पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ

छवि स्रोत,बीएफ भेजिए चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

भाभी देवर की बीएफ सेक्स: पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ, फिर मैंने उनकी साड़ी उतार दी और ब्लाउज के ऊपर से उनकी चूचियों को दबाने लगा.

कुत्ता की बीएफ फिल्म

मैंने उसके एक चूचे को मुँह में लेकर चूसने शुरू किया और अपने लंड के दबाव को कुछ आगे बढ़ाना शुरू किया. नई भाभी की सेक्सी बीएफमेरा बहुत मन करता था कि उस पार जाकर अभी उसकी चूत को चूस लूं और उसकी गीली चूत की चुदाई कर दूं लेकिन अभी मेरे अंदर इतनी हिम्मत नहीं आई थी.

सिर्फ उसके पैंटी और गोरी टांगें देखकर ही मेरे लंड से पिचकारी निकल गयी थी. बीएफ सेक्स देवर भाभी कीज़ाहिर सी बात है कि गुडलुकिंग इंसान को कौन पसंद नहीं करता, खास तौर पर उसे, जिसकी अच्छी बॉडी हो.

निर्मला जब उसका लिंग चूसने में व्यस्त हो गई, तो रवि ने मुझे हाथों से पकड़ कर उठने का संकेत दिया और इशारे से मुझे खड़े होकर अपनी योनि उसके मुँह में देने को कहा.पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ: मैं बोला- अभी से क्या हिलती है मेरी जान … पिक्चर तो अभी बाकी है … अभी तो बस किस किया है.

चुदाई करते हुए मौसी दूसरी बार गर्म हो गई और फिर से मेरा साथ देने लगी.आप मेरे दोस्त की भेनचोद भाई की सेक्स कहानी पर अपने विचार मेल से भेजिए.

सेक्सी बीएफ 18 - पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ

फिर भाभी बोली- लेकिन इतने पैसे देगा कौन?मैंने कहा- वो सब बात मैंने कर ली है.मैं उसके मम्मों को किसी छोटे बच्चे के जैसे चूस रहा था और वो मेरे बालों के ऊपर हाथ फेर रही थी.

और मुझे पकड़ कर अपने साथ बाथरूम में ले गयी और शावर चला दिया।ठन्डे पानी के नीचे नहाते नहाते हम दोनों में फिर से गर्मी भर गयी और वो नीचे बैठ कर मेरा लंड चूसने लगी और चूस चूस कर फिर से खड़ा कर दिया. पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ दो गिलास पेप्सी मतलब दो पेग व्हिस्की अन्दर हो गई तो मैं नमिता को लेकर बेडरूम में आ गया.

”भाभी बोली- स्सस् … मेरे राजा … तुम्हारा लंड मेरी चूत की प्यास और बढ़ा देता है.

पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ?

वो भी नीचे से गांड उठा कर इस बात का संकेत दे रही थी कि अब उसकी बुर को लंड लेने की सख्त जरूरत है. दोनों एक साथ काम करते थे, फिर शादी के बाद खुद का व्यापार शुरू किया. मैं बुरी तरह थक चुकी थी और ऐसा लग रहा था, जैसे मेरी योनि की नसें सुन्न हो गई हैं.

मैं भी अपने किरदार के मुताबिक गर्व भरे भाव दिखाते हुए मुस्कुराने लगी और नेताजी को लुभावनी अंदाज में मदिरा का गिलास दिया. हम दोनों एक दूसरे से एकदम चिपके हुए अपने दिलों की चाहत को अपनी मंजिल तक ले जाने के लिए पूरी तरह से कामुक हो उठे थे. शोभा को इस हालत में देख कर मेरा तो लन्ड खड़ा हो चुका था, ये युक्ता ने भी महसूस कर लिया था.

मैं और मेरा बॉयफ्रेंड हम दोनों लोग नंगे थे और वो मुझे अपनी बाँहों में लेकर मेरी चूची को दबा रहा था. उनके ये मदमस्त मम्मे मुझे तो क्या … हर किसी को बरबस ही उनका लुत्फ़ उठाने को मजबूर कर देते थे. मैंने सोचा क़ि मौका बढ़िया है अभी जाकर इसको दबोच लेते हैं और अपनी इच्छा पूरी कर लेते हैं.

वहां सभी मदिरा पीने वाले थे, पर मैंने आज तक कभी मदिरा को चखा भी नहीं था. मैंने उससे पूछा कि एक ही कमरे में सब सोयेंगे तो हमारा काम कैसे बनेगा?वो बोली- तुम उसकी चिंता मत करो, वो सब मैं देख लूंगी.

अम्मा किसी से बोल रही थीं- अरे कोई बात नहीं … आप आओ एक हफ्ते के लिए … मैं सब सैट कर देती हूँ.

मैंने गिनना शुरू किया तो पाया कि रवि के 1 2 3 से 4 सेकंड के बीच धक्के लग रहे थे.

मैं राजशेखर के कंधों पर अपना सिर रख ढीली पड़ गई, जिसके वजह से वो उत्सुक होने लगा. मुझे वो अच्छा नहीं लग रहा था लेकिन कुछ देर के बाद मुझे फिर लंड को चूसने में भी मजा सा आने लगा. हमारी आंखें मिली हुई थीं, हमारे होंठ थरथरा रहे थे और हम दोनों एक दूसरे की गर्म सांसों को महसूस कर सकते थे.

फिर मैंने भी जवाब दिया- हैलो … हां जी बोलिए!तो उसने कहा कि मैं रूबीना बोल रही हूँ. उनका फिगर साइज तो मुझे मालूम नहीं है, क्योंकि मुझे इस बारे मी इतनी नॉलेज नहीं है. उसने बोला- यार, तेरा लंड भी तो मेरे जितना ही है … बस थोड़ा ज़्यादा मोटा है.

इतनी खूबसूरत औरत आपके सामने खड़ी हो और आपके पास उसको पकड़ने के लिए जाल भी हो, तो सैयाद क्यों किसी पर तरस खाये.

कभी कभी मज़ाक में वो मुझसे पूछ लेती है- क्यों फुफू आज कैसा मज़ा आया?मैं भी कह देता हूँ- बाकी सब तो ठीक है यार. अब हम हफ्ते में 3 बार चुदाई करते, लेकिन शनिवार की रात में पूरी रात सेक्स चलता. इसके बाद कुछ समय आराम करने के बाद जब मैं जागी, तो कान्तिलाल मेरे साथ सम्भोग करने को आतुर हो रहा था.

मुझे ऐसा लग रहा था मानो ये कुछ ही पलों में झड़ जाएगा … पर मेरा अंदाज गलत था. मैंने कहा- जब भी तुम्हारा मन किया करे तुम मेरी चूत की चुदाई कर सकते हो. विकास कई बार मेरे घर पर भी आ जाते थे और उनको मैं अच्छी तरह जानती थी.

अगली सेक्स कहानी में आप मेरी और मेरी बहन का सेक्स गोवा में हनीमून मनाते हुए लिखूंगा.

पूरे समय वो मेरे आगे पीछे घूमता रहा था और जब कभी उसे मौका मिलता था, वो मुझे छूने, छेड़ने से रुकता नहीं था. उसके बाद मैंने उसकी ब्रा को खोला और जब मैंने उसकी चुचियां देखीं, तो क्या बोलूं यार.

पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ फिर उन्होंने खुद ही अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत के मुँह पर सैट किया और मुझे अन्दर पेलने को कहा. उन्होंने नीचे से अपने चूतड़ उचकाये कि लंड अंदर घुस जाए लेकिन ऐसे कैसे लंड अंदर घुस जाता… जब मैंने ऊपर से एक झटका अंदर को मारा तो गीली चूत में मेरा लंड ऐसे घुस गया जैसे मक्खन में गर्म छुरी.

पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ मैं अपने आप में सिकुड़ कर सीधा लेटी हुई थी और अपने बदन को अकड़ा लिया था. पहले तो वो मुस्कुराई फिर बोली- नहीं, हम दोनों अपना पहला मिलन सेज पर ही करेंगे.

वो मेरे होंठों को चूसते हुए अपनी चूत में लंड को लेती रही और मैं उसकी चूत में धक्के लगाता रहा.

सेक्सी बीएफ हिंदी ब्लू

तो उस दिन मैंने देखा कि वो एक बस स्टैंड पर खड़ी हुई शायद बस का इंतजार कर रही थी. उसने मेरे हाथ से पैग लेते हुए बोला- मस्त है तू तो, कभी पहले नहीं दिखी, बाहर से आई है क्या?मैंने भी हां कहते हुए बोला- उत्तरप्रदेश से आई हूं. वो मेरे शरीर को देख कर पागल हो गई और कहने लगी- मैंने आज तक ऐसा शरीर नहीं देखा … तुम कितने सेक्सी दिखते हो.

अबकी बार मम्मी ने खुद लंड को पकड़ कर चूत के मुँह पर रखा और बोलीं- हां बेटा, अब आराम से धक्का लगा. अब मैंने उससे पूछ ही लिया- फरजाना तुम तो यहां अपनी बेटी को मुझसे बचाने आई थीं. तो बुआ का घर आ गया मैंने दरवाजा खटखटाया तो बुआ बाथरूम से बोली- कौन है?मैं नहीं बोला … मैं उनको सरप्राइज देना चाहता था।फिर कुछ देर बाद मैंने कहा- मैं हूँ अंकुर!तो बोली- तुम रुको, मैं नहा लूं।मैं वहीं खड़ा रहा.

फेसबुक फ्रेंड ने अपनी बीवी की चुदाई करवायी-2अब तक आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने और राकेश ने मिलने का प्लान बनाया और मिलने के बाद मैं और काव्या, एक दूसरे के प्यार में डूबे हुए थे.

भाभी के साथ उसका पति ही उस मकान में रह रहा था जिसको मैं भैया कह कर बुलाता था. चुदाई के बाद टेबल के मेजपोश से लंड पौंछ कर बोला- तुम निबटोगे?मैंने मना कर दिया।वह बड़ा थैंकफुल था- अरे यार मजा आ गया! तुमने बड़ी मदद की. उनके बूब्स इतने बड़े थे कि ब्लाउज एकदम ऐसा टाइट लग रहा था … मानो उनके मम्मे अभी हुक तोड़ कर बाहर आ जाएंगे.

उसकी चूत की फांकों से रगड़ खाते हुए मेरे उस्ताद को आनंद की असीम अनुभूति होने लगी. मैंने फिर से उनको अपनी बांहों में लिया और होंठों को चूसते हुए उनके मस्त बोबे दबाने लगा. मेरे ख्याल से अब तक रमा अनगिनत बार झड़ चुकी होगी … क्योंकि उसकी योनि के इर्द-गिर्द झाग सा बनना शुरू हो गया था.

बीच-बीच में मैं उसकी कमीज को ऊपर उठा कर उसके बूब्स को भी मसल रहा था. चूंकि हमारे ग्रुप में सभी ऐसे घरों से थे, जहां का माहौल बहुत ओपन टाइप है … जिसके चलते घर वाले घूमने जाने के लिए कभी मना नहीं करते हैं.

उसने फोन काटा, लेकिन मुझे मस्ती सूझी, तो मैंने ऐसे रिएक्ट किया कि फोन अभी चालू है और काजल को सुनाते हुए फोन में कहा कि हां हां मलाई भी खिला दूँगा. तब तक मैं काव्या के पीछे चिपक कर खड़ा हो गया था और इससे पहले कि काव्या कुछ बोलती, राकेश ने दरवाज़ा खोला और बोला- थैंक्यू … मैं बस अभी आया, फिर तुम भी फ्रेश हो जाना. उन्होंने अपने मुँह में भरे मेरे लौड़े के पानी को मेरे होंठों से लगा दिया और मैंने भी उनकी चूत का पानी जो मेरे मुँह में था, दोनों का पानी मिल गया और सारा पानी लौड़े का और चूत का, मेरे मुँह में था.

उसने अपनी आंखें बंद कर लीं, तो मैंने हल्के से उसकी आंखों को चूम लिया.

मैंने उसको तब तक अपनी पैंट के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया था क्योंकि सामने का नजारा इतना कामुक था कि मुझसे भी रुकना मुश्किल हो रहा था. उसने मुझे मैसेज किया कि मैं और काव्या आज पटना पहुंचेंगे और काम ख़त्म होने के बाद सात बजे तुमसे मिलेंगे, तुम सात बजे तक स्टेशन के पास आ जाना. मैंने धीरे-धीरे करके उसकी कुर्ती को बिल्कुल ऊपर कर दिया और दोनों चूचे नंगे कर दिए.

बिना कुछ कहे ही कांतिलाल ने मुझे छोड़ दिया और कमलनाथ ने अपना हाथ मेरी ओर बढ़ा दिया. मैंने कई बार अपने लंड की मुठ भी मारी थी, लेकिन अब तक मुझे कभी किसी चूत के असली में दर्शन नहीं हो सके थे.

तब तक दूसरी महिला ने पूछा- क्या आप सब सारिका को पहले से जानते हो?तब कांतिलाल ने उत्तर दिया- हां कल रात से तीनों सारिका को अच्छे से पहचान चुके हैं. मैंने निधि को 20-25 मिनट तक लगातार हचक हचक कर कर चोदा। जिसमें निधि दो बार झड़ गयी, जिससे चादर भी गीली हो गयी।उसके बाद मैं भी कुछ तेज धक्के लगाकर उसकी चूत में ही झड़ गया क्योंकि मैंने कंडोम लगाया हुआ था तो कोई डर नहीं था।उसके बाद हम दोनों अगल बगल लेट गए और बातें करने लगे. मैंने दूसरा धक्का मारा और अबकी बार मेरा लंड पहली ही बार में आधा घुस गया.

गैलरी के सेक्सी वीडियो

उनको काफी देर तक काम करना होता है इसलिए वो देर रात को ही घर पर आते हैं.

मुठ मारने से तनाव खत्म सा हुआ और मुझे नींद भी कब आ गई, पता ही नहीं लगा. भाभी ने मेरे सीने पर सर रखा, तो मैंने लेटते हुए उनको अपने साथ लिटा लिया. अपनी कहानी बताने के चक्कर में मैं आप लोगों को अपने शरीर के बारे में तो बताना भूल ही गया.

उसके पैरों को देखकर मेरा लंड कड़क होने लगा था, पर मैं अभी कुछ कर भी नहीं सकता था. वो एकदम से निढाल होकर अपने जिस्म को ऐसे थिरका रही थी, मानो मेरे रस को वो अपने अन्दर जज्ब कर रही हो. बीएफ मां बेटा कीहम दोनों कुछ देर ऐसे ही न्यूड पड़े हुए एक दूसरे के साथ चिपक कर लेटे रहे.

इस बार मैंने थोड़ी जोर से ट्राई किया और मेरा लंड का सुपाड़ा उनकी चूत के अन्दर चला गया. मैंने माँ पापा को धीरे से देखा तो वो दोनों नींद में सो रहे थे।उसके बाद मैं उसके बिल्कुल पास आ कर बैठ गया और धीरे धीरे एक हाथ से उसकी कमर पर फिराने लगा। उसने कुछ नहीं कहा तो मेरी मेरी हिम्मत बढ़ी.

पता नहीं क्या हुआ, मैं जब अगले दिन सुबह उठा तो अंगिका का मैसेज आया हुआ था कि उसे विडियो चैट करनी है. फिर मैंने उसे उसके दोनों मम्मों वाली तरफ से पकड़ लिया और उसने पुशअप लगाने स्टार्ट कर दिए. उसकी टांगें मेरी पीठ पर आकर लिपट गईं और मेरी जीभ उसकी बुर के अंदर बाहर होने लगी.

मेरे धक्कों से जब वो बहुत रोने लगीं, तो मैंने उनको जकड़ कर लंड पूरा घुसा दिया और उनकी चूत सहलाने लगा. चूस ले इसको …मेरा लंड खड़ा हुआ था तो मैंने अपने खड़े हुए लंड को दीदी के मुंह में डाल दिया और दीदी के मुंह को चोदने लगा. काव्या ने भी यही कहा, क्योंकि टेबल के दूसरी तरफ मैं उसका हाथ पकड़ कर बैठा हुआ था.

वो जब-जब प्लेट में खाना डालने के लिए झुकती तो मैं भाभी के कबूतरों को अंदर तक ताड़ जाता था.

शुरू-शुरू में एक दो दिन मैंने उसे काम करते देखा तो मैंने उसके स्तनों की तरफ ध्यान दिया जो कि बहुत ही रसभरे मालूम होते थे. मैं तुझसे पूछ रही हूं कि ये सेट मेरे ऊपर कैसा लग रहा है?मां के दोबारा पुकारने पर मैं होश में आया और मैंने कहा- अच्छा लग रहा है.

उन धक्कों की वजह से निर्मला की कराहने की आवाज कम हो गई और वो मादक सिस्कियां लेने लगी. कांतिलाल ने पहले ही संकेत दे दिया था कि वो शायद ही मुझे आज रात सोने देगा. मैंने दरवाजा खोला, तो सुरेश अंदर आकर मुझे किस करने लगा और मेरी चूची को दबाने लगा.

उधर अब तक थोड़ा अंधेरा हो चुका था और बीच पर कम ही लोग रह गए थे … जिनमें से ज्यादातर न्यू मैरिड कपल ही थे, जो आपस में चूमा चाटी कर रहे थे और मजे ले रहे थे. अगर मैंने कोई नया बॉयफ्रेंड बनाया तो मैं आपको तो अपनी सेक्स कहानी अवश्य बताऊँगी. मगर यहां पर किसी प्रकार का कोई डर नहीं है और आसानी से अपने मन की बात शेयर की जा सकती है.

पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ निर्मला इधर हाय हाय करती रही और फिर कराहते हुए बोली- हो गया … मजा आया न?कांतिलाल ने अपनी सांस छोड़ी और ढीले बदन से अपना लिंग उसकी योनि से निकाल कर सोफे पर बैठ गया. राज- उम्म्म … ह्म्म्म्म …मैं- आह्ह्ह … अह्ह्ह … ओह्ह्ह …हम दोनों मानो एक दूसरे को पछाड़ने में लगे थे.

नंगी फिल्म बताइए वीडियो में

किचन में, बैठक में, स्टोर रूम में जहां भी मन किया उसकी चूत का कुआं खोद डाला. चुदाई के पहले ही मेरी चूत काफी गर्म हो गयी थी और उसका लंड मेरी चूत में अन्दर बाहर हो रहा था, जिससे मेरी चूत को अजीब सा अच्छा फील हो रहा था. फिर मैंने अपने लंड को दीदी की चूत पर रखा और उसको दीदी की चूत पर पटकने लगा.

उस समय वैसी सी फीलिंग आ रही थी कि मेरे अन्दर न जाने ताकत एकदम से डबल कैसे हो गई थी. मैं उसके ऊपर अपनी दोनों जांघें फैला कर चढ़ी हुई थी और मुझे उसका सख्त लिंग मेरी योनि पर जांघिये के भीतर से चुभ रहा था. बीएफ भौजी की चुदाईमैं उनकी तरफ देखकर मुस्कराते हुए बोली- अब कैसे करेंगे आप?वो बोले- अब मैं नहीं, अब तू करेगी.

टांगें अपनी सीधी कर और हाथों को बिस्तर पर टिका कर मुझे इतने तेज तर्रार धक्के मारे कि एक पल में ही मैं सिसकते, कराहते हुए उसे पकड़ कर नीचे से उछलती हुई झड़ने लगी.

मैंने काव्या को उठा कर बेड पर पटक दिया और फिर उसके पेट पर दारू गिरा कर चाटने लगा. राज मेरे नीचे से बोल रहा था- पारुल जोर से कूद!वो जितना तेज करने को बोलता, मैं उतना ही जोर से उछलने लगती और जोर जोर से मेरी सिसकारियां निकल रही थीं.

कोई 3-4 बार ऊपर नीचे होते ही उसका सम्पूर्ण मोटा और कठोर लिंग मेरी मुलायम योनि की दीवारों को भेदता हुआ मेरे गर्भाशय से टकराने लगा. मेरा लंड पूरा खड़ा हो चुका था और मेरी भांजी के चूतड़ों पर स्पर्श कर रहा था. जब उससे धक्का लगाना असंभव सा होने लगा, तो वो ऊपर से लुढ़क कर बिस्तर पर गिर गई.

वो अपनी जिंदगी के सबसे बड़े रहस्य को जानना चाहती है और लड़की होने की फीलिंग लेना चाहती है.

फिर उसने भी कुछ नहीं कहा और मैं आराम से प्रिया के चूचों को दबाने लगा. सनी- वे रिलेशनशिप में होंगे और वैसे भी लोग अंधेरे में यहां इसलिए रुकते हैं कि वे खुले में मजे ले सकें. जब भी मैं इमरान के घर जाता था तो मेरी नजर उसकी मां के बदन को ऊपर से नीचे तक पूरा नाप लेती थी.

हिंदी कुंवारी लड़की की बीएफमेरे पास यही एक मौका था, तो मैंने शिफा के सारे चेहरे को चाट डाला और उसके ब्लाउज़ में हाथ डाल कर उसके मम्मे दबा दिए. उनकी टांगें फैली हुई थीं और लंड वैसे ही एक साइड में अगल से दिखाई दे रहा था.

जानवर का बीएफ वीडियो

पता नहीं क्या हुआ, मैं जब अगले दिन सुबह उठा तो अंगिका का मैसेज आया हुआ था कि उसे विडियो चैट करनी है. न्होंने जवाब में लिखा था कि वो मेरे साथ दो दिन का वक्त बिताना चाहते हैं और इसके लिए मैंने दो दिन की छुट्टी भी ले ली. मौका पाकर मैं झट से अनु के पास गया और उसको एक तरफ खींच कर अपनी छाती से सटा कर कहा- क्या बात है, मुझसे बात क्यों नहीं कर रही हो? दो दिन से तुम्हारा इंतजार कर रहा हूं.

वो वासना से भर चुकी थी और बोल रही थी- जल्दी करो मेरे राजा … अब ये आग बर्दाश्त नहीं हो रही! जल्दी से इस आग को बुझाओ. चुदाई पूरी करके मैंने लंड को उनकी नाइटी से ही पौंछा और बरमूडा ऊपर कर लिया. फिर मैंने धीरे से एक उंगली चूत में डाल के अपने मुंह में ले ली और फिर वही उंगली आंटी के मुंह में दे दी.

वो तो भला हो कि मैं कुर्सी पर मम्मी के स्कूल आफिस में बैठा था तो किसी को दिखा नहीं. उस दिन पापा घर से बाहर गए हुए थे और मेरा भाई कॉलेज के टूर पर गया था. कांतिलाल ने कविता को सिर से लेकर पांव तक चूमा, फिर आगे से लेकर पीछे तक चूमा और स्तनों को जी भरकर चूसने के बाद उसकी टांगें फैला दीं, उसकी योनि पर टूट पड़ा.

फिर भाबी बोली- अब तुम्हारे लंड महाराज कैसे हैं, जरा दिखाओ?भाबी के मुंह से लंड शब्द सुनते ही मेरे लंड में एक अजीब सी सिरहन दौड़ गई और लंड तुरंत खड़ा होकर एकदम सख्त हो गया।मैंने लोवर नीचे किया और लंड भाबी को दिखा दिया. इतना सुनने के बाद मैंने भाभी को कार से नीचे उतरने के लिए कहा और कार को लॉक कर दिया.

उसके बाद मैं बाथरूम में चला गया और काव्या भी अपने कपड़े ठीक करके बैठ गयी.

कुछ समय बाद मैंने उसकी पजामी में हाथ डालना चाहा लेकिन उसने डालने नहीं दिया. बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ बीएफकई दिनों की कोशिश के बाद उसकी चूत में लंड गया था इसलिए मैं भी कु्त्ते की तरह उसकी चूत को गांड हिलाकर चोदने लगा. बीएफ मूवी देखेंसुरेश मुझे अच्छा लगने लगा था, तब भी मैं अभी उसको अपने घर भी नहीं बुला सकती थी. वो जोर जोर से चिल्ला रहे थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआह्ह ऊऊह्ह हाहा हा!उसने अब मेरा सिर में अपनी उंगली फेरनी शुरु कर दी।5 मिनट तक चूत चाटने के बाद वो अब मेरा सिर अपनी चूत पर दबा रही थी। मैं समझ गया था कि ये झड़ने वाली है तो मैंने उसे और जोर चूसना शुरू कर दिया। वो इतनी जोर से झड़ी कि मेरा मुंह उसके कामरस से पूरी तरह भीग गया था।वो अब शांत हो गई थी.

निर्मला ने मुझे बताया कि वो एक तरह की शराब है, जो लोग खास तरह के मौकों पर पीते हैं.

उसने मेरी चूत पर लंड को रख दिया और फिर मेरी चूत पर लंड को रख कर उसको मेरी चूत पर रगड़ने लगा. फिर मैंने अपनी लोअर नीचे करके अपना लंड बाहर निकाल लिया और हाथ में हिलाकर उसको चूसने के लिए कहने लगा. कमलनाथ ने फिर से कविता को लिटा संभोग शुरू कर दिया और थोड़ी ही देर में कविता ने उसे हाथों से पकड़ लिया.

फिर मैंने सोनू को डॉगी स्टाइल में होने के लिए बोला तो वह बेड पर डॉगी स्टाइल में आ गयी. उस दिन पूरे दिन मेरी फटती रही कि चुदाई स्टोरी तो बनी नहीं … आंटी मम्मी को ना बता दें और मेरी घर पर ठुकाई लग जाए. इस पर रमा बोली- सबकी बातों को बराबर ध्यान दिया जाएगा, पर आज जिसने पहले न्यौता दिया, पहला हक़ उसका बनता है.

इज्जत लूटने वाला वीडियो

इस बीच उसने न जाने कितनी बार पानी छोड़ दिया होगा … कुछ मालूम ही नही चला. आह्ह … चोद साले … इस चूत को तेरे जैसे शर्मीले लंड को लेने में बहुत मजा आता है. मैं मन ही मन खुश हो रहा था क्योंकि अब मुझे मामी को चोदने का मन कर रहा था और मैं सोच रहा था कि अब ये मौका भी अच्छा हाथ लगा है क्योंकि मामा के रहते हुए तो मैं मामी से इस तरह की बात नहीं कर पाता.

अन्तर्वासना डॉट कॉम स्टोरी में पढ़ें कि पड़ोस की एक आंटी और उनकी बड़ी बेटी को चोदने के बाद मेरी नजर आंटी की छोटी बेटी पर थी.

क्यों जब वो झुक कर पत्ते बांटती थी तो मुझी चूचियों के दीदार हो जाते थे.

जब मैं दीदी के यहां पर रहने के लिए आया था तो तब से लेकर अब तक मैंने कभी भी उन दोनों के कमरे से किसी तरह की आवाज नहीं सुनी थी. तुम दोनों ने इतने अच्छे से चुदाई की है कि अब तक मेरी कभी ऐसी चुदाई हुई ही नहीं थी. न्यू सेक्सी व्हिडिओ बीएफउसके घर पर पहुंच कर जब हमने दरवाजे की घण्टी बजाई तो उसकी पत्नी ने दरवाजा ने खोला.

अब मैं किसी और दुनिया में था, उसके लब इतने मुलायम थे कि मैं तो उसे चूसता ही रह गया. [emailprotected]पहली बिंदास कहानी:कॉलेज गर्ल चुदी पड़ोसी अंकल से- 1 (बिंदास ग्रुप). फिर मैं और राजेश बाहर रूम में आ गए और किरण नहाने के लिए वाशरूम में चली गयी.

रमा- कांति ने तुम्हें सोने दिया या नहीं?मैं- हां सोने तो दिया, पर उससे पहले मुझे निचोड़ कर रख दिया. जब छठे फ्लोर लिफ्ट रुकी तो श्रेया आंटी ने मुझे लिफ्ट को रोक कर रखने के लिए कहा.

दीदी पीछे हट गई, बोली- कोशिश अच्छी थी लेकिन अभी तेरे जीजा आने वाले हैं इसलिए चुपचाप अपने कमरे में जा, हम फिर किसी दिन देखेंगे.

कुछ लोग रास्ते में ही किस कर रहे थे, जिसे देखकर हम लोग एक दूसरे से नजरें मिला कर आंखों को झुका लेते थे. हम दोनों सेक्स कर रहे थे और मैं अपनी गांड उठा उठाकर अपने बॉयफ्रेंड का लंड अपनी चूत में ले रही थी. दीदी की गांड फैलने लगी और धीरे-धीरे करके लंड को आगे धकेलते हुए मैंने उसकी गांड में लंड को घुसा दिया.

साड़ी वाली नंगी बीएफ उसने ऐसा ब्लाउज पहन रखा था, उसमें से उसके आधे बूब्स तो बाहर ही झाँक रहे थे, वो बहुत सेक्सी लग रही थी. मैं भी वो देख कर हैरान था कि इतना बड़ा खीरा अम्मा की चूत में कैसे अन्दर जा रहा है.

तभी रमा भीतर आ गई और बोली- ठीक है … वहां के बाल केवल ट्रिम कर शेप कर दो. मुझे इस बात को जानने की उत्सुकता है कि सेक्स के बात एक लड़की को क्या फीलिंग होती है. फिर मैंने उसका पेटीकोट खोलने की कोशिश की, पर मुझसे नहीं खुला, तो उसने अपने हाथों से खुद का पेटीकोट खोल दिया.

इंडियन बीएफ सेक्सी दिखाओ

आंटी ने मुझे कुछ पैसे देते हुए कहा- अब से जब भी तू मुझे चोदेगा, मैं तुझे पैसे दूंगी. मैं बहुत अधिक उत्तेजित हो चुकी थी, इस वजह से जब रवि का लिंग मेरी योनि से बाहर निकल रहा था, तो मेरी अंतरात्मा जैसे कहने लगी कि मत हटो, कुछ पल और रुक जाओ. मैं अपने भाई के सामने पूरी की पूरी नंगी लेटी हुई थी और उसके लंड को अपने हाथ में पकड़ कर जोर से सहलाते हुए मजा ले रही थी.

वो बोली- तुम मुझे देखने में अच्छे लगते हो … इसलिए अभी तो दोस्ती तक ही बात सीमित रहेगी. मेरी योनि का छेद जैसा का तैसा खुला महसूस हो रहा था, जिससे मैं ठंडी हवा का बहाव महसूस कर रही थी.

मैंने पूछा- क्या हुआ मैडम?तो सोनू ने कहा कि कुछ नहीं, थोड़ा परेशान हूं।मैंने पूछा- क्यों, क्या हुआ आपको?पहली बार सोनू ने खुलकर बात करना शुरू की, बोली कि जिंदगी में सब कुछ है मेरे पास एक अच्छा पति, एक प्यारा सा बेटा लेकिन फिर भी मैं अकेली हूं.

मेरी योनि से पानी छूटने लगा था और मैं उसे और अधिक उत्साहित करने लगी थी. थोड़ी देर के बाद निर्मला उठी और अपनी पैंटी निकाल कर स्कर्ट ऊपर उठाते हुए अपनी दोनों टांगें फैला दीं और अपनी योनि रवि के मुँह में लगा दी. अगर तुम मुझे अपने बाप के सामने भी चोदेगा, तो उसे कोई दिक्कत नहीं होगी.

राज- वैसे रुचि ने मुझे बताया था कि तुम्हारा बॉयफ्रेंड भी आने वाला था!मैं- हां यार, लेकिन वो आ नहीं पाया … मेरी किस्मत खराब थी. मगर हमारी किस्मत तो गधे के लंड से बंधी हुई थी, इसमें कभी कुछ अच्छा होना ही नहीं था. मेरी कद काठी बहुत ही मस्त है, जिस कारण बहुत सी लड़कियां मुझ पर मरती भी हैं.

चुदाई के बाद टेबल के मेजपोश से लंड पौंछ कर बोला- तुम निबटोगे?मैंने मना कर दिया।वह बड़ा थैंकफुल था- अरे यार मजा आ गया! तुमने बड़ी मदद की.

पाकिस्तानी बीएफ व्हिडीओ: वो मुझे स्टाफ वाशरूम की तरफ ले जा रही थी लेकिन मैंने उससे कहा- किसी नज़दीक वाशरूम में ले चलो. मैंने अपनी बहन नज़मा को चूम लिया और उसके बाद हम दोनों एक एक करके बाथरूम में जाकर खुद को साफ़ करके आ गए.

मैंने उससे किसी होटल में रुकने के लिए कहा तो उसने कहा कि नहीं उधर मेरा दोस्त रहता है. उन चारों ने फिर से मदिरा पीनी शुरू की और अपनी अपनी पत्नियों के अगले दिन आने की बात कही. उस समय मैं अपने सेमेस्टर एग्जाम ब्रेक में घर आया हुआ था।मैं अपनी बुआ के साथ बात करने में बहुत फ्रैंक था, मैं उनसे कोई भी बात करने में संकोच नहीं करता था। मैं बुआ को बहुत पसंद करता था और मैं उनके साथ सेक्स करना चाहता था.

कुछ देर के बाद मेरे दूधों में अब जलन होने लगी थी और मैं अब झटपटाने लगी थी- आह्ह … अंकल … बस … अब दुख रहा है … रुको न अंकल … आह्ह … आईई … उफ्फ … करते हुए मैं कराहने लगी थी.

तीनों ने बहुत जोर लगाया, पर किसी के लिए ऐसी अवस्था में पेशाब करना संभव नहीं था. पर कुछ ही पलों में कमलनाथ की भी सांसें जवाब देने लगी थी, उसके सिर पर चरमसीमा तक पहुंचने की लालसा उसे न ढीला होने दे रही थी, न कमजोर. सर्दियां शुरू हो गई थी इसलिए दोनों ने एक कम्बल ले लिया। लेकिन अचानक से वो उठ कर दूसरे रूम में चली गई.