बीएफ नेपाली में

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स हिंदी में बीपी

तस्वीर का शीर्षक ,

मोटू पतलू की रानी: बीएफ नेपाली में, मैंने जल्दी से आंटी के कपड़े उतार दिए और आंटी ने मेरे कपड़े उतार दिए.

तृषा कर मधु का वीडियो बीएफ

इस तरह मेरी इस कमजोरी को समझ कर मुझे एक लड़के ने प्यार के जाल में फंसा लिया. बीएफ एचडी वीडियो सेक्सी चुदाईजब लोगों के जागने का समय हो रहा था तो हम दोनों प्रेमी नंगे ही सोने लगे.

अब मैंने उसको वापस मेरी तरफ घुमा लिया और उसके मुलायम होंठों पे एक किस कर लिया. बीएफ फुल एचडी वालीये बात करीब आठ साल पहले की है, जब मैं पटना में रहता था और एक ऑफिस में काम करता था.

रात धीरे धीरे गुजर रही थी और राजधानी अपने पूरे दम से दिल्ली की ओर भाग रही थी जिसके किसी डिब्बे में भीतर ससुर बहू के नंगे जिस्म सनातन यौन सुख का रसपान करते हुए एक दूसरे में समा जाने को मचल रहे थे.बीएफ नेपाली में: कमरे में आते ही उन्होंने अन्दर से दरवाजे को लॉक कर दिया और मुझसे बोलीं- टेंशन मत लेना, मेरा हज्बेंड सो गया है.

मेरा लंड थोड़ा बड़ा और मोटा है तो हो सकता है कि शुरू में दर्द ज्यादा हो… लेकिन यह गारंटी है कि बाद में बहुत मजा आएगा.अब मुझे घर पर झूठ बोलना पड़ा कि मुझे जयपुर जाना है किसी दोस्त के पिताजी की तबीयत ज्यादा खराब है, देखने जाना है.

हिंदी पिक्चर ब्लू सेक्सी वीडियो - बीएफ नेपाली में

पर मैं पूरे जोश में था और उसको गिरे हुए पोज़ में ही बेतहाशा चोदे जा रहा था.फिर अचानक उसके एक्स बॉयफ्रेंड को कहीं से पता चल गया कि रुचिका मेरे साथ चुदती है, फोन पर बात करती है.

जैसे ही हम दोनों फव्वारे के नीचे गए, पता नहीं मुझे क्या हुआ मैंने उसको दीवार की तरफ़ मुँह करके खड़ा किया और नीचे उसकी टांगों से लेकर तक पूरी बैक साइड को किस करने लगा. बीएफ नेपाली में सोचता हूं काश आपको भी यहअन्तर्वासना कहानीपसंद आ जाए।याद के इस पहलू में मेरी उम्र 18 साल थी; मेरी जिंदगी मेरे दोस्तों और रिश्तेदारों और मेरी पाठ्य पुस्तकों के बीच बड़ी शांति से चल रही थी.

सो मैंने बेझिझक अपने कपड़े उतारे और उसकी गोद में बैठ कर उसके कपड़े भी उतारने लगी.

बीएफ नेपाली में?

मुझे मालूम नहीं था कि ये लव था या आकर्षण था, लेकिन मैं उसको बहुत पसंद करता था. तभी मैंने उसे खड़ा किया और पास में एक बिना हत्थे वाली चेयर पर बैठा दिया. स्वाति बोली- क्या आप मुझे मेरे पसंद की चीज नहीं दिखाओगे?मैं- हाँ हाँ.

मैं लंड लहराता हुआ बोला- मुँह में लोगी इसे?उन्होंने मना कर दिया, मैंने भी जबर्दस्ती नहीं की और वो मेरे सामने टाँग फैलाकर लेट गईं. मैंने उसके दूध दबाते हुए कहा- रंडी, अब क्यों माँ चुदवा रही है भोसड़ी की. उसके बाद डॉक्टर के पास जाकर मैंने सफाई करवाई और उसके बाद मैं उससे जब भी चुदवाती, हम कंडोम का इस्तेमाल करते.

वाह… क्या चूत थी मामी की… एक मख़मली और बहुत ही बड़ी शायद कामसूत्र में कही हुई ‘हथिनी योनि’ जैसी!मुझसे रहा नहीं गया और मैं मामी की चूत के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूसने लगा. जब उन्होंने पट्टी लगाई तो उनके शरीर की मादक खुशबू ने मुझे मदहोश कर दिया. मैं उन्हें धन्यवाद कहना चाहूंगा जिन्होंने अन्तर्वासना जैसे पोर्टल का सृजन करके लोगों को एक मंच दिया कि वो अपनी आपबीती को कहानी के रूप में कह सकें.

मुझे नींद नहीं आ रही थी तो मैं बेड पर करवट लेकर लेटा हुआ माँ बेटे की चुदाई स्टोरी पढ़ रहा था. इतने में पूरी ताकत से आशीष मेरे दोनों बूब्स दबाने लगा और नीचे मेरी चूत में आशीष का लन्ड रगड़ खा रहा था। अब मुझसे रह पाना मुश्किल हो गया, मैंने अपनी कमर उठा दी.

फिर कुछ दिनों तक स्कूल नॉर्मली चलता रहा और मैं भी उस घटना को भूल चुकी थी.

प्यारे दोस्तो, मैं एक बात बताना चाहता हूँ कि मेरा ऐसा कोई दोस्त नहीं है, जिसने मेरी नेहा दीदी को ना चोदा हो और उसके ससुराल में भी कोई ऐसा मर्द नहीं होगा, जिससे दीदी ने ना चुदवाया होगा.

आज सुबह जब मैं कॉलेज पहुँचा तो लड़के बहुत ही कम थे क्योंकि आज मैं जल्दी पहुँच गया था. वो- काफी टाइम लेते हो नहाने में?मैं- मैं सारे काम एन्जॉय करते हुए करता हूँ. आंटी ने उठ कर कपड़े पहने, मुँह हाथ धोए और मेरे होंठों पर किस करके बोलीं- मैं 11 बजे आऊंगी.

लगभग एक महीने में उनकी तबियत ठीक हुई, पर बुखार की वजह से उनमें थोड़ी कमजोरी आ गई थी. मैंने घड़ी में देखा तो ग्यारह बज चुके थे और लगभग सभी लोग थक कर सो गए थे. मैं बहुत खुश हो गई थी कि मुझे भी अपनी गोद में बच्चा लेने का सौभाग्य प्राप्त होगा.

पर तभी मुझे ख्याल आया कि इसमें क्या गलत है, हर एक इन्सान को जिस्म की भूख तो मिटानी ही पड़ती है.

जिम जाता है?मनन- लंड तो तुम अपनी चुत में लोगी, तब पता चलेगा कितना बड़ा है. भाभी के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह…उनकी पेन्टी गीली हो चुकी थी, तभी मैंने एक उंगली उनकी चूत में घुसा दी, जिससे वो चिहुँक उठीं. क्या और आगे कुछ करने की परमीशन है?पहले तो मैं कुछ नहीं बोली तो वो और आगे बढ़ गया.

जिसे देखकर मिंकी बोली- हाय आपा, इनका लंड तो बहुत बड़ा और मोटा है, ये हमारी छोटी सी चूत में कैसे घुसेगा?मैंने मिंकी को समझाते हुए कहा- चूत का छेद सबका छोटा ही होता है, फिर भी लंड चाहे छोटा हो या बड़ा, सब की चूत में घुस ही जाता है. बाथरूम में उसने सीसी कैमरा लगाया हुआ था, जो रिमोट से उसी के लैपटॉप से जुड़ा हुआ था. देसी भाभी की अपनीहिंदी सेक्स कहानीपर आपके विचारों से भरे आपके मेल की प्रतीक्षा में.

सेक्स के पूरे 52 स्टेप मिले, सेक्स से पहले क्या करना चाहिए और बाद में क्या करना चाहिए.

हाय दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार! मैं शिव राज हाजिर हूँ!मेरी पुरानी कहानीदिल्ली वाली भाभी की चूत चुदाईको आप सभी का बहुत प्यार मिला, उसके लिए थैंक्स!आज फिर मैं आप सब चूतों को हेल्लो करता हूँ और सारे लंड को नई नई चूत मिलती रहे… ऐसी कामना करता हूँ. उसने मुझसे पूछा था कि तुम्हारे सारे कपड़े निकालने है या ऐसे ही सोती हो ना मेरी तरह?मैंने नशे में हाँ कह दिया.

बीएफ नेपाली में बड़ौदा से सूरत कुछ ही घंटों का सफ़र है तो मैं आए दिन अपनी मौसी के घर जाया करता था. हम दोनों जल्दी से तैयार होकर नीचे आए और कार से उसने मुझे उसी प्लेस पर ड्रॉप किया, जहां से लिया था.

बीएफ नेपाली में मैंने जेब से मोबाइल निकाला, फ्लाइट मोड पर करके उनका वीडियो बनाने लगा. तो उसने शर्म से आँखें बन्द कर लीं।दिल कर रहा था बस मैं इस मासूम सी गुड़िया को देखता रहूँ। मैंने उसके माथे और आँख पर चुम्बन किया। फिर अपने होंठ उसके होंठों के पास ले जाकर रुक गया। उसकी गर्म साँसें मेरी साँसों में मिलने लगीं। वो चुपचाप आँखें बन्द किए खड़ी थी। फिर मैंने उसके गुलाबी होंठों पर छोटा सा चुम्बन किया। जैसे ही मेरे होंठ उसके कोमल होंठों से छुए.

सबसे पहले मैंने दोबारा अपना फ़ोन चैक किया कि वीडियो रिकॉर्डिंग चालू है कि नहीं, रिकॉर्डिंग चालू थी, सब कुछ ठीक चल रहा था.

सेक्सी संभोग व्हिडिओ

मैं अपनी वाइफ के बारे में बता दूँ, उसका नाम सानू है और उसकी हाइट 5 फुट 6 इंच है. मेरी मकान मालकिन आंटी 37 साल की मोटी सी कम हाईट की एक शानदार माल है. थोड़ी देर इसी तरह रगड़ने के बाद दीदी ने करेले की नोक अपनी चुत के छेद पे रखी और एक ही झटके में आधा करेला अपनी चुत में घुसा दिया.

अब देखो कब ऐसा मौका मिलता है कि मैं किराएदारन आंटी अपनी मॉम और बहन तीनों को एक साथ एक ही बिस्तर पर कब चोद पाता हूँ. मैंने अपने दोनों हाथों से एक एक चुची को पकड़ कर दबाया और मुझे बहुत मजा आया. वह मेरे लिए चाय बना कर ले आई और वह मुझको चाय का कप देने लगी तो मैंने कप के साथ उसका हाथ भी पकड़ लिया था.

मैंने बड़े ज़ोर से धमाधम्म फिच्च… फिच्च… फिच्च… की ध्वनि के साथ करारे शॉट टिकाते हुए एक चूची में दांत गाड़ दिये और दूसरी चूची को पूरी ताक़त से हाथों से एसे निचोड़ा जैसे धुलने के बाद तौलिये को निचोड़ते हैं.

आज तक किसी भी लड़की या भाभी ने ऐसे मेरा लंड नहीं चूसा था, जैसा मीषा ने आज लिया था. थोड़ी देर लंड चूसने के बाद जब उसका वीर्य छूटने वाला था, तो उसने मेरे मुँह से लंड निकाला और डस्टबिन में माल गिरा दिया. उसकी देख कर मेरा लंड फनफनाने लगा, मैं भी उसकी गांड मारने को तैयार हो गया था.

ऐसा लग रहा था कि साली पूरा का पूरा खा जाएगी, वो पूरा लंड अपने गले तक ले जा रही थी और फिर पूरा बाहर निकाल कर जीभ से टोपा चाट कर फिर से अंदर ले रही थी. थोड़ी देर इसी तरह पड़े रहने के बाद दीदी ने करेला अपनी चुत से बाहर निकाला और वहीं किचन काउंटर पे रख दिया. ये बात मुझे पता नहीं थी कि मेरे भैया साल में दो बार घर आते थे और आंटी को उस रूम में चोद कर उनकी खुजली मिटाते थे.

थोड़ी देर में उसकी मेल आ गई। जिसमें उसका पता और फोटो था। मैंने फोटो देखा तो देखता ही रह गया क्योंकि मधु मेरे साथ कॉलेज में पढ़ी थी। कक्षा की सबसे सुन्दर और शरीफ लड़की. विवेक उत्तेजना से झूम गया, वो सीधी टांगें फैला कर लेट गया, कामिनी ने अभी उसके लंड को 8-10 बार ही चूसा होगा कि उसने कामिनी को अपने ऊपर खींच लिया.

हमने फिर से हाहाकारी चुदाई शुरू कर दी और अबकी बार बहुत देर तक चुदाई का मजा लिया. तो उसके नीचे से कमर हिलाने से मुझे भी जोश आ गया तो मैंने भी धीरे धीरे धक्के लगाना शुरू कर दिया जिससे मेरे और मिंकी के धक्कों की प्रतियोगिता सी होने लगी. वो खुद ही रात में बोली- वो एम डी सर का बेटा है, उसके साथ जाना पड़ता है क्लाइंट के पास! तुम तो जबरदस्ती शक करते हो!और मुझको पुचकारने लग गई.

कुछ देर बाद फिर से चुदाई का बवंडर उठा और फिर से चुत को लंड की तलब लगी.

उन लोगों ने अपने दोस्तों को फोन कर दिया और सबको कॉलेज के पीछे बुला लिया. मेरी बहन का दीवाना देवर मुझे अपने कमरे में लाकर नंगी कर चुका था मेरी चूत चुदाई के लिए… मुझे मजा आ रहा था लेकिन मैं दिखावे के लिए उसका विरोध कर रही थी. ’ बोल रही थीं लेकिन मुझे मालूम था कि मॉम की चुत को लंड की भूख लग गई है.

दोस्तो, मैं बबलू, मेरी पिछली कहानीप्रीति चूत चुदाने को मचल रही थीसभी पाठकों को पसंद आई थी. मैं उनकी गांड ले ऊपर से हाथ फ़ेरने लगा और गांड को धीरे-धीरे मसलने लगा.

अगले कुछ ही पल में वह भी कपड़े उतारकर सिर्फ ब्रा पेंटी में ही नदी में कूद गई. फिर एग्जाम हो गए और मुझे 25 दिनों के लिए घर जाना था, तो मैंने और दिव्या ने जाने की तैयारी की. मेरे बच्चा सो चुका था। मेरा भतीजा अभी अपने कमरे में सोने ही जा रहा था.

सेक्सी ब्लू फिल्म वीडियो इंग्लिश

मैंने अपना बायाँ हाथ प्रिया की गर्दन के नीचे से ले जा कर प्रिया को अपनी ओर खींचा तो प्रिया के रस भरे होंठ मेरे प्यासे होंठों से आ मिले.

और फिर से उससे एक बार गांड मरा लेने से मेरी गांड भी थोड़ी ढीली भी हो जाएगी।मैंने उससे एक बार फिर से गांड मराने की सोची. अब दोनों हाथों से उसके आमों को पकड़ा और उसके एक निप्पल को मुंह में ले कर चूसने लगा. देख जैसे मैं नंगी होती हूँ उसी तरह से नंगी हो जा और मैं भी देखती हूँ तू कैसे होती है.

मैंने प्रिया को सख्ती से अपनी बाहों में कस लिया और प्रिया की योनि के अंदर मेरे लिंग से वीर्य की जोरदार एक बौछार हुई… फिर दूसरी… फिर तीसरी. अन्तर्वासना पर हिंदी सेक्स स्टोरीज पढ़ने वाले मेरे प्यारे दोस्तो, मेरा नाम एडी है, मैं 23 साल का हूँ. जंगल की बीएफ पिक्चरआप दोनों यह बताओ कि आज सुबह सुबह मेरे घर कैसे आना हुआ?तो रेहाना बोली- मैं अपना अधूरा काम जो कल पार्लर में नहीं हो पाया था, उसे पूरा करने आई हूँ मतलब मैं आपसे चुदना चाहती हूँ.

मैंने समय बर्बाद न करते हुए अपनी बहन का टॉप उतार दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके मम्मों को चूसने लगा. मैंने उसे मेरे गेम्स के बारे में बताया तो वो बहुत एग्ज़ाइटेड हो गया था.

उसका नंगा बदन देख कर मेरा लंड सलामी देने लगा, मैंने उसे मेरे कपड़े उतारें को कहा तो उसने मेरे कपड़े भी उतार दिए. मैं समझ गया था कि पसंद तो ये भी करती है मुझे, पर ऐसे एक दूसरे को देखते रहने से कुछ नहीं होने वाला है, बात तो आगे बढ़ानी ही पड़ेगी. भाई के साथ सेक्स कैसे मुमकिन है?मैंने कहा- मुमकिन तो सब है, पर तुम्हारी रजामंदी के बिना कुछ भी नहीं है.

कुछ देर बाद वो झड़ गया, उसका कंडोम मैंने निकाला और लंड का क्रीम चाटने लगी. ऐसे दो हफ्ते निकल गए, वो मुझे कभी कभी योगा करते हुए छत पर मिल जाती थीं. फिर वो मुझ से धीरे से बोली- एडी, क्या मैं तुमको अच्छी लगती हूँ?मेरे ऊपर तो उस टाइम पर उसको चोदने का भूत सवार था.

तुम्हें जो अच्छा लगे करो। बस इतना ध्यान रखना कि मैं बदनाम न हो जाऊँ।ये कहते हुए वो रोने लगी।मैंने उसे समझाया और भरोसा दिलाया कि इस बारे में किसी को पता नहीं चलेगा और दूसरे दिन टाइम पहुँच जाऊँगा।यह कह कर फोन काट दिया। दूसरे दिन मैंने अपने घर वालों को बोल दिया कि मैं दो तीन दिन के लिए बाहर जा रहा हूँ और बैग पैक करके घर से निकल गया। रास्ते में बैंक से दस हजार रूपये निकाल लिए.

कमरे में सिर्फ चूत की फच्च फच्च की और हमारी सेक्सी आवाजें गूंज रही थीं. मैं बोली- ओके!अब बालू ने मेरे बूब्स ब्रा को ऊपर से ही दबा दिया, मुझे मस्त लगा, मैं बोली- ये मेरे छोटे हैं अभी मेरी सहेलियों से!बालू बोले- मस्त हैं सेक्सी… इन्हें मैं दबा दबा के बड़ा कर दूंगा। अभी भी बहुत मस्त हैं.

‘ओह म्म्म्म ममम आआअम्म्म…’ फिर मैंने आहिस्ता से अपना लंड थोड़ा सा बाहर निकाला और तेज रफ्तार से अन्दर करने लगा. मैं होती तो इसको हमेशा मुँह में ले कर रखती और सुबह शाम इसकी आरती उतारती. यूं तो मैं हमेशा ही ऐ सी में सफ़र करने का प्रयास करता हूं, कभी मजबूरी में स्लीपर कोच में जाना पड़ा हो तो वो अलग बात है.

इसलिए मेरी चूत अब लंडों को वो मज़ा नहीं दे पाती थी, जो वो चाहते थे. अभी बस मेरा पानी बहन के मुँह में छूटा ही था कि पीछे से मॉम आ गईं और दोनों को इस हाल में देख कर चिल्लाने लगीं. मैंने कुछ ही पलों में उसकी नाभि पर अपनी वासना के रस में डूबी जीभ फेर रहा था और उसके पेट पर किस कर रहा था.

बीएफ नेपाली में मैंने कुछ नहीं कहा, धीरे धीरे वो मेरे एकदम पीछे आकर खड़े हो गए और उन सबने पीछे से मुझे ऐसे कवर लिया कि अगर पीछे से उनमें से कोई भी मुझे छुए तो किसी और को पता न चले. पूजा बोली- अमित, अगर बदनामी का डर न होता तो तुमको भाभी को चोदने के लिए कभी न कहती.

मोटी गांड वाली औरत का सेक्सी वीडियो

मैंने लंड एक पल भी नहीं निकाला और आंटी को चूमने चाटने लगा, आंटी भी दुगुने उत्साह से मेरा साथ देने लगी, उनके शरीर को भी मैंने खूब सहलाया जिससे उसकी चूत की गर्मी और बढ़ी और मेरा लंड खड़ा रहने में सक्षम हो पाया. मैंने देर ना करते हुए आंटी को बेड पे लिटा दिया और आंटी की चुत को चूसने लगा. मैंने रफ्तार बढ़ा दी और खुद की चुत को झाड़ते हुए विनय के ऊपर लेट गई.

लगभग सुबह के 5 बजे थे तो उसका फ्रेंड बोला- यार मुझे 8 बजे की फ्लाइट लेनी है, मैं तो अब जाऊंगा. मैंने उसके दोनों चूचों के बीच में बहुत सारे चुम्बन किए और साथ में ही अपना हाथ उसके पीठ पर ले जाकर उसकी ब्रा को भी खोल दिया. बीएफ फिल्म सेक्सी फिल्म हिंदी मेंदस दिन बाद भाभी का फोन आया कि इस बार मेरा मासिक नहीं हुआ है, मैं माँ बनने वाली हूँ.

जितने अपने काम के लिए आप चाहो। अगर विश्वास न हो तो अपना अकाउन्ट नम्बर भेज दो। मैं पहले ही डलवा दूँगी।’उसकी आवाज में उदासी सी आ गई। मैंने सोचा एक बार देखता हूँ कि ये सही में रूपये देने को तैयार है या फिर बस मजे ले रही है। मुझे अभी तक विश्वास नहीं हुआ था कि कोई मुझे चुदने के लिए पैसे देने को तैयार है।मैं बोला- अब रात काफी हो गई है.

पूजा बोली- अमित, अगर बदनामी का डर न होता तो तुमको भाभी को चोदने के लिए कभी न कहती. बाद में टांगों और हाथों को पूरी तरह से बांध कर मेरी टांगों को हिलने ही नहीं दिया जिससे मेरी तो चाल ही बदल गई.

मैं उसके खड़े लंड पर बैठ गई और चुत में लंड लेकर ऊपर नीचे होकर चुदाई का मजा देने लगी. मैं- आज क्या हो गया है आपको… इतनी रात तक कैसे बातें कर रही हो?माँ- आज मेरे पति बाहर गए हैं, घर पर नहीं हैं, तो मुझे किसी का कोई डर नहीं है. मैंने सोचा कि जिस दिन मेरे पति घर नहीं होंगे तो उस दिन रानी को बुलाऊँगी और सेक्स करूंगी.

पहले उस नंगी देसी लड़की ने मेरा लंड चूसा बाद में मैंने उसकी चूत चाटी.

अब उसके गाल और नेक पर किस करते करते मैंने उसे लिप किस करना शुरू किया. मेरे घर में प्याज लहसुन किचन में रखना वर्जित है, पर जिसे खाना होता है वो बरामदे में रखे प्याज के अलग से रखे हंसिया से काट कर खा सकता है. आपको मेरी फर्स्ट टाइम सेक्स कहानी कैसी लगी, आप अपने सुझाव मुझे इस ईमेल आईडी पर भेज सकते हैं.

ब्लू सेक्सी वीडियो भेजिएरहने के लिए मेरे डैड के दोस्त का फ्लैट खाली था, जिसे उन्हें रेंट पर देना था, तो उन्होंने बोला कि मैं वहां जाके रहूँ. रात को जब वो डिनर करके वापिस जाने लगा तो मैंने उसको बाहर तक छोड़ा और उसके इतना पास चिपकी सी रही कि अपने मम्मों की रगड़ भी उसको लगाती रही.

हीरोइन का नंगा फोटो

कुछ ही क्षणों के बाद मैं प्रिया के होंठ चूम रहा था और प्रिया मेरे!अचानक प्रिया ने मेरे मुंह में अपनी जुबान धकेल दी और मैं आतुरता से प्रिया की जुबान चूसने लगा, अपनी जीभ से प्रिया की जीभ चाटी, प्रिया के उरोज़ मेरी छाती में धंसे जा रहे थे और मैं दोनों हाथों से प्रिया को आलिंगन में ले कर अपनी ओर खींचे जा रहा था. मैंने कहा- चूसो तो… जितना आएगा उतना चूसो… फिर तो ये अपनी जगह अपने आप बना लेगा. उस अहसास को शब्दों में बयां करना मेरे बस की बात ही नहीं है, बस इतना समझ लो कि ये मेरे मन की बड़ी मुराद के पूरी होना जैसा था.

मैंने तुरन्त रेशमा को निर्देश दिया कि वो मेरी जांघों के आस पास की मलाई और उसके हाथों में लगी मलाई को चाटेगी और सोनी उसके मुंह को चाट-चाट कर साफ करेगी।दोनों ने मेरी बातों पर बखूबी अमल किया. मैंने उसके दोनों गाल पर हाथ रखे हुए थे और धीरे धीरे उसके मुँह में धक्के मार रहा था. जब ये सब आंटी बता रही थीं, तब वो थोड़ी सी झुकी हुई थीं, तो मैं पीछे से उनकी गांड देख रहा था.

वो अपन लंड हिलाते हुए आया और मां की चूत में लंड पेल कर उनकी चुदाई करने लगा. यह बात तो मैंने ख़ुद अपने से भी नहीं कही थी किसी और से कहने की बात तो बहुत दूर की कौड़ी थी. मैं अभी भी अपने एक हाथ से उनकी चूची दबा रहा था और एक हाथ से उनकी चूत को सहला रहा था.

जब मैं उनके घर पंहुचा तो वो काम में बहुत ज्यादा बिजी थी तो उन्होंने मुझे आते हुए नहीं देखा वो घर की सफाई ब्लाउज और पेटीकोट में कर रही थी।भाभी बहुत सेक्सी लग रही थी, मैं उन्हें बहुत ही गौर से देख रहा था कि अचानक उनकी नज़र मुझ पर पड़ गयी तो वो एकदम घबरा सी गयी और अपने शरीर को ढकने की कोशिश करने लगी. मैं अकेली ही थी।उस आदमी के आते ही मैंने सिर पर चुन्नी ले ली।उसने पैसों के बारे में पूछा.

खैर रात भर वो लंड से तो कुछ ना कर पाया मगर ना तो उसने मुझे सोने दिया और ना ही खुद सोया.

उसके मुँह से सीईईईईई की आवाज निकली तो मैंने उन्होंने और भी तेज मसलना शुरू कर दिया. चोदा चोदि विडियोअब ये कहने की ज़रूरत नहीं कि रात को पति ने मेरी चुत को बुरी तरह से चूसा और चोदा. सेक्सविडो हिंदीजब दीदी फ्रिज से वापस लौटीं तो दीदी के हाथ में एक बड़ी साइज की ककड़ी थी. उन्होंने देखा कि मैंने काम वाली आंटी को किचन की पट्टी पे बैठाया हुआ है और उसकी चुत में लंड पेल कर उसे मस्ती से चोद रहा हूँ.

मैंने दोनों हाथ खुला छोड़ दिए और अपना लंड अपनी भांजी के मुँह में चूसे जाने के अहसास से मजा लेने लगा.

नवीन ने जैसे ही अपना पजामा उतारा, उसका सात इंच लम्बा बिल्कुल काला लंड नाग की तरह फनफना रहा था. हम दोनों थोड़ी देर ऐसे ही पड़े रहे और एक दूसरे के शरीर पर हाथ फेर कर एंजाय करते रहे. वो भी पक्की रांड थी, साली मादरचोद इतनी हॉट थी कि उठ कर सीधी लंड पर बैठ गई.

साले हरामी मार डालेगा क्या? जा जाकर अपनी बीवी की गांड मार भोसड़ी के…पंकज ने धक्का मारते हुए कहा- अरे जान, स्मिता तो चूत भी सही से नहीं देती. बहूरानी एकदम से घूम के मेरे सामने हुई और उसने हाथ में पकड़ी कंघी फेंक कर अपनी बाहें मेरे गले में पहना दीं, मैंने भी उसको अपने सीने से लगा लिया. ”कहो…!”आप बुरा ना मानना… प्लीज़!”अरे नहीं… तुम बोलो?” मैंने घूम कर एक नज़र प्रिया की ओर देखा।नज़र झुकाये, अपने दोनों हाथों में मेरा हाथ थामे, प्रिया ग्रीक की कोई देवी की मूरत सी लग रही थी.

மலையாள செக்ஸ்வீடியோ

मेरे समझाने पर उसने लंड मुँह में लिया और जल्द ही वो मेरे लंड को किसी कुल्फी की तरह चूसने लगी. क्या आप उस से पहले मुझे नोट्स नहीं दे सकते?इतने में उसके हाथ से बुक्स छूट कर नीचे गिर गईं और वो उसे उठाने के लिए नीचे झुकी जिससे मुझे उसके बड़े बड़े दोनों मम्मों के दीदार हो गए. उस समय मेरी भी बॉडी और हाईट से पता नहीं चलता था कि मेरी उम्र क्या है, मैं पूरा 22 साल का बांका मर्द लगता था.

थोड़ी देर में मैंने देखा कि उसकी चूत में से पानी निकल रहा है और मेरे लंड पर आ रहा है.

वाओ क्या नजारा था… दीदी की गोरी गोरी चुत, उसके बीच में हरे रंग का करके फंसा पड़ा था.

आज सुहागसेज पर उसने मेरा साथ देने का मन तो बना लिया था लेकिन वो मेरे लंड के बड़े साइज के कारण थोड़ी डरी हुई थी. मेरी हाइट साढ़े पांच फुट की है और साढ़े सात इंच लम्बे और मोटे लंड का मालिक हूँ. बीएफ सेक्सी सारीइस पर उसने कहा- ठीक है, पर मुझसे वायदा करो कि जब शादी होगी, तब यह सब काम छोड़ कर मुझे अपनी रियल मदर ही मानोगी.

रानी मस्त होकर चिल्ला चिल्ला रही थी- हाय… हाय… हाय… ऐसे ही राजे ऐसे ही कुचल दे मुझको… आह आह राजा राजे आह… और ज़ोर से ठोक कमीने… हाँ हाँ हाँ कुत्ते अब चूचे को चटनी बना दे मादरचोद… आह आह आह… हाँ हाँ हाँ ये ठीक है… हाँ हाँ हाँ!मैंने दस बारह खूब तगड़े धक्के ठोके, तो वो पागल सी होकर मेरी बाँहों को नाखूनों से खुरचने लगी. उसका लंड इतना मोटा था कि उस रात हम दोनों ने लाख कोशिश के बाद भी एक इंच भी अन्दर नहीं गया था, उस पर से जो दर्द हुआ था वो अलग. दोस्तो, मेरा नाम अखिल (बदला हुआ नाम) है, मैं तीन कॉलेज यानि महाविद्यालय का कर्ता धर्ता हूँ.

इधर मेरा लंड एकदम कड़क हो गया था, मैंने पूछा कि क्या हुआ?वो बोली कि सूजन आ गई है. दूसरी तरफ बीवी के साथ तो जैसा अपना नसीब समझ के मैं काम चला लिया करता हूँ.

मैंने फिर से हिम्मत की और पहले दिन की तरह हाथ से बढ़ा कर उनके अन्दर डाला, दूध दबाए.

मुझे मालूम नहीं कि वो अपनी तन की भूख कैसे शांत करती होगी, क्या पता कई बार शराबी ग्राहक भी उसकी चूत की प्यास को बुझा देते होंगे. मैंने पूछा- तुम तो शादीशुदा होकर भी पति से दूर हो, तुम कैसे संभालती जवानी को?तो वह थोड़ा रूककर बोली- जवानी संभालने के लिए नहीं, लुटाने के लिए होती है और मैं मेरे हिसाब से लुटाती हूँ. लेटर में लिखा था कि डार्लिंग, जो मैंने लिखा है उसे पढ़ कर क्या घबरा गईं? तुम फिक्र मत करना, मैं अपना लंड तब तक किसी चुत में नहीं डालूँगा सिर्फ तुम्हारी चूत छोड़ कर, जब तक इस इंक का रंग खत्म नहीं हो जाता.

बीएफ सेक्सी हिंदी साडीवाली जैसे ही हम रूम में पहुँचे मैं कपड़े बदलने लगी, जब कपड़े बदल लिए तो उन्होंने मुझसे दरवाजा लगाने के लिए बोला. कुछ देर बाद फिर से चुदाई का बवंडर उठा और फिर से चुत को लंड की तलब लगी.

अंडरवियर में से मेरा 7 इंच लंबा और 2 इंच मोटा लंड खड़ा उसे सलामी दे रहा था. यह चपत वहशियाना नहीं था, इसलिए शायद प्रेरणा को भी पसंद आया और उसने लंड चूसने का अपना सारा अनुभव उस पल उड़ेल देना चाहा।पर इतने वाइल्ड फोरप्ले को मेरा लंड और बर्दाश्त ना कर सका, और लावा उगलने को आतुर होने लगा, मेरे शरीर में कंपकंपी और सिहरन होने लगी, मैंने प्रेरणा के बालों को पकड़ कर उसके सर को अपने लंड में जहाँ तक हो सके दबा लिया और पिचकारी उसके मुंह के अंदर मारने लगा. नीचे के बाल साफ करके अच्छा सा परफ्यूम लगा कर रेडी होकर स्टेशन की ओर निकल पड़ा.

वाणी कपूर xxx

फिर मैंने उसकी जांघों की मालिश की और कूल्हों को छोड़कर सीधे पीठ पर चला गया, मैंने अब कंधों से मालिश करना शुरू किया. पर मैं समझ रहा था कि उसको बहुत तेज दर्द हो रहा था लेकिन मैंने उस पर किसी भी तरह का रहम करना उचित नहीं समझा और 3 इंच तक धीरे धीरे धक्के लगाता रहा. मैंने फिर अपने आपको प्रेशर डाल कर उसके मुँह में ही अपना माल झड़ाने लगा.

जिसकी वजह से उसकी 32 इंच की कठोर चुचियां ऐसे ऊपर नीचे हो रही थीं, जैसे दो पहाड़ हिल रहे हों. पर तब तक तो मेरे अन्दर हवस भर चुकी थी, मैंने दीदी से कहा- दीदी प्यार अलग है और शरीर की जरूरत अलग बात है.

जब स्मिता पारदर्शी गाउन पहनती थी तो उसमें उसकी लाल रंग की ब्रा, पतली सुराहीदार कमर और उसकी लाल रंग की पेंटी, जिसमें स्मिता की पिछाड़ी ठुमक ठुमक कर कलेजा बाहर निकालने पर मजबूर कर देती थी.

मैं दरवाजे से बाहर आया और नाज़ के बगल में बैठ कर चाय पीने लगा और जान बूझ कर अपने ऊपर चाय गिरा ली. मैंने उसे हाय बोला तो उसकी मुस्कराहट से पता चला कि वह मेरे घर ही आ रही थी. पहला झटका जैसे ही दिया, माँ कराहीं- आह आराम से… बहुत दिनों बाद कोई मोटा लंड अन्दर जा रहा है.

पहले मुझे उसमें कुछ ख़ास नहीं मिला, पर जब मैंने छुपे हुए एक फोल्डर को खोला तब मुझे उसमें सेक्सी वीडियो दिखाई दिए. वैसे तो मैं लड़का हूँ लेकिन मेरी टांगें और मेरा फिगर एकदम लड़कियों जैसा है. मैंने धीरे से अब उसके गले को चूमना शुरू किया, उसके गले की दाईं तरफ फिर बाईं तरफ अपने होंठों को फिराना शुरू किया.

दोस्तो, आप लोग विश्वास नहीं करोगे कि उनका लौड़ा 8 इंच लम्बा और 3 मोटा था.

बीएफ नेपाली में: वैसे उनका बर्थ डे कब होता है?मैं- बस आने वाला है… इसी 31 अक्टूबर को है. मेरी साली को भी इस हरकत का मजा आया और उसने उसका सर पकड़ कर अपनी ब्रा पर दबा दिया.

उसके चूचे गोल नहीं थे, पर बहुत लंबे और नुकीले थे, एकदम तोतापरी आम के जैसे थे. मॉम ने मुझे एक दिन टोका कि जो उस लड़के के साथ किया, यदि वो बहन के साथ किया तो तुझे मार डालूँगी. तभी पारुल बोली- किसी अच्छे से होटल पर गाड़ी रोकना, चाय वगैरा ले लेते हैं.

तो मैंने उसे पुणे के बारे में और यहाँ के इंटरव्यू के बारे में सब बता दिया.

बस बुर और निप्पल ही बचे थे, जो किसी ने मतलब सैम ने ना देखे हों, तो मुझे शर्म भी नहीं लगती थी. करेले की पूंछ पीछे लटक रही थी… ऐसा लग रहा था जैसे कोई मोटा चूहा दीदी की चुत में घुस रहा हो, जिसकी पूंछ बाहर लटक रही हो और दीदी अपने बालों को नोंच कर चिल्ला चिल्ला कर चूहे को अन्दर घुसने दे रही हैं. मेरा दिल भर आया, जैसे ही मैंने उसे खींच कर अपने गले से लगाया तो मानो कोई बाँध ही टूट गया.