बीएफ वीडियो 18 साल का

छवि स्रोत,बीएफ फिल्म हरियाणवी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी+ब्लू+फिल्म: बीएफ वीडियो 18 साल का, मैंने अपने लण्ड का टोपा उनकी बुर के मुखद्वार पर रखा और पूरा लण्ड उनकी गुफा में पेल दिया.

चीन वाली बीएफ

रंजू ज़मीन पर खड़ी होकर अनु दीदी को दोनों हाथों को ऊपर की ओर खींच रही थी और उनकी चूचियों को सिर के तरफ से झुक कर चूस रही थी. एक्स एक्स एक्स बीएफ मूवी पिक्चरजब तुम छोटे से थे, तब से जानती हूँ … बस ये नहीं सोचा था कि तुम्हें अपनी बात बोलने के लिए पैसों का सहारा लेना पड़ेगा … और वैसे भी तुम मुझसे बहुत छोटे हो.

आपको अपनी पड़ोसन भाभी की चुत चुदाई की कहानी के पहले भागपड़ोसन भाबी को चुदाई की वीडियो भेजी तो …में सुना रहा था कि भाभी ने मेरे प्रणय निवेदन से भरे हुए पत्र के जवाब में मुझे एक पत्र लिखते हुए डांट लगा दी थी. बीएफ 15 साल लड़की कीभाभी ने कमरे में आते ही पूछा- क्यों रोहित … आज बिना कपड़ों के नहीं सोओगे क्या?मैं हंस कर बोला- क्या भाभी … आप भी सता रही हो.

उसकी बातें सुनते हुए मैंने सामान्य रिएक्ट करने की बहुत कोशिश लेकिन फिर भी मेरा लंड खड़ा हो ही गया.बीएफ वीडियो 18 साल का: उस रात हम दोनों ने नंगे होकर दारू पी और उस रात को दीदी की चुत में, गांड में,चुचियों में मुँह में … पर सब जगह लंड पेला और ऐसे ही एक हफ्ते तक मैंने दीदी को जमकर चोदा.

जब तक अमितेश वापस नहीं आया, श्वेता और मैंने खूब चुदाई की मस्ती की; हर आसन में चुदाई का ज़बरदस्त आनन्द उठाया.कुछ देर बात करने के बाद भाभी ने बताया कि मम्मी पापा कुछ दिन के लिए गांव जा रहे हैं.

हिंदी में सेक्स बीएफ बीएफ - बीएफ वीडियो 18 साल का

उन तीनों के कॉलेज का काम मैं ही करता था … या यूं कहो कि तीनों को लाने-ले जाने के अलावा हर तरह की हेल्प करना भी मेरी ही जिम्मेदारी थी.उनमें ज्यादातर तो मुझसे बड़ी ही लग रही थीं और मैं इस बात को लेकर हिचक रहा था कि मैं इनके साथ मजा कैसे कर पाऊंगा.

वो सब मैं आगे की सेक्स कहानी में लिखूंगा की मैंने सादिका की चुदाई कैसे की. बीएफ वीडियो 18 साल का कॉलेज स्टूडेंट्स लव लाइफ स्टोरी कुछ दोस्तों के एक ग्रुप की मस्ती की हैं.

मैंने उसकी नेकर और पैंटी निकाल दी और उसे पलंग पर ही घोड़ी बना दिया.

बीएफ वीडियो 18 साल का?

लिली की शानदार खड़ी 34 साइज की चूचियाँ और सुन्दर जांघें गजब ढा रही थी. मैं नीचे जमीन पर घुटनों के बल झुका हुआ था और मैं चाची के दाहिने हाथ की तरफ था. अब मैंने उठने का यत्न किया, तो भाभी ने मेरे हाथ को पकड़ते हुए मुझे वापस बिठा दिया.

घर आकर मैं कुछ सोच में पड़ गई कि कल किस तरह की ड्रेस डाल कर जाऊं, जिससे मैं उसको अपनी तरफ आकर्षित कर सकूं. मैं यामिना के पीछे उसकी गोरी गाँड की गहरी खाई में लण्ड रखकर खड़ा हो गया. मैंने पूछा- लेकिन तुम तो कंपनी की यूनिफॉर्म में हो, इसे पहन कर मसाज कैसे कर सकती हो?यामिना- साहब, अभी तो मेरे पास दूसरे कपड़े भी नहीं हैं, ऐसे ही कर देती हूँ.

उसकी बातें सुनते हुए मैंने सामान्य रिएक्ट करने की बहुत कोशिश लेकिन फिर भी मेरा लंड खड़ा हो ही गया. उससे मुझे जो मजा आया, बस तभी से मुझे चुदाई करने का जुनून सवार हो गया. अचानक हुए इस हमले से मैं झटके में रह गयी तो मैंने धीरे से कहा- चूतिया हो क्या?तो वो हंसने लगे और कुछ बोले नहीं.

वहां देखा तो उनके बेटे ने बताया कि मैकेनिक बुलाए थे, वे कह रहे थे वर्कशॉप पर ले जाना पड़ेगा. दस मिनट तक किस करने के बाद अमन ने मेरी बहन रीना का तौलिया हटा दिया.

पूरे कमरे में बस फच फच की आवाज़ और वासना भरी सिसकारियों की आवाजें ही आ रही थीं.

ऑफ़िस पहुँच कर हर रोज़ की तरह शेखर अपने काम में लगा रहा और देखते-देखते ही लंच का समय हो गया.

इस तरह से कई मिनट तक मैंने उसकी चुदाई की और फिर मेरा माल भी निकलने को हो गया. चारों तरफ अच्छी तरह से देखा तो कुछ भी नजर नहीं आया, जिससे उस पर कोई शक़ कर सकता था. उसकी चूत को मेरा लंड मजा दे रहा था, तो मैंने उसे किस करना बंद कर दिया और गेम बजाने की कोशिश करना शुरू कर दी.

लेकिन मैं तो मानने के लिए तैयार ही नहीं थी क्योंकि आज बहुत दिनों बाद मेरी एक इच्छा पूरी होने जा रही थी. मैं- तुम नीचे थॉन्ग या पैंटी नहीं पहनती हो क्या?तान्या- वो पहनकर मैं अपनी गांड की शेप नहीं बिगाड़ना चाहती. अमन को भी अपनी सजा में पूरा मजा आया और उसको एक सही उत्तर मिला जो हरकत उसने की थी।तो आपको मेरा ये कामुक अनुभव कैसा लगा? मैं एक तीखी बी.

दस मिनट बाद जब मैं नहा कर बाहर निकला तो मामी बोलीं- नानी और नाना नीचे धूप में चले गए हैं.

फिर उसके बाद …दोस्तो, मैं शैल आपके लिये अपनी स्टोरी का दूसरा भाग लेकर आया हूं. उसने बुझे हुए मन से फोन उठाया और बोली- सहेली का भाई मिल गया, उन्हीं के साथ आ रही हूँ।मतलब साफ था कि उसने मेरे साथ और आगे के सफर करने की अपनी तरफ से हरी झंडी दे दी थी।मैंने भी मुस्करा कर अपनी सहमति जता दी. आप मेरी अन्तर्वासना की कहानी से जुड़े रहें और मुझे मेल करना न भूलें.

वो दोनों श्वेता और उसके पति के बीच हुई बहस के बारे में बात करी थीं. इस धक्के से प्राची की चीख निकल गयी और उसकी आंखों से पानी निकलने लगा- आह आह … धीरे करो!प्राची बड़बड़ा रही थी. उनके गोल मटोल, बड़े बड़े और कसे हुए मम्मों को देखकर मेरी लार टपकने लगती थी.

मैंने अपना हाथ थोड़ा और नीचे किया और फिर पूछा- यहां?श्वेता- नहीं थोड़ा और नीचे.

दीपक ने अनु दीदी के साथ मस्ती में उनकी ब्रा-पैंटी के साथ-साथ अपना अंडरवियर भी उतार दिया. चाची कुछ नहीं बोली, बस मुझे देखने लगी और अपना मुँह ऊपर करके होंठ से होंठ मिला लिए.

बीएफ वीडियो 18 साल का उसने लंड मेरी चूत पर रखकर एक झटका मारा, जिससे लंड आधा के करीब मेरी चूत में समाहित हो गया. हॉट देसी औरत चुदाई कहानी मेरे पड़ोसी की पत्नी के मेरे साथ सेक्स सम्बन्ध की है.

बीएफ वीडियो 18 साल का फ्रिज से दो गिलास जूस लेकर मैम सोफे पर आ गईं और मेरे बगल में बैठ गईं. भाभी के मुँह से गालियां सुनने से मुझे मजा आ गया और मैं भी भाभी को गालियां देने लगा- साली बहन की लौड़ी रंडी … तेरी मां की चुत … छिनाल … इतनी देर से नाटक कर रही थी.

ज्योति- तू मेरे साथ क्यों आई बीसी? मैं चिराग के साथ उसके रूम में जाने वाली थी, पर तूने तेरी बहन चुदवा ली.

एक्स एक्स सेक्सी डाउनलोड

फिर धीरे धीरे मेरी नाभि व पेट को चूमती हुई पैरों तक गयी और फिर मुझे घूम जाने को कहा।मैं घूम गयी. अब मेरे बूब्स मेरे बैग से ढके हुए थे जिससे अगर वो मेरे बूब्स दबाता तो किसी को दिखाई नहीं देता. अब आगे गरम औरत की गांड मारने की कहानी:इस बार बुआ ने लंड को ना चूस कर सीधे मेरे टट्टों को चाटना शुरू कर दिया था बल्कि एकाएक मेरे एक टट्टे को अपने मुँह में भर लिया था.

मैं- क्या हुआ … ऐसे क्या देख रही हो?श्वेता- कुछ नहीं … इसे देखकर लग रहा है कि मैंने कोई बाथरूम में गिरने का ड्रामा करके कोई गलती नहीं की. उनको दर्द होने लगा, दर्द को कम करने के लिए मैं उनके मम्मों को दबाने लगा. फिर मैंने उसको लेटाया और उसकी टांगों को अपने कंधे पर रखवा कर उसकी चूत में मुंह दे दिया.

वो फिर से मेरी तरफ आई और उसने मुझे फिर से किस करना स्टार्ट कर दिया.

ये प्वाइंट्स हम यूपीआई या जीपीए या पेटीएम या क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके खरीद सकते हैं. थोड़ी देर किस करने के बाद मैं उसको अपनी गोद में उठाए बिस्तर तक ले गया. इस घटना के हर पहलू को आपको बताऊंगी ताकि मेरी जिंदगी की इस अहम घटना की पूरी जानकारी के साथ साथ आप लोगों को मेरी चुदाई का पूरा मजा मिले।तो दोस्तो, सर्दियों का मौसम शुरू हुआ.

वो मेरी तरफ देखता ही रह गया और दोनों लिफाफों को अपने पास रखते हुए बोला- मैडम, मैं अपने जीवन में कुछ भी भूल जाऊं, मगर आपको कभी नहीं भूलूंगा. उनकी बात सुनकर मेरी कुछ समझ में नहीं आया कि भाभी ने पहले मुझे कब नंगा देख लिया था. हम दोनों ने अपने फोन नंबरों का भी आदान-प्रदान किया और अब फोन पर बातचीत करना शुरू कर दी.

लिली हाँफते हुए बोली- फिर मुझे पकड़कर ऑफिस में ही क्यों नहीं चोद दिया?उसकी बात सुनकर मैं दुगने जोश से ठोक लगाने लगा. अब उसे मजा आने लगा था और वो अपनी गांड उठा कर मेरे लंड के झटकों का जवाब देने लगी थी.

मैंने ऊपर नजर उठाकर छत में लगे शीशे में देखा और उसकी करतूतों का मुआयना करने लगी. हमें चुदाई करते करीब एक घंटा होने को था और मुझे अचम्भा था कि पूनम बुआ सिर्फ एक बार ही झड़ी थीं. लिली वाशरूम के बहाने से अपने बेडरूम में गई तो मैं भी पीछे पीछे चला गया और जैसे ही वह वाशरूम से निकली मैंने उसे फिर पकड़ लिया.

अभी तक जिसने भी मेरी सेक्स कहानी को पढ़ा है, मैं उन लोगों का धन्यवाद करना चाहूंगा.

फिर ज्योति ने पल्लवी की तरफ देखते हुए पूछा और आंख मार दी- क्यों पल्ली?सब जानते थे कि पल्लवी विराज को लाईक करती थी. वो दीवार की तरफ बिना पलकें झपकाये पता नहीं क्या देख रही थी या फिर पता नहीं कुछ सोच रही थी. तुम अच्छे परिवार से लगती हो, फिर ये सब कैसे!मैंने कहा- आंटी घर में पैसों की प्रॉब्लम थी … इसलिए.

मेरी दोनों टांगों को फैला कर मेरे छेद में अपना हथौड़ा डाल कर रगड़ने लगा. मैं देख कर डर गई कि क्या इतने लोगों से चुदना पड़ेगा?मगर मैं कुछ बोल नहीं सकती थी क्योंकि मेरे बॉस करन की नौकरी का सवाल था.

अब वो अपने पति के होंठों को चूसते हुए अपनी चूत में उसकी उंगली का मजा ले रही थी. उसका पति उसे संतुष्ट नहीं कर पाता था, इसलिए वह अपने पति के दोस्त के साथ अपनी शारीरिक भूख को शांत करती थी. मामी मुझे नहलाने लगीं और साबुन लंड पर लगा कर उसे अच्छे से साफ कर दिया.

इंडियन ट्रिपल एक्स व्हिडिओ सेक्सी

यहां तक कि मेरी पैंटी तक भीग गई थी बारिश से।हालांकि मुझे बारिश बहुत पसंद है मगर अभी तो ऐसा लग रहा था जैसे किसी बाज़ार में नंगी खड़ी हूं और बाकी सारे मेरा मुआयना कर रहे हैं कि चूची कैसी हैं इसकी, चूत कैसी होगी इसकी.

दीदी घर में सब काम करने लगीं और काम करने के बाद रोज के नियमानुसार वो स्नान करने अपने बाथरूम में चली गईं. वो मस्ती से मेरी तरफ देखने लगी, तो मैंने चाची का ब्लाउज भी खोल दिया. मैंने मम्मी की चूत में उंगली करना शुरू कर दिया और चड्डी के ऊपर से ही पापा का लंड पकड़ लिया और दबाने लगा.

दस दिन बाद मेरी पत्नी ने बताया कि पीहर से फोन आया है कि मेरी भाभी को मासिक धर्म नहीं हुआ है. लेकिन मैं इस बात से बिल्कुल अंजान था कि वो मुझ पर इस तरह फिदा हो चुकी है कि वो कैसे भी करके मुझे पाना चाहेगी. ब्लू बीएफ नंगावे अंन्दर आ गई और बाहर जाकर छत पर जमीन पर गद्दा बिछा कर बच्चों को सुलाने लगी.

बहुत दिनों से कोई लंड नहीं लिया था, तो लंड का मजा लेने को गांड लुकलुका भी रही थी. अब संगीता ने वापस बगल की दराज से सिगरेट की डिब्बी और लाइटर निकाल कर टेबल पर रख दी.

मेरे सामने मामी के भरे हुए रसीले आम और ताजा ताजा साफ की हुई चिकनी चुत थी. उसका चिकना और समतल पेट, उसकी गहरी नाभि, उसकी कमर, उसके माँसल और कोमल नितंब. अनीता सोचने लगी कि अब कैसे रमण को ऊपर पहुंचाए?उसने प्रकाश से कहा कि उसका मन बीयर पीने को कर रहा है, मगर साथ प्रकाश को व्हिस्की से देना होगा।प्रकाश बोला- नहीं, आज पहले तुम मेरा लंड चूस दो। साले विजय ने बार बार तेरी चूत दिलाने की बात कह कर मेरा लंड खड़ा कर दिया।अनीता ने फटाफट रमण को पर्दे के पीछे छिपने का इशारा किया और रूम में जाकर पहले लाइट बंद की.

वह बहुत दिनों से नहीं चुदी थी, इसलिए जल्दी से लंड चुत में ले लेना चाह रही थी. मैंने उससे अलग होकर उसके घर के देसी बाथरूम में घुस गया और नहा कर ताजा हुआ. फिर सूरज भईया भाभी को देख कर बोले- अरे वाह लगता है दोनों देवर भाभी होली के मजे ले रहे हैं.

मैं आगे बढ़कर उसके होंठों को चूमने लगा और एक हाथ बढ़ाकर बूब दबाने लगा.

छाया- क्या बताऊं मनोज, अभी पीहू (छाया की बेटी, उसके बारे में मैं आपको अगली कहानी में बताऊंगा) घर पर आयी हुई है और लॉक डाउन भी है, तो बाहर भी नहीं आ सकती. एक दिन मैंने भी उससे अकेले में चूम लिया था, जिस पर वो ये कहते हुए भाग गई थी कि थोड़ा सब्र रखो.

उसने कहा- अगर आपने कल ये बात बोली होती तो मैं आपको खरी खोटी सुना चुकी होती, मगर आपकी स्टोरी पढ़ने के बाद मैं अब हर हाल में आपसे मिलना चाहती हूं. बारिश तेज़ थी, इस कारण से हम भीग गए थे और बाइक भी धीरे चल पा रही थी. उसने मुझसे सामान्य बातचीत से बोलना शुरू किया, फिर एक दूसरे के बारे में बात की और इस तरह से धीरे धीरे हम दोनों एक दूसरे के करीब आते चले गए.

मैं कैसा लगता हूँ आपको?भाभी- अरे नहीं, आपको तो मुझसे भी अच्छी मिल जाएगी. मैंने अब भी बुआ को संभलने का एक भी मौका नहीं दिया और तीसरा धक्का जो उनकी में मारा, मेरा आधे से ज्यादा लंड पूनम बुआ की गांड में था. लोग मुझे थोड़ी ही चोद रहे हैं?मुझे थोड़ा अजीब फील हो रहा था और भारी कशमकश के चलते मैंने सीमा से पूछा- सीमा, वैसे एक बार के कितने पैसे मिलते हैं?सीमा मुझे देख कर मुस्कुराई- क्यों पूछ रही है … कल से तू भी चलेगी क्या?मैं- नहीं बाबा मुझे नहीं आना, बस ऐसे ही पूछ रही हूँ … बता ना कितने मिलते हैं?सीमा- एक शॉट के 3000 से 5000 के बीच मिल जाते हैं.

बीएफ वीडियो 18 साल का पूरी रात मैं अपना लंड रमिला चाची की प्यारी मखमली गांड पर रगड़ता रहा लेकिन उन्होंने मेरी एक न सुनी औरचाची की गांडकुंवारी ही रह गई. पड़ोसन की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे साथ वाले फ्लैट की भाभी ने मुझसे सेक्स की बात करके अपने फ़्लैट में बुलाया.

पति-पत्नी का वीडियो सेक्सी

आशा- अरे तो मुठ मार लो ना चाचा … अभी तो मुझे अपनी चुत के लिए मस्त मस्त लौड़े मिल रहे हैं. बहुत बड़े बड़े दूध थे … ब्लाउज का गला गहरा था, सो आधे से ज्यादा बाहर को आ रहे थे. और शिखा से बोली- तू अपने वाले को भी बुला ले!शिखा ने दीपा को आँख मारते हुए कहा- मनीष तो सो रहा होगा। तू उसे उठा ले, जब तक नाश्ता आता है, मैं भी एक झपकी मार लूँ।अनिल ने नाश्ते का ऑर्डर दिया।दीपा बोली- मैं चेंज कर लूँ, बाहर ऐसे नहीं जाऊँगी।शिखा चीखी- तुझे कौन सा मार्केट में जाना है। बस दूसरी कॉटेज में ही तो जाना है.

मगर मैं अभी अपनी चूत को एक लड़के के सामने फैलाने जा रही हूं, इसलिए मैं चाहती हूं कि वो भी इसके बारे में बात करे। वैसे भी मुझे लड़कों के साथ फ्लर्ट करने में बहुत मजा आता है. मैं नीचे से धक्का देने लगा, तो मेरा लंड ना तो एक इंच भी बाहर ना आया और ना ही अन्दर गया. एक्स बीएफ हिंदी देहातीउस दिन बुआ ने मुझे फोन करके कहा- हम सभी एक दिन के लिए बाहर जा रहे हैं.

इसलिए आज की रात अपनी सैटिंगों से ही रंगीन हो जाएगा, ये सोच कर मेरा मन खुश हो रहा था.

स्नेहा ने आज टाईट फिटिंग वाली ब्लू जींस और ढीला ढाला ब्लैक कलर का टॉप पहना था. मुझे अपने वीर्य की गति नीचे से उठकर ऊपर आती हुई महसूस होने लगी और कुछ ही झटकों के बाद मेरे लंड से मेरे माल की पिचकारी बाहर निकल पड़ी.

दीदी बोलीं- मेरा मन भी है … तेरे पास एक्स्ट्रा है क्या?मैं दीदी की बात सुनकर चौंका … फिर मैंने कहा- नहीं है … आप कहो तो लेकर आऊं?दीदी ने सौ का नोट दिया और बोलीं- हां एक डिब्बी ला दे. अब उसने अपने होंठ मेरे होंठों पर टिका दिए और मेरे और अपने सारे कपड़े उतार दिए।मैं उतावला हो रहा था. उसके बाद उसका पति उठकर बाथरूम में चला गया लेकिन साक्षी वहीं पर लेटी रही.

भाभी ने मुझे खाना परोसा, पर मैं शर्म के मारे भाभी की तरफ देख ही नहीं पा रहा था.

जब मैं घर आया तो मेरी मम्मी ने मुझसे कहा- तेरी बगल वाली भाभी आई थी, वो टैब का कुछ पूछ रही थी. मैंने चाची की पैंट के बटन बन्द करने की कोशिश की तो मेरे हाथ कांपने लगे. मेरे परिवार में मेरे अलावा मेरी दो बड़ी बहनें और मम्मी-पापा हैं।लड़की की सेक्सी कहानी तब की है जब मैं कॉलेज में पढ़ता था और मेरी एक दोस्त संजना के साथ मेरे शारीरिक सम्बन्ध बने।यह कहानी बिल्कुल सच्ची है जो मेरे साथ मेरे कॉलेज के दिनों में सच में हुई थी.

सनी लियोन की सेक्सी हॉट बीएफउन्होंने नीचे हाथ करके मेरा लंड पकड़ लिया था जिससे लंड एकदम टाइट हो गया था. मैंने गेट पर नॉक किया, तो वो बोली- अरे जीजू आप … अन्दर आ जाओ न!मैं- तुम मेरे कमरे में आई थी, कुछ काम था क्या!दीपिका- नहीं, मैं तो बस नाश्ते के लिए पूछने आई थी, पर आप तो कहीं और ही बिज़ी थे.

इंडियन देसी सेक्सी वीडियो डॉट कॉम

भाभी जी, जो कि पेशे से डॉक्टर थीं, उन्होंने मेरा इलाज किया और जाते समय उन्होंने मुझे कुछ दवाई भी दी. आपकी ननद को सुबह की सैर करवा रहा हूं।भाभी ने रोमिल का लंड चुसना शुरू कर दिया और वो भी घोड़ी बन गई. जवान तीन परियां आत्मतृप्त होकर मुस्कान बिखेरते हुए अपनी चुत सहला रही थीं.

ललित ने बताया था कि धारा अक्सर दोपहर में चैट रूम में बातें करने आ जाती है. मुझे अन्दर ही अन्दर ऐसा महसूस हुआ कि मेरे देवर और मेरे बीच में जो कुछ हुआ, उन्होंने शायद वे उसे बता दिया था और अब वे भी मेरे साथ इंजॉय करना चाहता था. अगली सेक्स कहानी में अपने बच्चे के होने वाले दूसरे बापों की चर्चा करूंगी.

फिर लिली ने अपना पेग मेरी ओर किया तो मैंने लिली के पेग से सिप किया और कहा- ये हमारी नई दोस्ती के नाम. मैंने आधा ही लंड अन्दर डाला बाकी का भाभी ने चुत उछाल कर पूरा लंड एक बार में ही अन्दर ले लिया. यामिना चुदते चुदते, हिलते हुए मेरी आँखों में देखकर मुस्कराई और आंखों के इशारे से सहमति दे दी और बोली- पहना … देना.

कब उसका एक हाथ अपनी नाईटी उठा कर छोटी सी हल्के रोंये वाली चिकनी चूत पर चला गया, उसे पता ही नहीं चला. उसने मेरी चूची दबाकर मुझे गिरने से रोका और उसके कड़क हाथ में मेरा बोबा मसला गया तो मेरे मुंह से एक जोर की आह्ह … निकल गयी.

मगर उसने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी और चुपचाप मेरा हाथ पकड़ कर मुझे दूसरे रूम में ले गयी.

वो इसलिए होने लगा था क्योंकि एक बार जल्दी जल्दी में लंड मम्मी की गांड में घुस गया था और वो दर्द से चिल्ला उठी थीं, तो पापा पूछने लगे थे कि क्या हुआ. खेत का सेक्सी बीएफफिर जैसे ही सब ठीक हो गया, वैसे ही उन्होंने मुझसे पूछा- आप क्या काम करते हो?मैं- जॉब करता हूं. गांडू बीएफ वीडियोलड़की की सेक्सी कहानी में पढ़ें कि मेरी बेस्ट फ्रेंड ने एक बॉयफ्रेंड बना लिया. उनकी टांगें ऐसे भिंच गईं, जैसे वो अपनी चुत को मुझसे छिपाना चाह रही हों.

एक दिन सादिका ने ये बात उसको समझाने के लिए बोला तो किंजल बोली- मेरी सहेली खुश है … और मैं भी खुश हूं.

इतना मोटा और लंबा लंड दुनिया में हज़ारों में एक दो लोगों का ही होता होगा. मेरे सामने मामी के भरे हुए रसीले आम और ताजा ताजा साफ की हुई चिकनी चुत थी. मेरी पिछली कहानी थी:सहेली के पति ने मेरी चूत मार लीमैं अक्षिता एक बार आपके सामने अपनी देवर भाभी Xxx कहानी लेकर फिर हाजिर हूं.

मैंने अपने आपको रोकने की बहुत कोशिश की लेकिन कामयाब नहीं हुआ, तो मैंने भी अपने कपड़े उतार डाले और नंगा ही बाथरूम के पास पहुंच गया. हम दोनों रास्ते में ऐसी जगह फंसे थे, जहां से सीधा हमारा गांव आता … बीच में और कोई गांव नहीं था. फिर भाभी जी ने चुत में टोपे को अन्दर ही रखा और नीचे झुक कर मुझे किस करने लगीं.

कट सेक्सी

जैसे ही मैंने यामिना की गीली चूत में अपनी बड़ी उंगली चलायी, यामिना ने अपनी दोनों जांघों को भींच कर मेरे हाथ को दबा लिया और जोर से आई … ईईई … करके चीखी. लेकिन रिश्ते और घरवालों के डर की वजह से उन दोनों को याद करके अकेले में मुठ ही मार सकता था. मैंने कम रोशनी में सिरहाने रखी पानी की बोतल टटोली, फिर हाथ फैलाए … तो देखा भाईजान की जगह खाली थी.

एक दिन मुझे अपने स्कूल में साथ पढ़ने वाली फ्रेंड की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई.

चाची ने अपनी ब्रा निकाल रखी थी लेकिन नाइटी को अपने पेट और छाती पर एक साइड से दूसरी साइड पर लपेट कर वैसे ही कपड़े की डोर से बांध रखा थानाइटी न तो इतनी पतली थी कि उसमें से सब कुछ दिखाई दे और न ही इतनी मोटी थी कि उसमें कुछ छुपा रह सके।चाची के सुडौल बड़े-बड़े मम्मे और उनके ऊपर निप्पल होने का स्पष्ट आभास दे रहे थे.

वो भी मुझसे किसी लता की तरह लिपट गई और हम दोनों एक दूसरे की धड़कनों को महसूस करते हुए एक दूसरे के जिस्म की गर्मी का सुख लेने लगे. मैं बाथरूम में कैसे पहुंचा और वहां क्या क्या हुआ?फ्रेंड्स, मैं यश … मेरी नंगी भाभी सेक्स स्टोरी के पिछले भागहोली में छू ली भाभी की चोलीमें आपने पढ़ा कि मैं अपनी पड़ोसन मोना भाभी के साथ बाथरूम में था और उनके होंठों का रस पीते हुए उनकी चुत को रगड़ रहा था. सेक्सी बीएफ वीडियो चाइनामैं अपनी जीभ उसके मुँह में डाल कर घुमाने लगा, तो प्राची ने भी मेरी जीभ को पकड़ कर चूसना शुरू कर दिया.

जब मेरे देवर जी की जीभ मेरी चुत के दाने को लिकलिक करके गर्म कर रही थी तो मेरी चुत ये सह न सकी और उसने अपना झरना बहा दिया. कुछ देर बाद मैं घोड़ी पर सवार हो गया और चूत लंड का घमासान युद्ध शुरू हो गया. मैं तेरी मां नहीं हूं जो किसी भी कुत्ते के सामने अपनी चूत फैलाकर खड़ी हो जाती है.

उसके बाद क्या हुआ?हैलो फ्रेंड्स, सेक्स कहानी की बात कही जाए तो किसी भाभी की चुदाई करने में जो मज़ा आता है न दोस्तो, वो किसी और की चुदाई करने में नहीं आता है. तब भाई साहब बोले- अरे साहब ही आपकी परीक्षा लेने वाले सबसे बड़े अफसर हैं.

अब मैं उसको किसी और नजर से देख रही थी और उसको अपनी तरफ आकर्षित करना चाहती थी.

चाची- क्या हुआ, यहाँ क्यों आये हो?मैं कुछ नहीं बोला, बस चाची की चूचियों की ओर देखता रहा. बॉस की हॉट बीवी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे सीनियर की बीवी को चोट लग गयी. चाची बोली- यो त थकता ही ना है!मैं बोला- इसके सामने इतनी खूबसूरत चुत है तो ये क्यों थकेगा!फिर चाची ने कमरे में चलने का इशारा किया, तो हम दोनों बेड पर आ गए.

बीएफ सेक्सी मां बेटे बीएफ वक़्त तो मानो ठहर सा जाता … कब भोर हुई और कब सूरज की किरणें खिड़की से झाँकती हुईं शेखर के कमरे को रौशन कर जातीं पता ही नहीं चलता था. पुष्पा मेरी हमउम्र ही थी, इसलिए वो बचपन से ही मुझसे खुलकर बातें करती थी.

मैं देख कर डर गई कि क्या इतने लोगों से चुदना पड़ेगा?मगर मैं कुछ बोल नहीं सकती थी क्योंकि मेरे बॉस करन की नौकरी का सवाल था. देखते हुए दोनों आपस में बातें कर रहे थे- वेरी नाइस इंडियन पूसी … नाइस एस्स … (मस्त इंडियन सेक्सी चूत है, गांड भी मस्त है). फिर वे मेरे ऊपर आ गए और सीधे अपना लंड मेरी चूत पर रख कर धीरे से एक धक्का लगा दिया.

हिंदी सेक्सी यूपी बिहार

करीब 40 मिनट की मैराथन चुदायी के बाद नेहा बिल्कुल मूर्छित सी पड़ गयी थी. मेरे साथ साथ शायरा ने भी अब मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया था, जिससे हम दोनों ही इस दुनिया को पीछे छोड़ कर अब अपनी एक नयी ही दुनिया में खो गए थे. एक वफादार कुत्ता, जो अपनी खूबसूरत मालकिन की हर बात मानेगा और खुशी खुशी उसकी सजा को भुगतेगा।” ये कहते हुए अमन ने अपना सिर मेरी गोद में रख दिया।अपने कपड़े उतारो और मेरे सामने खडे हो जाओ.

मैं अपनी सेक्सी बहन को बार बार देखे जा रहा था और मेरे मन में गंदे गंदे ख्याल आ रहे थे. उसने मेरे लंड को अपनी चूत पर सैट किया और जोर जोर से लंड पर कूदने लगी.

तभी हम उसकी सच्ची ख़ुशी का एहसास कर पाते हैं।कुछ दिन बाद मेरी छुट्टियां हो गयीं इसलिए मैं घर चला आया।पर व्हाट्सएप्प के जरिये हमारी बात होती रही।मैंने सोचा कि जब तक ये खुद राज़ी नहीं हो जाती तब तक मैं भी पहल नही करूँगा.

हम दोनों भाई वैसे तो निकम्मे या नाकारा नहीं हैं, बस हमारी किस्मत कुछ अजीब है. मैं उनकी गांड को हाथों से भरकर दबाता, तो मोना भाभी ऊपर की तरफ उठ जाती थीं और उनकी नंगी चुचियां मेरे सीने से कस कर मसल जा रही थीं. रनवीर मेरा बहुत अहसान मानता बोला- सर आपको चुत दिलवाऊं?मैंने संकोच तोड़ कर कह दिया- यार दे सके तो अपनी दे दे!प्रमोद मेरे से तो कह रहा था कि रनवीर की दिलवाऊंगा, पर शायद उसने कहा नहीं.

तभी मेरे दिमाग में आया कि आज अपने मन की करने का अच्छा मौका है।फिर शाम लगभग 8. उसके जाने के बाद उसका नम्बर भी बंद हो गया और फिर वो सिलसिला वहीं खत्म हो गया. मैंने भी अपने लंड का सड़का मारा और अपना माल लंड से बाहर निकलने से पहले ही उसे अपनी मुट्ठी में जकड़ लिया क्योंकि इधर माल गिराने से गड़बड़ हो जाती.

कमरे में जवान जिस्मों की चुदाई पार्टी अपने पूरे शवाब पर थी, जहां उन्नीस साल की रंजू, बाईस साल की अनु दीदी और रीना दीदी तीन परियां नंगी चुदवाने को राज़ी थीं.

बीएफ वीडियो 18 साल का: बड़ी दीदी की लड़की जूली यानि मेरी भांजी और मेरी पहले बहुत ज्यादा नहीं बनती थी … वो जरा नकचड़ी थी. वो कुछ नहीं बोलीं और मैंने इसे ही उनकी मौन सहमति मान लिया और उनके गाल पर चुम्मी दे दी.

उसे, उसकी बेटी को सुलाना था … तो मां ने उसे बच्चे को लेकर अन्दर के रूम में ले जाने को कहा. आगे की कहानी भी मैं जल्द ही लिखूंगी जिसमें और भी मजा आएगा आप लोगों को!यह मेरा वादा है. दिव्या ने झटके में चादर अपने ऊपर ओढ़ ली।शशि हंसने लगी और बोली- मैं जल्दी तो नहीं आ गई?दिव्या आश्चर्यचकित होकर मेरी और शशि की तरफ देखने लगी.

भाभी- सूर्या देखो न … फिर से मोबाइल में क्या हो गया?मैं- अब क्या हुआ भाभी जी मोबाइल को!भाभी- जब मैं अपनी मां को इधर से कॉल करती हूँ तो कॉल तो चला जाता है … लेकिन उधर से कॉल ही नहीं आता है.

वो दोनों श्वेता और उसके पति के बीच हुई बहस के बारे में बात करी थीं. आपकी रूपा रानी[emailprotected]भाई का लंड कहानी का अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 3. जब मैं घर आया तो मेरी मम्मी ने मुझसे कहा- तेरी बगल वाली भाभी आई थी, वो टैब का कुछ पूछ रही थी.