इंडियन बीएफ डॉट कॉम

छवि स्रोत,सेक्सी 69

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की पेशाब करती: इंडियन बीएफ डॉट कॉम, वो मुझसे पूछ रही थी- क्या तेरा कोई बॉयफ्रेंड है?पहले तो मैं मना करती रही पर उसके बार बार पूछने पर मैंने सब उसको बता दिया कि क्या क्या मेरी जिंदगी में हुआ।वो भी सुन के दंग रह गई।उसने भी अपने बॉयफ्रेंड के बारे में सब बताया.

पंजाबी शेयर चाट

ठंडा पानी मेरे जिस्म पर ऐसे लग रहा था, मानो तवे पर पानी छिड़क दिया हो. मुस्लिम लड़कियों की फोटोचूंकि मैं अन्तर्वासना पर गांड की चुदाई के बारे की कहानियां पढ़ चुका था.

रात को तकरीबन 9 बजे हम सब घर आए और घर के गेट से ही मयूर ने प्रतीक के सामने मुझे अपनी गोद में उठा लिया. फिंगर कैसे बनाते हैंइस तरह से बहुत दिनों तक मैंने उसके साथ हॉट और सेक्सी बातें की।मैंने उसके बारे में सब पता कर लिया था.

हकीकत तो यह है कि आपकी खूबसूरती को बयान करने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं.इंडियन बीएफ डॉट कॉम: बंध्या तेरे बदन की खुशबू, तेरी चूत और गांड का रस कितना मस्त है, तेरे यह मस्त दूध बहुत कड़क हैं.

सच! ज़िंदगी में किसी मर्द से चुदवाने में ज्योति को इतना मज़ा कभी नहीं आया था.मैं नंगी हो चुकी मोना के गले को चुम्मा करते हुए उसकी चूची पर आ गया और उसकी बुर को एक हाथ से सहलाने लगा.

पंजाबी व्हिडिओ - इंडियन बीएफ डॉट कॉम

उन्होंने दीपा से भी कहा तो दीपा बोली- नहीं मेड आती होगी, मैं नाश्ता बनाती हूँ, तुम दोनों घूम आओ.वैसे तो मुझे भाभियों को चोदने का बहुत शौक है लेकिन कुछ दिन पहले एक लड़के ने कैसे गांड मरवाकर मेरे लंड को मज़ा दिया था.

मैं आप लोगों को एक बात बताना चाहूँगा कि मुझे चुत से ज्यादा गांड मारना ज्यादा अच्छी लगती थी. इंडियन बीएफ डॉट कॉम मैंने ऐसा इसलिए भी कहा था ताकि मुझे थोड़ा देर के लिए आराम मिल जाएगा और सबा को भी रिलैक्स होने का समय मिल जाएगा.

मैंने पूजा को गोद में उठाया और बेडरूम में लाकर बिस्तर में पटक दिया अब मैंने उसका लोवर निकाल उसकी चूत में चाटना शुरू कर दिया.

इंडियन बीएफ डॉट कॉम?

सच कहूं तो उस वक्त मेरा भी मन लंड चूसने का हो रहा था, लेकिन मेरे दिमाग ने मुझे इस बात की इजाजत नहीं दी. रात को भी कितनी ही बार ऐसा हुआ कि अचानक राहुल की आँख खुली तो उसने नायरा को अपना लंड चूसते हुए पाया और इस समय वो इतने मूड में होती है कि राहुल का पानी निकाल ही देती है. हम दोनों की बढ़ती नजदीकियों को ऑफिस में भी कुछ लोग जान गए थे कि हम दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे हैं.

शायद अपने ही बाप से चुदवाने के अहसास ने उसकी वासना को और भड़का दिया था. सुखविन्दर ने वो बोतलें फ्रिज में रख दी। उस थैले में एक शर्ट भी था मगर मैंने उस पर ध्यान नहीं दिया और हम दोनों बाहर आकर अभिजीत के पास बैठ गए और बात करने लगे।हम तीनों ही काफी हंसी मजाक की बातें कर रहे थे. वो ‘आह … उह … ओह … आह …’ करके आवाज निकालती रहीं और मैं भी ‘आह … आह …’ करके उनको पेलता रहा.

मैं ऑफिस में सबसे अच्छे से बात करती हूँ और मैं बहुत खूबसूरत हूँ, तो ऑफिस के लोग भी मुझे बहुत प्यार करते हैं. लेकिन उसने मुझसे कहा था कि मैं आपके अलावा किसी और से प्यार नहीं करूंगा और शादी भी नहीं करूंगा. नीता ऊपर से उसके लंड में अपनी चूत सेट करके बैठ गई और जोरदार चुदाई करने लगी.

मैं उन्हें औऱ तड़पाने लगा और पैंटी के ऊपर से चूत को चाटने लगा, तो वो पागल सी हो गईं. एक दिन सासू बोलीं- ऐसा रहा तो मुझे पोता कैसे देखने को मिलेगा?उन्होंने फोन पर पति से कहा- इसको मैं दिल्ली भेज रही हूं.

कुछ दूर चलने के बाद हम पार्क के एक ऐसे हिस्से में पहुंच गए, जहां ज्यादा भीड़ नहीं थी.

मैंने कैमरे को उनकी चूचियों की क्लीवेज में सैट किया और दनादन कई शॉट्स ले लिए.

उनके बुर चाटने से ही मुझे ऐसा लग रहा था कि उनको चुदाई का कितना तजुर्बा है।मुश्किल से दो मिनट में ही मेरी बुर ने पहली बार पानी छोड़ दिया।वो फिर भी नहीं रुके और लगातार बुर की चुसाई चालू रखी।मुझसे तो बर्दाश्त ही नहीं हो पा रहा था, मैं अपने पूरे शरीर को बिस्तर पर यहाँ से वहाँ पटक रही थी. रोहन- आह्ह्ह आह्ह तुम भी अपनी चूत को ज़ोर ज़ोर से रब करो ना मेरी जान. ऐसे ही रात के 9 बज चुके थे, बाहर मेरे कालोनी का माहौल भी शान्त हो चुका था।सुखविन्दर ने मुझे कहा- अब किसी के आने का डर नहीं है, चलो अन्दर रूम में ही खाना खाते हैं।और हम तीनों अन्दर बैडरूम में गए.

पर अभी तक जेठजी न ही अपने कमरे से निकले और ना ही मुझे खाने के लिए आवाज दी. दीपा को भी आग लग गयी पर वो बोली- मुझे 5 मिनट दो, मैं नयी वाली नाईट ड्रेस पहनती हूँ, फिर रात भर सेक्स करेंगे. पहले तो रीता बात करने में कई दिन मुझ से खुल नहीं पा रही थी लेकिन फिर धीरे-धीरे मैंने ही उसको खोलने की कोशिश की तो वो फिर मुझ से खुल कर बात करने लगी थी.

शान ने बिना रुके मेरी चुत में लंड आगे पीछे करना जारी रखा और कुछ ही समय में मेरी चुत ने चुदाई का मजा लेना चालू कर दिया.

थोड़ी थोड़ी देर में उनमें से कोई बाहर आता … पकोड़े पर हाथ साफ़ करता और बियर के घूँट मारकर दोबारा पूल में चला जाता. माफ़ करना तीनों की नहीं चारों की, मेरे पेट में जो अभी प्यारा सा बच्चा है, उसे कैसे भूल सकती हूं. वो बोले- जैस्मिन कल रात को मैंने नशे में तुम्हारे साथ पता नहीं क्या- क्या किया.

मैं डरता था कि कहीं उसको पता न लग जाये कि मैंने एक औरत की चुदाई को इस तरह से कहानी के रूप में सबके सामने परोस दिया. गांड चोदते हुए कभी मैं बीवी के चुचे पी रहा था, तो कभी प्यारी बीवी के होंठों चूसने लगता. मैं उनका इशारा और इरादा दोनों ही समझ गया और मैं भी उनको अपने पास खींच कर किस करने लगा.

सोनिया- बहुत बदमाश हो तुम … मैं पहले से यहां लगभग नंगी लेटी हूं और ऊपर से तुम चाहते हो कि मैं तुम्हें खुल कर बताऊं.

5 इंच की हाईट और 32-28-32 के टाईट फिगर के ऊपर झोले जैसा ढीला-ढाला गुलाबी रंग का कुरता और ढीली पजामी पहन कर कॉलेज गई थी. मैंने पैसे पकड़ते वक्त अपने हाथ की बीच वाली उंगली भाभी की हथेली पर घुमा दी जिससे वो समझ गयी कि आज उसकी चूत की चुदाई भी हो सकती है.

इंडियन बीएफ डॉट कॉम वो बोले- तो फिर ठीक है, चुदाई के लिए अपने भाई को तू ही राजी कर लेना. परमीत के मुँह में जितना समा सका, उसने मुँह में रखा और बाकी का रस उसके चेहरे और शरीर पर बिखर गया.

इंडियन बीएफ डॉट कॉम भाभी की कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया, जिससे चूत ऊपर सामने की तरफ दिख रही थी. फिर उसने बालों में लगाने वाले तेल की शीशी उठाई और मेरी गांड और अपने लंड पर तेल लगा दिया.

अन्दर उसने कुछ नहीं पहना था, उसके बड़े बड़े दूध तन कर मेरे सामने आ गए.

जंगल में सेक्सी बीएफ वीडियो

चाहे मैं शौच करने जाऊं या पेशाब करने, चाहे नहाने जाऊं या सोने, सुरेंद्र जीजा मेरे पीछे पड़े रहते थे. उस दिन शाम को घर वालों का फोन आया कि वो लोग रात को नहीं आएंगे और मैं घर पर चौकसी के साथ रहूं. जब आशीष को यह बात पता लगी तो उसने भी अपने गांव में इस शादी के बारे में पता किया.

उस पर मेरी उसे दी हुई छूट से उसने काफी कम उम्र में जिंदगी के काफी गहरे अनुभव हासिल कर लिए थे. हर एक धक्के के साथ मैंने पूरे लंड को उसकी चूत में फंसा दिया और वो मेरे विशाल लंड को अब आराम से चूत में लेने लगी. सायरा ने जब मेरा लंड चूमा था, तभी से वो खड़ा था लेकिन अब चमड़ी को फाड़कर सुपारा बाहर आ चुका था और 90 डिग्री पर सेट हो गया।सायरा की नजर मेरे लंड पर पड़ी.

मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूं। बहुत ही रोचक कहानियां यहाँ पढ़ने को मिलती हैं.

” नीलम ने अपने ससुर के गाल पर एक किस देते हुए कहा।बेटी यह क्या … अब तुम्हें किस करना भी सिखाना पड़ेगा क्या?” महेश ने अपनी बहू की तरफ देखा. लेकिन जॉली ने अगले पल एक हाथ उसके गोल गदरायी गांड के दाएं कूल्हे पर रखा और हल्का सा दबा दिया. ” ज्योति ने अपने पिता की टांग खींचने की कोशिश की जिसका मतलब अब महेश भी समझ गया था।ह्म्म्म… तो तुम उस प्रोग्राम की बात कर रही हो… उसे तो तुमने बीच में आकर खराब कर दिया.

चाची ने कहा- दीपू ऐसा नहीं है, मैं सिर्फ तुम्हारे चाचा से ही प्यार करती हूं और उनके अलावा मैंने किसी की तरफ नहीं देखा. पर सीमा बोली- मैं ये नहीं कह रही कि हम लोग भी ऐसा करें, पर आपसी रजामंदी से सब ऐसा करते हैं तो इसमें बुरा क्या है? अगर दोस्ती पक्की है तो बाहर बात भी नहीं जाती और मस्ती भी हो जाती है. अब उन्होंने भी मेरा धीरे धीरे साथ देना शुरू कर दिया था, मैंने अपनी पूरी जीभ चाची के मुँह में दे दी और उनके मुँह में फिराने लगा.

अभी तक मैंने सिर्फ तीन यानि विकी, शरद और सिद्धार्थ के बारे में लिखा है. कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैंने अपनी साली राखी की चूत चुदाई कर डाली थी.

मोसी मुझसे बोलीं- तुम्हारे मौसा मुझे कभी इतना प्यार नहीं करते … सच में तुमने मुझे खुश कर दिया. मैं उसके दूध मसलने लगा, तो वो फिर से लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. उन्होंने लंड सहलाते हुए कहा- हां ये तो है … अब मैं इसे कहीं नहीं जाने दूंगी, अब तो जब भी टाइम लगेगा, मैं हर रोज चुदूँगी इससे.

फिर धीरे-धीरे मैंने उस लेडी से सेक्स के बारे में भी बात करनी शुरू कर दी.

मेरी मां ने ठीक ही कहा था कि तुम्हारी मां ने घर में रंडीखाना खोला हुआ है. फिर दस मिनट मेम की गांड बजाने के बाद मेरे लंड का रस निकलने ही वाला हो गया था. अंशु बोली- घर जा के मैं और उपिन्दर तुझे तेरी पसंद के सारे मज़े देंगे.

वो गर्मागर्म आहें भरते हुए कहने लगीं- आह अनिकेत प्लीज … मेरी चुत की प्यास बुझा दो. लेकिन मैंने मन में सोच लिया कि वो लड़का ही मेरे बदन के साथ खेल रहा है.

चूत में लंड हाथ में बूब्स और मुँह में जीभ … ऐसा लग रहा था कि कई साल बाद चूत मिली है इन्हें. शबनम के सारे विचार उसी पर केन्द्रित थे और वो जब भी मौका मिलता, अपने शरीर को उसके शरीर से रगड़ने की कोशिश करती. वैसे तो लंड को चूत में लेने में मुझे कोई परेशानी नहीं थी लेकिन यहां पर बात पति के लंड को चकमा देने की थी.

वीडियो हिंदी सेक्सी बीएफ

साथ ही आप लोगों से एक प्रार्थना करता हूं कि मेरे पास फोटो वगैरह देखने के लिए मेल न करें.

तभी मुझे कुछ याद आया तो मैंने उसे अचानक रोका और बोली- पहले कंडोम लगाओ!तो वो बोला- बाबू, मुझे तेरी सील बिना कंडोम के तोड़नी है. फिर ऊपर से गाउन पहन कर गार्डन की तरफ जाने को रेडी होकर उसका वेट करने लगी. अब मैं उसके बगल में बिस्तर पर लेट गया और उसको अपनी बांहों में खींच लिया.

फिर जब भी मैं अंकल की दुकाने के पास गुजरता तो वो मुझे आंख मार देते थे. हाय पिताजी, अब तो ये चूत और पेंटी दोनों आपकी हैं, जब मन करे ले लीजिए. टीचर की सेक्सीअब मैंने भी उससे सीधा पूछ लिया- तूने कभी सेक्स किया है?इस पर वो शरमा गई और धत्त कह कर चली गई.

मैं समझ तो नहीं पाया कि वो तीनों आपस में क्या बातें कर रही थीं मगर कुछ तो बात थी जो वो आपस में एक दूसरे को बता रही थीं. हर तरफ से मैं अपने हाथ उसके पूरे बदन पर फिरा रहा था और वो मेरे हाथों में मचल रही थी.

मैंने कहा- चाची अब चाचा 10 दिन आने वाले नहीं हैं, इन दस दिनों में हम खूब चुदाई करेंगे. वही हुआ भी, विनय बॉस के लिए दारू लेकर आ गया और उसने हम दोनों को चुदाई करते हुए देख लिया. मैं तो इतना उत्तेजित हो गया था कि मुझे तो लगने लगा था कि मैं झड़ ही जाऊंगा.

जॉली- अरे मेरे जान … एक बात बताओ, हम हफ्ते के छह दिन तो मिलते ही हैं, फिर भी तू आज यहां क्यों आयी? क्या मैं नहीं जानता हूँ कि तू भी यही चाहती है कि मैं तेरे साथ ऐसी हरकतें करूं. उसकी चूत में उंगली डालने के बाद मैं रीता आंटी की चूत में उंगली को अंदर और बाहर करने लगा तो वो सिसकारियां लेने लगी. जब मेरे घर आने वालों ने उसके बारे में मुझसे पूछा, तो मैंने बता दिया कि वो मेरे साथ ऑफिस में काम करता है.

मैंने ध्यान दिया तो ये वही औरत थी जिसको मैं सुबह अपनी बाइक पर लेकर गया था.

कुछ देर उंगली करने के बाद राहुल ने अपना तना हुआ लंड भाभी की चूत पर लगा दिया. अभय कमीने, तुम भी 50 साल के हो गए हो लेकिन तुम्हारा लंड बहुत तगड़ा और कड़क है। मुझे जोर जोर से चोदो.

मेरे माथे पर पसीने की बूंदें थीं … आंखों में काजल था, जिससे मेरी आंखें तीखी और नशीली लग रही थीं. सोफा थोड़ा साइड में था। इसीलिए महेश को वहां पर बैठने में कोई झिझक नहीं हुई. दरअसल ये क्रीम का कमाल था जो कि बवासीर वाले डॉक्टर मरीज की गांड में उंगली डालने से पहले लगा कर गांड में होने वाले दर्द को खत्म कर देते हैं और मरीज की गांड का सही से चैकअप हो जाता है.

मैंने अपना लंड बाहर निकाला और लंड पर मक्खन लगा कर धीरे धीरे पूरा लंड अन्दर डाल दिया. वो बोला- मां कह रही थी कि पहली बात तो वो लोग दस लाख रूपये हमें दे नहीं पायेंगे. फिर उन्होंने कहा- देख तू मुझे अपनी चाची नहीं … सिर्फ अपनी दोस्त के जैसी ही समझ.

इंडियन बीएफ डॉट कॉम अब बारी आई कपड़ों की … तो उसने अपनी नयी ड्रेस्सेस, शॉर्ट्स, टॉप वगेरा रखे और मनोज के भी कपड़े रखे. तभी पीछे से अभिजीत ने अपना लंड मेरी गांड में लगा दिया और पूरा लंड अन्दर उतार दिया और दोनों ने मुझे दबा कर चुदाई शुरू कर दी.

बड़ी चूत वाली बीएफ

उन्होंने दीदी के हाथ से पानी का जग लेकर थोड़ा सा पिया और वहीं पास पड़ा टेबल पर रख दिया. दे क्यों नहीं देतीं?वो बोली- साले तुम सब लौंडों के नीचे हमेशा आग ही लगी रहती है. मैं टीवी देख रहा था कि तभी बुआ आई और बोली- पप्पू, एक बार हमें खेत में जाना पड़ेगा.

मुझे पूरा यकीन है आप लोगों का हाथ अपने आप अपने लंड पर चला गया होगा. अब मुझे पैसे चुकाने में कोई जल्दी नहीं थी क्योंकि मुझे भी मजा आ रहा था. ब्रेजर कॉमक्या?”हाँ, ब्लाउज पेटीकोट में मस्त माल लगेगी और चुदाई में भी आसानी होगी.

हम दोनों एक दूसरे से लिपटे हुए थे कि अचानक हमें कुछ शोर सुनाई दिया.

फिर हम दोनों ने बाथरूम में साथ साथ बाथटब में लेटकर एक सेशन चुदाई का और चलाया. ये तो तब मालूम पड़ा, जब भाभी की भाभी ने उन्हें कहा और मुझसे बात करने को मुझे बुलाया.

कुछ ही देर के बाद मेरी चूत से पानी की धार फूट पड़ी और मेरी चूत के पानी से पापा का लंड भीगने लगा. अब यह कोई कहने की बात है कि जॉली ने रिया को बिना कंडोम के चोदा और जब रिया घर आयी उसके कोख में जॉली के गर्म उबलते सुलगते बीज थे. उसको बताऊंगा कि तू कैसे शादी की रात को अपनी चूत चुदवाने की प्लानिंग कर रही है.

अगर तुम्हारी इजाजत हो, तो क्या मैं तुम्हारे हाथों को किस कर सकता हूं?उसने कोई जवाब नहीं दिया, बस मुस्कुराकर और आंखों में प्यार भरे, मेरी तरफ देखती रही.

जब भी मैं छुट्टियों में अपने गांव जाता था तो मेरी बुआ मेरे सामने अपनी साड़ी को जांघों तक उठा कर बैठ जाती थी. तभी दरवाज़ा खड़का तो अंशु बोली- मालिनी, तू दरवाज़े पे रह और देख कोई अंदर न आये!मैं धीरे धीरे सफेद पानी शैली की छातियों और पेट पे लगाने लगी। बाहर मम्मी किसी से कह रही थी- बस तैयार हो रही है, क्रीम लगा रही है. माँ लगातार शान और मुझे बहन की लौड़ी छिनाल और मादरचोद कुत्ते कहते हुए चुत लंड चुदाई जैसे शब्दों का होलसेल में इस्तेमाल कर रही थीं.

सोनी समाज की लड़कियांमतलब परमीत और हम एक बड़ी साजिश का शिकार हो चुके थे और इस साजिश में तो सिर्फ इतना ही हुआ, लेकिन कुछ और ज्यादा हो जाता … तो हमारी जिंदगी ही खराब हो जाती. मैं नादान बनकर बोला- चाची आपके सामने कैसे?चाची बोलीं- चुपचाप अपना तौलिया खोल … मैं तेल लेकर आती हूँ और तेरी जांघ की मालिश करती हूँ … उससे तेरा दर्द कम हो जाएगा.

फुल सेक्सी फुल बीएफ

मैंने दूसरे शहर के कॉलेज में दाखिला लिया था … तो मैं हॉस्टल में रहता था. इस बात से सब औरतें भी वाकिफ होती हैं इसलिए सब मेरी तरफ देख कर मुस्करा रही थीं. हम दोनों को भूख भी लग रही थी और अमृता से खड़ा भी नहीं हुआ जा रहा था तो मैंने उसे बाथरूम में ले जाकर बाथ टब में लेटा दिया और गर्म पानी भर दिया.

आआआ सर उम्मम्मम!”मैं लंड अच्छे से चूस रही थी, मेरी चूत पानी पानी हो रही थी और सर का लंड एकदम गर्म सरिये जैसे कड़क था. अब वह मेरे और उस लड़की के बीच में होने वाली जुगलबंदी को समझने लगी थीं. मैं बहुत उत्तेजित था तो मैंने क्या किया?अब तक आपने मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ा कि सोनिया मुझे मिलने के लिए एक रेस्तरां में आने वाली थी.

मगर मैं ये भी जानती हूं कि इस दौरान मेरी मां और उनके दोस्तों के बीच में कुछ संबंध शारीरिक भी रहे हैं लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि मेरी मां ने हमारे घर को कोठा बना कर रखा हुआ है. इतिहास जानने से अच्छा तो यही था कि रिया के मादक जिस्म का भूगोल जाना जाए. कहानी पर अपनी राय देने के लिए नीचे दिये गये मेलआईडी का प्रयोग करें.

मैं दो नंगे मर्दों के बीच नंगी होकर दबी हुई थी और दो दो लंड अपने अन्दर घुसवा रही थी. जब चाची ने मेरा अंडरवियर निकाला और मेरा लंड इतने पास से देखा, तो उनकी आंखों में एक अलग ही चमक आ गई थी.

उसके बाद मैं उसके गालों पर, गर्दन पर और उसके चेहरे को हर जगह चूमने और चाटने लगा.

अन्दर उसने कुछ नहीं पहना था, उसके बड़े बड़े दूध तन कर मेरे सामने आ गए. सेक्सी वीडियो गाना के साथमैं जब भी किसी महिला को देखता, तो एक बार पीछे मुड़ कर उसकी मटकती हुई गांड को जरूर देखता था. लोड़ा पुदि चोदी चोदामगर उस बेवकूफ औरत को यह पता नहीं था कि ऐसे उत्तेजना भरे माहौल में तो मर्द खुद ही नंगा होने के लिए बेचैन हो उठता है. मैंने कहा- नहीं तो, मैंने क्या झूठ बोला तुमसे??उसने कहा- बिल्कुल बोला है, तुमने कहा था कि तुम कभी भी किसी लड़की के साथ रिलेशन में नहीं रहे हो.

कहानी के पिछले भागमौसी ने अपनी भानजी की चुदाई करायी-1में आपने पढ़ा कि अमृता मेरे साथ मूवी देखने सिनेमा हॉल में गई थी जहां मैंने उसकी चूची दबाई.

मेरे दाएं हाथ ने उसकी बायीं चूची को हथेली में भर रखा था, लेकिन मेरा एक हाथ उसकी पूरी चूची को हथेली में नहीं भर पा रहा था. मेरी बहन ने भी हम दोनों के लंड हाथ में ले लिए और आगे पीछे करने लगीं. रात को करीब 11 बजे वो मेरे कमरे में आये तो मैं पलंग के एक कोने पर बैठी हुई थी.

इसलिए बेहतर यही होगा कि तू उससे शादी का विचार अपने दिमाग से निकाल दे. उसने एक हाथ से मेरे सिर के पीछे के बाल पकड़े और दूसरे हाथ से अपना एक दूध पकड़ कर कड़क निप्पल को मेरे मुँह में दे दिया. वाइन की बोतल को उठा कर उसने सीधे ही अपने मुंह से लगा लिया और एक बार में जितनी वाइन गटक सकती थी गटक गई.

वीडियो बीएफ हिंदी एचडी

पर मैं अपनी ओर से कुछ शो नहीं करना चाहती थी कि मैं भी चुदाई के लिए तैयार हूँ. खाने के एवज में पढ़ाई के विषयों को कैसे याद किया जा सकता है, उनके बच्चों को वह सब बताता रहता हूँ. प्रीति का फिगर बहुत मस्त है 34-32-34 का … कभी कभी मैं उसे देखता ही रह जाता था और वो अपने घर में चली जाती.

हमारा यह घमासान बीस मिनट तक चला और मनोज से पहले ही मेरी चूत ने ही पानी फेंक दिया.

उसने पता नहीं मुझमें क्या देखा कि अब हमारी फिर से हर रोज बात होने लगी.

मेरे इस तरह चूत चाटने से वन्दना इतनी चुदासी हो गयी कि उसने मेरा सर पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिया और आहह आहह करने लगी. एक बार मुँह में घुसने के बाद तो उसे लन्ड को जड़ तक चूसने से मेरे पूरे जिस्म में सिरहन पैदा कर दी. पिक्चर फिल्म तिरंगामैंने उसके गालों को अपने हाथों में पकड़ा और उसके होंठों को जोर से चूसने लगा.

” महेश ने अपनी बहू का हाथ पकड़ते हुए कहा।अपने ससुर का हाथ लगते ही नीलम के पूरे शरीर में एक सिहरन सी दौड़ गयी।बापू जी, जब आप मुझे छूते हैं तो मुझे पूरे शरीर में कुछ होने लगता है. मनोज ने दीपा से चाय बनाने के लिए कहा और खुद सुनील के रूम में जाने लगा. केवल इस ख्याल ने कि अंकित उसकी टांगों के बीच में है, उसको वो चरमसुख दे दिया जो बहुत मेहनत के बाद भी मुश्किल से ही मिलता है.

अब थोड़ी देर के बाद मैंने सेजल दीदी को नीचे उतारा और उन्हें टेबल के सहारे पीछे घुमा कर खड़ा कर दिया. अब आगे:श्वेता दीदी- ये मुझे नहीं पता … हो सकता है उन्हें तुमसे कुछ बात करनी हो.

अंत में चाची ने हाथ जोड़ लिए और बोलीं- मेरे बाप … अब तो छोड़ दे मुझे … अब मुझसे चला भी नहीं जाएगा.

मासी बोलीं- मेरी जान अब ज्यादा बर्दाश्त नहीं होता … जल्दी से लंड अन्दर डाल दो. मैंने मेम को कुतिया जैसे बनाया और पीछे से उनकी गांड में लंड पेलने लगा. मैंने बाथरूम का भी आधे से ज्यादा गेट खोल दिया ताकि मैं चाची को लंड हिलाते हुई दिख जाऊं.

चोदी चोदा पिक्चर दिखाएं वो वैसे ही मेरी दोनों टांगों के बीच में अपने दोनों पैरों को मेरे शरीर के दोनों तरफ फैलाते हुए पेट के बल औंधी लेट गई. मैं- मैं सब ठीक कर दूंगी जानू … मैं उससे शादी कर लूंगी और तुम्हें कोई ऐतराज ना हो, तो हम तीनों एक साथ रहें लेंगे.

लंड सैट होते ही शान ने एक झटका मारा और उसका मोटा लंड मेरी माँ की चुत में घुस गया. प्रतिस्पर्धा की इस दौड़ का फायदा उठाकर उन दोनों ने एक ही बिस्तर पर अपनी बीवियों के स्तनों को चूसा और उनकी चूत में उंगली की. भाभी ने मुझे बताया कि उनको इतना मजा आ रहा था कि वह तो फिर से राहुल के मुंह में ही झड़ गई लेकिन राहुल झड़ने का नाम नहीं ले रहा था.

सेक्सी चाहिए बीएफ हिंदी में

” गौरी ने हंसते हुए कहा।गौरी तुम इतनी खूबसूरत हो कि मन ही नहीं भरता. कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मैंने अपनी साली राखी की चूत चुदाई कर डाली थी. मैंने अपने नंगी भीगे बदन पर आहिस्ता से हाथ फेरा … मैं देख तो नहीं पायी, लेकिन मुझे अंदाज हो गया था कि भाई ने अपना लंड पकड़ लिया होगा.

इस समय रीमा की बातों से तो मैं बहक गयी और मेरा भी मन चुदाई के लिए तड़प उठा. मैंने और प्रिन्स ने धीरे धीरे नीता को सहलाना किस करना चालू किया तो माहौल पूरी तरह से हॉट हो गया.

लेकिन नेहा ने मुझे विराट से चुदने की कह कर मुझे रास्ता दिखा दिया था.

… आंह … बड़ा अच्छा लग रहा है … उन्ह …उनके साथ मैं भी आवाज निकाल रहा था- आह … ले … पूरा ले लो …चुदाई के साथ साथ मैं मासी को किस भी करता जा रहा था. फिर उसने किस करते करते मेरी टीशर्ट उतार दी और एक झटके में ब्रा फाड़ दी. कोई 8-10 धक्कों के साथ मैंने सुनीता की चूत में पानी छोड़ दिया और उसी पर लेट गया.

अब मेरी चूत में आगे से बाप का लंड घुसा हुआ था और पीछे से भाई का लंड था. इसलिए तुम किसी गलतफहमी में ना रहना … और तुम मुझे आप आप कहना बंद करो. अब दीपा को ध्यान आया कि मनोज कहता है सुनील का लंड बड़ा और मोटा है तो क्यों न चूसा जाए.

मैंने स्पीड ब्रेकर पर ब्रेक दबाना शुरू किया, तो वो मेरे साथ चिपक गईं और मुझे पकड़ कर बैठ गईं.

इंडियन बीएफ डॉट कॉम: अब तक की सेक्स कहानी में आपने जाना था कि परमीत ने तैश में आकर लंड चूसना मंजूर कर लिया था और वो संजय के लंड को अपने हाथ में चुकी थी. आप सेक्स कहानी पढ़ कर मुझे मेल करके मेरी ग़लती बताओगे, तो मुझे बहुत खुशी होगी.

रीता शाम के चार बजे पहुंची मेरे पास।होटल के कमरे में पहुंच कर हमने कुछ देर तक आराम किया. मैं सोनम को यह कह रही थी- ये ब्रा तेरे दूध के लिए मस्त है, इसको ले ले. अचानक वो बोले- उधर क्या देख रही हो जानेमन? आज तो तेरा राजा मैं हूँ.

मैंने उसकी दोनों चुचियों को एक के बाद एक जोर जोर से दबाया और फिर उसकी चूची के एक निप्पल को अपनी उंगलियों में भर के स्क्रू की तरह घुमाने लगा.

इसके पहले उसने अपनी गांड में लंड को नहीं लिया था इसलिए उसकी गांड को अभी लंड के मजे का अहसास नहीं था. लेकिन अब मुझे सच में गुस्सा आ रहा था कि हम सेक्स कर पायेंगे भी या नहीं. जब सामने औरत ब्रा और पैंटी में हो तो मर्द के लिंग में तनाव आ जाना बहुत ही स्वाभाविक है.