बीएफ जाते हैं

छवि स्रोत,माधुरी नंगी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

गोवा बीएफ सेक्स: बीएफ जाते हैं, मेरा खड़ा लंड उसकी पैंटी के ऊपर से उसके चूतड़ों की घाटी में रगड़ मार रहा था.

देसी ओपन बीपी

उनके आने के बाद उसी रात रसिका की चुदाई करके दिन में हम दोनों मियां बीवी अपने घर आ गए थे. पोर्न फिल्म हिंदीअब मेरी मॉम सिफ ब्रा में ही रह गई थीं वो भी उनके मम्मों से हटी हुई थी.

सजनी तुम राजी हो तो आज दिन के समय एक बार और सामूहिक चुदाई का आनन्द ले लेते हैं. मारवाड़ी एक्सएक्सएक्सआठवें दिन सुबह का नौ बज रहा था और मैं बरामदे में बैठ कर पेपर पढ़ रहा था.

इतने में अलफिया ने शर्माते हुए कहा- ऐसे क्या देख रहे हो?मैं- तुम तो एकदम फिल्म की हीरोइन हो अलफिया.बीएफ जाते हैं: फिर उसने मेरी टांगें हवा में उठा दीं और फैला कर खुद बिस्तर से नीचे खड़ा होकर मेरी चुदाई करने लगा.

अब मिशनरी पोजीशन में एक बार फिर मैंने उसकी बुर में अपनी गन डाल दी और और दनादन फायरिंग शुरू कर दी.जया बोली- रोज तुम्हारे पैंट में टाइट लंड को देखकर मेरा भी मन करता था, पर मैं इसलिए कभी नहीं बोल पायी कि कहीं तुमको बुरा न लग जाए.

மலையாள ஆன்ட்டி வீடியோ - बीएफ जाते हैं

उस समय हैरी का भी नहाने का मन था, तब वो भी मेरे पीछे मेरे पति के सामने ही बाथरूम में आ गया.अरुणिमा की चूत में एक लंड, मुँह में दूसरा और दो लड़के उसके निप्पल्स को चूस रहे थे.

वो लोग लड़की की जगह लड़कों की तरफ आकर्षित होते हैं और गांड मरवाना पसंद करते हैं. बीएफ जाते हैं अरुणिमा का खुद से बाहर चुदवाना भी जारी होगा, पर अब मुझे इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ता था.

मैं बेवकूफ, चुदाई को जितना समझता था, उतने से अंदाजा लगाया कि मेरे मोटे लंड की वजह से चाची को दर्द हो रहा है.

बीएफ जाते हैं?

मैंने कुछ नहीं कहा, तो जिसका लंड अरुणिमा के मुँह में था, उसने दोबारा अपना लंड अरुणिमा के मुँह में डाल दिया और चोदने लगा. उसके बाद उसने अरुणिमा के चूतड़ों को अलग किया और उसकी गांड में अपना लंड घुसा दिया. और मैंने यस!” कहते हुए छलाँग लगा दी।अरे! अरे! इतने भी एक्साइटेड मत हो जाओ, उसने कुछ शर्तें भी रखी हैं।” वह मेरा कंधा पकड़कर बोली।कह दो उसको, उसकी सारी शर्तें मंजूर हैं.

चौधरी जी- तुम छहों में से कभी किसी ने बीवी की गांड मारने का अनुभव लिया है?पांचों लोगों ने हां में सर हिलाया. आयेशा को हंसती हुई देखकर नेहा ने आयेशा से कहा- तुझे पता है, तेरी बहन ने इतने लंड चूत में लिए हैं?तो आयेशा ने कहा- इनमें से ज्यादातर लंड तो मैंने ही इसकी चूत में डलवाए हैं. आपने मेरी मकान मालकिन फहीमा के साथशिमला में हनीमूनमनाने वाली चुदाई कहानी पढ़ी थी.

दोस्तो, मेरा नाम हेमन्त है और मैं गांव में रहने वाला एक सीधा-साधा लड़का हूं. मेरी तो विश्वेश्वर जी से बात हो ही चुकी थी, पर ये बात अरुणिमा को पता नहीं थी. उसकी देखा देखी अमित ने भी अपनी पैन्ट उतार दी और मेरे मुँह में अपना लंड डाल लिया और मुझे लंड चुसवाने लगा.

कुछ देर बाद मैंने उसके चेहरे को अपनी तरफ खींच कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. जब मैं उन्हें लेकर वापस आ रहा था तो उन्होंने बताया कि उन्हें पहले अपने मायके जाना है, जो उनके ऑफ़िस से दो किमी दूर एक गांव में है.

अब अंकल ने मुझे बेड के किनारे घोड़ी बनाया और एक ही झटके में पूरा महाकाय लौड़ा पेल दिया.

मेरी हाईट 6 फीट है, मैं ज्यादा हैंडसम भी नहीं हूं पर मेरे लंड का साइज़ 7 इंच लम्बा और ढाई इंच मोटा है.

एक दिन मेरे काफी प्रयास से वाइब्रेटर के साथ मेरे लंड का सुपारा भाभी की चूत के मुँह पर तो सैट कर दिया. उन्होंने नीके रंग की साड़ी पहनी हुई थी जिसमें वो पूरी अप्सरा बन कर आई थीं. मीनू खुशी खुशी अपने हाथ से ‘स्वाद मस्त है …’ का इशारा करती हुई अंकल का वीर्य पीने लगी.

इस कारण से उनके घर में मुझे और मेरी पत्नी शिवानी को जाना पड़ गया था. बाबा नाजिर अम्मी को पास बैठने को बोला और जैसे ही अम्मी बैठीं वो मेरी अम्मी को किस करने लगा. दारू के नशे में चौधरी मामा बोले- तुम लोगों को बताता हूँ, मेरी दूसरी बीवी क्यों भाग गयी?सुनील- हां बताओ.

रोहित इतना कस कर मेरे होंठों को चूसने लगा कि उसने मेरे होंठ को काट लिया.

मैंने डबल सेक्स का मजा लिया आगे पीछे एक साथ लंड घुसवा कर! पहले तो मुझे डर लगा कि मैं मर जाऊँगी दो लंड अपने अंदर लेकर. फिर दिन में दो या तीन बार के हिसाब से अगले पांच दिन तक मैं उसकी चुदाई करता रहा. उक्त सेक्स कहानी में मैंने अपनी मम्मी की एक गैर मर्द से चुदाई देख कर उनकी सच्चाई को जाना था.

बस मेरे दिमाग में जंच गया कि इसको पटा लूं तो 600 के 6000 से भी ज्यादा वसूल लूंगा. वो बोली- तो क्या ऐसे ही देखते रहोगे?मैं- नहीं, आज मैं तुम्हें नीचे से ऊपर पूरा चाट जाऊंगा. अम्मी नंगी ही गांड मटकाती हुई किचन में चली गईं और उधर से गिलास में दूध ले लाईं.

करीब 10 मिनट चोदने के बाद मुझे लगा कि मैं झड़ने वाला हूँ तो मैंने लंड बाहर निकाल लिया.

मेरा लंड उसकी गांड की दरार में दब गया और मैंने उसके दोनों दूध को हाथों में लेकर मसलना शुरू कर दिया. तभी आंटी ने अपना हाथ मेरे लंड पर रख दिया और बोलीं- इसको मेरी सेवा करने दो.

बीएफ जाते हैं सारी रात की चुदाई के बाद सुबह हम दोनों देर से उठे और ऑफिस भी नहीं जा पाए. थोड़ी देर मिशनरी आसन में चोदने के बाद चौधरी जी ने मुझे पेट के बल लिटा दिया.

बीएफ जाते हैं मैं उसका दर्द कम होने तक के लिए थोड़ी देर रुक गया और उसे चूमने सहलाने लगा. पीछे से मोनू ने मेरी गांड में अपना थूक लगाया और लंड छेद में लगाकर अन्दर डालने लगा मगर लंड बार बार छिटक कर अलग हो जाता.

तो वो बोला- साली तू तो आज मेरी माँ चोद देती, मगर मेरी जान मुझे तुझ जैसे लड़की के साथ ही सेक्स करने का मन था, जो खुल कर चुदाई करवाती हो.

बढ़िया सेक्सी फिल्म बढ़िया

मैंने उसकी दोनों टांगें हवा में उठा कर चूत में लंड अन्दर सरकाया और टांगों को अपने कंधों पर रखकर उसकी गर्दन पकड़ कर उसकी चुदाई की स्पीड तेज कर दी. पांच मिनट तक हमने कोई बात नहीं की, फिर भाभी ने मुझसे अलग होने को कहा. हॉल में विश्वेश्वर जी, राजशेखर जी और गुरबचन जी के अलावा तीन और लोग बैठे थे.

थोड़ी देर उसके बूब्स मसलने के बाद उसने मुझसे धीमी आवाज में कहा- क्यों बे नींद नहीं आ रही है क्या?मैंने कहा- नींद ही आती तो तुझसे क्यों पंगे लेता. रास्ते में बारिश तेज होने के कारण उसके घर तक पहुंचने में थोड़ी देर लग गयी. उनके गाल और होंठ चूसने के बाद उनकी गर्दन चूमी, तो वो मज़े के कारण नागिन जैसी ऐंठ गईं.

पर सच बात तो ये थी कि बंदी चालू थी तो घर वालों के बाद ब्वॉय फ्रेंड से पक्के में बातें करती होगी.

मैंने बात काटने को हुआ तो उसने कहा- और ये भी बोला है कि स्वप्निल जी को साथ में नहीं लाना है. वह मेरी चूत में अपनी जीभ पूरी अन्दर डालकर मेरी चूत अपनी जीभ से चोदती है. हम दोनों रूम के गेट पर थे, तभी उसने मेरी ब्रा निकाल कर हॉल में फैंक दी और मेरे मम्मों पर टूट पड़ा.

वहां से चलने के बाद धर्मपुर में खाने के लिए हम दोनों हवेली पर रुके और खाना खाकर हम वहां से आगे के लिए रवाना हो गए. मेरी स्पीड को देख कर भाभी समझ गईं कि मैं थक गया हूँ, तो वो मुझे लिटा कर खुद मेरे ऊपर लेट गईं और आगे पीछे होने लगीं. लेकिन मैं जल्दबाज़ी भी नहीं करना चाहता था इसलिए मैंने रुकना ही सही समझा.

उसने पूछा- आप कहां के हो, क्या करते हो?मैंने उसे बताया और उससे बातें करते हुए उसकी मादक गांड और चूचों को ताड़े जा रहा था. प्रिया ने शर्माते हुए चड्डी उठा कर अपनी जांघ के नीचे दबा ली और चाय पीने लगी.

शुरू में जयमाला का कार्यक्रम हुआ और उसके बाद फ़ोटो लेने का काम चल रहा था. मीनू को सबसे ज्यादा कोई बात पसंद है तो वो है, बड़े बड़े लंड से चुदना. उसने गहरे काले रंग की जींस और ऊपर काले ही रंग का टॉप पहना था, उस जींस में से उसकी गांड एकदम मस्त लग रही थी.

मीनू- अंकल, एक बात बताओ आपकी बीवी आपको छोड़ कर क्यों चली गई?अंकल- वो मेरा बड़ा लौड़ा अपनी फुद्दी में नहीं ले पाती थी.

कुछ देर बात वहां एक बड़ी सी कार आयी और कार अम्मी की थोड़ी आगे को रुक गई. मैंने उससे कहा- अभी मैं और मेरी पत्नी नीचे रेस्टोरेंट में जाएंगे, तब तक तुम रूम को हनीमून कपल के लिए सजवा देना. पूरी चुदाई में वो दो बार झड़ भी गई लेकिन मैं अपनी बहन की चुत का भोसड़ा बनाता रहा.

कुछ देर के बाद एकदम से एक तेज धार के साथ मेरा वीर्य निकल गया और जया के चेहरे पर छपाक से जाकर पड़ा. काम रुक जाना बड़े नुकसान का कारण बन सकता था और सच तो ये था कि बिना इन चारों के रसूख के मैं इस शहर में काम कर ही नहीं सकता था.

तभी मैंने अपनी एक आंख को हल्का सा खोला और मेरा ध्यान गया कि मंजू का एक हाथ उसकी चूत में है. मेरी चूचियों का उभार एकदम गोल आकार में है, जिन पर मैं 32 नम्बर की ब्रा को टाइट करके पहनती हूँ. मेरी नंगी बीवी ने मेरे लंड को पैंट के ऊपर से पकड़ा और खींचते हुए एक कुर्सी तक ले गई.

सेक्सी इंडियन सेक्स सेक्स

उसके गोल रसदार चूचों को देखकर मेरा लंड एकदम से खड़ा हो जा रहा था जिसे छिपाने के लिए पानी पीने का बहाना मारकर बाहर आ गया था.

जैसे ही मैं कमरे में पहुंचा तो देखा कि आंटी बिल्कुल नंगी थीं और अपने बाल सुखा रही थीं. इसी तरह ज्योति भी कोई कम नहीं है ज्योति की आयु लगभग 30, हॉट अंदाज़, दिखने में सुन्दर, आकर्षक बॉडी के साथ उसके बूब्स का साइज़ 34-डी है. तो मिलते हैं हॉट सेक्सी गर्ल की कहानी के अगले भाग में, जिसमें आप आगे की घटना का मजा लेंगे.

अट्ठाईस इंच की गोरी कमर के नीचे उसकी बिना बाल वाली चूत एकदम कसी हुई नम हुई पड़ी थी. दोस्तो, ये थी मेरी अफ्रीकन नीग्रो के लम्बे मोटे लंड से चुदाई!आपको कैसी लगी नीग्रो सेक्स कहानी… प्लीज़ मुझे मेल करके जरूर बताएं. एक्स एक्स एक्स पिक्चर सेक्सीये उन्होंने जैसे ही मुझे बताया, मुझे कॉन्फिडेंस आ गया कि मैं भरपूर मर्द हूँ.

भाभी बोलीं- ऐसा है, तू पहले नहा ले … क्योंकि तेरे शरीर से स्मैल आ रही है और किचन में से कुछ खा ले. थोड़ी देर तो आयेशा मेरे ऊपर लेटकर ही मुझे चोद रही थी मगर जब वो थक गयी तो वो मेरे उपर से उठ गयी.

पूरा रूम सिर्फ आह आह आ आह हआह आह आह … उह उह उह आउच यस फ्क फ्क्फच फच फच की आवाजों से ही गूंजता रहा. ’उसने अपने हाथ से मेरी कमर को कसकर पकड़ लिया और जल्दी जल्दी मेरी कमर हिलाने लगी. मैंने कहा- कोई बात नहीं, तुम्हें इस मौसम में ऐसे नहीं छोड़ सकता, तुम्हारा बॉयफ्रेंड लेने आ रहा हो तो कोई बात नहीं है.

मेरा कहानी में नाम है आशू!मेरी पहली सेक्स कहानीगर्लफ्रेंड को घर बुलाकर चोदाआपको अच्छी लगी थी और अप सभी के काफी मेल भी आए थे. चूत दिखाई देते ही मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में लगा दी और चाटनी शुरू कर दी. उनके ऐसा करने से अमित मुझ पर टूट पढ़ा और मुझे गोद में उठाकर अलग कमरे में ले गया.

भाभी की उभरी हुई चूचियां और अनकी फूली हुई गांड क्या मस्त लग रही थी.

पूरी चुदाई के दौरान आंटी तीन बार झड़ चुकी थीं पर मेरा लंड अब तक एक बार भी नहीं झड़ पाया था. मैंने कहा- शादी तो ठीक है, लेकिन यहां सोसायटी में शक होगा, इसलिए हमें कहीं और रहना पड़ेगा.

मदन जी- चौधरी मामा की पत्नी गुजर जाने के बाद उन्होंने दूसरी शादी की, पर उनकी दूसरी पत्नी भाग गयी. वो अभी कुछ करती, मैंने तभी उसके हाथों को अपने हाथों में थामा और पास होकर चूम लिया. मैंने पूछा- आप लोग कौन?अंकल ने बताया- यह हमारा घर है और इसमें मेरा भाई रहता है.

रात को खाना खाने के बाद मैं उसके रूम में गई और मैंने सीधे सीधे भैया से पूछा कि वो लड़की कौन है?नमन भैया ने थोड़ा झिझक कर कहा- फ्रेंड है. चूंकि हमारा मोबाइल उसके आगे पड़ा हुआ था तो मैंने अपने हाथ उनकी बाजू के नीचे से निकलता था. मैंने नेहा को पूछा- नेहा यहां कोई है नहीं क्या … सारे किधर माँ चुदाने चले गए?नेहा ने कहा- बहनचोद साले, ऐसे बांध कर पता नहीं कहां अपनी माँ चुदवाने चले गए.

बीएफ जाते हैं अगले दिन मेरी अम्मी ने हमारे पड़ोसियों से बोल दिया कि हम लोग कुछ दिन के लिए बाहर जा रहे हैं. थोड़ी देर बाद उसने उसे रोका और उसे बिस्तर के किनारे खड़ी होकर झुकने को कहा.

सेक्सी लिव्ह

उसकी जांघ के नीचे थोड़ा सहलाया और अंगूठा चूत के दाने पर रख कर फिर से रगड़ा. मगर मैं कई बार जाकर कमरे के बाहर से ही प्रिया का हालचाल पूछ लेता था. अब आगे वाइब्रेटर सेक्स का मजा:भाभी को करीब एक महीने में दस बार चोदा होगा और दूध तो हर दूसरे दिन पिया होगा.

भैया की गर्म सांसें मुझे भी मदहोश करने लगी थीं और मैं भी उसके चौड़े सीने से अपने दूध रगड़ कर मजा लेती रही. सुनील ने मुझे अलग ले जाकर कहा- सजनी हम सब घर पर बैठे हैं, ट्रक की हड़ताल के कारण कोई काम-धाम नहीं बचा है. ब्लू सेक्सी फिल्म ओपनएक में मैं और अमित नेहा और पुलकित थे, दूसरी में आयशा अमन रिया और मोहित थे.

मैं भी बाहर की औरतों के पास बहुत जाता हूँ और दूसरी बाहर की औरतों को भी धंधा कराता हूँ.

फिर हम लोग 69 पोजीशन में आकर एक दूसरे का लंड चूसते और वीर्य पी जाते. बाबा बोला- मैं 3 दिन बाद आऊंगा, जुमेरात की रात में, तब तक मैं यहां से विधि करूंगा.

उसे अपने भाई विकास का लंड अपनी बुर के लिए फड़फड़ाता हुआ समझ आने लगा था और उसकी चूत की प्यास बुझाने के लिए तैयार दिख रहा था. अरुणिमा मेरी वाइफ है और उसको इस तरह से बार बार, आप मेरी बात समझ रहे हैं ना?विश्वेश्वर जी बड़े आराम से बोले- हमारे रसूख से तुमने कितने दो नंबर के काम एक नंबर में करवाए हैं. मैं अपने कपड़े लेकर जल्दी जल्दी में उठा और आसिफा के कमरे में भाग गया.

वे किसी अप्सरा से कम नहीं लग रही थीं, मुझे तो अभी वो निकिता से भी ज्यादा सुंदर लग रही थीं.

मैंने अपने मम्मी पापा को भी बता दिया था कि आज हम दोनों घर पर ही रह कर मैथ पढ़ेंगे. मैंने भी अब शर्म छोड़ दी और उसके लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर घिसने लगी. उसकी गांड के नीचे मैंने एक तकिया लगाया, पैरों को मोड़ते हुए खोला और अपने लंड को उसकी पानी से गीली चूत पर रखकर पूरी ताकत से धक्का दे मारा.

देसी एचडी सेक्सीमैंने बाथरूम में जाकर अपनी गांड में पिचकारी से पानी भरा और निकाल दिया. अम्मी चूत चटवाती हुई कामुक सिसकारियां भर रही थीं ‘सीसीई ईई … सीईईई … आह …’बाबा ने लगभग दस मिनट तक मेरी अम्मी की चूत चाटी और अम्मी झड़ गईं.

इंडियन सेक्सी इंडियन सेक्सी वीडियो

मैंने किशोर से कहा- तुम बाहर चले जाओ क्योंकि मैं तुम्हारे सामने नहीं चुद सकती. वो अब गांड उठा कर चुत चुसाई करवा रही थी और मेरा सर अपनी चूत पर दबा रही थी. दरअसल बात वहां से शुरू हुई जब उनके पति कोरोना काल में मुंबई से वापस लौटे थे.

तो नेहा ने कहा- यार मैं पहले भी अमित से चुद चुकी हूँ, तो अब शर्म कैसी. अगर तुम चाहती हो कि मैं तुम्हारी बात मानूं, तो तुम्हें मेरी भी बात माननी पड़ेगी. फिर उसे, उसकी अम्मी ने भी बताया था कि मैंने उसकी अम्मी के साथ सेक्स किया है और उसकी अम्मी संतुष्ट हैं.

पिछले भागपड़ोसन भाभी अपनी सहेली के साथ नंगीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं भाभी के कमरे में गया तो भाभी और उनकी सहेली पिंकी भाभी लेस्बियन सेक्स कर रही थीं. कविता जोश में आकर अपने दूध को खुद ही मसलने लगी और अपने पैरों को पटकने लगी. वो जिस तरह से मेरे लौड़े को चूस रहा था, उससे मुझे लग रहा था कि कोई कमसिन लड़की मेरे लंड को चूस रही है.

मैंने कहा- मैं भी तुम्हारे साथ रात बिताने का सपना बहुत दिनों से देख रही थी. जब उसकी टीशर्ट उतार रही थी, तभी वो बोली- अरे पागल कर क्या रही है?तो मैंने कहा- चुप कर साली रंडी, खुद तो लंड खाए बैठी है, यहाँ मेरी चूत में आग लगाकर बोल रही है कि क्या कर रही है.

मगर झांटों के बीच चूत की मस्त झांकी मेरे लंड की हालत खराब कर रही थी.

मैं पीछे से उसकी कमर की बनावट को देख रहा था, कसम से क्या गजब का फिगर था उसका. राजस्थान चुदाई वीडियोप्रिया ने मस्ती से कहा- किस रूप में?मैं उठा और अलमारी से एक नाईट गाउन निकाल कर ले आया. एक्स ब्लू सेक्सीअपने दोनों हाथों से उसके चूतड़ों की मालिश करते हुए उसकी गांड के अन्दर तक अपने हाथ डालकर उसके छेद पर भरपूर तेल लगाया. पर वो कहता था कि शादी तो हमारी होनी ही है तो तुम्हें क्या परेशानी है.

इतने में उसने मुझे गोद में उठा लिया और दूसरे रूम में ले जाकर बेड पर लिटा दिया.

अब उसके जिस्म पर काली ब्रा और नीचे स्किन कलर की पैंटी रह गयी थी।मेरे सामने दूधिया रंग की आधे से ज्यादा नंगी बैठी ज्योति का जिस्म मेरे लंड पर कयामत ढा रहा था।अब मैं अपने दोनों हाथों से ज्योति की पीठ को पीछे से लेकर कन्धों तक हाथों से सहला रहा था. कुछ समय बाद मैं भी गर्म हो गई थी और मुझे उनकी चुदाई में भी मजा आने लगा था. आज मैं अलफिया (नाम बदला हुआ है) नाम की मस्त कड़क लौंडिया की चुदाई की कहानी का मजा लिख रहा हूँ.

संजना ने मुझे अपने जीवन में हुए घटना क्रम के बारे में बताया और मैंने उसे अपने बारे में बताया. ’उसके दोनों पैर और चूतड़ ऐसे कांप रहे थे, जैसे उनमें करेंट लग रहा हो. एक दिन की बात है प्रीति चाची ने अपने लिए नया एंड्राइड फ़ोन ख़रीदा और उसमें उनको जियो की सिम डालनी थी.

मेवाड़ी देसी सेक्सी वीडियो

फिर मैंने डिलडो लिया और एक झटके में पूरा डिलडो उसकी चूत में डाल दिया. उसके दूध मेरे सीने के नीचे दब गए और मैं लंड को अन्दर बाहर करने लगा. मोहन बोले- तुमने मुझे खुश कर दिया, मेरे गांव वाली बीवी बहुत बोलने के बाद लंड थोड़ा चूसती है, पर वीर्य कभी नहीं पीती है.

सफेद रंग के पतले सूट में से अम्मी की अन्दर की ब्लैक रंग की ब्रा और पैंटी साफ दिख रही थी.

वो जितना जोर से उसकी चूची को दबाता, नेहा और ज्यादा जोर से उसके लंड को चूसने लगती.

मुझे उन दोनों से चुदने के लिए हिम्मत चाहिए थी जो दारू से मिल सकती थी. पहले दिन शाम को खेल कूद के कुछ कार्यक्रम होंगे और इस साल अब तक काम कैसा रहा और आगे के क्या टारगेट हैं वो बताए जाएंगे. থ্রি এক্স বেঙ্গলি ব্লু ফিল্মहम दोनों एक दूसरे को कसकर जकड़े हुए थे और वो जोर जोर से धक्के लगा रहे थे.

[emailprotected]वाइब्रेटर सेक्स का मजा कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी के साथ चुदाई का मजा- 2. फिर बुआ ने मुझे इशारा किया तो मैं उठ गया और भाभी के पीछे आकर तेल में लंड को डुबो लिया. जितनी खूबसूरत उसकी आंखें थीं, उससे कई गुना ज्यादा उसका जिस्म कटाव भरा था.

उनके दोनों हाथ मेरे गले में थे और शर्म से अपना चेहरा मामी ने मेरी बगल में छुपा लिया था. फिर कुछ और चीजें घटित हुईं, जिनकी वजह से चाची के प्रति मेरी सोच बदलती गयी और वासना बढ़ती गयी.

तुम्हारा कोई समाचार ही नहीं मिलता था, इसलिए मैं सोचा कि शायद तुमको मेरी जरूरत खत्म हो गई है.

उन्होंने अपनी दो मोटी उंगलियां मेरी फुद्दी में घुसा दीं और जीभ से चाटने लगे. वो चिकन का लेग पीस चूसती हुई बिल्कुल लंड चूसने जैसा इशारा कर रही थी. मैं अपने आपको लड़की महसूस कर रहा था, मुझे लग रहा था कि मैं सजनी ही हूँ.

सेक्सी व्हिडिओ सेक्स सेक्स भाभी- अरे अब खड़े क्यों हो, मन नहीं है क्या?पिंकी भाभी- अरे यार आज बहुत दिन बाद लंड लेने का मौका मिला है, मना मत करना. कविता मेरी तरफ देख रही थी और नितिन उसकी जांघ सहलाने में लगा हुआ था.

मेरी ब्रा पैंटी उतार दी, मैंने पीठ के बल लेटकर अपनी कमर के नीचे तकिया लगा दिया. थोड़ी देर तक ऐसे ही लेटे रहने के बाद मामी ने मेरी तरफ़ गर्दन उठा कर देखा और मुस्कुराने लगीं. इस बार गुरबचन जी और दो और लोग साइड में खड़े होकर सिगरेट पी रहे थे और बाकी दो लोग एक साथ अरुणिमा की चूत और गांड चोद रहे थे.

सेक्सी वीडियो बंगला

जब तक उसकी बीवी नहीं आ गई, तब तक उसने रोजाना मेरी कई कई बार चुदाई की. मजे की बात ये थी कि वो भी मेरे छूने से कुछ भी ऐसी प्रतिक्रिया नहीं करती थी जिससे ये लगे कि उसको बुरा लगा हो. थोड़ी देर बाद वो अरुणिमा को बाहर निकल कर बीच वाली सीट पर लेटने को बोला.

जबकि चाची को मैं vasna की नजर से देखता था, मैं अक्सर उनको सोचते हुए मुठ मारता था. मैंने उन दोनों को एक गुलदस्ता भेंट किया, रोहित और ज्योति ने धन्यवाद करते हुए गुलदस्ता लिया और उसे गाड़ी में रख दिया.

इतने में रंजीता वहां आ गयी- क्या देख रहा है भोसड़ी के?वो मेरे कान के पास आकर धीरे से बोलने लगी.

फिर लगभग शाम को 5 बजे रिया ने सबको जगाया तो हमें याद आया कि आज तो हमें लड़कों की गांड मारने की तैयारी करनी है. अंकल ने मेरी दोनों टांगें फैलाईं और मेरी फुद्दी के होंठ खोल कर चाटने लगे. उसकी हाइट लगभग 5 फीट 7 इंच, उसकी चूचियां 36 इंच और गांड 38 इंच की होगी.

भाभी का अच्छा मूड देखकर मैंने उसी दिन भाभी की गांड भी चोदने को बोला परंतु भाभी ने अगली बार बोलकर मना कर दिया. कुछ देर बाद भैया का हाथ मेरी टी-शर्ट के ऊपर से ही मेरे मम्मों पर आ गया. दोस्तो, मेरी हमेशा से कोशिश रहती है कि आप लोगों तक एक सच्ची और मजेदार सेक्स कहानी लेकर आऊं, जिसे आप लोग मजे लेकर पढ़ें और अपनी भागदौड़ भरी जिन्दगी में कुछ पल के लिए सेक्स कहानी का भरपूर मजा लें.

रिया ने कहा कि यार हम उनकी गांड मारेंगे कैसे?मैंने कहा- उन हरामियों की गांड इन डिल्डो से मारी जाएगी.

बीएफ जाते हैं: पर नाटक में जो मजा मिल रहा था, वो खराब हो जाता।धीरज ने निरोध निकाल के दीपक को दिया और दीपक ने पहन मुझे घोड़ी बना दिया और सट से लौड़ा फिर अंदर!लौड़ा मेरे बच्चेदानी पर टकरा रहा था. ”इतना बोलकर विकास ने उसके दोनों कंधों पर अपना दोनों हाथ रख दिए और उसके एक गाल को प्यार से खींचा.

आप लोगों ने मेरी पिछली कहानीपापा ने दीदी को मेरे सामने चोदाको बहुत प्यार दिया, उसके लिए धन्यवाद. अब वो उठी और उसने मेरी जीन्स उतार फेंकी, बिना देरी किये मेरी चड्डी भी उतार दी और फिर से मेरे ऊपर आ गयी और लपक के मेरे लंड को अपने मुँह में लिया. उसने चेहरा मेरी ओर किया पर इससे पहले कुछ होता, मैंने उसके हाथ पीठ से हटा दिए.

वे वहां किसी कंपनी में कर्मचारी थे और अच्छे खासे पैसे कमाया करते थे.

फिर जो मेरी चूत चुदाई कर रहा था, उसने मुझे सीधा कर दिया और कमर के बल लेटा कर मेरे ऊपर आकर मेरी चूत चुदाई करने लगा. फिर वो नीचे हुए और मेरे पैरों के पास बैठकर मेरे दोनों घुटनों को पकड़कर एक झटके में फैला दिया. आपने इसे पहले नहीं देखा था, ये हॉस्टल में रहकर अपनी पढ़ाई कर रही है.