गांड पे हाथ फिराया तो ऐसा लगा जैसे मक्खन पे हाथ चल रहा हो।उसके बाद मैं अपनी जीभ उसकी नंगी जांघ पे फिराने लगा.

कुत्ते का एक्स वीडियो - प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी

तब मॉम ने कहा- हमारा परिवार चुत मारने वाला परिवार है … तुझसे पहले तेरा भाई मुझे चोद चुका है.फिर जीजा जी आ गये और रोज की चुदाई बंद हो गई लेकिन बीच-बीच में मौका निकाल कर मैं दीदी की चुदाई कर लेता था.

कुछ देर जुबैदा की गांड मारने के बाद मुझे लगा कि मेरा लंड पानी छोड़ने वाला है. प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी फिर कुछ देर चूची चुस्वाने के बाद उन्होंने अपनी जीभ मेरे मुंह में डाल दी.

उनकी टांगें फैली हुई थीं और लंड वैसे ही एक साइड में अगल से दिखाई दे रहा था.

प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी?

ट्रेन में भी उसने कहा था कि ससुर जी काश आप मेरी सुहागरात में मेरे साथ होते. तो वो हंस कर बोली- लेकर आ यहां पर, एक महीने में उसका सब कुछ बढ़ जाएगा … यहां पर उसकी चुदाई की चुदाई … पैसे की भी कमाई होगी, दोनों फायदे हैं. अब उसने मुझे किस करते हुए मेरी चूची को दबा दिया, तो मैं भी एकदम से गर्म हो गयी.

कमलनाथ इतना अधिक उत्तेजित था कि वो शुरूआत से ही गहरे और ताकतवर धक्के लगाने लगा था. मैंने उसे पूरा मुँह में भर उसे चूसते हुए जीभ से सुपारे को भी सहलाने लगी. मैंने पूछा- मजा आया?वो बोली- मजा तो बहुत आया … पर आप बहुत बड़े बहनचोद हो … ट्रेन में ही चोद दिया.

वो मेरी तरफ देख कर वो शर्म से पानी पानी हो रही थी और फिर वो चली गई. दीदी के कहने पर मैंने नीचे आकर उसकी चिकनी चूत को चाटना शुरू कर दिया. वो मेरी चूत में उंगली करने के बाद मुझे अपना लंड चूसने के लिए बोलने लगा.

उसके बाद आंटी ने मुझे प्यार से उठाया और हम दोनों बाथरूम में चले गये. इसी बीच मुझे पता लगा कि भाभी अपनी सहेली के भांजे से भी चुद चुकी हैं.

अब फरजाना ने कई बार कोशिश तो की मुझसे बात करने की, मगर बात करे कैसे.

इसके बाद वो मुझसे रुकने का बोल कर मुझसे अपनी चूचियों को चूसने की कहने लगी.

उसने मुझे भी चिप्स खाने के लिये कहा तो मैंने भी दो-तीन चिप्स निकाल ली और उसके साथ बैठ कर ही खाने लगा. मैं हैरान था इस लड़की की कामुकता को देख कर … मैंने सिर्फ एक झटका आगे की तरह मारा और उसकी योनि के अंदर अपने लंड को डाल दिया. मेरी चूत की सील कैसे टूटी, उसके बाद पहली चुदाई कैसे हुई और पहली चुदाई होने के बाद किस तरह से मेरी जिन्दगी बदलती चली गयी.

ऊम्म्म्म … आआह …जब मेरी मान की चूत ने पानी छोड़ दिया तो मैंने अपना लंड निकाला और माँ की चूत का पानी मुँह से चाटना शुरू कर दिया. क्या नंगा बदन था उनका … सब कुछ एकदम कड़क।फिर मैंने अपनी जीन्स और चड्डी उत्तर दी और नंगा हो गया। मेरा लंड फुदकता हुआ बाहर आ गया।तब मैंने उनको बोला- बुआ मेरा लंड चूसो!तो उन्होंने चूसना शुरू किया. उसके बाद शकूर का ऑफिस दूसरी जगह शिफ्ट हो गया और उसके साथ ही अरशी भी चली गई.

उनके वीर्य में ही कुछ कमी डॉक्टर ने बतायी है जो दवाइयों से भी ठीक नहीं हो सकती.

लेकिन अंदर से एक डर भी था कि कहीं बात बिगड़ ना जाए क्योंकि हम दोनों के बीच कभी भी ज़्यादा बात नहीं होती थी और ना ही कोई हँसी मज़ाक होता था।अभी मैं ये सब सोच ही रहा था क़ि दरवाजे की घंटी बजी और मैं जल्दी से बाहर आ गया। दरवाजे पर पड़ोस में रहने वाली चाची और उनकी बेटी आए हुए थे. तभी मैंने देखा कि वो अपने दूसरे हाथ को अंतरा की चूत पर ले गया और अपनी उंगली उसकी बुर में घुसा दी. फिर उसे मैं गार्डन में लेकर गयी, वहां मैंने उसके साथ बहुत किसिंग की.

उन्होंने मुझसे कहा- क्या करता है? तेरा लंड इतना मोटा कैसे हो गया है? ये मेरे अन्दर जाएगा, तो मेरी पूरी चूत को छील देगा. अंधेरे में कुछ पता नहीं चल रहा था लेकिन उसकी चिकनी टांगों पर उंगलियां फिराते हुए मुझे बहुत मजा आ रहा था. वो एक्सरसाइज करने लगी और जब वो पुशअप लगाने लगी, तो उसने मुझे खुद को पकड़ने के लिए बोला … ताकि उसे उठने में थोड़ी मदद मिल सके.

तो इस चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे चोदा मैंने उस गर्म माल को!नमस्कार दोस्तो … इस चुदाई कहानी के पहले भागफेसबुक फ्रेंड ने अपनी बीवी की चुदाई करवायी-1में आपने पढ़ा और मुझे बहुत सारा प्यार भी दिया.

उषा- ये बात तो तूने सही कही … इसकी गांड और चूत चुदेगी, तो ये एक नंबर की माल बनेगी, ये कमाई भी बहुत करेगी. उसकी माँ भी मेरी तरफ देखती तो थी लेकिन उसकी तरफ से मुझे अभी कुछ इस तरह का कोई भी संकेत नहीं मिल पा रहा था जिससे कि मुझे पता लग सके कि वो भी मेरे साथ कुछ करना चाहती है या नहीं.

प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी उसके छूते ही मैं कांप सी गई, पर उसने मेरी एक जांघ पर हाथ रख बिस्तर पर दबा दिया था. उसने भी मेरा साथ देते हुए अपने सिर को थोड़ा सा उठा लिया और मेरे हाथ में सिर रख कर मुझसे चिपक गई, फिर मैंने दूसरे हाथ से उसके चेहरे को ऊपर की तरफ उठाया और उसके गुलाबी होंठों पर अपने होंठों को रख दिया.

प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी जब उसके नहाने का टाइम होता तो वो नहाने के लिए हमारे कमरे के पीछे जो स्टोर रूम था, ठीक उसी के पास खुली जगह पर एक हैंड पंप लगा हुआ था, वो उसी पर नहाती थी. कहानी बन चुकी थी और सबको अपने अपने किरदार के बारे में समझा दिया गया था.

रात को जब मैं सेक्स फिल्में और कहानी पढ़कर घर आया, तो मुझे मेरी मॉम मेरी पत्नी के रूप में दिख रही थीं और ऐसा लग रहा था कि उन्हें अभी पकड़ कर चोद दूं.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ देसी

उसने हाथ पीछे करते हुए मेरे गाल पर चिकोटी काटते हुए कहा- चलो हम बाथरूम में चलते हैं … वहां करेंगे. तो उसने बोला- अरे वाह अकेले अकेले ही गेम खेल रहे हो?मैं बोला- नहीं यार … मैंने अपने दोस्त को कॉल करके बुलाया था, पर वो कुछ काम होने के कारण नहीं आ सकता था. उस रात हम दोनों इतने गर्म हो गए थे कि हमने दो बार पूरी मस्ती से सेक्स किया.

मैंने कहा- इतनी जल्दी? क्या हुआ?तो उसने कहा- ज्यादा टाइम नहीं है … मेरे पति अभी सोए हुए हैं. बगल में राजेश्वरी राजशेखर का साथ नहीं दे पा रही थी, इसी वजह से राजशेखर के झड़ने का लय नहीं बन पा रहा था. कुछ पल यूं ही रुके रहने के बाद मैंने आराम आराम से लंड को अन्दर बाहर करना चालू कर दिया.

मैंने बड़ी मुश्किल से अपने आप पर काबू किया लेकिन मेरा लंड पूरा बेकाबू हो गया था और खड़ा हुआ साफ दिख रहा था.

मैंने उसकी पजामी के ऊपर से ही उसके चूतड़ों को दबाना और मसलना शुरू कर दिया. उसके पैरों को देखकर मेरा लंड कड़क होने लगा था, पर मैं अभी कुछ कर भी नहीं सकता था. मैं- ऐसा क्यों?राज- तुम भी तो अपने बॉयफ्रेंड के साथ ट्रेन में सेक्स करतीं … तो फिर कैसे!मैं- अरे छोड़ो यार … अब साथ आया ही नहीं … तो क्या कर सकते हैं.

उधर काव्या भी बहुत गर्म हो गयी थी और बार बार ‘आअहह … उफफ्फ़ … हइईए निहाल … यार आआहह. मैंने उसे अपने नीचे लिटाया और लंड को बहन की चूत की फांकों पर रखकर लंड सैट कर दिया. मैंने अपने आपको रोकते हुए अपना लंड चूत से बाहर खींचा और देखा कि मेरे लंड पर हल्का हल्का खून लगा हुआ था.

मैं तो आपको यही कहूंगा कि अगर आपको मौका मिल रहा है मजे लेने का तो उसको हाथ से क्यों जाने दे रही हो. उसके मुँह से लंड चूत चुदाई जैसे खुले शब्द सुनकर मेरे लंड को ताकत मिल गई थी.

मैंने उनकी तरफ देखा, तो वे स्क्रीन पर नजरें गड़ाए हुए थीं और उनके हाथ की उंगलियां मेरी उंगलियों में बार बार कसी जा रही थीं. क्योंकि मेरे लंड महाराज अपने रौ में आ गए हैं और इसको शान्त करना जरूरी है. एक दिन की बात है, उन्होंने मुझसे बोला- विशाल भैया, मुझे मार्किट जाना है क्या आप मुझे ले चलोगे?मैं बोला- हां क्यों नहीं भाभी … चलो.

वो बोला- सामने वाला या वाली?मैंने कहा- भोसड़ी के जितना पूछ रहा हूँ उतना बता.

स्टेशन पर पहुंचने के बाद उसने बताया कि वो हनुमान मंदिर के पास एक कैब में मेरा वेट कर रहा है. मैंने देखा कि उसकी सील टूट चुकी थी, खून आ रहा था और उसके आँसू भी!लेकिन मैं नहीं रुका … मैं और तेजी से राउंड मारने लगा. रवि के ऐसे उत्तेजक भाव ने मेरे भीतर वासना की एक नई ऊर्जा भर दी थी और मैं पूरे आनन्द के सागर में गोते लगाने लगी थी.

मेरे पति मुझसे बहुत प्यार करते हैं और मैं भी इनसे बहुत प्यार करती हूँ. अपनी मर्दानी ताकत का प्रयोग करते हुए उसने मुझे भी मेरी टांगें पकड़ खींचा और बिस्तर से नीचे उतार दिया.

मैंने भी पूरा जोर लगा कर भाभी की तरफ अपने शरीर के वजन को आगे धकेल दिया. जब दिन में साराह मैम फोन करती थी तो कभी कभी मैं उदास रहता था, तो वो पूछने लगती कि आखिर क्यों दुखी लग रहे हो. हम दोनों कभी जुबान को चूसते, तो कभी होंठों को … और एक दूसरे से ऐसे लिपट लिपट कर अंगों को सहलाते प्यार करते, जैसे एक दूसरे में समा जाना चाहते हों.

बीएफ वीडियो छोटी लड़की का

उसने मेरे दोनों स्तनों को एक एक हाथ से पकड़ चूचुकों को बारी बारी चूमकर बोला- क्या अब भी इनमें से दूध आता है?मैंने उत्तर दिया- हां.

मैं झड़कर उसकी गोद में ढीली होने लगी और कमलनाथ भी अपने हाथ छोड़ सोफे पे हांफता रहा. फिर उसने कहा- जोश जोश में भला ऐसे भी कोई करता है, तुम्हें क्या लगता है कि मुझे पता नहीं कि तुम मुझे पसंद करते हो … मेरे बूब्स को दबा देते हो, छुप छुप कर मेरे चूतड़ देखते हो और मेरे चूतड़ों की बीच की दरार पर अपना लंड टच करते हो. थोड़ी देर बाद मेरी साली भी काम ख़त्म करके मेरे कमरे में आ गई और उसने मुझसे पूछा- जीजा, आपका मूड कुछ सही नहीं लग रहा है, क्या बात है?मैंने उसको बोला- मेरी लाइफ बिल्कुल नीरस हो गई है, मेरी बीवी और बेटा मुझसे दूर हैं और मैं यहाँ अकेला पड़ा हूँ.

वो सच में बहुत अच्छे लोग थे। अब तो मैं यही सोचता हूं कि वो जहां भी हों खुश ही होंगे। उसकी वाइफ अभी भी शायद उतनी ही मस्ती से चुदाई करवाती होगी. मैंने बड़े ही कामुक अंदाज़ में राजशेखर की आंखों में आंखें डाल कर उसके गले को पकड़ा और उसे खींचते हुए अपने होंठ उसके होंठों से लगा दिए. मुसलमानी चुतफर्क ये था कि इस तरह की जीवन शैली हम जैसे सामान्य वर्ग के लोगों के लिए संभव नहीं होती है.

कुछ देर के बाद कांतिलाल ने राजेश्वरी को घुटनों के बल खड़ा कर दिया और खुद खड़ा होकर उसका सिर पकड़ कर अपना लिंग जांघिये से बाहर निकाला और उसके मुँह में ठूंस दिया. रवि ने निर्मला के विशाल चूतड़ों को दोनों हाथों से थपथपाया और अपना मुँह निर्मला की योनि से चिपका कर उसे चाटने लगा.

लेकिन कभी-कभी मां भी चुद जाती है, अगर लन्ड मोटा हुआ और चूत का छेद छोटा होता है तो वहां गांड फटने में समय नहीं लगता. उसी वक्त मैंने उससे फिर से चुटकी ली- साइज़ ठीक है न?वो शर्म से लाल हो गई और बोली- मुझे क्या पता कि कितना साइज़ ठीक रहता है. सर्दियां शुरू हो गई थी इसलिए दोनों ने एक कम्बल ले लिया। लेकिन अचानक से वो उठ कर दूसरे रूम में चली गई.

जिस तरह से साड़ी बंधी थी उसमें आगे के हिस्सा, मेरी योनि से केवल 3 इंच ऊपर था और कमर के ऊपर का हिस्सा ऐसे दिख रहा था, जैसे मेरे चूतड़ के ऊपर हो. पहली बार मैंने किसी लड़की के चूचे अपनी आंखों के सामने इस तरह से नंगे देखे थे. रवि ने उसकी बातें अनसुनी करते हुए अपना लिंग उसकी योनि में प्रवेश करा लिया था और हल्के हल्के धक्के भी मारने लगा था.

एक दिन मेरे दोस्त ने मुझसे कहा- वो तुझे जिस तरह से देखती है, उससे लगता है कि ये तेरे से पट जाएगी.

इस तरह की चुदाई का एक अजीब ही मज़ा था, जो चुदाई करने वाले को अपना बना लेता है … जो अपना न होकर भी अपना बन जाए … इसका अलग ही अनुभव था. उधर से मैं एक दुकान पर गई और मैंने एक बहुत ही सेक्सी और बहुत ही छोटी सी रेड कलर की ब्रा पैंटी खरीदी.

जिस तरह से साड़ी बंधी थी उसमें आगे के हिस्सा, मेरी योनि से केवल 3 इंच ऊपर था और कमर के ऊपर का हिस्सा ऐसे दिख रहा था, जैसे मेरे चूतड़ के ऊपर हो. शायद वो जानते थे कि औरत हर तकलीफ झेल लेती है और शायद इसी वजह से मैं भी अपना उपयोग होने दे रही थी. वही जब रवि रमा के ऊपर से हटा और लिंग को बाहर खींचा, तो उसका वीर्य रमा की योनि से बह निकला.

उस लंड चुसाने वाले लड़के के हटते ही चौथा लड़का मुन्ना, जिसका लंड सबसे बड़ा था, वो आ गया. वो एक तरह से सेक्स बम्ब है, जो भी उसे देखता है, उसका लंड खड़ा हो जाता था. वैसे मुझे जहां तक लग रहा था कि वो भी मेरे मन की इच्छा को जान चुकी थी लेकिन कुछ कह नहीं रही थी.

प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी फिर एक दिन काजल ने मुझे बताया कि उसकी तीन दिन की छुट्टी है और उसने ये बात घर नहीं बताई है … क्योंकि वो सील तुड़वाकर अपनी जिंदगी की सबसे बड़ी खुशी मनाना चाहती है, अपनी प्यासी जवानी को तृप्त करना चाहती है. मेरा पेट से लेकर सिर तक का हिस्सा बिस्तर पर था और टांगें जमीन पर टिकी थीं.

सेक्सी वीडियो बंगाली बीएफ

उसने अपने घुटने को जांघों तक मोड़ लिया था और मैंने भी अपनी टांग उसकी जांघों पर चढ़ा दिया था. ये ख्याल आते ही पता नहीं मेरे भीतर किसी 25 साल की युवती की भांति कामनाएं जागने लगीं और मैं पूरे तरोताजा हालत में पूरे जोश के साथ उसके साथ चुम्बन और आलिंगन में लग गई. इस वजह से उनको एक दिन अपने प्रेम को एक पड़ाव आगे ले जाने का मौका मिल जाता है.

जैसे ही मैं कैश काउंटर के पास गया, तब मुझे दिखा कि श्रुति के बोबे ड्रेस से बाहर निकाल कर सुरेश दबा रहा था. अगले दिन जब हम सुबह उठे … तो मैंने मॉम से कहा- पापा मुझ पर बहुत गुस्सा करेंगे, अगर मैंने आपको अपने बच्चे की मॉम बना दिया. सुहागरात एक्स एक्स एक्स वीडियोसनी- अब हमें भी चलना पड़ेगा अंधेरा होने को है … और अलॉर्म बजने को होगा.

मेरी छाती दीदी के बूब्स पर कसी हुई थी और लंड था कि दीदी की जांघों में छेद ही करने वाला था.

जहां इतनी देर जांघें फैलाये हुए अब मुझे मेरी जांघों में अकड़न होने लगी थी … वहीं कमलनाथ भी धक्के मारते हुए थकान महसूस करने लगा था. मैं उसे पहले की तरह देखने लगा, पर वो रोज की तरह अब मुझे नहीं दिखती.

मगर जब मेरी बीवी ने व्हाट्एप पर तुम्हारी फोटो देखी थी तो उसको यकीन नहीं हो रहा था कि तुम कोई 34 साल के युवक हो. मैं अभी भी दिमाग से काम ले रही थी और कांतिलाल को इतना उत्तेजित कर देना चाहती थी कि वो संभोग के लिए तैयार हो जाए या झड़ जाए. मैंने चुटकी लेते हुए कहा- खाना के लिए पूछा है … केला के लिए नहीं पूछा है.

मैंने काफी देर तक उसके बूब्स को मस्ती से चूसा और उसके निप्पलों को मुंह में लेकर चूसा.

फैमिली सेक्स की हॉट स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरे परिवार में मैं और मेरी अम्मा ही थे. उनकी गांड को सहलाते हुए चुचे चूसते और काटते हुए चुदाई की गति को तेज से तेज करने लगा. जिस तरह के कपड़े उसने मुझे दिलाए थे, वैसे कपड़े मैं पहनती नहीं थी और न कभी पहले पहना था.

क्सक्सक्ससेक्सइसलिए आप बस इतना समझ लीजिये कि वो कॉलेज के दिनों में थी और बायलॉजी और कैमिस्ट्री दोनों के लिए ट्यूशन चाहती थी तो मैं उसके घर जाने लगा था पढ़ाने के लिए. काव्या ने भी यही कहा, क्योंकि टेबल के दूसरी तरफ मैं उसका हाथ पकड़ कर बैठा हुआ था.

बीएफ सेक्सी एचडी हॉट

रात में मैंने युक्ता और शोभा की चूचियों और चूत के बारे में सोच कर मुट्ठ मारी. उसकी बातों से ये तो ज्ञात हुआ कि रमा पहले भी किसी वेश्या की मदद ले चुकी होगी. इसलिए मैं धीरे धीरे उसके लिंग को हिलाते हुए लिंग मुँह में लेने लगी.

एक दिन इसी फिराक में मैं स्टोर रूम में पहुंच गया यह देखने के लिए कि वहां छिपने के लिए कोई जगह है भी या नहीं. मैंने उसकी पीठ पर झुक कर उसकी चूचियों को भींचना शुरू कर दिया और उसकी गर्दन के पास पीठ पर चूमना शुरू कर दिया. लेकिन तू साली चुदक्कड़ यहां दूसरे के लंड के साथ रंगरेलियां मना रही है.

मैं मौली से पूछती थी कि ‘कैसे चुदवाती हो’ तो वो सब कुछ खुल कर बताती थी. मैंने भाभी का दूध चूसते हुए उनसे पूछा- किधर लेना है?भाभी मुझे दूध पिलाते हुए बोलीं- आह अन्दर ही निकाल दो मेरी जान. मुझसे सब्र नहीं हुआ और मैंने गरम श्रेया आंटी की चूत को अपने होंठों से पकड़ लिया और उसकी चूत के रस को चाटने लगा.

मैंने गौर किया कि रवि का लिंग रमा की योनि में अभी भी फंसा हुआ है और उसके अंडकोष धीरे धीरे सिकुड़ कर छोटे हो गए थे. अब वो मेरे तनतनाए हुए लंड को अन्दर तक लेकर बिल्कुल लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी थी.

मुझे जब भी मौका मिलता है, मैं अंतरा की चूत को शांत जरूर कर देता हूँ.

मगर अनु ने मेरे माल को मुंह में ही रखा और फिर उठ कर उसको थूक कर आ गयी. एक्स+एक्स+एक्स+सेक्सी+वीडियोवो बोली- लेकिन मैं आपसे कुछ और भी पूछना चाह रही हूं जिसकी वजह से मेरा दिमाग काफी उलझन में है. एक्स एक्स हॉट सेक्सीमामी जी केवल ब्रा पेंटी में थी और उनकी गोरी गोरी मांसल जांघें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं अपने लंड को रगड़ने लगा. मुझे बहुत ज्यादा कोई उम्मीद तो नहीं थी, बस एक बार मन ने कहा और नम्बर लिख कर फेंक दिया.

उनकी इस बात को सुनते ही मेरे दिल में भाभी को चोदने का ख्याल आने लगा.

मेरी यह बात सुनकर वो गुस्सा हो गई और बोली- तुम मेरे बारे में ऐसी सोच रखते हो … मैं तो तुम्हें अच्छा समझती थी … लेकिन तुम तो ऐसे निकले. पापा घर से बाहर रहते हैं तो मुझे लगता था कि उनकी प्यासी जवानी लंड के लिए तरसती होगी. मुझे इस बात को जानने की उत्सुकता है कि सेक्स के बात एक लड़की को क्या फीलिंग होती है.

मैंने मैडम को जांघें चौड़ी करने को कहा, उन्होंने अपने पैर दायें बायें फैला कर अपनी जांघें खोल दी और मेरे लंड का निशाना अपनी चूत के छेद में सेट कर लिया. जब मैं वापस आया, तब तक काव्या भी गर्म हो गयी थी और राकेश उसे चोद रहा था. उसके बाद उसको चोदने का मौका नहीं मिला क्योंकि उसकी जल्द ही शादी हो गयी.

ब्लू वीडियो सेक्सी बीएफ

जब सामने नंगी चूत हो तो लंड को पता रहता है कि उसकी मंजिल कहां पर होती है. इन्हीं बातों के बीच में मैंने धीरे से युक्ता का मोबाइल नंबर लेकर अपने मोबाइल में सेव कर लिया और शोभा को धीरे से आंख मार दी. वो थके हुए स्वर में बोलने लगी- आह … काश तुम पहले मिल जाते, तो मैं इतना नहीं तड़फती … आज मुझे नया जीवन मिल रहा है.

दो मिनट बाद दीदी कमरे में आ गईं- हां बोलो … क्या हुआ, किस सवाल में दिक्कत आ रही है?मैं- ये सवाल सॉल्व नहीं हो रहा है, प्लीज़ बता दीजिए.

इसके बाद मैंने फिर से परी की चूचियों को मसलना और चूसना शुरू किया और परी तुरंत चुदाई की पोजीशन बना कर ऐसे लेट गई, जैसे सदियों से चुदने के लिए भूखी हो.

हम दोनों के चेहरे आमने सामने थे और मेरे दूध उनके सीने पर दबे हुए थे। मैंने अपने दोनों हाथों से उनके गले को पकड़ा हुआ था। अंकल ने अपने दोनों हाथों से मेरी गांड थाम रखी थी।अब उन्होंने मेरी गांड को पकड़ कर मुझे आगे पीछे करना शुरू किया. चूंकि पहली बार लिख रहा हूँ, मुझसे लिखने में कोई गलती हो जाए, तो प्लीज़ माफ़ कर देना. ಸೆಕ್ಸ್ ತ್ರಿಬಲ್ ಎಕ್ಸ್वो बोली- तो फिर और कुछ नहीं देखना है क्या?मैंने कहा- तुमने मना कर ही दिया तो और क्या देखूं मैं …वो बोली- जब इतना सब कुछ देख ही लिया है तो फिर जो मन करे वो देख लो लेकिन किसी को बताना मत.

फिर कमरे में ला कर मैंने दीदी को पेनकिलर गोली दी, ताकि ज्यादा दर्द ना हो. उसके लंड का और मेरी चूत के पानी मिला जुला स्वाद बहुत अच्छा लग रहा था. मैं अपनी गांड को हरकत देते हुए अपनी बहन के मुँह में अन्दर तक लंड देते हुए लंड चुसवाई का मजा लेने लगा था.

कुछ औपचारिक बातें हुईं हम दोनों के बीच और मैं अगले दिन से अपने काम पर जाने लगा।शुरुआत के कुछ दिन तो ज्यादा बातचीत हम दोनों के बीच नहीं हुई लेकिन मेरा ध्यान काम में कम रहता था और पूरे समय मैं बस सोनू को ही देखता रहता था. मैं अब पूरे जोश में आ गई और मेरे भीतर ऐसा लगने लगा, जैसे ऊर्जा का भंडार फूट पड़ा हो.

मैं एक प्रतिष्ठित चॉकलेट कंपनी में सेल्स मैंनेजर के पद पर पिछले दस वर्षों से काम कर रहा हूं.

आगे बढ़ने से पहले मैं रेनू चाची सास के बारे में बता दूं कि वो रंग की थोड़ी सांवली थी. नमिता की पैन्टी उतार कर मैंने उसके चूतड़ों और बूर के आसपास हाथ फेरा और अपनी हथेली पर कोल्ड क्रीम लेकर नमिता की बूर और गांड की मसाज करने लगा. आंटी की पैंटी को चूसने के बाद मैंने आंटी की पैंटी भी निकाल कर अलग कर दी.

हिंदी में ब्लू फिल्म हिंदी में मैंने धक्का लगाया, तो वो काफी मस्ती से मेरे लंड को अपनी चूत में अन्दर बाहर करवाते हुए नीचे से गांड उछालने लगी. फिर उसने मुझे डॉगी स्टाइल में खड़ा किया और मेरे पीछे से लंड पेल कर चुदाई करने लगा.

मैंने उसे घोड़ी बनाया और उसकी बुर में पीछे से अपने लंड को रख कर उसे अन्दर घुसेड़ने लगा. जब उसे उठा कर चोद रहा था तब उसका पानी निकला और मैंने भी अपना माल उसके अंदर छोड़ दिया. डॉक्टर साहब ने अपना लण्ड मेरी बूर पर रखना चाहा लेकिन पैन्ट पहने होने के कारण उनको असुविधा हो रही थी.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ हॉट

डॉक्टर साहब उठे और एक शीशी में से कोई जेल लेकर अपने लण्ड पर मला और मेरी बूर के लब खोलकर सटीक निशाना लगाया. अब भाभी से जब रुका नहीं गया तो उसने पीछे हाथ लाकर मेरे चूतड़ों को अपने हाथों में पकड़ लिया और मेरी गांड को आगे की तरफ धकेलते हुए अपनी चूत के अन्दर मेरे लंड के धक्के मरवाने लगी. मेरा लंड पूरा नपा तुला आठ इंच लंबा और इंची टेप से लंड की गोलाई नापी जाए, तो ये पांच इंच मोटा है.

सबने पहले ही बहुत पानी मदिरा और ठंडा पिया था, इस वजह से हम सबको ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ रही थी. हम दोनों ने एक दूसरे को पकड़ लिया और कुछ देर यूँ ही उसी अवस्था में लेटे रहे.

और फिर बोली- निखिल, आज मैं भी यही बेड पर सो जाऊंगी क्योंकि तुम्हारी हालत भी ठीक नहीं है.

सीमा भाबी ने मुझे बेड पर सीधा लेटा दिया फिर उन्होंने अपने एक हाथ पर सरसों का तेल ले लिया और दूसरे हाथ से मेरे लंड के चारों तरफ तेल की मालिश करने लगी. जो कुछ भी कमाई होती है वह सब उनकी दवाइयों में ही लग जाती है।वे कहने लगे- देखो आकाश बेटा, यह सब तो जिन्दगी के साथ लगा हुआ है. वो झट से वैसे ही बैठ गई फिर मैं उसके मुँह की तरफ गया और अपने लंड को हाथ से पकड़ कर उसे लंड को चूसने को कहा.

उसने बोला- आराम से धीरे धीरे हिलना और जांघें घुटनों से मोड़ लेना, इससे आराम मिलेगा. मैंने उससे संपर्क करने की बहुत कोशिश की लेकिन फिर कभी उससे न तो मुलाकात हो पाई और न ही बात हो पाई. अम्मा के मुख से रिश्तों में चुदाई की बातें सुन कर मैंने भी कहा- ठीक है.

आपके प्यार का इन्तजार करूँगा और जल्द ही एक नई सेक्स कहानी लेकर आऊंगा.

प्रियंका चोपड़ा का सेक्सी बीएफ एचडी: मैं जितनी जोर से लंड हिलाता, वो उतनी ही तेजो खीरा को अपनी चुत में घुसा रही थीं. उसने मुझे मैसेज किया कि मैं और काव्या आज पटना पहुंचेंगे और काम ख़त्म होने के बाद सात बजे तुमसे मिलेंगे, तुम सात बजे तक स्टेशन के पास आ जाना.

जब वो नीचे से गांड को हिलाने लगी तो धीरे धीरे मैंने भी उसकी चूत चोदनी शुरू कर दी. फिर मैंने धीरे से एक उंगली चूत में डाल के अपने मुंह में ले ली और फिर वही उंगली आंटी के मुंह में दे दी. अन्दर आकर उसने अभी बॉटल को खोला ही था कि मैं भी बाथरूम से बाहर आ गया.

मैंने दीदी की चूत को टटोला और अपने लंड को दीदी की योनि पर फेरते हुए रख लिया.

वो बोली- धन्यवाद निहाल … तुमने मुझे जितना प्यार दिया, उतना किसी ने नहीं दिया था. अब बोलो, किसकी मारूं?यह कहते हुए मैंने अपनी पेंट और चड्डी दोनों उतार दीं. मैंने देखा कि मेरी बीवी गहरी नींद में सोई पड़ी है, मैं सीधा अपने सलहज के कमरे में आ गया.