बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो 2021 के

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ दिखाएं नंगी: बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स, मैंने पहले ताई को अपने नीचे किया और उनकी टांगों को चौड़ा होकर लेटने के लिए कहा.

इंग्लिश सेक्स वीडियो भेजें

मैंने एक दिन उसे अपने लंड की फोटो भेज दी और उसके देखने के निशान को देख कर मैंने सॉरी लिख दिया कि गलती से चला गया. किंग दिसावर खबरगांड चाटकर उसने उसकी गांड में अपना लन्ड एक ही बार में बड़ी बेरहमी से घुसा दिया जिससे अनामिका की गांड से खून भी निकल गया और उसकी हालत एकदम अधमरी सी हो गयी.

वो जाते जाते बोला- दीदी, आज ना आप मिनी स्कर्ट पहन लेना … उसमें आप काफी हॉट लगती हो. सेक्स वीडियोस एचडीइधर …स्नेहा चेंजिंग रूम में ज्योति से मस्ती करने लगी- आज तो लगता है काम हो गया तेरा?ज्योति चिढ़ते हुए बोली- घंटा काम हो गया … साली छिनाल पूरा काम खराब कर दिया.

उसकी कमर इतनी तेजी से मेरे लौड़े पर उछल रही थी कि वो मुझे एक चिकनी मछली सी फिसलती महसूस हो रही थी.बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स: पहले तो उन्हें यकीन नहीं हुआ, फिर मैंने उन्हें अपनी पूरी सच्चाई बताई.

क्या मैं आपसे बात कर सकता हूं?रोहन को मैंने हैंगआउट्स पर मैसेज करने को बोला.चाची- सीईईई … और कितना तड़पाओगे नीरू डार्लिंग … अब सहन नहीं होता … आह डाल भी दो अपना मूसल.

16 दिशाओं के नाम हिंदी में - बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स

उसी दरमियान मैंने अपना हाथ उसकी निक्कर में डाल दिया और उसकी चूत को मसलने लगा.शालू भी हंस कर बोली- हां दादू अब तो मम्मी भी आपके लंड से चुदवाती हैं और उन्हें मेरी चुदाई की बात भी मालूम है.

कुछ देर बाद उठकर अपना लंड और उसकी चूत साफ करके मैं बाथरूम में चला गया. बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स सितारा के चूसने से लण्ड मूसल की तरह कड़क हो गया तो सितारा मेरी जाँघों पर ऐसे चढ़ी जैसे घुड़सवारी कर रही हो.

मैंने कहा- नहीं … अब आपको भी मेरा लंड चूसना पड़ेगा वरना मैं चुदाई नहीं करूंगा.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स?

भाभी हंस कर बोलीं- हॉर्न दबाने से क्या हासिल होगा मेरी जान … असली मजा तो नीचे के इंजन चलाने से मिलेगा. फ़च्छ की आवाज के साथ लंड चूत में पेवस्त हो गया और मैं उसके दूध पकड़ कर जोर जोर से उसे चोदने लगा. तुम कब आईं?रीमा ने शर्माते हुए कहा- जब तुम मेरा नाम लेकर अपने प्यार की वर्षा कर रहे थे.

मैंने उनके बारे में कभी भी गलत नहीं सोचा था क्योंकि मुझे पता था कि भाभी देंगी तो हैं नहीं. मैंने बिना समय गंवाए अपनी अंडरवियर उतार दी और उसके ऊपर चढ़ कर उसको चूमने लगा. मैंने कमरे के बाहर से पूछा- आंटी लकी है?आंटी अन्दर से ही बोलीं- वो काम से बाहर गया है.

Antarvasna Audio Story सुन कर मजा आया या नहीं?अगले भाग में मैं बताऊंगी कि कैसे मैंने जेठ जी का लंड लिया और हम दोनों को कैसा मजा आया. बस जल्दी से आ जाओ … मुझे आपकी बहुत जरूरत है, अब मुझसे सहन नहीं हो रहा है. मैं और भाभी अब बहुत खुश हैं और हर रोज़ मुझे मेरी खूबसूरत, सेक्सी भाभी के साथ चुदाई करने का मौक़ा मिल रहा है.

रात को फ्लैट पर आये और बेडरूम में आते ही मैंने उसके होंठ चूम लिये तो उसने मेरा चेहरा पकड़ा और किस करने लगी. इसी तरह बीच बीच में मैं उसके यहां चली जाती और अपनी चुत की खुजली मिटा लेती.

मैंने देखा कि चिकनी आशारा के रोम छिद्र तक उभर कर बता रहे थे कि यह अनोखा अहसास था.

तभी मैंने उन चारों को रोक दिया और उनसे कहा- बस बस … इतने उतावले हो जाओगे तो पैन्ट में ही झड़ जाओगे.

एक ऑटो में किसी तरह समीर घुसा तो उसमें पहले से चार लोग उधर और इधर भी तीन लोग बैठे थे. दस मिनट बाद आंटी ने मुझे अपनी जांघों के बीच बैठने को कहा और लंड चुत में डालने को कहा. उसके बताए अनुसार जीजू ने उससे प्यार मुहब्बत की बात करनी शुरू की थी.

फिर मैंने उसकी पैंटी में हाथ डाला तो मुझे महसूस हुआ कि उसकी चूत बिल्कुल चिकनी और क्लीन शेव्ड थी. स्नेहा- बाप रे … दीदू आप तो कमाल हो पर आपने मॉम का भोसड़ा कैसे देख लिया दीदू?नेहा- यार रात को कई बार छत पर कभी अपने घर के गार्डन में चली जाती थी. वो अपने पति के साथ ग्रुप सेक्स और लेस्बियन सेक्स का मजा उठा चुकी थी.

तभी मैंने एक ज़ोर का झटका देकर फिर से बच्चेदानी पर लंड से चोट मारते हुए कहा- खुश नहीं रहोगी क्या मुझसे?मनोज … मुझे बहुत अच्छा लग रहा है जल्दी करो तेज़ तेज़.

शेखर की हथेली उस चिकने काम रस से चिपचिपा गयीं थी।इसका एक फ़ायदा ये हुआ कि शेखर की हथेलियों की हल्की सी हरकत से धारा की चूत अपने आप अपने होंठों से चिपक कर फिसलन का अहसास दिला रही थी. इधर बहुत सी कहानियों को पढ़ने के बाद मेरे मन में भी आया कि मैं अपनी सेक्स कहानी आप सभी पाठकों के साथ साझा करूं. उधर झड़ चुके दिनकर से रहा नहीं गया तो वो खड़ा होकर अपनी बेटी चमेली को किस करने लगा.

मैं मम्मी की बात सुनकर हां में सर हिलाते हुए मन में सोचने लगी कि आज तो मैं अपना काम करवा कर ही लौटूंगी. मेरा ये टॉप बहुत फिटिंग का और थोड़ा लम्बा था, तो उसको मैंने जींस के अन्दर खौंस लिया. उसके दोनों मम्मों को मैं जोर-जोर से बारी बारी से चूस रहा था और वह मेरी पीठ पर हाथ फेर रही थी.

मैंने शीना को फ़ोन लाकर दिया और बोला- शीना सॉरी, दरअसल तुम हो ही इतनी हॉट तो तुम्हें देखकर मेरे कदम बहक गए थे, आई एम रियली सॉरी.

सेक्सी औरत की कहानी में आपको मजा आ रहा है ना? आप मुझे मेल करना न भूलें. कुछ सात-आठ जोरदार धक्कों के बाद मयंक ने गांड में से लंड को निकाल दिया.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स मैंने उसकी दोनों टांगों को फैला दिया और टांगों के जोड़ पर हाथ फेरने लगा. उसका लंड मुझे इतना मस्त लग रहा था कि आज पहली बार दिल कर रहा था कि इसका लंड मुँह में लेकर अच्छे से चूस लूं.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स मैंने भी घुटनों पर बैठ कर फरियाल की बेबीडॉल उठाई और उसकी नंगी चूत को चूमते हुए कहा- ओके डार्लिंग. संगीता लगातार मेरे लंड पर उछल रही थी और चिल्लाने लगी थी- आह चोदो मुझे और जोर से चोदो … मेरी चूत और गांड को खा जाओ … आह फाड़ डालो.

आंटी की इतनी तेज चीख निकली कि आस-पास वालों को पता चल गया होगा कि इनके घर में आज चुदाई चल रही है.

सेक्सी बीएफ चाहिए देहाती

मैंने अपने हाथों से उसके हाथ पकड़ कर दूर किए और उसकी चूत को देखने लगा. ऑफिस गर्ल पोर्न कहानी में पढ़ें कि हमारी सहयोगी कम्पनी में एक लड़की से मेरी दोस्ती हो गयी. अगर आपको मेरी सेक्स कहानी पसंद आती है, तो मैं दूसरी चुदाई की कहानी बहुत ही जल्दी लिखूंगा.

धक्का लगते ही मैं एकदम से गिरने लगी तो जाकर सीधे समीर की गोद में गिरी. हुआ यूं कि एक दिन जब मॉम और डैड अपने एक दोस्त की पार्टी में गए थे, उस रात बहुत तेज बारिश हो रही थी. बंगालन भाभी- कितने स्वार्थी हो तुम रोहित!मैं- क्या हुआ भाभी … मैंने क्या किया!बंगालन भाभी- तुम्हें जरा भी शर्म नहीं आती … जब भूख लगी तो भाभी याद आ गयी और जब तेरी भाभी दिक्कत में है, तो तू उसकी मदद करने के बजाए उसे छोड़कर चला गया.

मगर फिर उसने सोचा कि चलो ललित से ही बात करते हैं और धारा की कामुकता के बारे में और कुछ जानते हैं.

मैंने उन दोनों की इस कारगुजारी को अनदेखा करते हुए अपनी भाभी से कहा- भाभी मुझे माफ कर दो, अब मैं आपको शिकायत का कोई मौका नहीं दूंगा. रात बारह बजे मैंने फिर से उनकी चूत चोदी और उनकी चुत में लंड पेल कर सो गया. अब मैंने उसके कूल्हों के नीचे तकिये लगाकर गांड को लंड के लेवल में लिया और एक ही झटके में पूरा लंड उसकी गांड में डाल दिया.

इधर मैं बता दूँ कि मेरा परिवार गांव में रहता था और मैं अकेला यहां पर रहता था. वह हंसने लगी और बोलने लगी- क्या मजाक कर रहे हो यार … मैं कोई खूबसूरत नहीं हूं. जैसे ही उसने मुझे देखा, तो भाग कर मेरे पास आ गया और मेरी साईकल लेकर अन्दर करने लगा.

उसकी गर्मी तो शांत हो गयी थी, लेकिन मेरी गर्मी और बेचैनी और बढ़ गयी थी. मैंने फिर से उसका हाथ अपने लंड पर रख दिया और उसके प्यारे प्यारे होंठों पर किस करने लगा.

मैं मौसी और उनकी जेठानी को सेक्स के खेल में दोनों एक दूसरी के सामने सहज करना चाहता था. तुम कब आईं?रीमा ने शर्माते हुए कहा- जब तुम मेरा नाम लेकर अपने प्यार की वर्षा कर रहे थे. लंड झड़ जाने के बाद मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चूचियों को मसलने लगा.

मैंने उसे फोन पर ही किस किया, समझाया तथा वादा किया कि मैं उसे फिर मिलने आऊंगा.

भाभी ने एक सेकंड के लिए मेरे लंड को ज़ोर से पकड़ लिया … फिर छोड़ दिया. भाभी बोलीं- अब पूरा कैसे जाएगा?मैं हड़बड़ा गया और मैंने उनकी सवालिया नजरों को उठाया तो वो मोबाइल दिखाने लगीं. तभी उसने एकदम से मेरी चूत में अपनी एक उंगली रगड़ दी और उसके दूसरे ही पल उसने अपनी दो उंगलियां एक साथ मेरी चुत में घुसा दीं.

फिर मैंने आशारा की दोनों टांगें अपने कंधों पर रख लीं और लंड का सुपारा चूत पर टिका कर झटका दे दिया. मेरा तीसरा छेद यानि मुंह अभी खाली था तो मैंने अमित का लंड मुंह में ले लिया और उसे चूसना शुरू कर दिया.

एक दो बार उसने चुत लंड पर पटक कर एडजस्ट की और मयंक से बोली- हां जान … आ जाओ … मेरी गांड बहुत ज्यादा टाइट है, प्लीज धीरे से फाड़ना. तभी विशाल ने मेरे बूब्स पर कब्जा कर लिया और ब्रा के ऊपर से मेरे बूब्स दबाने लगा. मस्त चुदाई हुई थी यार … वो भाभी अब भी मेरे दिमाग से निकलती ही नहीं है.

बीएफ चोदी चोदा खुल्लम-खुल्ला

वो बोली- आज नीचे कोई नहीं है, सब बाहर गए हैं … और सार्थक के पास दूसरी चाबी है, वो दरवाजा खोल कर खुद आ जाएगा.

एक बात और … हमारी गाली हम लड़कियों तक सीमित रहती है, वहीं लड़के अपनी गाली लड़कों तक इस्तेमाल करते हैं. हमारे शहर में एक नदी पड़ती है, जिसके पास नए साल वाले दिन खूब बड़ा मेला लगता है. वो लगातार सिसकारियां लिए जा रही थीं- हम्म्म अह उम्म हहह सीईई!मैं लंड पेलते हुए उनसे बात कर रहा था लेकिन वो मुझे जवाब नहीं दे रही थीं.

फिर पूरे 21 दिन के लॉकडाउन में मैं भाभी के घर पर ही रहा और दिन रात भाभी की जमकर चुदाई की. बस चल दी और कुछ दूर चलने के बाद मैंने अपने नकाब का ऊपरी कपड़ा हटाया तो ब्रा और कुछ भी ना पहने होने की वजह से मेरी 34 की चुचियां एकदम साफ नजर में आने लगी थीं. सट्टा किंग गली दिसावर में क्या आया हैउसके मम्मों को देखते ही मेरे दिमाग़ में खुराफात आ गयी और मैं रानी के साथ सेक्स की सोचने लगा.

रोहन कुछ ही पलों के अंदर तेज तेज झटके मारने लगा।उसके झटकों की ताकत से नेहा का शरीर हिल रहा था और नेहा ज़ोर ज़ोर से सिसकारियां लेते हुए अपनी चुदवा रही थी. मैंने भाभी से पूछा- आप और ड्रिंक लेंगी?वो उठ कर खड़ी हुई और मेरे लिए बियर और खुद के लिए वोडका ले आईं.

भाभी नशीली आंखों से मुझे देखती हुई बोलीं- आ जा रोहित … पी ले मेरा दूध. तन्वी- क्यों, तेरी ही चूत में कीड़े कुलबुलाते हैं क्या … मेरी चूत में आग नहीं लगती क्या?पल्लवी- हा हा हा हा … मुझे नहीं पता था. मैंने कहा- आज चाय नहीं पिलाओगी?वो गर्म थी … इसलिए लड़खड़ाती आवाज से बोली- हां … पिलाऊंगी.

आप सब लोगों के मुझे बहुत से मैसेज आये और मुझे बहुत प्रोत्साहित किया, मेरी बहुत सी महिला पाठकों ने भी मेरी कहानियों को बहुत पसंद भी किया. अभी मेरी कमसिन उम्र ही थी मगर आज इस चुदाई के नजारे ने मुझे मस्त बना दिया था. तभी मैंने उसकी चूची के निप्पल को अपने दांतों से पकड़ कर खींचा तो उसको दर्द हुआ और उसने उसी पल मेरी पीठ पर जोर से नाखून गड़ा दिए.

हुआ यूं कि एक दिन जब मॉम और डैड अपने एक दोस्त की पार्टी में गए थे, उस रात बहुत तेज बारिश हो रही थी.

उसकी चूत में मेरा लंड डालने से पहले उसके होंठ ओर उसके बोबे चूसने लगा. पिछले कई महीनों से मैं अपनी सेक्स कहानी लिखना चाह रहा था मगर समय न मिल पाने के कारण ऐसा न कर सका.

वो कमरे में आते ही बाथरूम में फ़्रेश होने चली गयी और मैं नर्म मुलायम बिस्तर पर लेट गया. वो बोली- राज तुम बहुत बुरे हो … इतना मस्त लौड़ा लेकर भी तुम अपनी प्यासी शन्नो को तड़पा रहे थे. फिर तो चिराग एकदम से आगे बढ़ गया और वो अपनी एक उंगली ज्योति की चूत में घुसेड़ने लगा.

कुछ दिन बाद संजय आ गया और उसके आने के अगले महीने कविता ने अपने गर्भवती होने की खुशखबरी सबको सुना दी. मेरी चुत खुद खौल रही थी कि रोहित का नया लंड भी मेरी चुत में घुस कर मेरी चुत की खुजली मिटा दे. उन्होंने अपने दोनों पैरों को अड़ा कर मेरे चुदाई के काम में रोक लगा दी.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स मैं एक ओर झुका और अपनी पैन्ट में से क्रीम निकाली, वही लंड पर लगा ली. मैंने उसे उठाकर अपने लौड़े पर बैठा दिया और वो लंड पर बैठ कर आटा लगाने लगी.

बीएफ फुल ओपन हिंदी में

फिर मेरी बीवी ने मुझे एक चुम्बन दिया और वो भी कार में जाकर बैठ गयी. फिर वो वासना से बोली- यार, तुम मुझे पहले क्यों नहीं मिले, मैं कब से इस तरह के लंड से सेक्स करना चाह रही थी. इस पर मोहन अपनी शॉर्ट्स में से अपना चार इंच का लन्ड निकाल कर नीरू के हाथ में दे देता है.

धारा- चलिए फिर, फ़िलहाल तो आप ऑफ़िस में होंगे, रात में बात करते हैं. मैं- वो तो ठीक है शीना, अगर ये बात किसी को पता चल गई तो?शीना- कौन बताएगा अंकल, क्या आप बताओगे किसी को?उसकी ये बात सुन कर मैं निरुतर हो गया और मैंने दरवाजा बंद कर के उसे गोद में उठाया और बेडरूम में ले गया, उसे बेड पर लिटा दिया. भोजपुरी गाना डीजे सॉन्गअपनी चुत पर प्रहार होते ही वो नागिन की तरह बल खाने लगी और छटपटाने लगी.

जब मैं उसकी चुदाई करता था तो उसको बोलता था- कोमल सोचो, अगर इस डिल्डो की जगह असली मोटा लंड तुम्हारी गांड में हो … और हम दो मर्द मिलकर तुम्हारी चूत और गांड चोदें तो तुम्हें कितना मज़ा आएगा.

इस प्रकार से उन्होंने अपनी ऊंचाई कम कर ली और बिल्कुल बेड के किनारे पर आ गई. फिर वे दोनों मेरे बदन को मेरे कपड़ों से अलग करने लगे और धीरे-धीरे करके मेरे सारे कपड़े निकाल दिए.

चूत महारानी पहले ही इतनी गीली हो चुकी थी कि उसे किसी तरह की चिकनाई की ज़रूरत ही नहीं थी। लंड का सुपारा चूत की दरार को खोलता हुआ चूत के गुलाबी होंठों को रगड़ रहा था. इससे रुचि गर्म होने लगी और मेरे लंड को पकड़ कर चुत ले मुँह में ले जाने लगी. मुझे धक्का देते हुए मेरे लंड को मुँह से निकाला और खांसते हुए लंबी सांस लेकर बोलीं- लगी रवि तुम तो बड़े जालिम हो … लगता है आज मार ही डालोगे.

धारा- दरअसल कल रात हमारे इंटरनेट ने काम करना बंद कर दिया था इसलिए अचानक ऑफ़-लाईन होना पड़ा.

आप सभी पाठकों को मेरा नमस्कार!मैं इस साइट पर नया तो नहीं हूं, पर अपनी पहली सेक्स कहानी लिख रहा हूं. फिर मेरी मां ने दो मिनट में ही सैम के लंड को झड़ा दिया और अन्दर बाथरूम में चली गईं. मैं- ऊओ यार … मैं तुमको काफी दिनों से अपनी गर्लफ्रेंड बनाना चाहता था.

पार्किंग वाला गेमसैम ने मेरी मां की चूत से अपनी उंगलियां निकालीं और उनको घुटने के बल बिठाकर अपना मोटा सा लंड मां के मुँह में पेल दिया. 2 मिनट तक सुनीता का मुखचोदन करने के बाद उसने मुझे जल्दी से चोद देने के लिए कहा जिससे कोई आकर हमारी रासलीला में विघ्न न डाल सके और हम अपनी तृप्ति को पा सकें.

वीडियो बीएफ हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ

मैंने फ़लक को अपनी गोद में लिटा लिया और उसकी पैंट में उभरी चूत की फाँकों को सहलाना शुरू किया. मेरे मुँह से भी निकलने लगा- आह उफ और जोर से मामा … पेलो मामा जोर से पेलो … फ़ाड़ दो मेरी बुर को आह चोदो और चोदो. सुनीता मेरे लंड के ज्यादा धक्के नहीं झेल पाई और कुछ ही देर बाद झड़ गई.

फिर जब वो मेरा साथ देने लगीं, तो मैंने देर ना करते हुए अपना लंड निकाला और उनकी चुत पर रगड़ने लगा. मैं इधर प्रकाशित होने वाली हर सेक्स कहानी को बड़े ही चाव से पढ़ता हूँ और लगभग 6 से 7 साल से इस साईट से जुड़ा हुआ हूं. मुझसे प्राची ने कहा कि उसे बहुत ज़ोर की भूख लगी हैं, पेट में और नीचे भीप्राची ने कहा कि एक राऊंड के बाद खाना खाएंगे।मैं अपने दोस्त के रूम पहुंचा, रूम बंद करते ही, प्राची मुझपे झपट पड़ी।किस करते हुए उसने मेरे जींस चड्डी को नीचे कर दिया, बोलने लगी- दो घंटे से रगड़ रहे हो, अब बर्दाश्त नहीं हो रही है।मैंने अपनी जींस को पूरा उतार दिया.

मैंने सितारा के माथे पर तिलक लगाया और उसी उंगली को सितारा की मांग में फेरकर उसकी मांग भर दी. अब मुझसे बर्दाश्त करना बहुत मुश्किल हो रहा था तो मैं घोड़ी बन गई और उनके लंड को पकड़ कर अपनी चूत में डालने लगी. मेरे और मयंक के लंड से ढेर सारा गर्म माल निकला, जो संगीता की जीभ और मुँह पर जा लगा.

धारा की साड़ी और साये की दीवार भी शेखर के लंड को धारा की गांड की दरार को ढूँढने से रोकने में असमर्थ ही साबित हो रहे थे. इंडियन कॉलेज गर्ल Xxx कहानी में पढ़ें कि एक लड़की को पड़ोसी लड़के के कमरे में पोर्न फोटो मिली.

वो चुदते समय ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थी- आह फक मी हार्ड बेबी … उह … सो गुड … बहुत अन्दर तक जा रहा है … और तेज चोदो आह!मैं ताबड़तोड़ चुदाई में लगा रहा और वो अकड़ कर झड़ गई.

तभी भाभी ने अपना बदन अकड़ाना शुरू कर दिया और वो मुझे जकड़ती हुई झड़ गईं. सेक्सी इंडियन पिक्चरमदहोश नेहा मेरे मुंह पर ही बैठ गयी और उसने मेरे मुंह को अपनी दोनों जांघों से दबा लिया और ऊपर नीचे होने लगी. भोजपुरी बिहारी सेक्सी वीडियोवो तड़प गयी और मेरा चेहरा चूचियों पर दबाने लगी तो मैंने एक ही झटके में लंड को चूत की गहराई में उतार दिया. पल्लवी- यार पता नहीं क्या हो गया था आज मुझे! समीर मेरे बारे में क्या सोच रहा होगा, शिट यार.

उसने अपने हाथों को पीछे ले जाकर शेखर की जींस के ऊपर से ही लंड को तलाशना शुरू किया.

तो मैं बोला- देखो शीना, इसमें तुम्हारी माँ की कोई गलती नहीं है, ये एक लंबी कहानी है जो मैं तुम्हें फिर कभी बताऊंगा. इधर चंचल उसके सिर के पास जाकर अपनी चुत चुसवाने लगी, तो वहीं रुचि बाजू में आकर अपने मम्मों और होंठों को मेरे मुँह में देने लगी. मैं घर से नार्मल कपड़े पहन कर क्लिनिक गयी और रोहित के केबिन के अन्दर गयी.

हम जिसके घर आए हैं, वो कौन है? क्या आप कॉलगर्ल हो और अगर हो, तो क्यों? अगर कोई कमी है तो मैं पूरी करूंगा. मैं सार्थक के घर लगभग रोजाना ही जाता था, तो मेरी उर्वशी से भी बात हुआ करती थी. मैंने नेहा के दोनों हाथ फैला कर उन्हें कस लिया और अपने कड़क लन्ड को उसकी चूत पर रख कर कमर हिलाने लगा ताकि उसकी चूत पर लन्ड की रगड़ हो और वो मचले.

बीएफ ब्लू सेक्सी देहाती

भाभी ये सुनकर एकदम से चौंक गईं तभी मैंने बाहर देखा और सब कुछ मुताबिक़ पाते हुए भाभी के करीब आ गया. अपने हाथों से अपनी मौसी की चूचियों को भी दबाते हुए निखिल गांड मारता रहा. ये कहते हुए निखिल में मम्मी के ब्लाउज के आगे के भाग को अपनी मुट्ठी में पकड़ कर फाड़ डाला.

वह हमेशा बहुत ही चुस्त सूट पहनती थी, जिससे उसके जिस्म का हर कटाव उभर कर आता था.

उधर झड़ चुके दिनकर से रहा नहीं गया तो वो खड़ा होकर अपनी बेटी चमेली को किस करने लगा.

यह घटना देश में लॉक डाउन लगने से पहले यानि होली के अगले दिन की है, जिसकी शुरुआत होली वाले दिन हुई. मैंने अपना लंड भाभी की चूत के मुँह पर रखा और उनकी आंखों में देखते हुए एक जोरदार धक्का दे मारा. गे सेक्स स्टोरीउर्वशी का रंग हल्का सा सांवला है … पर उसके नैन-नक्श बहुत तीखे हैं … जिससे उसके चेहरे पर एक रौनक सी रहती है.

डांस के बाद ठंड लगने लगी, तो मैं दोस्त की बहन रिंकी, अवनि, एक आंटी और मेरा दोस्त, हम सभी लोग बैठ कर मजा लेने लगे. अब मैंने अपना लौड़ा उसकी कोमल चूत पर सैट किया और ज़ोर से धक्का दे दिया. शेखर- मैं एकदम ठीक हूँ ललित भाई, बस सोने ही जा रहा था।धारा- अरे इतनी जल्दी सोने जा रहे हैं आप … क्या हो गया?शेखर- बस ललित भाई, आज तबियत थोड़ी नाराज़ है.

अपनी शर्ट को उतारा … तो भाभी ने मेरे सीने पर किस किया और कहा- तुम तो बहुत स्मार्ट हो. वैशाली दीदी के होंठों पर मैंने एक हल्का सा चुम्मा दिया, जिसके जबाव में उन्होंने बंद आंखों से ही सुकून की एक स्माइल दी और मेरे सिर पर एक बार हाथ फेर दिया.

मैं- मामी, ममता कहीं दिखाई नहीं दे रही है?मामी- वो अभी तक सो रही है.

मैं पोजीशन बना कर फरियाल की चूत पर आ गया और उसकी चूत को पूरा मुँह में लेकर चूसने लगा. उसकी 34 इंच की चट्टान जैसी चूचियों को ऊपर से ही अपने हाथ में भर कर मसल दिया. मेरी रंडी चूत की प्यास की कहानी में मज़ा आया या नहीं, मुझे अपना फीडबैक जरूर भेजें.

सैक्स story फिर पास पड़े अपने कपड़े उठाकर उसकी जेब से तीन कंडोम का एक पैकेट निकाला. मगर धारा को बिना देखे उसके मख़मली शरीर का आनंद उठाने का रोमांच ही इस वक्त शेखर के लिए काफ़ी था.

उन्हें पता ही नहीं था कि मैंने भी उनकी चुदाई देख कर पूरा आनन्द लिया था. फिर लाजवाब अन्दर धंसे पेट से होते हुए मेरा लंड पहाड़ों और घाटियों के बीच जा पहुंचा और सुंदर वादियों में खो जाने के लिए मचल उठा. मेरी सांस बंद थी और उनका वीर्य बाहर नहीं आ सकता था तो जबरदस्ती मुझे गटकना पड़ा.

सेक्स बीएफ साड़ी में

मुझे हल्का सा दर्द हुआ तो मैं अआह्हह करके जोर से चीखी क्योंकि मुझे सेक्स करते हुए चीखना बहुत पसंद है. मयंक ने संगीता की चूत पर हल्के हाथों से थप्पड़ लगाए तो संगीता फिर से गर्म होने लगी थी. उसने जाते समय मुझसे कहा कि अम्मी मुझे थोड़ा काम है, मैं थोड़ी देर से घर आऊंगी.

मीरा को थोड़ा दर्द हुआ … क्योंकि वो काफ़ी दिनों के बाद अपनी गांड मरवा रही थी. होंठ रखते ही चाची मजे से चिल्लाई- अई ईई …मैं चाची की चूत को चाटने लगा.

ममता- चलें भैया, आप क्या सोचने लगे?अभय- अं … हं … हां … तुम चलो, कार में बैठो.

गगन हवस से भरा हुआ स्टेज पर चढ़ा और अपनी बहन प्रियंका के मम्मों को दबोचकर उसे किस करने लगा. उम्मीद करती हूँ कि ये कहानी भी आप लोगों को पसंद आएगी।तो दोस्तो, चलते हैं आज की देसी हॉट गर्ल सेक्स कहानी में!यह कहानी सुनें. मेरे मन में उसके लिए प्यार उमड़ने लगा था … मगर मेरे फट्टू स्वभाव के चलते हम दोनों की गाड़ी अटक सी गई थी.

उसका मोटा लंड जैसे ही ही मेरी गांड के छेद में घुसा तो मेरी एक कराह निकल गई. मेरे लंड को भाभी पैंट के ऊपर से पकड़ने की कोशिश कर रही थीं- अपना लौड़ा निकाल भोसड़ी के मादरचोद … इससे क्या अपनी बहन को चोदेगा … बाहर निकाल इसे!मैंने एक थप्पड़ खींच कर भाभी के बोबों पर मारा- मादरचोद रंडी … इतनी जल्दी क्या है लौड़ा लेने की. मैं भाभी की पैंटी निकाल चुका था और उनकी चूत का हाथों से मसलने लगा था.

सरकार ने लॉकडाउन में जैसे ही कुछ ढील दी तो सभी इधर उधर जाने आने लगे.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्स एक्स: मीरा भी अपने हाथ से अपने मम्मे पकड़ कर निखिल से चूची चुसाई का मजा लेने लगी. अब आपका उन मोहतरमा से परिचय करा देता हूँ, जो मेरे लंड से मुहब्बत कर बैठी थी.

अपने एक हाथ में बहुत सारा थूक लिया और फिर से भाभी की चूत पर थप्पड़ दे मारा. तैयार होकर जब मैंने खुद को आईने में देखा तो आज मैं एकदम करारी माल लग रही थी. मौली के नैन नक्श तो ऐसे थे, मानो रम्भा नाम की अप्सरा इंद्र का दरबार छोड़ कर मेरे बाबूलाल की सेवा के लिए आ गई हो.

दोस्तो, मैं समीर हूं धारा और शेखर की कहानी के अंतिम भाग के साथ हाजिर हूं.

जिसने भी ये पोज़ ईजाद किया है यानि 69 का … वही जानते होंगे इसकी खुशी. सनी हंसते हुए बोला- फोन मेरे साले को दो … मैं भी उसे विश कर देता हूँ. मैंने एक हाथ से उसके दोनों गाल पकड़ लिए और अपनी तरफ खींच कर उसे लिप किस करना शुरू कर दिया.