हिंदी बीएफ वीडियो डांस

छवि स्रोत,ब्लू फिल्म शुद्ध हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

गंगाराम सेक्सी: हिंदी बीएफ वीडियो डांस, मेरा लंड उछाले मार रहा था तो मैंने उसे धीरे से बिस्तर पर लिटा दिया और उसके बगल में लेटकर उसे फिर से और ज्यादा गर्म करने लगा.

बिहारी देसी बीएफ सेक्सी

उसने पूछा- आपको कैसे पता?मैंने कहा- मैं तेरी सब खबर रखता हूं बस मम्मी को कभी नहीं बताया. बीएफ वीडियो इंग्लिश पिक्चरमेरी एक जांघ रचना की दोनों जांघों के बीच में फंसी थी और उसकी चूत को दबा रही थी.

हनी के ऊपर लेटे लेटे मैं सोच रहा था कि कहां मैं 63 साल का मर्द और कहां ये 18 साल की कमसिन काया. ब्लू फिल्म चकाचकअपने लंड को उसकी चूत पर टिकाकर एक ही बार में पूरा लंड उसकी चूत की गहराइयों में उतार दिया.

वैसे मैं एक बात बता दूं … मुझे पोर्न देखने शौक है और मैं पोर्न देखते हुए अपनी चूत को सहला लेती हूं.हिंदी बीएफ वीडियो डांस: 15 मिनट चूसने के बाद उसने अपना लंड मेरे मुंह के सामने खड़ा कर दिया और चूसने को बोला.

चिन्ना- नहीं मेरी प्यारी बिटिया, तुझे चोदने का प्रोग्राम तो मैंने उसी दिन बना लिया था जिस दिन तू पहली बार मुझ से मिलने मेरे ऑफिस में आई थी.लेकिन उस सलमा ने मुझे डांट दिया और कहा- ऐसा कभी नहीं हो सकता।लेकिन मैंने भी हार नहीं मानी थी.

ब्लू पिक्चर का फिल्म - हिंदी बीएफ वीडियो डांस

परन्तु करोना के चरम पर पहुँचने से कुछ पहले अनुभवी चिन्ना ने करोना की इस स्थिति को भांप कर उसे और तड़पाने के मकसद से बिल्कुल झड़ने के करीब पहुँची करोना की टपकती सिसकती चूत पर से अपना मुँह हटा लिया.जिसे अनुभवी औरतखोर चिन्ना ने तुरंत सुन लिया और खुश हो गया।अंदरूनी झिझक और नारी सुलभ हया की वजह से करोना ने अपना पूरा भार चिन्ना के लण्ड नहीं डाला था.

मेरा लंड तो अब छोटा हो गया था और कंडोम तो पूरा मेरे वीर्य से भरा हुआ था. हिंदी बीएफ वीडियो डांस ”फिर मेरा बेटा और बहू शायद किस करने लगे मुझे उनके किस करने की आवाज आ रही थी.

यह कहानी आज से 6 महीने पहले उस समय की है, जब मैं प्रेग्नेंट थी और मेरा नवां महीना चल रहा था, जो कि आखिरी महीना होता है.

हिंदी बीएफ वीडियो डांस?

कुछ देर बाद लंड चुत की चिकनाई पाकर सटासट अन्दर बाहर होने लगा … तब उन्होंने मेरे मुँह से अपना मुँह हटाया. करोना को भी चिन्ना की इन बातों में मजा आने लगा था और वह अब बेशर्म होकर चिन्ना की आँखों में आँखें डाल कर देख रही थी. हमने बालकनी की सीट ली जिससे हमें आस पास के लोगों से ज्यादा परेशानी न हो।गर्लफ्रैंड के साथ फ़िल्म देखने कौन जाता है … मस्ती करने जाते हैं सब।फ़िल्म शुरू हो गयी थी.

सेजल अपने ससुर के अंडों को दबा रही थी जिससे कि उसका ससुर आराम से सिसकारियां ले रहा था. सीमा ने भी अपनी चूत के दरवाजे को खोल दिया और खड़े खड़े ही मेरे लंड को अपनी चूत के अन्दर समां लिया. उसकी गर्दन को चूमा और फिर उसकी चूचियों को मुंह में लेकर हाथों से दबाते हुए पीने लगा.

बात उस समय की है जब हम लोग अपने गांव से 58 किलोमीटर दूर एक शहर में शिफ्ट हो गए. जैसे ही उसने अपना हाथ मेरी गोटियों को लगाया, मेरे लंड से वीर्य का झरना उसकी चूत में बह गया. उसके निप्पल पिंक थे जो काफी खूबसूरत लग रहे थे। मैंने एक स्तन को अपने मुँह में ले लिया और उसे ज़ोर ज़ोर से चूसने और काटने लगा.

दो मिनट तक होंठों को रसपान करने के बाद उसने मेरी फ्रेंची को भी निकलवा दिया. मेरा लंड एकदम से सिकुड़ गया और कंडोम के बाहर कल्पना का वीर्य लगा हुआ था.

रीना के चेहरे पर मुझे कहीं भी किसी प्रकार की ग्लानि या शर्म नहीं दिख रही थी.

मैं दो दिन के लिए शहर से बाहर जा रहा हूँ … कोई भी प्रॉब्लम हो, तो सम्भाल लेना.

मुझे लगता है तुम्हारा कपसाइज़ ‘डी’ होना चाहिए।” मैंने कहा।अरे जब सब कुछ आपको पता ही है तो ले आइये ‘डी’ ले आइये। हद हो गयी आज तो हर चीज़ की।” रीना बुरी तरह नाराज़ लग रही थी।गुस्सा मत हो … रीना … मैं ला रहा हूँ अभी!”कुछ देर बाद मैंने एक जालीदार ब्रा और पैंटी लाकर बाथरूम का दरवाज़ा खटखटाया. तभी मैंने अपना लण्ड सारिका की चूत से निकाला और लण्ड का सुपाड़ा सारिका की गांड के गुलाबी चुन्नटों पर रख दिया. इधर मेरा लंड ट्रेन की गति से होने वाले वाइब्रेशन से उनकी दोनों जांघों के बीच में मस्ती ले रहा था.

मैंने सोचा इस नाटक को ख़त्म करके असली खेल का मज़ा लेने का यही सही टाइम है, तो मैं नीद खुलने का बहाना बनाते हुए उठा और चौंकते हुए बैठ गया. मैं माया से बात तो कर रहा था, लेकिन मेरी बार बार नज़र उसके चुचों पर जा रही थी. मैंने उसके थरथराते होंठों को अपने होंठों से बंद कर लिया और किस करने लगा.

मैं बहू के बालों में हाथ फेर रहा था और वो मेरा लंड बड़े मज़े से चूस रही थी.

भाभी चुदासे स्वर में बोली- उसके बाद!मैं- मेरा लंड का साइज 8 इंच से थोड़ा ज्यादा बड़ा है … ये काफी मोटा भी है. करोना की कुंवारी चूत फचाफच पानी की बरसात सी करके चिन्ना के मुँह को भिगो रही थी. कार में भी बॅक सीट पर कभी उसके दूध छूता, कभी उसकी कमर पर हाथ रखता … पर प्रीति ने कोई विरोध नहीं कियाअब हम खाना बाहर खा कर घर पहुंचे, तो बात सोने की आई.

कुछ देर उसके होंठों को चूसने के बाद मैंने एक बार फिर से उसकी चूत पर लंड को सेट कर दिया. उसका पेटीकोट नीचे गिर गया और उसकी नीले कलर की छोटी सी पैंटी मुझे दिखाई दी. लंड घुसते ही एकदम से आकांक्षा के मुँह से सिसकारी निकल गई- आह हहहहह …मैं ऐसे ही लंड अन्दर डाले डाले आकांक्षा को किस करने लगा और धीरे धीरे लंड अन्दर बाहर करने लगा.

इस पर वो खुश होकर एक पैर मेरे ऊपर फेंकते हुए और जोर से पकड़ते हुए मुझसे चिपक गयी और प्यार से मुझे एक पप्पी दी.

अब मेरी बारी है इसलिए तुम ऊपर आ कर मेरा खड़ा लण्ड अपनी चूत में ले लो और अपनी दोनों चुटकियों में पकड़ कर मेरे निप्पलों को मसलो. वो अपनी पैंट पहनते हुए बोला- साली रांड अभी ऐसे ही लेटी रहना … अभी बारी बारी से तुझे सब आकर चोदेंगे.

हिंदी बीएफ वीडियो डांस मेरे पूछने पर अंजू ने बताया कि उसके सास, ससुर व पति बहुत अच्छे हैं. फिर भी नीचे से उसकी ब्रा और उसमें से झांकते हुए थोड़े थोड़े चूचे दिख गए.

हिंदी बीएफ वीडियो डांस शाम को ट्रेन पकड़ कर हम दोनों घर वापस आ गए, पर इसके बाद न जाने क्या हुआ कि हम दोनों ने आपस में बात नहीं की. वो हाथ को पहले तो हटाने लगी लेकिन फिर बाद में उसने मेरे लंड को पकड़ लिया.

मेरे मॉम डैड मेरे भाई से मिलने औरंगाबाद गए थे, तो निशा को प्रपोज करने का आज अच्छा मौका था.

அனுஷ்கா செஸ் வீடியோ

वो मदहोश हो चुकी थी।एक तरफ मैं उसकी चूत को चाटने लगा और दूसरी तरफ हाथों से चूचियों को भी दबा रहा था।फिर मैंने कहा- मैं तुम्हें चोदने जा रहा हूं. तभी मैंने अपना लण्ड सारिका की चूत से निकाला और लण्ड का सुपाड़ा सारिका की गांड के गुलाबी चुन्नटों पर रख दिया. मैंने बोला- मामी आपको पसंद है?मामी ने लंड सहलाते हुए कहा- हां बहुत प्यारा लंड है तुम्हारा.

थोड़ा- थोड़ा करके हरामी चिन्ना के अनुभवी हाथ करोना की चूचियों की घुंडियों की ओर बढ़ने लगे. तभी मैं उसकी चूत के दाने को होंठों से पकड़ कर खींच कर जीभ से सहलाने लगा. इस बार कल्पना ने मेरे होंठों को काट लिया और भी जोर से चिल्ला दी- आह … हाय रे साले हरामी … मार डाला रे … आहा … आह कुत्ते तूने मेरी चूत की वाट लगा दी … साले आराम से नहीं चोद सकता क्या … आह हाय रे … मर गयी आह.

मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ इसलिए मैंने सोचा कि मैं आपको अपनी जिंदगी में मिले सेक्स के अनुभव से परिचित कराऊं.

थोड़ी देर आराम करने के बाद में जैसे ही पानी पीने के लिए उठा तो मुझे बहू के रूम से कुछ आवाज आयी. मधुलिका भी उसे ज्यादा कुछ नहीं बोलती थी क्योंकि अब वह सेजल से बहुत खुश होती. शीला दीदी और जीजाजी किसी काम से बाहर गए थे और रात को देर से आने वाले थे.

लेकिन कुछ इंतज़ार के बाद अटेंडेंट ने कहा- सर, आज दूसरी मालिश वाली आई है।अटेंडेंट ने कहा- सर, ये थोड़ी अनाड़ी है. धीरे-धीरे मैं उसके बदन की तारीफ करने लगा।मैंने फिर कहा- मैं आपको किस करना चाहता हूँ. मैंने कई बार खुद लंड हिला कर मुठ मारी थी मगर आज से पहले इतना वीर्य कभी नहीं निकला था, ये देख कर मैं खुद भी आश्चर्य में था.

जब भी मैं सिम्मी के स्तन को जोर से काटता वो सिर्फ इतना कहती- आह … दुखता है!कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. अभी वो धीमे-धीमे अपनी कमर को आगे पीछे कर रहा था और अपना लंड मेरी मां के मुंह में डाल रहा था.

कुछ सेकेण्ड्स तक उसकी चूत को मैंने लंड के सुपारे से रगड़ा और फिर उसकी चूत में लंड को घुसा दिया. मैं रचना का अपने दोनों हाथों से सिर पकड़े उसकी चूत पर अपने लौड़े से धमाकेदार वार किए जा रहा था. फिर धीरे धीरे धक्के लगाते हुए मैंने अपना पूरा लंड रानी की चूत में उतार दिया.

उसने मुझे अपने पास बुलाया और अपना काला मोटा 7 इंच का लंड मुझसे मुँह में लेने को कहने लगा.

मेरी मामी ने मेरे सामने ही एक साइड से ब्लाउज के ऊपर करके अपनी चूची बाहर निकाली और अपने बेटे को दूध पिलाने लगी. मैं अब चुदाई के लिए तुम्हारे पास ज्यादा भी नहीं आ सकता … क्योंकि घर वाले अगले साल मेरी शादी कर देंगे. मैंने बोला- रानी, ये सब क्या कर रही थी तू मेरे घर में? और ये लड़का कौन है जिसे तू लेकर आयी थी?रानी रोते हुए मुझसे माफ़ी मांगने लगी- मुझे माफ़ कर दो बाबूजी.

कोमल ने पूछ लिया कि मेरी कोई गर्लफ्रेंड बनी या नहीं?मैंने उसको मना कर दिया ये कह कर कि मुझे कोर्ट के चक्कर में इन सब बातों के लिए टाइम ही नहीं मिल पाता है. मुझे मालूम था कि दीदी का एक ब्वॉयफ्रेंड है, मगर उससे उनकी किस हद तक की दोस्ती है, ये मैं नहीं जानता था.

अगर मेरी इस आपबीती को आप लोगों का पॉजीटिव रेस्पोन्स मिला तो अपने जीवन में घटी और भी सेक्स घटनाएं मैं आप तक लेकर आऊंगा. मैंने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और भाभी की चूचियां जोर से उछलने लगीं. ट्रेन हिलने के कारण मैंने अपने हाथ ढीले छोड़ दिए थे, जिससे मेरा हाथ भाभी की गांड को अपने आप सहलाने लगा था.

ব্রাজ্জেরস

पन्द्रह तारीख को जब पापा शाम को घर आए, तो उन्होंने कहा कि 16 तारीख की हॉस्पिटल की छुट्टी है, वो कल घर पर ही रहेंगे.

मैंने ये सुनते ही अपना लंड भाभी की चूत पर सैट कर दिया और हल्का सा धक्का दे दिया. जैसे ही उसने हाथ ऊपर को बढ़ाया, तौलिया हट गया और मेरा लंड फिर बाहर आ गया. मैं नहा कर बाहर नंगे ही निकल आया … क्योंकि अब तो कोई शर्म बची नहीं थी.

थोड़ा- थोड़ा करके हरामी चिन्ना के अनुभवी हाथ करोना की चूचियों की घुंडियों की ओर बढ़ने लगे. मुझे भी तैयार होना था … सो मैं नहाने के लिए जल्दी से बाथरूम में घुस गया और बॉडी के हेयर रिमूव कर दिए. कोलकाता बीएफमैंने उसकी दोनों चूचियां चूस कर लाल कर दी थीं। फिर मेरा भी पानी निकलने के करीब हो गया था.

खेत पर जाकर मैंने देखा कि एक बहुत ही कम उम्र की लड़की वहां पर बकरियां चरा रही थी. एक मिनट बाद ही मैं 69 में हो गया और वो मेरे लंड को चूस कर मजा देने लगी.

उसने मेरी छाती को देखा और जब मेरे हाथ मेरी पैंट को खोलने के लिए चले तो उसने अपने चेहरे को चादर में छुपा लिया. आज पहली बार मैंने बाथरूम में जाकर दीदी और रिया के बारे में सोचते हुए मुठ मारी. मैंने हिम्मत करके उसकी शर्ट थोड़ी और ऊपर कर दी ताकि उसकी चूचियां देख सकूं.

मैंने ओके कहते हुए कहा- प्रोटेक्शन?वो बोली- माँ की चुत प्रोटेक्शन की. तू अपने बच्चे के लिए कुछ ले लेना!मैं रानी के हाथ को पकड़ के सहलाने लगा. मैंने दुबारा से उन्हें कॉल किया, तो मैंने उन्हें अपनी कसम दी और बात बताने के लिए कहा.

मैंने अपनी जुबान को सीधा उसकी गांड के छेद पर लगा कर उसकी गांड को चाटने लगा.

उसके बाद मैंने उसको उल्टा कर दिया और उसकी पीठ से लेकर उसकी जांघों तक किस करने लगा. करीब पचास धक्कों के बाद जैसे ही भाभी फिर अपने चूतड़ों को उठाने लगीं, तो मैंने भाभी के दोनों पैर अपने कंधों के ऊपर ले लिए और जोर से उनकी चुत में लंड के झटके लगाना चालू कर दिए.

उनको चुत में उंगली करते देख कर मैं समझ गया था कि मौसी को एक अच्छे और मोटे लंड की जरूरत है. उस दिन आंटी खुद मुझे लेकर बेडरूम में आ गईं और अपने हाथों से मेरे बदन को सहलाने लगीं. क्या बात है? किसी की याद आ रही है क्या जो अकेले में लेट गये आकर?मैंने कहा- नहीं!और वो मेरे पास बैठ गई.

उसने कहा- बैकलैस में ब्रा नहीं पहन सकते और इन कपड़ों में नाप नहीं हो सकता. आज तक मैंने कई लोगों के साथ चुदाई की है मगर तुम्हारा लंड है छोटा जरूर … पर मोटा बहुत है और तुम बहुत ज्यादा स्पीड से चोदते हो. तभी अपने पति को छोड़ दिया मैंने।फिर कुछ देर हमारी बात चली और मैंने उसके जांघ पर हाथ रख दिया.

हिंदी बीएफ वीडियो डांस मैंने उसको पीछे से पकड़ कर उसकी चूत पर अपना लंड सैट कर दिया और बहन की चुत चुदाई करने लगा. फिर उसने कहा- अब क्या होगा?तो मैंने कहा- मेरे को अब यहीं पर सब कुछ करना पड़ेगा.

सेक्सी फुल एचडी वीडियो में

मैं दीदी के मन की बात को समझ गया था लेकिन समझ नहीं आ रहा था कि मैं शुरूआत कहां से करूं. शिल्पा- तुम्हें कैसे पता चला कि मुझे इस पर ही बात करनी है … और यही बोलना था. हम दोनों के घर आस पास होने के कारण हम दोनों अक्सर मिल जाया करते थे.

ट्रेन अपने समय से दस मिनट देरी से चली और गाज़ियाबाद के करीब बारिश शुरू ही गयी जिससे भीड़ और बढ़ गयी. भैया भाभी सो गए थे और मैं प्रीति के दूध और चूतड़ों को अपने आधे जिस्म पर महसूस कर पा रहा था. छोटी लड़की सेक्सी बीएफजैसे ही मैंने अपना हाथ उसके दूध पर रखा, उसने तुरंत मेरे होंठ अपने मुँह में ले लिए और हम दोनों ऐसे ही बहुत देर तक एक दूसरे के होंठ चूमते रहे.

बाहर का गेट खोल दिया और मेरे कमरे में आ गयी जहाँ मैं पहले से ही नंगा था.

अपने चचेरी बहन की चूत चोदने में इतना मजा आयेगा मैंने कभी सोचा भी नहीं था. फिर उसने मेरी पैंट और मेरे अंडरवियर को एक ही बार में उतार दिया और सीधा मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर ऐसे चूसने लगी, जैसे कई दिनों की भूखी हो.

उनको इस हालत में देख कर मुझसे कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था और आज कुछ कर गुजरने की ठान कर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और बॉक्सर पहनकर आंटी के साथ ही बेड पर चढ़ गया. मुझे भी उसकी ऐसी आवाजें अच्छी लगीं … और मैंने उसके मम्मों को और जोर से मुँह में भर के जोर से काटना चालू कर दिया. उन्होंने मुझसे बोला- मैं आंटी दिखती हूं?मैंने बोला- नहीं नहीं, गलती हो गई.

उसके कुछ देर के बाद मैंने चूत से जीभ को निकाला और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

मैं उसके ऊपर आकर उसके गर्दन पर किस करने लगा तो उसकी सिसकारियां की गूंज कमरे का माहौल ही अलग बना रही थी. उसने जाते वक़्त कहा- मैं तुम्हें बाद में जरूर फ़ोन करूंगी … तुम बताना. आपके सामने आज एक नई कहानी के साथ आया हूँ। यह मेरे प्यार की कहानी है.

भाभी सेक्स hdअगले 30 सेकेंड में ही मेरा पूरा का पूरा लावा उसके मुँह में निकल गया. आज पहली बार मैंने बाथरूम में जाकर दीदी और रिया के बारे में सोचते हुए मुठ मारी.

ओपन राजस्थानी सेक्स

अब हमारे फ्लोर पर सिर्फ मैं अपने रूम में और वह अपने रूम में दो ही बचे थे. उसने मेरी टांगों से लैगी और पैंटी को खींच कर मुझे नीचे से नंगी कर दिया. भाभी ने जीभ से बचा हुआ वीर्य अपने हाथ से साफ़ किया और मेरी तरफ देख कर कहा- कोई बात नहीं … वो अचानक से हुआ इसलिए मुझे थोड़ा अजीब लगा.

चिन्ना की इस हरकत पर करोना चिहुंक पड़ी और बोली- ये आप क्या कर रहे हैं अंकल?चोदू चिन्ना उसकी दोनों फैली हुई टांगों के बीच घुटनों के बल खड़ा होकर अपने लण्ड को पुचकारता हुआ करोना की आँखों में आंखें डाल कर बोला- बिटिया खेल अब बहुत हो गया. भाभी ने गांड ढीले करके लंड को सैट किया, तभी मैंने लंड गांड के अन्दर पेल दिया. तभी सीमा नीचे बैठ गई और मेरे लंड को अपनी मम्मों के बीच में लेकर लंड को मसलने लगी.

बाद में उसने एक सवाल फिर से किया, जिसे सुनकर मैंने भी खुलने का फैसला किया कि या तो वो सच में नादान है … या फिर बन रही है. शिल्पा ने हाँ में सर हिला दिया … और फिर से मेरा सीने पर सर रख कर लेट गयी … मैंने भी उसको कस कर जकड़ लिया. दूसरे दिन सुबह साढ़े चार बजे भाभी ने घर से निकलने के बाद मुझे फोन लगाया.

लेकिन सेजल अब समझ गई थी कि अब गैर मर्द अगर घर पर आएंगे और लड़कियां बड़ी हो रही है तो उन पर एक गलत प्रभाव जाएगा. इसके बाद भी इतनी जगह बची थी कि कोई अलग से खाट भी डाले, तब भी चलेगा.

मैंने पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डाला और रेलगाड़ी की तरह उसको ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा.

जब उससे बर्दाश्त नहीं हो पाया तो वो एकदम से उठी और मुझे नीचे बेड पर अपने नीचे पटक लिया. बिहारी बीएफ हिंदीपर इसके आगे बढ़ने का मौका हमें नहीं मिलता था।रात में फोन पर कई कई घण्टे बातें किया करते थे. सनी लियोन वीडियो bpमैं वापस बाथरूम में जाकर कल्पना के नाम की मुठ मार कर शांत हो गया और सो गया. दो या तीन दिन बाद मुझे रात की ड्रिंक के लिए पैसे की जरूरत थी, तो मैंने इधर उधर कोशिश की.

तो यह सुनकर मैंने उसे पलंग पर लिटा दिया और उसकी दोनों टांगों के बीच में आ गया और उसकी गांड के नीचे तकिया रखा जिससे उसकी चूत थोड़ा सा ऊपर को गई।मैं उसकी तरफ झुकता चला गया उसके घुटनों को मोड़कर ऊपर की ओर उठाया और अपने लंड का सुपारा उसकी चूत के छेद पर लगाया। देखा कि उसकी चूत तो किसी भट्टी की तरह गर्म थी.

जब उसने झाड़ू और बर्तन वगैरह काम कर लिया तो अम्मी उससे बोली कि मेरी कमर में दर्द है, जाने से पहले मेरी कमर में मालिश कर देना. चाय मेरी ओर बढ़ाते हुए चाची ने कहा- तुम्हारी भैंस अब इतना ही दूध देती है. मेरे घर में सभी सदस्यों के कमरे अलग अलग हैं पर टीवी मेरे कमरे में ही लगा है.

कहां मैं उसको चोदने की प्लानिंग कर रहा था और वो मेरे लिए अलग से बिस्तर लगा रही थी. अब आगे:अब नताशा की बारी थी, मैंने सोच लिया था कि उसको अपने माल के साथ मूत भी पिलाऊंगा और साली को नहलाऊंगा भी. मैंने देखा कि मेरा लंड नसरीन की चुत की सील टूटने की वजह से खून से सना हुआ था.

सेक्सी फिल्में दिखाएं सेक्सी

दोस्तो, जब कोई लड़की आपका कड़ा लंड मुँह में लेती है ना … तो सच में ऐसा लगता है, जैसे आप किसी जन्नत में हो. सिम्मी ने काफी जिद की और कहा- सब जाते हैं, मुझे भी जाना है।मैंने कह दिया- किसी दिन कोई अप्रिय घटना घट सकती है. लग रहा था जैसे भगवान ने बड़ी फुरसत से खुद के लिए ये नायाब अप्सरा बनाई और फिर ग़लती से उसे धरती पर भेज दिया।मैं तो उसे ही देखता रह गया.

तो उसने मुझे घुमाया और मेरे पीछे आ गया और पीछे से मेरे पेट पर हाथ फेरने लगा और पीछे से चिपक गया.

कोई 20 मिनट की जोरदार चुदाई के बाद मामी झड़ चुकी थीं … और मैं भी झड़ने वाला था.

उन्होंने पूछा- आपके मां-बाप कहां रहते हैं?मैंने बताया- आंटी, सभी लोग गाँव वाले घर पर रहते हैं, मैं अकेला शहर में पढ़ने आया हूं. मैंने पूछा- अब ऐसा क्या हो गया है?वो बोली- आपको सब पता तो है … अब हम बड़े हो गए हैं … और ये सब बातें हमें पता लग गयी हैं कि नंगा नहीं रहना चाहिए. हिंदी में ब्लू पिक्चर सेक्सी हिंदी मेंकुछ परेशानियां होती हैं, कुछ मजबूरियां होती हैं, जिनसे उसे इस नर्क में जाना पड़ता है.

मैं चोली पकड़े पकड़े बाहर आई और कहा- मोहन भाई, इसकी डोरी नहीं बंध रही है. तो मैंने भी अपने पैर की उँगलियों से उनकी पैर की उँगलियों को छेड़ना शुरू कर दिया।हम दोनों का सर कम्बल के बाहर था और कमरे की लाइट जल रही थी। हम दोनों के पैर आपस में मस्ती कर रहे थे।मैंने अपने पैर से उनके पैर को फंसा लिया तो दीदी को दर्द होने लगा. करोना ने भी बिना कुछ सोचे समझे बेहोशी के से आलम में अनायास ही अपने हाथ ऊपर उठा दिए.

ब्लाउज को बांधने के लिए पीछे से बस एक डोरी थी, बाकी मेरी पूरी पीठ खुली थी. उसने कहा- मम्मी छोड़ दो इसे … आज के बाद ये कभी उन चाची के घर नहीं जाएगा.

मैंने उसके होंठों को छोड़ा और उसके एक चुचे को मुँह में लेकर चूसने लगा और दूसरे को हाथ से मसलने लगा.

इस कहानी की नायिका का नाम मैं नहीं लूँगा, ऐसा उसकी प्राइवेसी बनाए रखने के लिए कर रहा हूँ. इस बार हमने और दूसरी कई पोजीशनों में चुदाई करने की कोशिश की, जिसमें मुझे बहुत मजा आया. फिर मैंने एक आईसक्रीम उसे देकर कहा- ये तुम खाओ, मैं तो इसे तुम्हारी चूत पर लगा कर ही चाटना चाहता हूँ.

தமன்னா செக்ஸி जब उसने अपनी चूत को देखा तो चूत की दोनों फाकों के बीच दो उँगलियों का गैप हो चुका था. मैंने उसके हाथों पर चॉकलेट को लगाया और मसाज करने के बाद उसको चाट चाट कर साफ कर दिया.

जब मैं चाची के रूम में पहुंचा तो वो पहले से ही बेड पर पेट के बल लेटी हुई थी. क्या मस्त अहसास था मुलायम बुर का … वो भी अपनी छोटी बहन की बुर का अहसास मुझे अन्दर तक मजा दे रहा था. उन्होंने मेरी मजबूरी समझी और कहा- ठीक है सोनाली।मुझे भी लगा कि वे अच्छे इंसान हैं.

कार्टून कार्टून कार्टून कार्टून कार्टून

तो दीदी की चुदाई कैसे हुई?अब तक इस सेक्स कहानी के पहले भागकुंवारी दीदी की चुत चुदाई का मजा-1में आपने पढ़ा था कि मेरी दीदी मुझसे चुदने के लिए राजी हो गई थीं. जब सिम्मी ने इस बारे में मुझे बताया तो मुझे अंदर ही अंदर डर काफी लग रहा था कि कहीं किसी दिन सिम्मी को चोट वोट ना लग जाए. फिर बहू ने गेट खोला तो वहाँ मेरा बेटा और उसका दोस्त खड़ा था जो उसे छोड़ने आया था.

मैं राहुल पटेल, मैं आपको अपनी पहली सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूं जो बिल्कुल सच्ची कहानी है कि कैसे मैंने अपने मामा की जवान बेटी की चुदाई की।सबसे पहले लंड के राजाओं और चूत की रानियों को मेरा सप्रेम नमस्कार. उस दिन मैंने भाभी को तीन बार चोदा और करीब शाम को 7 बजे हम दोनों बिस्तर से उठे.

टीटी ने मेरे मम्मों को ललचाई नजरों से देखा और कहा- सोच लो, कुछ भी करोगी आप?मैं समझ गई कि मादरचोद चुदाई से ज्यादा क्या करेगा.

मैंने बोला कि मुझे जल्दी है, तुम जल्दी से खाना दे दो, मुझे घर जाना है. पर मैंने थोड़ी मेहनत करके दुबारा से लंड थोड़ा सा अन्दर घुसेड़ा, तो प्रीति की चीख निकल गयी. आप अच्छे से जानते हो!मैंने कहा- जब तक आपकी मर्जी न हो, मैं कुछ नहीं करूंगा.

थोड़ी देर में सैम ने केक की क्रीम मेरी चूत पर लगाई और फिर से चुत चाटने लगा. मैंने ये सुनते ही अपना लंड भाभी की चूत पर सैट कर दिया और हल्का सा धक्का दे दिया. इसलिए वह बस बिस्तर पर लेट गया और उसने कहा- बेटी मालिश शुरू करो।करोना अपने होश में आई और उसने तेल की बोतल से अपनी हथेली पर थोड़ा तेल लगाकर बिस्तर के एक तरफ खड़ी होकर मालिश शुरू कर दी।यह मालिश करने के लिए एक असुविधजनक स्थिति थी, इसे भांपते हुए चिन्ना बोला- बेटी, ऐसे मालिश ढंग से नहीं हो पायेगी और तुम्हारी ड्रेस भी ख़राब हो जाएगी.

मेरा 6 इंच का लंड देख कर वह डर गई और बोली- इतना बड़ा और मोटा मुँह में कैसे जायेगा?पहले उसने मना किया पर मेरे ज्यादा कहने पर वो मान गई और मेरा लंड चूसने लगी.

हिंदी बीएफ वीडियो डांस: मेरी चालू मां जो कि अभी अंकल का लंड लेकर आई थी, उसको यह उंगली भी काफी अच्छी लग रही थी. वो ट्रायल रुम वाले कमरे के पास गया और कहा- बताओ मेरी जान क्या कहना है?मैंने कहा- भैनचोद मां के लौड़े … जो तुमने दिन में किया था, उसकी मैंने वीडियो बना ली है और उसमें तुम दोनों भाई मेरी चुदाई कर रहे हो … सब क्लियर दिख रहा है, अब मैं पुलिस के पास जा रही हूं.

भाभी ने गांड ढीले करके लंड को सैट किया, तभी मैंने लंड गांड के अन्दर पेल दिया. तो बाकी के रसगुल्ले मैंने अपनी भांजों को खिला दिया।शाम को मम्मी पापा आये. दस मिनट की चुदाई के बाद वो कहने लगी- आह मैं भी निकलने वाली हूँ आहा आह … मैं आ रही हूँ.

अब मामी को मज़ा आने लगा था और मामी ने भी नीचे से कमर हिला हिला कर मेरा साथ देने लगी थीं.

जब मैंने पहली बार उसे देखा तो देखता ही रह गया। वह एक चुस्त टॉप और शॉर्ट्स में मिलने आयी थी।मैंने उसे सोफ़े पर बिठा दिया और पानी दिया। वह 6 महीने से चुदी नहीं थी। उसके हाव भाव से लग रहा था कि जैसे वो चुदाई के लिए ही मेरे पास आई है. तभी मैंने उसकी जींस में हाथ डाल दिया और उसके चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा. मैं बर्दाश्त ही नहीं कर पा रहा था, इसलिए मैंने अपना एक हाथ पीछे रखा और दूसरे हाथ से दीदी के बाल पकड़ लिए.