ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,गर्लफ्रेंड कैसे बनाएं

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लेयर विलियम्स: ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो, रूपाली की गांड को पकड़ कर मैंने दबा लिया और पूरा जोर लगा कर उसकी गांड में लौड़े को घुसा दिया.

ट्रिपल सेक्स गेम

अब मौका पाकर वो घर में भी शुरू हो जाता था। विशाल के रूप में मुझे अपनी प्यासी चूत का परमानेंट इलाज मिल गया था. चूत की पिकनीरज उठना नहीं चाह रहा था, पर मजबूरी में उसे अपना लंड अपनी बहन की गांड से निकालना पड़ा.

मगर मैंने सोचा कि अगर उन्नीस बीस साल की उम्र में आपका कोई साथी नहीं बना, तो समझो आपने अपनी जवानी बर्बाद ही कर दी. सेक्सी फिल्म करने वालीइस लड़की का पहले मेल आया- चूतनिवास जी, मैं आपकी कहानी पढ़ के आपकी चुदाई के स्टाइल से बहुत प्रभावित हुई हूँ, इसलिए मैंने आपकी इसके पहले छपी हुई सभी कहानियां भी पढ़ लीं.

मैं उसकी चूचियों की मसाज करने के साथ साथ ही उन पर कड़क हो चुके निप्पलों को भी अपनी उंगलियों में हल्का हल्का सा दबाते हुए मींजने लगा था.ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो: अपने दोनों हाथ रानी के उरोजों पर जमा कर मैंने हल्के हल्के धक्कों से गांड मारनी शुरू कर दी.

विशाल के शब्दों में:अपनी गांड को मटकाते हुए दीदी स्टोर रूम की ओर बढ़ रही थी.मेरी उंगलियां वसुंधरा की नाभि के बगल की तरफ़ और हथेली नाभि से जरा नीचे पैंटी के फ़ैब्रिक पर टिक गयी.

अपाचे न्यू मॉडल - ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो

रोहण के निकलते ही मैंने सुहास को फोन करके बोला कि तुम अपना सामान और अपना पासपोर्ट लेकर मेरे घर आ जाओ.अब हम दोनों भाई बहन एक ही रूम में सोते थे आदी भी मुझसे बहुत खुश रहता था और वो मुझसे अपनी सारी बातें बताता था.

मैंने उसे और कुरेदा, तो उसने बड़ी मायूसी से बताया कि उसकी सास उसको बहुत तंग करती है. ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो उसकी आंखों में चमक आ गयी- जी, बस काम निबटा के आता हूँ, आधे घण्टे में!मैं अंदर आयी और कपड़े बदल लिए। लाल ब्रा पैंटी और गुलाबी साड़ी ब्लाउज … मेक अप कर के तैयार।फिर घण्टी बजी।कौन?”मैं सुलेमान!”मैंने दरवाज़ा खोला, कुछ पल तो वो मुझे हैरानी से देखता रहा, फिर एकदम से मुझे दबोच लिया।अरे दरवाज़ा तो बन्द कर दो.

… जीजा जी … आप कीजिए … मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है … आह ऐसा मजा आज तक नहीं आया था.

ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो?

पर आपको काल्पनिक कहानी ही पढ़नी है … तो अंतर्वासना पर हजारों अच्छी कहानियां पड़ी हैं. मगर वो मुझे देख नहीं पा रहे थे … क्योंकि मेरी छत पर अन्धेरा था … और उनकी छत पर स्ट्रीट लाइट की रोशनी आ रही थी. मैंने अन्दर जाकर देखा, तो अपने उसी फेसबुक फ्रेंड से सेक्स चैट कर रहा था.

मैंने बाबू की तरफ देखा, तो वो बोले- कोई बात नहीं, तुम मिल गयी तो अब से एक नयी शुरूआत करूंगा. गुड्डी बुला सकते हैं आप मुझे!मैंने कहा- गुड्डी, आपसे मिल कर बहुत अच्छा लगा. मैंने अगले ही पल अपना हाथ नीचे को किया और उनकी साड़ी को ऊपर उठाते हुए उनकी नंगी जांघों पर हाथ फेरने लगा.

तब तक दीदी भी चुदाई के लिए बहुत बेचैन हो चुकी थीं और वो हमारे बगल में लेट कर बड़ा डिल्डो डालने के लिए कहने लगीं. इसके बाद मैंने उसके बालों के जूड़े को खोल दिया और उसे पलटा कर, उसके ऊपर आ गया. नताशा- कैसा प्यार?मैंने नताशा को अपनी ओर घुमाया और उसके होंठों को चूमने लगा.

उसने अमेरिका से लौटकर मुझे उन दोनों को जॉइन करने के लिए बोल दिया और कहा- हम आपको फ़ोन पर एड्रेस और लोकेशन भेज देंगे. तभी वो चारों एक दूसरे तरफ देखने लगीं और मुस्करा कर हमारे पास आ गईं.

संजना मन ही मन खुश हुई और थोड़ा मुस्कुराई, परंतु फिर बोली- वो सब तो ठीक है … पर तुम अन्दर क्यों आए … अब दूध दे चुके हो, अब तुम बाहर जाओ.

फिर वो उठी और उसने अपनी नाईटी उतार दी और पूरी नग्न अवस्था में आ गई.

फिर मेरी गर्लफ्रेंड अंशी उठ कर आई और बोली- यार शुभम, ये बहुत दिनों से प्यासी है … पहले एक बार इसकी भी चुदाई कर दो. उसकी बुर का पानी मेरे लंड को भिगोते हुए मेरी जांघों को भिगो रहा था. एक मिनट बाद आशा दो गिलास पानी लायी, तो नीतू आशा से मजाक करते हुए कहा- आशा, आज तो तू बड़ी खिली खिली लग रही है.

उसने कहा- तो फिर ये क्या कर रहा था?मैंने कहा- बैक में पेन हो रहा था. मैंने सुहास के लंड पर अपना हाथ रखा और फिर उसकी फ्रेंची के ऊपर से ही सुहास के लंड को किस किया. कुछ देर बाद मैंने आशा को घोड़ी बनाया और उसके चूतड़ों पर हाथ फेर कर उसके चूतड़ों का छेद चौड़ा किया.

उसकी लेगी चूत के पानी से गीली हो चुकी थी और वो अपना सिर मस्ती की वजह से इधर उधर करने लगी। उसका बदन मस्ती के मारे काम्प रहा था.

हम चारों भी सिर्फ निक्कर में थे, इसलिए उन चारों को ऐसा लगा कि हम उनकी चुदाई करेंगे. मैं भी उसके लंड का टेस्ट मुंह में लेते हुए उसका लौड़ा पूरी शिद्दत से चूसता रहा. और हमने अपनी ड्यूटी इस तरीके से सेट करवाई कि दोनों का नाईट ऑफ एक साथ हो.

मैं कभी उसके बाल पकड़ लेता तो कभी उसकी चूची दबा दबा के उसकी गांड चोदता. मेरी निगाह उसके गले और चुचियों पर से होती हुईं, उसकी जींस तक गईं और वापस आकर उसकी चुचियों के खुले हिस्से पर टिक गईं. दो रूहें एक हो गयी थी … समय रुक सा गया था … कायनात थम सी गयी थी और हिरणी सी दौड़ती रात ने अपनी चाल शून्य कर ली थी.

उन्होंने ऑनलाइन खाना ऑर्डर किया, कोई 15 मिनट में गरमा-गरम खाना आ गया और फिर हम दोनों ने पेट भर खाना खाया.

मैं उसकी टांगों के बीच में आ गया और उसकी चुत पर अपना लंड रख कर अन्दर डालने लगा. इधर नीरज उठा और उसने हमें और प्रियंका को देखा तो पाया कि हम दोनों सो रहे हैं.

ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो उसे सहलाते सहलाते मैं उसकी टी-शर्ट को ऊपर की तरफ खींच रहा था, जिसका वो कोई विरोध नहीं कर रही थी. वो अकसर मेरे सामने आती जाती थी और एकटक निगाह मिला कर ऐसे देखती थी, जैसे कुछ कहना चाहती हो.

ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो तभी उनमे से एक लड़की ने हमें देखा तो अपने साथ वाली लड़की से कुछ बोलने लगी. अगले भाग में मैं आपको सुहास के साथ मेरी चुदाई की कहानी का आगे का मजा लिखूँगी.

मैं- क्या बात कर रहे हो?कुमार- अरे चुप रहो … ये बात विक्की को मत बोल देना … नहीं तो वो मुझसे गुस्सा हो जाएगा.

सेक्सी वीडियो घोड़ा घोड़ी की

मैंने अनमने मन से हां कह दिया क्योंकि मुझे उन दोनों की तरफ से कोई उम्मीद नहीं थी कि इनकी चुत का कोई जुगाड़ हो पाएगा. उसका पति नीचे आ गया, जैसे ही मेरा लौड़ा उसकी चुत से बाहर आता वो आशना की चुत चाट लेता, फिर मेरा लौड़ा पकड़ के उसकी चुत में डाल देता।मुझे उसके ऐसे करने में अच्छा लगा बहुत।‌‌हमने उस रात खूब चुदाई की. और हो भी क्यों न जिंदगी में यौन सुख का आरम्भ और आनंद किया था।मैंने भी उसको देख के हाथ हिलाया और फ़ोन में सन्देश के माध्यम से पूछा- कैसा लग रहा है?उसने कहा- पता नहीं … अजीब सा लग रहा है.

इसमें कोई शक नहीं कि सिल्क एक साधारण, पर सुलझी हुई महिला थी, वक़्त ने उसको काफी परिपक्व बना दिया था. इस सारी कार्यवाही के दौरान वसुंधरा का दायां हाथ मुसल्सल मेरे लिंग से खेल रहा था और वसुंधरा ने एक पल के लिए भी उस पर से अपना हाथ नहीं उठाया था. भला अंधा क्या चाहे दो आंखें … वह आदमी तपाक से बैठ गया।अब यह आदमी जिन्होंने अपना नाम मुझे मुकेश (34) बताया था मेरे ठीक पीछे आकर खड़े हो गये। अब वो मेरे इतने करीब था कि वो सांस भी लेता तो मेरी गर्दनों पर गर्म हवा आती।मेरे दिल की धड़कन तेज हो गयी थी।अगर ये कॉलेज लाइफ के टाइम पर हुआ होता तो इतने हिंट पर तो मैं अब तक चुद चुकी होती.

इससे वो बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो गई जैसे कि उसका पूरा शरीर बहुत तेजी से कांपने लगा और वो उत्तेजना के मारे रोने से लगी.

वो बार बार मेरे सीने को सूंघती और मर्दाना गंध को महसूस करते हुए आंखें बंद कर लेती. मैंने उसे गोद में उठाया और रूम में लाकर बेड पर पटक दिया और उसकी काली कच्छी के ऊपर से उसकी चूत चाटने लगा. उसके बाद फिर हम एक दूसरे से अलग हुए … तो मैंने देखा सुरभि की आंखों में ख़ुशी के आंसू थे.

मैं भी गांड चुदाई की भूखी थी इसलिए मैंने अपनी गांड के छेद को फैला दिया और उसके लंड पर बैठ गई. मेरे दिमाग़ में उसकी बड़ी सी गांड, गोरा बदन … लंबी नाक, बड़ी बड़ी आंखें … बड़ा सा चेहरा … बड़ी बड़ी गोल गोल चुचियां … मोटे मोटे केले के तने जैसी जांघें … उसकी बुर के झांटों के काले घुंघराले बाल … ये सब मुझे पागल कर रहा था. आलिया- इतना प्यार करने की वजह क्या है?मैं- क्यों मैं अपनी गर्लफ्रेंड की सेवा भी नहीं कर सकता?आलिया- ज्यादा भोले मत बनो … अगर तुम सेक्स करने के बारे में सोच रहे हो, तो भूल जाओ.

उसने डिल्डो खुद थाम लिया और चूत पर रगड़ते हुए मुझे अंतिम क्षण तक सुख पहुंचाती रही. मेरी गांड में सुहास का लंड सटासट चल रहा था और उसकी एक उंगली मेरी चुत को कुरेद रहा था.

ना चाहते हुए भी बार बार उसके जिस्म को ऊपर से नीचे से तक निहार रहा था. तो मीना बोली- हाँ, मुझे कोई एतराज नहीं है, पर अभी आप पीजिये, मैं कॉफ़ी लाती हूँ. इसी बीच मैंने मैनेजर को हमारा रूम भारतीय दुल्हन की सुहागरात के हिसाब से रेडी करने को बोला.

उस लड़की की चूत से मैंने लन्ड निकाल कर उसके पेट पर अपना माल छोड़ दिया।हम दोनों झड़ गए.

किसी गर्म सरिए के जैसा वो लंड मेरी चूत पर ऊपर नीचे हो रहा था और मैं आंख मूँद कर उसका मजा ले रही थी. मैंने अपनी एक सीनियर से पूछ लिया- ये दोनों तरफ करते हैं क्या?उन्होंने बताया- हां पीछे भी एन्जॉय करने के लिए करते हैं, इससे बच्चे होने का डर भी नहीं रहता और मजा भी बहुत आता है. जैसे ही मैं वसुंधरा वस्त्र-विहीन जिस्म पर ऊपर-नीचे अपनी जीभ फेरता या चुम्बन लेता, वसुन्धरा का पूरा शरीर तन जाता और सिहरन की लहरें वसुन्धरा के शरीर में उठनी शुरू जाती.

हसन और रजत तो जिगोलो थे और प्रोफेशनल होने के कारण उनका खुद पर कंट्रोल और उनकी चुदाई की स्टेमिना अकल्पनीय थी. उसकी फीगर को देख कर मैंने अन्दाजा लगाया कि उसके बूब्स 34 के साइज के होंगे.

फिर उन्होंने मुझे नीचे लिटाकर पहले मेरी नाभि पर और फिर चड्डी की ऊपर से मेरे लंड पर बर्फ फिराने लगी. भाई ने पीछे से मेरी चूत को सहलाना शुरू कर दिया और मैं तेजी के साथ उस लड़के के लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी. वो समझ गया, उसने अपना लन्ड आजाद कर दिया।उसका लन्ड मस्त था, मैं पागलों की तरह उसे चूमने लगी। बड़े दिनों बाद लन्ड मिला था, लन्ड की महक ने मुझे पागल कर दिया था। मैं उसे खा जाना चाहती थी। मैंने जी भर कर उसका लन्ड चूसा पर चूत में भी तो आग लगी थी।मैं खड़े खड़े ही चूत पर लन्ड सेट करने लगी.

सेक्सी वीडियो सॉन्ग फिल्म

परमीत ने तेज आवाज में कहा- अच्छा तो तुम इन्हें नहीं भगाओगे … ठीक है … चल गीत, हम चलती हैं.

मैं इतना स्मार्ट हूँ कि कोई भी लड़की मुझ पर फ़िदा हो जाए और अपनी चूत को चुदवाने पर मजबूर हो जाए. इसी चक्कर में मैंने उसके लंड को अपने हाथ की दो उंगलियों के बीच में हल्के से पकड़ लिया. उसके शरीर की बनावट को देखकर ऐसा लग रहा था, जैसे किसी ने अपने हाथों से तराशा हो.

आंटी मुझसे बोली- क्या कर रहे हो? थोड़ा रुक तो जाओ, खाना तो बनाने दो. दिव्या ने मेरी तरफ देख कर उन लड़कों से कहा- मुझे भी ऐसे ही चुदना है. छोटी लड़कियों की बफदीदी ने भी चूत में डिल्डो पूरा उतारके रोक कर रख दिया … ताकि मनु का स्खलन अच्छे से हो सके.

कुछ देर बाद वो जब शांत हुई, तो मैंने एक ही झटके में अपना पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया. (वैसे दंगल से मुझे याद आया आपने मेरी पिछली कहानीहोली में चुदाई का दंगलपढ़ी होगी.

उसने मेरा एक पैर आईने के पास जो स्टूल था, उस पर रख दिया और पीछे से मेरी चुत पर अपना लंड रगड़ने लगा. उसने अब मुझे घोड़ी बनाया और अपना मोटा लंड मेरी गांड के अन्दर डाल दिया. उसके मुँह से निकलने वाली सिसकारियां ‘उ… उ… उई… उई… ई… हई… और जोर से …फक मी हार्ड बेबी … फक मी…’ मेरे जोश को और बढ़ा रही थी.

तो प्रस्तुत है बुआ की चुदाई का अगला किस्सा उन्ही की जबानी:स्कूल में टीचर की चूत चुदाई की कहानी के पिछले भागमेरी बुआ की चुदाई के किस्सेमें आपने पढ़ा कि एक दिन मैं स्कूल में थी और बारिश हो रही थी. थोड़ी देर बाद मैं, सुमन और जालान आंटी डॉक्टर के यहां जाने के लिए निकल पड़े. प्रीति की आँखों से आंसुओं की धार बहने लगी, वह रोने लगी और बोलने लगी- संजय, जल्दी से निकालो.

मैं प्यार से बोला- बोलिए मैडम क्या काम था … कहीं चलना है क्या?वो बोली- अभी नहीं … बैठो मैं चाय लेकर आती हूं.

संजू ने झट से अपना हाथ अपनी चूत पर रख दिया, जिससे उसकी चूत से मेरा वीर्य बाहर नहीं निकल पाए. मेरे दिल की धड़कन बढ़ गयी ‘राजू की माँ? लल्लन की बीवी?’फिर भी मैंने सामान्य दिखने का प्रयास करते हुए बोला- हां, बताओ क्या बात करनी है?उसने कहा- मैडम जी, मेरा लड़का पढ़ाई लिखाई में बिल्कुल ध्यान नहीं देता और पता नहीं क्या उलटी सीधी चीजें देखता सुनता रहता है.

वो कभी कभी गांड को ज़ोर से पीछे की तरफ धकेल देती थी जिससे भैया का पूरा लंड अन्दर घुस कर एक पल के लिए रुक जाता था. मैं बहुत ज्यादा ही हॉट हो चुका था।फिर आंटी बोली- किस ही करोगे क्या?मैंने कहा- हाँ, ऐसा किस कि आप मेरी हो जाओगी हमेशा के लिए!अच्छा कैसे?”इतना सुनकर मैंने आंटी की काली पेंटी के ऊपर से ही चूत पे अपनी जुबान लगाई. जब गाड़ी आई, तो सामने गाड़ी के गेट से उतरती स्वीटी आंटी अपने बेटी के साथ दिखाई पड़ीं.

अब भैंस चाहे हाथी से छोटी क्यूं ना लगे, पर बकरी से बड़ी तो होगी ही. एक कुत्ता उसे काटने के लिये छलांग लगा चुका था कि तभी मैंने उस लड़की को पकड़ कर अपनी ओर खींच लिया और दूसरे हाथ से डण्डे का सटीक प्रहार कर दिया. रवि ने मुस्कुरा कर कहा- जरूर!पर इसके बाद जो हुआ वो रवि के लिए अप्रत्याशित था.

ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो बालों को हटा कर गर्दन पर ली गयी चुम्मियां, मेरे पूरे शरीर में सिहरन पैदा कर रही थीं. फिर मैंने उसे घोड़ी बनाया और उसके मुँह में लंड पेल कर उसका मुँह चोदने लगा.

हॉट सेक्सी अंग्रेजी वीडियो

दीदी- क्यों?मैं- क्योंकि राजीव अंकल की बेटी रिया मेरी अच्छी दोस्त है. अब मुझे समझ में आया कि लड़के और लड़कियां आपस में क्या बात करते रहते हैं … क्यों इतनी देर तक बात करते रहते हैं. मैंने सुहास के लंड पर अपना हाथ रखा और फिर उसकी फ्रेंची के ऊपर से ही सुहास के लंड को किस किया.

वो बोला- तुम दोनों कहाँ रह गए?तो मैंने उसे बहाना बना दिया- मेरी तबियत ठीक नहीं है इसलिए मैं और अक्षय वापस होटल आ गए हैं. बच्चा हो भी कैसे … मीना के पति राहुल महीने में 15-20 दिन तो बाहर रहते हैं. लड़की के फोटोससुबह बस में बैठ कर कुछ घंटे के सफर के बाद मैं गांव वाले घर में पहुंच गया.

आलिया- ये चारों हम इस हालत में छोड़कर कहां चले गए हैं?नताशा- पता नहीं.

ओ … उह!और उन्होंने अपनी चूत का पूरा पानी मेरे मुंह में ही छोड़ दिया और मैंने भी पूरा पी लिया. मैंने खुद को ठीक किया और आगे बस कंडक्टर के पास जाकर बोला- भाई, सीट पर ठंड बहुत लग रही हैं.

अनिषा बोली- अरे भैया सिर्फ ऊपर ऊपर से ही करोगे क्या? अन्दर बहुत सारा खजाना है, उसे कब लूटोगे?दूधवाले ने मेरी घाघरा और चोली उतारी और मेरे मस्त शरीर को देखता रह गया. करीब एक घंटे तक हम सभी स्कूबा डाइविंग का आनन्द लिया और वापस हम हमारे रिसॉर्ट में आ गए और कपड़े चेंज कर लिए. सी … मर गयी मैं … ओह … सी … सी … सी … ईं … ईं … ईं … !!”मैंने अपने हाथ को जरा सा वसुंधरा की नाभि की ओर किया और वापिस नीचे की और ले जाते हुए रिफ्लेक्स-एक्शन में ही अपनी उँगलियों को वसुंधरा के पेट पर दबा कर अपना हाथ वसुंधरा की पैंटी का इलास्टिक के नीचे से पैंटी के अंदर ले गया.

कभी कहीं कोई मुलाकात हो भी गयी तो ऐसे होगी जैसे किसी रेलवे स्टेशन या एयरपोर्ट पर अलग-अलग दिशाओं से आकर, अलग-अलग दिशाओं को जाने वाले दो अजनबी यात्री बेसाख़्ता आमने-सामने आ गए हों.

दूसरी तरफ लंड पेवस्त होते अलका की चीख निकल गयी और उसका रोना शुरू हो गया. फूफा जी, अब चोदिये न!” आखिर जब उसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो सोनम ने कहा. फिर मैंने कंडोम का पैकेट निकाला और उसमें का एक कंडोम लेकर चाची से कहा- इसे मेरे लंड को पहनाओ.

सोनम कपूर की नंगी तस्वीरेंउसे सहलाते सहलाते मैं उसकी टी-शर्ट को ऊपर की तरफ खींच रहा था, जिसका वो कोई विरोध नहीं कर रही थी. तब उसने कहा कि तुम शाम को मुझसे मिलने मेरे कमरे पर आ सकती हो क्या? मैं मिल कर तुमसे बात करना चाहता हूँ.

माधुरी दिक्षित की सेक्सी वीडियोस

ये कहानी मेरे एक दोस्त शीराज और उस की वाइफ ज़ायरा की है; जब मैंने ज़ायरा की मसाज करते करते उसकी चुदाई की है जो कि मेरे दोस्त के घर पर ही उसकी गैरमौजूदगी में हुई।हुआ यह कि एक दिन मेरे दोस्त का कॉल आया कि उसका ट्रांसफर दिल्ली से मुंबई हो गया है तो उसे दो दिन के अंदर मुंबई शिफ़्ट होना था. और वो कहता था- तेरी बीवी से गले मिल कर मज़ा आ जाए।क्योंकि मुझे भरी भरी औरतें पसंद हैं और शीराज को स्लिम और ब्यूटीफुल औरतें पसंद है।मेरी बीवी को भी शीराज पसंद था. पर क्या फ़र्क पड़ता है, वो तो पहले से सुहागिन ही थी … न जाने कितनों की बीवी रह चुकी थी.

संजू ने अपने मुँह से सारा वीर्य जो कि मेरा था, प्रियंका के मुँह में थूक दिया, जिसे प्रियंका मजे से पी गई. अब परमीत ने फिर भड़क कर कहा- रंडी बनाकर तमाशा बनाना चाहते हो मेरा … और इसे आधुनिक विचार समझते हो. उन दोनों ने अपने बीच में बिठा लिया।सुलेमान ने मुझे बताया कि बड़ा मस्त माल है, बनियान में से चूचियाँ बाहर आ रही थी और फिर उसके चूतड़ गोरे, चिकने। और पूरी फंस गयी है। सच बोल रहा था, तू मस्त चीज़ है.

एक जोर के झटके के साथ मैंने पूरा लंड उसकी चूत में उतारने की कोशिश की और उसकी चीख निकल गयी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’वो मेरी पकड़ से छूटने की कोशिश करने लगी. सबसे पहले हम सबने मिलकर पैग बनाए और चियर्स करके परमीत को जन्मदिन की बधाई दी. मैं नाइटी के ऊपर से ही चाची की ब्रा का स्ट्रिप ढूंढ रहा था, पर मुझे कुछ मिला ही नहीं … शायद चाची ने ब्रा नहीं पहनी थी.

मैं लंड को दबाता हुआ बोला- नेहा बेटू … बस कुछ ही धक्कों का दर्द है … इसी में तुझे हल्का सा दर्द होगा, फिर नहीं होगा. दीदी ने आलिया के हाथ से सिगरेट ले ली और वो हम दोनों को चुदाई करते हुए देखने लगीं.

इसके बाद सर ने अपना अंगूठा निकाल लिया, मैंने देखा सर का लण्ड सिकुड़ कर छुहारे जैसा हो गया था.

उनकी बेटी को तो मैं खिलौने वगैरह देकर खेलने में लगा दूंगा और स्वीटी आंटी को चोद दूंगा. सिलपा सेटी xxxमैंने बात की तो उधर से उन दोनों लड़कियों का ही कॉल था। उन्होंने मुझे बताया कि हम दोनों इंडिया आ चुकी हैं और अभी अभी फ्लाइट से उतरी हैं।वो दोनों लड़कियाँ मेरी सर्विस लेने वाली थी इसलिए मैंने कुछ भी बोला नहीं हालांकि मुझे उस समय गुस्सा तो बहुत आया था. फोटो गर्ल डाउनलोडअब तो मुझे पक्का लग रहा था कि मुझे ट्रेन नहीं मिलने वाली।मैंने अपने पति को फ़ोन किया और यह बात बताई और मैंने कहा- अगर ट्रेन नहीं मिलती है तो मैं अपनी सहेली के यहाँ चली जाऊँगी. हम सभी बाहर आ गए, जहां दो कार खड़ी थीं, इसलिए हमें कोई प्रॉब्लम नहीं थी.

आकाश- मतलब?नीरज- जिया बोल रही थी कि जब आपने उसकी गांड मारते समय जितना दर्द दिया था, उतना दर्द वो रात को मुझे देगी.

मैंने आलिया की मक्खन जैसी गांड पर लंड सैट करके घुसा दिया और उसे चोदने लगा. वहां पर हमने पार्किंग में कार पार्क कर दी और हम अपने सामान के साथ आगे बढ़ गए. ”मैं उसके ऊपर धड़ाक से गिरा और उसने झट से अपनी टाँगें खोल कर मुझे अपनी आगोश में कस लिया।अब कोई बेटी नहीं, कोई माँ नहीं, कोई दामाद या सास नहीं … अभी सिर्फ हम हैं.

भगवान कसम यार … एकदम से दुगना साइज़ देख कर मुझे समझ ही नहीं आया कि मम्मे इतने बड़े कैसे हो गए. मैंने उसे खड़ा किया और उसकी गांड पर हाथ फेरते हुए उसकी चूत को थोंग से आजाद करके उसको बेड पर लिटा दिया और उसकी चूत चाटने लगा. बहुत देर तक लंड चूसने के बाद अंकल उठे और पास में से एक तेल की शीशी उठाकर लाए.

सेक्सी पिक्चर मराठी साड़ी

इसलिए सामने शीशे में उसको पता नहीं चल रहा था कि पीछे से मैं भी उसको देख रहा हूं. तो रूमानी जी ने मुझसे जानना चाहा और पूछा- क्या तुमने किसी के साथ सेक्स किया है? यदि हां तो, फर्स्ट टाइम कहां और कैसे किया?मैंने बता दिया कि मैंने पहली चुदाई हॉस्पिटल में की थी. रवि उसके ऊपर चढ़ गया और रवीना की टाँगें ऊपर करके चौड़ा दीं और धीरे से अपना लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

कुल तीन ही तो सहेलियां मेरी खास थीं, जिनसे मेरा दिल का संबंध था … और ऐसे हंसने बोलने वाली सहेलियां तो कितनी रही होंगी, बताना भी मुश्किल है.

उसने कॉल पिक किया और पूछा- कहां हो तुम?मैंने बोला- मैं डीबी मॉल के सामने खड़ा हुआ हूं.

मैंने चुदाई के बाद उससे बोला- जान मेरी एक ख्वाहिश है … क्या तुम मेरे लिए उसे पूरा कर सकती हो?अंशी बोली- हां बोलो क्या करना है?मैंने उससे बोला- कंडोम से पानी निकाल कर अपने हाथों में लेकर उसको जीभ से चाट सकती हो. मैं उनकी चूत में पूरे लंड को जड़ तक पेलते हुए जोर जोर से अन्दर बाहर कर रहा था. ನೀಲಿ ಚಿತ್ರमैं अंशी की गांड में लंड डालने जा ही रहा था कि तभी अंशी बोलने लगी- पहले अपने लंड को तेल लगा कर चिकना कर लो.

इस कदर प्रीति की चूत को चाटा मैंने कि प्रीति की चूत ने पानी छोड़ दिया और मैंने सारा नमकीन पानी पी गया. लंड की रफ्तार से मैं समझ रही थी कि टीचर आज अपनी वाइफ का गुस्सा मेरी गांड पर उतार रहे हैं. और नहीं बताती तो फिर सोनू की गलती और सजा मुझे?”हम्म!” मैं कहकर चुप हो गया।तभी सायरा ने मेरे हाथों को अपने हाथों में ले लिया और सहलाने लगी।सायरा, मैं कल सुबह वापस जा रहा हूं। अगर तुमको मुझ पर विश्वास हो तो तुम मां भी बनोगी और और जब तक मैं इस दुनिया में जीवित हूं तुम्हें औरत होने का अहसास भी मिलेगा.

तो मैंने पूछा- क्यों नाम बताने से डरती हो क्या?वो बोली- शुरुआत आपने की है, तो पहले आप आपका नाम बताएं. कहानी के बारे में अपने विचार मुझे बताने के लिए नीचे दिये गये मेल पर मैसेज करें.

वह मेरे चेहरे पर किस करने लगा और धीरे-धीरे मेरी साड़ी को मेरे बदन से अलग करने लगा.

मैंने उसको लंड चूसने के लिए कहा तो उसने एक बार में ही मेरा लंड पूरा मुंह में ले लिया. श्वेता भाभी से बातचीत में पता चलता कि जेठजी का भी वही हाल है, वो भी एक बार शुरू हो जाते, तो रुकने का नाम नहीं लेते. आज तक तुम्हारी जैसी मदमस्त जवानी नहीं देखी है … इसलिए मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

गोवा की ब्लू फिल्म थोड़ी देर बाद मैंने उसे नीचे उतारा, तो वो बैठ कर बड़े प्यार से मेरा लंड सहलाने लगी … और चूमने लगी. अब मुझसे भी रहा न गया और मैंने नीचे से दिव्या की जीन्स को निकाल दिया और उसकी चूत में मुंह देकर उसको चूसने लगी.

मुझे उसकी नीयत पर कुछ शक हुआ तो मैंने उससे कहा कि अब बोट को वापस ले चले. अब शादी के बाद उसे ऐसा मरदूद पति मिला जिसे पीने से ही फुर्सत नहीं तो वो उसे क्या चोदता. हमने एक साथ लंड दोनों लड़की की चूतों से बाहर निकाल लिए, चोदना बंद कर दिया.

कुंवारी लड़कियों की देसी सेक्सी

जब चाय पीते पीते और ज़ायरा के गदराए बदन को देखते हुये मेरे लौड़े ने अंगड़ाई सी ली, तो ज़ायरा का ध्यान भी मेरी पैंट की तरफ गया और उसने देख लिया के पैंट के अंदर मेरा लंड बल खा रहा है।मैं जानबूझ कर इस बात से अंजान बना रहा क्योंकि मुझे पता था के ज़ायरा मेरे लंड को देख रही है. ”ले रंडी मादरचोद … तेरी मां की बुर चोदूं … आह तेरी बहन बुर में लवड़ा डालूं … साली कुतिया ले लो … पूरा लंड डाल दिया … खा बुर में कुतिया. राम सिंह एक बार हिचकिचाया पर विशाल ने तीन हजार रूपये देने की बात कि तो उसे भी लालच आ गया.

मनोज की शादी के दो साल बाद तक उनके कोई बच्चा पैदा नहीं हुआ तो जालान आंटी के कहने पर मनोज व कविता डॉक्टर से मिले. मैं- क्यों … मैं नहीं आ सकता क्या?स्वीटी आंटी- नहीं नहीं रॉकी … ऐसी बात नहीं है, अच्छा अब चलो.

मुझे नहीं मालूम था कि रात को खेत की निगरानी के लिए इधर ही रुकना है या अभी ही वापस घर जाना है.

क्योंकि उसके गाउन के गिरते ही वो एकदम से मेरे सामने नग्न खड़ी हुई थी एक भी धागा, उसके बदन पर नहीं था. लेकिन ऐसे मैसेज रोज ही और बहुतों के आने लगे, मैं ऐसे हर मैसेज से उत्साहित भी होता और उचित जवाब भी देता था. मैंने अपने साथ लिपटी वसुंधरा को ज़रा सा सीधा किया और खुद कोहनियों पर वसुंधरा के ऊपर छा सा गया.

नीतू बोली- क्यों न आज हम लोग डिनर बाहर करें, यहां थोड़ी दूर ही एक बहुत अच्छा रेस्टोरेंट है … और उसमें बार भी है. उसको प्यार से लिटा कर उसके ऊपर आ गया एक तरफ मेरे होंठ चुम्बन में व्यस्त थे वही मेरे हाथ शर्ट के बटन खोल रहे थे बटन खुलते ही लाल रंग की लेस वाली ब्रा सामने आ गई. ’मैं भी उसे उसके कहे मुताबिक चोद रहा था … ताकि हम दोनों चुदाई का भरपूर मजा ले सकें.

शॉवर लेने के बाद मैंने अपना बदन साफ किया और फिर पूरी बॉडी पर क्रीम लगाई.

ऐश्वर्या राय बीएफ वीडियो: ऐसे ही एक दिन मैंने जिम ट्रेनर को लंगोट पहनते हुए देखा तो उसके लंड को देखने की ललक जाग उठी. कुछ देर बाद सुहास ने अपने दोनों होंठ मेरी चुत पर रख दिए और चुत चूसने लगा.

तब करीब 10 मिनट तक उन्होंने मेरा लंड चूसा पर किसी तरह का पानी नहीं निकला और लंड अभी भी तन के ही खड़ा था. इधर हम हॉल में आकर पैग बनाने लगे और हमने उन चारों के पैग में वायग्ररा मिला दी. गांड पर चपत ने पीड़ा के बजाए परमीत को और भी अधिक उत्साह प्रदान किया.

गीत … गीत … गीत … ओ मेरी गीत … आई लव यू गीत … आई मिस यू सो मच गीत … मेरे मन में ऐसे शब्दों की बाढ़ सी आ गई … और मैंने मैसेज करके उसे भी ये सब कहा.

मैंने उससे पैर छोड़ने को कहा … और कुछ देर रजत के साथ नाचने का आदेश दिया. अपनी चुत पर मेरी जीभ का अहसास पाते ही वो एकदम से सिहर गई और उसकी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह… मत करो न. उसने मेरी तरफ देखकर एक हल्की सी स्माइल दी और आधा कम्बल अपनी तरफ ले लिया.