भाई-बहन का बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,पवन सिंह की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी एचडी देहाती हिंदी: भाई-बहन का बीएफ बीएफ, मैं उठ गई और वो 69 में ही मेरे नंगे बदन पर लेट गई और मेरी बुर को चाटने लगी.

बीएफ वीडियो सेक्सी चलने वाला

इस बात पर मेरी मॉम ने मुझे ज़ोर से गाल पर काट लिया और धीरे से मेरे कान में बोलीं- अब ज़्यादा बातें नहीं. बीएफ सेक्स जापानअब मैं भाभी के मुँह लंड आगे पीछे करता हुआ उनके रसीले मम्मों को मसल रहा था.

लंड से आती महक से वो और मदहोश हो गयी और एक बार में पूरा लंड मुँह में ले लिया जिससे अमित का लंड मेरी बीवी के गले तक घुस गया. चलाने वाली बीएफकॉलेज की पढ़ाई के लिए मैं दिल्ली गयी तो मुझे उस शहर की हवा लगी, मेरी रंगत बदल गयी.

गुड नाईट!”अगले दिन शाम को …अगले दिन मैं अपनी कॉन्फ्रेंस से फ्री होकर साढ़े चार बजे ही मंजुला के ऑफिस जा पहुंचा.भाई-बहन का बीएफ बीएफ: मैं बोला- अगर राबिया को हुआ तो काम खराब हो जाएगा आज तो!बाजी बोली- तू नाश्ता कर, मैं देखती हूं किसकी चूत टपक रही है।वापस आकर दीदी ने बताया कि राबिया की चूत तो ठीक है मगर इसराना की चूत में बढ़ आई हुई है.

वरना ऐसा कड़क माल चोदने के लिए तो फुसा जैसे हजारों चूतिए मेरी मम्मी की गांड के पीछे डोलते फिरते रहेंगे.उसके बाद मैंने उसको इशारा किया और हम सब खाना खाकर अपने अपने कमरे में चले गए.

बीएफ ब्लू पिक्चर वीडियो दिखाएं - भाई-बहन का बीएफ बीएफ

वो मेरी चूत पर तेजी के साथ हाथ से सहला रहा था और मैं उसके लंड पर अपने हाथ को ऊपर नीचे कर रही थी.मैंने बोला कि चाची पहली बार तो जब आपने आगे से किया होगा, तब भी दर्द हुआ होगा न … तो क्या आप मेरे लिए इतना दर्द भी सहन नहीं कर सकती हो?चाची कुछ नहीं बोलीं.

फिर मैंने उसकी पैंटी के अंदर हाथ दे दिया और उसकी चूत पर हाथ जा लगा. भाई-बहन का बीएफ बीएफ मैं धीरे से उसके पास को सरक गया … क्योंकि हम पहले सोफे पर बैठे टीवी देख रहे थे.

या दट्स राईट मैम, प्लीज कम इन!” मैंने उससे हाथ मिलाते हुए उसका स्वागत किया.

भाई-बहन का बीएफ बीएफ?

एक दो धक्का देने के बाद उसके लंड से माल निकल गया और मेरी मां ने राजेश मास्टर के माल को पी लिया. यदि वो ये कह देते तो शायद अलीमा ज्यादा सुरक्षित रहती क्योंकि बलविंदर के घर में उसकी पत्नी रहती, तो अलीमा बच जाती. ” मैंने कहा और एक बर्गर उसे पकड़ा दिया साथ में चिप्स के पैकेट खोल के रख दिए.

मैंने उसको बोला- मनजीत तुमने मेरे साथ तब दिया था … जब मुझे एक चूत की बहुत ज्यादा जरूरत थी. उसमें से वो आधा हिस्सा हम लोगों को अनाज और पैसे के रूप में दे जाते हैं. मेरे सामने की सीट पर एक वृद्ध सज्जन अपने टिफ़िन में से खाना खा रहे थे.

लेकिन फिर मैंने डिसाइड किया कि चलो जब उसने मुझे पूरा डिटेल में बताया था, तो उसे साझा करने में कोई हर्ज नहीं है. बातचीत का सारांश यह है कि गुरप्रीत ने पिछले साल कक्षा 12 की परीक्षा पास की थी और डॉक्टरी में दाखिला लेने के मकसद से नीट का इम्तहान दिया था लेकिन रिजल्ट अच्छा नहीं रहा था, इस बार फिर से तैयारी कर रही है. सुनते ही कल्लू झट से बेड पर चढ़ गया उसने अपनी शर्ट और पजामा उतार फेंके.

उसने कहा- मैं जिम के ही बिजनेस में हूँ और अगर आपको मुझसे कुछ हेल्प चाहिए होगी … तो आप जरूर बताना. मेरा लंड पहले से ही तनकर तड़प रहा था मगर उसका हाथ जांघ पर लगते ही अब फटने को हो गया.

फिर मैंने बहन की पैंटी भी उतार दी। अब मेरी बहन मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी.

तभी पानी गिरने की आवाज बंद हो गई तो मैं समझ गया कि अब नहाना हो चुका है.

वो मूवी देख रही थी जिसके सीन में दो सेक्सी लड़कियां पूरी नंगी होकर किस करते हुए लिपट रही थीं।प्रियंका शायद और बर्दाश्त नहीं कर पाई और मेरे बूब्स पर अपने हाथ चलाने लगी।मैंने कहा- साली क्या कर रही है ये? ज्यादा चढ़ गयी क्या?वो बोली- आज यह ट्राई करने का मन कर रहा है. मेरी मम्मी फुसा के बालों में हाथ फेरते हुए कहने लगीं- आह चोद दे भैन के लौड़े … साले चुत की आग बुझा दे हरामी … आह. उसके शॉर्ट्स में से उसका लंड का उठाव देख कर मेरी चूत में टीस सी उठ जाती थी.

एक दिन ऐसा कुछ हुआ कि रजक लाल शाम की जगह दोपहर में कपड़े लेने आ गया. सेठानी की पपीते जैसी चूचियां यहां वहां डोल रही थीं और वो उनको खुद ही सहला रही थी. मैंने कहा- तो अपनी दीदी की बुर भी दिलवा दो न? मैं तुम्हारी दीदी की बुर में लंड को डालना चाहता हूं.

लंड अंदर गया तो मौसी ने हल्का सा उई किया बस!मैं अब धक्के लगाने लगा, मौसी भी मेरे हर धक्के का जवाब अपने धक्के से दे रही थी.

वो मुझे अपनी जीभ का रस पिलाने लगी और खुद भी मेरी जीभ को चूसते हुए मजा लेने लगी. मैं अपनी मौसेरी बहन शनाज़ को पसंद करता था और वो भी मुझे दिलोजान से चाहती थी. उन्होंने कॉल किया- आ रहा है या नहीं?मुझे कुछ पता नहीं था कि मेरे साथ क्या होना था.

फिर रजक लाल बोला- अशोक आ तू भी पीछे आ जा … तू भी रोहन की गांड मार ले. शालिनी ने मेरा लंड पकड़ लिया- फिर तो मुझे आपके लंड की बहुत याद आएगी. फिर इसके बाद मैंने और अर्चना ने मिल मिलकर कैसे रिया के साथ थ्रीसम सेक्स किया वो मैं आपको आगे आने वाली कहानियों में बताऊंगा.

मैंने बरबस ही उसका एक स्तन अपने मुंह में भर लिया और चूसने लगा और दूसरे हाथ से बगल वाला स्तन दबोच कर हौले हौले मसलने लगा और उसके कांख में मुंह लगा कर वहां के मुलायम केशों को चूमने चाटने लगा.

आज मनमीत का पांचवाँ दिन था, वो आई और सलवार सूट उतारकर बेड पर लेट गई. मेरी तेज चुदाई से हेमा चाची की आंखों में आंसू आ गए, तो मैंने अपनी स्पीड थोड़ी कम कर दी.

भाई-बहन का बीएफ बीएफ जब उसका निकलने को हुआ तो उसने मेरी चूत से लंड को निकाल लिया और उठकर मेरे मुंह में लंड दे दिया. यहां शुभम अकेले बोर होता है, वहां भैया के बच्चों के साथ खेलेगा तो उसका दिल बहल जायेगा.

भाई-बहन का बीएफ बीएफ मुझे अच्छा लग रहा था, तब भी अंकल के सामने खुद को रंडी तो नहीं शो कर सकती थी इसलिए मैं उनसे बचने का ड्रामा करने लगी. फिर अंकल ने किसी होटल के सामने बाइक रोकी और मुझे लेकर होटल के रूम में चले गए.

ये दोनों लाल कच्छा और चोली साथ ही तो लाई थी अम्मी!मैं बोला- बाजी, आप दोनों को एक ही नाप की चोली आती है क्या?बाजी बोली- हां 32 है इसकी नाप भी और मेरी भी!मैंने राबिया से उसकी चोली दिखाने को कहा तो वो शर्मा गई और मना करने लगी.

सेक्स एमएमएस वीडियो

अंकल- नहीं टीना, मैं सब संभाल लूंगा और अंकल मुझे आंटी के पास ले गए. उसने मुझसे पूछा- कभी तुमने उसके साथ सेक्स किया था?मुझे इतना मालूम नहीं था कि वो ये सब पूछना पसंद भी कर सकती है … लेकिन दिल खुश हुआ कि आज इसके साथ कुछ हो सकता है. बाहर आकर मैंने शिवांश के लिए बढ़िया वाला चाकलेट का पैक खरीदा और एक अच्छा सा खिलौना भी ले लिया.

देसी इंडियन Xxx स्टोरी में पढ़ें कि एक दिन बीवी की मामी ने मुझे चुदाई के लिए बुलाया तो वहां उसकी नविवाहिता पड़ोसन मिली. अब मैंने देर न करते हुए अमन के लिए अपने दोनों पैर खोल दिए और अमन मुझे किस करते हुए मेरे पैरों के बीच आ गया. वो एक हाथ से चूची दबा रही थी और दूसरे से अपनी चूत को रगड़ती जा रही थी.

हॉट मामी की चूत की कहानी शुरू करने से पहले मैं पहले आपको अपनी मामी के बारे में बता देता हूँ.

अब मुझे उसकी चूत मारने में और मजा आने लगा और पहले से ज्यादा जोश आ गया मुझे; मैं तेज तेज धक्के लगाने लगा. जब मैं वहां पहुंचा, तो मामा जी बाथरूम में नहा रहे थे और मैं इनके आने का इंतजार करने लगा. चूत का रंग बाहर से थोड़ा सांवला था लेकिन अंदर से लाल दिखाई दे रही थी.

अरे आपने पूछा ही कब था? चलो पूछो क्या क्या जानना है?”जो भी आप बताना चाहो!”मेरा नाम प्रियम है, मुनीम हूं, सेठ जी की नौकरी करता हूं. अब मैं धीरे धीरे उनके पैरों को किस करने लगा और अपना हाथ ऊपर से ही चूत पर सहलाने लगा. मैंने ऑफिस में कॉल करके बोल दिया कि तबीयत खराब है और मैं आज नहीं आ पाऊँगा.

और जहाँ तक मैं जानती हूँ कि प्रोफेशनल लड़का किसी की इंसल्ट नहीं करेगा क्योंकि सीक्रेसी और ग्राहक की संतुष्टि ही उसके धंधे का मुख्य स्तम्भ होता है और उसका धंधा इन्ही दो स्तंभों पर टिका होता है।इसलिए मैंने कॉलबॉय को ही हायर करने की सोची लेकिन मैं किसी कॉलबॉय को जानती नहीं थी तो मैंने कोमलप्रीत जी से थोड़ी सी हैल्प लेने की सोची. उस दिन मेरी मम्मी के दोस्त, जिनका नाम फुसा है, वो शाम के समय शादी में जाते समय मेरी मम्मी के पास रुक गए थे.

मैंने उसके हामी भरने से पहले ही उसकी चूची को पकड़ लिया और दबा दिया. ससुराल पहुंचते ही सास ससुर ने उनका स्वागत किया, सास ने दामाद के पैर धोए. मंजुला यार, मेरा लंड भी तो पोंछ दो न!” मैंने कहा तो उसने नेपकिन के सूखे हिस्से से मेरा लंड अच्छे से पौंछ दिया.

मेरा लंड उसकी चुत में पूरा पेवस्त हो चुका था और मुझे यूं लग रहा था, जैसे मेरा लंड किसी जगह फंस सा गया हो.

वो नहा धो चुकी थी और धानी कलर की साड़ी में एकदम ताजा खिले गुलाब की तरह लग रही थी. मैं तेजी से उंगली को चलाने लगा और एकदम से उसकी चूत ने गर्म रस छोड़ दिया. वहां कोई मिली नहीं तुझे चोदने के लिये?”मैं बोला- अरे यार, वहां कैसे चोदूँ? बहू घर में ही रहती है.

फिर वो बोला- आपका तो हो गया लेकिन मेरे इसका क्या?उसने अपनी कैपरी में तने लंड को दिखाते हुए कहा. मैं उसकी चूचियों को दबा दबाकर पीता रहा और वो अपनी चूत को मेरे लंड पर रगड़ने की कोशिश करने लगी.

मैंने जोर से झटके पर झटके लगाने के साथ उनकी एक चूची को अपने मुँह में दबाया और लंड को बह जाने दिया. मैंने अपनी पैन्ट और अण्डरवियर उतार दिया और अपने लण्ड पर जेल लगा लिया. भाभी के पति को एक सप्ताह के लिए कहीं बिजनेस के सिलसिले में बाहर जाना था और उसी वक्त उनके बच्चों को स्कूल से टूर पर तीन दिन के लिए जाना हुआ.

चुत मे लाड

यह बात आज से लगभग पांच साल पहले की है। मैंने एक घर बनाने का कॉन्ट्रैक्ट लिया था।जब काम चलते कुछ दिन हो गए तो मैंने नोटिस किया कि पड़ोस में रहने वाली एक लड़की वहां पर आती थी.

मैंने बहुत बार चूत में उंगली की हुई थी इसलिए मेरी चूत इतनी कुंवारी नहीं रह गयी थी. सास दामाद की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं अपने दामाद से चुद कर अपनी बेटी का जीवन सुखमय बना देना चाहती थी. यह देखकर मेरा मन उसे चोदने को हुआ और मैंने उसे पीछे से जाकर कस के जकड़ लिया.

उसको चूतड़ों से दबाते हुए लंड पर नीचे की ओर उसको ज़ोर ज़ोर से खींचने लगा।तेज चुदाई करने में अब पूरा आनंद मिलने लगा।वो मस्ती में चुदते हुए बोली- ओह्ह … ध्रुव बहुत ज़ालिम हो तुम। इतने दिनों के बाद मिले हो। मेरी चूत तुम्हारे लंड के लिए तरस सी गयी थी. हुआ कुछ यूं कि मुझे अपने सरकारी कार्य से सम्बंधित एक कांफ्रेंस में भाग लेने के लिए अचानक गुवाहाटी जाना पड़ रहा था. 2021 का बीएफ दिखाइएअब मुझे उन दोनों की सारी रात चुदाई का प्रोग्राम तय होना समझ आ गया था.

मैंने फिर से निशाना साध कर एक बार फिर से थोड़ा जोर से दबाव बनाया तो मेरा लंड आरती की चूत में घुस चुका था. कुछ धक्कों के बाद अब उसकी आवाज धीमी होने लगी और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

जब सरिता नॉर्मल हुई, तो मैंने उसके आंसू साफ किए और उसको माथे, आंखों पर किस करने लगा. आज वो बहुत जल्दी में थी, इसलिए उसने दो मिनट ही लंड को मुँह में लिया और घोड़ी बन गई. देसी इंडियन लड़की चुदाई कहानी में आपको मजा आया? कमेंट्स और मेल से बताएं.

अब मेरा मन किसी जवान लड़के के लिंग को देखने, छूने और उसको अपनी चूत में लेने के लिए करने लगा था. शायद उनको मेहंदी ठंडी लगी क्योंकि वो रेफ्रिजरेटर में रखी थी, इसलिए ठंडी लगी होगी. मैं उम्मीद करता हूं कि आप लोगों को मेरी यह पहली सेक्स कहानी पसंद आयेगी.

मैंने सोनी की चूत को चोदने की तैयारी की ही थी कि तभी चाची का लड़का रोने लगा.

वो तो अभी मैं भी पैदल ही जा रहा था और आप दिख गईं, तो आपसे बात करने का मन हुआ. वो ज्यादातर स्ट्रेट बंदों को पटाता है और उनके लंड चूसकर उनको मदमस्त कर देता है.

कुछ देर के बाद जब अचानक से मेरी नींद हल्की सी टूटी तो मेरी नजर भाई की ओर गयी. मैं सेक्स कहानियों में पढ़ा करता था कि कोई अनजान लड़की बस में या ट्रेन में बगल में बैठी थी फिर ये हुआ फिर वो हुआ इत्यादि और बात लंड चूसने और चुदाई तक जा पहुंची. प्लीज आप आ जाओ और मुझे अपने साथ ले चलना ज्वाइन करवाने!” वो बेचैनी से बोल रही थी.

गर्लफ्रेंड सिस्टर सोनाली के बारे में तो हम जैसे भूल ही गये थे कि वो भी हमारी बगल में ही बैठी हुई है. पर जल्दी ही मैं संभल गया और वैसे कुत्सित विचारों को मन से झटक दिया और उस पर से निगाहें हटा लीं और पास में लगे टीवी स्क्रीन पर देखने लगा. बड़े पापा- हां मेरी जान, तेरी चुत का पानी जो मिलता है इसे!उसके बाद लंड चूसना शुरू हुआ.

भाई-बहन का बीएफ बीएफ मगर मैंने पूरी ताकत से अपना लंड उसकी चुत के छेद में लगा कर घुसेड़ दिया. मनमीत की पतली कमर पकड़कर लण्ड को अन्दर धकेला तो टप्प की आवाज के साथ सुपारा अन्दर हो गया.

सेक्स ट्रिपल एक्स व्हिडीओ

वो कसमसाने लगीं तो इसी में गलती से मेरा हाथ मामी के चूचों से टच हो गया. उसको चूतड़ों से दबाते हुए लंड पर नीचे की ओर उसको ज़ोर ज़ोर से खींचने लगा।तेज चुदाई करने में अब पूरा आनंद मिलने लगा।वो मस्ती में चुदते हुए बोली- ओह्ह … ध्रुव बहुत ज़ालिम हो तुम। इतने दिनों के बाद मिले हो। मेरी चूत तुम्हारे लंड के लिए तरस सी गयी थी. मुझे वो लंड देखते ही ये सोचते देर न लगी कि इसका लंड तो इसके बाप से भी ज्यादा आगे निकल गया है.

किरण उठी और मेरी जांघों पर चढ़ गई, उसने अपनी चूत के लब खोले और मेरे लण्ड के सुपारे पर बैठ गई. मैंने चोर नज़रों से फिर हवलदारों के तरफ देखा पर इस बार मेरे रौंगटे खडे़ हो गये. जंगली टार्जन सेक्सी बीएफहम दोनों निढाल होकर पलंग पर लेट गये।मंजू- आज तुमने मुझे जिंदगी की बहुत बड़ी खुशी दी है।फिर थोड़ी देर बाद मेरे भाई का फ़ोन आ गया कि वो आ रहा है। फिर हमने आपस में एक दूसरे को साफ किया और कपड़े पहन लिये।जाते जाते उसने मुझे किस किया और अगली बार मिलने का बोल के चली गई।उसके बाद मैंने बहुत सी औरतों और लड़कियों को मेरे पार्लर में चोदा.

अब जैसे वो अपनी टांगें खोलकर कह रही थी कि चोदते रहो … अंदर तक पेलते रहो.

किरण का मायका भी लखनऊ में ही था लेकिन मायके के नाम पर किरण के भैया भाभी और उनके बच्चे ही थे, किरण के माता पिता अब इस दुनिया में नहीं थे. मुझे ऐसे घूरते हुए देख कर आकांक्षा ने शर्मा कर दूसरी तरफ मुँह कर लिया.

टी टी ने कहा कि वो टिकट नहीं बनाएगा और मेरे शौहर को अगले स्टेशन पर अरेस्ट करवायेगा. उसने अंगड़ाई लेते हुए कहा- जय मैंने यहां का मार्किट नहीं देखा है … मुझे कुछ शॉपिंग करनी है … और घर के लिए भी कुछ सामान खरीदना है. कुछ देर बाद अक्षय से भी रहा नहीं गया और उसने फटाफट मेरी ब्रा और पैंटी को जिस्म से अलग कर दिए और फिर से 69 पॉजिशन में आ गया.

’ उसके किसिंग का मजा लिया, जीभ से जीभ लड़ाई और उत्तेजना में आरिया के होंठ काट लिए.

उस सब में मैंने अपनी मॉम को किस तरह से चोदा और खुश किया, ये सब मैं अगली सेक्स कहानी में लिखूंगा. अब मनमीत की शादी हो गई है और प्रीति का कहना है कि किसी दिन दूसरी बेटी गुरप्रीत को लेकर आऊंगी. मेरी गांड की सील भी खुली थी क्योंकि मेरे पति मेरी गांड भी मारते थे.

कैटरीना कैफ का वीडियो बीएफमैंने मुश्किल से कंट्रोल किया नहीं तो उस रात मैं समर को अपनी चूत में ही घुसा लेती. क्योंकि उसकी गांड बिल्कुल फ़ुटबाल की तरह गोल थी और गोरी गोरी मस्त थी.

সানিলিওন এক্স

आखिर देर रात मैंने शनाज़ को एक बार और चोद कर सुला दिया और मैं भी सो गया. हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे और एक एक करके एक दूसरे के कपड़े निकालने लगे. जवानी में उसने अभी अभी कदम रखा था, इसलिए उसे अपनी जवानी संभल नहीं पा रही थी.

मैं जिया की दोनों टांगों के बीच में घुटने के बल बैठ गया और जिया की काली गांड पर थप्पड़ मारकर अपना लंड जिया की गांड में पेलने लगा. तो ट्रेन से दिल्ली तक के लिए जैसे तैसे अपर क्लास में वेटिंग की टिकट मिली और भाग्य से वो कन्फर्म भी हो गयी. इससे मैं दो मिनट भी नहीं टिकी और मैंने अरमान का सर अपनी बुर पर दबा लिया.

अब तो जैसे मेरे बदन में आग लग गई और मैंने वहीं पर मौसी को अपनी बांहों में भर कर उनको किस करना शुरू कर दिया. दोस्तो, कैसे हो आप सभी?उम्मीद करता हूँ आप सभी स्वस्थ होंगे और चुदाई का मज़ा ले रहे होंगे. मैंने इठला कर पूछा- क्या कुछ और बात होती?तो अक्षय ने फट से जवाब दिया- तुम यूं मुझसे दूर न होती.

मैं उसके बालों में अपनी उंगलियां फिरा रही थी।वह किस करते करते नीचे मेरी चूत तक चला गया और मेरी चूत को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा. अगर अलीमा के मम्मी पापा आसपास होते भी … तो बलविंदर ऐसा करके दिखाता, जैसे वो अलीमा से बहुत प्यार करता है, अपने बच्चों की तरह.

वो सिसकारते हुए मेरे बालों में हाथ फिरा रही थी- आह्ह … विजय … नहीं … आह्ह … आराम से … ओह्ह … जोर से … उसकी ये कामुक आवाजें मेरे जोश को बढ़ा रही थीं.

मैंने उसकी चूचियों को फिर से दबाया और कहा- अब तो नहीं डरी न?वो हंसने लगी और बोली- बड़े नॉटी हो!मैंने कहा- अभी नॉटीनैस देखी किधर है मेरी बुलबुल … अब देख. बीएफ वीडियो सेक्सी आंटीतभी उसकी बेटी वहां पर आई और उसने अपने पापा को सांत्वना देकर चुप करवाने की कोशिश की. हिंदी सेक्सी बीएफ वीडियो वीडियोआखिर उसने मेरे लंड को जींस के ऊपर से पकड़ कर सहला दिया और बोली- जय इसे क्यों परेशान कर रहे हो?मैंने कहा- मैडम आप हो ही इतनी हॉट और सेक्सी कि अगर कोई बूढ़ा भी देख ले … तो उसका लंड खड़ा होकर आपकी चूत को सलामी देगा. उन्हें 10 लाख की जरूरत थी … पांच लाख तो पति ने इकट्ठे कर लिए हैं और दो लाख मेरे मायके वाले दे रहे हैं.

इसी बीच चाची की बुर ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया जो उनकी जांघ पर अलग से दिखाई दे रहा था.

दीदी ने बोला- आज रात को मूवी देखें?मैंने बोला- कल पेपर है दोनों का. दादी और भाई के जागने तक अरमान ने तीसरी बार मेरी चुत की चुदाई की और उसी में अपने लंड का पानी छोड़ा. पर जल्दी ही मैं संभल गया और वैसे कुत्सित विचारों को मन से झटक दिया और उस पर से निगाहें हटा लीं और पास में लगे टीवी स्क्रीन पर देखने लगा.

वो मेरी मां को अपनी बांहों में भर कर बोला- भाभी जी, आज मेरा मन भर दो; आपका क्या घिस जाएगा … वैसे भी आप भी प्यासी हो. दारू पीकर मैं सबके साथ शामिल हो गयी और संजय सब मर्दों के साथ पीने लगा. सेठानी कल्लू की पीठ को नोंचते हुए सिसकारियां लेने लगी- आह्ह … चोद दे … जोर से … आह्ह कल्लू … पूरा घुसा दे … चोद साले … आह्ह तेरे मालिक का लंड फिसड्डी है.

सेक्सी फिल्म दिखाईये हिंदी में

मेरे मुंह से एकदम से सीत्कार फूट पड़े- आह्ह … आह्ह … ओह्ह … समर … मेरे बच्चे … ओह्ह … यही तो चाहती थी मैं … आह्ह … हाह्ह … हाये … ओह्ह … स्स्स … आह्ह और जोर से चूस … आह्ह … मेरी चूत की प्यास मिटा दे … आह्ह … चोद दे … फाड़ दे … आह्ह।उसके चाटने की वजह से मेरी चूत एकदम से धधक उठी. कब मेरे होंठ उसकी नाभि से जांघों तक आ गए, पता नहीं चला।मैंने उससे कहा- अब तो चूत के दर्शन करा दो. जैसे ही उसका ध्यान चूत की ओर से हटा, मैंने एक जोर का धक्का लगा दिया.

मेरी इस सेक्सी फिगर को देख कर बाहर हर कोई मुझे ही ऐसे घूर रहा था … मानो अपनी आंखों से ही मुझे चोद लेगा.

मेरी गर्म जवानी की कहानी के दूसरे भागकालगर्ल से लंड चुसवाया पहली बारमें आपने पढ़ा कि मैंने एक कालगर्ल से अपना लंड चुसवाया पहली बार! वो मुझसे चुदना भी चाहती थी लेकिन मेरे दिलोदिमाग में तो मंजुला छायी हुई थी, मैं उसे चोदकर मजा लेना चाहता था.

मैं अभी भी उसकी गर्दन पर किस कर रहा था।चुदते चुदते वो फिर से गर्म हो गई और अपनी गांड आगे पीछे करने लगी।मैंने लन्ड उसकी चूत से निकाल लिया।वो मेरी तरफ आश्चर्य भाव से देखने लगी।मैं उसी बेड पर लेट गया।रुबैया को कुछ भी समझाना नहीं पड़ा। वो दोनों तरफ टांगें करके चूत को लन्ड पर रखकर एक झटके में ही पूरा लंड चूत में डालकर उछलने लगी. अगले दिन तकरीबन 10 बजे वो उठकर चाय पी रहा था। तब मैं उसके सामने झुक झुककर झाड़ू पौंछा लगा रही थी. बीएफ बीएफ फिल्म चाहिएएक बार हमें घर में मौक़ा नहीं मिला तो हमने होटल में जाकर मजा करने का सोचा.

बाद में मेरे ब्वॉयफ्रेंड डॉक्टर अनीश ने मुझे अपने शहर में बुला लिया था और वहां एक कोचिंग सेंटर में मुझे सरकारी जॉब के लिए परीक्षा की तैयारी में लगा दिया था. अब तो मैं दो बच्चों की मां भी बन गई हूं और तनु भी एक बच्चा पैदा कर चुकी है. मैंने उसकी माँ के कुछ बोलने से पहले से बोल डाला- जानेमन … कुछ जवाब नहीं दे रही हो?तो उसकी माँ में कुछ नहीं कहा और हमारी सारी चैट को पढ़ लिया, उस चैट में हम लोग बहुत अश्लील बातें कर रहे थे.

अब आगे की प्यारी सेक्स कहानी:मैं उससे चिपक गया और उसके बदन की गर्मी को महसूस करता हुआ अपना हाथ आगे ले जाकर उसके मम्में दबाने सहलाने लगा. अब तो रोहन भी मस्ती से बोल रहा था- आह और जोर से और जोर से मारो … आह मेरी गांड की चुदाई करो, मेरी गांड की हवस बुझा दो.

चूंकि ये मेरी पहली सेक्स कहानी है इसलिए ग़लती को नजरअंदाज करते हुए इस देसी बुआ सेक्स कहानी का आनन्द लीजिएगा.

दोस्तो, आपके मन में मौसी के बारे में कुछ सवाल आ रहे होंगे कि हम दोनों में इतना अच्छा रिश्ता कैसे है, तो मैं आपको बता दूं कि हम दोनों के बीच शारीरिक रिश्ता बन गया था और वो एक साल से चल रहा था. पूरी लाइफ में क्या ऐसा कोई दिन नहीं आ सकता है, जिसमें मैं अपनी मरजी की मालिक बन कर जी लूं और अपनी मर्जी से कुछ मजा कर सकूं!मैं- क्या बात है माधवी भाभी आज आपने तो मेरी मन की बात बोल दी. उसके चूचों के बीच में मैंने अपने लंड को रखा और फिर आगे पीछे करने लगा.

ऐश्वर्या राय का सेक्सी वीडियो बीएफ वो एक मजबूत देह का मालिक है जो 6 फुट का कद वाला और अपनी भुजाओं में एक बैल की ताकत रखने वाला मर्द है. मॉम ने भी मेरे होंठों से अपने होंठ चिपका दिए, तो मैं अपनी मॉम को पागलों की तरह चूमने लगा.

सुबह दिल्ली पहुंच कर हमने एक होटल ले लिया और फ्रेश होकर घूमने चले गए. पर तुम अपने ऑफिस में मेरे बारे में क्या बताओगी कि मैं कौन हूं, तुम्हारा क्या लगता हूं. उस समय बलविंदर के एक बार कहने पर अलीमा ने ऐसा कुछ भी करने से मना कर दिया था.

देसी भाभी की बुर की चुदाई

मैंने देखा कि चाची के रूम की लाइट जल रही थी और चाची अपने पेटीकोट में ही लेटी हुई थी. वो नंगा होकर मेरे ऊपर आ गया और मेरे होंठों को चूसते हुए मेरे जिस्म पर अपने जिस्म को रगड़ने लगा. बाजी बोली- देख इमरान … नई दुल्हन कैसे अपनी कुंवारी चूत को फटने के बाद देख रही है.

मैं अपने होंठों से उसकी गर्दन को किस करता हुआ नीचे उसकी चूचियों की घाटी में आकर रुक गया और उसको थोड़ा सा ऊपर उचकाकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया. शायद उन्हें ये अजीब लगा हो या पहली बार करने में डर लग रहा हो, तो मैंने धीरे से बाजी की चूत में लंड का सुपारा डाल दिया.

भाभी ने अपनी एक टांग उठा कर मेरे ऊपर की और मैंने उनकी चूत में लंड पेल दिया.

कहानी मेरी गर्लफ्रेंड और उसकी फ्रेंड की है।मेरी एक गर्लफ्रेंड हुआ करती थी जिसका नाम रिया (बदला हुआ नाम) था। उसकी फिगर बहुत ही मस्त थी. माया की गांड पर हाथ घुमाने के बाद माया की चूत को सहलाने गया, तो उसकी चुत पहले से गीली हो रही थी. बहू बोली- कैसे हैं डैडी जी? आप इस बार आप बिना बताये आ गये?मैंने कहा- बहू, बस इस बार सोचा कि सरप्राइज दे दूँ.

कभी मैं उसकी चूचियों के साथ खेलती और उसकी चूत को चाटा करती थी और कभी वो मेरी चूचियों को जोर से दबाते हुए मेरी चूत में उंगली कर दिया करती थी. मैंने भी उसको रोकने की कोशिश नहीं की क्योंकि मैं अब तक काफी गर्म हो चुकी थी. मैं खाना खाकर बैठा ही था कि चाची का मैसेज आया कि थैंक्यू सो मच मेरी जान आज के लिए.

माधवी भाभी लंबी लंबी सांसें ले रही थीं और बहुत ही मादक सिसकारियां भर रही थीं.

भाई-बहन का बीएफ बीएफ: दोस्तो, कैसे हो सब लोग? मैं आपके लिए एक और गर्म सेक्स कहानी लाया हूं. वो अपने तनाव को रोक नहीं पा रहा था क्योंकि मेरी चूचियों की घाटी भी उसके सामने ही खुली हुई थी.

मेरी तो हालत खराब हो रही थी, मुझे ऐसा लग रहा था कि दीदी के मुँह से लंड निकाल कर सीधा मॉम की चुत में पेल दूँ. मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि उसके मां पापा दोनों नौकरी करते हैं और उसकी बहन शिफ़ा कोचिंग क्लास गयी हुई है. तो दोस्तो, आज से 3 साल पहले मेरे 12वीं के एग्जाम खत्म होने के बाद मैं रिजल्ट का वेट कर रही थी.

मैंने बाथरूम में जाकर मोबाइल में पोर्न देख कर मुठ मारी और आकर सो गया.

मैंने बाथरूम में जाकर मोबाइल में पोर्न देख कर मुठ मारी और आकर सो गया. मैं अपनी छोटी बहन की चूची देख कर खुद को काबू ना रख सकी और हाथ में पकड़ कर सहलाने लगी।सहलाते हुए मैंने जोर से दबा दिया और वो सिसकारी भर कर आवाज करने लगी- ओह दीदी, आह … क्या कर रही हो? आह दीदी … रुक जाओ … दर्द होता है।तो मैं रुक गई।वो बोली- दीदी, क्या कर रही हो?मैंने कहा- तनु, तेरी चूची को दबा कर देख रही थी कि कितनी मोटी हैं. थोड़ी देर बाद मेरे धक्के और ज्यादा तेज हो गए और उसकी आहें अब चीखों में बदल गयी थी.