इंडियन बीएफ सेक्सी देसी

छवि स्रोत,चुदाई दिखाओ बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

तेवर हिंदी में बीएफ: इंडियन बीएफ सेक्सी देसी, शाम को बाजार के काम निपटा कर मैं जब घर पहुंचा तो बैठक में मौसी अकेली थीं.

टीचर सेक्सी बीएफ

दोस्तो, मेरी हॉट चुदाई कहानी पढ़कर आप कमेंट्स और मेल जरूर करें, धन्यवाद. द्रोपती की सुहागरातजब पूरा डिल्डो जेनी की चूत में समा गया तो मैं उसके ऊपर लेट गयी, उसके होंठ चूसने लगी।फिर उसके स्तन दबाने और चूसने लगी।जेनी को बहुत मज़ा आ रहा था.

इतने मोटे बूब्स मेरी वाइफ के भी नहीं थे इसलिए मैं मनीषा के दोनों मम्मों को बारी बारी से बहुत ही मस्ती से चूस रहा था. हिनदी बिएफवहां मैंने भाभी को चुदाई का मजा कैसे दिया?दोस्तो, मैं आपको अपनी देसी भाभी सेक्स कहानी में लॉकडाउन खुलने के बाद एक दुकानवाली भाभी की चूत चुदाई की भूख मिटाने वाली सेक्स कहानी में फिर से स्वागत करता हूँ.

ऐसे ही लंड चूस चूस कर भाभी ने मेरे लौड़े का पानी निकाल दिया और पूरा वीर्य गटक गईं.इंडियन बीएफ सेक्सी देसी: ये डर्टी गे सेक्स कहानी एक प्रतिशत भी काल्पनिक नहीं है, हां कहानी को चटपटा बनाने के लिए थोड़ा सा तड़का लगाया है.

मैंने पूछा- तुमने उसको इतना सब करने क्यों दिया?वो बोली- वो लड़का बहुत अच्छा था, मेरी बहुत केयर करता था, मेरी हर जरूरत पूरी करता था और मेरे घरवालों की भी बहुत हेल्प करता था.मेरी मॉम ने दराज से एक सिगरेट निकाली और पीते हुए टीवी पर चल रही पोर्न देखने लगीं.

देशी सेक्स video - इंडियन बीएफ सेक्सी देसी

ये गुजराती भाभी सेक्स कहानी 2 साल पहले की उस समय की है, जब मैं लखनऊ के इंदिरा नगर में रहता था.मैं कुछ और देर तक ऐसे ही रह लूं!मैं- बिल्कुल भाभी … इसमें भी कोई पूछने की बात है?ये कह कर हम दोनों एक दूसरे के जिस्म की गर्मी को महसूस करने लगे.

घर से स्कूल … और स्कूल से घर और बाकी वक़्त अपने दोस्तों के साथ मस्ती करना, यही मेरे जीवन का आलम था. इंडियन बीएफ सेक्सी देसी मेरे पापा बिज़नेस के लिए ज्यादातर आउट ऑफ़ कंट्री रहते हैं, घर पर मैं और मॉम ही रहते हैं.

जब मैंने पहली बार सलईका की बुर को वीडियो कॉल पर देखा, तो मेरा लंड तन कर खड़ा हो गया.

इंडियन बीएफ सेक्सी देसी?

भाभी की वासना उन पर हावी हो गई थी और उनका होशो-हवास खत्म हो गया था. ऐसे ही एक वाकिये ने मेरा नाम भी उन लोगों में शामिल कर दिया, जिसमें जिस्म की भूख के सामने उम्र और रिश्ते को छोड़ दिया गया और मैंने अपने ही दोस्त की मां के साथ चुदाई कर दी. उनके इस फिगर से आप समझ ही गए होंगे कि वो किस तरह का गदराया हुआ माल है.

उस दिन के बाद से मेरी नजरें सेक्सी चाची के कामुक जिस्म पर मंडराने लगीं. बिग पेनिस सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरे बड़े लंड के साइज़ के कंडोम एक ही दूकान पर मिलते थे. तब मैं धीरे धीरे उसे किस करते हुए नीचे गया और उसकी नाभि को किस करते हुए उसकी कमर के दोनों साइड से टी-शर्ट ऊपर करके चूमा और चूसा.

दीदी झट से अपने ऊपर नाइटी डालती हुई मुस्कुरा कर बोलीं- इतने दिनों तक कहां थे वीर बाबू, क्या मैं आज से ही सुन्दर लगने लगी हूं?वे मुझे छेड़ती हुई ऐसा बोल रही थीं. मॉम की बाहर को निकली बड़ी सी गांड, कुछ फूला हुआ सा पेट और बड़े बड़े बूब्स थिरक रहे थे. मैं भी तेज़ी से अपने काम में लग गया और उसकी सील पैक चुत की चुदाई की स्पीड बढ़ा दी.

उसने सारा तेल मेरी बीवी की चूत में डाल दिया था और अपने हाथों को मेरी बीवी के चूतड़ों पर फेरने लगा था. बस फिर क्या था … मैं अपना खड़ा लौड़ा लेकर चल पड़ा भाभी की चूत को चोदने!जैसे ही मैं वहां पहुंचा तो देखा भाभी ने लाल रंग की साड़ी पहनी हुई थी और बेड पर लाल गुलाब के फूल बिछे हुए थे.

मैंने उनकी ब्रा को निकाल दिया और उनके दोनों चूचुकों को बारी बारी से अपने होंठों में दबा कर चूसने लगा.

उसने मेघना से कहा- मैडम आप ये टॉवल निकाल लीजिए, मसाज में दिक्कत होगी और टॉवल भी गंदा हो जाएगा.

मेरी कड़क आवाज सुनकर उस आवारा कि सिट्टी-पिट्टी गुम हो गयी और वह लड़का उसकी पकड़ से छूट कर सीधे मेरे सीने में हाथ डालकर लिपट गया. हालांकि भिड़े अभी भी थोड़ा असहज महसूस कर रहा था लेकिन अब बात उसके हाथ से निकल चुकी थी. उस वक्त मैंने सोचा कि फेसबुक में किसी अनजान लड़की को रिक्वेस्ट भेजी जाए.

फिर मैंने भाभी की साड़ी को खींचा और उनके पेटीकोट समेत साड़ी को उतार कर अलग कर दिया. रुखसाना की उम्र करीब 50 साल थी, उसकी तबियत ठीक नहीं रहती थी इसलिए कभी कभी मैं रुखसाना के घर जाकर उसकी मदद कर देती थी. मेरे लिए ये ग्रीन सिग्नल था … तो मैंने अपने घुटनों को थोड़ा झुकाया और लंड को उनकी बड़ी सी गांड पर रगड़ना चालू कर दिया.

मैंने उसकी गालों पर अपना हाथ फेर कर पूछा- कैसा लगा?तो वो बोली- ओह जीजू … पूछो मत! आपने तो फोरप्ले में ही मेरी तसल्ली करवा दी.

मेरे मन में आशा की किरण जागी, शायद यही वो लड़की हो, जिसे मैं ढूंढ़ रहा हूं. वो बुआ के साथ कम कम कर रही थी और पूरे घर में घूम कर अपनी गांड मटकाती हुई विकी को दिखा रही थीं. नवीन बोला- डरो मत, मैंने व्हिस्की की बोतल मंगाई है, धीरज जा … ले ले.

आप मुझे मेल कर सकते हैं इस रोमांस सेक्स कहानी के रिव्यू जरूर दें ताकि मैं अपने लिखने की शैली को और बेहतर कर सकूं. कार्लोस मुझसे ज्यादा गठीला और चौड़ा था और मेरे मन में ख्याल आया कि अगर वो मेघना को चोदेगा तो कितना सही होगा. मैंने उस रात पहली बार एक रात में 5 बार मुठ मारी थी … लेकिन तब भी मेरा लंड शीला दीदी की चुदाई के बिना शांत नहीं होने वाला था.

उनके एक मम्मे के निप्पल को अपने होंठों में दबा कर जोर जोर से चूसने लगा.

मैं इन चीज़ों का मज़ा तो लेता था, पर इन बातों के बारे में ज़्यादा नहीं सोचता था. फिर मैंने अपने हाथों को से उनकी ब्रा का हुक खोल दिया और उनके मम्मे ब्रा की कैद से आजाद हो गए.

इंडियन बीएफ सेक्सी देसी फिर वो मुझसे बोलीं- अब बताओ क्या प्रोग्राम है?मैंने भाभी से कहा- मैं आपसे मिलना चाहता हूं. ब्रो सिस सेक्स कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं आपको अपनी फैमिली के बारे में बता देता हूँ.

इंडियन बीएफ सेक्सी देसी उसने किचन में से चिप्स का पैकेट निकाला और किचन की स्लैब पर रख कर उसे खोलने लगी. भाबी अपनी गांड हिलाती हुई चल रही थीं और उस समय मुझे उनकी तौलिया में से उनकी गांड थोड़ी थोड़ी दिख रही थी.

इससे उसकी हिम्मत बढ़ गयी, फिर एक दिन बाद उसने अपनी लंड की पिक्चर भेजी और लिखा कि अंजलि तेरे लिए मेरा लंड रेडी है.

सेक्सी भाबि

ये उसने देखा तो वो एक बड़ी सी टॉवेल लेकर आई और मुझे देकर बोली- शुभ तुम अपना पैंट भी उतार दो और तौलिया बांध लो. मैंने पूछा- आप क्या अकेले ही रहते हैं?हां, मैं अकेला ही रहता हूँ। मेरे बेटा दिल्ली में रहता है। मेरी बीवी दुनिया में नहीं है।”ओ बड़े अफसोस की बात है। तो आप अकेले ही रहते हैं. इस बीच मेघा अपनी आंखें बंद करके बस एक ही बात बोल रही थी- अमित, बस अब अपना लंड मेरी चूत में डाल दो … मेरी बर्दाश्त से बाहर हो गया है.

उनके बच्चों ने जिद की होगी कि घूमने जाना है तो दीदी ने मुझे फोन किया- राज ये दोनों घूमने जाने की जिद कर रहे हैं. तभी वो अचानक से हिली, तो मैं एकदम से डर गया, पर वो अभी भी सोई हुई ही थी. पर दोस्त की गर्लफ़्रेंड होने की वजह से कुछ भी ट्राई करने में मुझे हिचकिचाहट थी.

मेरे जवाब सुनकर जगप्रीत बिना एक सेकंड गंवाए मेरी अम्मी के होंठों को मेरे सामने मसल दिया.

सासू मां बोलीं- ठीक दस बजे आप मेरे कमरे में आ जाइएगा, मैं तैयार रहूंगी. वे मेरे लंड को अपने एक हाथ से पकड़ कर सहलाने लगी और मेरे टोपे को मुंह में लेकर जीभ से चाटने लगी. तब धीरज बोला- मादरचोदी दो क्यों बनाए … चारों के लिए बना न भोसड़ी वाली.

आप मेरी इस मेरी हॉट सिस्टर सेक्स कहानी के लिए अपने मेल करना न भूलें. वो बिल्कुल कामदेवी लग रही थी क्योंकि उसकी लंबाई भी करीब 5 फुट और 8 इंच थी और वो भरे हुए शरीर की मल्लिका थी. हल्की रोशनी वाला नाइट लैंप जल रहा था और सामने बड़ा कामुक सीन चल रहा था.

मैंने सावी भाभी को फोन लगाया, तो उन्होंने कहा- रात 11:00 बजे आ जाना. मैं उसके हाथ पकड़ के हाथों को चूमने लगा और उसके हाथ को गर्म करने लगा.

उमैय्या मेरी तरफ़ देखती हुई कुछ अलग से अंदाज में बोली- वही तो डर है. मैंने उससे बोला- कोई पूछे कि क्या हुआ ऐसे क्यों चल रही हो, तो बोल देना कि मोच आ गई है. ’सोनू भिड़े के पास जाकर बोली- ठीक है बाबा, चलिए जल्दी से मेरे कपड़े उतारिए और जल्दी से आई और आप चुदाई शुरू कीजिए.

उमैय्या आंखें नचाती हुई बोली- मुझे तो नहीं ज़्यादा चढ़ी थी, पर तुम्हें ज़रूर नशा हो गया था.

मैंने भी अपने कपड़े पहने और प्रीति से कहा- तुम आराम से कपड़े पहनो, मैं नीचे जाता हूं. उस दिन मैं चाचा चाची के कमरे में जाते ही उनके कमरे की बाहर से कुंडी लगा दी और टेबल लगा कर रोशनदान से चाची की चुदाई देखने लगा. मधु ने इस बात का बदला लेने के लिए अपनी चुत पर रबर का लंड बांध लिया और मुझे रोक दिया.

मामा को शाम को निकलना था तो वो मुझसे बोले- सनी तुम मुझे स्टेशन तक छोड़ दो. मैं फरीना से मिलने उसके रूम पर जाता रहता था, पर कभी अकेला नहीं गया था.

कुछ देर बाद आंटी ने लंड चूसना बंद किया और मेरी तरफ देख कर बोलीं- अब कबड्डी खेलते हैं. अब मेरी अम्मी भी उसे खुल कर गाली देने लगी थीं- हां मां के लवड़े … मेरी लौंडिया को भी चोद लेना … मगर धीरे तो चोद भोसड़ी के … जब छेद ही फट जाएगा तो पेलेगा किधर!अब पीयूष भी जोर जोर से झटके मारने लगा. होटल हॉट सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे एक लड़की से मेरी दोस्ती हुई, वो कैसे मेरे कमरे में आयी, कैसे उसने मुझसे सेक्स किया.

सेक्सी चूत सेक्स सेक्स

अब बता दो आपको कौन सा ब्रांड का कंडोम चाहिए!अब मेरी शर्म साइड में चली गई और बोला– मा##@ ट्रिपल जे एक्सट्रा डॉटेड.

हालांकि अभी मैं झड़ना नहीं चाहता था, तो मैंने अपने लौड़े को बाहर निकाल लिया और सावी भाभी को किस करने लगा. सावी भाभी ने एक पल सोचा और फिर कहा कि ठीक है बाबा, ठीक है … जब मैं फ्री रहूंगी, तब तुम्हें कॉल कर दूंगी. उसकी इस बात से मैं थोड़ा मायूस हो गया और मैंने उसको बताया कि मेरी अम्मी बिना अब्बू के कितनी अकेली हैं.

उईईई मार दिया आज तो … राजा धीरे चोद … क्या आज ही चुत का भोसड़ा बनाएगा!मैं भाभी की बातों को अनसुना करते हुए लौड़े को आगे पीछे करता रहा. प्रीति ने उस समय काली जीन्स जो टाइट फिट थी, ब्लैक स्वेटर और ऊपर से लाल रंग की जैकेट डाली हुई थी. बीपी वीडियो एचडी हिंदीफिर मैंने धीरे धीरे उसके शरीर की तारीफ करते हुए उसके 36 के बूब्स से बनी सुंदर घाटी की तारीफ करने लगा.

ये सब इतनी तेज गति से हुआ था कि न तो मधु को कुछ समझ आया कि उसकी चुत से मेरा लंड क्यों निकल गया और न ही रेखा को समझ आया कि उसकी चुत ने क्या जुर्म कर दिया था, जो मेरा लंड एकदम से उसकी चुत में घुस गया. मगर आप सब तो जानते ही हैं कि चांद भी इतना खूबसूरत दिखता है कि सब उसकी उपमा देते हुए खूबसूरती का पर्याय मानते हैं.

मैंने उसकी गांड से मुँह हटाते हुए- क्या मस्त गांड है तुम्हारी यार … मैं तो इसको सारा दिन भी चाट सकता हूँ. थोड़ी देर में जब आंटी के मुँह से मेरा लंड पूरा गीला हो गया तो मैंने आंटी को लिटाया और उनके दोनों पैरों के बीच आ गया. उसकी गुलाबी सीलपैक चुत देख कर ऐसा लग रहा था कि मेरा लंड लोअर फाड़ कर बाहर निकल आएगा.

रात को भाभी ने मुझसे कहा- तुम आज मेरे साथ ही बेड पर सो जाओ, कहां ज़मीन पर लेटोगे. आज बहुत समय के बाद मुझे वो मजा मिलने वाला था तो मैं भी बहुत खुश था. आंटी की चीख और आंसू एक साथ निकल पड़े।मैंने धीरे धीरे आंटी की गांड चुदाई शुरू कर दी और उनकी पीठ चूमने लगा।कुछ देर में आंटी का दर्द कम हो गया था.

अपनी बात कह कर भाभी एक पल के लिए रुकीं, फिर कहने लगीं- हालांकि मुझे भी बड़ी गहरी नींद आती है.

जैसा कि आपको पता है कि मुझे साई नाम का एक आदमी पुणे में मिला था, वो 35 साल का था. घुटने तक नाइटी थी जिसमें भाभी कमाल लग रही थी, जैसे कोई चोदू माल हो।इतराते हुए वो मेरे पास आई और बोली- गजरा बालों में लगा दो!मैंने गजरा लगाया और उन्हें बांहों में भर लिया और पलंग पर गिरा दिया.

कुछ देर तक भिड़े का लंड चूसने के बाद माधवी के मुँह में ही भिड़े ने अपना सारा माल छोड़ दिया, जो माधवी अपने मुँह में समाए हुए सोनू को ठीक से दिखाती हुई पी गयी. बस फिर क्या था मैं एकदम से भिड़ गया और पूरे जोश से उसके होंठों को चूसने चूमने लगा. मैंने अपने हाथ उसकी कमर की तरफ़ बढ़ाए और दोनों हाथों से उसकी कमर को पकड़ कर थोड़ा सा दबाने लगा.

मेघना ने अपनी बिकिनी पहनी हुई थी पर पहली बार खुले में इस तरह की बिकिनी पहनने से उसे शर्म आ रही थी और इसी वजह से शर्म के मारे उसने नीचे स्कार्फ़ लपेट लिया था. भाभी बोलीं- इसमें तुम्हारी कोई गलती नहीं है दक्ष … शायद किस्मत में ये ही लिखा है कि मुझे एक बच्चा तुमसे मिल जाए. भाभी की चूत के मांसल भाग को मैं अपनी जीभ से चाटने लगा … अपनी जीभ से चुत को कुरेदने लगा.

इंडियन बीएफ सेक्सी देसी मैंने पूछा- कोई डिस्टर्ब तो नहीं करेगा ना?उसने बोला- किसी को पता ही नहीं है कि मैं अन्दर हूँ. मैंने उसकी चूचियों को देखा और एक दूध पकड़ कर उसकी टौंटी पर मुँह लगा दिया.

कुत्ता और कुत्ते का सेक्सी

जैसे जैसे आंटी लंड पर अपना हाथ चला रही थीं, मुझे उतना और ज्यादा मजा आ रहा था. मैं ये बात अब अच्छे से जान गया था कि कहीं ना कहीं कुछ गड़बड़ तो है. उस वक्त जब डॉक्टर ने उसे चोदा था, तब मेरी बहन का फिगर 34-32-36 का था, अब तो उसका फिगर 38-36-40 का हो गया है.

इस वक्त मॉम की ब्रा में उनके तने हुए मम्मों को देखकर किसी मुर्दे का भी लंड खड़ा हो सकता था. तो क्यों ना हम दोनों एक दूसरे के सामने ही मुठ मारें … जिससे तुझे भी मजा आएगा और मुझे भी. बीएफ कैसे देखा जाता हैमैंने कहा- ठीक है आप मोबाइल ठीक करो, तब तक मैं यहीं बैठ कर इन्तजार करता हूँ.

मैं- ये सब तो ठीक है … इसके आगे क्या हुआ?उसने आगे कहा कि धीरे धीरे वह मेरी गांड को सहला सहला मुझे इतना उत्तेजित कर देता था कि मुझे आज इच्छा हो ही गयी कि एक बार उससे अपनी गांड में डलवा ही लूं.

कुछ देर बाद मैंने शाजिया से कहा- तुम मेरे लिए अभी हिजाब पहन कर आ सकती हो?वो बोली- हां क्यों नहीं. इस वक्त कोमल अपने एक हाथ से मेरा लंड दबा रही थी और मुझे किस भी कर रही थी.

जिसकी वजह से उनकी मोटी-मोटी मांसल जांघें मेरी जांघों के ऊपर चढ़ सी गयी थीं. थोड़ी ही देर में हम दोनों फिर से गर्म होकर एक दूसरे के शरीर को भोगने के लिए रेडी हो गए. वो मेरी तरफ देखने लगीं और मैं उनके एकदम करीब होकर अपनी गर्म सांसों से उन्हें उत्तेजित करने लगा.

अभी एक महीने पहले जब मुझे पता चला कि हम सब उसी लड़की के घर किसी शादी में जा रहे हैं तो मैं बहुत उत्सुक हो गया था.

[emailprotected]न्यूड भाभी सेक्स कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी को लंड की जरूरत थी- 2. वहाँ हमने कैसे चुदाई का मजा लिया?दोस्तो, मैं आपका अपनी सीनियर मैडम की चुदाई की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ. अपने लंड को मैं उसकी चुत के पास ले गया और चुत के छेद के पास रख कर मैंने अन्दर डालने की कोशिश की.

देसी बीएफ एचडीआप कहेंगे कि मैं उनके हुस्न को कुछ ज्यादा ही बढ़ा-चढ़ा कर लिख रहा हूँ. मैंने उसकी नाभि को अपनी जीभ से सहलाना शुरू कर दिया और नीचे आने लगा.

भाभी की सेक्सी एक्स एक्स एक्स

चुदाई के बाद हम दोनों ने साथ में नहाया और नफीसा आंटी ने नहाते समय लंड को चूस कर उसका रस पिया. यूं तो इसे सेक्स कहानी नहीं कहेंगे, ये मेरी पहले प्यार की कहानी थी, उसके साथ मेरा पहला मिलन हुआ. पर जिस तरह से चांद में भी एक दाग लगा होता है … उसी प्रकार मेरी बड़ी दीदी पूर्णिमा की शादी के कुछ दिनों के बाद ही उसकी जिदगी में दाग लग गया था; उसका तलाक हो गया था, जो हमारे परिवार के लिए एक बहुत ही दुख भरी खबर थी.

भाभी भी मुस्कुरा कर मेरे गले से लग गई और बोलीं- रवि, मैंने तुम पर भरोसा किया है. पापा बोले- हां मैं जानता हूं कि वह बड़ा हो गया और उसका लंड खड़ा भी होने लगा है. आंटी की टाँगे ऊपर उठी हुई थीं और आंख बंद करके ‘आहह आहहह उम्महह हह आहह हहह …’ की आवाज निकाल रही थीं.

तो उसने पहले तो राका की झांटें बनाई, फिर बाथरूम में उसे लेजाकर उसका लण्ड बड़े प्यार से धोया और बाहर आकर लण्ड का सड़का मारने लगी।मैंने कहा- तू भोसड़ी वाली चुदवाने आई है कि लण्ड का सड़का मारने?वह बोली- अरे यार, मैं जब कोई नया लण्ड पकड़ती हूँ तो पहले उसका सड़का मारती हूँ। फिर सड़का मार कर लण्ड का वीर्य पीती हूँ. अब नींद खुल गई है, तो पूछते हो कि यह सब क्या है? पहले जो तू कर रहा था, वो सब क्या था?मैंने कहा- मैं बिल्कुल भी नहीं समझा भाभी कि आप यह सब क्या कर रही हैं!भाभी ने कहा- इतने भोले मत बनो देवर जी … मैं सब जानती हूँ कि तुम्हारे मन में मुझे पाने के लिए कितनी बेताबी थी और अभी भी है. तो संजीव बोला- मैंने तेरे को बताया नहीं … ऋतु की भी कोई फेंड है और उनके बीच खूब अश्लील मेसेज आते जाते हैं.

धीरज ने मेरी बहन के मुँह में … और नवीन ने मेरी अम्मी के मुँह में रस छोड़ दिया. थोड़ी देर बाद मैंने अपने लंड का सारा माल मामी के मुँह में निकाल दिया.

अंदर मैंने कुछ नहीं पहना था, मैंने नारी सुलभ लज्जा से अपने स्तन अपने हाथों से छुपा लिए।सुनील ने मुझे लिटा दिया, मेरे हाथ मेरे स्तनों से हटा दिये.

खेल की कमान जीजा जी ने अब अपने हाथों में ले ली और भाभी को सोफे पर लिटा कर उनके ऊपर चढ़ गए. सेक्स ब्लू फिल्म बताइएउन दोनों की चुदाई देख कर मुझे समझ आ गया कि चाची की चुत को मजबूत लंड चाहिए. फुल सेक्सी बीएफ एचडीविकी- ठीक है मेरी जान तो देखो … आज मैं तुम्हें कैसे मजे करवाता हूं. वह ड्रेस डार्क रेड कलर की थी और चूचियों से शुरू होकर नीचे पैर तक वन पीस थी.

मेरे कॉलेज की छुट्टियां चल रही थीं, इसलिए मैं कुछ दिनों के लिए अपनी मौसी के घर रहने के लिए चला गया था.

वैसे तो हमारी सुहागरात बहुत अच्छी रही थी लेकिन दूसरे दिन मैं सुहागरात के बारे में सोच रहा था. हैलो फ्रेंड्स, मैं विजय उर्फ़ वीरा एक बार पुन: अपनी बहन की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ. शायद भाबी को सेक्स की संतुष्टि नहीं मिलती थी, जिस वजह से वो लंड की तलाश में रहती थीं.

हालांकि मैंने अब तक कई सारी भाभियों व कामुक सेक्सी लड़कियों को पटाकर अपने लंड के नीचे लाकर चोदा है … और यदि मेरी ये सेक्स कहानी आपको पसंद आई और आपके उत्साहवर्धक मेल मिले, तो मैं अपनी सभी चुदाई की घटनाओं को एक एक करके आपके सामने पेश करूंगा. उनकी चूत को बिना मौका दिए एक बार जीभ का मजा देता, तो एक बार उंगली घुसा कर हमला किए जा रहा था. मैंने उनकी आंखों में झांका तो उन्होंने मुस्कुरा कर सर हिलाया और इशारा दिया कि कुछ देर बाद दे दूंगी.

चोदा चोदी सेक्सी फिल्म वीडियो में

एक बार मैंने भाभी को देखा और मन में सोचा कि इन भाभी को मेरा दोस्त हचक कर चोदता है, तो मैं क्यों नहीं. अपनी साड़ी ठीक करके मम्मी जल्दी जल्दी चलती हुई सुलभ शौचालय में पहुंची, तो देखा कि वहां की सारी लाइट्स बंद थीं. आंटी ने कुछ देर बाद मेरे मुँह को चुत में कसके दबा दिया और उनकी चुत से बहुत सारी मलाई बाहर आने लगी.

उनकी नजर मेरे फूलते लौड़े पर गई तो मुस्करा कर बोलीं- मैं क्या करूं राज … मुझे किसी लंड ही नहीं मिलता.

जब मैं उसकी इस तरह से चुदाई करता था, तब एक छेद में डिल्डो पेल देता था और दूसरे छेद में मेरा लंड कलाबाजी खाता था.

बहुत सारी सेक्स क्लिप्स देखने के बाद मेरी नजर कॉमेंट बॉक्स में गई और एक दो मूवी के कॉमेंट बॉक्स में मैंने अपना नंबर लिख दिया. ऐसे हम एक दूसरे से कामुक छेड़खानी करते हुए कब स्टूडियो पहुँच गए, पता ही नहीं चला. एक्स एक्स देसी हिंदी बीएफवो मेरे नज़दीक आयी, उसने मेरी आंखों में देखा और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूत पर रख दिया.

भाभी ने भी मुझे आंखों से प्यार से देखा और अपने होंठों से वैसा ही एक चुबंन उछाल दिया. मैं ऊपर को उठा तो उसने झट से मेरा चेहरा पकड़ लिया और किस करना शुरू कर दिया. हालांकि मैं इसको हॉट सेक्सी फॅमिली स्टोरी तो नहीं कहूँगा मगर है ये गर्म कर देने वाली सेक्स कहानी ही.

मैं किसी अच्छे से लड़के की खोज में थी अपनी कुंवारी बुर में लंड डलवाने का मजा लेने के लिए. कभी कभी वो खुद अपनी छाती ऊपर कर देतीं ताकि पूरा चूचा मेरे मुंह में घुस सके.

भिड़े के चेहरे पर उड़े रंग से माधवी जान चुकी थी कि सोनू ने उन दोनों को चुदते-चुदवाते देख लिया है क्योंकि वो भिड़े के लंड पर बैठी थी और उसकी ब्रा पहनी हुई पीठ सोनू के सामने थी, जबकि वो नीचे से पूरी तरह नंगी थी.

भाभी अब बाथरूम में चली गईं, मैंने एक पैग और खींचा और सिगरेट सुलगा ली. कशिश ने खाना खत्म करके मुझसे कहा- मैं सोने जा रही हूँ, तू भी टीवी बंद करके आ जाना. मैंने पूरा जोर लगा कर धक्का दे दिया, जिससे आधा लंड आंटी के चुत में चला गया.

सेक्स सेक्स सेक्सी हिंदी वीडियो अब नींद खुल गई है, तो पूछते हो कि यह सब क्या है? पहले जो तू कर रहा था, वो सब क्या था?मैंने कहा- मैं बिल्कुल भी नहीं समझा भाभी कि आप यह सब क्या कर रही हैं!भाभी ने कहा- इतने भोले मत बनो देवर जी … मैं सब जानती हूँ कि तुम्हारे मन में मुझे पाने के लिए कितनी बेताबी थी और अभी भी है. अम्मी ने हम दोनों को मिलवाया और वो हम दोनों को कमरे में छोड़ कर चली गईं.

पर मुझे इस बात का डर भी था कि कहीं मेरी अम्मी न देख लें, इसलिए मैंने अपने आप पर काबू बनाए रखा. शायद उसको भी पता था कि मैं पीछे उसकी गांड के ही दीदार कर रहा हूँ, इसलिए वो भी पूरा गांड को मटकाती हुयी चल रही थी. मैं सोचता हूँ कि उसे कैसे किस करूं … और मैंने किसी तरह उसे किस किया भी, तो पता नहीं उसको अच्छा नहीं लगा, तो खामखां इन्सल्ट और हो जाएगी.

सेक्सी मालिश वाला

अपनी चुत पर मेरी जीभ का प्रहार पाते ही मैम अपनी कमर लचका लचका कर आहें भरने लगीं और अपनी चूत पर मेरा मुंह दबाने लगीं. फिर तो सब ठीक रहेगा न?’ये सुनकर भिड़े को करंट सा लगा और उधर माधवी की बात सुनकर सोनू मन ही मन मुस्कुराने लगी. उसका जवाब बस इतना था- मैं तो कब से यही चाहती हूं … पर औरत होने के कारण बोल नहीं पाई.

दस मिनट की चुदाई के बाद नफीसा आंटी चिल्लाने लगीं- आह राज और तेज चोदो मुझे … आह और तेज चोदो … आह फ़ाड़ दे मेरी चुत. मैं कार्लोस की बात से उत्तेजित हो उठा था और मेरी नजर उसी समय कार्लोस के लंड पर चली गई.

नवीन का लंड काफी बड़ा था और वो मेरी अम्मी के गले तक लौड़ा पेल रहा था.

मैंने उससे रौबीली आवाज में कहा- यहां पर ये सब क्या हो रहा था और तुम्हारे मम्मी डैडी कहां हैं?तो उसने कहा- मेरे मॉम और डैड एक पार्टी में गए हैं … वो देर रात तक आएंगे. मैं डर गया कि अब वो सबको बता देगा कि मैं अपने मोबाइल पर क्या देख रहा था. मैंने कहा- फिर भैया को शक क्यों नहीं हुआ?भाभी- वो इसलिए कि तुमसे चुदवाने के बाद मैंने तुम्हारे भैया को दवा खिला कर और उनका लंड चूस कर खड़ा किया.

इसमें खासा मुनाफ़ा पैदा हो जाता है इसलिए मैं और मेरी फैमिली काफ़ी खुश थी. अब जगप्रीत और मेरी अम्मी अक्सर मिलते थे, मूवी जाते थे, घूमने जाते थे. हमने समंदर के किनारे एक रिसॉर्ट बुक कर लिया।छुट्टी होते ही हम वहां चली गयी.

मैं करवट लेकर लेट गयी।कुछ देर बाद मेरे चूतड़ पर बाबूजी का हाथ स्पर्श हुआ।मेरी सांस रूक गयी.

इंडियन बीएफ सेक्सी देसी: सुबह उठ कर देखा तो मेरे पास ना तो मामी की पैंटी ब्रा थी और ना ही घी का डिब्बा था. अम्मी ने पीयूष का लंड अपने हाथ से पकड़ा और अपनी चुत पर उसके मोटे लंड को रगड़ना शुरू कर दिया.

आह क्या फ़ीलिंग थी यार, बिल्कुल नर्म और गर्म गांड का अहसास मेरे लंड को आंदोलित कर रहा था. आपका लन्ड तो पता नहीं क्या धमाल मचाएगा?मेरी रानी, असली मजा तो तुम्हें तब ही आएगा!”ये बोल कर मैं खड़ा हुआ और एक सिगरेट जलाई और प्रीति की नंगी जाँघों पर सिर रख कर लेट गया और सिगरेट के कश लगाने लगा. वो हंसने लगीं और उन्होंने मुझे अपने पास खींचा और बोलीं- आ तुझे सिखाती हूँ.

सेक्स कहानी के पिछले भागससुर जी ने बहू की गांड में उंगली फिरा दीमें आपने पढ़ा कि मेरे ससुर जी मुझे नंगी करके मेरी चूचियों के निप्पल चूस रहे थे और मेरी गांड की दरार में उंगली फिरा रहे थे.

तो मैंने लंड चुत से बाहर निकाला और पास पड़ी एक हैंड टॉवल से पौंछ कर साफ किया. मैंने घबराते हुए दबी हुई आवाज़ में पूछा- यस मैम … अपने बुलाया!मैम- नाम क्या है तुम्हारा?मैं- समीर … क्यों क्या हुआ मैम?मैम- कुछ नहीं … क्लास नहीं है तुम्हारी?मैं- है न मैम …मैम- तो तुम यहां क्या कर रहे हो?मैं- बोरिंग क्लास है मैम … नींद आने लगती है, इसलिए यहां आ गया. तभी वो लड़की ‘अम्म्म मम्म … आआ आआ आह उई ईईईई उई मां उई मां उई मां …’ कहती हुई अपनी चूत से नमकीन पानी निकालने लगी और टांगों को कसने लगी.