हॉट भाभी बीएफ

छवि स्रोत,ओपन बीएफ सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगे वाली बीएफ: हॉट भाभी बीएफ, निशा ने मुझे अपनी नशीली आंखों से देखा और अपने पतले और लाल होंठों से मेरे मुँह पर लगे उसकी चूत के रस को चाटने लगी.

बीएफ नंगी पिक्चर दिखाइए

तभी वो मेरे पास आ गईं और बोलीं- क्या आपने कभी ट्रेन के बाथरूम में चुदाई की है?मैं बोला- नहीं … जब हमारे पास अच्छी जगह है, तो वहां क्यों?वो बोलीं- मुझे एडवेंचर सेक्स करना है, अगर आपको करना हो तो बोलो. बीएफ सेक्सी एचडी बिहारमैं कामवाली बाई के दोनों मम्मों का बारी बारी से रसास्वादन करने लगा.

कमरे में कम से कम 20 मोटी मोटी मोमबत्तियां जल रही थीं … पूरा कमरा सुगंध से महक रहा था … बिस्तर पर गुलाब के फूलों की पंखुड़ियां बिछी थीं. हिंदी बीएफ वीडियो गानामैंने अपनी जिप खोल दी … तो उसने पहले अपना एक हाथ अन्दर डाल दिया और अंडरवियर के ऊपर से ही मेरे लंड को सहलाने लगा.

मैंने कमर पकड़कर नीचे से झटके लगाने शुरू कर दिया।थोड़ी देर बाद वो लंड पर उछलने लगी.हॉट भाभी बीएफ: मैं कुछ जोर से दबाव देते हुए उसके निप्पलों को मरोड़ने लगा और पीठ और कंधों पर अपने दांत गड़ाने लगा.

मगर मेरे दिमाग में कीड़ा घुस गया था तो मैं अब उसका फ़ोन हर रोज चोरी छुपे चैक करने लगा.भीड़ में मैं अपना शरीर तो झट से पीछे नहीं कर पाई पर नजर झुका कर देखा तो कुछ नहीं था.

इंडियन बीएफ सेक्स पिक्चर - हॉट भाभी बीएफ

फिर देखूँगा कि ये किस हद तक जाती है और मेरे लंड के साथ क्या करती है.इधर मैं आपको उसके बारे में किसी भी तरह की जानकारी साझा नहीं कर सकता हूँ क्योंकि उसकी गोपनीयता मेरे लिए महत्वपूर्ण है.

वो आह आह करने लगी तो मैंने एक निप्पल को अपने होंठों में भर लिया और दांतों से काटते हुए चुभलाने लगा. हॉट भाभी बीएफ दरअसल वो तीनों लड़कियां कॉलेज की बदचलन लड़कियों में शुमार की जाती थीं.

चूंकि वो मेरे लिए एक अपरिचित था, तो पहले मैंने उसकी तरफ सवालिया निगाहों से देखा.

हॉट भाभी बीएफ?

मुझे अच्छा लग रहा था, फिर अब्बू ने दो उंगलियाँ डाल दीं, मुझे और अच्छा लगने लगा. एक शाम पार्टी में उसने कुछ ज्यादा ही पी ली तो मैं उसे अपने कमरे में ले आया. अगले ही पल उसने बैग की चैन खोलने के बहाने अपना दायां हाथ मेरे ऊपर इतना चढ़ा दिया कि उसकी कोहनी के ऊपर की भुजा मेरे दोनों विशाल वक्षों के बीच धंस रही थी और कोहनी मेरे वक्षों के नीचे चुभ रही थी.

लेकिन मैंने अपनी पसन्दीदा क्रिया अर्थात उसकी चूत की चुसाई की और उसकी चूत से मलाई निकाल कर चाट ली. न्यू भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे भैया की शादी बेहद खूबसूरत और सेक्सी लड़की से हुई। मेरा दिल भाभी पर अटक गया। मैंने कैसे उसकी चूत का मजा लिया?दोस्तो, मेरा नाम जय है। मैं एम. उसकी तनी हुई चुचियां मानो खुला निमन्त्रण दे रही थीं कि आओ और मुझे मसलकर चूस लो.

मूड बन जाता तो कभी मैं असीम से कुछ बियर भी लाने कह देती, कभी अपना मन बहलाने के लिए ऑफिस के दोस्तों के साथ कोई फ़िल्म देखने चली जाती, या घर पर ही कोई अच्छी सी क़िताब पढ़ लेती. आंटी ने कुछ नहीं कहा तो मैं समझ गया कि अब इन्होंने मुझे पूरी तरह से फ्री कर दिया है. अब जेठ जी मेरी चूत को चाटना चालू किये और मेरी चूत से पानी निकल रहा था.

मैं उसकी शॉर्ट्स धीरे धीरे नीचे करने लगा और मेरी बहन की गुलाबी चूत की दरार दिखनी शुरू हो गयी. सरोज हंसने लगी और बोली- अम्मा को चोदने की सोचेगा … तो जान से जाएगा.

तभी बुआ की सिसकारियां एकदम से बढ़ गयी थीं- उम्म्ह हह अह्ह ह्ह्ह्ह … मैं कट गई … आह!मैं समझ गया था कि वो अब झड़ने वाली हैं.

मैं एक कठपुतली की तरह बैठ गई और उसके अगले एक्शन का इंतजार करने लगी.

उत्तेजना वश मैं और ज़ोर ज़ोर से चूची मसल रहा था, जिससे उनको दर्द हो रहा था. तभी उन्होंने मेरा हाथ अपने मम्मों पर रख दिए और एक पल के लिए होंठ हटा कर बोलीं- ये बहुत पसंद हैं न आपको … आज से आपके हुए. फिर हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहन लिए … क्योंकि काफी देर हो चुकी थी … अब मम्मी पापा भी आने वाले थे.

भाभी के मुँह से आउच निकला और वो बोलीं- आह धीरे करो यार … सोम जाग जाएगा. कुछ देर बाद हम दोनों ने रात का खाना खाया और उसके बाद हम रूम मैं बैठ कर सिगरेट पीने लगे. मैं उनकी दोनों चूचियों को बारी बारी से चूसने में मस्त था और बुआ धीरे धीरे अपनी कामुक आवाजें निकाल रही थीं- आह आ उह आह हां पी ले … आह कितना मजा आ रहा है … आह आज तो मार ही डाल … उम्म्म धीरे चूस.

हालांकि इस सफ़र के दौरान उसने मेरे साथ सेक्स को लेकर बात करने में बड़ा संकोच दिखाया था.

तो दोस्तो, आपको मेरी यह सच्ची सेक्सी ऑफिस गर्ल की हॉट चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. वहीं हम दोनों साथ में नहाए और बाथरूम में ही मैंने साली साहिबा की चूत पर अपनी पेशाब की धार मार दी. कुछ देर बाद उसने मुझे खड़ा किया और खुद बैठ कर मेरी अंडरवियर को उतारने की जगह एक झटके से फाड़ दिया और मेरे लंड को आज़ाद कर दिया.

धीरे धीरे खुशबू का दर्द कम होने लगा और वो आह हहह उम्मह हहह औउहह हह करके लंड लेने लगी।अब मैं उसकी चूचियों को बेदर्दी से मसलने लगा और चूमने लगा।कुछ मिनट के बाद अब मैंने खुशबू को उठाकर घोड़ी बना दिया और उसके पीछे आकर दोनों हाथों से उसके चूतड़ खोल कर चूत में लंड घुसाया. फिर मेरे मुंह से निकला कि ऐसे तो वापस अन्दर चलते हैं … बाहर कुछ नहीं रखा है. तब मां ने कहा- रात को तो अमित घर पर ही होगा, आप आज मत आना … कल मैं कुछ इंतजाम करती हूं.

चुत से लंड को जैसे ही बाहर निकाला, तो वो चूत के खून से और पानी से सना हुआ था.

इस छुअन का मेरे मन पर जो असर हुआ था, वो असर मुझे मेरी चढ़ती जवानी तक ले गया. मेरी बीवी भी अपने मम्मों को बिल्कुल उसके चेहरे पर लगा लगा कर उसका मेकअप कर रही थी.

हॉट भाभी बीएफ मैंने बिना रानी की इजाजत लिए नीचे बैठा और धीरे से उसके पेटीकोट को ऊपर करने लगा. थोड़ी ही देर में हम दोनों ने एक दूसरे के पूरे कपड़े उतार कर अलग कर दिए.

हॉट भाभी बीएफ वाह … रश्मि बुरा मत मानना, पर आज तुम कुछ ज्यादा ही खूबसूरत लग रही हो. तभी विक्की की मां उठकर जाने लगीं, तो मैंने नोटिस किया कि विक्की भी अपनी मां की गांड को बड़े ध्यान से देख रहा था.

मैं बोला- नहीं सीरीयस … सिमरन को बताएगा कौन … मुझे भी नई गर्लफ्रेंड का कुछ एक्सपीरियेन्स मिल जाएगा.

एक्स एक्स एक्स रानी मुखर्जी

एक दिन हुआ यह कि उसने मुझसे कहा- आपकी वाइफ कैसी दिखती है? जरा मुझे भी बताइये. उसे चलने में थोड़ी दिक्कत हो रही थी … लेकिन थोड़ी देर बाद साली साहिबा ने सब अड्जस्ट कर लिया. मैं धीरे धीरे उसकी गीली जांघ सहलाने लगी और मैंने एकदम से अपना हाथ उसके खड़े लंड पर रख दिया.

अंजुमन की चूत पानी निकलने से चिकनी हो चुकी थी इसलिए एक ही झटके में उसकी चुत ने मेरा आधा लंड अन्दर तक ले लिया था. फिर अगले दिन मैंने उसे गौर से देखा, तो मुझे लगा शायद इसकी चुत में खुजली होने लगी है. ” इतना कहकर मैंने अपना लण्ड बाहर निकाला, नाज की टाँगें सहलाईं और उसको पलटाकर बकरी बना दिया.

दोस्तो, आप चाहें कितना भी रोक कर देखो … पर जिस्म की भूख हर बांध को तोड़कर ही रहती है.

फिर मेरा लण्ड अपनी मुठ्ठी में भींचकर बोली- बहुत दिन बाद आये हो, जुम्मन. ये जून का महीना था और ट्रेन में काफ़ी गर्मी थी, जिस वजह से मुझे कुछ असहज लगने लगा था. कुछ ही मिनट बाद दिशा मादक सीत्कार के साथ अपनी गांड हिलाते हुए बोली- अभी तक ऐसी सकिंग किसी ने भी नहीं की.

मैंने अपनी जीभ को नुकीला बनाते हुए उसकी दोनों फांकों को अपनी उंगली से अलग किया और अपनी जीभ को चुत के अन्दर ठेलने लगा. इसके बाद वहां हम लोग दो दिन रहे, मैं बार बार कोशिश करती रही कि अब्बू पहल करें लेकिन ऐसा हुआ नहीं और कुछ दिन बाद जुम्मन से मेरी शादी हो गई. मैंने पीछे से मुंतजिर की गांड की तरफ से लंड टिकाया और झटका दे मारा.

पीठ पर लैपटॉप बैग, एक हाथ में लड़कियों का पर्स … और एक हाथ में एक छोटी ट्रॉली. मैंने सुमन की बहन सरोज को उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी सलवार उतार दी.

अब्बू ने मुझे पलंग पर गिरा दिया और मुझ पर चढ़कर मेरी चूचियां चूसने लगे. अपनी भाभी से हरी झंडी मिलने के बाद वो तुरंत ही मेरी दीदी के होंठों को चूसने लगा … किस करते करते वो पीछे से ही मेरी दीदी की गांड भी दबाने लगा. फिर मैंने सोचा इसके सामने इसकी भाभी खड़ी है, तो मैं कुछ मज़े ले लूं.

पापा का मूड अच्छा था इसलिए इस बात का फायदा उठा कर मैंने कहा- पापा स्वाति भी मेरे साथ जाना चाहती है.

रविवार को शरद, किरणदीप और सुरजीत अक्सर ड्रिंक्स लेते और कभी कभी मैं भी उनके साथ कुछ पैग लगा लेती थी. वो ब्रेड को अपने हाथ से उठाने के बजाए उसे अपने मुँह में दबा कर मेरे मुँह में डाल रही थी. मैं रंगोली के कमरे में गया, वो बिस्तर पर औंधे मुँह करके सोई हुई थी.

लगभग आधा घंटे तक उसने मेरी गांड मारी और सक्सेना ने अपने लंड का पानी भी मेरी गांड में ही छोड़ा. और 10 मिनट बाद भाभी ने कहा- चलो!अब मैं आपको भाभी के फीगर के बारे में बता दूं.

फिर मैंने जल्दी से कहा- मुझे कंडोम तो पहन लेने दो!इस पर नन्दिनी मुस्कुरा कर बोली कि मुझे कंडोम में मज़ा नहीं आता जान … फिक्र ना करो, मैं वक़्त से पहले निकल जाऊंगी. नीचे भाभी की रसीली फूली हुई चूत पर मैंने अपनी गर्म गर्म सांसों से फूंकना शुरू कर दिया. अब तक मेरा लंड भी खड़ा हो चुका था, जिसे भाभी ने मेरी पैंट के ऊपर से तना हुआ देख लिया था.

राजपूती सेक्सी फोटो

अब उसने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और अपने हाथों से मेरी टांगें चौड़ी कर फैला दीं.

वैसे मैं हूँ तो दिल्ली से … लेकिन काम की वजह से हैदराबाद में एक साधारण फ्लैट लेकर रहता हूं. वो बार बार अपनी गांड उठाकर मेरे मुँह में देने का कोशिश करती और अपने हाथों और सिर को उठाती हुई पटकने लगती. मैं रंगोली के कमरे में गया, वो बिस्तर पर औंधे मुँह करके सोई हुई थी.

मैंने कंट्रोल किया और रंगोली की गांड पर हाथ रख और हिलाकर कहा- रंगोली उठ … सुबह हो गयी. एकदम से हम दोनों की चीख निकल पड़ी और हमने एक साथ पानी छोड़ दिया।हम दोनों एक-दूसरे से लिपटकर किस करने लगे।हमें लगभग 2 घंटे से ज्यादा समय हो चुका था।डॉक्टर पेशेंट सेक्स के बाद हम दोनों ने अपने कपड़े पहने और फिर बाहर आ गए. एचडी हिंदी बीएफ बीएफउनका मोटा लम्बा लंड देख कर मैं डर गई लेकिन मुझे सेक्स करने की आदत थी इसलिए बाद में मुझे अच्छा लगने लगा.

तभी हमारी सोच पर रोक लगाते हुए परेश की आवाज आई- आपको ऐतराज ना हो तो बगल के कंर्पाटमेंट में मेरी सीट है, आप वहां शिफ्ट हो सकते है क्या? हम फैमिली हैं … तो प्लीज़ हमें सहयोग कीजिएगा. कुछ देर बाद जब मौसी से रहा नहीं गया तो उन्होंने कहा- जल्दी से अन्दर बाहर कर दे … कोई आ जाएगा, तो मजा किरकिरा हो जाएगा.

‘आह … आह शरद आआह … ओ हहहह … और तेज़ शरद … और जोर से चोदो … आह आह … ओह शरद मैं कैसे रहूंगी तुम्हारे लंड के बिना जानू … आह आह. सरोज- आह पेल दे … हां मैं रंडी जाटनी हूं … चोद भोसड़ी के बिहारी … चोद जाटनी मिली है चोद दे साले. मेरे दोनों चूतड़ों को अपनी ओर खींचकर अब्बू अपने लण्ड पर जोर आजमा रहे थे.

मैं उधर से निकल आई और उसी दिन मार्केट चली गयी क्योंकि मुझे जींस टॉप, मिडी स्कर्ट लेने थे. मैंने बाथरूम में उसके आते ही गेट लॉक कर दिया और अपनी तरफ लगा शॉवर चालू कर दिया. उनका रंग दूध जैसा सफ़ेद, बिल्कुल सोनाली बेंद्रे सी छवि मेरी आंखों में उतर आई.

मैंने थैले में रखे अपने पर्स से चश्मा निकाला और उस पर फूंक मार कर अपने उभरे वक्ष के ब्लाउज के ऊपर उसे पौंछा.

मेरे दोस्त को अब तक ये नहीं पता चला है कि उसकी जुगाड़ की चुदाई मैं कर रहा हूँ, इसलिए उसके लंड की नौकरी चली गई है. अर्शिया की मम्मी सही बोल रही थीं कि अर्शिया नींद की बहुत पक्की है, एक बार नींद आने के बाद उसकी आंखें सीधे सुबह ही खुलती हैं.

फिर उसका मोटा लौड़ा अपने मुँह में लेकर मैं लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. इस बीच मेरी चाची एक बार झड़ चुकी थी; उनकी चूत और मेरे लंड की टकराहट से चप चप की आवाज आना शुरू हो गई थी. मेरी बहन स्वाति, मम्मी का हाथ बंटा रही थी और मेरा छोटा वाला भाई बाहर अपने दोस्तो के साथ कुछ गेम खेल रहा था.

मेरे लौड़े में हल्का हल्का दर्द हो रहा था मैंने तेल से मालिश की और गोली खा ली. वो तेजी से गर्दन चलाते हुए मेरे लंड को चूसने लगी और मैंने भी उसके बालों को पकड़ कर उसके मुंह में लंड पेलना शुरू कर दिया. कोई भी लड़की मैं बहुत जल्दी ही पटा लेता हूं लेकिन मुझे भरी हुई उम्रदराज आंटी, मम्मी टाइप की औरतें पसंद हैं.

हॉट भाभी बीएफ मैंने रानी को एक बार फिर से अपनी बांहों में उठाने के लिए अपनी बांहें खोल दीं- अगर मैडम की इजाजत हो, तो मैं उठा लूं. हम दोनों चुदाई में ऐसे सराबोर थे कि हम भूल गए थे कि बाहर मामी भी हैं.

अंग्रेजों की नंगी सेक्सी वीडियो

फिर मैं उसके होंठों की तरफ बढ़ा, जो लाल सुर्ख गुलाबी ऐसे लग रहे थे, जैसे दुनिया के सारे रस आज इसी के होंठों में भरे हुए हैं. हैलो फ्रेंड्स, मैं रश्मि मिश्रा एक बार फिर से आपके सामने अपनी हॉट सेक्स विद बॉस कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही होने वाला था, जिसका मुझे उस वक़्त कोई अंदाजा नहीं था.

अब उन्होंने अपनी हथेली पर थूका और उसमें अपना अँगूठा भिगोकर हमारी गांड के छेद पर रगड़ने लगे. उसकी ब्रा निकालने के बाद उसके दोनों खरबूजे मेरी आंख में रतौंधी पैदा करने लगे थे. देवर भाभी के बीएफ एचडी मेंमैंने उसको पूरी तरह से फ्री कर दिया तब भी वह मुझे डलवाए हुए ऐसे ही पड़ा रहा.

बात खत्म करके मैंने सोचा कि अब जरूर मैं मेरी बहन को चोदने का कोई रास्ता निकाल सकता हूं, मैं बहुत खुश हो रहा था यंग सिस्टर सेक्स के बारे में सोच कर.

उधर रोशन भी अपनी चुत में उंगली करती हुई खुद को चरम पर पहुंचाने में लगी थी. कुछ ही देर की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद उन दोनों का शायद अब चरम आ गया था.

भाभी की पनियाई हुई चूत से लंड की थापें ‘छोपप चुप्प्प पच्छ पच्छ पच्छ …’ की ताल छेड़ रही थीं और मेरी हुंकारें ‘अहह अहह ओह्ह ममहह ले मेरी जान …’ कमरे के माहौल में काम भावना को और अधिक बढ़ाने में मदद कर रही थीं. इस बार मैंने उसे थोड़ा जोर से उसे अपनी बांहों में उठाया और अपने सीने से लगा लिया. दोस्त ने लंड अन्दर जड़ तक पेलते हुए कहा- साली भाभी, तेरा पति बाहर तेरी चुदाई पर पहरा दे रहा है.

मैंने कई बार नोटिस किया था कि अंकल मेरी मां को मन ही मन प्यार करते हैं.

तो मैंने जवाब में मना कर दिया क्योंकि मैं तो उसके प्यार का भूखा था. वो अपनी मस्ती में बोला- आह सोनिये … मैंने सही जगह लंड पेला है … आज मेरा लंड बहुत कड़क है, इसे तेरी गांड की सैर करनी थी. कुछ देर बाद मैंने दीदी से कहा- दीदी मैं आज शाम घर चला जाऊंगा … एक बार मुझे आपकी गांड मार लेने दो.

हिंदी बीएफ ब्लू हिंदी मेंमैंने उसके एक निप्पल को अपनी दो उंगलियों में भर कर मींजा, तो वो आह आह करने लगी. मैंने अपना हाथ निकाला और एक एक करके उनके सामने अपनी दोनों उंगलियों को चखा और आंख दबा दी.

तृषा और मधु viral video

तब मैंने उसको उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया उसकी चूत में लन्ड घुसा दिया और चोदने लगा. उसने मेरे कहने पर स्पीड बढ़़ाई तो मैंने सही टाइमिंग देखकर मुमताज को कंधों से पकड़कर नीचे की ओर झटका दे दिया. मेरी यह सच्ची सेक्स कहानी मकान मालकिन की बड़ी बेटी मालती की चुदाई की है, जिसको उसकी सगी छोटी बहन ने ही मेरे बिस्तर तक पहुंचाया था.

कुछ देर में हम दोनों फिर से मूड में आ गए और मैं आंटी की चुत में उंगली करने लगा. वो अपनी प्लानिंग के अनुसार दिल्ली आ गए और उन्होंने एक होटल में रूम बुक कर लिया. मैंने उनसे पूछा- जुनैद भैया … ये क्या है?जुनैद भैया ने कहा- ये तेरा मालिक है और आज से तू इसका गुलाम!मैं बोला- मालिक!जुनैद बोले- हां मालिक … चल तुझको तेरे मालिक के दर्शन करा देता हूँ.

वो दृश्य कितना उत्तेजना पैदा करने वाला था … उफ़ … मेरा लौड़ा उफान मारने लगा. इस समय हम दोनों बैठे हुए थे और वो मुझे अपने सीने से लगाकर कसकर जकड़ी हुई थीं. उसकी शादी कहीं और हो गई और मेरी कहीं और … भले ही हमारे बीच अब चुदाई नहीं हो पाती है लेकिन हमारे बीच आज भी प्यार है.

हम दोनों एक दूसरे को ऐसे देख रहे थे मानो हमसे अभी अभी कोई बहुत बड़ा पाप होने से बच गया हो. उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी लोवर में डाल दिया और अपनी चूत पर रख दिया.

उस वक़्त आंटी घर पर अकेली थीं, तो मैं उनको बोल कर उनके घर की छत पर आ गयी, जो मेरे घर की छत से एकदम मिली थी.

उसका रिश्ता तय होने के बाद मैंने उसकी सील कैसे तोड़ी?दोस्तो, मेरा नाम रॉकी है. हिंदी बीएफ सेक्सी दिखाएंक्योंकि मेरी चुत का छेद बिल्कुल छोटा सा था और अंकल जी लंड गधे जैसा हब्शी लंड था. बीएफ फिल्वो पौंछा लगाते समय या कपड़े धोते समय अपनी साड़ी को इतना ज्यादा उठा देती थीं कि मुझे अक्सर उनकी पैंटी दिखाई दे जाती थी. वो मुझसे कैसे चुदी?नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम फरमान है ये नाम बदला हुआ है.

फिर उन्होंने अपना एक हाथ मेरी गांड की तरफ बढ़ाया तो उनके मुँह से आवाज निकल गई- हाय कितनी चिकनी गांड है … मैंने ऐसी गांड आज तक नहीं देखी.

कुछ देर बाद उन्होंने मेरे भी कपड़े उतार दिए और मेरी बनियान फाड़ दी. वो कामुक आवाज़ निकाल रही थी- ऊऊ … हम्म … तेज तेज चोदो साहिल हैया … आह मजा आ रहा है. जेबा- आप करते क्या हैं … और क्या आप इंदौर से हो?मैंने उन्हें कहा- नहीं मैं एक बिजनेसमैन हूं.

पतली सी बांहें … प्रियंका चोपड़ा से होंठ और उसके जैसी ही रंगत लिए हुए रसभरे होंठ किसी की जान लेने को काफी थे. अंकल का लंड फकाफक अन्दर बाहर हो रहा था और मां मस्ती से मुँह में लंड ले रही थीं. भाभी मेरी तरफ गुस्से से देख रही थी, उन्होंने मुझसे पूछा- तुम वहाँ पे क्या कर रहे थे?अब मेरे पास माफी मांगने के अलावा कोई पर्याय नहीं था तो मैंने उनकी तरफ देख कर कहा- मुझसे गलती हो गयी, मुझे माफ़ कर दीजिये.

कैटरीना जेड

मैं सिर्फ बुआ को देखता था और उनकी कड़क चूचियों को वासना भरी नजरों से देखता रहता था. मैं रुका तो उन्होंने कहा- मेरी कितनी भी चीख निकले, तुम रुकना मत … आज मेरी चुत का भुर्ता बना दो. [emailprotected]ब्रदर एंड सिस्टर सेक्सी स्टोरी का अगला भाग:चचेरी बहन की सील पैक गांड मारी- 2.

वो लंड कड़क देख कर बोली- राज तुम पहले अपने लंड को मेरी गांड में घुसा दो.

उसने अपनी आंखें बंद की, तो मैंने उसके गालों पर एक पप्पी दे दी, जिससे मेरे होंठों पर लगी लाल लिपिस्टिक उसके गाल पर छप गयी.

तभी मुझे अहसास हुआ कि सरोज ने मेरी अंडरवियर उतार दी और वो मेरे लौड़े को मुँह में लेकर चूसने लगी. इसलिए क्या आप इसमें मेरी मदद करोगे!मैंने कहा- इसमें क्या बड़ी बात है, तू मेरे साथ ही चलेगी … टेंशन मत ले. करीना कपूर का सेक्सी वीडियो बीएफमैं- अरे असीम, शरद कहां है? और ये सब क्या है, किसके बैग्स हैं ये?असीम- मैडम, वो भैया को अभी सुबह ही कॉल आया था कि उन्हें आज शाम को नहीं, अभी ही तुरंत निकलना होगा.

उसके निप्पल काटने से मुझे चुत से ज्यादा दर्द निप्पल में हुआ और मैं उसे गाली देते हुए मना करने लगी- मादरचोद कार्तिकेय रुक जा कमीने … साले मेरा निप्पल उखाड़ेगा क्या!उसने निप्पल छोड़ दिया और मुझे चूमने लगा. मैंने पूछा- ट्रेनिंग … कैसी ट्रेनिंग!उन्होंने कहा- तेरा मालिक बहुत ही बड़ा और लंबा है … और तेरा छेद बहुत ही छोटा अब मुलायम है. मैं जानती थी कि राजीव चाहते हैं कि मैं उन्हें खुश करूं, इसलिए मैं अपनी तरफ से हर मुमकिन कोशिश करने में लगी थी.

जब मैं उनकी तरफ मुड़ी, तो वो मुझे अपनी गोद में खींच कर किस करने लगे. मेरी बीवी ने मेरी तरफ देखा और आंख मार कर अश्लील भाव से मुस्कुरा दी.

मैंने अपना रस अपनी नवीन के मुँह में … और नवीन का वीर्य मेरे मुँह में निकल गया था.

घर आते ही मैंने बीवी से कहा- ये तुम्हारा सारा सामान है … मेरा मार्केट में कुछ काम रह गया है, मैं अभी निपटा कर आता हूँ. सलमा ही समझ गई थी कि मैं कुछ नहीं बोलूंगा, मगर अलीज़ा की चुत मुझे चोदना ही है. मैंने अपने लौड़े को और तेज़ तेज़ अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया और ‘ऊईईई ऊईईईई …’ करके वो लंड लेती रही.

चूत वाला बीएफ मैंने जल्द ही कार्तिकेय के साथ ही उसके एक दोस्त से भी चुत चुदवा ली. मुझे इसका अहसास तब हुआ जब उसने मेरी चूत में अपनी दो उंगलियां घुसेड़ दीं और जोर जोर से चुत में उंगली करने लगा.

पहली बार लड़की को पैंटी पहने देखा था इसलिए मुठ मारे बिना रहा नहीं गया. कुछ देर अपने मन की करने के बाद मैंने अर्शिया की ब्रा वापस ठीक की और टॉप के बटन भी लगा दिए. उन्होंने बात का रुख बदलते हुए कहा- अरे अपने बॉयफ्रेंड से कर रही होगी, क्यों कोई तो होगा ही!अब तक मुझे समझ आ गया कि इस तरह से अंकल बात आगे बढ़ाना चाहते हैं.

सेक्सी दिखाना वीडियो में

फिर जब थोड़ी देर में उन्होंने मुझे इशारा कर दिया, तो मैं फिर से शुरू हो गया. मोटी लड़की की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी बहन की शादीशुदा ननद का दिल मुझपर आ गया. जैसा कि आपने पिछली कहानीकोमल सी हसीना की पहली चुदाईमें पढ़ा था कि कैसे मैं और कोमल कम्पनी की मीटिंग के कारण से मिले और दोस्त बने.

फिर वो रुमाल को बाथरूम की खिड़की से बाहर फैंक आईं और वापस कम्बल में आकर लेट गईं. फिर उसकी स्कर्ट के अन्दर हाथ डालकर मैंने उसकी गांड को मसलना शुरू कर दिया.

उसने- तुम्हारी ड्यूटी रात में भी रह सकती है, रुक पाओगी?मैं- जी हां … लेकिन मुझे कितनी सैलरी मिलेगी?उसने- ये तो तुम पर है कि तुम साहब को कितना खुश कर पाओगी!मैं बोली- जी, मैं समझ नहीं पाई!उसने- तुम सेक्रेटरी के काम से साहब को जितना खुश कर पाओगी, उतनी ज्यादा सैलरी तुम्हें मिलेगी.

मैं- वो कैसे?रानी- उस दिन शायद आपकी जगह कोई और होता तो पता नहीं क्या करता मेरे साथ. उसे मेरा वीर्य मुँह में महसूस हुआ तो वो लंड निकालने की कोशिश करने लगी. और मैं इतनी सेक्सी हूँ कि मेरे पड़ोस के लड़के मुझे लाइन मारते रहते हैं और मैं कितनों के साथ चुदाई के मजे भी ले चुकी हूँ.

मैं रियांश सिंह आप सभी के लिए अपनी डाइवोर्सी सेक्स कहानी लेकर आया हूँ. एक बार की बात है, गर्मियों की छुट्टी में जेठानी जी अपने मायके गई थीं तो जेठजी खाना खाने हमारे घर आ जाते थे. वो फिर से खिलखिला पड़ीं- यदि मेरी हंसी से आपका दिन बन जाता है तो मैं रोज सुबह से आपको अपनी हंसी से उठा दिया करूंगी.

आज पहली बार मैं अपने क्रश या किसी भी लड़के को यूं पहली बार देख रही थी.

हॉट भाभी बीएफ: फिर उन्होंने मुझसे पूछा- अब दर्द कुछ कम हुआ?मैं मरी हुई कुतिया की आवाज में बोली- जी. अबकी बार फिर से वो लड़का आशीष ही था जो मेरी बड़ी बहन का भी साजन बना हुआ था.

धीरे धीरे रफ्तार बढ़ाते हुए एक्सप्रेस और फिर राजधानी की रफ्तार पकड़ ली. फिर अचानक से उनके लंड में एक तेजी सी आ गई और कुछ समय बाद उन्होंने अपना मलाईदार रस मेरे मुँह में छोड़ दिया. अब आगे जबरदस्त चुदाई की कहानी:मैंने उससे खाने पीने के लिए पूछा कि अब वो काम कैसे करेगी!उसने मेरी आंखों में देखा और अपनी आंखें बंद कर लीं.

वो चुत सहलाते हुए बोली- साली रांड कुछ भी नहीं सुनती है, बस लंड देखा नहीं कि शुरू हो गई टपकने.

मैंने उसे गोदी में उठाया, तो उसने मेरी गर्दन में अपनी बांहें डाल दीं और इस पोजीशन में उसकी गांड मेरे लंड पर आ गई. बस कुछ खाने पीने का सामान और नानी ने मुझे नया घाघरा चोली सिलवा दिया, एक बुर्का भी सिलवा दिया है. मेरे लिए इतना जान लेना काफी था कि जेठ जी मर्द हैं और मजबूत लंड वाले हैं.